रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शनिवार, 11 सितंबर 2021

सांसद राजबहादुर के बेटे से मारपीट,दो पर मामला दर्ज

सांसद राजबहादुर  के बेटे से मारपीट,दो पर मामला दर्ज


सागर। सागर में दो पक्षो में हुई मारपीट में सागर के सांसद राजबहादुर सिंह के पुत्र सूर्यांश  की दो लोगो ने सिविल लाइन में पिटाई कर दी।जिसकी शिकायत का आवेदन सांसद के पुत्र ने सिविल लाइन थाने में दिया जिसके चलते दो आरोपियों गोलू और मयंक हरियानी निवासी इंदिरा नगर सिविल लाईन पर जानलेवा मारपीट का मामला दर्ज किया गया।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विक्रम कुशवाहा के अनुसार मामला किसी पुराने विवाद को लेकर है।इसकी जांच की जा रही है। आरोपी पक्ष  हरियानी  परिवार के कुछ लोगो ने भी सांसद पुत्र पर मारपीट के आरोपो को लेकर सिविल लाइन में एक आवेदन दिया है।


---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

स्मार्ट सिटी सागर के कार्य विधानसभा चुनाव के पहले पूर्ण कराएं जायेगें : मंत्री भूपेंद्र सिंह ★ निकाय चुनाव को लेकर अभी कुछ भी कहना कठिन

 
स्मार्ट सिटी सागर के कार्य विधानसभा चुनाव के पहले पूर्ण कराएं जायेगें : मंत्री भूपेंद्र सिंह 
★ निकाय चुनाव को लेकर अभी कुछ भी कहना कठिन 


सागर । स्मार्ट सिटी सागर में चल रहे अधिकांश विकास एवं निर्माण कार्य आगामी विधानसभा चुनाव से पहले पूरे करा लिए जाएंगे.  यह बात नगरीय प्रशासन एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ठाकुर ने चर्चा के दौरान कही. उन्होने कहा कि स्मार्ट सिटी परियोजना का पैसा छोटे-छोटे कार्यों में खर्च करने की नीति उचित नहीं है, परियोजना की राशि बड़े विकास कार्यों में खर्च की जाना चाहिए. सागर के विकास के लिए एक साथ इतनी अधिक राशि मिलना आगामी कई वर्षों तक संभव नहीं हो सकेगा. ऐसे में निर्माण कार्यो को पूरी गुणवत्ता और मजबूती के साथ कराया जाना चाहिए. उन्होने कहा कि स्मार्ट सिटी में सीईओ के पद पर कार्यरत अधिकारी का सोच विकास आधारित होना चाहिए।

मंत्री श्री सिंह ने कहा कि नगरीय निकाय चुनाव पर आरक्षण को लेकर जब तक हाई कोर्ट में मामला लंबित है तब तक चुनाव कराने के संबंध में कुछ भी कहना कठिन है. सरकार सभी पक्षो पर सोचकर निर्णय करेगी। 

SAGAR : ट्रैफिक व्यवस्थित करने 10 सदस्यीय बनी निगरानी टीम

SAGAR :  ट्रैफिक व्यवस्थित करने 10 सदस्यीय बनी निगरानी टीम

सागर। विधायक शैलेंद्र जैन, पुलिस अधीक्षक अतुल सिंह एवं आयुक्त नगर निगम रामप्रकाश अहिरवार ने शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को व्यवस्थित करने एक आवश्यक बैठक ली है जिसमें महत्वपूर्ण निर्णय लिए गये हैं। पुलिस कंट्रोल रूम परिसर में आयोजित इस बैठक में नगर के सभी थाना प्रभारियों और नगरनिगम के अतिक्रमण विभाग का अमला उपस्थित था। बैठक में मुख्य रूप से मस्जिद से चारों दिशाओं में जाने वाले मार्ग तीन बत्ती, नमक मंडी,राधा तिराहा तथा विजय टॉकीज सड़क को अतिक्रमण मुक्त कर व्यवस्थित बनाने के संबंध में चर्चा की गई। 

बैठक में विधायक जैन ने कहा कि इस सड़क पर मुख्य रूप से सब्जी व फल वालों का जमावड़ा है। राधा टॉकीज रोड पर कपड़े वाले व अन्य लोग ठेला लगाते हैं। हमने नई सब्जी मंडी परिसर में लगभग 100 दुकानें तैयार कर ली हैं। यह दुकानें नगर निगम में पंजीकृत शहर के सब्जी विक्रेताओं को निशुल्क रूप से उपलब्ध कराई जायेंगी जिनमें शहर के पंजीकृत हाथ ठेला वाले विक्रेता व सब्जी वालों को विस्थापित करेंगे। इनके अतिरिक्त कोई भी अपंजीकृत हाथ ठेला शहर में भ्रमण करता पाया गया तो उसके खिलाफ वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।

पुलिस अधीक्षक अतुल सिंह ने कहा  कि नगर निगम और ट्रैफिक पुलिस संयुक्त रूप से इस अभियान को चलाए जिस में दोनों विभागों के पांच-पांच लोग टीम में सम्मिलित रहेंगे। रोटेशन पद्धति के आधार पर इनकी ड्यूटी लगाई जाएगी। इस कार्य में उनकी जिम्मेवारी भी तय की जाएगी। उन्होंने कहा कि शहर की व्यवस्था में सुधारना हम सभी का दायित्व है और एक निश्चित अवधि में हम इस कार्य को पूरा करके देंगे।
           
अव्यवस्थित तरीके से खड़े हुए वाहनों पर कार्यवाही हेतु क्रेन के निरंतर संचालन का भी निर्णय इस बैठक में लिया गया। विधायक जैन ने आवारा पशुओं के विचरण को रोकने के और उन्हें पकड़कर शहर के बाहर भेजने हेतु टेंडर करने के निर्देश नगरनिगम आयुक्त को दिए।आयुक्त नगर निगम ने कहा कि सड़क पर फेरी लगाने वाले लोगों को हम व्यवस्था देंगे। उन्हें उचित स्थान पर विस्थापित किया जाएगा ताकि उनका रोजगार प्रभावित न हो।  
बैठक में मुख्य रूप से अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विक्रम सिंह, उपायुक्त नगरनिगम प्रणय कमल खरे,डीएसपी संजय खरे ,सीएसपी रविंद्र मिश्रा, मोती नगर थाना प्रभारी नवल आर्य, कोतवाली थाना प्रभारी सतीश सिंह, गोपालगंज थाना प्रभारी उपमा सिंह, कैंट थाना प्रभारी अनिल सिंह, यातायात थाना प्रभारी रविंद्र बागरी तथा अतिक्रमण प्रभारी नगर निगम संजय सोनी उपस्थित रहे।

भाजपा का 17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक चलेगा सेवा और समर्पण अभियान , सफल बनाने सम्भागीय बैठक

भाजपा का  17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक चलेगा सेवा और समर्पण अभियान , सफल बनाने सम्भागीय बैठक


सागर। देश के यशस्वी प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी के 71 वें जन्मदिन के अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के 17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक चलने वाले सेवा और समर्पण अभियान को प्रभावी रूप से सफल बनाने के लिए एवं भारतीय जनता पार्टी के संगठन के शिल्पकार पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वर्गीय श्री कुशाभाऊ ठाकरे के जन्म शताब्दी वर्ष, संगठन पर्व के तहत आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों को निचले स्तर तक प्रभावी रूप से सफल बनाने के लिए आज सागर में धर्मश्री स्थित भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में भारतीय जनता पार्टी की संभागीय बैठक, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश के उपाध्यक्ष सागर संभाग के प्रभारी  मुकेश सिंह चतुर्वेदी के मुख्य अतिथि में संपन्न हुई।

बैठक प्रारंभ के पहले बैठक में मुख्य अतिथि के रुप में प्रदेश उपाध्यक्ष एवं सागर संभाग के प्रभारी  मुकेश सिंह चतुर्वेदी, सांसद  राज बहादुर सिंह,  प्रदेश मंत्री  प्रभुदयाल पटेल, श्रीमती लता वानखेड़े एवं  जिला अध्यक्ष श्री गौरव सिरोठिया ने दीप प्रज्वलित कर भारत माता पंडित दीनदयाल उपाध्याय, पंडित श्यामा प्रसाद मुखर्जी एवं कुशाभाऊ ठाकरे के चित्र पर माल्यार्पण किया। 

सागर संभाग के प्रभारी श्री मुकेश सिंह चतुर्वेदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के संगठन के शिल्पकार पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वर्गीय श्री कुशाभाऊ ठाकरे के जन्म शताब्दी वर्ष को भारतीय जनता पार्टी संगठन पर्व के तहत वर्ष भर विभिन्न कार्यक्रमों को आयोजित कर, पार्टी में राष्ट्रवादी सेवाभावी एवं परिश्रमी कार्यकर्ताओं को बढ़ने का कारण का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भारत देश को विश्व पटल पर गौरवान्वित करने वाले देश के यशस्वी प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी का 71 वां जन्मदिन 17 सितंबर से भारतीय जनता पार्टी सेवा और समर्पण अभियान चलाकर 7 अक्टूबर को देश के यशस्वी प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी के मुख्यमंत्री एवं प्रधानमंत्री कार्यकाल के 20 वर्ष पूर्ण होने जा रहे, सेवा व समर्पण अभियान के तहत होने वाले लगभग सभी कार्यक्रमों को बूथ स्तर एवं मंडल स्तर पर प्रभावी रूप से सफल बनाने के लिए दायित्व वान पदाधिकारी अपने.अपने क्षेत्रों में प्रवास कर बैठते आयोजित कर समन्वय के साथ कार्यक्रम को बूथ स्तर पर एवं मंडल स्तर पर प्रभावी रूप से सफल बनाने के लिए लक्ष्य लेकर कार्य करें। जिससे निश्चित रूप से कार्यक्रम प्रभावी रूप से सफल होगें। 


बैठक मे सांसद  राज बहादुर सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता पार्टी की रीढ़ होते हैं, दायित्व वान कार्यकर्ता की कर्मठता से पार्टी के सभी छोटे.बड़े कार्यक्रम प्रभावी रूप से सफल होते हैं, उन्होंने पार्टी के समस्त दायित्व कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए कहा कि आगामी समय में आयोजित होने वाले भारतीय जनता पार्टी के सभी कार्यक्रमों को प्रभावी रूप से सफल बनाने के लिए दायित्व वान कार्यकर्ता कमर कस कर कार्य करें, जिससे निश्चित रूप से पार्टी के सभी कार्यक्रम प्रभावी रूप से सफल होंगे। बैठक में प्रदेश मंत्री द्वय प्रभुदयाल पटेल  व  श्रीमती लता वानखेड़े ने अभियान को सफल बनाने की अपील की।
बैठक में जिला अध्यक्ष श्री गौरव सिरोठिया ने देते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी के आगामी समय में आयोजित होने वाले सभी कार्यक्रमों को पार्टी के प्रत्येक कार्यकर्ता सेवा भाव के साथ समर्पित होकर कार्य करेंगे। जिससे निश्चित रूप से पार्टी के सभी कार्यक्रम प्रभावी रूप से सफल होंगे। बैठक में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं मध्य प्रदेश शासन के पूर्व मंत्री डॉ. परशुराम साहू के निधन पर 2 मिनट का मौन रख कर श्रद्धांजलि अर्पित की। बैठक का संचालन पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ. वीरेंद्र पाठक ने एवं आभार अखिलेश अयाची ने व्यक्त किया। 

ये रहे मौजूद

बैठक में  अभिलाष पांडे, नंदकिशोर नापित, अवधेश नायक, सुरेंद्र शर्मा, मुन्ना सिंह भदोरिया, अमित नूना, मलखान सिंह, प्रीतम सिंह, श्याम तिवारी, बिंद्रावन अहिरवार, राजेश्वर चैधरी, राजेश वर्मा, दीपेंद्र सिंह, पूरन लोधी, मुकेश दांगी, रोहन राय, मंगेश रामपुरिया सहित अपेक्षित श्रेणी के दायित्व वान पार्टी पदाधिकारी संभागीय बैठक में उपस्थित रहे।
 

SAGAR : लोक अदालत में 49 खण्डपीठो में निपटे 1815 प्रकरण


SAGAR : लोक अदालत में 49
खण्डपीठो में निपटे 1815 प्रकरण

★ मोटर दुर्घटना दावा प्रकरणों में क्षतिपूर्ति राशि रूपये 3,49,01,500/- पीड़ित पक्षकारों को दी गई


सागर । प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, सागर श्री डी.एन. मिश्र के मार्गदर्शन में 11 सितंबर को नेशनल लोक अदालत का सफल आयोजन जिला मुख्यालय सागर एवं सभी तहसील न्यायालयों में किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ श्री डी.एन. मिश्र, प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ,के द्वारा किया गया।
11 सितंबर को आयोजित नेशनल लोक अदालत हेतु संपूर्ण जिले में 49 खण्डपीठों का गठन किया गया, जिसमें न्यायालय में लंबित प्रकरणों में से 758 प्रकरण एवं प्री-लिटिगेशन के 1057 प्रकरण निराकृत किए गए, जिसमें मोटर दुर्घटना के 130 प्रकरणों का निराकरण कर क्षतिपूर्ति राशि रूपये 3,49,01,500/- के अवार्ड पारित किए गए, चैक बाउंस के 171 प्रकरणों के निराकरण में कुल राशि रूपये 19,57,91,430/- परिवादी पक्ष द्वारा प्राप्त किये गए। आपराधिक प्रकृति के शमन योग्य 138 प्रकरण, विद्युत के 98 प्रकरण, पारिवारिक विवाद के 123 प्रकरण तथा दीवानी एवं अन्य प्रकृति के 98 प्रकरणों का निराकरण किया गया। विभिन्न बैंकों के 280 प्री-लिटिगेशन प्रकरण, विद्युत विभाग के 329 प्री-लिटिगेशन प्रकरण, नगर निगम के 372 प्री-लिटिगेशन प्रकरण एवं अन्य 76 प्री-लिटिगेशन प्रकरणों का निराकरण भी इस अवसर पर हुआ जिसमें राशि रूपये 15,23,6,096/- का राजस्व प्राप्त हुआ।                                          
नेशनल लोक अदालत के शुभारंभ कार्यक्रम में प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश/ अध्यक्ष  डी.एन. मिश्र, एवं अन्य न्यायाधीशगण, सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री विवेक शर्मा, अध्यक्ष, जिला अधिवक्ता संघ, सागर श्री अंकलेश्वर दुबे, जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री अनुज कुमार चन्सौरिया, अधिवक्तागण, बीमा कंपनियों के अधिकारीगण, बैंक, विद्युत, नगर निगम एवं अन्य विभागों के अधिकारीगण भी उपस्थित रहे।
इस अवसर पर फलदार वृक्षों का वितरण भी राजीनामा करने वाले पक्षकारों को न्याय वृक्ष के प्रतीक के रूप में प्रदान किया गया। विशेष प्रकरण के रूप मेंः- लोक उपयोगी सेवाओं से संबंधित प्रकरणों के निराकरण हेतु श्री विवेक शर्मा, सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, श्री एच.एस. जायसवाल, कार्यपालन यंत्री (लो.नि.वि.), श्री सुरेश बौद्ध, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी की खण्डपीठ में श्री सुरेन्द्र गुप्ता, नगर पालिका परिषद, मकरोनिया के द्वारा दीनदयाल वार्ड नं0 03 में स्थिति देवकृपा पार्क से मिट्टी एवं गिट्टी हटवाने हेतु एवं 01 अन्य प्रकरण जो श्री सुरेन्द्र गुप्ता द्वारा ही न्यू टाउन प्रभाकर नगर, वार्ड नं. 02 में स्थित प्रजापिता ब्रह्मकुमारी आश्रम के आस-पास से कीचड़, पानी, गंदगी एवं सीवर लाईन का पानी हटवाने के लिए एवं उचित साफ-सफाई के लिए प्रस्तुत किये गए थे, में सुलह कार्यवाही की गई जिसके फलस्वरूप नगर पालिका परिषद्, मकरोनिया द्वारा देवकृपा पार्क के पास से गिट्टी एवं मिट्टी हटाकर के साफ-सफाई कराई गई और ब्रह्म कुमार आश्रम से मेनगेट तक सी.सी. रोड का निर्माण कराकर आवश्यक साफ-सफाई करा देने के आधार पर आपसी सहमति से प्रकरणों का निराकरण किया गया।
इसी प्रकार व्यवहार न्यायाधीश वरिष्ठ खण्ड बीना, श्री संतोष तिवारी की खण्डपीठ में लगभग 21 वर्ष पुराना दीवानी प्रकरण जो ख्याति प्राप्त परिवार की बहन द्वारा बड़े भाई के विरूद्ध मकान, कृषि भूमि एवं अन्य अचल संपत्तियों में अपने हक के आधार पर पेश किया गया था, में खण्डपीठ के प्रयासों से भाई-बहन के मध्य आपसी सहमति से राजीनामा के आधार पर प्रकरण का निराकरण हुआ जिसमें दोनो पक्षों ने संपत्ति से बढ़कर रिश्तों को अहमियत दी। उक्त खण्डपीठ के प्रयासों से ही 17 वर्षो से विचाराधीन 01 अन्य व्यवहार वाद का निराकरण भी आपसी राजीनामा के आधार पर इस नेशनल लोक अदालत में हुआ।

ग्राम मीरखेड़ी, तहसील राहतगढ़ निवासी श्री वीरसिंह को सेंट््रल बैंक ऑफ इंडिया, सीहोरा शाखा द्वारा ऋण खाते की बकाया राशि के भुगतान हेतु नोटिस दिया था किन्तु नोटिस उपरांत भी बकाया राशि अदा न करने पर उक्त बैंक द्वारा प्री-लिटिगेशन प्रकरण के रूप में उक्त प्रकरण को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, सागर के कार्यालय में प्रस्तुत किया था, जिसमें कार्यालय द्वारा विपक्षी को सूचना पत्र जारी किया गया जिसके परिणाम स्वरूप बकायादार नेशनल लोक अदालत में उपस्थित हुआ जिसमें अध्यक्ष, जिला अधिवक्ता संघ श्री अंकलेश्वर दुबे के द्वारा दोनो पक्षों को समझाईश दी गई तो बैंक के द्वारा बकायादार को राशि में कुछ छूट प्रदान की गई, बकायादार द्वारा एक मुश्त राशि जमा कराई गई जिससे उसके ऋण खाता की अदायगी पूर्ण हो गई।
इसी प्रकार न्यायिक मजिस्ट््रेट प्रथम श्रेणी, सुश्री साक्षी मसीह की खण्डपीठ के  द्वारा ग्राम बाबूपुरा, पुलिस थाना, सिविल लाईन अंतर्गत निवासी महिला आवेदिका द्वारा वर्ष 2018 में उसके पति के विरूद्ध भरण-पोषण प्राप्ति हेतु प्रकरण प्रस्तुत किया गया था, में उभयपक्षों के मध्य सुलह कार्यवाही कराई गई जिसके फलस्वरूप पति-पत्नि ने पुनः साथ में रहने का निश्चय किया तथा आपसी सहमति से प्रकरण का निराकरण हुआ।

      
 

देवरी नगरपालिका कोविड टीकाकरण के फर्स्ट डोज़ शत प्रतिशत हुआ


देवरी नगरपालिका कोविड टीकाकरण के फर्स्ट डोज़ शत प्रतिशत हुआ


सागर ।  मध्यप्रदेश शासन निर्देश पर 30 सितंबर के पूर्व सौ प्रतिशत लगाने का महा अभियान प्रारंभ किया गया है जिसके परिपेक्ष में कलेक्टर श्री दीपक आर्य द्वारा जिले में 20 सितंबर तक शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने के निर्देश दिए गए और विस्तृत कार्य योजना तैयार की गई ,जिसके तहत आज देवरी नगर पालिका सागर जिले में देवरी नगर पालिका आज शत प्रतिशत प्रथम डोज लगाने वालों का वैक्सीनेशन किया गया ।
अनुविभागीय अधिकारी श्री अमन मिश्रा ने बताया कि कलेक्टर श्री दीपक आर्य के निर्देश पर नगरपालिका परिषद देवरी  नगरपालिका परिषद देवरी जिला सागर के अंतर्गत ( नगरपालिका मतदाता सूची ) मे दर्ज 18 वर्ष से अधिक आयु के कुल 18168 व्यक्तियो मे से 17364 व्यक्तियो का प्रथम डोज का वेक्सीनेशन ( वार्ड प्रभारियों द्वारा प्रस्तुत प्रमाण पत्र के आधार पर ) किया जा चुका है ।
एसडीएम श्री अमन मिश्रा ने बताया कि आज दिनांक को शेष व्यक्तियो मे मृत , विवाहित , नगर के बाहर एवं बीमार व्यक्तियो की संख्या 804 शामिल है ।
इस प्रकार सागर जिले में प्रथम नगरपालिका परिषद देवरी जिला सागर का शतप्रतिशत प्रथम डोज का वेक्सीनेशन किया जा चुका है ।
कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने देवरी नगर पालिका के समस्त नागरिकों एवं स्वास्थ्य विभाग एवं अनु विभागीय अधिकारियों विकासखंड मेडिकल अधिकारी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों को बधाई देते हुए शुभकामनाएं दी हैं और समस्त जिले वासियों से आह्वान किया है कि इसी प्रकार जिले में प्रथम डोज वालों का शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन  के लिए जागरुकता अभियान चलाये। देवरी नगर पालिका में प्रथम डोज लगाने वालों का शत प्रतिशत वैक्सीनेशन होने पर संभागायुक्त श्री मुकेश शुक्ला, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ इच्छित गढ़पाले ने बधाई एवं शुभकामनाएं प्रेषित की हैं। 
      
 

गढ़पहरा धामोनी मार्ग हुआ चालू, पहाड़ी खिसकने से मार्ग हुआ था अवरुद्ध

 


गढ़पहरा- धामोनी मार्ग हुआ चालू, पहाड़ी खिसकने से मार्ग हुआ था अवरुद्ध



सागर। गढ़पहरा से धामोनी जाने वाले सड़क मार्ग पर गत रात्रि तेज बारिश होने के कारण  भोजपुरा पहाड़ी धसकने से मार्ग अवरुद्ध हो गया था ।कलेक्टर से दीपक आर्य को सूचना प्राप्त होते ही उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया । पहाड़ी धसकने से किसी तरह की जनधन हानि नही थी। बड़ा हादसा टल गया। 


कलेक्टर श्री आर्य के निर्देश पर एमपी एमपीआरडीसी के अधिकारियों एवं एवं अन्य अधिकारियों द्वारा तत्काल कार्रवाई करते हुए गढ़पहरा धामोनी मार्ग जोकि पहाड़ी दसकने से अवरुद्ध हो गया था उसको साफ करा कर आवागमन हेतु चालू कराया गया। 

म.प्र. कांग्रेस पिछड़ा वर्ग की आभार यात्रा पहुँची सागर

म.प्र. कांग्रेस पिछड़ा वर्ग की आभार यात्रा पहुँची सागर

★ कांग्रेसजनो ने भव्य अगवानी कर किया आत्मीय स्वागत


सागर ।  म.प्र.की कमलनाथ सरकार द्वारा पिछड़ा वर्ग को 27 प्रतिशत आरक्षण दिये जाने पर म.प्र. कांग्रेस पिछड़ा वर्ग के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद श्री  राजमणि पटेल के निर्देशन में प्रदेश की राजधानी भोपाल से निकाली गई आभार यात्रा शनिवार को सागर जिला मुख्यालय पहुंची।आभार यात्रा के सागर पहुंचने पर कांग्रेस पिछड़ा वर्ग के जिला अध्यक्ष शरद राजा सेन, शहर अध्यक्ष घनश्याम पटेल द्वारा  यात्रा की  भव्य अगवानी कर आभार यात्रा लेकर आये म.प्र. कांग्रेस के महासचिव पवन पटेल एवं यात्रा में चल रहे साथियों का आत्मीय स्वागत किया। 
तत्पश्चात आभार कार्यक्रम का आयोजन मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी एवं मध्य प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री श्री पवन पटेल के मुख्य आतिथ्य में किया गया।  

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी ने कहा कि माननीय कमलनाथ जी की सरकार ने पिछड़ा वर्ग को 27% आरक्षण देकर जो मान सम्मान बढ़ाया था उसे माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा सही ठहराने से आरक्षण विरोधी ताकतों को मुंहतोड़ जवाब मिला है।  इस कारण कांग्रेस पिछड़ा वर्ग द्वारा माननीय कमलनाथ जी का आभार व्यक्त करने आभार यात्रा निकाली जा रही है जो सराहनीय है। उन्होंने कहा कि
कांग्रेस की मान. कमलनाथ सरकार ने पिछड़ा वर्ग को 27 प्रतिशत आरक्षण लागू किया, इसका श्रेय भाजपा लेना चाहती है। 


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे




ट्वीटर  फॉलो करे



वेबसाईट


मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव श्री पवन पटेल ने कहा कि आभार यात्रा पूरे प्रदेश में निकालेगी और आमजनता से सीधा संवाद स्थापित कर भाजपा की जनविरोधी नीतियों को उजागर की जावेंगी। भाजपा केवल पूंजीपतियों के लिए काम करती है। आम जनता, गरीब, पिछड़ा, किसान से उसका कोई सरोकार नहीं है। श्री पटेल ने कहा यात्रा के माध्यम से पूरे प्रदेश में जाकर संविधान और देश बचाने के लिए भाजपा जैसी फिरकापरस्त ताकतों को उखड फेकने की अपील करेंगे। 
आभार कार्यक्रम को कांग्रेस पिछड़ा वर्ग के अध्यक्ष द्वय शरद राजा सेन, घनश्याम पटेल,विद्याराम वर्मा, स्वराज सिंह ,दिग्विजय सिंह,विजय साहू, रमाकांत यादव, राकेश राय आदि ने सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन युवा कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष अशरफ खान ने किया अन्त में आभार म.प्र. कांग्रेस महासचिव जितेन्द्र सिंह रोहण ने माना। 

कार्यक्रम में मुख्य रूप से शहर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राशिद खान,पार्षद भैयन पटेल, सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे, प्रवक्ता रवि सोनी, मुन्ना विश्वकर्मा, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष देवेन्द्र कुर्मी, शिवपाल यादव, अनिल कुर्मी, कुंदन जाट,आनंद हेला,मोती लाल पटेल, मुकेश खटीक, बसीम खान,हरिश्चंद्र सोनवार,निर्वाण सिंह,कल्लू पटेल, रमेश सेन, महादेव सेन, रवि उमाहिया, विक्की सेन, मनोज सोनवार, राजा बुंदेला संदीप चौधरी, एम.आई खान, जित्तू अहिरवार, राजेश श्रीवास, अबरार सौदागर, पीतम रजक, कमल जैन, राघवेंद्र सिंह, धर्मेंद्र यादव, कोमल सोनी, पवन केशरवानी, दिलीप रावत, रोहित वर्मा, कल्याण सिंह, संतोष राय, जयराम लड़िया, कृष्णा सेन, अनुभव सेन,नियाज अहमद, महेश सेन, हर प्रसाद अहिरवार, रोहित सिंघई, सोनू पवार, अजीत लोधी,किशोर सेन,राजा खटीक सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसजन मोजूद थे।
 

---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

SAGAR : दो शिक्षकों की दुर्घटना मृत्यु पर एक करोड़ 10 लाख मंजूर


SAGAR : दो शिक्षकों की दुर्घटना मृत्यु पर एक करोड़ 10 लाख मंजूर

सागर. जिला मोटर दुर्घटना दावा न्यायाधीश श्री डीएस मिश्रा ने दो शासकीय शिक्षकों की दुर्घटना में मृत्यु से संबंधित क्लेम प्रकरण में 1 करोड़ 10 लाख रूपए से अधिक का अवार्ड पारित किया है.
 घटना क्रम इस प्रकार बताया जाता है कि दिनांक 4 अगस्त 2018 को शिक्षक सुनील जैन निवासी रजवांस तथा नरेंद्र नामदेव निवासी विसराहा थाना बांदरी शासकीय टे्रनिंग पर मालथौन गए थे. और दोनों शिक्षक एक मोटर साईकिल पर बैठकर मालथौन से जैसे ही रजवांस के लिए वापिस रवाना हुए की पीछे तरफ से आ रहे दिल्ली के कंटेनर क्रमांक एचआर 55 एस 3158 को गुड्डू पाल निवासी खिरीनगर जिला हरदोई उप्र ने चलाकर जोर की टक्कर मार दी थी.
   उक्त दुर्घटना के तत्काल बाद 108 वाहन से सागर श्री हॉस्पिटल लाया गया था. जहाँ घटना की रात्रि में सुनील जैन की मृत्यु हो गई थी तथा दूसरे दिन उनके साथी शिक्षक नरेंद्र नामदेव की इलाज के दौरान मृत्यु हो गई थी.
 जिला न्यायालय में आवेदिका चांदनी नामदेव तथा उनके एक माह के पुत्र रामकृष्ण नामदेव मृतक के पिता हरिनारायण नामदेव व माँ प्रेम नारायण नामदेव तथा शिक्षक सुनील जैन के आश्रित उनकी पत्नी श्रीमती अरूणा जैन पुत्र प्रासुक एवं आमर्स जैन  व माँ श्रीमती अंगूरी जैन के द्वारा क्षतिपूर्ति दावा प्रस्तुत किए गए थे.
 दोनों प्रकरणों के अधिवक्ता अशोक जैन एडव्होकेट ने बताया कि उक्त दुर्घटना एनएच 26 राजघाट मुहल्ला सागर-झांसी रोड मालथौन पर घटित हुई थी और मृतक नरेंद्र नामदेव के पिता हरिनारायण नामदेव की रिपोर्ट पर संबंधित कंटेनर (ट्रक ) चालक गुड्डू पाल को मालथौन पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया था व आरोप पत्र मालथौन में पेश किया गया था. इस प्रकरण में मृतक सुनील जैन की उम्र 32 वर्ष थी तथा नीरज नामदेव की उम्र 27 वर्ष थी. न्यायालय में दावा के समर्थन में साक्षी शिक्षक एवं संकुल केंद्र प्राचार्य तथा आवेदक गण की साक्ष्य करवाई गई थी व उन्हें मिलने वाली वेतन को सिद्ध कराया गया था. न्यायालय ने आवेदक गण का दावा आसिंक रूप से सिद्ध होने पर नरेंद्र नामदेव के आश्रित गण के पक्ष में 61 लाख रूपए एवं सुनील  जैन के आश्रितों के पक्ष में 49 लाख रूपए का क्षतिपूर्ति अवार्ड पारित किया गया. दोनों प्रकरणों में साढ़े सात प्रतिशत ब्याज दावा प्रस्तुती दिनांक से अदायगी दिनांक तक दिलाए जाने का आदेश पारित किया गया है.  
  
 ---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

वेयर हाउस का जिला प्रबंधक दस हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार, सागर लोकायुक्त पुलिस की कार्यवाही

वेयर हाउस का जिला प्रबंधक दस हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार, सागर लोकायुक्त पुलिस की कार्यवाही

सागर । लोकायुक्त पुलिस सागर ने 
संभाग के टीकमगढ़ जिले में जिला प्रबंधक वेयर हाऊसिंग एवं लॉजिस्टिक कार्पोरेशन  के प्रबंधक को आज दस हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। वेयर हाउस में रखे गेंहू के एवज में रिश्वत मांगी गई थी। 
लोकायुक्त पुलिस सागर के अनुसार राजेश शर्मा निवासी मामोन दरवाजा टीकमगढ़ ने लिखित में शिकायत की थी कि जिला प्रबंधक वेयर हाउसिंग एवं लाजिस्टिक्स कार्पोरेशन शेर सिंह चौहान द्वारा उसके स्वयं के वेयर हाउस में रखे सरकारी गेहूं का किराया राशि के बिल निकालने एवं अधिक समय तक अनाज रखे रहने के एवज में दस हजार रुपए
की रिश्वत मांगी थी। शिकायत की जांच पडताल के बाद जिला प्रबंधक को कार्यालय मप्र वेयर हाउसिंग एवं लाजिस्टिक्स कार्पोरेशन बड़ोरा घाट
टीकमगढ़ में रिश्वत लेते पकडा है। DSP राजेश खेड़े के नेतृत्व में ट्रेप की कार्यवाही हुई। 

---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

शुक्रवार, 10 सितंबर 2021

सुरखी क्षेत्र में दो करोड़ रुपये के विकास कार्यो का भूमिपूजन किया मंत्री गोविन्द राजपूत ने

सुरखी क्षेत्र में दो करोड़ रुपये के विकास कार्यो का भूमिपूजन किया मंत्री गोविन्द राजपूत ने
सागर।  मेरा धर्म भी सुरखी मेरा कर्म भी सुरखी ,सुरखी वासियों की सेवा से मुझे चारों धाम की तीरथ यात्रा जैसा सुख मिलता है जीवन भर आपकी सेवा एक मंदिर के पुजारी की तरह करता आया हूं और शेष जीवन भी आप की ही सेवा करूंगा यह बात राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने ग्राम रामपुरा में आयोजित नल जल योजना के भूमि पूजन के अवसर पर कहीं ।
उन्होंने कहा कि सुरखी विधानसभा कि हर गांव में पानी पहुंचाना मेरा संकल्प है ताकि हमारी माताएं बहनें पानी के लिए परेशान ना हो श्री राजपूत द्वारा ग्राम रमपुरा,बहादुरपुर तथा रजवांस में 50 लाख के उप स्वास्थ्य केंद्र का भूमि पूजन किया। साथ ही रजवास के लिए 11लाख रुपए राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने पंचायत के विकास कार्यों के लिए दिए।
विकास कार्यों की नहीं होने देंगे कमी
राजस्व एवं परिवहन मंत्री  गोविंद सिंह  राजपूत ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि गणेश चतुर्थी के अवसर पर क्षेत्र वासियों के लिए दो करोड़ से आदि के अनेकों विकास कार्यों का भूमिपूजन किया, जिनमें गांव में चबूतरा,मंदिर सीसी रोड, नाली निर्माण, नलजल योजना, जैसी बड़ी योजनाएं शामिल है। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों की कोई कमी नहीं है विकास के लिए आपका साथ चाहिए ।
इस अवसर पर भाजपा नेता नीरज शर्मा, मंडल अध्यक्ष अमित राय, डेनी जैन, विनोद ओसवाल, विनोद कपूर, दिनेश सिंह रघुवंशी, चार्ली यादव, संजय कुर्मी, सुरेंद्र रघुवंशी, सरपंच भगवान दास, शिव कुमार राय, परमानंद अहिरवार, दशरथ सिंह, वीरेंद्र चौहान, राजकुमार, नरेंद्र विश्वकर्मा, राकेश दुबे, लखन सिंह राजपूत सहित कार्यकर्ता मौजूद रहे।

    
 

SAGAR: अवैध सम्बन्धो के चलते हुई थी हत्या, अंधे कत्ल का खुलासा

SAGAR: अवैध सम्बन्धो के चलते हुई थी हत्या, अंधे कत्ल का खुलासा


सागर। सागर जिले थाना बांदरी पुलिस ने  अंधे कत्ल का खुलासा कर लिया है। पुलिस को विगत दिनों ग्राम बेरखेडी के खेत की ढबरी मे तैरटी हुई एक महिला की लाश मिली थी। इसमे दो आरोपीयो को गिरफ्तार कर लिया है। अवैध सम्बन्धो के चलते हत्या हुई थी।

पुलिस के मुताबिक दिनांक 04.09.2021 को थाना बांदरी अंतर्गत ग्राम बेरखेडी में खेत की ढबरी में तैरते हये एक 38 वर्षीय महिला की शव मिला था । जिस पर शव पंचनामा कार्यवाही कर मर्ग क्रमांक 69/2021 धारा 174 जाफौ का कायम कर जांच मे लिया गया था। इस दौरान मर्ग जांच के गवाहान व साक्षियों के कथन लेख किये गये एवं तकनीकी व अन्य साक्ष्य एकत्रित किये गये। पुलिस ने आरोपी सीताराम
आदिवासी निवासी रेगुआ थाना खुरई देहात व  कलू आदिवासी निवासी
सिलारपुर थाना खुरई देहात द्वारा मृतिका के अन्य लोगो के साथ प्रेम प्रसंग एवं अवैध संबंध होने से आरोपियों द्वारा योजनावद्ध तरीके से मृतिका की
हत्या कारित करना पाया। हत्या के बाद महिला का ढबरी मे शव फेंककर घटना को अंजाम दिया। 
पुलिस ने धारा 302,201,34 ताहि का
पंजीवध्द कर विवेचना मे लिया आरोपियों की शीघ्र पता तलाश हेतु  पुलिस अधीक्षक सागर के निर्देशन में थाना बांदरी पुलिस टीम के विशेष प्रयासो से आज प्रकरण के आरोपी सीताराम आदिवासी निवासी रेगुआ थाना खुरई देहात व कलू आदिवासी निवासी सिलारपुर थाना खुरई देहात को गिरफ्तार कर  न्यायालय पेश किया गया है।अधे कत्ल के खुलासे में थाना बांदरी पुलिस टीम एवं चौकी उजनेट पुलिस टीम सराहनीय भूमिका रही है।

महाराजा छत्रसाल विश्वविद्यालय में इस शैक्षणिक सत्र में 11 संकाय होंगे शामिल : मंत्री डॉ मोहन यादव


महाराजा छत्रसाल विश्वविद्यालय में इस शैक्षणिक सत्र में 11 संकाय होंगे शामिल : मंत्री डॉ मोहन यादव

सागर ।  उच्च शिक्षा के क्षेत्र में मध्यप्रदेश देश में नंबर वन  पर रहे इसके प्रयास निरंतर किये जा रहे है, साथ ही सागर संभाग के छतरपुर में महाराजा छत्रसाल विश्वविद्यालय में 11 नए कोर्स नए शैक्षणिक सत्र से प्रारंभ होंगे । उक्त विचार मध्य प्रदेश शासन के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव ने व्यक्त किए ।
मंत्री डॉ यादव ने बताया कि मध्य प्रदेश शासन के उच्च शिक्षा मंत्री श्री मोहन यादव ने बताया कि  महाराजा छत्रसाल विश्वविद्यालय में इस शैक्षणिक सत्र में 11 विषय  शामिल होंगे । उन्होंने बताया कि 11 विषयों में प्रमुख रूप से कृषि विषय ,मेडिकल, पैरामेडिकल शामिल हैं इन विषयों अध्यापन कार्य प्रारंभ होने से जहां उच्च शिक्षा प्राप्त होगी वही रोजगार के अवसर भी प्राप्त होंगे ।उन्होंने कहा कि इन विषयों के शामिल होने से विद्यार्थियों को  अध्ययन करने में सुविधा होगी । मंत्री श्री यादव ने बताया कि   मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य जिसने नई शिक्षा नीति को लागू की है ।इस नई नीति लागू होने से शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार आएगा और रोजगार के नए अवसर खुलेंगे । मंत्री श्री यादव ने कहा कि  उच्च शिक्षा विभाग के समस्त महाविद्यालय विश्वविद्यालयों में बजट की कोई कमी नहीं आएगी ।
मंत्री श्री यादव ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं कि उच्च शिक्षा के साथ स्कूली शिक्षा भी देश में नंबर वन पर रहे इसके निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं और कार्य योजना तैयार की जा रही है।
 

मालथौन और बांदरी महाविद्यालय की जरूरतों को करेंगे पूराःउच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ★ शासकीय महाविद्यालय का हुआ भूमिपूजन

मालथौन और बांदरी महाविद्यालय की जरूरतों को करेंगे पूराःउच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव
★ शासकीय महाविद्यालय का हुआ भूमिपूजन

सागर। उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने बांदरी के शासकीय महाविद्यालय भवन निर्माण का भूमिपूजन किया। मंत्री एवं खुरई विधायक भूपेन्द्र सिंह ने अनुरोध पर उन्होंने बांदरी और मालथौन महाविद्यालय की सभी जरूरतें पूरे करने की घोषणा की। समारोह में सांसद राजबहादुर सिंह और विधायक महेश राय भी उपस्थित थे।

भूमिपूजन समारोह के मुख्य अतिथि उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने संबोधन में कहा कि आज सौभाग्य का दिन है कि बुद्धि के देवता गणपति बप्पा की स्थापना के साथ यहा महाविद्यालय भवन निर्माण का भूमिपूजन हो रहा है। उन्होंने कहा कि मंत्री भूपेन्द्र भैया ने मालथौन और बांदरी महाविद्यालय के लिए जरूरतें बताई हैं, उन्हें पूरा किया जाएगा। मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने नई शिक्षा नीति के लाभ पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने देश में सबसे पहले अपने यहां नई शिक्षा नीति लागू करने की शुरूआत की है। 

उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने कहा कि मंत्री भूपेन्द्र भैया ने बांदरी और मालथौन में महाविद्यालय के रूप में युवा ऊर्जा का मंदिर खोला है। कोई गृहमंत्री महाविद्यालय के लिए पुलिस थाने की जगह दे, यह बहुत कठिन बात है। लेकिन भूपेन्द्र भैया ने बांदरी में यह काम करके दिखाया। क्योंकि उसमें सर्वजन हिताय की मंशा सर्वोपरि थी। गरीब के आंसू पोंछ सके, इस भावना के साथ भूपेन्द्र भैया आपके बीच काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो दिलों में राज करता है, वही सच्च जन नायक है और खुरई विधानसभा क्षेत्र के लिए यह सौभाग्य की बात है कि उन्हें भूपेन्द्र भैया जैसा जनसेवक मिला है। उन्होंने खुरई विधानसभा क्षेत्र में भोज विश्वविद्यालय का सेंटर खोलने की घोषणा की। 




 इसके पूर्व मध्यप्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने संबोधन में कहा कि आज हम सबके लिए खुशी का दिन है कि उच्च शिक्षा मंत्री के रूप में मोहन यादव  ने बांदरी में महाविद्यालय भवन बनाने 6.18 करोड़ रूपए स्वीकृत किए और भूमिपूजन के लिए स्वयं यहां पधारे। उन्होंने कहा कि जब से देश आजाद हुआ है, तब से मालथौन और बांदरी में महाविद्यालय खोलने की मांग उठती रही है। आपने मुझे चुना और मैनें प्राथमिकता से यहां महाविद्यालय स्वीकृत कराये। बांदरी में महाविद्यालय का भवन बनाने के लिए कहीं सरकारी जमीन नहीं थी। तो नये बस स्टेण्ड के एक हिस्से में काॅलेज शुरू कराया। फिर गृहमंत्री रहते पुलिस थाने की जमीन ट्रांसफर कर काॅलेज की बिल्डिंग बनाने की राह आसान की। सवा साल कांग्रेस की सरकार के समय क्षेत्र के सभी विकास कार्य रोक दिये गये थे। फिर भाजपा की सरकार बनी और मोहन यादव जी उच्च शिक्षा मंत्री बने, तो उन्होंने यहां काॅलेज भवन बनाने 6.18 करोड़ रूपए स्वीकृत कर दिये। 

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि बांदरी के विकास हेतु नगर परिषद की जरूरत थी। नगर परिषद बनने का क्या महत्व है, यह गरीब परिवार समझता है। जैसे प्रधानमंत्री योजना के आवासों की वृद्धि हुई है और निर्माण की राशि डेढ़ से ढाई लाख हो गई है। 110 युवाओं को रोजगार मिला है। उन्होंने कहा कि बांदरी के लिए जो भी आवश्यक है, वे सारी व्यवस्थाएं करने का काम कर रहे हैं। बांदरी को अच्छा शहर बनाना ही उनका संकल्प है। 

 मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव से बांदरी महाविद्यालय में वाणिज्य संकाय खोलने, बांदरी और मालथौन महाविद्यालय में स्नातकोत्तर कक्षाएं प्रारंभ करने, जिम्नेजियम हाल, आडीटोरियम, ओपन जिम, खेल मैदान और खेल सामग्री, वाहन स्टेण्ड, वनस्पति उद्यान, मालथौन महाविद्यालय में बाउंड्रीवाल तथा खुरई महाविद्यालय में रसायन विज्ञान, वनस्पति शास्त्र, प्राणी शास्त्र और भौतिक शास्त्र में स्नातकोत्तर कक्षाएं खोलने का अनुरोध किया। जिस पर उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने कहा कि यह सभी जरूरतें पूरी की जाएंगी। कार्यक्रम में सांसद राजबहादुर सिंह ने कहा कि, बांदरी के लिए आज गौरव का दिन है। भूपेन्द्र भैया खुरई विधानसभा क्षेत्र को शिक्षा का हब बनाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने जब से खुरई विधानसभा क्षेत्र की बागडोर संभाली है, लगातार क्षेत्र के विकास में लगे हैं। समारोह में बीना विधायक महेश राय ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर क्षेत्र के वरिष्ठ भाजपा नेता, कार्यकर्ता और नागरिकगण उपस्थित थे।

दो शव वाहन सौंपे नगर निगम को, विधायक शेलेन्द्र जैन ने

दो शव वाहन सौंपे नगर निगम को, विधायक शेलेन्द्र जैन ने 

सागर। विधायक शैलेंद्र जैन ने लगभग 35 लाख रुपए की लागत से दो शव वाहन नगर निगम सागर को आयुक्त नगर निगम रामप्रकाश अहिरवार एवं कार्यपालन यंत्री पुरन अहिरवार की उपस्थिति में सौंपे गए।
विधायक जैन ने बताया कि कोरोना की दूसरी लहर में हमने ऐसे वीभत्स मंजर को देखा है जब अनेकों परिजनों ने अपने परिजनों का अंतिम संस्कार करने के लिए 24, 24 घंटे तक इंतजार किया है। शव वाहन के कमी के कारण अनेकों लोगों को असहनीय पीड़ा उठानी पड़ी है तब मेरे मन में यह विचार आया था कि सागर में कम से कम 2 शव वाहन अविलंब रूप से उपलब्ध कराए जाने चाहिए ।
इसी दिशा में हमने आज नगर निगम सागर को 2 शव वाहन उपलब्ध कराए हैं जिससे सागर के नागरिकों को अपने परिजनों को अंतिम संस्कार करने में कोई भी असुविधा नहीं होगी। बहुत जल्द इसके संचालन के लिए टोल फ्री नंबर जारी कर दिए जाएंगे इस पर व्यक्ति सूचना देकर अपनी आवश्यकता बता सकता है। इस अवसर पर सुबोध पाराशर विनय मिश्रा प्रशांत जैन मुकेश साहू रोटरी डॉ आदित्य दुबे शुभम वाला गोस्वामी कृष्ण कुमार चौरसिया उपस्थित रहे।

पूर्वमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता डॉ परशुराम साहू का निधन, मुख्यमंत्री व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने जताया शोक

पूर्वमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता डॉ परशुराम साहू का निधन, मुख्यमंत्री ने जताया शोक

सागर। सागर जिले के देवरी के चार बार के विधायक रहे ,पूर्व मंत्री डॉ परशुराम साहू का आज दोपहर  में  निधन हो गया  । वे जनता पार्टी की सरकार में मंत्री रहे है। वे अपने पीछे भरापूरा परिवार छोड़ गए। उनके निधन पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ,भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा सहित अनेक नेताओं ने शोक वयक्त किया है। 
80 वर्षीय डॉ साहू जनसंघ, जनता पार्टी और भाजपा तीनो से विधायक रहे है। डॉ साहू ने 1967 से लेकर 1993 तक सभी चुनाव देवरी विधानसभा सीट से लड़े और चार दफा जीते। वे संविद सरकार और जनता पार्टी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रहे।  डॉ साहू बेहद सरल और लोकप्रिय नेताओं में गिने जाते थे। कल शनिवार को सुबह 11:00 बजे संगम घाट देवरी में अंत्येष्टि होगी । 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पूर्व मंत्री डा साहू के निधन पर किया दुख व्यक्त

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व मंत्री डॉ परशुराम साहू के निधन पर दुख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्व साहू ने मंत्री और विधायक के रुप में सक्रिय भूमिका का निर्वहन किया।वे सामाजिक संस्थाओं से भी जुड़े थे। देवरी( जिला सागर) से  चार बार मध्यप्रदेश विधानसभा के सदस्य के रूप में निर्वाचित हुए । वे क्षेत्र में काफी लोकप्रिय रहे। उनकी सेवाएं सदैव याद रखी जाएंगी।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया कि

"सागर जिले की देवरी विधानसभा से पूर्व विधायक, मध्य प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री एवं भाजपा वरिष्ठ नेता डॉ परशुराम साहू जी के निधन का दु:खद समाचार मिला।
ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें एवं शोकाकुल परिवार को यह गहन दु:ख सहन करने का सामर्थ्य प्रदान करें। "


गुरुवार, 9 सितंबर 2021

मिट्टी से निर्मित श्री गणेश जी की प्रतिमाओं का वितरण किया निशुल्क वितरण

मिट्टी से निर्मित श्री गणेश जी की प्रतिमाओं का वितरण किया निशुल्क वितरण

सागर। श्री गणेश शरण मंडल समिति सागर के तत्वधान में रविन्द्र भवन में गत आठ वर्षानुसार इस वर्ष भी मिट्टी के श्री गणेश जी की प्रतिमाओं का वितरण श्री गणेश शरण मंडल के अध्यक्ष प. श्री रामाअवतार पाण्डेय  द्वारा वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। वितरण कार्यक्रम में कट्रीब, 3000 मिट्टी की गणेश प्रतिमाओं का वितरण किया गया ।  काँग्रेसी नेता प.श्री संतोष पाण्डेय, सेवा ही संगठन अभियान 2 भाजपा सागर के प्रभारी शैलेष केशरवानी थे।

केबिनेट मंत्री pwd मध्यप्रदेश पं श्री गोपाल भार्गव जी ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब हम नदी या तालाब में मूर्ति विसर्जन करते हैं तो उसके बाद नदी या तालाब का पानी जहरीला हो जाता है। भगवान की मूर्ति का भी अपमान होता है। इससे बेहतर है कि मिट्टी की मूर्ति का घर में ही विसर्जन कर उसका सम्मान करें। मिट्टी से गौर गणेश बनाने की परंपरा प्राचीन काल से चली आ रही हैं। गणेश हिन्दुओं के आदि आराध्य देव है। हिन्दू धर्म में गणेश
को एक विशष्टि स्थान प्राप्त है। कोई भी धार्मिक उत्सव हो, यज्ञ, पूजन इत्यादि सत्कर्म हो या फिर विवाहोत्सव हो, निर्विघा कार्य सम्पन्न हो इसलिए शुभ के रूप में गणेश की पूजा सबसे पहले की जाती है।
श्री संतोष पाण्डेव  ने कहा कि गणेश पुराण में भी मिट्टी के गणपति की विशेष महिमा बताई गई है। अगर आप मिट्टी के गणपति घर में स्थापित करके,पूरे विधि-विधान से पूजा करते हैं तो बप्पा आपको न सिर्फ ऋद्धि-सिद्धि देंगे, बल्कि आपकी हर इच्छा भी पूरी करेंगे। कलयुग में मिट्टी की गणेश जी की पूजा अर्चना से शुभ
फल की प्राप्ति होती हैं। आमतौर पर पूजा पाठ में हम मिट्टी के गणपति बनाकर उनकी पूजा अर्चना करते हैं।भाजपा नेता शैलेश केशरवानी ने कहा ऐसी मान्यताएं हैं कि जहां गणपति होतो हैं वहां शुभता और संपन्नता आती है. जीवन में किसी भी प्रकार का संकट श्रीगणेश की कृपा से हर संकट दूर हो जाता है. ज्योतिष के जानकार कहते हैं कि अगर धन से जुड़ी कोई समस्या है, तो वो भी श्रीगणेश
कृपा से दूर हो सकती । गर्गों के स्वामी होने के कारण उनका एक नाम गणपति भी है । ज्योतिष में इनको केतु का देवता माना जाता है और जो भी संसार के साधन हैं, उनके स्वामी श्री गणेशजी हैं। हाथी जैसा सिर होने के कारण उन्हें गजानन भी कहते हैं। गणेश जी का नाम हिन्दू शास्त्रो के अनुसार किसी भी कार्य के लिये पहले है । इसलिए इन्हें प्रथमपूज्य भी कहते है। गणेश कि उपसना करने वाला सम्प्रदाय गाणपत्य कहलाता है। 
पूज्य श्री गणेश शरण मंडल के अध्यक्ष पं. रामाअवतार पाण्डेय  ने बताया कि आज आस्था और श्रद्धा के नाम पर
परंपरा में विकृति वा गई हैं। इसलिये हमें इसके संरक्षण के लिये प्लास्टर ऑफ पैरिस की प्रतिमा की जगह मिट्टी की प्रतिमा की स्थापना करनी चाहिये।
इस अवसर पर प. महेश दत्त दुबे, प. राजकुमार अग्निहोत्री,  सुनील पांडे, प. हरिओम अग्निहोत्री,  विष्णु साहू, सुधीर पांडे, आशीष सोनी, राम स्नेही तिवारी, शुभम कुशवाहा, रिक्की राजपूत, सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

एनयूएलएम में सागर, एमपी में प्रथम स्थान पर


एनयूएलएम में सागर, एमपी में प्रथम स्थान पर

★ सागर ज़िले ने बैंक लिंकेज कार्यक्रम के तहत एसएचजी को उपलब्ध कराया सर्वाधिक ऋण


सागर । राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन योजना अंतर्गत नगर निगम सागर  महिला स्वयं सहायता समूह गठन, स्वरोजगार घटक व्यक्तिगत वं समूह एवं समूह बैंक क्रेडिट लिंकेज में नगर निगम सागर पूरे मध्यप्रदेश में प्रथम स्थान पर हैस इस बात की जानकारी गुरुवार को नगरीय प्रशासन आयुक्त श्री निकुंज श्रीवास्तव द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी निकायों को दी गई। इस उपलब्धि के लिए आयुक्त नगरीय प्रशासन द्वारा नगर निगम आयुक्त श्री आरपी अहिरवार व योजना के अधिकारी कर्मचारियों की प्रशंसा की साथ ही उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी कर्मचारियों को नगरीय प्रशासन की ओर से प्रशंसा पत्र दिए जाने की बात भी कहीं।

राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत स्व सहायता समूहों को बैंक लिंकेज के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराने में सागर मध्य प्रदेश में प्रथम स्थान पर है। सागर जिले ने लक्ष्य के मुताबिक मंजूर किए गए प्रकरण और संवितरित (डिस्बर्स्ड) प्रकरणों के आधार पर प्रथम स्थान हासिल किया है। इस उपलब्धि पर संभागायुक्त श्री मुकेश शुक्ला एवं कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने भी नगर निगम आयुक्त श्री आरपी अहिरवार सहित संपूर्ण टीम को बधाई दी है।
ऊल्लेखनीय है कि,दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन का उद्देष्य शहरी गरीब परिवारों को लाभकारी स्वरोजगार और कुशल मजदूरी रोजगार के अवसरों तक पहुंचने में सक्षम बनाकर उनकी गरीबी को कम करना है, जिसके परिणामस्वरूप उन्हें स्थाई आधार पर  आजीविका में उल्लेखनीय सुधार हो सके।मिशन के अंतर्गत उभरते बाजार के अवसरों तक पहुंचने के लिए शहरी स्ट्रीट वेंडरों को उपयुक्त स्थान, संस्थागत ऋण, सामाजिक सुरक्षा और कौशल की सुविधा प्रदान करते हुए शहरी पथ विक्रेताओं की आजीविका संबंधी चिंताओं को भी दूर किया जा रहा है। 

अम्बेडकर विवि महू को स्वामी विवेकानंद विशिष्ट उत्कृष्टता सम्मान एवं महर्षि संदीपनि योग चेतना सम्मान

अम्बेडकर विवि महू को स्वामी विवेकानंद विशिष्ट उत्कृष्टता सम्मान एवं महर्षि संदीपनि योग चेतना सम्मान 

महू । डा. बी. आर. अंबेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय महू, के सम्मान समारोह के कार्यक्रम में ब्राजील से पधारे अंतर्राष्ट्रीय योग गुरु  डॉ राधेश्याम मिश्र,  संस्थापक अध्यक्ष - योगलाइफ़ ग्लोबल ने डा. बी. आर. अंबेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय महू, के अकादमिक जगत में कोविड-19 जैसी महामारी के दौरान शैक्षिक अकादमिक गतिविधियों को राष्ट्रीय शिक्षा नीति - 2020, आज़ादी का अमृत महोत्सव-75, अंतर्राष्ट्रीय साप्ताहिक व्याख्यान माला और इतिहास पर दर्जनों राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय वेबिनार करके अति विशिष्ट राष्ट्रीय स्तर पर अकादमिक वातावरण निर्माण, कोरोना के विरुद्ध जागरूकता, सुरक्षा एवं कोविड टीकाकरण अभियान जैसे व्यापक स्तर पर निरंतर कार्य किया है । विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों, शोध पीठों ने वृहद रूप में सामाजिक समरसता, पर्यावरण, शांति , समृद्धि, विज्ञान और अध्यात्म, जलवायु परिवर्तन, जेंडर समानता एवं विविध शैक्षिक मुद्दों सेमीनार / वेबीनारों का सफल आयोजन किया है।  जिसमें 100 से अधिक कुलपतियों, विभागाध्यक्षों, प्रोफेसरों, सामाजिक विचारकों एवं समाजसेवी संस्थाओं से भी अति विशिष्ट विशेषज्ञों की भागीदारी रही है। इस सामाजिक सेवा में विशिष्ट योगदान के लिए  स्वामी विवेकानंद विशिष्ट उत्कृष्टता सम्मान तथा योग विज्ञान विभाग, डा. बी. आर. अंबेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय महू, मध्यप्रदेश ने वर्ष 2020-21 में 
योग, प्राणायाम, योग चिकित्सा, कोरोना के विरुद्ध जागरूकता, सुरक्षा एवं कोविड टीकाकरण अभियान के अंतर्गत माननीय मुख्यमंत्री जी के आह्वान पर "करें योग रहें निरोग" तथा भोपाल स्मार्ट सिटी विकास प्राधिकरण के अंतर्गत होम आइसोलेटेड हजारों मरीजों को " विशेष योगोपचार शिविर " एवं योग दर्शन के क्षेत्र में विशेष व्याख्यान, प्रशिक्षण, सेमिनार एवं पाठ्यक्रम का संचालन कर समाज और विद्यार्थियों के मध्य योग को प्रतिष्ठित करने का अप्रतिम कार्य किया है। डा. बी. आर. अंबेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय महू, मध्यप्रदेश के योग विभाग को योग के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए वर्ष 2020-21 का राष्ट्रीय स्तर पर  महर्षि संदीपनि योग चेतना सम्मान से अलंकृत किया गया है।
इस अवसर पर विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. आशा शुक्ला,  रजिस्टर डॉ अजय वर्मा, अधिष्ठाता डॉ डी. के. वर्मा,  प्रो. देवाशीष देवनाथ, डा. मनीषा सक्सेना के अतिरिक्त विभिन्न संस्थाओं के अध्यक्ष और इंदौर के गणमान्य नागरिक वरिष्ट आचार्य गण शिक्षक  शोधार्थी एवं विद्यार्थी गण  उपस्थित थे । सम्मान समारोह के कार्यक्रम का प्रसारण ऑनलाइन भी किया गया।

बुधवार, 8 सितंबर 2021

भारतीय किसान श्रमिक जनशक्ति यूनियन ने किसानों की समस्याओं को लेकर किया प्रदर्शन

भारतीय किसान श्रमिक जनशक्ति यूनियन ने किसानों की समस्याओं को लेकर  किया प्रदर्शन

रायसेेन।भारतीय किसान श्रमिक जनशक्ति यूनियन के बैनर तले दादा वीर सिंह ठाकुर की अध्यक्षता में हनुमान मंदिर से तहसील परिसर राजस्व टप्पा सुल्तानगंज तक नारेबाजी करते हुए, किसान अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर एक सूखा अफलन पीला मोजेक पीला से सोयाबीन उड़द एवं समस्त फसल में पूर्ण रूप से नष्ट हो चुकी हैं उनका सर्वे कर उचित मुआवजा की मांग की गई एवं जिला प्रभारी सत्येंद्र सिंह राजपूत रायसेन के द्वारा 75 परसेंट स्वीकृत मुआवजा राशि कमलनाथ शासन के समय की एवं 33 % शिवराज शासन की स्वीकृत राशि सोयाबीन का भाव अंतर गेहूं का बोनस 2019 20 का बकाया बीमा राशि की मांग को लेकर नया ब तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन एवं प्रदेश अध्यक्ष संदीप ठाकुर  किसान संयुक्त मोर्चा सदस्य के द्वारा जानकारी दी गई की 8 महीने से हमारे किसान दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे हैं और निंदनीय सरकार का उनके ऊपर कोई ध्यान नहीं जा रहा है।
उन्होंने जानकारी दी संयुक्त मोर्चा के आवाहन पर 27 सितंबर को संपूर्ण भारत बंद रहेगा समस्त किसानों को इस विषय की जानकारी दी गई एवं किसान मजदूर व्यापारी  एवं  तमाम ऐसी विचारधाराएं जो किसान आंदोलन का सहयोग करना चाहती हैं किसानों के भारत बंद को समर्थन की अपील की। 
ज्ञापन सौंपने वालों में प्रमुख रूप से जिला अध्यक्ष रायसेन नरेंद्र मरकाम जी, भूपेंद्र सिंह ठाकुर , आशीष सोलंकी बमोरी, चंद्रमौली जी सूर्य प्रताप ठाकुर रामपुरा, संजय, मनीष जैन, राजा ठाकुर रहमा, सुमित, अनुराग बमोरी, शुभम रहमा , प्रदीप रहमा, महराज सिंह खमरिया, सतेंद्र सिंह बिचोली, पवन सिंह ठाकुर रेहमा, बिक्की रैकवार एवं अनगिनत किसान ने किया तहसील का घेराव किया। 

पूनम केसरवानी हत्याकांड के विरोध में निकाला कैंडल मार्च, फांसी देने की मांग

 पूनम केसरवानी हत्याकांड के विरोध में  निकाला कैंडल मार्च, फांसी देने की मांग


सागर । शहर के जागरूक नागरिकों द्वारा आज मृतिका पूनम केसरवानी को श्रद्धांजलि देने कैंडल मार्च निकाला गया जिसमें केसरवानी समाज के लोगों के साथ शहर के सर्व समाज सहित विभिन्न राजनीतिक संगठनों एवं सामाजिक संगठन के लोगों ने शामिल होकर श्रद्धांजलि देकर कहा कि बहन पूनम के हत्यारे को शीघ्र पकड़ा जाए अन्यथा सांकेतिक धरना प्रदर्शन किया जाएगा जिसमें सैकड़ों लोगों ने कैंडल मार्च में शामिल होकर 2 मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी।





कैंडल मार्च भीतर बाजार से शुरू होकर कटरा होते हुए नमक मंडी में कैंडल मार्च का समापन हुआ कैंडल मार्च में मध्य प्रदेश केसरवानी वैश्य सभा के प्रदेश संयोजक राजकमल केसरवानी केसरवानी नगर सभा के अध्यक्ष पहलाद केसरवानी केसरवानी तरुण सभा के अध्यक्ष विकास केसरवानी केसरवानी महिला सभा की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ वंदना गुप्ता ,विनीता केसरवानी भाजपा नेता शैलेश केशरवानी, भाजपा जिला उपाध्यक्ष जगन्नाथ गुरैया , मंडल अध्यक्ष रितेश मिश्रा नगर मंडल अध्यक्ष विक्रम सोनी ,हरिसिंह गौर मंडल अध्यक्ष मनीष चौबे सांसद प्रतिनिधि मिश्रीचंद गुप्ता हरिओम केसरवानी विश्वास केसरवानी डॉ रविंद्र केसरवानी कांग्रेस सेवादल के प्रदेश सयोजक विजय साहू सेवादल शहर अध्यक्ष सिन्टू कटारे ,नितिन पचौरी  युवक कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल चोबै पूर्व विधायक पारुल साहू केसरी शहजाद खान निक्की यादव पवन घोषी राम केसरवानी अखिलेश केसरवानी राहुल यादव आकाश ठाकुर राजीव सोनी नितिन साहू रजत केसरवानी सौरभ साहू सतीश केसरवानी गोल्डी केसरवानी टिंकू केसरवानी शुभम केशरवानी विनीता केसरवानी नीता केसरवानी प्रीति केसरवानी मयूर साहू शालीन सिंह नितेश कुशवाहा मोनू खान दानिश पठान आसिफ खान सहित सैकड़ों महिलाएं पुरुष शामिल हुए । 

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा की गई समस्त भर्तियों को हाईकोर्ट ने किया याचिका के निर्णाधींन

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा की गई समस्त भर्तियों को हाईकोर्ट ने किया याचिका के निर्णाधींन

★ कम्युनिटी हेल्थ ऑफीसर के 2850 पदों पर की गई भर्ती याचिका के निर्णय ने अगली सुनवाई 27 सितंबर को
★ ओबीसी के 13 प्रतिशत पदों को होल्ड कर अभिमत के आधार पर 14% के बजाय दिया 6% आरक्षण एवं ईडब्ल्यूएस को 10 के बजाय दिया 22.8 प्रतिशत आरक्षण


जबलपुर । मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय जबलपुर में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा 2850 पदों पर जारी किया गया विज्ञापन दिनांक 13 मई 2021 की संवैधानिकता को चुनौती सहित लगभग 22:00 सौ पदों पर जारी की गई चयन सूची कि संवैधानिकता को ओबीसी वर्ग के छात्रों की ओर से अधिवक्ता रामेश्वर सिंह ठाकुर द्वारा माननीय उच्च न्यायालय में चुनौती दी गई है याचिका की प्रारंभिक सुनवाई करते हुए माननीय मुख्य न्यायमूर्ति श्री मोहम्मद रफीक एवं विजय कुमार शुक्ला की युगल पीठ द्वारा पाया गया कि विज्ञापन दिनांक 13 मई 2021 मैं विज्ञापनों की कुल संख्या 2850 मैं से ओबीसी वर्ग को केवल 189 पद ही आरक्षित किए गए हैं जो 6.6% आरक्षण है तथा ईडब्ल्यूएस को 10% के स्थान पर 22.8 प्रतिशत आरक्षण निर्धारित किया गया है जो प्रवर्तित नियमों के विपरीत है अधिवक्ता रामेश्वर सिंह के तर्कों से सहमत होते हुए माननीय न्यायालय द्वारा संपूर्ण भर्ती प्रक्रिया को न्यायालय के निर्णय अधीन करने का अंतरिम आदेश पारित पारित किया गया तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन तथा प्रमुख सचिव स्वास्थ्य विभाग को 2 हफ्ते के अंदर जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए तथा प्रकरण की आगामी सुनवाई 27 सितंबर 2021 निर्धारित की गई है ।

याचिकाकर्ताओं की ओर से पैरवी अधिवक्ता रामेश्वर सिंह ठाकुर द्वारा की गई शासन की ओर से पैरवी बीडी सिंह द्वारा की गई । ज्ञातव्य हो कि  अभ्यार्थियों की शिकायत के आधार पर शासन द्वारा छवि भारद्वाज को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मैं डायरेक्टर के पद से हटा दिया गया है तथा भर्तियों में की गई गड़बड़ी के जांच के भी आदेश जारी किए गए हैं उनके स्थान पर प्रियंका दास को डायरेक्टर बनाया गया है । 

मिट्टी और ईंट निर्माण को लेकर प्रजापति समाज मिला प्रशासन से, विधायक शेलेन्द्र जैन के नेतृत्व में

मिट्टी और ईंट निर्माण को लेकर  प्रजापति समाज मिला प्रशासन से, विधायक शेलेन्द्र जैन के नेतृत्व में

सागर। नगर विधायक शैलेंद्र जैन के नेतृत्व में सागर नगर की प्रजापति समाज के लोगों ने मिट्टी खोदने एवं ईट निर्माण करने के लिए मसवासी ग्रंट एवं बेल खादर एवं ग्राम सरबई में  खनन की  दिलाने हेतु आज सागर  एसडीएम पवन बारिया एवं सागर तहसीलदार सतीश वर्मा  को एक मांग पत्र सौंपा और प्रकरण को 7 दिवस के अंदर अंदर जमीन आरक्षित करने का एवं फाइल को पूर्ण रूप से कलेक्टर   के समक्ष प्रस्तुत करने के निर्देश दिए, फिर उसके पश्चात प्रजापति समाज को लेकर विधायक जैन ने कलेक्टर दीपक आर्य से मुलाकात कर जमीन आरक्षित करने के विषय से अवगत कराया।
विधायक जैन ने बताया कि सागर नगर की प्रजापति समाज मूल रूप से अपने पुश्तैनी काम पर आधारित है यह उनकी रोजी-रोटी है परंतु मिट्टी उपलब्ध ना होने के कारण यह अपना कार्य नहीं कर पा रहे हैं इस संबंध में आज एसडीएम तहसीलदार को संयुक्त रूप से ज्ञापन सौंपा है इसके पश्चात जिला कलेक्टर महोदय को भी इस प्रकरण से अवगत कराया है और इसके निराकरण की मांग की है इस अवसर पर प्रमुख रूप से मुरली प्रजापति जुगल प्रजापति संजय प्रजापति कैलाश प्रजापति राजकुमार प्रजापति एवं प्रजापति समाज के अनेकों बंधु उपस्थित रहे।

समग्र व विविध आयामी शिक्षा की आवश्यकता: प्रो. सुरेंद्र पाठक ★ सभ्यता, संस्कृति, विधि, व्यवस्था और शैक्षिक अनुशासन पर विशेष व्याख्यान

समग्र व विविध आयामी शिक्षा की आवश्यकता:  प्रो. सुरेंद्र पाठक

★ सभ्यता, संस्कृति, विधि, व्यवस्था और शैक्षिक अनुशासन पर विशेष व्याख्यान

महू। भारतीय सनातन परंपरा में ज्ञान, विवेक और विज्ञान का अंतर संबंध रहा है, यही सभ्यता, संस्कृति, विधि, व्यवस्था का अंतर संबंध है। मानव जाति में समझने और समझ कर जीने की परंपरा रही है। मानव में समझने के लिए परंपरागत अनुभव और विचार परंपरा ही शिक्षा, शोध, अनुसंधान के रूप में है। जिसमें दर्शन, विचारधाराएं और मीमांसाओं का प्रकटन-प्रकाशन हुआ है। इसी प्रकार मानव में जीने के दो आयाम हैं व्यवहार और व्यवसाय के। मानव परंपरा में व्यवहार मानव में संबंध की पहचान, संबंधों में निहित न्याय पूर्ण अपेक्षाओं के निर्वाह के रूप में पांच स्तर पर मानव जाति में व्याप्त है जो व्यक्ति, परिवार, समाज, राष्ट्र व अंतराराष्ट्र तक फैला है। इसकी एकसूत्रता व समरसता ही अखंड समाज की रचना संभावनाओं को जन्म देती है। इसी प्रकार व्यवसाय आयाम का संबंध मानव शरीर के पोषण व संरक्षण के लिए है। जिसके लिए उत्पादन और अर्थोपार्जन की व्यवस्था रही हैं। अर्थ का उत्पादन विधि, प्रक्रियाबद्ध तरीके से प्राकृतिक नियमों के साथ होना नियम पूर्ण उत्पादन के रूप में विज्ञान सम्मत कार्य है।
उक्त विचार सागर विश्वविद्यालय के एलुमनी डॉ सुरेंद्र पाठक जीवन विद्या विशेषज्ञ ने विशेष व्याख्यान के रूप में डा. बी आर अंबेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय, महू में संकाय सदस्यों के समक्ष प्रस्तुत किए। जिसका आयोजन ब्राउस के प्रबंधन विज्ञान अध्ययनशाला के द्वारा संकाय भवन में 7 सितंबर को सायंकाल किया गया ।
पाठक ने कहा कि शिक्षा और शैक्षिक अनुशासनों/विषयों के अंतर्संबंध और वर्गीकरण का आधार भी परंपरागत रूप से आयामों का सहअस्तित्व रहा है। आज  शैक्षिक ज्ञान का विवेक सम्मत होना अर्थात व्यवहार शिक्षा से जोड़ना तथा विज्ञान तकनीकी व इंजीनियरिंग का विवेक सम्मत होना समय की आवश्यकता है। प्राकृतिक संतुलन के अर्थ में विवेक सम्मत विज्ञान ही भविष्य में प्रचलित विज्ञान दिशा को स्पष्ट करेगा। उन्होंने यह भी कहा कि नई शिक्षा नीति के दिशानिर्देशों में ऐसे ही कुछ संकेत मिलते हैं। ये विचार मध्यस्थ दर्शन सहअस्तित्ववाद पर आधारित हैं। जिसका प्रतिपादन अमरकंटक मध्यप्रदेश के अनुसंधानकर्ता वेदमूर्ति श्री ए नागराज जी ने किया है। श्री नागराज जी ने अस्तित्व मूलक मानव केंद्रित चिंतन के रूप में चार दर्शन, तीन वाद और 3 शास्त्रों की रचना कर ज्ञान परंपरा में अप्रतिम योगदान किया है। जिसको शिक्षा से जोड़ा जा सकता है क्योंकि यह ज्ञान प्रमाण आधारित है।
कार्यक्रम का संचालन प्रबंधन विज्ञान अध्ययन शाला के प्रभारी डॉ भरत भाटी ने किया। विशेष व्याख्यान में विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. आशा शुक्ला,  रजिस्टर डॉ अजय वर्मा, अधिष्ठाता डॉ डी. के. वर्मा प्रो. देवाशीष देवनाथ, डा. मनीषा वर्मा के अतिरिक्त विभिन्न संस्थाओं के अध्यक्ष और इंदौर के गणमान्य नागरिक भी शामिल थे विशेष व्याख्यान का प्रसारण ऑनलाइन भी किया गया।

कांग्रेस ने बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर किया सड़क सत्याग्रह ★बुंदेलखंड क्षेत्र में अपराध चरम पर: पूर्व मंत्री सुरेन्द्र चौधरी

कांग्रेस ने बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर किया सड़क सत्याग्रह

★बुंदेलखंड क्षेत्र में अपराध चरम पर: पूर्व मंत्री सुरेन्द्र चौधरी

सागर ।  भाजपा सरकार में बिगड़ती कानून व्यवस्था, बढ़ते अपराध, अघोषित बिजली कटौती,भारी भरकम बिजली बिल, डीज़ल, पेट्रोल, रसोई गैस के दामों में लगातार की जा रही मूल्य वृद्धि तथा आसमान छू रही मंहगाई सहित सदर केन्ट क्षेत्र के किसानों व आमजनों की विभिन्न बुनियादी समस्याओं को लेकर सैकड़ों कांग्रेसजनों ने मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी के नेतृत्व में स्थानीय सदर झाँसी बस स्टैण्ड के समीप विगड़ती कानून व्यवस्था एवं भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ विशाल सड़क सत्याग्रह किया।सड़क सत्याग्रह को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार में बुंदेलखंड क्षेत्र के संभागीय मुख्यालय सागर में कानून व्यवस्था नाम की चीज नहीं रह गई जिसका स्पष्ट प्रमाण है कि गत दिवस थाना कैंट क्षेत्र में दिन दहाड़े छात्र के हमला कर गोली चलन की घटित हुई घटना, थाना बांदरी में हत्या कर शव पुलिया में फेंकने की घटना, विगत गुरुवार को थाना मोती नगर थाना क्षेत्र में स्व. पूनम केशरवानी हत्याकांड की घटना घटित होने की साथ ही हत्या, लूट, चोरी, नकवजनी, अन्याय, अत्याचार, उत्पीड़न की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है साथ  साथ अवैध शराब, जुआ, कालाबाजारी आदि अवैध कारोबार बेखौफ जारी है और अपराधी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। उन्होंने कहा कि सबका साथ सबका विकास की बात करने वाली भाजपा सरकार की बेईमानी सदर कैंट क्षेत्र से ही उजागर होती है कि जहां इस क्षेत्र के आम जनों व किसानों के साथ भेदभाव किया जा कर उन्हें शासन की विभिन्न योजनाओं के लाभ से वंचित किया जा रहा है।

ये रहे शामिल

सड़क सत्याग्रह में ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष ठाकुर लगन सिंह,सुरेन्द्र सिंह चावड़ा,देवेन्द्र कुर्मी,पूर्व युकां जिला अध्यक्ष अशरफ खान,युवा कांग्रेस अध्यक्ष राजा बुन्देला, पिछड़ा वर्ग अध्यक्ष शरद राजा सेन, एम .आई. खान,सुरेन्द्र करोसिया, संदीप चौधरी, समीर मकरानी,अजीत सिंह, आदि ने भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेवाजी कर तीखा आक्रोश व्यक्त किया।
सड़क सत्याग्रह का संचालन  अशरफ खान ने किया अंत में आभार ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष फिरदोष कुरैशी ने माना। सड़क सत्याग्रह को कार्यकारी अध्यक्ष पुरुषोत्तम मुन्ना चौबे,राकेश राय,दीपक राजोरिया, विजय साहू,राहुल चौबे,उत्तम राव तायड़े,मुकेश खटीक,अनिल कुर्मी, निर्वाण सिंह आदि ने संबोधित कर भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोला। सड़क सत्याग्रह में मुख्य रूप से दुलारे यादव, गोवर्धन रेकवार,राशिद खान, रामकुमार पचोरी, अभिषेक गौर, सिंटू कटारे,लखन यादव, एजाज राईन, कुंदन जाट,हाजी अजीम खान, राजेश श्रीवास, ऋषभ जैन,अतुल नेमा, हेमराज रजक, रूपम उमाहिया, राज्यपाल सिंह, धर्मेंद्र चौधरी ,अबरार सौदागर, सत्यभान सेन, जयराम लड़िया, घनश्याम पटेल ,सन्ना भाईजान, बलराम साहू, कोमल सिंह, साजिद राइन, कमल जैन, संजय रोहिदास, रोहित वर्मा, अरविंद मछंदर, मिथुन घारू कमलेश मछंदर, नरेश सनकत, शैलेश अकेला, मुल्ले चौधरी, जितेंद्र चौधरी, संजय सिंह, सुनील सिंह, हरिश्चंद्र सोनवार, अशोक चौधरी, पप्पू चौधरी, नसीम राइन, नीलेश अहिरवार, पवन जाटव, मनोज सोनवार, मोती लाल पटेल, बिहारी कुर्मी, अभिषेक पाठक, मोहसिन खान, दिनेश कुर्मी, दिलीप रावत, धर्मेंद्र यादव, गोलू पचौरी, कल्लू पटेल,एडवोकेट बी.डी.पटेल, परवेज खान, प्रीतेश तिवारी, जाहिद ठेकेदार, रजिया खान,गोपाल तिवारी, अफजल खान, नफीस राइन, खिलान सिंह, रामकेश पटेल, परम सुख कुर्मी, हर प्रसाद अहिरवार, राजेंद्र सिंह, गंगाराम केमले, भूपेंद्र कुर्मी, महेंद्र पटेल, मोहन अहिरवार, देवेंद्र अहिरवार, कदम सिंह, सुनील कुमार, राकेश अहिरवार,पंचम दाऊ,डॉ.जीवन लाल अहिरवार, रुस्तम मकरानी, सुल्तान सिंह, भुट्टो बाबा, श्रीदास रैकवार, निशांत आठिया, दुर्गेश अहिरवार, अविनाश खरे, धीरज खरे, राहुल अहिरवार, राजेन्द्र साहनी, प्रीतम अहिरवार, सुभाष रोहित, प्रकाश अहिरवार, न्याज अहमद, यूनिस भाई, सुनील अहिरवार, राजा खटीक सहित सैकड़ों की संख्या में कांग्रेसजन मौजूद थे।

MP: राज्य एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में सागर के खिलाड़ियों ने जीते 2 स्वर्ण, 2 रजत एवं एक कास्य पदक

MP:  राज्य एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में सागर के खिलाड़ियों ने जीते 2 स्वर्ण, 2 रजत एवं एक कास्य पदक

सागर ।मध्यप्रदेश एथलेटिक्स एसोसिएशन एवं संचालक खेल और युवा कल्याण भोपाल के संयुक्त तत्वाधान में टी.टी.नगर स्टेडियम भोपाल में 7 से 8 सितम्बर तक आयोजित की जा रही 56वीं म0प्र0राज्य सीनियर पुरूष एवं महिला एथलेटिक्स- एवं अंडर-23 बालक/बालिका, चैम्पियनशिप में सागर के खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा संचालित एथलेटिक्स प्रशिक्षण केन्द्र, खेल परिसर सागर के एथलीटों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुऐ सागर को गौरवान्वित करते हुऐ 2 स्वर्ण पदक एवं 2 रजत पदक, 1 कास्य पदक अर्जित किये।
400 मीटर दौड़ में कु.अरबीना राईन ने सागर को स्वर्ण पदक दिलाया। इसी क्रम में  5000 मीटर लंबी दौड़ में कु. शीतल विश्वकर्मा ने स्वर्ण पदक अर्जित किया।  400मीटर, हर्डल दौड़ में राहुल पटेल ने रजत पदक तथा 200मीटर दौड़ में अरबीना राईन ने रजत पदक जीता। इसी प्रकार 100 मी. फर्राटा दौड़ में श्री नीलकमल खलको ने कास्यं पदक जीता। इन सभी खिलाड़ियों का एएफआई के मापदण्ड अनुसार क्वालीफाई स्टेंडर्ड प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों का आगामी राष्ट्रीय प्रतियोगिता हेतु म0प्र0 टीम में चयन किया जावेगा।
उक्त सभी खिलाड़ी एथलेटिक्स खेल प्रशिक्षण केन्द्र खेल और युवा कल्याण, खेल परिसर सागर में श्री मंगल सिंह यादव एथलेटिक्स प्रशिक्षक के मार्गदर्शन में नियमित प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे है।
खिलाड़ियों की इस उपलब्धि पर खिलाड़ियों और उनके प्रशिक्षक को सागर कलेक्टर श्री दीपक आर्य, पुलिस अधीक्षक श्री.अतुल.सिंह एवं जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारी सागर श्री प्रदीप अबिद्रा, जिला क्रीड़ा अधिकारी शिक्षा विभाग सागर श्री संजय दादर, वरिष्ठ समाजसेवी श्री वीनू राणा, संयोजक खेल प्रकोष्ठ सागर श्री संतोष दुबे, अध्यक्ष जिला कुश्ती संघ श्री आनंद विश्वकर्मा, सचिव जिला हॉकी संघ       श्री मकसूद खान, सचिव जिला फुटबॉल संघ सागर श्री यशवंत सिंह राठौर, टेबल-टेनिस संघ सागर,       श्री मिलन्द देऊस्कर, कबड्डी संघ सागर सचिव/प्रशिक्षक श्रीमती संगीता सिंह, बास्केटबॉल संघ सचिव एवं प्रशिक्षक श्री प्रेमनेती राय, व्हालीबॉल प्रशिक्षक श्रीमती सीमा चक्रवर्ती, मलखम्ब प्रशिक्षक श्री श्यामलाल पाल,   श्री महेन्द्र सिंह राजपूत, श्रीमती अंजली सिंह ठाकुर, श्री चंदन मोरे, श्री रंजीत बैन, श्री मिथलेश यादव, श्री रामबाबू विश्वकर्मा, श्री हेमन्त प्रजापति, श्री विवेक सेन, ब्रजेन्द्र कोरी आदि ने इनकी इस उपलब्धि पर बधाई एवं आगामी प्रतियोगिता के लिए शुभकामनाएं दी।


 

अवैध संबंध के शक में एक महिला ने दूसरी महिला को उसके दो मासूमों के साथ कुंए में फेंका ★ दोनों मासूम बच्चों की पानी में डूबने से हुई मौत, महिला गंभीर हालत में

अवैध संबंध के शक में एक महिला ने दूसरी महिला को उसके दो मासूमों के साथ कुंए में फेंका

★ दोनों मासूम बच्चों की पानी में डूबने से हुई  मौत, महिला गंभीर हालत में


★ मयंक भार्गव

बैतूल। अवैध संबंधों के शक में एक महिला ने दूसरी महिला को उसके दो बच्चे सहित बिना मुंडेर के कुंए में फेंक दिया। इस घटना में जहां दोनों बच्चों की पानी में डूबने से दर्दनाक मौत हो गई वहीं महिला की हालत गंभीर बनी हुई है। महिला को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिचोली में भर्ती कराया गया है। यह घटना जिला मुख्यालय से करीब 43 किलोमीटर चिचोली थाने के अंतर्गत आने वाले ग्राम कान्हेगांव में घटित हुई। घटना के बाद पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद और एसडीओपी महेंद्र सिंह मीणा ने घटना स्थल का निरीक्षण किया है।
एसडीओपी महेंद्र सिंह मीणा ने बताया कि ग्राम कान्हेगांव निवासी संगीता पति ललन उइके (35) पर पिंकी पति गोलू कुमरे (38) शक करती थी कि संगीता के गोलू कुमरे से अवैध संबंध है। इसी शक के चलते पिंकी ने संगीता को रास्ते से हटाने का मन बना लिया था। मंगलवार को संगीता अपने दो बच्चों बेटा अंशु(4) और डेढ़ वर्षीय  बालिका अंशिका के साथ चिचोली साप्ताहिक बाजार करके शाम को लौटकर गांव जैसे ही पहुंची। रास्ते में एक बिना मुंडेर के कुंए के पास पिंकी पति गोलू कुमरे घात लगाकर बैठी हुई थी। एसडीओपी श्री मीणा ने बताया कि संगीता अपने दोनों बच्चों के साथ जैसे ही बिना मुंडेर के कुंए के पास पहुंची झाडिय़ों में से निकलकर पिंकी ने संगीता को उसकी गोद में बैठी डेढ़ वर्षीय बालिका अंशिका के साथ कुंए में धक्का दे दिया जिससे दोनों कुंए में जा गिरे। इसके बाद पिंकी कुमरे ने चार वर्षीय अंशू को भी कुंए में उठाकर फेंक दिया।
एसडीओपी महेंद्र सिंह मीणा ने बताया कि पिंकी कुमरे का गुस्सा यही शांत नहीं हुआ। कुंए में बच्ची के साथ गिरने के बाद संगीता ने कुंए में एक झाड़ी को पकड़ लिया और बच्ची को सीने से चिपका लिया तब तक बच्ची जिंदा थी। लेकिन पिंकी ने ऊपर से पत्थरों की संगीता के ऊपर बोछार करना प्रारंभ कर दिया जिससे बच्ची जहां संगीता से छूटकर कुंए में गिर गई वहीं संगीता भी गंभीर रूप से घायल हो गई। इस घटना में दो बच्चों की जल समाधि माँ की आंखों के सामने ही कुंए में हो गई।
एसडीओपी महेंद्र सिंह मीणा ने बताया कि घटना के बाद बुधवार को एसपी सिमाला प्रसाद ने घटना स्थल का निरीक्षण किया है वहीं कुंए में पानी अधिक होने से मोटर पंप की सहायता से पानी खाली कराया गया और दोनों बच्चों के शव कुंए से निकाले गए। श्री मीणा ने बताया कि घटना को अंजाम देने वाली पिंकी पति गोलू कुमरे (38) निवासी कान्हेगांव को अपराध क्रमांक 482/21 भादवि धारा 307, 302 के तहत मामला पंजीबद्ध कर गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार पिंकी कुमरे ने बताया कि उसे शक था कि संगीता का उसके पति के साथ अवैध संबंध है इसकी के चलते उसने इस घटना को अंजाम दिया है। बहरहाल एक माँ की आंखों के सामने उसके दोनों बच्चों की जल समाधि होने की रूह कंपा देने वाली हृदयविदारक घटना घटित होने से संगीता घायल होने के साथ-साथ गहरे सदमे में है। वहीं इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई है।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी से की भेंट ★ प्रधानमंत्री आवास, अमृत योजना, स्वच्छ भारत मिशन की 873.47 करोड़ राशि उपलब्ध कराने का किया अनुरोध

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी से की भेंट
★ प्रधानमंत्री आवास, अमृत योजना, स्वच्छ भारत मिशन की 873.47 करोड़ राशि उपलब्ध कराने का किया अनुरोध

सागर।मध्यप्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने दिल्ली में केन्द्रीय आवास एवं शहरी कार्यमंत्री हरदीप सिंह पुरी से भेंट कर प्रधानमंत्री आवास योजना, अमृत योजना तथा स्वच्छ भारत मिशन की कुल राशि 873.47 करोड़ रूपए उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है। इसके साथ ही भोपाल और ग्वालियर शहर वाटर प्लस के प्रमाणन हेतु पुनः सत्यापन अवसर प्रदान किए जाने का अनुरोध किया है।
मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी को सौंपे पत्र में अनुरोध किया है कि, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत प्रथम द्वितीय और तृतीय किश्त की कुल राशि रूपए 639.47 करोड़, अमृत योजना के अंतर्गत केन्द्रांश की शेष राशि रूपए 130 करोड़ एवं स्वच्छ भारत मिशन (शहरी-एक) के अंतर्गत केन्द्रांश की शेष राशि 104 करोड़ शीघ्र उपलब्ध करायें। 
मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी को सौंपे पत्र में लिखा है कि, कोविड-19 महामारी की चुनौतियों के बावजूद कठिन परिस्थितियों में भी माननीय प्रधानमंत्री जी के दूरदर्शी नेतृत्व और आपके मार्गदर्शन में शहरी विकास मंत्रालय द्वारा शहरों में उल्लेखनीय विकास करने के लिए मैं आपको साधुवाद ज्ञापित करता हूं। 
आपके सहयोग एवं मार्गदर्शन में आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय की सभी महत्वपूर्ण योजनाओं में मध्यप्रदेश आज देश में अग्रणी राज्य है। माननीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट में जल जीवन मिशन (शहरी) और स्वच्छ भारत मिशन (शहरी-2) की घोषणा के लिए भी मैं मध्यप्रदेश शासन की ओर से आपका आभारी हूं। दोनो ही योजनाएं देश के शहरों में स्वछ जल, सीवेज ट्रीटमेंट और ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के क्रियान्वयन में अत्याधिक महत्वपूर्ण साबित होंगी। 
पीएम स्वनिधि योजना के प्रथम चरण में मध्यप्रदेश देश के द्वितीय स्थान पर है तथा पीएम स्वनिधि के द्वितीय चरण के क्रियान्वयन में मध्यप्रदेश प्रथम स्थान पर है। स्मार्ट सिटी मिशन अंतर्गत इंडिया स्मार्ट सिटी कान्टेस्ट 2020 में राज्य को देश में द्वितीय स्थान का गौरव प्राप्त हुआ तथा मध्यप्रदेश के 5 शहरों को विभिन्न श्रेणियों में कुल 11 अवार्ड प्राप्त हुए। प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के क्रियान्वयन में मध्यप्रदेश के द्वारा 8 लाख से अधिक आवासों को स्वीकृत कर, 4 लाख से अधिक आवासों का निर्माण अल्प समय में पूरा किया है, आज इस योजना में हम देश में द्वितीय स्थान पर हैं। अमृत योजना के अंतर्गत मध्यप्रदेश में 199 परियोजनाओं में से 135 परियोजनाएं पूरी की जा चुकी हैं तथा शेष 64 परियोजनाओं में से 57 परियोजनाएं भी मार्च 2022 तक पूर्ण कर ली जायेंगी। केवल 7 परियोजनाओं को पूरा करने में मार्च 2023 तक का समय लगेगा। 
स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में मध्यप्रदेश को तृतीय स्थान प्राप्त करने का गौरव प्राप्त हुआ है। प्रदेश के शहरों ने स्वच्छता को एक अभियान के रूप् में आत्मसात किया है। इसी का परिणाम है कि मध्यप्रदेश का इंदौर वाटर प्लस शहर बना है, और प्रदेश के 293 शहर ओडीएफ प्लस प्लस घोषित हुए हैं। हमें पूर्ण विश्वास है कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 के परिदृश्य में मध्यप्रदेश देश के अग्रणी राज्यों में होगा। 


मंगलवार, 7 सितंबर 2021

स्कूलों का निरीक्षण, बंडा के छापरी में मिली अनियमितताएं

स्कूलों का निरीक्षण, बंडा के छापरी में मिली अनियमितताएं

सागर ।संयुक्त संचालक लोक शिक्षण सागर संभाग के उपसंचालक प्राचीश जैन एवं सहायक संचालक सीजी फिलप ने बंडा एवं शाहगढ़ स्थित शालाओं का निरीक्षण किया.
 निरीक्षण के दौरान छापरी मिडिल स्कूल में अव्यवस्थाएं देखने को मिली. शासन के निर्देशानुसार एक सितंबर से माध्यमिक शालाओं में अध्यापन कार्य प्रारंभ हो गया है. परंतु दर्ज छात्र-छात्राओं की उपस्थिति बहुत कम पाई गई. साथ ही परिसर में गंदगी पाई गई. मिडिल स्कूल छापरी के हेड मास्टर राजपाल राय का शाला में कोई नियंत्रण नहीं पाया गया. पिछले आठ दिनों से रमेश कुमार शाला से बिना किसी पूर्व सूचना के अनुपस्थित पाए गए. हमारा घर हमारा विद्यालय का क्रियान्वयन नहीं किया गया तो पाठ्य पुस्तक वितरण भी आधा हो सका है. कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल बंडा में संचालित कक्षाओं में शिक्षक उपस्थित नहीं मिले. विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य एवं स्टॉफ शालेय गतिविधियों के प्रति उदासीन पाए गए. 
 

सफाई कामगार यूनियन ने 8 सूत्रीय मांग को लेकर संभाग आयुक्त को दिया को ज्ञापन

सफाई कामगार यूनियन ने 8 सूत्रीय मांग को लेकर संभाग आयुक्त को दिया को ज्ञापन

सागर। सफाई कामगार यूनियन जिला सागर द्वारा शाखा सागर द्वारा नगर निगम / नगर पालिका कर्मचारियों की 8 सूत्रीय मांग को लेकर संभाग आयुक्त श्री मुकेश शुक्ला एवं संयुक्त संचालक, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग सागर संभाग सागर को ज्ञापन सौपकर मांग की है आयुक्त नगर निगम सागर द्वारा एवं सागर सांसद मान.श्री राजबहाुदरसिंह जी की मध्यस्थता में सफाई कर्मचारियों की लंबित मांगो का समझौता दिनांक 28.08.2020 को हुआ था कि नगर पालिक निगम सागर के 124 सेवानिवृत सफाई कर्मचारियों को प्रथम क्रमोन्नत वेतनमान का लाभ शासन द्वारा 25 अप्रैल 2000 में देना सुनिश्चित किया गया था किन्तु नगर निगम सागर की लापरवाही के कारण उक्त कर्मचारियों को 4 वर्ष देरी से वर्ष 2004 में प्रथम क्रमोन्नत वेतनमान का लाभ दिया गया जिससे कर्मचारियों का आर्थिक शोषण हुआ है सभी कर्मचारियों को वर्ष 2000 से 2004 तक की अंतर राशि का भुगतान किया जाय, अनुकम्पा नियुक्तियों के लंबित पड़े प्रकरणों का शीघ्र निराकरण किया जावे क्योंकि वर्तमान में चतुर्थ श्रेणी के सफाई संरक्षकों के पदों पर अन्य पिछड़ा वर्ग की नियुक्ति की जा रही है और सफाई कर्मचारियों की अनुकम्पा नियुक्ति नहीं की जा रही है, नगर पालिक निगम प्रशासन द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण, कोरोना महामारी आदि की आड में कर्मचारियों के अवकाश दिवस बुधवार एवं रविवार को भी कार्य कराया जाता है उसे बंद किया जावे एवं साप्ताहिक संपूर्ण अवकाश दिया जावे, समयमान वेतनमान में दोहरी अपनायी जा रही है एक ओर सामान्य वर्ग के कर्मचारियों को लाभ दिया गया किन्तु सफाई संरक्षकों को लाभ नहीं दिया गया अतः समयमान वेतनमान का लाभ सफाई संरक्षकों को भी तत्काल दिया जावे। आयुक्त महोदय जी की 15 अगस्त 2021 की घोषणा अनुसार वर्ष 2007 के पश्चात् समस्त दैनिक वेतन भोगी, मस्टर, कर्मचारियों को विनियमित किया जावे, 28 फरवरी 2015 को पंाच सफाई कर्मचारी को अनिवार्य रूप से सेवानिवृत किया गया था, उनका कोर्ट का आदेश होने पर भी उनके स्वत्वों का भुगतान नहीं किया जा रहा है जो शीघ्र दिलाया जावे, पूर्णकालीन सफाई कर्मचारियों को कलेक्टर रेट पर वेतन दिया जावे एवं वरिष्ठता के आधार पर विनियमितिकरण किया जावे, कोरोनाकाल में मृत कोरोना योध्दा वाहन चालक श्री संजय खरारे के आश्रित पुत्र को अनुकम्पा नियुक्ति दी जावे एवं पचास लाख रूपये की आर्थिक सहायता दिलायी जावे। 15 दिवस के अंदर मांगो का निराकरण ना होने पर समस्त सफाई कर्मचारी गांधीवादी तरीके से आंदोलन करने के लिये बाध्य होंगे जिसकी संपूर्ण जबाबदारी शासन प्रशासन की होगी। 
    ज्ञापन सौपने वालों में श्री रामदास वैद्य, महेश करोसिया, पूर्व अध्यक्ष पं.धमेन्द्र बंटू बोहरे, सरवन करोसिया, परषौत्तम धौलपुरी, मिठ्ठू चैधरीददद, राधेलाल मंछदर, सुदामा, हीरालाल, स्वदेष सनकत, गौरी, बंटू, हेमराज, विनयसोधिया, शैलेष अकेला, विष्णु बलराम, अरूण यादव, विशाल करोसिया, मुन्ना ज्ञान, रेवाराम दीपक, महेन्द्र वीरू,सुनील कुलदीप चैहान, राजाराम प्रमोद, विक्की सुदर्शन सहित अन्य बडी संख्या में कर्मचारी उपस्थित थे। 

लोगों को नेत्रदान के लिए प्रोत्साहित करें :कमिश्नर मुकेश शुक्ला

लोगों को नेत्रदान के लिए प्रोत्साहित करें :कमिश्नर मुकेश शुक्ला


सागर । बुन्देलखण्ड मेडिकल कॉलेज में राष्ट्रीय नेत्रदान पखवाड़ा के अंतर्गत सेन्ट्रल लायब्रेरी के सभागार में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कमिष्नर श्री मुकेष शुक्ला ने सरस्वती देवी की मूर्ति के समक्ष दीप प्रज्वलित एवं माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर बीएमसी के डीन डा. आरएस वर्मा, अधीक्षक डा. पिप्पल, संयुक्त संचालक डा. नीना गिडयन, नेत्र विभाग के एचओडी डा. प्रवीण खरे, डा. उमेष पटेल, डा. मनीष जैन ,आईएमए अध्यक्ष डॉ एसएस खन्ना, डॉ वंदना गुप्ता, डॉ भरत तोमर ,डॉ अर्चना श्रीवास्तव ,डॉ शीला भार्गव ,डॉ एस एस ठाकुर ,डॉ प्रमोद गोदरे
सहित अन्य चिकित्सक और नागरिकगण मौजूद थे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री शुक्ला ने कहा कि आंखे अनमोल हैं। एक पीड़ित व्यक्ति ही इस बात का एहसास कर सकता है कि आंखों का क्या महत्व है। उन्होंने कहा कि लोगों को नेत्रदान के लिए प्रोत्साहित करें। वर्तमान में कार्निया, प्रत्यारोपण के लिए जितनी नेत्रदान की आवष्यकता है, उतनी मिल नहीं पाती हैं। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में बहुत ज्यादा कार्य करने की आवष्यकता हैं। और नेत्रदान को लेकर लोगों के बीच जागरूकता लायी जाए। जिससे वे नेत्रदान के लिए आगे आए। उन्होंने ब्लैक फंगस की बीमारी के दौरान नेत्र विभाग के कार्यों की सराहना की। कार्यक्रम में नेत्रदान के क्षेत्र में अच्छा कार्य करने वालों का सम्मान किया गया।

बुंदेलखंड चिकित्सा महाविद्यालय के नेत्र रोग विभाग अध्यक्ष डॉ  प्रवीण खरे ने नेत्र रोग विभाग की उपलब्धियों के साथ-साथ भविष्य की कार्य योजनाओं के बारे में बताया एवं सभी से नेत्रदान की जागरूकता हेतु सहयोग मांगा. डॉक्टर सुप्रिया ने नेत्रदान के महत्व को डॉक्टर योगिता और डॉक्टर रंजीत ने नेत्रदान से संबंधित भ्रांतियों को बताया.इस अवसर पर लोगां द्वारा नेत्रदान को लेकर पूछे गए प्रष्नों का जबाव बीएमसी के नेत्र विभाग के चिकित्सकों द्वारा दिए गए। नेत्रदान से जुड़ी भ्रांतियों का समाधान भी किया गया। 
कार्यक्रम में आभार डॉ रोशी जैन ने  और संचालन डॉक्टर अंजली विरानी पटेल ने किया.नेत्रदान जागरूकता के लिए पैरामेडिकल छात्रों के द्वारा पोस्टर बनाए गए थे जिसमें प्रथम पुरस्कार मुस्कान को द्वितीय पुरस्कार जया और अनुराधा को तृतीय पुरस्कार वर्षा को दिया गया.



सोशल मीडिया बेहतर प्रंबंधन के लिए नोडल अधिकारियों को दिया गया प्रशिक्षण

सोशल मीडिया बेहतर प्रंबंधन के लिए नोडल अधिकारियों को दिया गया प्रशिक्षण

सागर ।  राज्य शासन द्वारा दिए गए निर्देशों के परिपालन में सागर जिले में सोशल मीडिया के बेहतर प्रबंधन हेतु जिला स्तरीय सोशल मीडिया कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है। कंट्रोल रूम के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए समस्त विभागों के नोडल अधिकारी भी नियुक्त किए गए हैं। इन नोडल अधिकारियों को सोशल मीडिया कंट्रोल रूम की कार्यप्रणाली तथा नोडल अधिकारियों की भूमिका से अवगत कराने के लिए मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में एक प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित की गई जिसकी अध्यक्षता एडीएम  अखिलेश जैन ने की।


इसका उद्देश्य शासकीय योजनाओं, कार्यक्रमों के बेहतर प्रचार-प्रसार एवं प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया पर विभिन्न विभागों से संबंधित नकारात्मक/भ्रामक/असत्य समाचारों के तत्काल प्रतिवाद एवं खंडन के द्वारा जन-सामान्य को संबंधित विषय की वस्तुस्थिति से अवगत कराना है।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे




ट्वीटर  फॉलो करे



वेबसाईट


कंट्रोल रूम द्वारा विभिन्न विभागों से संबंधित नकारात्मक/भ्रामक/असत्य समाचारों एवं प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया पर चल रही खबरों पर नजर रखी जा रही है। समस्त नोडल अधिकारी अपने-अपने विभागों से संबंधित इन नकारात्मक/भ्रामक/असत्य समाचारों एवं प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया पर चल रही भ्रामक खबरों साथ ही ऐसे प्रत्येक संवेदनषील मुद्दे की वस्तुस्थिति त्वरित रूप से सोशल मीडिया कंट्रोल रूम को उपलब्ध कराएंगे। संबंधित विभाग घटित घटना की जानकारी लिखित एवं वीडियो-बाईट के माध्यम से भी उपलब्ध कराएंगे।
समस्त संबंधित विभाग समाचारों के प्रतिकार अथवा विभाग द्वारा की गई अनुवर्ती कार्यवाही एवं प्रकरण की वास्तविक स्थिति से भी जिला सोशल मीडिया कंट्रोल रूम को सूचित करेंगे। प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक एवं सोषल मीडिया पर विभिन्न विभागों से संबंधित नकारात्मक/भ्रामक/असत्य समाचारों के संबंध में की गई कार्यवाही की प्रत्येक समय-सीमा बैठक में कलेक्टर द्वारा समीक्षा भी की जाएगी।
एडीएम श्री अखिलेश जैन ने बताया कि, सभी विभागों से संबंधित नोडल अधिकारी अपने-अपने विभाग की सकारात्मक खबरों, पॉजिटिव स्टोरी, खुशियों की दास्तां, नवाचार की जानकारी भी  उपलब्ध कराएं। जिससे शासकीय योजनाओं की जानकारी जनसामान्य तक पहुंच सके।

---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

SAGAR : नाबालिग से अप्राकृतिक कृत्य करने वाले आरोपी को आजीवन कारावास


SAGAR : नाबालिग से अप्राकृतिक कृत्य करने  वाले आरोपी को  आजीवन कारावास
 

सागर। न्यायालय नवम अपर सत्र न्यायाधीश/ विशेष न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट जिला सागर के न्यायालय ने आरोपी महेश अहिरवार पिता किशोरीलाल उम्र 35 साल निवासी ग्राम भैसा थाना केन्ट जिला सागर  को धारा 377 भादवि में आजीवन कारावास व 2000 रूपए के अर्थदण्ड, धारा 5/6 पॉक्सो  एक्ट में आजीवन कारावास व 2000 रूपए के अर्थदण्ड  एवं धारा 342 भादवि में 01 वर्ष का कारावास एवं 1000 रूपए के अर्थदंड से दण्डित किया गया। राज्य शासन की ओर से अपर/विशेष लोक अभियोजक श्रीमती रिपा जैन  ने शासन का पक्ष रखा।
घटना का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 26.06.2019 को फरियादी अपनी पत्नी एवं पीड़ित बालक को लेकर थाना कैंट में उपस्थित हुआ और उसने रिपोर्ट लेकर आई कि आरोपी महेश अहिरवार द्वारा उसके पुत्र के साथ अपने घर बुलाकर गलत काम किया। इस संबंध में पुलिस थाने में अपराध  पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया, विवेचना के दौरान पीड़ित का चिकित्सीय परीक्षण कराया गया, आयु संबंधित दस्तावेज प्रस्तुत किये गए एवं आरोपी को गिरफ्तार किया गया और माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया।  प्रकरण की विवेचना पूर्ण कर अभियोग पत्र न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया।  न्यायालय में अभियोजन अधिकारी ने महत्वपूर्ण तर्क प्रस्तुत कियें एवं प्रकरण के अभियुक्त को धारा 377, 342 भादवि एवं धारा 5/6 पॉक्सो एक्ट के विरूद्ध संदेह से परे प्रमाणित किया। न्यायालय द्वारा प्रकरण के तथ्य परिस्थितियों एवं अपराध की गंभीरता को देखते हुए एवं अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर आरोपी महेश अहिरवार पिता किशोरीलाल उम्र 35 साल निवासी ग्राम भैसा थाना केन्ट जिला सागर  को धारा 377 भादवि दोषी पाते हुए आजीवन कारावास व 2000 रूपए के अर्थदण्ड एवं धारा 5/6 पॉक्सो एक्ट में दोषी पाते हुए आजीवन कारावास व 2000 रूपए के अर्थदण्ड  एवं धारा 342 भादवि में 01 वर्ष का कारावास एवं 1000 रूपए के अर्थदंड से दण्डित किया गया।

 

शासन की गाइडलाइन का पालन करते हुए हर्ष उल्लास से मनाए त्यौहार ★ 5 फीट से ऊंची नहीं रखी जाएंगी प्रतिमाएं ★ जैन समाज के पर्यूषण पर्व भी गाइडलाइन के साथ होंगे आयोजित :कलेक्टर दीपक आर्य


शासन की गाइडलाइन का पालन करते हुए हर्ष उल्लास से मनाए त्यौहार

★ 5 फीट से ऊंची नहीं रखी जाएंगी प्रतिमाएं

★ जैन समाज के पर्यूषण पर्व भी गाइडलाइन के साथ होंगे आयोजित
:कलेक्टर दीपक आर्य



सागर ।  सागर शासन की गाइडलाइन का पालन करते हुए हर्ष उल्लास से सभी त्यौहार मनाये ,5 फीट से ऊंची नहीं रखी जाएं प्रतिमाएं, नगर निगम के वाहनों से होगी मूर्ति विसर्जन एवं विसर्जन स्थलों पर गोताखोर ,नाव ,लाइट की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इसी प्रकार जैन समाज के पर्यूषण पर्व भी गाइडलाइन के साथ मनाएं।उक्त निर्देश नवागत कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने आगामी समय में आने वाले त्योहारों के मद्देनजर आयोजित शांति समिति की बैठक में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में  दिये ।

इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री अखिलेश जैन ,सिटी मजिस्ट्रेट श्री सीएल वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विक्रम सिंह ,नगर निगम उपायुक्त डॉक्टर प्रणयकमल खरे ,नगर पुलिस अधीक्षक, समस्त स्थानों के थाना प्रभारी ,अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष श्री अंकलेश्वर दुबे ,श्री कैलाश दिवालिया, श्री हरगोविंद विश्वकर्मा विश्व ,श्री अनिल जैन नैनधरा, श्री पप्पू तिवारी ,श्री विक्रम सोनी, श्री राजेश मिश्रा ,श्री रविंद्र अवस्थी सहित शांति समिति के सदस्य मौजूद थे ।

कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने कहा कि आने वाले समय में समस्त धार्मिक त्योहारों को शासन की गाइडलाइन के तहत आयोजित किए जाएं ।उन्होंने कहा कि धार्मिक स्थलों पर पंडाल में एक समय में 50 से अधिक व्यक्ति शामिल ना हो उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार का चल समारोह भी आयोजित नहीं होगा ।गणेश विसर्जन के समय समिति के 10 सदस्य शामिल होंगे ।

कलेक्टर श्री आर्य ने समस्त गणेश प्रतिमा स्थापित समितियों से कहा कि एक व्हाट्सएप ग्रुप तैयार करें जिसमें समस्त समितियों की नंबर को जोड़ा जावे।
 उन्होंने कहा कि गणेश प्रतिमा स्थापित करने हेतु एवं विसर्जन की अनुमति के लिए समिति अपने अपने अधीनस्थ थानों में आवेदन दें ,साथ में समिति अपने सह योगियों की सूची भी मोबाइल नंबर सहित दें, जिससे पुलिस के साथ संबंधित सहयोगी कानून व्यवस्था एवं यातायात व्यवस्था सुचारू बनाने में सहयोग प्रदान करेंगे ।
कलेक्टर श्री आर्य ने निर्देश दिए कि नगर निगम एवं स्मार्ट सिटी के द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यों जिसमें टाटा प्रोजेक्ट ,सीवर लाइन के द्वारा क्षतिग्रस्त सड़कों को तत्काल ठीक किया जाए जिससे विसर्जन में कोई परेशानी का सामना ना करना पड़े ।
कलेक्टर श्री आर्य ने नगर निगम अधिकारियों  को निर्देशित किया कि गणेश प्रतिमा विसर्जन हेतु वाहनों की व्यवस्था कराएं, उपलब्ध कराए गए वाहनों की स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जावे ।कलेक्टर श्री आर्य ने कहा कि गणेश प्रतिमा विसर्जन स्थल बड़ी नदी लेहदरा नाका , ढाना की बेबस नदी पर पर्याप्त मात्रा में पुलिस, लाइट ,नाव ,गोताखोरों की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जावे ।उन्होंने कहा कि शासन की गाइडलाइन के अनुसार कोई भी समिति सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित ना करें।
 उन्होंने कहा कि जैन समाज के पर्यूषण पर्व पर्व पर भी गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित किया जाए ,और एक समय में 50 से अधिक व्यक्ति पंडाल में उपस्थित ना रहे ।उन्होंने कहा कि समस्त कार्यक्रमों में गाइड लाइन एवं फिजिकल डिस्टेंस का पालन सुनिश्चित किया जाए।

 

Archive