सागर की पहचान -लाख बंजारा झील

शनिवार, 30 नवंबर 2019

थाने में आग लगा दो.. वाले मामले में पूर्व काँग्रेस विधायक शकुंतला खटीक सहित सात को सजा

थाने में आग लगा दो.. वाले मामले में पूर्व काँग्रेस विधायक शकुंतला खटीक सहित सात को सजा
भोपाल।एमपीएमएलए मामलों केलिए गठित विशेष अदालत ने शिवपुरी के करैरा से काग्रेस की पूर्व विधायक शकुंतला खटीक सहित
सात लोगों को धरना प्रदर्शन के दौरान पुलिस थाने में आगजनी करने को उकसाने के आरोप में 3 साल की सजा सुनाई है। पूर्व विधायक शकुंतला खटीक ने मंदसौर गोलीकांड के विरोध में पदर्शन किया था । इस दौरान उनका एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमे "थाने में आग लगा दो.." जैसा बात कही थी।
अभियोजन अनुसार घटना 8 जून 2017 को करेरा पुलिसथाना, शिवपुरी में हुई थी। कांग्रेस पार्टी द्वारा मंदसौर में हुएगोलीकांड के विरोध में प्रदेशभर में धरना प्रदर्शन किया जारहा था। इसी दरम्यान करेरा पूर्व विधायक शकुंतला खटीक
ने अपने समर्थकों के साथ धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया।विधायक खटीक पूर्व मंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतलादहन कर रही थी तभी पुलिस बल ने वहां आकर अनियंत्रितभीड़ को नियंत्रण में करने के लिए वज्र वाहन से पानी की
बौछार करनी शुरू कर दी।इससे उत्तेजित होकर पूर्व विधायक ने वहां उपस्थित भीड़को उकसाते हुए कहा कि वह थाने में आग लगा दें। उनकी
बातों में आकर वहां उपस्थित उनके समर्थकों ने पुतला दहनकरते अन्य जगह भी आग लगाने का प्रयास किया। पुलिसने मौके पर आग पर काबू न पाया होता तो पुलिस थानेसहित अन्य सरकारी संपत्ती को आग से भारी नुकसान पहुंचता।
  इस मामले में पुलिस ने पूर्व विधायक शकुंतला खटीकसहित 7 कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ बलवा, आगजनी,आगजनी को उकसाने, शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज हुआ था। विशेष न्याय धीश सुरेश सिंह ने आज तीन साल की सजा और 35 हजार के अर्थदंड की सजा सुनाई।

आंद्रेई स्टेनिन इंटरनेशनल फोटो प्रतियोगिता के विजेताओं की तसवीरों की प्रदर्शनी 5 दिसम्बर तक

आंद्रेई स्टेनिन इंटरनेशनल फोटो प्रतियोगिता के विजेताओं की तसवीरों की प्रदर्शनी 5 दिसम्बर तक
नई दिल्ली।आंद्रेई स्टेनिन इंटरनेशनल फोटो प्रतियोगिता के विजेताओं की तसवीरों की प्रदर्शनी शुक्रवार से 5 दिसम्बर तक चलेंगी ।प्रतियोगिता के इतिहास मे दूसरी बार रोसिया सेगोडन्या समाचार एजेंसी दावरा यूनेस्को के सहयोग से किया जा रहा है ।प्रदर्शनी मे रूस, भारत, दक्षिण अफ्रीका, इटली, अमेरिका, फ्रांस सहित  कई देशों के  सर्वश्रेष्ठ युवा फोटोग्राफरों द्वारा दर्जनों तस्वीरों की प्रदर्शिनी चल रही है ।29 नवंबर से एक रफी मार्ग के एआईएफएसीएस गैलरी में प्रदर्शनी की जा रही है ।
इतालवी ग्रां प्री विजेता गैब्रिएल सेकोनी द्वारा ली गई फोटोग्राफिक सीरीज़ द व्रीटेड एंड द अर्थ, मनुष्य और प्रकृति के बीच जबरन टकराव के बारे में एक दुखद कहानी बयान करती है। प्रदर्शनि मे कई ज्वलंत छवियों के माध्यम से  सामयिक विषयों को भी उठाया गया है।रोहिंग्या शरणार्थियों और बांग्लादेश के दक्षिणी क्षेत्रों पर अपने प्रवासन द्वारा धीमी गति से विनाश की कहानी कहती तस्वीरें आपको सोचने पर  मजबूर कर देंगी / फ्रांसिस रूसो (फ्रांस) द्वारा उनकी द वुमन ऑफ अरुगम बे की नायिकाएं श्रीलंका की महिलाएं हैं जिन्होंने विंडसर्फ के बारे में जानने का फैसला किया।
शंतनु डे के अनुसार दक्षिण अफ्रीका के जस्टिन सुलिवन की सबसे चौंका देने वाली तस्वीरों में से एक है जिसने माई प्लैनेट श्रेणी में पहला पुरस्कार जीता है । इसमें एक अफ्रीकी हाथी को दिखाया गया है जिसे उत्तरी बोत्सवाना में हाथी दांत के शिकार शिकारियों ने मार दिया था। प्रदर्शन में भारत के चार विजेताओं द्वारा ली गई तस्वीरें शामिल हैं। कोलकाता के पत्रकार और फ्रीलांस डॉक्यूमेंट्री फ़ोटोग्राफ़र देवरचन चटर्जी ने विरोध आंदोलन पर ध्यान केंद्रित करते हुए अपनी तस्वीर के लिए शीर्ष समाचार श्रेणी में प्रतियोगिता जूरी का पुरस्कार जीता है । अमित मौलिक और अयानवा सिल ने खेल श्रेणी में बेहतरीन और गतिशील चित्रों का योगदान दिया है । कोलकाता में बहुरूपी अभिनेताओं से स्ट्रीट ग्लास कटर तक विलुप्त होने की श्रृंखला के कगार पर उन व्यवसायों को दिखाया है ।
   उद्घाटन से एक दिन पहले, प्रतियोगिता के क्यूरेटर ओक्साना ओलेनिक ने कहा है : "हमें खुशी है कि नई दिल्ली दूसरी बार आंद्रेई स्टेनिन इंटरनेशनल प्रेस फोटो प्रतियोगिता के विजेताओं द्वारा प्रदर्शनी की मेजबानी कर रहा है। प्रतियोगिता के लिए सबमिशन की संख्या से भारत शीर्ष पांच देशों में से एक है, और मुझे उम्मीद है कि हमारी परियोजना में पेशेवरों की दिलचस्पी बढ़ेगी। "प्रदर्शनी 5 दिसंबर तक सप्ताह के दिनों में सुबह 11 बजे से शाम 7 बजे तक खुली रहेगी ।
प्रतियोगिता के बारे में
यूनेस्को के लिए रूसी संघ के तत्वावधान में रोसिया सेगोडन्या समाचार एजेंसी द्वारा आयोजित आंद्रेई स्टेनिन इंटरनेशनल प्रेस फोटो प्रतियोगिता का उद्देश्य युवा फ़ोटोग्राफ़रों का समर्थन करना और आधुनिक फोटो जर्नलिज़्म के कार्यों पर जनता का ध्यान आकर्षित करना है। यह उन युवा फ़ोटोग्राफ़रों के लिए एक स्थान है जो प्रतिभाशाली, संवेदनशील और कुछ नया करने के लिए तत्पर हैं। दो भारतीय फोटोग्राफेर्स का परोचे एवं बाइट 
"स्टेनिन प्रतियोगिता ने जिस तरह का प्रदर्शन हमारे सामने लाया वह अद्वितीय है। जब हम अपने समारोह के लिए मास्को गए, तो हमें बहुत सारे शानदार फोटोग्राफरों से मिलने और जुड़ने का मौका मिला। प्रतियोगिता ने हमें फोटोग्राफी की शैली में आने में मदद की ।जिसे हमने चुना है - वृत्तचित्र। जब हम मॉस्को में अन्य अंतरराष्ट्रीय फोटोग्राफरों से मिले तो हमने महसूस किया कि वे अपनी शैली और फोटोग्राफी की शैली से चिपके रहते हैं और पैसे या व्यावसायीकरण के लिए इसे बदलते नहीं हैं।" 
शांतनु डे - बांग्लादेश में छात्रवृत्ति पर फोटोग्राफी का अध्ययन किया - "पॉट्रेट" श्रेणी में - "विलुप्त होने के कगार पर नोस्टाल्जिया" शीर्षक से उनकी श्रृंखला के लिए तीसरा स्थान हासिल किया।
 -"फ़ोटोग्राफ़ी एक कलात्मक भाषा है और चित्र में उसकी अपनी धारणा को प्रतिबिंबित करने में सक्षम होने के लिए, फोटोग्राफर को कला का व्याकरण जानना चाहिए। हर कोई हमेशा ध्यान देता है कि जो भी कैमरे के सामने है, कोई भी उस व्यक्ति पर ध्यान नहीं देता जो पीछे से है। स्टीनिन जैसी प्रतियोगिताओं से हमें वैश्विक स्तर पर फोटोग्राफरों को उचित पहचान मिलने में मदद मिलती है। हमें भारत में फोटोग्राफरों के लिए अधिक प्रदर्शनियों और प्रतियोगिताओं की आवश्यकता है।"

एमपी में 43 परिवहन विभाग में निरीक्षक/सहायक निरीक्षकों/प्रधान आरक्षकों के तबादले

एमपी में 43 परिवहन विभाग में निरीक्षक/सहायक निरीक्षकों/प्रधान आरक्षकों के तबादले

भाजपा जिला अध्यक्ष के लिए हुई राय शुमारी, तीन तीन नाम लिए पर्चीयो से

भाजपा जिला अध्यक्ष के लिए हुई राय शुमारी,तीन तीन नाम लिए  पर्चीयो से 
सागर। भारतीय जनता पार्टी के संगठन पर्व के तहत बूथ स्तर एवं मंडल स्तर के चुनावों के बाद जिला अध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया के लिये पार्टी कार्यालय में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष निर्वाचन अधिकारी अरविंद भदौरिया ने मंडल अध्यक्ष एवं जिले के प्रतिनिधियों के साथ ही पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों से चर्चा कर रायशुमारी की।
उन्होंने कहा कि बूथ स्तर के एवं मंडल स्तर के चुनाव के बाद भाजपा जिला अध्यक्ष के निर्वाचन प्रक्रिया में भी आंतरिक लोकतंत्र मजबूत रहे इसको लेकर पार्टी ने पारदर्शिता के साथ चयन प्रक्रिया तय की है। सभी मंडल अध्यक्ष एवं जिले के प्रतिनिधिगण जिला अध्यक्ष के उम्मीदवारों के तीन नाम पर्ची में लिखकर अपनी-अपनी राय दें जिसे लिफाफा में बंद करकर भोपाल ले जाया जायेगा। उन्होंने कहा कि सागर जिले के वरिष्ठ नेताओं से वन-टू-वन चर्चा कर जिला अध्यक्ष के उम्मीदवार के संबंध में चर्चा की गयी है एवं जिले के वरिष्ठ नेताओं एवं जन प्रतिनिधियों से भी जिला अध्यक्ष के संबंध में चर्चा की गयी है। भारतीय जनता पार्टी जिला अध्यक्ष की सभी लोगों से रायशुमारी एवं चर्चा के पश्चात् समन्वय बनाकर सर्वसम्मति से अतिशीघ्र भोपाल से घोषणा होगी। बैठक में भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष प्रभुदयाल पटैल ने स्वागत भाषण देते हुये कहा कि पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र के मजबूती के लिये निर्वाचन प्रक्रिया महत्वपूर्ण है। 
अरविंद भदौरिया ने आज सुबह जिले के समस्त मंडल अध्यक्षों एवं जिले के प्रतिनिधियों की बैठक लेकर उनसे पर्ची के माध्यम से 3-3 उम्मीदवारों के नाम लेकर लिफाफे में बंद किये तत्पश्चात् सागर जिले के लगभग 30 वरिष्ठ नेताओं से जिला अध्यक्ष को लेकर वन-टू-वन चर्चा कर रायशुमारी ली। तत्पश्चात् जिले के निर्वाचन अधिकारी अरविंद भदौरिया ने सागर जिले के वरिष्ठ नेताओं एवं जनप्रतिनिधियों से भी चर्चा की। 
बैठक का संचालन जिले के महामंत्री अनुराग प्यासी एवं आभार शैलेष केशरवानी ने व्यक्त किया। 
ये रहे बैठक में
बैठक और रायशुमारी एवं वरिष्ठ नेताओं में चर्चा करने वालो में प्रमुख रूप से पूर्व मंत्री खुरई विधायक  भूपेन्द्र सिंह, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप लारिया, सांसद राजबहादुर सिंह, सागर विधायक शैलेन्द्र जैन, महापौर अभय दरे, पूर्व सांसद लक्ष्मीनारायण यादव, पूर्व विधायक श्रीमति सुधा जैन, नारायण प्रसाद कबीरपंथी, भानूराणा, हरिराम सिंह ठाकुर, डाॅ. सुशील तिवारी, राजेन्द्र सिंह मोकलपुर, प्रदीप पाठक, गोविंद जड़िया, तेजी सिंह राजपूत, डाॅ. सुखदेव मिश्रा, रामअवतार पांडे, सुधीर यादव, राजेन्द्र सिंह घोषी, राजकुमार सिंह बरकोटी, रामकुमार साहू, अरविंद तोमर, लक्ष्मण सिंह, डाॅ. वीरेन्द्र पाठक, पंकज मुखारया, राजकुमार जैन, अनुराग प्यासी, वैभवराज कुकरेले, शैलेष केशरवानी, प्रदीप राजौरिया, श्याम तिवारी, नवीन भट्ट, गौरव सिरोठिया, रामेश्वर नामदेव, उमेश हरदया, जगन्नाथ गुरैया, अर्पित पाण्डे, विक्रम सोनी, मनीष चैबे, रीतेश मिश्रा, बंटी शर्मा, राजकुमार सिंह धनौरा, कपिल कुशवाहा, दिलीप नायक, आफीसर यादव, प्रेमचंद बड़कुल, राजकुमार सतभैया, विवेक मिश्रा, उमेश जैन, देवपाल सिंह लोधी, अमित नायक, ईश्वर नायक, गोविंद पटैल, भरत सेमरा, सुधीर यादव, मनोज तिवारी, मनोज जैन, संदीप जैन, बुंदेल सिंह मानकी, कैलाश राजपूत, संजय चैरसिया, कमल सिंह दुधवारा, रामलखन सिंह, अमित राय, गोविंद पटैल, हरिशंकर राठौर, मनीष गुरू, राजकुमार बघेल, हरिशंकर कुशवाहा, पुष्पेन्द्र सिंह तोमर, दीपेश जैन, नारायण लोधी, मनीष पटैल, प्रवीण जैन, संतोष लोधी, शुभम तिवारी, मनीष पटैल, मुकेश कटारे, नत्थू सिंह यादव, ओमप्रकाश कुर्मी, प्रवीण जैन, धर्मेन्द्र पटैल, पुष्पेन्द्र सिंह तोमर, सुरेश कपस्या, श्याम सुंदर मिश्रा, नरेन्द्र ठाकुर, रत्नेश सिंह, भैयाराम लोधी, विनय मिश्रा, रविन्द्र अवस्थी, हीरालाल खटीक, वृन्दावन अहिरवार, यश अग्रवाल, नितिन सोनी, नितिन अहिरवार, ब्रजमोहन पाठक, निकेश गुप्ता, कपिल उपाध्याय, वृन्दावन अहिरवार, रीतेश तिवारी, संदीप साहू, अंशुल हर्षे, प्रशांत देवलिया, रामशास्त्री, सोनल सोनी, सहित बड़ी संख्या में अपेक्षित श्रेणी के भाजपा के पदाधिकारी एवं वरिष्ठ नेताओं ने बैठक में उपस्थित होकर एवं निर्वाचन अधिकारी मान. अरविंद भदौरिया से भाजपा जिला अध्यक्ष के निर्वाचन को लेकर वन-टू-वन चर्चा की। उक्ताशय की जानकारी भारतीय जनता पार्टी के संभागीय मीडिया प्रभारी प्रदीप राजौरिया ने  दी।  

दोनो सांसद सागर में लेकिन नही मिले कांग्रेसियों को , सांसद कार्यालय पर चिपकाया ज्ञापन, पुलिस और आंदोलनकारियों के बीच हल्की झड़प

 दोनो सांसद सागर  में लेकिन नही मिले कांग्रेसियों को , सांसद कार्यालय पर चिपकाया ज्ञापन, पुलिस और आंदोलनकारियों के बीच हल्की झड़प

सागर। मध्यप्रदेश के विकास में भेदभाव को लेकर  सांसद कार्यालय के  समक्ष प्रदर्शन करने के पहले ही पुलिस ने बेरिकेट्स लगाकर रोक लिया । इस दौरान कांग्रेसियों ने जमकर प्रधानमंत्री के खिलाफ नारेबाजी की और पुलिस के साथ धक्का धूमी भी की । इसके बाद कांग्रेसियों ने भाजपा सांसद राजबहादुर सिंह के  कार्यालय पहुचकर उनके बाहर ज्ञापन नुमा पोस्टर चिपका दिया। इस दौरान भारी पुलिसबल तैनात रहा।
दोनो सांसद थे सागर में लेकिन नही मिल सके
सागर जिले से दो  सांसदो  का प्रतिनिधित्व है ।दमोह सांसद  केंद्रीय राज्य मंत्री प्रह्लाद पटेल और सागर सांसद राजबहादुर  दोनो के क्षेत्रों में सागर जिले के विधानसभा क्षेत्र आते है । यह संयोग ही था दोनो सांसद  आज ही सागर में विभिन्न कार्यक्रमो में शिरकत करते रहे । लेकिन कांग्रेसजन पार्टी हाईकमान की भेदभाव वाली बात नही पहुचा सके । उधर केंद्रीय राज्यमंत्री प्रह्लाद पटेल से  सुबह ही दमोह में कांग्रेसियों ने मुलाकात की और अपनी बात रखी।

इस मामले में जिलाध्यक्ष हीरा सिंह का कहना है कि पार्टी हाईकमान के निःर्देश कार्यालय पर ही पहुचकर प्रदर्शन के थे। वही शहर अध्यक्ष रेखा चोधरी के अनुसार सांसद राजबहादुर सिंह  से समय मांगा था लेकिन कोई जवाब नही मिला।
पैदल मार्च करते हुए पहुचे कांग्रेसी
केंद्र की मोदी सरकार द्वारा प्रदेश की कांग्रेस सरकार से भेदभाव पूर्ण जनविरोधी नीतियों को लेकर जिला कांग्रेसअध्यक्ष  हीरा सिंह राजपूत एवं रेखा चौधरी के नेतृत्व में बस स्टैंड से पैदल मार्च करते मोदी सरकार के सांसदों मंत्रियों को कुंभकरण की नींद से जगाने के लिए ढोलक गाजे-बाजे के साथ प्रदर्शन किया।
 कार्यक्रम में प्रमुख रूप से वरिष्ठ कांग्रेस युवा कांग्रेस पार्षद गण महिला कांग्रेस सभी प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों से अनेक कांग्रेस जन शामिल रहे।
ये रहे प्रदर्शन में शामिल
प्रदर्शन में शामिल कांग्रेसियों में कुलदीप बाँझल, जितेंद्र चावला, नरेश जैन, कमलेश बघेल,अमित राम जी दुबे,त्रिलोकी कटारे,सिंटू कटारे ,विजय साहू, सुरेंद्र चोबे, मुन्ना चोबे,संदीप सबलोक,आनंद तोमर, शेलेन्द्र तोमर, कैलाश सिंघई,राजू वैध ,अवधेश तोमर, संजय मोंटी यादव,महेश जाटव,द्वारका चोधरी,निखिल चौकसे,जितेंद्र रोहन, इल्ले सरदार,सीमा चोधरी,रंजीता राणे,हेमलता , राकेश राय, रवि यादव,मुकेश खटीक,मुकुल शर्मा,फहीम, पम्मा भाईजान, रूपेश यादव सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।




देश की एकता अखंडता में सरदार पटेल की नीति फूलमाला के मजबूत धागे की तरह :केंद्रीय राज्य मंत्री प्रह्लाद पटेल

देश की एकता अखंडता में सरदार पटेल की नीति  फूलमाला के मजबूत धागे की तरह :केंद्रीय राज्य मंत्री प्रह्लाद पटेल
 सागर । केंद्रीय राज्य मंत्री प्रह्लाद पटेल ने कहा है कि सरदार वल्लभ भाई पटेल अपने देशहित और अखंडता के लिए किए गए निर्णयों के कारण लौह पुरुष के रूप में याद किये जाते है । वर्तमान में राजनीतिक परिदृश्य में बढ़ता अधोपतन और अविश्वास से जो संकट पैदा हो रहा है। उससे उबरने में सरदार पटेल की कार्यशैली ही प्रासंगिक है ।
केन्द्रीय मन्त्री पटेल आज डॉ गौर केंद्रीय  विवि द्वारा ''आधुनिक भारत के निर्माण में लौह पुरूष सरदार बल्लभ भाई पटेल का योगदान'" विषय पर आयोजित संगोष्टी  को सम्बोधित के रहे थे। 
 इसके पहले उन्होंने विवि के प्राचीन भारतीय इतिहास, संस्कृति एवं पुरातत्त्व विभाग के नवीन संग्रहालय भवन का भूमिपूजन और नवनिर्मित अथिति गृह भवन का लोकार्पण किया। इस मौके पर सागर सांसद राजबहादुर सिंह,कुलपति प्रो आर पी तिवारी ,विधायक शेलेन्द्रजैन,महापौर अभय दरे आदि नागरिक गण मौजूद रहे।
 उन्होंने कहा कि सरदार पटेल को जानने के लिए उनके लिखे पत्रों को अध्ययन करें। कभी अपने लिए नही हमेशा एकता अखंडता के लिए ही निर्णय लिए।प्रशासनिक फैसलों में उनकी सोच झलकती थी। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल  फूलमाला के वह  मजबूत धागे की तरह  है जिनकी सोच और फैसलों से  देश की एकता और अखंडता की आज भी एक दूसरे को बांधे है। उन्होंने कभी संकल्प में विकल्प को नही तलाशा है । विकल्प आने से संकल्प अधूरा रह जाता है । 
इस मौके पर कुलपति प्रो आर पी तिवारी ने विवि की गतिविधियों से अवगत कराया और कहा डॉ गौर को भारत रत्न दिलाने के लिए जो भी प्रयास और मार्गदर्शन मिलेगा। उस दिशा में प्रयास किये जायेंगे। रजिस्ट्रार कर्नल राकेश मोहन जोशी ने आभार व्यक्त किया।
संग्रहालय भवन का भूमिपूजन और अथिति गृह का लोकार्पण
 केंद्रीय पर्यटन एवम संस्कृति  राज्य मन्त्री प्रह्लाद पटेल ने डाॅ. हरीसिंह गौर केंद्रीय   विश्वविदयालय  सागर के प्राचीन भारतीय इतिहास, संस्कृति एवं पुरातत्त्व विभाग के नवीन संग्रहालय भवन का भूमिपूजन और नवनिर्मित अथिति गृह भवन का लोकार्पण किया। इस मौके पर सागर सांसद राजबहादुर सिंह,कुलपति प्रो आर पी तिवारी ,विधायक शेलेन्द्र जैन,महापौर अभय दरे सहित अनेक नागरिक गण मौजूद रहे। विवि में बनने वाले संग्रहालय की कीमत 5 करोड़ 84 लाख रुपये और नवनिर्मित अथिति भवन की लागत 3 करोड़ 68 लाख रुपये है।
इसके पहले उन्होंने इस विवि के संस्थापक डॉ गौर की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की।
ये रहे उपस्थित
कार्यक्रम में योगाचार्य  विष्णु आर्य, प्रो सुरेश आचार्य, डॉ सुशील तिवारी,नारायण कबीरपंथी, सुधीर यादव, प्रो नागेश दुबे,प्रो ए पी दुबे,डॉ अशोक अहिरवार,डॉ दिवाकर राजपूत, डॉ राकेश सोनी,पंकज तिवारी, डॉ दीपक गुप्ता,संदीप चंचल,दीपक सिंघई, बंटू तिवारी, सहित अनेक लोग मौजूद रहे।
बुन्देलखण्ड की पूरा सम्पदा को संरक्षित करने सभी आगे आये:पटेल
सागर । केंद्रीय सँस्कृति पर्यटन राज्य मंत्री प्रह्लाद पटेल ने कहा है कि बुन्देलखण्ड में  पुरातत्व महत्व की ढेरों है । इनको संरक्षित करने के लिए मंत्रालय लगातार प्रयास कर रहा है । इसमे सभी का सहयोग जरूरी है ।
उन्होंने मीडिया से चर्चा में कहा कि केंद्रीय विवि बनाये जाने का जब मामला आयाथा तब  मैंने जबलपुर की बजाय सागर विवि की सिफारिश की थी । डॉ गौर के प्रति आदरांजलि देने  अवसर मेरे मंत्रालय को  मिला ।  जीसस यह संग्रालय बन रहा है ।
उन्होंने प्रज्ञा ठाकुर में मसले पर कहा कि इस मामले में प्रज्ञा सदन में जवाब दे चुकी है। वैसे उनको भी लोगो ने आतंकवादी कहा है । 
महाराष्ट्र पर कहा कि राजनीति में गठबंधन का पुराना इतिहास है । इस गठबन्धन के क्या परिणाम होंगे यह भविष्य में पता चलेगा।

शुक्रवार, 29 नवंबर 2019

देश के सर्वश्रेष्ठ थानों में शामिल हुआ एमपी के बुरहानपुर का अजाक पुलिस थाना

देश के सर्वश्रेष्ठ थानों में शामिल हुआ एमपी के बुरहानपुर का अजाक पुलिस थाना
भोपाल । मध्यप्रदेश पुलिस को एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठा मिली है। भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने मौजूदा साल के लिए देश के जिन तीन सर्वश्रेष्ठ पुलिस थानों को चुना है, उनमें मध्यप्रदेश के बुरहानपुर जिले का अजाक थाना भी शामिल है। केन्द्रीय गृह मंत्रालय के इंटेलीजेन्स ब्यूरो के संयुक्त निदेशक एवं कान्फ्रेंस सेक्रेटरी  ऋत्विक रुद्र ने पत्र के जरिए यह सूचना मध्यप्रदेश के पुलिस महानिदेशक श्री विजय कुमार सिंह को दी है।
देश के तीनों सर्वश्रेष्ठ पुलिस थानों के प्रभारियों को  6 दिसंबर को केन्द्रीय गृह मंत्री द्वारा पुणे   में डीजीपी-आईजी कान्फ्रेंस-2019 में  सम्मानित किया जाएगा। कान्फ्रेंस में अजाक पुलिस थाना बुरहानपुर के प्रभारी उप-निरीक्षक  किशोर कुमार अग्रवाल को सम्मानित करने के लिए आमंत्रित किया गया है।
पुलिस महानिदेशक श्री विजय कुमार सिंह ने अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अजाक श्रीमती प्रज्ञा ऋचा श्रीवास्तव, बुरहानपुर के पुलिस अधीक्षक श्री अजय सिंह, पुलिस अधीक्षक अजाक श्री अरविंद तिवारी और अजाक थाना प्रभारी श्री किशोर कुमार अग्रवाल को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है।   
केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा भारत के सभी राज्यों के एससीआरबी (राज्य अपराध अभिलेख ब्यूरो) में उपलब्ध सीसीटीएनएस (क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रैकिंग नेटवर्क एंड सिस्टम) डाटा के आधार पर आरंभ में देश के सर्वश्रेष्ठ 100 पुलिस थानों का चयन किया था। इसके बाद मैदानी स्तर पर तीन चरण में अलग-अलग एजेंसियों के माध्यम से गुप्त सर्वे कराकर तीन सर्वश्रेष्ठ थानों को चुना गया है।
देश के तीन अव्वल पुलिस थानों को लगभग 50 बिंदुओं की प्रश्नावली के आधार पर चयनित किया गया है। गुप्त सर्वे में इस बात का खास तौर पर पता लगाया कि आम जनता में पुलिस की छवि कैसी है। पुलिस थानों का रख-रखाव, अनुशासन और रिकार्ड संधारण, पीडितों की संतुष्टि के साथ शिकायतों का शीघ्रता से निराकरण और बुनियादी सुविधाएँ मसलन पेयजल, शौचालय और आगुंतकों के लिए बैठने की व्यवस्था इत्यादि की स्थिति क्या है। सर्वे के दौरान थाने की कार्य-प्रणाली के बारे में कारोबारियों, समाज सेवियों एवं शासकीय सेवकों सहित समाज के सभी वर्गों की राय की जाँच एजेंसियों द्वारा करवाई गई है।

पंचों/सरपंचों ,जनपद और जिला पंचायतो का आरक्षण 4 दिसम्बर से ,जिला पंचायत अध्यक्ष का आरक्षण 16 दिसम्बर को

पंचों/सरपंचों ,जनपद और जिला पंचायतो का आरक्षण 4 दिसम्बर से ,जिला पंचायत अध्यक्ष का आरक्षण 16 दिसम्बर को
भोपाल।मध्यप्रदेश में ग्राम पंचायत स्तर चुनाव के लिए आरक्षण  की तारीखों की घोषणा 4 दिसंबर 2019 को शुरू होगी ।आरक्षण की कार्रवाई 16 दिसंबर 2019 तक चलेगी ।
राज्य शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग भोपाल ने आज स्तरीय पंचायत आम चुनाव 2019-20 पंचों सरपंचों, जनपद पंचायत के निर्वाचन क्षेत्र एवं अध्यक्ष तथा जिला पंचायत के निर्वाचन क्षेत्र का आरक्षण  की तारीखों का एलान कर दिया है । वही जिला पंचायत अध्यक्ष का आरक्षण राज्य स्तर पर भोपाल में  होगा।कलेक्टर को जारी हुए आदेश के तहत आरक्षण की प्रक्रिया 18 दिसम्बर तक पूरी करके भोपाल भेजना है।

पढ़ाई के साथ खेलों में भी आगे है बेटियाँ : राजस्व मंत्री प्रांतीय ओलंपिक महिला खेल का समापन

पढ़ाई के साथ खेलों में भी आगे है बेटियाँ : राजस्व मंत्री 
प्रांतीय ओलंपिक महिला खेल का समापन 
सागर ।  प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री  गोविन्द सिंह राजपूत  जिला स्तरीय गुरूनानक देव जी की प्रांतीय ओलंपिक महिला खेल प्रतियोगिता वर्ष 2019 के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। उन्होंने विजेता, उप विजेता महिला खिलाडि़यों को पुरस्कार वितरित किए।
समापन कार्यक्रम में पुरस्कार वितरित करते हुए मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि बेटियां पढ़ाई के साथ-साथ खेलों में भी आगे आ रही है। उन्होंने कहा कि जिले के ग्रामीण क्षेत्रों से आई बेटियों ने पहले विकासखण्ड स्तर पर खेलों में अच्छा प्रदर्षन किया। उसके बाद आज जिला स्तर पर भी उनका प्रदर्षन सराहनीय रहा है। उन्होंने विष्वास व्यक्त किया कि जब भोपाल में प्रदेष स्तरीय ओलंपिक खेल प्रतियोगिता के लिए सागर जिले की बेटियां वहां पर भी बेहतर प्रदर्षन करंेगी।
कार्यक्रम में खेल युवा कल्याण अधिकारी  राजेन्द्र कोष्टा ने बताया कि जिले के 11 विकासखण्डों से आए प्रतियोगियों ने भाग लिया। इनमें चयनित हुए खिलाड़ी आगामी 3 और 4 दिसंबर को आयोजित संभाग स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेंगे। प्रतियोगिता में 10 खेलों एथलेटिक्स, बास्केट बाल, हॉकी, फुटवाल, बैडमिंटन, टेबिल टेनिस, बालीवॉल, कुष्ती, खो-खो के प्रतियोगियों ने भाग लिया।इस अवसर पर देवेन्द्र फुसकेले, संजय यादव, राजेष्वर सेन, जिले के 11 विकासखण्डों से आए खिलाड़ी कोच प्रबंधक और खेल प्रेमी उपस्थित थे।  

हथकरघाआयुक्त ने लगाई बुनकरों की चौपाल

हथकरघाआयुक्त ने लगाई बुनकरों की चौपाल
 निवाड़ी। म.प्र शासन हथकरधा आयुक्त राजीव शर्मा आई ए एस का संभाग के टीकमगढ़ छतरपुर निवाडी जिलो का दौरा किया हथकरधा एवं हस्तषिल्प से जुड़े मृगनयनी एम्पोरियम ओरछा खजुराहो का निरिक्षण किया। निवाडी जिले के ग्राम तरीचर कला के हथकरधा बुनकरो से मुलाकात की एवं उनकी समस्यों को विधिवत सुनकर निराकरण हेतु बुनकरो के मध्य चैपाल का आयोजन किया। चैपाल में उपस्थित बुनकरो से कहा की बुनकरो की आर्थिक स्थिति सुदंढ़ हेतु हथकरधा एवं हस्तषिल्प विकास निगम निरंतर रोजगार मूलक योजनाओं का संचालन कर रहा है। मेरे आप सभी बुनकर एवं षिल्पी भाई एक पारिवारिक सदस्य के रूप में हैैै। अतः मेरा कत्र्यव्य है की में आप सभी के जीवन में रोजगार कुषलता हेतु सम्पूर्ण प्रयासरत हूं ।
 उन्होंने टीकमगढ़ में बैलमेटल षिल्पीयो से भेंट की एवं उन्होंने कहा की बैलमेटल षिल्प में टिकमगढ़ के षिल्पीयो ने दुनिया में अलग पहचान बनाई है। निगम के द्वारा बजार मेला प्रदर्षनिया एवं प्रक्षिण माध्यम से एक मंच दिया जाता हैं। आयुक्त  के साथ सागर से रूपेष श्रीवास्तव छतरपुर से श्रीपाल निवाडी से श्रीनागेष एवं श्री छोटेलाल दौरे में साथ थे ।

केंद्रीय राज्य मंत्री प्रह्लाद पटेल करेंगे संग्रहालय भवन का भूमिपूजन ,डॉ गौर विवि में 30 नवम्बर को

केंद्रीय राज्य मंत्री प्रह्लाद पटेल करेंगे संग्रहालय भवन का भूमिपूजन ,डॉ गौर विवि में 30 नवम्बर को 
सागर । डाॅ. हरीसिंह गौर केंद्रीय   विश्वविदयालय  सागर के प्राचीन भारतीय इतिहास, संस्कृति एवं पुरातत्त्व विभाग के नवीन संग्रहालय भवन का भूमिपूजन एवं षिलान्यास 30 नवंबर शनिवार को  प्रहलाद सिंह पटेल माननीय राज्य मंत्री संस्कृति एवं पर्यटन मंत्रालय भारत सरकार के कर कमलों से होगा। इसकी अध्यक्षता कुलपति प्रो आर पी तिवारी करेंगे।
संग्राहलय 5 करोड़ 84 लाख रुपये की लागत से निर्मित होगा।
केंद्रीय राज्य मंत्री पटेल सुबह 10ः00 बजे विष्वविद्यालय के संस्थापक डाॅ. हरीसिंह गौर जी की समाधि पर पुष्पोजलि अर्पित करेंगे। इसके उपरान्त प्राचीन भारतीय इतिहास विभाग में नवीन संग्रहालय भवन का भूमिपूजन एवं षिलान्यास एवं विष्वविद्यालय के नवीन अतिथि गृह भवन का उद्घाटन करेंगे। इसी सिलसिले में विभागाध्यक्ष प्रो. नागेश दुबे ने बताया कि  वर्तमान संग्रहालय भवन में पर्याप्त स्थान के अभाव में विभाग में संग्रहीत पुरावशेषों को प्रदर्शित करने में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। इसी कठिनाई को देखते हुए विभाग द्वारा वर्ष 2018 में संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली को 'म्यूजियम ग्रांट स्कीम' के अन्तर्गत विभागीय संग्रहालय के विस्तार हेतु परियोजना का प्रस्ताव भेजा गया। जिसके लिए संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रस्तावित राशि पाँच करोड़ चैरासी लाख रूपए विष्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राघवेन्द्र पी. तिवारी के अथक प्रयासों के फलस्वरूप यह राषि स्वीकृत की गयी है। इस स्वीकृत राशि से संग्रहालय के नवीन भवन एवं नवीन वीथिकाओं का निर्माण किया जायेगा। प्रस्वावित नवीन भवन एवं वीथिकाओं में संग्रहीत पुरावस्तुओं को प्रदर्षित किया जाएगा जिससे जहाँ छात्रों एवं शोधार्थीयों को अध्ययन में सहायता प्राप्त होगी वहीं आम जनता को अपनी संस्कृति एवं अपनी धरोहर के विषय में जानकारी भी प्राप्त कर सकेंगे। 
सरदार पटेल पर गोष्ठि
विष्वविद्यालय के स्वर्ण जयंती सभागार में पूर्वाह्न 10ः45 बजे ''आधुनिक भारत के निर्माण में लौह पुरूष सरदार बल्लभ भाई पटेल का योगदान'" विषय पर मुख्य अतिथि प्रह्लाद सिंह पटेल राज्य मंत्री संस्कृति एवं पर्यटन मत्रालय (स्वतंत्र प्रभार), भारत सरकार, का विशेष व्याख्यान होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति प्रो. राघवेन्द्र प्रसाद तिवारी द्वारा कि जावेगी। 

गुरुवार, 28 नवंबर 2019

MP में पुलिस के 89उपनिरीक्षकों के ट्रांसफर

MP में पुलिस के 89उपनिरीक्षकों के ट्रांसफर

MP में पुलिस के 87 उपनिरीक्षकों के ट्रांसफर

MP में पुलिस के 87 उपनिरीक्षकों के ट्रांसफर

बुंदेली लोक नृत्य कला का 10 दिवसीय प्रशिक्षण शुरू

बुंदेली लोक नृत्य कला का 10 दिवसीय प्रशिक्षण शुरू
सागर । बुंदेली लोक नृत्य व नाट्य कला परिषद कनेरा देव सागर द्वारा 10 दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में नगर पालिका अध्यक्ष सुशीला संतोष रोहित बिशिष्ट अतिथि के रूप पार्षद भागीरथ अहिरबार, तुलसीराम कुर्मी उपस्थित रहे। संस्था के अध्यक्ष  रामसहाय पांडे ने दीप प्रज्वलित कर शिविर का शुभारंभ किया।
 अध्यक्ष ने कहा कि  नई युवा पीडी  को खत्म होती लोक संस्कृति को जीबित बचाए रखने की प्रेरणा देते हुए कहा की इस बदलते हुए परिबेश मे हमारी लोक संस्कृति धीरे धीरे  खत्म होने की कगार पर आ गयी गई है जिसका हम संरक्षण ब सम्म्वर्धन कर सके जिससे । यह कला जीवित बची रहे यह शिविर पूर्णत: निशुल्क है, मुख्य अतिथि ने सभी बच्चो को कहा की अपने बुंदेलखण्ड की लोक कलाओ को सीखने एवं अपने सागर का नाम रोशन करने के लिए आगे आना होगा।इसके बाद सभी बच्चो  ने सरस्बती बन्दना गाकर शिविर का प्रारंभ किया जिसमे बच्चो को संस्था के सचिव संतोष पांडे द्वारा लोक नाट्य स्वांग एवं प्रदीप कुर्मी द्वारा  लोक नृत्य की जानकारी दी गई  आज इस शिविर मे  स्थानीय गणमान्य अतिथियों के अलाबा संम्लित बच्चे शुभम जरया,अभय मौर्या, अंकित आठिया,अनिकेत आठिया,भानू कुर्मी,प्रभात कुर्मी,पल्लबी पटेल अंजली विश्वकर्मा,कीर्ति आठिया,सुस्मिता कुर्मी,याचिका कुर्मी, इस्नेहा कुर्मी,दीपाली आदि उपस्थित रहे।

म.प्र.लेखिका संघ की गोष्ठी संपन्न

 म.प्र.लेखिका संघ की गोष्ठी संपन्न
सागर। मध्यप्रदेश लेखिका संघ भोपाल की सागर इकाई की मासिक गोष्ठी डॉ. हरीसिंह गौर के 150 वे जन्म-जयंती वर्ष एवं लोकोक्ति "नाच न आवे आंगन टेढ़ा "पर  श्रीमती स्मिता गोडबोले के सनराइज‌ स्थित निवास पर श्रीमती पारुल सोनी के  मुख्य आतिथ्य,श्रीमती निधी यादव विशिष्ट अतिथि तथा सुनीला सराफ कीअध्यक्षता में संपन्न हुई।
गोष्ठी में डॉ. चंचला दवे ने डॉ. हरीसिंह गौर पर कविता सुनाई एवं संचालन किया।
         डॉ.सरोज गुप्ता,डॉ.शोभा सराफ,सुनीला सराफ,शशिजी, ज्योति झुडेले ने काव्य पाठ किया।श्रीमती संध्या दरे,दिव्या मेहता,राज दवे, जयंती लोधी,पारुल सोनी,निधी यादव,नम्रता फुसकेले ने निबंध एवं  संस्मरण से "नाच न आवै आंगन टेढ़ा" लोकोक्ति को सिध्द करते हुए कहा आज हम सकारात्मक सोच रखते हुए अपना आंगन टेढा हो या सीधा उसे बचायें।गोष्टी में डॉक्टर जयंती सिंह लोधी ने भी लेख वाचन किया।नंदिनी चौधरी,ऊषा बर्मन,क्लीन राय ने भी कविता पाठ किया।स्मिता गोडबोले ने आभार व्यक्त किया।

MP में 44 पुलिस इंस्पेक्टरों के तबादले

MP में 44 पुलिस इंस्पेक्टरों के तबादले

नेशनल हाईवे 26पर भीषण हादसा, दो की मौके पर मौत,एक घायल


नेशनल हाईवे 26पर भीषण हादसा, दो की मौके पर मौत,एक घायल,
 सागर । सागर नरसिंहपुर सड़क मार्ग नेशनल हाईवे 26 पर एक ट्रक ने बाइक को टक्कर मार दी । जिसमे बाइक पर सवार दो लोगो की मौत हो गई। एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया । घटना देवरी थाना क्षेत्र की है । घायल के इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 
 जानकारी के मुताबिक एक ट्रक ने  देवरी तरफ से आ  रहे  मोटरसाइकिल पर सवार तीन व्यक्तियों को टक्कर मार दी।  जिसमें दो की मौके पर मौत हो गई एवं एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल  हो गया । सड़क हादसा  छेवला ग्राम कटंगी मंदिर के पास का बताया जा रहा है।। घटना की खबर लगते ही पकलिस और 100 डायल पहुच गई। सड़क हादसे में घायल को  इलाज के लिए देवरी के सामूदायिक स्वास्थ्य केन्द्र  भेजा गया। 
बताया जा रहा है कि यह तीनो व्यक्ति देवरी से गौरझामर लौट रहे थे। देवरी पुलिस ने  ट्रक चालक को अपनी हिरासत मे लेकर ट्रक जब्त कर लिया है ।देवरी थाना  पुलिस जांच मे जुट गई है। सड़क हादसे में  मृतकों के नाम रतिराम ठाकुर पिता राम जी उम्र 29 वर्ष निवासी खोड़ी ,गोविंदी पिता रामचरण गौड  उम्र 32 वर्ष निवासी गोपालपुरा  तथा घायल सुरेश पिता राम जी 28 वर्ष निवासी खोड़ीग्राम के  हैं।


लोकसभा में गूंजा शताब्दी एक्सप्रेस के बीना स्टॉपेज का मुद्दा,सागर सांसद राजबहादुर ने उठाया

लोकसभा में गूंजा शताब्दी एक्सप्रेस के बीना स्टॉपेज का मुद्दा,सागर सांसद राजबहादुर ने उठाया

नई दिल्ली। लोकसभा में आज  शताब्दी एक्सप्रेस के बीना स्टॉपेज का मुद्दा सागर सांसद राजबहादुर ने उठाया। इसका समर्थन सांसद प्रभात झा और के पी यादव ने किया।
  लोकसभा में सागर सांसद राजबहादुर सिंह ने शताब्दी एक्सप्रेस(गाड़ी संख्या-12001/12002,हबीबगंज-नईदिल्ली) के बीना में स्टापेज की मांग रखी।
सांसद सिंह ने कहा किशताब्दी एक्सप्रेस रेलगाड़ियाँ तेज चलने वाली सवारी गाड़ियों की एक श्रंखला है, जिसका परिचालन भारतीय रेल करती है जो भारत के बड़े, महत्वपूर्ण एवं व्यवसायिक शहरों को आपस में जोड़ती है. शताब्दी एक्सप्रेस का परिचालन दिन के समय होता है एवं ये अपने मूलस्थान एवं गंत्व्य की यात्रा एक दिन में ही पूरी कर लेती हैं. यह यात्री ट्रेन हबीबगंज-भोपाल स्टेशन से  प्रस्थान कर सीधे 201  कि.मी. पर ललितपुर ठहराव करती है. ललितपुर से झांसी( 89 कि.मी.),ग्वालियर (98 कि.मी.), मुरैना (38 कि.मी.), धौलपुर 28 कि.मी.), आगरा (52 कि.मी.), मथुरा (54 कि.मी.) के बाद नई दिल्ली 140 किलोमीटर यात्रा कर पहुंचती है.यह यात्री ट्रेन 8 ठहराव तय कर 707 कि.मी.यात्रा तय करती है.उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र के बीना जंक्शन में उक्त ट्रेन के स्टापेज की पुरजोर मांग रखी.उन्होंने बीना के व्यवसायिक महत्व पर बल देकर बुंदेली अंदाज में अपनी बात रखी.
ज्ञातव्य हो कि  भोपाल में दिनांक 16.9.2019  को आयोजित पश्चिम मध्य रेल परिक्षेत्र की बैठक में भोपाल मंडल में सांसद सिंह ने अपने क्षेत्र की रेल संबंधी समस्याओं एवं उनके निराकरण की मांग रेलवे जीएम अजय विजयवर्गीय के समक्ष  रखी थी. बैठक में सागर सांसद राजबहादुर सिंह ने क्षेत्र के यात्रियों की सुविधाओं के लिए
बीना में पूर्व से चली आ रही महत्वपूर्ण मांग हबीबगंज से नईदिल्ली के बीच चलने वाली शताब्दी एक्सप्रेस का स्टॉपेज बीना रेलवे स्टेशन पर करने की मांग रखी थी. जिसका समर्थन गुना सांसद केपी यादव एवं सांसद प्रभात झा ने भी किया था.

मासूम बच्चो के पोषण आहार को खा रही कमलनाथ सरकार:गोपाल भार्गवनेता प्रतिपक्ष

मासूम बच्चो के पोषण आहार को खा रही कमलनाथ सरकार:गोपाल भार्गवनेता प्रतिपक्ष 
भोपाल। कमलनाथ सरकार गरीब परिवारों के मासूम बच्चों से पेट का निवाला छीनकर माफियाओं को सुपुर्द कर पोषण आहार में भ्रष्टाचार कर रही है। इससे ज्यादा शर्मनाक और निंदनीय कुछ हो नहीं सकता। यह बात नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव ने प्रदेश सरकार द्वारा कैबिनेट में पोषण आहार के 7 प्लांट की जिम्मेदारी एग्रो को दिए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही। 
नेता प्रतिपक्ष श्री भार्गव ने कहा कि मध्यप्रदेश देश के सर्वाधिक कुपोषित बच्चों और महिलाओं का प्रदेश है। कपडे सुपोषण को दूर करने के लिए 2 वर्ष पूर्व मेरे पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री रहते हुए हमारी सरकार ने पोषण आहार के इस कार्य को महिलाओं के स्व सहायता समूह के जिम्मे करने का निर्णय लिया था, ताकि बच्चों तक सुव्यवस्थित आहार पहुंचे और महिला स्व सहायता समूह के माध्यम से महिलाएं आत्मनिर्भर हो। 
उन्होंने कहा कि पोषण आहार का यह कार्य आजीविका मिशन के माध्यम से किया जाना था। जिसके साथ पोषण आहार के नए प्लांट बनकर तैयार भी हो गए थे। सुप्रीम कोर्ट और इंदौर हाइकोर्ट ने भी इस बारे में निर्देश दिए थे। लेकिन कमलनाथ सरकार ने बुधवार को कैबिनेट में सुप्रीम कोर्ट और इंदौर हाईकोर्ट के निर्देशों की अवहेलना ओर तत्कालीन भाजपा सरकार के आदेश को भी पलटकर इसे पुनः एग्रो के माध्यम से दलालों को सौपने का निर्णय लिया। जो कि निंदनीय है। 
श्री गोपाल भार्गव ने कहा कि एग्रो के माध्यम से पोषण आहार माफिया अब लगातार अपना लूट का कारोबार चलाएंगे। इस कारोबार से पोषण आहार माफियां की काली कमाई कम से कम 2 हजार करोड़ ( 20 अरब) रुपए प्रति वर्ष होगी। कांग्रेस सरकार गरीब परिवारो के मासूम बच्चों के पेट का निवाला छीनकर माफियाओं को सुपुर्द कर रही है, इससे बड़ा पाप का दूसरा उदाहरण नहीं हो सकता। 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में नेता- अधिकारी लगातार भ्रष्टाचार कर रहे हैं ऐसा कोई विभाग नहीं बचा जहां भ्रष्टाचार नहीं हो रहा हो। लेकिन कम से कम कुपोषित बच्चे और उनकी माताओं को मिलने वाले आहार को बक्श दे। 
श्री भार्गव ने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग ने पोषण आहार माफियाओं को सौपने की यह दलील दी कि वह उसे नहीं चला पाएंगे यह ठेकेदारों और विभाग की मिली जुली साजिश है। 
नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव ने कहा कि विधानसभा के आगामी शीत कालीन सत्र में मासूम कुपोषित बच्चों के आहार के इस विषय पर स्थगन प्रस्ताव के माध्यम से चर्चा करायी जाएगी। कैबिनेट में न्यायालय के विरुद्ध जो निर्णय लिया गया है। वह सीधे सीधे अवमानना की परिधि में आता है। प्रदेश सरकार के विरुद्ध न्यायालय कि अवमानना का भी सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया जाएगा।

"यंगेस्ट एक्टिबट्रेक्स्ट्रस राइटर" गूगल गर्ल शंजन थम्मा , 235देशों के नाम और राजधानी मुखाग्र बताती है, ढेरो जानकारी देती है शंजन

"यंगेस्ट एक्टिबट्रेक्स्ट्रस राइटर"  गूगल गर्ल शंजन थम्मा , 235देशों के नाम और राजधानी मुखाग्र बताती है, ढेरो जानकारी देती है शंजन
भोपाल।मुख्यमंत्री  कमल नाथ ने प्रदेश की प्रतिभा तीन वर्षीय नन्हीं बालिका शंजन थम्मा के साथ आत्मीय पल बिताए। बहुमुखी प्रतिभा की धनी दस माह की उम्र में ही इस बालिका को दोनों हाथ से लिखने की कला के साथ ही वर्तमान में उसे दुनिया के 247 देशों में से 235 देशों के नाम और उनकी राजधानी मुखाग्र है। मुख्यमंत्री ने कहा "धन्य है हमारा प्रदेश की इतनी अद्वितीय प्रतिभा हमारे यहाँ हैं । ऐसी प्रतिभाओं का प्रदेश हित में प्रेरणा के रूप में उपयोग किया जाएगा।"
मुख्यमंत्री श्री नाथ जब मंत्रिमंडल की बैठक से लौटे तो मंत्रालय की 5वीं मंजिल में अपने कक्ष में वे षंजन से मिले। शंजन अपनी माँ श्रीमती मानसी थम्मा एवं नाना श्री रमेश चंद्र शर्मा के साथ आई थी। उज्जैन निवासी षंजन जैंसे ही कक्ष में दाखिल हुई मुख्यमंत्री ने गर्म जोशी के साथ उससे हाथ मिलाया। षंजन से उन्होंने सवाल किया और उसे कौन-कौन से मेडल प्राप्त हुए। मुख्यमंत्री ने उसकी एक-एक उपलब्धि को देखा। फूलों से लदा एक गुलदस्ता भी मुख्यमंत्री ने षंजन को दिया।
मुख्यमंत्री ने अपनी और से षंजन को एक प्रशंसा-पत्र भी सौंपा। मुख्यमंत्री ने लिखा "धन्य है हमारा प्रदेश जो आपकी जैंसी अद्वितीय प्रतिभा हमारे यहाँ है। "यंगेस्ट एक्टिवट्रेक्स्ट्रस राइटर" के रूप में वर्ल्ड रिकार्ड बनाने पर मेरी और प्रदेश की जनता की ओर से बधाई देता हूँ। आपकी प्रतिभा को निखारने के लिए माता-पिता ने जिस समर्पण के साथ जो सतत् प्रयास किए हैं, वे सराहनीय हैं। ऐसी प्रतिभाओं को संवारने और सहेजने की आवश्यकता है। आपकी सफलता माता-पिता की कोशिशों का परिणाम है, और एक उदाहरण भी। मेरी शुभकामनाएँ है कि आप हमेशा इसी तरह अपने देश-प्रदेश और माता-पिता का सम्मान इसी तरह से और बढ़ाते जाएं। आपके बेहतर भविष्य की कामना करता हूँ।"
10 माह की उम्र दोनो हाथ से लिखने लगी शंजन
मुख्यमंत्री को षंजन की माता मानसी ने बताया कि जब वह 10 माह की थी तभी से दोनों हाथ से लिखने के साथ ही 1 से 10 तक की गिनती इसे याद थी। साइंस, राजनीति और दुनिया के भूगोल की षंजन को गहरी समझ और जानकारी है। षंजन का पहला रिकार्ड 2 साल 11 माह में बना जब वह दोनों हाथों से लिखने लगी थी। दूसरा रिकार्ड इतनी ही कम उम्र में राष्ट्रीय गीत, राष्ट्रीय गान के साथ ही सारे जहाँ से अच्छा हिन्दुस्तान उसे पूरा याद होने के कारण बना। उसे वर्ल्ड ऑफ रिकार्ड इंडिया और एशिया बुक ऑफ रिकार्ड मिल चुका है। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज होने की अंतिम प्रक्रिया चल रही है। षंजन की अपनी खुद की 250 किताबों की लाइब्रेरी है। चंद्रयान 2 की लॉचिंग उसने पूरी रात देखी और कहा कि आगे हम इसमें सफल होंगे। 
माँ साफ्टवेयर इंजीनयर और पिता एयरफोर्स में 
शंजन तीन साल की है और वह नर्सरी में है लेकिन उसे नवीं कक्षा का पूरा ज्ञान है।  षंजन की माँ सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं और पिता श्री श्रीधर थम्मा एयर फोर्स में कच्छ में पदस्थ हैं। षंजन की प्रतिभा को सहेजने और संवारने के लिए मां ने अपनी नौकरी छोड़ दी। वे बीएड कर रही हैं ताकि वे स्वंय उसकी अधिकृत शिक्षिका बन सके।
उज्जैन में रहती है नाना नानी के साथ
उज्जैन के परवाना नगर में नाना नानी और माँ के साथ संजना रहती है ।अंग्रेजी की वर्णमाला के साथ-साथ गणित के एक से पचास तक के अंक जब वह दोनों हाथों से एक साथ लिखना शुरू करती है तो देखने वाले दंग रह जाते हैं। शंजन के नाना रमेश चन्द्र शर्मा और नानी प्रमिला शर्मा बताते हैं कि उनकी बेटी और शंजन की मां मानसी श्रीधर का विवाह आंध्रप्रदेश में हुआ। दक्षिण भारत की मान्यता अनुसार जन्म के समय कुंडली में आये स्थानीय भाषा के अक्षर पर नाम रखने की प्रथा है। शंजन थम्मा का नामकरण भी वहीं पर हुआ। बालिका के पिता भारतीय वायुसेना में अधिकारी हैं। उनकी पदस्थापना दूर-दराज में होने पर शंजन थम्मा और उनकी मां मानसी यहां उज्जैन में रहते हैं।

बुधवार, 27 नवंबर 2019

महाराष्ट्र की महापराजय से ध्यान हटाने के लिये आया साध्वी का बयान-भूपेन्द्र गुप्ता

महाराष्ट्र की महापराजय से ध्यान हटाने के लिये आया साध्वी का बयान-भूपेन्द्र गुप्ता

भोपाल।मध्यप्रदेश कांग्रेस के विचार विभाग के अध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने सांसद प्रग्या ठाकुर  के संसद में गोडसे को देशभक्त बताने के बयान की निंदा की है । उन्होंने कहा कि यह प्रयास महाराष्ट्र में संविधान की जो धज्जियां उड़ाई गईं उसकी देश भर में  निंदा हो रही है ।लोकनिंदा से ध्यान हटाने के लिये यह बयान दिलवाया गया प्रतीत हो रहा है।
महाराष्ट्र में सत्ता की पिपासा का जो प्रदर्शन भाजपा ने किया वह.देश भर में चर्चा का विषय बन गया है। इसी लोकनिंदा से बचने के लिये पोल शिफ्टिंग का यह रणनीतिक प्रयास है ताकि  जो छुद्रता भाजपा ने प्रदर्शित की है उसकी जगह यह निंदा एक व्यक्ति पर केंद्रित हो जाये।गुप्ता ने कहा किंतु यह दुष्प्रयास सफल नहीं होगा।
पूरा देश महाराष्ट्र में संविधान के चीरहरण से चिन्तित है।भाजपा नेत्री का बयान इसी चीरहरण का हिस्सा है।

पागल सियार का आतंक ,एक दर्जन घायल, सियार को मारा पब्लिक ने

 पागल सियार का आतंक ,एक दर्जन घायल, सियार को मारा पब्लिक ने
@बजेश वर्मा
सागर । सागर जिले के रहली नगर में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक पागल सियार नगर में घुस आया। पागल सियार ने तीन घंटे तक नगर के विभिन्न इलाकों में आतंक मचाते हुए एक दर्जन लोगों पर हमला कर उन्हें घायल किया। जिसमें से दो की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रेफर किया गया। अंत में सियार ने सुनार नदी के मोहार स्थित स्टापडेम पर कपड़ा धो रहे लोगों पर हमला किया तो लोगों ने सियार पर पत्थरों से हमला कर मार डाला। 
    पागल सियार ने सबसे पहले आनंद नगर में दो वृद्धों पर हमला कर उन्हें बुरी तरह घायल किया। उसके बाद बजरिया, नदी मुहल्ला, बिलवारी पुरा में आतंक मचाया। सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम पहुंची तथा सियार को पकड़ने की कोशिश की, जब सियार नही मिला तो सागर से रेस्क्यू टीम बुलाई गई लेकिन टीम के पहुंचने के पहले ही लोगों की भीड़ ने सियार को मार डाला।वनरक्षक जितेंद्र चोबे ने बताया कि  वन विभाग द्वारा घायलों का अस्पताल में इलाज कराया गया। अस्पताल में रेबीज के इंजेक्सन खत्म होने पर वन विभाग द्वारा बाजार से खरीदकर इंजेक्सन उपलब्ध कराए गए। 
ये हुए घायल 
 सियार के हमले मेंपरसोत्तम पिता धन्नू पटेल 50 वर्ष,परमानन्द पिता घनश्याम आहिवार 30 वर्ष,भोलाराम सोनी पिता हरप्रसाद सोनी 62 वर्ष,कोमल पिता कौशल थुमला 42 वर्ष,गुलाई पिता महादेव आहिवार 62 वर्ष, शैलेंद्र पिता रामकुमार पाण्ड्य 40 वर्ष,परमानंद पिता नत्थे आहिवार 57 वर्ष ,पप्पू शुक्ला 40 वर्ष सहित अन्य तीन लोग घायल हुए है। 

भाजपा। जिला अध्यक्ष के चुनाव के लिए सागर में जिला प्रतिनिधियों की नियुक्ति

भाजपा। जिला अध्यक्ष के चुनाव के लिए सागर में जिला प्रतिनिधियों की नियुक्ति
सागर/ भारतीय जनता पार्टी के संगठन पर्व के तहत भाजपा जिला अध्यक्ष के निर्वाचन प्रक्रिया के पूर्व जिला प्रतिनिधियों की नियुक्ति की गई है जिला अध्यक्ष निर्वाचन प्रक्रिया के पूर्व सागर के जिला निर्वाचन अधिकारी भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष विधायक अरविंद भदौरिया ने जिले के समस्त वरिष्ठ नेताओं की सहमति से मंडल स्तर पर जिला प्रतिनिधियों को नियुक्त किया है। जो भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष के निर्वाचन में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाहन करेंगे। भारतीय जनता पार्टी के जिले के अध्यक्ष प्रभुदयाल पटैल एवं जिले के सह निर्वाचन अधिकारी जाहर सिंह ने बताया कि जिले के सभी मंडलों में बनाए गए जिला प्रतिनिधि निम्नानुसार है -
बीना नगर मंडल में राजेन्द्र ताम्रकार, बीना ग्रामीण घनश्याम साहू, खिमलासा जगदीश लोधी, मंडीबामोरा मुकेश कटारे (जैन), भानगढ़ नत्थू सिंह यादव, खुरई नगर धर्मेन्द्र पटैल, खुरई ग्रामीण ओमप्रकाश कुर्मी, मालथौन राजकुुमार बघेल, बांदरी संतोष सिंह लोधी, सुरखी मनीष गुरू, जैसीनगर हरिशंकर राठौर, सिहोरा सतेन्द्र सिंह, राहतगढ़ बुन्देल सिंह मानकी, देवरी नगर संदीप जैन, गौरझामर डाॅ. कैलाश राजपूत, केसली कमल सिंह दुधवारा, महाराजपुर महेश पाठक, रहली नगर ईश्वर नायक, रहली ग्रामीण भरत सिंह सेमरा, गढ़ाकोटा नगर मनोज तिवारी, गढ़ाकोटा ग्रामीण सुरेश कपस्या, शाहपुर मनोज जैन, सदर श्याम सुंदर मिश्रा, मकरोनिया नगर नरेन्द्र ठाकुर, मकरोनिया ग्रामीण तुलसीराम पाण्डे, सागर ग्रामीण चैन सिंह ठाकुर, नरयावली रत्नेश सिंह, सागर रामकुमार साहू, डाॅ. हरिसिंह गौर नगर नितिन बंटी शर्मा, भीमराव अंबेडकर डाॅ. प्रदीप पाठक, बण्डा उमेश जैन, बहरोल बाबू सिंह मुढ़िया, दलपतपुर श्रीकृष्ण गोस्वामी, शाहगढ़ मंडल में दौलत यादव को प्रतिनिधि नियुक्त किया गया है।

मध्यप्रदेश स्वास्थ्य क्षेत्र निवेश प्रोत्साहन नीति 2019 मंजूर ,केबिनेट का निर्णय

मध्यप्रदेश स्वास्थ्य क्षेत्र निवेश प्रोत्साहन नीति 2019 मंजूर ,केबिनेट का निर्णय
भोपाल ।मुख्यमंत्री  कमल नाथ की अध्यक्षता में आज मंत्रालय में हुई मंत्रि-परिषद की बैठक में मध्यप्रदेश स्वास्थ्य क्षेत्र निवेश प्रोत्साहन नीति 2019 को मंजूरी दी गई है। इस नवीन योजना में दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता बढ़ाने के लिए अस्पताल में बिस्तरों की संख्या को न्यूनतम 100 से कम करके 30 किया गया है। प्रति हजार जनसंख्या पर अस्पताल के कुल बिस्तरों की संख्या को आधार मानते हुए जिलों को तीन श्रेणियों में विभाजित किया गया है। ऐसे जिले, जहां अस्पताल बिस्तरों की संख्या राष्ट्रीय औसत से बहुत कम है, में स्वास्थ्य क्षेत्र में निजी निवेश के लिये अधिक प्रोत्साहन दिया जाएगा, जिससे छोटे निवेशकों को निवेश के लिये आकर्षित किया जा सके।
स्वसहायता समूहों के 7 सयंत्र का प्रबंधन  एमपी एग्रो को
मंत्रि-परिषद ने महिला स्व-सहायता समूहों के परिसंघों द्वारा संचालित प्रदेश के 7 संयंत्रों का प्रबंधकीय कार्य मध्यप्रदेश एग्रो इण्डस्ट्रीज डेव्हलपमेंट कार्पोरेशन लि. को सौंपने का निर्णय लिया है। सात संयंत्रों में देवास, धार, होशंगाबाद, मण्डला, सागर, शिवपुरी और रीवा शामिल हैं।
मुख्यमंत्री सुषेण चिकित्सक प्रोत्साहन योजना
मंत्रि-परिषद ने प्रदेश के आदिवासी विकासखण्डों में लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा संचालित स्वास्थ्य संस्थाओं में चिकित्सकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये 'मुख्यमंत्री सुषेण चिकित्सक प्रोत्साहन योजना' लागू करने का निर्णय लिया है। योजना में अति पिछड़े 21 विकासखण्डों में संविदा चिकित्सक को कुल मानदेय एक लाख से दो लाख रुपये तक तथा शेष पिछड़े विकासखण्डों में 90 हजार से 1 लाख 85 हजार रूपये तक देय होगा। नियमित चिकित्सकों को इस योजना में कुल वेतन अति पिछड़े 21 विकासखण्डों में 96 हजार 100 रूपये से 1 लाख 42 हजार 700 रूपये तक तथा शेष पिछड़े विकासखण्डों में 86 हजार 100 रूपये से 1 लाख 27 हजार 700 रूपये तक देय होगा। इसके अलावा, पदस्थ किये जाने वाले चिकित्सकों को विकासखण्ड स्तर पर आवास समूह और विकासखण्ड आवास समूह से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में कर्तव्य स्थल पर उपस्थित होने के लिये विभागीय पूल वाहन के माध्यम से परिवहन की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी।
विभागीय भर्ती नियमो में संसोधन होगा
मंत्रि-परिषद ने मध्यप्रदेश सिविल सेवा (सेवा की सामान्य शर्ते) नियम, 1961 के नियम 8 (1) के तहत सीधी भर्ती के पद पर चयनित उम्मीदवारों को प्रथमत: तीन वर्ष की परिवीक्षा अवधि पर रखा जाने का निर्णय लिया है। परिवीक्षा अवधि में उस पद के वेतनमान के न्यूनतम का प्रथम वर्ष में 70 प्रतिशत, द्वितीय वर्ष में 80 प्रतिशत और तृतीय वर्ष में 90 प्रतिशत राशि स्टायपेंड के रूप में देय होगी। परिवीक्षा अवधि सफलतापूर्वक पूर्ण करने पर वेतनमान में वेतन दिया जाना शुरू किया जाएगा। इसके लिये मध्यप्रदेश मूलभूत नियमों में आवश्यक संशोधन करने के लिये वित्त विभाग को अधिकृत किया गया है। इसके अनुसार विभिन्न विभागों के विभागीय भर्ती नियमों में आवश्यक संशोधन करने के लिए सभी विभागों को अधिकृत किया गया है। यह व्यवस्था ऐसी सभी सेवाओं के लिए लागू की जाएगी, जिसके लिये लोक सेवा आयोग द्वारा चयन परीक्षा नहीं ली जाती है।
मंत्रि-परिषद ने आर.सी.व्ही.पी. नरोन्हा प्रशासन एवं प्रबंधकीय अकादमी में 55 अस्थाई पदों को एक मार्च 2019 से 31 मार्च 2020 तक निरंतर रखने की मंजूरी दी है।
मंत्रि-परिषद ने आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा संचालित 123 विशिष्ट आवासीय विद्यालयों का संचालन मध्यप्रदेश स्पेशल एण्ड रेसिडेंशियल एकेडेमिक सोसायटी के अधीन लाते हुये सोसायटी के संचालन के लिए वित्तीय प्रावधान अनुदान के रूप में देने का निर्णय लिया है। सोसायटी के भर्ती पदोन्नति नियम के अनुमोदन के लिए प्रशासकीय विभाग को अधिकृत किया गया है।
मंत्रि-परिषद ने मध्यप्रदेश में सूचना प्रौद्योगिकी के संवर्धन के लिए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग और नेशनल एसोसिएशन ऑफ सॉफ्टवेयर एण्ड सर्विसेज कम्पनीज (NASSCOM) के बीच तकनीकी सहयोग के लिये हुए अनुबंध के संबंध में विभागीय आदेश का अनुसमर्थन किया है। मंत्रि-परिषद ने मेसर्स हिन्दुस्तान कोका कोला बेवरेजेस प्रा.लि. को औद्योगिक क्षेत्र मोहासा (बाबई) जिला होशंगाबाद में भूमि आवंटन पर देय राशि विलम्ब से जमा कराई जाने के कारण ब्याज की राशि 89 लाख 83 हजार 514 रूपये से मुक्त करने का अनुमोदन दिया है। इसी के साथ, जिला बार एसोसिएशन झाबुआ के पुस्तकालय के लिये 2 लाख 50 हजार रूपये का अनुदान दिए जाने का भी अनुसमर्थन किया गया।

अवैध रेत खनिज परिवहन में जब्त तीन वाहनों पर करीब तीन लाख का अर्थदंड लगाया कलेक्टर ने


अवैध रेत खनिज  परिवहन में जब्त तीन वाहनों पर करीब तीन लाख का अर्थदंड लगाया कलेक्टर ने 
सागर ।कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने रेत खनिज के अवैध परिवहन पर जप्त किए गए  तीन वाहनों पर 2 लाख 98 हजार रुपये का अर्थ दंड लगाकर जब्त वाहन को वाहन मालिकों को सोंपने के निःर्देश दिए।
दो लाख का अर्थदंड डंपर पर 
खनिज निरीक्षक सागर के प्रतिवेदन अनुसार डंफर क्रमांक एमपी 15 एचए 4455 खनिज रेत के अवैध परिवहन पर 31 अक्टूबर 2019 को वाहन जप्त कर थाना प्रभारी थाना महराजपुर सागर की अभिरक्षा में रखा गया था। इस पर 2 लाख रूपये की शास्ति अधिरोपित की गई थी। अनावेदक/वाहन चालक द्वारा 2 लाख रूपये की राषि शासकीय कोष मंें जमा करने पर उक्त वाहन को मय रेत सहित अनावेदक/वाहन चालक  नमन पिता षिवकुमार मिश्रा निवासी ग्राम सिमरिया तहसील देवरी जिला सागर म.प्र. को सौंपकर पंचनामा सहित प्रतिवेदन कलेक्टर न्यायालय को भेजने के निर्देष दिए गए है।
 50 हजार खजाने में जमा करने पर डंपर छूटा
 रेत खनिज के अवैध परिवहन पर जप्त किए गए वाहन पर अधिरोपित शास्ति की राषि 50 हजार रूपये शासकीय खजाने में जमा करने पर थाना प्रभारी थाना गौरझामर, सागर को जप्त वाहन को वाहन मालिक को वाहन सौंपने के निर्देष दिए है।
खनिज निरीक्षक सागर के प्रतिवेदन अनुसार डंफर क्रमांक एमपी 15 जी 7786 खनिज गिट्टी के अवैध परिवहन पर 03 नवम्बर 2019 को वाहन जप्त कर थाना प्रभारी थाना गौरझामर सागर की अभिरक्षा में रखा गया था। इस पर 50 हजार रूपये की शास्ति अधिरोपित की गई थी। अनावेदक/वाहन चालक द्वारा 50 हजार रूपये की राषि शासकीय कोष मंें जमा करने पर उक्त वाहन को मय गिट्टी सहित अनावेदक/वाहन चालक आजाद खान पिता रोषन खान निवासी ग्राम झूनकू तहसील देवरी जिला सागर म.प्र. को सौंपकर पंचनामा सहित प्रतिवेदन कलेक्टर न्यायालय को भेजने के निर्देष दिए गए है।                            
 48 हजार रुपये लगे  डंपर में
 रेत खनिज के अवैध परिवहन पर जप्त किए गए वाहन पर अधिरोपित शास्ति की राषि 48 हजार रूपये शासकीय खजाने में जमा करने पर थाना प्रभारी थाना देवरी, सागर को जप्त वाहन को वाहन मालिक को वाहन सौंपने के निर्देष दिए है।
खनिज निरीक्षक सागर के प्रतिवेदन अनुसार डंफर क्रमांक एमपी 15 एचए 1445 खनिज गिट्टी के अवैध परिवहन पर 02 नवम्बर 2019 को वाहन जप्त कर थाना प्रभारी थाना देवरी सागर की अभिरक्षा में रखा गया था। इस पर 48 हजार रूपये की शास्ति अधिरोपित की गई थी। अनावेदक/वाहन चालक द्वारा 48 हजार रूपये की राषि शासकीय कोष मंें जमा करने पर उक्त वाहन को मय गिट्टी सहित अनावेदक/वाहन चालक महेन्द्र पिता रेवाराम पचौरी निवासी ग्राम देवरी तहसील देवरी जिला सागर म.प्र. को सौंपकर पंचनामा सहित प्रतिवेदन कलेक्टर न्यायालय को भेजने के निर्देष दिए गए है।

मंगलवार, 26 नवंबर 2019

MP। राज्य प्रशासनिक सेवा के 18 अधिकारियों के तबादले

MP। राज्य प्रशासनिक सेवा के 18 अधिकारियों के तबादले

गौर जयंती। NSUI ने निकली बाइक रैली, प्रतिमा के किये पुष्प अर्पित

गौर जयंती। NSUI ने निकली बाइक रैली, प्रतिमा के किये पुष्प अर्पित
सागर। डॉ. हरि सिंह गौर की  जन्म जयंती पर मकरोनिया ।के  एन.एस.यू.आई मकरोनिया इकाई ने पं.दीन दयाल नगर से वाहन रैली का भव्य आयोजन किया गया । रैली होटल पैराडाइज, विध्यापुराम होते हुये मकरोनिया पर समाप्त की गई । इसके बाद बटालियन गेट पर स्थित डॉ. गौर साहब की मूर्ति पर माल्यार्पण कर गौर सहाब के त्याग पर प्रकाश डाला गया।        इस अवसर पर कांग्रेस जिला ग्रामीण कार्यवाहक अध्यक्ष  राजकुमार पचौरी ने कहा कि गौर सहाब सागर के सच्चे सपूतो में से एक थे, जिन्होंने अपने जीवन की सारी पूंजी सागर विश्विद्यालय बनाने में लगा दी एवं अपना सम्पूर्ण जीवन सागर सागर वासियो के नाम कर दिया । आज उनके जन्मदिवस पर उनकी सीख को अपने जीवन मे उतारने की जरूरत है एवं उनके सिद्धांतो को हमे अपने अंदर लाने जरूरत है। इस मौके पर एन.एस.यू.आई नगर अध्यक्ष शाहरुख खान रिंकू ने कहा कि जब भी सागर का नाम आता है कि किस तरह गौर साहब जी ने सागर वासियो को एक अनमोल सौगात दी हैं। कार्यक्रम का नेतृत्व एन.एस.यू.आई नगर अध्यक्ष शाहरुख खान रिंकू एवं कार्यक्रम का संचालन जैद खान ने किया ।इस अवसर पर प्रमुख रूप से आदित्य चौधरी, जैद खान, अनिरुद्ध गौर, नैतिक चौधरी, अंकित ठाकुर, देशराज यादव, चंचल तिवारी, बृजपाल यादव, नीलेश अहिरवार, पियूष मलैया, शिवा तिवारी, राजा ठाकुर, शिवम सेन, हिमांषु रैकवार, मोहित बाल्मीक, हरिश्चन्द्र पटेल, सामन्त सैनी, तारुण्य राजपूत सहित बड़ी संख्या में एन.एस.यू.आईं कार्यकर्ता उपस्तिथ रहे।

संविधान दिवस पर मोमबत्ती जलाकर याद किया डॉ आंबेडकर को

संविधान दिवस पर  मोमबत्ती जलाकर याद किया डॉ आंबेडकर को

सागर । 26 नवंबर संविधान दिवस पर बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी की प्रतिमा भगवान गंज स्थित क्षेत्र में कांग्रेस जन इकट्ठे होकर बाबा साहब की प्रतिमा समक्ष माल्यार्पण किया माल्यार्पण व बाबा साहब की प्रतिमा के समक्ष मोमबत्ती जलाकर कार्यक्रम को किया गया जिसमें  सुरेंद्र चौधरी , रेखा चौधरी, महेश जाटव सेेेवादळ अध्यक्ष सिंटू कटारे सहित सभी कांग्रेसियों ने बाबा साहब को श्रद्धांजलि दी ।
      कार्यक्रम में आनंद हैला सुनील ठाकुर निखिल जैन दानिश तिवारी मुकुल शर्मा साजिद खान आदिल खान रितेश रोहित अशरफ खान देवेंद्र वाल्मीकि गणेश जाटव सहित विभिन्न कार्यकर्ता उपस्थित थे
 डॉ अंबेडकर को श्रद्धा सुमन अर्पित
       डॉ आंबेडकर जी की प्रतिमा पर  जिला कांग्रेस अध्यक्ष रेखा चौधरी प्रवक्ता डॉ संदीप सबलोक सेवादल के प्रदेश संयोजक विजय साहू ,जिला ग्रामीण कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजकुमार पचौरी अनुसूचित जाति विभाग अध्यक्ष अजय अहिरवार शुभम उपाध्याय अमित साहू आदि के साथ तीनबत्ती स्थित गौर प्रतिमा स्थल पर पहुंचकर उन्हें माल्यार्पण करते हुए अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए।
                       

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में भेदभाव,कांग्रेसियों ने बनाई रणनीति

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में भेदभाव,कांग्रेसियों ने बनाई रणनीति 
सागर ।सागर नगर पालिक निगम क्षेत्र में संचालित स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में सागर शहर के अनेक वार्डो को छोड़ कर किये जा रहे भेदभाव को लेकर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में वंचित वार्डो के प्रमुख प्रतिनिधियों की आवश्यक बैठक म.प्र.शासन के  पूर्व मंत्री  सुरेन्द्र चौधरी की अगवाई में  आयोजित की गई।बैठक की  शुरुआत पूज्य महात्मा गाँधी जी के चित्र पर माल्यार्पण कर की गई।बैठक में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में वंचित वार्डो के प्रमुख प्रतिनिधियों की मौजूदगी में आगामी रणनीति पर विचार विमर्श किया गया।बैठक को संबोधित करते हुए मध्य प्रदेश शासन के पूर्व मंत्री   सुरेंद्र चौधरी ने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से एक सोची-समझी साजिश के तहत शहर के अनेक वार्डो  को वंचित रखने का आरोप लगाते हुए कहा कि नगर पालिक निगम सागर के महापौर, विधायक, सांसद आदि ने मिलकर इस शहर के रेलवे स्टेशन और राहतगढ़ बस स्टैंड क्षेत्र से लगे हुए वार्डो को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से दूर रख कर लोगों को बांट कर रखने की नीति पर काम किया है जिसे सागर नगर के हित में किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जा सकता क्योंकि स्मार्ट सिटी के माध्यम से नगर पालिक निगम द्वारा विभिन्न योजनाओं में लिए जाने वाले ऋण की अदायगी सारे नगर के लोगों को करनी है और सुविधाएं क्षेत्र विशेष के लोग जैसे महापौर,विधायक,सांसद आदि उठाएंगे जो स्मार्ट सिटी की सुविधा से वंचित रहने वालों के साथ अन्याय है। उन्होंने कहा कि नगर पालिक निगम सागर की इस दोषपूर्ण नीति के खिलाफ तथा शहर के छूटे हुए वार्डो को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में शामिल कराने के लिए जन समर्थन जुटाते हुए आंदोलन करने से भी नहीं चुकेंगे।
क्षेत्र विशेष के लोगो की उपेक्षा
जिला ग्रामीण कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष अखिलेश मोनी केसरवानी ने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से क्षेत्र विशेष के लोगों को वंचित किए जाने को लेकर एक बड़ा जन आंदोलन खड़ा करने की बात पर बल दिया। नगर पालिक निगम सागर के  पार्षद द्वय महेश जाटव,  भैयन पटेल ने कहा कि नगर निगम ने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट की डीपीआर बनाते समय हमारी अनदेखी कर मनमर्जी से  डीपीआर तैयार करवाई गई है। पि.वर्ग कांग्रेस के अध्यक्ष राजा सेन ने नगर निगम की दोषपूर्ण कार्य प्रणाली को क्षेत्र विशेष के विकास करने तथा अन्य क्षेत्र के रहवासियों के साथ वादा खिलाफी बताया। पूर्व पार्षद शौकत अली चौधरी ने नगर निगम द्वारा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में चिन्हित वार्डो को छोड़ने पर स्लिम एरिया में रहने वालो  का अपमान बताया। बैठक का संचालन युवा कांग्रेस अध्यक्ष खान ने किया अंत में आभार कार्यकारी अध्यक्ष राशिद खान ने माना। बैठक को एडवोकेट इंद्रजीत दुबे,कांग्रेस नेता मुन्ना विश्वकर्मा ,पूर्व पार्षद गंगाराम चौधरी, युवा नेता जितेंद्र चौधरी, कांग्रेस नेता हरीश चंद्र सोनवार, नाथूराम चौधरी, राहुल जाटव आदि ने संबोधित कर नगर निगम की दोगली और दोषपूर्ण निति पर पुरजोर विरोध  दर्ज कराया। बैठक में मुख्य रूप से देवेंद्र कुर्मी, मजहर हाशमी, अरविंद अहिरवार, शैलेंद्र चौधरी, गुलाब पटेल,नरेंद्र कुमार, नरेश कुमार, हिमेश बाल्मीकि, रवि उमहिया,शेरू भाईजान  आदि मौजूद थे।

डाॅ.गौर जयंती। कुलपति ने बताई उपलब्धियां, भव्य समारोह ,शोभायात्रा निकाली

 डाॅ.गौर जयंती। कुलपति ने बताई उपलब्धियां,  भव्य समारोह ,शोभायात्रा निकाली

सागर।सविधान सभा के सदस्य और  डाॅ. हरीसिंह गौर विष्वविद्यालय सागर के संस्थापक डाॅ. हरीसिंह गौर 150वे जन्म दिवस  पर अनेक आयोजन हुए। 
तीनबत्ती स्थित गौर प्रतिमा से कार्यक्रम की  शुरुआत हुई। यहां  कुलपति प्रो आरपी तिवारी  द्वारा माल्यार्पण कर शुरुआत की गई। उन्होंने बताया कि विवि में गुणात्मक सुधार की दिशा में लगातार प्रयास किये जा रहे है । विश्व पटल पर विवि का नाम रोशन हो तभी डॉ गौए के सपने साकार होंगे। गौर मूर्ति से विष्वविद्यालय परिसर तक शोभायात्रा  निकाली गई। यात्रा गौर  अध्ययन केन्द्र पर पहुची  जहा डाॅ. गौर के चित्र पर माल्यार्पण किया एवं गौर स्मारक (गौर जन्मस्थली) पर पुष्प अर्पण कुलपति द्वारा किये गये।
विवि में कौशल विकास के लिए कोर्स
विवि में आयोजित गौर प्रांगण मेंमुख्य कार्यक्रम का आयोजन दीप प्रज्जवलित एवं माल्यार्वण के साथ षुभारंभ हुआ। इस कार्यक्रम में विष्वविद्यालय के समस्त छात्र-छात्राऐं सम्मानीय षिक्षक, अधिकारी एवं कर्मचारीगण सपरिवार उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता  कुलपति प्रो.राघवेन्द्र प्रसाद तिवारी द्वारा की गई। कुलपति जी ने विगत वर्ष में विष्वविद्यालय को प्राप्त उपलब्धियों के बारे में बताया तथा समय के साथ कौषल विकास के लिए आवष्यक कोर्स को सामिल करनेेेे पर जोर दिया उन्मूलक विषयों को समाहित करने की बात कही। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि प्रो. अषोक मोडक  रहे। उन्होंने गौर-गौरव पर अपना व्याख्यान दिया। कार्यक्रम में पत्रकारिता विभाग से प्रकाषित समाचार समय, पुस्तक बुन्देलखण्ड की संस्कृति, कटिंग चाय, मेडिसिनल एंड ऐरोमेटिक प्लांट आॅफ साउथ अमेरिका, ब्राजील, पत्रिका उजास,पत्रिका अंक 76 एवं 77 गांधी विषेषांक आदि पुस्तकों का विमोचन/लोकार्पण किया गया। 
ये हुए सम्मानित
कार्यक्रम में लोकसेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा में सफल छात्रों में आषीष कुमार पाण्डे, निधि जैन, सोनल गुप्ता, आषीष कुमार आदि छात्रों को सम्मानित किया गया। फेकल्टी में प्रो. एम.एल.खान,बाॅटनी,डाॅ. राकेष साहनी जियोग्राफी, प्रो. पी.के.राय.डाॅ. गयानेष कुमार तिवारी. रूची पाण्डे,प्रियंका परिहार, आदि षिक्षको को सम्मानित किया गया। इस अवार पर दान दाताओं की राषि द्वारा मेधावी छात्र-छात्राओं को माननीय कुलपति प्रो. राघवेन्द्र प्रसाद तिवारी द्वारा स्वर्ण पदक, राषि एवं प्रषस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। जिनमें अमान कुर्मी,ईहा घई, श्री मनोज कुमार पटेल, ज्योत्सना कावड़कर,कु. कौषिकी विजसवर्गीय,मानवी भटनागर,ईहा घई,मधुश्री डे, अंकित धुर्बे, अंकिता बारवा, मो. साद, सुरभी गुप्ता,चारू प्रभाकर, श्री मानस षर्मा,  कु. मोना चैहान,श्री आदर्ष ठाकुर, कार्तिक सैनी, रक्षा पुरोहित, तनु ओक्षा,षिवानी लोधी, कु. सूर्यांषी दुबे, कु. मनीषा अहिरवार, श्री षिवकुमार यादव, नियति गुप्ता, हर्षिता सिंघई, रजत सिंह,षैलेष तिवारी, सृष्टि साहू, श्री अमित दुबे, विष्वविद्यालय के उत्कृष्ट तृतीय एवं चतुर्थ वर्ग कर्मचारी श्री अख्तर हुसैन व श्री जगदीष प्रसाद नामदेव,विधि विभाग के श्री धर्मेन्द्र कुमार, श्री गौहर आलम, कु. जयति श्रीवास्तव,एन.सी.सी. केडैट में अरकाजा द्धिवेदी, निषी सिंघई, काजल सिंह, अनुश्री अवस्थाी,कपिल लोधी,रूदे्रष प्रताप लोधी, निरीक्षक  कृपासागर बाजपेयी भूतपूर्व छात्रों डॉ मीना पिम्पलापुरे एवं विष्वविद्यालय के शिक्षकों का सम्मान शाल श्रीफल एवं पगड़ी पहनाकर के द्वारा किया गया। 
  मंच संचालन कुलसचिव कर्नल. राकेष मोहन जोषी एवं प्रो. ललित मोहन द्वारा किया गया। कार्यक्रम स्वगत भाषण कुलसचिव ने दिया तथा आभार प्रो. सुरेशआचार्य ने व्यक्त किया।
आकाश से पुष्प वर्षा, विमान से
 डाॅ. गौर जी के 150वे जन्म जयंती वर्ष पर उनकी प्रतिमा पर 150 किलो फूलों की वर्षा हवाई मार्ग द्वारा विष्वविद्यालय के सुरक्षा विभाग एवं  विनोद प्रजापति के सौजन्य के माध्यम से की गई। 26 नवंबर को संविधान दिवस के अवसर पर विष्वविद्यालय में कार्यक्रम का आयोजन सम्पन्न हुआ।
 ये रहे शामिल
तीनबत्ती पर आयोजित कार्यक्रम और शोभायात्रा में कुलपति प्रो आर पी तिवारी,समाजवादी नेता रघु ठाकुर,विधायक शेलेन्द्र जैन ,महापौर अभय दरे,पूर्व मंत्री सुरेंद्र चोधरी, प्रो सुरेश आचार्य,डॉ जी एस चोबे,कर्नल राकेश मोहन जोशी,डॉ श्री मति चंदा बेन,डॉ सुशील तिवारी,राज कुमार पचौरी,सुधीर यादव,डॉ अशोक अहिरवार,बद्री भाई,पी एल सोनी,सुरेश जाट,चतुर्भुज सिंह,शुकदेव प्रसाद तिवारी, ,दिवाकर राजपूत,राजू भाई गर्ग,महेंद्र प्रताप तिवारी, मुकुल पुरोहित,सुरेंद्र सुहाने,डॉ विवेक तिवारी,कमलेश साहू,रवि यादव, रवि यादव, हर गोविन्द विश्व,क्रांत कुमार सराफ,सी पी सिंह,रेखा चोधरी,संदीप सबलोक,विजय साहू,संदीप चंचल,asp रक्षपाल सिंह,गुड्डू चोबे, अन्नी दुबे आदि शामिल हुए।
 

कांग्रेसियो ने संविधान दिवस और डॉ. गौर की जयंती के अवसर पर आयोजित किया स्मरण कार्यक्रम

कांग्रेसियो ने संविधान दिवस और डॉ. गौर की जयंती के अवसर पर आयोजित किया स्मरण कार्यक्रम
सागर/ जिला कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग के तत्वावधान में  संविधान दिवस तथा सागर वि.वि. के संस्थापक डॉ. सर हरिसिंह गौर की जयन्ती के अवसर पर स्मरण कार्यक्रम आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुरुआत में कांग्रेसजनों ने संविधान निर्माता बाबा साहिब डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा तथा डॉ. सर हरिसिंह गौर के चित्र पर माल्यार्पण कर की गई।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि म.प्र.कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष  एवं पूर्व मंत्री श्री  सुरेन्द्र चौधरी थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष सुरेन्द्र करोसिया ने की। तदोपरान्त उपस्थित कांग्रेसजनों को 
म.प्र.कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष  एवं पूर्व मंत्री  सुरेन्द्र चौधरी ने संविधान निर्माता बाबा साहिब डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा के समक्ष अबैध शराब, जुआ-सट्टा आदि अनैतिक कार्यो  से समाज को सुरक्षित  रखने की  शपथ दिलाई। कार्यक्रम को संबोधित करते हुये पूर्व मंत्री श्री  सुरेन्द्र चौधरी ने कहा कि 26 नवम्बर का दिन न केवल सागर के इतिहास में महत्वपूर्ण दिन है बल्कि भारत के इतिहास में महत्वपूर्ण दिन है इस दिन भारतीय संविधान पूर्ण रूप से बनकर तैयार हो गया था बड़े गौरव की बात है कि सागर को अंतराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने वाले डॉ. गौर संविधान सभा के सदस्य थे और आज उनकी जयन्ती है।कार्यक्रम में मुख्यरूप से जिला कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष अखलेश मोनी केशरवानी, युवा कांग्रेस अध्यक्ष अशरफ खान, एड. इंद्रजीत दुबे,पार्षद महेश जाटव,पार्षद भैयन पटेल, शरद राजा सेन, शौकत अली,मुन्ना विश्वकर्मा,देवेंद्र कुर्मी,हरिश्चंद्र सोनवार, जितेंद्र चौधरी,गंगाराम चौधरी, अरविंद अहरवार, शेरू भाईजान,संजय रोहितास, धीरज खरे, संदीप चौधरी, समीर मकरानी,नन्नू बंसल,हल्लू भाई, रघवीर अहिरवार आदि मौजूद थे।

यूरिया की किल्लत,पुलिस थाने बटी किसानों को यूरिया नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के गृहनगर में

यूरिया की किल्लत,पुलिस थाने बटी किसानों को यूरिया 
नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के गृहनगर में
सागर ।एमपी में खाद यूरिया की किल्लत बनी है । पर्याप्त भंडारण के वावजूद किसान परेशान है । इसकी एक तस्वीर एमपी में  विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के गृहनगर में देखने मिली । सागर जिले के  गढ़ाकोटा तहसील  मे  यूरिया खाद की मारा-मारी चल रही है। इस समय फसलो को यूरिया की बेहद आवश्यकता है जिस कारण किसान किसी भी कीमत पर यूरिया लेने के मजबूर हैं । गढ़ाकोटा के पुलिस थाना परिसर से किसानों को यूरिया की पर्चियां वितरित की गई। जहां पर किसानों की लंबी लाइन दिन भर लगी रही। ओर किसानों को मंडी की जगह थाने में यूरिया खाद बांटा गया।
यूरिया खाद गढ़ाकोटा के मध्यप्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ मर्यादित को मजबूरन गढ़ाकोटा थाने से वितरण इसलिए करना पड़ा कि मंडी कार्यालय में किसानों को जब पता चला कि खाद आ गया है तो किसानों की भारी भरकम भीड़ हो गई । जहां पुलिस उपलब्ध नहीं हुई तो यूरिया खाद का पंजीयन किसानों थाने में किया गया। प्रत्येक किसान को अभी 5 बोरी यूरिया खाद उपलब्ध कराया जा रहा है।
 वहीं प्रबंधक मुन्नालाल पटेल के अनुसार आने वाले दिनों में 600 टन यूरिया खाद गोदाम में आने वाला है वर्तमान में 11 सौ छोटी बोरी दाने 19 सौ बड़े दाने की खाद गोदाम में रखी हुई है जबकि किसानों को अभी छोटे दाने की खाद चाहिए ।इस मामले में किसानों से बात की तो उनका कहना था कि 15 से 20 दिन हो जाने के बाद भी आज ही यूरिया खाद कार्यालय में आया हुआ था किसान भाइयों की भीड़ बढ़ गई और व्यवस्था बिगड़ने लगी इसलिए थाने से वितरण हो रहा है।
किसानो की भीड़ इसलिए पुलिस का सहारा
इस मामले में वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी ओपी नरवरिया का कहना है उनको  प्रबंधक द्वारा बताया गया था कि किसानों की भीड़ के कारण वितरण मे परेशानी हो रही है तो मैंने एसडीएम  से बोलकर थाने से वितरण का वोला था जिससे सुरक्षा बनी रही यूरिया खाद की कोई कमी नहीं है किसानों मैं छोटे बड़े दानों का भ्रम है बड़े दानों का यूरिया प्रर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है जो किसान लेते नहीं है।
दरअसल सहकारी समितियों में मोटे दाने का यूरिया पहुँचा है। जिसके उपयोग से किसान परहेज कर रहे हैं। जबकि रिटेल दुकानों पर यूरिया का स्टॉक नही है। जिस कारण किसान छोटे दाने के यूरिया को भटक रहे हैं। आपको बता दें कई किसान तो आसपास के नगरों से यूरिया ला रहे हैं।

सोमवार, 25 नवंबर 2019

ज्ञान विज्ञान की परम्परा से विकास की ओर बढ़ना है-.प्रो.विनोद कुमार गौर दीक्षांत समारोह:बुदेली पगड़ी मे छात्र, शिक्षक और अतिथिगण



ज्ञान विज्ञान की परम्परा से विकास की ओर बढ़ना है-.प्रो.विनोद कुमार गौर
दीक्षांत समारोह:बुदेली पगड़ी मे छात्र, शिक्षक और अतिथिगण
सागर ।डाॅ. हरीसिंह गौर विष्वविद्यालय सागर का 29वां दीक्षांत समारोह  आज अपने बुंदेली  परम्परा में दिखा।  गौर प्रांगण विष्वविद्यालय परिसर में आयोजित हुआ। दीक्षांत समारोह का  अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलित कर सरस्वती वंदना के साथ हुआ। कुलपति द्वारा अतिथियों का स्वागत किया गया एवं स्वागत भाषण व वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। 
 समारोह के मुख्य अतिथि मानद एमेरिट्स वैज्ञानिक प्रो. विनोद कुमार गौर ने कहा कि ज्ञान-विज्ञान की परम्परा और विकसित से विकास की ओर आगे बढ़ना है।आधनिक से आधुनिक वैज्ञानिक अविष्कार का मूल वेदों व संस्कृति में निहित है। प्राकृतिक संसाधनों और स्त्रोतों को सुरक्षित बनाए रखना आज के वैज्ञानिकों के लिए बड़ी चुनौती है। आज के युवाओं में सांस्कृतिक चेतना का आभाव चिंता का विषय है
विषिष्ठ अतिथि पद्मश्री डाॅ.रमेष चन्द्र षाह ने कहा कि षिक्षा सदैव जीवंत एवं ऊर्जावान होती है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विष्वविद्यालय के कुलाधिपति प्रो. बलवंतराय षांतिलाल जानी ने अपने उद्धबोदन में कहा कि डाॅ. हरीसिंह गौर का योगदान अतुलनीय है। वह ठाकुर रविन्द्रनाथ टैगौर, पं.मदनमोहन मालवीय की परम्परा के साथी है। जिन्होंने श्रेष्ठ षिक्षण संस्थनों की आधार शिला रखी। प्रो. जानी ने कहा कि बुन्देली आनबान शान की परम्परा और प्रतीक के साथ हमको पगड़ी और शिक्षा का सम्मान करना है।
इनको मिले पदक और उपाधि
 कुलपति एवं अतिथियों द्वारा सत्र 2018-19 के स्नातक/सनाकोत्तर एवं पीएचडी उत्तीर्ण छात्रों को स्वर्ण पदक एवं उपाधि प्रदान की गई। दीक्षांत समारोह में इस वर्ष कुलपति, अधिष्ठाता एवं उपाधि प्राप्त करने वाले छात्र छात्रों द्वारा भाषण एवं संवाद हिन्दी मातृ भाषा में दिया गया। समारोह में स्नातक/स्नातकोत्तर/पीएचडी के कुल 642 पंजीयन प्राप्त हुए थे। जिसमें से 511 उपाधि जिसमें 243 छात्र एवं 265 छात्राओं को उपाधि प्रदान की गई। कार्यक्रम में उपस्थित छात्रों ने भारतीय बुन्देलखण्ड पोशाक में अपनी उपाधि प्राप्त की।  विष्वविद्यालय द्वारा 131 उपाधियाॅं पोस्ट के माध्यम से छात्रों के घर पर भेजी गई। अतिथियों के उद्धबोधन के पश्चात विष्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राघवेन्द्र प्रसाद तिवारी द्वारा स्मृति चिन्ह प्रदान किये गये। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ। दीक्षांत समारोह में सत्र 2018-19 स्नातक/स्नातकोत्तर के अंतिम वर्ष के 46 छात्र जिसमें मानस षर्मा, प्रसून जैन, मोना चैहान, मानसी अग्रवाल, आदर्ष ठाकुर,निष्चल चैधरी, इचा घई, रविदास, कौषिकी, अमित दुबे, ज्योति षर्मा, अदिति, मानवी भटनागर,प्रियम गर्ग, अभिषेक, रूपक जैन, वर्षा सिंह, महिमा तिवारी, 
अभिनव, नवनीत कुमार, सुरेष, सुमन कुर्मी, पूजा यादव, मोहसाद, अनुज विष्वकर्मा, सौरभ कुमार, मोनाली यादव, मनीषा तिवारी, चारू प्रभाकर,प्रतिभा पाल, अंकिता, अखिलेष, प्रियेष कुमार, पारूल पटेल, सैफाली गुप्ता,सुरभी गुप्ता,प्रिया रानी, मनोज कुमार,ज्योत्सना, अमन राय, कृति गुप्ता,स्वाति मालवीय,डोली तिवारी, मधुश्री, प्रज्ञा आदि छात्रों को स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया। 
     एजुकेषन मल्टीमीडिया रिसर्च सेन्टर के द्वारा  दीक्षांत समारोह का लाइव प्रसारण किया गया। विष्वविद्यालय के समस्त अधिष्ठताओं ने उपाधि उद्धघोषणा की एवं कुलपति द्वारा सभी छात्रों को उपाधियाॅं प्रदान की। कार्यक्रम का संचालन कर्नल. राकेष मोहन जोषी एवं डाॅ. अवधेष तोमर ने किया। अंत में विष्वविद्यालय के कुलसचिव कर्नल राकेष मोहन जोषी ने आभार व्यक्त किया।
बुंदेली परिधान/पगड़ी आकर्षण का केंद्र
 दीक्षांत समारोह के गौरवशाली क्षण में गौर प्रांगण सहित पूरे परिसर में उत्साह की झलक देखने को मिली। यहां पर मेडल और उपाधी पाने वाले उत्साहित विद्यार्थी अपने-अपने परिजनों के साथ बुंदेली परिधान में नजर आए। गौर प्रांगण में सिर पर बुदेली पकड़ी लगाए हुए छात्र, शिक्षक और अतिथिगण आकर्षण का केंद्र रहे। कार्यक्रम की शुरूआत से पूर्व गौर प्रांगण में विद्यार्थियों ने सर गौर अमर रहें के नारे लगाए।

SAGAR : ऑक्सीजन की प्रति घंटे के हिसाब से कीमत तय ,लो फ्लो ऑक्सीजन प्रति घंटे डेढ़ सौ एवं हाईफ्लो ऑक्सीजन व्हिथ वेंटीलेटर 300 रुपये

Archive