SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

शनिवार, 17 अक्तूबर 2020

गोविंद ये तुम्हारा पुराना वचनपत्र..... शिवराज सिंह

गोविंद ये तुम्हारा पुराना वचनपत्र..... शिवराज सिंह


सागर।( तीनबत्ती न्यूज़.कॉम )। एमपी के उपचुनाव में सभाओं में कई बार विचित्र स्थिति बनती मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  जब कमलनाथ सरकार को कोसते है और उसी सरकार में मन्त्री रहे नेता मंच पर होते है ।

तीनबत्ती न्यूज़.कॉम
नही चलेगा बंगाल का जादू , ये तो ठहरे परदेशी साथ क्या निभाएंगे: सीएम शिवराज सिंह


सागर में ऐसी ही सभा मे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने जब कमलनाथ का वचनपत्र  को लेकर आरोप लगाने वचनपत्र मंच से दिखाया और बाजू में खड़े राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत से कहने लगे  "गोविंद  ये तुम्हारा पुराना वचनपत्र..."
इतना  कहते ही सभी हंस पड़े ......गोविंद राजपूत भी..

सागर जिले की सुरखी विधानसभा सीट के उप चुनाव के लिए राहत गढ़ में सभा थी।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

नही चलेगा बंगाल का जादू , ये तो ठहरे परदेशी साथ क्या निभाएंगे: सीएम शिवराज सिंह #सुरखी_उपचुनाव

नही चलेगा बंगाल का जादू , ये तो ठहरे परदेशी साथ क्या निभाएंगे: सीएम शिवराज सिंह

#सुरखी_उपचुनाव

सागर। 55 हजार करोड़ की कर्जमाफी 6 हजार करोड़ पर सिमट गई अर्थात कमलनाथ जी ने खोदा पहाड़ और निकली चुहिया और वो भी मरी हुई अब उसी की पूंछ पकडकर कर्जामाफी कर्जामाफी की रटना लगाए हुए हैं। बंगाल का यह जादू अब मध्यप्रदेश में नही चलेगा। अरे ये तो ठहरे परदेशी साथ क्या निभाएंगे ।
यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राहतगढ़ मे आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही। सभा मे प्रत्याशी गोविंद राजपूत , मन्त्री  गोपाल भार्गव और भूपेंद्र सिंह मौजूद रहे। 

मुख्यमंत्री  ने कहा कि कमलनाथ जी कर्जामाफी के नाम पर किसानों के सर पर ब्याज और बांध गए लेकिन चिंता करने की आवश्यकता नही है ब्याज की ये गठरी मामा उतारेगा। उन्होने जनता से सवाल पूंछते हुए कहा कि कांग्रेस के शासन में किसानों को फसलों का बोनस मिला क्या? फसल बीमा मिला क्या? नौजबानों को रोजगार मिला क्या? बेरोजगारो को भत्ता मिला? सिर्फ झूठ बोलकर सत्ता प्राप्त कर ली। और सबकी भलाई सबके कल्याण के लिए जो भाजपा की योजनाएं थी उनको बंद कर दिया। हमने लैपटाॅप दिए, बच्चों की फीस भरवाई उधोगपति ने वह भी बंद कर दी। 51 हजार शादियों में देने का वचन दिया लेकिन धेला नही दिया गरीब बहनों के लडुवा भी छीन लिए और तो और कमलनाथ जी ने कफन के भी मिलने वाले 5 हजार छीन लिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि 5 महीने सुरखी के लिए 500 करोड़ के विकास कार्य यह तो अभी ट्रेलर है पिक्चर अभी बाकी है। हम कमलनाथ जैसे रौतेला मुख्यमंत्री नही जो हमेशा पैसा नही है पैसा नही है रोते रहे हम मामा है हमारे पास विकास के लिए खूब पैसा है। सुरखी के विकास मे कोई कमी नही आएगी। जनता को कोई तकलीफ नही आने दूंगा। इसलिए जो कांग्रेस की भ्रष्टाचार की लंका को जलाकर आए हैं ऐसे गोविंद सिंह को जिताइए।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें
@weYljxbV9kkvq5ZB


वेबसाईट

पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि वह जब तक विपक्ष के विधायक रहे रहली में 20 साल तक विकास नहीं करा पाए लेकिन जैसे ही भाजपा की सरकार बनी विकास की कोई कमी नही रही। गोविंद सिंह के साथ भी ऐसा ही हुआ है। लेकिन अब गोविंद सिंह भी भाजपा के सरकार भी भाजपा की और दिल्ली में भी सरकार भाजपा की अर्थात सुरखी में विकास की गंगा बहनें का समय आ गया है।

प्रत्याशी मंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि यह चुनाव सुरखी के विकास का पहिया जो थम गया था उसे गति पकड़ाने का है 25 साल के पारिवारिक संबंध कभी झूठे नहीं होते। मेरा पूरा परिवार सुरखी की जनता की सेवा में रहता है। मेरे साथ हजारों लोग जो कांग्रेस में थे अब भाजपा से जुड़ गए हैं। आपकी सेवा में आगे भी तत्पर रहूंगा। 

सभा को पथरिया के पूर्व विधायक लखन पटेल, जबेरा विधायक धमेन्द्र लोधी, पूर्व महिला आयोग अध्यक्ष लता वानखेडे़ पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमारिया, नीरज शर्मा पप्पू तिवारी, राजकुमार धनोरा ने भी संबोधित किया। सभा मे गौरव सिरोठिया ,  हरिराम सिंह ठाकुर, लक्ष्मन सिंह, प्रदीप लारिया, शेलेन्द्र जैन, राजबहादुर सिंह, नीरज शर्मा, तृप्ती बाबू सिंह ढालसिंह विसेन, लक्ष्मीनाराण यादव, राजेन्द्र सिंह मोकलपुर, सुधीर यादव, धर्मेन्द्र लोधी, रामकृष्ण कुसमारिया, नारायण प्रसाद कबीर पंथी, लता वानखेंडे़, अमित राय, राजू, अमित राय, बुंदेल सिंह, राजकुमार तिवारी, विनोद कपूर, दीपक विनोद ओसला, शैलेन्द्र श्रीवास्तव जी, अर्जुन सिंह आशेक चैधरी, जगदीश, रतन ओसवाल, राजेश्वर सेन, प्रदीप राजोरिया, नितिन सोनी, दिलीप बचकैंया, अंकित सनकत, नितिन साहू, पप्पू तिवारी, हरिराम सिंह, नीकेश गुप्ता, अशोक सिंह बामोरा, अरविंद त्रिपाठी, गुलाब सिंह राजपूत, राजकुमार सिंह धनौरा, आकाष सिंह राजपूत, , टिंकू राजा राजपूत, अशोक चैबे, भगवान सिंह, अर्पित पांडेय, बाबूलाल कुर्मी, दुर्गेश उपाध्याय, बकील खान, गोलू , जगदीश लोधी, दीपक जैन, सुधीर गुरहा शामिल हुए। 
इस मौके पर  सेन समाज  के प्रदेश अध्यक्ष राजेश्वर सेन ने अपने 354 साथियों के साथ भा ज पा की सदस्यता ली ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

राष्ट्रीय लोकोत्सव में लोकनृत्यों की शानदार प्रस्तुतियां

राष्ट्रीय लोकोत्सव में लोकनृत्यों की  शानदार प्रस्तुतियां

सागर।  बुन्देली लोक नृत्य एवं नाट्य कला परिसर कनेरा देव सागर द्वारा एवं भारत सरकार के संस्कृति विभाग एवं संगीत नाटक अकादमी नई दिल्ली के सहयोग से आयोजित 26 वा राष्ट्रीय लोक महोत्सव का एक दिवसीय लोक उत्सव का आयोजन लांसर कॉमेंट स्कूल ग़ाम अजनी सम्पंन हुआ ।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


कायॅक़म के प्रारमभ में मुख्य अतिथि नगर बिधायक शैलेन्द्र जैन ,बिषेश अतिथि मालवा अचल के पद्मश्री सम्मान से सम्मानित श्री प्रहलाद सिंह टिपानिया एवं संस्था के अध्यक्ष एवं संस्थापक श्री रामसहाय पांडे ने दीप प्रज्वलित कर कायॅक़म का शुभारंभ किया गया ।
कायॅक़म का संचालन संस्था के सचिव संतोष पांडे द्वारा किया गया ।

सवॅ प्रथम माॅ शरस्वती की बदना गोपी साहू के द्वारा प्रस्तुत की गई उसके बाद लोक नृत्य ढिमरयाई चुन्नी लाल रैकवार द्वारा प्रस्तुत की गई प्रीतम रजक द्वारा कानडा नृत्य व राजस्थान के लोक कलाकारों द्वारा घूमर नृत्य, चरी नृत्य, कालबेलिया नृत्य, व चक्ररी नृत्य की प्रस्तुति हुई उस के बाद बुंदेलखंड का प्रसिध्द लोक नृत्य राई की प्रस्तुति हुई अंतिम प्रस्तुति के रूप में मालवा अचल से पधारे व पद्मश्री सम्मान से सम्मानित  प्रहलाद सिंह टिपानिया द्वारा कबीर के भजनों की प्रस्तुति प्रस्तुत की गई उस के बाद संस्था द्वारा पधारे सभी लोक कलाकारों का साल श्री फल विस्मित चिंह भेट  कर संमानित किया गया।

 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

सागर: समय पर राशन वितरण नहीं करने पर 12 दुकानदारों पर कार्यवाही

सागर: समय पर राशन  वितरण नहीं करने पर 12 दुकानदारों पर कार्यवाही

सागर । कलेक्टर श्री दीपक सिंह के निर्देश पर जिला आपूर्ति नियंत्रक  आरके वायकर ने कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी सागर  सुनील वर्मा के साथ जिले के रहली, गढ़ाकोटा सहित बण्डा विकासखण्ड की 12 शासकीय उचित मूल्य दुकानों के दुकानदारों द्वारा उपभोक्ताओं को समय पर खाद्यान्न सामग्री वितरण नहीं करने पर जांच की कार्यवाही की गई।
 उल्लेखनीय है कि, राज्य शासन के निर्देशानुसार शासकीय उचित मूल्य दुकानों पर प्रत्येक माह के अंत खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाय एवं उचित मूल्य दुकानदार द्वारा माह की तारीख से ही उपभोक्ताओं को खाद्यान्न वितरण किया जाये। किन्तु जिले में 12 उचित मूल्य दुकान ऐसी पाई गई जिन्होंने दिनांक 16 अक्टूबर तक वितरण कार्य प्रारंभ नहीं किया है।
इस संबंध में कलेक्टर श्री दीपक सिंह के निर्देश पर जिला आपूर्ति नियंत्रक श्री आरके वायकर द्वारा कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी सागर श्री सुनील वर्मा के साथ विकासखंड रहली एवं गढ़ाकोटा में उचित मूल्य दुकानों की जाँच की गई। जांच उपरांत 05 उचित मूल्य दुकानंे ऐसी पाई गई जिनके द्वारा माह के 16 दिवस व्यतीत होने के पश्चात् भी गरीब उपभोक्ताओं को खाद्यान्न का वितरण प्रारंभ नहीं किया जाना पाया गया। इन दुकानों के उपभोक्ताओं से भी मौके पर उपस्थित होकर पूछताछ की गई।
उक्त दुकानों के विरूद्ध म.प्र . सावर्जजनिक वितरण प्रणाली ( नियंत्रण ) आदेश 2015 के तहत प्रकरण निर्मित कर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व रहली के ओर विधिवत कार्यवाही हेतु प्रेषित किये गये। शासकीय उचित मूल्य दुकान-कोड कं. 1006010 समनापुर,  शासकीय उचित मूल्य दुकान 1006026 चाँदपुर, शासकीय उचित मूल्य दुकान - 1006088 गुंजौरा, गांधी उपभोक्ता भंडार ( महाराणा प्रताप वार्ड ) 1006048 गढ़ाकोट, राम उपभोक्ता भंडार ( रागवाड ) 1006049 गढ़ाकोटा, इसके अतिरिक्त विकासखंड बंडा की उचित मूल्य दुकान कलराहो कोड कं. 1004059, विकासखंड मालथौन की उचित मूल्य दुकान उमरई, कोड के -1008034, उचित मूल्य दुकान हडली कोड के -1008045, विकासखंड देवरी की उचित मूल्य दुकान मडपिपरिया कोड क्रमांक 1009031, विकासखंड बीना की उचित मूल्य दुकान सरस्वती स्व. सहायता समूह बीना कोड कं . -101105 पर भी कार्यवाही किये जाने हेतु संबंधित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को लिखा गया है । इस प्रकार की कार्यवाही आगामी समय में निरंतर जारी रहेगी।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


जिला आपूर्ति नियंत्रक द्वारा मझगुवा ओपन कैप एवं भैसा गोदाम का निरीक्षण

सागर । विश्व खाद दिवस के अवसर पर अस्थाई अनाज गोदाम का निरीक्षण एवं जागरूकता कार्यक्रम अनुसार गत दिवस शुक्रवार को विश्व खाद दिवस के अवसर पर जिला आपूर्ति नियंत्रक जिला सागर दतारा विकासखंड रहली व गढ़ाकोटा की शासकीय उचित मूल्य दुकानों में जाकर गरीबों को वितरित किए जाने वाले खाद्यान्न की गुणवत्ता का निरीक्षण किया एवं उपस्थित उपभोक्ताओं व आमजन को अनाज का अपव्यय रोकने तथा प्रत्येक व्यक्ति को पर्याप्त मात्रा में अनाज उपलब्ध हो सुनिश्चित करने के लिए प्रेरित किया तथा कोई भी व्यक्ति भुखमरी और कुपोषण का शिकार ना हो इस संबंध में भोजन सामग्री को कचरे में डालने के बजाय जरूरतमंद तक पहुंचाने की अपील की । तत्पश्चात जिले के मझगुवा ओपन कैप एवं भैसा गोदाम का निरीक्षण किया गया एवं मौके पर वेयरहाउस के अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत वितरित किये जाने वाले गंेहू व चॉवल की गुणवत्ता की जाँच करने के पश्चात ही प्रदाय किया जायें ताकि पात्र उपभोक्ताओं को अच्छी गुणवत्ता का गेहू व चॉवल प्राप्त सके ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

सुरखी उप चुनाव : जांच में 22 अभ्यार्थियों के नामाकन सही पाए गए ,एक निरस्त

सुरखी उप चुनाव : जांच में 22 अभ्यार्थियों के नामाकन सही पाए गए ,एक निरस्त

सागर। सागर जिले के  सुरखी विधानसभा क्षेत्र में आगामी 3 नवंबर को होने वाले उपचुनाव के लिए  22 अभ्यार्थी के नाम निर्देशन-पत्र सही पाए गए हैं । कुल 23 अभ्यर्थियों द्वारा 30 नाम निर्देंशन -पत्र  जमा किये गए थे । सात अभ्यर्थी ऐसे थे जिन्होंने 2-2 नाम निर्देंशन पत्र जमा किये थे । इस प्रकार  23 अभ्यर्थियों के नाम निर्देशन पत्रों की हुई जांच ( स्क्रूटिनी) के बाद एक  अभ्यर्थी का नाम निर्देशन - पत्र  निरस्त किया गया है ।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट



रिटर्निंग अधिकारी श्री रमेश पांडे ने बताया कि सुरखी विधानसभा  उप निर्वाचन के लिए 9  से 16 अक्टूबर तक नाम निर्देशन पत्र जमा कराए गए थे ।  आज हुई  नाम निर्देशन - पत्रों की जांच में एक अभ्यार्थी श्री इकरार पिताश्री उस्मान का नामांकन पत्र प्रस्तावको की संख्या पूरी न होने पर निरस्त किया गया। 

बुंदेलखंड महोत्सव : कोरोना से बचने के सन्देश के लिये निकाली रैली

बुंदेलखंड महोत्सव : कोरोना से बचने के सन्देश के  लिये निकाली रैली

सागर। नवल प्रयास कला केन्द्र द्धारा संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार एवं संस्कृति संचालनालय भोपाल के सहयोग से आयोजित कार्यक्रम बुंदेली महोत्सव शुभारंभ के पहले कोरोना से बचाव हेतु कोरोना संक्षिप्त संदेष रैली भाजपा जिला महामंत्री शैलेष केषरवानी द्धारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। 
भाजपा जिला महामंत्री शैलेष केषरवानी ने बताया कोरोना से बचाव के लिये ये रैली निकाली गई हैं जिसमें विभिन्न राज्यो हरियाना, महाराष्ट्र, पंजाब, उड़ीसा, गुजरात, उत्तरप्रदेष, राजस्थान, एवं मध्यप्रदेष के विभिन्न शहरो से आये कलाकारों ने हिस्सा लिया। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


उन्होने कहा सागर में कोरोना प्रतिदिन मरीज बढ़ रहे हैं हम सभी को हमें इसे रोकना होगा और तभी संभव हैं जब तक हम दो गज दूरी और मास्क का प्रयोग नही करेंगे। जब तक इसकी वैक्सीन नही बनती तब तक हमें मास्क और सामाजिक दूरी का पालन कर इस महामारी से बच सकते हैं। 
रैली में कोरोना से बचाव के लिये शहर के लोंगों से मास्क और दो गज दूरी रखने के साथ अनावष्यक घर से न निकलने का संदेष दिया गया। कार्यक्रम में आभार मयंक तिवारी एवं विनीता दोहरे ने माना और वुंदेलखंड महोत्सव कार्यक्रम कर्रापुर में दिनांक 18.10.2020 दिन रविवार को आने की अपील की।
 
---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

शुक्रवार, 16 अक्तूबर 2020

सागर : दो किसानों ने की आत्महत्या, परिजनों के मुताबिक कर्जा था, पुलिस जांच में जुटी

सागर : दो किसानों ने की आत्महत्या, परिजनों के मुताबिक कर्जा था, पुलिस जांच में जुटी 

 सागर। एमपी में फसलों की बर्बादी ने किसानों को आत्महत्या के लिए मजबूर कर दिया है। सागर जिले में दो अलग अलग मामलों में किसानों द्वारा आत्महत्या किये जाने की घटनाये सामने आई है। पिछले एक हफ्ते में किसान की आत्महत्या के तीन मामले सामने आए है।

गढाकोटा में एक हफ्ते में दूसरी घटना

सागर जिले के गढ़ाकोटा थाना क्षेत्र में एक बार फिर कर्ज के चलते किसान आत्महत्या मामला सामने आया है। थाना क्षेत्र के कुमेरिया-भटौली के 35 वर्षीय जगदीश कुर्मी की लाश सड़ी-गली हालत में पेड़ से लटकी मिली है। मिली जानकारी के मुताबिक़ 5 अक्टूबर से जगदीश कुर्मी लापता था। परिजनों ने इसके बाद गढ़ाकोटा थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। शुक्रवार को जब लकड़ियां काटने वाले कदला गांव के भदभदा नाले के पास पहुंचे तो उन्हें पेड़ से लटका एक शव दिखा जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। 

तीनबत्ती न्यूज़.कॉम
मन्त्री बनाती सुरखी, राजस्व मन्त्री को  जिताने मंत्रियों की साख दांव पर
#सुरखी_उपचुनाव

 
मृतक के बड़े भाई का कहना है कि पिछले दो सालो से फसल नहीं निकलने से कर्ज हो गया था। बेटियों की शादी करनी थी। इससे वह परेशान था इसलिए आत्महत्या कर ली है। 
इस संबंध में SDOP अनुराग पांडे का कहना है पंचनामा कार्यवाही कर शव का पोस्टमॉर्टम करवाया है। मामले की जांच की जा रही है।
मृतक किसान जगदीश कुर्मी 2 एकड़ जमीन का मालिक था जिस पर उसने सोयाबीन की फसल बोई थी। लेकिन खेत में फसल बर्बाद होने की वजह से उसने खड़ी फसल में बखरनी करवा दी थी।
गढ़ाकोटा थाना क्षेत्र से एक हफ्ते में यह दुसरा किसान आत्महत्या का मामला सामने आया है। यह थाना क्षेत्र मध्यप्रदेश के PWD मंत्री के क्षेत्र गोपाल भार्गव की गृह विधानसभा रहली क्षेत्र का है।  

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


डेढ़ एकड़ में बोई सोयाबीन की फसल खराब, कर्ज से परेशान किसान ने फांसी लगाकर दी जान
 
सोयाबीन की फसल  अफलन के कारण बर्बाद हो गई है ।किसानों के खेतों में इस साल उनका बीज भी नहीं निकल पाया है ऐसे में किसान कर्जे के बोझ से उबर नहीं पा रहे हैं।
 कर्ज के बोझ से लदे एक  किसान ने पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है।
यह मामला गौरझामर थाना क्षेत्र में सामने आया है जहां गौरझामर  निवासी किसान लोकमन पिता कड़ोरी विश्वकर्मा 50 साल में नीम घाटी में पेड़ से फांसी के  फंदे पर लटक कर आत्महत्या कर ली है। किसान की आत्महत्या के पीछे परिजन फसल सोयाबीन की फसल खराब होना और कर्ज होना बता रहे हैं।
मृतक किसान के पुत्र निलेश ने बताया कि इस साल मेरे पिताजी की डेढ़ एकड़ जमीन में सोयाबीन की फसल हुई थी और पूरी तरह से व्ह अफलन के कारण बर्बाद हो गई एक भी दाना नहीं निकला और उनके ऊपर 5 से 6लाख रुपए का कर्ज था जिसको है परेशान चल रहे थे।
मृतक किसान के भाई नर्मदा प्रसाद ने बताया कि उनके भाई के ऊपर शादी एवं किसानी का 5 से 6 लाख रुपए का कर्ज था और वह इस साल इस फसल में कर्ज चुकाने की उम्मीद कर रहे थे लेकिन डेढ़ एकड़ जमीन में वही सोयाबीन की फसल पूरी तरह खराब हो गई जिससे वह परेशान थे।

इनका कहना है
किसान की आत्महत्या के मामले में पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है मामले में जांच की जाएगी जांच में जो तथ्य सामने आएंगे उस हिसाब से कार्यवाही की जाएगी।

 पूजा शर्मा एसडीओपी देवरी


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

जन-जन को पता है सिंचाई परियोजनाएं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की देन : गोविंद राजपूत #सुरखी_उपचुनाव


जन-जन को पता है सिंचाई परियोजनाएं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की देन : गोविंद  राजपूत 

#सुरखी_उपचुनाव

सागर। रामलीला मंचों पर यह दृश्य सभी ने देखा होगा जब प्रभु श्रीराम धनुष तोड़ते हैं इसके बाद मंडली का विदूषक खुद को हवा करते हुए कहता है कि बहुत थक गया हूं, बहुत ताकत लगानी पड़ी धनुष तोड़ने में, और दर्शकों में हंसी का पात्र बन जाता है। ऐसे ही सोपान कांगे्रस की प्रत्याशी द्वारा सुरखी के विकास के लिए गढे़ जा रहे है जबकि जन-जन को जानकारी है कि यहां की सिंचाई परियोजनाओं की स्वीकृति किसानों के सच्चे हितैषी भाजपा के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की देन है। यह बात राजस्व व परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कही उन्होने शुक्रवार को सुरखी कस्बे में घर-घर जाकर जनसंपर्क किया एवं लोगों के हालचाल पूछे। इस दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व मंडी अघ्यक्ष राजेन्द्र सिंह मोकलपुर उनके साथ रहे।

तीनबत्ती न्यूज़.कॉम

मन्त्री बनाती सुरखी, राजस्व मन्त्री को  जिताने मंत्रियों की साख दांव पर

#सुरखी_उपचुनाव 


सुरखी उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी विकास के नाम पर लोगों को गुमराह कर रही हैं। योजनाओं का झूठा श्रेय ले रही हैं। उन्हें जनता के सामने असलियत रखना चाहिए कि जो गाथाएं वह खुद गा रही उसकी आधार शिलाएं भाजपा की हैं। मंत्री राजपूत ने कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी ने जीतने के बाद क्या किया था ? जनता आजमा चुकी है। क्षेत्र में आना तो दूर की बात है, धर पर भी पहुंचने वाले लोगों को उनके दर्शन दुर्लभ हो गए थे, लोग ढूढ़ते रह जाते थे। उन्होंने कहा कि ये बात हम नहीं कह रहे, घर-घर में जब हम आर्शीवाद लेने के लिए जाते हैं तो लोग पूछते हैं ? भैया भाजपा में आने के बाद ऐसा तो नही करोगे जैसा दीदी ने किया था कि जीतने के बाद लौटकर नही आईं। पलटकर जनता की सुध भी नही ली और अब सात साल बाद फिर वोट मांगने आ रही हैं। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें
@weYljxbV9kkvq5ZB

वेबसाईट


मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि मैं विश्वास दिलाना चाहता हूं कि पीडित मानवता के लिए हमेशा से दरवाजे खुले हुए है। 25 साल से लगातार परिवार सहित गांव-गांव पहुंचकर सेवा की है। आगे भी सुरखी की जनता के लिए आधी रात को भी मेरे घर के दरवाजे खुले मिलेंगे और चैखट पर सेवक हाजिर मिलेगा। किसी को भी निराश नही लौटना पडे़गा। जो अपेक्षाएं जनता को मुझसे हैं वह दस गुना बढ़ाकर पूरी होगी। उसके लिए जनता का भी दस गुना बढाकर आर्शीवाद की आवश्यकता है ताकि सुरखी के विकास की आवाज को पूरी ताकत के साथ उठा सकूं। आवाज बुलंद होगी तो विकास को चार चांद लगेंगे। 
सुरखी क्षेत्र मे जनसंपर्क के दौरान अरूण गौतम, जिला पंचायत सदस्य नर्मदा सिंह, महराज सिंह सरपंच, ज्ञानी अहिरवार, राकेश मिश्रा, रम्मू अहिरवार अनेक लोग मौजूद रहे।


---------------------------- 



 तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885 


 -----------------------------

सागर के किसान सोलर पंप लगाने के नाम पर धोखाधडी से बचें

सागर के किसान सोलर पंप लगाने के नाम पर धोखाधडी से बचें
 
सागर  । प्रदेश में कुछ शरारती तत्वों द्वारा कृषकों को गुमराह कर सोलर पम्प की स्थापना के नाम पर अवैध रूप से वसूली की जानकारी प्राप्त हो रही हैं। इस सम्बन्ध  में जिला अक्षय उर्जा अधिकारी श्री पीके जैन ने  सर्वसाधारण को पुनः सूचित किया है कि प्रदेश में सोलर पम्पों की स्थापना मुख्यमंत्री सोलर पम्प योजना के तहत् मध्य प्रदेश ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड द्वारा की जा रही है । जिसमें पंजीयन एवं हितग्राही अंश का भुगतान (राशि जमा) केवल आनलाईन पोर्टल के माध्यम से ही किया जा रहा है।

तीनबत्ती न्यूज़.कॉम
मन्त्री बनाती सुरखी, राजस्व मन्त्री को  जिताने मंत्रियों की साख दांव पर
#सुरखी_उपचुनाव*  


किसानों से अपील की गई है कि वे  अफवाहों से बचे और शरारती तत्वों के फोन व मैसेज आने पर स्थानीय पुलिस को सूचित करें । सरकार द्वारा संचालित इस योजना की विस्तृत जानकारी के लिए जिलें के मध्यप्रदेश ऊर्जा विकास निगम के जिला अक्षय ऊर्जा कार्यालय या मुख्यालय भोपाल से संपर्क कर ही जानकारी प्राप्त कर सोलर पंप की स्थापना से संबंधित कार्यवाही करें ताकि धोखाधड़ी से बचा जा सकें । 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

सुरखी उपचुनाव : पारुल साहू सहित 17 उम्मीदवारों ने भरे नामाकन

सुरखी उपचुनाव : पारुल  साहू सहित 17 उम्मीदवारों ने भरे नामाकन


सागर  । सागर जिले के सुरखी विधानसभा उप चुनाव के लिये नामांकन के अंतिम दिन आज 17 अभ्यर्थियों ने नाम निर्दे शन पत्र जमा
 किए। इस प्रकार 16 अक्टूबर को नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया समाप्त हो गई। 9 से 16 अक्टूबर तक चली नामांकन प्रक्रिया  में कुल 22 अभ्यर्थियों ने 29 नाम निर्देषन-पत्र जमा किए। इनमें से 7 अभ्यर्थियों ने 2-2 नाम निर्देषन-पत्र जमा किए।
 अंतिम दिन जिन अभ्यर्थियों ने नाम निर्देषन-पत्र जमा किए। उनमें श्रीमती पारुल साहू (इंडियन नेशनल कांग्रेस), श्री धर्मेन्द्र सिंह राजपूत (गोंडवाना गणतंत्र पार्टी), श्री शिशुपाल यादव (समाजवादी पार्टी), श्री चरण सिंह एवं श्री प्रहलाद सिंह गोंड (भारतीय गोंडवाना पार्टी), श्री कपिल सोनी (गोंडवाना गणतंत्र पार्टी), श्री मुकेश कुमार, श्री राजेश कुमार, श्री तुलसीराम, श्री सिद्धिकी, श्री सैफुद्दीन, श्री ताहिर खान, श्री चरण सिंह, श्री गोविंद सिंह, श्री भूपेंद्र सिंह, श्री परिपुल शाह, मोहम्मद जमाल कुरैशी (सभी निर्दलीय) शामिल है।
भारत निर्वाचन आयोग द्वारा तय किये गये कार्यक्रम के अनुसार नामाकंन पत्रों की जांच (स्क्रूटनी) 17 अक्टूबर को पूर्वान्ह 11 से की जायेगी। अभ्यर्थी 19 अक्टूबर तक अपने नाम निर्देषन-पत्र वापस ले सकेंगे। आगामी 3 नवम्बर को मतदान होगा। मतों की गणना 10 नवम्बर को होगी।  

तीनबत्ती न्यूज़.कॉम

मन्त्री बनाती सुरखी, राजस्व मन्त्री को  जिताने मंत्रियों की साख दांव पर

#सुरखी_उपचुनाव


सादगी के साथ जमा किया कांग्रेस प्रत्याशी पारुल साहू ने अपना नामांकन

कांग्रेस की प्रत्याशी पारुल साहू केसरी ने सादगी के साथ अपना नामांकन निर्वाचन अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत किया। नामांकन जमा करते समय उनके साथ वरिष्ठ कांग्रेस नेता दाऊ बुंदेल सिंह बुंदेला तथा आकाश विश्वकर्मा मौजूद रहे। इससे पहले उन्होंने अपनी माताजी श्रीमती शकुन्तला और पिता पूर्व विधायक श्री संतोष साहू से आशीर्वाद लिया।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


 नामांकन जमा करने का साथी भी उन्होंने ऐसे व्यक्ति को बनाया जिसे भाजपा प्रत्याशी ने पिछले दिनों पेट्रोल विक्रय के झूठे केस में फसा दिया था। जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री नरेश चंद्र जैन के असमय निधन से गमगीन कांग्रेस प्रत्याशी पारुल साहू और पार्टीजनों ने नामांकन के समय किसी भी तरह का शोर-शराबा और प्रदर्शन न करने का निर्णय लिया। 
पारुल ने कहा कि सुरखी सीट पर विकास नही हुआ। मेने क्षेत्र में 13 सिचाई परियोजनाएं मंजूर कराई। जिनका फायदा लोगो को मिलने लगा है। मेरा कहना है  सुरखी में भय की राजनीति नही चलेगी।  में लोगो के साथ खड़ी हूँ।  जनता की आवाज बनकर उनका साथ दूंगी। 
जिलाध्यक्ष श्री नरेश जैन जी ने संगठन को मजबूत किया है। उनके सपने को साकार करूंगी।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

सागर: स्वसहायता समूहों से अवैध रुपये वसूलने वाला चपरासी निलंबित

सागर: स्वसहायता समूहों से अवैध रुपये वसूलने वाला  चपरासी निलंबित


सागर । महिला एवं बाल विकास परियोजना केसली में पदस्थ  तुलाराम झारिया भृत्य केसली के विरूद्ध स्व सहायता समूहों द्वारा फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड एक्ट 2008 के तहत् समूह पंजीयन की गई शिकायतें दूरभाष के माध्यम से प्राप्त होने पर सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास जिला सागर से जाँच कराये जाने पर दिनांक 14.10.2020 को जाँच प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया है।

तीनबत्ती न्यूज़.कॉम

मन्त्री बनाती सुरखी, मन्त्री को  जिताने मंत्रियों की साख दांव पर

 *#सुरखी_उपचुनाव


जाँच प्रतिवेदन अनुसार श्री तुलाराम झारिया भृत्य द्वारा स्व सहायता समूहों का पंजीयन कार्य कार्यालय परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास परियोजना केसली जिला सागर में बिना किसी सक्षम अधिकारी की स्वीकृति के अवैधानिक रूप से कराया जाना पाया गया। साथ ही स्व सहायता समूहों से अनाधिकृत रूप से राशि वसूल किये जाने के कारण प्रथम दृष्टयादोषी पाये जाने के फलस्वरूप श्री तुलाराम झारिया भृत्य महिला एवं बाल विकास परियोजना केसली को मध्यप्रदेश सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण तथा अपील) नियम 1988 के नियम के अंतर्गत तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।
निलंबन अवधि में श्री तुलाराम झारिया भृत्य का मुख्यालय कार्यालय परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास परियोजना सागर शहरी 01 में निर्धारित किया जाता है। श्री तुलाराम झारिया भृत्य महिला एवं बाल विकास परियोजना केसली को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता प्राप्त करने की पात्रता होगी । 

मन्त्री बनाती सुरखी, राजस्व मन्त्री को जिताने मंत्रियों की साख दांव पर #सुरखी_उपचुनाव @ विनोद आर्य

मन्त्री बनाती सुरखी, राजस्व मन्त्री को  जिताने मंत्रियों की साख दांव पर 

#सुरखी_उपचुनाव 


@ विनोद आर्य

सागर। ( तीनबत्ती न्यूज़ .कॉम ) । सुरखी विधानसभा सीट वह है जिसने   मन्त्री बनाये है। इस क्षेत्र से राजनीति करने वालो का मध्यप्रदेश में  पॉलिटिकल रसूख अक्सर हाई रहा है।शिवराज सरकार में सागर जिले के  तीन मंत्री गोपाल भार्गव , भूपेंद्र सिंह और गोविंद राजपूत है। इस दफा सुरखी उपचुनाव में बतौर प्रत्याशी परिवहन और राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। वही दोनो मन्त्री भूपेंद्र सिंह और गोपाल भार्गव की साख भी लगी है। इस तरह तीनों मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। वैसे सुरखी की राजनीति से जुड़े लोग मन्त्री बनते रहे है। चाहे सरकार कांग्रेस की हो या भाजपा की।

सन 2018 में चुनाव  जीतने के बाद गोविंद राजपूत कमलनाथ सरकार में मन्त्री  बने। दलबदल के जरिये सरकार गिरी। तो गोविंद राजपूत शिवराज सरकार में मन्त्री बनाये गए। अब उपचुनाव में मैदान में है।  यदि चुनाव जीतते है तो फिर मन्त्री बनेंगे। गोविंद का मुकाबला 2013 में भाजपा से जीती पारुल साहू से है। अब दूसरी दफा पार्टी बदलकर आमने सामने है।

पढ़े :  
दलबदल में माहिर सुरखी के नेता !
★लक्ष्मीनारायण यादव ने कई दफा, गोविंद राजपूत ने दो दफा बदले दल
★ उपचुनाव में दलबदल को लेकर घूम रही कई कहानियां


लेकिन उपचुनाव में गोविंद राजपूत जिताने के लिए सागर जिले के दो मंत्रियों गोपाल भार्गव और भूपेंद्र सिंह प्रतिष्ठा भी दांव  पर लगी है।  नगरीय विकास मंत्री भूपेंद्र सिंह का  सुरखी से सीधा नाता है। यही से  जीतकर विधानसभा में पहला कदम रखा था। भूपेंद्र सिंह  ने भाजपा की जमीन यहां तैयार की। श्री सिंह भले ही खुरई से प्रतिनिधित्व कर रहे हो । लेकिन सुरखी में हमेशा प्रभाव शाली रहे है। उपचुनाव में प्रभारी के साथ  कुछ संकट भी गोविंद राजपूत के निपटाए। 
उधर बुन्देलखण्ड अंचल के कद्दावर नेता लोकनिर्माण मन्त्री गोपाल भार्गव के असर सुरखी में है। उनकी सीट रहली से भी सुरखी का  इलाका लगा हुआ है। दोनो मंत्रियों की साख भी जुड़ी है। 
राजनीतिक हालातो की बात करे तो इस चुनाव के नतीजे  जिले के तीनों मंत्रियों की राजनीतिक हैसियत को भी प्रभावित करने वाला होगा। भाजपा को जीत मिलती है तो प्रदेश की  सियासत में सागर की ताकत और बढ़ेगी।  इसके साथ ही बुन्देलखण्ड अंचल में भाजपा को तीसरा प्रभावशाली नेता मिलेगा। 


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें
@weYljxbV9kkvq5ZB

वेबसाईट


मन्त्री बनते रहे है सुरखी के नेता

सुरखी क्षेत्र के लोगो को अपने विधायको के मन्त्री बनने का सुख अक्सर मिला है। भले ही विकास की गति वैसी नही रही हो। आज भी कई मूलभूत सुविधाओं की दरकार क्षेत्र को है। जनता पार्टी से  चुनाव जीते लक्ष्मी नारायण यादव जनता सरकार में शिक्षा मंत्री बने। तो  फिल्मी गीतकार और गांधीवादी नेता स्व विठ्ठल भाई उधोग मन्त्री सहित कुछ अन्य विभागों का दायित्व मिलता रहा। 

सुरखी क्षेत्र के लोग नगरीय विकास मंत्री भूपेंद्र सिंह को  लम्बे समय से अपना नेता मानते है। भले ही वो खुरई से प्रतिनिधित्व कर रहे हो। मन्त्री भूपेंद्र सिंह मानते है कि उनके मंत्रित्वकाल हो संसदीय सुरखी क्षेत्र के लोग हमेशा मुझसे जुड़े रहे है। कार्यकर्ताओं के  काम भी किये है। 
इसके बाद सन 2018 में गोविंद राजपूत कांग्रेस सरकार में मन्त्री रहे। सत्ता पलट के बाद फिर श्री राजपूत को मन्त्री पद मिला। अब चुनाव  मैदान में है। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------



विज्ञान क्या कहता है, नवरात्रि त्यौहार के बारे में @ ज्योतिषाचार्य श्री अनिल पांडे

विज्ञान क्या कहता है, नवरात्रि त्यौहार  के बारे में

@ ज्योतिषाचार्य श्री अनिल पांडे

मां दुर्गा की आराधना का त्यौहार आ रहा है जो कि 17 अक्टूबर से प्रारंभ होगा।  इस नवरात्रि को शारदीय नवरात्रि कहते हैं तथा यह अश्वनी  माह के शुक्ल पक्ष के प्रतिपदा से प्रारंभ होता है। हर बार यह त्यौहार पितृ मोक्ष अमावस्या के अगले दिन से प्रारंभ होता है। परंतु इस वर्ष 3 सितंबर से अधिमास  के कारण यह पितृ मोक्ष अमावस्या के 1 माह बाद अर्थात 17 अक्टूबर से प्रारंभ हो रहा है।

नवरात्र के वैज्ञानिक पक्ष की तरफ अगर हम ध्यान दें तो हम पाते हैं कि दोनों प्रगट नवरात्रों के बीच में 6 माह का अंतर है। चैत्र नवरात्रि के बाद गर्मी का मौसम आ जाता है तथा शारदीय नवरात्रि के बाद ठंड का मौसम आता है। हमारे महर्षि यों ने शरीर को गर्मी से ठंडी तथा ठंडी से गर्मी की तरफ जाने के लिए तैयार करने हेतु इन नवरात्रियों की प्रतिष्ठा की है। नवरात्रि में व्यक्ति पूरे नियम कानून के साथ अल्पाहार  एवं शाकाहार  या पूर्णतया निराहार व्रत रखता है । 

इसके  कारण शरीर का डिटॉक्सिफिकेशन होता है ।अर्थात शरीर के जो भी विष तत्व है वे बाहर हो जाते हैं । पाचन तंत्र को आराम मिलता है । लगातार 9 दिन के  आत्म अनुशासन की पद्धति के कारण मानसिक स्थिति बहुत मजबूत हो जाती है ।जिससे डिप्रेशन माइग्रेन हृदय रोग आदि बिमारियों  के होने की संभावना कम हो जाती है।
वर्ष के बीच में जो हम एक-एक दिन का व्रत करते हैं उससे मानसिक स्थिति मजबूत नहीं हो पाती है केवल पाचन तंत्र पर ही उसका प्रभाव पड़ता है ।
देवी भागवत के अनुसार सबसे पहले माने महिषासुर के सेना का वध किया था उसके बाद उन्होंने महिषासुर का वध किया महिषासुर का अर्थ होता है ऐसा असुर जोकि भैंसें के गुण वाला है अर्थात जड़  बुद्धि है । महिषासुर का विनाश करने का अर्थ है समाज से जड़ता का संहार करना। समाज को इस योग्य बनाना कि वह नई बातें सोच सके तथा निरंतर आगे बढ़ सके।
समाज जब आगे बढ़ने लगा तो आवश्यक था कि उसकी दृष्टि पैनी होती तथा वह दूर तक देख सकता ।अतः तब माता ने धूम्रलोचन का वध कर समाज को दिव्य दृष्टि दी। धूम्रलोचन का अर्थ होता है धुंधली दृष्टि। इस प्रकार माता जी माता ने धूम्र लोचन का वध कर समाज को दिव्य दृष्टि प्रदान की।
समाज में जब ज्ञान आ जाता है उसके उपरांत बहुत सारे तर्क वितर्क होने लगते हैं ।हर बात के लिए कुछ लोग उस के पक्ष में तर्क देते हैं और कुछ लोग उस के विपक्ष में तर्क देते हैं ।समाज की प्रगति और अवरुद्ध जाती है । चंड मुंड इसी तर्क और वितर्क का प्रतिनिधित्व करते हैं ।माता ने चंड मुंड की हत्या कर समाज को बेमतलब के तर्क वितर्क से आजाद कराया।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


समाज में नकारात्मक ऊर्जा के रूप में मनो ग्रंथियां आ जाती हैं ।रक्तबीज इन्हीं मनो ग्रंथियों का प्रतिनिधित्व करते हैं। जिस प्रकार एक रक्तबीज को मारने पर अनेकों रक्तबीज पैदा हो जाते हैं उसी प्रकार एक नकारात्मक ऊर्जा को समाप्त करने पर हजारों तरह की नकारात्मक ऊर्जा पैदा होती है। जिस प्रकार सावधानी से रक्तबीज को मां दुर्गा ने समाप्त किया उसी प्रकार नकारात्मक ऊर्जा को भी सावधानी के साथ ही समाप्त करना पड़ेगा।
नवरात्रि में रात्रि का दिन से ज्यादा महत्व  है ।
इसका विशेष कारण है। नवरात्रि में हम व्रत संयम नियम यज्ञ भजन पूजन योग साधना बीज मंत्रों का जाप कर सिद्धियों को प्राप्त करते हैं। राज्य में प्रचलित के बहुत सारे और रोज प्रकृति स्वयं ही समाप्त कर देती है। जैसे कि हम देखते हैं अगर हम जिनमें आवाज दें तो वह कम दूर तक जाएगी परंतु रात्रि में वही आवाज दूर तक जाती है दिल में सूर्य की किरणें आवाज की तरंगों को रेडियो तरंगों को आज को रोकती है अगर हम दिन में रेडियो से किसी स्टेशन के गाने को सुनें तो वह रात्रि में उसी रोडियो से उसी स्टेशन के गाने से कम अच्छा सुनाई देगा और संघ की आवाज भी घंटे और संघ संघ संघ शंख की आवाज भी दिन में कम दूर तक जाती है जबकि रात में ज्यादा दूर तक जाती है दिन में वातावरण में कोलाहल रहता है जबकि रात में शांति रहती है। नवरात्रि में  सिद्धि हेतु रात का ज्यादा महत्व दिया गया है ।
हमारे शरीर में 9 द्वार हैं। 2 आंख ,  दो कान , दो  नाक , एक मुख ,एक मलद्वार , तथा एक मूत्र द्वार। नौ द्वारों को सिद्ध करने हेतु पवित्र करने हेतु नवरात्रि का पर्व का विशेष महत्व है। नवरात्रि में किए गए पूजन अर्चन तप यज्ञ हवन आदि से यह नवो द्वार शुद्ध होते हैं।
नवरात्रि हमें यह भी संदेश देती है की सफल होने के लिए सरलता के साथ ताकत भी आवश्यक है जैसे माता के पास कमल के साथ चक्र एवं त्रिशूल आदि हथियार भी है समाज को जिस प्रकार  कमलासन की आवश्यकता है उसी प्रकार सिंह अर्थात ताकत ,वृषभ अर्थात गोवंश , गधा अर्थात बोझा ढोने वाली  ताकत , तथा पैदल अर्थात स्वयं की ताकत सभी कुछ आवश्यक है।
मां दुर्गा से प्रार्थना है कि वह आपको पूरी तरह सफल करें ।आप इस नवरात्रि में  जप तप पूजन अर्चन कर मानसिक एवं शारीरिक दोनों रुप में आगे के समय के लिए पूर्णतया तैयार हो जाएं।

जय मां शारदा।

निवेदक:-
पंडित अनिल पांडे
स्टेट बैंक कॉलोनी ,मकरोनिया ,सागर


नवरात्रि और नव दुर्गा, 17 अक्टूबर से आरम्भ @ज्योतिषाचार्य अनिल पांडे

नवरात्रि और नव दुर्गा, 17 अक्टूबर से आरम्भ

@ज्योतिषाचार्य अनिल पांडे

मित्रों 
मां दुर्गा की आराधना का त्यौहार आ रहा है जो कि 17 अक्टूबर से प्रारंभ होगा।  इस नवरात्रि को शारदीय नवरात्रि कहते हैं तथा यह अश्वनी  माह के शुक्ल पक्ष के प्रतिपदा से प्रारंभ होता है। 
1 वर्ष में चार नवरात्रि में होती हैं । दो प्रकट नवरात्रि तथा दो गुप्त नवरात्रि। प्रकट नवरात्रि में पहली चैत्र मास में चेत्र नवरात्रि तथा दूसरी अश्वनी मास में शारदीय  नवरात्रि । गुप्त नवरात्रि भी दो होती हैं ।पहली आषाढ़ मास में दूसरी पौष मास में। प्रगट नवरात्रि भक्तजन मां दुर्गा के नौ रूपों की वंदना करते हैं। गुप्त नवरात्रि में मां दुर्गा के अन्य 10 रूपों की वंदना होती है। गुप्त नवरात्रि में तांत्रिक क्रियाओं तथा अन्य  सिद्धियों  की सिद्धि हेतु पूजा अर्चना की जाती है।
आज हम विशेष रूप से प्रकट नवरात्रि की चर्चा करेंगे। पहली प्रकट नवरात्रि  चैत्र नवरात्रि कही जाती है । यह चेत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा  से नवमी तक मनाई जाती है।  इस नवमी को रामनवमी भी कहा जाता है। दूसरी नवरात्रि अश्वनी शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक मनाई जाती है इसे शारदीय नवरात्रि भी कहते हैं।
इन दोनों नवरात्रों में 6 माह का अंतर होता है। नवरात्रि में पहले ही दिन मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है। मां शैलपुत्री राजा हिमालय की पुत्री हैं ।इन्हें सती भी कहा जाता है । पूर्व जन्म की भांति इस जन्म में भी इनकी शादी भगवान शिव से हुई है ।मां शैलपुत्री वृषभ पर सवार हैं । इनके 2 हाथ हैं।एक हाथ में त्रिशूल है तथा दूसरे हाथ में कमल पुष्प है । मां शैलपुत्री के दूसरे नाम पार्वती और हेमवती भी है।
नवरात्र पर्व के दूसरे दिन हम मा ब्रह्मचारिणी की पूजा करते हैं साधक इस दिन अपने  मन को मां के चरणों में लगाते हैं ।इनके भी मां शैलपुत्री की भांति दो हाथ हैं ।एक हाथ एक हाथ में जप की माला है तथा दूसरे हाथ में कमंडल है। कुंडलिनी शक्ति जागृत करने के लिए मां ब्रह्मचारिणी की आराधना की जाती है मां दुर्गा का यह स्वरूप अनंत फल देने वाला है तथा इससे व्यक्ति के मानसिक शक्ति की वृद्धि होती है।
नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है मां चंद्रघंटा की कृपा से अलौकिक वस्तुओं के दर्शन होते हैं दिव्य शक्तियों का अनुभव होता है तथा विविध प्रकार की दिव्य ध्वनियां सुनाई देती है। मां चंद्रघंटा का स्वरूप अत्यंत सौम्यता एवं शांति से परिपूर्ण रहता है। मां के शरीर का रंग स्वर्ण के समान चमकीला है । इनके दस हाथ में जेल में विभिन्न प्रकार के शस्त्र एवं वाण विभूषित हैं। मां का वाहन सिंह है तथा इनकी मुद्रा युद्ध के लिए तैयार रहने की  होती है ।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


नवरात्रि के चौथे दिन कुष्मांडा देवी की उपासना होती है। साधक को इस दिन अत्यंत पवित्र होकर मां की आराधना करना चाहिए । जब सृष्टि का अस्तित्व नहीं था तब इन्हीं देवी ने ब्रह्मांड की रचना की है ।यह आदिशक्ति हैं । इनके शरीर की कांति एवं प्रभा सूर्य के समान तेज है । मां की आठ भुजाएं हैं । इन्हें अष्टभुजा देवी भी कहते हैं ।इनके 7 हाथों में क्रमश कमंडल ,धनुष ,बाण , कमल पुष्प ,अमृतपूर्ण  कलश ,चक्र तथा गदा है। तथा आठवें हाथ में सभी सिद्धियों को प्रदान करने वाली जपमाला है। इनका वाहन सिंह है।
मां का पांचवा रूप मां स्कंदमाता है। इनकी पूजा नवरात्रि के पांचवें दिन की जाती है। मां मोक्ष का द्वार खोलने वाली परम सुख दाई है। मां भगवान स्कंद अर्थात कुमार कार्तिकेय की माता जी हैं कुमार कार्तिकेय प्रसिद्ध देवासुर संग्राम में देवताओं के सेनापति बने थे कुमार कार्तिकेय की मां होने के कारण इन्हें मां स्कंदमाता कहा जाता है। मां की चार भुजाएं हैं उनके दाहिने तरफ की नीचे वाली भुजा जो ऊपर उठी हुई है उस में कमल पुष्प है । बायीं तरफ की ऊपर वाली भुजा में वर मुद्रा में तथा नीचे वाली भुजा जो ऊपर कि ओर उठी  है , उसमें भी कमल पुष्प है । यह कमल के आसन पर विराजमान है तथा इनका भी वाहन सिंह है।
नवरात्र के छठे दिन मां कात्यायनी की पूजा होती है । यजुर्वेद के तैत्तिरीय आरण्यक मां कात्यायनी का उल्लेख है। स्कंद पुराण में बताया गया है कि मा परमेश्वर के नैसर्गिक क्रोध से उत्पन्न हुई है। मां कात्यायनी विश्वप्रसिद्ध महर्षि कात्यायन की पुत्री थी। महिषासुर का संहार किया है । जय महिषासुर का अत्याचार पृथ्वी पर अत्यंत बढ़ गया था तब भगवान ब्रह्मा विष्णु और महेश तीनों ने अपने-अपने तेज कांच देकर महिषासुर के विनाश के लिए मां कात्यायनी को उत्पन्न किया था। मां कात्यायनी का स्वरूप अत्यंत चमकीला है इनकी चार भुजाएं हैं माताजी का दाहिनी तरफ का ऊपर वाला हाथ अभय मुद्रा में तथा नीचे वाला वर मुद्रा में है बाईं तरफ के ऊपर वाले हाथ में तलवार और नीचे वाले हाथ में कमल पुष्प है इनका वाहन सिंह है।
नवरात्रि के सातवें दिन दुर्गाजी की सातवीं शक्ति कालरात्रि की पूजा की जाती है। इन्हें मां देवी काली, महाकाली ,भद्रकाली ,भैरवी आदि नाम से भी पुकारा जाता है। माना जाता है कि देवी के इस रूप में सभी राक्षस भूत प्रेत पिशाच और नकारात्मक ऊर्जाओं का नाश होता है । यह सभी नकारात्मक ऊर्जामां के आने से पलायन कर जाती है। मां का शरीर घने अंधकार की तरह काला है ।सिर के बाल बिखरे हुए हैं । इनके तीन नेत्र हैं ।मां की नासिका से अग्नि की भयंकर ज्वाला निकलती है । इनका वाहन गर्दभ है । इनके ऊपर उठे हुए दाहिने हाथ  की वर मुद्रा से सभी को वर प्रदान करती हैं ।दाहिने तरफ की नीचे वाला हाथ अभय मुद्रा में है। बाईं तरफ के ऊपर वाला हाथ में लोहे का कांटा और नीचे वाले हाथ में कटार है।
नवरात्रि के आठवें दिन मां महागौरी की पूजा की जाती है इनकी उपासना से भक्तों के समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं। इनका वर्ण पूर्णतः गौर है। इनके समस्त वस्त्र एवं आभूषण भी श्वेत है । महागौरी की चार भुजाएं हैं। इनका वाहन वृषभ है। उनके ऊपर के दाहिने हाथ में अभय मुद्रा और नीचे वाले दाहिने हाथ में त्रिशूल है। ऊपर वाले बाएं हाथ में डमरू और नीचे के बाएं हाथ में बर मुद्रा है ।इनकी मुद्रा अत्यंत शांत है।
नवरात्रि के नवें दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है।यह मां सभी प्रकार की सिद्धियों को प्रदान करने वाली हैं इनकी उपासना के उपरांत सभी सिद्धियां प्राप्त हो जाती हैं और सिस्टर में कुछ भी अगम में नहीं रह जाता । मां सिद्धिदात्री की चार भुजाएं हैं। उनके हाथों में गदा, चक्र, शंख एवं कमल है । मां का वाहन सिंह है तथा यह कमल के आसन पर आसीन हैं।
हमारे शरीर में 9 द्वार हैं। 2 आंख ,  दो कान , दो  नाक , एक मुख ,एक मलद्वार , तथा एक मूत्र द्वार। नौ द्वारों को सिद्ध करने हेतु पवित्र करने हेतु नवरात्रि का पर्व का विशेष महत्व है। नवरात्रि में किए गए पूजन अर्चन तप यज्ञ हवन आदि से यह नवो द्वार शुद्ध होते हैं।
नवरात्रि हमें यह भी संदेश देती है की सफल होने के लिए सरलता के साथ ताकत भी आवश्यक है जैसे माता के पास कमल के साथ चक्र एवं त्रिशूल आदि हथियार भी है समाज को जिस प्रकार  कमलासन की आवश्यकता है उसी प्रकार सिंह अर्थात ताकत ,वृषभ अर्थात गोवंश , गधा अर्थात बोझा ढोने वाली  ताकत , तथा पैदल अर्थात स्वयं की ताकत सभी कुछ आवश्यक है।

मां दुर्गा से प्रार्थना है कि वह आपको पूरी तरह सफल करें ।आप इस नवरात्रि में  जप तप पूजन अर्चन कर मानसिक एवं शारीरिक दोनों रुप में आगे के समय के लिए पूर्णतया तैयार हो जाएं।
जय मां शारदा।

गुरुवार, 15 अक्तूबर 2020

डॉक्टर की पर्ची के बगैर नहीं मिलेगा रेम्डिसिविर इंजेक्शन


डॉक्टर की पर्ची के बगैर नहीं मिलेगा रेम्डिसिविर इंजेक्शन

सागर जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए कलेक्टर श्री दीपक सिंह के निर्देश पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एमएस सागर ने जिले के समस्त मेडिकल संचालकों की बैठक आयोजित की। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी अपने-अपने मेडिकल स्टोर पर रेम्डिसिविर इंजेक्शन उपलब्धता की जानकारी प्रदर्शित करें। जानकारी में रेम्डिसिविर इंजेक्शन का मूल्य एवं मोबाइल नंबर, नाम सहित फ्लेक्स बोर्ड पर अंकित करें।

डॉक्टर सागर ने बताया कि,कलेक्टर श्री दीपक सिंह के निर्देश पर यह बैठक आयोजित की गई थी।बैठक में निर्देश दिए गए कि, डॉक्टर की पर्ची के बिना कोई भी मेडिकल संचालक इंजेक्शन का विक्रय नहीं करेगा। साथ ही इंजेक्शन का रिकार्ड भी संधारित करेगा। उन्होंने बताया कि, समस्त मेडिकल संचालकों को स्टोर के मुख्य गेट पर यह फ्लेक्स चस्पा करना होगा और प्रतिदिन जानकारी प्रस्तुत करना होगी। 

बीड़ी अस्पताल में कार्यरत् कोरोना योद्धाओं का किया सम्मान

बीड़ी अस्पताल में कार्यरत् कोरोना योद्धाओं का किया सम्मान

सागर । बीड़ी अस्पताल में कार्यरत् मेडीकल ऑफीसर, आयुष मेडीकल ऑफीसर, स्टॉफ नर्स, फार्मासिस्ट, सफाई कर्मी, एवं 108 के पायलट एवं समस्त स्टॉफ को म.प्र. चिकित्सा अधिकारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष एवं कोविड-19 नोडल अधिकारी डॉ. डी. के. गोस्वामी के सौजन्य से समस्त अस्पताल में कार्यरत स्टाफ को मुख्य अतिथि डॉ.वीरेन्द्र यादव क्षेत्रीय संचालक, सागर एवं विशेष अतिथि- डॉ. आई.एस. ठाकुर उपसंचालक सागर के हाथों से सम्मानित किया गया। जिसमें प्रशस्ति पत्र मूमेन्टो एवं मेडल प्रदान किये गये अस्पताल में कार्यरत् समस्त स्टाफ एवं डॉ. डी.के. गोस्वामी अध्यक्ष म.प्र. चिकित्सा अधिकारी संघ के द्वारा कोरोना वारियर का सम्मान किया गया बीड़ी अस्पताल में स्थित कोविड सेंटर से लगभग 200 पॉजीटिव मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं एवं समस्त प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है सभी कर्मचारी एवं चिकित्सक लगन एवं निष्ठा से कार्य कर रहे हैं एवं उनके इस कार्य हेतु धन्यवाद दिया और साथ ही इस कार्यक्रम में श्री राकेश भारद्वाज ए.ओ., डॉ. जितेन्द्र सिंह, डॉ. यतेन्द्र सिंह, आर.डी.गायकवाड उपस्थित थे एवं इस संकट की घड़ी में महामारी से इस मेहनत और लगन से कार्य करने हेतु वचन दिया और भविष्य में इस संकट की घड़ी में तनमयता से कार्यरत् रहने की शपथ ली क्षेत्रीय संचालक स्वास्थ्य सेवायें सागर ने इस सराहनीय कार्य हेतु डॉ. डी.के.गोस्वामी को धन्यवाद दिया ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह 17 अक्टूबर को राहतगढ़ में ★ सुरखी का विकास मेरी राजनीति का मकसद :गोविंद राजपूत

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह  17  अक्टूबर को राहतगढ़ में  
★ सुरखी का विकास मेरी राजनीति का मकसद  :गोविंद राजपूत

सागर। सुरखी विधानसभा  से भाजपा प्रत्याशी  परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत  के समर्थन मे  17 अक्टूबर को राहतगढ़ में  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह एक सभा को सम्बोधित करेंगे। 

राहतगढ़ में आयोजित बैठक में  परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत,  प्रदेश उपाध्यक्ष श प्रदीप लारिया, जिला अध्यक्ष श्गौरव सिरोठिया,  सुधीर यादव, श्री धर्मेंद्र लोधी ने पार्टी सभा को प्रभावी रूप से सफल बनाने की कार्य योजना तैयार की। बैठक के पश्चात सभी ने कार्यक्रमा स्थल का निरीक्षण किया।  
बैठक में  लक्ष्मण सिंह, नीरज शर्मा, पप्पू तिवारी, अमित राय, गंगाराम ठेकेदार, जगदीश लोधी, राजू बटयावदा, बुंदेल सिंह मानकी, राजकुमार सिंह धनोरा, ललित चैबे, सुधीर गुरहा, प्रशांत देवलिया, सौरभ केसरवानी, योगेश राय, विजय शाह, शैलेंद्र श्रीवास्तव सहित बड़ी संख्या में राहतगढ़ मंडल के पार्टी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता विशेष रूप से उपस्थित रहे। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


सुरखी का विकास मेरी राजनीति का मकसद है:- गोविंद सिंह राजपूत 

सागर। कांग्रेस पार्टी में अब रीति नीति नहीं रह गई है। पार्टी मैं बचे हुए नेता सिर्फ अपना विकास करने की सोच रखते हैं इसलिए मैंने कांग्रेस को अलविदा कह दिया मेरी राजनीति का उद्देश्य सुरखी का विकास रहा है यह बात राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने जनसंपर्क के दौरान ग्राम लाल बाग में कहीं ।श्री राजपूत ने कहा कि भाजपा में आकर मुझे लग रहा है कि जिस तरह में सुरखी का विकास करना चाहता था वह कर पाऊंगा क्योंकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान एक गरीब किसान के बेटे हैं। उन्होंने गरीबी देखी है इसलिए वह गरीब का दर्द समझते हैं छोटी से छोटी समस्या को शिवराज सिंह चैहान समझते हैं जिसको लेकर उन्होंने नीतियां बनाई और जनता के हर वर्ग को लाभ दिया श्री राजपूत ने कहा कि सुरखी के लिए मैं और मेरा परिवार हमेशा विकास के लिए तत्पर रहा है।
राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने गुरुवार को उमरिया सेमरा, लालबाग, गजीखेड़ा, नयाखेड़ा, ग्रामों में जनसंपर्क किया जहां स्थानीय ग्रामीणों ने श्री राजपूत का जोरदार स्वागत किया तथा आश्वासन दिया कि क्षेत्र की जनता श्री राजपूत के साथ है ।

उपचुनाव  क्षेत्र के विकास का भविष्य तय करेगा: ढाल सिंह बिसेन सांसद 

 बालाघाट सांसद श्री ढाल सिंह बिसेन ने सुरखी विधानसभा क्षेत्र के सोमला, रूपऊ, बरोदिया बल्लभ, लुहर्रा आदि ग्रामों में पहुंचकर मतदाताओं से जनसंपर्क कर भारतीय जनता पार्टी को विजय बनाने का लिया आशीर्वाद।  इस अवसर पर सांसद ने मतदाताओं से कहा कि प्रदेश में पूर्व में रही 15 माह की कांग्रेसी कमलनाथ की सरकार ने जनता के हितों के साथ कुठाराघात कर जनता को हर मूलभूत सुविधाओं से वंचित रखा वहीं दूसरी ओर वर्तमान की भारतीय जनता पार्टी की सरकार एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय शिवराज सिंह चैहान ने अपने अल्प समय में समाज के सभी वर्गों को लाभान्वित करने के लिए लोक कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से उन्हें लाभान्वित किया जा रहा है । जनसंपर्क के दौरान प्रमुख रुप से मंडल अध्यक्ष कमल पटेल, रण बहादुर सिंह राजपूत, अजय ठाकुर, अंकित बोहरे, गुलाब सिंह कुर्मी, राजेंद्र कुर्मी, रामबाबू कुर्मी, संतोष सेन, फूल सिंह कुर्मी, अरुण कुर्मी, संजय शाह सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता एवं आमजन साथ में रहे। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

बीड़ी उधोगपति और समाजसेवी नरेश चन्द जैन पंचतत्व मे विलीन ,★ सुरखी का कार्यकर्ता स्व श्री जैन का संकल्प पूरा करेगा : पारुल साहू

बीड़ी उधोगपति और समाजसेवी नरेश चन्द जैन पंचतत्व मे विलीन ,★ सुरखी का कार्यकर्ता स्व श्री जैन का संकल्प पूरा करेगा : पारुल साहू

सागर। बीड़ी उधोगपति और  जिला कांग्रेस कमेटी सागर ग्रामीण के अध्यक्ष नरेश चंद जी जैन की देह आज हिन्दू रीति रिवाज और जैन नमोकार मंत्रो के उच्चारण के मध्य छोटे पुत्र हेप्पी ने दाह संस्कार बीएस जैन परिवार के सभी सदस्यों की उपस्थिति के मध्य  हुआ ।अंतिम यात्रा के पहले उन्हे कांग्रेस पार्टी ध्वज का समर्पित कर उडाया गया ।  सेवादल ने उन्हें सलामी दी अंतिम यात्रा मे  राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत, पूर्व मंत्री प्रभुसिंह ठाकुर, लखन घनघोरियॉ सुरेन्द्र चौधरी , विधायक तरवर सिह पूर्व विधायक  अरूणोदय चौबे ,नारायण प्रजापति ,सुनील जैन ,पूर्व मंडी अध्यक्ष सुधीर यादव , सुरेंद्र सुहाने  आदि  मौजूद थे। 

सुरखी का कार्यकर्ता स्व श्री जैन का संकल्प पूरा करेगा : पारुल साहू

 जिला ग्रामीण कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीमंत नरेश चंद जैन के असमय निधन पर शहर- जिला कांग्रेस कार्यालय राजीव गांधी भवन में कांग्रेस परिवार की ओर से उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। जिला कांग्रेस अध्यक्ष रेखा चौधरी और ग्रामीण कांग्रेस के प्रभारी सुरेंद्र सुहाने द्वारा आयोजित श्रद्धांजलि सभा में सुरखी विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी पारुल साहू के साथ ही प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया विधायक संजय शर्मा व प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी प्रदेश उपाध्यक्ष त्रिलोकीनाथ कटारे दाऊ बुंदेल सिंह बुंदेला समेत बड़ी संख्या में पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल हुए।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे

ट्वीटर  फॉलो करें
@weYljxbV9kkvq5ZB

वेबसाईट

श्रद्धांजलि सभा में दिवंगत नरेश चंद जैन के साथ ही पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया के पिता स्व शिवलाल घनघोरिया, वीरेंद्र गौर के भाई धर्मेंद्र गौर पूर्व एल्डरमैन दिनेश सोनी एवं उनके बड़े भाई महेश सोनी सेवादल नेता सिकन्दर चौहान, राकेश राय की माताजी बीना के कांग्रेस नेता अभय सिंघई तथा सदर के कांग्रेस कार्यकर्ता विजय श्रीवास के निधन पर सभी उपस्थित कांग्रेसजनों ने 2 मिनट का मौन रखकर उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना की तथा शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त की। शोक सभा का संचालन प्रवक्ता डॉ संदीप सबलोक ने किया।प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी ने भी शोक सभा में पहुंच कर उन्हें नि:शब्द रूप से भावभीनी श्रद्धांजलि दी।  सुरखी विधानसभा उपचुनाव के प्रभारी लखन घनघोरिया ने कहा कि नरेश जैन और उनका परिवार कांग्रेस के लिए हमेशा से ही वट वृक्ष के रूप में छाया देता आया है। विपरीत समय में सुरखी और पूरे जिले की कांग्रेस को उन्होंने जो ताकत दी है उसी की बदौलत हम जीत के मुहाने पर खड़े हैं। उन्होंने इस जीत को हासिल कर नरेश जैन के बलिदान को समर्पित करने का आव्हान कांग्रेसजनों से किया। विधायक संजय शर्मा ने कहा कि अंतिम समय तक अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभाकर उन्होंने कांग्रेस पार्टी में एक नया उदाहरण प्रस्तुत किया है। अध्यक्ष  रेखा चौधरी ने कहा कि नेतृत्व और संगठन की अद्भुत क्षमता के साथ जिस तरह से उन्होंने संगठन में जान फूंकने और कार्यकर्ताओं में मनोबल बढ़ाने का काम किया है उसी का परिणाम है कि संपूर्ण सुरखी क्षेत्र आज कांग्रेसमय है। उनकी शहादत लोकतंत्र की रक्षा में एक नई इबारत लिखकर सुरखी का सम्मान बढ़ाने का काम करेगी।
सुरखी से कांग्रेस प्रत्याशी पारुल साहू ने  अपनी आदरांजलि व्यक्त करते हुए कहा कि सुरखी का चुनाव तो नरेश जैन जी ही लड़ रहे थे और जो जीत हासिल होगी वह भी उनकी ही होगी। उन्होंने भरोसा जताया कि सुरखी का एक एक कार्यकर्ता स्व नरेश जैन बनकर उनके संकल्प को पूरा करेगा और उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि देगा।जिला ग्रामीण प्रभारी सुरेंद्र सुहाने ने कहा कि स्व नरेश जैन जो भरोसा उन्हें सोकर गए हैं उसी प्रण प्राण से पूरा करेंगे। 

 सभा में  एआईसीसी सदस्य भूपेंदर सिंह मोहासा  पं भोलेश्वर प्रसाद तिवारी पुरुषोत्तम मुन्ना चौबे अमित रामजी दुबे, सिंटू कटारे पप्पू गुप्ता गोवर्धन रैकवार शौकत अली डॉ सीवी तिवारी शरद पुरोहित लक्ष्मीनारायण सोनकीया महेश जाटव भैयन पटेल लीलाधर सूर्यवंशी प्रेम नारायण चौबे दीनदयाल तिवारी युवा कांग्रेस अध्यक्ष अंकित जैन हिंन्नोद आदिल राइन कमलेश तिवारी सीताराम चौधरी आशीष ज्योतिषी रवि सोनी अतुल नेमा ताहिर खान फ़िरदौस कुरैशी शुभम उपाध्याय रजिया खान हेमकुमारी पटेल किरणलता सोनी सुधा रजक कुसुम सुरभि हेमराज रजक हरिश्चंद्र सोनवार अशोक चौधरी प्रदीप पांडे वसीम खान अशरफ खान अजय अहिरवार प्रदीप जैन कुल्फी सन्ना भाईजान अवधेश तोमर शैलेंद्र तोमर हनीफ खान ओमप्रकाश पंडा नरेंद्र मिश्रा तज्जू खान समिट बड़ी संख्या में उपस्थित कांग्रेस जनों ने पूनम आंखों से उन्हें पुष्प अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी और कांग्रेस पार्टी के सम्मान के लिए उनके संकल्प को पूरा करने की शपथ ली।                         

 ---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------      

बुधवार, 14 अक्तूबर 2020

अम्बेडकर ने तो यह भी नही लिखा ,चेहरा किसी का दिखाना और मुख्यमंत्री किसी और को बनाना ? : गोविंद राजपूत

अम्बेडकर ने तो यह भी नही लिखा  ,चेहरा किसी का दिखाना और मुख्यमंत्री किसी और को बनाना ? : गोविंद राजपूत

सागर। राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने किशनपुर मे जनसंपर्क के दौरान कहा कि कांग्रेस आजकल मसीहा बाबा साहब डाॅ. अम्बेडकर के नाम को चुनाव में भुनाने के मंसूबे पाल रही है जो कभी पूरे नही होंगे। कांगे्रस की बयानबाजी को आडे़ हाथों लेते हुए उन्होने कहा कि कांग्रेस की सभाओं में वोला जाता है कि बाबा साहब ने ये नही लिखा वो नही लिखा जवकी असल बात कहना भूल जाते हैं कि बाबा साहब ने संविधान में यह भी नही लिखा कि चेहरा किसी का दिखाना और मुख्यमंत्री किसी और को बनाना। वह जनता को यह भी नही बताते है कि बाबा साहब ने यह भी कही नही लिखा कि मेरे नाम पर गरीब शोषित वर्ग का वोट तो बटोर लेना इसके बाद पलटकर उनकी ओर देखना भी नही।

पलटवार करते हुए मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि कांग्रेस ने अपने 15 महिने के कार्यकाल में किया क्या है ? गरीब शोषित समाज और बाबा साहब के अनुयायियों के लिए एक ही नाम बता दो जिसमें शोषित समाज का लाभ ध्यान में रखकर योजना बनाई हो। अब गरीवों का दुखदर्द समझने वाली कांग्रेस नही वची कांग्रेस मे अब आपस मे लडने, झगढने वाले नेता ही हैं। कांग्रेस ने भाजपा की जनहितेषी योजनाएं बंद करने का काम जरूर किया है। अब जनता गुमराह होने वाली नही है। सभी वर्ग के लोग समझते हैं कि 1 रूपया किलो गेंहू, चावल, पक्के मकान, महिलाओं को घर-घर मे गैस कनेक्शन, जन्म से लेकर मृत्यु तक का ध्यान रखने वाली संबल योजना भाजपा नरेन्द्र मोदी और शिवराज सिंह चौहान की देन है। सभी वर्ग का हित सिर्फ भाजपा में निहित है। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट



मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि शिवराज जी अगर जनता जनार्दन के सामने झकते हैं तो कांग्रेस को तकलीफ होती है वह खिल्ली उड़ाते हैं। कांग्रेसी शिवराज सिंह को नंगा भूखा कहते हैं। मैं ऐसे लोगों से कहना चाहता हूं कि जनता के सामने झुकना हमारे संस्कार हैं। जनता हमारी भगवान है और अपने भगवान के सामने हम एक बार नही सौ बार झुकेंगे हजारों बार झुकेंगे।
जनसंपर्क के दौरान घर्मेन्द्र लोधी जबेरा विधायक,विनोद औसवाल, नीरज शर्मा, अनेकों लोग शामिल हुए।

----------------------------  www.teenbattinews.com तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885 -----------------------------

नाबालिग को बहला-फुसलाकर ले जाने एवं यौन शोषण करने वाले मामा-भांजे को 20 साल की सजा

 नाबालिग को बहला-फुसलाकर ले जाने एवं यौन शोषण करने वाले मामा-भांजे को 20 साल की सजा 


★ बालिका का गर्भपात कराने के आरोप में दोनो आरोपियों को 10-10 साल की हुई सजा
कई बार यौन शोषण के दौरान नाबालिग हो गई थी गर्भवति

 भोपाल। विशेष न्‍यायालय (पॉक्‍सो) भोपाल के द्वारा 15 वर्षीय नाबालिग को बहला-फुसलाकर ले जाने और बलात्‍कार करने वाले आरोपी अनस खान एवं उसके मामू अजीम दुर्रानी को क्रमश: धारा  376(2) भादवि में 20 -20 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 313 भादवि में 10 -10 वर्ष का सश्रम कारावास एवं अनस को धारा 366ए में 7 वर्ष एवं 363 में 3 वर्ष के सश्रम कारावास एवं कुल 8000 रूपये के अर्थदंड से दंडित किया गया।  शासन की ओर से प्रकरण मे पैरवी विशेष लोक अभियोजक श्रीमती अनिता सिंह, श्रीमती सीमा अहिरवार एवं श्रीमती सरला कहार द्वारा किया गया।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


 
विशेष लोक अभियोजन श्रीमती सीमा अहिरवार द्वारा बताया गया कि दिनांक 17.09.2018 को पीडिता उम्र 15 वर्ष ने अपनी माता के साथ थाना शाहजहांनाबाद आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि करीब 5-6 माह पूर्व आरोपी अनस से उसकी मुलाकात सब्‍जी मण्‍डी में हुई । जिसके बाद 2-3 बार वह  बाइक से घुमाने टॉप एन टाउन और वोट क्‍लब ले गया। करीब डेढ माह पूर्व अनस घुमाने के बहाने उसे अपने घर कसेरापुरा शाहजहांनाबाद लेकर गया वहां अनस ने उसकी मर्जी के बिना डरा धमका कर गलत काम (बलात्‍संग) किया। उसके एक हफ्ते बाद दुबारा उसे अपने घर ले जाकर गलत काम किया। रिपोर्ट के करीब 10 दिन पहले महीना रूक जाने वाली बात पीडिता ने आरोपी अनस को बताई तो अनस ने अपने मामू अजीम से उसे मिलवाया। जहां मामू ने अनस को एक दवाई गर्भपात के लिए लाने भेजा और फिर मामू ने पीडिता को डरा धमकाकर उसके साथ गलत काम किया और उक्‍त बात किसी को बताने पर उसे जान से मारने की धमकी दी। अनस के वापस आने पर मामू ने एक दवा पीडिता को गर्भपात कारित करने के लिए दिया और बोला कि एक गोली कल खा लेना। गोली खाने के बाद पीडिता को पेट में दर्द होने लगा था और ब्‍लीडिंग होने लगी थी , दर्द बढ जाने पर उसने अपनी मां को सारी बातें बताई। जिस पर अगले दिन मां उसे लेकर अस्‍पताल गई, जहां उसका गर्भपात हो गया था। उक्‍त सूचना पर थाना शाहजहांनाबाद द्वारा अपराध क्रमांक 477/2018 अंतगर्त धारा 376 डी, 376(2)(एम), 506 भादवि एवं 5/6 पाक्‍सो एक्‍ट के अंतर्गत आरोपी मो. अनस खान एवं अजीम दुर्रानी के विरूद्ध मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। आरोपियों को गिरफ्तार कर विवेचना उपरांत अभियोग पत्र विशेष न्‍यायालय में पेश किया गया था। 
                          
---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

करोड़ों रुपए के ऑनलाईन सट्टे के बडे गिरोह का पर्दाफाश , 1 करोड 31 लाख नगद बरामद

करोड़ों रुपए के ऑनलाईन सट्टे के बडे गिरोह का पर्दाफाश , 1 करोड 31 लाख नगद  बरामद

▪️बैंकों में  हुए संदिग्ध लेनदेन की 1.5 करोड़ रुपये मूल्य की राशि अलग -अलग बैंक के खातों में कि गई हैं फ्रीज

 ▪️ऑनलाइन सॉफ्टवेयर गेम के माध्यम से किया जा रहा था सट्टे का कारोबार, सॉफ्टवेयर गेम  बनाने वाले को भी किया पुलिस ने गिरफ्तार

इंदौर ।  ऑनलाइन सट्टे के कारोबार जैसे संगठित अपराधों में संलिप्त अपराधियों के विरुद्ध इंदौर पुलिस द्वारा की जा रही प्रभावी कार्रवाई के अंतर्गत पुलिस थाना महू द्वारा संगठित रूप से करोड़ों रुपए का ऑनलाइन सट्टे का कारोबार करने वाले गिरोह का पर्दाफाश करने में सफलता प्राप्त हुई है।

ऑनलाइन सट्टे पर की जा रही कार्यवाही के तहत टीम को दिनाँक 12.07.2020 को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि थाना महू क्षेत्रान्तर्गत राजू वर्मा के मकान में बड़े स्तर पर ऑनलाईन सट्टा खिलाया जा रहा है । जिस पर महू पुलिस द्वारा मौके पर कार्यवाही करते हुये राजू वर्मा नि . गुजरखेडा महू के मकान से 01. विकाश पिता मनोहर सिह यादव उम्र 25 साल नि . खण्डवा , 02. जितेन्द्र पिता नारायण लोवंशी उम्र 24 साल नि . सिवनी मालवा गोलगाँव जिला होशगांबाद , 03 . हेमंत पिता अनिल गुप्ता उम्र 23 साल नि.बरमकेला छत्तीसगढ , 04. सोनू पिता संतोष गुप्ता उम्र 20 साल नि . बरमकेला छत्तीसगढ को 03 लेपटॉप व मोबाईलों के जरिये ऑनलाईन सट्टा का गेम करते पकडा गया ।

 उक्त सट्टे के गेम में पुछताछ पर राजा वर्मा उर्फ लोकेश पिता राजू वर्मा नि.गुजरखेडा महू द्वारा सट्टा खिलाने के लिये उक्त समस्त व्यक्तियों को नौकरी पर रखने की जानकारी प्राप्त हुई । जिसमें पलाश अभिचंदानी व शुभम कलमें भी राजा वर्मा के ऑनलाईन अवैध सट्टे के व्यापार में सम्मिलित होना पता चला । उक्त कार्यवाही के उपरान्त थाना महू पर अपराध क्रं , 266/2020 धारा 420,120 बी भादवि 3/4 सट्टा एक्ट का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया । विवेचना के दौरान उक्त विकाश यादव , जितेन्द्र लोवंशी हेमंत गुप्ता , सोनू गुप्ता , लोकेश उर्फ राजा वर्मा , पलाश अभिचंदानी , शुभम कलमें मुकेश अभिचंदानी , मनोज मालवीय को गिरफ्तार किया गया । 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे

ट्वीटर  फॉलो करें
@weYljxbV9kkvq5ZB

वेबसाईट


गरीबो के नाम पर खोले बैंक खाते, 53 करोड़ का हुआ ट्रांजेक्शन

मामले की विवेचना में इस बात की जानकारी प्राप्त हुई की आरोपी राजा वर्मा मुख्य आरोपी है । जो महू व इंदौर के गरीब मजदुर वर्ग के लोगो को दुकान खुलवाने का लोन दिलवाने के नाम से उनके आधार कार्ड , पेन कार्ड मँगवाकर गुमास्ता बनवाता था उसके बाद अलग अलग बैंको में गरीब मजदुरों के नाम से व्यापारी फर्म बनाकर बैंक में करन्ट एकाऊण्ट खुलवाता था । जिसमें ऑनलाईन सट्टे के पैसे इन खातों में बड़ी मात्रा में जमा होते थे । ऐसे 13 बैंक खाते प्रारम्भिक विवेचना में सामने आये । जिनमें पिछले छः माह में लगभग 53 करोड 23 लाख 70 हजार 417 रुपयों का ट्रॉजेक्शन होना पाया गया एवं उक्त विवेचना में सायबर सूचनाओं के माध्यम से यह जानकारी प्राप्त हुई कि राजा वर्मा ने इंदौर के एक सॉफ्टवेयर इन्जीनियर मनोज उर्फ मोंटी पिता कैलाश मालवीय निवासी पालदा इंदौर में उक्त धन गेम का सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन एंड्रायड प्लेट फार्म पर तैयार किया और राजा वर्मा को ऑनलाईन सट्टा चलाने के लिये दिया था । 
राजा वर्मा द्वारा उक्त ऑनलाईन सट्टा का कारोबार लगभग दो वर्षों से संचालित कर रहा था और इस सट्टों से प्राप्त रुपयों से महू तथा इंदौर में मंहगी मंहगी प्रापर्टी करोडों रुपये मूल्य की स्वंय व परिवार वालों के नाम से खरीद रहा था । राजा वर्मा द्वारा लगभग 6 करोड रुपये मूल्य की प्रापर्टी खरीदी है । 

तीनबत्ती न्यूज़.कॉम

डिजिटल वीडियो रथ पर सिंधिया के फोटो नही होने पर
बोले प्रभात झा "हमारे यहां  व्यवस्था  प्रमुख है  , यह बात सिंधिया भी समझते है, व्यवस्थाओं में चलना होगा" -


उक्त धन गेम बनाने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर मनोज उर्फ मोंटी पिता कैलाश मालवीय को भी गिरफ्तार कर लिया है । मनोज उक्त सॉफ्टवेयर को संचालित करने के लिये राजा उर्फ लोकेश वर्मा कि सहायता करता था और सट्टे से प्राप्त बढी धन राशि हावाला के माध्यम से सट्टे बाजों में बटती थी । 
अब तक कि कार्यवाही में 1,31,66,623 रुपये / - रुपये ( 1 करोड 31 लाख 66 हजार 623 रुपये ) नगद धनराशी जप्त की गई है । जबकि 1.5 करोड़ रुपये मूल्य की राशि अलग अलग बैंक के खातों में फ्रीज की गई है । जिस पर कार्यवाही जारी है । जप्ती के मान से अब तक म.प्र . पुलिस के इतिहास में उक्त कार्यवाही काफी बडी है । इस संबंध में इंदौर पुलिस द्वारा प्रवृत्तन निर्देशालय ( ED ) को भी उक्त मनीलॉड्रींग के संबंध में पृथक से जाँच हेतू पत्र लेख किया जा रहा है । मुख्य आरोपी राजा उर्फ लोकेश वर्मा पिता राजू वर्मा नि.गुजरखेडा का अभी न्यायिक अभिरक्षा में है । 
उक्त सराहनीय कार्य करने पर  डी.आई.जी. श्री हरिनारायणचारी मिश्र द्वारा सम्पूर्ण टीम को 20 हजार रुपए पुरूस्कार देने की घोषणा की है ।

SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive