रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शनिवार, 21 मार्च 2020

कोरोना वायरस। सागर जिले की संपूर्ण राजस्व सीमा क्षेत्र में कलेक्टर ने लगाई धारा 144 ,बाहरी लोगों के आने पर रोक

कोरोना वायरस। सागर जिले की संपूर्ण राजस्व सीमा क्षेत्र में कलेक्टर ने लगाई धारा 144 ,बाहरी लोगों के आने पर रोक
 
सागर ।  सर्वसाधारण की जानकारी में यह है कि दिनाक 31.01.2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन  द्वारा कोरोना वायरस को  महामारी  घोषित किया गया है । इस संबंध में माध्यप्रदेश शासन् लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के परिप्रेक्ष्य में मध्यप्रदेश पब्लिक हेल्थ एक्ट 1949 अंतर्गत नोवल कोरोना वायरस बीमारी अधिसूचित की जा चुकी है।
मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के चार प्रकरण पाजिटिव मिले है। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के दृष्टिकोण से भारतीय दंड प्रक्रिया 1973 की धारा 144 के तहत कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने सागर जिले की सपूर्ण राजस्व सीमा क्षेत्र में प्रतिबंधात्मक आदेश तत्काल प्रभाव से लागू किया है। 31 मॉर्च तक यह आदेश प्रभावी रहेगा।
आदेष में सागर जिले की समस्त राजस्व सीमाओ मे बाहरी लोगो का आवागमन निषेध किया गया है । विशेष परिस्थितियों में क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ( आरटीओ ) अनुमति देने के लिए अधिकृत होंगे । कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए जिले के नागरिक यथा संभव खुले में आवागमन नहीं करेगे तथा समूह बनाकर एक जगह पर एकत्रित नहीं होगे । अत्यावश्यक कार्यो के लिए संबंधित क्षेत्र के अनुविभागीय अधिकारी ( राजस्व ) अनुमति दे सकेंगे। 
जिले के समस्त शासकीय प्रशासकीय , अशासकीय कार्यालय तथा शैक्षणिक संस्थान . 31 मार्च तक बंद रहेंगे । अत्यावश्यक सेवाओ वाले विभाग यथा राजस्व स्वास्थ्य पुलिस , विधुत , दूरसंचार , नगर पालिका , पंचायत खाद्य आदि इससे मुक्त रहेगे। जिले के सभी व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद रहेगे। मेडिकल दुकान और हास्पिटल ( अस्पताल ) , पेट्रोल पंप को इससे छूट रहेगी ।  कलेक्टर द्वारा द्वारा समय - समय पर डच् . च्नइसपब ीमंसजी ंबज 1949 के तहत आदेश जारी किये है। उन आदेशों का पालन सागर जिले की भौगोलिक सीमा में उपस्थित हर नागरिक के लिए अनिवार्य होगा । 
नियमो का पालन अन्यथा मॉम्ला दर्ज होगा
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा  निर्देश दिये जाने पर संबंधित व्यक्ति/व्यक्तियों के समूह/परिवार को उसका पालन करना अनिवार्य होगा । ऐसा न करने पर ध मुकदमा दर्ज किया जायेगा । मौके पर उपस्थित मजिस्ट्रेट, पुलिस अधिकारी, स्वस्थ्य विभाग के कर्मचारी/नगर पालिक निगम के स्वच्छता अमले द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन सभी नागरिको के लिए अनिवार्य होगा ।अनावश्यक, असत्य, अपुष्ट  जानकारी फैलाना दण्डनीय होगा । प्रावधानों का उल्लघंन होने पर माह की सजा एव जुर्माना किया जा सकता है । अपने क्षेत्राधिकार में इस आदेश का पालन कराने लिए अनुविभागीय अधिकारी ( राजस्व ) अधिकृत होंगे । अपने क्षेत्राधिकार में इस आदेश का उल्लंघन होने पर संबंधित थाना प्रभारी समुचित कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे । कि यह आदेश सर्व साधारण को संबोधित है और वर्तमान परिस्थितियों में सूचना की तामीली सम्यक समय में प्रत्येक व्यक्ति को कर सुनवाई की जाना सभव नहीं है । अतः दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत यह आदेश एक पक्षीय रूप से पारित किया गया है । यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होगा तथा सागर जिले की संपूर्ण राजस्व सीमा क्षेत्र में दिनांक 21 मार्च 2020 से 31 मार्च 2020 तक प्रभावशील रहेगा । उक्त आदेश का उल्लघन भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के अधीन दण्डनीय होगा ।
              

सागर में नही हैं कोई नोवल कोरोना वायरस से पीड़ित मरीज:कलेक्टर प्रीति मैथिल

सागर में नही हैं कोई नोवल कोरोना वायरस से पीड़ित मरीज:कलेक्टर प्रीति मैथिल
सागर । सागर में शनिवार तक कोई भी व्यक्ति नोवल कोरोना वायरस से पीड़ित कोई भी व्यक्ति नहीं है। कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने जिलेवासियों से अपील की है कि कोई भी कोरी अफवाहों से बचे एवं अफवाहों को सोषल मीडिया पर शेयर भी न करें। श्रीमती मैथिल ने जिलेवासियों से अपील की है कि परिवार का कोई भी सदस्य यदि बाहर है तो उसको वहीं सुरक्षित रहने की सलाह दें और यदि कोई भी सदस्य बाहर से आता है तो उसकी सूचना कंट्रोल रूम के फोन नंबर 07582-264390 एवं 9907056496 पर संपर्क कर सूचना के साथ जानकारी प्राप्त कर सकते है

शिक्षक सवर्ग को तृतीय वेतनमान का लाभ मिला,448 शिक्षको को

शिक्षक सवर्ग को तृतीय वेतनमान का लाभ मिला,448 शिक्षको को

सागर । जिला षिक्षा अधिकारी डा. महेन्द्र प्रताप तिवारी ने बताया है कि जिले के प्राथमिक षिक्षक एवं षिक्षक जिन्होंने 12 वर्ष 24 वर्ष एवं 30 वर्ष की सेवापूर्ण की है उनको क्रमोन्नत वेतनमान प्रदान किया गया। उन्होंने बताया कि पूरे जिले में 448 षिक्षक सवर्ग इससे लाभान्वित होगा। 

मास्क एवं सेनेटाईजर की कालाबाजारी करनेवालों,प्रशासन की कार्यवाही'एक मेडीकल सील

मास्क एवं सेनेटाईजर की कालाबाजारी करनेवालों,प्रशासन की कार्यवाही'एक मेडीकल सील
सागर। नोवल कोरोना वायरस की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु सागर की मेडीकल दुकानों पर मास्क एवं सेनेटाईजर की कालाबाजारी करने की षिकायतें प्रषासन को मिल रही थी। कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक के निर्देष पर सिटी मजिस्ट्रेट श्री पवन वारिया, उपायुक्त डा. प्रणय कमल खरे, ड्रग अधीक्षक श्री कूजूर, खाद्य निरीक्षक श्री पंकज श्रीवास्तव ने सीएसपी श्री मनभरण प्रजापति के नेतृत्व में शनिवार को तीनवत्ती, कटरा, जिला चिकित्सालय एवं मेडीकल कॉलेज के सामने संचालित मेडीकल दुकानां पर निरीक्षण किया गया।
      उक्त दल ने कटरा बाजार स्थित ऋषभ जैन की मेडीकल स्टोर आर मेडीकल पर निरीक्षण किया तो श्री जैन ने बताया कि उनकी दुकान पर मास्क नही हैं किन्तु जांच करने पर सौकड़ों की संख्या में मास्क उपलब्ध पाये गए। जिस पर कार्यवाही करते हुय तत्काल प्रभार से दुकान को सील करते हुए कार्यवाही प्रारंभ कर दी। निरीक्षण में कोतवाली टीआई श्री प्रषांत मिश्रा, सुनील वर्मा, सुश्री चारू जैन, श्री राय उपस्थित थे।
 सागर में नही हैं कोई नोवल कोरोना वायरस से पीड़ित मरीज ,अफवाहों से बचे-कलेक्टर श्रीमती मैथिल

सागर । सागर में शनिवार तक कोई भी व्यक्ति नोवल कोरोना वायरस से पीड़ित कोई भी व्यक्ति नहीं है। कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने जिलेवासियों से अपील की है कि कोई भी कोरी अफवाहों से बचे एवं अफवाहों को सोषल मीडिया पर शेयर भी न करें। श्रीमती मैथिल ने जिलेवासियों से अपील की है कि परिवार का कोई भी सदस्य यदि बाहर है तो उसको वहीं सुरक्षित रहने की सलाह दें और यदि कोई भी सदस्य बाहर से आता है तो उसकी सूचना कंट्रोल रूम के फोन नंबर 07582-264390 एवं 9907056496 पर संपर्क कर सूचना के साथ जानकारी प्राप्त कर सकते है।                               
श्री अहिरवार नोडल अधिकारी नियुक्त

सागर । कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने वर्तमान में कोरोना संक्रमण वायरस फैलने की सूचनाओं को दृष्टिगत रखते हुये कोरोना वायरस के संकमण को रोकने एवं उसके प्रभारी नियंत्रण हेतु आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने हेतु श्री आर.पी. अहिरवार आयुक्त नगर निगम सागर को जिला सागर हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है । इसके साथ ही मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला सागर एवं उनकी टीम इस कार्य में श्री अहिरवार को आवश्यक सहयोग प्रदान करेंगे।
               
शासकीय एवं अशासकीय महाविद्यालय एवं विद्यालयों का ,शिक्षकीय एवं गैर शिक्षकीय स्टाफ 31 मार्च तक प्रतिबंधित रहेगा


सागर लोक स्वास्थ्य एवं लोक हित में कोरोना वायरस के नियत्रंण एवं बचाव हेतु कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने जिला सागर अंतर्गत संचालित समस्त शासकीय एवं अशासकीय महाविद्यालय एवं विद्यालयों में दिनांक 31 मार्च 2020 तक समस्त शिक्षकीय एवं गैर शिक्षकीय स्टाफ महाविद्यालय एवं विद्यालयों में नहीं आयेंगे । निर्देश का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाये ।  
यात्रियों के अलावा अन्य व्यक्ति एकत्रित न हो स्टेषनों पर
सागर ।  थाना प्रभारी आर.पी. एफ एवं जी . आर . पी . एफ रेल्वे स्टेशन सागर एवं थाना प्रभारी आर.पी.एफ, एवं जी. आर. पी.एफ रेल्वे स्टेशन बीना जंक्शन जिला - सागर को कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने निर्देष दिये है कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण वायरस फैलने की सूचनाओं के दृष्टिगत रखते हुये कोरोना वायरस के संकमण को रोकने एवं उसके प्रभावी नियंत्रण हेतु सुनिश्चित किया जावे कि रेल्वे स्टेशनों पर अनावश्यक भीड़ एकत्रित न हो, इस हेतु फालतू घूमने वाले व्यक्तियों की स्टेशन पर चेकिंग की जाये। जिससे यात्रियों के अलावा अन्य व्यक्ति एकत्रित न हो तथा बीमारी के संक्रमण फैलने से बचा जा सके ।                     पेट्रोल एवं डीजल लेते समय एक-एक मीटर की दूरी बनायें-कलेक्टर
सागर । कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने जिले के समस्त पेट्रोल पम्प संचालकों को निर्देष दिये है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु पेट्रोल पम्प में डीजल एवं पैट्रोल वितरित करते समय 1 - 1 मीटर की दूरी रखी जाये। सभी संलग्न कर्मचारी अनिवार्य रूप से मास्क लगायें तथा साफ - सफाई का विशेष रूप से ध्यान रखा जाये ।       
छात्रावास एवं आश्रिम शालाएं में आगामी आदेष तक बंद
सागर। कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने वर्तमान में कोरोना संक्रमण वायरस फैलने की सूचनाओं को दृष्टिगत रखते हुये कोरोना वायरस के संकमण को रोकने हेतु जिले के जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण विभाग को निर्देष दिये है कि जिले में चल रहे विभाग के सभी छात्रावास एवं आश्रिम शालाएं में आगामी आदेष तक अवकाष जारी रहेगा।                      

कोविड 19: रद्द रेल टिकिटों की वापसी को किये कई ऐलान रेलवे ने

कोविड 19: रद्द रेल टिकिटों की वापसी को किये कई ऐलान रेलवे ने

नई दिल्ली।भारतीय रेल के द्वारा कोविड-19 वायरस के संक्रमण को देखते हुए स्टेशनों पर भीड़ को रोकने के लिए रेल टिकटों को रद्द करने के नियम में बहुत बड़ी राहत प्रदान की है।
यह राहत  दिनांक 21 मार्च से 15 अप्रैल 2020 तक यात्रा अवधि के लिए जारी टिकटों के लिए प्रदान की जाएगी

1) यदि रेल प्रशासन के द्वारा दिनांक 21 मार्च से 15 अप्रैल 2020 तक ट्रैन रद्द की जाती है तो यात्री अपनी टिकट यात्रा तिथि से 45 दिनों तक रेलवे आरक्षण काउंटर पर जमा कर धनवापसी ले सकता है।

2) यदि ट्रेन रद्द नहीं है और यात्री अपनी यात्रा नहीं करना चाहता है तो यात्री अपनी टिकट यात्रा तिथि से 30 दिनों के अंदर टिकट डिपॉजिट रिसिप्ट के माध्यम से जमा करके अपना रिफंड ले सकता है।
इसके अतिरिक्त यात्री अपनी टिकट यात्रा तिथि से 60 दिनों के अंदर मुख्य वाणिज्य प्रबंधक या मुख्य दावा अधिकारी के कार्यालय में टिकट डिपॉजिट रिसिप्ट के माध्यम से जमा कर धनवापसी ले सकता है। (धनवापसी ट्रैन चार्ट से सत्यापन के उपरांत प्रदान की जाएगी)
3) ऐसे यात्री जो अपना टिकट फोन नंबर 139 के माध्यम से रद्द करते हैं वह अपने टिकट की धनवापसी यात्रा तिथि से 30 दिनों तक रेलवे आरक्षण काउंटर से जाकर ले सकते हैं।
ऊपरोक्त रियायत केवल दिनांक 21 मार्च 2020 से 15 अप्रैल 2020 के लिए जारी टिकटों पर ही मान्य है।
यात्रियों से अनुरोध है यदि आप अपनी यात्रा रद्द कर रहे है तो स्टेशन पर अनावश्यक रूप से भीड़ नही बढ़ाये और उपरोक्त सेवाओं का लाभ लें।
विंनोद आर्य★तीनबत्ती न्यूज़.कॉम

अभियोजन कार्यालय एवं विटनेस हेल्प डेस्क को किया गया सेनेटाईज

अभियोजन कार्यालय एवं विटनेस हेल्प डेस्क को किया गया सेनेटाईज
सागर। उप-संचालक अभियेाजन सागर में कार्यलय एवं समस्त स्टाफ को अल्कोहाॅलिक हेंड सेनेटाईजर से सेनेटाइज किया गया। विटनेस हेल्प डेस्क विटनेस हेल्प डेस्क प्रभारी का कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु समस्त सावधानियों का आवष्यक रूप से प्रषिक्षण दिया गया। विटनेस हेल्प डेस्क प्रभारी द्वारा, आवष्यक रूप से अल्कोहाॅलिक हेंड सेनेटाईजर पीड़ित/गवाहों के उपयोग हेतु रखें गए। विटनेस हेल्प डेस्क प्रभारी एवं अन्य कर्मचारियों को अल्कोहाॅलिक हेंड सेनेटाईजर से सेनेटाइज किया गया तथा विटनेस हेल्प डेस्क रूम को भी को सेनेटाइज किया गया। जिला अभियोजन कार्यालय एवं डीपीओ लोकायुक्त कार्यालय में समस्त अधिकारी एवं कर्मचारियों हेतु अल्कोहाॅलिक हेंड सेनेटाईजर की व्यवस्था की गयी। कार्यालय द्वारा निर्देष जारी किए गए कि समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी मास्क का उपयोंग आवष्यक रूप से करें तथा छींकतें एवं खासते समय रूमाल/नेपकिन का उपयोंग आवष्यक रूप से करें। अभियोजन कार्यालय में स्कूटनी एवं अन्य कार्य हेतु आने वाले पुलिस कर्मचारी एवं अन्य व्यक्तियों को भी कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव हेतु अल्कोहाॅलिक हेंड सेनेटाईजर की व्यवस्था की गयी।
 

  

कोरोना वायरस: "हम है इंसान" टीम सार्वजनिक स्थानों ने किया सेनेटाइज


कोरोना वायरस: "हम है इंसान" टीम सार्वजनिक स्थानों ने किया सेनेटाइज
 
सागर। कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे से सहमी हैैई।  वही सागर शहर के युवाओं की टीम "हम हैं इंसान" ने आंगे आकर अपना शहर अपनी जिम्मेदारी को समझकर कोरोना वायरस से बचाव हेतु सरकारी और प्राइवेट बस स्टैंड परिसर में सेनेटाइजर का झिड़काव कर साफ सफाई की, टीम ने ना सिर्फ बस स्टैंड परिसर बल्कि बस स्टैंड की सभी बसों के अंदर भी सेनेटाइजर का झिड़काव किया और यात्रियों ,बस ड्राइवरो, बस संचालको को कोरोना वायरस से बचाव के तरीके बताकर जागरूकता अभियान भी चलाया। टीम के सदस्य सलिल श्रीवास्तव ने बताया कि हमारी टीम जनता कर्फ्यू के फैसले का स्वागत करती है, इसी कारण रविवार को किए जाने वाला कार्य , इस बार शनिवार को कर रही है। बस स्टैंड को अंदर बाहर से केमिकल के छिड़काव कर सैनिटाइज़ड़ कर दिया है, जिससे कोरोना वायरस के कीटाणु जन्म नहीं ले पाएंगे एवं बस स्टैंड पर आने जाने वाले यात्रियों को "जनता कर्फ्यू" का महत्व भी समझाया है, जिससे शहरवासी कल ज़्यादा से ज़्यादा इसका सपोर्ट करें।  टीम ने राष्ट्र के प्रति प्रेम जाहिर करते हुए राष्ट्रगान कर अभियान को बिराम दिया। 

शुक्रवार, 20 मार्च 2020

कोरोना वायरस: जिला सत्र कोर्ट ने समस्त प्रकरणों की तारीख 31 मार्च से आगे बढ़ाई

कोरोना वायरस: जिला सत्र कोर्ट ने समस्त प्रकरणों की तारीख 31 मार्च से आगे बढ़ाई
सागर ।  जिला एवं सत्र न्यायालय द्वारा सूचित किया गया है कि कोरोना महामारी के चलते 31 मार्च तक कोई भी पक्षकार न्यायालय परिसर सागर एवं तहसील न्यायालयों में प्रवेष न करें। 31 मार्च तक पक्षकार की अनुपस्थिति के कारण न उस पर दण्ड लगाया जाएगा एवं न ही उनके विरूद्ध वारंट जारी किया जाएगा। किसी भी पक्षकार के विरूद्ध एक पक्षीय कार्यवाही भी नहीं की जाएगी। 31 मार्च तक नियत समस्त प्रकरणों की तारीख आगे बढ़ा दी गई है। अगली तारीख की सूचना न्यायालय के द्वारा एसएमएस के माध्यम से पक्षकार को प्रदान की जाएगी अथवा माननीय उच्च न्यायालय की वेबसाईट  ूू या मोबाईल एप्लीकेषन   से प्राप्त कर सकते है।

सागर में मॉस्क और सेनेटाईजर की कोई कमी नहीं रहेगी, कालाबाजारी पर कार्यवाही :कलेक्टर श्रीमती मैथिल

सागर में मॉस्क और सेनेटाईजर की कोई कमी नहीं रहेगी, कालाबाजारी पर कार्यवाही :कलेक्टर श्रीमती मैथिल
#वृहद पैमाने पर तैयार हो रही है सामग्री,
दस रूपये में उपलब्ध होगा मास्क
सागर। कोरोना वायरस की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए सागर जिले में पुख्ता प्रबंध किए गए है। कोरोना वायरस की रोकथाम में मास्क और सेनेटाईजर की कोई कमी नहीं रहे इसके लिए कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक की पहल पर स्थानीय स्तर पर वृहद पैमाने पर सामग्री तैयार हो रही है।
जिलें में 3 स्थानों पर बड़ी मात्रा में मॉस्क एवं सेनेटाईजर तैयार किए जा रहे है। केन्द्रीय जेल सागर के हथकरघा केन्द्र में कैदियों द्वारा वृहद पैमाने पर मास्क तैयार करने का कार्य शुरू हो चुका है। इस कार्य में 55 कैदियों को टास्क में शामिल किए गए है। जो प्रतिदिन 1000 मास्क तैयार कर रहे है। अभी तक 2500 मास्क तैयार किए जा चुके है। मास्क की गुणवत्ता निर्धारित मापदण्ड के अनुरूप है। मास्क का आकार 8 वाय 3 इंच का है जिससे कि मुंह और नाक को अच्छी तरह सुरक्षित रखे। यह मास्क डबल लेयर के साथ धुलाई योग्य भी है। इस मास्क को बनाने में ताना 2/20एस एवं बाना 10 एस के धागे से लूम कपड़ा का उपयोग किया गया है। जो मास्क तैयार किए गए है उन मास्कों को भारतीय सेना, पीडब्ल्यूडी एवं अन्य सरकारी विभाग को 10 रूपये की कीमत पर आपूर्ति की जा रही है।
उप जेलर सागर श्री नागेन्द्र चौधरी ने बताया कि केन्द्रीय जेल के हथकरघा केन्द्र में मांग के आधार मास्कों की पूर्ति करने की क्षमता उपलब्ध है। राज्य ग्रामीण आजीविका मिषन के जिला समन्वय श्री हरीष दुबे ने बताया कि हितकारी संकुल स्तरीय संगठन जो महिला स्व सहायता समूह का संगठन है। इस संगठन के द्वारा देवरी में सिलाई केन्द्र की स्थापना कर लगभग 25 महिलाओं द्वारा मास्क तैयार किए जा रहे है। प्रत्येक मास्क की कीमत 10 रूपये होगी। उक्त कार्य में 25 सदस्य प्रतिदिन 800 मास्क तैयार कर रहे है। अभी तक 3300 मास्क बनाए जा चुके है। जिनमें से 2650 मास्क स्थानीय व सामाजिक संस्थाओं को विक्रय किया गया है। 650 मास्क अभी स्टॉक में है। इस कार्य में संध्या लोधी, सपना, कुसुम रैकवार, कौषल्या एवं उर्मिला के मार्गदर्षन में समूहों की महिलाएं मास्क तैयार करने के कार्य में लगी है।
सेनेटाईजर बन रहा है सागर में
सागर स्थित नीतेन्द्र सिंह राठौर की डीसीआर डिसलरी के माध्यम से स्थानीय स्तर पर सेनेटाईजर तैयार करवाया जा रहा है। जिला आबकारी अधिकारी श्रीमती वंदना पाण्डे ने शुक्रवार को 250 लीटर सेनेटाईजर तैयार किया गया। जिसको 5-5 लीटर की केन में रखा गया है। आवष्यकता पड़ने पर तत्काल उपलब्ध करा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि उक्त खाली केनों को भाग्योदय तीर्थ अस्पताल एवं सागर श्री अस्पताल के द्वारा उपलब्ध कराया गया है।
सीएमएचओ डा. एमएस सागर ने बताया कि विष्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा सेनेटाईजर बनाने में निर्धारित की गई सामग्री जिसमें हाईड्रोजन परऑक्साईड, एल्कोहल, गिलिसरोल एवं डिस्टिल बॉटल के मिश्रण से तैयार कराया गया है।
मास्क सेनेटाइजर की काला बाजारी करने पर होगी कानूनी कार्यवाही

 मेडीकल एडवाइजरी जारी होने के बाद मास्क एवं सेनेटाइजर की काला बाजारी पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। उक्त बात मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.एम.एस.सागर ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कही। उन्होंने कहा की देष में कोरोनो वायरस के प्रकोप से बचाव हेतु बार-बार हाथ धोना एवं मुंह को मास्क से ढ़कना आवष्यक है जिस हेतु मांग को देखते हुए कतिपय लेग इस काला बाजारी कर रहे है। जिसके तहत उप संचालक खाद्य एवं औषधि प्रषासन के नाते दवा निरीक्षक को आदेषित किया है कि वह फुटकर एवं थोक दवा विक्रेताओं की दुकानों का निरीक्षण करें एवं स्टॉक को आमजन के निरीक्षण हेतु काउंटर पर प्रदर्षित करें।
  डा.सागर ने जन सामान्य से अपील कि हैं कोरोना वायरस से सावधानियॉं रखने वाली बातें जैसे खांसते-छीकंते समय मुॅंह पर रूमाल या कपड़ा लगायें, हाथ को आंख,नाक, मुंह में न लगाएं, अनावष्यक किसी से हाथ न मिलाएें एवं भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर अधिक समय तक न रूके, संभावित संक्रमित रोगी के संपर्क में न आएं,गले न लगाएं,हाथों को साबुन से स्वच्छ पानी से बार-बार धोएं,अधिक मात्रा में तरल पदार्थ एवं पौष्टिक आहार का सेवन करें, तथा किसी भी प्रकार के लक्षण दिखाई देने में तत्काल जिला चिकित्सालय या नजदीकी स्वास्थ्य  केन्द्र में अवष्य जायें।        
उन्होंने ने आगे बताया कि कोरोना वायरस से बचाव हेतु विदेष यात्रा से या विदेष से आयें व्यक्ति की जानकारी तत्काल स्वास्थ्य विभाग के कंट्र्ोल रूम को दें जिला कार्यालय में कंट्र्ोल रूम स्थापित किया गया है। जो 24 घंटे खुला रहेगा तथा इन नम्बरों पर संपर्क कर सकतें हैं । अधिक स्वास्थ्य संबंधी जानकारी के लिये जिला कार्यालय सागर कन्ट्र्ोल रूम का नम्बर 07582264390 एवं डॉ0एम0एल0जैन 9407276310 / पंकज षुक्ला 9907056596 एवं टोल फ्री नम्बर 104 पर संपर्क करें ।

प्रभारी महिला परियोजना अधिकारी 5 हजार की रिश्वत लेते पकड़ी गई

प्रभारी महिला परियोजना अधिकारी 5 हजार की रिश्वत लेते पकड़ी गई

सागर। लोकायुक्त पुलिस सागर ने जिले की केसली में पदस्थ महिला बाल विकास विभाग 
की सुपरवाईजर प्रभारी परियोजना अधिकारी 
कीर्ति मनीष जैन को पांच हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है । स्वसहायता समूह के बिल निकालने के एवज में रिश्वत मांगी थी।
लोकायुक्त पुलिस अधिक्षक रामेश्वर यादव ने बताया कि आवेदक हीरालाल चौरसिया पिता मुकिदी लाल चोरसिया उम्र 52 वर्षनिवासी ग्राम पोस्ट सहजपुरी  तहसील केसली जिला सागर ने शिकायत की थी कि आवेदक के स्व सहायता समूह  के बिल लगाने केएबज में  सुरवाईजर द्वारा 5000 की मांग कर रही थी। आज लोकायुक्त की टीम ने कीर्ती जैन w/o मनीष जैन उम्र  30 सुपर बाइजर प्रभारी परियोजना अधिकारी कार्यालय महिला बाल विकास  विभाग परियोजना केसली जिला सागर को
रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा। उसे अधिकारी  कार्य लय  महिला बाल विकास  केसली में पकड़ा गया। 
लोकायुक्त निरीक्षक मंजू सिंह और निरीक्षक बीएम द्विवेदी के नेतृत्व में कार्यवाई की गई।

टाइगर रिजर्व पन्ना का मुख्य लिपिक और एक अन्य को 5 हजार की रिश्वत लेते पकड़ाया,सागर लोकायुक्त पुलिस की कार्यवाही

टाइगर रिजर्व पन्ना का मुख्य लिपिक और एक अन्य को  5 हजार की रिश्वत लेते पकड़ाया,सागर लोकायुक्त पुलिस की कार्यवाही
सागर।  लोकायुक्त पुलिस सागर ने  टाईगर रिजर्व पन्ना के मुख्य लिपिक आलोक खरे को 5 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों  पकड़ा है। वनरक्षक से रुकी वेतन निकालने के एवज में रिश्वत मांगी गई थी। 
लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक रामेश्वर यादव ने बताया किआवेदक:- ब्रम्ह प्रकाश सिंह वनरक्षक रमपुरा बफर बीट , अमानगंज बफर रेंज  टाईगर रिजर्व जिला पन्ना ने लोकायुक्त में शिकायत की थी कि आवेदक की रुकी हुई वेतन निकालने व वेतन-वृद्धि लगाने के एवज आरोपी आलोक खरे और एक अन्य के द्वारा रिश्वत मांगी जा रही है। 
आज DSP राजेश खेड़े के नेतृत्व में दल ने मुख्य लिपिक कक्ष  कार्यालय पन्ना टाइगर रिजर्व में  आलोक खरे, मुख्य लिपिक (सहायक ग्रेड1)कार्यालय टाईगर रिजर्व पन्ना            ईनाम  उल हक कुरैशी, सहायक ग्रेड 2कार्यालय टाईगर रिजर्व पन्ना को  पांच हजार  रुपये की 
रिश्वत लेते पखड़ लिया।ट्रेप की कारवाई से हड़कम्प मंच गया।

इच्छित गढ़पाले बने जिला पंचायत के नए सीईओ,कार्यभार संभाला

इच्छित गढ़पाले बने जिला पंचायत के नए सीईओ,कार्यभार संभाला
सागर। जिला पंचायत सागर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री इच्छित गढ़पाले ने गुरूवार को सांयकाल पदभार ग्रहण किया। ज्ञात हो कि मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सीएस शुक्ला का विगत दिवस अषोक नगर जिला पंचायत में स्थानांतरण किया गया है

भ्रष्ट पटवारी को 04-04 वर्ष की सजा, 5 हजार की रिश्वत लेते पकड़ाया था

भ्रष्ट पटवारी को 04-04 वर्ष  की सजा, 5 हजार की रिश्वत लेते पकड़ाया था
सागर। न्यायालय- विषेष न्यायाधीष भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम सागर श्री रामविलास गुप्ता जिला सागर की अदालत ने आरोपी हाकिम सिंह वल्द गजराज सिंह ठाकुर उम्र 53 वर्ष पटवारी निवासी एच.आई.जी 103 दीनदयाल नगर सागर, स्थाई पता- ग्राम व पोस्ट चकेरी (विनेका) तहसील बण्डा जिला सागर को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 की धारा 7 एवं 13(1)(डी) सहपठित धारा 13(2) के तहत दोषी पाते हुए 04-04 वर्ष कारावास एवं 10,000-10,000 रूपए के अर्थदण्ड से दंडित किया। म.प्र. शासन की ओर से पैरवी विशेष लोक अभियोजक लोकायुक्त श्री आर. के पटैल, सागर ने की।
मामला संक्षिप्त में इस प्रकार है कि दिनांक 01.06.2015 को आवेदक पदम सिंह ने अभियुक्त हाकिम के विरूद्ध लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक सागर के समक्ष एक लिखित षिकायत आवेदन दिया कि आवेदक ने स्वयं के नाम पर ग्राम कंजिया में 01 डेसीमल जमीन के सीमांकन करने व वसीयतनामा में नामांत्रण हेतु आवेदन फीस सहित दिया था उक्त काम को करने के एवज में अभियुक्त हाकिम सिंह पटवारी हल्का नं 07 कंजिया बीना जिला सागर द्वारा पांच हजार रूपए रिष्वत की मांग की जा रही है। आवेदक अभियुक्त को रिष्वत नही देना चाहता है व रिष्वत लेते रंगे हाथों पकडवाना चाहता है आवेदक को षिकायत के सत्यापन हेतु एक डिजिटल वाॅयस रिकाॅडर दिया गया और उसे संचालन के तरीका सिखाया गया अभियुक्त की रिष्वत मांग संबंधी बात को रिकाॅर्ड के लिए निर्देषित किया आवेदक ने दिनांक 04.06.2015 को अभियुक्त से संपर्क होने पर उसकी रिष्वत मांग संबंधी बातचीत को लोेकायुक्त कार्यालय से प्रदाय किये गए वाॅयस रिकाॅडर में रिकाॅर्ड कर लिया, और उस रिकाॅर्डर को एक लिफाफे में बंद करके हमराह आर0 के हस्ते पुलिस अधीक्षक को आवेदन पत्र सहित प्रेषित किया। उसके पष्चात् रिष्वत मांग संबंधी वार्ता की ट्रांस्क्रिप्ट तैयार की गई, आवेदन के सत्यापन पश्चात ट्रेप कार्यवाही की गई दिनांक 05.06.2015 को लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक सागर के निर्देषन में ट्रेप कार्यवाही आयोजित की गई आवेदक को रिष्वत की राषि लेकर अभियुक्त के घर को रवाना किया गया। कुछ देर बाद आवेदक पदम सिंह ने अभियुक्त  के घर के बाहर आकर लेन देन हो जाने का ईषारा किया तभी ट्रेपदल अभियुक्त के घर के अंदर पहुंच गए। अभियुुक्त तखत पर बैठा हुआ था उसी अवस्था में उसे घेर लिया गया टेªप दल ने अपना परिचय दिया और निरीक्षक परस्ते ने अभियुक्त हाकिम ंिसह पटवारी से रिष्वत राषि के संबंध मंे पूछने पर पहले तो अभियुक्त द्वारा इंकार किया गया फिर पूछताछ करने पर रिष्वत राषि अपनी पहनी हुई बरमूडा की बाई जेम में रखी है बताया। विधिवत कार्यवाही के उपरांत अभियुक्त हाकिम सिंह के दोनों हाथों को धुलवाया तो घोल का रंग गुलाबी हो गया अभियुक्त हाकिम सिंह की पहनी हुई बरमुडा की बाई जेब से रिष्वत राषि को बरामद किया तो 1000 रूपए के 500रू का 01 नोट और 100-100 रू के 05 नोट थे कुल 06 नोट थे नोटो का मिलान करना सही पाया गया जप्ती सीलबंद व अन्य कार्यवाही के उपरांत मामला विवेचना में लिया गया विवेचना के दौरान सीडी परीक्षण हेतु भोपाल भेजी गई व अभियोजन स्वीकृति प्राप्त की गई विवेचना उपरांत अभियुक्त के विरूद्ध अभियोग पत्र विषेष न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया। अभियोजन द्वारा अपने साक्षियों को न्यायाालय के समक्ष परीक्षित कराया गया बचाव पक्ष ने भी अपने साक्ष्य माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया अभियोजन द्वारा लिखित एवं मौखित बहस पेष की गई और बचाव पक्ष को सुनने के उपरांत मामले में आई साक्ष्य के आधार पर  न्यायालय- विषेष न्यायाधीष भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम सागर श्री रामविलास गुप्ता जिला सागर की अदालत ने हाकिम सिंह वल्द गजराज सिंह ठाकुर उम्र 53 वर्ष पटवारी निवासी एच.आई.जी 103 दीनदयाल नगर सागर, स्थाई पता- ग्राम व पोस्ट चकेरी (विनेका) तहसील बण्डा जिला सागर को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 की धारा 7 एवं 13(1)(डी) सहपठित धारा 13(2) के तहत दोषी पाते हुए 4-4 वर्ष कारावास एवं 10000-10000 रूपए के अर्थदण्ड से दंडित किया।


                                                              




डॉ गौर विवि के चार कर्मचारियों में गिरी अनुशासनहीनता की गाज,कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सहित दो सस्पेंड,दो की सेवाएं समाप्त

डॉ गौर विवि के चार कर्मचारियों में गिरी अनुशासनहीनता की गाज,कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सहित दो सस्पेंड,दो की सेवाये समाप्त

सागर। डॉ हरीसिंह गौर केन्द्रीय विवि सागर के चार कर्मचारियों पर प्रशासन नेअनुशासनहीनता   को लेकर एक बड़ी कार्यवाई की है। इसमे विवि कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सहित दो को सस्पेंड और दो न्यूनतम वेतन भोगी कर्मचारियों को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है ।विवि के रजिस्ट्रार कर्नल राकेश मोहन जोशी  ने इसके आदेश जारी किए है। ये कर्मचारी विवि की कथित अनियमितताओं को लेकर आंदोलनों में शामिल हुए थे। इनको विवि विरोधी गतिविधियों को लेकर कारण बताओ नोटिस भी जारी किए गए थे।
विवि के कुलपति प्रो आर पी तिवारी ने  ने तीनबत्ती न्यूज़ से इस खबर की पुष्टि की है 
कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सहित चार पर हुई कार्यवाई

अधिकृत जानकारी के मुताबिक विवि कर्मचारी संघ के अध्यक्ष संदीप बाल्मीकि और गोपाल रजक को निलंबित किया गया है ।आदेश के मुताबिक  संदीप बाल्मीकि ने जनता के साथ आंदोलनों में हिस्सेदारी की और मीडिया में भ्रामक जानकारी देने का काम किया है। वही गोपाल रजक और संदीप बाल्मीकि ने 19 फरवरी को कार्यालयीन समय के दौरान अनुचित गतिविधियों में हिस्सा लिया।
इसके साथ ही विवि प्रशासन ने  न्यूनतम  भोगी कर्मचारियों अशोक मिश्रा और जयंत जैन को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है । ये भी 19 फरवरी को सागर में आयोजित विवि विरोधी गतिविधियों में शामिल हुए थे। 
विवि प्रशासन  की इस कार्यवाहि से हड़कम्प  मचा है।
विंनोद आर्य ★ तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

सीएम कमलनाथ का इस्तीफा, भाजपा विधायक दल की बैठक आज शाम को

 सीएम कमलनाथ का इस्तीफा, भाजपा विधायक दल की बैठक आज शाम को

भोपाल, एजेंसियां। मध्य प्रदेश में सियासी संकट के बीच सीएम कमलनाथ ने अपना इस्तीफा देने का फैसला किया है। उन्होंने भोपाल में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि वह आज राज्यपाल से मिलकर उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा। इससे पहले उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कर भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने मुझे पांच साल सरकार चलाने का बहुमत दिया था। लेकिन भाजपा ने प्रदेश की जनता के साथ धोखा दिया। लेकिन जनता उन्हें माफ नहीं करेगी।
इस बीच मध्य प्रदेश के निर्दलीय विधायक प्रदीप जायसवाल ने कमलनाथ के इस्तीफे की घोषणा के बाद कहा है कि मैंने कहा था कि जब तक कमलनाथ हैं, मैं उनका समर्थन करता रहूंगा। लेकिन मेरी प्राथमिकता मेरे निर्वाचन क्षेत्र के लोगों, उनके विकास और श्रमिकों का सम्मान है। मुझे लगता है कि अब नेतृत्व की अनुपस्थिति में यह संभव नहीं है।
उन्होंने आगे कहा कि निर्दलीय विधायक होने के नाते, अब मेरे पास और कोई विकल्प नहीं है, लेकिन अपने लोगों के विकास के लिए जो नई सरकार बनेगी, उसका समर्थन करने के लिए। मैंने उनसे(भाजपा) से बात की है।
भाजपा विधायक दल की बैठक शाम को शिवराज चुने जा सकते है नेता

भाजपा विधायक दल की बैठक आज शाम 5 बजे बुलाई गई है । जिसमे पूर्व सीएम शिवराजसिंह चौहान को फिर से चुना जा सकता है। 

गोरखनाथ मंदिर में बनता है गोबर से सोना

गोरखनाथ मंदिर में बनता है गोबर से सोना

@गिरीश पांडेय 
लखनऊ ।जिस चीज से धरती सोना (उर्वर) बनती है। हीरे-मोती (अनाज) उगलती है, वह काम भी गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में करीब पांच साल से हो रहा है। जी हां यह वही मंदिर (मठ) है जिसके पीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ तीन साल से उप्र के मुख्यमंत्री हैं।  मंदिर की गोशाला में 400 से अधिक देसी गायें हैं। एक गाय औसतन रोज 18 से 20 किलोग्राम गोबर देती है। मसलन यहां की गोशाला से रोज 7200 से 8000 किलोग्राम गोबर निकलता है। इसका बेहतर उपयोग हो। आसपास बेहतर सफाई रहे इसके लिए गोशाला से सटे ही वर्मी कंपोस्ट (केंचुआ खाद) बनाने की इकाइयां हैं। उस समय योगी जी ने अपनी देख-रेख में पूरे मन से इसे बनवाया था। इससे निकलने वाली खाद मंदिर के पौधों और फूल पत्तियों की हरियाली बढ़ाती है
जैविक खेती की क्रांति में होगी केंचुआ खाद की अहम भूमिका

विशेषज्ञों के अनुसार हमने अधिक पैदावार के लिए रासायनिक खाद एवं कीटनाशकों का बिना सोचे-समझे बेतहाशा प्रयोग किया। इनके जहर से धरती तो बीमार हुई ही। हमारा भोजन, भूगर्भ जल, यहां तक की मां का दूध भी इसकी जद में आ चुका है। भूमि, भोजन, पानी और सबसे बढक़र लोगों के स्वास्थ्य के लिए जैविक खेती और जैविक उत्पाद समय की मांग हैं। जैविक उत्पादों की बढ़ती मांग इसकी संभावनाओं का सबूत है। ऐसे में निकट भविष्य में जैविक खेती में क्रांति  लाजिमी है। स्वाभाविक है कि प्राकृतिक हलवाहा माने जाने वाले केंचुए की इसमें अहम भूमिका होगी।
वर्मी कंपोस्ट की खूबिया
इसमें अन्य जैविक खादों की तुलना में वर्मी कंपोस्ट में 5 गुना नाइट्रोजन, 8 गुना फास्फोरस, 11 गुना पोटाश, 3 गुना कैल्शियम और 2 गुना मैग्निशियम होता है। जिस खेत में इसका प्रयोग होता है उसकी सरंध्रता, पानी जज्ब करने की क्षमता बढ़ जाती है। भूमिगत जलस्तर और जलनिकासी की क्षमता भी बेहतर होती है। कालांतर में भूमि की भौतिक एवं रासायनिक संरचना सुधरने से हम जो भी उर्वरक और पोषक तत्व डालते हैं वे पौधों को आसानी से प्राप्य होते हैं। लिहाजा उपज बढ़ जाती है।

बेमिसाल होती है केंचुए की उत्पादन क्षमता

केंचुए की उत्पादन क्षमता भी बेजोड़ होती है। वह जो खाता है उसका उसका मात्र 5 से 10 फीसद ही अवशोषित करता है। बाकी वह कास्ट (मल) के रूप में निकाल देता है। यही कास्ट वर्मीकंपोस्ट होता है। केंचुआ खाद बनाने की प्रक्रिया भी आसान होती है। इसे अस्थाई छप्पर या टिन/एस्बेस्टस के शेड में भी बनाया जा सकता है। अब तो इंडियन वेटरनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों अधिक तापमान सहन करने वाली जयगोपाल नामक ऐसी देशज प्रजातियां विकसित कर ली है जिनसे वर्मी कंपोस्ट बनाने के लिए पेड़ों की छांव ही काफी होता है।
कुटीर उद्योग के रूप में भारी संभावना

जैविक खेती के प्रति बढ़ती रुझान और जैविक खाद की बढ़ती मांग के मद्देनजर वर्मी कंपोस्ट की कुटीर उद्योग के रूप में भारी संभावना है। गढ्ढे में गोबर की भराई, तापमान और नमी के नियंत्रण के लिए नियमित अंतराल पर पानी के छिडक़ाव, तैयार खाद को छानने, पैंकिंग और परिवहन के लिए लोगों की जरूरत होती है। इससे गांव के स्तर पर रोजगार बढ़ेगा। गोबर और अन्य अपशिष्ट पदार्थो का खाद बनाने में प्रयोग होने से पर्यावरण भी शुद्ध होगा। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन में भी मददगार होगा।
मुख्यमंत्री बनने के साथ ही योगी ने दिया अपनी सोच को विस्तार

उस समय उन्होंने बताया था कि अगर किसानों को वर्मी कंपोस्ट की खूबियों से वाकिफ कराया जाय तो यह गांव में कुटीर उद्योग का दर्जा ले सकता है। उनके अनुसार ऐसा हो तो इधर-उधर बिखरे गोबर के बेहतर सदुपयोग के नाते साफ-सफाई होने से पर्यावरण भी संरक्षित रहेगा। 
मुख्यमंत्री बनने के बाद ही उन्होंने इस संभावना पर काम भी किया। हर न्यायपंचायत स्तर पर वर्मी कंपोस्ट की इकाई के लिए अनुदान दिया गया। वह बार-बार कहते हैं कि गोशालाएं वर्मी कंपोस्ट और गो आधारित अन्य उत्पादों से आत्म निर्भर हो सकती हैं। हमीरपुर जिलों को जैविक खेती का मॉडल बनाने, हर मंडी में जैविक उत्पादों के लिए अलग जगह मुकर्रर करने, गो आधारित जीरो बजट की खेती को बढ़वा देने की योजना के पीछे भी उनकी यही सोच है।
-------------

केंचुआ खाद में प्राप्त पोषक तत्व फीसद में

जैविक कार्बन 9.15-17.78

नाइट्रोजन 2-2.8

फास्फोरस 1.2-2.5

पोटैशियम 0.15-0.60

सोडियम 0.6-030

कैल्शियम 22.67-70

मैग्नीश्यिम 22.67-70

इसके अलावा प्रति 100 ग्राम में कापर, लोहा, जिंक और सल्फर की मात्रा क्रमश: 2-9.5, 2-9.3, 5.7-11.4 और 129-550 मिलीग्राम होती है।

रोए और जमीन पर लेटे, तिहाड़ में इस तरह फांसी पर चढ़ाए गए चारों दरिंदे

रोए और जमीन पर लेटे, तिहाड़ में इस तरह फांसी पर चढ़ाए गए चारों दरिंदे

साभार।एबीपी न्यूज़

#आज निर्भया के माता पिता का संघर्ष खत्म हुआ और देश की बेटियों के लिए न्याय की उम्मीद जगी.

#जानिए वो 60 मिनट जब चारों दरिंदे रोए, जमीन पर लेटे और आखिरकार फांसी के फंदे पर झूल गए.



नई दिल्ली: सात साल 3 महीने 4 दिन बाद निर्भया को आखिरकार आज 20 मार्च को इंसाफ मिल गया. दिल्ली की तिहाड़ जेल की घड़ी में पांच बजकर तीस मिनट हुए और निर्भया के चारों गुनहगार फांसी पर लटका दिए गए. फांसी की खबर मिलते ही जेल के बाहर तालियां बजी और लोगों ने 'निर्भया जिंदाबाद' के नारे लगाए. आज निर्भया के माता पिता का संघर्ष खत्म हुआ और देश की बेटियों के लिए न्याय की उम्मीद जगी. जानिए वो 60 मिनट जब चारों दरिंदे रोए, जमीन पर लेटे और आखिरकार फांसी के फंदे पर झूल गए.

#सात साल बाद निर्भया को मिला इंसाफ, गैंगरेप के चारों दोषियों को तिहाड़ में फांसी पर लटकाया गया

#निर्भया के दोषियों को फांसी के बाद लोगों ने तिहाड़ जेल के बाहर बांटी मिठाई, इंकलाब जिंदाबाद के नारे लगाए

#निर्भया के दोषियों के वे आखिरी दो घंटे, सुबह 3:15 बजे जगाया गया, तय समय पर खींचा गया फांसी का लीवर

#सुबह साढ़े तीन बजे जगाने के बाद सबसे पहले चारों दोषियों को नहलाया गया और उसके बाद डॉक्टरों की टीम ने सभी का मेडिकल टेस्ट किया. मेडिकल टेस्ट में सभी दोषी पूरी तरह से फिट पाए गए. इसके बाद चारों दोषियों को फांसी के लिए तैयार किया गया और उन्हें काले रंग के कपड़े पहनाए.

वो 60 मिनट:

05.00 AM: सुबह करीब पांच बजे चारों दोषियों के पीछे की ओर हाथ बांधे गए और फिर उन्हें फांसी के तख्ते तक लाया गया. इस दौरान दो दोषी हाथ बंधवाने में आनाकानी कर रहे थे. बताया जा रहा है कि इस दौरान एक दोषी जोर-जोर से रोने लगा और जमीन पर लेट गया. जेल अधिकारियों ने उसे उठाया और फिर उसके हाथ बांधे.

05.10 AM: फांसी घर में लाने के बाद सभी दोषियों को कोर्ट की तरफ से जारी डेथ वारंट सुनाया गया और उन्हें बताया गया है कि उनको किस गुनाह के लिए फांसी दी जा रही है. इसके बाद दोषियों से उनकी आखिरी इच्छा पूछी गई. हालांकि अभी ये जानकारी नहीं मिली है कि दोषियों ने अपनी आखिरी इच्छा क्या बताई. इसके बाद चारों दोषियों को गले तक काला कपड़ा पहनाया गया.

05.20 AM: करीब पांच बजकर 20 मिनट पर चारों दोषियों को एक साथ फांसी के तख्त पर चढ़ाया गया. इसके बाद सभी के पैर बांधे गए. जेल अधिकारियों के निर्देशों पर जल्लाद पवन ने सभी के गले में फंदा पिरोया और ठीक साढ़े पांच बजे लीवर खींच दिया और चारों दोषी फांसी के फंदे पर झूल गए.

06.00 AM: फांसी के बाद चारों दोषियों को करीब आधे घंटे से चालीस मिनट तक फांसी घर के कुएं में ही लटका कर रखा गया. इसके बाद जेल में मौजूद डॉक्टर फांसी घर के कुएं में गए और शवों की मेडिकल जांच करके जेल प्रशासन को चारों की मौत का सर्टिफिकेट दिया

कोरोना वायरस। तृतीय /चतुर्थ श्रेणी के 50 फीसदी सरकारी कर्मचारी करेंगे अल्टरनेटिव में ड्यूटी

कोरोना वायरस।  तृतीय /चतुर्थ श्रेणी के 50 फीसदी सरकारी कर्मचारी करेंगे अल्टरनेटिव में ड्यूटी
भोपाल। मध्यप्रदेश शासन के सामान्य प्रशासन विभाग मंत्रालय ने समस्त अपर मुख्य सचिव,प्रमुख सचिव/सचिव, मंत्रालय, भोपाल, विभाग प्रमुख समस्त संभागीय आयुक्त/जिला कलेक्टर्स को  कोरोना वायरस (COVID-19) की रोकथाम के लिए आवश्यक निरोधक उपाय जारी करते हुए निःर्देश  दिए है कि सरकारी कार्यालयों में 31 मॉर्च तकतीसरी और चौथी श्रेणी के  कर्मचारियों की उपस्थिति रोटेशन में 50 फीसदी रहेगी। यह नियम पुलिस और अन्य जरूरी विभागों में लागू नही होगा। 
आदेश के मुताबिक लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, म0प्र0 शासन द्वारा जारी अधिसूचना दिनांक 18.02. 2020 जिसमें संपूर्ण म0प्र0 राज्य के लिए नोवल कोरोना (COVID-19) अधिसूचित संकामक
रोग घोषित किया गया है तथा भारत सरकार के कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय
के कार्यालय परिपत्र दिनांक 19.03.2020 में कोरोना वायरस (COVID-19) के रोकथाम हेतु
जारी उपायों के प्रकाश में समस्त मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों, विभाग प्रमुखों, संभागीय
आयुक्त, जिला कलेक्टर्स को निर्देशानुसार निम्नांकित निर्देश प्रसारित किये जाना प्रस्तावित

1. मंत्रालय एवं शासन के सभी प्रमुख कार्यालय अपने तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों में से
50 प्रतिशत कर्मचारियों की ही कार्यालय में उपस्थिति की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे तथा शेष
50 प्रतिशत कर्मचारी Alternate दिवस में कार्यालय में उपस्थित रहेंगे। जिन 50 प्रतिशत
कर्मचारियों को कार्यालय आने के लिए निषेध किया जाएगा वे अपने शासकीय कार्य के लिए
अपने मुख्यालय में रहकर निवास में ही रहेंगे तथा दूरभाष एवं संपर्क के समस्य माध्यमों पर
संपर्क किए जाने पर तत्काल कार्यशील होना सुनिश्चित करेंगे। इसके लिए सभी विभाग
प्रमुख/विभागाध्यक्ष इस संबंध में आवश्यक रोस्टर बनाया जाना सुनिश्चित करें। इस संबंध में
मंत्रालय के आस-पास रहने वाले शासकीय सेवकों को प्रथम दिन के रोस्टर में शामिल किया
जाए। प्रत्येक विभाग स्वयं यह सुनिश्चित करे कि इस प्रकार की व्यवस्था करते समय यह
सुनिश्चित किया जाए कि प्राथमिकता वाले शासकीय कार्य प्रभावित नहीं होने चाहिए।
2. जिन अधिकारियों/कर्मचारियों को रोस्टर के हिसाब से जिस दिन घर पर रहना है वे
टेलीफोन या इलेक्ट्रॉनिक माध्यम के संवाद के लिए कार्यालयीन समय में उपस्थित रहेंगे ताकि
उन्हें किसी भी तात्कालिकता की स्थिति में बुलाया जा सके।
3. इस प्रकार के निर्देश प्रत्येक विभाग द्वारा संबंधित अधीनस्थ कार्यालय, निगम मण्डलों के
लिए जारी किए जाएं।
4. ये निर्देश अत्यावश्यक सेवाएं (Essential Services) जैसे- स्वास्थ्य, पुलिस, पेयजल
व्यवस्था, विद्युत आपूर्ति, साफ-सफाई से जुड़ा अमला, अग्निशमन सेवाएं, दूरसंचार सेवाएं
इत्यादि पर लागू नहीं होगा।
5. राज्य शासन के समस्त कार्यालयों में संपर्क एवं जमाव को नियंत्रित करने के लिएआवश्यक व्यवस्थाएं की जाएं।
6. ये आदेश दिनांक 31.03.2020 तक लागू रहेगा। उक्त तिथि के बाद तत्समय की
परिस्थितियों के आधार पर पुनः परीक्षण कर आगामी निर्णय लिया जाएगा।


MP : दोपहर दो बजे होगा बहुमत परीक्षण

MP : दोपहर दो बजे होगा बहुमत परीक्षण 
भोपाल।  माननीय उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार 20 मार्च 2020 को आहूत होने वाली विधानसभा की कार्यवाही की कार्यसूची देर रात तक जारी  हुई। इसको लेकर भी राजनीतिक गहमागहमी चलती  रही। विधनसभा के प्रमुख सचिव ने सूची जाती कर दी।
नेता प्रतिपक्ष  भार्गव पहुचे रात में सदन
सूची रात में  जारी नही होने पर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव माननीय उच्चतम न्यायालय के आदेश की प्रति और अपना पत्र तामील करवाने आधी रात विधानसभा पहुँचे। नेता प्रतिपक्ष श्री भार्गव ने विधानसभा स्थित अध्यक्ष महोदय और प्रमुख सचिव महोदय के कक्ष में पहुंचे जहां माननीय अध्यक्ष जी और प्रमुख सचिव अपने अपने कक्षों में सूचना के बाद भी नहीं मिले जिसके बाद नेता प्रतिपक्ष दोनों के कमरों में उनकी टेबिल पर अपना पत्र और माननीय उच्चतम न्यायालय के आदेश की प्रति छोड़कर आ गए।

गुरुवार, 19 मार्च 2020

तीनबत्ती न्यूज़.कॉम

कोरोना वायरस: सेंट्रल जेल में नए बंदियों को रखा जा रहा है पहले आईशोलेशन वार्ड में ,कैदी बना रहे है फेस मास्क

कोरोना वायरस: सेंट्रल जेल में नए बंदियों को रखा जा रहा है पहले आईशोलेशन वार्ड में ,कैदी बना रहे है फेस मास्क

# उधर   कैदी  बना रहे है फेस मास्क ,सरकारी आर्डर मिले क्वालटी भी बेहतर

सागर। कोरोना वायरस का खोफ से सभी सतर्क और भयभीत है।जेलों में कैदियों की अपनी अलग मुसीबतें है। रोज नए कैदी भी आ रहे है । ऐसे में बचाव के लिए सागर सेंट्रल जेल मे आने वाले नए कैदियों को पहले आईशोलेशन वार्ड में रखा जा रहा है । उसके बाद कैदखाने में । तेजी से संख्या बढ़ने पर दूसरा वार्ड भी बनाया है। दूसरी तरफ कैदी सस्ते और बेहतर फेस मास्क भी बना रहे है । इससे सरकारी सप्लाई भी होने लगी है। 
नए हवालाती और बंदियों को आईसोलेशन वार्ड में
सेंट्रल जेल सागर में पहले से ही क्षमता से अधिक कैदी है। ऐसे में कोरोना जैसा वायरस से सुरक्षित रखना प्रसाशन के लिए अहम है। 
जेल अधीक्षक संतोष सोलंकी ने तीनबत्ती न्यूज़ .कॉम को बताया कि  बंदियों की सुरक्षा के लिहाज से  नए आने वाले बंदियों को पहले 10 दिनों तक आईसोलेशन वार्ड में रखा जा रहा है। इसके बाद कैदखाने में।  महिला वार्ड भी  अलग से बनाया गया है । अभी हाल ही में 85  कैदी आये है।  जेल में क्षमता से अधिक  बंदी है ।लेकिन सुरक्षा का पूरा इंतजाम है। कैदियों को लगातार हिदायतें बरतने की सलाह दी जा रही है । शासन से  मिले आदेशो का पालन कोरोना वायरस को लेकर की जा रही है।
बंदी बना रहे है मास्क
कोविड 19 वायरस से निपटने में सेनेटाईजर और फेसमास्क अहम है । इनकी कालाबाजारी और बढ़ते दाम भी समस्या बढा रहे है । ऐसे में एक अच्छी खबर सेंट्रल जेल सागर से आई है। जेल में बेहतर क्वालिटी के फेसमास्क बनाये जा रहे है। कलेक्टर प्रीति मैथिल ने पिछले दिनों हुई बैठक में जेल में मास्क बनाने निर्देशित किया था।
जेल अधीक्षक संतोष सोलंकी  ने तीनबत्ती न्यूज़ को बताया कि  जेल में हाथकरघा केंद्र होने के कारण खादी भी बन रही है । जिसका उपयोग फेसमास्क बनाने में उपयोग हो रहा है। जेल में सरकारी आर्डर भी मिलने लगे। डबल कपड़े  के इस मजबूत फेसमास्क को  बुन्देलखण्ड मेडीकल कालेज ,सेना,पीडब्ल्यूडी आदि महकमो से ऑडर मिलने पर सप्लाई शुरू कर दी है । इसकी कीमत दस रुपये है । शुद्ध खादी से बने इनकी  बेहतर क्वालिटी है  और पूर्ण सुरक्षित है। पूरे जेल परिसर क्षेत्र में कर्मचारी इन्ही मास्को का उपयोग करते नजर  आ रहे है। 

विंनोद आर्य ★ तीनबत्ती न्यूज़.कॉम

महार रेजिमेंट सेंटर में बने आईसोलेशन वार्डों का मेजर जनरल के साथ कलेक्टर ने लिया जायजा

महार रेजिमेंट सेंटर में बने  आईसोलेशन वार्डों का मेजर जनरल के साथ कलेक्टर ने लिया जायजा
सागर ।  नोवल कोरोना वायरस के नियंत्रण व रोकथाम के लिए जिला प्रषासन चौकस है। सागर जिले में कोरोना की रोकथाम के लिए एहतियात बरती जा रही है। इसके मददेनजर महार रेजीमेंट सेंटर में कोरोना के नियंत्रण के लिए बनाए जा रहे आईसोलेषन वार्ड, डाक्टर्स, पैरामेडिकल स्टॉफ के रूकने हेतु आवास व्यवस्था, भोजनालय, शौचालय आदि का जिला प्रषासन के अधिकारियों ने आर्मी अधिकारियों के साथ गुरूवार को जायजा लिया। इस अवसर पर मेजर जनरल  जेके शुक्ला चीफ ऑफ स्टॉफ 21-कार्पस, कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक, पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी, ब्रिगेडियर श्री संजय ठकरान,एडीएम कमांडेट श्री मुनीष गुप्ता, ब्रिगेडियर  आषित वाजपेयी, कमांडेट महार सेंटर, आयुक्त नगर निगम  आरपी अहिरवार, अपर कलेक्टर श्री अखिलेष जैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा एमएस सागर, सिविल सर्जन डा. व्हीएस तोमर सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।
सेना का 100 बिस्तर का वार्ड
नोवल कोरोना के खतरे को देखते हुए महार रेजीमेंट सेंटर में बॉयस हास्टल में  100 बिस्तर का आईसोलेषन वार्ड, फायरिंग रेंज क्षेत्र में 100 बिस्तर का आईसोलेषन वार्ड एवं मुख्य बेरक में 100 बिस्तर का आईसोलेषन वार्ड स्थापित किए गए है। आर्मी क्षेत्र में बने आईसोलेषन वार्डों में संचार सुविधा सुचारू रूप से संचालित हेतु रिलाईन्स एवं जिओ के टावर लगाए जा रहे है। वार्ड में सभी मूलभूत सुविधाएं मरीजों के लिए उपलब्ध कराई जाएगी। इसमें बिजली, पानी, पलंग, शौचालय, गद्दे, मॉस्क, सेनेटाइजर, दवाईयां, मेडिकल उपकरण, डाक्टर्स और पेरामेडिकल स्टॉफ सहित अन्य सामग्री उपलब्ध रहेगी। यहां पर महिलाओं और पुरूषों के लिए अलग-अलग व्यवस्थाएं रहेंगी। आईसोलेषन वार्ड की व्यवस्थाओं के संबंध में कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने आर्मी अधिकारियों के साथ चर्चा की। उन्होंने सीएमएचओ को इस संबंध में आवष्यक निर्देष दिए। आईसोलेषन वार्ड में रूकने वालों को संचार सुविधा उपलब्ध रहे। इसके लिए संचार का टावर लगाया जाएगा। आवष्यकता पड़ने पर बोर करा दिया जाएगा। जिससे पानी की दिक्कत न रहे। उन्होंने पुरूष और महिला मरीजों हेतु अलग से भोजनालय एवं शौचालयों की व्यवस्था करने के निर्देष दिए। साथ ही आईसोलेषन वार्ड के मुख्य द्वार पर सीसीटीव्ही कैमरे लगाने के निर्देष भी दिए। उन्होंने सभी वार्डों के मुख्य द्वारों पर एंट्री रजिस्टर एवं सेनेटाईजर, मास्क उपलब्ध कराने हेतु व्यवस्थाओं को सुनिष्चित किया जाए।

महिला बाल विकास विभाग की परियोजना अधिकारी को लोकायुक्त पुलिस ने 10 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा

महिला बाल विकास विभाग की परियोजना अधिकारी को लोकायुक्त पुलिस ने 10 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा

सागर।  लोकायुक्त पुलिस सागर ने बीना की महिला एवं बाल विकास विभाग की परियोंजना अधिकारी निशा रत्ले को 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है ।आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की नियुक्ति के एवज में रिश्वत मांगी थी। 
लोकायुक्त पुलिस निरीक्षक मंजू सिंह और बी एम द्विवेदी के नेतृत्व में ट्रेप की कार्यवाही हुई।

लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक रामेश्वर यादव के अनुसार  बीना के हासलखेड़ी ग्राम के वीरेंद्र सींग ठाकुर ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उसकी पत्नी ऋतु ठाकुर का आंगनवाड़ी कार्यकर्ता में चयन हुआ है इसके एवज में परियोजना अधिकारी निशा रतले द्वारा रिश्वत मांगी जा रही है। आज टीम ने 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। 
निरीक्षक मंजू सिंह ने बताया कि आज महिला बाल विकास बीना के कार्यालय में ट्रेप सम्बन्धी ककार्यवाहि की गई। 20 हजार की रिश्वत मांगी थी। पहली किश्त 10 हजार की लेते अधिकारी को ट्रेप किया गया है। 

बुधवार, 18 मार्च 2020

वर्णी कालोनी की चरनोई भूमि का मामला,सात दिन में मांगे दस्तावेज

वर्णी कालोनी की चरनोई भूमि का मामला,सात दिन में मांगे दस्तावेज
सागर। कलेक्टर श्रीमति प्रीति मैथिल द्वारा शहर के बीचोबीच पुरानी सब्जी के पास वर्णी कालोनी के राजस्व रिकार्ड में खसरा नम्बर 94/2, 95/2, 96/2, 99 में दर्ज लगभग ढाई एकड़ चरनोई भूमि के संबंध में दिये गये निर्णय के उपरांत नगर निगम प्रशासन द्वारा कार्यवाही प्रारंभ की गई है।  जिसके तहत् बुधवार को नगरदण्डाधिकारी  पवन बारिया, उपायुक्त डाॅ.प्रणय कमल खरे ने नगर निगम के अधिकारियों एवं सागर पटवारी के साथ स्थल का निरीक्षण किया एवं संबंधित व्यक्तियों से मिलकर उनके स्वामित्व संबंधी दस्तावेज नगर निगम में प्रस्तुत करने हेतु चर्चा की।
कलेक्टर के निर्णय के परिपालन में निगम प्रषासन ने चरनोई भूमि के कब्जाधारियों को 7 दिवस में स्वामित्व संबंधी दस्तावेज प्रस्तुत करने हेतु सूचना पत्र भेजे है, जिनमें पत्र क्रमांक 279 से 289 तक अरविंद पिता पूरनचंद जैन मकान नं. 221/268, चक्रेश जैन पिता भागचंद जैन मकान नं. 222/269, राजमल पिता भागचंद जैन मकान नं. 222/269, संदीप कुमार पिता विनोद कुमार जैन मकान नं. 223, फगुनामल मकान नं. 220/267/84/4, अशोक कुमार मकान नं. 220/267/84/4, घनश्यामदास मकान नं. 220/267/84/4, मोहनलाल पिता स्व.भावनदास मकान नं. 219/283, शिवप्रकाश पिता स्व.श्री शिवकुमार शुक्ला मकान नं. 218, शिवचंद पिता स्व.शिवकुमार शुक्ला मकान नं. 218/263, लीलावती पति स्व.श्री शिवकुमार शुक्ला मकान नं. 218/263 को नगर निगम द्वारा बुधवार को सूचना पत्र भेजे गये है।
उपायुक्त डाॅ.प्रणय कमल खरे ने बताया कि राजस्व रिकार्ड में दर्ज चरनोई भूमि के संबंध में कलेक्टर न्यायालय द्वारा दिये गये निर्णय के परिपालन में नगर निगम द्वारा कार्यवाही प्रारंभ कर दी गई है। संबंधित 11 लोगों को सूचना पत्र भेजकर 7 दिवस में स्वामित्व संबंधी दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिये कहा गया है। अगर संबंधित व्यक्ति द्वारा 7 दिवस के अंदर स्वामित्व संबंधी दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किये जाते है तो संबंधितों के विरूद्व नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी। निरीक्षण के दौरान सहायक यंत्री रमेश चैधरी, अतिक्रमण प्रभारी संजय सोनी, सागर पटवारी श्री नीलेश सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।
अमृत पार्क की विवादित भूमि के सीमांकन की कार्यवाही प्रारंभ
 नगर निगम द्वारा तिली अस्तपताल मार्ग पर छोटे तलाब से लगी हुई 9 एकडत्र भूमि पर अमृत योजना के अंतर्गत बनाये जा रहे पार्क की विवादित भूमि का नगर निगम आयुक्त  आर.पी.अहिरवार के निर्देशानुसार नगरदण्डाधिकारी श्री पवन बारिया, उपायुक्त डाॅ.प्रणय कमल खरे सहित नगर निगम के अधिकारियों ने छोटे तालाब के पास स्थल का निरीक्षण किया एवं सीमांकन करने की कार्यवाही प्रारंभ करायी। निरीक्षण के दौरान सहायक यंत्री रमेश चैधरी, एहफाज हुसैन सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

ATM तोड़कर केश निकालने वाला गिरोह पकड़ाया, सेंसर तोड़कर निकालते थे रुपये

ATM तोड़कर केश निकालने वाला गिरोह पकड़ाया, सेंसर तोड़कर निकालते थे रुपये,
सागर।एटीएम तोडकर पैसा निकालने वाले गिरोह को पुलिस को पकड़ने में पुलिस को सफलता मिली है । इसमे एटीएम का प्रबंधन करने वाली कम्पनी के कर्मचारियों की मदद मिली। यह गिरोह एटीएम का मोटर और डिस्पेसचर तोड़कर उससे पैसा निकाल लेते थे। इसका नुकसान  बैंक खाता धारकों की बजाय मेन्टेन्स करने वाली कम्पनी को भुगतना पड़ता था। पिछले कई महीनों से ये कम्पनी परेशान थी।गिरोह सागर  एवं अन्य जिलों एवं राज्यों में एटीएम , मोटर तथा सेन्सर तोडकर पैसे निकालने वाली गिरोह सकिय था। इसे सागर पुलिस द्वारा सिविल लाइन थाना क्षेत्र से पकडा ।
जिसका खुलासा एसपी  अमित साधी  अति पुलिस अधीक्षक प्रवीण भूरिया ,  योगेन्द्र सिंह भदौरिया नगर पुलिस अधीक्षक ने  में किया।  पिछले दिनों  इण्डियन ओवरसीस बैंक की मैनेजर कल्पना तिवारी ने मकरोनिया थाने  में  आवेदन दिया कि दिनाक 21 से 23 फरवरी तक अवकाश पर था।  24 फरवरी को वापिस आने पर पता चला कि बैंक शाखा के बाजू में बैंक का ATM है । जिसमें पैसा ट्रांजेक्शन  बन्द है। इसकी सूचना  एनसीआर इंजीनियर को दी।  एनसीआर इंजीनियर के आने पर ATM मशीन का केश ATM डिस्पेच र चेक किया उसने बताया कि किसी ने ATM के केश डिस्पेन्सर के साथ छेडछाड किया है एवं डिस्पेनसर  टूट गया है । ATM मशीन का केश टेली किया तो पता चला कि 10 , 000 रुपये कम है । फिर हमने क्षेत्रीय कार्यालय को सूचित किया और CCTV फुटेज चैक किया । 26 फरवरी को CCTV फुटेज पैक करने के लिये वेन्डर आया और CCTV फुटेज 3 दिन का पैक किया।  चेक करने पर पाया गया कि दिनांक 22 फरवरी  की सुबह  दो अज्ञात व्यक्ति द्वारा ATM से कैश डिस्पेन्सर के साथ छेड़छाड़कर अवैध तरीके से ATM मशीन से 10 , 000 रूपये निकाल कर ले  गये । जो उस घटना cctv कैमरे में कैद हो गई।रिपोर्ट पर थाना मकरोनिया मे धारा 380 के तहत मामला कायम कर लिया गया । 
इस तरह निकालते थे पैसे
गिरोह के लोग पहले  ATM से 500 रूपये का ट्रांजेक्शन  करके यह देखते है कि ATM मशीन में पैसे है कि नहीं । फिर पुन ATM मशीन से टाजेक्शन करते थे। उस समय  ATM मशीन से  पैसे निकालते समय  एक पेंचकस से  शटर असेम्बली ( जिससे पैसे बाहर आता है) में फंसाकर  मोटर एण्ड सेंसर तोड़ देते है । जिससे पसे बाहर आ जाते है । जिसे सेन्सर रीड नहीं कर पाता है।  जिससे इनके खाते से पैसा नही कटता था।  परन्तु ATM के बिजिल खाते से  पैसे कट जाते है । जिससे पैसे की कमी के कॉटन ATM  मशीन बन्द  हो जाती है । 
विवेचना में  किस खाते से  ATM का आपरेट हुआ। उस्की  जानकारी एवं होल्डर के मोबाईल नम्बर के आधार  पर जानकारी जुटाई गई।जिसमे अजय राठौर निवासी कानपर के
 नम्बर 6306180133 की लोकेशन मकरोनिया चौराहा के पास मिलने पर तलाश प्रांरभ की गई।  लोकेशन सिविल लाईन में   सेन्ट्रल बैंक ATM पास  मिलने पर पीसीआर पहुची। मौके पर साक्षी शेलेन्द्र साहू लोकेशन  सुपरवायजर , फाइनेंशियल लॉफ्टवेयर सिस्टम के सहयोग से सदेही मोहित शर्मा पिता कृष्ण कुमार  उम24साल निवासी जयनार रसूलाबाद कानपुर देहात और एक बजरंग  पितां  रामप्रताप सिंह निवासी गोविन्द नगर कानपुर को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गई ।जिसने बताया कि उसके साथी सोन उर्फ अजय राठौर , ज्ञानेन्द्र पाण्डे उर्फ रामू एवं अमित यादव कार से यूपी 74 एक्स 5222 सफेद गकी मालति डेजा से भाग गये है।  जो उक्त सदेहियों से तीनों साथियों की मोबाइल की लोकेशन ली गई जो आजय राठौर के मोबाइल की टावर लोकेशन सदेही सोनू उर्फ अजय राठौर एवं ज्ञानेन्द्र पाण्डेय को बरोदिया स्टैण्ड पर मिलने पर अभिरक्षा में लिया गया । एक सदेही अमित यादव मय कार के फरार हो गया था ।जिसे ललितपुर टोल प्लाजा के आगे मय वाहन कार यूपी 74 एफ्स 5222 को अभिरक्षा में लिया गया । 
 पूछताछ करने पर  आरोपी अजय राठौर , मोहित शर्मा , बजरंग , अंकित यादव एवं ज्ञानेंद्र पाण्डेय द्वारा आज भी ओवरसीज बैंक एटीएम मकरोनिया से 10 , 000 रुपये निकालना स्वीकार किया। पुलिस ने  धारा 380 ताहि04 ( डी ) आईटी एक्ट 2000 का कायम किया। आरोपियो ने अन्य एटीएम में  चोरी करना स्वीकार किया है। इनसे पूछताछ जारी है । 
इनका काम सराहनीय रहा
उक्त आरोपियों को गिरफ्तार करने में निरी0 उपमा सिंह धाना प्रभारी मकरोनिया , उप निरीक्षक अरविन्द सिंह , सउनि धर्मरिह मरावी , आर सुशील चौहान , तंजीम खान थाना सिविल लाईन, अमित शुल्ला सायबर सेल , सीसीटीव्ही प्रभारी उनि आर०एस०चौहान , कंट्रोल रूम प्रभारी आर पी चोबे  एवं एसआरव्ही - 1 पायलट शाहिद मिर्जा,राजेश्वरी और बसंत मिश्रा की सराहनीय भूमिका रही ।

आंगनवाड़ी केंद्रों में शाकाहार भोजन वितरित करने सीएम से मिले कांग्रेसी

आंगनवाड़ी केंद्रों में शाकाहार भोजन वितरित करने सीएम से मिले कांग्रेसी
सागर।आंगनबाड़ी केंद्रों मैं दिए जाने वाले पोषण आहार को लेकर प्रतिनिधि मंडल के साथ  सागर विधानसभा चुनाव  के प्रत्याशी श्री नेवी जैन ने आचार्या विध्या सागर जी के मंशा अनूरूप आगनबाड़ी में  शाकाहार भोजन के पक्ष में प्रदेश के मुख्य मंत्री कमलनाथ जी से मुलाकात कीऔर उन्होंने आंगनवाड़ी केंद्रों में वितरित किए जाने वाले पोषण आहार के संबंध में विस्तार से चर्चा की।  इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं शाकाहार के पक्ष में हूं कुछ आदिवासी अंचल में जरूर कुछ अन्य सामग्री वितरण की सूचनाएं प्रकाशित की गई हैं लेकिन मैं आचार्या विध्यासागर जी महाराज की मंशा का आदर करता हूँ ।  स्वयं सदैव शाकाहार का पक्षधर रहा हूं उन्होंने कहा शाकाहार ही एकमात्र पौष्टिक आहार है जिसे समूचे  मध्य प्रदेश की जनता को भी स्वीकार करना चाहीए| उन्होंने नेवी जैन की प्रशंसा की और कहा कि आपने इस सवाल को मेरे संज्ञान में लाया है जल्दी ही इस पर निर्णय किया जाएगा सागर के समूचे विकास को लेकर भी नेवी जैन  ने विस्तार से चर्चा की और कहा कि आप अधिकारियों को निर्देश दें कि आपके आगमन पर जो विकास कार्यों की योजनाएं तैयार की गई थी उन पर शीघ्र ही अमल हो पूरे प्रदेश की जनता में कमलनाथ सरकार के किए गए कार्यों, जैसे किसान कर्ज माफी, बिजली बिल मे भारी कमी, वृद्धावस्था पेंशन की राशि बढ़ाई जाने एवं गरीबों को आवास दिए जाने जैसी सौ बातों को लेकर जनता में प्रदेश की कमलनाथ सरकार का विश्वास बढ़ा है |प्रतिनिधिमंडल में श्री अशोक श्रीवास्तव, राम कुमार, पचौरी प्रदीप पांडे, सुल्तान कुरेशी सहित कई लोग शामिल थे

शराब के ठेके 409 करोड़ में हुए नीलाम, 131 करोड़ 43 लाख रूपये अधिक राजस्व मिला

शराब के ठेके 409 करोड़ में हुए नीलाम, 131 करोड़ 43 लाख रूपये अधिक राजस्व मिला
सागर ।सागर जिले में नई नीति के मुताबिक  वर्ष 2020-21 हेतु सागर जिले की 72 देशी मदिरा एवं 32 विदेशी मदिरा की दुकानों का 01 एकल समूह बनाया जाकर ई-टेण्डर (क्लोज बिड एवं ऑक्शन) प्रक्रिया के माध्यम से निष्पादित किये जाने पर कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक के मार्गदर्शन में श्रीमति वंदना पाण्डेय प्र.सहायक आयुक्त आबकारी के अथक प्रयासों से निर्धारित तिथि दिनांक 12 मार्च 2020 तक 02 इच्छुक टेण्डरदाताओं ने निष्पादन प्रक्रिया में भाग लिया । वर्ष 2020-21 हेतु निर्धारित आरक्षित मूल्य 3,47,11,34,987/- के विरूद्ध एच-1 बिडर द्वारा राशि रूपये 3,47,12,00,000/-का ऑफर अंकित किया गया ।
  दोनों ई-टेण्डरदाताओं के मध्य ऑक्शन हेतु नियत तिथि दिनांक 16 मार्च 2020 को कड़ी प्रतिस्पर्धा होकर निर्धारित आरक्षित मूल्य 3,47,11,34,987/- के विरूद्ध अंतिम उच्चतम बिड 4,09,12,00,000/- एच-1 बिडर में.टीकाराम कोरी एण्ड कंपनी पार्टनर श्री सतीश साहू सागर द्वारा अंकित की गयी, जो कि निर्धारित आरक्षित मूल्य रूपये  3,47,11,34,987/- से रूपये 62,00,65,013/- एवं गतवर्ष 2019-20 के वार्षिक मूल्य रूपये 2,77,69,07,990/- के विरूद्ध रूपये 1,31,42,92,010/- अधिक राजस्व  प्राप्त हुआ ।
कांग्रेस नेता कमलेश बघेल ने शिवांश डेवलपर्स कम्पनी के रूप में बोली लगाई थी। लेकिन अंत मे उनको ठेका नही मिला।पूर्व मन्त्री गोविन्द राजपूत के समर्थकों में सेहै  

आठ माह के मासूम की हत्यारे को आजीवन कारावास

आठ माह के मासूम की हत्यारे को आजीवन कारावास
सागर। न्यायालय- अपर सत्र न्यायाधीष श्री रघुवीर प्रसाद पटैल देवरी जिला सागर की अदालत ने आरोपी विजय पिता देवी सिंह लड़िया उम्र 30 वर्ष निवासी खमरिया, टपरिया थाना महाराजपुर जिला सागर को धारा 302 भादवि में दोषी पाते हुए आजीवन कारावास एवं 1000 रूपए के अर्थदण्ड से दंडित किया। म.प्र. शासन की ओर से पैरवी वरिष्ट सहा. जिला अभियोजन अधिकारी  श्री कपिल पाण्डे, देवरी ने की।
मामला संक्षिप्त में इस प्रकार है कि दिनांक 06.06.2017 को दिन के सुबह 11ः30 बजे करीब ग्राम खमरिया स्थित हेमराज के घर पर आँगन में हेमराज का बेटा मोहित जो लगभग 8 माह का था लेटा हुआ था तभी अचानक आरोपी विजय हाथ में डण्डा लेकर आया और मोहित को सिर पर डण्डा मार दिया तभी मोहित के चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर हेमराज, उसकी माँ और पिता नन्हे भाई जब मोहित को  बचाने के लिए दौड़े तभी आरोपी ने उन लोगोें के साथ में भी डण्डे से मारपीट कर चोटे पहुँचाई। आरोपी द्वारा मोहित को सर पर डण्डा मारने से उसकी मोके पर ही मृत्यु हो जाने के संबंध मंें थाना महाराजपुर को सूचित किया गया। जिसने देहाती मर्ग इंटीमेषन पंजीबद्ध कर जांच में लिया गया। मर्ग जांच उपरांत महाराजपुर थाने ने मामला पंजीवद्ध कर विवेचना में लिया।  अनुसंधान पूर्ण कर अभियोग पत्र आरोपी के विरूद्ध माननीय न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। अभियोजन द्वारा न्यायालय के समक्ष साक्ष्यों को सूक्ष्मता से प्रस्तुत किया गया। मामले में आयी साक्ष्य के आधार पर एवं अभियोजन के तर्को से सहमत होकर न्यायालय अपर सत्र न्यायाधीष श्री रघुवीर प्रसाद पटैल देवरी जिला सागर की अदालत ने आरोपी विजय पिता देवी सिंह लड़िया उम्र 30 वर्ष निवासी खमरिया, टपरिया थाना महाराजपुर जिला सागर को धारा 302 भादवि में दोषी पाते हुए आजीवन कारावास एवं 1000 रूपए के अर्थदण्ड एवं धारा 323 (3 काउंट) भादवि प्रत्येक काउंट के लिए 06 माह का सश्रम कारावास से दंडित किया।

न्यायालयों में ऑडियो रिकार्डिंग सहित सी.सी.टी.व्ही. कैमरे लगाए जाएंगे ,मंत्रि-परिषद के निर्णय

न्यायालयों में ऑडियो रिकार्डिंग सहित सी.सी.टी.व्ही. कैमरे लगाए जाएंगे
,मंत्रि-परिषद के निर्णय
भोपाल। मुख्यमंत्री  कमल नाथ की अध्यक्षता में मंत्रालय में हुई मंत्रि-परिषद की बैठक में मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के समस्त अधीनस्थ न्यायालयों में ऑडियो रिकार्डिंग सहित सी.सी.टी.वी.कैमरे लगाने के लिये 125 करोड़ 89 लाख रूपये की प्रशासकीय एवं वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गयी। इस परियोजना को तीन भागों में विभाजित कर प्रथम वर्ष 2020-21 के लिये 40 करोड़ रूपये, द्वितीय वर्ष 2021-22 के लिये 50 करोड़ रूपये तथा तृतीय वर्ष 2022-23 के लिये 35 करोड़ 89 लाख रूपये का आवंटन उपलब्ध कराया जायेगा।
मंत्रि-परिषद के निर्णय अनुसार परियोजना को मध्यप्रदेश के सम्पूर्ण न्यायालयों में लागू करने के पूर्व जिला जबलपुर के न्यायालयों (जिला एवं तहसील न्यायालयों) में सर्वप्रथम लागू किया जाकर प्रस्तावानुसार सी.सी.टी.वी. कैमरे लगाए जाएंगे। यहां के सी.सी.टी.वी. संचालन की सफलता के बाद प्रदेश के अन्य जिलों के न्यायालयों में सी.सी.टी.वी. कैमरे लगाए जाएंगे।
तीन नये जिलों के गठन की सैद्धांतिक स्वीकृति
मंत्रि-परिषद द्वारा प्रदेश में तीन नये जिलों चाचोड़ा, मैहर और नागदा के गठन की सैद्धांतिक स्वीकृति दी गई।
स्टेट सिविल सप्लाई कार्पोरेशन को 26000 करोड़ की निरूशुल्क शासकीय प्रत्याभूति स्वीकृत
मंत्रि-परिषद ने मध्यप्रदेश स्टेट सिविल सप्लाई कार्पोरेशन को प्रदेश में विकेद्रीकृत उपार्जन योजनान्तर्गत खाद्यान्न आदि के उपार्जन, सार्वजनिक वितरण प्रणाली एवं अन्य शासकीय योजनाओं के संचालन, डेफिसिट पूर्ति और वर्तमान जारी वित्तीय व्यवस्था की निरंतरता के लिये राष्ट्रीकृत/शेडयूल्ड/जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक/नाबार्ड एवं सार्वजनिक वित्तीय संस्थाओं से धनराशि उधार लेने के लिये 26000 करोड़ रूपये की निरूशुल्क शासकीय प्रत्याभूति की स्वीकृति वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिये देने का निर्णय लिया है। साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि उपार्जन में अधिक राशि की आवश्यकता होने पर आरबीआई की फूड क्रेडिट लिमिट, जिसकी ब्याज दर कुछ अधिक है, प्राप्त की जा सकेगी।
मंत्रि-परिषद ने  सरदार सरोवर परियोजना के संबंध में उच्चतम न्यायालय द्वारा दिये गये आदेश के परिपालन में उच्च न्यायालय से सेवा निवृत्त न्यायाधीश श्री शम्भू सिंह, श्री सैय्यद अली नकवी, श्री आई.एस.श्रीवास्तव, श्री एस.एल.जैन और श्री एस.एस.द्विवेदी की संविदा नियुक्ति अवधि में पूर्व निर्धारित शर्तो के अधीन 1 अप्रैल 2020 से 31 मार्च 2021 तक अथवा प्रकरण को निराकृत होने तक (जो भी पहले हो) वृद्धि करने का निर्णय लिया।  
मंत्रि-परिषद द्वारा नर्मदा संकुल परियोजनाओं के शिकायत निवारण प्राधिकरण में भारतीय प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी श्री विनोद सेमवाल तथा श्री अरुण कोचर को सदस्य (प्रशासनिक) तथा श्री अब्दुल जब्बार खान सेवा निवृत्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश को सदस्य (न्यायिक) के पद पर संविदा अवधि में 1 अप्रैल 2020 से 31 मार्च 2021 तक अथवा प्रकरणों का निराकरण होने तक (जो भी पहले हो) वृद्धि का निर्णय लिया गया। इसी प्रकार, भारतीय प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी श्री चतुर्भुज सिंह की संविदा नियुक्ति अवधि में 31 दिसम्बर 2020 अथवा प्रकरणों का निराकरण होने तक (जो भी पहले हो) वृद्धि का निर्णय लिया गया। मंत्रि-परिषद द्वारा श्री तारकेश्वर सिंह सेवा निवृत्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश को शिकायत निवारण प्राधिकरण (नर्मदा संकुल परियोजनाएँ) में सदस्य (न्यायिक) के पद पर कार्यभार ग्रहण करने के दिनांक से एक वर्ष अथवा शिकायत निवारण प्राधिकरण के कार्यकाल  तक, जो भी पहले हो, के लिये संविदा नियुक्ति प्रदान की गयी।                              

दिग्विजय सिंह पहुचे बेंग्लुरू ,बोले राज्यसभा प्रत्याशी हूँ, विधायक मेरे वोटर है,मिलने नही दिया जा रहा, पुलिस ने हिरासत में लिया

दिग्विजय सिंह पहुचे बेंग्लुरू ,बोले राज्यसभा प्रत्याशी हूँ, विधायक मेरे वोटर है,मिलने नही दिया जा रहा,  पुलिस ने हिरासत में लिया
नई दिल्ली। एमपी का सियासी ड्रामा कर्नाटक पहुच गया। पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा प्रत्याशी दिग्विजय सिंह आज तड़के बेंगलुरु के उस होटल में पहुचे जहा सिंधिया समर्थक विधायक ठहरे है । दिग्विजय सिंह का कहना है कि में प्रत्याशी हूँ। अपने विधायक से मिलने आया हूँ। मिलने नही दिया जा रहा है ।  कमलनाथ सरकार के आधादर्जन मंत्रियों के साथ पहुचे दिग्विजय  धरने पर बैठ गए। बाद में पुलिस ने हिरासत में ले लिया।
उन्होंने ट्वीट किया कि  "मैं बेंगलूरू में अपने विधायकों से मिलने आया हूँ।कर्नाटक पुलिस हमें मिलने नहीं दे रही है।मैं गांधीवादी हूँ, निहत्था हूँ। उनकी सुरक्षा के लिए कोई ख़तरा नहीं हूँ। मैं गुप्त रूप से नहीं, खुलेआम मिलने आया हूँ।लेकिन BJP उन्हें तालाबंद रखना चाहती है और लोकतंत्र का अपहरण कर लिया है।"

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह बंगलूरू के रामदा होटल के पास धरने पर बैठ गए हैं। कथित तौर पर पुलिस द्वारा उन्हें होटल के अंदर नहीं जाने देने के बाद से ही वो धरने पर बैठे हुए हैं। पुलिस उन्हें वहां से हटाने की कोशिश कर रही है। इसी होटल में मध्यप्रदेश के कांग्रेस के 21 विधायक ठहरे हुए हैं। पुलिस ने दिग्विजय सिंह को एहतियातन हिरासत में ले लिया गया है।
दिग्वियज सिंह ने कहा कि पुलिस हमें अपने विधायकों से मिलने नहीं दे रही है। मैं मध्यप्रदेश से राज्यसभा का उम्मीदवार हूं, 26 मार्च को मतदान होना है। मेरे विधायकों को यहां रखा गया है, वे मुझसे बात करना चाहते हैं, उनके फोन छीन लिए गए हैं, पुलिस मुझे यह बोलने नहीं दे रही है कि विधायकों के लिए सुरक्षा खतरा है।
पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस से राज्यसभा प्रत्याशी दिग्विजय सिंह आज सुबह अचानक कांग्रेस विधायकों जिसमें मंत्री तरुण भनोत, सज्जन वर्मा, हर्ष यादव,जीतू पटवारी, विधायक कान्तिलाल भूरिया, कुणाल चौधरी के साथ बेंगलूर पहुचें और बंधक बनाये गए कांग्रेस के 16 विधायकों से मिलने जानें लगे तो वहा पुलिस ने तानाशाही करते हुए उनकौ बाहर रखा और जब दिग्विजय सिंह मिलने की बात पर धरना देने पहुचे तो उन्हे गिरफ्तार भी किया। 
परिवार के सदस्य अपने परिजनों से और श्री दिग्विजय सिंह अपने वोटरों से मिलने पहुंचे हैं ।

दिग्विजय सिंह पहुचे बेंग्लुरू ,बोले राज्यसभा प्रत्याशी हूँ, विधायक मेरे वोटर है,मिलने नही दिया जा रहा, पुलिस ने हिरासत में लिया


दिग्विजय सिंह पहुचे बेंग्लुरू ,बोले राज्यसभा प्रत्याशी हूँ, विधायक मेरे वोटर है,मिलने नही दिया जा रहा,  पुलिस ने हिरासत में लिया
नई दिल्ली। एमपी का सियासी ड्रामा कर्नाटक पहुच गया। पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा प्रत्याशी दिग्विजय सिंह आज तड़के बेंगलुरु के उस होटल में पहुचे जहा सिंधिया समर्थक विधायक ठहरे है । दिग्विजय सिंह का कहना है कि में प्रत्याशी हूँ। अपने विधायक से मिलने आया हूँ। मिलने नही दिया जा रहा है ।  कमलनाथ सरकार के आधादर्जन मंत्रियों के साथ पहुचे दिग्विजय  धरने पर बैठ गए। बाद में पुलिस ने हिरासत में ले लिया।
उन्होंने ट्वीट किया कि  "मैं बेंगलूरू में अपने विधायकों से मिलने आया हूँ।कर्नाटक पुलिस हमें मिलने नहीं दे रही है।मैं गांधीवादी हूँ, निहत्था हूँ। उनकी सुरक्षा के लिए कोई ख़तरा नहीं हूँ। मैं गुप्त रूप से नहीं, खुलेआम मिलने आया हूँ।लेकिन BJP उन्हें तालाबंद रखना चाहती है और लोकतंत्र का अपहरण कर लिया है।"

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह बंगलूरू के रामदा होटल के पास धरने पर बैठ गए हैं। कथित तौर पर पुलिस द्वारा उन्हें होटल के अंदर नहीं जाने देने के बाद से ही वो धरने पर बैठे हुए हैं। पुलिस उन्हें वहां से हटाने की कोशिश कर रही है। इसी होटल में मध्यप्रदेश के कांग्रेस के 21 विधायक ठहरे हुए हैं। पुलिस ने दिग्विजय सिंह को एहतियातन हिरासत में ले लिया गया है।
दिग्वियज सिंह ने कहा कि पुलिस हमें अपने विधायकों से मिलने नहीं दे रही है। मैं मध्यप्रदेश से राज्यसभा का उम्मीदवार हूं, 26 मार्च को मतदान होना है। मेरे विधायकों को यहां रखा गया है, वे मुझसे बात करना चाहते हैं, उनके फोन छीन लिए गए हैं, पुलिस मुझे यह बोलने नहीं दे रही है कि विधायकों के लिए सुरक्षा खतरा है।
पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस से राज्यसभा प्रत्याशी दिग्विजय सिंह आज सुबह अचानक कांग्रेस विधायकों जिसमें मंत्री तरुण भनोत, सज्जन वर्मा, हर्ष यादव,जीतू पटवारी, विधायक कान्तिलाल भूरिया, कुणाल चौधरी के साथ बेंगलूर पहुचें और बंधक बनाये गए कांग्रेस के 16 विधायकों से मिलने जानें लगे तो वहा पुलिस ने तानाशाही करते हुए उनकौ बाहर रखा और जब दिग्विजय सिंह मिलने की बात पर धरना देने पहुचे तो उन्हे गिरफ्तार भी किया। 
परिवार के सदस्य अपने परिजनों से और श्री दिग्विजय सिंह अपने वोटरों से मिलने पहुंचे हैं ।

कोरोना वायरस:भीड़ को नियंत्रित करने रेलवे प्लेटफार्म अब 50 रु का मिलेगा

कोरोना वायरस:भीड़ को नियंत्रित करने रेलवे प्लेटफार्म अब 50 रु का मिलेगा 
 
जबलपुर . पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर मंडल के 11 स्टेशनों पर बुधवार 18 मार्च से प्लेटफार्म टिकिट 10 रु के स्थान पर अब 50 रूपये कर दिया गया है. इस सम्बन्ध में वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक श्री मनोज कुमार गुप्ता ने बताया कि करोना वायरस से रेल यात्रियों की सुरक्षा के तहत स्टेशन पर भीड़ को नियंत्रित करने के उद्देश को लेकर मंडल रेल प्रबंधक श्री संजय विश्वास के अनुमोदन से आज 18 मार्च से रेलवे प्लेटफार्म टिकिट की दर बढ़ा कर 50/- प्रति यात्री कर दी गयी है.
                     श्री गुप्ता ने बताया कि जबलपुर रेल मंडल के जबलपुर, मदन महल,कटनी,मैहर,सतना,रीवा, सागर, दमोह,कटनी मुडवारा, नरसिंहपुर एवं पिपरिया स्टेशन पर अब लोगो को प्रवेश करने के लिए प्रति व्यक्ति 50/- रु प्लेटफार्म टिकिट के लिए जायेगे.
              देश भर में रेलवे स्टेशन ही ऐसा साफ्ट एवं पब्लिक प्लेस है जहाँ कोविड-19 अथार्त करोना वायरस से बचाव हेतु  एहतियाती कदम रेलवे द्वारा उठाये जा रहे है इसी कड़ी में मंडल रेलवे ने उक्त निर्णय लेकर लोगो  के स्टेशन प्रवेश को लेकर यह कदम उठाया है.इसके तहत अब स्टेशन में अन्दर जाने वाले प्रत्येक व्यक्ति से प्रवेश के समय ही चल टिकिट निरीक्षको  द्वाराप्लेटफार्म टिकिट पुछा जायेगा तथा बिना प्लेटफार्म अथवा उचित टिकिट ना होने पर प्रवेश नहीं दिया जायेगा. श्री गुप्ता ने आगे बताया कि  इसके अतिरिक्त स्टेशन पर रेलवे के फ्रंट लाईन के कर्मचारियों को भी मास्क मुहैया किये जा रहे है ताकि वे इसे पहन कर इन्फेक्शन से बचे तथा  अपनी ड्यूटी एवं  यात्रियों की सुरक्षा में सहयोग प्रदान कर सके।

मंगलवार, 17 मार्च 2020

लायंस क्लब इंटरनेशनल डिस्ट्रिक्ट के डिस्ट्रिक्ट गवर्नर लायन आरजी पाठक अधिकारिक यात्रा पर सागर में

लायंस क्लब इंटरनेशनल डिस्ट्रिक्ट के डिस्ट्रिक्ट गवर्नर लायन आरजी पाठक अधिकारिक यात्रा पर सागर में

सागर ।लायंस क्लब इंटरनेशनल डिस्ट्रिक्ट के डिस्ट्रिक्ट गवर्नर लायन आरजी पाठक अपनी अधिकारिक यात्रा हेतु सागर पहुचें.
 लायंस  ऑफ सागर के संयुक्त तत्वाधान में सागर मेन सागर झील सागर स्मार्ट और लायंस क्लब सागर डायमंड चारों क्लब के अध्यक्षों द्वारा उनका स्वागत किया गया. लायन श्री पाठक ने कहा कि सेवा और समर्पण के साथ सागर के सभी लायंस अपनी गतिविधियों सुचारू रूप से कर समाज में अपना योगदान दे रहे है. किसी व्यक्ति को सम्मानित करने के पीछे मकसद होता है कि  उसे जो सम्मान मिला है उसके माध्यम से उसके  अंदर सेवा भाव और जागृत हो सम्मान से व्यक्ति का उत्साहवर्धन होता है. लायंस क्लब्स इंटरनेशनल द्वारा जो भी अवार्ड क्लबो मिले उनको  सभी क्लब पदाधिकारियो गवर्नर द्वारा वितरित किया गया. इस अवसर पर सभी अध्यक्ष एमके जैन, मनीष नायक संगीता मुखर्जी अनुरोध तिवारी के साथ लायन आरडी शर्मा डॉ मुखरया विभा दुबे सुष्मिता ठाकुर अनिल दिवाकर चक्रेश सिंघई सहित सभी लायंस उपस्थित थे.

भारतीय सभ्यता के सूत्रधार महान विभूति थे भगवान आदिनाथ-मुनि प्रमाण सागर

भारतीय सभ्यता के सूत्रधार महान विभूति थे भगवान आदिनाथ-मुनि प्रमाण सागर

#भाग्योदय में ऐतिहासिक आगवानी हुई मुनि संघ की
सागर।  युग के आदि में अषी,मसी और कृषि विद्या वाणिज्य यह जीवन  निर्माण की प्रमुख बातें हैं बीजों का निर्माण भी उनके द्वारा हुआ है। उन्होंने निर्वाह से लेकर निर्वाण तक का पाठ पढ़ाया है ऋग्वेद में 141 स्थानों पर भगवान ऋषभदेव का उल्लेख किया गया है। 
यह बात आचार्य गुरुदेव श्री 108 विद्यासागर महाराज के परम प्रभावक शिष्य शंका समाधान के प्रवर्तक गुडायतन के प्रणेता मुनिश्री प्रमाणसागर महाराज ने भाग्योदय तीर्थ में आज पहले दिन के प्रवचन के अवसर पर कहे। 
उन्होंने कहा कि भारत का नाम भी भगवान आदिनाथ के पुत्र भरत भगवान के नाम के कारण पड़ा है। भगवान ऋषभदेव का उल्लेख अनेकों ग्रंथों में है भागवत में भी उनके 10 वे अवतार का उल्लेख किया गया है। भगवान आदिनाथ का स्मरण करने के बराबर है 68 तीर्थों पर जाना उतना पुण्य मिलता है। उन्होंने कहा कि वे भारतीय संस्कृति का मूल आधार थे वैदिक धर्म के पूर्व सिंधु घाटी की सभ्यता के पूर्व भगवान ऋषभदेव आराध्य थे इसका उल्लेख लिखा हुआ है।  मुनि श्री ने कहा कि भाग्योदय में बनने वाला सर्वतो भद्र जिनालय जनहितकारी योजना है इससे सब का कल्याण होगा आज इस मंदिर की कार्यशाला देखने का अवसर प्राप्त हुआ मन गदगद हो गया भारत में 9 लाख घनफुट पत्थर से बनने वाला यह एकमात्र मंदिर है जो चतुर्मुखी होगा। भाग्य-उदय तो सागर का होना था। इसलिए गुरुदेव के सानिध्य में आज से 3 दशक पूर्व यहां पर भाग्योदय का शिलान्यास हुआ था आज यह सब अपने मूर्त रूप में आ गया है तो निश्चित रूप से यहां का उद्धार भी अपने आप हो रहा है। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड की धरती बड़ी उर्वरा धरती है पहले यहां पर साधन अल्प थे जितना संपन्न आज है। उतनी ही उदारता से बुंदेलखंड के लोग दान देने में पीछे नहीं है। यह तो वह धरा है जहां सूखी रोटी खाकर भी लोग घी का दीपक जलाते हैं। बुंदेलखंड की अच्छी योजनाओं की शुरुआत यहां पर हुई है और लोगों ने दिल खोलकर दान दिया है। अपना सर्वस्व अर्पित करके बुंदेलखंड को देने की जो परंपरा यहां पर है उसके कारण से जो पहले लोग साधारण थे आज साधन संपन्न हो गए हैं। यह गुरुदेव के आशीर्वाद का एक कारण भी है भाग्योदय पर लोग पहले टीका टिप्पणी करते थे आज वही लोग भाग्योदय की प्रशंसा करने में पीछे नहीं है। गुरुदेव ने जो कृपा बरसाई है मंदिर के निर्माण के लिए आप सभी लोग उससे वंचित ना हो और सभी अपने धन का सदुपयोग इस मंदिर के निर्माण में अवश्य करें।

आदिनाथ भगवान का जन्मकल्याणक महोत्सव मनाया

आदिनाथ भगवान का जन्मकल्याणक महोत्सव मनाया
सागर। श्री १००८ आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर अतिशय क्षेत्र काकागंज सागर में  चैत वदी नवमी दिनांक १७ मार्च २०२० दिन मंगलवार को काकागंज के बड़े बाबा श्री १००८ आदिनाथ भगवान की जन्मकल्याणक महोत्सव बड़े धूम धाम से मनाया गया . 
ट्रस्ट कमेटी के अध्यक्ष डॉ  सुनील जैन ने बताया कि कार्यक्रम की शुरुआत बड़े बाबा के प्रक्षाल से हुए , तत्पश्चात चयनित पात्रों में श्री आशीष जी सेसाई द्वारा श्री आदिनाथ भगवान , वीरेंद्र कुमार द्वारा श्री शांतिनाथ भगवान और श्री दयाचंद  श्री महावीर भगवान को अभिषेक पीठ पर विराजमान किया गया , उपस्थित भक्तों द्वारा अभिषेक उपरांत , समस्त जगत की शांति के लिए शांतिधारा की गई . शांतिधारा का सौभाग्य छह पुण्यशाली भक्तों को प्राप्त हुआ . प्रथम शांतिधारा श्री वीरेन्द्र कुमार नीरज कपिल वर्धमान कालोनी ,  द्वितीय शांतिधारा का सौभाग्य श्री आशीष जी सेसाई श्री सुशील दिनेश बहेरिया श्री दयाचंद प्रदीप कुमार , राजेंद्र कुमार विद्या टाइपिंग ,श्री नितिन कुमार सिंगापुर स्वस्थ लाभ हेतु और इस जगत से करोना वाइरस से मुक्ति दिलाने .क़ी कामना से शांतिधारा करने का पुण्यार्जन किया ।इस अवसर पर नवयुवक मंडल द्वारा २१०० रजत श्रीफल , स्वर्ण जड़ित अष्ट द्रव्य तैयार की गयी थी , रजत एवं स्वर्ण मयी अष्ट द्रव्य की प्रथम थाली डॉ चक्रेश जैन सहपरिवार द्वारा समर्पित की गयी पूजन उपरांत बड़े बाबा के चित्र का अनावरण नवयुवक मंडल के प्रमुख सदस्यों द्वारा वीरू भाई के साथ किया गया . आचार्य श्री के  चित्र का अनावरण काकागंज की महिला मंडल द्वारा किया गया . 
दीप प्रज्ज्वल ट्रस्ट कमेटी के  अध्यक्ष डॉ सुनील जैन , मंत्री श्री दयाचंद , कोषाध्यक्ष श्री प्रमोद चावल , राजेश पटना , राजेंद्र सुमन द्वारा किया गया. मंगल उद्बोधन ब्रह्म चारिणी बहिन विमलेश दीदी द्वारा दिया गया , आपने आदिनाथ भगवान के अतिशय के बारे में बताया , कहा कि अतिशय धन पैसे आने से नहीं मानना चाहिए, अपितु अपनी आत्मा की विसिद्धु को मानना चाहिए . उद्बोधन पश्चात स्वर्ण कलशों से अभिषेक करने हेतु पात्रों का चयन किया गया . प्रथम महा मस्तकभिषेक करने का सौभाग्य डॉ सुनील जैन , राजेश जैन , रोहित ,सुयश , मोहित जैन को प्राप्त हुआ . श्रीमान विरेंद्र , विवेक , विपिन को द्वितीय अवसर अभिषेक करने का प्राप्त हुआ . डॉ चक्रेश , शैलेंद्र , सुशील बहेरिया , प्रदीप कुमार प्रसन्न कुमार , दयाचंद प्रदीपकुमार , सुभाष सूत,प्रमोद प्रांजल , श्री चक्रेश ,नमन , अंश ,राजेंद्र सुमन , विनोद सारांश ताजपुर,सौरभ शाहपुर , नरेंद्र आशा  , श्री रमेश , मनोज , दीपक धवोली ,सौरभ नायक , विनोद कुमार सचिन कुमार ,अक्षय जैन राजा साडी ,देवेंद्र कुमार संतोष लुहारी . भगवान आदिनाथ के जन्म कल्याणक के अवसर पर पंच मेवा और नवयुवक मंडल द्वारा हलुआ का वितरण किया गया . समस्त कार्यों का संचालन पंडित उदय चंद्र जी शास्त्री ने किया . इस कार्यक्रम में विशेष सहयोग श्री प्रमोद रामपुरा , वीरू भाई , विमल मड़ावरा , गौरव मुनिम , अमित जैन पुजारी , अंकित सेनी , सुरेंद्र सेनी एवं श्याम माली का रहा इस कार्यक्रम में श्री प्रदीप कुमार संगीतकार , श्री नवीन जैन श्रीजी स्टूडीओ का विशेष सहयोग रहा .

कान में ईयरफोन लगाए साईकिल चालक बाइक से टकराया,दो घायल

कान में ईयरफोन लगाए साईकिल चालक  बाइक से टकराया,दो घायल
सागर।  सागर- राहतगढ़ मार्ग के बरोदिया नोनागिर गांव के पास एक साइकिल चालक मुख्य सड़क पर बिना देखे आ गया जिससे बाइक सवार टकरा गए। हादसे में बाइक सवार एक महिला गंभीर रूप से घायल हो गयी। हादसे के दौरान साइकिल चालक कान में  ईयरफोन लगाया हुआ था। जिससे दुर्घटना हो गई।
बाइक सवार एक महिला सहित तीन बच्चों को लेकर अपने गांव विनायकी से खुरई बच्चों को परीक्षा दिलाने के लिए आ रहा था, तभी बरोदिया नोनागिर गांव के पास एक साइकिल चालक गांव की गली से निकल कर मुख्य सड़क पर आ गया। बाइक सवार बार-बार हार्न दे रहा था लेकिन साइकिल चालक कान में इयरफोन लगाया हुआ था जिससे बाइक के हार्न को नहीं सुन पाया और हादसा हो गया। हादसे में बाइक सवार महिला नर्मद बाई व साइकिल चालक घायल हो गए। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर 108 एंबुलेंस पहुंची और घायल महिला व साइकिल चालक को लेकर सिविल अस्पताल पहुंची। जहां दोनों को भर्ती कराया गया। इनमें से बाइक सवार महिला की हालत गंभीर बताई जा रही है।108 के डॉ जितेंद्र राय वा मनोज राय ने प्राथमिक उपचार कर सिविल हॉस्पिटल खुराई मे भर्ती कराया गया जहा से उसे रिफार कर दिया गया

वरिष्ठ नेता संतोष पांडे बने जिला सहकारी बैंक के प्रशासक

वरिष्ठ नेता संतोष पांडे बने जिला सहकारी बैंक के प्रशासक 
सागर।संयुक्त पंजीयक सहकारी संस्थाएं सागर संभाग सागर ने काँग्रेस के वरिष्ठ नेता संतोष पांडे को  जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित सागर में अस्थाई रुप से प्रशासक नियुक्त किया है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार आयुक्त एवं पंजीयक सहकारी संस्थायें म.प्र.भोपाल  से श्री संतोष पाण्डेय को अशासकीय प्रशासक के लिए जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित सागर का प्रस्ताव प्राप्त हुआ है ।इसके परिपालन में  पी.के.सिद्धार्थ, संयुक्त पंजीयक सहकारी संस्थाएं सागर संभाग सागर ने  जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित सागर के संचालक मण्डल का कार्य संचालन हेतु श्री संतोष पाण्डेय को आगामी आदेश तक के लिए अस्थाई रुप से अशासकीय प्रशासक नियुक्त किया है। 


राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों के ट्रांसफर,सागर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी का तवादला

 राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों के ट्रांसफर,सागर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी का तवादला
भोपाल । शासन ने राज्य प्रसासनिक सेवा के आधिकारियों के तवादला आदेश जारी किए हॉइ।

देश मे बेरोजगारी चरम पर,आत्महत्याएं बढ़ी: राष्ट्रीय प्रवक्ता युवक कांग्रेस संजीव शुक्ला

देश मे बेरोजगारी चरम पर,आत्महत्याएं बढ़ी: राष्ट्रीय प्रवक्ता युवक कांग्रेस संजीव शुक्ला

सागर। राष्ट्रीय प्रवक्ता संजीव शुक्ला ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि CMIE// ILO// CSO केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने भी अपने रिर्पोट में इस बात की पुष्टि की है कि आज भारत देश बेरोजगारी के मामले में 45 साल के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए अपने सर्वोच्च स्थान पर है और GdP अपने न्यूनतम स्थान पर,आज भारत देश की बेरोजगारी दर 8.1% है
NCRB नेशनल क्राइम रिपोर्ट ब्यूरो ने 2018 में जब अपनी रिपोर्ट सार्वजनिक की तो पता चला कि 2018 में 12000 से ऊपर लोगों ने बेरोजगारी के कारण आत्महत्या कर ली
श्री शुक्ला ने आगे कहा कि मोदी जी 2014 के चुनाव में ये वादा युवाओं से कर के सत्ता हथियाई की हर साल 2 करोड युवाओं को नौकरी // रोजगार देंगे पर उल्टे 3 करोड़ लोगों के रोजगार छीना गए इनकी नोटबन्दी एवं gst जैसी कुनीतियों की वजह से
संजीव शुक्ला ने बताया कि कोरोना वायरस से भी ज्यादा खतनाक तो बेरोजगारी का वायरस है जिसके कारण रोज़ युवाओ की जान जा रही
कोरोना वायरस से ज्यादा खतरनाक मोदी सरकार की कुनीतियां है जैसे नोटबन्दी जिसमे सैकड़ो लोग अपनी जान गंवा बैठे।
जितनी सजगता आज कोरोना वायरस के लिए सरकार दिखा रही उतनी सजगता यदि बेरोजगारी और नीतियों पर दिखाते तो इतने हज़ार लोगो की जान बचाई जा सकती थी
पर दुर्भाग्य तो ये है इतनी जान जाने के बाद भी अभी तक बेरोजगारी से निपटने हमारी सरकार कोई ठोस नीति नही बना पाई।इसलिए जरूरी हो जाता है कि अब युवा इनके खिलाफ अपने अधिकारों के लिए अपने रोजगार के लिए इंकलाब करे जरूरी हो जाता है हर युवा बेरोजगारी मुद्दे को राष्ट्रीय आपदा समझकर सरकार को इससे निजात दिलाने की लड़ाई लड़े मप्र कांग्रेस के प्रवक्ता डॉक्टर संदीप सबलोक ने पत्रकारों को बताया कि केंद्र सरकार के सरकारी आंकड़े स्वयं इस बात के गवाह हैं कि मध्य प्रदेश में बेरोजगारी में 40% की गिरावट आई है उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने प्रदेश के युवाओं को रोजगार और तकनीकी  से समृद्ध बनाने के लिए स्वामी विवेकानंद युवा स्वाभिमान योजना चलाई जा रही है जिसके अंतर्गत प्रदेश के शहरी क्षेत्रों युवाओं के लिए तकनीकी एवं कौशल परीक्षण देकर सक्षम बनाया है,
पत्रकारो से चर्चा करते हुए मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस के महासचिव व प्रवक्ता आशीष चौबे
NCRB (National Crime Records Bureau) by Home Ministry Govt. of India .
2 घंटे में हिंदुस्तान में 3 युवा बेरोजगार आत्महत्या कर रहे है , यही कोई अकड़े नही है , ये परिवार है और उन परिवार मे है बहुत दुःख क्योंकि ये युवा उनके परिवार का सहारा होता भविष्य में , मोदी की विदेश में बोलते है सब चंगा सी लेकिन हिंदुस्तान में उद्योग में है मंद सी , रोड पर हो रहे दंगा सी और बेरोजगारी के कारण हो रहा नंगा सी 
यही कारण था कि भारतीय युवा कांग्रेस ने ये तय किया कि बेरोजगारी विषय पर एक जन आंदोलन की जरूरत है इसलिए NRU जो कि National Registration for Unemployment किया जाए , जिस का उद्देश्य है कि बेरोज़गारी युवा का एक रेजिस्टर बने जिस में  बेरोजगारी युवाओं का नामांकन हो और उनकी क्षमता के अनुसार नौकरी व रोजगार दिया जाए और यंग इंडिया के बोल बेरोजगारी पर भाषण प्रतियोगिता भी पूरे देश मे कराई जा रही है , हम भोपाल , इंदौर , उज्जैन , जबलपुर , ग्वालियर और आज सागर संभाग का रहेगा।

सागर संभाग के पत्रकारों की क्षेत्रीय अधिमान्यता समिति की बैठक सम्पन्न

सागर संभाग के पत्रकारों की क्षेत्रीय अधिमान्यता समिति की बैठक सम्पन्न
सागर । सागर संभाग की क्षेत्रीय अधिमान्यता समिति की बैठक होटल वरदान के सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक संभाग के जिलां से विभिन्न समाचार पत्रों से अधिमान्यता के लिये आवेदन करने वाले पत्रकारों के आवेदनों पर विचार किया गया। समिति ने सर्वसम्मिति से पात्र पाये जाने वाले पत्रकारों को अधिमान्यता दिये जाने की निर्णय लिया।
इस अवसर समिति के सदस्य श्री सिद्वगोपाल तिवारी, दैनिक सागर सरोज सागर, श्री बसन्त सेन दैनिक नवदुनिया,  मनीष मिश्रा, दैनिक भास्कर,  नरेन्द्र बजाज दैनिक हरिभूमि,  धीरज चतुर्वेदी,  विनोद आर्य,  शषिकांत ढिमोले,  पृथ्वीसिंह, श राजीव रंजन श्रीवास्तव एवं डा. योगेष दत्त तिवारी  सहित समिति के सचिव  यषबंत बरारे मौजूद थे।                             

कमलनाथ सरकार द्वारा आयोगों में की जा रही नियुक्तियों पर रोक लगाने,भाजपा ने राज्यपाल को दिया पत्र

कमलनाथ सरकार द्वारा आयोगों में की जा रही नियुक्तियों पर रोक लगाने,भाजपा ने राज्यपाल को दिया पत्र

भोपाल। कमलनाथ सरकार द्वारा पिछले तीन दिनों से आयोगों में  की जा रही नियुक्तियों के खिलाफ आज भाजपा का प्रतिनिधमंडल ने राज्यपाल लाल जी टण्डन से मुलाकात कर इनको रोकने की मांग की। एक पत्र भी दिया । इसमे पूर्व सीएम शिव राज सिंह चौहान,भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  बीड़ी शर्मा,नेता पतिपक्ष गोपाल भार्गव,पूर्व गृहमन्त्री भूपेंद्र सिंह और रामपाल सिंह शामिल थे।  
यह लिखा पत्र में 
पत्र के मुताबिक आप इस तथ्य से अवगत हैं कि मध्यप्रदेश की वर्तमान सरकार अल्पमत की
सरकार है। आपने स्वयं माननीय मुख्यमंत्री जी को पत्र लिख कर बहुमत सिद्ध करने का
अवसर प्रदान किया है, परंतु वर्तमान सरकार विभिन्न बहानों से बहुमत परीक्षण से बचाती आ
रही है।1अल्पमत की सरकार लगातार ऐसी नियुक्तियाँ करती जा रही है, जिसमें से
कई नियुक्तियाँ संवैधानिक प्रकृति की है. एवं जिनका निश्चित कार्यकाल होता है। यथा अध्यक्ष
राज्य महिला आयोग, अध्यक्ष राज्य युवा आयोग, सदस्य म.प्र. लोकसेवा आयोग इत्यादि।
मान्यवर, अनुरोध है कि ऐसे संवैधानिक संकट के समय कोई भी महत्वपूर्णनियुक्ति या स्थानान्तरण का अधिकार संविधान के अनुच्छेद 163 एवं 166 के तहत राज्यपाल
में निहित होता है। अतः कृपया कमलनाथ सरकार को निर्देशित करें कि वे उन अधिकारों कादुरुपयोग वर्तमान अल्पमत की स्थिति में न करें। आपसे यह भी अनुरोध है कि विगत 03
दिवस में अल्पमत की कमलनाथ सरकार द्वारा लिये गये निर्णयों पर रोक लगाने की कृपा
करें। 
ये प्रमुख नियुक्तियां
 सीएम कमलनाथ ने  पूर्व सांसद आनंद अहिरवार  अनुसूचित जाति आयोग ,प्रोफेसर आलोक चंसोरिया निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के चेयरमैन , मीडिया विभाग की अध्यक्ष  शोभा ओझा को राज्य महिला आयोग का अध्यक्ष,आई टी सेल के अभय तिवारी को युवा कल्याण आयोग ,जे पी धनोपिया को राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग और गजेंद्र सिंह राजू खेड़ी को अनुसूचित जनजाति आयोग का अध्यक्ष  बनाया है।

Archive