SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

शनिवार, 14 सितंबर 2019

अंडर ब्रिज की ऊंचाई कम होने से रेल की पटरियों पर से गुजरने को मजबूर हुई हथनी

   



सागर । शहर में बने रेलवे अंडर ब्रिज से लोगो को सहूलियत हो गई लेकिन कई दफा जानवर  का निकलना कठिन पड़ता है ।  सागर शहर में स्टेशन के पास नए अंडर ब्रिज का काम लगा है । यहां का ओव्हर ब्रिज बन्द कर दिया गया । ऐसे में सागर के प्रसिद्ध  वृंदावन बाग़ मंदिर सागर में लंबे समय से हथनि पल रही  हथनि को परेशानी का सामना करना पड़ता है । हथनी  लक्ष्मीको  पूरे शहर में  अलग अलग दिनों में महावत घुमाने निकलता है । लोग दर्शन करते है और खाने पीने का सामान भी देते है ।लेकिन जब शनिवार का दिन रहता है तो उसे शहर में स्टेशन के पास बने रेलवे अंडर ब्रिज से

गुजरने पड़ता है । ब्रिज की ऊँचाई कम होने और लम्बा होने से खतरा बना रहता है । इसके चलते  विशालकाय हथनि रेल पटरियों के ऊपर से गुजरती है । ऐसा भी होता है जब ट्रेन निकलती है तो बाकायदा ट्रेन के  गुजरने का इंतजार भी हथनि और महावत करते है ।

          आज शनिवार को हथनि का निकलना  कैमरे में कैद हो गया। इसके महावत बताते है किअंडर ब्रिज की  ऊँचाई  घट गई है । जिससे निकलना कठिन है । ब्रिज लम्बा होने से खतरा भी वाहनों का अंदर बना रहता है । इसलिए उपर से ही निकलना  पड़ता है ।

एमपी में बारिश का कहर जारी,भारी जनधन की हानि :राजस्व मन्त्री


सागर । एमपी में बारिश का कहर जारी है । वही भोपाल में नाव हादसे जैसे भी हो रहे है । प्रदेश केबिगड़े हालातों के बारे में  राजस्व मंत्री गोविन्द राजपूत ने बताया कि अभी तक 202 लोगो और 600 जानवरो की मौत हो चुकी है । करीब दस हजार मकान ढह गए । इसके अलावा फसलों को भी भारी नुकसान पहुचा है ।
          सागर में जिला योजना समिति की बैठक के बाद राजस्व मंत्री  गोविन्द राजपूत ने मीडिया से चर्चा की । इस मौके पर प्रदेश के वाणिज्यकर मन्त्री बृजेन्द्र सिंह राठौर भी मौजूद थे।  राजस्व मंत्री ने बताया कि केमध्यप्रदेश के 36 जिलों में बारिश का कहर जारी है। प्रदेश में इस बारिश के सीजन अभी तक 202 लोगों की मौते हो चुकी है। साथ ही इसमें 600 से अधिक पशुओं की भी मौत हो चुकी है। तो 9800 से अधिक मकान भी क्षतिग्रस्त हो चुके है।        
           राजस्व मंत्री के मुताबिक मध्यप्रदेशमें लगातार बारिश हो रही है।  प्रदेश के 36 जिलों में सामान्य से अधिक बारिश हो चुकी है। बाकी जिलों में सामान्य से कम वर्षा हुई है। जहां अधिक बारिश हो रही है वहां हाईअलर्ट जारी है। वहां कलेक्टरों को कहा है की जहां सबसे ज्यादा जन धन की हानि हो रही है। सरकार ने प्रदेश में 8600 अस्थाई कैंप बनाये है। जिसमे खाने पीने का सामान दिया जा रहा है। और जहां जहां सड़के खराब हुई है फसलों का नुक्सान हुआ है वहां कलेक्टरों से आंकलन करने को कहा है।  60 करोड़ रूपए स्वीकृत किये है और 50 करोड़ रूपये बाटने की कार्यवाही शुरू हो चुकी है।

शुक्रवार, 13 सितंबर 2019

पटवारी को चार साल से नही मिल रहा था, वेतन छह हजार की रिश्वत लेते धरा गया,


सागर । लोकायुक्त पुलिस सागर ने जिले के केसली राजस्व मंडल में पदस्थ एक पटवारी को छह हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा है । रिश्वत खोर पटवारी का वेतन चार साल से नही मिला है । जिसका मामला विभाग में विचाराधीन है ।
         लोकायुक्त  निरीक्षक बी एम द्विवेदी और अभिषेक वर्मा के नेतृत्व में टीम ने पटवारी रामराज चौधरी को उसके निवास  केसली थाना क्षेत्र के सहजपुर में छह हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा। लोकायुक्त निरीक्षक बीएम द्विवेदी ने बताया कि लोकायुक्त पुलिस को आवेदक धर्मेंद्र पिता हीरालाल चौरसिया निवासी ग्राम सहजपुर तहसील केसली ने शिकायत की थी कि राजस्व विभाग का पटवारी रामराज चौधरी प्रभारी पटवारी हल्का नंबर फोटो सहजपुर एक काम के एवज में छह हजार की रिश्वत की मांग कर रहा है । आवेदक धर्मेंद्र की पत्नी के नाम की जमीन बंदी बनाने के एवज में पैसे मांगे जा रहे थे।
     लोकायुक्त पुलिस ने शिकायत का सत्यापन कराने के बाद  केसली स्थित रामराज के घर फरियादी को पैसे लेकर भेजा जैसे ही आरोपी ने यह रकम अपने हाथ में ली आसपास मौजूद लोकायुक्त टीम के सदस्यों ने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है ।एक  जानकारी के मुताबिक पटवारी रामराज चौधरी को पिछले चार  साल से वेतन नहीं मिला है।उसका मामला विचाराधीन है ।

भोपाल हादसा। मासूमों के दुःख पर राजनीति न करे भाजपा-भूपेन्द्र गुप्ता

भोपाल हादसा। मासूमों के दुःख पर राजनीति न करे भाजपा-भूपेन्द्र गुप्ता

भोपाल।  मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने गणेश विसर्जन के दौरान खटलापुरा विसर्जन स्थल पर हुई दुघर्टना को दुर्भाग्यपूर्ण बतलाया है और कहा है कि यह घटना से पूरे प्रदेश को दुःख पहुंचा है । घटना की जांच हेतु मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए है एवं पीड़ित परिवारों को 11 लाख रूपये का मुआवजा देने की भी घोषणा की   है ।
जब पूरा प्रदेश इस घटना से व्यथित है, तब पीड़ित परिवारों के आंख के आंसू पोछने के बजाय भारतीय जनता पार्टी के नेता उन्हें 25 लाख मुआवजा मांगने के लिए उकसा रहे है । यह अत्यंत दुःखद और निंदनीय है । स्मरण रहे कि शिवराजकाल में जब सैलाना में इसी तरह की दुर्घटना हुई थी तब उन्होंने स्वयं 4 लाख रू का मुआवजा दिया था । प्रदेश का इतिहास गवाह है कि धाराजी में 200 से अधिक निर्दोष तीर्थ यात्री प्रशासन की चूक से मृत्यु के आगोश में समा गए थे । रतनगढ़ में 100 से अधिक लोग मंत्री के लिए रास्ता बनाने के चक्कर में भगदड़ में मारे गए थे । पन्ना के पास चलती हुई बस में 30 से अधिक लोग बस में आग लगने से जिंदा जल गए थे । पेटलावद में प्रशासनिक लापरवाही से भंडारण किए गए विस्फोटकों से लगभग 100 लोगों के चिथड़े उड़ गए थे । तब भाजपा सरकार ने क्या किया था ? यह प्रदेश की जनता को बताना चाहिए । 
गुप्ता ने सरकार से आग्रह किया है कि सभी जिला कलेक्टरों के माध्यम से नगर निगम, नगर पालिकाओं को नाव द्वारा विसर्जन के समय सतर्क और तैराक उपलब्ध रखने के स्थाई निर्देश जारी करें ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो।
सामान्यतः मूर्ति विसर्जन के कार्यक्रम स्थानीय प्रशासन और प्राथमिक रूप से नगर निगम की जिम्मेदारी होते है । नगर निगम ही इन कार्यक्रमों के लिए व्यवस्था बनाता है, घाटों पर इंतजाम करता है एवं अन्य सरकारी एंजेसियों से सिन्क्रोनाइज करता है । भारतीय जनता पार्टी घड़ियाली आंसू बहाने के बजाए अपने महापौर से इस लापरवाही के लिए इस्तीफा क्यों नहीं मांगती?  गुप्ता ने जनहित में भाजपा नेताओं से आग्रह किया है कि वे जनता के और पीड़ित परिवारों के दुःख में सच्चे मन से शामिल हो । भाजपा उन्हें मुआवजे के नाम पर उकसा कर उनके दुःख के सौदे की राजनीति न करे। 

Sebaceous Horn Surgery :सर पर निकल आया ४ इंच का सींग ,जानिये कैसे मिली इससे मुक्ति बुजुर्ग को

चैतन्य सोनी, नवदुनिया :साभार



 सागर।

आपने कहानियों में यूनिकार्न यानि एक सींग वाले घोड़े के बारे में सुना होगा। इंग्लिश फ़िल्म हेलबॉय में भी एक कैरेक्टर दिखाया गया है, जिसके दो सींग हैं... मगर असल जिंदगी में भी एक इंसान ऐसा है जिसके सिर के बीचोंबीच एक सींग निकल आया।  सागर जिले में रहली के पटना बुजुर्ग गांव में 74 साल से श्यामलाल यादव के सिर पर बीचो-बीच 4 इंच से बड़ा सींग निकल आया था। सींग बिल्कुल असली और ठोस था। मेडिकल साइंस में यह अभी तक का दुर्लभ मामला है। पिछले दिनों श्यामलाल का ऑपरेशन किया गया जिसके बाद उन्हें इस सींग से मुक्ति मिल गई है।

रहली के पटना बुजुर्ग गांव के श्यामलाल यादव बीते 5 साल से सिर पर सींग लेकर घूम रहे थे। वैसे तो उन्हें सींग से कोई खास परेशानी नहीं थी, लेकिन असहज जरूर लगता था। श्यामलाल बताते हैं कि करीब 5 साल पहले उन्हें सिर में जोरदार चोट लग गई थी, उसके कुछ दिनों बाद सीग निकलने लगा था। कई डॉक्टरों को दिखाया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ तो श्यामलाल ने स्थानीय बाल काटने वाले नाई से कई दफा सींग को उगने के साथ ही ब्लैड से कटवा दिया। लेकिन सींग बार-बार फिर निकल आया। सींग को लेकर श्यामलाल बताते हैं कि वे मेडिकल कॉलेज, भोपाल, नागपुर तक गए और वापस आ गए। उन्हें भरोसे का डॉक्टर नहीं मिल सका, न वे डॉक्टरों की बातों पर भरोसा कर सके। वापस आकर सागर के भाग्योदय तीर्थ अस्पताल में डॉ. विशाल गजभिये से मिलकर समस्या बताई जहां पिछले दिनों ऑपरेशन कर उन्हें सींग से मुक्ति दिलाई गई


सींग काटकर माथे की चमड़ी लगाकर प्लास्टिक सर्जरी

श्यामलाल यादव की सर्जरी करने वाले सीनियर सर्जन डॉ. विशाल गजभिये ने बताया कि सींग की लंबाई करीब 4 इंच थी, मोटाई भी पर्याप्त थी। सीटी स्कैन में यह देखा गया कि सींग सिर में कितने अंदर तक था। जब कंफर्म हो गया कि न्यूरो सर्जन की आवश्यकता नहीं पड़ेगी तो ऑपरेशन किया गया। सींग को काटने के बाद खाली जगह को बंद करने के लिए माथे के ऊपरी हिस्से की चमड़ी निकालकर प्लास्टिक सर्जरी की गई है। अब दोबारा यह नहीं उभरेगा।

 डॉ. गजभिये के अनुसार यह दुर्लभ केस है। मेडिकल साइंस में इसे सेवेसियस हार्न कहा जाता है। सिर में बालों की ग्रोथ के लिए प्राकृतिक रूप से सेवेसियस ग्लैंड (ग्रंथि) होती है। इससे द्रव्य रिलीज होते हैं, जिससे बाल चमकदार बनते हैं। यह ग्रंथि बंद होने से यह द्रव्य जमता रहा और सींगनुमा आकार में सिर के ऊपर निकल आया।


दुर्लभ केस है, मेडिकल जर्नल में प्रकाशित करने भेजा है

ये दुर्लभ मामला अध्ययन का विषय है। इंटरनेशनल जर्नल में प्रकाशन के लिए भेज रहा हूँ। मेडिकल साइंस के कोर्स में शामिल करने के लिए भी भेज रहे हैं। मेरे जीवन का पहला मामला है। बहुत ही रेयर केस है। सेवेसियस हार्न की हिस्ट्री कहीं नहीं मिली।

- डॉ. विशाल गजभिये, वरिष्ठ सर्जन

कर्जमाफी ने बनाया डिफाल्टर, अब तीन गुना से भी ज्यादा दर से ब्याज वसूल रहे बैंक

#मधुर तिवारी

सागर. कृषि ऋण लेने वाले और मुख्यमंत्री जय किसान कर्जमाफी योजना के चक्कर में लंबे समय से लेनदेन न करने वाले किसानों को बैंकों ने नोटिस जारी करना शुरू कर दिया है। बैंक द्वारा ऋणी किसानों को जारी किए जा रहे इस नोटिस में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि न तो आपने किश्त की राशि जमा की है और न ही कर्जमाफी की राशि अब तक आपके बैंक खाते में आई है। जिसके कारण आपकी साख खराब हो रही है और एनपीए की श्रेणी में आ चुके हैं। इसके साथ ही नियमित उपभोक्ता को ब्याज पर मिलने वाली रियायत भी समाप्त कर दी गई है। मतलब अब तक किसान को जिस राशि पर महज 4 प्रतिशत ब्याज लग रहा था, कर्जमाफी के चक्कर में डिफाल्टर होने के बाद वह बढ़कर 13 प्रतिशत हो चुकी है। हालांकि बैंकें सीएम के आश्वासन (किश्त जमा करने से नहीं आएगा कर्जमाफी पर असर) का हवाला भी दे रहीं और किश्त की राशि जमा करने की अपील की जा रही है।
करीब पौने दो लाख किसानों की बिगड़ी साख
          कर्जमाफी ने जिले सहित पूरे प्रदेश के लाखों किसानों को मुसीबत में डाल दिया है। बैंक अधिकारियों की माने तो योजना में शामिल किए गए सभी किसानों की क्रेडिट रिपोर्ट खराब हो गई है। इसका कारण है कि बैंक से लिए गए लोन की किश्त समय पर जमा न करना। प्रदेश स्तर की बात करें तो योजना के लिए चिन्हित किए गए सभी 55 लाख किसानों की बैंकों में क्रेडिट खराब हो गई है और उनका कर्जा भी अभी तक माफ नहीं हो सका है, जबकि जिले में कर्जमाफी का आवेदन करने वाले किसानों की संख्या 1.65 लाख है।
22 फरवरी से शुरू हुई कर्जमाफी
सागर जिले सहित पूरे प्रदेश में कर्जमाफी योजना में आवेदन करने वाले किसानों के खातों में सरकार ने 22 फरवरी के बाद राशि डालना शुरू किया था। इस हिसाब से योजना में शामिल सभी किसानों की क्रेडिट रिपोर्ट खराब हुई है। क्योंकि शासकीय/प्रायवेट सभी बैंकों ने कृषि ऋण लेने वाले किसानों को साल में दो बार राशि जमा करने के लिए 31 जनवरी और 31 मई दो तारीखें तय की हैं। इसके बाद यदि कोई किसान लेनदेन करता है तो इसका सीधा असर उसकी क्रेडिट रिपोर्ट पर आता है। क्योंकि क्रेडिट रिपोर्ट ऑनलाइन होती है और यह हर दिन अपडेट होती है, यदि कर्जदार व्यक्ति एक दिन भी लेट होता है तो यह उसकी क्रेडिट रिपोर्ट में जुड़ जाती है।
क्या है क्रेडिट रिपोर्ट
बैंक अधिकारियों के अनुसार क्रेडिट रिपोर्ट ऋण लेने वाले व्यक्ति की कुंडली कही जा सकती है। यह रिपोर्ट ऑनलाइन होती है और रोजाना अपडेट होती है। यदि कोई व्यक्ति किश्त भरने में देरी करता है या लंबे समय तक ऋण खाते में कोई लेनदेन नहीं करता है तो यह पूरी जानकारी रोजाना ऑनलाइन अपडेट होती है, और व्यक्ति की बैंक में जो साख है वह क्रेडिट रिपोर्ट पर ही निर्भर करती है। यदि समय से लेनदेन नहीं किया गया है तो संबंधित व्यक्ति की क्रेडिट रिपोर्ट खराब हो जाएगी और फिर आगामी ऋण लेते समय उसे बाधक बन जाती हैं।
*पहले चरण में शामिल किए थे 70 हजार किसान

*70452 किसानों का 239.59 करोड़ रुपए होना था माफ

*33861 एनपीए वाले किसानों का 148.75 करोड़ रुपए

*36591 पीए वाले किसानों का 90.84 करोड़ रुपए

ऐसे हुए थे आवेदन

*185599 जिले के कुल ऋणी किसान

*165619 किसानों ने किए थे आवेदन

*105793 किसानों ने भरे थे सफेद फॉर्म

*37171 किसानों ने भरे थे हरे फॉर्म

*22655 किसानों ने भरे थे गुलाबी फॉर्म

फैक्ट फाइल

*165619 आवेदन करने वाले

*70452 पहले चरण में शामिल किसान

*37000 किसानों के खाते में पहुंची राशि

*33452 हजार पहले चरण के शेष

*95167 दूसरे चरण वाले शेष

*128619 किसानों की क्रेडिट खराब

नोट- सभी जानकारी कृषि विभाग के अनुसार।

(साभार पत्रिका)

भोपाल में गणेश विसर्जन के दौरान नाव पलटी,11 की मौत


भोपाल। राजधानी भोपाल में गणेश प्रतिमा विसर्जन करने के लए खटलापुरा तालाब पर गए 11 लोगों की डूबने से मौत हो गई। तलाशी अभियान के दौरान बचावकर्मियों ने घाट से 11 लोगों को शव बरामद किए। बचावकर्मियों के द्वारा रेस्क्यू अभियान अभी भी जारी है। बताया जाता है कि ये सभी नाव पर सवार थे और भारी बारिश के कारण खटलापुरा तालाब में भी बाढ़ का पानी पूरा भरा हुआ है। यहीं पर संतुलन खो जाने की वजह से ये हादसा हो गया। 
बताया जाता है कि गणेश विसर्जन के दौरान ये हादसा हुआ था। कुछ लोग नाव पर सवार होकर  खटलापुरा के बीचोंबीच भगवान गणेश की प्रतिमा विसर्जन करने के लिए गए थे। उसी दौरान नाव पलट गई और ये हादसा हो गया। नाव पर कुल 19 लोग सवार थे। ये सभी लोग पिपलानी एरिया से आए थे और भगवान गणेश की बड़ी सी प्रतिमा को क्रेन की मदद से तालाब में विसर्जन करने जा रहे थे। नाव पर बैठकर क्रेन के के सहारे प्रतिमा को तालाब के बीचों बीच ले जाने के दौरान ही नाव का संतुलन बिगड़ गया और फिर नाव पलट गई। 
        नाव के पलटने से इसमें सवार 16 लोग डूब गए, जिसमें से 5 लोग तैरकर बाहर तक आ गए लेकिन 11 लोग गहरे तालाब में डूब गए। सूचना पाते ही एनडीआरएफ की टीम बचाव कार्य के लिए घाट पर पहुंची और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। इधर इस पूरी घटना पर राज्य के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा है कि यह बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। हादसे में मरे हुए लोगों के परिजनों को 4-4 लाख रुपए की मदद दी जाएगी। इसके अलावा हादसे की जांच के भी आदेश दे दिए गए हैं।

गुरुवार, 12 सितंबर 2019

टापू पर फंसे महिला/पुरुष सहित 20 बकरियां,पुलिस /गांववालों ने निकाला सुरक्षित

 टापू पर फंसे महिला/पुरुष सहित 20 बकरियां,पुलिस /गांववालों ने निकाला सुरक्षित
सागर । सागर जिले में भारी वर्षा से नदी नालों में उफान जारी है । जहां जिला मुख्यालय से सड़क मार्ग बाधित है । वही लोगो के डूबने और फंसने की सूचनाएं भी है। सागर जिले के बण्डा में बेबस नदी के किनारे बने पुल के पास एक टापू पर एक महिला और पुरुष सहित 20 बकरियां फंस गई ।इनको चराने ले गए थे। जलभराव की स्थिति बनने से फंस गए ।कई घण्टो तक इनकी जान सांसत में रही । पुल और नदी के किनारे पर भीड़ लगी रही ।
               इसकी खबर पुलिस को मिली।  विनायका थाने की  FRV स्टाफ नीरज राजपूत और   पायलट  विवेक रैकवार और  होम गार्ड के बाबूलाल और दो  अन्य सैनिक के साथ मौके पर पहुचे।  वहां बेबस नदी के पुल के पास नदी में एक टापू पर एक  महिला और एक पुरुष व लगभग 20 बकरिया फसी हुई थी ।मौके पर पुलिस के अफसर भी पहुचे । इनको बचाने के लिए  बचाव अभियान चलाया गया। गांव के लोगो की मदद से बचाव अभियान सफल रहा। सभी को महिला,पुरुष व बकरियो को सुरक्षित  बाहर निकाला लिया गया । कई घण्टे तक इनकी जान आफत में फंसी रही।

Non Stop Power Supply : रबी सीजन में क‍िसानों को लगातार 10 घंटे मिलेगी बिजली-एमडी नीतेश व्यास



जबलपुर ।एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक व प्रदेश की तीनों विद्युत वितरण कंपनी के अध्यक्ष  नीतेश व्यास ने आज बिजली कंपनियों के मुख्यालय शक्त‍िभवन में बिजली अभ‍ियंताओं की समीक्षा बैठक में कहा कि क‍िसानों को 10 घंटे और आबादी एवं व्यवसाय के लिए 24 घंटे बिजली देना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। श्री व्यास ने आगामी रबी सीजन में क‍िसानों को आवश्यकतानुसार सतत् व गुणवत्तापूर्ण बिजली प्रदाय करने के न‍िर्देश द‍िए।  पावर मैनेजमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक  नीतेश व्यास एवं पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक  वी. क‍िरण गोपाल ने स्टेट लोड ड‍िस्पैच सेंटर का न‍िरीक्षण किया। उन्होंने न‍िरीक्षण के दौरान स्टेट लोड ड‍िस्पैच सेंटर द्वारा ग्रिड संचालन की निगरानी, स्टेट ग्रिड के माध्यम से प्रेषित बिजली की मात्रा की अकाउंट‍िंग, इंट्रा-स्टेट ट्रांसमिशन सिस्टम के पर्यवेक्षण व नियंत्रण और ग्रिड मानकों और राज्य ग्रिड कोड के अनुसार राज्य ग्रिड के सुरक्षित और आर्थिक संचालन के माध्यम से राज्य के भीतर ग्रिड नियंत्रण और बिजली के प्रेषण के लिए वास्तविक समय संचालन की कार्य प्रणाली को देखा। 
श्री नीतेश व्यास ने पावर मैनेजमेंट कंपनी के कंट्रोल रूम की कार्य प्रणाली का भी अवलोकन किया। उन्होंने कंट्रोल रूम द्वारा क्र‍ियान्व‍ित की जा रही इनर्जी बैंकिंग व एक्सचेंज के रियल टाइम को देखा। पावर मैनेजमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक द्वारा कंपनी के मानव संसाधन, कॉमर्श‍ियल, रेग्युलेटरी, आईपीसी, पावर मैनेजमेंट, रेवेन्यू मैनेजमेंट व फायनेंस कार्यालयों के कार्यों की समीक्षा करते हुए बेहतर कार्य न‍िष्पत्त‍ि के निर्देश द‍िए।

NO Abuse Day :वैचारिक स्वच्छता अभियान माँ -बहिन-बेटी का करते है सम्मान तो नही दे इनके नामो की गाली


 सागर ।  स्वच्छ भारत अभियान की सफलता तभी होंगी जब वैचारिक स्वच्छता भी हो । अर्थात मा बहिन बेटी की गाली देना भी घटिया मानसिकता का परिचायक है । गालिया बकने की  बलात्कारी मानसिकता से निपटने 17 सितम्बर को नो एब्यूज़ डे मनाया जाएगा। जिसमे गाली नही देने की शपथ दिलाई जाएगी । इसमे कई संगठन शामिल है ।
स्वच्छ भारत मिशन  केंट बोर्ड की ब्रांड एम्बेसेडर और द एशोशियेशन आफ वी क्लब की डॉ वंदना गुप्ता ने आज मीडिया से चर्चा में यह बात कही।
           डॉ गुप्ता के अनुसार महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराधों से रिश्ते तार तार हुए है ।आपराधिक मामलों को बढाने में   मा बहिन की गाली देना भी  एक बड़ी बजह रहती है । इसलिए हम लोगो ने महसूस किया कि लोग गाली देने से बचे । बिना बजह भी आपसी चर्चाओ में गालिया बकने की आदत है । यह घटिया सोच का परिणाम है ।हमें इसके लिए    "वैचारिक  स्वच्छताअभियान" भी चलाना होगा।तभी स्वच्छ  भारत मिशन सही मायने में पूरा हो पायेगा।समाज में हमने एक राष्ट्रव्यापी जन जाग्रति अभियान शुरू किया है।
              उन्होंने कहा कि  सभी शासकीय एवं अशासकीय स्कूलों में एक निर्देश भेजा जाये कि प्रार्थना सभा के तुरत बाद प्रतिदिन करने  सभी बच्चों को शपथ दिलाये कि "हमसंकल्प लेते है कि अपनी माँ-बहन-बेटी के सम्मान में आज से कभी भी  मा-बहन-बेटी की भाली किसी को नहीं दे । भारतीय संविधान के तहत यहएकदंडनीय अपराध है।तो यह इस अभियान के लिए बड़ा संदेश जाएगा। इस दिशा में प्रयास किये जा रहे है ।इसके साथ ही घर पर भी बच्चों के माध्यम से सदेश जायेगा । यह बिना किसी के खर्चे के राष्ट्र को संवारने के लिए एक लाभकारी ज्ञय होगा। उन्होंने बताया कि
सागर में सरस्वती शिशु मदिर, स्कूल के माध्यम से 3 सितम्बर से यह अभियान शुरू कर दिया गया है । आगामी 17सितम्बर  को हम लोगों ने नो एब्यूज डे मनाने का निर्णय लिया है । जिसमे लोगो को जागरूक करने रैली निकाली जाएगी। इसमे 80 से अधिक संगठनों का समर्थन हैं।
इस मौके पर वी क्लब की नंदनी चौधरी, मीना केशरवानी,आशा आढ़तिया,नम्रता फुसकेले,पतंजलि संस्था की जयंती सिंह लोधी और लेखिका संघ की सुनीला सराफ मौजूद थी।

भजन मंडली पर दीवार गिरी,दो महिलाओं की मौत,चार घायल



सागर । सागर जिले के रहली क्षेत्र के बमूराकुंज में  गणेशोत्सव के दौरान  भजनकीर्तन के समय  दीवाल  गिरने से  दो महिलाओं की मौत हो गई और चार घायल  हो गई। इनमे एक पुरुष भी है ।बमूरा कुंज गांव में बीती रात्रि में अचानक दीवाल ढह गई । जिससे चीख पुकार मंच गई । मौके पर गांव वाले दौड़े और मलबे हटाकर घायलों को बाहर निकाला। उनको  चिकित्सालय भेजा गया । घटना की  सूचना लगते ही पुलिस पहुची।
         इस हादसे में  जिससे मुन्नी बाई एवं मुलाबाई की मौत हो गई। जबकि बैजंती पति देवीसिंह , आशा पति करतार सिंह , गुड्डीबाई पति सूरज सिंह, दपवती पति इंद्र सिंह  गंभीर रुप से घायल हो गई। सभी घायलों कोसागर जिला अस्पताल में भर्ती करायागया है। घटना की खबर लगते ही नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, अभिषेक भार्गव आदि पहुंचे और पीड़ितों को ढांढस बंधाया।

बुधवार, 11 सितंबर 2019

कमलनाथ सरकार के फैसलों से एमपी में मंदी की मार का असर नही : काँग्रेस


सागर । एमपी में कमलनाथ सरकार के आठ महीनों में  ठोस, दूरदर्शी, लोक कल्याणकारी फैसले लिये हैं, जिनसे प्रदेश मंदी की मार से अछूता रह कर, प्रगति के पथ पर तेजी से अग्रसर हो चला है।  बावजूद इसके कि जब उसे प्रदेश की जनता की सेवा का अवसर मिला, तब खजाना खाली था। काँग्रेस सरकार अपने वचन पत्र को पूरा कर रही है । यह बात जिला काँग्रेस अध्यक्ष द्वय हीरा सिंह राजपूत और रेखा चोधरी ने मीडिया से कही। । भाजपा के घन्टानाद कार्यक्रम के  जवाब में काँग्रेस द्वारा आयोजित पत्रकार वार्ता में शहर अध्यक्ष रेखा चोधरी ने कहा कि आने वाले दिनों में सुशासन  देने वाली सरकार के रूप में जानी जाएगी । कमलनाथ सरकार ने सागर में राजकीय विवि खोलने जैसा निर्णय लिया । वही राजघाट बांध की ऊँचाई बढाने 100 करोड़ रुपये दिए है । आने वाले दिनों में सरकार का कामकाज दिखने लगेगा।  जिले के विकास से जुड़ी कई योजनाओं पर काम चल रहा है । 
ग्रामीण अध्यक्ष हीरा सिंह राजपूत ने कहा कि बरसात ने पूर्व की भाजपा सरकार की गुणवत्ता हींन सड़को की पोल खोल दी है । काँग्रेस ने ईंन सड़को के घटिया निर्माण की शिकायत की है । इसकी जांच होने के बाद कार्यवाहि   होगी। इस मौके पर कांग्रेस नेता कमलेश बघेल , संदीप सबलोक,पप्पू फुसकेले,डॉ दिनेश  पटेरिया , बाबूसिंह यादव आदि मौजूद थे।

घन्टानाद कार्यक्रम। भाजपाईयो से पुलिस की झड़प, पूर्व महापौर का मुंह दबाया और चांटा मारा पुलिस ने।


घन्टानाद कार्यक्रम।पुलिस और भाजपाईयो के बीच मे झड़प, पूर्व महापौर का मुंह दबाया और चांटा मारा पुलिस ने।

प्रभात झा बोले कमलनाथ जेल जांयँगे, सीएम के तौर पर और बेटे नकुल नाथ को बताया बछड़ा
सागर ।भाजपा ने  एमपी में कमलनाथ सरकार की नीतियों के खिलाफ किये  घन्टानाद प्रदर्शन में कलेक्ट्रेट कार्यालय के घेराव किया । इस  दौरान भाजपाईयो ने जमकर उपद्रव  मचाया। । भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा सहित अनेक नेता यहां मौजूद थे ।  भाजपाई कलेक्टर कार्यालय के  बाहर लगे बेरिकेट्स को लांघने लगे । बेरिकेट्स पर प्रभात झा, सांसद राजबहादुर सिंह,विधायक शेलेन्द्र जैन  आदि खड़े थे । कुछ नेता बेरिकेट्स के ऊपर चढ़ गए । इसके चलते  पुलिस ने उनको खदेड़ा भी।  कई नेताओं के बीच झडपभी पुलिस कर्मियों की हुई। इसी दौरान सागर की पूर्व महापौर  मनोरमा गौर को एक  महिला पुलिस कर्मी ने चांटा जड़ दिया और मुंह दबा दिया । पूर्व महापौर ने दांतो से काटा भी ।पूर्व मेयर शंख बजा रही थी।जिलाध्यक्ष प्रभदयाल पटेल ने पुलिस कर्मियों को रोका।  हंगामा के दौरान एक पुलिसकर्मी जमीन पर भी गिरा। घन्टानाद कार्यक्रम के तहत भाजपा ने पीलीकोठी के पास एक सभा का आयोजन किया । इसके बाद घण्टा, थाली ,झालर आदि  बजाते हुए कलेक्ट्रेट परिसर पहुचे।।

कमलनाथ जाएंगे जेल,नकुल नाथ बछड़ा:झा

भाजपा  के  प्रभात झा ने अपने भाषण में सीएम कमलनाथ के बेटे नकुल नाथ को बछड़ा बताया। उन्होंने कहा कि हमने लोकसभा चुनाव में प्रदेश  की 211 विधानसभा  सीटो पर लीड ली । यदि हम पता होता तो छिंदवाड़ा में यह बछड़ा (नकुल नाथ )चुनाव नही जीत पाता  और संसद में नही पहुच पाता। हमारी गलती और प्रसाशन की मदद से जीत गए । उन्होंने  सीएम कमलनाथ को सिख कांड का दोषी बताते हुए कहा कि कमलनाथ जेल जाएंगे ।  वे पहले सीएम होंगे जो पद पर रहते हुए जेल जाएंगे।इस मौके पर सांसद राजबहादुर सिंह ,और विधायक शेलेन्द्र जैन सहित अनेक नेताओं ने कमलनाथ सरकार की विफलताओं को लेकर जमकर कोसा।

जनता की नजरों में गिरी,सदन में गिरना है सरकार को:प्रभात झा

            प्रदर्शन के  बाद प्रभात झा ने मीडिया से  कहा कि पिछले 9 माह  के कामकाज  पर  कमलनाथ सरकार को शेवतपत्र जारी करना चाहिए । प्रदेश में जनकल्याणकारी योजनाओं ने दम तोड़ दिया है । पूरा प्रदेश बढ़5 में फंसा ही लेकिन सीएम कही नही गए । उन्होंने कंग्रेस की कलह पर कहा कि कांग्रेस अपने ही अंतर्द्वंद में फंसी है । कांग्रेस सरकार के मन्त्री और विधायक ही विपक्ष की भूमिका निभा रहे है ।
काँग्रेस सरकार को गिराने के सवाल पर झा बोले कि कमलनाथ सरकार जनता की नजरों के बीच गिर चुकी है ।सदन में गिरना है । 

घन्टानाद प्रदर्शन में ये है मौजूद
         प्रदर्शन में सांसद राजबहादुर सिंह,पूर्व सांसद  लष्मीनारायन यादव, विधायक शेलेन्द्र जैन,महेश राय, जिला अध्यक्ष प्रभदयाल पटेल,पूर्व विधायक पारुल साहू, पूर्व महापौर मनोरमा गौर, नारायण कबीरपंथी,दीपू भार्गव,डॉ सुशील तिवारी, प्रदीप पाठक, डॉ वीरेंद्र पाठक,गौरव सिरोठिया,सुखदेव मिश्रा,अनुराग प्यासी,अशोक सिंह बामोरा,श्याम तिवारी ,सुधीर यादव, लक्ष्मण सिंह,शैलेश केशरवानी,जगन्नाथ गुरैया, याकृति जड़िया ,बैभव राज कुकरेले, राजेश सैनी,  के वी एस ठाकुर  नवीन भट्ट,अर्पित पांडे,संतोष रोहित, व्रन्दावन अहिरवार,विक्रम सोनी,बंटी शर्मा,संतोष दुबे,इंदु चोधरी,सविता  साहू,दीपक पौराणिक,प्रदीप राजोरिया,नितिन सोनी,श्रीकांत जैन, रामकुमार साहू, पंकज मुखारया,सोमेश जड़िया, श्याम सुंदर मिश्रा ,सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।

करोड़पति बनने की चाहत में करोड़ो की ठगी, भोपाल निवासी पिता पुत्र गिरफ्तार,26 लाख बरामद

करोड़पति बनने की चाहत में करोड़ो की ठगी, भोपाल निवास पिता पुत्र गिरफ्तार,26 लाख बरामद

 सागर । उधोगपति बनने की चाहत में करोड़ो रूपये की धगी करने वाले पिता पुत्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर 26 लाख रुपये बरामद भी कर लिए है । इनपर भोपाल ,सागर सहित अन्य स्थानों पर लेनदेन में धोखाधड़ी के  मामले दर्ज है । आज asp विक्रमसिंह ने सागर में दर्ज ऐसे ही एक मामले का खुलाशा किया ।
         सागर जिले के थाना नरयावली क्षेत्र के मूडरा ग्राम के निवासी सरकारी ठेकेदार लखन सिंह राजपूत से भोपाल निवासी मुस्तफा जकी व उसके पुत्र ताहिर  ने मिलकर उनके ठेकेदारी कार्य हेतु लोहे के पाइप सप्लाई किये थे । जो मार्केट रेट से कम कीमत पर प्रथम बार में 25 लाख रूपये की सप्लाई की गई। जिस लेनदेन से मुस्तफा जाकी नेलखनसिंह राजपूत का विश्वास जीत लिया ।यह जानते हुए कि वह बहुत बड़ा ठेकेदार है। इसके बादलखनसिंह राजपूत को  दुबारा  एक करोड़ 12 लाख रूपये के पाइप की आवश्यकता होने पर मुस्तफाद्वारा सपंर्क कर मार्केट रेट से कम कीमत पर सप्लाई का आर्डर दिया।  उनको विश्वास में लेकर फर्जी तरीके से ई-मेल के जरिये से एग्रीमेंट किया और  तीन किस्तों  में नवम्बर 2018 से मार्च 2019 तक कुल 01 करोड 12 लाख रूपया अपने खाते में प्राप्त कर लिया। ठेकेदार लखन सिंह को जिस कार्य को पाइप कीआवश्यकता थी । मुस्तफा और उसके  बेटे  ने अनेकों बार पाइप सप्लाई हेतु कहा  तो पितापुत्र टाल जाते और पाईप सप्लाई का आश्वासन देते रहे। 
             जब फरियादी को इनके बारे में भोपाल कबाड खाना मार्केट में अन्य व्यापारियों से यह जानकारी लगी कि मुस्तफा जाकी कई लोगोंसे ठगी कर पैसे लेकर, ठाट-बाट से जीवन यापन कर रहा है। उसका लड़का ताहिर चार्टड एकांउट की पढाई कर रहा है। बेटा उसके फर्जीवाड़े में सहयोग करता है। फरियादी द्वारा पैसे देने पर भी जबपाईप और उनके पैसे वापिस नहीं किए तब फरियादी को यह लगा कि वह ठगी का शिकार हो गया है। तब फरियादी ने पुलिस अधीक्षक सागर को आवेदन दिया।  इसमे थाना नरयावली द्वारा जॉच कर दस्तावेजों एवं तथ्यों के आधार पर पाया कि मुस्तफा जाकी और बेटे ताहिरके खिलाफधारा420,467,468,120-बी केतहत मामला दर्ज कर लिया। पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
       थाना प्रभारी नरयावली आनंद राज के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई। पुलिस ने 
आरोपियों की तलाश पुणे, मुबंई व बडोदरा में तलाश की।पुलिस ने  आरोपी मुस्तफा वउसके लडके ताहिर को गिरफतार किया गया। 
  आरोपी मुस्तफा जाकी ने पूछताछ में  बताया कि बढ़ा व्यापारी बनने की चाहत में वह इसी तरह लोगों को धोखा देता रहा है। भोपाल ,सागर और मध्यप्रदेश के अन्य थानों में धोखाधडी की अनेक शिकायतें लंबित हैं । इसके अलावा भोपाल,इंदौर,दिल्ली के व्यापारियो का लाखो रुपये का कर्जा बाकी है । पुलिस ने आरोपी पिता पुत्र से 26 लाख 29 हजार रुपये बरामद किए है।
        इसमे उनि मोहिनी वर्मा, पी.एस.आई. धर्मेन्द्र सिंह,,सुरेंद्र सिंह उपनिरीक्षक महेन्द्र सिंह धाकड़,  राजेन्द्र शुक्ला, सुरन्द्र सिह, रामप्रकाश स्थापक,सतीश तिवारी धर्मेन्द्र सिंह यादव, , सुनील नायक, नारायण कुमरे
,खलक यादव , आशीष दुबे,  पंकज कुश्वाहा व महिला आरक्षक उपमा चतुर्वेदी की सराहनीय भूमिका रही।

पितृपक्ष : 13 सितंबर से,जानिए कैसे और कब करें श्राद्ध


               पितृपक्ष अपने पितरों को याद करने का विशेष समय माना जाता है। इन दिनों में पितरों के नाम से श्राद्ध, पिंडदान करना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा नहीं करने से पितृ दोष लगता है।
            पितृपक्ष की शुरुआत इस बार 13 सितंबर से हो रही है ।पितृपक्षभाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष पूर्णिमा की तिथि से शुरू होकर 28 सितंबर यानी अश्विन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को समाप्त होना है। इन 16 दिनों में पितरों के पूजन और श्राद्ध का विषेश महत्व है। मान्यता है कि इन दिनों में पू्र्वज धरती पर आते हैं और अपने परिजनों से अन्न और जल ग्रहण करते हैं। वहीं, जो लोग इन दिनों में अपने पूर्वजों की पूजा और दान आदि नहीं करते, उनके पितर भूखे-प्यासे ही धरती से लौट जाते हैं। इससे परिवार को पितृ दोष लगता है।
         पितृपक्ष अपने पितरों को याद करने का विशेष समय माना जाता है। इन दिनों में पितरों के नाम से श्राद्ध, पिंडदान करना चाहिए और ब्राह्मणों को भोजन कराना चाहिए। मान्यताओं के अनुसार ऐसा करने से पितरों की आत्मा तृप्त होती है और उनकी कृपादृष्टि हमेशा परिवार पर बनी रहती है। 
           साथ ही कुल और वंश का भी विकास होता है और परिवार के लोग कष्ट और बीमारी आदि से बचे रहते हैं। नियमों के अनुसार जिन तिथियों में पूर्वजों की मृत्यु होती है, पितृ पक्ष में उसी तिथि में उनका श्राद्ध करना चाहिए। श्राद्ध से जुड़े नियमों के मुताबिक देवताओं की पूजा सुबह में और पितरों की पूजा दोपहर में करनी चाहिए। 
 श्राद्ध की महत्वपूर्ण तिथियां
13 सितंबर- पूर्णिमा श्राद्ध 
14 सितंबर- प्रतिपदा श्राद्ध 
15 सितंबर- द्वितीय श्राद्ध 
17 सितंबर- तृतीया श्राद्ध 
18 सितंबर- चतुर्थी श्राद्ध 
19 सितंबर- पंचमी श्राद्ध
 20 सितंबर- षष्ठी श्राद्ध 
21 सितंबर- सप्तमी श्राद्ध
 22 सितंबर- अष्टमी श्राद्ध 
23 सितंबर- नवमी श्राद्ध 
24 सितंबर- दशमी श्राद्ध 
25 सितंबर- एकादशी श्राद्ध/द्वादशी श्राद्ध/वैष्णव जनों का श्राद्ध 
26 सितंबर- त्रयोदशी श्राद्ध
 27 सितंबर- चतुर्दशी श्राद्ध 
28 सितंबर- अमावस्या श्राद्ध, अज्ञात तिथि पितृ श्राद्ध, पितृविसर्जन महालय समाप्ति।

(लोकमत से)

पितृपक्ष : ट्रेनों में रहेगी भीड़,12 सितम्बर से चलेंगी विशेष रेल गाड़ियाँ


सागर । पितृपक्ष में गया जी जाने वालों की लंबी भीड़  बढ़ रही है । रेलवे और उसके आरक्षण केंद्रों पर लंबी लंबी लाईन दिख रही है । बीना -सागर -कटनी  रेलवे मार्ग पर क्षिप्रा एक्सप्रेस के अलावा कोई  सीधी ट्रेन नही है । बढ़ती मांग के चलते रेल विभाग ने हबीबगंज गया पितृपक्ष मेला स्पेशल  ट्रेन शुरू की है । यह ट्रेन हबीबगंज से 12 सितम्बर से  चलेगी ।पितृपक्ष 13 सितम्बर से 28 सितम्बर तक रहेगा। 
       स्पेशल  ट्रेन  पितृपक्ष में चार फेरे हबीबगंज से और तीन फेरे गया से  होंगे। स्पेशल ट्रेन हबीब गंज से 12,17,22 और 27 सितम्बर को दोपहर 14:35 बजे चलेगी। स्पेशल ट्रेन गया से 15,20 और 25 सितम्बर कोशाम 17:10 बजे चलेगी।यह गाड़ी 02 वातानुकूलित तृतीय श्रेणी, 01 वातानुकूलित द्वितीय सह तृतीय श्रेणी, 12 शयनयान श्रेणी, 04 सामान्य श्रेणी एवं 2 एस. एल. आर. सहित 21 कोचों के साथ चलेगी। 
                रेलयात्री सुविधा केंद्र के विंनोद चौकसे ने बताया कि सप्ताह में तीन दिन क्षिप्रा एक्सप्रेस ट्रेन और इस स्पेशल ट्रेन से इस अंचल के लोगो को काफी सुविधा होगी। पितृपक्ष में इलाहाबाद  और गयाजी जाने वालों की संख्या ज्यादा है । रिजर्वेशन को लेकर क्षिप्रा एक्सप्रेस में  वेटिंग ज्यादा आ रही है । लेकिन पितृपक्ष स्पेशल ट्रेन में सभी दर्जे में रिजर्वेशन सीट उपलब्ध है । 

मंगलवार, 10 सितंबर 2019

भाजपा संगठन चुनाव : जारी हुई मंडल निर्वाचन अधिकारियों की सूची




सागर जिले में भाजपा संगठनचुनाव के मंडल निर्वाचन अधिकारी और सह अधिकारी घोषित। जिला प्रभारी अरविंद भदौरिया ने सूची जारी

गायत्री परिवार ट्रस्ट सागर की नई कार्यकारिणी गठित, डॉ अनिल तिवारी बने प्रमुख


सागर। गायत्री शक्ति पीठ सागर  की बैठक में  गायत्री परिवार का पुर्नगठन किया गया ।  इसमें डाॅ.अनिल तिवारी प्रमुख ट्रस्टी, पं.वीपी पाठक सहायक प्रबंध ट्रस्टी तथा महाराज सिंह राजपूत, डाॅ. आर.पी. यादव, नरेष यादव,  देवेन्द्र हजारी, श्री इंद्रपाल राय ट्रस्टी चुने गये।  इसके  ही महिला मण्डल से श्रीमति रेखा गुप्ता एवं श्रीमति निलिमा नामदेव भी ट्रस्टी चुनी गयी 9 सदस्यों का यह ट्रस्ट मण्डल सर्वानुमोदन से सम्पन्न हुआ। इसी के साथ-साथ 13 सदस्यों का कार्यकारिणी गठित की गई। 
         इसमें संयोजक  वीपी पाठक, सहसंयोजक लखन लाल पटेल रहे।उपरोक्त 13 सदस्यीय कार्यकारिणी के पदाधिकारी निम्नानुसार रहे। डाॅ.अनिल तिवारी श्री वीपी पाठक, श्री महाराज सिंह राजपूत, श्री इंद्रपाल राय एवं श्रीमति रेखा गुप्ता, 5 ट्रस्टी तथा देवालय प्रबंधन समिति की संयोजिका श्रीमति श्रीदेवी तिवारी, सहसंयोजक श्री जीएस ठाकुर, वित्त समिति के संयोजक श्री महाराज सिंह राजपूत, सहसंयोजक, सीएम वर्मा जी संगठन प्रबंध समिति से श्री सुषील कुमार सुहाने, संयोजक श्री तनुज पांडेय, सहसंयोजक सप्त आंदोलन समिति के संयोजक श्री रामजी गुप्ता तथा संहसंयोजक श्री प्रकाष जडिया कार्यकारिणी में चुने गये साथ ही भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के जिला संयोजक श्री जीपी सक्सेना, सहसंयोजक श्री डीपी साहू, तथा परीक्षा प्रभारी शहर के श्री पीआर राठौर, ग्रामीण के श्री लखन लाल पटेल के अलावा नारी जागरण आंदोलन संयोजिका श्रीमति रजनी गुप्ता तथा सहसंयोजिका श्रीमति कृष्णा गुप्ता चयनित हुयी। युवा प्रकोष्ठ के जिला संयोजक श्री योगेष शांडिल्य सहसंयोजक श्री नरेन्द्र नामदेव का चयन हुआ। जिला समन्वयक श्री आर.एल शुक्ला एवं सहसंयोजक श्री योगेष गुप्ता चयनित हुए। उपरोक्त समितियों के अतिरिक्त भी अन्य कई प्रमुख उत्तरदायित्वों का प्रभार विभिन्न परिजनों को सौपा गया इसमें प्रमुख श्री आरडी शर्मा, श्री एनएल विश्वरंजन, वीवी नायक, श्री जानकी उपाध्याय, अनिल शर्मा, केडी शर्मा, भगवान सिंह ठाकुर, श्री रामगोपाल, सत्यप्रकाष पटेल, श्रीमति साधना गौर, श्रीमति रासमणि विष्वकर्मा, सहित बड़ी संख्या में परिजन उपस्थित रहे। सम्पूर्ण चयन प्रक्रिया सागर सम्भाग के उपजोन प्रभारी  मोतिलाल शर्मा जी के मार्ग दर्षन में सम्पन्न हुयी।

मध्यप्रदेश के 32 जिले बारिश से सराबोर बाकी जिले ताक रहे आसमान


भोपाल। प्रदेश में इस वर्ष मानसून में एक जून से 9 सितम्बर तक 32 जिलों में सामान्य से अधिक, 17 जिलों में सामान्य एवं शेष जिलों में सामान्य से कम वर्षा दर्ज हुई है। सर्वाधिक वर्षा जबलपुर जिले में और सबसे कम वर्षा सीधी जिले में दर्ज की गई है।
सामान्य से अधिक वर्षा वाले जिले सागर, जबलपुर, सिवनी, मण्डला, नरसिंहपुर, सिंगरौली, इंदौर, धार, झाबुआ, अलीराजपुर, खरगोन, बड़वानी, खण्डवा, बुरहानपुर, उज्जैन, मंदसौर, नीमच, रतलाम, देवास, शाजापुर, आगर-मालवा, श्योपुरकलां, गुना, अशोकनगर, भोपाल, सीहोर, रायसेन, विदिशा, राजगढ़, होशंगाबाद, हरदा और बैतूल हैं। 
सामान्य वर्षा वाले जिले कटनी, बालाघाट, छिंदवाड़ा, डिण्डौरी, दमोह, पन्ना, टीकमगढ़, छतरपुर, रीवा, सतना, अनूपपुर, उमरिया, मुरैना, भिण्ड, ग्वालियर, शिवपुरी और दतिया हैं। सामान्य से कम वर्षा वाले जिले शहडोल और सीधी हैं।  

सिरफिरा रेल इंजिन पर चढ़ा,मचाया उत्पात ,उसे नीचे उतारने में रेलवे प्रशासन को आया पसीना




सागर।  बीना सागर कटनी पैसेंजर ट्रेन में ड्राईवर और गार्ड की उस समय मुसीबत बढ़ गई जब नरायावली स्टेशन पर  एक सिरफिरा ट्रेन के इंजन पर चढ़ गया और उत्पात मचाता रहा ।उसके उपर रेलवे की हाईटेंशन लाईन भी थी । बड़ी मुस्किलो के बाद उसे उतारा। इस घटना से नाराज यात्रियो ने पीट  भी दिया ।
  घटना आज सागर के नरायावली स्टेशन की है । पैसेंजर ट्रेन रुकी ।इसी दौरान एक मानसिक रूप से सिरफिरा युवक इंजन पर चढ़ गया । कुछ देर तक उत्पात मचाता रहा। गालिया भी बकता रहा ।मौके पर पुलिस भी पहुच गई । उसे समझाते भी रहे । उसके उपर से हाईटेंशन लाईन भी थी । इसके चलते जान जाने का खतरा भी था ।  इसी दौरान रेलवे गार्ड इंजन पर चढ़ा और उसे  सुरक्षित नीचे उतारा। कुछ लोगो ने उसके साथ मारपीट की । मौजूद पुलिस ने उसको बचाया। इस घटना के चलते ट्रेन आधा घण्टे लेट भी हुई । फिलहाल जीआरपी और पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है और पूछताछ कर रही है । यह युवक कैसे चढ़ा ? 

सोमवार, 9 सितंबर 2019

" सेव द चिल्ड्रन अवेयरनेस राईड" का संदेश लेकर रोटेरियन राईडर्स पहुचे सागर

" सेव द चिल्ड्रन अवेयरनेस राईड"  का संदेश लेकर छह  रोटेरियन राईडर्स  पहुचे सागर
सागर ।" सेव द चिल्ड्रन अवेयरनेस राईड"  का संदेश लेकर निकले छह  रोटेरियन राईडर्स सागर पहुचे। लेह लद्दाख से कन्याकुमारी तक ये राईडर्स बच्चों की सुरक्षा का संदेश पहुचायेंगे। आज सागर आगमन पर रोटरी क्लब सागर फिनिक्स ने इनका स्वागत किया गया ।
        रोटरी क्लब सागर फिनिक्स के सदस्यों के द्वारा राधा कृष्णा रेस्टोरेंट में इस रैली को रोक कर उनका स्वागत किया गया .
यह रैली रोटरी क्लब तिरुनेलवेली स्टार डिस्ट्रिक्ट 3212 के द्वारा आयोजित की गई है।  जिसमें छह राइडर इस  रैली शामिल है ।  जिसमें टीम लीडर रोटेरियन अनु, एमपी  नोएल, रोटेरियन एस सुकुमार,  मूंस, रोटेरियन जोवर, रोटेरियन सरवानन है ।
         क्लब अध्यक्ष सचिव अमित और राहुल ने बताया कि डिस्ट्रिक्ट गवर्नर धीरेन दत्ता के द्वारा इस मुहिम को डिस्ट्रिक्ट 30 40 बढ़ावा दिया जा रहा है। जिससे क्लबों के द्वारा यह मुहिम चलाई जाएगी और ज्यादा से ज्यादा बच्चों को सुरक्षित बचाया जा सकेगा ।
              टीम लीडर अनु ने बताया डिस्ट्रिक्ट 3212 द्वारा 200 हार्ट पेशेंट  बच्चों को 100 क्लबो के द्वारा गोद लिया जा रहा है ।उसमें हर बच्चे का पूरा खर्च क्लब डिस्ट्रिक्ट द्वारा किया जा रहा है। इस पूरे अभियान में लगभग एक करोड़ रुपए खर्च हो रहा है ।उन्होंने बताया कि से लेकर अभी तक बहुत अच्छा रिस्पांस मिला है। इसके  प्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर मुकेश साहू ने बताया भारत में हर साल स्वास्थ्य सेवा में कमी से 5 साल से कम उम्र के 11:30 लाख बच्चे हर साल मौत का शिकार हो जाते हैं। स्वास्थ्य की कमी से प्रतिदिन ये आंकड़ा 3087 बच्चों का होता है। भारत में हर आठवां बच्चा चाइल्ड लेबर के रूप में काम कर रहा है। हर तीसरी महिला की शादी आज भी 18 साल से कम उम्र में हो जाती है ।जिससे आगे चलकर उस महिला को एनीमिया जैसी बीमारी से परेशान होना पड़ता है। बच्चे स्कूल नहीं जाते हैं इन्हीं सब को लेकर एक मुहिम रोटरी क्लब इंटरनेशनल द्वारा चलाई जा रही है। 
        इस अवसर पर आकाश  बजाज, अभिषेक जैन ,शोभित तोमर रोटेरियंस मैया आदि उपस्थित थे क्।लब के द्वारा फ्लैग ऑफ करके यात्रा को आगे बढ़ाया गया ।

मानव अधिकारों की रक्षा,पुलिस की ड्यूटी:एसपी अमित सांघी

मानव अधिकारों की रक्षा,पुलिस की ड्यूटी:एसपी अमित सांघी

मानव अधिकार जागरूकता विषय पर वाद विवाद स्पर्धा

सागर ।  मानव अधिकार जागरूकता विषय पुलिस विभाग में  पर वादविवाद प्रतियोगिता का  आयोजन किया गया। 
           कार्यक्रम में  पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने  प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दी एंव  कहा कि मानवाधिकारों की रक्षा करना पुलिस का सर्वोच्च कर्तव्य है। सभी पुलिस अधिकारियों को अपना ये कर्तव्य बिना किसी पक्षपात के निभाना चाहिए । ऐसी प्रतियोगिता का उद्देश्य मानव अधिकारों के प्रति जागरूकता  बढ़ाना है।
इसके  निर्णायको  में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सागर  राजेश व्यास, प्रोफेसर  दिवाकर सिंह राजपूत, पत्रकार  बसंत सेन थे । 
                  प्रतिभागियों के रूप में सागर जिला पुलिस की ओर से 14 पुलिस अधिकारियों  ने भाग लिया।  इसमें 7 प्रतिभागी पक्ष में और 7 विपक्ष में रहे। पक्ष की ओर से प्रथम स्थान निरीक्षक (एम ) मनोज शर्मा स्टेनो पुलिस अधीक्षक सागर रहे एवं विपक्ष की ओर से उपनिरीक्षक सुश्री अंजली  तिवारी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया । पक्ष की ओर से द्वितीय स्थान पर संयुक्त रूप से उप पुलिस अधीक्षक परिवीक्षाधीन  पीयूष मिश्रा उप निरीक्षक रेडियो  राजकुमार सिंह चौहान रहे विपक्ष की ओर से द्वितीय स्थान प्रधान आरक्षक रेडियो  रामेश्वर यादव का रहा।
     पुरुस्कार वितरण  पुलिस अधीक्षक  आमिट सांघी द्वारा  किया गया। प्रतियोगिता में अन्य प्रतिभागी उप निरीक्षक सुश्री  सोनल पांडे उपनिरीक्षक सुश्री माधवी  कटारे उपनिरीक्षक परिविक्षाधीन   राजेश शर्मा, सहायक उपनिरीक्षक  कमलाकर धोके आरक्षक  ,कपिल तिवारी उप निरीक्षक परिवीक्षाधीन , संजय बामनिया उप निरीक्षक परिविक्षाधीन  गोपाल चौधरी रहे। प्रतियोगिता की सभी व्यवस्था रक्षित निरीक्षक श्री रणजीत सिंह सिकरवार ,सूबेदार प्रियंका बोरासी एंवआरक्षक  देवेंद्र  नायक द्वारा की गई।
      

इन घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को मिलेगा इंदिरा गृह ज्योति योजना का लाभ

150 यूनिट मासिक खपत वाले  सभी घरेलू
बिजली उपभोक्ताओं को मिलेगा इंदिरा गृह ज्योति योजना का लाभ    

जबलपुर । मध्यप्रदेश शासन के ऊर्जा व‍िभाग द्वारा स्थायी घरेलू बिजली उपभोक्ताओं के लिए इंदिरा गृह ज्योति योजना के लाभ को विस्तारित किया गया है। अब 150 यूनिट मासिक खपत वाले प्रदेश के सभी घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को इंदिरा गृह ज्योति योजना का लाभ मिलेगा। प्रदेश में लागू 'इंदिरा गृह ज्योति योजना' को 'संबल योजना' से असंबद्ध कर दिया गया है। प्रदेश शासन के ऊर्जा व‍िभाग द्वारा जारी परिपत्र में प्रदेश की तीनों विद्युत वितरण कंपनियों को निर्देश द‍िए गए हैं कि वे इंदिरा गृह ज्योति के लाभ का विस्तार नए प्रावधानों के साथ लागू कर उपभोक्ताओं को इसका लाभ दे। योजना का संशोध‍ित स्वरूप 1 सितंबर 2019 एवं इसके बाद प्रारंभ होने वाले आगामी बिलिंग चक्र से लागू होगा।  

त‍िथ‍ियों के बीच के अंतर के आधार पर आनुपातिक मासिक खपत पात्रता
           प्रदेश शासन के ऊर्जा वि‍भाग के परिपत्र के अनुसार 'इंदिरा गृह ज्योति योजना' का लाभ ऐसे सभी घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को दिया जाए, जिनकी मासिक खपत 150 यूनिट तक हो। इस हेतु दो रीडिंग की त‍िथ‍ियों के बीच के अंतर के आधार पर आनुपातिक मासिक खपत पात्रता के रूप में न‍िर्धारित करने के निर्देश प्रदेश की तीनों विद्युत वितरण कंपनियों को द‍िए हैं। उदाहरण के लिए 27 दिन की रीड‍िंग होने पर पात्रता हेतु मासिक खपत 135 यूनिट होगी एवं 35 दिन में रीडिंग होने पा पात्रता हेतु मासिक खपत 175 यूनिट होगी। उपर्युक्तानुसार प्रत्येक मासिक रीड‍िंग हेतु न‍िर्धारित मासिक खपत 'पात्रता यूनिट' मानी जाएगी।
100 यूनिट तक की खपत पर अध‍िकतम 100 रूपए का बिल
         इंदिरा गृह ज्योति योजना में उपर्युक्तानुसार 'पात्रता यूनिट' तक खपत करने वाले पात्र बिजली उपभोक्ताओं को प्रथम 100 यूनिट तक की खपत पर अध‍िकतम 100 रूपए का बिल दिया जाएगा एवं 100 यूनिट खपत हेतु मध्यप्रदेश विद्युत नियामक आयोग द्वारा न‍िर्धारित दर से गणना क‍िए गए बिल तथा 100 रूपए के अंतर की राश‍ि राज्य शासन द्वारा वितरण कंपनियों को सब्स‍िडी के रूप में दी जाएगी।
100 यूनिट से अध‍िक खपत के कारण नियत प्रभार में वृद्ध‍ि होने पर अंतर की राश‍ि हितग्राही स्वयं विद्युत वितरण कंपनी को चुकाएगा

            परिपत्र के अनुसार हितग्राही बिजली उपभोक्ता द्वारा किसी माह में 100 यूनिट से अध‍िक परन्तु 'पात्रता यूनिट' तक उपयोग की गई खपत पर प्रथम 100 यून‍िट के लिए देय राश‍ि 100 रूपए होगी, जिसमें मीटर क‍िराया व विद्युत शुल्क भी शामिल होंगे। 100 यूनिट से अध‍िक एवं पात्रता यूनिट की सीमा तक शेष यूनिटों के लिए मध्यप्रदेश विद्युत नियामक आयोग द्वारा जारी प्रचलित टैरिफ आदेश में न‍िर्धारित दर के अनुसार बिल देय होगा। 100 यूनिट से अध‍िक खपत के कारण नियत प्रभार में वृद्ध‍ि होने पर तत्संबंधी अंतर की राश‍ि हितग्राही द्वारा स्वयं विद्युत वितरण कंपनी को देय होगी। 
'पात्रता यूनिट' से अध‍िक खपत होने पर उपभोक्ता को उस माह में योजना का लाभ नहीं मिलेगा
         परिपत्र में स्पष्ट किया गया है क‍ि क‍िसी माह में 'पात्रता यूनिट' से अध‍िक खपत होने पर उपभोक्ता को उस माह में योजना का लाभ नहीं मिलेगा एवं उसकी पूरी खपत पर मध्यप्रदेश विद्युत नियामक आयोग द्वारा न‍िर्धारित दरों से बिल विद्युत वितरण कंपनियों द्वारा दिया जाएगा।
          योजना के अंतर्गत एलवी श्रेणी 1.1 के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को 30 यूनिट तक की मासिक खपत हेतु देयक मात्र 25 रूपए होगा, जिसका इकठ्ठा बिल तीन/चार महीनों में दिया जाएगा, और अंतर की राश‍ि राज्य शासन द्वारा विद्युत वितरण कंपनियों को सब्स‍िडी के रूप में दी जाएगी। ऐसे उपभोक्ताओं की मासिक खपत 30 यूनिट से अध‍िक होने पर उन्हें परिपत्र के प्रावधानों के अनुरूप अन्य उपभोक्ताओं के समान मासिक बिल दिया जाएगा, जिसमें व‍िगत ऐसे माह/ माहों की 30 यूनिट तक के देयक की 25 रूपए प्रति माह की राश‍ि बिना किसी अध‍िभार के शामिल की जाएगी, जिनके लिए बिल दिया जाना शेष है।
अन्य सब्स‍िडी समाप्त होंगी-प्रदेश शासन के ऊर्जा व‍िभाग द्वारा जारी परिपत्र के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में 500 वॉट तक के संयोजित भार वाले अनमीटर्ड उपभोक्ताओं के बिलों की गणना विद्युत नियामक आयोग द्वारा टैरिफ आदेश में निर्धारित एलवी 1.2 की उप श्रेणी (ii) के अनमीटर्ड संयोजन के लिए लागू दर से की जाएगी। इंदिरा गृह ज्योति योजना के समावेशी स्वरूप में लागू होने के पश्चात् घरेलू उपभोक्ताओं का दी जा रही अन्य सब्स‍िडी समाप्त करने के निर्देश विद्युत वितरण कंपनियों को दिए गए हैं। 

          इस  योजना के अंतर्गत जारी क‍िए जाने वाले बिल (स्पॉट बिल को छोड़ कर) अलग रंग में छापे जाएंगे और बिल में शासन द्वारा प्रदत्त सब्स‍िडी का स्पष्ट उल्लेख क‍िया जाएगा। विद्युत वितरण कंपनियों को निर्देश दिए गए हैं कि विद्युत शुल्क का स्लैब 100 यूनिट पर परि‍वर्त‍ित होता है, अत: रीड‍िंग की त‍िथियों के बीच के अंतर से इसे न जोड़ते हुए पूर्ववत प्रथम 100 यूनिट हेतु 9 प्रतिशत की दर से तथा 100 यूनिट से अध‍िक खपत होने पर 12 प्रतिशत की दर से विद्युत शुल्क लागू होगा।

पद्मभूषण स्वामी श्री निरंजनानंद जी सरस्वती 22 से 25 सितम्बर तक सागर में

पद्मभूषण स्वामी श्री निरंजनानंद जी सरस्वती 22 से 25 सितम्बर तक सागर में
सागर । पद्मभूषण और बिहार योग विवि मुंगेर के स्वामी श्री निरंजनानंद जी सरस्वती 22 सितम्बर से 25 सितम्बर तक सागर प्रवास पर होंगे। योग के प्रचारप्रसार हेतु समर्पित योग विधालय  मुंगेर को पिछले  दिनों  भारत सरकार ने पांचवे अंतरराष्ट्रीय योग पुरस्कार से सम्मानित किया है। योग निकेतन योग प्रशिक्षण संस्थान सागर में आयोजित होने वाले कार्यक्रम के सम्बंध एक बैठक हुई । 
     संचालक योगाचार्य विष्णु आर्य ने बताया कि स्वामी श्री सत्यानन्द सरस्वती के परम शिष्य स्वामी निरंजनानंद  बिहार के मुंगेर में योग के क्षेत्र में चल रहे विभिन्न प्रकल्पों का संचालन कर रहे है । जिसने नई उचाईयां दी है । स्वामी जी हर साल देशभर में योगयात्रा पर निकलते है । इसी के तहत 22 से 25सितंबर तक  मध्यप्रदेश के प्रवास पर सागर में भी मार्गदर्शन देंगे।उनके कार्यक्रम सागर में विभिन्न स्थानों पर होंगे। बैठक में तैयारियॉ को लेकर चर्चा हुई और विभिन्न समितियों का गठन किया गया ।
         योग निकेतन के अध्यक्ष राम नारायण यादव ने बताया कि योग के क्षेत्र में दुनिया के पहले विवि की स्थापना स्वामी निरंजनानंद जी ने मुंगेर में की थी। यह संस्थान पूरी विश्व मे योग की परम्परा को आगे बढाने में अहम भूमिका निभा रहा है । सागर में स्वामी जी का पधारना एक गौरव शाली दिन होगा।बड़े पैमाने पर इसका आयोजन किया जा रहा है । जिसमे सागर जिले में योग से जुड़ी संस्थाओं तथा योग प्रेमियों से संपर्क करके इसको सफल बनाया जाएगा ।

     योग निकेतन योग प्रशिक्षण संस्थान में आयोजित बैठक में हरगोरिन्द्र विश्व, कपिल मलैया, कैलाश देवलिया,महेशनेमा,डॉ गजाधर सागर,पुरुषोत्तम सोनी,मोहन नामदेव प्रकाश सोनी, सीताराम  चोरसिया, रामेश्वर सोनी,योगाचार्य बद्री प्रसाद सोनी, आशीष जयोतिषी , सुंदर लाल गुप्ता,एन पेवे ददरया, महेश गोरेलाल त्रिपाठी,एम डी त्रिपाठी,शिवम  गंगेड, सुरेश तिवारी,भूपेंद्र पाराशर ,दिलीप साहू ,जयराम  कुशवाहा ,हरी सिंह ठाकर, सविता मेहता, निर्मला गुप्ता, स्वर्ण प्रभा कोष्टि, उमाशंकर चौरसिया ,अनिल चारी, राम किशन कोष्टि, जय कुमार लालवानी, गोपाल सोनी ,अमित गुप्ता, ज्योति भार्गव, ओम प्रकाश गुप्ता,एन भार्गव , सुबोध आर्य सहित अनेक लोग मौजूद थे।

NSUI के महासचिव को पीटा,कांग्रेस नेता पर पिटवाने का आरोप,टेंडर के लेनदेन का विवाद

NSUI के महासचिव को पीटा,कांग्रेस नेता पर पिटवाने का आरोप,टेंडर के लेनदेन का विवाद

सागर । टेंडर/ठेकों  के  लेनदेन के कथित विवाद के चलते NSUI के प्रदेश महासचिव राहुल खरे की  कैंट बोर्ड के चुंगी नाका के कर्मचारियों ने  मारपीट कर दी। कांग्रेस नेता खरे ने अपनी पार्टी केनेता बब्बू यादव द्वारा पिटवाने का आरोप लगाया है । खरे ने गोली चलाने और चाकू मारने की बात कही है । केंट पुलिस ने पांच -सात लोगो के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कर लिया है ।
                युवा कांग्रेस नेता राहुल खरे ने मीडिया को बताया कि के  टीए बटालियन रोड पर मेरे साथ यदु, मनीष, निखिल, साकेत, पवन, अनुज ने मारपीट की। कांग्रेस नेता बब्बू यादव के कहने पर इन्होंने मारपीट की । चाकू से मारा और फायर भी किया। 
लेकिन केंट  पुलिस की जांच में कांग्रेस नेता पर  आरोप की पुष्टि नहीं हुई। पुलिस के अनुसार दोनों पक्ष पैसे के लेन-देन पर विवाद हुआ।राहुल खरे  ने खुद पर चाकू से हमला होने की बात कही।पुलिस ने उसका मेडिकल कराया और शरीर पर आई चोटों को देखते हुए यदु, मनीष, निखिल, अनुज आदि के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कर लिया है।  कैंट टीआई सतीशसिंह का कहना है कि मामले दोनों पक्षों केबीच झगड़ा किस बात पर हुआ है,अभी इसका खुलासा नहीं हुआ है। टेंडर का लेनदेन बताया जा रहा है ।आरोपियों के पकड़े जाने के बाद स्थिति स्पष्ट होगी।

दंगल : देश भर से आएंगे पहलवान, 21 को



सागर.   झांसी रोड स्थित रानीपरा में श्री महालक्ष्मी जी के पावन पर्व पर 21 सितंबर को श्री राम अखाड़ा रानीपुरा की और से विराट दंगल का आयोजन किया जा रहा है।

 आयोजक अखिल भारतीय ग्वाल महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष -दुलारे उस्ताद ने बताया कि कुश्ती में सागर, बीना, झांसी,ललितपुर, इंदौर, बनारस के पहलवान शामिल होंगे।  इसमें खलीफाओं और उस्तादों का सम्मान किया जाएगा।

रविवार, 8 सितंबर 2019

भारी बारिश के चलते सागर जिले के सभी स्कूलो की ९ सितम्बर की छुट्टी घोषित

सागर में भारी बारिश के चलते सागर जिले में 
 कल 9 सितम्बर को शासकीय और अशासकीय
 CBSE सहित सभी स्कूलो की छुट्टी घोषित

राज्यपाल द्वारा सम्मानित शिक्षक का सागर में सम्मान

राज्यपाल द्वारा सम्मानित शिक्षक का सागर में सम्मान 
सागर  । शिक्षक दिवस पर  राज्यपाल लालजी टंडन द्वारा सम्मानित शासकीय  प्राथमिक शाला बंडा के प्राधानाध्यापक करणसिंह राजपूत का इनके शहर सागर में सम्मानित किया गया। 
          शिक्षक राजपूत  को यह  सम्मान निर्धन, मजदूर वर्ग बच्चों के अभिभावकों को समझाकर नामांकन शाला में कराने एवं शाला में बिजली,पंखा, पानी निकासी आदि की सुचारू व्यवस्था कराने के लिए दिया गया। शिक्षक करणसिंह राजपूत  को राज्यपाल द्वारा सम्मानित होने पर अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा म.प्र.एवं क्षत्रिय नवचेतना मंच, सागर ने  शाल-श्रीफल व सम्मानपत्र भेंट कर सम्मानित किया ।साथ ही अन्य स्वजातीय शिक्षकों का  सम्मान किया गया।
              डॉ. सुश्री शरद सिंह ने कहा कि आज के समय में सबसे निचले पायदान के बच्चों की शिक्षा के बारे में सोच रहा है वह व्यक्ति समाज के लिए संम्मानीय है। वर्तमान में शिक्षा का तरीका बदल रहा है। हमें अपनी पुरातन संस्कृति के साथ चलना है और अपने बच्चों को पैकैज सिस्टम से बचाना होगा यह कार्य करणसिंह राजपूत जैसे शिक्षक कर रहे हैं ऐसे शिक्षक आशा की किरण जगाते हैं।
    वीनू शम शेर जंग बहादुर राणा एड. उपाध्यक्ष अभाक्षमसमप्र ने कहा कि समाज के लिए आज यह गौरव का अनुभव कराने वाले शिक्षक करणसिंह राजपूत का सम्मान करते हुए हम स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं।
मोहनसिंह राजपूत अध्यक्ष अभाक्षमसमप्र, लीला बुआ जी अध्यक्ष महिला इकाई अभाक्षमसमप्र, लखन सिंह ठाकुर, गोविंद सिंह सहित उपस्थित शिक्षकों ने संबोधित किया।
कार्यक्रम की शुरुआत मां सरस्वती के चित्र के समक्ष अतिथियों द्वारा द्वीप प्रज्जविलत कर हुई। संचालन गजेन्द्र सिंह ठाकुर व आभार वीरेंद्र सिंह जी ने किया।
           इस अवसर पर उमेश राजपूत, रामबाबू राजपूत, वीर सिंह , इंद्रपाल सिंह गौर, मंजू राजपूत, सीमा बघेल, विनीता राजपूत, अमरसिंह ठाकुर, सोवरन सिंह ठाकुर, शिवराम सिंह ठाकुर, रामसिंह चौहान, सोवरनसिंह तोमर आदि उपस्थित थे।
 

Heart Failure: से बढ़ रहा है मरने वालों का आंकड़ा

Heart Failure : Causes hike in death rate.


सागर । ए.पी.आई.की सागर शाखा ने  हार्ट  फेल्योर पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया।  कार्यक्रम के मुख्य वक्ता भोपाल गांधी मेडिकल कॉलेज से पधारे इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजिस्ट डॉक्टर आरके सिंह थे। उन्होंने हार्ट  फेल्योर की विभीषिका के बारे में विस्तार से बताया की एक सर्वे के अनुसार भारत में हार्ड फेलियर के कारण होने वाली मौतों का आंकड़ा बहुत ज्यादा है।
         कार्यक्रम के अध्यक्ष डॉ जी.के.दुबे ने बताया कि हार्ट फेल्योर या दिल की विफलता तब होती है जब हृदय शरीर की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त रूप से पंप करने में असमर्थ हो जाता है। सचिव डॉ प्रदीप चौहान ने बताया कि इस बीमारी के रोगी को साँस की तकलीफ, अत्यधिक थकान और पैरों में सूजन आ सकती है।डॉ अमिताभ जैन ने बताया कि हार्ट फेल्योर या दिल की विफलता हृदयाघात, उच्च रक्तचाप, अनियंत्रित धड़कन, अत्यधिक मद्यपान या किसी संक्रमण के कारण हो सकती है। डॉ अनुराग जैन ने बताया कि हार्ट फेल्योर और हार्ट अटैक तथा कार्डियक अरेस्ट में काफ़ी अंतर है। हृदयाघात में हृदय के उस हिस्से की मायोकार्डियल मांसपेशियां पूरी तरह से मर जाती हैं, जहाँ की रक्त ले जाने वाली कॉरोनरी धमनी 100% अवरुद्ध हो गई है। कार्डियक अरेस्ट में किसी भी अन्य कारण से ब्लड फ़्लो पूरी तरह से रुक जाता है। इनके विपरीत हार्ट फेल्योर में रोगी औषधियों के सहारे लंबे समय तक जीवित रह सकता है। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता डॉ आर के सिंह ने बताया कि आरनी ग्रुप की एक दवा सक्यूबिट्रिल एवं वेलसेटरान इस बीमारी में सबसे कारगर है। कार्यक्रम का संचालन ए.पी.आई. सचिव डॉ प्रदीप चौहान ने किया। आयोजन में भारी संख्या में चिकित्सक उपस्थित थे।

Crime : ट्रेन के आगे कूदकर प्रेमी -प्रेमिका ने की आत्महत्या

ट्रेन के आगे कूदकर  प्रेमी -प्रेमिका ने की आत्महत्या


सागर



 सागर में एक दर्दनाक हादसे में प्रेमी प्रेमिका ने ट्रेन के आगे कूदकर  आत्महत्या  कर ली ।जीआरपी और केंट पुलिस  पूरे मामले की जांच कर रही है । 

    सागर के रेलवे गेट 27 और 28 नम्बर के बीच मे रेलवे  ट्रेक पर मिले लड़का लड़की के शव मिलने की सूचना पुलिस को मिली थी । इनकी शिनाख्त ढाना निवासी  नीलकंठ मिश्रा और  रानू पांडे के तौर पर हुई । केंट पुलिस थाना प्रभारी सतीश सिंह के मुताबिक प्रथम द्रष्टया मामला प्रेम प्रसंग के चलते आत्महत्या का प्रतीत होता है । फिलहाल मामले की जांच की जा रही है ।

संभागीय शालेय क्रिकेट टूर्नामेंट का शुभारंभ

संभागीय शालेय क्रिकेट टूर्नामेंट का शुभारंभ


















सागर ।  शालेय संभाग स्तरीय अडंर 14 एंव 17 वर्ग बालक ग्रुप क्रिकेट टूर्नामेंट का शुभारंभ सागर जिले के देवरी में  नोबल कालेज की प्राचार्य डॉं. पूर्वा जैन ने किया। टूर्नामेंट का उद्घाटन  मैच सागर नगर एवं सागर जिले की टीमों के बीच खेला गया जिसमें खिलाडि़यों ने।अपनी खेल प्रतिभा का प्रदर्शन किया।
         कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नोबल कालेज प्राचार्य एवं सामाजिक कार्यकर्ता डॉ. पूर्वा जैन ने कहा कि कहा कि खेल ना सिर्फ शारीरिक तंदरूस्ती बल्कि मन की चुस्ती के लिए भी आवश्यक है। डॉ. पूर्वा जैन ने खिलाडि़यों से परिचय प्राप्त कर एंव टॅास करा के मैच का शुभारंभ किया। देवरी नगर पालिका अध्यक्ष मंयक चौरसिया ने कहा कि नोबल पब्लिक स्कूल देवरी नगर में एकमात्र ऐसा स्कूल है जो पढ़ाई के साथ साथ अन्य गतिविधियों को भी महत्व देता है। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ शिक्षक जसवंत रजक एंव वीरेन्द्र जैन ने किया। टूर्नामेंट का पहला मैच अडंर 14 में सागर जिला एंव सागर नगर की टीमों के बीच खेला गया जिसमें सागर नगर ने जीत दर्ज की। इसी वर्ग के एक अन्य मैच में टीकमगढ़ एवं सागर नगर के बीच हुए मुकाबले में सागर नगर ने विजय हासिल की। अडंर 17 में हुए मुकाबलों में सागर जिला और टीकमगढ़ जिला के बीच हुए मुकाबले में टीकमगढ़ के बल्लेबाजों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन कर जीत हासिल की। एक अन्य मुकाबले में सागर नगर को हराकर पन्ना ने अपनी जीत का खाता खोला।इस अवसर पर देवरी जनपद अध्यक्ष सुश्री आँचल आठिया, जिला क्रीड़ा अधिकारी संजय दादर, ब्लॉक शिक्षा अधिकारी आर.के. जैन, प्राचार्य  शरद विश्वकर्मा, रवि जैन एंव गिरीष मेहरा थे। नोबल पब्लिक स्कूल संचालक योगेन्द्र सिंह ठाकुर, जनपद सदस्य राजकुमार लोधी, उपसरपंच बलराम लोधी और स्कूल के प्रभारी प्राचार्य दिलीप राय भी उपस्थित थे। इस प्रतियोगिता को सफलता पूर्वक सम्पन्न कराने में एस.के. विश्वकर्मा, एस.के. गुप्ता, प्रहलाद लोधी, राजेन्द्र सिंह राजपूत, कुलदीप डिम्हा, सतीष हालवी, सुनील सिंह राजपूत, अवधेश किरार, प्रमोद चौबे, हेमंत पाठक, अशोक विश्वकर्मा, अंकित राठौर, रूपक रिछारिया, देवेन्द्र मिश्रा, भुवानी लोधी, शिवराज पटेल, अविनाश मेहरा आदि की सराहनीय भूमिका है।

पत्नी के हत्यारे पति को उम्रकैद की सजा, सिर में हसिया मारकर की थी हत्या

पत्नी के हत्यारे पति को उम्रकैद की सजा, सिर में हसिया मारकर की थी हत्या


सागर । स्थानीय अदालत ने मामूली विवाद पर पत्नी के सिर में हंसिया मारकर हत्या करने वाले को उम्रकैद की सजा और छह हजार के जुर्माने से दंडित किया है । सप्तम अपर सत्र न्यायाधीश नवनीत वालिया ने करीब सवा साल पहले हुई इस वारदात में  फैसला दिया।
    सागर जिले के जरुयाखेड़ा पुलिस चौकी के तोड़ा गोतमिया गांव में दो अप्रैल 2018 को  वंशी सेन ने अपनी पत्नी सुशीला सेन की  हर्त्या की थी।
              अपर लोक अभियोजक रविकांत सराफ ने बताया कि घटना दिनांक को वंशी ने पुलिस को सूचना दी कि उसकी पत्नी वेसुध अवस्था मे है । पुलिस ने देखा कि घर मे रेडियो बज रहा था और एक तरफ हंसिया पड़ा था। सुशीला को सिर में चोट लगी थी । पुलिस को शक हुआ कि शायद करेंट लगने से महिला बेहोश हुई। अस्पताल ले जाने के पहले ही उसकी मौत हो गई । पुलिस विवेचना में  पीएम रिपोर्ट में सुशीला की मौत शरीर पर गंभीर चोट लगने हुई। पुलिस पड़ताल में वंशी ने अपराध स्वीकारा । मामूली विवाद पर उसने पत्नी को मारा था। अदालत ने परिस्थिति जन्य साक्ष्यों के आधार पर वंशी सेन को उम्र कैद की सजा और छह हजार के जुर्माने की सजा सुनाई।

दिग्गज वकील और पूर्व केंद्रीय मंत्री राम जेठमलानी का 95 साल की उम्र में निधन

दिग्गज वकील और पूर्व केंद्रीय मंत्री राम जेठमलानी का 95 साल की उम्र में निधन

नई दिल्ली  ।देश के दिग्गज वकीलों में शुमार राम जेठमलानी का रविवार सुबह 95 साल की उम्र में निधन हो गया। जेठमलानी पिछले दो हफ्ते से गंभीर तौर पर बीमार थे। जेठमलानी अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय कानून मंत्री और शहरी विकास मंत्री भी रहे हैं। साल 2010 में उन्हें सुप्रीम कोर्ट बार असोसिएशन का अध्यक्ष भी चुना गया था। फिलहाल जेठमलानी आरजेडी से राज्यसभा सांसद भी थे। एक वकील होने के नाते जेठमलानी ने देश के कई बहुचर्चित केस भी लड़े हैं। इनमें कई केस काफी विवादित भी रहे हैं। पीएम ने भी ट्वीट कर जेठमलानी के निधन पर दुख जताया है। पीएम ने जताया दुख 

पीएम ने कहा, 'राम जेठमलानी के रूप में देश ने एक शानदार वकील और प्रतिष्ठित व्यक्ति को खो दिया है। उनका योगदान से कोर्ट और संसद दोनों के लिए महत्वपूर्ण है। उन्होंने कभी भी किसी भी मुद्दे पर अपनी भावनाएं व्यक्त करने में हिचकिचाहट महसूस नहीं की। उनकी सबसे बड़ी खासियत यह थी कि वह सिर्फ अपने मन की बात बोलते थे। उन्होंने बिना किसी डर के ऐसा किया। आपातकाल के दौरान उन्होंने जनता के लिए लड़ाई लड़ी। जरूरतमंद के साथ खड़ा होना भी उनकी बड़ी खासियत थी। मैं अपने आप को भाग्यशाली समझता हूं कि कई मौकों पर उनसे बात करने का मौका मिला। दुख की घड़ी में उनके परिवार, मित्रों और समर्थकों के प्रति मेरी संवेदनाएं। वह आज भले ही यहां न हों, लेकिन उनके किए गए कार्य हमेशा रहेंगे।' 


शाह ने दी श्रद्धांजलि 

गृहमंत्री अमित शाह ने जेठमलानी के आवास पर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा, 'पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी के निधन से दुखी हूं। उनके रूप में हमने न सिर्फ एक दिग्गज वकील को बल्कि एक अच्छे इंसान को भी खो दिया है। जेठमलानी जी का जाना पूरे विधि क्षेत्र के लिए बड़ी क्षति है। कानूनी मामलों में उनकी जानकारी के लिए उन्हें सदैव याद किया जाएगा। उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं।' 


1959 में पहला चर्चित केस 
राम जेठमलानी का जन्म 14 सितंबर 1923 को सिंध प्रांत के शिकारपुर में हुआ था। इनका पूरा नाम राम बूलचंद जेठमलानी था। ट्रायल कोर्ट, हाई कोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट में उन्होंने कई बड़े केस लड़े थे। उनका पहला सबसे चर्चित केस 1959 में आया, जब वे केएम नानावती बनाम महाराष्ट्र राज्य केस में वकील थे। 

अफजल गुरु की फांसी का बचाव 
उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्यारों का मद्रास हाई कोर्ट में 2011 में केस लड़ा। स्टॉक मार्केट घोटाला केस में उन्होंने हर्षद मेहता और केतन पारेख का केस भी लड़ा। उनका सबसे विवादित केस अफजल गुरु की फांसी का बचाव करना था। बहुचर्चित जेसिकालाल हत्याकांड में उन्होंने मनु शर्मा का केस भी लड़ा था। 

वाजपेयी के खिलाफ भी लड़ा चुनाव 
साल 2010 में उन्हें सुप्रीम कोर्ट बार असोसिएशन का अध्यक्ष भी चुना गया था। छठी और सातवीं लोकसभा में जेठमलानी बीजेपी के टिकट पर मुंबई से सांसद भी चुने गए थे। उन्होंने वाजपेयी सरकार में केंद्रीय कानून मंत्री और शहरी विकास मंत्री की भूमिका भी निभाई थी। साल 2004 में उन्होंने लखनऊ से अटल बिहारी वाजपेयी के खिलाफ भी चुनाव लड़ा। उनके बेटे महेश जेठमलानी भी बड़े वकील हैं, एक बेटी अमेरिका में रहती है। जबकि एक बेटी का निधन हो चुका है। 

साभार। नवभारत टाईम्स

SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive