रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शनिवार, 28 मार्च 2020

सेवादल काँग्रेस का मासिक झंडावंदन स्थगित, सेवादल और कांग्रेस कार्यकर्ता कोरोना आपदा से निपटने में कर रहे है मदद:सिंटू कटारे

सेवादल काँग्रेस का मासिक  झंडावंदन स्थगित, सेवादल और कांग्रेस कार्यकर्ता कोरोना आपदा से निपटने  में कर रहे है  मदद:सिंटू कटारे

सागर ।  सेवादल शहर सागर का  मासिक झंडावदन जो आखरी रविवार को आयोजित  किया जाता था । उसे स्थगित कर  दिया गया है । सेवादल अध्यक्ष सिंटू परितोष कटारे ने बताया कि वर्तमान में कोरोना आपदा के चलते लॉक डाऊन घोषित किया गया है । इसके चलते सेवादल अध्यक्ष सत्येंद्र यादव के निःर्देश पर इसे स्थगित कर दिया गया है । उन्होंने कहा कि कांग्रेस संगठन और  सेवादल  ने हमेशा कमजोर लोगो और आपदाओं में  मदद करने के लिए हमेशा आगे  रही है। कोरोना वायरस जैसी महामारी में  सेवादल / कांग्रेस कार्यकर्ता मदद कर रहे है । उन्होंने कहा कि काँग्रेस और सेवादल सागर में लोगो को सेनेटाईजर और मास्क आदि वितरित कर रहा  है।  वही खाने पीने की सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है । उन्होंने कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक से अपील की है कि शहर में जहा भी वॉलिंटियर्स की जरूरत हो सेवादल कार्यकर्ता हमेशा तैयार है ।
इस कार्य मे पार्टी के नेवी जैन, प्रदीप गुप्ता, प्रदेश सचिव अमित राम जी दुबे , कार्यकारी अध्यक्ष जितेंद्र सिंह चावला,संदीप सबलोक,राजाराम सरवैया और  द्वारका चौधरी सहित अनेक पार्टीजन सक्रिय रूप से योगदान दे रहे है।

खूब हाथ धोबें और घरों में रयं, हर तीन घंटा में एनाऊंसमेंट होय

खूब हाथ धोबें और घरों में रयं, हर तीन घंटा में एनाऊंसमेंट होय

सागर। असफेर में सभखों खबर होबे कै दुनिया भरे में करोना किटाणू सें महामारी फैल रई है। हमाए जरौं जा ने आ पावे ऐसें अपने सागर जिला भर के सभई रहवासियों सें कलेक्टर प्रीति मैथिल नायक और एसपी अमित सांघी की तरफ सें विनती है कै सबरे अपने अपने दोरे में साबुन और पानी सें भरी बालटी रखबें। तीन तीन घंटा के भीतरै बेर-बेर सभई अपने अपने हाथ साबुन सें अच्छी तरा सें धोबैं। जोन भी बाहरैं से भीतर आबै वो बिगर हाथ धोंयं भीतरै ने पिड़ै। अपने घरों के सबरे दरवाजों के हेंडल, एलड्राप, नलों के हेंडल, गाड़ियों के स्टेरिंग और हेंडल जैसीं जब चाय छीबे बारीं सब चीजों खों सैनेटाइजर सें कीटाणरहित कर लेबें। सबरे घरों में रयं और गौर करबें के जान है सो जहान है।

पढ़े: एमपी में  कोविड 19 की रोकथाम की ड्यूटी में लापरवाह तीन DSP निलंबित

सभई दुकानदार कलेक्टर और एसपी की तरफ से ताकीद जानौ कै अपनी दुकानों के काउंटर, तराजू बांट, नपनों खों बेर-बेर सैनेटाइज करत रयं। प्रशासन और पुलिस की सबरी गाडियों से कही गई है के ऊपरै लिखी बातों को एलाऊंमेंट रोज दिन में 9 बजे, 12 बजे, तीन बजे और संजा के 9 बजे हरहालत में करबें। गांव मजरों टोलों में इन बातों की डोंढ़ी पिटवाई जाए।

कोविड 19 की रोकथाम की ड्यूटी में लापरवाह तीन DSP निलंबित

कोविड 19 की रोकथाम की ड्यूटी में लापरवाह तीन DSP निलंबित

भोपाल । प्रदेश के पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी ने कोविड 19 की रोकथाम के लिए ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर तीन उप पुलिस अधीक्षकों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है ।  आदेश के मुताबिक 26 मॉर्च को  को राज्य स्थिति कक्ष (एसएसआर) पुलिस
मुख्यालय द्वारा Covid-19 संबधित स्मार्ट सिटी कन्टोल रूम भोपाल में डियूटा हेतु भोपाल में पदस्थ ईंन उप पुलिस अधीक्षकों को दूरभाष पर
निर्देशित किया गया था । जिनमे  पंकज दीक्षित, उप पुलिस अधीक्षक (चयन) पुलिस मुख्यालय भोपाल ,राम पाटीदार, उप पुलिस अधीक्षक (शिकायत) पुलिस मुख्यालय भोपाल और प्रदीप  विश्वकर्मा, उप पुलिस अधीक्षक (महिला अपराध प्रकोष्ठ) पु.मु. भोपाल थे। 
इन  अधिकारियों को बार-बार दूरभाष पर निर्देशित करने के बाबजूद भी स्मार्ट सिटी कन्ट्रोल  रूम भोपाल में उपस्थित नही हुये । ऐसी विषम परिस्थितियों में भी राजपत्रित अधिकारियों द्वारा की गई गैर जिम्मेदाराना आचरण ,घोर लापरवाही एवंअनुशासनहीनता का प्रतीक है जो अनुशासनहीनता की श्रेणी में आता है ।अतः उपरोक्त तीनो अधिकारियों द्वारा कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु स्मार्टसिटी कन्ट्रोल रूम भोपाल में डियूटी हेतु उपस्थित न होकर गैर जिम्मेदाराना आचरण ,घोरलापरवाही एवं अनुशासनहीनता बरतने के लिये म.प्र. सिविल सेवा (वर्गीकरण,नियंत्रण तथाअपील) नियम-1966 के नियम-9(1) अन्तर्गत तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है एवं निलंबन अवधि में उपरोक्त तीनो उप पुलिस अधीक्षकों का मुख्यालय कार्यालय पुलिसमुख्यालय भोपाल निर्धारित किया जाता है ।

भाजपा विधायक के कोरोना जांच हेतु सैंपल का समाचार चिंताजनक अन्य विधायक भी स्वप्रेरणा से क्वेरेन्टाईन में जायें-भूपेन्द्र गुप्ता

भाजपा विधायक के कोरोना जांच हेतु सैंपल का समाचार चिंताजनक अन्य विधायक भी स्वप्रेरणा से क्वेरेन्टाईन में जायें-भूपेन्द्र गुप्ता
भोपाल ।समाचार पत्रों से पता चला है कि जिन माननीय विधायकों ने सत्ता पलट योजना में गुरुग्राम,मानेसर,बेंगलुरु और सीहोर आदि में बिहार किया था ।उनमे से विजयपुर के भाजपा विधायक गंभीर रूप से अस्वस्थ ह़ै तथा उनका सैंपल कोरोना वायरस जांच हेतु भेजा गया है। मध्यप्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने सभी  विधायकों से निवेदन किया है कि वे जनहित में झिझकने की बजाय कोरोना वायरस संबंधी जांच स्वयं करायें और जनता से 21 दिन दूर रहें।

पढ़े:योगासनों और प्राणायाम से बढ़ाये प्रतिरोधक क्षमता:योगाचार्य विष्णु आर्य

गुप्ता ने चिंता व्यक्त की है कि ये विधायक सार्वजनिक परेड में राजभवन भी घूमे थे अतःइसे सरकार गंभीरता से लेते हुये माननीय विधायकों को आइसोलेशन में रहने हेतु निर्देशित करे तथा जहां जहां वे घूमे हैं तथा वर्मा ट्रेवल्स की जिन बसों से भ्रमण किया है उनको विधिवत सेनिटाईज कराया जाये,ताकि भविष्य में अन्य यात्रियों को संक्रमण से बचाया जा सके।
गुप्ता ने चिंता व्यक्त की है कि चूंकि विधायकगण जनप्रतिनिधि हैं और जनता उनसे मिलने का प्रयास कर सकती है अतः वे संयम रखें और प्रधानमंत्री जी के आह्वान का अक्षरशः पालन कर एक सच्चे प्रतिनिधि की मिसाल पेश करें ।

घर मे रहे स्वस्थ्य रहे, नियमित और अनुशासन भरी जीवन शैली ही आपदाओं से बचाएगी :योगाचार्य विष्णु आर्य

घर मे रहे स्वस्थ्य रहे, नियमित और अनुशासन भरी जीवन शैली ही आपदाओं से बचाएगी :योगाचार्य विष्णु आर्य

सागर। मध्यप्रदेश के पिछड़ावर्ग के क्षेत्र में दिए जाने वाले  सम्मान राम जी महाजन पुरस्कार और योग  के क्षेत्र में दिए जाने वाले राज्यस्तरीय स्वामी विवेकानंद पुरस्कार से सम्मानित 80 वर्षीय योगाचार्य  विष्णु  आर्य  लॉक डाऊन में अपने घर पर बैठकर ही लोगो को फोन  पर  स्वस्थ्य रहने की सलाह दे रहे है और योगासनों को बता रहे है। । वही अपने परिवार जनों के साथ समय बिता रहे है । 

पढ़े: सागर सम्भाग से पलायन हुए लोगो की वापसी पर उनको आईसोलेट और सुरक्षित किया जा रहा है : कमिश्नर अजय गंगवार



कई पुरस्कारों से सम्मानित ,एमपी आयुर्वेद संम्मेलन के उपाध्यक्ष और योग निकेतन योग प्रशिक्षण संस्थान के संचालक श्री आर्य कहते है कि  इस समय शरीर की क्षमता बढ़ाने के लिए नियमित योगाभ्यास और  खानपान पर नियंत्रण जरूरी है। हम घर मे बैठकर यह सब करे और देश को सुरक्षित करें। उन्होंने कहा कि अनुशाषित जीवन शैली हमे बचा सकती है। उन्होंने बताया कि  योगासनों, ध्यान ,प्राणायाम और खानपान से अपनी प्रतिरोधक क्षमता और आत्मबल  बढ़ा सकते है । जो रोगों से लड़ने में काम आएगी। शारीरिक ,मानसिक और आध्यात्मिक शक्ति ही सुरक्षित रख सकती है। इस समय सूर्य नमस्कार,मयूरासन, धनुरासन,अनुलोम विलोम प्राणायम,भस्त्रिका प्राणायाम करना लाभ दायक है।

भूखीप्यासी महिला को सेनेटराइज व कराया भोजन , पुलिसकर्मीयो की मदद से सुरक्षित कराया,पूर्व मंत्री सुरेंद्र चोधरी ने

भूखीप्यासी महिला को सेनेटराइज व कराया भोजन , पुलिसकर्मीयो की  मदद से सुरक्षित कराया,पूर्व मंत्री सुरेंद्र चोधरी ने
सागर।कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप व लॉक डाउन के चलते मध्यप्रदेश काँग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी ने  मानवता और जनसेवा का संदेश देते हुए एक भूखी- प्यासी महिला को सेनेटराइज कर भोजन पानी कराया। शनिवार की दोपहर भगवानगंज वार्ड स्थित श्री चौधरी के निवास के समीप एक महिला के बैठे होने की सूचना लगने पर पूर्व मंत्री श्री चौधरी ने स्वयं जाकर महिला से जानकारी ली तो पता चला कि उक्त महिला  भूखी है जिसपर श्री चौधरी ने उक्त महिला को पहले सेनेटराइज कराया और भोजन पानी कराया।तथा 108 व महिला पुलिसकर्मीयो की मदद से सुरक्षित कराया।

सागर सम्भाग से पलायन हुए लोगो की वापसी पर उनको आईसोलेट और सुरक्षित किया जा रहा है : कमिश्नर अजय गंगवार

सागर सम्भाग से पलायन हुए लोगो की वापसी पर उनको आईसोलेट और सुरक्षित किया जा रहा है : कमिश्नर अजय गंगवार

 सागर। सागर  सम्भाग के कमिश्नर श्री अजय गंगवार ने कहा है कि कोरोना वायरस से निपटने पूरी तैयारी है। सम्भाग के सभी छह जिलों सागर ,टीकमगढ़,पन्ना,छत्तरपुर ,निवाड़ी और दमोह  में कोरोना वायरस से निपटने सम्बन्धी तैयारियों और निर्देशो का पालन किया जा रहा है। प्रत्येक जिले में आईशोलेशन वार्ड बनाये गए है । 
सम्भाग की सीमाएं उत्तरप्रदेश से  लगी हुई है। इसके साथ ही  पलायन करके वापिस लौट रहे है । ऐसी स्थिति में स्थानीय प्रशासन उनको आईसोलेट करने  और खाने पीने का इंतजाम करने के निःर्देश  दिये है । उनको  सुरक्षित स्थानों पर भेजा और रखा जा रहा है ।

पढ़े: आठ माह की बच्ची की हुई तबियत खराब, डायल-100 ने पहुंचाया अस्पताल



कमिश्नर श्री गंगवार ने  नागरिकों से घर पर रहने की अपील की है । उन्होंने कहा कि लॉक डाऊन के नियमो का पालन करे। उनकी जरूरतों को प्रशासन पूरा करने में मदद कर रहा है। वही यदि कोई बाहर से आया व्यक्ति है तो उसकी सूचना प्रशासन को देने  की अपील की है।

शुक्रवार, 27 मार्च 2020

नातिन की शादी में करना थे खर्च,कोरोना आपदा को देख एक लाख दिए कलेक्टर कोष में, पेंशन की थी राशि, सागर की श्री मति कमला देवी राय का सराहनीय कदम

नातिन की शादी में करना थे खर्च,कोरोना आपदा को देख एक लाख दिए कलेक्टर कोष में, पेंशन की थी राशि, सागर की 
श्री मति कमला देवी राय का सराहनीय कदम

सागर। कोरोना वायरस से निपटने में अब मदद एक बड़ी जरूरत बन गयी है । खासतौर से दान देने वालो की जरूरत है। ऐसे में संदेश देने वाली खबर  सागर की सामने आई है। यहां 80 वर्षीय महिला श्री मति कमला देवी राय ने अपने पति के निधन के बाद  मिलने वाली पेंशन में से एक लाख रुपया कलेक्टर को देने की घोषणा की और राशि का चेक खाते में भिजवाया । गौर तलब यह है कि  पेंशन में से वे अपनी नातिन की शादी में के लिए सुरक्षित रखे हुई थी।

पढ़े:आकाशवाणी भोपाल के समाचार पढ़े जाएंगे घर से,वर्क टू होम 


कमला देवी ने बताया कि भगवान जी से प्रेरणा मिली सो दिया पैसा।भगवान कृष्ण की भक्ति में लीन रहने वाली कमला देवी बताती है कि पहली बार इस तरह की बीमारी और हालात देखे  है।
वही उनके बेटे गोविन्द राय ने बताया कि  उनकी माता जी नातिन की शादी के लिए राशी रखे हुए थी। लेकिन उन्होंने देखा कि शादी अपनी जगह है अभी देरी है। सामने जी विपदा बड़ी है । मदद करना चाहिए। उनके इस कार्य को लेकर घर के सभी लोग खुश है।
★तीनबत्ती न्यूज़.कॉम 

आकाशवाणी भोपाल के समाचार भी 'वर्क फ्रॉम होम' तरीके से घर से पढ़ेंगे समाचार, आज से शुरुआत

आकाशवाणी भोपाल के समाचार भी 'वर्क फ्रॉम होम' तरीके से घर से पढ़ेंगे समाचार, आज से शुरुआत

भोपाल। आकाशवाणी भोपाल से आज से समाचारों का प्रसारण  'वर्क फ्रॉम होम' तरीके से होगा। इसके तहत संपादक अपने घर से पूरी बुलेटिन बना रहे हैं और समाचार वाचक अपने घर से उस तैयार बुलेटिन को पढ़ेगे और श्यामला हिल्स स्थित आकाशवाणी के स्टूडियो से उसका लाइव प्रसारण किया जायेगा. यह आकाशवाणी भोपाल ही नहीं, संभवतः पूरे देश में आकाशवाणी से समाचार प्रसारण में यह पहला अवसर है जब समाचार घर से फोन के जरिये प्रसारित होंगे. आगामी कुछ दिनों तक प्रसारण इसी तरीके से जारी रहेगा. आज से इसकी शुरुआत भी हो गई। समाचार प्रमुख संजीव शर्मा ने स्क्रिप्ट  तैयार की और सयुंक्ता बनर्जी ने इसे पढा।
आकाशवाणी के समाचार प्रमुख संजीव शर्मा ने बताया कि  प्रादेशिक समाचार एकांश (RNU) में इस आपात स्थिति के बनने का कारण 20 मार्च को मुख्यमंत्री निवास पर पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ की पत्रकार वार्ता के बाद बनी स्थितियां हैं ।दरअसल इस पत्रकार वार्ता में मौजूद भोपाल के एक पत्रकार के के सक्सेना,बाद में, कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. इसके बाद, प्रशासन ने पत्रकार वार्ता में मौजूद सभी पत्रकारों को self quarantine में जाने को कहा है. इस पत्रकार वार्ता में RNU Bhopal के प्रतिनिधि भी मौजूद थे और 20 मार्च से 25 मार्च तक RNU Bhopal का पूरा स्टाफ भी उनके संपर्क में रहा है. इस वजह से दिल्ली स्थित मुख्यालय का मानना था कि  RNU Bhopal के पूरे स्टाफ की सुरक्षा के मद्देनजर सभी को 14 दिन के लिए self quarantine में रहना चाहिए. इससे समाचार बुलेटिन पूरीतरह से बंद हो जाती. आज सुबह की बुलेटिन का प्रसारण इसी वजह से नहीं हो पाया लेकिन अब तकनीकी और समाचार टीम के समर्पण से हम बुलेटिन जारी रखने में कामयाब हुए.।

यह भी पढ़े। आकाशवाणी भोपाल का क्यो स्थगित हुआ सुबह का बुलेटिन


उन्होंने बताया कि इसतरह आपदा के दौरान रेडियो तमाम बाधाओं के बाद भी अपने श्रोताओं के साथ खड़ा है और आकाशवाणी के जरिये प्रदेश के लोगों तक विश्वसनीय,तथ्यपरक और विशुद्ध समाचार पहुँचाने में जुटा है। 

★तीनबत्ती न्यूज़.कॉम

लॉक डाउन । आठ माह की बच्ची की हुई तबियत खराब, डायल-100 ने पहुंचाया अस्पताल

लॉक डाउन । आठ माह की बच्ची की हुई तबियत खराब, डायल-100  ने  पहुंचाया अस्पताल 
 सागर। लाकडाउन के दौरान बीमारों को असपताल पहुचाने में 100 डायल मददगार साबित हो रही है। बीती रात में  राज्य स्तरीय पुलिस कंट्रोल रूम भोपाल में एक कॉलर व्दारा सूचना दी गई कि जिला सागर थाना रेहली क्षेत्र के ग्राम मदनपुरा मे आठ माह की एक बच्ची की तबियत खराब हो गई है। लॉक डाउन के कारण अस्पताल ले जाने का कोई  साधन उपलब्ध नहीं हो पा रहा है । राज्य स्तरीय पुलिस कन्ट्रोल रूम ने सूचना मिलते ही तत्काल थाना रेहली एवं पुलिस कन्ट्रोल रूम सागर को सूचित करते हुये तत्काल डायल 100 वाहन (एफ.आर.व्ही.) को बच्ची  को अस्पताल पहुँचाने हेतु निर्देशित किया । डायल-100 (एफ.आर.व्ही.) वाहन में तैनात पुलिस स्टाफ आरक्षक संतोष पटेल तथा पायलेट दिवाकर ने बीमार बच्ची को डायल-100 वाहन से शासकीय अस्पताल रेहली ले जया गया । प्राप्त जानकारी अनुसार ग्राम मदनपुरा  निवासी लीलाधार की08 माह की बच्ची पूर्वी  की अचानक तबियत खराब हो गई थी , लॉक डाउन के कारण अस्पताल ले जाने का अन्य कोई साधन उपलब्ध नहीं हो पा रहा था । जिसकी सूचना पर डायल 100-वाहन एफ.आर.व्ही. पुलिस स्टाफ व्दारा तत्काल मौके पर पहुँचकर बच्ची को शासकीय अस्पताल रेहली पहुंचाया गया ।

सरोकार योजना लाकडाउन में निर्धनों को भोजन कराने में बनी मिसाल, राज्य शिक्षक संवर्ग देगा एक दिन का वेतन

सरोकार योजना लाकडाउन में निर्धनों को भोजन कराने में बनी मिसाल, राज्य शिक्षक संवर्ग देगा एक दिन का वेतन

सागर । लॉक  डाऊन के दौरान  के निर्धनों और किसी कारणों से सागर में ही रुके लोगो के लिए सरोकार योजना से खूब मदद मिल रही है। इसमे स्वयंसेवी सगठन भी मदद कर रहे है।
शुक्रवार  को कटरा स्थित क्यामगाय में उत्तरप्रदेश बाँदा के 32 व्यक्तियों को भोजन वितरण किया गया जो यहां रुके हुए हैं। इनके अलावा रेलवे स्टेशन बस स्टैंड, पीली कोठी, परेड मंदिर, शनि मंदिर जिला कोर्ट परिसर और राह चलते में जहां कही भोजन की आवश्यकता वाले लोग मिले उन्हें पैकेट दिए गए।
कलेक्टर  प्रीति मैथिल नायक  की इस पहल को अब स्थानीय स्वयंसेवी संस्थाओं, सामाजिक कार्यकर्ता का अभूतपूर्व समर्थन मिल रहा है, इन संस्थाओं के द्वारा लगातार सरोकार अभियान के नोडल अधिकारी डॉ महेंद्र प्रताप तिवारी से संपर्क करते हुए इस पुनीत कार्य मे भागीदारी के लिए चर्चा की जा रही है, उन्होंने बताया कि विगत 04 दिवस से दोनों टाइम पैकेट वितरण किया जा रहा है। सभी जागरूक लोगो से अनुरोध है कि यदि आपके आसपास ऐसा कोई व्यक्ति जिसे लॉक डाउन के समय वास्तव में भोजन नही मिल रहा है, तो मोबाइल नंबर 8839487039 पर इसकी जानकारी भेज दें हमारी सरोकार टीम उसे वही  पैकेट उपलब्ध कराएगी। भोजन वितरण में समन्वयक श्री नीलेश चैबे, श्री सजय श्रीवास्तव, श्री लोकमन अहिरवार भी उपस्थित रहे।

पढ़े । सागर कलेक्टर ने  राहत राशि देने किया नम्बर जारी

राज्य षिक्षक संवर्ग एक दिन की वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देगा-मिश्रा
सागर । समस्त अध्यापक साथियों की 1 दिन की सैलरी देने के लिए प्रांत स्तर पर माननीय मुख्यमंत्री महोदय से बात की जा रही है इस मैटर को प्रदेश स्तर पर माननीय मुख्यमंत्री  षिवराज सिंह के द्वारा समस्त शिक्षक साथियों की 1 दिन की सैलरी देने के लिए आदेश शीघ्र करने की अपील की है।
शासकीय अध्यापक संगठन के प्रतीय उपाध्यक्ष राममिलन मिश्रा ने मुख्य मंत्री के नाम पत्र के माध्यम से अपील की है। कि प्रदेष में कोरोना वायरस की महामारी के कारण हमारा षिक्षक संवर्ग प्रदेष के राहत कोष में एक दिन का वेतन देने के लिये तैयार है। उन्होंने माननीय मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि शीघ्र ही इस संबंध में आदेष जारी करने का निर्देष प्रदान करें।

सागर:आपदा राहत राषि रेडक्रास के खाते में जमा करें, आनेेेजानेे वालो को मंजूरी के लिए लगी कतारें,100 से अधिक को मिली मंजूरी

सागर:आपदा राहत राषि रेडक्रास के खाते में जमाकरें,  आनेेेजानेे वालो को मंजूरी के लिए लगी कतारें,100 से अधिक को मिली मंजूरी

सागर । कोरोना वायरस  के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिये कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ने  प्रीति मैथिल  ने कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु जिले के नागरिक द्वारा आपदा राशि  देने सार्थक पहल की जा रही है। इसके लिये उन्होंने जिलेवासियों को धन्यवाद देते हुये जागरूकता जागरूक रहने की अपील की है।
उन्होंने आपदा राहत राषि बैंक ऑफ इंडिया कलेक्ट्रेट परिसर की शाखा के खाता क्रमांक 942410100025980 आई.एफ.सी. कोड क्रमांक  ठज्ञप्क्0009424 , सचिव रेडक्रास सोसायटी सागर के नाम चेक, ड्राफ्ट, नेफ्ट, आरटीजीएस एवं नेटबैंकिंग के माध्यम से जमा की जा सकती है। साथ ही अपील की है कि जो जागरूक नागरिक रेडक्रास के आपदा कोष में राषि जमा करेगा वह उसकी रसीद नाम मोबाईल नम्बर पता लिखकर उसी दिन मोबाईल 8770617263 पर वाटसएप करें। 

आपसी जागरूकता एवं सतर्कता से ही कोरोना को हरायें-कमिष्नर
सागर । जागरूकता एवं सतर्कता से ही कोरोना वायरस को हरा कर स्वच्छ रहे स्वस्थ्य रहे के साथ लॉकडाउन के दौरान सुरक्षित अपने घरों में रहें। उक्त अपील कमिष्नर सागर संभाग अजय सिंह गंगवार ने संभागवासियों से की है। उन्होंने अपील की है कि कोरोना वायरस को सोषल डिस्टेंस के माध्यम से हराया जा सकता है। उन्होंने समस्त कलेक्टरों को निर्देष दिये कि उनके जिलों में षासन द्वारा निर्धारित किये गए समस्त निर्देषों का पालन आमजनों तक सुनिष्चित करायें। उन्होंने कहा कि इस समय घरों में रहकर एवं दूरी बनाकर ही कोरोना वायरस से निजात पाई जा सकती है।  

पढ़े। सागर में लाकडाउन में निकले लोगो को पुलिस ने जमकर खदेड़ा

कंट्रोल रूम का किया निरीक्षण

सागर ।कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु स्मार्ट सिटी कार्यालय में बनाए गए कंट्रोल रूम का कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने निरीक्षण कर आवष्यक दिषा निर्देष दिए। इस अवसर पर आयुक्त नगर निगम श्री आरपी अहिरवार सहित अधिकारी मौजूद थे।
कलेक्टर  ने निर्देष दिये कि सर्वप्रथम कंट्रोल कार्यरत अधिकारी कर्मचारी सोषल डिस्टेंस का पालन करते हुये मास्क एवं सेनेटाईजर का उपयोग करें। साथ ही कंट्रोल रूम में आने वाली प्रत्येक सूचना को संबंधित अधिकारी तक तत्काल पहुचायें। उन्होंने कहा कि जिले एवं शहर की समस्त सीमाओं पर आने जाने वालां की पुलिस द्वारा पंजीयन कार्य प्रारंभ किया गया है। संदिग्ध मिलने पर तत्काल स्वास्थ्य विभाग को सूचित किया जाये।   

जिले में प्रचार-प्रसार के माध्यम से आमजन को किया जा रहा है जागरूक -कलेक्टर

सागर । कोरोना वासयर के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिये प्रचार-प्रसार समिति का गठन किया गया है जिसमें सहायक संचालक डा. धीरेन्द्र मिश्रा, उपायुक्त नगर निगम डा. प्रणय कमल खरे अपने दल के साथ जिले में विभिन्न माध्यमों से प्रचार-प्रसार करवाकर  जागरूक कर रहे है। नोडल अधिकारी डा. धीरेन्द्र मिश्रा ने बताया कि जिले के प्रमुख चौराहों सार्वजनिक स्थानों पर पोस्ट बैनर लगाकर जागरूक किया जा रहा है। पोस्टर बैनर में कोरोना वायसर से बचने उपाय एवं सावधानिया दर्षयी गई हैं। डा. खरे ने बताया कि प्रचार-प्रसार हेतु नगर निगम, नगर पालिका एवं समस्त विकासखण्डों में आटो रिक्षा में माइक लगाकर कोरोना वायरस के रोकथाम एवं नियंत्रण के उपाय प्रसारित किये जा रहे हैं।                
अतिआवश्यक होने पर ही मिल रही अनुमति

सागर । जिला क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय एवं एसडीएम कार्यालय सागर में सागर से बाहर जाने एवं आने हेतु अनुमति हेतु सोशल डिस्टेंस के साथ कतार बद्ध होकर अनुमति प्रदान की जा रही है । एसडीएम  संतोष चंदेल ने बताया कि जिले की सीमा में आने जाने हेतु उचित माध्ययम होने पर निर्धारित प्रपत्र भरकर ऑनलाइन या ऑफ लाइन भरकर प्रस्तुत करने पर अनुमति प्रदान की जा रही है।
क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी  प्रदीप शर्मा ने बताया कि शुक्रवार तक 100 लोगों को शहर से बाहर जाने एवं आने की अनुमति प्रदान की जा चुकी है उन्होंने बताया कि आपको आवेदन के माध्यम से उचित माध्यम जिसमें स्पष्ट हो सकेगी आपको देसावर सत्ता कारण ही शहर से बाहर जाना पड़ रहा है तभी अनुमति प्राप्त होगी।

www.teenbattinews.com
                                   

सागर में लॉक डाऊन में सुबह से पुलिस ने दिखाई सख्ती, खदेड़ा लोगो को ,कलेक्टर -एसपी सुबह से निकले

सागर में लॉक डाऊन में सुबह से पुलिस ने दिखाई सख्ती, खदेड़ा लोगो को ,कलेक्टर -एसपी सुबह से निकले

★पुलिस ने इतवारा बाजार को कराया बन्द, वाहनों पर सवार लोगो को खदेड़ा

सागर। लॉक डाऊन  में लोगो की आवाजाही बरकरार है । वही सब्जी और  जरूरी वस्तुयों को खरीदने भीड़  उमड़ रही है । इससे निपटने प्रशासन ने सख्त रवैया अपनाया है। वही सोसल डिस्टेंस का ध्यान में रखकर  इसे व्यवस्थित करने प्रयास कर रही है।
सागर में प्रसासन सब्जी मंडी की बजाय हाथ ठेलों पर पूरे शहर में सब्जी बिकवाने का प्रबंध कर रही है ।वही किराना सामग्री  होम डिलीवरी और सोशल डिस्टेंस के साथ खरीदी का एलान भी निर्धारित समय  ही किया है। व्यवस्थाएं बनाने आज कलेक्टर प्रीति मैथिल, एसपी अमित सांघि और निगमायक्त आर पी अहिरवार ने कजलिवन मैदान और अन्य स्थानों का निरीक्षण किया। यहां से थोक सब्जी बिकवाने और हाथ ठेलों पर मुहल्लों में बिकवाने का प्रबंध किया । 

पढ़े:शराब के धोखे में पिया सेनेटाईजर ,कैदी की मौत, नीचे क्लिक करें

सागर के प्रमुख बाजार इतवारा बाजार में पिछले दो दिनों से लॉक डाऊन में  लोग सब्जी और अन्य सामान खरीदने भारी भीड़ उमड़ी। इस बाजार में सब्जी ,डेयरीऔर किराना की सर्वाधिक दुकाने है । घना इलाका भी है।एक फोटो भी खूब मीडिया में उछला। आज सुबह भी यही हाल दिखे।पुलिस ने दुकान ही नही खुलने दी।  आज जिस इलाके में भीड़ थी आज वह बाजार में सन्नाटा पसरा है। वही सब्जी खरीदने उमड़ी भीड़ को खदेड़ा। पुलिस ने लोगो को मारने की वाहनों पर लाठियां मारी । यह राहत भी दिखी। 
7
★तीनबत्ती न्यूज़. कॉम  ★ 94244 37885

गुरुवार, 26 मार्च 2020

शराब समझकर पिया सेनिटाइजर कैदी की मौत

शराब समझकर पिया सेनिटाइजर कैदी की मौत

केरल। गलती से शराब समझकर कथित तौर पर सेनिटाइजर पीने वाले एक कैदी की जिला अस्पताल में मौत हो गयी। जेल अधिकारियों ने बताया कि 18 फरवरी से रिमांड कैदी के तौर पर यहां जेल में बंद रमनकुट्टी को मंगलवार सुबह अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह जेल में बेहोश हो गया था।

एक वरिष्ठ जेल अधिकारी ने न्यूज एजेंसी को बताया कि, 'हमें संदेह है कि वह बोतल में भरा सेनिटाइजर पी गया जो राज्य सरकार के निर्देशानुसार जेल परिसर में (कैदियों द्वारा) बनाये जाता है।' अधिकारियों ने कहा कि वह मंगलवार रात को सामान्य था लेकिन अगली सुबह 10:30 बजे के करीब बेहोश हो गया।
जेल अधिकारी हाथों को संक्रमण मुक्त करने के लिए सेनिटाइजर के तौर पर मुख्य रूप से आइसोप्रोपाइल अल्कोहल का इस्तेमाल करते हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही उसकी मौत का वास्तविक कारण पता चलेगा

कोरोना वायरस । आकाशवाणी भोपाल से सुबह का समाचार बुलेटिन स्थगित ,दो अन्य कार्यक्रम भी

कोरोना वायरस । आकाशवाणी भोपाल से सुबह  का समाचार बुलेटिन स्थगित ,दो अन्य कार्यक्रम भी

भोपाल।कोरोना संक्रमण के दौरान सरकार द्वारा सोशल डिस्टेंशिंग की सलाह के मद्देनजर आकाशवाणी भोपाल के प्रादेशिक समाचार एकांश भोपाल द्वारा  प्रसारित सुबह 7.05 बजे का बुलेटिन आगामी आदेश तक के लिए स्थगित किया गया है । कोरोना संकट निपटते ही  उसका पुनः प्रसारण शुरू किया जाएगा।

आकाशवाणी के समाचार प्रमुख  श्री संजीव शर्मा ने बताया कि केवल कोरोना संक्रमण के दौरान सरकार द्वारा सोशल डिस्टेंशिंग की सलाह के मद्देनजर कारण  हम अपनी सुबह की शिफ्ट बंद करने के लिए मजबूर हैं। इसलिए सुबह 07.05 बजे से प्रसारित होने वाला समाचार बुलेटिन अगले आदेश तक प्रसारित नहीं होंगे। इसीतरह प्रति सोमवार रात्रि 08.00 बजे से प्रसारित होने वाला "प्रादेशिक समाचार दर्शन" और 08.20 बजे से प्रसारित होने वाला "आजकल" भी फिलहाल प्रसारित नहीं होगा।

उन्होंने बताया कि दिल्ली से प्रसारित होने वाले बुलेटिनों में मध्यप्रदेश के समाचार प्रमुखता से रहेंगे। इसके साथ ही भोपाल से प्रतिदिन प्रसारित होने वाले दोपहर और शाम के बुलेटिन नियमित रहेंगे। श्री शर्मा ने  आकाशवाणी के सभी श्रोताओं से आग्रह किया है कि  लॉक डाऊन के नियमो का पालन करे और घर पर ही रहे स्वस्थ्य रहे।

सागर में थोक सब्जी मिलेगी निगम स्टेडियम एवं कजली वन मैदान में,सोशल वॉलिंटियर्स हो रहे है अधिकृत

सागर में थोक सब्जी मिलेगी निगम स्टेडियम एवं कजली वन मैदान में,सोशल वॉलिंटियर्स हो रहे है  अधिकृत 

सागर । निगम स्टेडियम एवं कजली वन मैदान में थोक सब्जी विक्रेता खेरची या फुटकर विक्रेताओं को सब्जी विक्रय करेंगे। इस हेतु नगर निगम सागर द्वारा तैयारियां की जा रही हैं। दोनों स्थलों को सैनिटाईजर किया जा रहा है। सोशल डिस्टेंस रखने की भी पर्याप्त व्यवस्थाएं की जा रही हैं। शिव प्रकाश कौशिक डिप्टी कमिश्नर सहकारिता ने बताया कि सागर जिले की उचित मूल्य दुकानों पर शासन और जिला प्रशासन के निर्देशानुसार सोषल डिस्टेंस का पालन कराते हुए राशन वितरण की व्यवस्था कराई जा रही है । 
   
पढ़े:सागर की अदालतों में बंद रहेगा कामकाज सिर्फ होगा जमानती सम्बन्धी काम


सोशल डिस्टेंसिग कार्य हेतु वालेंटियर्स को किया जा रहा है अधिकृत
सागर । नोबल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम करने के लिये यह आवश्यक है कि प्रत्येक नागरिक सोशल डिस्टेंसिग का पालन करे । इसी उद्देश से यह आवश्यक है कि दैनिक उपयोग की वस्तुएँ कय करने के लिये किराना दुकानो पर भी सोशल डिस्टेंसिग रहे एवं प्रत्येक नागरिक, उपभोक्ता इसका पालन करे । अतः वार्डवार दुकान के सम्मुख वालेंटियर्स को इस कार्य हेतु अधिकृत किया जा रहा है । वॉलेंटियर्स दुकान खुलने के पूर्व पहुचेंगे । दुकान के सामने 4 - 4 फीट की दूरी पर चिन्ह लगवायेंगे एवं इसी दूरी पर उपभोगताओं को खडा करायेंगे । उपभोगताओं की भीड़ नही लगने देगें । प्रत्येक उपभोक्ता एवं दुकानदार, विकेता मॉस्क लगाकर रखेंगे ।  यह भी सुनिश्चित करेंगे कि उपयोग लायक ही सामग्री कय की जाये । जिला खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति अधिकारी सागर उक्त व्यवस्था के नोडल अधिकारी रहेंगे । वे अपने अधिनस्त खाद्यान्न निरीक्षको एवं सहकारिता निरीक्षको को वार्डवार अधिकृत करने का आदेश जारी करे ।                                        ★तीनबत्ती न्यूज़.कॉम★www.teenbattinews.com        

लॉक डाऊन। न्यायालयों रहेगा अकार्य दिवस ,सिर्फ जमानती आवेदनों का होगा निराकरण,सागर में

लॉक डाऊन :न्यायालयो में रहेगा अकार्य दिवस,सिर्फ जमानती आवेदनों का होगा निराकरण,सागर में
सागर। कोरोना वायरस की महामारी की रोकथाम के संबंध में केंद्र सरकार द्वारा दिनांक 24 मार्च 2020 को रात्रि 12:00 बजे से दिनांक 14 अप्रैल 2020 तक के देशव्यापी लॉक डाउन किया गया ।जिसके संबंध में  उच्च न्यायालय जबलपुर के आदेश अनुसार  जिला एवं सत्र न्यायाधीश सागर के ज्ञापन, दिनांक 25.03.2020 के अनुपालन में दिनांक 26.03.2020 से 14.04.2020 तक न्यायालयो का अकार्य दिवस घोषित करते हुए न्यायालय बंद रहने के आदेश जारी किए गए। उक्त अकार्य दिवस मे जिला एवं सत्र न्यायाधीश सागर के द्वारा जारी आदेश के अनुपालन में  अकार्य दिवस  अवधि में जमानत आवेदनों के  निराकरण हेतु न्यायालय में उनके समक्ष दिनांको को 3:00 से 5:00 पीएम के बीच जमानत आवेदनों पर सुनवाई की जावेगी। 
कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी महोदय सागर द्वारा जारी संशोधित आदेश में वरिष्ठ सहायक जिला अभियोजन/ जिला लोक अभियोजन अधिकारी को अभियोजन के संचालन हेतु अधिकृत किया गया है। सागर न्यायालय में माननीय  डीके नागले विशेष न्यायाधीश एससी एसटी एक्ट सागर, श्री रामविलास गुप्ता प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश, श्री मुकेश कुमार विशेष न्यायाधीश, श्री मनोज कुमार सिंह द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश, श्रीमती दीपाली शर्मा तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश, श्री पंकज यादव चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश, श्रीमती नीतू कांता वर्मा पंचम अपर सत्र न्यायाधीश, श्री विवेक शर्मा  अपर सत्र न्यायाधीश, श्री नवनीत कुमार वालिया सप्तम अपर सत्र न्यायाधीश, श्री सुरेश कुमार सूर्यवंशी अष्टम अपर सत्र न्यायाधीश, श्रीमती नीलू संजीव श्रृंगी ऋषि नवम अपर सत्र न्यायधीश जिसमे क्रमशः अभियोजन अधिकारी श्री राजीव रूसिया जिला अभियोजन अधिकारी, श्री अनिल कुमार कटारे उप-संचालक (अभियोजन), सहा. जिला अभियोजन अधिकारी श्री सौरभ डिमहा, श्रीमती बृंदा चौहान, श्री दिनेश सिंह चंदेल, श्रीमती प्रियंका जैन, श्री बृजेश दीक्षित, श्री शिव संजय अति. जिला अभियोजन अधिकारी उक्त अकार्य दिवसों में  दोपहर 3:00 बजे से शाम  5:00 बजे तक न्यायालय में उपस्थित रहकर कार्य संपादित करेंगे।

पढ़े:कोरोना से निपटने कितने वेंटिलेटर है सागर सम्भाग में,नीचे क्लिक करे

मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के आदेश अनुसार न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी न्यायाधीश निर्धारित दिनांक को उपस्थित होंगे। इसी प्रकार तहसील न्यायालयों में भी जमानत आवेदनों के  निराकरण हेतु न्यायालय में उनके समक्ष दिनांको को 3:00 से 5:00 पीएम के बीच जमानत आवेदनों पर सुनवाई की जावेगी। न्यायालय में संबंधित न्यायाधीश के साथ स्टेनो, रीडर की उपस्थिति रखकर इस प्रकार से की जावेगी की कि जमानत से संबंधित पक्षकार न्यायालय कक्ष से बाहर रहे और एक दूसरे से कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाए रखें। न्यायाधीश द्वारा आवश्यकतानुसार बुलाए जाने पर ही संबंधित व्यक्ति न्यायालय कक्ष में प्रवेश करें लोक अभियोजक अपर लोक अभियोजक एवं अधिवक्तागण भी कम से कम 1 मीटर की दूरी से तर्क प्रस्तुत करेगे।

जबलपुर में कर्फ्यू के दौरान काँग्रेस पार्षद की हत्या ,पुरानी रंजिश के चलते

जबलपुर में कर्फ्यू के दौरान काँग्रेस पार्षद की हत्या ,पुरानी रंजिश के चलते
जबलपुर। कोरोना वायरस के चलते जबलपुर में कर्फ्यू के दौरान एक पार्षद की गोली मारकर हत्या कर दी गया। इस घटना से  पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। हनुमानताल थाना क्षेत्र में  भान तलैया क्षेत्र में  दोपहर गोली चलने से अफरा-तफरी मच गयी। पुरानी रंजिश के चलते क्षेत्र के ही राधाकृष्ण मालवीय वार्ड के पार्षद धर्मेन्द्र सोनकर पर यह हमला किया गया। जिसके बाद उन्हें तत्काल उपचार के लिये उसे सिटी अस्पताल पहुंचाया गया जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गयी। लोगों ने बताया कि धर्मेन्द्र सोनकर पर यह हमला उस समय हुआ जब वह घर के बाहर स्थित मंदिर में बैठा हुआ था। और लोगों से बातचीत में व्यस्त था तभी पुरानी रंजिश के चलते क्षेत्र के ही बदमाश मोनू सोनकर द्वारा अचानक उन पर गोली चला दी जिसके बाद धर्मेन्द्र घायल होकर जमीन पर गिर पड़ा। हमला करने के बाद हमलावर मौके से फरार हो गए है।
छाती और पेट में लगी गोली
हमले के दौरान धर्मेन्द्र के गोली सीने और कमर में लगी है, गोली लगते ही वह जमीन पर गिर पड़ा,सूचना मिलने पर परिजन भी तत्काल वहां पहुंच गए और घायल धर्मेन्द्र को वाहन द्वारा सिटी अस्पताल लेकर जाया गया। पुलिस अधीक्षक का कहना है कि आरोपी की पहचान कर ली गई थी और उसे पकडऩे टीम को सतर्क कर दिया गया था जिसके बाद तत्काल ही पुलिस द्वारा मोनू सोनकर को गिरफ्तार कर लिया गया।

लॉक डाऊन/सेवाभाव :ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों को खाना पानी की सेवा में जुटे लोग

लॉक डाऊन/सेवाभाव  :ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों को खाना पानी की सेवा में जुटे लोग

सागर। लॉक डाऊन में पुलिस कर्मियों की ड्यूटी बेहद थकाने वाली है । दिनभर लोगो को रोकने टोकने और भगाने में पुलिस मशक्कत कर रही है । इनकी सेवाओं की तारीफ भी हो रही है । ऐसे में कुछ लोग ईंन पुलिस कर्मियों की सेवा करने का भी जिम्मा लिए है ।

पढ़े। सागर में निर्धनों को खाना मिल रहा है,सम्पर्क करें इस नम्बर पर,नीचे क्लिक करे


सागर के  होटल व्यवसायी कमलेश साहू अपने बेटे सोमू के साथ खाना के पैकेट और पानी लेकर निकलते है और ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों को बढ़िया भोजन कराते  है । रास्ते मे पुलिस वाहनों को रकोकर उनको खाना के पैकेट बाटते नज़र है। तीन बत्ती पर निर्भया रुकी तो तत्काल भोजन पैकेट दिया। वही मेडिकल व्यवसायी विंनोद जैन, नंदू गुप्ता आदि लगातार यहां पुलिस की भी मदद कर रहे है।

निर्धनों को भोजन बाटने में जुटा प्रशासन,पुलिस को बांटा भोजन ,इस नम्बर पर करे सम्पर्क

निर्धनों को भोजन बाटने में जुटा प्रशासन,पुलिस को बांटा भोजन ,इस नम्बर पर करे सम्पर्क

सागर।जिला प्रशासन द्वारा  निर्धन बेसहारा लोगो को भोजन उपलब्ध कराए जाने के अनुक्रम में आज दिनांक 26 मार्च को श्यामगाय में उत्तरप्रदेश बाँदा के 32 व्यक्तियों को भोजन वितरण किया गया जो यहां रुके हुए हैं। इनके अलावा रेलवे स्टेशन बस स्टैंड, पीली कोठी, परेड मंदिर, शनि मंदिर और राह चलते में जहां कही भोजन की आवश्यकता वाले लोग मिले उन्हें पैकेट दिए गए। कलेक्टर  प्रीति मैथिल नायक  की इस पहल को अब स्थानीय स्वमसेवी संस्थाओं, सामाजिक कार्यकर्ता का अभूतपूर्व समर्थन मिल रहा है, इन संस्थाओं के द्वारा लगातार सरोकार अभियान के नोडल अधिकारी डॉ महेंद्र प्रताप तिवारी से संपर्क करते हुए इस पुनीत कार्य मे भागीदारी के लिए चर्चा की जा रही है, उन्होंने बताया कि विगत 04 दिवस से दोनों टाइम पैकेट वितरण किया जा रहा है। सभी जागरूक लोगो से अनुरोध है कि यदि आपके आसपास ऐसा कोई व्यक्ति जिसे लॉक डाउन के समय वास्तव में भोजन नही मिल रहा है, तो मोबाइल नंबर  8829704839 पर इसकी जानकारी भेज दें हमारी सरोकार टीम उसे वही  पैकेट उपलब्ध कराएगी।भोजन वितरण में समन्वयक श्री नीलेश चौबे, श्री सजय श्रीवास्तव, श्री लोकमन अहिरवार भी उपस्थित रहे।

मशहूर एक्ट्रेस निम्मी का 88 की उम्र में मुंबई में हुआ निधन

मशहूर एक्ट्रेस निम्मी का 88 की उम्र में मुंबई में हुआ निधन

नई दिल्ली।बीते दौर की मशहूर एक्ट्रेस निम्मी का मुंबई में निधन हो गया है. वे पिछले कई महीनों से बीमार चल रही थीं. उनकी उम्र 88 साल थी. मुंबई के सरला नर्सिंग होम में उन्होंने अंतिम अंतिम सांसें ली.
बीते दौर की मशहूर एक्ट्रेस निम्मी का मुंबई में निधन हो गया है. वे पिछले कई महीनों से बीमार चल रही थीं. उनकी उम्र 88 साल थी. मुंबई के सरला नर्सिंग होम में शाम छह बजे के करीब उन्होंने अंतिम सांस ली. निम्मी ने 16 साल फिल्मों में काम किया. साल 1949 से लेकर 1965 तक वे फिल्मों में सक्रिय रहीं. उन्हें अपने दौर की बेहतरीन एक्ट्रेस के तौर पर शुमार किया जाता था. उनका असली नाम 'नवाब बानो' था. निम्‍मी ने एस अली राजा से शादी की थी जिनका 2007 में देहांत हो गया था.
राज कपूर ने अपनी फिल्म में दिया था निम्मी को ब्रेक
निम्मी को राजकपूर की पहली खोज भी कहा जाता है. रिपोर्ट्स के अनुसार, उन्होंने ही नवाब बानो का नाम बदलकर निम्मी रखा था. राजकपूर ने उन्हें अपनी फिल्म बरसात में ब्रेक दिया था. इस फिल्म के हिट होने के बाद निम्मी ने कई फिल्मों में काम किया. वे आन, उड़न खटोला, भाई भाई, कुंदन, मेरे महबूब जैसी तमाम फिल्मों में काम कर लोकप्रियता हासिल कर चुकी हैं.
रिपोर्ट्स के अनुसार वे अपने करियर के शुरुआती दिनों में निम्मी काफी डिमांड में थीं. कहा जाता है कि दिलीप कुमार से लेकर राज कपूर, अशोक कुमार, धर्मेंद्र जैसे कई बड़े सितारे उनके साथ काम करने को लेकर उत्सुक थे. निम्मी के निधन को लेकर मशहूर फिल्म डायरेक्टर महेश भट्ट ने भी ट्वीट किया है और उन्हें श्रद्धांजलि दी हैं।

सागर संभाग में प्रति 1 लाख 40 हजार लोगों पर मात्र 1 वेंटीलेटर ही मिल सकेगा! बुन्देलखण्ड अंचल की तस्वीर

सागर संभाग में प्रति 1 लाख 40 हजार लोगों पर मात्र 1 वेंटीलेटर ही मिल सकेगा!
बुन्देलखण्ड अंचल की तस्वीर

#कोरोना से अब डरोनाः सुविधा संपन्ना देश और इंडिया के महानगर भी वायरस के आगे पस्त, हमारी तो कोई बिसात ही नहीं है।

#संभाग के अस्पतालों में महज 57 वेंटीलेटर
संभाग की कुल आबादी करीब 80 लाख
200 से अधिक लोग कोरोना संक्रमण के आए

@ चैतन्य सोनी,नवदुनिया

सागर । विदेश से आकर दूरस्थ शहरों और संक्रमित इलाकों से आकर पुश्तैनी गांवों में जाकर रुके लोग कोरोना संक्रमण के मामले में मानव बम जैसे साबित हो सकते हैं। शासन-प्रशासन वृहद स्तर पर व्यवस्थाओं का दावा जरूर किया जा रहा है, लेकिन धरातल पर स्थिति इसके उलट है। उपलब्ध संसाधनों के आंकड़े आपको चौंका सकते हैं। सागर संभाग की बात करें तो कोरोना मरीज के लिए 1 लाख 40 हजार की आबादी के मान से महज एक वेंटीलेटर ही उपलब्ध है। संभाग की कुल आबादी करीब 80 लाख है, जबकि सरकारी और निजी अस्पतालों में उपलब्ध वेंटीलेटर की संख्या में सिर्फ 57 ही है। टीकमगढ़ जिले में हालात खराब है जहां एक भी वेंटीलेटर नहीं है। अंदाजा लगाया जा सकता है, यदि कोरोना ने विकराल रूप लिया तो फिर भगवान ही मालिक होगा!
विदेशों से आ गए लौट के 200 से अधिक
संभाग के सागर, दमोह, छतरपुर, टीकमगढ़ और पन्नाा जिले में 200 से अधिक लोग कोरोना संक्रमण के बाद विदेशों से आ चुके हैं। इसके अलावा महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, पश्चिम बंगला से जैसे प्रांतों से हजारों की संख्या में लोग आकर गांव-गांव तक समा चुके हैं। इनको ट्रैस करना नामुमकिन सा लग रहा है। इधर दिल्ली, भोपाल से लेकर सागर तक जिस स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाओं, आईसोलेशन वार्ड, आईसोलेशन अस्पाल या सेंटर, क्वारेंटाइन सेंटर तक बनाए जा रहे हैं। यह सब तो ठीक है, लेकिन आज की तारीख तक कोरोना के इलाज में तैनात किए गए डॉक्टरों, नर्सिंग स्टाफ और अन्य पैरामेडिकल स्टाफ को संक्रमण से बचाव और सुरक्षा के लिए पर्याप्त संसाधन तक उपलब्ध नहीं है। मरीज आएगा तो मुसीबत बढ़ना तय है। चूंकि कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ने के बाद मरीज के फेफड़ों में गंभीर इंफेक्शन होता है, स्वतः सांस लेने में परेशानी होती है, इस कारण उ से वेंटीलेटर पर रखना पड़ता है, लेकिन हमारे यहां वेंटीलेटर सहित तमाम संसाधन बहुत ही कम और अंगुलियों पर गिनने की संख्या में है। 

पढ़े : खजुराहो सांसद बीड़ी शर्मा ने एक एक वेंटिलेटर देने की घोषणा की

अस्पतालों से डिमांड मांगी, लेकिन आया कुछ नहीं
बीते डेढ़ महीने से मप्र में शासन-प्रशासन स्तर से रोजाना उपलब्ध संसाधनों और भविष्य में कोरोना संक्रमण के आउटब्रेक के चलते संभावित आवश्यक संसाधनों की जरूरत को देखते हुए विभागों से लगातार डिमांड मांगी जा रही हैं। बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज से लगातार इस आशय की डिमांड भेजी जा रही है। इसी प्रकार स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव स्तर से जिला अस्पतालों व बनाए गए आईसोलेशन वार्डों के लिए भी डिमांड ली जा चुकी हैं, लेकिन अभी तक आया कुछ नहीं हैं।
अभी सागर में क्या स्थिति है
सागर में फिलहाल तक बीएमसी के अधीन टीबी अस्पताल को आईसोलेशन सेंटर व वार्ड बनाया गया है। यहां 8 बेड का महिला आईसोलेशन वार्ड व 9 बेड का पुरुष आईसोलेशन वार्ड बनाया गया है। यहां पर टीबी अस्पताल में बनाए गए आईसोलेशन वार्ड में 4 वेंटिलेटर शिफ्ट किए गए हैं। जिला अस्पताल में चार वेंटीलेटर हैं, जो फिलहाल इसी अस्पताल में हैं।
संभाग के जिलों में वेंटीलेटर की उपलब्धता एवं आबादी
- सागर- 34 - 24 लाख करीब
- छतरपुर- 14 - 18 लाख करीब
- दमोह- 07 -13 लाख करीब
- पन्नाा- 02 - 11 लाख करीब
- टीकमगढ़- 00- 15 लाख करीब
---------------------------
पल्स ऑक्सीमीटर की संख्या
- सागर- 52
- दमोह- 19
- पन्नाा - 06
- छतरपुर- 94
- टीकमगढ़ 18
--------------------
कुल- 189
--------------------
संभाग में आईसोलेशन वार्ड एवं क्वारेंटाइन सेंटर में उपलब्ध बिस्तर संख्या
- सागर- 18 - 10
- दमोह- 9 - 15
- पन्नाा- 10 - 76
- छतरपुर- 10 - 8
- टीकमगढ़- 6 - 10
----------------------------
कुल- 53 - 119
---------------------------
शासन सारी सामग्री उपलब्ध करवा रहा है
कोरोना संक्रमण को लेकर हर स्तर पर और युद्ध स्तर पर व्यवस्थाएं बनाई जा रही हैं। हम बीएमसी में 360 बेड का आईसीयू अस्पताल, जिसमें 60 बेड का आईसीयू बना रहे हैं। करीब 17 वेंटीलेटर हमारे पास हैं। शासन ने डिमांड मांगी थी, हमने भेजी है। इसके अलावा पीपीई किट सहित एन-95 मास्क व अन्य आवश्यक सामग्री भी ऑर्डर की गई है। हम आगामी 3 महीने बाद की स्थिति को सामने रखकर तैयारी कर रहे हैं।
- डॉ. जीएस पटेल, डीन, बीएमसी, सागर

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष और सांसद वी डी शर्मा ने संसदीय क्षेत्र खजुराहो में जिला अस्पतालों को एक एक वेंटिलेटर देने की घोषणा की

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष और सांसद वी डी शर्मा ने संसदीय क्षेत्र खजुराहो में जिला अस्पतालों को एक एक वेंटिलेटर देने की घोषणा की
खजुराहो। भाजपा पर प्रदेश अध्यक्ष और बुन्देलखण्ड अंचल  के  खजुराहो सांसद  विष्णु दत्त शर्मा ने कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की सुरक्षा हेतु अपने संसदीय क्षेत्र के तीनों जिलों (पन्ना, कटनी एवं छतरपुर)में  जिला चिकित्सालयों के लिए प्रत्येक के लिए एक एक वेन्टीलेटर उपलब्ध कराने हेतु सांसद विकास निधि से तीस लाख की राशि प्रदान की है।सांसद श्री शर्मा ने उक्त राशि से शीघ्र ही वेन्टीलेटर स्थापित कराने हेतु आवश्यक कार्यवाही करने के लिए कहा गया है।

पढ़े:भाजपा विधायक प्रदीप लारिया और शेलेन्द्र जेन ने वेतन देने की घोषणा की

इसके अलावा श्री शर्मा ने कल संसदीय क्षेत्र के तीनों भाजपा जिलाध्यक्षों से फोन मे बात कर गांव गांव तक अपने कार्यकर्ताओं के माध्यम से कोरोना  वायरस से सतर्क रहने हेतु शासन के निर्देशों एवं माननीय प्रधानमंत्री  महोदय के  देश के नाम प्रसारित संदेश का गंभीरता पालन किए जाने हेतु  मार्गदर्शन दिया ।इस संबंध में दिनांक 25 मार्च को प्रदेश के मुख्यमंत्री का संदेश भी रात्रि 08 बजे सभी सुने एवम् जन हितेषी विचारो का पालन करते हुए सभी अपने अपने घरों में ही रहे ऐसा आग्रह किया गया है,।  साथ ही सांसद एवम् भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  वी डी शर्मा ने पूर्ण आस्वत करते  हुए कहा कि सम्पूर्ण संसदीय क्षेत्र के नागरिकों के साथ साथ पूरे मध्य प्रदेश में किसी भी वर्ग के लोगों को परेशानी नहीं होने देंगे सभी को जरूरी सामग्री  सहजता से उपलब्ध कराने प्रतिबद्ध  है।।

बुधवार, 25 मार्च 2020

गाय ने जन्मा हिरण का बच्चा .....! पशु चिक्तिसा और वन विभाग लगा जांच में

गाय ने जन्मा हिरण का बच्चा .....! पशु चिक्तिसा और वन विभाग लगा जांच में

# गाय के बच्चे के सारे लक्षण हिरन जैसे,वन विभाग ने स्वीकारा और कहा अब पशु चिकित्सक से होगा परीक्षण

सागर। सागर जिले में एक ऐसा मामला सामने आया है । जिसे लोग  कुदरत का करिश्मा भी  मान रहे है। एक गाय ने  हिरन जैसे बच्चे को जन्म दिया है । इसको देखने वालो की भीड़ उमड़ी है । वही वन  विभाग ने  मुआयना किया तो उसे प्रथम द्रष्टया हावभाव,शक़्ल सूरत से हिरन का बच्चा लगा। उसकी बनावट और हरकतों से। अब वह विभाग ने पशु चिकित्स्क से इसकी जांच जराने की बात कही है। 
सागर जिले के देवरी वन परिक्षेत्र के ग्राम सहजपुर के समीप ग्राम निवारी में एक जर्सी गाय ने हिरण के बछड़े को जन्म दिया है। और वह उसे दूध भी पिला रही है।यह अजीबोगरीब बाकया करीब एक माह पहले का है जब एक  निवारी के द्वारका घोसी की गाय ने  हिरण के बच्चे को जन्म दिया और  गाय बाकायदा बच्चे को दूध भी पिला रही है ।

पढ़े,कोरोना वायरस का परीक्षण कराया बेटी का, बने जिम्मेदार नागरिक,कमलेश साहू


गाडरवारा से लाये थे गाय खरीदकर
 गाय मालिक द्वारका घोषी बताते है कि गाडरवारा से यह गाय लाये थे। और यहां उसने बच्चा जन्म दिया।जब इस बात की जानकारी वन अमले को लगी तो देवरी वन विभाग के एसडीओ प्रमोद सिंग ने   अपने वन अमले के साथ  ग्राम निवारी पहुंचे और उन्होंने गाय के द्वारा जन्में हिरण के बछड़े को देखा। वन विभाग के एसडीओ प्रमोद सिंग ने बताया बछड़ा करीब एक माह का हो गया है और गाय उसको बराबर दूध भी पिला रही है उन्होंने ने बताया कि प्रथम दृष्टया उसकी शारीरिक बनावट जैसे आंख पूंछ पैरों से वह हिरण प्रजाति का ही बच्चा लग रहा है,और इस संबंद्ध मे पशु चिकित्सक से बात की है और पशु चिकित्सक के द्वारा जांच करा कर और अच्छी तरह से पुष्टि की जाएगी कि यह हिरण का ही बच्चा है। 

जिम्मेदार नागरिक: होटल व्यवसायी कमलेश साहू ने कराया बेटी का परीक्षण ,नेपाल से लोटी थी

 जिम्मेदार नागरिक: होटल व्यवसायी कमलेश साहू ने कराया बेटी का परीक्षण ,नेपाल से लोटी थी


सागर। कोरोना वायरस को लेकर एक तरफ बाहर से आये  लोग  अपनी जानकारी छिपा रहे है । प्रशासन और नागरिको को संकट में डाल रहे है। खुद भी संकट में है। ऐसे में कई नागरिक अपनी जिम्मेदारी का परिचय भी दे रहे है। ताजा मामला सागर  शहर मैं रहने वाले होटल संचालक कमलेश साहू की पुत्री कृतिज्ञा साहू का है ।कृतिज्ञा ईंन दिनों  नेपाल में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही थी।  कोरोना वायरस के चलते उनके कॉलेज प्रशासन द्वारा सबको अपने-अपने घर जाने का नोटिस दिया गया था । नोटिस मिलते ही अपने परिवार से संपर्क कर हाल ही में घर लौटी । 
कृतिज्ञा ने सर्वप्रथम अपने पिता को इस विषय में बताया । शहर आकर सबसे पहले उन्होंने एक जिम्मेदार शहरी की भूमिका निभाते हुए जिला प्रशासन एवं पुलिस को इस विषय में सूचना दी कि मेरी बेटी नेपाल से आई है और प्रशासन के निर्देश के अनुसार बीएमसी में जाकर उसका चेकअप कराया। परीक्षण में नेगेटिव रिपोर्ट आई। उनके इस कार्य की सराहना भी कर रहे हैं।

कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु चैत्र मास नवदुर्गा पवन पर्व पर आमजन घर पर ही पूजा-अर्चना करें :कलेक्टर प्रीति मैथिल

कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु चैत्र मास नवदुर्गा पवन पर्व पर आमजन घर पर ही पूजा-अर्चना करें
:कलेक्टर प्रीति मैथिल  

सागर 25 मार्च 2020/ कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने समस्त जिला वासियों को नवदुर्गा की हार्दिक शुभकामनाएं देती हुई आम जनों से अपील की है कि सामाजिक दूरी बनाए रखें एवं बार-बार साबुन से हाथ धोएं। विदित है कि जिले में 144 धारा लगाई गई है एवं माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा संपूर्ण भारत  लॉक डाउन घोषित किया गया है । कलेक्टर सागर ने कोरोना वायरस की मद्देनजर कोरोना वायरस को फेलने से रोकने हेतु विशेषकर महिलाओं से अपील की है कि महिलायें घर पर ही पूजा-अर्चना करें क्योकिं कोरोना वायरस भीड़-भाड़ में फैलने से ज्यादा संभावना रहती है और साथ ही कहा है कि सुखद खबर है कि आप सब के सहयोग से जिले में कोई भी व्यक्ति कोरोना से पॉजिटिव नहीं पाया गया है । जिला प्रशासन हर संभव सतर्क है एवं सचेत, हर संभव मदद कर रहा है । श्रीमती मैथिल  ने कहा की समस्त नागरिक प्रशासन का सहयोग करें। घर पर रहकर, स्वस्थ रहें एवं पुलिस का कहना माने और उन्होंने कहा है कि प्रत्येक व्यक्ति 144 धारा एवं लॉकडाउन  के निर्देशों का परिपालन करें।
जिले के समस्त ग्राम/गांव में कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने हेतु एवं ग्राम वासियों को जागरूकता हेतु ग्राम सचिव को निर्देश दिए हैं कि कोटवारों के माध्यम से ग्राम वासियों को जागरूक करने के लिए  मुनादी कराएं एवं भीड़-भाड़ ना होने दें।

समस्त आबकारी गोदाम स्प्रिट एवं सेनेटाईजर उपलब्ध कराएंगे
  सागर 25 मार्च 2020/ प्रदेष मेें संचालित डिस्टलरीज स्प्रिट के साथ अब सैनेटाईजर का भी उत्पादन कर रही है। संपूर्ण प्रदेष में कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के उददेष्य से सभी शासकीय एवं निजी अस्पतालों में स्प्रिट एवं सैनेटाईजर की उपलब्धता उनकी आवष्यकतानुसार सुलभ रहे, को देखते हुए सभी डिस्टलरीज को आदेषित किया गया है कि वे उनकी डिस्टलरीज को में. जगपिन ब्रिवरीज लि. नौगांव जिला छतरपुर (संपर्क व्यक्ति श्री जगदीष अग्रवाल संचालक 7974260239 एवं मे. डीसीआर डिस्टलरीज प्रा.लि. ग्राम मेहर जिला सागर संपर्क व्यक्ति श्री सुनील सिंह संचालक 8602665712 को आबकारी गोदाम सागर आवंटित संभाग सागर में स्प्रिट एवं सैनेटाईजर पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रखें एवं उनकी दरों को शासनादेष के अनुरूप रखते हुए शासकीय आबकारी गोदाम प्रभारी को सूचित करें।
आबकारी गोदाम एवं उनसे संबंधित जिलों की जानकारी भी सलंग्न है, ताकि उन जिलों को निकटस्थ जिलों से स्प्रिट एवं सैनेटाईजर उपलब्ध हो सके। यह व्यवस्था संभागीय राजस्व आयुक्त एवं संभागीय आयुक्त के नियंत्रण में संचालित होगी। यदि किसी संभाग के लिए विनिदिष्ट गोदाम में पर्याप्त स्प्रिट एवं सैनेटाईजर उपलब्ध नहीं है, तो संभागीय आबकारी उपायुक्त निकस्थ आबकारी गोदाम से स्प्रिट एवं सैनेटाईजर उपलब्ध कराएंगे।
सभी डिस्टलरीज आबकारी गोदाम में अपने प्रतिनिधि 24 घंटे के अनुरूप ड्यूटी पर रहेगे तथा शासकीय संस्थाओं को उनकी मांग के अनुसार बिना नगद भुगतान के व निजी संस्थाओं को नगद भुगतान पर स्प्रिट एवं सैनेटाईजर उपलब्ध कराएंगे। शासकीय संस्थाओं का भुगतान संबंधित संस्थाओं के प्रमुख्, देयक प्रस्तुत होने पर शीघ्र किया जाना सुनिष्चित करेंगे। संभागीय राजस्व आयुक्त, संभाग की मांग का आंकलन कर डिस्टलरी को सूचित करें एवं संभागीय गोदाम में उपलब्ध स्प्रिट एवं सैनेटाईजर का सभी जिलों में उनकी आवष्यकतानुसार युक्तियुक्त वितरण सुनिष्चित करें।                                     

विधायक शेलेन्द्र जैन और प्रदीप लारिया ने की एक एक माह का वेतन देने की घोषणा ,मुख्यमंत्री राहत कोष में

विधायक शेलेन्द्र जैन और प्रदीप लारिया ने की  एक एक माह का वेतन  देने की घोषणा,मुख्यमंत्री राहत कोष में
सागर  । कोरोना वायरस जैसी आपदा के चलते अब लोगो ने दान और इससे बचाव के संसाधनों जैसे मास्क सेने टाईजर ,खाने पीने की वस्तुएं आदि  वितरित करना शुरू कर दी है। यह एक अच्छी पहल सामने आई है ।सागर जिले के दो विधायको ने मुख्यमंत्री राहत कोष में एक एक माह का वेतन देने की घोषणा की है। 
 सागर के विधायक  शैलेंद्र जैन  और भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष और नरयावली के विधायक प्रदीप लारिया ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के आव्हान पर एक एक माह का वेतन देने की घोषणा की है । 

पढ़े सागर में क्या क्या निःर्देश दिए है लॉक डाऊन में प्रशासन,नीचे क्लिक करे

विधायक शेलेन्द्र जैन ने कहा कि मेव अपने एक महीने का वेतन कोरोना के संकट से लड़ने के लिए  मुख्यमंत्री राहत कोष में देने की घोषणा की है।  साथ ही व्यक्तिगत रूप से सेनेटाइजर मास्क ग्लब्ज इत्यादि आवश्यक चीजे भी लोगों को मुहैया कराई जाएंगी।
विधायक प्रदीप लारिया ने कहा कि यह संकट की घड़ी है। हम घर मे रहकर अपना बचाव कर सकते है । वही दान और सविधाओं को मुहैया कराकर राष्ट्रनिर्माण में सहयोग कर सकते है।

सागर मेंलॉक डाऊन ,घर पर ही आएंगे सब्जी विक्रेता,खाने पीने के सामानों की होम डिलवरी, चल रहा है जागरूकता अभियान

सागर में लॉक डाऊन, घर पर ही आएंगे सब्जी विक्रेता,खाने पीने के सामानों की होम डिलवरी, चल रहा है जागरूकता अभियान
सागर । कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने एवं रोकथाम हेतु कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्रीमती प्रीति मैथिल नायक के निर्दशानुसार नगर निगम आयुक्त श्री आर पी अहिरवार द्वारा सब्जियों की काला बाजारी रोकने हेतु  सब्जी बिक्रेताओं की व्यवस्था वार्डों में की जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि सब्जी मंडी में नहीं मिलेगी लोगो को सब्जियां, संबंधित वार्डो में ही उपलब्ध कराई जाएगी सब्जी। जिससे काला बाजारी पर लगेगी रोक सब्जी मंडी में अब लोगों को सब्जी खरीदने नही जाना है वार्ड में ही मिलेगी सब्जी। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि यदि काला बाजारी होगी तो सख्त कार्यवाही होगी। ठेलो पर रवाना की जाएगी सब्जी जिससे लोग परेशान न हो।
किराना दुकान सुबह दो घण्टे 7 बजे से 9 बजे तक

किराने की दुकानें सुबह 7 से 9 बजे तक कुल दो घंटे की छूट दी गई है।  जारी निर्देश अनुसार 4-4 फिट की दूरी पर रहें लोग। डेरी की दुकानें आटा चक्की खुली रहेगी। उन्होंने चक्कियों पर अनाज रख घर पर आ जाएं और गेंहू पिसने के बाद चक्की पर जाकर आटा उठाये भीड़ न लगाने की अपील की है। उन्होंने बताया कि होम डिलीवरी करने वालों को उनको पास जारी किए जा रहे हैं।                
सरोकार योजना :गरीब व्यक्तियों को कराया जा रहा है भोजन
सागर । कोरोना वायरस की रोकथाम एवं  नियंत्रण के लिए लॉक डाउन की स्थिति में कलेक्टर श्रीमती प्रीति  मैथिल नायक ने सरोकार योजना प्रारंभ की । जिसके तहत नोडल अधिकारी जिला शिक्षा अधिकारी डॉक्टर महेंद्र प्रताप तिवारी  को बनाया गया उन्होंने अपनी टीम के साथ तीसरे दिवस 11 बजे से दोपहर तक शहर के विभिन्न स्थानों पर गरीब निर्धन,  व्यक्तियों को दिन का भोजन वितरण किया स उनके साथ उनकी टीम के दल में संजय श्रीवास्तव के साथ गुरुद्वारा प्रबंध समिति की सदस्यता परमिंदर सिंह उपस्थित थे । डॉक्टर तिवारी ने बताया कि  आज रेलवे स्टेशन पर फसल कटाई के लिए आए कटनी से लगभग 2 दर्जन से अधिक व्यक्तियों को भी खाना उपलब्ध कराया । उन्होंने बताया कि सरोकार योजना के तहत खाना वितरण हेतु सागर के अनेक सामाजिक संगठन आगे आने के लिए तैयार हो गए हैं आज का खाना समाजसेवी नेवी जैन द्वारा उपलब्ध कराया गया ।

देखे सूची सागर में किन किराना दुकानों से होगी होम डिलीवरी,नीचे क्लिक करे



बीएमसी की सभी ओपीडी, आईपीडी व ऑपरेशन सहित इमरजेंसी सेवायें जिला चिकित्सालय में अस्थाई रूप से होगी संचालित
सागर ।शासकीय बुन्देलखण्ड चिकित्सा महाविद्यालय , जिला चिकित्सालय सागर में वैश्विक कोरोना महामारी की रोकथाम एवं कोरोना मरीजों के उपचार संबंधी आकस्मिकता को दृष्टिगत रखते हुये कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकरी श्रीमती प्रीति मैथिल नायक के निर्देशानसार बन्देलखण्ड चिकित्सा महाविद्यालय , सागर के समस्त विभागों की ओपीडी एवं आईपीडी अस्थाई रूप से आगामी आदेश तक जिला चिकित्सालय सागर में स्थानांतरित की गई हैं । अधिष्ठाता बुन्देलखण्ड चिकित्सा महाविद्यालय  ने बुन्देलखण्ड चिकित्सा महाविद्यालय , सागर के समस्त क्लिनिकल विभागाध्यक्षों को निर्देशित किया गया है कि वे अपने - अपने विभाग की ओपीडी एवं आईपीडी व ऑपरेशन संबंधी सामान्य एवं इमरजेंसी सेवायें जिला चिकित्सालय , सागर में संचालित करना सुनिश्चित करें ।
पत्रकार अपने संस्थान का पहचान पत्र दिखाएं, नहीं होगी परेशानी:पुलिस अधीक्षक श्री सांघी
सागर। समस्त पत्रकार बंधुओं से निवेदन है कि उनके लिए यदि पुलिस रोकती है, तो वह अपने संस्थान का पहचान पत्र दिखाएं । पुलिस अधीक्षक सागर श्री अमित सांघी द्वारा समस्त थानों को सूचित कर दिया गया है कि पत्रकारों के पहचान पत्र देखकर उनको आने-जाने दें।   
  कोरोना वायरस  से बचाव हेतु प्रत्येक 5 वार्डों में एक-एक ऑटो रिक्शा से प्रचार प्रसार कर लोगों को जागरूक किया जा रहा

सागर । कोरोना वायरस की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्रीमती प्रीति मैथिल नायक द्वारा सहायक संचालक नीरज मिश्रा को प्रचार प्रसार का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया था। श्रीमती नायक के निर्देश पर डॉ मिश्रा द्वारा प्रत्येक 5 वार्डों में एक-एक ऑटो रिक्शा के माध्यम से प्रचार प्रसार कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। साथ ही घर पर रहने की सलाह दी जा रही है। नगर निगम उपायुक्त श्री पीके खरे द्वारा नगर निगम एवं कैंट क्षेत्र में लगातार निगरानी कर लोगों को जागरूक कर रहे हैं। डॉ मिश्रा ने बताया कि पूरे जिले में नगर पालिका एवं विकासखंडों में ऑटो रिक्शा के माध्यम से प्रचार-प्रसार कर जन समुदाय को जागरूक किया जा रहे है जिससे वे घर पर ही रहें। उन्होंने बताया कि आॅटो रिक्षा चालक एवं घोषणा करने वाले व्यक्ति को मास्क एवं सेनेटाईजर रहने के निर्देष दिए। उन्होंने बताया कि मकरोनिया नगरपालिका शाहपुर में भी प्रचार-प्रसार कर जागरूक किया जा रहा है।

खाद्यान्न, दूध, फल, सब्जी एवं दैनिक उपयोग की सामग्री हेतु ,21 दुकानों पर होम डिलेवरी की सुविधा

खाद्यान्न, दूध, फल, सब्जी एवं दैनिक उपयोग की सामग्री हेतु ,21 दुकानों पर होम डिलेवरी की सुविधा
सागर 25 मार्च 2020/ नोबल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव को दृष्टिगत रखते हुये लॉकडाउन का आदेश कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्रीमती प्रीति मैथिल द्वारा 23 मार्च, 2020 को जारी किया गया था। लॉकडाउन की अवधि में जन सामान्य को खाद्यान्न, दूध, फल, सब्जी एवं दैनिक उपयोग की अन्य सामग्रियों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए होम डिलेवरी की सुविधा प्रदान करने हेतु निर्णय लिया गया है। इस हेतु दुकानदारों और दुकानों से प्राप्त सहमति अनुसार उनको आदेशित किया गया है।
होम डिलेवरी की सुविधा प्राप्त करने के लिए किराना व्यवसायी हर्ष सागर शॉपिंग, सिविल लाइंस 9977730468, 7693017231, डेली नीड्स, गोपालगंज 9329219704, नायक किराना एवं जनरल स्टोर, भीतर बाजार 9827087864,  शिव किराना स्टोर, शस्त्री चैक सदर 9575718822, विद्यासागर शॉपिंग सेंटर, तिली 8770394816, पापुलर किराना, सिविल लाइंस 9303713079, प्रताप किराना, सुभाष नगर 9827524160, बलेजा एंड सन्स, सिविल लाइंस 9893456295, 9806856856, बलेजा शॉपिंग सेंटर, मकरोनिया 7477080610, श्री राम किराना एंड जनरल स्टोर, मकरोनिया 9893479782, वैभव माकेट, आर . एस . ट्रेडर्स , बड़ा बाजार 8839596149, 9425451314, गणेश किराना, सदर 9301628294, मनोहर डेली नीड्स, भगवानगंज 9770452263, दिनेश किराना भंडार मोतीनगर 7974950802, नवीन स्वयं सेवा केंद्र, मकरोनिया 8818998743, साहू अनाज भडार, मकरोनिया 9826021807, ओम सुविधा केंद्र, कोतवाली 9301346798, चैरसिया किराना, काजी मोहल्ला 8871555658, अक्षय किराना इतवारा बाजार 9897343047 एवं मुकेश किराना, पुरव्याउ 8871937424 तथा वंदना किराना एण्ड जनरल स्टोर, पंत नगर 9340156096 से संपर्क कर सकते है।
यदि इन किराना व्यावसायी के अतिरिक्त अन्य किराना व्यापारी भी यदि होम डिलेवरी करना चाहते है, तो वे अपना नाम एवं आवेदन सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय में प्रस्तुत करें। प्रत्येक डिलेवरी चार्ज अधिकतम 20 रूपये तक ले सकते है। होम डिलेवरी करने वाले व्यवसायी को निर्धारित दर पर ही सामग्री विकय करें। किसी भी परिस्थिति में ग्राहक के घर में प्रवेश न करें, दरवाजे पर ही सामग्री दे। प्रत्येक डिलेवरी के बाद हाथों को सेनेटाइज करें । इन शर्तों का पालन करना अनिवार्य होगा।

नवरात्रि में करें पूजा,लेकिन घर से बाहर नही निकले

नवरात्रि में करें पूजा,लेकिन घर से बाहर नही निकले

पंडित नरेश शुक्ल ,सागर

शरीर रूपी इस देह दुर्ग में अष्टचक्र और नोँ द्वार ( दो आँख, दो कान , दो नासिका ,मुख ,पायु और उपस्थ) है। शरीर रूपी इसी दुर्ग में ये देविया जीवन को देने वाली कईं नामों से जानी जाती है। "इडा को गंगा , पिंगला को यमुना ,और इन दोनो के  मध्य जाने वाली नाड़ी सुषुम्ना को सरस्वती कहते है । इस त्रिवेणी का जहां संगम है उसे तीर्थराज कहा गया है। इसमें स्नान करके साधक समस्त पापों से मुक्त हो जाता है । यह त्रिवेणी संगम बाहर नही अपितु हमारे भीतर ही है । यदि कोई प्राणायाम एवं ध्यान द्वारा आज्ञा चक्र में सन्निहित त्रिवेणी संगम में मन को टिकाकर ज्ञान की गंगा में नहाता है तो देवी कृपा से समस्त पापों से मुक्ति पाता है

कैसे करें कन्या पूजन 

 एक वर्ष की उम्र वाली बालिका "सन्ध्या कहलाती है दो वर्ष वाली सरस्वती तीन वर्ष वाली त्रिदधा मूर्ति चार वर्ष वाली कालिका पांच वर्ष की होने पर सुभगा छह वर्ष की उमा सात वर्ष की मालिनी आठ वर्ष की कुब्जा नो वर्ष की काल संदर्भी दसवे वर्ष की अपराजिता ,ग्यारह वर्ष में रुद्राणी बारहवे वर्ष में भैरवी ,तेरहवें वर्ष में महालक्ष्मी चौदह पूर्ण होने पर पीठ नायिका पन्द्रहवें में क्षेत्रज्ञा ओर सोलहवें में अम्बिका मानी जाती है 
इस प्रकार वेदमतनुसार ऋतु का उदगम न हो तभी तक क्रमशः संग्रह करके प्रतिपदा से पूर्णिमा तक वृद्धि भेद से " कुमारी पूजन करना चाहिए । 
वैज्ञानिक आधार 
घट स्थापना आंतरिक जगत के कई रहस्योद्घाटन करने वाली प्रक्रिया है तो बाहरी जगत में आनेवाली फसल के विषय मे एक सटीक जानकारी भी है ।मिट्टी , गेंहू के दाने फिर नवम दिन में इनकी कितनी व्रद्धि हुई है इन तरीकों से आने वाली फसल के विषय मे अनुमान लगाया जा सकता है ।

नवरात्र के किस दिन कहा रहे ध्यान -

1-  शैलपुत्री --- मूलाधार चक्र 
2- ब्रह्मचारिणी -- स्वाधिष्ठान चक्र 
3-चंद्र घँटा --मणिपुर चक्र 
4- कुष्मांडा - अनाहत चक्र 
5- स्कंदमाता- विशुद्ध चक्र 
6- कात्यायनी- आज्ञा चक्र 
7- कालरात्रि-- भानु चक्र 
8- महागौरी -- सोमचक्र 
9-सिद्धिदात्री- निर्वाण चक्र 

शैलपुत्री

शैल का अर्थ है शिखर| दुर्गा को शैल पुत्री क्यों कहा जाता है, यह बहुत दिलचस्प बात है| जब ऊर्जा अपने शिखर पर होती है, केवल तभी आप शुद्ध चेतना या देवी रूप को देख, पहचान और समझ सकते हैं| उससे पहले, आप नहीं समझ सकते, क्योंकि इसकी उत्त्पति शिखर से ही होती है – किसी भी अनुभव के शिखर से| यदि आप 100% क्रोधित हैं, तो आप देखें कि किस प्रकार क्रोध आपके सारे शरीर को जला देता है| किसी भी चीज़ का 100% आपके सम्पूर्ण अस्तित्त्व को घेर लेता है – तब ही वास्तव में दुर्गा की उत्पत्ति होती है|

ब्रह्मचारिणी

ब्रह्मचारिणी का अर्थ है अनंत में व्याप्त, अनंत में गतिमान – असीम| ब्रह्मा असीम है जिसमें सबकुछ समाहित है| आप यह नहीं कह सकते कि, 'मैं इसे जानता हूँ', क्योंकि यह असीम है; जिस क्षण 'आप जान जाते हैं', यह सीमित बन जाता है और अब आप यह नहीं कह सकते कि, "मैं इसे नहीं जानता", क्योंकि यह वहां है – तो आप कैसे नहीं जानते? क्या आप कह सकते हैं कि, "मैं अपने हाथ को नहीं जानता| आपका हाथ तो वहां है न| है न ? इसलिये, आप इसे जानते हैं| ब्रह्म असीम है, इसलिये आप इसे नहीं जानते – आप इसे जानते हैं और फिर भी आप इसे नहीं जानते| दोनों ! इसीलिये, यदि कोई आपसे पूछता है तो आपको चुप रहना पड़ता है| जो लोग इसे जानते हैं वे बस चुप रहते हैं क्योंकि यदि मैं कहता हूँ कि, "मैं नहीं जानता" , मैं पूर्णत: गलत हूँ और यदि मैं कहता हूँ कि, "मैं जानता हूँ", तो मैं उस जानने को शब्दों द्वारा, बुद्धि द्वारा सीमित कर रहा हूँ| इस प्रकार, ब्रह्मचारिणी वो है, जोकि असीम में विद्यमान है, असीम में गतिमान है| गतिहीन नहीं, बल्कि अनंत में गतिमान| ये बहुत ही रोचक है – एक गतिमान होना, दूसरा विद्यमान होना|ब्रह्मचर्य का अर्थ है तुच्छता में न रहना, आंशिकता से नहीं पूर्णता से रहना| इस प्रकार, ब्रह्मचारिणी चेतना है, जोकि सर्व-व्यापक है|
चन्द्रघंटा
प्राय:, हम अपने मन से ही उलझते रहते हैं – सभी नकारात्मक विचार हमारे मन में आते हैं, ईर्ष्या आती है, घृणा आती है और आप उनसे छुटकारा पाने के लिये और अपने मन को साफ़ करने के लिये संघर्ष करते हैं| मैं कहता हूँ कि ऐसा नहीं होने वाला| आप अपने मन से छुटकारा नहीं पा सकते| आप कहीं भी भाग जायें, चाहे हिमालय पर ही क्यों न भाग जायें, आपका मन आपके साथ ही भागेगा| यह आपकी छाया के समान है|हाँ, प्राणायाम, सुदर्शन क्रिया बहुत सहायक हो सकते हैं; पर फिर भी मन सामने आ ही जाता है| मन को घंटे की ध्वनि के समान स्वीकार करें – घंटे की ध्वनि एक होती है, यह कई नहीं हो सकती, यह केवल एक ही ध्वनि उत्पन्न कर सकता है - सभी छायाओं के बीच मन में एक ही ध्वनि ! सारी अस्तव्यस्तता दैवीय शक्ति का उद्भव करती है – वो है चन्द्रघंटा अर्थात् चन्द्र और घंटा|

कूष्माण्डा

'कू' का अर्थ है छोटा, 'इश' का अर्थ है ऊर्जा और 'अंडा' का अर्थ है ब्रह्मांडीय गोला – सृष्टि या ऊर्जा का छोटे से वृहद ब्रह्मांडीय गोला| यह बड़े से छोटा होता है और छोटे से बड़ा ; यह बीज से बढ़ कर फल बनता है और फिर फल से दोबारा बीज हो जाता है| इसी प्रकार, ऊर्जा या चेतना में सूक्ष्म से सूक्ष्मतम होने की और विशाल से विशालतम होने का विशेष गुण है; जिसकी व्याख्या कूष्मांडा करती हैं|

स्कंदमाता

स्कन्दमाता वो दैवीय शक्ति है जो व्यवहारिक ज्ञान को सामने लाती है – वो जो ज्ञान को कर्म में बदलती हैं|
कात्यायनी

कात्यायनी अज्ञात की वो शक्ति हि, जोकि अच्छाई के क्रोध से उत्पन्न होती है| क्रोध अच्छा भी होता है और बुरा भी| अच्छा क्रोध ज्ञान के साथ किया जाता है और बुरा क्रोध भावनाओं और स्वार्थ के साथ किया जाता है| ज्ञानी का क्रोध भी हितकर और उपयोगी होता है; जबकि अज्ञानी का प्रेम भी हानिप्रद हो सकता है| इस प्रकार, कात्यायनी क्रोध का वो रूप है जो सब प्रकार की नकरात्मकता को समाप्त कर सकता है|

कालरात्रि

कालरात्रि देवी माँ के सबसे क्रूर,सबसे भयंकर रूप का नाम है| दुर्गा का यह रूप ही प्रकृति के प्रकोप का कारण है| प्रकृति के प्रकोप से कहीं भूकंप, कहीं बाढ़ और कहीं सुनामी आती है; ये सब माँ कालरात्रि की शक्ति से होता है| इसलिये, जब भी लोग ऐसे प्रकोप को देखते हैं, तो वो देवी के सभी नौ रूपों से प्रार्थना करते हैं|

महागौरी

महागौरी, माँ का आठवां रूप, अति सुंदर है, सबसे सुंदर ! सबसे अधिक कोमल, पूर्णत: करुणामयी, सबको आशीर्वाद देती हुईं| यह वो रूप है, जो सब मनोकामनाओं को पूरा करता है|

सिद्धिदात्री

नवां रूप, सिद्धिदात्री, सिद्धियाँ या जीवन में सम्पूर्णता प्रदान करने वाला है| सम्पूर्णता का अर्थ है – विचार आने से पूर्व ही काम का हो जाना, यही सम्पूर्णता है|आप कुछ चाहो और वो पहले से ही वहां आ जाये| आपकी कामना उठे, इस से पहले ही सबकुछ आ जाये – यही सिद्धिदात्री है| 

मंगलवार, 24 मार्च 2020

पूरे देश मे 21 दिनों तक लॉक डाऊन, पीएम मोदी का एलान

पूरे देश मे 21 दिनों तक लॉक डाऊन, पीएम मोदी का एलान

नई दिल्ली।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में लॉक डाउन का एलान कर दिया है। पीएम मोदी ने मंगलवार को  देश के नाम अपने अपने संबोधन में कहा कि आज रात 12 बजे से पूरे देश में, ध्यान से सुनिएगा, पूरे देश में, आज रात 12 बजे से पूरे देश में, संपूर्ण लॉक डाउन होने जा रहा है। इस दौरान पीएम जनता कर्फ्यू के बाद कोरोना वायरस की महामारी से निपटने के लिए कड़े फैसले का एलान किया। पीएम मोदी ने कहा कि इस दौरान सिर्फ एक और एक काम करें कि बस अपने घर में रहें। किसी सूरत में बाहर न निकलें। देश के हर राज्य को, हर केंद्र शासित प्रदेश को, हर जिले, हर गांव, हर कस्बे, हर गली-मोहल्ले को अब लॉकडाउन किया जा रहा है। हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से, घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है। आज रात 12 बजे से पूरे देश में, ध्यान से सुनिएगा, पूरे देश में, आज रात 12 बजे से पूरे देश में, संपूर्ण लॉक डाउन होने जा रहा है।
पीएम ने कहा कि साथियों, पिछले 2 दिनों से देश के अनेक भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है। राज्य सरकार के इन प्रयासों को बहुत गंभीरता से लेना चाहिए। कुछ लोगों की लापरवाही, कुछ लोगों की गलत सोच, आपको, आपके बच्चों को, आपके माता पिता को, आपके परिवार को, आपके दोस्तों को, पूरे देश को बहुत बड़ी मुश्किल में झोंक देगी। कुछ लोग इस गलतफहमी में हैं कि सोशल डिस्‍टेंसिंग केवल बीमार लोगों के लिए आवश्यक है। ये सोचना सही नहीं। सोशल डिस्‍टेंसिंग हर नागरिक के लिए है, हर परिवार के लिए है, परिवार के हर सदस्य के लिए है।  पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि कोरोना से बचने का इसके अलावा कोई तरीका नहीं है, कोई रास्ता नहीं है। कोरोना को फैलने से रोकना है, तो इसके संक्रमण की सायकिल को तोड़ना ही होगा। कोरोना से प्रभावित रहे चीन, अमेरिका, इटली, ईरान आदि देशों का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इन सभी देशों के दो महीनों के अध्ययन से जो निष्कर्ष निकल रहा है, और एक्सपर्ट्स भी यही कह रहे हैं कि कोरोना से प्रभावी मुकाबले के लिए एकमात्र विकल्प है सामजिक दूरी। समाज के लोग एक दूसरे से अलग-थलग रहेंगे तो यह बीमारी भी उनसे दूर रहेगी।

यह भी पड़े :सागर में रेपिड रिस्पांस टीम बनाई कोरोनो को लेकर ,नीचे क्लिक करे



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि साथियों, आप कोरोना वैश्विक महामारी पर पूरी दुनिया की स्थिति को समाचारों के माध्यम से सुन भी रहे हैं और देख भी रहे हैं। आप ये भी देख रहे हैं कि दुनिया के समर्थ से समर्थ देशों को भी कैसे इस महामारी ने बिल्कुल बेबस कर दिया है। एक दिन के जनता कर्फ़्यू से भारत ने दिखा दिया कि जब देश पर संकट आता है, जब मानवता पर संकट आता है तो किस प्रकार से हम सभी भारतीय मिलकर, एकजुट होकर उसका मुकाबला करते हैं। बच्चे-बुजुर्ग, छोटे-बड़े, गरीब-मध्यम वर्ग-उच्च वर्ग, हर कोई परीक्षा की इस घड़ी में साथ आया। 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का जो संकल्प हमने लिया था, एक राष्ट्र के नाते उसकी सिद्धि के लिए हर भारतवासी ने पूरी संवेदनशीलता के साथ, पूरी जिम्मेदारी के साथ अपना योगदान दिया। अब आगे भी पूरे देश में लागू किए जा रहे लॉक डाउन का कड़ाई से पालन करें। हम जल्‍द ही कोरोना वायरस की वैश्विक महामारी से निपटने में सफल होंगे।

झारखंड में लोग पीएम मोदी के भाषण की बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। कोराेना पर विजय पाने की जल्‍दी में सबको अपने प्रधानमंत्री से बड़ी आस लगी है। रांची में कई इलाकों में लाेग अपने घरों में टीवी से चिपके हैं। प्रधानमंत्री को सुनने की बेताबी के साथ ही कोरोना से सहमा जनमानस इस बीमारी से मुक्ति पाने की जीवटता दिखा रहा है। इधर पीएम मोदी ने अपने देश के संबोधन को लेकर कहा है कि वे कोरोना वायरस की महामारी के बढ़ते प्रकोप के बारे में देशवासियों से महत्‍वपूर्ण बातें साझा करेंगे। पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में इस बारे में जानकारी दी है। इससे पहले प्रधानमंत्री 19 मार्च को भी देश को संबोधित कर चुके हैं। तब उन्‍होंने एक दिन के लिए जनता कर्फ्यू का एलान किया था।( दैनिक जागरण)

कोरोना पीड़ित की सूचना मिलने पर तत्काल पहुंचे मेडिकल टीम ,रैपिड रिस्पांस टीम का गठन

कोरोना पीड़ित की सूचना मिलने पर तत्काल पहुंचे मेडिकल टीम ,रैपिड रिस्पांस टीम का गठन
#नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से रोकथाम व नियंत्रण हेतु  जिला 
प्रशासन के अधिकारियों एवं डाॅक्टरों की बैठक

सागर । विश्व में फैली महामारी नोवल कोरोना वाइरस (कोविड-19) के संक्रमण से रोकथाम एवं नियंत्रण को दृष्टिगत रखते हुए एवं प्रभावी नियंत्रण हेतु कार्यालय स्मार्ट सिटी में  कलेक्टर प्रीति मेथिल नायक की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में कलेक्टर ने निर्देश देते हुए कहा की इस महामारी की रोकथाम व नियंत्रण हेतु बनाए गए सभी प्रोटोकाल का कड़ाई से पालन किया जाये। इस हेतु बनाई गईं सभी 7 रैपिड रिस्पांस टीम (त्त्ज्द्ध के लीडर कंट्रोल रूम से सूचना प्राप्त होने पर तुरंत संबंधित लोकेशन पर अपनी टीम के साथ पहुचें और जरूरी कार्यवाही सुनिश्चित करें।
बैठक में इसके अलावा तीन मुख्य बिंदूओं पर कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देष भी दिए गए। जिसमें जिले में सी.एम.एच.ओ कार्यालय द्वारा अब तक होम क्वारंटाइन किये गए लोगों को सील लगाएं व उनके घर पर संबंधित स्टीकर लगाया जाये। जिले में बाहर से आने वाले जिन 168 नागरिकों की लिस्ट हवाई अड्डों से प्राप्त हुई है, उनसे जल्द से जल्द संपर्क कर आगे की कार्यवाही सुनिश्चित कर कंट्रोल रूम में रिपोर्ट करें। आज अब तक कंट्रोल रूम कार्यालय स्मार्ट सिटी ;प्ब्ब्ब्द्ध को प्राप्त सूचनाओं  पर तुरंत प्राथमिकता से एक्शन लिया जाये।
सागर में ट्रेकर वाहन दिए आयुक्त नगर निगम
बैठक में उपस्थित निगमायुक्त आर.पी. अहिरवार ने बताया की जिले में शहर एवं विकासखण्ड स्तर पर अलग-अलग रैपिड रिस्पांस टीम  का गठन किया गया है। जिसमें 7 टीमें सागर शहर और मकरोनिया क्षेत्र में कार्य करेगी। इसके अंतर्गत 6 टीमें 24×7 कार्य करेंगी और 1 टीम रिजर्व में आपात के लिए रहेगी। सभी टीमों को प्रशासन की ओर से जी.पी.एस. ट्रैकर वाले वाहन प्रदान किये गये है एवं शहर की तीन मुख्य लोकेशनों चमेली चैक, कोतवाली एवं रजाखेड़ी-मकरोनिया में इन्हें तैनात किया गया है। ताकि सारे शहर और मकरोनिया के अंतिम छोर तक अधिकतम 30 से 40 मिनट में रैपिड रिस्पांस टीम (त्त्ज्) पहुचे और आगे की कार्यवाही सुनिश्चित करें। इसके अलावा 11 अन्य रैपिड रिस्पांस टीम  विकासखण्ड स्तर पर कार्य करेगी। सभी रैपिड रिस्पांस टीम  रिपोर्ट चार्ट बनायेगा ताकि उक्त संबंधित कार्यवाही की माॅनिटरिंग की जा सके। इसके साथ ही रैपिड रिस्पांस टीम  शहर में बनाई गयीं।  मोहल्ला समितियों का भी सहयोग प्राप्त कर सकती हैं।

स्टेशन पर तैनाती टीमो की :cmho
सी.एम.एच.ओ डॉ. एम. एस. सागर जी ने बताया की रेलवे स्टेशन पर भी 2 टीमें तैनात की गईं है। सभी टीमें 8-8 घंटे की शिफ्ट में कार्य करेंगी।
बाहर से आये लोगो को लेकर सतर्क:एसपी
 
 सागर एस.पी. अमित सांघी ने बताया की बाहर से शहर में आये लोगों को उनके घरों में क्वारंटाइन करने के अलावा यदि उक्त व्यक्ति चाहे तो अपनी सहमती से अपने परिवारजनों को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से जिला प्रशासन द्वारा बनाये गए क्वारंटाइन सेंटर में भी रह सकता है। 
बैठक में राहुल सिंह राजपूत, मुख्य कार्यपालन अधिकारी, शहर के मुख्य डाॅक्टर एवं अन्य अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित रहे।
 

कोरोना के चलते घर बैठे ई क्लास से पढ़ाई,डॉ गौर विवि की तस्वीर

कोरोना के चलते घर बैठे ई क्लास से पढ़ाई,डॉ गौर विवि की तस्वीर

सागर। कोरोना वायरस के चलते घर मे बैठकर पढ़ाई जरूरी है।  ऐसे में ई- क्लास का सहारा भी छात्र छात्राएं ले  रहे है। इसका उदाहरण  डॉ  हरीसिंह गौर विवि सागर के भूगर्भ शास्त्र में देखने मिला।  प्रोफेसर प्रदीप कठल द्वारा विद्यार्थियों के हित में एक नया कदम उठाते हुए , ई क्लास  के द्वारा पढ़ाया जा रहा है। इसमे  पाठ्यक्रम स्काइप पर वीडियो कॉल से कक्षा के सभी विद्यार्थीयो की क्लास  एक साथ लेते है।  एम टेक फर्स्ट ईयर की ई क्लास का प्रयोग पिछले तीन दिनों से हो रहा है और सफल भी हुआ। 

यह भी पढ़े..कोरोना में गाया शिक्षको ने लोकगीत 

अच्छा प्रयोग है ईक्लास का श्रृव्या मेहता

इस ई क्लास की छात्रा श्रृव्या मेहता बताती है कि घर रहकर  अपने अपने स्मार्ट फोन तथा लैपटॉप पर क्लास स्काइप जैसी मॉडर्न एप्लिकेशन की मदद से पाठ्यक्रम विद्यार्थियों तक पहुंचाया जा रहा है।इस प्रयोग से हमारा syllabus complete ho रहा है।और क्लास के टाइम Corona Ka far भी कम हो जाता है।  ऐसे नेगेटिव माहौल में ई क्लास अब positivity का काम कर रही  है। जहा सारी क्लास एक साथ फोन पर connect होकर विषयो की पढ़ाई कर लेती है।ई क्लास में विधार्थी जमकर प्रश्न भी पूछ रहे है । जिनके हल प्रो कठल बताते भी है।इसके विधार्थियों के मुताबिक बेहतर पढ़ाई हो रही है। इस क्लास में प्रतिदिन  एम टेक फर्स्ट ईयर के सभी  33 छात्र छात्राएं सुबह 11 बजे से 12 बजे तक एक घण्टे जुड़े रहते है और पढ़ाई लिखाई  करते है।
 प्रो कठल के अनुसार घर बैठे पढ़ाई का सबसे अच्छा माध्यम है। सभी छात्रछात्राये इसमे बड़े उत्साह से हिस्सा ले रहे है।
★विंनोद आर्य ★ तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

सामान खरीदने भीड़ न लगाएं,दूरी बनाकर करे खरीदी :कलेक्टर प्रीति मैथिल

सामान खरीदने भीड़ न लगाएं,दूरी बनाकर करे खरीदी :कलेक्टर प्रीति मैथिल
सागर ।कोरोना वायरस से निपटने के लिए लाॅकडाउन के बाद भी लोगों की भीड़ जरूरी सामान खरीदने के लिए घरों से बाहर निकल रही है इससे जहां एक ओर संक्रमण फैलने का खतरा है। कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने अपील की है कि कोई भी व्यक्ति बेवजह घर के बाहर ना निकले आ सकता के अनुसार ही  प्रातः काल 9 बजे तक अपना सामान खरीद सकते हैं  और तयशुदा समय पर ही सामान खरीदें किंतु सामान खरीदते समय विशेष ध्यान रखें की भीड़ में खड़े ना हो 1 मीटर के अंतर से सामान खरीदें मास्क का उपयोग करें उन्होंने सामग्री बेचने वालों से भी अपील की है कि वह भी मास्क एवं सैनिटाइजर का उपयोग करें और लोगों से दूर से सामान खरीदने की अपील करें उन्होंने कहा कि ऐसा समय है जब आपस में दूरी बना कर रख कर अपने जिंदगी को बचाया जा सकता है।

यह भी पढ़े...कलेक्टर /एसपी निकले सड़को पर ,सागर की..

कलेक्टर प्रीति मैथिल ने  कहा है कि अभी सागर में सागर वासियों का पर्याप्त सहयोग प्राप्त हो रहा है किंतु देखने में आ रहा है कि कुछ लोग अभी भी बेवजह सड़कों पर घूम रहे हैं उन्होंने कहा कि किस सागर में शक्ति ना करना पड़े बगैर शक्ति की ही लोग अपने-अपने घरों पर रहेऔर आवश्यकता पड़ने पर घरों  से निकाल कर सामान खरीद कर वापस घरजाएं उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम नियंत्रण के लिए संपूर्ण प्रशासन हर संभव मदद कर रहा है आवश्यकता है आपकी जागरूकता की एवं सहयोग की इसलिए अपने अपने परिवार के लिए  सुरक्षित रखने के लिए घर से बाहर ना निकले और प्रशासन का सहयोग करें।

लॉक डाऊन के दौरान पुलिस की पिटाई से हाथ टूटा युवक का

 लॉक डाऊन  के दौरान पुलिस की पिटाई से हाथ टूटा युवक का

सागर। सागर में लॉक डाऊन के दौरान पुलिस का अमानवीय कि चेहरा भी सामने आया है । कोतवाली पुलिस के एक asi ने घर के दरवाजे पर खड़े एक युवक को डंडों से पीटा।  जिसमे वह लहूलुहान हो गया और हाथ में फैक्चर भ आया है । पीड़ित युवक के परिजनों ने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराने गया है।
आज कॅरोना को बंद को लेकर शहर के भूतर बाजार मे  किराना व्यपारी  मयूर साहू के साथ पुलिस ने मारपीट की और गालियां बाकी। जिससे मयूर साहू के बाएं हाथ पर खून से लहूलुहान हो गया।  जिसे तत्काल सिटी कोतवाली लेकर गए ।जहाँ पर थाना प्रभारी नही मिलने से परिजन मयूर को जिला अस्पताल ले गए ।जहाँ पर मयूर साहू इलाज किया गया जिसके हाथ मे करीब 5 टाके आये और एक्सरे रिपोर्ट में हाथ में  फेक्चर आया। मयूर के मुताबिक गए घर के नीचे खड़े थे। इसको लेकर पुलिस ने मारपीट की ।
 इस घटना के बाद लोगो मे आक्रोश भी है । जबकि लोग बेखोफ शहर में घूम रहे है । पुलिस उनको रोकने में सफल नही है। 


कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक निकले पैदल ,आमजन को दी समझाइश

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक  निकले पैदल ,आमजन को दी समझाइश
सागर। कोरोना वायरस की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए जिला एवं पुलिस प्रशासन सजग एवं जागरूक है कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक पुलिस अधीक्षक अमित  सांघी के साथ सिविल लाइन चौराहा गोर मूर्ति कटरा मस्जिद राधा चौराहा तक  पैदल भ्रमण किया एवं सड़क पर घूम रहे लोगों को समझाइश दी श्रीमती मैथिल ने पैदल भ्रमण के दौरान सभी से अपील की है कि लॉक डाउन के दौरान सभी आमजन घर पर ही रहे बाहर ना निकले उन्होंने अपील की की यह समय अत्यंत जागरूकता एवं सजग रहने का है  आप सभी से विनम्र अनुरोध है कि घरों में रहकर जागरूकता का परिचय दें एवं कोरोना वायरस को रोकने में मदद करें पैदल परमार के दौरान नगर दंडाधिकारी पवन बारिया एवं पुलिस बल उपस्थित थे।

लॉक डाउन में गरीबो निर्धनों को कराया जा रहा गई भोजन

लॉक डाउन में गरीबो निर्धनों को कराया जा रहा गई  भोजन
सागर। "सरोकार योजना" के अंतर्गत लॉक  डाउन के दूसरे दिवस भी निर्धन गरीबों को कराया गया भोजन । सागर जिला अंतर्गत कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने की दृष्टि से जिला कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक द्वारा जिले में आगामी 25 मार्च  2020 तक के लिए सागर जिले की राजस्व सीमाओं में लॉक डाउन घोषित किया गया है। लॉक डाउन की स्थिति में निर्धन/गरीब जिन्हें भोजन व्यवस्था में समस्या होगी, उनके लिए जिला शिक्षा अधिकारी सागर को नोडल अधिकारी नियुक्त करते हुए भोजन वितरण की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया गया है । जिसे "सरोकार" नाम से संचालित किया जाएगा। 
जिला शिक्षा अधिकारी डॉ महेंद्र तिवारी  ने अपने दल के साथ  रेलवे स्टेशन,  बस स्टैंड, एवं शनि मंदिर,  परेड मंदिर, भूतेश्वर मंदिर, बालाजी मंदिर,  कठुआ पुल हनुमान मंदिर,   हनुमान बाबा मंदिर,  दादा दरबार मंदिरों में जहां गरीब निर्धन मौजूद थे  वहां पहुंचकर  उन्होंने हाथ धुलवाकर कर भोजन कराया l डॉक्टर तिवारी ने बताया कि  मंगलवार को प्रातः 11:00  से कार्य प्रारंभ कराया गया  जो दोपहर तक चलता रहा   l उन्होंने बताया कि शाम को भी  शाम 7:00 बजे से भोजन वितरण का कार्यक्रम प्रारंभ किया जाएगा उन्होंने बताया कि गरीब निर्धन व्यक्तियों को भोजन वितरण कराने के लिए शहर के समाजसेवी भरपूर सहयोग कर रहे हैं । भोजन वितरण के समय  मनोज तिवारी,  श्सजय श्रीवास्तव,   शशि भूषण तिवारी,  नीरज श्रीवास्तव राकेश तिवारी आदि मौजूद थे ।

सागर के दो लोकगायक/ सरकारी शिक्षको के बुन्देली बोली में गाये गीत हो रहे है लोकप्रिय ,कोरोना से लड़ने का है इनमे संदेश

सागर के दो लोकगायक/ सरकारी शिक्षको के बुन्देली बोली में गाये गीत हो रहे है लोकप्रिय ,कोरोना से लड़ने का है इनमे संदेश

सागर। कोरोना  वायरस से बचने  का  संदेश देने वाले दो वीडियो तेजी से लोकप्रिय हो रहे है । इन दोनो को दो शिक्षको ने अलग अलग गाया है। जिनको लगातार सराहना और लोकप्रियता मिल रही है।
●लोक गायक,  आकाशवाणी एवं दूरदर्शन भोपाल , दिल्ली प्रसार भारती दिल्ली द्वारा ""A""ग्रेड प्राप्त  सरकारी शिक्षक जयंत विश्वकर्मा ने  बुंदेली लोकसंगीत में  कोरोना से जूझने और बचाव के लिए गाया गाना। 
सागर की मिडिल स्कूल के शिक्षक  लोकगायक  जयंत विश्वकर्मा  भारत भवन भोपाल एवं रवींद्र भवन भोपाल में संस्कृति विभाग भोपाल द्वारा अनेक प्रस्तुतियां दीं । विश्व हिंदी दिवस पर "संस्क्रति संवाहक " सम्मान मिला है। 

लोक गायक जयंत विश्वकर्मा को सुनने नीचे क्लिक करे


●एक लोकगायक सागर जिले के शाहगढ़ के प्राथमिक स्कूल के  शिक्षक मोती सेन है । मोती भी कई सरकारी गैर सरकारी कार्यक्रमो और आकाशवाणी पर अपनी प्रस्तुति दी चुके है ।
शिक्षक मोती सेन का भी प्रेरक  वीडियो चर्चा में है।
 कोरोना वायरस से बचाव  का संदेश देने लोग आगे आये है।  ऐसे में एमपी के  सागर जिले की शाहगढ़ तहसील के सरकारी प्रायमरी स्कूल के शिक्षक मोती सेन का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है । बुंदेलखंडी बोली में गाये इस गीत को लोगो ने सराहा है । 
दरअसल मोती सेन सरकारी शिक्षक के साथ ही गाने में भी रुचि है। छोटे बड़े कार्यक्रमो में गाते भी रहते है । लेकिन कोरोना की भयाभव तस्वीर ने विचलित कर दिया।
बुन्देलखण्ड अंचल के पिछड़े इलाकों में एक सागर जिले के शाहगढ़ तहसील के सरकारी शिक्षक मोती लाल सेन का बुन्देली में बनाया गीत अब चर्चा  में  है।शिक्षक मोती सेन ने अपने परिवार के साथ इसे गाया।

लोक गायक मोती सेन को सुनने  क्लिक करे

शिवराज सिंह चौहान सरकार ने बहुमत साबित किया,उधर राज्यसभा चुनाव स्थगित

शिवराज सिंह चौहान सरकार ने बहुमत साबित किया,उधर राज्यसभा चुनाव स्थगित

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ओर से पेश किए गए विश्वास मत प्रस्ताव को सर्वसम्मति से स्वीकृति प्रदान की गयी। इसके साथ ही एक दिन पुरानी चौहान सरकार ने सदन में बहुमत साबित कर दिया।
श्री चौहान ने विशेष सत्र के पहले दिन सदन की कार्यवाही प्रारम्भ होने के बाद विश्वास मत पेश किया, जिसे आसंदी पर आसीन सभापति जगदीश देवड़ा ने पारित कराने के लिए मतदान की औपचारिकता करायी। सदन में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस का एक भी सदस्य मौजूद नहीं था। इस दौरान हुए मतदान में विश्वास मत को ध्वनिमत के जरिए सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया।
इसके पहले श्री चौहान ने अपने संबोधन में कहा कि राज्यपाल ने सरकार को पंद्रह दिनों के अंदर सदन में बहुमत साबित करने के लिए कहा था, इसलिए वे विश्वास मत पेश कर रहे हैं। साथ ही श्री चौहान ने कहा कि उनकी सरकार की सबसे पहली प्राथमिकता मौजूदा हालातों में कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकना है। इस दिशा में कल उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद ही आवश्यक कदम उठाना प्रारंभ कर दिए हैं।

सभापति श्री देवड़ा ने विश्वास मत प्रस्ताव पारित होने के बाद सदन की कार्यवाही 27 मार्च, शुक्रवार को सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। (वार्ता)

इकबाल सिंह बने मुख्य सचिव
उधर  इकबाल सिंह बैंस एमपी के नए मुख्य सचिव  बनायेगये है।
राज्यसभा चुनाव  स्थगित
चुनाव आयोग ने कोरोना वायरस के मद्देनजर देश भर में राज्यसभा के 26 मार्च को होने वाले चुनाव हुए स्थगित कर दिये है । एमपी में तीन सीटों के लिए राज्यसभा के चुनाव होने थे। 26 मार्च को मतदान होना था।

Archive