SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

मंगलवार, 11 मई 2021

रात में घायल व्यक्ति को पुलिस वाहन की मदद से अस्पताल पहुंचा कर कराया इलाज

रात में घायल व्यक्ति को पुलिस वाहन की मदद से अस्पताल पहुंचा कर कराया इलाज

साग़र।  साग़र शहर में रात्रि करीब 12 बजे मोहननगर वार्ड निवासी अमित गुप्ता के पिताजी फिसलकर चोटिल हो गये थे वारिस होने और वाहन उपलब्ध ना होने के कारण उनको प्राथमिक उपचार नही मिल पा रहा था यह बात जैसे ही शहर अध्यक्ष सिंटू कटारे की जानकारी में आयी उन्होने कोतवाली थाने की गस्त वाहन को रूकवाकर मदद मांगी वाहन मे कोतवाली थाना प्रभारी नवल आर्य मौजूद थे उन्होने मानवता और इंसानियत का उदाहरण प्रस्तुत करते हुये गस्त वाहन से घायल को चिरंजीवी अस्पताल छोडा,जहां अस्पताल संचालक डा.दशरथ मालवीय ने स्वयं घायल का उपचार किया।
 तत्पश्चात थाना प्रभारी और अस्पताल प्रबंधन की संवेदनशीलता की तारीफ करते हुये सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे ने दोनो का धन्यवाद ज्ञापित किया।.          
आज सुबह से वैक्सीनेशन सेंटर पर लोगौ को  मोबाईल लगाकर कोवैक्सीन का 2 डोज लगवाने बुलाया एवं 18+को राजिस्टैन के बारे जानकारी दै।सेवादल अध्यक्ष सिन्टू कटारे के साथ ब्लॉक अध्यक्ष नितिन पचौरी जयदीप यादव मयंक तिवारी अकुर यादव  निक्की यादव रोहित यादव अरविंद ठाकुर आदि सेवादल सदस्य उपास्थित रहे।

सम्भावित तीसरी कोरोना लहर के लिए सरकार तैयार , कुछ जिलो को छोड़कर स्थिति नियंत्रण में , कोरोना योद्धाओं के लिए बनाई जा रही पालिसी ★ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की अध्यक्षता में केबिनैट की बैठक


सम्भावित तीसरी कोरोना लहर के लिए सरकार तैयार , कुछ जिलो को छोड़कर स्थिति नियंत्रण में ,
कोरोना योद्धाओं के लिए बनाई जा रही पालिसी
★ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की अध्यक्षता में केबिनैट की बैठक





भोपाल । मध्यप्रदेश कैबिनेट की वर्चुअल बैठक आज मुख्यमंत्री Shivraj Singh Chouhan की अध्यक्षता में संपन्न हुई। आज पूर्व मंत्री और वर्तमान विधायक माननीय जुगल किशोर बागरी, पूर्व मंत्री और विधायक  ब्रजेन्द्र सिंह राठौर, विधायक श्रीमती कलावती भूरिया के निधन पर कैबिनेट के द्वारा आज शोक प्रस्ताव पारित किया गया। इसकी जानकारी गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी। 

उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश के उत्तर तथा मालवा अंचल के दो तीन जिलों को को छोड़कर सम्पूर्ण प्रदेश के अंदर अब कोरोना कि स्थिति नियंत्रण में आ रही है। आज प्रदेश में पांच माह का राशन तीन माह में देने का प्रधानमंत्री जी के द्वारा और मुख्यमंत्री जी के द्वारा जो तय किया है, उसकी भी मुख्यमंत्री जी द्वारा समीक्षा की गई।


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे

https://www.facebook.com/तीनबत्ती-न्यूज़-कॉम-107825044004760/

ट्वीटर  फॉलो करें

https://twitter.com/TeenBattiNews?s=09

वेबसाईट
www.teenbattinews.com


तीसरी लहर के लिए सरकार तैयार

संभावित तीसरी लहर के लिए राज्य सरकार पूरी तैयारी कर रही है। वेंटीलेटर, ऑक्सीजन, बेड या आईसीयू की बात हो हर तैयारी राज्य सरकार लगातार कर रही है। चूंकि इसमें बच्चों का भी शामिल होना बताया गया है, इसलिए कोई कोताही नहीं बरती जाएगी। 

एक करोड़ टन गेंहू की खरीदी

अभी तक राज्य सरकार ने 1 करोड़ मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी किसानों से कर ली है, खरीद लगातार जारी है। सरसों, चना एवं मसूर में भी इस वर्ष समर्थन मूल्य से ज्यादा किसानों को दिलवाया है। जो लगभग 10 हजार करोड़ से अधिक होगा।

कोरोना योद्धाओं के लिए बनाई जा रही पालिसी


आज कैबिनेट में मुख्यमंत्री जी ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि कोरोना योद्धाओं या कोरोना कार्य में जो भी हमारे शासकीय कर्मचारी अधिकारी लगे हुए हैं, उनको एक जैसा ही ट्रीट किया जाएगा। सभी के लिए एक पॉलिसी बन रही है। 

भिंड जिले में खुलने जा रहे सैनिक स्कूल की स्थापना करने के लिए ग्राम मालनपुर जिला भिंड में शासकीय भूमि प्रदान करने का कैबिनेट ने तय किया है। डीएपी, पोटाश और यूरिया खाद के लिए मध्यप्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ को राज्य की नोडल एजेंसी घोषित किए जाने व मार्कफेड के माध्यम से प्रदेश में आवश्यक उर्वरकों की निर्धारित मात्रा की व्यवस्था करने के लिए अग्रिम भण्डारण करने का निर्णय लिया है।

कृषक मित्र चयन की आयु अब 25 साल

कृषक मित्र चयन की आयु सीमा 40 के स्थान पर 25 वर्ष होगी। जिला सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंकों में सेवायुक्त परिसमापन के साथ उनके सेवायुक्तों के सम्मेलन हेतु संविलियन योजना दिनांक 31 दिसंबर 2019 तक की गई थी, उक्त योजना के अंतर्गत सेवायुक्तोंं का कार्य पूर्ण नहीं हो पाया है, इसलिए इन सेवायुक्तो के लिए संविलियन योजना की अवधि 30 जून 2021 तक बढ़ाएं जाने का आज तय किया  है।

नर्मदा बेसिन प्रोजेक्ट कंपनी लिमिटेड को वर्ष 2020–21 में द्वितीय अनुपूरक  में आवंटित की गई राशि 1 हजार 500 करोड़ तक की इक्विटी शेयर जारी कराए जाने का भी आज कैबिनेट के द्वारा तय किया गया है। 

आज सहकारिता विभाग द्वारा सोयाबीन प्रसंस्करण प्लांट पचावां जिला सीहोर की स्क्रैप की जो नीलामी 7 करोड़ 58 लाख की गई थी, उसे भी मंजूरी दी गई है। इसी तरह से ग्वालियर स्थित 5 भूखंड; सिरोल, कास्मों आनंद को भी अनुमति दी गई है। अल्फा नगर कॉलोनी, ग्राम बहरा, वार्ड –60 जिला ग्वालियर को भी 5 करोड़ 87 लाख रुपए की अनुमति प्रदान की गई है। 

आज कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना को भी लागू करने का अनुसमर्थन किया गया है। यह अपने आप में एक ऐतिहासिक योजना है, जिसमे 88 से 90 प्रतिशत आबादी इसमें शामिल होगी। प्रदेश के अंदर यह ऐतिहासिक योजना लागू की गई है कि अब दवाई के अभाव में किसी भी गरीब की मृत्यु नही होगी। इसमें सभी को शामिल करने का निर्णय किया गया है और कैबिनेट ने भी आज इसे पारित किया है। 

---------------------------- 


www.teenbattinews.com



तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

 

मिसाल: केंसर पीड़ित पत्नी कोरोना पाजिटिव, दो मासूम बच्चे गांव पर भेजे और डाक्टर विजय पांडे ड्यूटी पर

मिसाल: केंसर पीड़ित पत्नी कोरोना पाजिटिव, दो मासूम बच्चे गांव पर भेजे और डाक्टर विजय पांडे ड्यूटी पर

सागर  : तीन वर्ष की बेटी और सात वर्ष के बेटे को गाँव में दादी के पास छोड़कर डॉक्टर विजय पांडे गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी मेडिकल मोबाइल यूनिट और कोविड केयर सेंटर के नोडल अधिकारी के रूप में लगातार अपनी सेवाएँ दे रहे हैं। डॉ पांडे ऐसा सब सामान्य परिस्थितियों में नहीं, बल्कि तब कर रहे हैं जबकि, उनकी पत्नी जो कैंसर पीड़ित हैं और जिनकी पिछले महीने ही कीमोथैरेपी कराई गई है। ऐसे विपरीत हालातो में डॉ पांडे ड्यूटी कर रहे है। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


जहाँ एक और डॉक्टर विजय पांडे की पत्नी श्रीमती प्रीति पांडे का कैंसर का इलाज चल रहा है , वहीं दूसरी ओर पिछले महीने ही वे कोरोना संक्रमित हो गई। संक्रमण का प्रभाव ऐसा कि, 16 अप्रैल से लगातार ऑक्सिजन सपोर्ट पर ही उनका इलाज चल रहा है।
ऐसी विषम परिस्थितियों में भी डॉक्टर विजय पांडे ने अपना डॉक्टर धर्म निभाते हुए एक भी दिन कार्य को थमने नहीं दिया और निरंतर एमएमयू एवं कोविड केयर सेंटर पर अपनी सेवाएँ दे रहे हैं। ऐसे असामान्य व्यक्तित्व हमारा को सौ बार सलाम।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

SAGAR : झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई शुरू, एलोपैथी इलाज करते मिला आयुर्वेदिक डाक्टर, अस्पताल सील

SAGAR : झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई शुरू, एलोपैथी इलाज करते मिला आयुर्वेदिक डाक्टर, अस्पताल सील

सागर।  कलेक्टर श्री दीपक सिंह के द्वारा कोरोना समीक्षा बैठक में दिये गये निर्देशों के अनुसार सिटी मजिस्ट्रेट श्री सीएल वर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर सुरेश बौद्ध के द्वारा झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इस क्रम में मंगलवार को मोतीनगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत कार्रवाई करते हुए आयुर्वेदिक डॉ श्री अजय विश्वकर्मा पर कार्रवाई की गई।


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


सिटी मजिस्ट्रेट श्री सीएल वर्मा ने बताया कि, आयुर्वेदिक डॉक्टर के द्वारा अवैधानिक तरीक़े से एलोपैथिक उपचार किया जा रहा था। उन्होंने बताया कि संबंधित डॉक्टर के पास जो डिग्री नहीं है वह उसके अंतर्गत इलाज कर रहा था जो कि, मरीज़ों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ है। संबंधित डॉक्टर के अस्पताल में मरीज़ भी भर्ती पाए गए थे जिन्हें शासकीय अस्पताल में शिफ़्ट करा दिया गया हैं और डॉ विश्वकर्मा के अस्पताल को सील कर दिया गया है।

प्रायः यह देखने में आ रहा है कि, शहर गांवों में झोलाछाप डॉक्टरों द्वारा ग़लत उपचार एवं ग़लत तरीक़े से संक्रमण का इलाज करने के कारण संक्रमण फैलने का ख़तरा बनता है। अतः कलेक्टर श्री दीपक सिंह के निर्देश की तत्काल पश्चात नगर दंडाधिकारी श्री सीएल वर्मा द्वारा मोतीनगर थाना अंतर्गत बड़े बाजार में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बहुत मोतीनगर थाना प्रभारी के साथ झोलाछाप डॉक्टर पर अस्पताल पर ना केवल उसी अस्पताल से की गई साथ में पुलिस कार्रवाई भी की गई।  नगर दंडाधिकारी ने बताया कि कार्रवाई करते समय उक्त अस्पताल में 8 से 10 व्यक्ति इलाज करा रहे थे जिन्हें तत्काल एंबुलेंस के माध्यम से जिला चिकित्सालय भेजा गया है और अस्पताल को सील किया गया है श्री वर्मा ने बताया कि उक्त डॉक्टर आयुर्वेदिक कि डिप्लोमा लिए हुए था और इलाज एलोपैथी दवाई का कर रहा था। 
श्री दीपक सिंह के निर्देश के तत्काल तत्काल पश्चात संपूर्ण जिले में समस्त  प्रशासनिक अधिकारियों ने पुलिस  अधिकारियों की मदद से झोलाछाप डॉक्टरों के ख़लिफ़ सख़्त कार्रवाई करने का अभियान प्रारंभ किया है।



---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

SAGAR : कोरोना महामारी में 108 एंबुलेंस वाहन बना संजीवनी , 24 घंटे निरंतर दे रहे सेवा

SAGAR : कोरोना महामारी में 108 एंबुलेंस वाहन बना संजीवनी , 24 घंटे निरंतर दे रहे सेवा



साग़र। साग़र जिले में कोरोना काल मे 108 एम्बुलेंस सेवा संजीवनी का काम कर रही है। 24 घण्टे सेवाएं दे रही है। सागर जिले में इस समय 24 वाहन 108 
एम्बुलेंस के सड़को पर दौड़ रहे है। जो जी जान से मेहनत कर रहे है। 
खुरई नगर के शासकीय 108 वाहन की बात की जाए तो कोरोना के इस काल में अपनी 24 घंटे सेवा दे रही है । कोरोना फाइटर बनकर जिसमें रोज के 5 से 6 केस  होते हैं उसमें संक्रमित केस भी होते हैं । 108 एंबुलेंस वाहन के डॉ जितेंद्र राय  एवं पायलट मनोज राय ने बताया कि ज़िला अधिकारी गौरव साहू निर्देश अनुसार इस कोरोना काल के चलते हमें हर समय सजग रहना पड़ता है , कब कहां से सूचना आ जाए । वैसे तो रोज 5 से 6 केस प्रतिदिन हो जाते हैं जिसमें संक्रमित मरीजों को भी एडमिट करना रहता है, वहीं गंभीर मरीज को सागर ज़िला अस्पताल दिन हो या रात तुरंत ले जाया जाता है ।  108 एम्बुलेंस के डॉ जितेंद्र राय एवं पायलट मनोज राय धन्यवाद के पात्र हैं जो हर समय इस कठिन समय मे अपना घर परिवार छोड़कर मानव सेवा में लगे हुए हैं।  जब भी कॉल आता है, दोनों के द्वारा तुरंत घटनास्थल पहुंचकर मरीज को बड़ी जिम्मेदारी से अस्पताल पहुंचाया जाता है । वहीं अगर खुरई, बीना, मालथोंन, जरूवाखेड़ा से मरीज़ रेफर के कॉल आते हैं तो तुरंत उन्हें भी जिला अस्पताल ले जाया जाता है। उल्लेखनीय है कि यह सेवा सभी के लिए निशुल्क है ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

एमपीईबी कर्मचारियों से सौतेला व्यवहार, वैक्सीन लगाने से इनकार ★ सरकार ने माना फ्रंटलाइन वर्कर, स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण कराने से किया इनकार

एमपीईबी कर्मचारियों से सौतेला व्यवहार, वैक्सीन लगाने से इनकार
★ सरकार ने माना फ्रंटलाइन वर्कर, स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण कराने से किया इनकार 

सागर। बिजली कंपनी के फील्ड वर्कर और शहर को रोशन रखने वाले फ्रंट लाइन वर्कर से स्वास्थ्य विभाग सौतेला व्यवहार कर रहा है।   सरकार ने इन्हें फ्रंटलाइन वर्कर जरूर माना है, लेकिन  स्वास्थ्य विभाग ने इन्हें वैक्सिनेशन कराने से इनकार कर दिया है, जिस कारण विभाग के सैकड़ों कर्मचारियों में नाराजगी बनी हुई है। 
जानकारी अनुसार मंगलवार को पीटीसी ग्राउंड में 18 साल से ऊपर वाले फ्रंट लाइन वर्कर के लिए कोरोना की वैक्सिनेशन कैम्प लगाया गया था। जब बिजली विभाग के कर्मचारी यहां वैक्सिनेशन कराने पहुंचे तो जिला टीकाकरण अधिकारी ने उन कर्मचारियों को वैक्सीन लगवाने से इनकार कर दिया। बिजली विभाग के अधिकारियों ने जब कोरोना योद्धा और फ्रंट लाइन वर्कर होने का सरकार का पत्र दिखाया तो भी स्वास्थ्य विभाग नहीं माना और बिजली कर्मचारियों को बैरंग लौटा दिया।
उल्लेखनीय है कि बिजली कंपनी के सैकड़ो कर्मचारी स्वास्थ्य विभाग के इस रवैये से नाराज हैं। कई कर्मचारी बीमार भी हैं तो दर्जनों अधिकारी-कर्मचारी कोरोना संक्रमित भी हो चुके हैं। 2 अधिकारियों की कोरोना से जान भी जा चुकी है। ऐसे में यदि सामूहिक अवकाश या हड़ताल जैसी स्थिति बनी तो BMC, जिला अस्पताल, अन्य कोविड सेंटरों, अस्पतालों सहित शहर में अंधेरा छा जाएगा।

इधर जानकारी अनुसार मौके पर कर्मचारी वैक्सिनेशन करा रहे थे, बिजली विभाग के कुछबल कर्मचारियों को वैक्सीन लगी भी थी, लेकिन मौके पर पहुंचे जिला टीकाकरण अधिकारी ने मना करा दिया। 

उन्हें फ्रंट लाइन वर्कर का सर्टिफिकेट अपलोड करना पड़ेगा

पीटीसी ग्राउंड पर 45 से ऊपर वालों का वैक्सिनेशन हो रहा है। 18 से ऊपर वालों का नहीं है। यदि एमपीईबी वालों को फ्रंटलाइन वर्कर के तहत टीकाकरण कराना है तो उन्हें पहले यह सर्टिफिकेट अपलोड करना पड़ेगा, उसके बाद ही वैक्सिनेशन हो सकेगा। 

- एसआर रोशन, जिला टीकाकरण अधिकारी।

SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive