शनिवार, 18 दिसंबर 2021

लिंक होंगे दोनों एलिवेटेड कॉरिडोर , फेस-2 के प्लान पर मंथन, निरीक्षण किया

लिंक होंगे दोनों एलिवेटेड कॉरिडोर , फेस-2 के प्लान पर मंथन, निरीक्षण किया

★ विधायक श्री शैलेन्द्र जैन और कलेक्टर श्री दीपक आर्य अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे

सागर। दीनदयाल चौराहा बस स्टैंड से चकराघाट को जोडने वाले एलिवेटेड कॉरिडोर का काम तेज गति से चल रहा है। इसके साथ ही दीनदयाल चौराहा से अटल पार्क तक एलिवेटेड कॉरिडोर फेस-2 के प्लान पर भी मंथन किया जा रहा है। शनिवार को विधायक श्री शैलेन्द्र जैन और कलेक्टर सह अध्यक्ष एसएससीएल श्री दीपक आर्य ने एलिवेटेड कॉरिडोर फेस-2 के लिए बनाए जा रहे प्लान का अवलोकन किया और मौके पर जाकर इसकी उपयोगिता पर चर्चा की और आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान नगर निगम आयुक्त सह कार्यकारी निदेशक एसएससीएल श्री आरपी अहिरवार और स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत विशेषतौर पर मौजूद थे। 
प्लानिंग टीम के विशेषज्ञों ने बताया कि एलिवेटेड कॉरिडोर फेस-1 पर दीनदयाल चौराहा से करीब 500 मीटर दूर एक रोटरी बनाई जा रही है। इसी रोटरी से शुरू होकर एलिवेटेड कॉरिडोर फेस-2 अटल पार्क के पास तक जाएगा। इसकी चौडाई भी 14 मीटर ही रखी जा सकती है। इसका फायदा यह होगा कि चकराघाट की तरफ से आने वाले लोगों को तीनबत्ती, परकोटा, बस स्टैंड और एसआर-1 पर नहीं आना पडेगा। मेडिकल इमरजेंसी होने पर वे सीधे अटल पार्क के सामने से होते हुए जिला अस्पताल या मेडिकल कॉलेज पहुंच सकेंगे। इसी तरह मेडिकल कॉलेज की ओर से सीधे चकराघाट, बडा बाजार आदि पहुंचा जा सकेगा। इससे बडी संख्या में वाहन चालकों का समय और खर्च बचेगा। भविष्य में एलिवेटेड कॉरिडोर पर बनने वाली रोटरी से गऊघाट की ओर भी एलिवेटेड कॉरिडोर बनाने की गुंजाइश रहेगी। 
इस दौरान विधायक और अधिकारियों ने एलिवेटेड कॉरिडोर फेस-1 के निर्माण कार्य का निरीक्षण भी किया। निर्माण एजेंसी के प्रतिनिधि ने बताया कि अभी बेस पिलर बनाने का काम चल रहा है। ये पिलर करीब 13 मीटर नीचे से बनाए जा रहे हैं। 300 में से करीब 50 बेस पिलर तैयार हो गए हैं। इन बेस पिलर पर कैपिंग की जाएगी, जिसके ऊपर एक मुख्य पिलर बनेगा। इन्हीं मुख्य पिलर पर एलिवेटेड कॉरिडोर का निर्माण किया जाएगा। इसके बाद लाखा बंजारा झील के कायाकल्प का काम भी देखा और कार्य में गति लाने के निर्देश दिए। 
दोपहर बाद कलेक्टर सह अध्यक्ष एसएससीएल श्री दीपक आर्य, निगमायुक्त सह कार्यकारी निदेशक श्री आरपी अहिरवार और स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत ने एसआर-1 के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने ड्रेन, डक्ट, डिवाइडर आदि की डिजाइन देखी और जगह की उपलब्धता के मुताबिक आवश्यक सुधार करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान स्मार्ट सिटी व पीएमसी के इंजीनियर्स और संबंधित निर्माण एजेंसियों के प्रतिनिधि भी मौजूद थे।

छात्राओं ने जाना आत्मरक्षा के लिए कितना कारगर है निर्भया सागर एप ★ आपातकालीन स्थिति में बटन दबाते ही पुलिस के पास पहुंचती है जानकारी

छात्राओं ने जाना आत्मरक्षा के लिए कितना कारगर है निर्भया सागर एप

★ आपातकालीन स्थिति में बटन दबाते ही पुलिस के पास पहुंचती है जानकारी


★ न्यू कैंट गर्ल्स स्कूल की छात्राओं ने देखी आईसीसीसी की कार्यपद्धति

सागर । महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखकर सागर स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने निर्भया सागर एप बनाया है। आपातकालीन स्थितियों में इस एप का एसओएस बटन दबाने पर पुलिस सहायता पहुंचाई जाती है। यह जानकारी शुक्रवार को आईसीसीसी का विजिट करने आईं न्यू कैंट गर्ल्स स्कूल की कक्षा 9वीं और 10वीं की करीब 50 छात्राओं को दी गई।

छात्राओं को निर्भया सागर एप के संबंध में बताया गया कि आपातकालीन स्थिति में इसका एसओएस बटन दबाने पर लोकेशन और मोबाइल के दोनों कैमरों से फोटो खिंचकर कंट्रोल रूम पहुंच जाती हैं। इसी आधार पर पुलिस द्वारा तुरंत मदद भेजी जाती है। इस एप में आप सुरक्षित और असुरक्षित इलाका भी देख सकते हैं। सफर करने के लिए यह एप सुरक्षित रूट भी बताता है। सामान गुम या चोरी होने पर या आसपास कहीं कोई अपराध होता दिखे, तो इसकी सूचना भी एप के माध्यम से पुलिस को दी जा सकती है। निर्भया सागर एप प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

सागर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा स्थापित किया गया इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर (आईसीसीसी) सागर के विभिन्न प्रशासनिक विभागों की सेवाओं को एक प्लेटफार्म से जोडकर मॉनीटरिंग एवं कंट्रोल का काम कर रहा है। शहर में इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आईटीएमएस) सडक पर होने वाली सभी गतिविधियों पर नजर रखता है। सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट सर्विसेज, डायल 108, ई-पालिका, सीएम हेल्पलाइन, पब्लिक टॉयलेट फीडबैक, सेफ सिटी कैमरा सर्विलांस जैसी अन्य सुविधाओं की मॉनीटरिंग भी आईसीसीसी से की जा रही है। 

इस दौरान बताया गया कि शहर के पांच एंट्री-एग्जिट प्वाइंट और 19 प्रमुख स्थानों पर कैमरों की नजर रहती है। ऑटोमैटिक नंबर प्लेट रिकग्नीशन सिस्टम वाहन की नंबर प्लेट को रियल टाइम ट्रैक करने का काम करता है। एडेप्टिव ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम से चौराहों की रियल टाइम निगरानी कंट्रोल रूम से की जाती है। रेड लाइट वायलेशन डिटेक्शन सिस्टम लालबत्ती, स्टॉप लाइन उल्लंघन या गलत दिशा में वाहन मोडने आदि की घटनाओं को पकडता है। इससे ई-चालान जारी करने में मदद मिलती है। इसके अलावा स्पीड वायलेशन डिटेक्शन सिस्टम से वाहनों द्वारा निर्धारित गति के उल्लंघन के मामले पकड में आते हैं। छात्राओं को बताया गया कि इमरजेंसी कॉल बॉक्स (ईसीबी) सिस्टम का उपयोग आपातकालीन स्थितियों या दुर्घटना के मामले में मदद प्राप्त करने के लिए लोगों द्वारा किया जाता है। यूनिट में लगा बटन दबाने से आईसीसीसी और पुलिस विभाग के ऑपरेटर से संपर्क होता है, जो तत्काल आपातकालीन सहायता दल को घटनास्थल पर भेजता है।

पंचायत चुनाव : OBC के लिए आरक्षित पदों को छोड़कर शेष पदों के लिए जारी रहेगी निर्वाचन प्रक्रिया

पंचायत चुनाव : OBC  के लिए आरक्षित पदों को छोड़कर शेष पदों के लिए जारी रहेगी निर्वाचन प्रक्रिया

सागर ।  आयुक्त राज्य निर्वाचन आयोग श्री बसंत प्रताप सिंह ने  जानकारी दी है कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा पारित आदेश के पालन में मध्य प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा त्रिस्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन वर्ष 2021-22 के लिए जारी कार्यक्रम के अंतर्गत अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित पंच ,सरपंच, जनपद पंचायत एवं जिला पंचायत सदस्य के पदों की निर्वाचन प्रक्रिया स्थगित कर दी गई है। माननीय सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अनुसार अन्य पदों के लिए निर्वाचन की प्रक्रिया राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित कार्यक्रम के अनुसार जारी रहेगी।

         श्री सिंह ने कहा है कि आज सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर विचार के लिए अधिकारियों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में सुप्रीम कोर्ट द्वारा पूर्व में के.कृष्णमूर्ति एवं विकास किशन राव गवली प्रकरण में दिए गए निर्णय का भी अध्ययन किया गया । श्री सिंह ने बताया कि राज्य सरकार को पत्र लिख रहे हैं की माननीय सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अनुसार अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित पदों के संबंध में रि-नोटिफाई करने की कार्रवाई एक सप्ताह में करके आयोग को सूचित करें, जिससे इन स्थानों पर यथाशीघ्र निर्वाचन करवाया जा सके। उन्होंने बताया कि आरक्षण के संबंध में कार्यवाही का अधिकार राज्य सरकार को है। श्री सिंह ने कहा है कि जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि दिनांक 17 दिसंबर 2021 तक अन्य पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों द्वारा उनके लिए आरक्षित पदों के लिए जो नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत किए गए हैं, उन्हें सुरक्षित रखा जाए। 

SAGAR : शिशु मृत्यु की समीक्षा , सात विकासखण्डों की उपलब्धि कम, जारी होंगे नोटिस

SAGAR : शिशु मृत्यु की समीक्षा , सात विकासखण्डों की उपलब्धि कम, जारी होंगे नोटिस

सागर ।  कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी में शिशु मृत्यु की विकासखंडवार समीक्षा बैठक मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बौद्ध द्वारा ली गई। जिसमें पी.पी.टी. द्वारा प्राप्त दिशा निर्देशों की बिंदुवार जानकारी उपस्थित सभी को दी गई।
बैठक में रहली, मॉलथौन, केसली बी.एम.ओ. एवं अन्य विकासखंड से मेडीकल ऑफीसर, प्रभारी डी.पी.एम., डी.सी.एम., बी.पी.एम., बी.सी.एम. आदि को स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि अपने क्षेत्र में जितनी भी शिशु मृत्यु अप्रैल से नवंबर 2021 तक हुई हैं उनकी सूक्ष्मता से समीक्षा करते हुये निर्धारित प्रपत्र में सी.डी.आर. पोर्टल पर पूर्ण जानकारी प्रदर्शित होना चाहिये।
साथ ही शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में शिशु मृत्यु के कारणों का पता लगाये और निगरानी रखी जावे ताकि शिशु की सुरक्षा की जावे। प्राईवेट नर्सिंग होम्स में 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों की मृत्यु की जानकारी जिला कम्यूनिटी मोबिलाईजर द्वारा प्राप्त कर सी.डी.आर. पोर्टल में एन्ट्री करने के निर्देश दिये गये।
समीक्षा बैठक में शिशु मृत्यु कार्य की उपलब्धि कम होने वाले विकासखंड मॉलथौन 17 प्रतिशत, रहली 13 प्रतिशत, बीना 15 प्रतिशत, शाहगढ़ 22 प्रतिशत, बंडा 26 प्रतिशत, देवरी 27 प्रतिशत एवं एस.एन.सी.यू. सागर की शिशु मृत्यु 12 प्रतिशत होने के कारण प्रभारी को नोटिस जारी किये जावेगें।
जिला स्वास्थ्य समिति में शिशु मृत्यु समीक्षा हेतु 0 से 28 दिवस के अंदर मृत्यु का एक प्रकरण एस.एन.सी.यू. सागर एवं 29 दिवस से 01 वर्ष के अंदर शिशु मृत्यु का एक प्रकरण जिला चिकित्सालय सागर की समीक्षा की जावेगी। इस समीक्षा बैठक में डॉ एस.आर.रोशन जिला टीकाकरण अधिकारी, डॉ आर.एस.जयंत, डॉ एम.एल.जैन, डॉ अंकित जैन बी.एम.सी.,शिशु रोग विशेषज्ञ भाग्योदय अस्पताल सागर, बी.एम.ओ. एवं प्रभारी डी.पी.एम., डी.सी.एम.,ए.पी.एम. बी.पी.एम., बी.सी.एम. उपस्थित रहे।

वैज्ञानिक होना आवश्यक नही वैज्ञानिक दृष्टिकोण होना आवश्यक है - कमिश्नर मुकेश शुक्ला ★ अभियोजन अधिकारियों की सम्भागीय कार्यशाला

वैज्ञानिक होना आवश्यक नही वैज्ञानिक दृष्टिकोण होना आवश्यक है - कमिश्नर मुकेश शुक्ला 

★ अभियोजन अधिकारियों की सम्भागीय कार्यशाला

सागर। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत विधि विज्ञान प्रयोगशाला (एफ.एस.एल.) सागर में  आज दिनांक 18.12.2021को अभियोजन अधिकारियों की व्यवसायिक दक्षता संवर्धन हेतु एक दिवसीय संभागीय कार्यशाला आयोजित की गयी, जिसमे छतरपुर, टीकमगढ़, पन्ना, दमोह एवं सागर जिला एवं तहसील से अभियोजन अधिकारीगण सम्मिलित हुए। 

अभियोजन के मीडिया प्रभारी श्री सौरभ डिम्हा ने बताया कि आज दिनांक को लोक अभियोजन संचालनालय संचालक/महानिदेशक श्रीमान अन्वेष मंगलम (आई.पी.एस.), भोपाल के आदेश के पालन में विधि विज्ञान प्रयोगशाला(एफ.एस.एल.) सागर में एक दिवसीय संभागीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि श्री मुकेश कुमार शुक्ला (भा.प्र.से.) कमिश्नर सागर संभाग  , उप-संचालक (अभियोजन) श्री अनिल कटारें, अति/प्रभारी जिला अभियोजन अधिकारी धर्मेंद्र सिंह तारन, अति डी. पी.ओ. शिव संजय उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन एडीपीओ श्री पारस मित्तल  एवं डॉ पंकज पांडेय (वैज्ञानिक अधिकारी, एफ.एस.एल) द्वारा किया गया। 

कार्यक्रम का  उदघाटन- कार्यक्रम का उद्घाटन  मुख्य अतिथि श्री मुकेश कुमार शुक्ला (भा.प्र.से.) कमिश्नर सागर संभाग  द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।  मुख्य अतिथि सागर कमिश्नर का स्वागत प्रभारी जिला अभियोजन अधिकारी धर्मेंद्र सिंह तारन ने पुष्प गुच्छ भेंट कर किया। मुख्य अथिति श्री मुकेश कुमार शुक्ला कमिश्नर सागर संभाग ने व्यासायिक दक्षता बढ़ाने के लिए तकनीकी रूप से शसक्त होने समय एवम परिस्थिति के अनुसार अपने आप को अपडेट करने की आवश्यकता बताई।

उप-संचालक (अभियोजन) अनिल कुमार कटारे द्वारा कार्यशाला के उदेद्श्य और उसकी रूपरेखा पर प्रकाश डाला,  साथही  स्वागत भाषण में श्रीमती हर्षा सिंह (निदेशक एफ. एस. एल. सागर) ने अपराधों के निराकरण में एफ़ एस एल और विज्ञान की भूमिका को बताया। 

व्याख्यान एवं परिचर्चा- कार्यक्रम  के प्रथम सत्र में डॉक्टर प्रशांत भट्ट  ( वैज्ञानिक अधिकारी रसायन शाखा सागर) द्वारा फोरेंसिक टॉक्सिकोलॉजी के  बारे में बताया गया। डॉ डी. डी. बंसल (वैज्ञानिक अधिकारी डीएनए शाखा सागर) द्वारा डीएनए साक्ष्य के बारे में बताया गया। 

कार्यक्रम के अंतिम सत्र में  श्री अंकित बोहरे द्वारा व्यसायिक दक्षता में व्यक्तित्व विकास  के संबंध में जानकारी दी एवं डॉ प्रवीण झा ( वैज्ञानिक अधिकारी प्रभारी भौतिकी शाखा एफएसएल सागर) द्वारा आवाज को साक्ष्य के रूप में संबंधित नियमो के बारे में बताया।

कार्यक्रम के समापन सत्र  में उप-संचालक (अभियोजन) श्री अनिल  कटारे एवं  श्रीमती हर्षा सिंह (निदेशक एफ. एस. एल. सागर) द्वारा कार्यशाला में आये अभियोजन अधिकारीगण को प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया। कार्यशाला के उपरांत एडीपीओ श्री अमित जैन ने आभार व्यक्त किया।

ओबीसी केआरक्षण विरोधी है कांग्रेस : नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ★ पंचायत चुनावों में ओबीसी आरक्षण पर रोक को लेकर बोले


ओबीसी केआरक्षण विरोधी है कांग्रेस :  नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह
★ पंचायत चुनावों में ओबीसी आरक्षण पर रोक को लेकर बोले 


सागर। एमपी में पंचायत चुनावों को लेकर असमंजस बना है। कल सुप्रीम कोर्ट ने ओबीसी आरक्षण पर रोक लगा दी। इस मामले मे आज नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि काग्रेस हमेशा से ओबीसी विरोधी रही है। 17 दिसम्बर को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा पंचायत में ओबीसी आरक्षण पर कांग्रेस ने रोक लगवाई है। काग्रेस हमेशा ओबीसी विरोधी मानसिकता की पार्टी रही है। सर्वोच्च न्यायालय में काग्रेस के राज्यसभा सदस्य श्री विवेक तन्खा द्वारा मध्यप्रदेश सरकार के पंचायतों में दिए गए 27 प्रतिशत आरक्षण के निर्णय का विरोध किया गया। 

श्री विवेक तन्खा ने अपने राजनैतिक एजेंडे को आगे बढ़ाते हुए और भाजपा द्वारा मध्यप्रदेश में अन्य पिछड़े वर्ग के लाभार्थियों को उनका उचित अनुपात में लाभ मिल सके इस हेतु लागू अध्यादेश वर्ष-2021 की धारा 9-अ को लागू किए जाने का तीव्र विरोध किया और इसे संविधान के अनुच्छेद 243 (सी) एवं (डी) का उल्लंघन बताते हुए इस संशोधन को निरस्त करने की मांग की थी। 



जहां एक ओर कांग्रेस यह बतलाने की पुरजोर कोशिश करती रही है कि, वे ओबीसी के पक्षधर हैं। वहीं दूसरी ओर मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार के द्वारा बहुसंख्यक ओबीसी वर्ग को उचित अधिकार और लाभ पहुंचाने के संवैधानिक एवं विधिक प्रावधानों का लगातार विरोध माननीय उच्च न्यायालय एवं सर्वोच्च न्यायालय में कर रही है। जो उनके दोहरे मापदंड का परिचायक है और इससे यह स्पष्ट होता है कि वास्तव में कांग्रेस की मानसिकता ओबीसी विरोध की है। 
उन्होंने मीडिया से कहा कि  इसी तरह से पूर्व में भी शासकीय नौकरियों में ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा दिया गया था, उसका भी कांग्रेस ने विरोध किया था तथा हाईकोर्ट में तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने ठीक से पक्ष नहीं रखा इस कारण से शासकीय नौकरियों में 27 प्रतिशत आरक्षण में हाईकोर्ट ने रोक लगाई थी। इसके पश्चात मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार ने मजबूती से हाईकोर्ट में अपना पक्ष रखा, उसी आधार पर तीन परीक्षाओं को छोड़कर शेष में 27 प्रतिशत आरक्षण शासकीय नौकरियों में दिया गया। मध्यप्रदेश सरकार ने संवैधानिक अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग गठित किया है। जो प्रदेश में अन्य पिछड़ा वर्ग के आर्थिक सामाजिक जनसंख्यात्मक विषयों पर अपना विस्तृत प्रतिवेदन प्रस्तुत करेगा। 

19 दिसम्बर को होगी चर्चा

मंत्री श्री सिंह ने बताया कि अभी सुपीम कोर्ट ने जो रोक लगाई है उसे लेकर ओबीसी के सभी संगठनों के साथ 19 दिसम्बर रविवार दोपहर 12 बजे भोपाल स्थित हमारे निवास पर एक बैठक आयोजित की जा रही है, जिसमें आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी।

दोषी है कांग्रेस

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में ओबीसी के आरक्षण पर अडंगा लगाए जाने की एकमात्र दोषी कांग्रेस है ,यह ताजा घटनाक्रम से सिद्ध हो चुका है। कांग्रेस ने जिसतरह साथ कुछ लोगों के माध्यम से याचिकाएं लगवा कर  और  अपनी पार्टी के ही नेताओं को वकील के रूप में खड़ा कर के ओबीसी आरक्षण स्थगित कराया है उससे कांग्रेस का ओबीसी वर्ग के खिलाफ काम करनेवाले वाला असली चेहरा बेनकाब हो गया है। 
शिवराज सरकार ने बड़े ही पवित्र भाव साथ से ओबीसी वर्ग की पुरानी मांग को पूरा करते हुए 27 प्रतिशत आरक्षण देने का निर्णय लिया था। कांग्रेस ने इस आरक्षण के निर्णय को न्यायालयीन प्रक्रिया में उलझा कर पिछड़ा वर्ग के प्रति अपनी दुर्भावना को स्पष्ट कर दिया है।  
मध्यप्रदेश में अन्य पिछड़ावर्ग की जनसंख्या 50 प्रतिशत से अधिक। ये सभी समाज में पिछड़े और गरीब लोग हैं। जिन्हें भाजपा सरकार ने संकल्पित होकर अन्य  पिछड़ा वर्ग को  27 प्रतिशत आरक्षण देने का निर्णय लिया है।  

हमारी विकास, सामाजिक न्याय व समरस समाज बनाने की जो संकल्पना है कि हम सभी वर्गों का विकास चाहते हैं। इसमें अनुसूचित जाति ,अनुसूचित जनजाति या ओबीसी हो और आर्थिक रूप से पिछड़ा हुआ वर्ग हो सभी को संवैधानिक व्यवस्था के अंतर्गत न्याय देकर आगे बढ़ाने का काम हमारी सरकार ने किया है यही प्रधानमंत्री श्री नरेंद्रमोदी जी का सबका साथ, सबका विकास का नारा है। ओबीसी समुदाय की सामाजिक-आर्थिक स्थिति में सुधार करने के लिए देश के प्रधानमंत्री आदरणीय नरेन्द्र मोदी जी की प्रतिबद्धता सारे देश के सामने स्पष्ट है। माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने इस दिशा में कई ऐतिहासिक कदम उठाए हैं। पिछले दिनों ओबीसी के कल्याण के लिए जो निर्णय लिए गए, उसके कारण से ओबीसी के समुदाय में एक विश्वास का भाव जागृत हुआ है। ओबीसी की केन्द्रीय सूची का दर्जा बढ़ा कर सूची को संवैधानिक दर्जा देने का काम आदरणीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की सरकार के द्वारा किया गया। इस ओबीसी की केन्द्रीय सूची में परिवर्तन करने के लिए संसद को शक्ति प्रदान की गई। संविधान संशोधन अधिनियम, 2018 राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग (एनसीबीसी) को संवैधानिक दर्जा दिया। 
उन्होंने कहा कि  अभी पिछले दिनों जो निर्णय हुआ, उसमें मेडिकल काॅलेजों, डेंटल काॅलेजों के अखिल भारतीय कोटे में ओ.बी.सी. के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया गया। इससे प्रत्येक वर्ष मेडिकल काॅलेजों में ओबीसी के छात्रों को लगभग चार हजार अतिरिक्त सीटें उपलब्ध होंगी। 
संविधान में पिछडे़ वर्ग के आरक्षण की व्यवस्था तो संविधान के निर्माताओं ने की थी। कांग्रेस पार्टी वर्ष 1950 में शासन में आई थी, लेकिन पिछड़े वर्ग के लिए वर्ष 1950 में संविधान आने के बाद काका कालेलकर कमीशन बना। कांग्रेस ने 40 साल तक शासन किया, लेकिन काका कालेलकर कमीशन को न्याय नहीं दिया, पिछड़ों को न्याय नहीं दिया। जनता पार्टी का शासन आया था, तब मंडल आयोग बना था। मंडल आयोग ने भी वर्ष 1980 में अपनी रिपोर्ट को फाइल किया था। उसके बाद भी कांग्रेस ने छह साल तक शासन चलाया, लेकिन पिछड़े वर्ग को आरक्षण कांग्रेस ने नहीं दिया। 



भाग्योदय अस्पताल - मोतीनगर चौराहा रोड : भवनों को हटाये जाने की कार्यवाही जारी ★ कलेक्टर एवं निगमायुक्त ने कराया रोड का माप , निगम के कार्यपालन यंत्री का मकान नही बना बाधक

भाग्योदय अस्पताल - मोतीनगर चौराहा  रोड : भवनों को हटाये जाने की कार्यवाही जारी 
★ कलेक्टर एवं निगमायुक्त ने कराया रोड का माप , निगम के कार्यपालन यंत्री का मकान नही बना बाधक

सागर ।  नगर निगम द्वारा भाग्योदय अस्पताल के सामने से भूतेश्वर मंदिर होते हुये मोतीनगर चौराहा तक बनने वाली रोड़ में बाधक बने कच्चे / पक्के मकानों को हटाये जाने की कार्यवाही तीसरे दिन भी जारी रही जिसके अंतर्गत भूतेश्वर मंदिर के सामने से लेकर भाग्योदय की ओर सड़क निर्माण कार्य में बाधक बने मकानों / पटरों को हटाने की कार्यवाही की गई।
कार्यवाही के दौरान कलेक्टर श्री दीपक आर्य, निगमायुक्त श्री आर पी अहिरवार, नगरदण्डाधिकारी श्री शैलेन्द्रसिंह, स्मार्ट सिटी सी.ई.ओ.श्री राहुलसिंह स्थल पर पहुॅचें और अपने समक्ष बनने वाली रोड का माप कराया और रोड निर्माण कार्य में बाधक बन रहे हिस्से को चिन्हित कराकर उसको तुड़वाये जाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये।




इस कार्यवाही दौरान सबसे पहिले निगम के कार्यपालन यंत्री श्री लखनलाल साहू जिनका घर बनने वाली रोड के किनारे बना है, उसकी माप कलेक्टर एवं निगमायुक्त ने अपने समक्ष करायी लेकिन माप करने के दौरान उनका मकान रोड निर्माण में बाधक नहीं पाया गया है। लखन साहू के मकान को लेकर क्षेत्र के लोगो ने इस आशय का विरोध दर्ज कराया था कि साहू का मकान भी बाधक बना है । इसे तोड़ा जाए। विरोध चलते निगम का अमला काम छोड़कर चला गया था। आज नपाई का काम हुआ।   इसके बाद उनके बाजू में बने श्री महेश कोरी के मकान की भी माप करायी जिसमें श्री महेश कोरी के मकान का गेट एवं मकान का कुछ हिस्सा बनने वाली रोड निर्माण कार्य में बाधक पाया गया है जिसको चिन्हित करते हुये तोड़ने की कार्यवाही जे.सी.बी.मशीन से करायी। इसके पश्चात् श्री पंकज साहू के मकान का माप कराया गया जिसमें उनका गेट एवं मकान की कुछ दीवार का हिस्सा रोड निर्माण में बाधक होने के कारण तोड़ने की कार्यवाही की गई साथ ही इस दौरान कुछ रहवासियों ने अपने मकान के कुछ हिस्से जिन्हंे निगम द्वरा चिन्हित किया गया थाा उसको हटा लिया गया है। 

कार्यवाही के दौरान सहायक आयुक्त श्री राजेशसिंह राजपूत, प्र.कार्यपालन यंत्री श्री लखनलाल साहू,, श्री रमेश चौधरी, उपयंत्री श्री राजकुमार साहू, अतिक्रमण प्रभारी श्री शिवनारायण रैकवार एवं अतिक्रमण दस्ता सहित पुलिस एवं नगर निगम के अधिकारी उपस्थित थे।
जनसंपर्क प्रभारी

शुक्रवार, 17 दिसंबर 2021

SAGAR : सूदखोरों के विरुद्ध विशेष अभियान , पुलिस ने की 8 सूदखारों पर कार्यवाही

SAGAR : सूदखोरों के विरुद्ध विशेष अभियान , पुलिस ने की 8 सूदखारों पर कार्यवाही


सागर। पुलिस मुख्यालय द्वारा प्रदेश स्तर पर सूदखोरो (अवैध साहूकारो) के विरुद्ध विशेष अभियान चलाया जा रहा है।पुलिस अधीक्षक सागर ने सभी थाना प्रभारियों को अवैध साहूकारों एवं ऋण
माफियाओं के विरुद्ध जागरुकता अभियान चलाया । जनसामान्य को
जागरूक किये जाने हेतु आदेशित किया था। इसी के तहत अति0 पुलिस
अधीक्षक सागर के निर्देशन मे विभिन्न थानों द्वारा 08 सूदखोरों पर कार्यवाही की गई। उक्त व्यक्ति अधिक ब्याज दर पर पैसे देकर कई वर्षों से लगातार अवैध व अनियमित वसूली कर व्यक्तियों को परेशान करते थे । उनकी जानकारी पुलिस को प्राप्त होने पर थाना मोतीनगर मे 4 व थाना रहली मे 2, थाना बीना एवं बंडा मे 1-1 कुल 08 व्यक्तियों पर 3,4 म0प्र0 ऋणियों का संरक्षण अधि0 के तहत प्रकरण कायम कर उचित कार्यवाही की गई। ज्ञात इस अभियान तहत जिला स्तर पर एक चलित वाहन के माध्यम से जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रो में विशेष शिविर लगाकर सूदखोरो व अपंजीकृत साहूकारों एवं संस्थाओं के विरुद्ध शिकायते व सूचना प्राप्त की जा रही है जिसमें कोई भी अवैध साहूकारों एवं ऋण
माफियाओं से पीडित व्यक्ति उक्त चलित वाहन यो थाना आकर जानकारी दे सकता है।

भाग्योदय अस्पताल के सामने से लेकर मोतीनगर चौराहा तक बाधक बने भवनों को हटाने कार्यवाई जारी

भाग्योदय अस्पताल के सामने से लेकर मोतीनगर चौराहा तक  बाधक बने भवनों को हटाने कार्यवाई जारी 

सागर ।  नगर निगम द्वारा भाग्योदय अस्पताल के सामने से भूतेश्वर मंदिर होते हुये मोतीनगर चौराहा तक बनने वाली रोड़ में बाधक बने कच्चे / पक्के मकानों को हटाये जाने की कार्यवाही दूसरे दिन भी जारी रही जिसके अंतर्गत भूतेश्वर मंदिर के सामने से लेकर भाग्योदय की ओर सड़क निर्माण कार्य में बाधक बने मकानों / पटरों को हटाने की कार्यवाही की गई।
नगर निगम आयुक्त श्री आर पी अहिरवार के निर्देशानुसार सहायक आयुक्त श्री राजेशसिंह राजपूत, प्र.कार्यपालन यंत्री श्री लखनलाल साहू,, श्री रमेश चौधरी, उपयंत्री श्री राजकुमार साहू, अतिक्रमण प्रभारी श्री शिवनारायण रैकवार एवं अतिक्रमण दस्ता सहित पुलिस एवं नगर निगम के अधिकारियों की मौजूदगी में प्रारंभ की गई इस कार्यवाही में रोड के दोनों ओर जिन मकानों को चिन्हित किया गया था ऐसे मकानों को चिन्हित हिस्सों को हटा दिया गया। इस दौरान सड़क निर्माण में सहयोग की भावना से कई भवन स्वामियों ने स्वयं ही मकान तोड़ लिये जा रहे थे, यह कार्यवाही कल भी जारी रहेगी। 

SAGAR : कलेक्टर पहुचे प्राइमरी स्कूल में, पढ़ाया बच्चों को , बच्चों से ली शैक्षणिक जानकारी

SAGAR : कलेक्टर पहुचे प्राइमरी स्कूल में, पढ़ाया बच्चों को , बच्चों से ली शैक्षणिक जानकारी 


सागर ।  कलेक्टर श्री दीपक आर्य शुक्रवार को बंडा भ्रमण के दौरान मगरदा ग्राम पंचायत के प्राथमिक शाला में पहुंचे। जहां उन्होंने कक्षा पांचवी के छात्र-छात्राओं से शैक्षणिक जानकारी प्राप्त की। कलेक्टर श्री आर्य शाला के शिक्षकों से पूछा कि मध्यानह भोजन एवं गणवेश की क्या स्थिति है जानकारी प्राप्त होने पर कलेक्टर श्री आर्य कक्षा पांचवी में पहुंचे। जहां उन्होंने छात्र-छात्राओं से पूछा कि आज मध्यान भोजन में क्या मिला तब बच्चों ने बताया कि आज आलू की सब्जी रोटी प्राप्त हुई है।
कलेक्टर श्री आर्य ने कक्षा पांचवी के बच्चों को 15 एवं 20 का पहाड़ा पढ़ाया। उन्होंने हिंदी अंग्रेजी का भी अध्ययन कराया । कलेक्टर  श्री आर्य    ने गणवेश वितरण की भी जानकारी प्राप्त की।
जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री क्षितिज सिंघल ने भी छात्र छात्राओं से साला खुलने एवं बंद होने की जानकारी प्राप्त की।
 कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने प्राथमिक शाला के क्षतिग्रस्त भवन को तत्काल जमींदोज करने के निर्देश दिए साथ ही लगभग 5 वर्षों से बंद नवीन भवन को खोलकर शाला संचालित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि तीन दिवस में यह कार्य कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करें ।
कलेक्टर श्री आर्य ने शाला में बन रहे बालिका शौचालय के निर्माण को भी देखा । कलेक्टर श्री आर्य ने मौके पर ही प्राथमिक शाला परिसर में लगा हैंडपंप को तत्काल ठीक करने कि संबंधित विभाग को निर्देश दिए।
कलेक्टर श्री आर्य ने कहा कि साला के निर्माण कार्यों एवं शैक्षणिक गुणवत्ता में किसी भी प्रकार कोताही न बरती जाए । इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी  सुश्री शशि मिश्रा श्रीमती प्रतिष्ठा जैन, श्री आलोक मिश्रा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

 

SAGAR : 10 वीं शताब्दी में निर्मित पाली के शिवमंदिर प्रांगण में विकास कार्यों का प्रावधान

SAGAR : 10 वीं शताब्दी में निर्मित पाली के शिवमंदिर प्रांगण में विकास कार्यों का प्रावधान

सागर। खुरई विधानसभा क्षेत्र के पाली ग्राम स्थित राष्ट्रीय धरोहर प्राचीन शिवमंदिर के संरक्षण व विकास कार्यों को केंद्रीय संस्कृति व पर्यटन मंत्रालय ने वित्तीय वर्ष 2021-22 की कार्ययोजना में प्रावधानित कर लिया है। केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह को इस आशय के पत्र के साथ सूचित किया है कि शिव मंदिर पाली के प्राक्कलन की स्वीकृति व प्रक्रिया के पश्चात वित्तीय सत्र 2021-22 में ही प्रावधानित विकासकार्यों को संपादित कराया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि गत 19 अगस्त को मंत्री भूपेंद्र सिंह ने केंद्रीय संस्कृति व पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी को एक पत्र लिख कर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) द्वारा संरक्षित एक हजार वर्ष प्राचीन धरोहर शिवमंदिर पाली के समुचित विकास की मांग की थी। इस पत्र में श्रद्धालुओं को मंदिर तक पहुंचने हेतु पहुंच मार्ग निर्माण, मंदिर का जीर्णोद्धार कार्य, मंदिर प्रांगण में पार्क, पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था, श्रद्धालुओं को पेयजल व्यवस्था, चारों ओर बांउड्री वाल तथा दर्शनार्थियों को बैठने के लिए शेड निर्माण की मांग की गई थी। इस पत्र के अनुपालन में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण, भोपाल ने मंदिर प्रांगण में सर्वे कार्य किया जिसके उपरांत ने केंद्रीय मंत्रालय ने कार्ययोजना का प्रावधान किया है।
पाली का शिवमंदिर 10 वीं शताब्दी में निर्मित है जिसके अलंकृत गर्भगृह में शिवलिंग के अतिरिक्त प्रवेशद्वार पर नवगृहों, गणेश, वीरभद्र, सप्तमातृकाओं का अंकन है। मंदिर के प्रवेश द्वार पर वाहनों सहित उमा महेश्वर, गंधर्व, विद्याधरों, नदी देवी गंगा व यमुना को मगर व कच्छप वाहनों के साथ दृश्यांकित किया गया है। इस शिवमंदिर के दर्शनार्थ वर्ष भर पर्यटक आते हैं जिनकी संख्या श्रावण मास में हजारों तक पहुंच जाती है। प्रतिवर्ष मेले का भी आयोजन होता है। 
 

एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं में बी.टी.आई.आर.टी. ने लहराया परचम


एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं में बी.टी.आई.आर.टी. ने लहराया परचम

सागर। शासकीय इंदिरा गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज में संपन्न हुई नोडल स्तरीय एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं में बी.टी. इंजीनियरिंग कॉलेज की छात्र/छात्राओं ने एक बार फिर से बाजी मारी। 100 मी. की रेस में छात्रा वर्ग में इशिका केशरवानी ने गोल्ड मेडल हासिल किया। 200 मी. की रेस में छात्रा वर्ग में इका के रवानी ने ही ब्रांज मेडल हासिल किया। 400 मी. की रेस में संस्था की छात्रा संध्या पटैल ने ब्रांज मेडल हासिल किया, एवं हाईजंप में यासिर खान ने ब्रांज मेडल हासिल किया।
अब ये छात्राएं 17 दिसंबर को होने वाली राज्य स्तरीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता
जो कि एस.ए.टी.आई. विदिशा कॉलेज में होनी है।  उसमें सागर नोडल का
प्रतिनिधित्व करेंगे। इस अवसर पर बी.टी.आई.आर.टी. कॉलेज के डायरेक्टर श्री सत्येन्द्र जैन ने छात्राओं का हौसला बढाते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। बी.टी. कॉलेज के प्राचार्य डॉ. वीरेश फुस्केले ने छात्राओं द्वारा दिखाए गए ।प्रदर्शन की सराहना की तथा उन्हें आगे होने वाली प्रतियोगिताओं के लिए
प्रोत्साहित किया।

गुरुवार, 16 दिसंबर 2021

SAGAR : सूने घरों में चोरी रोकने , सागर पुलिस ने किये हेल्‍पलाइन नम्‍बर जारी

SAGAR : सूने घरों में चोरी रोकने , सागर पुलिस ने किये हेल्‍पलाइन नम्‍बर जारी

सागर। वर्तमान समय में सागर शहर में हो रही चोरी की घटना पर संज्ञान लेते हुए सागर पुलिस द्वारा सागर शहर के समस्त थानो में एक विशेष हेल्पलाईन नम्बर जारी किया गया है जिसके तहत घर से बाहर जाते समय या शहर से बाहर जाते समय उक्त हेल्पलाईन नम्बर पर सागर शहर की आम जनता अपने घर के खाली होने के संबंध में सूचित कर सकती है।  जिससे संबंधित थाना की पुलिस उक्त सूचना पर संबंधित के घर की रात्रि के समय गस्त के दौरान विशेष निगरानी रख सकेगी। जिससे सूने घर में हो रही चोरी की वरदातो पर अंकुश लगेगा। सागर शहर के आमजन से अनुरोध है कि अपने अपने निवास स्थानो एवं दुकानो पर अच्छी गुणवत्ता के सीसीटीव्ही कैमरे लगाये जिससे इस तरीके की घटनाओं में संदेहियों की तलाश में पुलिस को मदद मिल सकेगी।


विभिन्न थानो के हेल्पलाईन नम्बर निम्नानुसार है :

थाना कोतवाली - 8817027817 
थाना मोतीनगर - 9303326344 
थाना केंट - 9303315305 
थाना गोपालगंज - 9303300567 
थाना सिविल लाईन - 9303326509 
थाना मकरोनिया - 9131613576 
थाना बहेरिया - 9303332404

शिक्षकों की सात सूत्रीय मांगो को लेकर म.प्र.राज्य कर्मचारी संघ ने जिला शिक्षा अधिकारी को सौपा ज्ञापन

शिक्षकों की सात सूत्रीय मांगो को लेकर म.प्र.राज्य कर्मचारी संघ ने जिला शिक्षा अधिकारी को सौपा ज्ञापन

सागर । म.प्र.राज्य कर्मचारी संघ ने शिक्षक,अध्यापक एवं अशैक्षणिक कर्मचारियों की सात सूत्रीय मांगों को लेकर संभागीय अध्यक्ष मोहन अग्रवाल,जिलाध्यक्ष सुरेशचंद्र द्विवेदी के नेतृत्व मे जिला शिक्षा अधिकारी अजब सिंह को ज्ञापन सौंपा |
ज्ञापन मे प्रमुख रूप से (1)शिक्षक व अध्यापको की दिसम्बर2021 की स्थिति मे प्रथम,द्वितीय एवं तृतीय क्रमोन्नति के संकुल स्तर से प्रस्ताव मंगाकर पात्र शिक्षकों के क्रमोन्नत आदेश जारी करने,(2)विकास खंड स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर आयोजित कर स्थानीय स्तर पर ही उनका निदान करने | (3) शिक्षक लिपिक एवं भृत्य संवर्ग के कर्मचारियों के जीपीएफ अहारण एवं अन्य वित्तीय प्रकरणो के निराकरण मे समय सीमा निर्धारित करने (4) दिव्यांग शिक्षक अध्यापक एवं गैर शैक्षणिक संवर्ग के कर्मचारियों को वेतन के साथ शासन द्वारा निर्धारित दिव्यांग भत्ता प्रदान करने | (5) शिक्षकों की सेवानिवृति से पूर्व उनके वित्तीय प्रकरणो का निराकरण कर सेवानिवृति दिवस पर ही समस्त देयको का भुगतान करने | (6) मान्यता प्राप्त कर्मचारी संघो से विभागीय परामर्श दात्री समिति की प्रत्येक तीन माह में पुनः आयोजित करना एवं संघ के एजेन्डे का पालन प्रतिवेदन सुनिश्चित करना | (7) पिछले माह आई एफ एम आई एस तकनीकी खामी से अध्यापक संवर्ग की वेतन बिना डीए के विलंब से मिलने की खामी मे सुधार कर प्रत्येक माह के प्रथम द्वितीय दिवस पर वेतन का भुगतान करने की मांग की गई | जिला शिक्षा अधिकारी ने मांगों का उचित निराकरण का आश्वासन दिया |

ज्ञापन सौंपने वालों में श्री राजेंद्र नागार्च जिला सचिव, जिला उपाध्यक्ष बृजेश द्विवेदी, जिला कोषाध्यक्ष दीपेश दुबे, बलराम त्रिपाठी दीपक दीक्षित, नितेश साहू चंद्रहास श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे |

भाग्योदय अस्पताल के सामने से लेकर मोतीनगर चौराहा तक सड़क : बाधक बने भवनों को हटाये जाने की कार्यवाही

भाग्योदय अस्पताल के सामने से लेकर मोतीनगर चौराहा तक सड़क :  बाधक बने भवनों को हटाये जाने की कार्यवाही 

सागर । नगर निगम द्वारा भाग्योदय अस्पताल के सामने से भूतेश्वर मंदिर होते हुये मोतीनगर चौराहा तक बनने वाली रोड़ में बाधक बने कच्चे / पक्के मकानों को हटाये जाने की कार्यवाही की गई। जिसमें अधिकांश कच्चे एवं पक्के मकानों को रहवासियों ने ही स्वयं हटा लिया शेष भवनों को नगर निगम द्वारा चिन्हित किया गया था ऐसे भवनों को जे.बी.मशीन से हटा दिया गया।
नगर निगम आयुक्त श्री आर पी अहिरवार के निर्देशानुसार सहायक आयुक्त श्री राजेशसिंह राजपूत, प्र.कार्यपालन यंत्री श्री लखनलाल साहू, पूरनलाल अहिरवार , उपयंत्री श्री राजकुमार साहू, अतिक्रमण दस्ता सहित पुलिस एवं नगर निगम के अधिकारियों की मौजूदगी में प्रातः 11 बजे से प्रारंभ की गई इस कार्यवाही में रोड के दोनों ओर जिन मकानों को चिन्हित किया गया था ऐसे मकानों को चिन्हित हिस्सों को हटा दिया गया। इस दौरान सड़क निर्माण में सहयोग की भावना से कई भवन स्वामियों ने स्वयं ही मकान तोड़ लिया आज की गई कार्यवाही में भाग्योदय के सामने से लेकर राजघाट पाईप लाईन की चाबी तक के दोनों ओर के मकानों को तोड़ दिया गया। यह कार्यवाही कल भी जारी रहेगी।
इस बीच तीन पं.दीनदयाल तिराहा से लेकर तिली अस्पताल की ओर जाने वाले मार्ग पर वृन्द्रावनबाग मंदिर के पास कच्चा मकान सहित अन्य बाधक निर्माण कार्यो को तोड़ने की कार्यवाही की गई। इस कार्यवाही के दौरान प्र.कार्यपालन यंत्री श्री रमेश चौधरी, अतिक्रमण प्रभारी श्री शिवनारायण रैकवार सहित पुलिस प्रशासन एवं निगम अतिक्रमण दस्ता के कर्मचारी उपस्थित थे।

SAGAR : संजय ड्राइव रोड में बाधक बन रहे निर्माण हटाए जाएंगे , कलेक्टर ने निरीक्षण कर दिए निर्देश

SAGAR : संजय ड्राइव रोड में बाधक बन रहे निर्माण हटाए जाएंगे , कलेक्टर ने निरीक्षण कर दिए निर्देश

सागर।  संजय ड्राइव रोड के निर्माण कार्य में बाधक बन रहे निर्माणों को चिन्हित कर हटाया जाए। उक्त निर्देश कलेक्टर सह अध्यक्ष एसएससीएल श्री दीपक आर्य ने गुरुवार को दिए। वे संजय ड्राइव रोड और लाखा बंजारा झील में चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण कर रहे थे। इस दौरान नगर निगम आयुक्त सह कार्यकारी निदेशक एसएससीएल श्री आरपी अहिरवार और स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत विशेषरूप से मौजूद थे।
गुरुवार सुबह कलेक्टर सह अध्यक्ष एसएससीएल श्री दीपक आर्य ने सागर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा बनाए जा रहे संजय ड्राइव रोड का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सडक निर्माण में बाधक बन रहे मकान और दुकानों को चिन्हित करें, उनकी रजिस्ट्री की जांच करें और देखें कि निर्माण नगर निगम द्वारा पास किए गए नक्शे के मुताबिक हुआ है या नहीं? उन्होंने निर्देश दिए कि सडक निर्माण के लिए सभी बाधाओं को शीघ्र हटाएं, जिससे तेजी से काम पूरा किया जा सके। उन्होंने पंतनगर के पास संजय ड्राइव के खतरनाक मोड को भी देखा और यहां सुरक्षित यातायात के लिहाज से सडक निर्माण करने के निर्देश दिए। सडक की मजबूती के लिए बनाई जा रही टो-वॉल का भी कलेक्टर श्री आर्य ने निरीक्षण किया। 
इसके बाद उन्होंने अधिकारियों के साथ लाखा बंजारा झील कायाकल्प परियोजना के तहत किए जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने निर्देश दिए कि छोटी झील में नाला टेपिंग के साथ ही जलकुंभी हटाने का काम भी शुरू करें। कलेक्टर श्री आर्य ने बडी झील में नाला टेपिंग के बाद हो रहे इंबैकमेंट के कार्य का निरीक्षण भी किया और निर्देश दिए कि इसका कॉम्पैक्शन सही तरीके से किया जाए। साथ ही उन्होंने इसके कार्य में गति लाने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि झील के काम में लगी मशीनों और मजदूरों की संख्या भी रोज देखी जाए। इंबैकमेंट का काम रात में भी किया जाए। साथ ही कल्वर्ट निर्माण का काम भी शुरू किया जाए।

स्थगित बिलों की बसूली तत्काल बन्द करने की उठाई माँग, आंदोलन की दी कांग्रेस ने चेतावनी

स्थगित बिलों की बसूली तत्काल बन्द करने की उठाई माँग,  आंदोलन की दी कांग्रेस ने चेतावनी

★ भाजपा सरकार ने जनता से की वायदा खिलाफी ........सुरेन्द्र चौधरी

सागर ।  भाजपा सरकार के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा उप चुनाव में कोरोना काल के माफ़ किये गये बिजली के बिलों की वसूली व  वसूली के दिये जा रहे नोटिस के विरोध में सैकड़ों कांग्रेसियों ने म.प्र.कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पर जमकर आक्रोश जताते हुये महामहिम राज्यपाल महोदय के नाम संबोधित तीन सूत्रीय ज्ञापन नगर दण्डाधिकारी श्री शैलेन्द्र सिंह को सौंप कर स्थगित बिजली बिलों की बसूली तत्काल बन्द करने की पुरजोर माँग उठाई।कार्यक्रम को संबोधित करते हुये मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर  आम जनता से वायदा खिलाफी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने उपचुनाव जीतने की गरज से आमजनों के हिमायती होने का दिखावा करते हुए बिजली के बिल माफ करने की घोषणा की थी। और अब विद्युत मण्डल द्वारा स्थगित किए गए बिजली बिलों की वसूली के नोटिस उपभोक्ताओं को थमाये जाकर समाधान योजना के नाम पर जबरिया वसूली की जा रही है। उन्होंने कहा कि विद्युत मण्डल द्वारा नरयावली विधानसभा क्षेत्र सहित जिलें भर के हजारों उपभोक्ताओं को स्थगित बिजली बिलों की वसूली के नोटिस जारी कर आर्थिक बोझ के तले दबाने का काम किया जा रहा है। जिसे कांग्रेस पार्टी किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेगी। श्री चौधरी ने चेतावनी देते हुए कहा है कि कोरोना काल में स्थगित किए गए बिजली बिलों की वसूली को तत्काल बंद किया जावे अन्यथा की स्थिति में  प्रदेश सरकार की वायदा खिलाफी के खिलाफ चरण वध्य आंदोलन किया जावेंगा। जिसका संपूर्ण उत्तरदायित्व शासन - प्रशासन का होगा।कार्यक्रम का संचालन युवा कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष अशरफ खान ने किया। वरिष्ठ कांग्रेस नेता पुरुषोत्तम मुन्ना चौबे, जितेन्द्र सिंह चावला, अखलेश मोनी केशरवानी, राकेश राय, अमित दुबे, मुकुल पुरोहित, गोवर्धन रेकवार, राम कुमार पचौरी, राजेश उपाध्याय, अभिषेक गौर, ठाकुर लगन सिंह, सुरेन्द्र सिंह राजपूत, देवेन्द्र कुर्मी, शरद पुरोहित, शोकत अली,महेश जाटव, राशिद  खान, पुष्पेंद्र सिंह, शिवपाल यादव,  राहुल चौबे, अक्षय दुबे, आर.आर. पाराशर, वीरेंद्रर गौतम, शरद राजा सेन,विजय साहु,सिन्टू कटारे, बृजेंद्र नगरिया, हेमराज रजक,राजा बुन्देला, धर्मेंद्र चौधरी, जितेंद्र चौधरी, संजय रोहिदास, संदीप चौधरी, एम.आई. खान, घन श्याम पटैल, राजू डिस्क,पवन केशरवानी, जैद खान, रजिया खान,प्रियंका तिवारी, सूरज रैकवार, अनिल कुर्मी, अबरार सौदागर, माजिद खान, मुकेश खटीक, अजीत सिंह, प्रीतेश तिवारी, मुल्ले चौधरी, धर्मेंद्र यादव, शहजाद निहारिया, मौहशीन खान, विवेक मिश्रा, रोहित मंडले, नरेश सनकत, पवन जाटव, शहंशाह खान, अशोक कुर्मी, दीपक कुर्मी, प्रीतम मारा, जितेन्द्र दुबे, पीयूष तिवारी, गोपाल तिवारी, वीरेन्द्र महावते, सना भाईजान, मदन सेन, धीरज खरे, अफजल खान, राहुल अहिरवार, वीरेन्द्र जैन, वीरेन्द्र वर्मा, राम अवतार सिंह, राजेन्द्र सिंह,  चक्रेश रोहित, फारूख खान, श्री दास रैकवार, संंजय रैकवार, सहेन्द्र राठौर, परमसुख कुर्मी,  पंचम लाल, अजय कुमार, सहित सैकडों की संख्या में कांग्रेसजन मौजूद रहे।

म.प्र. राज्य विद्युत मंडल पेन्शनर एसोसिएयेशन सागर का वार्षिक सम्मेलन सम्पन्न , नई कार्यकारिणी गठित

म.प्र. राज्य विद्युत मंडल पेन्शनर एसोसिएयेशन सागर का वार्षिक सम्मेलन सम्पन्न , नई कार्यकारिणी गठित

सागर। रविन्द्र भवन सागर में मध्य प्रदेश राज्य विद्युत मंडल पेंशनर्स एसोसिएशन सागर क्षेत्र सागर का वार्षिक सम्मेलन संपन्न हुआ आगामी 3 वर्ष के लिए नवीन कार्यकारिणी का गठन किया गया। परम संरक्षक श्री इंजीनियर सी.एल. स्वर्णकार, अध्यक्ष श्री इंजीनियर ए.के पाण्डेय, कार्यवाहक अध्यक्ष इंजी. के.सी. जैन, वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री आर.एन जोशी व पी.सी. चैरसिया, पी. वी. सिद्दीकी, एस मूर्ति सचिव श्री क.े एल. कटारिया अतिरिक्त सचिव श्री ज.ेपी.शर्मा (लख्खू) अंर्तक्षेत्रीय प्रतिनिधि श्री अशोक गोपीचंद रैकवार, संयुक्त सचिव श्री अरविंद जैन, सह सचिव श्री आर. एस. खरे, व आर एस कटारे उपसचिव श्री पी.एल. दुबे, कोषाध्यक्ष श्री एच.जी. हरने, संगठन सचिव सी.एस. तिवारी, प्रचार सचिव श्री डी.एस राजपूत व कमल कुमार अग्रवाल, कार्यकारिणी सदस्य श्री महाराज सिंह राजपूत, कोमल सेन, रामलखन श्रीवास्तव, सागरचंद साहू, पी.के. अवस्थ, पंडित रामेश्वर प्रसाद तिवारी, राजकुमार यादव, पंकज श्रीवास्तव बी.के. ज्योतिषी, गोपाल अहिरवार, महेंद्र प्रजापति, श्रीमती रेखा हर्डीकर, सुश्री शमीम बानो, सलाहकार समिति इंजी. आई.पी. पटेल, व्ही. पी मिश्रा, आर.एन शर्मा, जगदीश प्रसाद शर्मा, राजकुमार रावत, जोनल प्रतिनिधि श्री आर. आर. पाराशर, श्री अरविंद बलैया दमोह, श्री के.सी जैन, श्री किशोर नामदेव बीना, डाॅ. प्रेम श्रीवास्तव मनोहर नामदेव रहली, श्री एस.एन. सिंह, विनोद तिवारी छतरपुर श्री एस.बी. खरे,  मनीराम श्रीवास्तव टीकमगढ़ श्री के पी खरे अजय द्विवेदी इसके अतिरिक्त 75 वर्ष आयु पूर्ण करने वाले पेंशनर साथियों एवं ग्रेच्युटी अंतर राशि भुगतान में विशेष भूमिका के निर्माण हेतु उनका शाल व श्रीफल से सम्मानित किया गया पेंशनर एसोसिएशन के इस कार्यक्रम का आभार प्रदर्शन श्री अरविंद जैन एवं एसोसिएशन सदस्यों में जिन सदस्यों का देहावसान हो चुका है उन्हें सभी पेंशनर साथियों द्वारा सामूहिक रूप से श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

SAGAR : परीक्षा कक्षों में मिली नकल, प्रभारी प्राचार्य निलंबित

SAGAR : परीक्षा कक्षों में मिली नकल, प्रभारी प्राचार्य निलंबित

सागर । कमिष्नर श्री मुकेश शुक्ला ने शासकीय कन्या उत्कृष्ट माध्यमिक विद्यालय, बण्डा के प्रभारी प्राचार्य श्री अजय कुमार पटेल को परीक्षा कक्षों में नकल के पर्चे मिलने और अन्य अनियमितताएं पाए जाने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। कमिष्नर श्री मुकेश शुक्ला ने उक्त कार्यवाही मध्यप्रदेष सिविल आचरण नियम के तहत की है।

निलंबन अवधि में श्री पटेल का मुख्यालय कार्यालय संयुक्त संचालक लोक शिक्षण सागर संभाग नियत किया गया है। श्री पटेल को निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी।  

उल्लेखनीय है कि सहायक संचालक श्री सी.जे. फिलिप द्वारा 8 दिसम्बर को शासकीय कन्या उत्कृष्ट माध्यमिक विद्यालय, बण्डा का आकस्मिक निरीक्षण किया गया था। निरीक्षण में विद्यालय में कक्षा 9वीं की अर्द्धवार्षिक परीक्षा निष्पक्ष रूप से संचालित नहीं पाई गई। परीक्षा कक्ष क्रमांक-4 एवं 5 में नकल के पर्चे मिले थे तथा परीक्षा कक्षों में गंदगी पाई गई थी। नियमित रूप से साफ-सफाई होना नहीं पाया गया। विद्यालय के षिक्षक और अन्य स्टॉफ भी अनुपस्थित पाए गए।                 

रिश्‍वतखोर पटवारी को चार वर्ष का सश्रम कारावास

रिश्‍वतखोर पटवारी को चार वर्ष का सश्रम कारावास 

टीकमगढ़। मीडिया सेल प्रभारी एन.पी. पटेल ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि आवेदक रामचरण गुप्‍ता निवासी ग्राम जेवर तहसील लिधौरा ने लोकायुक्‍त कार्यालय सागर में इस आशय की शिकायत की थी कि उसकी टीकमगढ़ जिले स्थित कृषि भूमि में पृविष्टियों के सुधार हेतु लंबित राजस्‍व प्रकरण के निरस्‍त हो जाने पर उसे पुर्नस्‍थ‍ापित करवाने हेतु वह आरोपी पटवारी कन्‍हैयालाल राजपूत से मिला था तो आरोपी द्वारा उससे रिश्‍वत में 6000/-(छ: हजार) रूपये की मांग की गई थी। आवेदक रामचरण गुप्‍ता को लोकायुक्‍त पुलिस द्वारा उसे बातचीत रिकॉर्ड करने हेतु वॉयस रिकॉर्डर दिया गया था जिसमें आवेदक ने आरोपी द्वारा रिश्‍वत मांगने की बातचीत रिकॉर्ड कर ली थी। वॉयस रिकॉर्डर में आरोपी द्वारा रिश्‍वत मांगने की बात रिकॉर्ड होने पर लोकायुक्‍त पुलिस के द्वारा ट्रेप दल का गठन किया गया था और दिनांक 11.10.2018 को ट्रेप दल सागर से लिधौरा पहुंचा था और वहां पर आवेदक को आरोपी के पास रिश्‍वत राशि देने हेतु राजस्‍व निरीक्षक कार्यालय लिधौरा भेजा था जब आरोपी द्वारा आवेदक से रिश्‍वत राशि ले ली गई थी तब आवेदक के इशारे पर समस्‍त ट्रेप दल राजस्‍व निरीक्षक कार्यालय में पहुंच गया था और वहां पर आरोपी को घेर लिया था एवं जब आरोपी के हाथ धुलवाये गये तो उसके हाथों का घोल का रंग गुलाबी हो गया था। विवेचना उपरांत लोकायुक्‍त द्वारा अभियोग पत्र माननीय विशेष न्‍यायालय भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम के समक्ष प्रस्‍तुत किया गया। संपूर्ण विचारण पश्‍चात् विशेष लोक अभियोजक श्री संदीप सरावगी प्रस्‍तुत तर्कों से संतुष्‍ट होते हुए माननीय न्‍यायालय द्वारा आरोपी कन्‍हैयालाल राजपूत को रिश्‍वत लेने के अपराध में दोषसिद्ध करते हुए धारा 7 एवं धारा 13(1)(डी)(1), 13(2) भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम में 04-04 वर्ष के सश्रम कारावास एवं कुल 4000/-(चार हजार) रूपये के अर्थदण्‍ड से दंडित किया गया है।  यहां यह भी उल्‍लेखनीय है कि उक्‍त आरोपी को पूर्व में भी लोकायुक्‍त द्वारा रिश्‍वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया था जिसमें उसे सजा दी गई थी और आरोपी जमानत पर था।

बुधवार, 15 दिसंबर 2021

डॉ महेंद्र को मिला लाइब्रेरी साइंस का ‘टीचर ऑफ़ द ईयर’ सम्मान

 डॉ महेंद्र को मिला लाइब्रेरी साइंस का 'टीचर ऑफ़ द ईयर' सम्मान 

सागर.15 दिसंबर. डॉ.हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय के पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान विभाग के सहायक प्राध्यापक डॉ. महेंद्र कुमार को उनके शोध एवं शैक्षिणिक उपलब्धियों एवं योगदान के लिए मध्यप्रदेश पुस्तकालय संघ द्वारा 'एल.आई.एस. टीचर ऑफ़ द ईयर' 2021 से सम्मानित किया गया. मध्य प्रदेश शासन के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने डॉ. कुमार को भोपाल में आयोजित एक समारोह में सम्मानित किया. इस अवसर पर माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय, भोपाल के कुलपति प्रो. के जी सुरेश, माध्यम मध्य प्रदेश के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री पुष्पेन्द्र पाल सिंह और मध्य प्रदेश पुस्तकालय संघ के अध्यक्ष डॉ. प्रभात पाण्डेय की गरिमामयी उपस्थिति रही. इसके पहले भी डॉ महेंद्र को अंतरर्राष्ट्रीय शोध संघ, लंदन द्वारा इन्डियन टीचर अवार्ड 2021 एवं भी मिल चुका है. कुलपति प्रो नीलिमा गुप्ता, कुलसचिव संतोष सोहगौरा, विभागाध्यक्ष ललित मोहन एवं अन्य विभागीय शिक्षकों तथा कर्मचारियों ने उन्हें शुभकामनाएं प्रेषित की हैं.  
 
 
3 एम पी सिग्नल कम्पनी के एनसीसी कैडेट्स ने निकाली कैण्डल मार्च

सीडीएस विपिन रावत के साथ हेलीकॉप्टर हादसे में शहीद सभी जवानों की याद में एनसीसी कैडेट्स ने पुलिस लाईन्स ग्राऊण्ड से कालीचरण चौराहा तक कैण्डल मार्च निकाला।
 

आर्मी ऑफिसर्स ने देखा लाखा बंजारा झील का प्लान ,आर्मी एक्वा नोड के संबंध में सुझाव भी दिए

आर्मी ऑफिसर्स ने देखा लाखा बंजारा झील का प्लान ,आर्मी एक्वा नोड के संबंध में सुझाव भी दिए

सागर। लाखा बंजारा झील कायाकल्प परियोजना में होने वाले कार्यों के संबंध में बुधवार को आर्मी अधिकारियों ने विस्तार से जाना। इस दौरान झील में संजय ड्राइव रोड किनारे बने आर्मी एक्वा नोड के नए स्वरूप के संबंध में भी उन्होंने विस्तार से चर्चा की। बुधवार को कलेक्टर सह अध्यक्ष एसएससीएल श्री दीपक आर्य की अध्यक्षता में आर्मी अधिकारियों के साथ सागर स्मार्ट सिटी में बैठक आयोजित की गई। बैठक में सागर मिलिट्री स्टेशन के एडम कमांडेंट कर्नल ए. आचार्य, ब्रिगेडियर रवीन्द्र कुमार, कर्नल पल्लव सूद, नगर निगम आयुक्त सह कार्यकारी निदेशक एसएससीएल श्री आरपी अहिरवार, स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत, सुप्रीटेंडेंट इंजीनियर श्री अजय शर्मा और संबंधित अधिकारी, इंजीनियर्स मौजूद थे। 
आर्मी अधिकारियों ने बताया कि झील किनारे बने एक्वा नोड से आर्मी जवानों को कई तरह के प्रशिक्षण दिए जाते हैं। यहां पर जल से जुडे खेल, बोटिंग आदि गतिविधियों का संचालन भी होता है। परियोजना से जुडे अधिकारियों ने बताया कि लाखा बंजारा झील कायाकल्प परियोजना में कई तरह के कार्य किए जा रहे हैं। अधिकारियों को पूरा प्लान दिखाया गया और बताया गया कि काम पूरा होने के बाद आर्मी को और अधिक सुविधाएं मिल जाएंगी। संजय ड्राइव रोड पर ही बोटिंग जेटी का निर्माण भी कराया जाएगा। आर्मी अधिकारियों ने इस परियोजना का पूरा प्लान समझा और किए जा रहे कार्य की सराहना की।

यू टी.डी ने बीटीआईई को हराकर कब्बड्डी (पुरुष) प्रतियोगिता जीती

यू टी.डी ने  बीटीआईई को हराकर कब्बड्डी (पुरुष) प्रतियोगिता जीती


सागर। डॉ हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय  सागर से संबद्ध अंतर महाविद्यालय कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन  बी टी इंस्टीट्यूट आफ एक्सीलेंस महाविद्यालय मकरोनिया  सागर द्वारा किया गया ।
 प्रतियोगिता का उद्घाटन समारोह डॉ हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय के शारीरिक शिक्षा विभाग के  निदेशक प्रोफेसर रत्नेश दास,डॉ. सुशील काशव, बी टी आई ई  के निदेशक संदीप जैन एवं प्राचार्य डॉ राजू टंडन  के द्वारा किया गया।  प्रतियोगिता में बीटीआई  कॉलेज मकरोनिया यूटीडी सागर  टाइम्स कॉलेज दमोह राजीव लोचनाचार्य खुरई एवं  बीकेपी मालथौन  टीमों ने भाग लिया  प्रतियोगिता का फाइनल मैच बीटीआई कॉलेज  मकरोनिया एवं यूटीडी सागर के बीच खेला गया  जिसमें यूटीडी सागर की टीम ने बीटीआई मकरोनिया की टीम को कड़े मुकाबले में 55 - 51 से  शिकस्त देकर  यूटीडी सागर की टीम विजय रही ।
 प्रतियोगिता का समापन समारोह  डॉ हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय सागर  के  महाविद्यालयीन विकास परिषद के पूर्व निदेशक प्रोफेसर  सुबोध जैन  श्री संदीप जैन बीटी इंस्टिट्यूट ऑफ़ एक्सीलेंस महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ आर टंडन के आतिथ्य में संपन्न हुआ  प्रतियोगिता के निर्णायक श्री शैलेंद्र सिंह एवं इंद्रपाल  सिंह ,  जितेंद्र यादव मैच रेफरी   कमलेश कोरी  रहे  इस अवसर पर खेल विशेषज्ञ श्री भरत साहू  आकाश लिटोरिया। डॉक्टर महेश पटेल डॉक्टर संतोष चौबे डॉ सुरेश कोरी सर  साबिर आजाद  भूपेंद्र पांडे राकेश सेन  समस्त महाविद्यालय स्टाफ मौजूद रहा हैं। मंच का संचालन महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ आर टंडन  के द्वारा किया गया।


स्मार्ट सड़कों की समीक्षा की विधायक शैलेंद्र जैन व कलेक्टर दीपक आर्य ने

स्मार्ट सड़कों की समीक्षा की विधायक शैलेंद्र जैन व कलेक्टर दीपक आर्य ने

सागर । विधायक शैलेंद्र जैन,जिला कलेक्टर दीपक आर्य,नगर निगम आयुक्त रामप्रकाश अहिरवार एवं स्मार्ट सिटी सीईओ राहुल सिंह ने सागर शहर की प्रमुख सड़कों के निर्माण कार्य की समीक्षा की और उनकी निर्माण की समय सीमा तय की आज कलेक्ट्रेट कार्यालय में इन सभी जिम्मेदारों ने शहर की मुख्य सड़कें तिली से सिविल लाइन, दीनदयाल चौक से  तिली तिराहे, संजय ड्राइव रोड एवं सिविल लाइन चौराहा से डिग्री कॉलेज कॉलेज चौराहा तक की सड़कों के निर्माण कार्य की समीक्षा की।
 विधायक शैलेंद्र जैन ने ठेकेदार एवं निर्माण एजेंसी को कड़े शब्दों में चेतावनी देते हुए कहा है निर्माण कार्य की समय सीमा तय करके उसे उस समय सीमा में गुणवत्ता पूर्ण करना होगा  अन्यथा आपके खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी उन्होंने कहा कि सिविल लाइन तक कि एक तरफ की रोड 25 दिसंबर तक पूरी करके चालू की जाए ताकि लोगों को हो रही बंद हो और एक तरफ सड़क चालू होने से लोगों को काफी कुछ राहत मिलेगी।
जिला कलेक्टर दीपक आर्य ने ठेकेदारों को चेतावनी देते हुए कहा कि आपको समय सीमा में निर्माण कार्य पूर्ण गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने होंगे और लोगों को हो रही है असुविधा का ख्याल रखना होगा उन्होंने कहा कि अब स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्यों की मॉनिटरिंग टीएल बैठक की तरह प्रत्येक सप्ताह की जाएगी संजय ड्राइव सड़क के विषय में भी चर्चा की गई की सड़क का निर्माण कार्य 30 मार्च तक पूरा किया जाए

सुबह जल्दी उठने के फायदे गिनाए मंत्री गोपाल भार्गव ने ★ इण्डोर स्टेडियम, छात्रावास के लोकापर्ण और भूमिपूजन कार्यक्रम में हुए शामिल

सुबह जल्दी उठने के फायदे गिनाए मंत्री गोपाल भार्गव ने

★ इण्डोर स्टेडियम, छात्रावास के लोकापर्ण और भूमिपूजन कार्यक्रम में हुए शामिल

 

सागर । सागर जिले के रहली के नगरीय क्षेत्र में बुधवार  सौगातों का दिन रहा। शासकीय महाविद्यालय के खेल मैदान में  327.68 लाख रुपये की लागत से अत्याधुनिक व सर्व सुविधायुक्त नवनिर्मित इण्डोर स्टेडियम , 135 लाख की लागत से निर्मित आदिवासी बालक आश्रम छात्रावास का लोकापर्ण किया गया ।  साथ ही रहली अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय के नवीन भवन जिसकी लागत 85.73लाख है, का भूमिपूजन भी लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव द्वारा जिला कलेक्टर दीपक आर्य की उपस्थिति में किया गया।
     
कार्यक्रम को संबांधित करते हुए लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने बताया कि आज ये सभी सौगातें आमजन के लिए समर्पित हैं। इनका सदुपयोग करना आपकी जिम्मेदारी है। जनप्रतिनिधि, अधिकारी संसाधन जुटा सकते हैं लेकिन, उनका उपयोग कर आगे बढ़ना जनता का कार्य है। उन्होंने कहा कि इन भवनों का रख-रखाव करना भी हमारी जिम्मेदारी है।

मंत्री श्री भार्गव ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि पिछले दिनों आयोजित की गई फिजिकल ट्रेनिंग में भाग लेने वाले करीब 70 बच्चों का चयन पुलिस और आर्मी में हुआ है। उन्होनें कहा कि आज यहां जिम है, खेल मैदान है ,इण्डोर स्टेडियम है।  उन्होने मंच से जब छात्र -छात्राओं की रुचि जानी तो   अधिकांश युवाओं ने फौज में जाने के लिए अपनी रजामंदी दी। इस पर गर्व जताते हुए लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा कि यह वीरों की भूमि है।

इस अवसर पर उन्होंने अपने बचपन के समय की एक अंग्रेजी  कविता पढ़कर बच्चों को सुबह जल्दी उठने व रात को जल्दी सोने के फायदे भी बताए। वहीं देर से सोने व देर से उठने के नुकसान से भी अवगत कराया। उन्होनें कहा कि इस दिनचर्या से शरीर का क्षरण होता है। युवाओं को अनुशासित जीवन शैली अपनानी चाहिए, जिससे वे हर विधा में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर अपने नगर, प्रदेश और देश का नाम रोशन कर सकें।

'मंत्री श्री भार्गव और कलेक्टर ने बैडमिंटन भी खेला


उद्घाटन कार्यक्रम के बाद इंडोर स्टेडियम में जिला स्तरीय बैडमिंटन प्रतियोगिता का शुभारंभ किया गया। प्रतियोगिता की शुरूआत लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, कलेक्टर श्री दीपक आर्य, विवेकानंद विश्वविद्यालय के कुलपति श्री अनिल तिवारी, पूर्व अध्यक्ष राजेन्द्र जारोलिया एवं श्री अभिषेक भार्गव ने मैंच खेलकर की। कार्यक्रम के दौरान जिला पंचायत सीईओ श्री क्षितिज सिंघल,एसडीएम श्री जितेन्द्र पटेल, सीईओ श्री राजेश पटैरिया, अन्य अधिकारियों सहित बड़ी संख्या में छात्र- छात्राएं उपस्थित रहे।

दीनदयाल तिराहा से तिली तक सड़क , निर्माण कार्यो को हटाने की कार्यवाही तीसरे दिन भी जारी

दीनदयाल तिराहा से तिली तक सड़क , निर्माण कार्यो को हटाने की कार्यवाही तीसरे दिन भी जारी 

सागर 15 दिसम्बर 2021: 
सागर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत एस.आर.-1 के अंतर्गत तिली तिराहा से पं.दीनदयाल चौराहा तक होते हुये परकोटा तक 3.5 कि.मी.लंबी और 19.2 मीटर चौड़ी बनने वाली रोड़ का निर्माण मेंं बाधक बने निर्माण कार्यो के कारण कार्य लंबित हो रहा जिसको देखते हुये इन निर्माण कार्यो को हटाने की कार्यवाही तीसरे दिन भी जारी रही जहॉ निगम के अधिकारियों और अतिक्रमण दस्ता और पुलिसबल के समक्ष इन निर्माण कार्यो को जे.सी.बी.मशीनों से तोड़ दिया गया।
बुधवार को की गई कार्यवाही के दौरान तिली रोड पर स्थित शिवाजी अस्पताल से जिला चिकित्सालय  की ओर के रोड निर्माण कार्य में बाधक कच्चे एवं पक्के निर्माणों को हटवाया गया। इसके अलावा आगे के निर्माण कार्यो को हटाने की कार्यवाही निरंतर जारी रहेगी।

मंगलवार, 14 दिसंबर 2021

Sagar : बसस्टेंड से तिली तक निर्माण कार्य में बाधक बने निर्माण कार्यो को हटाने की कार्यवाही दूसरे दिन भी जारी

Sagar : बसस्टेंड से तिली तक निर्माण कार्य में बाधक बने निर्माण कार्यो को हटाने की कार्यवाही दूसरे दिन भी जारी



सागर । नगर निगम द्वारा पं.दीनदयाल तिराहा से तिली तक स्मार्ट सिटी द्वारा बनायी जा रही रोड निर्माण कार्य में बाधक बने निर्माण कार्यो को हटाने की कार्यवाही दूसरे दिन भी निरंतर जा रही। कलेक्टर एवं निगमायुक्त ने हटाये गये निर्माण कार्यो का जायजा लिया।

सागर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत एस.आर.-1 के अंतर्गत तिली तिराहा से पं.दीनदयाल चौराहा तक होते हुये परकोटा तक 3.5 कि.मी.लंबी और 19.2 मीटर चौड़ी बनने वाली रोड़ का निर्माण मेंं बाधक बने निर्माण कार्यो के कारण कार्य लंबित हो रहा जिसको देखते हुये कलेक्टर श्री दीपक आर्य एवं निगमायुक्त श्री आर पी अहिरवार के समक्ष इन निर्माण कार्यो को हटाने की कार्यवाही सोमवार से प्रारंभ की गई है जो मंगलवार यानि दूसरे दिन भी जारी रही जहॉ निगम के अधिकारियों और अतिक्रमण दस्ता और पुलिसबल के समक्ष इन निर्माण कार्यो को जे.सी.बी.मशीनों से तोड़ दिया गया।


 मंगलवार को की गई कार्यवाही के दौरान तिली रोड पर स्थित सर्विंसिंग सेंटर की दीवारों को एवं वाइन शाप के सामने के फर्श को, जैन की दीवार, कंडया का टीनशेड एवं मुख्य गेट, चैतन्य अस्पताल के सामने की ओर की दीवार तोड़ा गया साथ ही दीवार के पास रखा टपरा हटवाया गया। इसके अलावा आगे के निर्माण कार्यो को हटाने की कार्यवाही निरंतर जारी रही है। कार्यवाही के दौरान कई भवन स्वामियों ने अपनी स्वेच्छा से स्वयं द्वारा रोड निर्माण कार्यो में बाधक बन रहे निर्माण कार्य को हटा लिया गया।
इस बीच आज प्रातः कलेक्टर श्री दीपक आर्य एवं निगमायुक्त श्री आर पी अहिरवार द्वारा निगम अधिकारियों के साथ सोमवार को हटाये गये अतिक्रमणों का जायजा लिया और निर्देश दिये कि जो भी निर्माण कार्य सड़क निर्माण में बाधक बने है उनकी माप करते हुदये हटा दिया जाय और यह कार्य शीघ्र पूर्ण करें ताकि आवागमन में बाधा ना हो जिससे सड़क निर्माण कार्य भी शीघ्र प्रारंभ किया जा सकें। 

मकरोनिया में आवासीय सुविधाओं का होगा और विस्तार ★ नगरीय विकास तथा आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने स्वीकृत की पांच करोड़, चार लाख रुपये की राशि

मकरोनिया में आवासीय सुविधाओं का होगा और विस्तार

★ नगरीय विकास तथा आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने स्वीकृत की पांच करोड़, चार लाख रुपये की राशि


सागर।मकरोनिया में मध्यप्रदेश गृह निर्माण मंडल द्वारा विकसित दो आवासीय योजनाओं में विकास के और अधिक काम होने का रास्ता साफ हो गया है। मध्यप्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने डॉ. हरिसिंह गौर नगर एवं पंडित दीनदयाल नगर में आवश्यक शेष कामों को करने के लिए अपने विशेषाधिकार के अंतर्गत कुल 5 करोड़ 4 लाख रुपये की राशि स्वीकृत की है। मंगलवार को भोपाल में गृह निर्माण मंडल की बैठक में भूपेन्द्र सिंह ने इस संबंध में निर्देश प्रदान किए।_
     डॉ. हरिसिंह गौर नगर तथा पंडित दीनदयाल नगर में कुल 568 भवनों का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। अभी इन दोनों स्थानों पर आवासीय तथा व्यावसायिक श्रेणी के 37 प्लॉट बिक्री के लिए उपलब्ध हैं। दोनों ही कॉलोनियां नगर पालिका, मकरोनिया को हस्तांतरित की जा चुकी हैं। 
     मंगलवार को भोपाल में गृह निर्माण मंडल की बैठक में नगरीय विकास तथा आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने इन दोनों कॉलोनियों के लिए 5 करोड़ 4 लाख रुपये की राशि स्वीकृत की। इस राशि से डॉ. हरिसिंह गौर नगर में बोहरे गेट से सब स्टेशन तक सड़क और नाली का निर्माण किया जाएगा। साथ ही पंडित दीनदयाल नगर में सागरश्री अस्पताल से लेकर सेन्ट्रल स्कूल तक तथा राठौर किराना से स्टेशन पहुंच मार्ग तक सड़क और नाली बनाई जाएगी। 
     इस राशि का इस्तेमाल स्टेशन चैराहा और एचआईजी 119 से अंकुर कॉलोनी तक सड़क निर्माण के लिए भी होगा। इसी पैसे से डॉ. हरिसिंह गौर नगर में सेंट मैरी स्कूल के नजदीक खेल मैदान का विकास भी होगा। योजना के तहत स्मार्ट रोड से पुराने ओव्हरहेड टैंक तक सीसी रोड और सागरश्री अस्पताल से सेंट्रल स्कूल तक रोड डिवाइडर भी बनाया जाएगा। कॉलोनी की स्ट्रीट लाइट और सड़कों के निर्माण के कारण लाइन शिफ्टिंग का काम भी इस स्वीकृत राशि के माध्यम से कराया जाएगा।
     बैठक में मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने निर्देश दिए कि सभी निर्माण समय से एवं पूरी गुणवत्ता के साथ किये जाएं। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि सभी काम में नागरिक सुविधाओं को लेकर कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 

 

सेवाधाम आश्रम श्यामपुरा सागर के फादर व अन्‍य के विरूद्ध किशोर न्याय बालको के देखरेख एवं संरक्षण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज

सेवाधाम आश्रम श्यामपुरा सागर के फादर व अन्‍य के विरूद्ध किशोर न्याय बालको के देखरेख एवं संरक्षण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज

सागर। पुलिस अधीक्षक कार्यालय के माध्यम से एक आवेदन पत्र सेंट फ्रांसिस सेवाधाम आश्रम श्यामपुरा सागर की जांच के संबंध में प्राप्त हुआ था। जिसमें आवेदक द्वारा बाल कल्याण समिति के समक्ष उसके पुत्र 08 वर्षीय बालक को सेवाधाम आश्रम में रहने के दौरान मारपीट करने एवं जबरन गाय का मांस खिलाये जाने व नही खाने पर कई तरीको से परेशान किये जाने के संबंध में, आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया था। जिसकी जांच थाना केंट द्वारा की गयी जांच में बाल कल्याण समीति सागर द्वारा फरियादी एवं उसके 08 वर्षीय पुत्र पीडित बालक व अन्य साक्षियो से पूछताछ कर कथन लिये गये। बाल कल्याण समीति सागर द्वारा जांच के दौरान लेख कथनो में आवेदक एवं उसके 08 वर्षीय पीडित पुत्र के अलावा सेंट फ्रांसिस सेवाधाम आश्रम श्यामपुरा सागर में निवासरत अन्य बालको द्वारा शिकयात का समर्थन नही किया या अपितु यह बताया गया कि आश्रम में नास्ते में पोहा, दलिया, पास्ता ,नूडल , चाय दोपहर के खाने में चावल - दाल , रोटी - सब्जी और सप्ताह में एक दिन नान-वेज खाने वालो को चिकिन मिलता है तथा सभी धर्मो को मानने की छूट रहती है उपरोक्त आवेदन पत्र थाना केंट पुलिस द्वारा जांच किये जाने पर फरियादी के अलावा उसके पुत्र 08 वर्षीय पीडित बालक एवं अन्य 15 साक्षियों के कथन लेख किये गये।

पुलिस एवं अध्यक्ष बाल कल्याण समीति सागर के द्वारा सेंट फ्रांसिस सेवाधाम आश्रम श्यामपुरा सागर संस्था का निरीक्षण किया गया जिसमें निरीक्षण के समय संस्था की किचिन एवं अन्य जगह मांस एवं उसके अवशेष नही पाये गये, प्रार्थना कक्ष में सभी धर्मों के धर्म चिन्ह दीवाल पर लगे पाये गये एवं सभी धर्मो के धर्म ग्रंथ यथा गीता, कुरान, वाईबिल आदि पुस्तके पाई गई। बच्चो के कथन में बच्चो द्वारा अलग अलग धर्म को मानने एवं उसकी पूजा प्रार्थना करने संबंधी बात बताई गयी एवं खाने में चावल, दाल, रोटी - सब्जी और सप्ताह में एक मुर्गी का अण्डा दिया जाने और जो चिकिन नही खाते है उने दूसरी सब्जी दिया जाना बताया गया व गलती करने पर समझाने की बात बताई गयी जांच पर उक्त *संस्था द्वारा खाने में गाय का माँस खिलाना एवं ईसाइ धर्म हेतु बच्चो को प्रेरित करना या इसके लिये परेशान करना नही पाया गया* अपितु पीडित बालक द्वारा अपने कथन में आश्रम के फादर एवं एक अन्य द्वारा मारपीट करने की बात बताई गयी जिसके कथन का सर्मथन उसके पिता द्वारा किया गया इसके अतिरिक्त अन्य किसी साक्षियों द्वारा उसका सर्मथन नही किया गया मामले में विधिक राय प्राप्त कर आवेदक एवं 8 वर्षीय पीडित बालक के कथन में आये तथ्यों के अनुसार प्रथम दृष्टिया फादर एवं एक अन्य पर दिनांक 13/12/21 को किशोर न्याय बालको के देखरेख एवं संरक्षण अधिनियम की धारा 75 के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान आये साक्ष्यो के अनुसार अग्रिम कार्यवाही की जायेगा।

चौरसिया महासभा के प्रदेशाध्यक्ष ने किया निवाड़ी क्षेत्र का दौरा

चौरसिया महासभा के प्रदेशाध्यक्ष ने किया निवाड़ी क्षेत्र का दौरा

निवाड़ी। निवाडी जिले के दो दिवसीय दौरे पर आए चौरासिया महासभा मध्यप्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष श्री गौरव चौरासिया उर्फ  विक्की भईया निवाडी जिले के जन सम्पर्क के तारतम्य में टेहरका भ्रमण कर रियारा धाम पहुँच कर दर्शन उपरांत महंत श्री त्यागी जी चौरासिया महाराज का आशीर्वाद प्राप्त किया। उन्होंने  चौरासिया जैविक कृषि फार्म  एवं जिम सेन्टर का अवलोकन कर आकाश चौरासिया को उचित मार्ग दर्शन देकर  प्रोत्साहित किया ।
तदोपरांत राम जानकी मंदिर चौरासिया समाज के प्रांगण में समाज जन एकत्रित हुए ।  सामाजिक बंधुओ को संबोधित करते हुए एकजुटता शिक्षा प्रसार युवा वर्ग को चौरिषि महाराज के गौरव पूर्ण वंसज होने का उत्तम कोटि के व्यक्तित्व एवं समाज निर्माण में उनके महत्व को स्थापित करने की प्रेरणा दी । ग्राम भ्रमण के दौरान अध्यक्ष जी का जगह जगह शाल , श्रीफल  , एवं माल्यापर्ण कर आत्मीय स्वागत किया गया । इस अवसर पर श्री कौशल किशोर चौरासिया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष , विनोद सर जी , हरि कृष्ण चौरासिया सरपंच , दशरथ दादा , अभिषेक जी ,प्रभु दयाल , केशव दास , दिनेश , अशोक, अखलेश , अयोध्या प्रसाद , कृपाराम , रामनाथ दद्दा , चंद्र भान, धर्मेन्द्र , शिवकुमार, अनिल, नितेंद्र , सतीश, मनोज , नंदकिशोर, आलोक , दिपक , निखिल, राजा, भगवान दास, विवेक, प्रमोद , अंशु , सतीश , अमित, गोलू, मुन्ना, कुलदीप , वंदना , बॉस मामा, राजा, रवि, सत्यम , लालु , कलू  , पुल्ले , मोनू सहित अनेक चौरासिया समाज के लोग सहित मंदिर के पुजारी जी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे ।कार्यक्रम  का सफल संचालन ई. अनुराग चौरासिया युवा प्रदेश अध्यक्ष के द्वारा  किया गया । समाज के सभी  लोगो ने अध्यक्ष जी को  टेहरका आने पर बधाई  दी। ।

सोमवार, 13 दिसंबर 2021

उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नरयावली का निरीक्षण, व्यवस्थाएं सही मिली

 उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नरयावली का निरीक्षण, व्यवस्थाएं सही मिली



सागर। संयुक्त लोक शिक्षण सागर संभाग सागर डॉ.मनीष वर्मा द्वारा शासकीय उत्कृष्ट उ.मा.विद्यालय नरयावली का आकस्मिक निरीक्षण किया गया 50% के मान से 362 विद्यार्थी अर्थात 91% उपस्थित में निरीक्षण के समय समस्त कक्षायें विधिवत संचालित पाई गई। संयुक्त संचालक शिक्षा ने प्रत्येक कक्षा का सूक्षमता से अकादमिक निरीक्षण किया एवं शिक्षकों व विद्यार्थियों से वार्षिक परीक्षा, कैरियर मार्गदर्शन, कोविड नियमों के पालन गृहकार्य की उत्तरपुस्तिकाएं अर्द्ध वार्षिक परीक्षा की मूल्यांकित उत्तर पुस्तिकायें छात्रों को दिखाये जाने के समय छात्रों को सर्वाधिक अंक प्राप्त/होशियार विद्यार्थियों की प्रत्यक्ष विषय को उत्तर पुस्तिका अवश्य अवलोकन करने के सुझाव दिए। निरीक्षण के समय समय विभाग चक्रानुसार कक्षायें संचालित पाई गई एवं समस्त कक्षों के शिक्षक अध्यायन करते पाये गए निरीक्षण के समय अध्यापन कक्ष, कार्यालय परिसर प्रयोग शाला का भी निरीक्षण किया जो साफ सुथरे एवं स्वच्छ संचालित पाये गए। निरीक्षण के समय उपस्थित विद्यार्थी गणवेश में पाये गए एवं बैठक व्यवस्था उपयुक्त पाई गई सभी विद्यार्थी मास्क लगाये हुए थे। प्राचार्य डॉ महेंद्र प्रताप तिवारी द्वारा शिक्षकों की डायरी का नियमित संधारण के साथ अवलोकन कर हस्ताक्षर दर्ज कराना पाया गया। शास. उत्कृष्ट विद्यालय सी.एम.राईज के अन्तर्गत संचालित है जिसका प्राचार्य द्वारा प्रभारी संचालन किया जा रहा है।

बीटीआईई कॉलेज सागर ने जीती फुटबॉल पुरुष प्रतियोगिता


बीटीआईई कॉलेज सागर ने जीती फुटबॉल पुरुष प्रतियोगिता 


सागर। शारीरिक शिक्षा विभाग डॉ हरीसिंह गौर विश्व विद्यालय सागर द्वारा आयोजित अन्तरमहाविद्यालय फुटबॉल (पुरुष) प्रतियोगिता का फायनल मैच यू टी ड़ी सागर एवं बिटीआईई सागर के बीच खेला गया जिसमें बीटीआईई सागर की टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 2-0 से जीत अर्जित की । जिसमे पहला गोल  26 मिनिट में रोनाल्डो जोसफ़ एवं दूसरा  गोल 70 वे मिनिट में पेनल्टी शूट में गोविंद ने दागा।
मैच के निर्णायक विजय देव (पिंका), राजकुमार रजक, राजेन्द्र नाथ थे ।
मैच उपरांत प्राचार्य बीटीआईई  डॉ राजू टंडन के मुख्य आतिथ्य एवं डॉ सुशील कासव की अध्यक्षता  में विजेता, उपविजेता टीम को ट्राफी प्रदत्त की गई ।
प्रतियोगिता के संगठन सचिव विनय शुक्ला । संचालन महेंद्र कुमार बाथम ने किया ।
इस अवसर डॉ सुमन पटेल, श्री करामत खान, मनोज जैन, अनवर खान  क्षितिज विशाल स्वरूप, आकाश लिटोरिया ।

                     

सब्जी मंडी परिसर में 1.10 करोड़ की लागत की सड़क का शिलान्यास किया विधायक शेलेन्द्र जैन ने

सब्जी मंडी परिसर में 1.10 करोड़ की लागत की सड़क का शिलान्यास किया विधायक शेलेन्द्र जैन ने

सागर।सब्जी मंडी परिसर में सागर विधायक शैलेंद्र जैन के प्रयासों से मंडी प्रांगण में लगभग 1.10 करोड़ रुपए की राशि से सड़क निर्माण कार्य का शिलान्यास विधायक शैलेंद्र जैन के कर कमलों से संपन्न हुआ उल्लेखनीय है कि वर्ष 2018 में स्वीकृत यह सड़क नया बाजार रोड के लिए एवं पुरानी सब्जी मंडी क्षेत्र के लिए स्वीकृत की गई थी परंतु स्थानीय दुकानदारों एवं निवासियों ने सड़क ऊंची होने पर पानी भरने का उठाकर इस सड़क को बनवाने से इंकार कर दिया था। तब सभी की सहमति से यह निर्णय किया गया कि शासन से स्वीकृति लेकर इस सड़क को नई सब्जी मंडी में बनाया जाए तो इस तारतम्य में विधायक शैलेंद्र जैन द्वारा मंडी बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष एवं सागर के पूर्व कलेक्टर विकास नरवाल से चर्चा कर इस सड़क निर्माण की स्वीकृति कराई थी।  आज इस सड़क का शिलान्यास किया गया है बहुत जल्द सड़क बन कर तैयार होगी ।इस अवसर पर विधायक जैन ने संबोधित करते हुए कहा कि मंडी हमारे शहर का महत्वपूर्ण अंग है और जब हम पूरे शहर को स्मार्ट बना रहे हैं तब हमारी मंडी भी स्मार्ट होनी चाहिए और यहां आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को इस बात का एहसास हो कि जहां हम अपने खाद्य पदार्थों और सब्जियों को खरीद रहे हैं वहां हम अच्छा वातावरण महसूस कर सकें ।उन्होंने कहा कि सागर मध्य प्रदेश का पहला ऐसा शहर है जहां हम सब्जी  एवं फल वालों को निशुल्क दुकानें बनाकर दे रहे हैं लगभग ₹14000000 की लागत से 150 दुकान में बनकर तैयार है और भी दुकान है और बहुत जल्द और भी दुकाने बनकर तैयार की जा रही हैं ।

ये रहे मौजूद

कार्यक्रम में मुख्य रूप से शैलेश केशरवानी जगन्नाथ गुरैया ज्ञानचंद कुकरेजा सतीश मोदी जिनेश साहू पप्पू भाई जान  मंडी सचिव भार्गव,  इंजीनियर महेंद्र सिंह अकील भाई जान सलीम राइन् उपस्थित रहे।

SAGAR : बस स्टेंड से तिली अस्पताल रोड का निर्माण , बाधक बनी दुकानों मकानों को हटाया

SAGAR : बसस्टेंड से तिली अस्पताल रोड का निर्माण , बाधक बनी दुकानों मकानों को हटाया


सागर ।  सागर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत एस.आर.-1 के अंतर्गत तिली तिराहा से तीन मढ़िया तक बनने वाली रोड जिसके निर्माण में बकौली तिराहा से तिली अस्पताल रोड पर बनी लगभग 13 पक्की दुकानें सहित कच्चे और पक्के मकानों को हटाने की कार्यवाही की गई।
यहां पर दुकानदारों ने हटाने का विरोध भी बेनर लगाकर किया था। 

कलेक्टर  दीपक आर्य, निगमायुक्त आर.पी.अहिरवार सहित निगम इंजीनियरों, अतिक्रमण दस्ता और पुलिस बल द्वारा सबसे पहले 13 पक्की दुकानों को तोड़ने का कार्य किया गया, जिसमें 3 बड़ी जे.सी.बी. और 1 छोटी जे.सी.बी.मशीन की मदद ली गई। इन दुकानों के दुकानदारों द्वारा पहले ही कार्यवाही के पूर्व स्वयं के द्वारा दुकाने खाली कर दी गई थी, इसी प्रकार कच्चे टपरों को भी दुकानदारों द्वारा स्वयं हटा लिया गया साथ ही कुछ बड़ी इमारतों जिनका कुछ सामने की ओर का हिस्सा टूटना है, उसे व्यवस्थित ढंग से तोड़ा जायेगा। इस दौरान कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने निर्देश दिये कि जो हिस्सा सड़क बनाने की बीच आ रहा है और उसे तोड़ना है तो आज ही पूरा कार्य करें क्योंकि यह व्यस्तम मार्ग है, इसलिये आने जाने वालो को कोई असुविधा ना हो। निगमायुक्त श्री अहिरवार ने रोड पर पड़े मलमें को भी उठवाने और उसकी तुरंत साफ सफाई करने के निर्देश दिये।
अतिक्रमण मुहिम के दौरान सहायक आयुक्त श्री राजेशसिंह राजपूत, कार्यपालन यंत्री श्री पूरनलाल अहिरवार, रमेश चौधरी, सहायक स्वच्छता अधिकारी श्री आनंद मंगल गुरू, सहायक यंत्री श्री संजय तिवारी, उपयंत्री श्री दिनकर शर्मा, आयुषी श्रीवास्तव, खुशबू पटैरिया, राजस्व अधिकारी बृजेश तिवारी, अतिक्रमण प्रभारी शिवनारायण रैकवार सहित स्मार्ट सिटी एव ंनगर निगम के अधिकारी तथा जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे। 

प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण, कार्यक्रम का सागर में सीधा प्रसारण देखा ★ प्रधानमंत्री श्री मोदी इतिहास पुरूष हैं- मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह

प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा काशी विश्वनाथ
धाम का लोकार्पण, कार्यक्रम का 
सागर में सीधा प्रसारण देखा


★ प्रधानमंत्री श्री मोदी इतिहास पुरूष हैं- मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह


सागर । प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने काशी में आज विश्वनाथ धाम का लोकार्पण किया। काशी के  कार्यक्रम का सीधा प्रसारण सागर के गोपालगंज स्थित सिद्ध कामद्वेष्वर महादेव मंदिर के प्रांगण में किया गया।  इस अवसर पर नगरीय विकास एवं आवास मंत्री  भूपेंद्र सिंह, विशेष अतिथि विधायक  शैलेंद्र जैन, श्री गौरव सिरोठिया, कलेक्टर श्री दीपक आर्य, नगर निगम आयुक्त श्री आरपी अहिरवार, वृंदावन बाग मंदिर के महंत श्री नरहरिदास, श्री बिपिन बिहारी, श्री लक्ष्मीनारायण दुबे, श्री मगनदास, श्री चन्द्रभान तिवारी, श्री सुशील तिवारी  और नागरिकगण उपस्थित थे।

पूरे प्रदेष के साथ ही सागर में काषी के कार्यक्रम को देखा और सुना गया। साथ ही गोपालगंज स्थित सिद्ध कामद्वेष्वर महादेव मंदिर के प्रांगण में कार्यक्रम का आयोजन किया गया।  कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने भगवान महादेव की पूजा-अर्चना और अभिषेक किया। उन्होंने साधु-संतो का शॉल-श्रीफल, पुष्पमाला से सम्मान किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नगरीय विकास मंत्री श्री सिंह ने कहा कि यह गौरव और प्रसन्नता का क्षण है कि प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा काषी विष्वनाथ धाम का लोकार्पण किया गया है। पहले सकरी और तंग गलियों से होकर बाबा विष्वनाथ के दर्षन के लिए श्रद्धालु जाते थे, अब विषाल कॉरिडोर बन जाने से श्रद्धालुओं की दिक्कत दूर हो गई है। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी देष के सामान्य प्रधानमंत्री नहीं है, श्री मोदी इतिहास पुरूष हैं। देष के विकास के जो काम वर्षों से रूके हुए थे, वह आज उनके नेतृत्व में पूरे हो रहे हैं।

मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि महर्षि अरविन्द ने कहा था कि 21वीं सदी भारत की होगी। प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में देष लगातार आगे बढ़ रहा है और उन्नति कर रहा है। भारत अपने पुराने वैभव को प्राप्त कर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत को वैभवषाली बनाने में सभी अपना योगदान दें।

कार्यक्रम के विषिष्ट अतिथि श्री शैलेन्द्र जैन ने कहा कि प्रसन्नता की बात है कि आज इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम के हम सभी साक्षी है। उन्होंने काषीनगरी की महत्ता पर प्रकाष डाला और कहा कि काषी से भारतवासियों की आस्था जुड़ी है। कार्यक्रम का संचालन श्री अरविन्द जैन ने किया। 

रविवार, 12 दिसंबर 2021

राजधानी में कारोबार और अंचल में होती है सरोकार की पत्रकारिता : भूवनेश सेंगर ★ वरिष्ठ पत्रकार संजय चौबे पद्मभूषण पंडित भगवंतराव मंडलोई पत्रकारिता सम्मान से नवाजे गए

राजधानी में कारोबार और अंचल में होती है सरोकार की पत्रकारिता : भूवनेश सेंगर 

★  वरिष्ठ पत्रकार संजय चौबे  पद्मभूषण पंडित भगवंतराव मंडलोई पत्रकारिता सम्मान से  नवाजे गए 

खंडवा। पत्रकारिता के अब मायने बदल गए हैं। बड़े शहरों में जहां पत्रकारिता कारोबार हो गई है वहीं अंचल में पत्रकारिता अब भी सरोकार बनी हुई है। किसी पत्रकार में यह भेद नहीं किया जाना चाहिए कि वे अंचल से है या राजधानी से। अंचल की पत्रकारिता में आज भी मूल भाव उपलब्ध हैं।
यह बात वरिष्ठ पत्रकार भूवनेश सेंगर ने मध्यप्रदेश मीडिया संघ और खंडवा पत्रकार संघ द्वारा आयोजित पदमभूषण पंडित भगवतंराव मंडलोई पत्रकार सम्मान समारोह में कही। वरिष्ठ पत्रकार संजय चौबे  पद्मभूषण पंडित भगवंतराव मंडलोई पत्रकारिता सम्मान से  नवाजे गए। 

 उन्होंने कहा प्रजातंत्र में चौथा स्तंभ होने का दंभ भरने वाली मीडिया के पास कोई अधिकार नहीं है। आंचलिक पत्रकारों को वेतन तक नहीं मिलता इसके बावजूद जिस तरह वे काम करते हैं वह अपने आपमें काबिले तारीफ है। इस मौके पर प्रदेशभर के पत्रकारों को लाइफ टाइम अचीवमेंट, श्रेष्ठ पत्रकार और नवोदित पत्रकारों के सम्मान से नवाजा गया। सांसद ज्ञानेश्वर पाटिल ने कहा मीडिया हमें आइना दिखाने का काम करता है। पत्रकार जनता प्रशासन और जनप्रतिनिधियों के बीच समन्वय का काम भी करते हैं। नए पत्रकार ज्यादा तेजी न दिखाएं और वरिष्ठों का मार्गदर्शन भी लें ताकि समाज के लिए बेहतर कर सकें।  उन्होंने पंडित भगवंतराव मंडलोई के बारे में कहा कि उन्होंने मध्यप्रदेश के लिए जो काम किए हैं वो कभी भुलाए नहीं जा सकते। खंडवा विधायक देवेंद्र वर्मा ने कहा आपदा काल में पत्रकारों ने जो काम किए है वह सराहनीय हैं। भाजपा जिलाध्यक्ष सेवादास पटेल ने कहा पत्रकारिता में टिके रहना बहुत मुश्किल है। मैंने भी पत्रकारिता जीवन को करीब से देखा है हमारा कर्तव्य है एक दूसरे की संस्कृति का आदर करें। यही हमारी परंपरा है और समाचार पत्र इस परंपरा को बनाए हुए हैं। कार्यक्रम की शुरूआत सभी धर्मों के संदेश के साथ हुई। गायत्री परिवार की ओर से परिप्राजक भैरोसिंह चौहान ने गायत्री मंत्रों का उच्चारण किया तो नायब शहर काजी सैयद निसार अली ने कुराने पाक तिलावत की। इसी तरह गुरुद्वारा के प्रमुख ग्रंथी ज्ञानी जसबीरसिंह राणा और दिगंबर जैन मंदिर के पुजारी प्रतीक जैन ने धर्म के महत्व पर प्रकाश डाला। राघवेंद्रराव मंडलोई ने पदमभूषण पंडित भगवंतराव मंडलोई के जीवन के बारे में जानकारी दी। संजय चौबे ने पंडित माखनलाल चतुर्वेदी का जीवन परिचय दिया। राजेंद्र पाराशर ने पदमश्री रामनारायण उपाध्याय का परिचय दिया तो कल्याणी महाजन ने किशोर दा का परिचय दिया उन्होंने उनसे जुड़े रोचक किस्से भी सुनाए। नवरतन जैन बड़वाह ने स्वागत उदबोधन दिया। प्रदेश उपाध्यक्ष रिजवान अंसारी ने कार्यक्रम की रूपरेखा बताई। अनंत माहेश्वरी ने अपनी कविता मैं पत्रकार हूं का वाचन किया। कोरोना में दिवंगत हुए पत्रकारेां को दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी। पर्यावरण को लेकर धुम्रपान निषेध के प्रति जनजाग्रति के लिए गायत्री परिवार के देवा भावसार, अशीष पटेल, सुखपाल सिंह पवार, संजय महाजन आदि ने शिविर लगाकर आगंतुकों को जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन ग्रामीण जिला अध्यक्ष पंकज लाड़ ने किया आभार मध्यप्रदेश मीडिया संघ के अध्यक्ष जयवंत ठाकरे ने व्यक्त किया। जिला अध्यक्ष श्याम शुक्ला और नगर अध्यक्ष मनीष व्यास ने कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत की। 

अंग्रेज भी पत्रकारों से डरते थे— मंडलोई

भगवंतराव मंडलोई को स्मरण करते हुए अमिताभ मंडलोई ने कहा वे लिखते भी थे उन्होंने कहा है कि पत्रकारिता और आजादी की लड़ाई में पत्रकारिता और साहित्य का जो संबल मिलता था वह अकल्पनीय है। इस जुगलबंदी ने अंग्रेजों को डरा दिया। पत्रकारिता और साहित्य का खंडवा से गहरा नाता रहा है। हम जब आजाद हो गए और संविधान की आत्मा पत्रकारिता है तीनों स्तंभों को पत्रकार आइना दिखाते हैं पत्रकारों पर बड़ा उत्तरदायित्व है।

ट्रेडल पर निकलने वाला कर्मवीर सबसे बड़ा

वरिष्ठ पत्रकार जय नागड़ा ने कहा पत्रकारों को वर्गों में बांटकर उन्हें अपने अधिकारों से वंचित किया जाता है। पत्रकार, पत्रकार हैं उनके बीच आंचलिक और राष्ट्रीय का अंतर पैदा न करें। आंचलिक पत्रकारों की खबरों को आइसिंग कर राष्ट्रीय पत्रकार हजम कर जाते हैं। ट्रेडल पर निकलने वाला अखबार कर्मवीर इस बात का गवाह है कि पत्रकार कहीं का भी हो पत्रकार, पत्रकार होता है। बुरहानपुर के मनोज अग्रवाल ने कहा पत्रकार साथियों ने कोरोना काल में भी फील्ड में आकर काम किया। समाज की अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति की आवाज मीडिया बनता आया है। प्रेस स्वतंत्रता के मामले में भारत दुनिया से बहुत पीछे है। पत्रकारों पर दर्ज होने वाले प्रकरणों में पहले जांच की व्यवस्था की जाए और प्रेस प्रोटेक्टशन एक्ट लागू किया जाए।

बीना आगासोद रिफाइनरी में बन रहे ऑक्सीजन रिफिलिंग प्लांट को 30 दिसंबर तक करें पूर्ण :;कलेक्टर

बीना आगासोद रिफाइनरी में बन रहे ऑक्सीजन रिफिलिंग प्लांट को 30 दिसंबर तक करें पूर्ण :;कलेक्टर 
 
सागर 12 दिसम्बर 2021
कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने बीना आगासोद रिफाइनरी के नजदीक बन रहे ऑक्सीजन रिफिलिंग प्लांट का निरीक्षण किया कर निर्देश दिए कि 30 दिसंबर तक पूर्ण करें। निरीक्षण के दौरान पुलिस अधीक्षक श्री तरुण नायक जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री क्षितिज सिंघल, बीना के अनुविभागीय अधिकारी श्री प्रकाश नायक, श्री के पी मिश्रा ,रिफाइनरी के अधिकारी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने रिफायनरी के नजदीक बन रहे ऑक्सीजन रिफिलिंग प्लांट के निरीक्षण के दौरान निर्देश दिए कि ऑक्सीजन रिफिलिंग प्लांट का संपूर्ण कार्य 30 दिसंबर तक पूर्ण करें। जिससे सागर जिला सहित संपूर्ण संभाग एवं विदिशा, रायसेन, कुरवाई में आवश्यकतानुसार ऑक्सीजन सिलेंडर की रिफिलिंग का कार्य शुरू किया जा सके। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि विद्युत आपूर्ति हेतु बैककप के लिए जनरेटर की अतिरिक्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
 
कलेक्टर श्री आर्य ने बताया कि इस रिफिलिंग प्लांट के बनने से प्रतिदिन 3000 मेट्रो जम्मू सिलेंडर भरे जा सकेंगे। 

मुख्यमंत्री श्री चौहान अल्प प्रवास पर आए बीना


 
मुख्यमंत्री श्री चौहान अल्प प्रवास पर आए बीना

सागर 12 दिसम्बर 2021
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान रविवार प्रातः 11ः30 बजे निजी कार्यक्रम में शामिल होने बीना पहुंचे । इस अवसर पर नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने मुख्यमंत्री श्री चौहान की अगवानी की। इस दौरान विधायक श्री महेश राय ,जिला अध्यक्ष श्री गौरव सिरोठिया ,कलेक्टर श्री दीपक आर्य, डीआईजी श्री विवेक राज सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री तरुण नायक,  सहित जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी मौजूद रहे।
कार्यक्रम पश्चात मुख्यमंत्री श्री चौहान बीना हेलीपैड से इछावर, जिला सीहोर के लिए रवाना हुए। 

Archive

Adsense