जंय श्री गणेशाय नमः

शनिवार, 1 मई 2021

कोरोना काल मे बड़ी मदद , 83 नए इंटर्न डाक्टर मिले , बीएमसी के 2016 के बेच छात्र अब ड्यूटी पर ★ परिवीक्षा अवधि में यह सेवाकाल जुड़वाया जाएगा : मन्त्री गोविंद राजपूत

कोरोना काल मे बड़ी मदद , 83 नए इंटर्न डाक्टर मिले , बीएमसी के 2016 के बेच छात्र अब ड्यूटी पर
★ परिवीक्षा अवधि में यह सेवाकाल  जुड़वाया जाएगा : मन्त्री गोविंद राजपूत

सागर । सागर कोरोना संक्रमण अदृश्य  युद्ध है इसे अपने प्रयासों से हर हाल में जीतना होगा एवं भगवान का दूसरा रुप होते हैं डॉक्टर इस कहावत को अपने प्रयासों से मूर्त रूप दें एवं अपनी सेवाओं के माध्यम से सागर जिले को कोरोना मुक्त करें ।उक्त विचार राजस्व एवं परिवहन मंत्री  गोविंद सिंह राजपूत ने बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस की पढ़ाई कर चुके  83 डाक्टरों की कोरोना संक्रमण की बीमारी को दूर करने में अपनी सहभागिता लेने के अवसर पर व्यक्त किए। 
शासकीय बुन्देलखण्ड मेडिकल कालेज साग़र से एम बी बी एस की डिग्री पूर्ण होने पर इंटर्नशिप पर आज सागर बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के  2016 के बेच के 83 डॉक्टर्स ने अपनी सेवा देना आज से ही प्रारंभ की।आज इनको कार्य की शपथ दिलाई गई। 
मंत्री श्री राजपूत ने डॉक्टरों की समस्याओं के बारे में कहा कि उनकी परिवीक्षा अवधि में यह सेवाकाल  को जोड़ने के लिए शिवराज सिंह चौहान से बात कर उनकी परिवीक्षा अवधि में यह सेवाकाल भी जुड़वाया जाएगा।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे

ट्वीटर  फॉलो करें

वेबसाईट


इस अवसर पर विधायक श्री शैलेंद्र जैन ने कहा आप पूरी ईमानदारी एवं निश्चिंता के साथ इलाज करें बाकी का कार्य हम एवं हमारी सरकार पर छोड़ दें। 
संभागायुक्त श्री मुकेश शुक्ला ने कहा कि आज पूरा बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज बड़ा सौभाग्य महसूस कर रहा है कि इतने बड़े संकट के समय आप जैसे योग्य ईमानदार डॉ इस कॉलेज को मिल रहे हैं और पूरी ईमानदारी तन्मयता के साथ कोरोना संक्रमण का इलाज करेंगे। श्री शुक्ला ने कहा कि आप सभी की सेवा से हमारा सागर कोरोना मुक्त होगा। बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ आर एस वर्मा ,नगर निगम उपायुक्त डॉ प्रणय कमल खरे ,सीएससी श्री रामबरन प्रजापति ,थाना प्रभारी श्रीमती उपमा सिंह, डॉक्टर एस के पिप्पल ,डॉ मनीष जैन ,डॉ उमेश पटेल  सहित सहित अन्य डॉक्टर मौजूद थे।

मदद मिलेगी बीएमसी को

एमबीबीएस 2016 बैच के 83 स्टूडेंट की फाइनल ईयर की  परीक्षा पूर्ण हो चुकी है  किंतु रिजल्ट नहीं आया है। लेकिन कोविड-19 महामारी के चलते चिकित्सकों की कमी को देखते हुए इनकी पदस्थापना कोविड- वार्डों में की जा रही है मरीजों की फाइल कंप्लीट करना और अन्य काम  इनको करना होगा ताकि कार्य की अधिकता से जूझ रहे चिकित्सकों को सहायता मिले एवं वह अपना पूरा ध्यान मरीजों के उपचार पर केंद्रित कर सकें। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


विधायक शेलेन्द्र जैन पहुचे PPE किट पहनकर कोविड वार्ड में , जानी व्यवस्थाएं ★विधायक ने कोविड में भर्ती कांग्रेस विधायक तरवर लोधी से की चर्चा ,पूरी उदारता सिखाई राजनीतिक मतभेद भूलकर

विधायक शेलेन्द्र जैन पहुचे PPE किट पहनकर कोविड वार्ड में , जानी व्यवस्थाएं

★विधायक  ने  कोविड में भर्ती कांग्रेस विधायक तरवर लोधी से की चर्चा ,पूरी उदारता सिखाई राजनीतिक मतभेद भूलकर


सागर। कोरोना कहर में कोविड वार्डो के अंदर की शिकायतें मिलने पर साग़र के विधायक शेलेन्द्र जैन जिला चिकित्सालय पहुँचे ।  पी.पी.ई. किट पहनकर कोविड-19 आई.सी.यू. वार्ड का निरीक्षण कर मरीजों से उनका हाल जाना है। 
  इस दौरान जिले की बण्डा सीट से कांग्रेस विधायक तरवर लोधी से मिले। उन्होंने बण्डा क्षेत्र की कुछ समस्याओं से अवगत कराया। जिसे सुलझाने का भरोसा भी जैन ने जताया। 


विधायक शैलेन्द्र जैन ने बताया टेलीफोन पर कोविड-19 आई.सी.यू. वार्ड की अव्यवस्थाओं की शिकायतें मिल रही थी। मुझे लगा कि कोविड-19 आई.सी.यू. वार्ड के अन्दर जैसे अराजकता की स्थिति फैली हो। टेलीफोन पर मिली शिकायतों के आधार पर मैंने आज कोविड-19 आई.सी.यू. वार्ड का निरीक्षण करने का निर्णय किया।  

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे

ट्वीटर  फॉलो करें
वेबसाईट


उन्होंने  बताया कि पूर्ण देखभाल की जा रही है एवं डाक्टर्स भी प्रतिदिन आ रहे है। उन्होंने कहा अन्दर जाकर मुझे सन्तुष्टि हुई एवं मरीजो से बात करके मन को शांति मिली। उन्होंने कहा कि जिस तरह की सूचनायें टेलीफोन पर मिल रही थी वैसी स्थिति बिल्कुल भी नहीं है। साफ-सफाई को लेकर एक-दो समस्यायें है, इस पर मैंने निर्देश दिये है कि प्रतिदिन व्यवस्थित साफ-सफाई हो। 

 विधायक शैलेन्द्र जैन ने कोविड-19 आई.सी.यू. वार्ड में भर्ती बण्डा विधायक श्री तरवर सिंह लोधी से मुलाकात कर उनके स्वास्थ्य एवं परिवार के सदस्यों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। बण्डा विधायक ने बण्डा के कोविड सेन्टर की अवस्थाओं के विषय में विधायक शैलेन्द्र जैन को बताया, जिस पर विधायक शैलेन्द्र जैन ने कहा कि जब तक बण्डा विधायक पूर्ण स्वस्थ नहीं हो जाते तब तक बण्डा के लोगों को जो भी परेशानियाँ हो मुझसे कहे एवं माननीय सांसद  से कहे ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

वेक्सीनेशन सेंटर पर सेवा - मदद ★ लोगो के आधारकार्ड जमा करवाकर वैक्सीन लगवाने तक के लिए सक्रिय रहती है टीम , कई दफा फोन पर भी लोगो को बुलाना पड़ता है ★ दिनभर नाम पुकारते है पात्रों का ,यह भी बताते है कि दूसरा डोज कब लगेगा

वेक्सीनेशन सेंटर पर सेवा - मदद 
★ लोगो के आधारकार्ड जमा करवाकर वैक्सीन लगवाने तक के लिए सक्रिय रहती है टीम , कई दफा फोन पर भी लोगो को बुलाना पड़ता है 

★ दिनभर नाम पुकारते है पात्रों का ,यह भी बताते है कि दूसरा डोज कब लगेगा

★ यदि वैक्सीन खत्म हो जाये तो घण्टो से इंतजार कर रहे लोगो की नाराजगी झेलते हुए  समझाकर घर भेजते है और दूसरे दिन पहली प्राथमिकता में लगवाते है



साग़र। कोरोना संक्रमण  के कहर से बचाने में मददगार  कोरोना वैक्सीन है। देशभर में बड़े पैमाने पर टीकाकरण चल रहा है। वैक्सीन सेंटरों पर अव्यवस्थाओं और कमियों  खूब सामने आ रही  है ।  सागर में शासकीय पाली  क्लिनिक  के सेंटर की तस्वीर हटके है। यहां रोजाना 4- 5 सौ लोग आते है । इनमे कुछ परिजनों के साथ भी आते है। ऐसे में भीड़भाड़ होना स्वाभाविक है।   लेकिन यहां अव्यवस्था कम सुविधा ज्यादा है। इसकी वजह है कि सेवादल कांग्रेस से जुड़े कुछ युवक और अन्य लोग। 
पाली क्लिनिक पर वैक्सीन लगवाने जाए तो यहां लोगो के नाम पुकारते हुए और अपने ही निराले अंदाज में लोगो से बतियाते सेवादल कांग्रेस के शहर अध्यक्ष सिंटू कटारे दिखेंगे। रजिस्ट्रेशन खिड़की पर  उनके साथ कुछ  लड़के लोगो के आधार कार्ड लेते हुए मिलेंगे । यदि फोटो कॉपी नही है तो एक पर्ची पर नाम मोबाइल नम्बर लिखकर देते है।  एक खिड़की  के बाहर जमा लोगो को नाम लेकर बुलाते है और सोशल डिस्टेंस के साथ वैक्सीन लगवाने की हिदायत देते है। यहां चारों तरफ कुर्सियां और बेंच रखी है। जिनपर लोग बैठे रहते अपने नम्बर के इंतजार में। गर्मी से बचने एक बड़ा पर्दा  भी लगा हुआ है। अस्पताल का पूरा स्टॉफको बड़ी राहत इन युवाओं से मिल रही है। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

यदि वैक्सीन खत्म हो जाये तो घण्टो इंतजार कर रहे लोगो की नाराजगी ब्यहि बनती है। ये टीम उनको मनाने का काम करती है। पिछले एक महीने से अधिक समय से सिंटू कटारे और उनके साथी दिनभर समय देते है। आज से यह सेंटर रविशंकर स्कूल में चला गया है। 
सेवादल के अध्यक्ष सिंटू कटारे कहते है कि यहां परेशानियां देखी तो सेवादल ने यह लोगो की मदद करना शुरू किया। लोगो को फोन से भी बुलाते है। वैक्सीन खत्म होने पर मना भी लेते है। 
उधर पाली क्लिनिक की प्रभारी मेडिकल आफीसर डॉ सलोनी बताती है कि रोजाना 4 - 5  सो लोग आते है। इनमे परिजन भी  रहते है। व्यवस्थाओं को सभालेने में हमारा स्टाफ और सिंटू कटारे और उनके साथियों की मदद मिल रही है।
उधर जब लोगो को बड़े आराम से वैक्सीन लगती है तो लोग सराहना भी करते है।  परिजन के साथ आये चंदन सुहाने तारीफ भी करते है। 


गरीबो को राशन वितरण किया शुरू

उधर सेवादल ने  आज से ढूंढावली हनुमान मंदिर के प्रांगण में मजदूर-गरीब परिवारों की कामकाजी महिलाओ को राशन वितरित करना शुरू कर दिया है। । राशन में दाल- आटा- चावल-बिस्किट-दूध आदि करीब दो दर्जन परिवारों को वितरित किया । 
जैसा कि विदित है कि कांग्रेस सेवादल ने पिछले लाकडाऊन में करीब 104 दिन तक लगभग 3000 परिवारों की राशन से मदद की थी। सेवादल अध्यक्ष ने इन्ही महिलाओं को कोरोना की सावधानियो से जागृत किया और बार-बार हाथ धोने की सलाह दी।राशन वितरण में सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा गया ।
आज सेवादल अध्यक्ष के साथ ब्लाकाध्यक्ष नितिन पचौरी,जयदीप यादव, प्रवीण यादव,आकाश नामदेव,प्रवीण यादव,नवीन यादव,अंकुर यादव,आदि सदस्य मोजूद थे।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


सुखद खबर.. डॉ सत्येंद्र मिश्रा 6-7 मई तक सागर आएंगे


सुखद खबर..
डॉ सत्येंद्र मिश्रा 6-7 मई तक सागर आएंगे


सागर।कहते हैं....जब दुआएं अनंत हो तो दवाएं भी उतनी तेजी से अपना असर दिखाती हैं। यही हुआ  बीएमसी के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ सत्येंद्र मिश्रा के साथ लाखों दुआएं उनके साथ थी लगभग 12 दिन से हैदराबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती डॉ मिश्रा आईसीयू से निकलकर सांस ठीक करने (रेस्पियरी यूनिट) में पहुंच गए हैं और सब कुछ ठीक-ठाक होने पर 6-7 मई तक उनकी वहां से छुट्टी हो जाएगी।
आज उन्होंने डॉक्टरों से कहा मेरी छुट्टी कर दो तो डॉक्टरों ने भी जवाब दे दिया कि मिश्रा जी आपके हिसाब से तो हम लोगों ने आपका इलाज कर दिया है लेकिन छुट्टी तो हमारे हिसाब से ही होगी डॉक्टर साब ने भी कह दिया ठीक है जो आप समझे सच बात है वेंटिलेटर निकल चुका है। दो-तीन दिन में ऑक्सीजन का लेवल (बगैर ऑक्सीजन लगाये) 95- 97 तक होने की उम्मीद है पूरा स्टाफ बहुत प्रसन्न है लाखों में एक आध मरीज होता है जो इतने जल्दी ठीक होता है वहाँ के डॉक्टरों से भी डॉ मिश्रा ने कहा हजारों लाखों शुभचिंतकों ने अपनी दुआएं भी आपकी दवाओं के साथ हमें दी हैं इसलिए हम जल्दी ठीक हो गए। जल्दी ही फिर हम मरीजों की सेवा में हाजिर हो जाएंगे।
डॉ सत्येंद्र मिश्रा ने कहा कोरोना से डरने का काम नहीं है अपना आत्मविश्वास मजबूत रखें आपको कुछ नहीं होगा।  डॉ मिश्रा के भाई अशोक मिश्रा ने कहा कि सब कुछ दुआओं का असर है यह दुआएं इतनी ताकतवर थी कि डॉक्टर साब ठीक हो करके आ रहे हैं हम लोगों को इंतजार है उनके सागर पहुंचने का और भाग्योदय तीर्थ अस्पताल के उन सभी डॉक्टरों और ट्रस्टीयों को भी इंतजार है डॉ साब को सागर पहुंचने पर उनके स्वागत किया जायेगा। 
---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

SAGAR: 9 हजार से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जंग जीती ★ आज बीएमसी से 38 मरीज स्वस्थ्य होकर घर गए

SAGAR: 9 हजार से  अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जंग जीती
★ आज बीएमसी से 38 मरीज स्वस्थ्य होकर घर गए
सागर । यदि व्यक्ति अपना आत्मबल और मनोबल बनाए रखें तो यह कोरोना संक्रमण को आसानी से जीता जा सकता है जिसकी सागर जिले में अब तक नो हजार 445 लोगों ने कोरोना संक्रमण को मात देकर जीत हासिल की है।
यहां बताना चाहेंगे कि सागर जिले में आज दिनांक तक 2 लाख 52 हजार 459 लोगों द्वारा कोरोना संक्रमण की जांच कराई थी जिसमें से 2 लाख 49 हजार 654  लोगों की जांच रिपोर्ट परीक्षण की गई । 2 लाख 49 हजार 654 लोगों की जांच रिपोर्ट के पश्चात 2 लाख 37 हजार 451व्यक्ति नेगेटिव पाए गए आज दिनांक तक सागर जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 11648 हैं जिनमें से 9445 व्यक्ति कोरोना संक्रमण बीमारी को मात देकर स्वस्थ होकर अपने  घर पहुंचे ।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


जिले में 2030 एक्टिव केस

सागर जिले में आज दिनांक तक 2030 कुल एक्टिव केस है जो कि विभिन्न अस्पतालों एवं होम आइसोलेशन में उपचाररत है। 2030 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों में से 1416 व्यक्ति  होम आइसोलेशन में कोरोना संक्रमण बीमारी के लिए उपचार रत है।  173 लोगो का कोरोना संक्रमित बीमारी के दौरान उनका निधन हो गया।  होम आइसोलेट व्यक्तियों के लिए स्मार्ट सिटी कार्यालय में बनाए गए कोरोना कमांड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से प्रतिदिन दिन में दो बार वीडियो कॉलिंग के माध्यम से डॉक्टरों द्वारा उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराया जा रहा है। इस प्रकार मध्य प्रदेश की पॉजिटिव रेट 7.1 है वही सागर जिले की पॉजीटिव रेट 4.5 आंकी गई है। इसी प्रकार मध्यप्रदेश की रिकवरी रेट 82.36 है तो वही सागर जिले की 80.96 दर्ज की गई है । अब बात करें विगत 7 दिनों की तो आज पॉजिटिव रेट मध्य प्रदेश की 23.3 दर्ज की गई है, तो सागर जिले की 18.79 पर दर्ज की गई है। 

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज से 38 व्यक्तियों ने जीती कोरोना की जंग

उधर बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज शनिवार के दिन कई लोगों के लिए सुखद खबर लेकर आया। यहाँ 38 व्यक्तियों ने कोरोना को हराया और अपने सामान्य जीवन में वापस लौटे। बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज से आई यह सुखद खबर कोरोना संक्रमण की लड़ाई लड़ रहे 38 व्यक्तियों को जिंदगी की खुशी दे गया।
संभाग आयुक्त एवं बीएमसी के अध्यक्ष श मुकेश शुक्ला ने बीएमसी से 38 व्यक्तियों के डिस्चार्ज होने पर ख़ुशी व्यक्त करते हुए उन सभी व्यक्तियों और उनके परिवार जनों को शुभकामनाएं दी हैं।
 बीएमसी के अधीक्षक डॉ एस के पिप्पल ने बताया कि, कोविड वार्ड में उपचाररत इन व्यक्तियों का संपूर्ण परीक्षण करने के उपरांत शनिवार को 38 व्यक्तियों को बीएमसी से डिस्चार्ज किया गया। उन्होंने यह भी बताया कि जिन व्यक्तियों को आज डिस्चार्ज कर घर भेजा गया है, उन्हें बीएमसी प्रबंधन द्वारा कुछ निर्देश भी दिए गए हैं जिसके तहत वे प्रतिदिन अपनी ऑक्सीजन एवं तापमान की रीडिंग लेकर 1 सप्ताह तक दर्ज कराएँगे और स्वयं को घर पर ही आइसोलेट करेंगे।
उन्होंने बताया कि समस्त व्यक्तियों को यह सलाह भी दी गई है कि वे प्रतिदिन गर्म पानी पीयें एवं दिन में तीन बार भाप अवश्य लें।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

SAGAR : मेडिकल स्टोर, फार्मासिस्ट्स, ड्रगिस्ट एवं कैमिस्ट्स को कोरोना संक्रमण के लक्षणों से मिलते-जुलते उपचार, परीक्षण के लिए आने वालों की जानकारी रखना होगी

SAGAR : मेडिकल स्टोर, फार्मासिस्ट्स, ड्रगिस्ट एवं कैमिस्ट्स को  कोरोना संक्रमण के लक्षणों से मिलते-जुलते उपचार, परीक्षण के लिए आने वालों की जानकारी रखना होगी


सागर।  कलेक्टर श्री दीपक सिंह द्वारा वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के फैलाव को नियंत्रित करने एवं बचाव की दृष्टि से आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 तथा मध्यप्रदेश पब्लिक हेल्थ एक्ट 1949 में निहित प्रावधानों के अंतर्गत , द. प्र.सं. 1973 की धारा 144 के अंतर्गत आदेश पारित किया गया है।
जारी आदेशानुसार सागर जिले में संचालित समस्त मेडिकल स्टोर संचालको, फार्मासिस्ट्स, ड्रगिस्ट एवं कैमिस्ट्स को आदेशित किया गया है कि उनके पास जो भी व्यक्ति सर्दी, खासी , जुखाम , तीन जवर, आईएलआई ( फेफडो में गंभीर संक्रमण ) जैसे कोरोना संक्रमण के लक्षणों से मिलते - जुलते उपचार की दवाईयां लेने के लिए निजी चिकित्सकों के प्रिस्क्रिप्शन लेकर या बिना किसी चिकित्सक के प्रिस्क्रिप्शन के आते है , तो ऐसे समस्त व्यक्तियों के नाम , पिता, पति का नाम , पूर्ण पता तथा मो.नं. एक रजिस्टर में अंकित करें तथा प्रतिदिन उक्त जानकारी जिला स्तरीय कोरोना कंट्रोल रूम स्मार्ट सिटी कार्यालय कलेक्टोरेट परिसर सागर को व्हाटसएप नंबर 07582-242802 पर तथा अनुभाग अंतर्गत संबंधित अनुविभागीय दण्डाधिकारी , विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारी को उपलब्ध करायें ।
सागर जिले में संचालित समस्त निजी चिकित्सालयों एवं सी.टी. स्कैन, एक्सरे संचालकों को आदेशित किया गया है उनके पास जो भी व्यक्ति सदी , खांसी , जुखाम , ज्वर , आईएलआई ( फेफड़ों में गंभीर संक्रमण ) जैसे कोरोना संक्रमण के लक्षणों से मिलते - जुलते उपचार, परीक्षण हेतु आते है , तो ऐसे समस्त व्यक्तियों के नाम , पिता, पति का नाम , पूर्ण पता तथा फोन , एक रजिस्टर में अंकित करे तथा प्रतिदिन उक्त जानकारी जिला स्तरीय कोरोना कट्रोल रूम , स्मार्ट सिटी कार्यालय कलेक्टोरेट परिसर सागर को व्हाटसएप नंबर 07582-242802 पर तथा अनुभाग अंतर्गत संबंधित अनुविभागीय दण्डाधिकारी , विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारी को उपलब्ध करावे ।
सागर जिले में उक्त्तानुसार सर्दी , खांसी , जुखाम , तीव्र ज्वर की दवाई लेने वाले व्यक्तियों के लिए अनिवार्य होगा कि वे अपना पूर्ण नाम , पता , मोबाइल नम्बर एवं अन्य जानकारी संबंधित मेडीकल स्टोर्स को अनिवार्यत उपलब्ध करावें।
अतः यह आदेश एक पक्षीय रूप से पारित किया गया है इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध भा 0 द 0 स 0 की धारा 188 के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी । यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू किया गया है।


 

शुक्रवार, 30 अप्रैल 2021

बीएमसी की व्यवस्थाएँ दुरुस्त करने और कोरोना संक्रमण रोकने ठोस कदम उठाएँ : मंत्री गोपाल भार्गव

बीएमसी की व्यवस्थाएँ दुरुस्त करने और कोरोना संक्रमण रोकने ठोस कदम उठाएँ : मंत्री गोपाल भार्गव

सागर । चिकित्सा सुविधा के क्षेत्र में सागर संभाग के प्रमुख बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के संबंध में लोक निर्माण विभाग एवं सागर के प्रभारी मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने निर्देश दिए हैं कि यहाँ की व्यवस्थाएँ शीघ्र ही दुरुस्त की जाएँ। कोरोना संक्रमण तथा इसके फैलाव ंको रोकने हेतु हर स्तर पर प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं। वर्तमान समय में आवश्यक है कि लगातार ऊर्जा के साथ सक्रिय रहते हुए सही दिशा में कार्य किया जाए।
उन्होंने कहा कि कंटेंन्मेंट क्षेत्र में सख्ती बरतकर यह सुनिश्चित किया जाए कि संक्रमण और ना फैले। संक्रमित मरीजों के संपर्क में आये व्यक्तियों की भी यह जिम्मेदारी है कि वे तत्काल अपना परीक्षण कराएँ साथ ही अपने संपर्क की चेन को तोड़ें।
कोरोना नियंत्रण की समीक्षा बैठक में शामिल हुए नगरीय विकास एवं आवास विभाग मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रत्येक विकासखंड में बने कोविड केयर सेंटर भी प्रभावी रूप से कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कोरोना कर्फ्यू का और सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण को रोकने का एकमात्र उपाय संक्रमण की चेन को तोड़ना है।


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

इस अवसर पर सांसद  राजबहादुर सिंह, विधायक शैलेंद्र जैन,  हीरा सिंह राजपूत, शैलेश केशरवानी, कमिष्नर  मुकेश शुक्ला, कलेक्टर दीपक सिंह, पुलिस अधीक्षक श अतुल सिंह, डीआईजी  राम शंकर डेहरिया उपस्थित थे।                  

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

 

ग्वालियर: एसपी अमित सांघी कोरोना संक्रमित पुलिसकर्मियों के परिजनों और होम आईसोलेट पुलिस अफसरों/कर्मियों के मिलने पहुचे घर ★ हालचाल जाना और ध्यान रखने को कहा # पहल


ग्वालियर: एसपी अमित सांघी कोरोना संक्रमित पुलिसकर्मियों के परिजनों और होम आईसोलेट पुलिस अफसरों/कर्मियों के मिलने पहुचे घर
★ हालचाल जाना और ध्यान रखने को कहा

# पहल

ग्वालियर । कोरोना संक्रमण की चपेट में पुलिस महकमा भी बुरी तरह से है। इन  कोरोना वारियर्स  और उनके परिजनों का ख्याल रखने की जिम्मेदारी भी विभाग के मुखिया की है। इस दिशा में एक तस्वीर ग्वालियर से सामने आई है। ग्वालियर एसपी अमित सांघी आज कोरोना संक्रमित अधिकारियों और कर्मियों के घर गए । इसी के साथ होम आईसोलेट पुलिस वालों के यहां भी  गए। उनका हालचाल जाना। उनकी जरूरतों को पूरा करने के निर्देश दिए। यही नही जहां भी ऐसे पुलिस कर्मी है वहा आधिकारियो को भेजा। ताकि मनोबल बना रहे। उनकी पहल को सोशल मीडिया पर सराहा ब्यहि जा रहा है। 

पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी
ने एक पहल करते हुए ग्वालियर पुलिस के अधिकारियों को कोरोना महामारी से संक्रमित हुए पुलिसकर्मियों के परिजनों का हालचाल जानने के लिये उनके घर भेजा। पुलिस अधीक्षक  की इस नई पहल का मुख्य उद्देश्य कोरोना महामारी से संक्रमित हुए पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों की सेहत पर नजर रखना तथा पुलिस विभाग के जवानों व अधिकारियों को कोरोना संक्रमण से बचाव करना है।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे
ट्वीटर  फॉलो करें

वेबसाईट


इस पहल के तहत पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ने पुलिस लाइन में निवासरत कोरोना से संक्रमित पुलिस अधिकारी एवं कर्मचारियों से मुलाकात उनकी तबीयत के बारे में जानकारी ली साथ ही उनसे कहा कि पुलिस एक परिवार है और इस
संकट की घड़ी में पूरा पुलिस परियार आपके साथ है। हम सभी को मिलजुल कर ही इस महामारी से छुटकारा पाना होगा, इसके लिये पुलिस को सभी के सहयोग की नितांत आवश्यकता है।पुलिस
अधिकारियों ने उनको समझाइश देते हुए कहा कि आप स्वंय भी अपना ध्यान रखें. हमेशा मास्क का इस्तेमाल करें बिना वजह घर से बाहर ना निकलें और अपने
आस-पास के लोगों को भी इस महामारी से बचाव के लिये । पुलिस अधीक्षक द्वारा ग्वालियर में बने क्वारेंटाइन भवन की निरीक्षण भी किया। 


#पहल
ये है ग्वालियर के एसपी #अमित #सांघी कोरोना संक्रमित पुलिसकर्मियों के परिजनों और होम आईसोलेट पुलिस अफसरों/कर्मियों के घर मिलने पहुचे। उनका हालचाल जाना और ध्यान रखने को कहा।

@ChouhanShivraj @DGP_MP @brajeshabpnews



एसपी ग्वालियर के साथ-साथ अतिरिक्त  पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण श्रीमती हितिका वासल, अति0 पुलिस अधीक्षक शहर पश्चिम  सत्येन्द्र सिंह तोमर, अति० पुलिस अधीक्षक शहर ,पूर्व श्रीमती सुमन गुर्जर तथा नगर पुलिस अधीक्षक महाराजपुरा  रवि भदौरिया, नगर पुलिस अधीक्षक मुरार  आर०एन० पचौरी, नगर पुलिस अधीक्षक ग्वालियर नागेन्द्र सिंह सिकरवार, नगर पुलिस अधीक्षक
विश्वविद्यालय  विजय भदौरिया, नगर पुलिस अधीक्षक लश्कर आत्माराम शर्मा, नगर पुलिस अधीक्षक इंदरगंज  उमेश द्विवेदी व रक्षित निरीक्षक पुलिस लाइन  रंजीत सिंह द्वारा भी  अपने-अपने क्षेत्र में निवासरत कोरोना महामारी से संक्रमित हुए पुलिसकर्मियों के निवास पर पहुंचकर
उनके परिजनों से मुलाकात कर उन्हे फल भेट कर उनकी समस्याओं को जाना। पुलिस अधिकारियों द्वारा सभी परिवारों को आर्युवेदिक महाविद्यालय द्वारा प्रदाय किया गया "काढा' प्रदान किया व उनको
प्रतिदिन इनका सेवन करने के लिये कहा।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

रेमडेसिविर बेचते पकड़ाए दो निजी डॉक्टरों को मिली जमानत, कोर्ट ने रखी शर्त कि 15 दिन कोविड हॉस्पिटल में करेंगे सेवा


रेमडेसिविर बेचते पकड़ाए दो निजी डॉक्टरों को मिली जमानत, कोर्ट ने रखी शर्त कि 15 दिन कोविड हॉस्पिटल में करेंगे सेवा
 


सूरत। गुजरात के सूरत शहर की एक अदालत ने दो निजी चिकित्सकों को इस शर्त पर जमानत दी है कि वे सूरत सिविल अस्पताल में 15 दिन तक कोविड-19 रोगियों की देखभाल करेंगे. दोनों चिकित्सकों को कथित तौर पर रेमडेसिविर की कालाबाजारी करते पकड़ा गया था. अतिरिक्त मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी आर. ए. अग्रवाल ने 
यह आदेश पारित किया.

अदालत ने डॉ. साहिल घोघारी और डॉ. हितेश डाभी से कहा कि शुक्रवार से 15 दिन के लिए सिविल अस्पताल में कोरोना वायरस रोगियों की सेवा करें. दोनों चिकित्सक सूरत के निवासी हैं और निजी तौर पर मेडिकल प्रैक्टिस करते हैं.

उन्हें जमानत देते हुए मजिस्ट्रेट ने कहा कि महामारी के कारण चिकित्सकों की कमी है और यह समाज के हित में है कि दोनों चिकित्सकों को ''कोविड-19 से पीड़ित लोगों का उपचार'' करने के लिए सिविल अस्पताल में तैनात किया जाए.


अदालत ने सिविल अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि दोनों चिकित्सकों की सेवा हासिल करने के लिए आवश्यक प्रबंध किए जाएं और 15 दिन के बाद उनके काम को लेकर रिपोर्ट सौंपी जाए. इसने आरोपी चिकित्सकों को अदालत की अनुमति के बगैर गुजरात नहीं छोड़ने के आदेश दिए.

सूरत पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते पांच लोगों को 25 अप्रैल को पकड़ा था जिसमें डाभी और घोघारी भी थे. पुलिस ने उनसे इंजेक्शन की तीन शीशियां भी बरामद की थीं.

साभार । एबीपी न्यूज़

कोरोना काल में स्मार्ट बिजली एप बना मददगार, अपने मीटर की रीडिंग स्वयं भेज सकते है उपभोक्ता

कोरोना काल में स्मार्ट बिजली एप बना मददगार, अपने मीटर की रीडिंग स्वयं भेज सकते है उपभोक्ता

जबलपुर।कोरोना काल में स्मार्ट बिजली एप बिजली उपभोक्ताओं के लिए अत्यधिक उपयोगी साबित हो रहा है। कोविड -19 महामारी के कारण, इस माह निम्नदाब श्रेणी के बिजली उपभोक्ताओं के मीटर की रीडिंग करवाने में कठिनाई हो रही है । मीटर रीडर को बिजली उपभोक्ता के परिसर के बाहर लगे मीटर की रीडिंग करने के निर्देश दिए गए है । परिसर के अंदर लगे मीटर वाले उपभोक्ताओं को पिछले माह की रीडिंग के आधार पर ही बिल जारी किए जाएंगे ।


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

मध्य प्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत् वितरण कंपनी  क्षेत्र के बिजली उपभोक्तागण स्मार्ट बिजली एप के ''मीटर रीडिंग'' विकल्प का उपयोग करते हुए घर बैठे ही अपनी मीटर रीडिंग की फोटो अपलोड कर सकते हैं। 5 मई तक फोटो अपलोड करने पर अप्रेल माह की वास्तविक रीडिंग का बिल प्राप्त किया जा सकता है । स्मार्ट बिजली एप डाउनलोड करने के लिए कंपनी द्वारा बिजली उपभोक्ताओं के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर मैसेज के माध्यम से लिंक भेजी गई है। बिजली उपभोक्ता स्मार्ट बिजली एप को गूगल प्ले स्टोर से भी डाउनलोड कर सकते हैं तथा एप में उपलब्ध अन्य सुविधाओं का उपयोग कर बिजली संबंधी किसी भी समस्या का निराकरण करवा सकते हैं ।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


बेटी वैष्णवी के इलाज में करेंगे हर संभव प्रयास: विधायक शैलेन्द्र जैन

बेटी वैष्णवी के इलाज में करेंगे हर संभव प्रयास: विधायक शैलेन्द्र जैन 

सागर। सागर बाघराज वार्ड की निवासी बेटी वैष्णवी सोनी जो कि पायलोनेफ्राइटिस नामक किडनी की गंभीर बीमारी से पीड़ित है, जिसकी जानकारी सोशल मीडिया के माध्यम से विधायक शैलेन्द्र जैन को लगी तो तुरंत विधायक शैलेन्द्र जैन ने तत्परता दिखाते हुये बेटी वैष्णवी सोनी के भाई से दूरभाष पर संपर्क कर बेटी वैष्णवी का स्वास्थ्य हाल जाना एवं सभी रिपोर्ट्स अपने पास मंगवाई। रिपोटर््स को शीघ्र अतिशीघ्र भोपाल एवं इंदौर के विशेषज्ञ डॉक्टरों से सांझा कर बेटी वैष्णवी के उचित इलाज की व्यवस्था करने का आश्वासन दिया। उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व भी विधायक शैलेन्द्र जैन ने सागर की बेटी शृष्टि चैरसिया के बोन मेरो एवं बेटी साक्षी राजौरिया के लीवर ट्रांसप्लांट के लिये मुख्यमंत्री जी से राशि स्वीकृत कराकर एवं व्यक्तिगत सहयोग प्रदान कर पूर्ण सुविधायें उपलब्ध कराई थी। विधायक शैलेन्द्र जैन नगर की जनता के स्वास्थ्य के प्रति हमेशा सजग रहते है। प्रत्येक रविवार को मिशन मुस्कान के तहत जन्म से लेकर 14 वर्ष तक की उम्र के बच्चों का निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर अभियान चलाया था, जिसे कोरोना वैश्विक महामारी के चलते रोक दिया गया था। सागर विधायक शैलेन्द्र जैन सागर नगर की जतना के लिये तत्पर रहकर आगे आकर सेवा भाव के साथ कार्य करते ह

---------------------------- 


 तीनबत्ती न्यूज़. कॉम 

★ 94244 37885

 -----------------------------     

गुरुवार, 29 अप्रैल 2021

SAGAR : एक ही परिवार में ड्राईवर सहित 15 सदस्य निकले कोरोना पाजिटिव

SAGAR : एक ही परिवार में ड्राईवर सहित 15 सदस्य निकले कोरोना पाजिटिव 

★ प्रशासन पहुचा घर,सतर्क रहने की दी सलाह, सभी आईसोलेट , परिवार में है 25 सदस्य है 



सागर। कोरोना का कहर पूरे परिवार को चपेट में ले रहा है। सागर जिले के एक गांव के एक परिवार में ड्राईवर सहित 15 लोगो के एक साथ संक्रमित हो गए। इसकी खबर लगते ही प्रशासन सकते में आ गया। तत्काल नायब तहसीलदार और स्वास्थ्य विभाग का अमला पहुचा। 

साग़र जिले की जरुवाखेड़ा चौकी अंतर्गत मूडरा ग्राम मैं एक राजपूत परिवार में
एक ड्राईवर समेत 15 सदस्यों की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई है । सभी को आईसोलेट कर दिया। परिवार में 25 सदस्य है। महिलाये ,बच्चे और बुजुर्ग सभी संक्रमित हुए है। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


नायाब तहसीलद्वार  जैन ने  बताया कि वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन से पता चला कि जरूवाखेड़ा मूडरा ग्राम में एक परिवार में 25 लोग हैं जहां 27 अप्रैल को ड्राइवर सहित एक ही परिवार के 15 लोगों की कोरोंना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जानकारी लगते ही  नायाव तहसीलद्वार सहित स्वस्थ कर्मी उन के परिवार से मिले और सभी को होम आइसोलेट कर दिया गया,वही स्वस्थ विभाग की टीम मे घर पर पर्चा चस्पा किया और दवाईया दी, और सभी को घर में ही रहने मार्क्स लगाने एवं बार-बार हाथों को साबुन से धोने की सलाह दी।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

रेमडेसिविर इंजेक्शन : 15 बाक्स आये सागर , मिले 720 इंजेक्शन

रेमडेसिविर इंजेक्शन : 15 बाक्स आये सागर , मिले 720 इंजेक्शन

सागर । कोरोना संक्रमितों के इलाज हेतु उपयोग में लाए जाने वाले 720 रेमडेसिविर इंजेक्शन को स्टेट प्लेन के माध्यम से सागर की ढाना हवाई पट्टी पहुंचे। यहाँ कलेक्टर श्री दीपक सिंह के निर्देश पर औषधि निरीक्षक प्रीत स्वरूप ने 15 बाक्सों में कुल 720 इंजेक्शन प्राप्त किये।
कोरोना मारामारी के इस दौर में राज्य शासन द्वारा कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु अत्यावश्यक संसाधनों की आपूर्ति के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इसी तारतम्य में रविवार को रेमडेसिवीर इंजेक्शन के 15 बॉक्स ढाना हवाई पट्टी पहुंचे।औषधि निरीक्षक   प्रीत स्वरूप, डॉ अजेन्द्रनाथ प्रजापती  श अरुण प्रजापति द्वारा ढाना हवाई पट्टी से रेमडेसिवीर इंजेक्शन के 15 बॉक्स   में 720 इंजेक्शन प्राप्त किये गये। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


बीना में 1000 बिस्तरों का कोविड अस्पताल समय सीमा में शुरू हो, मुख्यमंत्री ने की समीक्षा ★ कलेक्टर ने किया स्थल का निरीक्षण

बीना में 1000 बिस्तरों का कोविड अस्पताल समय सीमा में शुरू हो, मुख्यमंत्री ने की समीक्षा 

★ कलेक्टर ने किया स्थल का निरीक्षण

भोपाल/ साग़र । मुख्यमंत्री श Shivraj Singh Chouhan ने बीना रिफाइनरी में निर्माणधीन अस्थाई अस्पताल की समीक्षा की। बीना रिफाइनरी के पास ग्राम चक्क (आगासोद) में 1000 बिस्तरों का कोविड अस्पताल तैयार किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अस्पताल को समय-सीमा में प्रारंभ करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिये। वर्चुअल समीक्षा बैठक में अपर मुख्य सचिव श्री मोहम्मद सुलेमान, प्रमुख सचिव नीरज मंडलोई, आयुक्त स्वास्थ्य श्री आकाश त्रिपाठी भी उपस्थित थे। साग़र से प्रभारी और नगरीय प्रशासन मन्त्री भूपेंद्र सिंह  जुड़े।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अस्पताल निर्माण के संबंध में टाइम लाइन के अनुसार व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। बताया गया कि अस्पताल का अंतिम डिजाइन तैयार कर लिया गया है। अस्पताल में ऑक्सीजन गैस को कम्प्रेस करने के लिए 2 कम्प्रेसर की व्यवस्था कर ली गई है। इन्हें इन्स्टाल करने की कार्रवाई शीघ्र पूरी कर ली जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अस्पताल परियोजना के प्रतिवेदन तैयार कर सक्षम स्वीकृति के लिए समानांतर पेपर वर्क भी पूरा करें। परियोजना की समीक्षा के लिए संभाग एवं राज्य स्तरीय समितियों का गठन भी कर लिया जाए।
अपर मुख्य सचिव श्री सुलेमान ने बताया कि यह अस्पताल रिफरल होगा। इसमें केवल अन्य अस्पतालों द्वारा रिफर किए गये मरीजों को देखा जाएगा। उन्होंने कहा कि अभी सीधे ओपीडी के पेशेन्ट अटेंड नहीं किए जाएंगे। सीधे ओपीडी के संबंध में परिस्थिति अनुसार भविष्य में निर्णय  किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्लांट से अस्पताल तक 800 मीटर लंबी पाईप लाइन डाली जा रही है। इसके लिए एक दो दिन में पाईप आ जायेंगे। लाईन बिछाने का काम शीघ्र प्रारंभ हो जाएगा। प्रमुख सचिव श्री नीरज मंडलोई ने बताया कि अस्पताल के अंदर बेड-टू-बेड पाइप लाईन का काम चलन में है, जिसे 8 से 10 दिन में पूरा कर लिया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि बीना रिफायनरी के पास चक्क गाँव  में 1000 बिस्तरीय अस्थाई अस्पताल बनाया जा रहा है। बीना में ऑक्सीजन गैस की उपलब्धता है परंतु सिलेण्डरों के माध्यम से इसका परिवहन नहीं किये जा सकने के कारण बीना में ही अस्पताल निर्माण का कार्य किया जा रहा है। इससे उपलब्ध ऑक्सीजन का उपयोग भी हो सकेगा एवं स्थानीय मरीजों को भी यथा स्थान उपचार मिल सकेगा।

नगरीय प्रशासन मन्त्री भूपेंद्र सिंह का ट्वीट

आज माननीय मुख्यमंत्री श्री @ChouhanShivraj जी ने बीना रिफायनरी के पास बनने वाले अस्थायी अस्पताल को लेकर समीक्षा की। माननीय मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में सभी अधिकारियों को समय सीमा में कार्य पूर्ण किये जाने को लेकर निर्देशित किया। 



तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


 कलेक्टर -पुलिस अधीक्षक के साथ ग निर्माणाधीन कोविड हॉस्पिटल की समीक्षा बैठक पश्चात किया स्थल निरीक्षण

ग्राम चक्क आगासौद में निर्माणाधीन 1000 बेडेड कोविड हॉस्पिटल की समीक्षा बैठक बीओआरएल के सभाकक्ष में सागर कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने पुलिस अधीक्षक श्री अतुल सिंह के साथ वीओआरएल एमपीईवी, पीएच्ई, पीडव्लूडी, एमपीआरडीसी आदि विभागों अधिकारीयों की उपस्थिति में ली एवं तेजी से कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।  
सम्बंधित विभाग अधिकारीयों ने अपनी कार्यप्रगति की बिंदुवार जानकारी बैठक में दी। जिसमें बताया गया की हॉस्पिटल डोम तक पानी सप्लाई हेतु पाईप लाईन पूर्णतः विछायी जा चुकी है। रोड नेटवर्क तैयार करने हेतु तेजी से कार्य किया जा रहा है, जल्द ही अप्रोच रोड कम्प्लीट किया जायेगा एवं मई तक पक्का डामल रोड तैयार हो जयेगा। इसके साथ ही एमपीईवी का सब स्टेशन एवं लाईन डालने का कार्य प्रगति पर है। सुरक्षा हेतु अस्थाई पुलिस चैकी बना कर, एसडीईआरएफ फोर्स एवं अन्य प्राइवेट सुरक्षा एजेंसीयों को लगाया जायेगा।

बैठक पश्चात कलेक्टर श्री सिंह ने निर्माणाधीन 1000 बेडेड हॉस्पिटल का स्थल निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।कलेक्टर श्री सिंह ने निर्देश दिए कि  रोड निर्माण के साथ ही प्रत्येक ब्लॉक सहित हॉस्पिटल की जानकारी लोगों को सहज प्राप्त हो इस हेतु व्य्वस्थित दिशासूचक लगाएं। साथ ही बीना एवं आसपास भी सड़कों पर 1000 बेडेड कोविड हॉस्पिटल के साइनेज एवं दिशासूचक लगाएं। ऑक्सीजन रिफलिंग प्लांट हेतु 1 एकड़ जमीन चिन्हित की गई है। कलेक्टर श्री सिंह ने निर्देश दिए कि अस्पताल आने वाले व्यक्तियों के वाहनों की सुरक्षित पार्किंग के लिए  हॉस्पिटल डोम के दोनों ओर व्य्वस्थित पार्किंग सहित बेहतर ट्रैफिक मूवमेंट प्लान तैयार करने हेतु निर्देशित किया। कलेक्टर श्री सिंह ने वीओआरएल के वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट के साथ ही ट्यूबबेल व कुए का भी निरीक्षण किया। एक आ स्थाई हेलीपेड भी तैयार किया जायेगा। कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने निर्देश दिए कि  अस्पताल परिसर के पास  ही कन्वेनियंस कॉम्प्लेक्स जैसे फलफ्रूट की दुकान आदि हेतु भी व्यवस्था बनाई जाये। इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी बीना श्री प्रकाश नायक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विक्रम सिंह एसडीओपी श्रीमती प्रिया सिंह ,  श्री हरिशंकर जयसवाल, श्री विजय सिंह, भारत ओमान  रिफाइनरी के वरिष्ठ अधिकारी सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे। 



---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

सैल्यूट है मुक्तिधाम के योद्धाओ... ★ 42 डिग्री तापमान, झुलसाने वाली गर्मी में पीपीई किट पहनकर अंतिम संस्कार में जुटे निगम के कर्मचारी ★ मुर्दाघर से लेकर मुक्तिधाम, कब्रिस्तान में धार्मिक रीति-रिवाज से करा रहे अंतिम संस्कार @चैतन्य सोनी

सैल्यूट है मुक्तिधाम के योद्धाओ...

★ 42 डिग्री तापमान, झुलसाने वाली गर्मी में पीपीई किट पहनकर अंतिम संस्कार में जुटे निगम के कर्मचारी 

★  मुर्दाघर से लेकर मुक्तिधाम, कब्रिस्तान में धार्मिक रीति-रिवाज से करा रहे अंतिम संस्कार

@चैतन्य सोनी

साग़र। तपती दोपहरी, सिर पर चिलचिलाता सूरज, श्मशान में धधकती चिताओं से लपलपाती लपटें,  इधर पीपीई किट के अंदर पसीने से तरबतर गश खाने को आतुर काया...फिर भी अनजाने, बेगाने कोरोना मृतकों के शवों को हाथों से उठाकर कभी चिताओं में जलाना, कभी कब्रिस्तान में सुपुर्दे खाक करना तो कभी केफीन में पैक कराकर दफनाना... बीते एक साल से यही उनकी दिनचर्या है। 

बीते दो महीनों में करीब 4 सैकड़ा लोगों को मुक्ति का मार्ग दिखा चुके नगर निगम के इन कोरोना योद्धाओं को हर कोई सैल्यूट कर रहा है।  दरअसल सागर नगर निगम के अधीन नरयावली नाका मुक्तिधाम, कब्रिस्तान और क्रिश्चियन कब्रिस्तान में कोरोना मृतकों के उनके धार्मिक रीति-रिवाज से अंतिम संस्कार, क्रियाकर्म कराया जा रहा है। बीएमसी और निगम से मिली जानकारी अनुसार बीते दो महीनों में ही कोरोना पॉजिटिव, कोरोना संदिग्धों में कई सैकड़ों का अंतिम संस्कार कराया जा चुका है। इसमें आये दिन दो दर्जन के आसपास अंतिम संस्कार हो रहे हैं। 

ऐसे दौर में जब किसी कोरोना मृतक के परिजन अपने चहेते की मृत काया को हाथ लगाने से भी डरते हैं, पास नहीं जाते, ऐसे दौर में ये स्वीपर कोरोना योद्धा की तरह अस्पताल के पोस्ट मार्टम हाउस से उठाकर वाहन में रखकर मुक्तिधाम, कब्रिस्तान पहुंचाते हैं। यहां तपती दोपहरी में पीपीई किट पहनकर योद्धाओं की दूसरी टोली उनके लिए चिताओं को सजाती है, विधि विधान से अन्तिमसंस्कार करती है। जबकि परिजन दूर छाया में खड़े होकर डर, भय के बीच  कातर भाव से बस प्रणाम कर इतिश्री कर लेते हैं। 

जाहिर है मुर्दाघर से मुक्तिधाम तक इन कोरोना योद्धाओं के काम, समर्पण को नकारा नहीं जा सकता। हम सभी को इनकी हौसला अफजाई करना चाहिए, इन्हें सहयोग व सपोर्ट करना चाहिए। 
हमारी तरफ से इनके काम, साहस, जज्बे और समर्पण को सलाम...

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

बुधवार, 28 अप्रैल 2021

भाजपा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष व विधायक प्रदीप लारिया हुए कोरोना पाजिटिव, करीब एक घण्टे रहे बैठकों में ★ तीन दिन में केबिनैट मन्त्री सहित तीन विधायक संक्रमित

भाजपा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष व विधायक प्रदीप लारिया हुए कोरोना पाजिटिव, करीब एक घण्टे रहे बैठकों में

★ तीन दिन में केबिनैट मन्त्री सहित तीन विधायक संक्रमित

साग़र। साग़र जिले के कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। सागर जिले अधिकांश जनप्रतिनिधि और परिजन कोरोना संक्रमण के शिकार बने है। आज भाजपा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष और साग़र जिले के नत्यावली विधायक प्रदीप लारिया की
रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई। इसकी उन्होंने सोशल मीडिया पर जानकारी दी।
आज प्रदीप लारिया ने कोरोना की समीक्षा बैठक में परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत , विधायक शेलेन्द्र जैन, जिला अध्यक्ष गौरव सीरोठिया, कमिश्नर मुकेश शुक्ला , कलेक्टर दीपक सिंह और एसपी अतुल सिंह सहित कई लोगो से मिलते जुलते रहे। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें

वेबसाईट



यहां बता दे जिले के आठ विधायकों में अभी तक छह संक्रमित हो चुके है। इनमे तीन स्वस्थ हो चुके। मन्त्री गोपाल भर्गव और पूर्व मंत्री हर्ष यादव पहले ही संक्रमित होकर स्वस्थ्य हो चुके है। परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत दस दिन पहले ही ठीक होकर आए है। नगरीय प्रशासन मन्त्री भूपेंद्र सिंह, बण्डा विधायक तरवर लोधी और प्रदीप लारिया पिछले तीन दिनों में पाजिटिव निकले। 


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

जहाँ ज़्यादा प्रकरण, वहाँ स्ट्रिक्ट कन्टेनमेंट बनाकर होगी कार्रवाई : कलेक्टर ★ संक्रमित क्षेत्र में सेनेटाइजेशन, सर्वे के साथ साथ सैंपलिंग के निर्देश

जहाँ ज़्यादा प्रकरण, वहाँ स्ट्रिक्ट कन्टेनमेंट बनाकर होगी कार्रवाई : कलेक्टर

★ संक्रमित क्षेत्र में सेनेटाइजेशन, सर्वे के साथ साथ सैंपलिंग के निर्देश


सगर ।  कलेक्टर  दीपक सिंह ने नगर निगम,रैपिड रिस्पॉन्स टीम और मेडिकल मोबाइल यूनिट की समीक्षा में निर्देश दिए कि, ऐसे क्षेत्र जहाँ कोरोना संक्रमण के ज़्यादा प्रकरण सामने आ रहे हैं वहाँ स्ट्रिक्ट कंटेन्मेंट बनाकर कार्रवाई की जाए। इन क्षेत्रों में किसी भी प्रकार की ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। संक्रमित क्षेत्र में रहने वाले सभी रहवासियों का सख़्ती से घर के अंदर रहना सुनिश्चित कराएँ। अन्यथा की स्थिति में वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।
कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि, संक्रमित क्षेत्र में नगर निगम द्वारा सेनेटाइजेशन का कार्य किया जा रहा है साथ ही महिला एवं बाल विकास एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा निरंतर सर्वे भी कराया जा रहा है। यहाँ सैंपलिंग बढ़ायी जाए साथ ही शासन द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार समय पर मैडिकल किट भी प्रदान की जाए।
उन्होंने निर्देश दिए है कि पूरी ताक़त के साथ कोविड केयर सेंटर, एस वी एन,  बीड़ी अस्पताल, तिली तथा मिलिट्री अस्पताल में लोगों को भर्ती किया जाए जिससे संक्रमण की चेन टूटे। उन्होंने कहा कि फीवर क्लीनिक की भी क्लोज मॉनिटरिंग की जाए। आवश्यकता पढ़ने पर फ्लाइंग स्क्वाड, नायब तहसीलदार आदि की फीवर क्लीनिक पर ड्यूटी लगायी जाए तथा वहाँ आये सिम्प्टोमेटिक प्रकरण को कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया जाए। 

दमोह में जनता कर्फ्यू के सख्ती से पालन के निर्देश दिए मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने

दमोह में जनता कर्फ्यू के सख्ती से पालन के निर्देश दिए मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने 
 
साग़र। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री एवं दमोह जिले के कोरोना नियंत्रण प्रभारी मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने कलेक्टर, सीएमएचओ एवं सिविल सर्जन से फोन पर चर्चा कर कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा की। श्री सिंह ने कलेक्टर और एसपी को जनता कर्फ्यू सख्ती के साथ लागू करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बिना वजह घर से बाहर निकलने वालों को समझाइश दें। साथ ही लोगों से मास्क लगाने की अपील करें। गौरतलब है कि मंत्री श्री सिंह की कोरोना रिपोर्ट पिछले दिनों पॉजिटव आयी थी। फिलहाल वे पूर्णतः स्वस्थ हैं और वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये विभागीय काम भी कर रहे हैं।

श्री सिंह ने कहा कि दमोह में ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये जबलपुर कमिश्नर से चर्चा हुई है। दमोह के लिए अब प्रति घण्टे 15 ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराए जायेंगे। एक दिन पहले 75 रेमडेसिविर इंजेक्शन दमोह पहुँचे थे, जरूरत के मुताबिक और इंजेक्शन की व्यवस्था की जा रही है। कोरोना मरीजों के लिए  बिस्तरों की संख्या बढ़ाने के प्रयास किये जा रहे हैं। टेस्ट संख्या और बढ़ायी जा रही है। अब तक दमोह के कोरोना सैम्पल की जाँच सागर में होती थी, लेकिन सागर में भी ज्यादा जाँच होने की वजह से दमोह के सैम्पल पुणे भेजे जा रहे हैं। इनकी रिपोर्ट 48 घण्टे के अंदर प्राप्त हो रही है।  


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन ★ अंदर की व्यवस्थाओं पर जताई नाराजगी ★ संभाग में जल्द खुलेगा बड़ा ऑक्सीजन प्लांट : मंत्री गोविंद सिंह राजपूत

SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

★ अंदर की व्यवस्थाओं पर जताई नाराजगी
★ संभाग में जल्द खुलेगा बड़ा ऑक्सीजन प्लांट  : मंत्री गोविंद सिंह राजपूत

सगर ।  कोरोना कहर को देखते हुए राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने जिला अस्पताल एवं बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया ।जिला अस्पताल में बनने वाले ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ऑक्सीजन प्लांट 10 दिन में तैयार होने की बात कही उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल में तैयार यह प्लांट रोज 100 बिस्तरों कि मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति करेगा, जिससे इसको कोरोना काल में मरीजों को बहुत मदद मिलेगी इसके अलावा जो भी चिकित्सा संबंधी सामग्री की आवश्यकता होगी वह उपलब्ध कराई जायेगी।

हर वार्ड में एक एमडी डॉक्टर की जिम्मेदारी तय हो

राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने कोरोना संकट को लेकर बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में कलेक्टर कमिश्नर तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की मीटिंग ली जिसमें उन्होंने निर्देशित किया कि हर वार्ड में 1 एमडी डॉक्टर की जिम्मेदारी तय की जाए ताकि वार्ड में व्यवस्थाएं बनी रहे वार्ड में डॉक्टर न होने से मरीज परेशान होते हैं खासतौर से इस समय हर वार्ड में डॉक्टरों की जिम्मेदारी तय होना बहुत जरूरी है इसलिए हर वार्ड में एक डॉक्टर की जिम्मेदारी तय की जाए।

शिफट वाईज लगायें ड्यूटी

श्री राजपूत ने बैठक में कहा कि इस संकट के समय चिकित्सकों को तथा स्वास्थ्य विभाग को निस्वार्थ और पूर्ण श्रद्धा से अपने कर्तव्य का पालन करना होगा अस्पताल में शिफ्ट वाइज ड्यूटी तय करके मरीजों को अच्छे से अच्छी व्यवस्था की जाए सुबह 8ः00 बजे से दोप. 2ः00 बजे तक 2ः00 से रात्रि 8ः00 तक तथा रात्रि 8ः00 बजे से सुबह 8ः00 बजे तक की ड्यूटी तय करके मरीजों की देखभाल की जाए शिफ्ट वाइज ड्यूटी से चिकित्सकों तथा स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों पर भी एक साथ भार नहीं आएगा और वह भी अच्छे से अपना काम कर पाएेंगे।

100 डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ की करें भर्ती

स्वास्थ्य विभाग में शुरू से ही चिकित्सकों की कमी है जिसके कारण कोरोना काल में स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हो रही है बैठक में राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने कमिश्नर को निर्देशित किया है कि स्वास्थ्य सेवाएं सुधारने के लिए तत्काल प्रभाव से 100 डाक्टरों तथा नर्सिंग स्टाफ की शीघ्र भर्ती की जाये। श्री राजपूत ने कहा कि यह नर्सों के लिए स्वर्णिम अवसर है वह अधिक से अधिक आवेदन कर नौकरी पाएं, ताकि लोगों की सेवा भी हो सके और उन्हें रोजगार भी मिल जाए।

डॉक्टरों की काउंसलिंग में शामिल होंगे मंत्री

राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने स्वास्थ्य विभाग में होने वाले नए डॉक्टरों की काउंसलिंग में शामिल होने की बात कही उन्होंने कहा कि अभी स्वास्थ्य विभाग में स्टाफ की कमी के कारण मरीजों को तथा स्वास्थ्य कर्मियों को भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है लेकिन जल्द ही स्वास्थ्य विभाग में 100 डाक्टरों तथा नर्सिंग स्टाफ की भर्ती की जाएगी, जिसमें उन्होंने कहा कि डॉक्टरों की काउंसलिंग में वह खुद शामिल होकर डॉक्टरों का उत्साहवर्धन करेंगें। स्वास्थ्य विभाग में स्टाफ की भर्ती होने के बाद बुंदेलखंड मेडीकल कॉलेज तथा जिला अस्पताल की बहुत सी समस्याएं कम हो जायेगी, जिसका लाभ मरीजों को मिलेगा।

समय पर मिले मरीजों को भोजन

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज की आए दिन अव्यवस्थाएं अखबारों की सुर्खियां बनती है जिसमें मुख्य रूप से पिछले दिनों भोजन की कमी को लेकर खबरें चल रही थी बैठक में श्री राजपूत ने संभागायुक्त को निर्देशित करते हुए कहा कि अस्पतालों में मरीजों को समय पर भोजन मिलना सुनिश्चित करें, यह आपकी जिम्मेदारी है क्योंकि अगर मरीजों को समय पर भोजन नहीं मिला तो उन्हें स्वास्थ्य लाभ जल्द नहीं मिल सकता भोजन समय पर मिलना प्रमुखता से आप अपनी प्राथमिकी में दर्ज करें, आगे से समय पर भोजन न मिलने की बात सामने नहीं आनी चाहिए।

अंदर की व्यवस्थाओं पर जताई नाराजगी

राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज पहुंचकर जायजा लिया तो कुछ परिजन पहुंचे जिन्होंने अंदर की व्यवस्थाओं को लेकर मंत्री से शिकायत की जिस पर राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने अधिकारियों से नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अंदर की व्यवस्थाएं जल्द ही दुरुस्त की जाए, मरीज व मरीजों के परिजन भीतर की व्यवस्थाओं से खुश नहीं है साथ ही उन्होंने हिदायत दी थी मरीजों व उनके परिजनों को पूरी जानकारी दी जाए क्योंकि अंदर की जानकारी ना मिलने से मरीज के परिजन परेशान रहते हैं। स्वास्थ्य विभाग अच्छा काम कर रहा है लेकिन मरीजों के परिजनों को जानकारी ना होने से परिजन परेशान होते हैं। जिससे स्वास्थ्य विभाग की छबि भी लोगों में अच्छी नहीं बन रही।

एक सप्ताह में चाहिए रिजल्ट

प्रदेश में अपने तेजतर्रार व्यक्तित्व के लिए जाने, जाने वाले राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने प्रशासनिक तथा स्वास्थ्य अधिकारियों को निरीक्षण के दौरान दो टूक शब्दों में कहा कि एक सप्ताह के भीतर बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज तथा जिला अस्पताल की व्यवस्थाओं में सुधार हो जाना चाहिए, इन्हीं समस्याओं को लेकर दोबारा बैठक नहीं लूंगा। उन्होंने मेडिकल कॉलेज तथा जिला अस्पताल की अव्यवस्थाओं को लेकर अधिकारियों से लगभग डेढ़ घंटे तक बातचीत की। अंत में उन्होंने कहा कि सरकार विभागों को हर संभव मदद करने के लिए प्रतिबद्ध है।

पुलिस कर्मियों को बांटी पीपीई किट

राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने जिला अस्पताल में खोले जा रहे ऑक्सीजन प्लांट तथा बीएमसी के निरीक्षण के दौरान बीएमसी तथा जिला अस्पताल में सुरक्षा के लिए लगे पुलिस कर्मियों को भारतीय जनता पार्टी तथा स्वयं के व्यय से पीपीई किट का वितरण किया। इस अवसर पर श्री राजपूत ने पुलिस कर्मियों से कहा कि आपके उपर बहुत बड़ी समाज की जिम्मेदारी है, सतर्क रहे और अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। निरीक्षण के दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष गौरव सिरोठिया, नगर विधायक शैलेंद्र जैन, संभागायुक्त मुकेश शुक्ला, जिला कलेक्टर दीपक सिंह, नगर निगम आयुक्त श्री अहिरवार, जिला सीईओ गढ़पाले, जिला अस्पताल के सिविल सर्जन तथा बीएमसी डीन सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मी शामिल रहे।
 है।

BMC का किया निरीक्षण और बेठक ली

मन्त्री गोविंद सिंह राजपूत ने बीएमसी परिसर में नगर पालिक निगम द्वारा संचालित कोरोना हेल्प डेस्क का निरीक्षण किया एवं यहां आने वाली सूचनाओं एवं उनके निराकरण की जानकारी ली। साथ ही अधिकारीयों के साथ बैठक कर बीएमसी में स्थापित कोविड-19 हॉस्पिटल की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान बताया गया की कुल 750 बेडेड हॉस्पिटल है जिसमें से 500 बेड कोरोना हेतु आरक्षित है। जिनमे से आईसीयू के 64 बेड है, एचडीयू के 200 बेड, सारी के 236 बेड है। वर्तमान में 494 मरीज कोरोना के भर्ती है। 12-12 किलो लीटर के दो ऑक्सीजन टेंकर है दैनिक खपत 7 किलो लीटर की है जो की अब सुचारु रूप से पूर्ति की जा रही है। यहां 160  मेडिकल डॉक्टर्स है। जो की अलग-अलग तीन शिफ्टों में कार्यरत हैं। 150 नर्स स्टॉफ कार्यरत है। इसके अलावा 30 अप्रेल बाद यहां के 100 मेडिकल इंटर्न डॉक्टर्स को भी लगाया जायेगा।

मंत्री श्री राजपूत ने निर्देशित करते हुए कहा की फ़ाइनल ईयर मेडिकल स्टूडेंट्स को बताये की कोविड पेसेंट्स का इलाज ही आपकी असली परीक्षा है। ऐसे मौक़े सभी को नहीं मिलते यहाँ आप अपने को साबित कर सकते हैं।  इसके साथ ही बीएमसी में भर्ती कोविड मरीजों की हर पल की खबर बीएमसी के बाहर उनके परिजनों को मिलती रहे इसकी तत्काल व्यबस्था की जाये एवं कहा की बीएमसी में सफाई व्यवस्था एवं भोजन आपूर्ति हेतु अनुबंधित एजेंसी को सख्त निर्देश दें की सारी व्यवस्था दुरुस्त रखें अन्यथा एजेंसी को प्रदेश में ब्लेकलिस्टेड किया जायेगा।

इस अवसर पर विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, जिला अध्यक्ष श्री गौरव सिरोठिया, संभागायुक्त श्री मुकेश शुक्ला, जिला कलेक्टर श्री दीपक सिंह, निगमायुक्त श्री आर पी अहिरवार, डॉ एस के पिप्पल मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बोद्ध सहित अन्य अधिकारी एवं डॉ आदि उपस्थित रहे ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

मंगलवार, 27 अप्रैल 2021

SAGAR : 4000 से अधिक व्यक्ति होम आइसोलेशन से हुए मुक्त

SAGAR : 4000 से अधिक व्यक्ति होम आइसोलेशन से हुए मुक्त


 
सागर । कोरोना संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के लिए कलेक्टर श्री दीपक सिंह के निर्देश पर नगर निगम कमिश्नर श्री आर पी अहिरवार की मार्गदर्शन में कोरोना कमांड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से जहां 24 घंटे होम आइसोलेट व्यक्तियों की निगरानी की जा रही है वहीं उनका वीडियो कॉलिंग के माध्यम से स्वास्थ्य परीक्षण कर उचित इलाज भी किया जा रहा है।
 नगर निगम कमिश्नर आर पी अहिरवार ने बताया कि मंगलवार को 4 हजार 9सौ  से अधिक व्यक्तियों को होम आइसोलेशनसे मुक्त  हुए। उन्होंने बताया कि अभी पूरे जिले में 6924 व्यक्ति होम आइसोलेट थे जिनका शतत परीक्षण एवं निगरानी की गई जिसके मद्देनजर आज 4952 व्यक्तियों को होम आइसोलेशन से मुक्ति मिली । उन्होंने बताया कि आप केवल 1972 व्यक्ति ही ओम आइसोलेशन में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं।
उन्होंने समस्त होम आइसोलेशन कर रहे व्यक्तियों से अपील की है कि वह कमांड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से आने वाले फोनों को अटेंड करें और अपने स्वास्थ्य के बारे में सही सही जानकारी प्रदान करें जिससे उनका समय पर एवं सही उपचार किया जा सके। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने आक्सीजन सप्लाई आधारित 1000 बेड के हॉस्पिटल के कामो का किया निरीक्षण ★ BORL केऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण कर आगे की रणनीति पर अधिकारियों से की चर्चा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने आक्सीजन सप्लाई आधारित 1000 बेड के हॉस्पिटल के कामो का किया निरीक्षण

★ BORL केऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण कर आगे की रणनीति पर अधिकारियों से की चर्चा

सागर । कोरोना के खिलाफ युद्ध स्तर पर संघर्ष जारी है। संक्रमित भाई-बहनों के बेहतर इलाज की व्यवस्था की जा रही है। राज्य शासन की दोहरी रणनीति है, जिसमें एक ओर संक्रमण को बढ़ने से रोका जा रहा है वहीं दूसरी ओर ऑक्सीजन की आपूर्ति लगातार सुनिश्चित की जा रही है। उक्त विचार मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भारत ओमान रिफाइनरीज लिमिटेड, बीना के समीप बनाए जा रहे अस्थाई अस्पताल के निरीक्षण के दौरान व्यक्त किए। इस मौके पर सीएम ने कुछ व्यवस्था बदलने के निर्देश भी दिए

उल्लेखनीय है कि, कोरोना संक्रमितों के उचित उपचार तथा संक्रमित व्यक्तियों को पर्याप्त ऑक्सीजन सप्लाई की व्यवस्था के उद्देश्य से बीओआरएल (भारत ओमान रिफाइनरीज लिमिटेड) के पास करीब पाँच सौ मीटर की दूरी पर एक अस्थाई अस्पताल बनाया जा रहा है। पिछले दिनों मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा निर्देश दिए गए थे कि इस दिशा में युद्ध स्तर पर कार्य प्रारंभ किया जाए जिसकी समीक्षा करने वे मंगलवार दोपहर स्वयं बीना पहुँचे जहाँ उन्होंने अस्पताल स्थल पर संपूर्ण कार्य योजना को समझा तथा प्रोजेक्ट- लेआउट और अन्य तैयारियों के बारे में जानकारी ली।

बता दें कि, बीना रिफाइनरी के पास ग्राम चक्क (आगासोद) में एक हजार पलंग की क्षमता वाला अस्थाई अस्पताल बनाया जा रहा है। जिसकी प्रगति की समीक्षा करने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान बीना रिफायनरी के पास स्थित ग्राम चक्क पहुंचे जहां उनके साथ सागर सांसद श्री राजबहादुर सिंह, लोक निर्माण विभाग मंत्री श्री गोपाल भार्गव, राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत, बीना विधायक श्री महेश राय, सिरोंज विधायक श्री उमाकांत शर्मा, अशोक नगर विधायक श्री जसपाल सिंह, नरयावली विधायक श्री प्रदीप लारिया, श्री हरी सिंह सप्रे, श्री गौरव सिरोठिया, संभागायुक्त श्री मुकेश कुमार शुक्ला, कलेक्टर श्री दीपक सिंह सहित, पुलिस अधीक्षक श्री अतुल सिंह, अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित रहे।

कोविड संक्रमितों के इलाज हेतु ग्राम चक्क में बन रहे इस अस्पताल में अन्य सुविधाओं के साथ मुख्य रूप से ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित की जाएगी।बीना रिफाइनरी के ऑक्सीजन प्लांट से इंडस्ट्रियल ऑक्सीजन को मेडिकल ऑक्सीजन में परिवर्तित कर रिफाइनरी से अस्थाई अस्पताल तक मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति लगातार बनी रहेगी।

हवा, पानी की उत्तम व्यवस्था और आग से बचाव का हो विशेष ध्यान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बीओआरएल में  आयोजित की गयी समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिये कि, अस्पताल निर्माण में हवा, पानी की उत्तम व्यवस्था हो और आग से बचाव का विशेष ध्यान रखा जाये। इस संबंध में रिफाइनरी के अधिकारियों द्वारा बताया गया कि, बीओआरएल के वॉटर सोर्स से करीब 4 हजार मीटर की पाईप लाईन द्वारा हॉस्पिटल डोम तक पानी पहुंचाया जायेगा। बीओआरएल में 12 लाख लीटर पानी की क्षमता के डववेल हैं। एक अनुमान के अनुसार लगभग 135 लीटर पानी प्रति दिन प्रति मरीज दिया जा सकेगा।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे

ट्वीटर  फॉलो करें

वेबसाईट

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिये कि, इस अस्थाई अस्पताल के लिए डॉक्टर, पेरामेडिकल स्टॉफ, चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी आदि बाहर से आएँगे अतरू उनके रुकने का अच्छा इंतजाम किया जाए एवं तत्काल 100 बिस्तरों का अस्पताल तैयार कर उसका प्रारंभिक परीक्षण कराया जाये।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, चूँकि मरीज ज्यादा चल नहीं सकता, अतरू उसकी सुविधा हेतु शौचालय ज्यादा दूर नहीं होना चाहिए। इसके अतिरिक्त अस्पताल के पास में ही लैब होना चाहिए। उन्होंने बिजली की लाइन का सब स्टेशन तत्काल तैयार करने और निर्बाध रूप से बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

डीआरडीओ और अहमदाबाद की टीम से मिल रहा आवश्यक सहयोग

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि, अस्थाई अस्पताल के सैटअप तथा बीओआरएल से अस्थाई अस्पताल तक ऑक्सीजन सप्लाई के लिए डीआरडीओ से आवश्यक तकनीकी सहायता मिल रही है साथ ही ऑक्सीजन पाइपलाइन हेतु अहमदाबाद की टीम का भी सहयोग लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि, ऑक्सीजन पाईप लाइन अस्पताल परिसर के डोम तक आयेगी अतः कम्प्रेसर आदि की भी पर्याप्त व्यवस्था रखी जाये। बैठक में जानकारी दी गई कि, बीओआरएल से अस्पताल के डोम तक कॉपर पाईप के माध्यम से ऑक्सीजन सप्लाई कर मरीजों तक पहुँचाई जाएगी।

एक ओपीडी बनाएँ जिससे मरीज परामर्श ले सकें


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि, अस्पताल परिसर में एक ओपीडी (आउट पेशेंट डिपार्टमेंट) भी बनायी जाए जिससे मरीज परामर्श ले सकें और आवश्यकता पड़ने पर उन्हें भर्ती किया जा सके। उन्होंने कहा कि इस अस्पताल से सागर, विदिशा, रायसेन और बुंदेलखंड के मरीज लाभान्वित होंगे।
उन्होंने बताया कि कोविड से संघर्ष के इस दौर में जरुरत देखते हुए मध्य प्रदेश की सजग सरकार को बीना रिफाइनरी का विकल्प मिला जहाँ ऑक्सीजन उपलब्ध है। चूँकि इसे दूसरी जगह ले जाना कठिन है अतः यहाँ अस्पताल बनाने का निर्णय किया गया। उन्होंने कहा कि, जल्द ही कोरोना पेशेंट्स का यहाँ इलाज किया जायेगा। उन्होंने अस्पताल से संबंधित व्यक्तियों के रहने, खाने, पीने, सफाई, वाहन व्यवस्था, मेडिकल स्टॉफ, पेरामेडिकल स्टॉफ आदि की व्यवस्था पर भी विस्तार से चर्चा की।

 ---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

" लौटकर आना नही होगा " के लेखक प्रो जैन नहीं रहे ★ हिंन्दी साहित्य के प्रमुख समालोचक थे कांतिकुमार जैन ★ संस्मरण लेखन को साहित्य की केंद्रीय विधा में दिलाया स्थान @ राहुल सिलाकारी

" लौटकर आना नही होगा " के लेखक प्रो जैन नहीं रहे
★ हिंन्दी साहित्य के प्रमुख  समालोचक थे कांतिकुमार जैन
★ संस्मरण लेखन को साहित्य की केंद्रीय विधा में दिलाया स्थान


@ राहुल सिलाकारी 

 सागर । हिंदी के मूर्धन्य साहियकार, समालोचक प्रो कांतिकुमार जैन का आज लंबी बीमारी के बाद विध्यापुरम मकरोनिया स्थित निवास पर निधन हो गया । संस्मरण लेखन को हिंदी साहित्य में प्रमुख स्थान दिलाने वाले प्रो जैन की इस विधा की पहली पुस्तक का नाम " लौटकर आना नही होगा " था । 

हिंदी साहित्य के अग्रणी समालोचक प्रो कान्ति कुमार जैन का आज निधन हो गया । वो अपने पीछे पत्नी श्रीमती साधना और तीन पुत्रियां छोड़ गए ।उनका अंतिम संस्कार आज दोपहर दीनन्दयाल नगर मुक्तिधाम में हुआ, मुखाग्नि उनके नाती सात्विक जैन ने दी । इस दौरान प्रो सुरेश आचार्य,कन्या महाविद्यालय हिंदी के विभागाध्यक्ष डॉ नरेन्द्र ठाकुर, राजा भैया राजपूत, आदि मौजूद रहे । 

 9 सितंबर 1932 को जिले के देवरिकला में जन्मे प्रो जैन ने सागर विवि से हिंदी साहित्य में एमए गोल्ड मैडल लेकर की । विभिन्न महाविद्यालयों में शिक्षण कार्य के बाद 1978 में वे सागर विवि के हिंदी विभाग में नियुक्त हुए, जहां विभागाध्यक्ष, बुंदेली पीठ के निदेशक रहते हुए 1992 में सेवानिवृत्त हुए । हिंदी साहित्य में प्रो जैन देश के अग्रणी समालोचक रहे है । उन्होंने संस्मरण लेखन को हिंदी साहित्य में विधा के रूप में स्थापित किया ।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट



 प्रो जैन ने छत्तीसगढ़ की जनपदीय शब्दावली पर शोध कार्य किया । उनकी कुछ प्रमुख पुस्तकों में तुम्हारा परसाईं, छत्तीसगढ़ी: बोली, व्याकरण और कोश, नयी कविता, भारतेंदु पूर्व हिंदी गध्य, कबीरदास, इक्कीसवीं शताब्दी की हिंदी सहित संस्मरण पर लिखी गईं लौटकर आना नहीं होगा, जो कहूंगा सच कहूंगा आदि प्रमुख हैं । प्रो जैन ने विवि के हिंदी विभाग की बुंदेली पीठ से पत्रिका" ईसुरी"  शुरू की जिसे पूरे देश के साहित्यजगत में प्रतिष्ठित स्थान मिला । साहित्यजगत के अनेक सम्मानों से सम्मानित प्रो जैन अनवरत देश की प्रमुख प्रतिष्ठित पत्र पत्रिकाओं में साहित्य लेखन और समालोचनाये लिखते रहे । पिछले वर्ष ही  22 फरवरी को कलकत्ता की साहित्यिक  पत्रिका "लहक"  की ओर प्रो जैन  सागर आकर "मानबहादुर सिंह लहक" सम्मान से  सम्मानित किया था । यह प्रो जैन का आखिरी सार्वजनिक कार्यक्रम रहा ।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

डॉ. सत्येंद्र मिश्रा की हालात पहले से बेहतर, वेंटिलेटर हटा

 
डॉ. सत्येंद्र मिश्रा की हालात  पहले से बेहतर, वेंटिलेटर हटा

सागर । डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा ने आज वीडियो कॉलिंग के माध्यम से बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ आर एस वर्मा,  डॉक्टर उमेश पटेल से बात कर अपने स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्रदान की अब उनकी हालत में धीरे-धीरे सुधार आ रहा है । डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा भी अपने आत्म मनोबल से  इलाज कर रहे डॉक्टरों का भरपूर सहयोग कर रहे हैं, डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा  दृढ़ इच्छाशक्ति और आत्म विश्वास बनाए हुए हैं  इस वजह से  उनकी  रिकवरी बहुत जल्दी और अच्छी हो रही है।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


 डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा ने वीडियो कॉल पर बात की एवं बताया कि कल उनको वेंटिलेटर से हटा दिया गया है एवं वह अब पहले से बेहतर महसूस कर रहे हैं  सतेंद्र मिश्रा ने सभी साथियों ,सभी  शुभचिंतकों के लिए हृदय से धन्यवाद आभार व्यक्त किया है ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

SAGAR: अधिवक्ता संघ की कार्यकारिणी भंग, तदर्थ समिति का गठन , राजेंद्र दुबे बने सयोंजक

SAGAR: अधिवक्ता संघ की कार्यकारिणी भंग, तदर्थ समिति का गठन, राजेंद्र दुबे सयोंजक 

सागर :. मप्र राज्य अधिवक्ता परिषद के द्वारा जिला अधिवक्ता संघ सागर की कार्यकारिणी को भंग करते हुए नवीन चुनाव हेतु तदर्थ समिति का गठन कर दिया गया है.
राज्य अधिवक्ता परिषद की कोषाध्यक्ष श्रीमती रश्मि ऋतु जैन ने बताया कि परिषद द्वारा 1 अप्रैल को जिला अधिवक्ता संघ के नवीन चुनाव का कार्यक्रम तैयार करके परिषद कार्यालय को अतिशीघ्र भेजने हेतु निर्देशित किया गया था. साथ ही 15 अप्रैल तक संघ की कार्यकारिणी के नवीन चुनाव संपन्न कराने के लिए निर्देशित किया गया था, परंतु संघ द्वारा कार्यक्रम जारी कर राज्य अधिवक्ता परिषद को नहीं भेजा गया. जिसकी शिकायत परिषद कार्यालय को भेजी गई. जिस पर परिषद द्वारा संघ की कार्यकारिणी को भंग करते हुए संघ के आगामी कार्यकारिणी के निर्वाचन संपन्न होने तक व सभी महत्वपूर्ण कार्यों के सुचारू संचालन के लिए तदर्थ समिति का गठन किया गया है. 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

तदर्थ समिति में राजेंद्र कुमार दुबे संयोजक, अशोक कुमार जैन उप संयोजक और सदस्यों में गोविंद सिंह ठाकुर, राजेश कुमार त्रिवेदी, पेट्रिश फुसकेले, विजय अग्रवाल एवं शिवदयाल बड़ोन्या को रखा गया है. परिषद द्वारा गठित तदर्थ समिति को संघ का प्रभार सौंपने के निर्देश जिला अधिवक्ता संघ को दिए गए है. प्रभार नहीं सौंपने पर तदर्थ समिति को एकतरफा कार्यभार ग्रहण करने का अधिकार दिया गया है. इसके साथ ही संघ के वित्तीय अधिकार थी तदर्थ समिति को सौंप दिए गए हैं.


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

सोमवार, 26 अप्रैल 2021

नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह, उनके स्टाफ, आईजी के 2बेटे, कमिश्नर बंगले के 3 कर्मचारी सहित 224 कोरोना संक्रमित ★ मंत्री भूपेंद्र सिंह की पत्नी 3 दिन पहले पॉजिटिव आ चुकी हैं। @चैतन्य सोनी

नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह, उनके स्टाफ, आईजी के 2बेटे, कमिश्नर बंगले के 3 कर्मचारी सहित 224 कोरोना संक्रमित
★ मंत्री भूपेंद्र सिंह की पत्नी 3 दिन पहले पॉजिटिव आ चुकी हैं। 

@चैतन्य सोनी

सागर। प्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह कोरोना संक्रमित हो गए हैं। 3 दिन पहले उनकी पत्नी भी पॉजिटिव आई थीं। सोमवार को मंत्री सिंह के स्टाफ के करीब 7 अन्य लोग, आईजी के 2 बेटे, कमिश्नर बंगले के 3 कर्मचारियों सहित 224 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं 12 लोगों को BMC से रेफर किया गया है तो 2 मरीजों की कोरोना से मौत बताई गई है। बता दें कि बीएमसी कोविड अस्पताल में करीब 7 मरीजों की मौत की सूचना है। 

कोरोना से बचाव को लेकर, मास्क व फिजिकल डिस्टेंस को लेकर हमेशा सतर्क रहने वाले नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह आखिरकार कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए हैं। बीएमसी में आरटीपीसीआर जांच के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसकी जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट कर दी है। उनके स्टाफ व अन्य परिजनों के सूची में 8 नाम शामिल हैं। मन्त्री श्री सिंह ने आज के कमिश्नर मुकेश शुक्ला, कलेक्टर दीपक सिंह और एसपी अतुल सिंह के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा वर्चुल समीक्षा बेठक में शामिल भी हुए। 

इधर आईजी बंगले से आईजी के 2 बेटों व कमिश्नर कार्यालय के तीन कर्मचारियों के नाम भी संक्रमितों में शामिल हैं। 

कोरोना अपडेट
- आज कोरोना पॉजिटिव-224
- अब तक पॉजिटिव- 10597
- आज मौत- 2 
- अब तक स्वस्थ- 8338
- एक्टिव केस- 2088

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

Archive