साप्ताहिक राशिफल : जाने कैसा रहेगा यह सप्ताह ,11 अप्रैल से 17 अप्रैल 2022★ पण्डित अनिल पांडेय

साप्ताहिक राशिफल :  जाने कैसा रहेगा यह सप्ताह ,11 अप्रैल से 17 अप्रैल 2022
★ पण्डित अनिल पांडेय

जय श्री राम।
धरमु न दूसर सत्य समाना। आगम निगम पुरान बखाना॥
सभी धर्म ग्रंथों के अनुसार सत्य के अलावा दूसरा कोई धर्म नहीं है । ज्योतिष सत्य को बताने वाली विद्या है । मैं उसी सत्य को जो आपके साथ 11 अप्रैल से 17 अप्रैल 2022 तक घटेगा उसके संबंध में बताने जा रहा हूं।



मेष राशि
आप के खर्चे के बढ़ने का समय आ रहा है । हो सकता है इस बीच में आपका प्रमोशन भी हो और साथ ही स्थानांतरण हो जाए । कृपया अधिकारियों से  सामंजस्य बनाने का कष्ट करें । इस सप्ताह आपके लिए 11 अप्रैल और 17 अप्रैल उपयुक्त है । इन तारीखों में आप कोई भी कार्य कर सकते हैं । किए गए कार्य में सफलता की उम्मीद बहुत होगी । 15 और 16 तारीख को आपको कोई भी कार्य पूर्ण सतर्कता से करना चाहिए । सूर्य 14 तारीख से उच्च का होकर आपके लग्न में बैठ रहा है परंतु ग्रहण दोष से युक्त है । अतः इसके फल में कमी आएगी । आपको चाहिए कि आप राहु के प्रकोप को शांत करने के लिए किसी विद्वान ब्राह्मण से राहु की पूजा करवाएं । सप्ताह का शुभ दिन रविवार है।



वृष राशि
कार्यालय में आप के प्रभाव में वृद्धि होगी । इस सप्ताह धन के आगमन  की अच्छी उम्मीद है । मित्रों के बीच आपकी ख्याति घटेगी । माताजी को कष्ट हो सकता है । इस सप्ताह आपके लिए 12 13 और 14 अप्रैल अत्यंत लाभदायक है । 17 अप्रैल को आपको कोई नया कार्य प्रारंभ नहीं करना चाहिए । इस सप्ताह आपको चाहिए कि आप प्रातः काल सूर्य भगवान को तांबे के पात्र में जल अक्षत और    लाल पुष्प डालकर जल अर्पण करें  ।  सप्ताह का शुभ दिन  बुधवार है।



मिथुन राशि
मिथुन राशि के जातकों को इस सप्ताह से धन की अच्छी प्राप्त होना प्रारंभ हो जाएगा । कार्यालय में आपको अत्यंत प्रशंसा मिलेगी । अधिकारियों से संबंध बहुत अच्छे रहेंगे । भाग्य आपका अच्छा साथ देगा । गर्दन या कमर में दर्द हो सकता है । गलत रास्ते से धन आने का भी योग है ।   अध्ययन में बाधा आ सकती है । इस सप्ताह आपके लिए 15 और 16 तारीख शुभ और लाभदायक हैं । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह रुद्राष्टक का पाठ करें ।सप्ताह का शुभ दिन शुक्रवार है।


कर्क राशि
इस सप्ताह भाग्य आपका भरपूर साथ देगा । आपके कई कार्य कम मेहनत से ही संपन्न हो जाएंगे । अगर आप किसी कार्यालय में कार्य करते हैं तो अपने अधिकारियों से सामंजस्य बनाकर चलें । उनसे वाद विवाद की स्थिति निर्मित ना करें । पिताजी के स्वास्थ्य में थोड़ी खराबी आ सकती है । आपका स्वास्थ्य थोड़ा खराब हो सकता है । इस सप्ताह आपके लिए 11 और 17 अप्रैल अत्यंत उत्तम है । आपको चाहिए कि आप इन दोनों तारीखों का इस्तेमाल अपने अत्यंत कठिन कार्यों को करने हेतु प्रयोग करें । ईश्वर की कृपा से इन दोनों तारीखों में आपके कठिन से कठिन कार्य भी संपन्न हो जाएंगे । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह काले कुत्ते को रोटी खिलाएं । सप्ताह का शुभ दिन सोमवार है।



सिंह राशि
आपको अपने परिश्रम पर विश्वास करना चाहिए । भाग्य के सहारे कोई कार्य नहीं करना चाहिए । गुप्त शत्रु बढ़ेंगे ।  परंतु गुप्त शत्रु आपका कुछ भी नहीं बिगाड़ पाएंगे ।जीवन साथी के साथ थोड़ा सा तनाव हो सकता है । आपका अपने प्रेमी और प्रेमिका से भी थोड़ा सा तनाव संभव है। इस सप्ताह आपके लिए 12-13 और 14 अप्रैल अत्यंत शुभ और लाभदायक है । 11 अप्रैल को आपको नए कार्यों को टालना चाहिए । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह और लगातार हर सप्ताह भगवान शिव का जल और दूध से अभिषेक करें । सप्ताह का शुभ दिन मंगलवार है।



कन्या राशि
यह सप्ताह आपके संतान के लिए अत्यंत उत्तम है । अगर आप छात्र हैं तो आपकी पढ़ाई अत्यंत अच्छी चलेगी । आप इस सप्ताह अगर कोई परीक्षा दे रहे हैं तो उसमें अत्यंत अच्छे नंबर प्राप्त करेंगे । जिन जातकों का अभी विवाह नहीं हुआ है उनके विवाह हेतु अत्यंत उत्तम संयोग बनेंगे । छोटी मोटी दुर्घटना हो सकती है । इस सप्ताह आपके लिए 15 और 16 अप्रैल अत्यंत उत्तम है । 12 13 और 14 अप्रैल को आपको कोई भी कार्य सावधानी से करना चाहिए । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह मंगलवार का व्रत करें और मंगलवार को हनुमान जी का दर्शन करें । सप्ताह का शुभ दिन शुक्रवार है।



तुला राशि
अगर आप किसी कारणवश बीमार चल रहे हैं तो इस सप्ताह आप अपनी बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं । आपके शत्रु भी इस सप्ताह शांत रहेंगे । आपके खर्चे में अत्यंत वृद्धि होगी । प्रमोशन भी हो सकता है । स्थानांतरण भी संभव है । आपके जीवन साथी को कष्ट होगा । पिताजी का स्वास्थ्य खराब हो सकता है । इस सप्ताह आपके लिए 11 और 17 अप्रैल बहुत अच्छे हैं । 15 और 16 अप्रैल को आपको सावधानी पूर्वक कार्य करना चाहिए । अन्यथा आप कार्यों में आप सफल नहीं होंगे ।आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह गुरुवार का व्रत करें और पूरे सप्ताह राम रक्षा स्त्रोत का जाप करें। सप्ताह का शुभ दिन बुधवार है।



वृश्चिक राशि
आपके संतान के लिए अत्यंत अच्छे दिन आ रहे हैं । आपके भाग्य का सितारा बुलंदी पर होगा । थोड़े ही परिश्रम में आपको सफलता मिलेगी । शत्रुओं से सावधान रहें । व्यापार में वृद्धि संभव है । इस सप्ताह आपके लिए 12-13 और 14 अप्रैल लाभकारी है । 17 तारीख को आप कोई नया कार्य प्रारंभ ना करें । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह शनिवार का व्रत करें और शनिदेव का पूजन करें । सप्ताह का शुभ दिन मंगलवार है।



तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें

वेबसाईट


इंस्टाग्राम फॉलो करें

https://www.instagram.com/invites/contact/?i=1q7dfdfgnufv6&utm_content=o4409i0

धनु राशि
इस सप्ताह आप के मान सम्मान में वृद्धि होगी ।लोग आपको आदर की निगाह से देखेंगे । संतान को कष्ट संभव है । पढ़ाई लिखाई में बाधा आएगी । माताजी का स्वास्थ्य उत्तम रहेगा । पिताजी को कष्ट हो सकता है । भाग्य से कम मदद मिलेगी । इस सप्ताह आपके लिए 15 और 16 अप्रैल शुभ और लाभदायक हैं । 11 अप्रैल को आपको सावधानी पूर्वक कार्य करना चाहिए । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह अपने घर की बनी पहली रोटी गौमाता को दें । सप्ताह का शुभ दिन बृहस्पतिवार है।


मकर राशि
अगर भाइयों के साथ तनाव चल रहा है तो संबंध अच्छे होने का योग है । इस सप्ताह आपका अपने भाई बहनों से संबंध उत्तम रहेगा । माता जी के स्वास्थ्य में खराबी आ सकती है । पिताजी का स्वास्थ्य ठीक रहेगा । कार्यालय में आपकी प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी । इस सप्ताह आपके लिए 11 और 17 अप्रैल शुभ और लाभदायक हैं 12-13 और 14 अप्रैल को आपको कम सफलताएं मिलेंगी आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह मछलियों को दाना दें सप्ताह का शुभ दिन शनिवार है।


 कुंभ राशि

अच्छी मात्रा में धन आने का योग बन रहा है । भाइयों से तनाव संभव है । भाग्य साथ देगा आपका स्वास्थ्य ठीक रहेगा । गर्दन या कमर में दर्द हो सकता है । खर्चे में कमी आएगी । विवाह में बाधा आ सकती है । । 12-13 और 14 अप्रैल आपके लिए उत्तम ओर फलदाई है । 15 और 16 अप्रैल को आपको सावधानी पूर्वक कार्य करना चाहिए । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह चिड़ियों को दाना दें । सप्ताह का शुभ दिन बुधवार है।


मीन राशि

मीन राशि के जातकों के लिए  अच्छा समय आ रहा है । इस सप्ताह में 14 तारीख के बाद से खर्चे में कमी आएगी । शत्रुओं का अंत होगा । व्यापार उत्तम गति से चलेगा । धन आने का योग है । गलत रास्ते से भी धन आएगा । अधिकारियों से व्यर्थ का वार्तालाप ना करें । गर्दन या कमर में दर्द हो सकता है । संतान के  सुख में कमी आएगी । अध्ययन में बाधा होगी । इस सप्ताह आपके लिए 15 और 16 तारीख उत्तम और लाभदायक है । 12 ,13, 14 और 17 तारीख को कोई नया काम प्रारंभ ना करें । इस सप्ताह आपको चाहिए कि आप चीटियों को दाना दें तथा शनिवार को दक्षिण मुखी हनुमान जी के मंदिर में जाकर सात बार हनुमान चालीसा का जाप करें । सप्ताह का शुभ दिन सोमवार है।
सूर्य इस सप्ताह ग्रहण योग में रहेगा । अतः मानसिक  व्यथा बढ़ेगी । मेरी मां शारदा से प्रार्थना है कि मेरे सभी दर्शक स्वस्थ सुखी और संपन्न रहें।

जय मां शारदा।
निवेदक:-
पण्डित अनिल कुमार पाण्डेय
सेवानिवृत्त मुख्य अभियंता
प्रश्न कुंडली विशेषज्ञ और वास्तु शास्त्री
स्टेट बैंक कॉलोनी मकरोनिया
 सागर। 470004
 मोबाइल 8959594400
 व्हाट्सएप 7566503333
 यूट्यूब लिंक
 https://youtu.be/FvBNBhZ_uQ0
Share:

राज्यमंत्री श्री राम खेलावन पटेल पहुचे बुंदेलखंड चिकित्सा महाविद्यालय

राज्यमंत्री श्री राम खेलावन पटेल पहुचे बुंदेलखंड चिकित्सा महाविद्यालय

सागर। मध्य प्रदेश शासन के राज्यमंत्री श्री राम खेलावन पटेल आज  बुंदेलखंड चिकित्सा महाविद्यालय पहुंचे । यहां उन्होंने अधिष्ठाता डॉ आर एस वर्मा एवं अन्य चिकित्सकों से संस्थान में वर्तमान में उपलब्ध स्वास्थ्य सुविधाओं से संबंधित जानकारी ली एवं भविष्य की कार्य योजनाओं पर चर्चा की.

 मंत्री श्री पटेल ने स्वास्थ सुविधाओं में उन्नयन हेतु  मुख्यमंत्री  के सहयोग से हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया साथ ही कोविड महामारी के दौरान बीएमसी की सेवाओं की सराहना की.
मंत्री  बीएमसी में कार्यरत डॉ.उमेश पटेल के निज निवास पर सौजन्य भेंट हेतु आए थे.


Share:

जमकर हुई आतिशबाजी, धूमधाम से मनाया गया मालथौन का गौरव दिवस

जमकर हुई आतिशबाजी, धूमधाम से मनाया गया मालथौन का गौरव दिवस

मालथौन। शनिवार दुर्गाष्टमी के पावन पर्व पर मालथौन किले में मालथौन का गौरव दिवस के भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मालथौन का गौरव प्राचीन किले से जुड़ा है किला परिसर शक्तिपीठ में विराजमान महाकाली का अद्धभुत स्वरूप है। 
     खुरई क्षेत्र के लाड़ले विधायक और प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह द्वारा मालथौन किला में आयोजित कार्यक्रम में प्रसिद्ध सिंगर चेतना भारद्वाज ने अपनी मनमोहक प्रस्तुतियां दीं। खुरई नगर में होने वाले डोहेला महोत्सव की तर्ज पर इस कार्यक्रम को भव्यता प्रदान की गई। मालथौन किले में आधुनिक विद्युत साज-सज्जा की गई। 

     ज्ञात हो कि विगत दिनों मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने मालथौन में आयोजित कार्यक्रम के दौरान यह बात कही थी कि हम मालथौन का गौरव दिवस धूमधाम के साथ मनाएंगे। 
मालथौन का गौरव दिवस कार्यक्रम में सिंगर चेतना भारद्वाज ने माता के भजन "तू घर मेरे आज दातिये" भजन से कार्यक्रम की शुरूआत की। सिंगर चेतना भारद्वाज ने "दर पे अवांगे तेरे" जैसे भजन गाये, इसके बाद सिंगर चेतना भारद्वाज ने लता जी की याद में "लग जा गले की फिर ये हसीन रात हो न हो" और "ये दिल तुम बिन कहीं लगता नही हम क्या करें" जैसे सदाबहार गीतों की प्रस्तुति से मालथौन की जनता की दिल जीता। 


     कार्यक्रम की शुरुआत में मंत्री प्रतिनिधि लखन सिंह किला मंदिर स्थित देवी माँ के दरबार मे महाआरती में शामिल हुए। तद्पश्चात मालथौन के गौरव दिवस की संध्या के मंच पर पहुचें। लखन सिंह ने मालथौन के गौरव तुलसीराम पटवा, लल्लूराम विश्वकर्मा, श्रीमती सुशीला शर्मा एवं छोटेलाल सोनी का शाल श्रीफल भेंटकर अभिनन्दन किया। इसके उपरांत
मां सरस्वती का पूजन किया,  दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम की शुरूआत की। इसके उपरांत मंत्री प्रतिनिधि लखन सिंह ने कन्यापूजन किया। 

शुभारंभ करते हुए मंत्री प्रतिनिधी लखन सिंह ने कहा कि मंत्री भूपेंद्र सिंह जी मालथौन के सम्पूर्ण विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं, मंत्री श्री सिंह मालथौन क्षेत्र में विकास के कई कार्य किये हैं, मैने देखा है कि बड़ी बड़ी जगहों पर भी ऐसे पार्क, सड़के और अन्य सुविधाएं नही रहती हैं जैसी मालथौन में हैं, बहुत जल्दी मालथौन किले किले में पार्क का निर्माण किया जाएगा । आगे कहा मंत्री भूपेंद्र भैया के रहते आपको किसी बात की चिंता करने की जरूरत नहीं है। भूपेन्द्र भैया खुरई विधानसभा क्षेत्र को प्रदेश में नम्बर वन पर लाने की अग्रसर है और क्षेत्र की तरक्की में आप सबके योगदान की जरूरत है।

     कार्यक्रम की शुरूआत में मालथौन किला के चारों ओर से रंगारंग आतिशबाजी की गई जिससे मालथौन का किला जगमगा उठा। मालथौन का गौरव दिवस मनाने लोगों का उत्साह देखते ही बन रहा था। इस अवसर पर क्षेत्र के गणमान्य नागरिक, पत्रकार बंधु, भाजपा नेता, कार्यकर्ता, अधिकारी, कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित थे। 

Share:

अनाथ एवं दिव्यांग बच्चो के बीच मनाया गया एनएसयूआई का 52वां स्थापना दिवस

अनाथ एवं दिव्यांग बच्चो के बीच मनाया गया एनएसयूआई का 52वां स्थापना दिवस 

सागर। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन सागर  के कार्यकर्ताओं ने संगठन के जिलाध्यक्ष अक्षय दुबे के नेतृत्व में संजीवनी बाल आश्रम मकरोनिया में अनाथ बच्चों को  फल वितरण कर कांग्रेस पार्टी के छात्र संगठन एनएसयूआई का स्थापना दिवस मनाया 




 संगठन के जिलाध्यक्ष अक्षय दुबे ने कहा कि एनएसयूआई एक लोकतांत्रिक मूल्यों पर चलने वाला छात्र संगठन है जो छात्रों और आम आवाम के हितों की बात करता है और संगठन नेहरू गांधी जी के विचारों को समाज के हर तबके तक ले जाने का काम करेगा । वही कार्यक्रम मे मकरोनिया ब्लाक कांग्रेस के  अध्यक्ष देवेन्द्र पटेल ने युवाओ को संगठन ने जोडने और छात्र हित मे काम करने को कहा ।


इस मौके पर पार्षद कल्लू पटेल , नगर अध्यक्ष युवक कांग्रेस सजय रोहिताश, रोहित वर्मा , ऋषिकेश भट्ट,  आर्दश वैद,  गौरव दुबे , राम राजा सेन , निशांत अठिया , अतुल गोस्वामी,  चंदन कुमार , निहाल पाण्डेय  आदि एनएसयूआई के कार्यकर्ता मौजूद थे



Share:

सागर के वीरेन्द्र अहिरवार को उत्कृष्टकार्य निष्पादन के लिए ट्रांसको ने किया पुरूस्कृत

सागर के वीरेन्द्र अहिरवार को उत्कृष्ट
कार्य निष्पादन के लिए ट्रांसको ने किया पुरूस्कृत

सागर। मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के परीक्षण संभाग में पदस्थ जूनियर इंजीनियर इंजीनियर श्री वीरेन्द्र कुमार अहिरवार ने 400 के.व्ही. सबस्टेशन सागर में 160 एमवीए क्षमता के पावर ट्रांसफॉरमर रबी सीजन का लोड आन के पहले ही चालू हो गया इस कारण सागर व आसपास के विद्युत उपभोक्ताओं को इस रबी सीजन में पर्याप्त गुणवत्ता की बिजली उचित वोज्टेज में प्राप्त हो सकी हैं।

Share:

आर्ट्स एवं कॉमर्स कॉलेज में परीक्षा के दौरान एक दर्जन से अधिक नकलची छात्र पकड़े गए

आर्ट्स एवं कॉमर्स कॉलेज में परीक्षा के दौरान एक दर्जन से अधिक नकलची छात्र  पकड़े गए
सागर ।   शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय में  छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय की स्नातक स्तर की परीक्षाएं शांतिपूर्वक चल रही हैं। परीक्षा में कड़ी सख्ती और चौकसी के चलते शनिवार को एक ही दिन में 06 से 
 नकलची पकड़े गए हैं। इसके पहले भी अलग-अलग दिनों में अब तक कुल 14 परीक्षार्थियों का यूएफएम केस बनाकर विवि को भेजे गए है।
                  महाराजा छत्रसाल विश्वविद्यालय की स्नातक स्तर के बीए बीएससी एवं बीकॉम द्वितीय तथा तृतीय वर्ष के रेगुलर विद्यार्थियों की वार्षिक परीक्षाएं पिछले दिनों से शुरू हुई है। शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय के परीक्षा केंद्र में परीक्षा केंद्र अध्यक्ष एवं प्राचार्य डॉ जी एस रोहित के निर्देशन में दो पारियों में परीक्षाओं का संचालन किया जा रहा है। इन परीक्षाओं में सुबह की पारी में केंद्र अधीक्षक डॉ विनय शर्मा तथा सहायक अधीक्षक डॉ इमरान सिद्दीकी एवं डॉ प्रतिभा जैन द्वारा परीक्षा कार्य में समन्वय किया जा रहा है। सांय कालीन परीक्षा के संचालन में डॉ मधु स्थापक को केंद्र अधीक्षक तथा डॉ संगीता मुखर्जी व डॉ अमर कुमार जैन सहायक अधीक्षक बनाए गए हैं।



                  स्नातक स्तर की बीएससी एवं बीकॉम द्वितीय व तृतीय वर्ष की परीक्षाएं सुबह की पाली में तथा बीए द्वितीय एवं तृतीय वर्ष की परीक्षाएं दोपहर की पाली में संचालित की जा रही है। महाविद्यालय की परीक्षा आयोजन समिति के सदस्य डॉ संदीप सबलोक ने बताया कि परीक्षा भवन में प्रवेश के लिए परीक्षार्थियों को क्लिपपेड (तख्ती)  पर्स मोबाइल बैग एवं अन्य किसी भी तरह के कागज पुर्जे को कड़े रूप में प्रतिबंधित किया गया है। परीक्षा भवन में प्रवेश के पहले प्रत्येक परीक्षार्थी को कड़ी जांच एवं परीक्षण के दौर से गुजरना होता है। इसके बावजूद भी कतिपय परीक्षार्थी चालाकी से नकल सामग्री को छिपाकर अंदर ले जाने में सफल तो हो जाते हैं लेकिन वीक्षकों की कड़ी निगरानी में नकल करते हुए नजर आते ही उन्हें तुरंत दबोच लिया जाता है और यूएफएम के केस बनाए जा रहे हैं। सुबह की पाली में बीएससी एवं बीकॉम के 13 तथा दोपहर की पाली में 1 परीक्षार्थि को नकल करते हुए पकड़ा जा चुका है और उनके यूएफएम के केस बनाकर विश्वविद्यालय को भेजे गए हैं।
                  केंद्र अध्यक्ष एवं प्राचार्य डॉ जी एस रोहित ने परीक्षार्थियों से अपेक्षा व्यक्त की है कि वे परीक्षा भवन में प्रवेश करते समय किसी भी तरह की प्रतिबंधित सामग्री जिनमें क्लिप पैड (तख्ती) पर्स मोबाइल तथा किसी भी तरह की लिखित या छपी हुई सामग्री को लेकर नहीं आएं अन्यथा उनके विरुद्ध परीक्षा अधिनियम के तहत कार्यवाही कर प्रकरण बनाए जाएंगे।
   
Share:

पदार्थों में मिलावट, लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ है... इन पर सख्त कार्रवाई : मुख्य मंत्री ★ कलेक्टर्स कमिश्नर्स कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री ने की समीक्षा

 पदार्थों में मिलावटलोगों की जिंदगी से खिलवाड़ है... इन पर सख्त कार्रवाई : मुख्य मंत्री 

 ★ कलेक्टर्स कमिश्नर्स कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री ने की समीक्षा

 

सागर  । मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मिलावटी खाद्य पदार्थों के संबंध में मध्य प्रदेश के विभिन्न जिलों द्वारा की गई कार्रवाई की समीक्षा करते हुए कहा किखाद्य पदार्थों में मिलावट लोगों की जिंदगी से सीधा खिलवाड़ करना है। ऐसे लोगों पर सख्त कार्यवाही आवश्यक है। मुख्यमंत्री श्री चौहान शनिवार को प्रदेश के सभी जिलों के कलेक्टरकमिश्नरआईजीएसपी के साथ वर्चुअली जुड़कर एजेंडा बार बिंदुओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में सभी प्रकार के माफियाओं पर लगातार कार्यवाही की जा रही है। दुष्टों पर दंड का प्रयोग भी जारी रहेगा। उन्होंने सर्व प्रथम कानून व्यवस्थामाफिया के विरूद्ध कार्यवाही एवं महिला अपराध नियंत्रण की स्थिति की समीक्षा की। तत्पश्चात उन्होंने प्रदेश के जिलों में भू-माफिया के अवैध कब्जे से मुक्त कराई गई भूमियों के उपयोग की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि इस प्रकार मुक्त कराई गई भूमि गरीब लोगों को भी दी जाएगी।

 

 

उन्होंने कृषि के विविधीकरण एवं प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के विषय में रणनीति पर चर्चा की और जलाभिषेक कार्यक्रममनरेगा के कार्यों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत सड़कों के निर्माण एवं संधारण कार्य की प्रगति और प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के क्रियान्वयन की प्रगति की समीक्षा की।

 एक जिला-एक उत्पाद योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा करते हुए उन्होंने निर्देश दिए किइस योजना के तहत प्रत्येक जिले को वहां पाए जाने वाले विशेष उत्पादउपकरण आदि के आधार पर चुना गया है। प्रत्येक जिला इस योजना के क्रियान्वयन के लिए विशेष मेहनत कर संबंधित उत्पाद को प्रदेशदेश और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के सार्थक प्रयास करे।


उन्होंने वार्षिक साख सीमा 2022-23, ऋण वसूलीजिले के साख-जमाअनुपात की समीक्षा तथा सरफेसी अधिनियम 2002 के प्रभावी क्रियान्वयन पर भी चर्चा की। इसके अतिरिक्त बेस्ट प्रेक्टिसेस के तहत 'सुशासन की पहल : समझौता समाधान योजनापर प्रेजेंटेशन दिया गया। और 20 जनवरी, 2022 को हुई विगत बैठक के पालन प्रतिवेदन की भी समीक्षा की गई।

 

इस दौरान सागर एनआईसी कक्ष से संभागायुक्त श्री मुकेश शुक्लाआई जी श्री अनुरागकलेक्टर श्री दीपक आर्यपुलिस अधीक्षक श्री तरुण नायकजिला पंचायत के सीईओ श्री क्षितिज सिंघलअपर कलेक्टर श्री अखिलेश जैननगर निगम आयुक्त श्री आरपी अहिरवार सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

 


Share:

श्री राम नवमी : स्थापित करें राम यंत्र, होगी सुख-समृद्धि★ 10 अप्रैल को राम नवमी का त्योहार मनाया जाएगा

श्री राम नवमी : स्थापित करें राम यंत्र,  होगी सुख-समृद्धि

★ 10 अप्रैल को राम नवमी का त्योहार मनाया जाएगा

राम नवमी का त्योहार पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। इस बार 10 अप्रैल को रामनवमी का त्योहार मनाया जाएगा। चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की नवमी के दिन भगवान श्रीराम का जन्म हुआ था। इसे रामनवमी के तौर पर मनाया जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नवमी के दिन कुछ उपाय करके सुख-समृद्धि का आशीर्वाद पाया जा सकता है। तो आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में-
माना जाता है कि भगवान श्री राम का जन्म चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को दोपहर के समय कर्क लग्न में हुआ था। उस समय चन्द्रमा पुनर्वसु नक्षत्र में था और सूर्य मेष राशि में।  रामनवमी के दिन व्रत रखने की भी मान्यता है। साथ ही आज पूजा आदि के बाद हवन करने का भी विधान है । आज तिल जौ और गुग्गुल को मिलाकर हवन करना चाहिए। हवन में जौ के मुकाबले तिल दो गुना होना चाहिए और गुग्गुल आदि हवन सामग्री जौ के बराबर होनी चाहिए। राम नवमी के दिन घर में हवन आदि करने से घर के अंदर किसी भी प्रकार की अनिष्ट शक्ति का प्रवेश नहीं हो पाता और घर की सुख-समृद्धि सदैव बनी रहती है।

इसके अलावा आज रामनवमी के दिन राम यंत्र स्थापित करना बड़ा ही लाभकारी है तो आइए अब समझ लेते है कि राम यंत्र को बनाने की उचित विधि क्या है-
राम यंत्र बनाने के लिये आपको एक भोजपत्र, अनार की कलम और केसर की स्याही की जरूरत होगी, लेकिन अगर आप इन सब चीज़ों को ना जुटा पाएं, तो आप केवल एक सफेद कागज और एक लाल स्केच पेन या पेन लें। अब भोजपत्र पर या सफेद कागज पर एक बिंदु बनाइए, फिर इस बिंदु के बाहर एक त्रिकोण बनाइए, अब फिर से उस त्रिकोण के विपरीत एक और त्रिकोण बनाए इस तरह ये एक षटकोण बन जायेगा। अब षटकोण के बाहर एक वृत्त बनाइए। फिर वृत्त के बाहर 8 कमल की पंखुड़ियां बनाइए।



राम यंत्र बनाते समय करें ये काम-

सबसे पहले पूर्व दिशा में श्री राम का स्मरण करते हुए अपनी आंखों को बंद करके, दोनों भौहों के बीच त्रिपुटी पर अपना ध्यान केंद्रित करें और ऊँ शब्द का सस्वर 6 बार उच्चारण करें। फिर दाहिनी नाक से सांस खींचिए, रोकिए और श्री राम का स्मरण करके बाईं नाक से निकाल दीजिए। ऐसा 6 बार करना है। फिर ‘राम’ शब्द का सस्वर 108 बार उच्चारण करके अपनी आंखें खोलिए। इस तरह आपका यंत्र तैयार हो जाऐगा।
जीवन में राम यंत्र से मिलने वाले लाभ-
दाम्पत्य जीवन में खुशहाली -
अगर आप अपने दाम्पत्य जीवन में खुशहाली लाना चाहते हैं, अपने सुख-सौभाग्य में बढ़ोतरी करना चाहते हैं, तो आज आपको राम यंत्र सामने रखकर। इस मंत्र का 108 बार जप करें। मन्त्र है- ह्रीं रामाय नमः

विद्या के क्षेत्र में मिलेगा लाभ-
अगर आप विद्या के क्षेत्र में लाभ पाना चाहते हैं, तो आज राम यंत्र को अपने सामने रखकर 108 बार ये मंत्र पढ़ना चाहिए। मंत्र है– ऐं रामाय नमः।

बिजनेस में लाभ-
अगर आप बिजनेस में, घर में, स्पोर्ट्स में, राजनीति में, किसी मुकदमे में या जीवन के किसी अन्य क्षेत्र में अपनी जीत सुनिश्चित करना चाहते हैं, तो आज राम यंत्र को अपने सामने रखकर आपको 108 बार ये मंत्र पढ़ना चाहिए। मंत्र है–क्लीं रामाय नमः।
आर्थिक स्थिति को करेगा मजबूत-
अगर आप अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत करना चाहते हैं, अपनी इनकम में बढ़ोतरी करना चाहते हैं, तो आज आपको राम यंत्र सामने रखकर इस मंत्र का 108 बार जप करना चाहिए । मंत्र है – श्रीं रामाय नमः।




साथ ही राम यंत्र से जुड़े उपायों के अलावा आज के दिन श्री राम चरित मानस की चौपाइयों का पाठ करना भी आपके लिए बेहद ही लाभकारी होगा। लिहाजा आज रामनवमी के दिन अपनी विशेष इच्छाओं की पूर्ति के लिए आपको किस चौपाई का पाठ करना चाहिए-
पहली चौपाई है-

जे सकाम नर सुनहि जे गावहि।
सुख-संपत्ति नाना विधि पावहि

- आज श्री राम जी को तुलसी पत्र चढ़ाने और भगवान के इस चौपाई का 5 बार जप करने से आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा

दूसरी चौपाई है-
“दिन दयाल बिरिदु संभारी ।
हरहु नाथ मम संकट भारी ।।"

आज श्री राम जी को पेड़े का भोग लगाने और साथ ही इस चौपाई का सात बार जप करने से आपको हर प्रकार के संकटों से छुटकारा मिलेगा-
अगली चौपाई है-

“सीता राम चरन रति मोरे अनुदिन बढ़हिं अनुग्रह तोरे।।"

- आज श्री राम को फल चढ़ाने और इस चौपाई का पांच बार जप करने से आपको संतान सुख की प्राप्ति होगी।
 
चौथी चौपाई है-
“सुफल मनोरथ होई तुम्हारे,
राम लखन सुनिमये सुखारे ।।"
- आज भगवान राम को पीले रंग का फूल चढ़ाने और इस चौपाई का पांच बार जप करने से आपके विवाह में आ रही अड़चने दूर होंगी।
इसके अलावा-
“प्रभु की कृपा भयहु सब काजू, जन्म हमार सुफल भी आजू ।।"

- आज श्री राम को बूंदी के लड्डू का भोग लगाने, साथ ही इस चौपाई का 11 बार जप करने से आपको किसी पुराने मुकदमे में सफलता प्राप्त होगी।
पवन तनय बल पवन समाना ।
बुधि विवेक विज्ञान विधाना ।।
- आज श्री राम जि को सूझी के हलवे का भोग लगाने और साथ ही इस चौपाई का 21 बार जप करने से आपके बौद्धिक क्षमता में वृद्धि होगी।
इसके अलावा अगर आप अपने किसी विशेष मनोरथ की प्राप्ति करना चाहते हैं तो आज श्री राम को बेसन से बनी मिठाई का भोग लगाएं और इस चौपाई का एक माला जप करें। चौपाई है-
“मोर मनोरथु जानहु नीके ।
बसहु सदा उर पुर सबही के ।।"
आज ऐसा करने से आपके किसी विशेष मनोरथ की पूर्ति होगी।

मुद मंगलमय सेत समाजू जिनि जम जंगम तीरथराजू

- आज भगवान श्री राम को केसर अर्पित करने और उनके इस चौपाई का 11 बार जप करने से आपके धन के कोष के साथ-साथ मान और सम्मान में भी वृद्धि होगी
Share:

मुस्कान अभियान : सागर प्रदेश मे पांचवें स्थान पर★ मुख्यमंत्री ने की सागर पुलिस की सराहना

मुस्कान अभियान :  सागर प्रदेश मे पांचवें स्थान पर

★ मुख्यमंत्री ने की सागर पुलिस की सराहना


सागर। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कमिश्नर -कलेक्टर कॉन्फ्रेंस में मुस्कान अभियान के तहत सागर पुलिस की सराहना करते हुए बधाई दी है।  ऑपरेशन मुस्कान के तहत विगत 16 फरवरी से 31 मार्च तक सागर पुलिस द्वारा कार्रवाई करते हुए मध्य प्रदेश में पांचवें स्थान पर अपना नाम अंकित किया हैजिसकी मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा सराहना की गई।

  पुलिस अधीक्षक श्री तरुण नायक ने बताया कि जिले में पुलिस द्वारा जो कार्रवाई की जा रही है ,वह सभी के संयुक्त प्रयासों का परिणाम हैजिसके कारण मध्यप्रदेश में सागर पांचवें स्थान पर है । उन्होंने बताया कि डेढ़ माह में 81 गुम हुए बच्चों को खोजा गया है । जिले में अपराधों को रोकने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं । सागर पुलिस के मध्य प्रदेश में पांचवें स्थान आने पर संभागायुक्त श्री मुकेश शुक्लापुलिस महानिरीक्षक श्री अनुरागकलेक्टर श्री दीपक आर्य ने बधाई दी है।

Share:

SAGAR : लगभग 50 लाख रूपयो के IPL सट्टा के हिसाब किताब के साथ दो आरोपी मय अवैध हथियारों के पुलिस के हत्थे चढ़े

SAGAR : लगभग 50 लाख रूपयो के IPL सट्टा के हिसाब किताब के साथ दो आरोपी मय अवैध हथियारों के पुलिस के हत्थे चढ़े
सागर। कोतवाली पुलिस ने आईपीएल का सटा पकड़ा है।शहर में चल रहे क्रिकेट मैच (आई.पी.एल) सट्ट खिलाने  वालों पर कार्यवाही हेतु  पुलिस अधीक्षक महोदय, श्रीमान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय सागर एवं नगर पुलिस अधीक्षक महोदय के मार्गदर्शन में टीम गठित की गई। जिसके पालन में थाना प्रभारी कोतवाली के निर्देशन में थाना के स्टाफ एवं सूचनातंत्र को सक्रीय किया गया जो मुखबिर सूचना पर हमराही स्टाफ के, माल गोदाम रोड पर दो, चार पहिया कारे खडी दिखी जो दोनो वाहन पुलिस को देखकर भागने लगे जिन्हे घेराबंदी कर पकड़ने की कोशिश की जिसमें एक बिना नंबर की सफेद क्रेटा कार पुलिस को देखकर भाग गयी एवं सिप्ट डिजायर कार क्र. एम.पी.15 सी.बी. 8524 को रोका गया जो गाड़ी के अन्दर बैठे व्यक्तियों से उनका नाम पता पूछा गया जिन्होने अपना नाम क्रमशः सतीश केशरवानी. एवं सागर साहू नि. भीतर बाजार थाना कोतवाली जिला सागर के मोबाईल फोन चेक किये गये जिनमें आई.पी.एल सट्टा खिलाये जाने की आई.डी. तथा चेट होना पायी गई. तथा वीरू साह के साथ मिलकर मोबाईल एवं लेपटाप के जरिये आई पी.एल खेल पर सट्टा का दाव लगाना स्वीकार किया गया एवं वीरू साहू का सफेद रंग की विना नंबर की क्रेटा कार से पुलिस को देख कर भाग जाना बताया तथा सट्टे का रिकार्ड अपने घर में रखना वताया जो आई.पी.एल सट्टा से संबंधित उपकरण, सट्टा की राशि तथा अवैध हथियार की बरामदगी हेतु जाफौ. के नियमों के अधीन रहकर सतीश केशरवानी एवं सागर साहू के कब्जे की कार की तलाशी ली गई जो सागर साहू के कब्जे से एक लेपटाप मय कीबोर्ड माऊस, चार्जर, तथा एक्टेशन वायर बोर्ड, तथा दो केल्कूलेटर , एक स्मार्ट मोबाईल फोन तथा तीन कीपेड मोबाईल फोन एक सिप्ट डिजायर कार क्र. एम.पी.15 सी.बी.8524 तथा 67,500 रूपये व एक छुरा तथा एक बटनदार धारदार चाकू ,तथा सतीश केशरवानी के कब्जे से एक स्मार्ट मोबाईल फोन, तीन कीपेड मोबाईल फोन, एक मोबाईल फोन चार्जर,75800रूपये व एक छुरा तथा एक बटनदार धारदार चाकू मुताविक जप्ती पत्रक समक्ष गवाहान जप्त कर कब्जा पुलिस लिया गया। बाद आरोपीगणों से प्रकरण के संबंध में पूछताछ की गई जिन्होने सट्टा संबंधी रिकार्ड अपने अपने घर में होना बताया ।

जो सट्टे के रिकार्ड की बरामदगी हेतु हमराह स्टाफ सतीश केशरवानी एवं सागर साहू के निवास स्थान की तलाशी हेतु रात्रि गस्त अधिकारी उनि.नेहा सिंह गुर्जर थाना प्रभारी थाना सिविल लाईन सागर को लेकर घर की क्रमशः तलासी ली गई जो सतीश केशरवानी के निवास स्थान के उपर वाले कमरे से एक सट्टे के रिकार्ड का रजिस्टर एवं एक नुकीली धारदार तलवार मिली, जिसे मुताविक जप्ती पत्रक से समक्ष गवाहान के जप्त किया गया। बाद आरोपी सागर साहू के मकान की तलाशी ली गई जो मकान से एक सट्टे के रिकार्ड का रजिस्टर तथा एक धारदार नुकीली तलवार मिली जिसे मुताविक जप्ती पत्रक से समक्ष गवाहान के जप्त किया गया।  मौके पर आरोपी सतीश केशरवानी, सागर साहू एवं फरार शुदा आरोपी वीरू साहू का उक्त कृत्य धारा 4(क) सट्टा एक्ट एवं उक्त आरोपियों पर धारा- 25(1-B) आर्स एक्ट का अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया।

जप्त की गई सामग्री: 01.सतीश केशरवानी के कब्जे से 04 मोबाईल फोन नगद 75800 रूपये व अवैध हथियार 02. सागर साह के कब्जे से एक लेपटाप मय कीबोर्ड माऊस, चार्जर,तथा एक्टेशन वायर बोर्ड, तथा दो केल्कूलेटर, 04 मोबाईल फोन एक सिप्ट डिजायर कार क्र. एम.पी.15 सी.बी.8524 तथा 67,500 रूपये व अवैध हथियार व 40 लाख करीबन का सट्टा रिकार्ड कुल कीमती लगभग 50,00000रू लगभग।

सराहनीय कार्य - निरी.मानस द्विवेदी थाना प्रभारी थाना कोतवाली, उनि नेहा सिंह गुर्जर थाना प्रभारी थाना सिविल लाईन सागर सउनि.गोविन्द साह प्र.आर.543 जानकीरमण मिश्रा आर.1120 पवन आर.86 रवि राय आर.1272 दीपक,आर.1395 मनजीत,आर.998 सिकंदर, सायवर सेल से आर.प्रदीप का योगदान रहा।


Share:

संचालन वाणी, विचार और कौशल का संयोजन है- डॉ ललित मोहन

 

 

संचालन वाणी, विचार और कौशल का संयोजन है- डॉ ललित मोहन

 


सागर. 8 अप्रैल. डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय सागर के हिन्दी विभाग में ‘मंच संचालन की कला’ विषय पर विशेष एकल व्याख्यान आयोजित हुआ. मुख्य वक्ता डॉ.ललित मोहन ने मंच सञ्चालन कि बारीकियों पर विस्तार चर्चा करते हुए कहा कि मंच संचालन एक वाचिक कला है. जिसमें वाणी, भाषा, गति, विराम, उच्चारण, मानसिक दशा और विषय ज्ञान आदि सभी अनिवार्य घटकों का एक निश्चित संयोजन किया जाता है. एक संचालक किसी कार्यक्रम को अच्छा भी बना सकता है और ख़राब भी कर सकता है. संचालक के भीतर  वाणी, भाषा और प्रत्युपन्नमति का सुन्दर संतुलन होना चाहिए. संचालक को वक्ता का स्थान नहीं लेना चाहिए, उसे हर समय मंच पर अपनी सीमा का ध्यान रखना होता है. मंच संचालन के लिए संचालन को पांच तत्वों का अनिवार्य ध्यान रखना चाहिए, वे इस प्रकार है, पिच, प्रेशर, पंक्चुएशन, पॉज, प्रोनन्शियेशन. उन्होंने आकाशवाणी की सेवा के दौरान वाक् कला से जुड़े अपने अनुभवों को विस्तार से साझा किया और उद्घोषक के रूप में बरती जाने वाली सावधानियों और तकनीकी पक्षों की भी जानकारी प्रदान की. व्याख्यान के अंत में उन्होंने छात्रों के प्रश्नों का भी जवाब दिया. 

राहतगढ़ वाटरफॉल : 30 जून तक पूरे करे समस्त कार्य : मंत्री गोविंद राजपूत

सागर स्मार्ट सिटी को सूरत में मिलेगा आईसैक अवार्ड


कार्यो में लापरवाही , केसली जनपद पंचायत की CEO पूजा जैन को कमिश्नर ने किया निलंबित

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विभागाध्यक्ष प्रो चन्दा बेन ने इस व्याख्यान श्रृंखला को विद्यार्थियों के लिए अत्यंत उपयोगी बताते हुए कहा कि इस तरह के व्याख्यान विद्यार्थियों के व्यक्तित्व एवं कौशल विकास में महत्त्वपूर्ण साबित होंगे. कार्यक्रम का संचालन शोध छात्र विकास पाठक ने किया. इस अवसर पर विभाग के शिक्षक डॉ राजेन्द्र यादव, डॉ. आशुतोष, डॉ. हिमांशु, डॉ आशीष द्विवेदी, पी एल प्रजापति, डॉ. अफरोज, डॉ. अरविन्द, डॉ शशि सिंह, डॉ संजय यादव, डॉ. नौनिहाल गौतम, सुजाता मिश्र, डॉ अवधेश, प्रदीप सौर सहित बड़ी संख्या में शोधार्थी एवं विद्यार्थी उपस्थित थे.           

 

Share:

राहतगढ़ वाटरफॉल : 30 जून तक पूरे करे समस्त कार्य : मंत्री गोविंद राजपूत

राहतगढ़ वाटरफॉल :  30 जून तक पूरे करे समस्त कार्य :  मंत्री गोविंद राजपूत




सागर। बुंदेलखंड के प्रमुख पर्यटन स्थलों में शामिल राहतगढ़ का वाटरफॉल के जीर्णोद्धार व सौंदर्य करण को लेकर शुक्रवार को राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह जी राजपूत ने कलेक्टर सहित अन्य अधिकारियों के साथ वाटरफॉल में चल रहे जीर्णोद्धार व सौंदर्य करण, नव निर्माण कार्य का चिलचिलाती धूप में निरीक्षण करते हुए अधिकारी कर्मचारियों को काम में तेजी लाने के निर्देश दिए । इस अवसर पर श्री राजपूत ने कहा कि वाटरफॉल तथा बनेनी घाट से लोगों की यादें और आस्था जुड़ी है जिसे संजोने का काम किया जा रहा है इस काम में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी ।30 जून तक काम पूरा करें ताकि क्षेत्रवासियों तथा बाहर से आने वाले लोगों के लिए एक विकसित और सुंदर पर्यटन स्थल प्राकृतिक सौंदर्य देखने को मिले श्री राजपूत ने कहा कि पैसे की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी लेकिन अधिकारी भी संकल्प लें कि वह काम में कोई कमी नहीं छोड़ेंगे।
 मध्य प्रदेश शासन के राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा की राहतगढ़ वाटरफॉल का जीर्णोद्धार एवं नव निर्माण कार्य इस प्रकार करें जिससे सागर संभाग के साथ-साथ संपूर्ण बुंदेलखंड एवं मध्य प्रदेश में पर्यटन क्षेत्र में  नाम स्थापित हो सके ।
उन्होंने कहा कि समस्त कार्य बरसात के पहले पूर्ण करें जिससे बरसात के समय में आने वाले पर्यटक  यहां के सौंदर्य से अवगत हो सकें ।
कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने कहा कि मध्यप्रदेश शासन की राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत की महत्वाकांक्षी योजना के तहत राहतगढ़ वाटरफॉल को देश में एक बड़े पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की कार्य योजना है। जिसके लिए 2 करोड़ 50 लाख रुपए से भी अधिक की राशि स्वीकृत की गई है। 

इस संबंध में निरंतर कार्य किए जा रहे हैं। क्षेत्र में विकास की प्रगति देखने शुक्रवार को मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत के साथ कलेक्टर श्री दीपक आर्य और सीईओ जिला पंचायत मौके पर पहुंचे और प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि राहतगढ़ वाटरफॉल पर्यटन स्थल के विकास हेतु किए जा रहे समस्त कार्य गुणवत्ता पूर्ण किए जाएं साथ ही समस्त कार्यों को 30 जून तक पूर्ण किया जाए।



 मंत्री श्री राजपूत ने कहां की राहतगढ़ वाटरफॉल में सर्वप्रथम प्रवेश द्वार आकर्षक एवं भव्य बनाएं जिससे भोपाल से आने एवं जाने वाले व्यक्तियों को आकर्षित किया जा सके उन्होंने कहा कि संपूर्ण परिसर में मजबूत रेलिंग भी लगाएं एवं फायर टावर का निर्माण करें ।
मंत्री श्री राजपूत ने निर्देश दिए कि सीढ़ियों के साथ साथ दिव्यांग व्यक्तियों को आवागमन के लिए रेम्प भी तैयार करें एवं बैटरी गाड़ी भी उपलब्ध कराएं उन्होंने निर्देश दिए कि छोटे-छोटे बच्चों के लिए किड्स जोन तैयार करें ।

उन्होंने निर्देश दिए कि मध्य प्रदेश विद्युत मंडल के द्वारा विद्युत पोल एवं ट्रांसफार्मर स्थापित करें जिससे यहां पर स्थापित हो रहे रेस्ट हाउस एवं संपूर्ण क्षेत्र में प्रकाश व्यवस्था सुनिश्चित हो सके ।कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने राहतगढ़ वाटरफॉल जीर्णोद्धार एवं नव निर्माण में लगे अधिकारियों को निर्देश दिए कि समस्त कार्य समय सीमा में एवं गुणवत्ता पूर्ण किए जाएं।
 उन्होंने कहा कि परिसर में सौर ऊर्जा के माध्यम से भी व्यवस्था की जाएगी उन्होंने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से प्रवेश द्वार पर सुरक्षा चौकी निर्मित की जा रही है जिसमें सुरक्षाकर्मी  24 घंटे संपूर्ण परिसर की सुरक्षा करेंगे इसी प्रकार स्ववल्पाहार के लिए कैफेटेरिया भी तैयार कराया जा रहा है ।
इस अवसर पर कलेक्टर श्री दीपक आर्य जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री क्षितिज  सिंघल डीएफओ श्री नवीन गर्ग अनुविभागीय अधिकारी राहतगढ़  श्री देवेंद्र प्रताप सिंह जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एस के प्रजापति तहसीलदार श्री कुलदीप सिंह नायब तहसीलदार गोविंद सिंह बत्यावदा, मंडल अध्यक्ष अमित राय विनोद कपूर विनोद ओसवाल दीपक जैन राजकुमार कपूर सीताराम विश्वकर्मा अनु ताम्रकार राजू चौधरी विकास जैन अनुराग पाठक,श्री वैभव बैरागी थाना प्रभारी श्री आनंद राज निर्माण विभाग के समस्त विभागों के अधिकारी सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद थे ।
Share:

SAGAR :; पुलिस ने पकडे आईपीएल सटोरिया

SAGAR :; पुलिस ने पकडे आईपीएल सटोरिया                                                                सागर। जिले में आईपीएल का सट्टा जोरो पर है। जिले की बन्दा पुलिस को   मोबाइल के माध्यम से आई.पी.एल. सट्टा खिलाने की सूचना प्राप्त होने पर रेड कार्यवाही कर मोबाइल से आई.पी.एल. क्रिकेट मैच पर सट्टा खेलते बंडा निवासी सौरभ जैन, प्रयाग जैन और प्रहलाद प्रजापति को पकड़ा एवं आई.पी.एल. मैचो की सट्टा की बुकिंग के संबंध मे बारीकि एवं सख्ती  से पूछताछ की गई जो पूछताछ करने पर सटौरियो के द्वारा आई.पी.एल. मैचो मे मोबाइल से कॉल एवं ऑनलाईन एप्पीलेकशन के जरिये रूपयो से हार जीत का दाव लगाना कबूल किया एवं मोबाइल पर बिट्टू उर्फ शुभम जैन तथा ऋतिक जैन के द्वारा उन लोगो को आई.पी.एल. सट्टा आई.डी. उपलब्ध कराया जाना बताने पर पुलिस द्वारा त्वरित कार्वयाही कर आरोपी बिट्टू उर्फ शुभम जैन तथा ऋतिक जैन को सागर पोलेटेक्निक कॉलेज के पास उन्हें भी रंगे हाथों पकड़ा जिनसे पूछताछ की गई जिन्होंने मोबाइल पर आई.पी.एल. का सट्टा की बुकिंग करना व आई.डी. उपलब्ध कराया जाना कबूल किया । उपरोक्त सभी सटौरियो के पास से कुल 08 मोबाइल व  नगद 5250 रूपये, केलकूलेटर जप्ती कर संबंधित आरोपियों के विरुद्ध प्रकरण पंजीबध्द किया गया है ।
                                  उक्त सराहयनीय कार्य मे अनूप सिह निरीक्षक थाना प्रभारी बंडा, उपनिरी. सूरज परिहार, आरक्षक विनोद, दुर्गेश, सोनू का विशेष योगदान रहा है ।
Share:

सागर स्मार्ट सिटी को सूरत में मिलेगा आईसैक अवार्ड

सागर स्मार्ट सिटी को सूरत में मिलेगा आईसैक अवार्ड
★ इंडिया स्मार्ट सिटीज अवार्ड काॅन्टेस्ट (ISAC 2020) में देश में दूसरा स्थान हासिल किया था

सागर।  इंडिया स्मार्ट सिटीज अवार्ड काॅन्टेस्ट (ISAC 2020) में राउंड-3 सिटीज में देश में दूसरा स्थान हासिल करने वाली सागर स्मार्ट सिटी को अवार्ड प्रदान किया जाएगा। यह अवार्ड 18 अप्रैल को सूरत में आयोजित स्मार्ट सिटीज: स्मार्ट अर्बनाइजेशन कॉन्फ्रेंस के दौरान दिया जाएगा।
सूरत गुजरात में होने वाली स्मार्ट सिटीज: स्मार्ट अर्बनाइजेशन कॉन्फ्रेंस के दौरान राष्ट्रीय स्तर के अवार्ड वितरण समारोह का भी आयोजन होना है। उल्लेखनीय है कि 25 जून 2021 को, स्मार्ट सिटी मिशन एवं अन्य मिशनों- अमृत और पीएमएवाय योजनाओं के साथ लॉन्च के सफल 6 साल पूरे करने पर केन्द्रीय मंत्री आवास एवं शहरी विकास विभाग श्री हरदीप सिंह पुरी की उपस्थिति में इंडिया स्मार्ट सिटीज अवार्ड कॉन्टेस्ट 2020, डेटा मैच्योरिटी असेसमेंट फ्रेमवर्क और क्लाइमेट स्मार्ट सिटीज असेसमेंट फ्रेमवर्क के तहत बहुप्रतीक्षित परिणामों की घोषणा की गई थी। इसमें सागर स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने भारत सरकार द्वारा आयोजित इंडिया स्मार्ट सिटीज अवार्ड काॅन्टेस्ट 2020 (आईसैक) में राउंड थ्री की स्मार्ट सिटीज में देश में दूसरे स्थान पर विजेता बनकर लगातार दूसरी बार राष्ट्रीय मंच पर बाजी मारी थी।
Share:

कार्यो में लापरवाही , केसली जनपद पंचायत की CEO पूजा जैन को कमिश्नर ने किया निलंबित

कार्यो में लापरवाही , केसली जनपद पंचायत की CEO पूजा जैन को कमिश्नर ने किया निलंबित 


सागर ।  सागर संभाग कमिष्नर श्री मुकेष कुमार शुक्ला ने केसली जनपद पंचायत की सीईओ श्रीमती पूजा जैन को अपने पदीय दायित्वों के प्रति उदासीनता, लापरवाही एवं वरिष्ठ कार्यालय के निर्देषों की अवहेलना के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। कमिष्नर श्री शुक्ला ने उक्त कार्यवाही कलेक्टर के प्रस्ताव पर मध्यप्रदेष सिविल सेवा नियम के तहत की है। निलंबन अवधि में श्रीमती जैन का मुख्यालय कार्यालय जिला पंचायत टीकमगढ़ नियत किया गया है। निलंबन अवधि में श्रीमती जैन को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।
मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विधुत वितरण कम्पनी जबलपुर , बड़े पैमाने पर हुए तबादले




उल्लेखनीय है कि केसली जनपद पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती पूजा जैन द्वारा अपने पदीय दायत्वों के प्रति उदासीनता, लापरवाही एवं वरिष्ठ कार्यालय के निर्देशों की अपहेलना की जा रही थी। श्रीमती जैन द्वारा शासन के द्वारा संचालित योजनाओं की भी नियमितसमीक्षा नहीं की जा रही थी। जनपद पंचायत केसली की प्रगति संतोषप्रद नहीं है, जिसके जारी होने वाली मासिक ग्रेडिंग प्रभावित होती है। साथ ही राज्य शासन द्वारा समय वैक्शीनेशन, आयुष्मान कार्ड आदि में भी केसली द्वारा अपेक्षित प्रगति अर्जित नहीं की जाती है।
मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत केसली द्वारा अपने पदीय दायित्वों के प्रति उदासीनता लापरवाही एवं वरिष्ठ कार्यालय के निर्देशों की अवहेलना के फलस्वरूप निम्नानुसार स्थिति निर्मित हुई है।


प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण अन्तर्गत जनपद पंचायत केसली में वित्तीय वर्ष 2021-22 के पूर्व के कुल स्वीकृत 12370 आवासों के विरुद्ध आज दिनांक तक की स्थिति में 1247 आवास अपूर्ण है, इनमें से 591 आवासों में तृतीय किस्त भी प्राप्त है । इसी वित्तीय वर्ष में 2021-22 के लक्ष्य के विरुद्ध आज दिनांक तक 25 हितग्राहियों के खाते फ्रीज नहीं किये गये है। जिससे हितग्राहियों को आवास स्वीकृति उपरान्त भी अभी तक प्रथम किश्त प्राप्त नहीं हो सकी है ।
आवास प्लस में राज्य शासन से समय-सीमा में सभी पात्र हितग्राहियों की आधार सीडिंग, मनरेगा जॉबकार्ड मैपिंग व पात्रता परीक्षण एवं पुर्नसत्यापन उपरान्त अपात्रों को पोर्टल से पृथक करते हुये प्राथमिकता सूची निर्धारण के निर्देशों के उपरान्त भी आज दिनांक की स्थिति में आवास प्लस डेटा वाली 54 ग्राम पंचायतों के विरूद्ध मात्र 39 ग्राम पंचायतों में आधार सीडिंग , 03 ग्राम पंचायतों में जॉबकार्ड मैपिंग एवं 41 ग्राम पंचायतों में डेटा क्लीनिंग का कार्य शेष है ।
माह फरवरी में वैक्शीनेशन 17 फरवरी के निर्धारित दैनिक लक्ष्य के विरुद्ध प्रथम डोज के मात्र 02. दूसरे एवं प्रीकॉषन डोज में निरक प्रगति अर्जित की गई।  इसके साथ ही उक्त दिनांक को वैक्सीनेशन के संबंध में कलेक्टर द्वारा आयोजित व्हीसी में भी बिना सूचना / अनुमति के अनुपस्थित रहीं। इसके
संबंध में कारण बताओ नोटिस 18 फरवरी को जारी किया गया है ।
 मनरेगा अन्तर्गत श्रमिकों की आधार सीडिंग की गई है जो कि जिले में अन्य जनपदों की तुलना में सर्वाधिक न्यून है। इसी प्रकार समय-सीमा मजदूरी भुगतान भी मात्र 91 प्रतिशत ही हुआ है, जो कि राज्य एवं जिले के औसत से भी कम है । लेबर बजट 2021-22 के निर्धारित लक्ष्य 9.70 लाख मानव दिवस के विरुद्ध अपेक्षित प्रगति परिलक्षित न होने के कारण जनपद पंचायत कंसली का लक्ष्य संशोधित करने की स्थिति निर्मित हुई।  संशोधित लक्ष्य 8ः30 होने के उपरात भी जनपद पंचायत द्वारा मात्र 6.35 लाख मानव दिवस ही सृजित किये गये, जो कि कुल लक्ष्य का 76 प्रतिशत रहा जबकि जनपद पंचायत केसली अनुसूचित जनजाति बाहुल्य क्षेत्र होने के कारण श्रमिक नियोजन की सर्वाधिक संभावनाएं है ।
स्वच्छ भारत मिशन अन्तर्गत सामुदायिक सोक पिट के निर्धारित लक्ष्य 692 के विरूद्ध केवल 183 सोक पिट का निर्माण एवं व्यक्तिगत सोकपिट के लक्ष्य 1075 के विरूद्ध मात्र 50 का ही निर्माण कराया गया है। इसी प्रकार 500 से कम जनसंख्या वाले ओडीएफ प्लस हेतु लक्षित 73 ग्रामों में से मात्र 13 ग्राम ही ओडीएफ प्लस घोषित 
किये गये है। शासन निर्देशों के उपरान्त भी फलैगशिप कार्यक्रम की उपेक्षा करते हुए मात्र 02 ग्रामों में ही कचरा संग्रहण की व्यस्था सुनिश्चित की गई है। राज्य स्तर से राशि आवंटन एवं निर्देशों क उपरान्त भी मात्र ( 01 कचरा वाहन का क्रय किया गया है। साथ ही सामुदायिक स्वच्छता परिसर में भी स्वीकृत 15 के विरूद्ध 50 प्रतिशत ही प्रगति अर्जित की गई है ।
आयुष्मान निरामय अन्तर्गत आयुष्मान कार्ड के निर्धारित शेष लक्ष्य 20944 के विरूद्ध 03 माह में मात्र 1169 आयुष्मान कार्ड बनाए गये है ।  श्रीमती जैन को दिये गये निर्देशों के उपरान्त भी 5 अपै्रल की समय-सीमा बैठक में भी अनुपस्थित रही है। जिससे शासन की प्राथमिकताओं और अन्य समन्वय के बिन्दुओं पर चर्चा नहीं हो सकी ।
Share:

खुरई रोड पर रेल्वे ब्रिज के नीचे रखे अवैध टपरों एवं टीनशेड को हटाया

खुरई रोड पर रेल्वे ब्रिज के नीचे रखे अवैध  टपरों एवं टीनशेड को हटाया

सागर । नगर निगम आयुक्त  आर पी अहिरवार के निर्देषानुसार सहायक आयुक्त श्री राजेषसिंह द्वारा अतिक्रमण दस्ते के साथ खुरई रोड पर रेल्वे ओव्हर ब्रिज के नीचे अवैध रूप से रखें टपरों और टीनषेड को जे.सी.बी.मषीन से हटाया गया।
पूर्व में इन अतिक्रमण कारियों को समझाईस दी गई थी कि वह ब्रिज के नीचे अवैध रूप से रखे टपरों और टीनषेड को हटा लिया जाये क्योंकि इन टपरों के कारण गंदगी फैलती है और यातायात में भी व्यवधान उत्पन्न होता है जबकि यहॉ पर नगर निगम द्वारा हाकर्स जोन द्वारा बनाया जाना प्रस्तावित है। इसलिये इन अतिक्रमणकारियों को समय समय पर अतिक्रमण हटाने की समझाईस दी गई लेकिन इनके द्वारा अतिक्रमण ना हटाये जाने पर निगम द्वारा जेसीबी मषीन से इनका अतिक्रमण हटाया गया।
इस दौरान अतिक्रमण प्रभारी षिवनारायण रैकवार एवं अतिक्रमण दस्ते के कर्मचारी उपस्थित थे।
Share:

SAGAR : चौराहों पर फ्री लेफ्ट टर्न की चौड़ाई इतनी रहे कि बड़े वाहन भी आसानी से गुजर सकें : कलेक्टर

SAGAR : चौराहों  पर फ्री लेफ्ट टर्न की चौड़ाई इतनी रहे कि बड़े वाहन भी आसानी से गुजर सकें : कलेक्टर


सागर। वाणिज्यिक कर चौराहे पर आईलैंड छोटे रखें और फ्री लेफ्ट टर्न की चौड़ाई इतनी रखें कि बड़े वाहन भी आसानी से गुजर सकें। मार्ग की चौड़ाई अधिक होने से वाहन चालक पर मनोवैज्ञानिक प्रभाव अच्छा पड़ता है और ट्रैफिक सुगम होता है। चौराहे और चौराहों से जुड़ने वाले चारों मार्गों पर पर्याप्त रोशनी के लिए व्यवस्थित लाइट लगाएं। 
उक्त निर्देश कलेक्टर सह अध्यक्ष एसएससीएल श्री दीपक आर्य ने दिए। वे निगमायुक्त सह कार्यकारी निदेशक एसएससीएल श्री आरपी अहिरवार एवं स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत के साथ सागर स्मार्ट सिटी की विभिन्न परियोजनाओं के प्रगतिशील कार्य का गुरुवार को निरीक्षण कर रहे थे।
उन्होंने स्मार्ट रोड कारिडोर में विकसित किए जाने वाले विभिन्न चौराहों के स्थल निरीक्षण के दौरान चौराहों की ड्राइंग डिजाइन की समीक्षा कर निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि तिली चौराहे पर बनाएं जाने वाले आईलैंड में सुन्दर फाउंटेन भी लगाएं। 





इससे चौराहे की सुंदरता बढ़ने के साथ ही पर्यावरण स्वछ होगा। चौराहों पर पैदल यात्रियों को सड़क क्रॉस करने के लिए जेब्रा क्रासिंग आदि का विशेष ध्यान रखें। उन्होंने आईजी बंगला से सिविल लाइन तक बिछाई जा रही पानी की पाइप लाइन का भी निरीक्षण किया। पुराने तहसील कार्यालय परिसर का निरीक्षण कर जानकारी ली। उन्होंने लाखा बंजारा झील के किनारे बॉउंड्रीवाल बनाकर लगाई जा रही ग्रिल का बारीकी से निरीक्षण किया और ग्रिल को आरसीसी कॉलम के लोहे में बेल्डिंग कराने के निर्देश दिए ताकि मजबूती आए। कलेक्टर सह अध्यक्ष एसएससीएल श्री दीपक आर्य ने कनेरादेव फीडर कैनाल का भी निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि कैनाल और संजय ड्राइव रोड के बीच सुन्दर ग्रीनरी भी लगाएं व पाथ-वे का निर्माण करें, जिससे नागरिक सुन्दर कैनाल के किनारे सुरक्षित वॉक कर सकें। 
निरीक्षण के दौरान स्मार्ट सिटी के एसई श्री अजय शर्मा सहित इंजीनियर्स, पीएमसी के एक्सपर्ट और निर्माण एजेंसियों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।
Share:

आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की हड़ताल 32 वाँ दिन , 6 परियोजना अधिकारी व 7 सुपरवाइजर पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की हड़ताल  32 वाँ दिन , 6 परियोजना अधिकारी व  7 सुपरवाइजर पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

 सागर। आंगनबाडी कार्यकर्ताओं/सहायिकाओं की निरंतर 32 दिन से चल रही हडताल पर आज सभी कार्यकर्ता/सहायिकाओं ने एक सुर में जिले की 6 परियोजना अधिकारी, 7 सुपरवाइजरों पर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए उन्हें हटाये जाने की मांग की। संघ की अध्यक्ष श्रीमती लीला शर्मा ने कहा कि हड़ताल की सफलता से बौखलाई जिले की 6 महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी व 7 सुपरवाइजर  आंगनबाडी कार्यकर्ताओं के घर जा जा कर उन्हें मानसिक प्रताड़ना के साथ सेवाएं समाप्त करने की धमकी दे रही है। जिनके खिलाफ आंगनबाडी कार्यकर्ताओं ने हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन तैयार कर राज्य सरकार को भेजने का निर्णय लिया है। श्रीमति शर्मा ने कहा सुपरवाइजर और परियोजना अधिकारी आंगनबाडी कार्यकर्ताओं से जबरन केन्द्र खुलवा रही है और पोषण आहार बटवाने का दवाव बना रही है ताकि पोषण आहार माफिया से कमीशन ले सके। आंदोलन के 32वें दिन आए समर्थन करने आए सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष विक्रम सोनी ने मांगों को जायज और महिलाओं के हित में बताते हुए एसोसिएशन की तरफ से समर्थन देने की घोषणा की। व


हीं दूसरे दिन फिर पहुंची महिला भाजपा मोर्चा नेत्री प्रतिभा चौबे ने कहा कि हमारे पार्टी के बरिष्ठ लोगों की चर्चा भोपाल में जारी है यथाशीघ्र आपकी हडताल को खुशखबरी मिलेगी। हडताल में शिवसेना उपराज्य प्रमुख पप्पू तिवारी, शिवसेना संगठन प्रमुख हेमराज आलू, विकास यादव, दीपक सिंह लोधी, सचिन जैन, चन्द्रवती लोधी, शिल्पी कोरी, निधि चौरसिया,  लक्ष्मी चौरसिया, कमला पटैल, जमना रैकवार, शांति ठाकुर, रूकमणि पटैल, कीर्ति पटैरिया, ज्योति, सीमा सैनी, माधुरी रोहिदास, रानू अहिरवार, परबीन खान, किरन अहिरवार, रागिनी खटीक, ऋतु खटीक, उर्मिला, गायत्री, निधि चौरसिया, देवयंती, भारती चढार, विमला साहू, जनकरानी, साधना जैन, सबीता यादव, संगीता रावत, लक्ष्मी सोनी, किरण प्यासी, ललिता कोरी, प्रमिला सेन, संध्या शर्मा, रमाबाई, उमा यादव, बबीता खटीक, ममीता दुबे, सुनीता कुर्मी, रानी लोधी, ममता यादव, परमसुखी, प्रतिभा चौहान, नेत्रा ठाकुर, मंजू सोनी, लक्ष्मी नामदेव, सविता गर्ग, संध्या नामदेव, संगीता साहू, उमा राय, सावित्री, वेवी, रूकमणी, हरिबाई, मीना जैन, अनीता चौबे, कविता कोरी, सकुन साहू, अकीला बानों, चांदनी, सुमन, लक्ष्मी, किरण प्यासी, आरती मिश्रा, अनीता चौवे, दयाबाई, बैजंती, सपना, दुलारी, सहित सैकडों की संख्या में कार्यकर्ता/सहायिका उपस्थित थी। 


Share:

डॉ गौर विवि के प्रो बी.के. श्रीवास्तव की पुस्तक "डॉ. हरीसिंह गौर : एक प्रेरक व्यक्तित्व का विमोचन

डॉ गौर विवि के  प्रो बी.के. श्रीवास्तव की पुस्तक "डॉ. हरीसिंह गौर : एक प्रेरक व्यक्तित्व का विमोचन

सागर।  स्वर्ण जयंती सभागार डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय सागर में प्रोफेसर बी.के. श्रीवास्तव की पुस्तक "डॉ. हरीसिंह गौर : एक प्रेरक व्यक्तित्व" का विमोचन कार्यक्रम संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्यअतिथि  विधायक श्री शैलेन्द्र जैन रहे एवं अध्यक्षता माननीय  प्रोफेसर नीलिमा गुप्ता ने की ।अधिष्ठाता मानविकी एवं  समाजविज्ञान प्रोफेसर अंबिका दत्त शर्मा ने सभागार में उपस्थित सभी विद्वत जनों का स्वागत करते हुए डॉ हरिसिंह गौर के जीवन के बारे में बताते हुए कहा कि डॉ हरीसिंह का जीवन एक सत्याग्रही का जीवन रहा है और जब एक सत्याग्रही व्यक्ति के जीवनगाथा को इस तरह लोकार्पित किया जाता है, तब इससे लोगों को सत्यपथ पर निरंतर चलते रहने की प्रेरणा मिलती है, और प्रोफेसर श्रीवास्तव ने य़ह कार्य इस पुस्तक को प्रामाणिक रूप प्रदान कर किया है  यह ना ही केवल एक महत्वपूर्ण कृत्य है अपितु प्रोफेसर श्रीवास्तव ने इस दिशा में कार्य करके इस विश्वविद्यालय के शिक्षक के रूप में ऋण शोधन का भी कार्य किया है। 
मुख्य अतिथि विधायक श्री शैलेन्द्र जैन ने कहा कि जब मैंने डॉक्टर हरिसिंह गौर की आत्मकथा 7 लाइवस को पढ़ा तो वो कुछ अधूरा लगा परंतु अब वह पूर्णता प्राप्त कर चुका है जिसके लिए उन्होंने प्रोफेसर श्रीवास्तव को बधाई दी और साथ ही उनके प्रति कृतज्ञता ज्ञापित किया, और उनका सहयोग करने हेतु प्रोफेसर बी के श्रीवास्तव  की धर्म पत्नी डॉ माधवी श्रीवास्तव का भी आभार व्यक्त करते हुए उन्हें बधाई दी 
और इसके साथ ही उन्होंने प्रेरणास्पद बातें कीं ।।

अध्यक्षीय उद्बोधन में  कुलपति  ने कहा कि लोग बहाना बनाते हैं कि लॉकडाउन के कारण हम यह नहीं कर पाए, वहीं प्रोफेसर बी.के.श्रीवास्तव ने लॉकडाउन काल का उपयोग करते हुए इतने महत्वपूर्ण ग्रंथ लिख डाले और समस्त शिक्षकों को भी इस प्रकार का कार्य करने के लिए प्रेरित होना चाहिए ।
 
प्रोफेसर बी.के.श्रीवास्तव ने बताया कि वे काफी वर्षों से डॉक्टर  हरीसिंह गौर पर पुस्तक लिखने हेतु सामग्री एकत्रित कर रहे थे, जिसमें उनकी पत्नी डॉ माधवी श्रीवास्तव का काफी सहयोग रहा। 25 मार्च 2020 को लॉकडाउन लगते ही उन्होंने इस पुस्तक के लेखन का कार्य आरंभ कर दिया था।
उन्होंने अवचेतन मन की शक्ति पर बोलते हुए बताया कि डॉ. गौर जब मेट्रिक करने सागर से जबलपुर जा रहे थे, तभी उन्होंने सोच लिया था, किआज मैं सागर से बाहर जा रहा हूं मगर कुछ ऐसा करूंगा कि आने वाली पीढ़ी को उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु सागर से बाहर ना जाना पड़े। 
य़ह बात उनके अवचेतन मन में चली गई और अवचेतन मन की शक्ति काम करने लगी, तथा 
उन्हें दिल्ली विश्वविद्यालय का संस्थापक कुलपति बना कर विश्वविद्यालय की स्थापना का अनुभव दिलाया। आर्थिक स्थिति सुदृढ़ करवाने हेतु प्रख्यात वकील बनवाया और अंततः इसी अवचेतन मन की शक्ति ने उनका स्वप्न
साकार करते हुए उन्हीं की कमाई से सागर विश्वविद्यालय की स्थापना करायी।
        वे अपनी बहनों को बहुत चाहते थे, जब उनके ससुराल जाकर देखा कि वे सुबह 4बजे से 2बजे तक निरंतर काम में लगी रहती हैं। उनके पढ़ें लिखे होने का कोई प्रतिफल नहीं है। तब उन्होंने सोच लिया की मैं महिलाओं को पुरुषों के बराबरी का अधिकार दिलाऊंगा। अंततः उनके अवचेतन मन  ने अपना काम किया और उन्होंने विधानसभा में कानून पारित करा दिया कि, पुरुषों की तरह महिलाएं भी वकालत कर सकती हैं। 
उन्होंने अन्तर्जातीय विवाह को मान्यता दिलाई। प्रोफेसर श्रीवास्तव ने बताया कि डॉक्टर हरीसिंह गौर पर लिखी पुस्तक को प्रेरणास्पद बनाया गया है,ताकि युवा पीढ़ी उसे पढ़ कर जीवन के हर क्षेत्र में सफ़लता प्राप्त कर सके । 
प्रोफेसर श्रीवास्तव ने बताया कि हमारा अवचेतन मन किस प्रकार हमारे सपनों को साकार करता है और सफ़लता का मार्ग प्रशस्त करता है।
पुस्तक की समीक्षा युवा कथाकार डॉक्टर आशुतोष मिश्रा ने की उन्होंने अपनी समीक्षा में कहा कि इस पुस्तक को लिखे जाने में प्रोफेसर श्रीवास्तव ने बेहद महत्वपूर्ण व मुश्किल कार्य किया है, और इस कार्य को करने में उन्होंने लेखकीय ईमानदारी का जो परिचय दिया है वो बेहद प्रशंसनीय है। 

प्रसन्नता की बात है, कि आज इस अवसर पर सागर की शान देश की जानीमानी कथक नृत्यांगना डॉ.शाम्भवी शुक्ला और उनके पति बनारस घराना के सुप्रसिद्ध  गायक श्री बृजेश मिश्र भी उपस्थित रहे। 
विभिन्न संस्थाओं द्वारा प्रोफेसर बी के श्रीवास्तव का सम्मान किया गया, जिसमें श्यामलम संस्था के अध्यक्ष उमाकांत मिश्र , पाठक मंच केंद्र संयोजक के अध्यक्ष- श्री आर. के. तिवारी और मध्य प्रदेश हिन्दी साहित्य सम्मेलन सागर एवं पंडित ज्वालाप्रसाद ज्योतिषी इंस्टिट्यूट के अध्यक्ष- श्री आशीष ज्योतिषी 
मध्य प्रदेश लेखिका संघ के अध्यक्ष- श्रीमती सुनीला सराफ एवं सचिव डॉ चंचला दवे 
अ. भा. महिला काव्य मंच सागर इकाई अध्यक्ष- डॉ अंजना चतुर्वेदी तिवारी एवं डॉ सुजाता मिश्र 
पी आर एस  वेलफेयर सोसाइटी सागर के अध्यक्ष- श्री प्रदीप पांडेय 
सत्यम कला संस्कृति के अध्यक्ष- दामोदर अग्निहोत्री 
बुंदेली हलचल के संस्थापक शुभम श्रीवास्तव ने किया 
कार्यक्रम में प्रो अनुपमा कौशिक,प्रो नागेश दुवे,प्रो अशोक अहिरवार,प्रो आनन्द प्रकाश त्रिपाठी, प्रो विनोद दीक्षित, प्रोफेसर आनंद तिवारी, प्रोफेसर नवीन गीडीयन, डॉ शशि कुमार सिंह, डॉ आर पी सिंह, माधव चंदेल, मीडिया अधिकारी विवेक जायसवाल, डॉ लक्ष्मी पांडेय, डॉ किरण आर्या, डॉ ज्ञानेश तिवारी, डॉक्टर काली नाथ झा उत्सव आनंद लोकेशन निवेदिता मित्र डॉ रीना बासु डॉक्टर पी एल प्रजापति डॉक्टर संजय बरोलिया डॉ प्रीति अनिल खंडारे शहर से श्री गजाधर सागर डॉक्टर डीआर त्रिपाठी डॉ पंकज तिवारी, बुंदेली हलचल के श्री शुभम श्रीवास्तव किड्स एकेडमी के श्री संदीप श्रीवास्तव श्री मुन्ना शुक्ला श्री मलैया जी श्री उमाकांत मिश्रा जी डॉक्टर शरद सिंह, डॉ नलिन जैन, श्री हरगोविंद विश्व डॉ वीरेंद्र मटसेनीया, डॉक्टर जय नारायण यादव डॉ भरत शुक्ला श्री अतुल तिवारी डॉक्टर ज्ञानेश तिवारी विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राएं शोधार्थी, भारी संख्या में लोग उपस्थित थे लोगों की उपस्थिति को देखकर विधायक श्री शैलेंद्र जैन एवं माननीय कुलपति महोदया प्रो नीलिमा गुप्ता ने काफी प्रसन्नता व्यक्त की।अंत में आभार सागर विश्वविद्यालय के कुल सचिव श्री संतोष सहगौरा द्वारा आभार व्यक्त किया गया द्वारा दिया गया। कार्यक्रम का सफल संचालन इतिहास विभाग के डॉ. पंकज सिंह द्वारा किया गया।
Share:

शासकीय महाविद्यालय बांदरी का नाम बाबा साहेब आंबेडकर के नाम पर होगाः मंत्री भूपेन्द्र सिंह

शासकीय महाविद्यालय बांदरी का नाम बाबा साहेब आंबेडकर के नाम पर होगाः मंत्री भूपेन्द्र सिंह


बांदरी। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने यहाँ बाबा साहेब डा. भीमराव आंबेडकर की भव्य प्रतिमा का अनावरण किया और घोषणा की है कि बांदरी में 6 करोड़ की लागत से बन रहे शासकीय महाविद्यालय का नाम बाबा साहेब आंबेडकर के नाम पर होगा। इस मौके पर मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बांदरी नगर पंचायत के तहत बनने वाले 1776 प्रधानमंत्री आवासों के हितग्राहियों को अधिकार पत्र वितरण किए। उन्होंने इस मौके पर पिछले 3074 पीएम आवास के हितग्राहियों की अंतिम किश्त की राशि को भी सिंगल क्लिक करके आनलाइन ट्रांसफर किया।_

     बांदरी के रानी अवंतीबाई लोधी बस स्टैंड प्रांगण में आयोजित भव्य समारोह को संबोधित करते हुए मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि विगत कांग्रेस सरकार के दौरान शरारती तत्वों द्वारा खंडित की गई बाबा साहेब की प्रतिमा को देख कर उन्हें आत्मिक कष्ट हुआ था। मैंने घटना के अगले ही दिन मौके पर आकर घोषणा की थी कि इसके स्थान पर और भव्य प्रतिमा की स्थापना की जाएगी। 

     आज 15 लाख की लागत से निर्मित बाबासाहेब डा आंबेडकर की प्रतिमा का अनावरण करते हुए संतोष हो रहा है। मंत्री श्री सिंह ने खुरई के कांग्रेसी नेता को धिक्कारते हुए कहा कि कांग्रेस की सरकार ने सवा साल प्रदेश में राज किया लेकिन बांदरी में प्रतिमा को क्षति पहुंचाने वाले तत्वों पर कोई कार्यवाही नहीं हुई और न ही घोषणा करके गये कांग्रेस नेता ने बाबा साहेब की प्रतिमा स्थापित कराई। यही कांग्रेस का असली चरित्र है जिसमें वह बाबा साहेब जैसे देश के लिए मर मिटने वाले, राष्ट्रनिर्माता महापुरुषों की स्मृतियों को सहेजने के लिए कुछ नहीं करती और यही मानती है कि देश में जो कुछ भी हुआ है वह बस नेहरु गांधी परिवार ने ही किया है। 

     मंत्री श्री सिंह ने कहा कि बाबासाहेब का संदेश था कि सभी पढ़ें और आगे बढ़ें। खासतौर पर वे महिलाओं को पुरुषों की तरह शिक्षित होते देखना चाहते थे। वे कहते थे कि हमारा धर्म स्वतंत्रता, समानता और बंधुत्व है। वे चाहते थे कि हर गरीब का अपना मकान हो। आज देश में श्री नरेन्द्र मोदी जी व प्रदेश में शिवराज सिंह की सरकार इसी संकल्प को लेकर आगे बढ़ रही है।

1776 परिवारों को पीएम आवास के अधिकार-पत्र सौंपे, 
3074 परिवारों के खातों में सिंगल क्लिक से राशि जारी की

     मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि मैं इस बात को लेकर गौरवान्वित हूं की बांदरी परिषद क्षेत्र में अब तक 4850 मकान मंजूर कराए जा चुके हैं। कांग्रेस के समय में साल में दो-चार कुटीर मंजूर होती थीं और बनाने के लिए 15 हजार मिलते थे। आज मोदी सरकार एक मकान के लिए ढाई लाख रूपए दे रही है। उन्होंने पुनः संकल्प किया कि खुरई विधानसभा क्षेत्र के हर गरीब परिवार का पक्का मकान होगा। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि नए स्वीकृत 1376 आवासों की पहली किश्त इसी माह खातों में डाल दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जो राशि मिल रही है उसके एक-एक पैसे का उपयोग मकान बनाने में ही करें। किसी को ठेका नहीं दें बल्कि स्वयं मकान बनाएं। 

     मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि बांदरी में नलजल योजना के लिए 38 करोड़ मंजूर कराए हैं। सीएमओ को निर्देश हैं कि गर्मी के दिनों में पेयजल की समस्या न रहे। इसके लिए जलप्रदाय टेंकर लगाएं और बोर भी कराएं। उन्होंने कहा कि तीन सिंचाई परियोजनाओं से आगे जाकर खुरई विधानसभा क्षेत्र के हर खेत में पानी पहुंचेगा। किसान तीन फसलें लेंगे और सम्पन्नता आएगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 50 साल प्रदेश में राज किया लेकिन उनके नेता खुरई विधानसभा क्षेत्र में एक भी सिंचाई परियोजना मंजूर नहीं करा पाए। 

     मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि सवा साल प्रदेश में अभी कमलनाथ की सरकार रही जिसने आयुष्मान, मुख्यमंत्री कन्यादान, लाड़ली लक्ष्मी, संबल, मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन जैसी योजनाएं बंद कर दीं। अब प्रदेश में शिवराज सिंह जी की सरकार है और यह योजनाएं पुनः शुरू की गईं हैं। मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि बढ़ाकर 55 हजार की गई है और तीर्थ दर्शन में ट्रेन के साथ ही दूर के स्थलों पर हवाई जहाज से तीर्थदर्शन कराने का निर्णय लिया गया है। हमारी सरकार ने कोरोनाकाल के बिजली बिल माफ करने का निर्णय लिया है। 

     मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि कमलनाथ की सरकार के समय बांदरी के नगर परिषद बनने की प्रक्रिया रोक दी गई थी। इसके बाद जब मैं मंत्री बना तब बांदरी को नगर पंचायत का दर्जा मिला। जिसका परिणाम यह है कि आज बांदरी परिषद् क्षेत्र में विकास की नई इबारत लिखी जा रही है। मंत्री श्री सिंह ने उन सभी योजनाओं का विस्तृत उल्लेख किया जो बांदरी में निर्मित हो चुकीं हैं अथवा निर्माणाधीन हैं। मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने नगर परिषद् बांदरी अंतर्गत बण्डा रोड पर 23.92 लाख लागत के सौंदर्यीकरण एवं विद्युतीकरण कार्य का भूमिपूजन किया एवं 2 सेल्फी प्वाइंट का लोकार्पण किया। 

 कार्यक्रम में भाजपा के वरिष्ठ नेता, कार्यकर्ता, अधिकारी, कर्मचारी और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे। मंत्री श्री सिंह के बांदरी में प्रवेश करते ही उनका जोरदार स्वागत किया गया तथा जीप में बैठाकर गाजे-बाजे के साथ रैली निकालते हुए उने सभा स्थल तक ले जाया गया। 

Share:

मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विधुत वितरण कम्पनी जबलपुर , बड़े पैमाने पर हुए तबादले

मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विधुत वितरण कम्पनी जबलपुर , बड़े पैमाने पर हुए तबादले

जबलपुर। मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विधुत वितरण कम्पनी जबलपुर  के तहत आने आंवले जिलों में बड़े पैमाने पर अफसरों के तबादला आदेश जारी हुए है। देखे उनकी सूची:



Share:

SAGAR : अटल पार्क में बनी-दुकानो को मिला क्लीन स्ट्रीट फूड हब का दर्जा

SAGAR : अटल पार्क में बनी-दुकानो को मिला क्लीन स्ट्रीट फूड हब का दर्जा


सागर ।  नगर निगम सागर द्वारा तिली रोड में विकसित किए गए सर्वसुविधायुक्त सुन्दर अटल पार्क में 13-दुकान फूड जोन बनाया गया हैं। जिसे हाल ही में फूड सेफ्टी एंड स्टेण्डर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एफएसएसएआई) द्वारा क्लीन स्ट्रीट फूड हब का सर्टिफिकेट दिया गया है। यहां के सभी दुकानदारों द्वारा स्वच्छता सम्बंधित सभी आयामों के निर्धारित बेंचमार्क अनुसार सुविधाओं का ध्यान रखने के साथ ही स्वच्छता रखने पर इसे क्लीन स्ट्रीट फूड हब का दर्जा मिला हैं।


स्ट्रीट फूड एक ऐसी चीज है जिसे हम सभी पसंद करते हैं, लेकिन जिस एक चीज को लेकर हम सभी सोचते हैं वह है गुणवत्ता और स्वच्छता. स्ट्रीट-स्टाइल स्टालों पर परोसा जाने वाला खाना किस तरह से तैयार, स्टोर और परोसा जाता है, इस बारे में हम सभी को चिंता रहती है सागर के निवासियों के लिए एक खुशी की वजह है क्योंकि फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एफ.एस.एस.ए.आई.) ने शहर के अटल पार्क को ‘क्लीन स्ट्रीट फूड हब‘ टैग से सम्मानित किया है. सागर में अटल पार्क की 13 दुकान जो ग्राहकों को हैल्दी, हाइजीन और खुश कर देने वाला स्ट्रीट फूड परोसते हैं इसलिए इसे सम्मानित किया गया है।


‘क्लीन स्ट्रीट फूड हब‘ टैग दो साल के लिए वैध है और यह उन भोजनालयों को दिया जाता है जो खाना पकाने और गैर-खाना पकाने के क्षेत्रों, साफ-सफाई और कीट नियंत्रण सहित कई मामलों के मानकों पर खरे उतरते हैं. स्ट्रीट फूड स्टॉल पर वर्कर्स को सैनिटाइजेशन और हाइजीन बनाए रखनी चाहिए. इसके लिए ऑडिट एक थर्ड पार्टी एजेंसी द्वारा किया जाता है. थ्ैै।प् का कहना है कि टैग से पुरस्कृत होने के लिए स्ट्रीट फूड जॉइंट को निर्दिष्ट मानदंडों के कम से कम 80 प्रतिषत को पूरा करना होता है।
Share:

MP : लोकायुक्त पुलिस ने 15 सौ रुपये की रिश्वत लेते पटवारी को रँगे हाथों गिरफ्तार किया

MP : लोकायुक्त पुलिस ने  15 सौ रुपये की रिश्वत लेते पटवारी को रँगे हाथों गिरफ्तार किया


रीवा। रीवा लोकायुक्त ने एक पटवारी को 15 सौ रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरोपी रीवा जिले के रामपुर सर्किल की नईगढ़ी तहसील में पटवारी के पद पर पदस्थ है। उसने किसान रमानिवास तिवारी से जमीन की इस्तलाबी दर्ज कराने के एवज में 2 हजार रुपये रिश्वत की मांग की थी।



पटवारी रामनरेश रावत के रिश्वत मांगने की शिकायत पीड़ित रमानिवास तिवारी ने लोकायुक्त रीवा से की थी। लोकायुक्त द्वारा शिकायत का सत्यापन कराए जाने पर मामला सही पाया गया। 



पीड़ित की शिकायत पर रीवा लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल सिंह धाकड़ ने बुधवार को टीम के साथ देवतालाब तहसील नईगढ़ी पहुंचकर पटवारी को उसके प्राइवेट कार्यालय कक्ष के सामने रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

Share:

श्री निषादराज की जयंती पर शोभायात्रा का किया भव्य स्वागत

श्री निषादराज की जयंती पर शोभायात्रा का किया भव्य स्वागत


सागर । रैकवार समाज के आदर्श भगवान श्री निषाद राज की जयंती पर समाज द्वारा निकाली गयी शोभायात्रा का स्वागत कांग्रेस सेवादल परिवार के नेतृत्व में बडे भक्ति और उत्साह भाव से तीनबत्ती पर किया।
कांग्रेस सेवादल परिवार ने शोभायात्रा पर पुष्पवर्षा कर और समाज के स्नेही जनो को शुभकामनाएं देकर भगवान निषादराज को नमन किया।

इस अवसर पर जिला-शहर कांग्रेस कमेटी की अध्यक्षा श्रीमति रेखा चौधरी,सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे,कार्यकारी अध्यक्ष महेश जाटव,दीनदयाल तिवारी,नितिन पचौरी, शुभम् उपाध्याय, रामगोपाल यादव,रवि जैन,अंकुर यादव,निक्की यादव आदि कांग्रेस जन उपस्थित रहे।
Share:

सागर झील: चकराघाट से गणेशघाट तक बनेगा सुन्दर बड़ा घाट

सागर झील: चकराघाट से गणेशघाट तक बनेगा सुन्दर बड़ा घाट 

सागर।  कनेरादेव फीडर कैनाल की चौड़ाई का नाप कराएं और विभिन्न स्थलों पर गहराई के माप लेकर मार्किंग कराएं। फीडर कैनाल के दोनों किनारों पर मुरम फ़िल्टर मीडिया डालकर कॉम्पेक्शन करें और स्टोन पिचिंग शुरू करें। उक्त निर्देश निगमायुक्त सह कार्यकारी निदेशक एसएससीएल श्री आरपी अहिरवार ने दिए। वे स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत के साथ कनेरा देव फीडर कैनाल के पुनर्निर्माण कार्य का स्थल निरीक्षण कर रहे थे।



उन्होंने छोटी झील से होते हुए मसानझिरी की पहाड़ी तक पूरी फीडर कैनाल का बारीकी से निरीक्षण किया। उन्होंने कहा की कैनाल का निर्माण इस प्रकार करें की पहाड़ों से आने वाला कैचमेंट का पानी बहकर सीधे छोटी झील में पहुँचे। पानी कहीं भी रुकना नहीं चाहिए। बहता हुआ पानी हमेशा स्वच्छ रहता है। कैनाल में संजय ड्राइव रोड साइड टो-वॉल के ऊपर आवश्यकता अनुसार स्लोप बनाकर पिचिंग करें और सुन्दर ग्रिल या क्रैश बैरियर लगाएं। ताकि आगामी समय में किसी भी प्रकार की दुर्घटना की आशंका न रहे।

उन्होंने लाखा बंजारा झील में चकराघाट से किले की ओर स्टोन पिचिंग के लिए बेड निर्माण कार्य एवं वॉक-वे आदि के प्रगतिरत कार्य का भी निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि चकराघाट से गणेशघाट तक सभी मंदिरों को जोड़ते हुए पूरे घाट को एक ही सुन्दर थीम में डिजाइन करें ताकि एक सुन्दर बड़ा घाट बनने से लोगों को पूजन आदि के लिए भी यह सुविधाजनक हो।
स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत ने कहा कि झील से लगीं किले की दीवारों और परकोटे आदि की सफाई का कार्य प्रारम्भ करें और सुन्दर हैरिटेज लुक देने के लिए म्यूरल्स, फसाड लाइट आदि लगाएं।
निरीक्षण के दौरान स्मार्ट सिटी के एसई श्री अजय शर्मा सहित इंजीनियर्स, पीएमसी के एक्सपर्ट और निर्माण एजेंसियों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।
Share:

Archive