जंय श्री गणेशाय नमः

शनिवार, 10 अप्रैल 2021

SAGAR : लॉक डाउन के पहले दिन कोरोना विस्फोट, अब तक के सबसे अधिक 95 केस निकले, ज्यादातर 50 साल से ऊपर के , एक कोरोना मरीज की मौत



SAGAR :  लॉक डाउन के पहले दिन कोरोना विस्फोट, अब तक के सबसे अधिक 95 केस निकले, ज्यादातर 50 साल से ऊपर के , एक कोरोना मरीज की मौत

★ जिले में कुल 6714 कोरोना के मामले दर्ज, 158 मौत। 

★ रेमडीसीवीर इंजेक्शन के लिए सैकड़ो परेशान, 4 गुने दाम पर भी नहीं मिल रहे। 

सागर। जिले में कोरोना कम्युनिटी स्प्रेड लेवल पर पहुँच गया है। शनिवार को लॉक डाउन का पहला दिन था, और 95 नए केस के साथ कोरोना विस्फोट हो गए। वहीं एक कोरोना मरीज की मौत हो गई है। 

सागर में कोरोना विस्फोट हुआ है। बीएमसी ने आज 95 नए केस डिक्लेयर किये हैं। यह एक दिन में अब तक कि सबसे अधिक संख्या बताई जा रही है। बीते साल आज ही के दिन पहले मामला सामने आया था। नए केस को मिलाकर अब 6714 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। वहीं अधिकृत रूप से अब तक 158 की मौत हो चुकी है। 

प्रायवेट अस्पतालें फुल, मरीजों को पलंग तक नसीब नहीं हो रहे

सागर में कोविड और नॉन कोविड अस्पतालें फुल हो गई हैं। गम्भीर मरीजों को भर्ती करने से मना कर दिया जा रहा है। गम्भीर मरीजों के परिजन एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल के चक्कर लगा रहे हैं। दूसरी तरफ सागर से लेकर सारे प्रदेश में हजारों मरीज और उनके परिजन कोरोना मरीजों को लिखे गए रेमडीसीवीर इंजेक्शन लेने के लिए परेशान हो रहे हैं। 4 गुने दाम पर भी इंजेक्शन नहीं मिल पा रहे हैं।


कोरोना अपडेट:
- आज सामने आए मरीज-95
- अब तक कुल मरीज- 6714
- कोरोना से अधिकृत मौत- 158
- स्वस्थ हुए मरीज- 6034
- एक्टिव मरीज- 523


नगर निगम द्वारा  शहर  की गलियों को कराया जा रहा है  सेनेटाईज

नगर निगम आयुक्त  आर.पी.अहिरवार के निर्देषानुसार कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम हेतु नगर निगम द्वारा शहर के विभिन्न वार्डो की गलियों में सेनेटाईज एवं साफ सफाई का कार्य किया जा रहा है साथ ही निगम कर्मचारियों द्वारा बिना मास्क के घूमते पाये जाने वाले लोगों को समझाईस दी जा रही है कि वह बिना मास्क के न घूमे इसलिये वह स्वयं को व दूसरों को खतरे में डालने का कार्य कर रहे है इसके अलावा नगर निगम द्वारा शहर के व्यवसायिक क्षेत्रों में रात्रि में भी साफ सफाई कार्य किया जा रहा है ताकि निकलने वाले कचरे को तुरंत कचरा गाड़ी के माध्यम से उठवाया जा रहा है।
इस दौरान शहर में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुये नगर निगम आयुक्त श्री आर.पी.अहिरवार ने नागरिकों से अपील की है कि कोरोना वायस संक्रमण की रोकथाम हेतु प्रषासन के साथ-साथ आम नागरिकों का सहयोग भी आवष्यक है तभी हम मिलकर इस संक्रमण की रोकथाम करने में सफल होंगे इसके लिये जरूरी है कि अनावष्यक रूप से बाहर न घूमे, अगर जरूरी हो तो घर से निकलते समय मास्क लगाये और परिचित हो या अपरिचित हो उनसे बात करते समय सोषल डिस्टेंसिंग का पालन अवष्य करें और अपने हाथो को सेनेटाईजस करें या बार-बार धोते रहें इसके अलावा अपने घरों का सूखा और गीला कचरा कचरा गाड़ी में ही डाले इसके अलावा दुकानदार अपनी दुकानों से निकलने वाला कचरा डस्टबिन में एकत्रित करें और उसे खुले में न फेंककर कचरा गाड़ी आने पर उसी में डाले।



---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


--------------------------


SAGAR: सोमवार से जिला हॉस्पिटल में कोविड आईसीयू वार्ड ★ जिले में अब तक 1340 कोरोना वॉलिंटियर के पंजीयन ★ ऑक्सीजन प्लांट का एसडीएम ने किया निरीक्षण ★ ऑक्सीजन गैस की मांग और आपूर्ति हेतु इच्छित गढ़पाले नोडल अधिकारी



SAGAR: सोमवार से जिला हॉस्पिटल  में कोविड आईसीयू वार्ड
★ जिले में अब तक 1340 कोरोना वॉलिंटियर के पंजीयन
★  ऑक्सीजन प्लांट का एसडीएम ने किया निरीक्षण

★ ऑक्सीजन गैस की मांग और आपूर्ति हेतु इच्छित गढ़पाले नोडल अधिकारी 



सागर ।  बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए कलेक्टर  दीपक सिंह ने जिला चिकित्सालय का आकस्मिक निरीक्षण कर जिला चिकित्सालय में कोविड-19 वार्ड आरंभ करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बौद्ध, डॉक्टर एमडी गायकवाड डॉ डीके  गोस्वामी, उपायुक्त डॉ प्रणय कमल खरे सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।
कलेक्टर श्री सिंह जिला चिकित्सालय मैं कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिला चिकित्सालय में 19 बिस्तर का आईसीयू वार्ड एवं 10 बिस्तर  का आइसोलेशन वार्ड सोमवार से प्रारंभ करें। जिससे कोविड-19 पीड़ित व्यक्तियों को इलाज मिल सके । कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि जिला चिकित्सालय में ही सीटी स्कैन एवं एक्स-रे की व्यवस्था सुरक्षित की जाएगी।
कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि जिला चिकित्सालय की कोविड वार्ड  प्रारंभ करने से बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज एवं अन्य निजी चिकित्सालयों का भार कम होगा और शीघ् इलाज मिल सकेगा। कलेक्टर श्री सिंह ने जिला चिकित्सालय में ऑक्सीजन की समुचित व्यवस्था के निर्देश दिए और ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता की भी समीक्षा की । कलेक्टर श्री सिंह ने ऑक्सीजन स्टोर  रूम का निरीक्षण कर वहां रखे सिलेंडरों का भौतिक सत्यापन भी किया ।
जिले में अब तक 1340 कोरोना वॉलिंटियर के पंजीयन

जिले में  कोविड-19 संक्रमण से बचावं के लिए  जन अभियान परिषद से संबद्ध सामाजिक संगठन एवं  कोरोना वालेंटियर सदस्यों ,नगर के समाजसेवी, शिक्षा जगत, रोटरी क्लब, व्यापारी संगठन , सेवा भारती ,नेहरू युवा केंद्र, एनसीसी, एनएसएस, विभिन्न धार्मिक एवं सामाजिक संगठनों के द्वारा राज्य शासन द्वारा चलाए जा रहे 'मैं कोरोना वॉलिंटियर' अभियान के तहत वॉलिंटियर के रूप में राज्य शासन द्वारा निर्धारित पोर्टल


एवं सीएम  हेल्प लाइन 181 के माध्यम से अभी तक  1340 वालंटियर के द्वारा पंजीयन कराया जा चुका है। अभी भी पंजीयन का कार्य निरंतर जारी है।
उक्त अभियान का जिले का नोडल अधिकारी के.के मिश्रा जिला समन्वयक जन अभियान परिषद को बनाया गया है , शासन द्वारा वॉलिंटियर के पंजीयन हेतु विभिन्न प्रकार की  श्रेणी एवं उपश्रेणी निर्धारित की गई है, 'वैक्सीनेशन स्वयंसेवक' के तहत उप श्रेणी वैक्सीनेशन सेंटर वॉलिंटियर ,वैक्सीनेशन प्रेरक, वैक्सीनेशन हेल्पर चिकित्सा स्वयं सेवक के तहत उप श्रेणी चिकित्सा सुविधाओं की जानकारी देना,चिकित्सा हेतु  परिवहन में सहयोग, मास्क जागरूकता स्वयं सेवक के तहत उप श्रेणी मास्क वितरण ,मास्क लगाने के लिए टोकना एवं प्रेरित करना ,बिना मास्क लगाए घूमने वालों को रोकना,मोहल्ला टोली संगठन स्वयं सेवक के तहत उप श्रेणी होम कोरेंटाइन  मददगार ,संस्थागत कोरेंटाइन मददगार ,अपने मोहल्ले गली कॉलोनी की जवाबदारी इत्यादि  निर्धारित की गई है।
जिला नोडल अधिकारी द्वारा विभिन्न श्रेणियों में पंजीकृत स्वयं सेवकों की सूची जिला कलेक्टर कार्यालय में प्रस्तुत की जावेगी तदुपरांत सभी स्वयंसेवकों के लिए जिला एवं विकास खंड स्तर पर ओरिएंटेशन कार्यक्रम आयोजित कर स्वयं सेवकों को कार्य के उद्देश्य, स्वरूप, कार्यक्षेत्र, उत्तरदायित्व, आवश्यक सावधानियों आदि के विषय पर विस्तार से जानकारी दी जावेगी कोरोना के विरुद्ध लड़ाई के लिए पूरी तरह से तैयारध्पंजीकृत जिले के स्वयं सेवकों को कोरोना की रोकथाम हेतु हेतु जिला स्तर पर उस श्रेणी के जन जागरूकता कार्यक्रमों एवं सेवा कार्यों में सक्रिय सहभागी बनाया जावेगा जिस श्रेणी हेतु संबंधित व्यक्ति द्वारा वालंटियर के रूप में कार्य करने हेतु पंजीयन किया गया है।

औद्योगिक क्षेत्र सिदगुंवा ऑक्सीजन प्लांट का एसडीएम ने किया निरीक्षण

अनुविभागीय अधिकारी श्री पवन बारिया द्वारा सिद्धगुआ में स्तिथ गौरी ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया । निरीक्षण के दौरान श्री बारिया ने कलेक्टर के निर्देशानुसार स्टॉक चेक किया और केवल शासकीय एवं निजी हॉस्पिटल को  ऑक्सीजन सप्लाई किये जाने के सम्वन्ध में आवश्यक निर्देश दिए। ऑक्सीजन प्लांट  पर हल्का पटवारी की ड्यूटी लगाई गई ।
श्री पवन बारिया ने बताया कि इंडस्ट्रियल औद्योगिक क्षेत्र में अन्य उद्योगों का भी निरीक्षण किया जहां संबंधित द्वारा ऑक्सीजन सप्लाई की जाती थी और उनका स्टाक भी चेक किया गया ।उन्होंने बताया कि अब संबंधित ऑक्सीजन प्लांट संचालक को कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी की अनुमति के आधार पर ही ऑक्सीजन सप्लाई कर सकेगा। श्री बारिया ने बताया कि ऑक्सीजन प्लांट संचालक को सीसीटीवी कैमरे लगाने के भी निर्देश दिए गए।


सभी चिकित्सालय इलाज की कीमतें करें प्रदर्शित : कलेक्टर श्री सिंह

 कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने कोविड-19 का इलाज कर रहे समस्त निजी चिकित्सालयों को निर्देश दिए हैं कि शासन की गाइडलाइन के अनुसार निर्धारित इलाज की कीमतों का अस्पताल के मुख्य द्वार पर प्रदर्शन करें ।
कलेक्टर श्री सिंह ने निर्देश दिए कि कीमतों का प्रदर्शन बोर्ड अथवा बैनर पर समस्त प्रकार की की रेट लिस्ट प्रदर्शित की जाए । जिसमें पलंग कमरे का चार्ज, सीटी स्कैन ,एक्सरे चार्ज ,जाँचो के चार्ज एवं अन्य जो भी फीस चिकित्सालय द्वारा दी जा रही है उसका प्रदर्शन स्पष्ट रूप से बड़े बड़े अक्षरों में लिखकर बोर्ड के माध्यम से प्रदर्शित करें ।
कलेक्टर श्री सिंह ने निर्देश दिए कि शासन द्वारा कोविड19 के इलाज के लिए कीमते निर्धारित की हैं उसका प्रदर्शन समस्त अस्पताल एवं पैथोलॉजी लैब स्पष्ट रूप से अपने मुख्य द्वार पर प्रदर्शित करें। 


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

  
रेमडीसीविर इंजेक्शन का क्रय विक्रय की जानकारी का रिकार्ड संधारित करना होगा 

रेमडीसीविर इंजेक्शन का जिले में संचालित समस्त थोक एवं फुटकर दवाई विक्रेताओं के लिए क्रय विक्रय का रिकार्ड संधारित करना होगा और इसकी जानकारी औषधि निरीक्षक के समक्ष प्रतिदिन प्रस्तुत करना होगी। उक्त निर्देश  कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने जिले के समस्त दवा विक्रेताओं को दिए। कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने  जिले के समस्त मेडीकल संचालक , रिटेलर्स , होलसेलर्स , स्टॉकिस्ट एव सप्लायर्स को आदेशित किया जाता है कि कोरोना वायरस ( कोविड- 19 ) से संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु रेमडीसीविर इंजेक्शन का प्रयोग किया जाता है । जिन दवा व्यापारियों द्वारा रेमडीसीविर इंजेक्शन का कय - विक्रय किया जाता है , वह सभी दवा - व्यापारी निम्न पंजी का संधारण अनिवार्य रूप से करेगा । कोविड संक्रमित मो.नं. आधार कार्ड नामांकित रिकमण्ड मरीज का नाम की छायाप्रति कोविड करने वाले हॉस्पिटल , वार्ड चिकित्सक एवं बेड कमांक का नाम एवं पता औषधि रेमडीसीविर इंजेक्शन का रिकार्ड औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम , 1940 एवं नियमावली 1945 के प्रावधानों के तहत संधारित किया जायेगा । निरीक्षण ध् जांच के दौरान निरीक्षण कर्ता अधिकारी ध् जांच अधिकारी के समक्ष रिकार्ड प्रस्तुत किया जावेगा । उक्त रिकार्ड जांच अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत न करने पर नियमानुसार दण्डात्मक कार्यवाही की जावेगी । उक्त आदेश के कियान्वयन एवं पालन के लिये श्री प्रीत स्वरूप , औषधि निरीक्षक सागर मो.नं. - 7974689070 नोडल अधिकारी होगें ।

ऑक्सीजन गैस की मांग और आपूर्ति हेतु श्री गड़पाले नोडल अधिकारी नियुक्त

कलेक्टर श्री दीपक सिंह द्वारा कोविड -19 वैश्विक महामारी के संक्रमण से बचाव एवं प्रभावी नियंत्रण के अनुक्रम में सागर जिले में ऑक्सीजन गैस की मांग एवं आपूर्ति में समन्वय स्थापित किये जाने हेतु श्री इच्छित गड़पाले मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सागर ( मो न. 9826071047 ) को नोडल अधिकारी तथा श्रीमती मंदाकिनी पाण्डे महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र सागर मो. 9424459780 को सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है । उक्त दोनों अधिकारी बुन्देलखण्ड मेडीकल कॉलेज , जिले के सभी शासकीय एवं निजी चिकित्सालयों एवं जिले में ऑक्सीजन गैस पूर्तिकर्ताओं से समन्वय स्थापित करते हुए मांग अनुरूप ऑक्सीजन गैस की आपूर्ति सुनिश्चित कर वस्तुस्थिति से कलेक्टर को अवगत करायेंगे । यह आदेश तत्काल प्रभावशील किया गया है।                  

बगैर अनुमति के ऑक्सीजन सप्लाई उद्योगों को न की जाए
-कलेक्टर श्री सिंह


कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिले की विभिन्न अस्पतालों में ऑक्सीजन की सुचारू व्यवस्था के तहत बगैर अनुमति के किसी भी उद्योग को ऑक्सीजन की सप्लाई न की जाए। उक्त निर्देश कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने दिये।  इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री इच्छित गढ़पाले,  बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज, जिला चिकित्सालय एवं   निजी चिकित्सालयों के डॉक्टर मौजूद थे ।
कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने कहा है कि ऑक्सीजन की सुचारू व्यवस्था के लिए किसी भी स्थिति में उद्योगों को  ऑक्सीजन की सप्लाई न की जाए। प्राथमिकता के साथ  शासकीय एवं निजी चिकित्सालय मेंऑक्सीजन प्रदान की जाए।  10 अप्रैल के आदेश में दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम एवं बचाय को दृष्टिगत रखते हुये मध्यप्रदेश शासन द्वारा प्रदेश में कोविड -19 के प्रकरणों की संख्या में विगत दिनों में हो रही बढ़ोत्तरी को दृष्टिगत रखते हुये कोविड -19 महामारी के रोकथाम एवं बचाव हेतु निर्देश जारी किये गये है । तत्सम्बंध में आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 6 ( 200 ) के तहत सागर जिले के समस्त ऑक्सीजन गैस सप्लायर्स को आदेशित किया गया है कि  ऑक्सीजन गैस का उपयोग इंडस्ट्रीज, व्यवसायिक उपयोग नहीं करेंगे , केवल चिकित्सा क्षेत्र में इसका उपयोग किया जा सकेगा । इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरुद्ध भा 0 द 0 सं 0 की धारा 188 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 6 ( 2 ) 6 ) के प्रावधानों के अंतर्गत दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी । यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू किया गया है।।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

पाली क्लीनिक साग़र में वैक्सीन की कमी , लोग हुए नाराज

पाली क्लीनिक साग़र में वैक्सीन की कमी , लोग हुए नाराज 


साग़र। बडा बाजार की शास. पाली क्लिनिक अस्पताल से घनी आबादी वाले डेढ दर्जन वार्डो की आबादी जुडी है।
इस कारण पाली क्लीनिक पर वेक्सीन लगवाने वालो की भीड उमडती है । पिछले दो दिनों से वैक्सीन की कमी थी और आज खत्म होने पर विवाद की  स्थिति निर्मित हुई । यहां लोग आक्रोशित हो गए। कई लोग बिना टीका लगवाए घर चले गए। इस दौरान  शहर कांग्रेस सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे ने फोन पर  विधायक शेलेन्द्र जैन और विभिन्न अधिकारियों से बात कर तत्काल और वैक्सीन बुलवाई तब जाकर स्थिति सामान्य हुई। वैक्सीन की कमी पर घर वापस लौट गये लोगो को घरों से बुलाकर वैक्सीन का लाभ दिलाया। 
इस दौरान शहराध्यक्ष सिंटू कटारे के साथ नितिन पचौरी,मयंक तिवारी,गोविंद सोनी,जयदीप यादव आदि उपस्थित थे।
---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

SAGAR : कोरोना कर्फ्यू के चलते सड़को पर पसरा सन्नाटा

SAGAR : कोरोना कर्फ्यू के चलते सड़को पर पसरा सन्नाटा 

सागर। शुक्रवार की रात 8 बजे से शुरू हुआ दो दिन का कोरोना कर्फ्यू शुरू हो गया।  इसका व्यापक असर आज शनिवार को  देखने मिला। सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। सुबह से दूध फल सब्जी वालो के ठेले दिखे । इनपर खरीदारों भी  करते लोग नजर आए। 
इस दौरान शहर में पुलिस भी प्रमुख चौराहों पर व्यवस्था में जुटी रही है।  आने जाने वालों को रोकने टोकने में लगी मिली।   पुलिस वाहनों से माईक के जरिये घरों में रहने की अपील भी करत्ते दिखे। 
दोपहर बाद 4 बजे के आसपास मौसम में आये बदलावूर बारिश के चलते  भी लोग घरों में हो कैद रहे। गलियों में  छोटे बच्चे खेलते हुए नजर आए । 
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री दीपक सिंह ने कोविड वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव को दृष्टिगत रखते हुये आपदा प्रबंधन अधिनियम एवं दण्ड प्रक्रिया सहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत प्रतिधात्मक आदेष जारी किया है। आदेष शुक्रवार की रात्रि 8 बजे से लागू हो गया है और सोमवार प्रात'ः 6 बजे जिले के सभी नगरीय निकायों में लॉक डाउन (कोराना कर्फ्यू) रहेगा। आदेष लागू कराने में पुलिस व प्रषासन के अधिकारियों ने सजगता से कार्य किया। कोरोना कर्फ्यू के चलते शनिवार को शहर की सड़कें सूनी रही। इसमें नागरिकों का भी पूरा सहयोग मिल रहा है। इस दौरान आवष्यक सेवाएं भी जारी रही ।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

हरेक जिले होगी कोविड सेंटर की शुरुआत, सभी कलेक्टर्स को कोविड से निपटने दो करोड़ का बजट : मन्त्री विश्वास सारंग

हरेक जिले होगी कोविड सेंटर की शुरुआत, सभी कलेक्टर्स  को कोविड से निपटने दो करोड़ का बजट : मन्त्री विश्वास सारंग



भोपाल । चिकित्सा शिक्षा मंत्री  Vishvas Kailash Sarang ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि कोरोना का संकट मध्यप्रदेश में तेजी से बढ़ रहा है। प्रदेश सरकार पूरी तत्परता के साथ कोविड-19 संक्रमण के खिलाफ हर चुनौती से लड़ने के लिए तैयार है।  

हम पूरी जिम्मेदारी के साथ कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए तैयार हैं। प्रदेश के किसी भी जिले में बिस्तरों की कमी नहीं आने देंगे। हमारे पास समुचित बिस्तर उपलब्ध हैं। 

मध्यप्रदेश में सरकारी और निजी अस्पतालों को मिलाकर बिस्तरों की संख्या पर्याप्त है। प्रत्येक जिले में कोविड सेंटर की शुरूआत जल्द से जल्द की जाएगी। जिला कलेक्टर्स को भी कोविड-19 के संकट से निपटने के लिए 2 करोड रूपए का बजट रखा गया है। 

कोरोना का संक्रमण न फैले हम उस पर विचार कर रहे हैं, उसके इलाज की व्यवस्था हो उसके लिए सरकार तैयार है संकट बड़ा  है लेकिन हम पूरी तरह तैयार हैं। इस भीषण संक्रमण से निपटने के लिए मत्रियों को भी जिले का प्रभार सौंपा गया  है।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

90 प्रतिशत ऑक्सीजन अस्पतालों के लिए सुरक्षित, शेष 10 प्रतिशत उद्योगों को ★सभी जिलों में होगी सीटी स्केन की व्यवस्था ★ मुख्यमंत्री ने क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप्स से की चर्चा, कई जिलों से मिले सुझाव

90 प्रतिशत ऑक्सीजन अस्पतालों के लिए सुरक्षित, शेष 10 प्रतिशत उद्योगों को
★सभी जिलों में होगी सीटी स्केन की व्यवस्था

★ मुख्यमंत्री ने क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप्स से की चर्चा, कई जिलों से मिले सुझाव

भोपाल । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जब तक कोरोना पूरी तरह नियंत्रित नहीं होता, सरकार और समाज को मिलकर लड़ना होगा। जन सहयोग से ही इस संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकता है। चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी, अतिरिक्त व्यवस्था की गई है। कई बार कमी की खबरों के संदर्भ में संग्रहण की प्रवृति बढ़ जाती है। कालाबाजारी और संग्रहण पर कठोर कार्यवाई की जाएगी। वर्तमान में 180 लाख में टन उपलब्धता है। आज गुजरात के मुख्यमंत्री से भी मध्यप्रदेश के लिए अतिरिक्त ऑक्सीजन की व्यवस्था के लिए चर्चा की है। नब्बे प्रतिशत ऑक्सीजन अस्पतालों के लिए सुरक्षित कर दी गई है। उद्योगों को दस प्रतिशत ऑक्सीजन ही दी जायेगी। कोरोना संक्रमित रोगियों के लिए प्राथमिकता से आक्सीजन की व्यवस्था रहेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सभी जिलों में सीटी स्केन की व्यवस्था जल्द से जल्द की जा रही है।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आज मंत्रालय से वीडियो कांफ्रेंस द्वारा जिलों के क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप्स के सदस्यों  से चर्चा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना नियंत्रित करने के लिए तीन दिशाओं में कार्य किया जा रहा। जन-जागरूकता द्वारा फेस मास्क के उपयोग, उचित दूरी, बार-बार हाथ धोने जैसे व्यवहार को प्रोत्साहित किया जा रहा है। दूसरा रोगी के बेहतर उपचार एवं देखभाल के लिए हर संभव व्यवस्था स्थापित की जा रही है। साथ ही प्रदेश में वेक्सीनेशन को गति दी जा रही है।

ऑक्सीजन की व्यवस्था के लिए कंट्रोल रूम गठित

राज्य में ऑक्सीजन व्यवस्था के लिए समीक्षा की जा रही है। एक नियंत्रण कक्ष भी बनाया गया है। श्री पी नरहरि को इसका प्रभारी बनाया गया है। प्रतिदिन मध्यप्रदेश के  एमएसएमई सेक्टर द्वारा आक्सीजन उत्पादन के साथ अन्य प्रांतों से आक्सीजन बुलवाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है।

जनता का सहयोग जरूरी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 45 वर्ष से अधिक आयु वाले प्रत्येक व्यक्ति को वेक्सीन लगवाना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सभी नागरिक प्रदेश में जन-जागरण में सहयोग दें। आम नागरिकों द्वारा कोविड के दृष्टिगत अनुकूल व्यवहार की अपेक्षा है। आमजन से आग्रह है कि लोग घरों से अनावश्यक रूप से न निकले और संक्रमण रोकने में सहयोग करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मैं भी संक्रमण रोकने के लिए स्वास्थ्य आग्रह पर बैठा था। अनेक वालेंटियर्स इस कार्य में साथ दे  रहे हैं। अस्पतालों में भी अनेक वारियर्स कठिन हालातों में जुटे हुए हैं। इनका सम्मान किया जाएगा।

टीका उत्सव

 मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में 11 अप्रैल ज्योतिबा फुले जयंती से 14 अप्रैल डॉ. अंबेडकर जयंती  तक टीका उत्सव रहेगा। इसके लिए तैयारियाँ पूरी की जाएं। कोविड परिस्थितियों पर सब गंभीर रहे। जन-प्रतिनिधि जनता को मास्क के उपयोग की समझाइश दें। इस क्षेत्र में कार्य कर रहे वालेंटियर्स सक्रिय हैं। अनेक  स्वैच्छिक  संगठन भी कार्य कर रहे हैं।

6 जिलों में किल कोरोना II अभियान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बैतूल, छिन्दवाड़ा, बड़वानी, खरगोन, अलीराजपुर और झाबुआ जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण अधिक फैल रहा है। यहाँ किल कोरोना II अभियान शुरू किया जायेगा। इसके अंतर्गत ग्राम स्तर पर सर्वे कर प्रभावित व्यक्तियों की जाँच और इलाज की व्यवस्था होगी।

सुविधाओं में निरंतर वृद्धि

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रदेश में बिस्तर क्षमता बढ़ाई जा रही है। प्रत्येक जिले में सीसीसी ज्यादा सक्षम बनाए जा रहे हैं। इस माह के अंत तक अधिक से अधिक एक लाख केस भी आ जाएं, उसके अनुरूप इंतजाम किये जा रहे हैं। करीब एक लाख इंजेक्शन की व्यवस्था कर आपूर्ति प्रारंभ हो चुकी है। भारत सरकार से अतिरिक्त वेंटिलेटर मिल रहे हैं। निजी अस्पतालों से अनुबंध कर रोगियों के लिए व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की जा रही हैं।

स्वास्थ्य विभाग का प्रेजेंटेशन

अपर मुख्य सचिव श्री मोहम्मद सुलेमान ने प्रेजेंटेशन में बताया कि कल प्रदेश में करीब पाँच हजार केस आए हैं, जो चिंतनीय है। देश में करीब डेढ़ लाख केस आए हैं। कुल पॉजिटिव प्रकरण वाले 66 प्रतिशत रोगी आइसोलेशन व्यवस्था में हैं। प्रदेश में सक्रिय केस 32 हजार 707 हैं। जहाँ तक बेड ऑक्यूपेंसी की बात है, प्रदेश में कुल 34 प्रतिशत रोगी अस्पतालों में दाखिल हैं। प्रदेश में सामान्य बेड का 8 प्रतिशत रोगियों द्वारा उपयोग हो रहा है। ऑक्सीजन बेड 18 प्रतिशत और आईसीयू बेड 8 प्रतिशत ही उपयोग में आ रहे हैं।

निर्धारित दरों पर जाँच  हो

 मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि निजी अस्पतालों में जाँच की दरें निर्धारित कर दी गई हैं। निजी अस्पतालों द्वारा तय की गई दरों को अस्पताल में प्रमुख स्थान पर प्रदर्शित करना आवश्यक किया गया है। जिला प्रशासन यह सुनिश्चित करे कि जनता से तय राशि से अधिक वसूली न हो। राज्य स्तर से हास्पिटल एडमिशन प्रोटोकॉल भी जारी किया गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिलों के आपदा प्रबंधन समूह स्थानीय परिस्थियों का आकलन कर लॉकडाउन की अवधि और स्वरूप के संबंध में निर्णय लें। 

जिलों से प्राप्त हुए सुझाव

मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों के साथ वर्चुअली हुए इस संवाद में जिले के समूहों से कई सुझाव भी प्राप्त हुए। इंदौर से लॉकडाउन बढ़ाने और किराना, दूध, सब्जी और किराना दुकानों का समय प्रात: 7 बजे से 10 बजे तक करने का सुझाव प्राप्त हुआ। जबलपुर, उज्जैन, देवास आदि से भी इस आशय का सुझाव प्राप्त हुआ। ग्वालियर के आपदा प्रबंधन समूह ने बाजार को प्रात: 9 से शाम 6 बजे तक खोलने, विवाह समारोह में रात्रि भोज के स्थान पर लंच आयोजित करने, विवाह में अतिथियों की संख्या 250 तक सीमित रखने जैसे सुझाव दिये।

श्रमिकों के लिए वाहनों  की व्यवस्था की जाए

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बड़वानी के समूह से लॉकडाउन बढ़ाने और महाराष्ट्र से आ रहे श्रमिकों के संबंध में चर्चा के बाद निर्देश दिये कि महाराष्ट्र से मध्यप्रदेश की सीमा पर पहुँचने वाले श्रमिकों को उनके गाँवों तक पहुँचाने के लिए वाहन की व्यवस्था की जाए। साथ ही ग्राम स्तर पर उनके आइसोलेशन की व्यवस्था सुनिश्चित करें।  

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दी बुरहानपुर को बधाई

गुना और शाजापुर के समूह ने जानकारी दी कि मरीजों की संख्या में कमी आना शुरू हुई है। इसी प्रकार बुरहानपुर के समूह ने जानकारी दी कि रेडक्रास के माध्यम से रेमडिसीवर इंजेक्शन की व्यवस्था कर ली गई है। इससे कई मरीजों को राहत मिली। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुरहानपुर के समूह को बधाई देते हुए पहल को अनुकरणीय बताया।

अन्य जिलों के सुझाव

नरसिंहपुर के आपदा प्रबंधन समूह ने ग्रामीण क्षेत्र में भी लॉकडाउन की आवश्यकता बताई। छिंदवाड़ा में विकास खण्ड स्तर पर कोविड केयर सेंटर खोलने, अस्पतालों में भर्ती मरीजों के लिए वीडियो कालिंग सुविधा देने की आवश्यकता बताई। रीवा में कोरोना संबंधी सावधानियों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के लिए अधिक पुलिस बल उपलब्ध कराने, विदिशा में नवरात्रि पर्व और विवाह समारोह में भीड़ को नियंत्रित करने के संबंध में सुझाव प्राप्त हुए। शिवपुरी से धार्मिक स्थलों में टीकाकरण की व्यवस्था संबंधी सुझाव प्राप्त हुए। रायसेन के समूह ने धार्मिक कथा और कलश यात्रा में भीड़ कम करने के लिए आवश्यक उपाय करने और मंदसौर में आयुष चिकित्सकों की सेवाएँ लेने जैसे सुझाव रखे।

शुक्रवार, 9 अप्रैल 2021

लॉक डाउन की विसंगतियों को लेकर कांग्रेस सेवादल ने दिया ज्ञापन

लॉक डाउन की विसंगतियों को लेकर
कांग्रेस सेवादल ने दिया ज्ञापन

साग़र । शहर कांग्रेस सेवादल ने शुक्रवार को लगने वाले लाकडाऊन के समय शाम 6 बजे की जगह रात 10 बजे करने के संबंध मे अपर कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम से ज्ञापन दिया। 
ज्ञापन के दौरान शहर सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे ने कहा कि 6 बजे से बाजार बंद कराने का निर्णय अव्यवहारिक और विसंगतिपूर्ण है इससे शहर के सभी व्यापारी भाईयों में रोष व्यापत है अतः इस समय को बढाया जाये एवं सरकारी कर्मचारी एवं फेरी करनेवालो को घर आने जाने मे असुविधा होगी। प्रदेश संयोजक विजय साहू ने कहा शाम 6 बजे का समय बहुत ही जल्द होगा जिससे समस्त नागरिकों को असुविधा होगी।ज्ञापन का वाचन ब्लाकाध्यक्ष नितिन पचौरी ने किया।
ज्ञापन देने वालों में प्रदेश उपाध्यक्ष अमित दुबे रामजी, राहुल चौबे ,वरिष्ठ कांग्रेसी प्रदीप गुप्ता, कल्लू पटैल, राम
गोपाल यादव, प्रीतम यादव, आनंद हैला, अरविंद मछंदर,मिथुन धारू,राहुल व्यास,शहजाद निहारिया आदि उपस्थित थे।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

NSUI का स्थापना दिवस मनाया, छात्र हितों का लिया संकल्प

NSUI  का स्थापना दिवस मनाया, छात्र हितों का लिया संकल्प

सागर ।  भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के स्थापना दिवस को एन. एस. यू. आई. सागर विस.के तत्वाधान में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम के मुख्यअतिथि म.प्र. कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मन्त्री  सुरेन्द्र चौधरी थे।स्थापना दिवस  कार्यक्रम की शुरुआत देश की पूर्व प्रधानमंत्री प्रियदर्शिनी स्व. श्रीमती इंदिरा गांधी जी के चित्र पर माल्यार्पण कर छात्र हितों के लिए सदैव आगे रहने का  संकल्प के साथ कि गई। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यअतिथि पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी ने भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के  स्थापना दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री प्रियदर्शिनी स्व. श्रीमती इंदिरा गांधी जी के द्वारा आज के ही दिन छात्रों को लोकतांत्रिक अधिकार दिये जाने हेतु छात्रों का पूर्ण और राजनैतिक संगठन भाराछासं. का गठन किया गया था। एन. एस. यू. आई. के गठन के बाद से ही आज तक छात्रों की ज्वलंत समस्याओं के लिये संघर्षशील एवं अपने निहित उद्देश्यों की प्राप्ति के लिये प्रयासरत रहा हैं। एन. एस. यू. आई. सागर विस. अध्यक्ष सन्दीप चौधरी ने  एनएसयूआई की स्थापना के उद्देश्य और कार्यों की जानकारी देते हुए छात्र हित समाज हित में कार्य जारी रखने की बात कही। युवा कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष अशरफ खान कहा कि एनएसयूआई संगठन भारत का ही नहीं बल्कि दुनिया का सबसे बड़ा छात्र संगठन है जोकि समय-समय पर छात्रों के अधिकारों की मांग की उनकी आवाज बुलंद करता आया है।कार्यक्रम में मुख्य रूप से अबरार सौदागर, पवन केशरवानी, रोहित वर्मा, लकी रजक, निशान्त आठया, समीर मकरानी,मोहसिन खान,मोनू श्रीवास्तव,शहंशाह खान, कल्याण सिंह, समीर अली, राजा खटीक, विक्की चौधरी आदि मौजूद थे।

 ---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

इंटीग्रेटेड स्पोर्ट कॉम्प्लेक्स के बनने से खेल गतिविधियों बढ़ेगी, कलेक्टर ने सागर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट्स की समीक्षा की

इंटीग्रेटेड स्पोर्ट कॉम्प्लेक्स के बनने से खेल गतिविधियों बढ़ेगी, कलेक्टर ने 
सागर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट्स की समीक्षा की

सागर । जिला कलेक्टर सह अध्यक्ष सागर स्मार्ट सिटी श्री दीपक सिंह की अध्यक्षता में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट्स क्रमशः जीआईएस बेस्ड प्रापर्टी टैक्स सिस्टम एवं इंटीग्रेटेड स्पोर्ट कॉम्प्लेक्स अंतर्गत खेल परिसर मैदान व सिटी स्टेडियम की समीक्षा बैठक सागर स्मार्ट सिटी कार्यालय में संपन्न हुई। बैठक में स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत, कंपनी सचिव श्री रजत गुप्ता, असिस्टेंट प्लानर श्री प्रवीण चौरसिया, आईटी मैनेजर श्री अनिल शर्मा, एसई श्री राघव शर्मा, एसई श्री गुल्शन देशमुख, पीएमसी एक्सपर्ट एवं संबंधित ऐजेंसी के अधिकारी उपस्थित रहे।

कलेक्टर महोदय ने निर्देशित करते हुए कहा की जीआईएस टेक्नोलॉजी से बनाए गए इस सिस्टम का यूज प्रापर्टी टैक्स के साथ ही अन्य महत्वपूर्ण टैक्सेशन कार्यों जैसे प्लाट डायवर्सन, यूटीलिटी टैक्स आदि में भी किया जा सके। इससे विभिन्न लेयर्स में प्राप्त होने वाले डाटा की सुरक्षित मॉनीटाइजिंग योजना तैयार की जाए, जिससे आगामी समय में डाटा व्यवस्थित नगर विकास में उपयोगी बने व रेवेन्यू भी जनरेट किया जा सके। किसी एक वार्ड में पायलेट प्रोजेक्ट अंतर्गत शीघ्र कार्य पूर्ण करें। खेल परिसर मैदान एवं सिटी स्टेडियम के प्रस्तावित निर्माणकार्यों की विस्तार से समीक्षा कर सराहना की। इंटीग्रेटेड स्पोर्ट कॉम्प्लेक्स के निर्माणकार्यो को समयसीमा में पूर्ण करने हेतु निर्देशित करते हुए कहा की आगामी समय में सागर की खेल गतिविधियों में संभवतः कई गुना वृद्धि होगी। सागर स्पोर्ट में अग्रणी शहर बनेगा, यहां के प्रतिभावान खिलाड़ी सुविधाओं के मिलने से राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याती प्राप्त करेंगे व शहर का नाम रोशन करेंगे।
जीआईएस बेस्ड प्रॉपर्टी टैक्स सिस्टम प्रोजेक्ट अंतर्गत शहर का ड्रोन सर्वे किया गया है इसके साथ ही डीजीपीएस सर्वे, एलआईडीएआर सर्वे आदि किये जा रहे है जिनके आधार पर प्रॉपर्टीस के 2डी व 3डी डिजिटल मॉडल तैयार किये जायेंगे और शहर का फाइनल बेस मैप तैयार किया जायेगा जिसमें प्रत्येक प्रापर्टी की जानकारी के साथ ही शहर की वॉटर सप्लाई, एनर्जी सप्लाई, पोल्स, सीवरेज, स्टार्म वॉटर नेटवर्क, रोड नेटवर्क, वॉटर वॉडीज, लैण्डमार्क, अंडरग्राउंड यूटिलिटीज आदि का पूर्ण डाटा रहेगा। फाइनल बेस मैप के आधार पर जीआईएस बेव एप्लीकेशन सिस्टम के साथ अन्य एप्लीकेशनों को इंटीग्रेट कर स्मार्ट सिटी इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर से मॉनीटर किया जायेगा। रोड नंबर, गली नंबर, मकान नंबर, डोर नंबर आदि जानकारियों सहित डिजिटल एड्रेस प्लेट प्रत्येक प्रॉपर्टी पर लगाई जायेगी जिसे एप्लीकेशन द्वारा एक्सेस किया जा सकेगा।
इंटीग्रेटेड स्पोर्ट कॉम्प्लेक्स अंतर्गत शहर के खेल परिसर मैदान व सिटी स्टेडियम में राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय  मानक अनुसार निर्माण कार्य प्रगतिशील है। खेल परिसर मैदान में ऐथेलेटिक ट्रैक, हॉकी टर्फ मैदान, बास्केट वॉल कोर्ट, बॉलीवाल कोर्ट, मल्टिगेम कोर्ट, हाईजंप ट्रैक, ओपन जिम आदि का निर्माण किया जा रहा है। सिटी स्टेडियम में 70 मीटर क्रिकेट मैदान प्राकृतिक घास सहित तैयार किया जा रहा है इसके साथ ही प्रेक्टिस पिचों का निर्माण, इंडोर गेम्स हेतु बिल्डिंग निर्माण जिसमें शूटिंग रेंज, बेडमिंटन कोर्ट, टेबिल टेनिस, स्क्वास, बॉक्सिंग, जिम्नेजियम आदि सहित ऐडमिनिस्ट्रेटिव रूम, टॉयलेट्स, रेस्ट रूम, कैफेट एरिया बैठक व्यवस्था सहित कैंटीन आदि का निर्माण किया जायेगा। इसके साथ ही बिजली, पेयजल, ग्रीनरी सहित अन्य मूलभूत सुविधाओं का भी विशेष ध्यान रखा गया है। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


सभी लॉक डाउन का पालन करें : अपर कलेक्टर अखिलेश जैन ★ शांति समिति की बैठक संपन्न

सभी लॉक डाउन का पालन करें : अपर कलेक्टर अखिलेश जैन 
★ शांति समिति की बैठक संपन्न

सागर । बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने शासन की गाइड लाइन के अनुसार आज शाम 8 बजे से सोमवार प्रातः 6 बजे तक लॉकडाउन किया है। इसके मद्देनजर शांति समिति की बैठक आयोजित की गई। अपर कलेक्टर श्री जैन ने कहा कि गाइड लाइन का अक्षरषः पालन करते हुए लॉकडाउन में अनावश्यक कोई भी व्यक्ति घर से बाहर ना निकले। इसी के 
साथ ही जिन लॉक डाउन को लेकर लागू की गई गाईड लाईनों से अवगत कराया और मॉस्क तथा सोसल डिस्टेंस का पालन करने जागरूकता अभियान चलाने की अपील की।
इस मौके पर Asp विक्रम सिंह, नगर पुलिस अधीक्षक एमपी प्रजापति, योगाचार्य विष्णु आर्य, मुकेश जैन ढाना सहित विभिन्न सामाजिक और धार्मिक संगठनों से जुड़े लोग मौजूद रहे।    

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


SAGAR : समय बदला 8 बजे से हो गया दो दिन का कोरोना कर्फ्यू शुरू, कलेक्टर ने नए निर्देश जारी किए ★ बाजारों में उमड़ी भीड़ , गाईड लाईन का उल्लंघन करने वालो के चालान और 88 लोगो को पहुचाया जेल ★ शनिवार /रविवार को बन्द रहेंगी शराब दुकान

SAGAR : समय बदला 8 बजे से हो गया दो दिन का कोरोना कर्फ्यू शुरू, कलेक्टर ने नए निर्देश जारी किए

★ बाजारों में उमड़ी भीड़ , गाईड लाईन का उल्लंघन करने वालो के चालान और 88 लोगो को पहुचाया जेल 
★ शनिवार /रविवार को बन्द रहेंगी शराब दुकान 

 
सागर ।  ( 
तीनबत्ती न्यूज़. कॉम )। 
बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते साग़र जिले के नगरीय क्षेत्रों में आज रात शुक्रवार 8 बजे से दो दिन का नाईट कर्फ्यू शुरू हो गया। पहले समय छह बजे का था । जिसे बढाकर 8 बजे कर दिया। पुराने अनुभवों के चलते बाजारों  में खरीदारी करने  भीड़ उमड़ी। तो 
प्रशासन ने बिना मास्क और सोशल डिस्टेंस का पालन नही करने वालो के खिलाफ भी जमकर कार्यवाई की । अस्थायी जेल में इनको पहुचाया। आठ बजते ही पुलिस वाहन दुकान बंद करने और लोगो को घरों में रहने की अपील भी करती रही। 

कलेक्टर ने दिए नए आदेश

कलेमक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी  दीपक सिंह ने कोविड वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव को दृष्टिगत रखते हुय दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग करते हुए संपूर्ण सागर जिले के राजस्व सीमाओं में पूर्व में 26 मार्च, 7 एवं 8 अपै्रल को जारी विभिन्न प्रतिबंधात्मक आदेष जारी किए है। उक्त जारी आदेष में निम्नानुसार स्पष्टीकरण जारी किये गए है।

इन क्षेत्रो में लगा कर्फ्यू

जिले के समस्त नगरीय क्षेत्रों नगर निगम सागर, छावनी बोर्ड केंट, नगरीय निकाय मकरोनिया, शाहपुर, राहतगढ, सुरखी, बिलेहरा, बांदरी, मालथौन, खुरई, बीना, देवरी, बण्डा, शाहगढ़,  रहली, गढ़ाकोटा में  आज शुक्रवार 9 अप्रैल को रात 8 बजे से सोमवार को सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू रहेगा।


इनको मिलेगी राहत

कोरोना कर्फ्यू अवधि के दौरान पूर्व से निश्चित शादी समारोह में वर पक्ष , वधु पक्ष एवं व्यवस्थापक सहित अधिकतम 50 व्यक्ति शामिल हो सकेंगे । इस संबंध में संबंधित क्षेत्र के कार्यापालिक मजिस्ट्रेट, थाना प्रभारी आयोजक से आवेदन व सम्मिलित होने वाले व्यक्तियों की सूची प्राप्त होने पर अधिकतम 50 व्यक्तियों की सूची का अनुमोदन कर सकेंगे । इस हेतु शादीघरों के संचालकों को संबंधित थाना में समारोह आयोजन की पहले से सूचना देनी होगी ।  शव यात्रा में अधिकतम 20 व्यक्ति शामिल हो सकेंगे । समस्त किराना दुकान बंद रहेंगी । समस्त इच्छुक किराना व्यापारी आर्डर पर किराना सामग्री होम सप्लाई अधिकतम 20 रू0 के चार्ज पर संबंधित के निवास पर कर सकेगें । इसके लिए वे पूर्व से होम डिलेवरी सेवा देने की सूचना संबंधित थाना को देंगे । संबंधित संचालक इस हेतु अपने स्टाफ का कोविड टेस्ट अनिवार्यतः करायेंगे । रेस्टोरेंट व टिफिन सेंटर होम डिलेवरी कर सकेंगे । इसके लिए वे पूर्व से डिलेवरी सेवा देने की सूचना संबंधित थाना को देंगे । संबंधित संचालक इस हेतु ' अपने स्टाफ का कोविड टेस्ट अनिवार्यतः करायेंगे । 

फल, सब्जी, दूध वितरित करने वाले विभिन्न आवासीय क्षेत्रों में प्रातः 07 से 09 एवं सायं 06 से 08 बजे तक घर - घर फल, सब्जी, दूध का वितरण कर सकेंगे ।

पुलिस , होमगार्ड , सिविल डिफेंस , अग्निशमन एवं आपात कालीन सेवायें , आपदा प्रबंधन , जेल , जिला प्रशासन , कोषालय , विद्युत आपूर्ति , पेयजल आपूर्ति , साफ - सफाई आदि अत्यावश्यक सेवायें देने वाले विभाग अपने अधीनस्थों को परिचय पत्र उपलब्ध करायें जिससे उन्हें असुविधा न हो । समस्त आटा चक्कियां खुली रहेगी । दो पहिया वाहन पर अधिकतम 2 व्यक्ति एवं 4 पहिया वाहन में वाहन चालक सहित अधिकतम 3 व्यक्तियों को अत्यावश्यक कार्य से आवागमन की अनुमति 5 रहेगी । रेल्वे स्टेशन, बस स्टेण्ड, अस्पताल, नर्सिंग होम से केवल यात्री, मरीजों को घर, अस्पताल तक लाने-ले जाने के लिये ऑटो रिक्सा चालन की अनमुति उपरोक्त स्थानों पर ही होगी ।  

★खबरे के लिए जुड़े

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में कार्यरत व्यक्तियों को कोरोना कर्फ्यू से छूट रहेगी । इस हेतु वे अपने संस्थान द्वारा जारी अधिकृत परिचय पत्र साथ रखेंगे । धार्मिक स्थलों पर प्रातःकाल एवं सांयकाल अधिकतम 5 व्यक्ति अपने रीति - रिवाज अनुसार उपासना कार्य संपादित कर सकेंगे । कृषि उपज मण्डियां, गेहू एवं चना उपार्जन केन्द्र , सब्जी मण्डियां शहरी क्षेत्रों में कोरोना कर्फ्यू काल में बंद रहेंगी । विभिन्न शासकीय विभागों द्वारा किये, कराये जा रहे निर्माण कार्य चालू रहेंगें । इस हेतु संबंधित विभागीय अधिकारी द्वारा निर्माण ऐजेन्सी के कार्मिकों को आवागमन हेतु परिचय पत्र दिये जायेंगे । यात्री बसों का संचालन कोविड गाईडलाइन का पालन करते हुये यथावत चालू रहेगा । यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू किया गया है।    

शराब दुकान रहेंगी बन्द  

कलेक्टर दीपक सिंह ने 10 और 11 अप्रैल को यानी शनिवार और रविवार को लॉक डाउन के दौरान  दुकान बंद रखे जाने के आदेश जारी किए है। देशी एयर विदेशी शराब की दुकान पूर्णतः बन्द रहेगी। 

पहले दिन खुली जेल में 88 लोगों को किया गया बंद

शासन की गाइड लाइन के अनुसार कोविड-19 गाइडलाइन एवं धारा 144 उल्लंघन करने पर कलेक्टर श्री दीपक सिंह एवं पुलिस अधीक्षक श्री अतुल सिंह  के निर्देशानुसार सिटी मजिस्ट्रेट श्री सीएल वर्मा द्वारा धारा 144 एवं कोविड-19 गाइडलाइन का पालन ना किए जाने पर 88 लोगों को खुली जेल सागर में भेजा गया।
सिटी मजिस्ट्रेट श्री सी एल वर्मा ने बताया कि मोबाइल गाइडलाइन जिसमें मास्क ना लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करना, एवं धारा 144 का पालन न करने पर शुक्रवार को प्रथम दिन ही 88 व्यक्तियों पर कार्रवाई करते हुए खुली जेल में रखा गया उन्होंने बताया कि यह कार्रवाई निरंतर जारी रहेगी।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

कोविड-19 महामारी के चलते प्रसिद्ध रानगिर मेला स्थगित

कोविड-19 महामारी के चलते प्रसिद्ध रानगिर मेला स्थगित

सागर।  कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए ट्रस्ट 13 अपै्रल से प्रारंभ होने वाली चैत्र नवरात्र के संबंध में मां हरसिद्धि देवी ट्रस्ट रानगिर के सदस्यों और प्रषासनिक अधिकारियों द्वारा रानगिर मंदिर प्रांगण में बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें सभी की सहमति से निर्णय लिया गया है कि 12 से 23 अपै्रल तक मंदिर का गर्भगृह पूर्ण रूप से बंद रहेगा, केवल मंदिर पुजारी द्वारा माता की निर्धारित समय अनुसार आरती की जाएगी। मंदिर प्रांगण के चेनल गेट व तीनों मुख्य द्वार भी पूर्णतः बंद रहेंगे। किसी भी प्रकार के मेला का आयोजन नहीं किया जाएगा।      


  ---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

गुरुवार, 8 अप्रैल 2021

बीएमसी में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं , सुचारू रूप से किया जा रहा कोविड मरीजों का इलाज -कमिश्नर

बीएमसी में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं , सुचारू रूप से किया जा रहा कोविड मरीजों का इलाज -कमिश्नर 
 
सागर ।  बुन्देलखण्ड मेडिकल कॉलेज सागर में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। यहाँ कोविड मरीजों का सुचारू रूप से इलाज जारी है। मरीजों के उपचार के सभी आवश्यक सुविधाएँ और प्रबंध हैं। ऑक्सीजन सिलेंडर का पर्याप्त मात्रा में स्टाक है।

सागर संभाग कमिश्नर श्री मुकेश शुक्ला ने बताया कि बुन्देलखण्ड मेडिकल कॉलेज (बीएमसी) में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध हैं। कमिश्नर श्री शुक्ला ने बताया कि बीएमसी में ऑक्सीजन की कमी की वजह से किसी भी मरीज की मृत्यु नहीं हई है, जिन तीन मरीजों की मृत्यु हई है, उनकी स्थिति पहले से ही नाजुक थी।

कोविड की व्यवस्थाओं के मददेनजर बीएमसी में भर्ती छोटे बच्चों को जिला चिकित्सालय में शिफ्ट किया गया था, जिससे बीएमसी में कोविड मरीजों के लिए और अधिक बेड मिल सके।
कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने बताया कि बुन्देलखण्ड मेडिकल कॉलेज (बीएमसी) में ऑक्सीजन की कमी को लेकर कुछ सोशल मीडिया में भ्रामक खबर चल रही थी। इस संबंध में बीएमसी के डीन और अधीक्षक से चर्चा हुई। उन्होंने बताया कि बीएमसी में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। ऑक्सीजन सिलेंडर पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। ऑक्सीजन सप्लाई की वैकल्पिक व्यवस्था है। बीएमसी के एसएनसीयू में भर्ती 11 बच्चों को जिला चिकित्सालय के एसएनसीयू में शिफ्ट किया गया है। सभी बच्चे स्वस्थ है और उनका इलाज चल रहा है। बीएमसी में कोविड और नॉन कोविड मरीजों के इलाज के उचित प्रबंध है। बीएमसी में जो डेथ हुई है, उनका जिला स्तरीय समिति द्वारा  डेथ रिव्यू किया जाएगा।

ऑक्सीजन कमी से नहीं हुई मरीज मृत्यु- सिविल सर्जन डॉ. वर्मा
ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध


सिविल सर्जन जिला चिकित्सालय खरगोन डॉ. दिव्येश वर्मा ने बताया कि जिला चिकित्सालय में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की उपलब्धता है और यहाँ किसी भी रोगी की ऑक्सीजन की कमी के कारण मृत्यु नहीं हुई है। जिला चिकित्सालय में लगातार ऑक्सीजन की सप्लाई जारी है। मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर इंदौर और भोपाल स्थित गोडाउन से ऑक्सीजन निरंतर मंगवाई जा रही है। उन्होंने बताया कि एक समाचार-पत्र में ऑक्सीजन की कमी के कारण जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीज की मौत का समाचार भ्रामक और गलत है।

सिविल सर्जन डॉ. वर्मा ने बताया कि मंगलवार रात्रि 11 बजे इंदौर से 100 ऑक्सीजन सिलेंडर अस्पताल में आ चुके थे और मरीज की मृत्यु बुधवार सुबह हुई थी। उन्होंने बताया कि मरीज की मृत्यु निमोनिया और मल्टीआर्गन फेल होने से हुई है। मरीज की कोविड जाँच भी की गई, जिसमें रिपोर्ट नेगेटिव आई। सिविल सर्जन डॉ. वर्मा ने बताया कि बुधवार रात्रि 10 बजे 35 सिलेंडर स्टॉक में थे। गुरूवार प्रातः 4 बजे 43 सिलेंडरों से भरा वाहन खरगोन पहुँचा। वर्तमान में जिला अस्पताल में कुल 21 जंबो ऑक्सीजन सिलेंडर और 33 छोटे ऑक्सीजन सिलेंडर स्टॉक में उपलब्ध है। इसके अलावा 65 सिलेंडर से भरा वाहन इंदौर गोडाउन से गुरूवार दोपहर 3 बजे रवाना हो चुका है, जो रात्रि 7-8 बजे तक खरगोन पहुँचेगा।


 ---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

परिवहन विभाग की हड़ताल समाप्त,परिवहन मंत्री ने दिया आश्वासन ★ तीनों संघों ने की हड़ताल समाप्ति की घोषणा

परिवहन विभाग की हड़ताल समाप्त,परिवहन मंत्री ने दिया आश्वासन

★ तीनों संघों ने की हड़ताल समाप्ति की घोषणा

भोपाल । परिवहन विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की अनिश्चित कालीन हड़ताल आज गुरूवार को परिवहन मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत से दूरभाष पर चर्चा उपरांत समाप्त हो गई है। परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बताया कि मध्यप्रदेश परिवहन (राजपत्रित) अधिकारी संघ के अध्यक्ष  जितेन्द्र सिंह रघुवंशी द्वारा विभागीय माँगों के संबंध में उन्हें अवगत कराया गया था। उन्होंने अपर मुख्य सचिव श्री एस.एन. मिश्रा को उनकी माँगों के संबंध में शीघ्र निराकरण के लिए प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं।

परिवहन विभाग के अधिकारियों को न्यायाधीश संरक्षण अधिनियम के तहत शामिल किये जाने, वेतन विसंगति, विभाग के लिपिकों को विभागीय परीक्षा के माध्यम से उप निरीक्षक के पद पर पदोन्नति, पुलिस विभाग की तरह परिवहन विभाग के अधिकारियों के पदनाम परिवर्तन, आर.टी.ओ. ऑफिस में लिपिक/प्रवर्तन अमले की शीघ्र पदस्थापना, गुमनाम एवं निराधार शिकायतों पर विचार नहीं किये जाने एवं इस प्रकार की चल रही शिकायतों का शीघ्र परीक्षण करवाने, वाहन दुर्घटना के प्रकरणों में जाँच के उपरांत ही विभागीय व्यक्ति पर कार्यवाई किये जाने एवं टीकमगढ़ परिवहन अधिकारी/लिपिक के विरूद्ध दर्ज प्रकरण की पुन: जाँच वरिष्ठ अधिकारियों से कराने और विभागीय मैन्युअल शीघ्र बनाये जाने के संबंध में परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने शीघ्र कार्यवाही किये जाने का आश्वासन दिया है।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


मंत्री श्री राजपूत वर्तमान में कोरोनो पॉजिटिव होने के कारण अस्पताल में इलाजरत हैं। उन्होंने कहा कि सरकार, अधिकारी-कर्मचारी एवं आमजन सभी कोरोना संक्रमण से फैली अव्यवस्था को सुचारू रूप से सक्रिय करने के लिए प्रयासरत हैं। इस स्थिति में अधिकारी एवं कर्मचारियों की समस्याओं का निराकरण भी महत्वपूर्ण है।

आर.टी.ओ भोपाल एवं मध्यप्रदेश राजपत्रित अधिकारी संगठन महा सचिव श्री संजय तिवारी ने संघ की ओर से परिवहन मंत्री श्री राजपूत का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि उनके प्रयासों से अधिकारी एवं कर्मचारियों की बहुप्रतिक्षित माँगे पूरी होंगी। परिवहन विभाग तृतीय वर्ग कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष श्री श्याम यादव ने परिवहन मंत्री का धन्यवाद किया ।
---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


कोविड गाईड लाईनों के अनुरूप खुले रहे जिम, ज्ञापन दिया जिम संचालको ने

कोविड गाईड लाईनों के अनुरूप खुले रहे जिम, ज्ञापन दिया जिम संचालको ने



साग़र। साग़र के जिम संचालको ने कोविड गाईड लाईन के अनुरूप ही इनको खुले रखने सम्बन्धी मांग मुख्यमंत्री से की है। मुख्यमंत्री को सम्बोधित  एक ज्ञापन आज प्रशासन को दिया।
ज्ञापन के मुताबिक एक आदेश
के माध्यम से दिनांक 26.03.2021 को जिम बंद किये जाने का आदेश पारित
किया गया है।
सागर के जिम संचालको का कहना है कि वर्तमान में जो जिम संचालित किये जा रहे है। उनमें जिम ट्रेनर के अलावा सफाई कर्मी एवं पानी आदि की व्यवस्था वाले लगभग 5 से 6 कर्मचारी जिम पर ही आश्रित रहते है एवं जिम से प्राप्त आय से ही उनके परिवारों का भरण-पोषण होता है। यदि जिम बंद कर दिये जाते है तो इन परिवारों को रोजी-रोटी का भारी संकट उत्पन्न हो जायेंगा।  जिम व्यवसाय हेतु जिम संचालको द्वारा बैंक आदि से ऋण प्राप्त किये गये है, पूर्व में लॉकडाउन के उपरांत जिम संचालक की आर्थिक स्थिति बहुत ही दयनीय है एवं यदि वर्तमान में पुनः जिम बंद किये  जाते है तो जिम संचालकों का व्यवसाय पूर्णतः समाप्त हो जायेगा।
ज्ञापन के मुताबिक  जिम संचालकों को निम्न बिन्दुओं के आधार पर जो कि म०प्र० शासन की दिनांक 28 जून 2020 को जारी गाइड लाइन के अनुसार जिम संचालित करने की अनुमति प्रदान की जायें। जिनमे एक हजार वर्गफीट वाले एरिया में अधिकतम 10 लोग ही वर्क-आउट करेंगे।  एक हजार से ढाई हजार वर्गफीट में अधिकतम 15 लोग ही वर्क-आउट करेंगे। पांच हजार वर्गफीट एरिया में अधिकतम 30 लोग ही वर्क-आउट करेंगे । जिम आने वाले अपने साथ में स्वंय की नेपकीन, पानी की बोतल,
सैनेटाइज एवं ग्लब्ज लायेंगे एवं मास्क पहनकर आयेंगे। एन्ट्री से पहले ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन लेबल एवं थर्मल जांच की जायेंगी।इन बिन्दुओं के आधार पर जिम संचालित किये जाने की अनुमति प्रदान की जायें।
जिम संचालक और भाजपा नेता राहुल साहू में नेतृत्व में  क्राउन फिटनेस जिम ,  गोल्डन जिम , स्मार्ट जिम ,सनशाइन जिम  ,फिटनेस फॉरएवर जिम  , ग्रैंड फिटनेस जिम , शिवाजी जिम फिटनेस जोन सहित अन्य जिमो के संचालक ने ADM अखिलेश जैन को दिया। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


प्रदेश के सभी शहरों में 9 अप्रैल शाम 6 बजे से 12 अप्रैल प्रात: 6 बजे तक लॉकडाउन ★ ऑक्सीजन आपूर्ति का कोई संकट नहीं , भारत सरकार और गुजरात से बात की है ★मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना संक्रमण पर की उच्च स्तरीय समीक्षा

प्रदेश के सभी शहरों में 9 अप्रैल शाम 6 बजे से 12 अप्रैल प्रात: 6 बजे तक लॉकडाउन

★ ऑक्सीजन आपूर्ति का कोई संकट नहीं , भारत सरकार और गुजरात से बात की है

★मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना संक्रमण पर की उच्च स्तरीय समीक्षा

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने कहा है कि #Corona संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन जैसे उपाय अंतिम विकल्प हैं। यह अभूतपूर्व संकट है। कोरोना संक्रमण को रोकने और मरीजों के इलाज के लिए आवश्यक व्यवस्था करने का कार्य निरंतर जारी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्मार्ट पार्क में पौधरोपण के बाद मीडिया के प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए कहा कि बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रदेश के सभी शहरों में शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन करना आवश्यक हो रहा है। 

इस संबंध में सभी अधिकारियों को निर्देश दिए जा चुके हैं। सभी जिलों के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप को बैठक कर अपने जिलों के पेशेंट लोड और परिस्थितियों को देखते हुए आवश्यक और उपयुक्त निर्णय करने के लिए तत्काल बैठकें आयोजित करने के निर्देश भी दिए गए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए आवश्यक होने पर बड़े शहरों में कंटेनमेंट एरिया भी बनाए जाएंगे।

ऑक्सीजन आपूर्ति का कोई संकट नहीं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इन उपायों के साथ-साथ इलाज की व्यवस्था के विस्तार पर भी राज्य सरकार लगातार कार्य कर रही है। प्रदेश में बिस्तरों की संख्या 36 हजार से बढ़ाकर एक लाख की जा रही है। प्रत्येक जिले में कोविड केयर सेंटर स्थापित किया जा रहा है। शासकीय चिकित्सालयों के साथ निजी अस्पतालों का सहयोग भी लिया जा रहा है। राज्य शासन निजी अस्पतालों में नि:शुल्क उपचार की व्यवस्था भी कर रही है। भोपाल में पीपुल्स और जे.के. अस्पताल में व्यवस्था की जा रही है। इंदौर और अन्य शहरों में भी निजी अस्पतालों की क्षमता का उपयोग करने संबंधी निर्देश दिए गए हैं। ऑक्सीजन आपूर्ति का कोई संकट नहीं है। ऑक्सीजन के संबंध में भारत सरकार और गुजरात राज्य से बात की है। भिलाई स्टील प्लांट से ऑक्सीजन की आपूर्ति आरंभ हो गई है। शासकीय स्तर पर रेमिडिसीवर इंजेक्शन की खरीद भी आरंभ हो रही है। दवाईयों की कोई कमी न रहे, इसका भी समुचित प्रबंध किया जाएगा।

यह परीक्षा की घड़ी है, हम साथ मिलकर लड़ेंगे और सफल होंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह ऐसी महामारी है, जिसके संबंध में कोई आकलन कर पाना संभव नहीं है। देश और प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इसमें संयम, धैर्य और आत्म-विश्वास बनाए रखना आवश्यक है। राज्य सरकार सबको साथ लेकर इस संकट का सामना करेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री जी की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद प्रदेश के सभी जिलों के कलेक्टर व पुलिस अधीक्षकों से वीडियो कॉन्फ्रेंस करूँगा। मंत्रि-परिषद के साथियों के साथ 9 अप्रैल को 3 बजे और प्रदेश के सभी सांसद तथा विधायकों से शाम 5 बजे चर्चा होगी। सबको विश्वास में लेकर कोरोना के विरूद्ध युद्ध की रणनीति विकसित की जाएगी। यह परीक्षा की घड़ी है, हम साथ मिलकर लड़ेंगे और सफल होंगे।

आत्म-अनुशासन बनाए रखें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेशवासियों से आत्म-अनुशासन बनाए रखते हुए मास्क का उपयोग करने, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने, बार-बार हाथ धोने, अनावश्यक घर से बाहर न निकलने और भीड़ न लगाने की अपील की है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पौध-रोपण से पूर्व निवास पर उच्च स्तरीय बैठक में प्रदेश में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की। मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान, अपर मुख्य सचिव गृह श्री राजेश राजौरा और भोपाल संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत सहित भोपाल जिले के अधिकारी उपस्थित थे।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


साग़र: नगरीय क्षेत्रों में शनिवार और रविवार को लॉकडाउन , रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रिकालीन लॉकडाउन

साग़र:  नगरीय क्षेत्रों में शनिवार और रविवार को लॉकडाउन , रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रिकालीन लॉकडाउन  

सागर ।  कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री दीपक सिंह ने कोविड वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव को दृष्टिगत रखते हुये आपदा प्रबंधन अधिनियम एवं दण्ड प्रक्रिया सहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत प्रतिधात्मक आदेष जारी किया है। जारी आदेष में कहा गया है जिले के समस्त नगरीय क्षेत्रों नगर निगम सागर, छावनी बोर्ड केंट, नगरीय निकाय मकरोनिया, शाहपुर, राहतगढ, सुरखी, बिलेहरा, बांदरी, मालथौन, खुरई, बीना, देवरी, बण्डा, शाहगढ़,  रहली, गढ़ाकोटा में 8 अप्रैल से आगामी आदेष तक प्रत्येक रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रिकालीन लॉकडाउन रहेगा। जिले के समस्त नगरीय क्षेत्रों नगर निगम सागर, छावनी बोर्ड केंट, नगरीय निकाय मकरोनिया, शाहपुर, राहतगढ, सुरखी, बिलहरा, बादरी, मालथौन, खुरई, बीना, देवरी, बण्डा, शाहगढ़, रहली, गढ़ाकोटा में शुक्रवार सायं 6 बजे से सोमवार प्रातः 6 बजे तक लॉकडाउन प्रभावी रहेगा। जिले के समस्त शासकीय कार्यालय दिनांक 31 जुलाई 2021 तक सप्ताह में 5 दिन (सोमवार से शुक्रवार) प्रातः 10 से शाम 6 बजे तक लगेंगे। शनिवार एवं रविवार का समस्त शासकीय कार्यालय बंद रहेगे।
निम्नानुसार गतिविधियों को लॉकडाउन में प्रतिबंध से छूट रहेगी
अन्य राज्यों में मॉल सेवाओं का आवागम। केमिस्ट, राषन दुकाने, अस्पताल, पेट्रोल पम्प बैक एवं एटीएम दूध एवं सब्जी की दुकाने व ठेले। औद्योगिक मजदूरों, उद्योगो हेतु कच्चा/तैयार माल, उद्योगों के अधिकारियों/कर्मचारियों का आवागमन। केन्द्र सरकार राज्य सरकार एवं स्थानीय निकाय के अधिकारी/कर्मचारी का आवागमन। परीक्षा केन्द्र आने एवं जाने वाले प्रषिक्षार्थी तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा आयोजन से जुडे कर्मी, अधिकारीगण। एम्बुलेंस एवं फायर बिग्रेड सेवायें। टीकाकरण व स्वास्थ्य सुविधाओं हेतु आवागमन कर रहे नागरिक/कर्मी। बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेषन, एयरपोर्ट से आने जाने वाले नागरिक। समाचार पत्र वितरण करने वाले हॉकर्स। घरेलू गैस सिलेण्डर वितरण करने वाली ऐजेन्सियां एवं घर-घर गैस सिलेण्डर पहुंचाने वाले कर्मचारी। यात्रियों के रूकने हेतु होटल। ये होटल अपने यहा रूकने वाले यात्रियों को केवल रूम में खाना सप्लाई करेगे। शासकीय राषन दुकाने। मेडिकल इमरजैंसी हेतु दो पहिया एवं चार पहिया वाहनों का आवागमन। दो पहिया वाहन पर सिर्फ एक व्यक्ति रहेगा व चार पहिया वाहन में सिर्फ दो व्यक्ति रहेगे। उपरोक्त छूट प्राप्त दुकानदार/प्रतिष्ठान/नागरिक अनिवार्यत सोषल डिस्टेंसिग के नियम, मास्क आदि का कड़ाई से पालन करेंगे।
इस आदेष का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्व भा.द.स. की धारा 188 एवं आपदा प्रबंधन अघिनियम 2006 के प्रावधानों के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी। यह आदेष तत्काल प्रभाव से लागू होगा।  

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------
                                                 


 

SAGAR: जिले के 16 नगरीय क्षेत्रों में 8 अप्रैल से नाईट कर्फ्यू और रविवार को लॉक डाउन रहेगा, आदेश जारी

SAGAR: जिले के 16 नगरीय क्षेत्रों में 
8 अप्रैल से नाईट कर्फ्यू और रविवार को लॉक डाउन रहेगा, आदेश जारी

साग़र । जिला दण्डाधिकारी और कलेक्टर दीपक सिंह ने बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते नए आदेश जारी किए है। आदेश के मूताबिक कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम एवं बचाव को दृष्टिगत रखते हुये मध्यप्रदेश शासन द्वारा प्रदेश में कोविड-19 के प्रकरणों की संख्या में विगत दिनों में हो रही बढ़ोत्तरी को दृष्टिगत रखते हुये कोविड-19 महामारी के रोकथाम एवं बचाव हेतु निर्देश जारी किये गये हैं। इस सम्बन्ध 
 जिला क्रायसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों
से मंत्रणा एवं विचार विमर्श पश्चात आगामी आदेश तक सम्पूर्ण सागर जिले की राजस्व सीमाओं में द0प्र0सं0 1973 की धारा 144 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम के प्रावधानों के तहत दिनांक 26 मार्च 2021 को अधोहस्ताक्षरकर्ता द्वारा जारी प्रतिबंधात्मक आदेश के साथ निम्नानुसार अतिरिक्त प्रतिबंध/निर्देश पालन हेतु जारीकिये जाते हैं ।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

कार्यालय खुलेंगे पांच दिन

कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिले के समस्त शासकीय कार्यालय आगामी तीन माह तक सप्ताह में 5 दिन (सोमवार से शुक्रवार). प्रातः 10
से शाम 6 बजे तक लगेंगे, शनिवार रविवार शासकीय कार्यालय बंद रहेंगे।

इन नगरीय क्षेत्रों में नाइट कर्फ्यू और रविवार को लाकडाउन 

 जिले के समस्त नगरीय क्षेत्रों - नगर निगम सागर, छावनी बोर्ड केंट, नगरीय
निकाय मकरोनिया, शाहपुर, राहतगढ़, सुरखी, बिलहरा, बांदरी, मालथौन, खुरई,बीना, देवरी, बण्डा, शाहगढ़, रहली, गढ़ाकोटा   में 8 अप्रैल से आगामी आदेश तक प्रत्येक रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फयू लागू रहेगा। जिले के उपरोक्तानुसार समस्त नगरीय क्षेत्रों में आगामी आदेश तक प्रत्येक रविवार लॉकडाउन रहेगा।
इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध भा0द0सं0 की धारा 188 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के प्रावधानों के अंतर्गत कार्यवाही की जावेगी । यह आदेश  7 अप्रैल से तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है। 


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

बुधवार, 7 अप्रैल 2021

★ सभी नगरों में रविवार को रहेगा लॉकडाउन ★सभी नगरों में 8 अप्रैल से रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा ★ प्रदेश के सभी शासकीय कार्यालय तीन माह तक सप्ताह में पाँच दिन लगेंगे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना के संबंध में उच्च स्तरीय बैठक ली



★ सभी नगरों में रविवार को रहेगा लॉकडाउन
★सभी नगरों में 8 अप्रैल से रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा
★ प्रदेश के सभी शासकीय कार्यालय तीन माह तक सप्ताह में पाँच दिन लगेंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहान  ने कोरोना के संबंध में उच्च स्तरीय बैठक ली
 
भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित उच्च स्तरीय बैठक में निर्णय लिया गया है कि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए, प्रदेश के समस्त शासकीय कार्यालय आगामी तीन माह तक सोमवार से शुक्रवार तक सप्ताह में पाँच दिन लगेंगे। शनिवार एवं रविवार को कार्यालय बंद रहेंगे।

बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रदेश के सभी नगरीय क्षेत्रों में 8 अप्रैल से प्रतिदिन आगामी आदेश तक प्रतिदिन रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। साथ ही आगामी आदेश तक प्रत्येक रविवार को लॉकडाउन रहेगा।


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


बैठक में निर्णय लिया गया कि छिंदवाड़ा जिले में 8 अप्रैल की रात 8 बजे से आगामी सात दिनों तक सम्पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। शाजापुर शहर में बुधवार (7 अप्रैल) रात 8 बजे से अगले दो दिन के लिए सम्पूर्ण लॉकडाउन रहेगा।

बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान, अपर मुख्य सचिव गृह श्री राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव श्री मनीष रस्तोगी आदि उपस्थित थे।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

बुन्देलखण्ड मेडिकल कोविड अस्पताल व नॉन कोविड में लिक्विड ऑक्सीजन खत्म, सिलेंडरों से चला रहे काम ★ आक्सीजन सिलेंडरों की उपलब्धता है, आज आयगी लिक्विड गैस : कमिश्नर मुकेश शुक्ला

बुन्देलखण्ड मेडिकल कोविड अस्पताल व नॉन कोविड में लिक्विड ऑक्सीजन खत्म, सिलेंडरों से चला रहे काम

★ आक्सीजन सिलेंडरों की उपलब्धता है, आज आ जायेगी लिक्विड गैस : कमिश्नर मुकेश शुक्ला 

सागर। कोरोना काल में बीएमसी में ऑक्सीजन सप्लाई का संकट खड़ा हो गया है। यहां दो दिन से लिक्विड ऑक्सीजन खत्म है। मरोजो को शिफ्ट करने तक कि चर्चाएं सामने आ गयी। 
बीएमसी प्रशासन ने वैकल्पिक रूप से सिलेंडरों की आधी-अधूरी व्यवस्था की है। महज दो दिन की ऑक्सीजन व्यवस्था बची है। इसी दौरान बीमसी  से एसएनसीयू
वार्ड से करीब 12 बच्चों को जिला अस्पताल के एसएनसीयू में शिफ्ट किया गया। जिसके चलते परिजन परेशान होते नजर आये।बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के सेंट्रल ऑक्सीजन सप्लाई केंद्र में ऑक्सीजन सप्लाई की नोजल फटने से कई हिस्सों की सप्लाई बाधित  हुई। 
 
इस मामले को लेकर साग़र सम्भाग के कमिश्नर मुकेश शुक्ला ने बीएमसी की व्यवस्थाओं पर प्रबंधन से चर्चा की और जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि  मेडिकल कालेज में आज रात तक लिक्विड गेस मुहैया हो जाएगी।आज एक लारी आने वाली है।  अभी हमारे पास पर्याप्त आक्सीजन सिलेंडर है। करीब 203 सिलेंडर है।  मेडिकल कालेज के  SNiCU वार्ड  बच्चों का है । उसे0 जिला असपताल में शिफ्ट कराया है। यहां कोविड के इलाज की तैयारी के लिए व्यवस्था बनाई है। उन्होंने आक्सीजन की कमी से मौत से इनकार किया है। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


इस मामले में  डीन डॉ आरएस वर्मा का कहना है कि गुजरात से लिक्विड ओक्सीजन सप्लाई नहीं हुई है। सिलेंडर खाली हो गया है। छोटे सिलेंडरों से वैकल्पिक व्यवस्था के तहत सप्लाई दी जा रही है। ऑक्सीजन की कमी से मौतों की सूचना गलत है।

जिला हॉस्पिटल में पर्याप्त व्यवस्था : कलेक्टर

जिला चिकित्सालय में ऑक्सीजन ,ब्लड सहित अन्य आवश्यक चीजों की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाये उक्त निर्देश कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सिविल ,सर्जन सहित अन्य विभाग अधिकारियों को दिए ।
कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने बताया कि जिला चिकित्सालय में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन का स्टॉक मौजूद है। साथ ही ब्लड बैंक में ब्लड की उपलब्धता भी है ।
उन्होंने बताया कि सिविल सर्जन डॉक्टर एमडी गायकवाड को निर्देशित किया गया है कि जिला चिकित्सालय में समस्त आवश्यक संसाधन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए विस्तृत कार्य योजना तैयार करें एवं संसाधन उपलब्ध रखें। सिविल सर्जन  एमडी गायकवाड़ ने बताया कि एसएनसीयू वार्ड में जिला चिकित्सालय के 26 बच्चे भर्ती है एवं बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज की एसएनसीयू विभाग से 12 बच्चों को शिफ्ट किया गया है। डॉ ज्योति चौहान ने बताया कि सभी बच्चे स्वस्थ हैं और इनका इलाज निरंतर किया जा रहा है 


पिछले तीन दिन में स्वास्थ्य मंत्री और नगरीय विकास एवं आवास विभाग के प्रमुख सचिव  नितेश व्यास ने किए अलग अलग दौरे मेडिकल कालेज के

कोविड की व्यवस्थाओं को जानने और बेहतर बनाने  के लिए पिछले तीन दिन में प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी और नगरीय प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव नितेश व्यासः ने  मेडिकल कालेज और जिला हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। और समीक्षा बैठक भी कमिश्नर- कलेक्टर और बुन्देलखण्ड मेडिकल कालेज प्रभंधन के साथ की। इस दौरान बीएड बढाने और ऑक्सीजन के  पर्याप्त इंतजाम के निर्देश भी दिए थे । 
---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


कोरोना काल मे स्कूल बंद, स्कूली बच्चों के बौद्धिक विकास पर पड़ा असर , मध्यप्रदेश शिक्षा बचाओ मंच यात्रा पहुची साग़र

कोरोना काल मे स्कूल बंद, स्कूली बच्चों के बौद्धिक विकास पर पड़ा असर , मध्यप्रदेश शिक्षा बचाओ मंच यात्रा पहुची साग़र


दुनिया, देश, समाज के भविष्य, 'बच्चों का भविष्य खतरे में
क्या स्कूल बंदी ही कोरोना का इलाज है ?

साग़र। कोरोना काल मे स्कूली बच्चों खासतौर से आठवीं तक के बच्चों की सपूर्ण शैक्षणिक विकास पर विपरीत असर पड़ा है।   इनके असर और स्कूलों को सुरक्षित तरीके से शुरू किए जाने पक्ष में मध्यप्रदेश शिक्षा बचाओ मंच के माध्यम से  जागरूकता यात्रा निकाली जा रही है यह यात्रा आज साग़र पहुची । 
इसके प्रमुख मोहन लाल नागवानी और जुगल किशोर मिश्रा ने आज मीडिया से चर्चा में बताया कि विगत 1 वर्ष से करोना काल के चलते हमारा शिक्षा का ढांचा जिस बुरी तरह से ध्वस्त हुआ है उसके परिणाम हमें भविष्य में देखने को मिलेंगे।
जहां एक और बच्चों का बचपन, शिक्षा, अनुशासन, निरंतरता, सामाजिकता, समूह भावना तथा सामाजिक मूल्यों का पतन हुआ है वही दूसरी ओर समाज एक अदृश्य भय से जकड़ता जा रहा है।
इस दौरान सबसे ज्यादा प्रभावित गरीब शोषित एवं बंचित समूह के बचे हुए हैं। जिनके अभिभावक उन्हें चाह कर भी नहीं करा पा रहे और ना ही बच्चे चाह कर भी पढ़ पा रहे। एक अनुमान के मुताबिक प्रदेश के लगभग 70 लाख बचे जोग्रामीण क्षेत्र, शहरी क्षेत्र के गरीब बजे तथा अशासकीय स्कूलों में पढ़ रहे गरीबी रेखा के नीचे की श्रेणी के बच्चे मुख्य हैं। सर्वाधिक प्रभावित ग्रामीण क्षेत्रों के बच्चे है जहा संचार का आधारभूत ढांचा नहीं है एवं गरीबी है।
इसका मुख्य कारण विद्यालयों का बंद होना तथा संचार साधनों जैसे टीवी मोबाइल एवं इंटरनेट के भरोसे पढ़ाई लिखाई की व्यवस्था का होना है। फलस्वरुप बच्चे विद्यालय के माहौल से वंचित हो गए हैं जहां उनका मानसिक शारीरिक एवं बौद्धिक विकास सुनिश्चित होता था। इस दौरान बच्चों का एक नया वर्ग उभर कर सामने आया है जो इंटरनेट के अंधे गलियारों एवं भूल भुलैया में नई दुनिया को पाकर कई मानसिक विकृतियों का शिकार हो रहा है तथा मार्गदर्शन के अभाव में सही गलत में अंतर नहीं कर पा रहा है। क्या स्कूल बंदी ही इस दौर का विकल्प है? जहां पूरी दुनिया के हर क्रियाकलाप एक नियम कानून के दायरे में बंधकर संचालित हो रहे हैं।  हमारे नौनिहालों को शाला का कोई विकल्प शाला के ही रूप में विभिन्न स्वास्थ्य मानकों के लागू करते हुए संभव नहीं है?
इसका एक सरल हल संभव है की स्कूल बंदी के निर्णय राज्य स्तर पर न लेकर जिला कलेक्टरो के उपर छोड़ दिए जाऐ। वे अपने जिले के कोरोना मुक्त क्षेत्रों में स्वविवेक से शालाएं संचालित करने का निर्णय ले जबकी परीक्षा संबंधी निर्णय राज्य एवं केंद्र सरकारों द्वारा लिए जावें।
स्वास्थ्य एवं शिक्षा समाज की मूलभूत आवश्यकता है अतः शिक्षा को उचित वरीयता देते हुए स्कूल स्टाफ का भी प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण हो एवं स्कूल स्टाफ का नियमित कोरोना टेस्ट किया जावे ताकि बच्चे भय मुक्त वातावरण में शिक्षा प्राप्त कर सके। विद्यालयों को सावधानियों के संबंध में नियमित प्रशिक्षण दिया जावें। आर.टी.ई के अन्तर्गत अध्ययनरत बजों की शिक्षा दीक्षा पर विशेष व्यवस्थाएं कर ध्यान दिया जावे एवं प्रगति पर सतत नजर रखी जावे।
उन्होंने बताया कि  शिक्षा बचाओ यात्रा का मूल उद्देश्य समाज के विभिन्न वर्गों से बातचीत एवं मंथन का ऐसी संभावनाओं को तलाशना है जहां हम बजों का
बचपन वापस लौट आ सके और उनकी शैक्षणिक हत्या होने से रोक पाए।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


अमरकंटक से निकली यात्रा

मध्य प्रदेश शिक्षा बचाओ मंच द्वारा सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं शिक्षाविदों के साथ प्रदेश की जीवन रेखा मां नर्मदा
के उद्गम स्थल अमरकंटक से 3 अप्रैल आरंभ होकर प्रदेश के लगभग 34 जिलों से होती हुई प्रदेश के नीति निर्धारक नगरी भोपाल से गुजरेगी। यह यात्रा अमरकंटक से अनूपपुर, डिंडोरी, शहपुरा, उमरिया, शहडोल, ब्यौवहारी, सीधी, रीवा, सतना, पन्ना, दमोह,सागर, टीकमगढ़, अशोकनगर,गुना, नरसिंह गढ़, विदिशा, भोपाल, रायसेन, होशंगाबाद, नरसिंहपुर, मंडला, कुण्डम, दशरमन होते हुए कटनी में समाप्त होगी।


सोसायटी ऑफ ऐजुकेशन वेलफेयर एसोशिएशन ने किया स्वागत और समर्थन 

 निजी विधालय संचालकों के  संगठन 
सोसायटी ऑफ ऐजुकेशन वेलफेयर एसोशिएशन ने किया स्वागत और समर्थन किया। इस मौके पर जिलाध्यक्ष 
धर्मेंद्र शर्मा ने बताया कि यह यात्रा एक विचार है।उद्देश्य जनजागरण करना है
आनलाईन पढ़ाई में बच्चों का  मानसिक बौद्धिक विकास नही हो पा रहा है। 
आल लाईन में शिक्षा है लेकिन अनुशासन नही है।  शिक्षा संस्कार व अनुशाषन के वातावरण से दूर हो गए हैं उनका शारीरिक मानसिक व बौद्धिक विकास रुक गया है उसने समाज के सामन विकट समस्या पैदा कर दी है । इस मौके पर
सेवा संगठन के सभी पदाधिकारी पंडित सुरेन्द्र दुबे  संरक्षक, धर्मेन्द्र शर्मा
जिला अध्ययक्ष, उपेन्द्र गुप्ता महासचिव  रामकृष्ण शर्मा ,कोषाध्ययक्ष, जुगल किशोर उपाध्याय उपाध्यक्ष, नीरज सिंह ठाकुर ,सह सचिव पंडित आदित्य उपाध्याय जिला प्रवक्ता ,नरेश विश्वकर्मा
,सदस्य ,महेन्द्र भाई जी ,सदस्य, अजय चौहान सदस्य , मनोज जैन सदस्य,
अल्पना जैन ,सदस्य उपस्थित रहे । यात्रा का बहेरिया में  स्वामी विवेकानंद विधालय जुपिटर पब्लिक स्कूल
शैलेष मेमोरियल स्कूल, सॉई वरदान स्कूल , लंदन किडस स्कूल गुरुकुल स्कूल पुरानी मकरोनिया सहित विभिन्न स्कूलों ने भव्य स्वागत किया आगवानी की ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


साग़र: प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण की समीक्षा दो पीसीओ निलंबित

साग़र: प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण की समीक्षा दो पीसीओ निलंबित

सागर ।सीईओ जिला पंचायत सागर  इच्छित गढ़पाले द्वारा जनपद पंचायत मालथौन अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना से निर्मित होने वाले आवासों की समीक्षा के दौरान श्री सुरेश कुमार रोहित पंचायत समन्वय अधिकारी एवं श्री यशवंत सिंह गौड़, पंचायत समन्वय अधिकारी को उन्हें आवंटित सेक्टर की ग्राम पंचायतों की प्रगति अत्यंत न्यून पाये जाने, आवासों एवं अन्य निर्माण कार्यों को समयावधि में पूर्ण कराये जाने हेतु कोई रूचि नहीं लेने, नियमित रूप से ग्राम पंचायतों का पर्यवेक्षणध्अनुश्रवण नहीं करने पर उन्हें  पदीय दायित्वों एवं कर्त्तव्यों के निर्वहन में घोर लापरवाही व उदासीनता बरतने के साथ-साथ वरिष्ठ कार्यालय के आदेशोंध्निर्देशों की अवहेलना व स्वेच्छाचारिता का दोषी पाते हुये संबंधितों को म.प्र. सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9 के तहत समीक्षा के दौरान ही निलंबित किया गया।
सीईओ जिला पंचायत श्री इच्छित गढ़पाले द्वारा बताया गया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के निर्माण कार्यों में न्यून प्रगति वाली पंचायतों का अब औचक निरीक्षण करते हुये दोषियों के विरूद्ध इसी प्रकार की कार्यवाही की जावेगी। जिला स्तर से भी अब दैनिक रूप से अन्य अधिकारियों को निरीक्षण हेतु फील्ड पर भेजा जा रहा है।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------
 

Archive