जंय श्री गणेशाय नमः

शनिवार, 18 जनवरी 2020

कोर्ट मुहर्रिर न्यायालय की रोजाना की कार्यवाही रजिस्टर में संधारित करेंगे,एसपी ने मुहैया कराए रजिस्टर और फिंगरप्रिंट स्लिप

कोर्ट मुहर्रिर न्यायालय की रोजाना की  कार्यवाही रजिस्टर में संधारित करेंगे,एसपी ने मुहैया कराए रजिस्टर और फिंगरप्रिंट स्लिप
सागर। अब न्यायालयों के दिन प्रतिदिन की कार्यवाही जिला एवं तहसील न्यायालयों में पदस्थ कोर्ट मोहर्रिर द्वारा पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी द्वारा दिये गये रजिस्टरों में संधारित की जायेगी। कोर्ट मोहर्रिर द्वारा न्यायालय में होने वाले दिन प्रतिदिन के न्यायालयीन कार्यों का संधारण रजिस्टरों में नियमित एवं आवष्यक रूप से संधारित करना अनिवार्य होगा। इस हेतु सागर पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने विषेष रूचि लेते हुए न्यायालय में कार्य करने वाले कोर्ट मुहर्रिरों के लिए करीब 300 रजिस्टर एवं 5000 फिंगर प्रिंट स्लिप एवं 5000 निर्णय स्लिप तैयार कराकर जिला अभियोजन कार्यालय को दिये। 

विगत वर्ष अप्रैल 2019 से दिसम्बर 2019 में लगभग 5000 निर्णय स्लिप तैयार की गई थी और लगभग 1000 फिंगर प्रिंट लिये गये हैं। इस वर्ष भी इससे अधिक निर्णय स्लिप और फिंगर प्रिंट लिये जाने का अनुमान है जिसके लिए कोर्ट मोहर्रिरों द्वारा पुलिस अधीक्षक महोदय से स्टेषनरी की मांग की गई थी जिसपर गंभीरता पूर्वक विचार करते हुए पुलिस अधीक्षक  द्वारा कोर्ट मोहर्रिरों को प्रदान करने हेतु स्टेषनरी आवंटित की गई है। न्यायालय में पदस्थ कोर्ट मुहर्रिर द्वारा प्रत्येक निराकृत प्रकरणों की निर्णय स्लिप तैयार की जाती है। माह के अंत में सभी निर्णय स्लिप पुलिस अधीक्षक के माध्यम से संबंधित थानों को भेजी जाती है। जिससे पुलिस विभाग के जरायम, जिला बदर, हिस्टरी सीटर, गुंडा, सी.सी.एन.एस., एवं व्ही.सी.एन.बी आदि रजिस्टरों में जानकारी अद्यतन होती है। समस्त अभियोजन अधिकारियों एवं कोर्ट मोहर्रिरों ने स्टेषनरी प्रदान करने हेतु पुलिस अधीक्षक को धन्यवाद ज्ञापित किया है।

दलित युवक को जिंदा जलाने का मामला, नेता प्रतिपक्ष पहुचे भोपाल में अस्पताल में देखने, सागर में विधायक लारिया पहुचे उसके घर


दलित युवक को जिंदा जलाने का मामला, नेता प्रतिपक्ष पहुचे भोपाल में अस्पताल में देखने, सागर में विधायक लारिया पहुचे उसके घर 
सागर ।सागर में एक दलित युवक को जिंदा जलाने की घटना में झुलसे युवक को इलाज के लिए  भोपाल रिफर कर दिया गया। इस मामले तेजी से राजनीतिक रंग पखड़ लिया है ।  नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव भोपाल में हमीदिया हॉस्पिटल में देखने पहुचे और समुचित इलाज के निःर्देश दिए। वही भाजपा विधायक प्रदीप लारिया आज पीड़ित के घर पहुचे और हालचाल जाना। मोतीनगर थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वही इसमें लापरवाहियों की  पूरी जांच ASP राजेश व्यास को सौंपी गई है। 
नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने अपने ट्वीट किया कि  आज हमीदिया अस्पताल जाकर पीड़ित युवक से मिला और पीड़ित परिवार के लोगों से घटना के संबंध में चर्चा की। गंभीर रूप से घायल युवक के समुचित इलाज के लिए डॉक्टरों को निर्देश दिए हैं।पीड़ित युवक के परिजनों से मिलकर मैंने उन्हें आश्वस्त किया है कि पूरी भारतीय जनता पार्टी आप के साथ है आपको किसी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं है। पिछले 1 वर्ष में प्रदेश में दलित शोषित वर्ग की उपेक्षा हो रही है। उनपर अत्याचार बढ़े है। भारतीय जनता पार्टी सम्पूर्ण दलित शोषित गरीब वर्ग के साथ है । राज्य में दलितों पर बढ़ते अपराधों और दबंगो द्वारा किये जा रहे शोषण के खिलाफ भाजपा आंदोलन भी करेगी।
पीड़ित के परिजनों से मिलने पहुंचे पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप लारिया
पीड़ित के परिजनों से मिलने के लिए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश के उपाध्यक्ष नरयावली विधायक प्रदीप लारिया एवं भाजपा जिला अध्यक्ष प्रभुदयाल पटैल ने उनके घर जाकर परिजनों से हालचाल जाना। इस संबंध में धन प्रसाद अहिरवार के परिजनों का कहना है कि आरोपियों द्वारा लगातार जान से मारने की धमकी दी जा रही हैै।
विधायक प्रदीप लारिया ने कहा कि पीड़ित युवक का शरीर 70 प्रतिशत तक जल चुका है वह जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहा है और जिला प्रशासन द्वारा कोई कड़े कदम नहीं उठाये जा रहे है जिला प्रशासन इस सब में अंध मूक बना हुआ है। उन्होंने कहा म.प्र. में कांग्रेस की सरकार में दलितो पर अत्याचार हो रहे है आरोपियों को संरक्षण दिया जा रहा है जिसकी भारतीय जनता पार्टी तीखे शब्दो में निंदा करती है। उन्होंने पुलिस प्रशासन से फरियादी के परिजनों को मिल रही आरोपियों द्वारा धमकियों के संबंध में एवं आरोपियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की। जिला अध्यक्ष प्रभुदयाल पटैल ने कहा कि यदि आरोपियों पर पुलिस द्वारा कठोर कार्रवाई नहीं की जाती है तो भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चे के बैनर के नीचे जन आंदोलन कर विशाल धरना प्रदर्शन करेगी। पीड़ित धन प्रसाद अहिरवार के प्रकरण में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप लारिया ने भोपाल में गृहमंत्री एवं प्रदेश के डीजीपी कोे ज्ञापन सौंपा था।मिलने वालों में पार्षद गंगाराम अहिरवार, मंडल अध्यक्ष सौरभ केशरवानी, पार्षद डेलन सिंह अहिरवार, कन्हैया लाल पटेल, अनिल राज, गोपी पंथी सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता एवं क्षेत्र के लोग साथ में रहे
यह है मामला
सागर के  मोतीनगर थाना अंतर्गत अम्बेडकर वार्ड स्थित आवासीय कालोनी मे रहने वाले अनुसूचित जाति के युवक धनीराम अहिरवार को जली हुई अवस्था मे इलाज़ के लिए बी एम सी मे भर्ती कराया गया है। जहाँ इस मामले मे धायल युवक के परिजनो ने कालोनी मे ही रहने वाले अपने ही पड़ोसियों के ऊपर आरोप लगाया है  था कि आए दिन किसी न किसी बात पर उनको परेशान और झगड़ा किया जाता है । जिसकी शिकायत पुलिस में की है। ऐसे ही विवाद में जब धनीराम अज्जू पठान,इरफान को समझाईश देने गया तो अज्जू और उसके साथियों ने केरोसिन डालकर आग लगा दी। 
युवक को १०८ की सहायता से इलाज़ के लिए भर्ती कराया ।पुलिस ने इस मामले मे पीडित के बयान के आधार पर मामला धारा 307 और अनुसूचित जाति जनजाति अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर । तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।
भोपाल रिफर को लेकर हंगामा,अहिरवार समाज और भाजपा ने किया प्रदर्शन
सागर के मेडिकल कॉलेज में इलाज में फायदा ना मिलने के कारण डॉक्टरों के दुवारा इस गंभीर हालत में भोपाल रिफर किया गया। लेकिन हंगामे की स्थिति उस समय बन गई जब डॉक्टरों के रिफर करने के बाद भी पांच घँटे तक एम्बुलेंस का इंतजाम नहीं हो के कारण अहिरवार समाज के लोगों ने मेडिकल कॉलेज में हंगामा की स्थिति निर्मित कर दी।पूरे मामले अहिरवार समाज ने सागर जिले भर के प्रतिनिधियों को भी आड़े हाथों लिया और उनके खिलाफ भी गुस्सा निकाला इस पूरे मामले में पांच घँटे देर से पहुची एम्बुलेंस आग से जले युवक को भोपाल इलाज के लिए रवाना हो गई जब जाकर अहिरवार समाज के लोग शांत हुये।इसके बाद ज्ञापन भी दिया।
इनका कहना है
 एसपी अमित सांघि के अनुसार पीड़ित के लिए आर्थिक मदद के लिए प्रस्ताव भेजा है । इस मामले में पुलिस की लापरवाही सम्बन्धी मामले की जांच ASP से कराई जा रही है।
जिला कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग ने जिला पुलिस अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन
इस  मामले में  कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष सुरेन्द्र करोसिया की अगवाई में पुलिस अधीक्षक  अमित सांघी को ज्ञापन सौंपा।पुलिस अधीक्षक को सौपे  ज्ञापन में अध्यक्ष सुरेन्द्र करोसिया ने कहा कि श्री धनीराम अहिरवार के साथ आग  लगाने की घटित घटना में  बह 70 प्रतिशत झुलस गया है जिसे उचित उपचार की नितान्त आवश्यकता है।ज्ञापन में कहा कि घटना की निष्पक्ष जाँच कर दोषियों पर कठोर कार्यवाही करने के साथ साथ  पीड़ित को उचित चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने व अनु. जाति अत्याचार अधिनियम अंतर्गत तत्काल सहायता मुहैया कराने मांग  जिला काँग्रेस अनुसूचित जाति विभाग द्वारा सौंपे ज्ञापन के माध्यम से काँग्रेस जनों ने जिला पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी से की ।ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से संदीप चौधरी, धीरज खरे, पीतम अहिरवार,संजय रोहिदास, रितिकशोदिया,रघुवीर वर्मा, आदेशशोदिया,अनूप अहिरवार, नंदू बंसल आदि कांग्रेसजन उपस्थित रहे।

युवाओं को अपने देश के प्रति सजग और जागरूक रहना जरूरी:ABVP राष्ट्रीय अध्यक्ष हुए शामिल शोभायात्रा में

युवाओं को अपने देश के प्रति सजग और जागरूक रहना जरूरी:ABVP
राष्ट्रीय अध्यक्ष हुए शामिल शोभायात्रा में

सागर। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद महाकोशल का 52 वा प्रांत अधिवेशन में  आज  शोभा यात्रा निकाली गई। जिसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष एस.सवैया, प्रांत अध्यक्ष संदीप खरे, प्रांत मंत्री सुमन यादव, प्रदेश सहमत्री शोभा यात्रा में रहे ।जिसका स्वागत, स्वागत समिति महामंत्री अवधेष मलैया, अनिल तिवारी ने किया। शोभायात्रा में भव्य स्वरूप देखने को मिला। जिसमें 800 छात्र प्रतिनिधि भारत माता के जयकारों के साथ अनुषासित रूप से शोभा यात्रा में शामिल हुए। इसके बाद शोभा यात्रा का समापन खुला अधिवेषन के रूप में हुआ। 
जिसमें मुख्य रूप से खुला अधिवेषन मंच पर राष्ट्रीय अध्यक्ष एस. सवैया  प्रांत मंत्री सुमन यादव, सत्येन्द्र पटवा, आषीष गौतम, संकल्प जैन, राज रैकवार, देवेन्द्र जी प्रमुख थे।
संकल्प जैन ने अपने भाषण में कहा सी.ए.ए, अयोध्या निर्णय देष के लिए हितकारी है। अनुच्छेद 370 ने केवल आतंकवाद और अलगाववाद को जन्म दिया था। अनुच्छेद 370 और 35 ए हटने से घाटी के अंदर कई जनकल्याणकारी योजनायें लागू हुई। राम मंदिर निर्णय जनता की भावना का सम्मान किया है। सुप्रीम कोर्ट ने सी.ए.ए. , अ.भा.वि.प. का मानना है सभी का खून है शामिल यहां की मिटटी में लेकिन जो घुसपैठियों को पनाह दे वो हिन्दुस्तानी थोडी है। प्रदेष सहमंत्री आषीष गौतम ने कहा जे.एन.यू. में हो रही ऐसी घटनाओं का हम विरोध करते है। नक्सलवादों को चुनौती देते है हम सभी युवाओं को अपने देष के प्रति सजग और जागरूक रहना है। 
वही पूर्व प्रदेष मंत्री सत्येन्द्र पटवा ने कमलनाथ सरकार पर हमला बोला। देष के युवाओं को गुमराह कर रही है। प्रदेष की प्रगति को आगे बढाने के लिए अ.भा.वि.प. केम्पस में जाएगा जब जब छात्र बोला है राज्य सिंघासन डोला है। इस प्रकार से चुनौती देते हुए प्रदेष सरकार को कोसा। प्रदेष मंत्री सुमन यादव ने षिक्षा, भारत की संस्कृति को सीखने का मौका दिया हैं मिषन साहसी जैसे कार्यक्रम से छात्राओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग करते हुए आत्मनिर्भर बनाया है। षिक्षा का बजारीकरण हो रहा है। इस प्रकार कांग्रेस सरकार को कोसा। छात्रावास की कमी है । खेल के मैदान का अभाव है। षिक्षा के माफियों पर कार्यवाही हो। महिला की अस्मिता उसका गहना होती है। हमारा देष उन्नति कर रहा है। नगर मंत्री राज रैकवार ने खुले अधिवेषन का आभार व्यक्त किया। रात्रिकालीन सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। 

 

सड़क सुरक्षा में हुई छोटी सी भूल की परिवार चुकाता है बड़ी कीमत:परिवहन मंत्री 31वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का समापन



सड़क सुरक्षा में हुई छोटी सी भूल की परिवार  चुकाता है बड़ी कीमत:परिवहन मंत्री
31वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का समापन
#छात्र जीवन मे मित्र प्रफुल्ल चोधरी के दिए हेलमेट ने बचाया था दुर्घटनाग्रस्त होने से

सागर । जीवन अमूल्य है इसे सहेज कर रखें क्योंकि एक भूल पूरे परिवार पर भारी होती है इस लिए यातायात नियमों का पालन कर अपने जीवन को सुरक्षित बनाएं उक्त विचार राजस्व एवं परिवहन मंत्री  गोविन्द सिंह राजपूत ने 31 वां सड़क सुरक्षा सप्ताह के समापन अवसर पर स्थानीय स्वर्ण जयंती सभाकक्ष में व्यक्त किए। 
उन्होंने कार्यक्रम में सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान जागरूकता के विषेष कार्यक्रमों के लिए बेस्ट परफार्मर को पुरस्कृत किया। 
मित्र प्रफुल्ल चोधरी ने दिया था हेलमेट ,बालबाल बचा था दुर्घटना ग्रस्त होने पर
मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि सड़क सुरक्षा के नियमों का अक्षरषः पालन महानगरों में तो होता है किन्तु छोटे शहरों में उतना नहीं हो पाता है इसके लिए जागरूकता की आवष्यकता है। उन्होंने अपने छात्र जीवन की घटना को व्यक्त करते हुए कहा कि मैं जब रात में गृह ग्राम जेरई जा रहा था तब मुझे मेरे मित्र प्रफुल्ल चौधरी ने हेलमेट दिया और मैंने लगाकर गृह ग्राम के लिए रवाना हुआ तभी रास्ते में मेरी मोटर साईकिल दुर्घटनाग्रस्त हो गई और मैं बाल-बाल बच गया। मैं आप से उक्त घटना के माध्यम से यह अपील करता हूं कि मोटर साईकिल बगैर हेलमेट के एवं कार बगैर शीट बेल्ट के न चलाएं। उन्होंने कहा कि यह सड़क सुरक्षा सप्ताह हम सभी की सुरक्षा के लिए है। और पुलिस की समझाईष को अन्यथा न लेते हुए उसका पालन कर अपने जीवन एवं परिवार को सुरक्षित रखें।
सड़क दुर्घटना का वीडियो बनाने की बजाये घायल की मदद करें:कलेक्टर प्रीति मैथिल
कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने कहा कि आजकल जब भी कोई घटना- दुर्घटना होती है तब राहगीर दुर्घटना का स्मार्ट फोन के माध्यम से वीडियो बनाने लगते है और घायल तड़पता रहता है। दुर्घटना के दौरान वह समय अत्यंत कीमती होता है जब घायल को इलाज की आवष्यकता होती है। उस दौरान घायल को जितना जल्दी हो सके उतले जल्दी इलाज मिलना आवष्यक होता है। समय जाया करने पर घायल की जान भी जा सकती है। इसलिए वीडियो बनाने बजाये घायल को अस्पताल पहुंचाने में मदद करना चाहिए। उन्होंने जानकारी दी कि उच्चतम न्यायालय ने भी इस संबंध में निर्देष दिए है कि यदि कोई घायल को अस्पताल लाता है तो घायल की मदद करने पर मददकर्ता पर पुलिस किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की घटना या दुर्घटना होने पर वीडियो बनाने की बजाये 100, 108 नंबर पर एवं पुलिस कंट्रोल रूम में डायल करें।
एसपी ने युवाओं को जोड़ने का प्रयास  किया
पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने सड़क सुरक्षा यातायात सप्ताह का प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए कहा कि सड़क सुरक्षा से युवाओं को अधिक-अधिक से जोड़ने का प्रयास किया गया है। दुर्घटना में ज्यादातर प्रकरण युवाओं से संबंधित होते है। यह बहुत दुखद होता है कि किसी परिवार का कोई युवा सदस्य दुर्घटनाग्रस्त हो जाए तो जीवन भर उस परिवार को हानि उठानी पड़ती है।
ये रहे उपस्थित
इस अवसर पर जिला शहर कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती रेखा चौधरी, कमलेष बघेल, सिन्टू कटारे, अमित दुबे, पप्पू फुसकेले, धर्मेन्द्र राठौर, अतुल्य नेमा, बस एवं ट्रक एसोसिएषन के अध्यक्ष, नगर निगम कमिष्नर  आरपी अहिरवार, एडिषनल एसपी  राजेष व्यास सहित पुलिस विभाग के अधिकारी/कर्मचारी, छात्र-छात्राएं एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थेसड़क सुरक्षा सप्ताह के समापन अवसर पर छात्र-छात्राओं द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम किए गए।                    

डॉ गौर विवि कुलपति के ABVP के कार्यक्रम में पहुचने का मामला,मन्त्री हर्ष यादव ने की आलोचना,NSUI भी मैदान में

डॉ गौर विवि कुलपति के ABVP के कार्यक्रम में पहुचने का मामला,मन्त्री हर्ष यादव ने की आलोचना,NSUI भी मैदान में

#मन्त्री हर्ष यादव ने कहा कि कुलपति प्रोटोकॉल के विपरीत काम कर रहे है ।यह अनुचित है
सागर । डॉ हरीसिंह गौर  केन्द्रीय विवि सागर के  कुलपति प्रो आर पी तिवारी के सागर में ABVP के प्रांतीय अधिवेशन का उद्घाटन कार्यक्रम में जाने और इसके पहले प्रधानमंत्री मोदी को  जेएनयू को  लेकर लिखे 208 शिक्षाविदों के पत्र में शामिल होने के मामले ने तूल पकड़ लिया है । उनकी इस कार्यशैली की आलोचना होने लगी है । जहा कैबिनट मन्त्री हर्ष यादव ने इसकी आलोचना की और कार्यशैली को गलत ठहराया वही NSUI भी खुलकर मैदान में आ गयी है।

कमलनाथ सरकार के कैबिनेट मन्त्री हर्ष यादव ने साफ कहा कि कुलपति जो भी कार्य कर रहे है वह गलत है । कुलपति पद बड़ा गरिमामय है । इसके विपरीत है ऐसे कार्यक्रमो में जाना । यह कुलपति प्रोटोकाल का उल्लंघन है । मन्त्री हर्ष यादव आज सागर में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आये थे। मीडिया से चर्चा में यह बात कही।
कुलपति  प्रो तिवारी कल सागर में avbp के प्रांतीय अधिवेशन में शामिल हुए थे।
NSUI ने जता रही विरोध 
हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति के खिलाफ एनएसयूआई लगातार मोर्च खोले हुए हैं । एक दिन पहले कालझण्डे दिखाए । आज  प्रदेश सहसचिव अनुरूध्द गौर के आव्हान पर मकरोनिया चौराहे पर विश्वविद्यालय इकाई के एनएसयूआई  अध्यक्ष अंकित ठाकुर के नेतृत्व में कुलपति के खिलाफ मानव श्रखंला बनाई गई। इसमे एनएसयूआई के प्रदेश सहसचिव अनुरूध्द गौर ने आरोप लगाया है कुलपति वामपंथी विचारधारा का विरोध करके विश्वविद्यालय में एबीपीवी के झंडे लगवाते है और एबीपीवी के अधिवेशन में मुख्य वक्ता बतौर सम्मलित होते हैं । मानव श्रखंला कार्यक्रम में अंकु चोरिसिया,दीपक रोहित ,दीपक दुबे जिला कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष, अजय अहिरवार,ज़ैद खान,अंकित राजपूत,शुभम साहू,ब्रजेश यादव,रोहित पटेल,श्रीकांत गोस्वामी, आनंद अहिरवार,दिशेन्द्र रायकवार, रितिक कुर्मी,अजय मिश्रा, सचिन राठौर,भारत कुर्मी,अर्पित शुक्ला आदि मौजूद रहे



डॉ गौर विवि कुलपति के ABVP के कार्यक्रम में पहुचने का मामला,मन्त्री हर्ष यादव ने की आलोचना,NSUI भी मैदान में

डॉ गौर विवि कुलपति के ABVP के कार्यक्रम में पहुचने का मामला,मन्त्री हर्ष यादव ने की आलोचना,NSUI भी मैदान में

#मन्त्री हर्ष यादव ने कहा कि कुलपति प्रोटोकॉल के विपरीत काम कर रहे है ।यह अनुचित है


सागर । डॉ हरीसिंह गौर  केन्द्रीय विवि सागर के  कुलपति प्रो आर पी तिवारी के सागर में ABVP के प्रांतीय अधिवेशन का उद्घाटन कार्यक्रम में जाने और इसके पहले प्रधानमंत्री मोदी को  जेएनयू को  लेकर लिखे 208 शिक्षाविदों के पत्र में शामिल होने के मामले ने तूल पकड़ लिया है । उनकी इस कार्यशैली की आलोचना होने लगी है । जहा कैबिनट मन्त्री हर्ष यादव ने इसकी आलोचना की और कार्यशैली को गलत ठहराया वही NSUI भी खुलकर मैदान में आ गयी है।
कमलनाथ सरकार के कैबिनेट मन्त्री हर्ष यादव ने साफ कहा कि कुलपति जो भी कार्य कर रहे है वह गलत है । कुलपति पद बड़ा गरिमामय है । इसके विपरीत है ऐसे कार्यक्रमो में जाना । यह कुलपति प्रोटोकाल का उल्लंघन है । मन्त्री हर्ष यादव आज सागर में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आये थे। मीडिया से चर्चा में यह बात कही।
कुलपति  प्रो तिवारी कल सागर में avbp के प्रांतीय अधिवेशन में शामिल हुए थे।
NSUI ने जता रही विरोध 
हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति के खिलाफ एनएसयूआई लगातार मोर्च खोले हुए हैं  प्रदेश सहसचिव अनुरूध्द गौर के आव्हान पर मकरोनिया चौराहे पर विश्वविद्यालय इकाई के एनएसयूआई  अध्यक्ष अंकित ठाकुर के नेतृत्व में कुलपति के खिलाफ मानव श्रखंला बनाई गई। इसमे एनएसयूआई के प्रदेश सहसचिव अनुरूध्द गौर ने आरोप लगाया है कुलपति वामपंथी विचारधारा का विरोध करके विश्वविद्यालय में एबीपीवी के झंडे लगवाते है और एबीपीवी के अधिवेशन में मुख्य वक्ता बतौर सम्मलित होते हैं । मानव श्रखंला कार्यक्रम में अंकु चोरिसिया,दीपक रोहित ,दीपक दुबे जिला कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष, अजय अहिरवार,ज़ैद खान,अंकित राजपूत,शुभम साहू,ब्रजेश यादव,रोहित पटेल,श्रीकांत गोस्वामी, आनंद अहिरवार,दिशेन्द्र रायकवार, रितिक कुर्मी,अजय मिश्रा, सचिन राठौर,भारत कुर्मी,अर्पित शुक्ला आदि मौजूद रहे

 जारीकर्ता-

अनुरूध्द गौर



शुक्रवार, 17 जनवरी 2020

सच्चे विद्यार्थी वो है जो भारत माता की जयकार करते है :सुनील अम्बेकर ABVP के महाकौशल प्रांत का 52वां प्रांत अधिवेषन शुरू


सच्चे विद्यार्थी वो है जो भारत माता की जयकार करते है :सुनील अम्बेकर
ABVP के महाकौशल प्रांत का 52वां प्रांत अधिवेषन शुरू 
सागर। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के महाकौशल प्रांत का  52 वा प्रांत अधिवेशन के प्रथम दिवस में ध्वजारोहण के साथ प्रारंभ हुआ। जिसमें प्रांत अध्यक्ष विजय मिश्रा, प्रांत मंत्री सत्येन्द्र पटवा जी ने किया। इस दौरान छात्र प्रतिनिधियों द्वारा जोरदार वंदे मातरम् एवं भारत माता की जयकारें के नारे लगाए गए एवं स्कूल की छात्राओं द्वारा वन्दे मातरम कर ध्वाजारोहण किया गया ।
इसके उद्घाटन सत्र के  मुख्य अतिथि डाॅ. हरीसिंह गौर के कुलपति प्रो.आर.पी. तिवारी ज, विषिष्ट अतिथि सुनील अम्बेकर , स्वागत समिति अध्यक्ष मीना ताई जी, स्वागत समिति महामंत्री अवधेष मलैया , नवनिर्वाचित प्रांत मंत्री संदीप खरे, प्रांत मंत्री सुश्री सुमन यादव, नगर अध्यक्ष गिरीराज शर्मा, मकरोनिया नगर मंत्री वीरेन्द्र शर्मा रहे। जिसमें मुख्य अतिथियों का स्वागत, स्वागत समिति अध्यक्ष मीना ताई ने किया और बिषिष्ट अतिथि सुनील अम्बेकर का स्वागत अवधेष मलैया जी ने किया। 
जिसमें विषिष्ट अतिथि सुनील अम्बेकर जी ने कहा कि महाकौषल प्रांत को बधाई अपने परिश्रम, देष के सामने वर्तमान परिर्दष्य विषय रखने के लिए, सच्चे विद्यार्थी भारत माता के सामने जय जयकार करते है वो ही अ.भा.वि.पं. है। हमारे युवा शक्ति को एक सकारात्मक दिषा जिसकी दिषा देषहित में हो इस पर हमें अग्रसर रहकर चलना चाहिए। वातावरण को प्रतिसजक बनाए और राष्टीयता क्या है इस पर बहष होनी चाहिए। 
मुख्य अतिथि आर.पी. तिवारी ने अपने उदबोधन में कहा कि हमें अपनी सांस्कृतिक एवं पारंपरिक सभ्यता पर जाने की आवष्यकता है। यह एक जन आंदोलन होना चाहिए हमारे महापुरूषों ने अनेक बलिदान दिये उनको हमें स्मरण करना चाहिए। समाज, पर्यावरण के प्रति सजग रहना हम सभी युवाओं को सजग रहना व विचार करना चाहिए। स्वागत समिति अध्यक्ष मीना ताई ने अपने उदबोधन में कहा कि हमे अपने पर्यावरण, वातावरण के प्रति सजग रहना है। आज हम अधिवेषन में आकर मुझे युवा के रूप में महसूस हो रहा है। मैं विद्यार्थी परिषद को धन्यवाद देना चाहूंगी कि इतनी युवा शक्ति एक राष्ट्रहित मंे उत्साह, अनुषासन के साथ अपने विचार देष के प्रति रख रहे है। स्वागत समिति महामंत्री ने सभी का आभार व्यक्त किया। 
 प्रस्ताव सत्र में  प्रांत संगठन मंत्री निधीष निरंदन प्रांत अध्यक्ष विजय मिश्रा, सत्येन्द्र पटवा रहे। विजय मिश्रा  ने विद्यार्थी परिषद के स्थापना से लेकर स्कूल महाविद्यालय की स्वर्णम काल गाथा युवाओं को बताई। प्रदेष मंत्री सत्येन्द्र पटवा  ने अपने मंत्री प्रतिवेदन में साल भर के महाकौषल प्रांत का विद्यार्थी परिषद द्वारा किये गये रचनात्मक कार्य, आंदोलनात्मक कार्य के बारे में जानकारी दी। इसके बाद अधिवेषन में भोजन इस प्रकार से रहा कि नो वेस्ट फूड करके 500 थाली भोजन बचाया।
इसके बाद सभी अतिथिगणों ने वार्षिक स्मृति मंजूषा का विमोचन किया। इस दौरान राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री प्रफुल्ला कांत जी,  क्षेत्रीय संगठन मंत्री चेतष सुखाडिया जी, प्रांत संगठन मंत्री निधिष, सह संगठन मंत्री मृदुल मिश्रा, प्रदेष सहमंत्री आषीष गौतम, जिला संयोजक श्रीराम रिछारिया, नगर मंत्री राज रैकवार, एवं सभी गठ प्रमुख, स्वागत समिति, संचालन समिति, प्रस्ताव समिति, युवा शक्ति 1000 की संख्या में उपस्थित रही। 

शिक्षा का अधिकार अधिनियम अंतर्गत अनुदेशक नियुक्त,348 स्कूलो में नियुक्ति

शिक्षा का अधिकार अधिनियम अंतर्गत अनुदेशक नियुक्त,348 स्कूलो में नियुक्ति
सागर । शिक्षा का अधिकार अधिनियम अंतर्गत माध्यमिक शाला में अंशकालिक अनुदेशकों की व्यवस्था के संबंध में राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा निर्देश जारी किए गए थे। जिसमें 100 से अधिक नामांकन वाली माध्यमिक शालाओं में तीन अंशकालिक अनुदेशकों की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है। चयनित अनुदेशकों में व्यायाम निदेशक योग शिक्षक संगीत कला आदि के क्षेत्र में प्रशिक्षित शिक्षक के द्वारा सप्ताह में कम से कम एक दिवस स्वास्थ्य शारीरिक शिक्षा कला शिक्षा तथा कार्य शिक्षा कंप्यूटर प्रशिक्षण संबंधी गतिविधियां संपादित कराने के लिए मॉनिटरिंग की जाएगी।
जिला परियोजना समन्वयक श्री एच पी कुर्मी की अनुशंसा पर जिला शिक्षा अधिकारी डॉ महेंद्र प्रताप तिवारी ने 348 विद्यालयों के लिए आदेश जारी करते हुए अनुदेशकों की नियुक्ति की है। यह अनुदेशक आवंटित किए गए माध्यमिक विद्यालयों में सप्ताह में एक दिवस उपस्थित होकर शासन निर्देशानुसार कार्रवाई संपन्न कराएंगे। अनुदेशकों की नियुक्ति से माध्यमिक शालाओं में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को शारीरिक शिक्षा, कला शिक्षा, कार्य शिक्षा एवं कंप्यूटर से संबंधित गतिविधियों की जानकारी प्राप्त होगी

खजुराहो लिट फेस्ट 2020: भारतीय संस्कृति का उत्सव, 18 से 20 जनवरी


खजुराहो लिट फेस्ट 2020: भारतीय संस्कृति का उत्सव, 18 से 20 जनवरी
खजुराहो।  खजुराहो (मध्य प्रदेश) 18 से 20 जनवरी तक चलने वाले खजुराहो साहित्य  उत्सव 2020 के दूसरे संस्करण की मेजबानी करने के लिए तैयार है। लोक नीति संस्था के बैनर तले आयोजित इस साहित्य उत्सव में देश के विभिन्न भागों से चर्चित लेखकों, पत्रकारों, वक्ताओं और विद्वानों को भारत की सांस्कृतिक व साहित्यिक समृद्धि पर चर्चा करने के लिए खजुराहो आमंत्रित किया गया है, जो कि पूर्व में बुंदेलखंड के चंदेलों की सांस्कृतिक राजधानी रह चुका है। आयोजन खजुराहो के मिंट बुंदेला रिसोर्ट में होगा और ब्लॉगर्स एलायंस इस ईवेंट का ब्लॉगिंग पार्टनर है।
खजुराहो लिट फेस्ट के आयोजक एवं लोक नीति के संस्थापक, सत्येंद्र त्रिपाठी कहते हैं, 'हमें अपने देश के वैल्यू सिस्टम को चर्चा में लाना होगा। आयोजन के पीछे विचार यह है कि भारतीय विचार प्रक्रिया को बढ़ावा दिया जाये। जहां अन्य कई साहित्य उत्सवों में हमारी संस्कृति और सभ्यता को अच्छे रूप में पेश नहीं किया जाता है, हमारी प्राथमिकता असली भारतीय समाज को जागृत करने की है। हम भारतीय संस्कृति का उत्सव मनाने जा रहे हैं। '
 
'खजुराहो अपनी सांस्कृतिक, पारंपरिक और ऐतिहासिक विरासत के लिए जाना जाता है। एक धरोहर के रूप में यह विशाल खजाना हमारे पास हैै। लेकिन कुछ वजहों से इसकी बहुत ही नकारात्मक तस्वीर दुनिया के सामने पहुंची है। जब हम भारत की संस्कृति और विरासत के बारे में बात करते हैं, तो मेरा मानना है कि हमें ऐसे क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, जहां हम संस्कृति को एक 'जीये हुए अनुभव' के रूप में देख सकें। इसके लिए जब हमने मध्य प्रदेश को चुना, तो मुझे बुंदेलखंड क्षेत्र और खजुराहो ने अपनी ओर आकर्षित किया। '
ये प्रमुख हस्तियां  आएंगी
भारतीय संस्कृति और साहित्य पर चर्चा के लिए जीवन के सभी क्षेत्रों संबंधित चर्चित लेखक, पत्रकार और वक्ता इसमें भाग लेंगे। केएलएफ2020 में भाग लेने वाले प्रमुख वक्ताओं में राम माधव, राष्ट्रीय महासचिव, भाजपा; जय पांडा, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, भाजपा; शक्ति सिन्हा, एमएस विश्वविद्यालय, वडोदरा; सईद सलमान चिश्ती, अजमेर शरीफ; प्रकाश बेलावड़ी, फिल्म निर्माता विवेक रंजन अग्निहोत्री और फोक सिंगर मालिनी अवस्थी शामिल हैंं। भाग लेने वाले उल्लेखनीय लेखकों में संदीप बालकृष्ण, डा०भरत पाठक, डा०नन्दिता पाठक साईंस्वरूप कुमार, डॉ. वंदना शुक्ला, गौतम चिंतामणि प्रमुख हैं। जबकि इसमें कई वरिष्ठ पत्रकार भी हिस्सा लेंगे, जैसे ऋचा अनिरुद्ध, आरती टिक्कू, आलोक श्रीवास्तव, प्रखर श्रीवास्तव, समीर अब्बास, अभिनव खरे, प्रणव उपाध्याय, प्रफुल्ल केटकर, स्वाति गोयल शर्मा और प्रमिला दीक्षित आदि।

राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के संबंध में जन-जागरूकता रैली निकाली

राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के संबंध में
जन-जागरूकता रैली निकाली
सागर। राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान अन्तर्गत सिविल लाइन सागर से जन-जागरूकता वाहन रैली को डॉ0 अभिताभ जैन प्रभारी सिविल सर्जन सागर एवं डॉ0 मधु जैन ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। डॉ0 साधना मिश्रा आईएमए अध्यक्ष, डॉ0मोनिका जैन सचिव, डॉ0 के0के0जैन शहरी सागर प्रभारी, डॉ0 रूबी रैजा, जाली शाबू डीपीएचएनओ, आर0के0जड़िया मौजूद थे।
  वाहन रैली गोपालगंज बस स्टेण्ड से होते हुये परकोटा,कटरा बाजार,जामा मस्जिद,राधा तिगड्डा से वापिस होती हुई जामा मस्जिद,कटरा बाजार,परकोटा वन वे होती हुई कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सागर में समाप्त हुई । इस रैली में डॉ0एस0आर0रोशन जिला टीकाकरण अधिकारी सागर/कपिलदेव पाराशर डीपीएम,हरिओम पाण्डे एवं स्वास्थ्य विभाग अधिकारी/कर्मचारी पुरूष स्वा0 कार्यकर्त्ता प्रशिक्षु/आयुष्मान भारत मित्र वाहनों में पोस्टर चस्पा एवं एलाउंसमेट करते हुये सहित सम्मिलित रहे ।
19 से 21 जनवरी तक चलेगा अभियान
 डॉ0एस0आर0रोशन जिला टीकाकरण अधिकारी सागर ने बताया कि राष्ट्र्ीय पल्स पोलियो अभियान दिनाकं 19 से 21 जनवरी 2020 तक चलेगा । इस अभियान के तहत जन्म से 5 साल तक समस्त बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जावेगी । सागर जिले में,हाई रिक्श एरिया में,रेल्वे स्टेशन में,बस स्टेण्ड में,स्वास्थ्य केन्द्र,आगंनबाडी केन्द्र, स्कूल तथा दूरदराज एरिया में मोबाइल टीम गठित की गई ,स्थापित पोलियो रविवार बूथों पर स्वा.कर्मी द्वारा पोलियो दवा पिलायेंगे । आमजन से अपील की हैं कि अपन जन्म से 5 साल तक के समस्त बच्चों को पोलियो की दो बूंद पोलियो रविवार को अवश्य पिलायें । दो बूंद बार-बार,पोलियो पर जीत रहे बरकरार । देखो भूल ना जाना पोलियो दवा अपने बच्चों को अवश्य पिलाना ।           

हरा धनिया नहीं धनी है, पर स्वाद वही है, किसानों को हो रहा है दुहरा फायदा

हरा धनिया नहीं धनी है, पर स्वाद वही है, किसानों को हो रहा है दुहरा  फायदा
शामली। सब्जियों का जायका बढ़ाना हो या चटपटी चटनी के चटखारे लेने हों, हरा धनिया की बात ही निराली है। इसकी खुशबू भूख बढ़ा देती है और खाने का स्वाद दोगुना कर देती है। स्वास्थ्य के लिए तो यह हर दृष्टि से फायदेमंद है ही। अन्य फसलों की तरह हरा धनिया भी एक खास मौसम व सीमित समय के लिए ही मिल पाता है। लेकिन जलालाबाद के किसानों ने हूबहू धनिया जैसी फसल पैदा करनी शुरू की है। इसकी खुशबू व स्वाद बिल्कुल धनिया जैसा है और नाम भी मिलता-जुलता। ग्रामीण इसे धनी कहते हैं। खास बात यह कि धनी बारहमासी है।
पूरे साल मिलेगा धनिया का स्‍वाद
प्रदेश में सब्जी उत्पादन में जलालाबाद का अलग स्थान है। किसान प्याज, लहसुन के साथ धनी की पैदावार भी बड़ी मात्रा में कर रहे हैं। धनी सहफसली खेती में भी दोहरा मुनाफा दे रही है। कम लागत, अधिक मूल्य व नकदी फसल होने के कारण यह किसानों को आर्थिक रूप से भी लाभ पहुंचा रही है। धनिया सर्दी के मौसम में बोया जाता है और मार्च तक इसकी पैदावार किसान लेते हैं। सालभर लोग धनिया का लुत्फ उठा सकें इसके लिए किसानों ने धनी की बुवाई शुरू की। क्षेत्र में किसान चौधरी आरिफ, इंतजार अहमद, राजीव कश्यप, चौधरी शकील आदि ने इसकी बुवाई की तो इसमें कम लागत के साथ अधिक उत्पादन का परिणाम सामने आया। मार्च में गन्ना बुवाई के साथ किसानों ने सहफसली खेती के रूप में धनी की बुवाई की। गन्ना की निराई के साथ इसकी कटाई की तो प्रति बीघा दस हजार रुपये की पैदावार हुई। इसकी नमी से गन्ना फसल को भी लाभ मिला। तभी से गन्ना किसान चौधरी बिजेन्द्र सिंह, सलेकचंद सैनी, काशी सैनी, अजय सैनी ने भी धनी की बुवाई शुरू की। जिन किसानों ने सीधे खेत में धनी को रोपित किया है उनको 20 हजार रुपये प्रति बीघा की बचत हो रही है।
प्रति बीघा लागत पांच हजार रुपये
करीब पांच हजार रुपये प्रति बीघा लागत आती है। किसान चौधरी आरिफ अहमद, फरीद चौधरी ने बताया कि उन्होंने धनी की बुवाई कर रखी है। दो माह में कई बार कटाई हो जाती है। जिन किसानों को दूसरी फसल बोनी होती है वे एक ही दिन में कटाई करा धनी की गुच्छियां बनाकर सब्जी मंडी में बेच आते हैं।
50 रुपये किलो थोक में बिक रही है धनी
सब्जी मंडी में धनी का भाव 50 रुपये प्रति किलो चल रहा है। एक बीघा में पांच कुंतल पैदावार से 25 हजार रुपये की धनी बिक रही है। धनी के लिए यह मौसम अनुकूल है। गर्मी के मौसम में सब्जी मंडी तक जाने में यह मुरझा जाती है। सर्दी के मौसम में कई दिन तक हरी रहती है। जलालाबाद क्षेत्र की मिट्टी धनी फसल के लिए अनुकूल साबित हुई है। फसल में रोग नहीं है। उत्पादन भी अच्छा है।
इन्‍होंने बताया
यह एक नई प्रजाति विकसित की गई होगी। निजी कंपनियां या खुद किसान इस तरह का प्रयोग करते रहते हैं जिससे कम लागत में अच्छा मुनाफा लिया जा सके। विभाग जल्द ही इस फसल का निरीक्षण करेगा। इस फसल के बारे में जानकारी जुटाएगा।
- विकास मलिक, कृषि सहायक अधिकारी
साभार। के के वत्स, जागरण

गुरुवार, 16 जनवरी 2020

हर वर्ष यूं ही लगेगा मेला ,बस आपका आशीर्वाद चाहिए --सांसद राजबहादुर डोहेला महोत्सव का समापन

हर वर्ष यूं ही लगेगा मेला ,बस आपका आशीर्वाद चाहिए --सांसद राजबहादुर
डोहेला महोत्सव का समापन
 
सागर। मेले जैसी परंपरा को विधायक भूपेंद्र सिंह ने बनाकर रखा है 6 साल पहले डोहेला किले और मंदिर का जीर्णोद्धार करवाकर मकर संक्रांति पर मेले को शासकीय स्वीकृति दिलाकर अपना संकल्प पूरा किया है। यह बात सागर लोकसभा से सांसद राजबहादुर सिंह ने डोहेला महोउत्सव के अंतिम दिन मेले के समापन पर कही।सांसद राजबहादुर ने अगले वर्ष मेले के आयोजन में मेरी भी सहभागिता रहे ऐसी मेरी इच्छा है ।आज साबित हो गया है ,अच्छे मन की सोच से ऐसे ही कार्यक्रम,विकास देखने को मिलता है।
अंतिम दिन झूमे दर्शक
डोहेला उत्सव के अंतिम दिन नए पुराने गीतों को सुनाकर हजारों श्रोताओं को नाचने झूमने पर मजबूर कर  दिया। तुम ही हो..खुदा हो गए देखते देखते ...रश्क कमर,खाइके पान बनारस वाले गीत पर सांसद और लखन सिंह  को नचाया इससे पहले सांसद राजबहादुर, लखन सिंह, सी एम  ओं ,तहसीलदार, व अन्य लोंगों ने पार्श्व गायिका  सुप्रिया जोशी का पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया कार्यक्रम के अंत तक सुनने और देखने महिलाओं,युवा,युवतियों, बच्चों के आने का सिलसिला जारी रहा।लखन सिंह ने तीनों दिन इस संगीत व मनोरंजन के कार्यक्रमों को सफलतापूर्वक अंजाम देने वाले मध्यप्रदेश शासन,नगरपालिका, बिजली विभाग,पी डब्ल्यू डी विभाग,पुलिस प्रशासन, पार्षद गणों,पत्रकारो,और खुरई की अनुशासित जनता का आभार प्रकट किया ।

नेशनल लोक अदालत के संबंध में जिला न्यायाधीश ने ली प्रशासनिक अधिकारियों के बैठक

नेशनल लोक अदालत के संबंध में जिला न्यायाधीश ने ली प्रशासनिक अधिकारियों के बैठक
सागर । जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण  के.पी.सिंह के मार्गदर्शन में 8 फरवरी को जिला न्यायालय, परिवार न्यायालय, श्रम न्यायालय एवं समस्त तहसील न्यायालयों में आगामी नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि न्यायालयों में लंबित प्रकरणो में, आपराधिक शमनीय प्रकरण, पराक्राम्य अधिनियम की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण, बैंक/मनी रिकवरी संबंधी मामलें, एम.ए.सी.टी. प्रकरण (मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा प्रकरण), श्रम विवाद प्रकरण, विद्युत एवं जल कर/बिल संबंधी (सिर्फ शमनीय प्रकरण), वैवाहिक प्रकरण, भूमि अधिग्रहण के प्रकरण, सेवा मामलें जो सेवा निवृत्त संबंधी लाभां से संबंधित है, राजस्व प्रकरण (सिर्फ जिला/उच्च न्यायालयों में लंबित), दीवानी इत्यादि मामले, इसके अलावा प्रीलिटिगेशन (मुकदमा पूर्व) के अंतर्गत पराक्राम्य अधिनियम की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण, मनी रिकवरी संबंधी मामले, श्रम विवाद संबंधी मामले, विद्युत एवं जल कर/बिल संबंधी (सिर्फ शमनीय प्रकरण), दूरसंचार के बकाया लैण्डलाईन/मोबाइल बिल संबंधी प्रकरण, आपराधिक शमनीय प्रकरण, वैवाहिक प्रकरण, दीवानी इत्यादि मामलें महत्वपूर्ण है, जिनमें प्रकरणों का निराकरण आपसी समझौते के आधार किया जायेगा।
 लोक अदालत में अधिक से अधिक प्रकरणों के निराकरण के लिये जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा  जिला कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक, पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी, सहित जिले के अन्य अधिकारियों की मीटिंग ली गई। जिसमें जिला न्यायाधीश के द्वारा आगामी नेशनल लोक अदालत दिनांक 08 फरवरी, 2020 के लिये अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। इस अवसर पर सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्रीमती विधि सक्सेना, डी.एफ.ओ. श्री प्रशांत सिंह, टी.डी.एम बी.एस.एन.एल. श्री पुष्पेन्द्र सिंह राठौर, अधीक्षण अभियंता एम.पी.ई.बी. श्री शिशिर कुमार श्रीवास्तव, केन्द्रीय जेल अधीक्षक श्री संतोष कुमार सोलंकी एवं बैंक व बीमा कंपनियों के अधिकारीगण भी उपस्थित रहें। स
 कलेक्टर और एसपी ने न्याय वाटिका में वृक्षारोपण किया
 जिले में आगामी 8 फरवरी को लोक अदालत के आयोजन के संबंध में बुलाई गई बैठक बाद न्याय वाटिका में वृक्षारोपण किया गया। जिला न्यायालय परिसर स्थित न्याय वाटिका में जिला एवं सत्र न्यायाधीष श्री केपी सिंह की उपस्थिति में कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक और पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी ने पौधरोपण किया। इस अवसर पर विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव श्रीमती विधि सक्सेना सहित उर्जा विभाग, बीएसएनएल, नगर निगम, केन्द्रीय जेल के अधिकारी उपस्थित थे।

विशाल तिरंगा यात्रा 19 जनवरी को ,17 किलोमीटर लंबी निकलेगी

विशाल तिरंगा यात्रा 19 जनवरी को ,17 किलोमीटर लंबी निकलेगी
सागर। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती और डॉ  गौर की 150वी जयंती पर 
में गणतंत्र दिवस के अवसर पर विचार तिरंगा मानव श्रंखला का आयोजन 19 जनवरी को होगा। विचार संस्था की स्थापना के 17 वर्ष पर 17 किलोमीटर लंबी  तिरंगा मानव श्रृंखला बनेगी। संस्था के अध्यक्ष कपिल मलैया और सहयोगियों ने आज मीडिया को यह जानकारी दी।
 कपिल मलैया ने बताया कि तिरंगा यात्रा का मुख्य उद्देश्य सागर को विकसित और स्वच्छ रखना है ।यात्रा में  17 किलोमीटर लंबा तिरंगा 31000 स्वयंसेवकों द्वारा पकड़ा जावेगा। इस आयोजन से हम भारत की सबसे लंबी तिरंगा मानव श्रृंखला मनाएगे, जो कि सागर शहर की पहचान को राष्टीय स्तर पर सागर शहर को एक राष्ट्रभक्त नगर के रूप में अनूठी पहचान देगा. साथ ही नगर वासियों में राष्ट्रभक्ति की
भावना का संचार होगा।आयोजन में स्वच्छ भारत, स्वच्छ सागर, वा सिंगल यूज प्लास्टिक बंदी को भी नगर सुधार की दृष्टि से प्रमुखता के साथ प्रचारित किया जायेगा।
17 किलोमीटर लंबी, विचार तिरंगा मानव श्रृंखला यात्रा, जो करीब 17000 मीटर एवं 58561 फुट लंबी  होगी। इसमें 34 सब स्टेशन बनेंगे। प्रत्येक स्टेशन, एक स्वयंसेवी संस्था को सौंपने का प्रस्ताव है। एकस्टेशन का कार्यक्षेत्र 500 मीटर का रहेगा। यह सागर जिला के लिए वर्लड रिकॉर्ड बन रहा है। सागर के गौरव के लिएएक होकर आयें और तिरंगा मानव श्रृंखला के द्वारा सागर को एक नये इतिहास में शामिल होने के साक्षीबनें। 
इस मौके पर   सूरज सोनी,आकांक्षा मलैया, उमेश भार्गव सहित अन्य लोगो ने चर्चा की।


फिर मिला सेना का बम,बम निरोधक दस्ते ने किया नष्ट, 6 किलो वजन का

फिर मिला सेना का बम,बम निरोधक दस्ते ने किया नष्ट, 6 किलो वजन का
सागर।  सागर जिले में सेना के बम अक्सर मिलते रहते है । कई दफा दर्दनाक हादसे भी हुए है। जिनमे मौत का शिकार लोग बने। आज सागर जिले के बण्डा में बेबस नदी पर बने पगरा डेम के किनारे सेना का एक पुराना बम मिलने से सनसनी फैल गयी ।  बम मिलने की सूचना कुछ लोगो द्वारा पुलिस को दी गयी पुलिस ने तत्काल सूचना बम निरोधक दस्ते को दी 
सागर से गये बम निरोधक दस्ते ने बम को सुरक्षित तरीके से नष्ट कराया। 
विनय तिवारी बम निरोधक दस्ता प्रभारी और थाना प्रभारी कमलसिंह ने बताया कि यह सेना के उपयोग में आने वाला बेहद ही खतरनाक बम है जो प्रशिक्षण फायरिंग में बिना चला रहा गया होगा -बम 81 mm  12 इंच चौड़ाई का तथा 6 किलो बजनी था । 
गौरतलब हो कि सागर के आसपास आर्मी बेस होने से इस तरह के बिना चले बम मिलते रहते है और इसी प्रकार के बम में पिछले दिनों कबाड़ी की दुकान में विस्फोट से एक जान भी चली गयी थी। दो घायल हो गए थे। इसके बाद पुलिस ने कबाड़ियों के यहां तलाश अभियान भी चलाया था।

अमीर बनने की चाहत में किया मासूम का अपहरण,मांगी 30 लाख की फिरौती,फिर की हत्या,तीनो हत्यारे गिरफ्तार

अमीर बनने की चाहत में किया मासूम का अपहरण,मांगी 30 लाख की फिरौती,फिर की हत्या,तीनो हत्यारे गिरफ्तार
सागर । सागर जिले में एक नाबालिग लड़के के अपहरण और  30 लाख रुपये की फिरौती और फिर उसकी निर्मम हत्या के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है । आरोपियो को पेसो की जरूरत थी। शार्टकट से कमाना चाहते थे। इसमे एक आरोपी की हाल में में शादी हुई थी ।जिसे पेसो की जरूरत थी। इसके लिए युवकों ने अपहरण की साजिश रची । लेकिन फिरौती में सफल नही हुए और 13 साल के बच्चे की पत्थर से कुचलकर निर्मम हत्या कर दी। पुलिस ने तीन आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस अधिक्षक अमित सांघी ने आज मीडिया के सामने वारदात का खुलाशा किया।
क्या थी घटना
सानोधा थाना क्षेत्र के कडेराभान निवासी  सुरेश पिता देव सिंह लोधी ने  थाने पर सूचना दी कि उसका लडका अनिकेत पिता सुरेश लोधी उम्र13 वर्ष 13 जनवरी को शाम करीवन 07 बजे घर के वाहर रोड पर घूमने गया था जो लोटकरवापिस नहीं आया। जिसकी तलाश ग्राम एवं आस पास कि गई नहीं मिला कुछ समय बाद मोबाईलनंबर 9685562054 से किसी अज्ञात व्यक्ति ने फोन कर बताया कि आपका लडका अनिकेत मेरे कब्जे मेंहै । अनिकेत को जिंदा वापिस चाहते हो तो 30 लाख रूपये फिरोती देनी होगी ।उक्त फिरोती नहीं देने
पर अनिकेत को जान से मार देगे । उक्त सूचना पर थाना सानौधा में अपराध क्रमांक 11/20 धारा364 ए . 365  के तहत मामला दर्ज कर लिया। पुलिस अधीक्षक सागर  अमित साघी ,अति. पुलिस अधीक्षक विक्रम सिंह स्वय तुरत मौके पर पहुचे घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक द्वारा तीन अलग अलग पुलिस की टीमों को संभावित स्थानों पर भेजी गई तथा पुलिसमहानिरीक्षक सागर जोन सागर द्वारा अज्ञात आरोपियों को पकड़ने / सूचना देने पर 30 हजार का ईनाम देने की उदघोषणा की गई । अगले दिन दिनाक 14.01.2020 की रात्रि में करीब 9 बजे  अनिकेत की डेड वाडी ग्राम खडेरा भान के समीप खेल के मैदान के पास मिली । 
पेसो की चाहत में दिया घटना को अंजाम
एसपी सांघि ने बताया कि आरोपी शार्टकट  तरीके से पैसा कमाना चाहते थे।  निलेश की हाल ही में शादी हुई थी। लेकिन परम्परागत नही हुई थी। इसके लिए उसे जरूरत थी। दो दिन पहले नीलेश अपने साथी पुष्पेन्द्र ठाकुर के साथ खडेराभान आकर अभिषेक के यहां रूके तथा ग्राम में घटना की योजना को अंजाम दिया ।अभिषेक एवं नीलेश के द्वारा अपहृत से शराब मगाई जाकर एकांत में ग्राम के समीप बुलाया तथा तीसरे साथी पुष्पेन्द्र को घटना में प्रयुक्त सिम देकर सागर के समीप भेजकर योजना
मुताबिक फिरौती की मांग करना प्रकाश में आया है। अपहृत अनिकेत को अपहरण कर ग्राम केसमीप खेल के मैदान में ले गये थे। जहां पर आरोपी नीलेश एंव अभिषेक द्वारा अनिकेत को नियंत्रितनहीं कर पाने एव चिल्ला चोट होने के कारण अनिकेत की हत्या कर दी तथा घटना स्थल से फरार हो गये।
नवागत आईजी ने दिखाई गंभीरता
नवागत पुलिस महानिरीक्षक सागर  अनिल शर्मा एव उप पुलिस महानिरीक्षक  दीपक वर्मा द्वारा
घटना की गभीरता को देखते हुऐ आरोपियों की गिरफतारी हेतु आवश्यक निर्देश दिये गये ।और 30 हजार का इनाम भी रखा।पुलिस अधीक्षक सागर के नेतृत्व एवं अति पुलिस अधीक्षक सागर  राजेश व्यास अति. पुलिस अधीक्षक (बीना) श्री विक्रम सिंह अनुविभागीय अधिकारी
पुलिस रेहली  अनुराग पाण्डे के निर्देशन में गठित विभिन्न पुलिस टीमों जिन में थाना प्रभारी देवरीरामेश्वर सिंह ठाकुर सानौधा थाना प्रभारी चंदन सिंह परिहार थाना प्रभारी रेहली आर ए चौरा उ.नि.मानस द्विवेदी चन्द्रजीत यादव ,रोहित मिश्रा सायवर सेल के टीम द्वारा 24 घंटे में घटित घटना का ना सिर्फ पर्दाफाश किया साथ ही आरोपियों को गिरफतार किया। आरोपियों से घटना में प्रयुक्त मोटरसायकिल कमांक एम. पी. 15 एन. ए. 2203 एवं तीन मोबाईल बरामद किये गये । पुलिस अधीक्षक द्वारा घटना
का पर्दाफाश करने एवं आरोपियों को गिरफतार करने में उपरोक्त थाना प्रभारी एवं उनकी टीम तथासायवर सेल की टीम को 30000/- रूपया नगद पुरूषकृत करने की घोषणा कि गई।

DSP डी एस ठाकुर का निधन,पुलिस अकादमी में थे पदस्थ

DSP डी एस  ठाकुर का निधन,पुलिस अकादमी में थे पदस्थ

सागर। जवाहर लाल नेहरू पुलिस अकादमी सागर  में पदस्थ DSP श्री डी एस ठाकुर काआज निधन  हो गया। वे कुछ समय से बीमार थे।उनका बंसल हॉस्पिटल भोपाल में निधन हुआ। 59 साल के ड़ी एस ठाकुर को ब्रेन हेमरेज की शिकायत हुई थी। अकादमी और पुलिस विभाग ने उनके निधन पर दुख जताया है । वे अपने पीछे भरापूरा परिवार छोड़ गये।उनकी पत्नी तीन बेटे व एक बेटी है। पुलिस अकादमी परिसर में निदेशक जी जनार्दन,उप निदेशक विवेक राज ,पुलिस अधीक्षक अमित सांघी सहित सभी अधिकारियों/कर्मचारियों ने नम आंखों से  श्रद्धासुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इसके वाद उनके अंतिम संस्कार के लिए पार्थिव देह  गृह जिला कटनी के लिए रवाना हुई।


साहित्यकार/कलाकारों को दी जाने वाली सहायता हेतु जिला समिति गठित,इसमे सागर के तीन साहित्यकार

साहित्यकार/कलाकारों को दी जाने वाली सहायता हेतु जिला समिति गठित,इसमे सागर के तीन साहित्यकार 
सागर । मध्यप्रदेष शासन संस्कृति विभाग भोपाल के निर्देषानुसार जिले में अर्थाभावग्रस्त साहित्यकार/कलाकारों को दी जाने वाली सहायता के संबंध में समिति का गठन किया गया है। कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक अध्यक्ष होंगी और  प्रभारी अधिकारी वरिष्ठ लिपिक शाखा इसके सदस्य सचिव होंगे। समिति के अन्य सदस्यों में उपसंचालक जनसंपर्क अधिकारी, श्री टीआर त्रिपाठी (अध्यक्ष प्रगतिषील लेखक संघ), डा. अषोक मिजाज (उर्दू साहित्यकार), श्री मुकेश  टाक (संगीतज्ञ) शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय सागर शामिल है।
समिति प्रत्येक आवेदन पत्र में दी गई पूर्ण जानकारी, आवेदक की सेवा, वित्तीय स्थिति एवं उनकी आयु आदि का स्पष्ट परीक्षण कर वित्तीय सहायता स्वीकृत करने की पात्रता पर विचार कर अनुषंसा प्रस्तुत करेगी।

महिलाओं का कार्यस्थल पर लैंगिक उत्पीड़न अधिनियम:सरकारी,गैर सरकारी कार्यालयों,शैक्षणिक संस्थानों से लेकर अस्पतालों तक मे बनेगी आंतरिक परिवाद समिति,आदेश जारी

महिलाओं का कार्यस्थल पर लैंगिक उत्पीड़न अधिनियम:सरकारी,गैर सरकारी कार्यालयों,शैक्षणिक संस्थानों से लेकर अस्पतालों तक मे बनेगी आंतरिक परिवाद समिति,आदेश जारी

भोपाल ।महिलाओं का कार्यस्थल पर लैंगिक उत्पीड़न  रोकने के लिए  बनाये गए लैंगिक उत्पीड़न अधिनियम के तहत  सरकारी,गैर सरकारी कार्यालयों,शैक्षणिक संस्थानों से लेकर अस्पतालों आदि में  आंतरिक परिवाद समितियो का गठन किया जाएगा। इनका गठन नही होगा उन कार्यालयों पर 50 हजार तक का जुर्माना होगा।महिला एवं बाल विकास विभाग भोपाल के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवम पदेन जिला पंचायत अधिकारी ने इस आशय की जानकारी दी है। 
 जानकारी के मुताबिक महिलाओं का कार्य स्थल पर लैंगिक उत्पीड़न (निवारण ,प्रतिषेध एंव प्रतितोषण) अधिनियम -2013 की धारा-4 में प्रावधान है कि प्रत्येक कार्यालय जहाँ 10 या 10से अधिक कर्मचारी/अधिकारी कार्यरत है,में नियोजक (Employer) द्वारा आतंरिक परिवाद
समिति (Internal Complaint Committe) का गठन किया जायेगा। अधिनियम की धारा-2(ण)में कार्यास्थल को परिभाषित किया गया है।
इनमे होगा समितियों का गठन
 8सके मुताबिक शासकीय/अशासकीय
कार्यालयों/संस्थाओं/सगंठनो/उत्पादन/विक्रय वितरण सेवा केन्द्र/मनोरंजन,शिक्षण
प्रशिक्षण संस्थानों/नर्सिंग होम अस्पताल में जहाँ 10 या 10 से अधिक कर्मचारी/अधिकारी
नियोजित है। उन कार्यस्थल पर आंतरिक परिवाद समिति का गठन किया जाना आवश्यक है।जिन कार्यालयों द्वारा आंतरिक परिवाद समिति का गठन नही किया गया है उन पर जुर्मानाजो 50,000 रूपये तक का हो सकेगा, लगाया जायेगा। अधिक जानकारी के लिये कार्यालय महिला एवं बाल विकास बी ब्लाक
पुराना सचिवालय कोहेफिजा भोपाल में सम्पर्क किया जा सकता है।

बुधवार, 15 जनवरी 2020

राशन मित्र पर कार्य शुरू नही करने पर वरिष्‍ठ उद्यनिकी अधिकारी निलंबित ,कलेक्टर की कार्यवाही

राशन मित्र पर कार्य शुरू नही करने पर वरिष्‍ठ उद्यनिकी अधिकारी निलंबित ,कलेक्टर की कार्यवाही
सागर। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम अंतर्गत सत्‍यापन अभियान में कार्य प्रारंभ न किये जाने पर मो0 रियाज खान प्रभारी वरिष्‍ठ उद्यनिकी अधिकारी देवरी को कलेक्‍टर सागर द्वारा निलंबित किया गया है । श्री खान की ड़यूटी दल सत्‍यापन दल कोड क्र0 16103 में दल प्रभारी के रूप में लगाई गई थी किन्‍तु उनके द्वारा एम राशन मित्र पर न ही लॉगिन किया गया और न ही सत्‍यापन कार्य प्रारंभ किया गया है चूंकि नियमानुसार दल प्रभारी को ही एप्‍प के माध्‍यम से सत्‍यापन का कार्य प्रारंभ करना अनिवार्य था । 
जिले में राशन कार्डों का सत्यापन जारी
वर्तमान में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम अंतर्गत नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों के राशन कार्ड के सत्यापन का कार्य चल रहा है। जिसमें जिले में कुल 4 लाख से अधिक राशन कार्डधारियों की पात्रता के सत्यापन का कार्य हेतु 2141 सत्यापन दलों द्वारा किया जा रहा है।
 कलेक्टर सागर द्वारा सत्यापन अभियान की समीक्षा की गई जिसमें 244 दलों द्वारा मोबाइल एप्प पर लॉगिन न किये जाने पर इसे अत्यंत गंभीरता से लिया जाकर समस्त ऐसे दल जिनके द्वारा मोबाइल एप्प पर लॉगइन न किया जाकर सत्यापन कार्य प्रारम्भ नही किया है उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही हेतु नोटिस जारी किये गये है एवं 3 दिवस में जबाव माँगा गया है,उक्त 3 दिवस में कार्य प्रारंभ न करने अथवा समाधान कारक उत्तर प्रस्तुत न करने पर निलंबन की कार्यवाही की जावेगी |

कमलनाथ सरकार ने प्रदेश को हत्या, अपहरण, लूट के मामले में नंबर 1 बना दिया : गोपाल भार्गव ,अपहरण/हत्या के पीड़ित के यहां पहुचे भार्गव

कमलनाथ सरकार ने प्रदेश को हत्या, अपहरण, लूट के मामले में नंबर 1 बना दिया : गोपाल भार्गव
अपहरण/हत्या के पीड़ित के यहां पहुचे भार्गव
सागर। नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव ने सागर जिले के खड़ेराभान गांव के 14 वर्षीय बालक अनिकेत लोधी के अपहरण और फिर उसकी हत्या पर शोक जताया है। बुधवार को नेता प्रतिपक्ष ने खडेरा गांव पहुँचकर बच्चें के परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया। श्री भार्गव ने कहा कि प्रदेश में मासूम बच्चों के अपहरण व हत्याएं हो जाती है और शासन प्रशासन मौन है। जनता में इन घटनाओं को लेकर आक्रोश है वही असुरक्षा का भाव है। उन्होंने कहा कि हर मोर्चे पर असफल रही कांग्रेस सरकार ने प्रदेश को हत्या, अपहरण और लूट के मामले में नंबर वन राज्य बना दिया है। 

सागर जिले के सानोधा थाना क्षेत्र के खडेराभान गांव के किसान के 14 वर्षीय बालक अनिकेत का सोमवार को बदमाशों ने 30 लाख फिरौती के लिए अपहरण कर लिया था। मंगलवार को देर रात मासूम बच्चे की लाश घर के पास ही खेत मे मिली। बुधवार को नेता प्रतिपक्ष श्री भार्गव ने खड़ेराभान गांव पहुँचकर पीड़ित परिजनों से मिलकर शोक व्यक्त किया। 
मासूमों के अपहरण और हत्या की घटनाओं से भय का वातावरण
श्री गोपाल भार्गव ने कहा कि प्रदेश में मासूमों के अपहरण, फिरौती और हत्या की लगातार हो रही घटनाओं से प्रदेश में भय का वातावरण है। उन्होंने कहा कि नाबालिकों का अपहरण हो जाता है फिरौती की रकम मांगी जाती है। ओर अपहृत बच्चों की लाश उनके परिजनों को मिलती है, लेकिन पुलिस लाठी पिटती रह जाती है। उन्होंने कहा कि पिछले 1 साल में प्रदेश बच्चों के अपहरण के मामले में गभीर है। अपराधी बेख़ौफ़ है और कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। 
पीड़ित परिवार से मिले नेता प्रतिपक्ष
नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव को मंगलवार को देर रात जब घटना की जानकारी मिली तो उन्होंने संबंधित अधिकारियों से चर्चा की। बुधवार श्री भार्गव ने खडेराभान गांव पहुँचकर पीड़ित परिवार से मिले। उन्होंने  अनिकेत के पिता श्री सुरेश लोधी ओर उनके परिजनों से चर्चा करते हुए उन्हें ढांढस बंधाया। शोक व्यक्त करते हुए श्री भार्गव ने कहा कि सरकार की नाकामी ने गरीब परिवार के घर का दीपक बुझा दिया।

फिनकेयर स्माल फायनेंस बैंक के मैनेजर के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज

फिनकेयर स्माल फायनेंस बैंक के मैनेजर के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज

@दीपक चोरिसिया
सागर । सागर जिले के देवरी के पुराना बाईपास रोड पर संचालित फिनेकर स्माल फाइनेंस बैंक के ऑफिस में ब्रांच मैनेजर ने सुरखी थाना क्षेत्र से अगवा कर एक नाबालिग लड़की के साथ 2 दिन तक बैंक के कमरे में बंद करके दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया। इस घटना से स्व सहायता समूह के तहत महिलाओं को दिए जाने वाले ऋण को लेकर लोगों का विश्वास खत्म होता जा रहा है ।घटना शनिवार और रविवार को घटित हुई है इस मामले में सुर्खी पुलिस बुधवार शाम को फिनेकर स्माल फाइनेंस बैंक के ऑफिस पहुंची उसके साथ नाबालिग लड़की के परिजन भी थे उन्होंने मौका मुआयना किया जहां नाबालिक के साथ 2 दिन तक लगातार बंद करके दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया था ।
सुरखी थाने  के सब इंस्पेक्टर श्री वर्मा ने बताया कि सुर्खी थाना क्षेत्र के 1 ग्राम के अंतर्गत रहने वाली नाबालिग लड़की के पिता ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसकी लड़की का रामसहाय लोधी ने अपहरण कर लिया  है एवं लड़की के दस्तयाब होने पर  देवरी के फिनेकर स्माल फाइनेंस बैंक  में कार्यरत रामसहाय लोधी जो ब्रांच मैनेजर का काम करता है वह मेरी लड़की को बहला-फुसलाकर अपहरण कर ले गया और देवरी फिने कर बैंक के कार्यालय में कमरे में बंद रखकर जबरन दुष्कर्म की घटना को अंजाम देता रहा पुलिस ने आरोपित रामसहाय लोधी को गिरफ्तार कर लिया है और लड़की के 164 के बयानों के आधार पर मामला दर्ज किया है जिसमें आरोपी के विरुद्ध धारा 363 366 376 343 पास्को एक्ट की  विभिन्न धाराओं सहित अपराध दर्ज किया  गया है। फिनेकर बैंक के रीजनल मैनेजर मोहित रजक ने बताया कि रामसहाय लोधी उनकी कंपनी का देवरी का ब्रांच मैनेजर है और वह रात्रि में ऑफिस में ही रूकता था इस घटना के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है।

जेब से निकाले दस रुपए, विवाद हुआ तो एक दोस्त ने दूसरे दोस्त की कुल्हाड़ी मारकर की हत्या

जेब से निकाले दस रुपए, विवाद हुआ तो एक दोस्त ने दूसरे दोस्त की कुल्हाड़ी मारकर की हत्या 
सागर। सागर जिले के बांदरी में एक ऐसा   मामला सामने आया है जिसमे एक दोस्त ने दूसरे दोस्त की जेब मे से दस रुपया चाय की दुकान पर निकाल  लिए। यह मजाक विवाद में बदल गया। दोस्त ने दूसरे दोस्त को मौत के घाट उतार दिया। कुल्हाड़ी मारकर हत्या करदी
 घटना के बाद आरोपी फरार है। 
सागर जिले के बांदरी कस्बे  की घटना  है। मृतक का नाम लक्ष्मण अहिरबार है। घटना के बारे में पुलिस से मिली जानकारी अनुसार मृतक लक्ष्मण अहिरबार अपने दोस्त सुन्दर ओर लच्छू के साथ चाय की दुकान पर खड़ा हुआ था ।जहां मृतक लक्ष्मण ने सुंदर की जेब से 10 रुपए निकाल लिए जिस पर उसका लच्छू से विबाद हो गया  । विबाद के दौरान लच्छू ने  घर से कुल्हाड़ी लाकर लक्ष्मण की गर्दन पर प्रहार कर दिया । उसे घायल अवस्था मे असपताल लाया गया। जिससे उसकी ज्यादा ख़ून बहने सेमौत हो गयी। एसआई बांदरी थाना रवि भूषण पाठक ने बताया कि पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया। आरोपियो की तलाश जारी है।

"ब्रेथलेस" किताब बताती है कि स्वस्थ बाघ यानी अच्छा जंगल और पर्यावरण का सरक्षंण पत्रकार देशदीप सक्सेना की किताब

"ब्रेथलेस" किताब बताती है कि स्वस्थ बाघ यानी अच्छा जंगल और पर्यावरण का सरक्षंण
पत्रकार देशदीप सक्सेना की किताब

 भोपाल ।पिछले कुछ समय से पत्रकारों की प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दोनो क्षेत्रो में लंबा अनुभव रखने वालों की किताबें सामने आई है । अपने अनुभव और संघर्षों पर केंद्रित। हाल ही में ऐसे ही श्री देशदीप सक्सेना जो पिछले 30 सालों से प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से जुड़े हुए है। पर्यावरण  ,वन एवं वन्य जीव जंतुओं से लगाव  और  विभिन्न जंगलों में घूमते हुए बाघ और अन्य जानवरों को पास से देखना  तथा  छत्तीसगढ़ के जंगलों में नक्सलियों के साथ बिताये समय में ,वन्य प्राणियों की कई दिनों तक देखी  गई दुर्दशा ने श्री देशदीप को पुस्तक लेखन के लिये प्रेरित किया।उनकी लिखी पुस्तक ' ब्रेथलेस'  का विमोचन प्रदेश के मुख्यमंत्री  कमलनाथ ने भोपाल लिटरेचर एवं आर्ट फेस्टिवल के शुभारंभ के साथ किया।
 'ब्रेथलेस' 13 देशों में पाये जाने वाले बाघों पर आधारित एक मात्र ऐसी पुस्तक है जिसमें राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय ऎसी रिसर्चस को शामिल किया गया है जो आमतौर से आमजन तक पहुँच ही नहीं पाती।श्री देशदीप ने इस पुस्तक के माध्यम से जलवायु परिवर्तन से बाघों के ऊपर होने वे प्रभावों के प्रति भी ध्यान आकर्षित करने का प्रयास किया है।'ब्रेथलेस' एक सोच है जो ये बताती है कि स्वस्थ बाघ यानी अच्छा जंगल।।मात्र बाघो की संख्या दुगनी करना ही लक्ष्य नहीं होना चाहिए वरन बाघो को उनकी जिंदगी जीने की जंग लड़ने में पर्यावरण संरक्षण कर उन्हें उनका हक़ देने का प्रयास करना चाहिए।

किसान के बेटे का अपहरण,फिरौती नही मिलने पर की हत्या ,30 लाख की थी मांग

किसान के बेटे का अपहरण,फिरौती नही मिलने पर की हत्या ,30 लाख की थी मांग
सागर । सागर जिले के सानौधा थाना क्षेत्र में एक किसान के 13 वर्षीय बेटे का अपहरण करने के बाद फिरौती नही मिलने पर पत्थर से कुचलकर निर्मम हत्या कर दी। पुलिस ने कुछ संदेहियों को हिरासत में लिया है । घटना के पीछे अन्य वजहों पर भी पुलिस काम कर रही है ।
सानोधा थाना क्षेत्र के खडेराभान गांव से सोमवार को अगवा किये गए  किसान  सुरेश लोधी के 13 साल के बेटे अनिकेत  का शव पुलिस ने गांव के पास एक खेत से बरामद कर लिया है। उसकी हत्या पत्थर से सिर कुचलकर की गई थी जिससे उसे पहचान पाना भी मुश्किल था। आठवी कक्षा का यह छात्र सोमवार को  अपने दोस्त के साथ फुलकी खाने का कहकर घर से निकला था और फिर लापता हो गया। पिछले 20 घंटों से सर्चिंग में जुटी टीम के हाथ अपहरण व हत्या से जुड़े कुछ सुराग भी आए हैं ।जिनके आधार पर आरोपियों की पहचान और गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिए गए हैं।  पुलिस फिरौती के लिए अपहरण करने के बाद हत्या के पीछे पुरानी रंजिश या अन्य वजहों की भी पड़ताल की जा रही है। 
तीन भाइयों में सबसे छोटा था अनिकेत -
 सुरेश लोधी का बेटा अनिकेत परसोरिया के एक निजी स्कूल में कक्षा आठवी का छात्र था। अनिकेत तीन भाइयों में सबसे छोटा था। सोमवार को स्कूल से लौटकर वह घर आया और कुछ देर बाद अपने दास्ते के साथ फुलकी खाने का कहकर चला गया। अंधेरे होने पर जब अनिकेत घर नहीं लौटा तो उसकी तलाश होने लगी। इस बीच अज्ञात मोबाइल नंबर से किसी ने उसके बड़े भाई से बात कर अनिकेत के बदले 30 लाख रुपए की फिरौती मांगी। यह सुनते ही अनिकेत का भाई चीख पड़ा तो बात करने वाले बदमाश ने रुपए न पहुंचाने और खबर पुलिस को देने पर अनिकेत की जान लेने की धमकी दी और फिर मोबाइल बंद कर लिया। इसके बाद इस नंबर से दोबारा फोन नहीं आया। हांलाकि इसी नंबर से फिरौती मांगने वालों ने गोपालगंज में रहने वाले एक व्यक्ति से बात की थी जिसे पुलिस ने मंगलवार को उठा लिया।
लापता अनिकेत के अपहर्ताओं की तलाश के लिए एसपी अमित सांघी द्वारा एएसपी राजेश व्यास और एएसपी विक्रम सिंह के निर्देशन में 10 टीम बनाई थीं जो सोमवार देर रात के बाद मंगलवार रात तक लगातार सर्चिंग और दबिश में जुटी रहीं। पुलिस ने सुराग हाथ आने के बावजूद इस मामले में इसलिए गोपनीयता बनाकर रखी जिससे की अपहरण और हत्या के आरोपी भाग न पाएं। सूत्रों के अनुसार पुलिस ने कुछ ऐसे युवकों को हिरासत में लिया है जिनकी उम्र 18 से 20 साल है और जो अकसर अनिकेत के साथ देखे जाते थे। पुलिस इन संदेही युवकों से अनिकेत की निर्मम हत्या के पीछे की वजह को लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं अनिकेत का शव मिलने के बाद गांव में लोगों में आक्रोश बना हुआ है।

मंगलवार, 14 जनवरी 2020

कॉलेज में सुपर स्पेशिलिटी यूनिट प्रारंभ कराने चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. साधौ से पूर्व मंत्री सुरेंद्र चौधरी ने की चर्चा।

 कॉलेज में सुपर स्पेशिलिटी यूनिट प्रारंभ कराने चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. साधौ से  पूर्व मंत्री सुरेंद्र चौधरी ने की चर्चा।
सागर।सागर संभाग के विभिन्न रोगों के मरीजों को शुलभ एवं सरल उपचार मुहिया कराने तथा सागर से बाहर इलाज कराने जाने से पड़ने वाले आर्थिक बोझ को कम करने के लिए बुंदेलखण्ड मेडिकल कॉलेज सागर में विभिन्न सुपर स्पेशिलिटी यूनिट प्रारंभ कराए जाने को लेकर म.प्र. कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री  सुरेन्द्र चौधरी ने सागर प्रवास पर आयीं म.प्र. शासन की चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. विजय लक्ष्मी साधौ से चर्चा कर बुंदेलखण्ड मेडिकल कॉलेज सागर में सुपर स्पेशिलिटी यूनिट जिनमें हृदय रोगियों के लिए कार्डियल यूनिट, कैंसर रोगियों के लिए कैंसर सुपर स्पेशिलिटी यूनिट, न्यूरो सुपर स्पेशिलिटी सेंटर प्रारंभ कराने तथा आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के सहायतार्थ एक शव वाहन तथा एक एंबूलेंस सुविधा मुहैया कराने की बात कही। श्री चौधरी ने मंत्री डॉ. साधौ से कहा कि बुंदेलखण्ड क्षेत्र के संभागीय मुख्यालय सागर पर स्थित बीएमसी सहित जिले के शासकीय अस्पतालों में सुपर स्पेशिलिटी यूनिटों के अभाव में विभिन्न रोगों से ग्रसित मरीजों को जिले से बाहर भोपाल, नागपुर, दिल्ली आदि इलाज के लिए जाना पड़ता है जिस कारण उन पर लाखों रूपये का आर्थिक बोझ भी आता है। सागर संभाग के विभिन्न बीमारियों के मरीजों को मान. मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी की मंशानुसार शुलभ एवं सरल उपचार मुहैया कराने के लिए बुंदेलखण्ड मेडिकल कालेज सागर में विभिन्न यूनिटों में सुपर स्पेशिलिटी यूनिट प्रारंभ किया अत्यंत आवश्यक है जिस पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. विजय लक्ष्मी साधौ ने शीघ्र अतिशीघ्र कार्यवाही कर विभिन्न यूनिट प्रारंभ कराने की बात कही। इस दौरान मुख्य रूप से जिला ग्रामीण कांग्रेस के अध्यक्षद्वय अखिलेश मौनी केशरवानी, देवेन्द्र पटैल, जितेंद्र सिंह चावला,युवा कांग्रेस अध्यक्ष अशरफ खान, एल्डरमेन पुष्पेंद्र सिंह ठाकुर, आर.आर. पाराशर, एड. राजेश दुबे, ठा. लगन सिंह, सुरेन्द्र सिंह चावड़ा, सुरेन्द्र करोसिया, एम.आई. खान, डॉ. जीवनलाल, पुरुषोत्तम शिल्पी, गोविंद सिंह, शरद राजा सेन, रवि पटैल, संजय सिंह, अनिल कुर्मी,पुष्पेंद्र सिंह, अवदेश सिंह,राशिद खान,डॉ. जीवनलाल, डॉ. मेहमूद खान, राहुल जैन, मुल्ले चौधरी, दिलीप रावत, राहुल सिंह, अम्बुज सिंह,शतीस कुमार, राजेश श्रीवास, अफजल खान, सुनील चौधरी,कृष्णा सेन,राजकुमार, गंगाराम केमले,आकाश साहू,शिवा राठौर, वीरेंद्र महावते, सत्यनारायण पटैल,रघुवीर अहिरवार, संदीप चौधरी सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसजन मौजूद थे।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ साधौ से मिले कांग्रेसजन

चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ साधौ से मिले कांग्रेसजन
सागर। मध्यप्रदेश शासन की चिकित्सा शिक्षा आयुष एवं संस्कृति मंत्री सुश्री विजयलक्ष्मी साधो ट एक दिवसीय प्रवास पर सागर पहुंची कांग्रेसजनों ने स्थानीय सर्किट हाउस में भव्य एवं गरिमामय स्वागत किया।
 डॉ विजयलक्ष्मी साधो ने कांग्रेसजनों ने कहा कि कांग्रेस की संस्कृति जोड़ने की रहती आई है। आज देश में आर एस एस और भाजपा के रूप में  समाज को वर्गों में बांटने की जो ताकतें सक्रिय हुई है उनसे निपटने के लिए कांग्रेसजन आगे आएं। उन्होंने भारतीय संस्कृति के हिंसा मुक्त और अधिकार संपन्न समाज की स्थापना के लिए प्रदेश की कमलनाथ सरकार द्वारा शुरू किए गए कार्यों को आम लोगों तक पहुंचाने का भी आह्वान किया। चिकित्सा शिक्षा आयुष एवं संस्कृति मंत्री सुश्री विजयलक्ष्मी साधो ने कहा कि पूर्ववर्ती भाजपा सरकार द्वारा सागर के मेडिकल कॉलेज के विकास को लेकर जरूरी प्रयास नहीं किए हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देशन में सागर के मेडिकल कॉलेज को अधिकार और सुविधाओं से संपन्न बनाते हुए  आदर्श रूप में यहां की सुविधाओं को गरीब मजदूर और वंचित वर्ग के साथ ही आमजन तक पहुंचाया जाएगा। उन्होंने भरोसा जताया कि आने वाले समय में सागर का मेडिकल कॉलेज अपने वृहद स्वरूप को ग्रहण करेगा।
इन कांग्रेसियों ने की मुलाकात
 यहां पहुंचने पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष रेखा चौधरी  कैलाश सिंघई  त्रिलोकीनाथ कटारे पूर्व विधायक सुनील जैन मुन्ना चौबे नरेश जैन  सिद्ध गोपाल तिवारी विमल जैन , डॉ संदीप सबलोक पप्पू गुप्ता , विजय साहू अध्यक्ष सिंटू कटारे दीनदयाल तिवारी महिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रमिला राजपूत भावना रोहन डॉ किरण सोनी एडवोकेट रजनी ठाकुर  चंद्रप्रभा दुबे हेमकुमारी कुर्मी डॉ सीबी तिवारी डॉ दिनेश पटेरिया सुरेंद्र सुहाने पंकज सिंघई देवेंद्र फुसकेले भैयन पटेल लीलाधर सूर्यवंशी आशीष ज्योतिषी शरद पुरोहित फिरदोस कुरेशी ओंकार साहू शिवराज लढ़िया ताहिर खान आदिल राईन शुभम उपाध्याय साजिद राइन अतुल नेमा हनीफ ठेकेदार जितेंद्र रोहन अजय अहिरवार लीलाधर सूर्यवंशी महेंद्र पटेल सत्यम चतुर्वेदी निखिल चौकसे उत्तमराव तावडे चक्रेश सिंघई जाहिद ठेकेदार इम्तियाज हुसैन मुकेश खटीक अभिषेक पाठक समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसजनों ने उनका आत्मीय स्वागत किया।।
चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुश्री विजयलक्ष्मी साधो सर्किट हाउस से रवाना होकर पूर्व मंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी के निवास पर होकर पूर्व मंत्री स्वर्गीय विट्ठलभाई पटेल के पुत्र संजय भाई पटेल के पिछले दिनों हुए आकस्मिक निधन पर उनके परिवार के बीच शोक संवेदना एवं सांत्वना व्यक्त करने पहुंची। उन्होंने यहां दिवंगत संजय भाई पटेल के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए अपनी शोक श्रद्धांजलि व्यक्त की। 
                           

उप पुलिस अधीक्षक /सहायक सेनानी स्तर के 27 अधिकारियों के ट्रांसफर

उप पुलिस अधीक्षक /सहायक सेनानी स्तर के  27 अधिकारियों के ट्रांसफर

18 जिला खेल अधिकारियों के तबादले

18 जिला खेल अधिकारियों के तबादले
भोपाल।जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारियों के तबादले।18 अधिकारियों के हुए तबादले ।खेल और युवा कल्याण विभाग ने जारी किए आदेश।

विना मंजूरी के बनी दुकानें, ग्रीन वेली मैरिज गार्डन और डॉ मनीष जैन केअतिक्रमण तोड़े, नगर निगम की कार्यवाही

विना मंजूरी के बनी दुकानें, ग्रीन वेली  मैरिज गार्डन और डॉ मनीष जैन केअतिक्रमण तोड़े,  नगर निगम की कार्यवाही
सागर। कलेक्टर श्रीमति प्रीति मैथिल नायक, पुलिस अधीक्षक  अमित सांघी के निर्देषानुसार जिला प्रशासन एवं नगर निगम की संयुक्त कार्यवाही के दौरान षहर के विभिन्न स्थानों पर नगर निगम की बगैर स्वीकृति व मानचित्र के विरूद्व निर्माण करने एवं नजूल भूमि पर किये गये निर्माण को हटाने की कार्यवाही की गई।
सहायक यंत्री  रमेष चैधरी ने बताया कि नया  बाजार कटरा वार्ड में 5 दुकानें टपरा नुमा जिनके छप्पर, सीमेंट चद्दरों से निर्मित थी नगर निगम द्वारा किरायेदारी से दी गई थी ।जिनमें दुकान क्रमांक 127  आदर्ष तनय श्री प्रताप राय आहूजा, दुकान क्रमंाक 128  प्रताप राय तनय  खुषालदास आहूजा, दुकान क्रमंाक 130 एवं 131 श्रीमति सोनिया पत्नि श्री प्रताप राय आहूजा एवं दुकान क्रमंाक 133 श्री प्रताप राय तनय  खुषालदास आहूजा को आवंटित की गई थी उक्त किरायेदारों द्वारा नगर निगम की बिना अनुमति के पक्का आर.सी.सी.निर्माण किया गया था, जिस संबंध में 22 जनवरी 2018 एवं 26 सितम्बर 2019 को नोटिस जारी किया गया था। इसके साथ ही 6 जनवरी 2020 को दुकान खाली करने हेतु पत्र जारी किया गया है। उसके बाद भी उक्त किरायेदारों द्वारा नगर निगम के आदेष की लगातार अवहेलना की गई इसके बाद मंगलवार को पक्का आर.सी.सी. निर्माण जो प्रथम तल पर किया गया था उसे हटाने की कार्यवाही की गई। 
ग्रीन वेली  मैरिज गार्डन और डॉ मनीष जैन के निर्माण तोड़े
इसके साथ ही तिली चैराहा स्थित ग्रीन बैली मैरिज गार्डन के संचालक श्री राहूल तनय श्री रमेष कुमार चैधरी एवं अन्य को 26 दिसम्बर 2019 को नगर निगम की धारा 322 एवं 323 के तहत् नाले पर अतिक्रमण एवं बाऊण्ड्रीबाल का निर्माण हटाने के संबंध मंे नोटिस दिये गये थे, नाले का सीमांकन राजस्व विभाग द्वारा किया गया था साथ ही बाऊण्ड्रीबाल को भी चिन्हित किया गया था जिसे तोड़ने की कार्यवाही की गई। 
इसके साथ ही मेडीकल कालेज के सामने नक्षा के विरूद्व भवन स्वामी डाॅ.मनीश जैन द्वारा निर्माण करने पर नियमानुसार तोडने की कार्यवाही की गई। नजूल भूमि पर निर्माण किये गये सिविल लाईन स्थित दुबे सर्विसिंग सेंटर पर जे.सी.बी.मषीन द्वारा टीन षेड एवं रेम्प को हटाने की कार्यवाही की गई।
कार्यवाही में ये रहे शामिल
कार्यवाही के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  राजेष व्यास, निगमायुक्त  आर.पी.अहिरवार, नगर दण्डाधिकारी  पवन बारिया, नगर पुलिस अधीक्षक  आर.डी.भारद्वाज, तहसीलदार, नजूली अधिकारी, सहायक यंत्री रमेष चैधरी, दिनकर षर्मा, राजकुमार साहू, आनंद मंगल गुरू, संजय सोनी सहित मोतीनगर थाना, सिटी कोतवाली टी.आई. जिला प्रषासन एवं नगर निगम के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे

बीएमसी में सुविधाएं बढ़ेगी, मेडिकल कालेज आय बढ़ाने पर विचार करे: मंत्री डाॅ साधौ

बीएमसी में सुविधाएं बढ़ेगी, मेडिकल कालेज आय बढ़ाने पर विचार करे: मंत्री डाॅ साधौ
निरीक्षण के दौरान नाराजगी दिखाए मन्त्री ने
सागर । हमें आमजनों का विष्वास अर्जित करना है, हमारी संस्थाओं में आमजन आए और इलाज कराएं। सरकार बेहतर और आधुनिक स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करा रही है। । इस आषय के उद्गार प्रदेष की चिकित्सा षिक्षा, आयुष एवं संस्कृति विभाग मंत्री डा. विजयलक्ष्मी साधौ ने बुन्देलखण्ड मेडिकल काॅलेज स्व-षासी समिति की चतुर्थ बैठक में व्यक्त किए।
उन्होंने कहा मेडिकल काॅलेज में एमबीबीएस और पीजी सीटे बढ़ाई जा रही है। साथ ही डीएम और एमसीएच कोर्स प्रदेष में शुरू कर रहे है। उक्त कोर्स की अभी प्रदेष में 9 सीटें है, जिसे 2023 तक बढ़ाकर 300 किया जाएगा। वर्तमान में मेडिकल छात्र दिल्ली, लखनऊ और अन्य स्थानों से उक्त कोर्स कर रहे है। मंत्री डा. साधौ ने कहा मध्यप्रदेष सरकार स्वास्थ्य नीति ला रही है, जिसके तहत एमबीबीएस और पीजी डाॅक्टर्स को दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा देना अनिवार्य किया जा रहा है।
फिजियोथेरेपी चालू कराए
मंत्री डाॅ साधौ ने मेडिकल काॅलेज के डीन डा. जीएस पटैल से कहा यहां फिजियोथैरपी शुरू कराई जायें। उन्होंने कहा आज की स्थिति में बहुत जरूरी भी है। डाॅ साधौ ने कहा प्रदेष सरकार पैरामैडिकल और नर्सिंग में कमी दूर करने संकल्पित है।
बेहतर साफ-सफाई व्यवस्था कराएं
समीक्षा के दौरान मंत्री डाॅ साधौ ने कहा यहां साफ-सफाई व्यवस्था सुदृण सनिष्चित की जाए। उन्होंने कहा सफाई व्यवस्था से वे संतुष्ट नहीं है, सर्विस में सुधार लाएं, पहले की अपेक्षा अधिक राषि इस हेतु दी जा रही है।
डाॅ साधौ ने निर्मित इंसीनेटर को शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देष दिए। उन्होंने कहा सभी आवष्यक व्यवस्थाएं तेजी से कराई जाएं। यह भी कहा मेडिकल काॅलेज अपनी आय बढ़ाने की ओर भी विचार करें। अभी मेडिकल वेस्ट जबलपुर जाने की जानकारी दी गई। लंबित सड़क निर्माण के लिए राषि जारी होने की जानकारी दी गई है।
हमें बेहतर रिजल्ट चाहिए
मंत्री डाॅ साधौ ने कहा संस्थान में जो भी जरूरत हो बताएं, हम करंेगे। हम परिणाम चाहते है। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी की मंषा हम डाॅक्टर्स दे रहे है, वे अच्छे डाॅक्टर बने। उन्होंने कहा हम अब समृद्ध मेडिकल की दिषा में आगे बढ़ रहे है। डीन डा. जीएस पटैल ने कहा हम शासन की मंषानुसार कार्य कर रहे है, इसे पूरा करेंगे।
डीन ने बताया बीएमसी में एनाटाॅनी, फिजियोलाॅजी, फार्माक्लाॅजी विभाग में 3-3 सीट एवं पीएसएम विभाग में 4 सीटों पर पीजी पाठ्यक्रमों में 2019 में एमसीआई द्वारा मान्यता दी गई है। उन्होंने बताया 2020 में बायोकेमिस्ट्री, ईएनटी, माइक्रोबायोलाॅजी विभाग में 3-3 पीजी सीटें स्वीकृत की गई है। डीन ने बताया मेडिकल काॅलेज में 2020 से बीएससी नर्सिंग कोर्स प्रारंभ किया गया है, हाॅस्टल की जरूरत पर बल दिया। साथ ही उन्होंने पैरामेडिकल कोर्स प्रारंभ होने की जानकारी देते हुए कहा 140 सीटों पर कोर्स प्रारंभ किया गया है। मंत्री डाॅ साधौ ने हाॅस्टल के प्रस्ताव भेजने के निर्देष दिए।
ये रहे बैठक में
बैठक में सदस्य डा. डीके जैन,, अपर आयुक्त सागर संभाग सागर  षिवपाल सिंह , आरएल वर्मा, मुख्य अभियंता लोक निर्माण विभाग, सागर, डा. अमरदीप राय प्रतिनिधि संचालक चिकित्सा षिक्षा, डा. एसएस मिश्रा, प्राध्यापक एवं विभागाध्यक्ष फिजियोलाॅजी विभाग, डा. आरएस वर्मा, प्रध्यापक एवं विभागाध्यक्ष सर्जरी विभाग, डा. संतोष जैन, संभागीय संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवाएं सागर, डा. साधना मिश्रा अध्यक्ष आईएमए सागर,  सुरेष चंद जैन, दानदाता सदस्य, डा. एनपी शर्मा, दानदाता सदस्य, पूर्व छात्र डा. उमेष पटैल, डा. एसके पिंपल, संयुक्त संचालक एवं अधीक्षक बीएमसी सागर, डाॅ अंजू झा, डा एमएस सागर, डा. पुण्य प्रताप सिंह, एचओडी रेडियोलाॅजिस्ट एवं डा. जीएस पटैल अधिष्ठाता एवं सचिव बीएमसी सागर उपस्थित थे।
 मेडिकल काॅलेज में विषेषज्ञ डाक्टर्स की बैठक संपन्न
सागर 14 जनवरी 2020/ डाक्टर को भगवान का दर्जा प्राप्त है, इसे पूर्ण जिम्मेदारी से निभाएं एवं यह भी कहा कि भगवान व्यक्ति को जन्म देता एवं डाक्टर जिंदगी को बचाता है इसलिए डाक्टर्स को यह दर्जा प्राप्त है इसे पूरी जिम्मेदारी से निभा कर समाज के अंतिम व्यक्ति तक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करें उक्त विचार बुन्देलखण्ड मेडिकल काॅलेज में विषेषज्ञ डाक्टर्स की बैठक में प्रदेष की चिकित्सा षिक्षा, आयुष एवं संस्कृति विभाग मंत्री डा. विजयलक्ष्मी साधौ ने व्यक्त किए। इस अवसर पर डीन डा. जीएस पटैल सहित विभिन्न विभागों के विषेषज्ञ डाक्टर्स उपस्थित थे।
बैठक में डाॅ साधौ ने कहा कि आप लोग पूरे मनोयोग के साथ बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करें एवं सागर का नाम प्रदेष के चिकित्सा पटल पर अग्रणी रहे ऐसा कार्य करें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ की स्पष्ट सोच है कि बेहतर परिणाम लाने के लिए आपको बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करना हमारा काम है किन्तु सुविधाएं प्राप्त कर सार्थक परिणाम देना आप डाक्टर्स का काम है। । उन्होंने निर्देष दिए कि अब प्रदेष में जो भी नए निर्माण से चिकित्सालय बनाए जाएंगे उनमें कमेटी बनाकर डाक्टरों की आवष्यकतानुसार सुझाव प्राप्त कर निर्माण कार्य कराया जाएगा। साथ ही उपकरण खरीदी में भी कमेटी बनाकर डाक्टरों का मार्गदर्षन लिया जाए।
अच्छे डाक्टर्स बनकर समाज के अंतिम व्यक्ति तक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करें
 अच्छे डाक्टर्स बनकर समाज के अंतिम व्यक्ति तक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करें उक्त विचार बुन्देलखण्ड मेडिकल काॅलेज के आॅडिटोरियम में 71 एमबीबीएस छात्र-छात्राओं को लैपटाॅप वितरण कार्यक्रम में प्रदेष की चिकित्सा षिक्षा, आयुष एवं संस्कृति विभाग मंत्री डा. विजयलक्ष्मी साधौ ने व्यक्त किए। ।
डा. साधौ ने कहा कि अच्छे डाक्टर बनकर समाज के एवं दूरस्थ ग्रामीण अंचल के अंतिम व्यक्ति तक अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करंे जिससे सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय से मध्यप्रदेष समृद्ध एवं स्वस्थ्य बन सके। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेष देष के ह्रदय स्थल में है एवं सागर मध्यप्रदेष के ह्रदय स्थल में है इसलिए आपको अपना ह्रदय बढ़ा करके अपनी सेवाएं पूरी लगन एवं ईमानदारी से देना होगी तभी सागर स्वस्थ बन सकेगा। उन्होंने कहा कि पहले मध्यप्रदेष का नाम स्वास्थ्य की दृष्टि में अत्यंत पिछड़ा माना जाता था और महाराष्ट्र व दक्षिण राज्य अग्रणी थे।
उन्हांेने एमबीबीएस 2018 एवं 2019 के 71 छात्र-छात्राओं को लैपटाॅप वितरित भी किए। वितरण के समय उन्होंने आॅडिटोरियम को आधुनिक बनाने के लिए 4 करोड़ रूपये प्रदान करने की भी घोषणा की। साथ ही उन्होंने गायनोलाॅजी विभाग में पीजी कोर्स प्रारंभ करने की भी घोषणा की। डीन डा. जीएस पटैल ने स्वागत भाषण एवं प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। साथ ही कार्यक्रम के पूर्व में सरस्वती पूजन किया एवं डा. विजय सोधिया, डा. श्याम मनोहर सिरोठिया ने पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन डा. उमेष पटैल ने किया।  
स्वास्थ्य मंत्री ने बीएमसी का निरीक्षण कर दिए आवष्यक निर्देष
 सागर। प्रदेष की चिकित्सा षिक्षा, आयुष एवं संस्कृति विभाग मंत्री डा. विजयलक्ष्मी साधौ ने बीएमसी सागर का सघन निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करने के डीन डा. जीएस पटैल को आवष्यक निर्देष दिए। हाईट्स कंपनी के मैनेजर पर नाराजगी व्यक्त करते हुए व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देष दिए। उन्होंने बीएमसी के पुस्तकालय पहंुचकर ई-लायबे्ररी का अवलोकन किया। साथ ही पुस्तकें आदान-प्रदान करने की प्रक्रिया भी समझी। डाॅ. साधौ डाक्टर्स हेतु बनाए गए खेल गतिविधियों के लिए जिम में पहुंची तो वहां की मषीनों को और अपडेट करने के निर्देष दिए। उन्होंने सोनोग्राफी, एक्सरे कक्ष, डार्क रूम, सीएम हेल्पलाईन कक्ष का भी निरीक्षण किया। उन्होंने डेन्टल लेजर मषीन एवं डेन्टल डिजीटल मषीन का लोकार्पण किया। उन्होंने एसएनसीयू वार्ड का भी लोकार्पण किया। साथ ही सीआर मषीन एवं मोबाईल हाई फिक्यूषी एक्सरे मषीन का भी लोकार्पण किया।डाॅ. साधौ ने बीएमसी के दन्त रोग विभाग एवं षिषु रोग विभाग में पहुंचकर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लेकर जानकारी प्राप्त कर व्यवस्थाओं में सुधार करने के निर्देष दिए। इस अवसर पर पीडब्ल्यूडी, पीआईयू, हाईट्स कंपनी मैनेजर सहित डाक्टर अधिकारी मौजूद थे।




 

एमपी में 39 उप निरीक्षकों के तबादले

एमपी में 39 उप निरीक्षकों के तबादले

एमपी 57 सहायक उप निरीक्षकों के ट्रांसफर

एमपी 57 सहायक उप निरीक्षकों के ट्रांसफर

एमपी में नई नीति ,मेडीकल कालेज से निकले डॉक्टरों को एक साल ग्रामीण इलाकों में देंगे सेवाएं:चिकित्सा मंत्री साधौ

एमपी में नई नीति ,मेडीकल कालेज से  निकले डॉक्टरों को एक साल ग्रामीण इलाकों में देंगे सेवाएं:चिकित्सा मंत्री साधौ
सागर। प्रदेश की चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ विजय लक्ष्मी साधो का कहना है कि एमपी सरकार ग्रामीण क्षेत्रो में डॉक्टरों की कमी दूर करने और बेहतर सुविधाओं के लिए एक नीति बना रही है । अब मेडीकल कालेज के छात्रों को अनिवार्य रूप से एक साल गामीण इलाको में अपनी सेवाएं देना पड़ेगी । अन्यथा मेडिकल कौंसिल आफ मध्यप्रदेश से उनका पंजीयन रद्द कर दिया जाएगा। कौंसिल में मेडिकल की पढ़ाई करने वालो का दो साल का पंजीयन होगा। 
चिकित्सा शिक्षा मंत्री  साधो आज सागर में शासकीय बुन्देलखण्ड मेडिकल कालेज की साधारण सभा की बैठक लेने आई थी।
चिक्तिसा शिक्षा मंत्री विजय लक्ष्मी साधो आज मीडिया से चर्चा में कहा कि प्रदेश में मेडिकल चिकित्सा सुविधाओं में लगातार सुधार आ रहा है । सीएम कमलनाथ ने साफ कहा है कि प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं की गुणवत्ता के साथ किसी तरह का समझौता नही किया जाएगा। प्रदेश में 13 कॉलेज चल रहे है । अभी पाँच और  मंजूर हुए है। एक और मिलने वाला है । इससे प्रदेश में बेहतर डॉक्टर मिलनेगे।
उन्होंने कहा कि सरकार मेडिकल कालेजों में सुपर स्पेशयलिटी कोर्स शुरू कर रही है । सन 2023 तक ये सुपर स्पेशिएलिटी के डॉक्टर मिलेंगे। जबलपुर मेडीकल कालेज में  इसकी शुरुआत हो चुकी है । कुछ नए कोर्स शुरू हुए है।इसके साथ प्रत्येक मेडिकल कालेज में वायरोलाजी लेब खोली जा रही है । इससे डेंगू और स्वाईन फ्लू आदि  बिमारियोके परीक्षण जल्दी हो सकेंगे। इसके अलावा भोपाल और अन्य मेडीकल कालेज में कुछ नए सेंटर खोले जा रहे है।
प्रदेष की चिकित्सा षिक्षा, आयुष एवं संस्कृति विभाग मंत्री डा. विजयलक्ष्मी साधौ ने आज शासकीय  बुन्देलखण्ड  मेडीकल कॉलेज, सागर की साधारण सभा की बैठक ली और जरूरी निःर्देश दिए।।
 ।

मकर संक्रांति: जाने मुहूर्त और महापुण्य काल

मकर संक्रांति: जाने मुहूर्त और महापुण्य काल
 हिन्दू पर्व निर्णय के अनुसार, सूर्य मकर राशि में जिस दिन प्रवेश करता है, उस दिन मकर सक्रांति मनाई जाती है। यदि सूर्य मकर राशि में सूर्योदय से पूर्व प्रवेश करे, तो मकर संक्रांति पहले दिन ही मनाई जाएगी। मकर सक्रांति होने के बाद 02 घटी (48 मिनट) का समय महापुण्य काल होता है। इस बार मकर सक्रांति 15 जनवरी 2020, दिन बुधवार, रात्रि 02 बजकर 06 मिनट पर लग रही है।
पुण्य काल रात्रि में ही होना चाहिए परंतु संक्रांति का दान पुण्य सूर्य को साक्षी मानकर करने में अधिक पुण्यकारी माना जाता है। अतः 15 जनवरी 2020 को प्रातः काल से सूर्यास्त तक ही पुण्य काल मान्य होगा।
मकर सक्रांति: 15 जनवरी 2020, दिन बुधवार (शनि प्रकोप से मुक्ति पाने का पर्व है मकर सक्रांति)
मकर संक्रांति प्रवेश काल: रात्रि 02:06 बजे (30 मुहूर्त्ती)
विशेष पुण्य काल: प्रातः काल से सूर्यास्त तक।

इस दिन (पिता मंत्री) सूर्य देव (पुत्र राजा) शनि की राशि एवं गृह में प्रवेश करेंगे, आज से धनु (खर) मास का समापन हो जाएगा।
अत्यंत महत्वपूर्ण है मकर संक्रांति, शनि प्रकोप से मुक्ति
इस वर्ष 2020 की मकर संक्रांति का विशेष महत्व है क्योंकि इस संवत्सर 2076 के राजा शनि और मंत्री सूर्य हैं, मकर सक्रांति अयन संक्रान्ति होने के कारण अति महत्वपूर्ण है।ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, मकर संक्रांति के स्वामी सूर्य पुत्र शनि देव हैं। शनि के प्रकोप से मुक्ति पाने के लिए इस दिन की गई सूर्योपासना महा शुभ है।

मत्स्य पुराण के अनुसार, मकर सक्रांति के दिन सूर्योपासना के साथ यज्ञ, हवन एवं दान को पुण्य फलदायक माना गया है। शिव रहस्य ग्रंथ के अनुसार, मकर सक्रांति के अवसर पर हवन पूजन के साथ खाद्य वस्तुओं में तिल एवं तिल से बनी वस्तुओं का विशेष महत्व बताया गया है।
पुराणों के अनुसार, मकर सक्रांति सुख, शांति, वैभव, प्रगति सूचक, जीवों में प्राण दाता, स्वास्थ्य वर्धक, औषधियों के लिए वर्णकारी एवं आयुर्वेद के लिए विशेष है।
इन लोगों के लिए कष्टप्रद होती है संक्रांति
यदि संक्रांति दिन में हो तो प्रथम तृतीयांश में क्षत्रियों को, दूसरे तृतीयांश में ब्राह्मणों को, तीसरे तृतीयांश में वैश्यों को और सूर्यास्त के समय की संक्रांति शूद्रों के लिए कष्टप्रद होती है।
इसी प्रकार रात्रि के प्रथम पहर की संक्रांति घ्रणित कर्म करने वालों को, दूसरे प्रहार की संक्रांति राक्षसी प्रवृत्ति के लोगों को, तीसरे पहर की संक्रांति संगीत से जुड़े लोगों को, चौथे प्रहार की संक्रांति किसान, पशुपालकों और मजदूरों के लिए दुःखदायिनी होती है।
मकर सक्रांति प्रायः माघ मास में आती है। शास्त्रों के अनुसार सूर्य की पहली किरण आसुरी संपत्ति मूलक भौतिक उन्नति की परिचायक होती है। वहीं उसकी सातवीं किरण आध्यात्मिक उन्नति की प्रेरणा देने वाली होती है।
- दैनिक जागरण/ज्योतिषाचार्य पं राजीव शर्मा, बालाजी ज्योतिष संस्थान, बरेली

सोमवार, 13 जनवरी 2020

OBC आरक्षण। हाईकोर्ट में 11 याचिकाओ की सुनवाई 28 जनवरी को

OBC आरक्षण। हाईकोर्ट में 11 याचिकाओ की सुनवाई 28 जनवरी को
जबलपुर। मध्य प्रदेश शासन द्वारा OBC की संख्या को दृष्टिगत रखते हुए  दिनांक 8/3/19 को 14% से बढ़ाकर 27% आरक्षण लागू किया गया है एवं इस अध्यादेश को विधिवत विधानसभा से पारित करके कानूनी रूप दिनांक 16 अगस्त 2019 को दिया जा चुका है तथा सामान्य प्रशासन विभाग द्वरा दिनांक 19 अगस्त को सम्पूर्ण विभागों सहित प्रवेश परीकक्षाओं में लागू कर दिया गया जिसे निरस्त करने हेतु 8 याचिकाएं दाखिल हुए है एवं प्रदेश में दिनांक 2 जुलाई 2019 को आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) को 10% नॉकरियो एवं प्रवेश परीक्षाओ में लागू किया गया है जिसमें ओबीसी, एससी,एसटी को बंचित रखा गया है जिसे ओबीसी/एससी/एसटी एकता मंच के अध्यक्ष लोकेन्द्र गुर्जर ने  चुनोती दी है यदि ओबीसी के व्यक्ति की सामान्य आय 8 लाख है तो उसे क्रिमीलेयर माना जाता है और सामान्य वर्ग का व्यक्ति जिसकी आय 8 लाख है उसे आर्थिक रूप से कमजोर माना जाता है । उक्त परिस्थिति संविधान के अनुच्छेद 14 से असंगत है के आधार पर EWS आरक्षण की अधिसूचना को चुनोउती दी गई है । ओबीसी एडवोकेट्स वेलफेयर एसोसिएशन द्वारा एक याचिका हाई कोर्ट के विरूद्ध दायर कर न्यायिक क्षेत्र सहित हाई कोर्ट द्वारा की जाने बाली समस्त भर्तीयो में 27% आरक्षण लागू करने तथा रिक्त पद शीघ्र प्रतियोगी परीक्षा आयोजित करने की राहत चाही गई है ।
उपरोक्त 11 याचिकाओ की सुनवाई एक साथ किए जाने का आदेश पूर्व में न्यायालय द्वारा दिया जा चुका है लेकिन शासन द्वारा अभी तक मात्र एक ही याचिका में जबाब दाखिल किया गया है शेष याचिकाओ में दाखिल करने हेतु समय लिया गया है । उपरोक्त समस्त याचिकाओ में पिछड़ा वर्ग संघठनो की ओर से इन्टरवींन रामेश्वर सिंह ठाकुर अधिवक्ता, विनायक साह तथा EWS एवं हाई कोर्ट के विरूद्ध याचिकाकर्ताओ की ओर से अधिवक्ता रामेश्वर सिंह ठाकुर पैरवी कर रहे है । उक्त समस्त प्रकारणों की अगली सुनवाई 28/01/2020 को होगी ।

आचार्य श्री से मंत्री जीतू पटवारी बोले, मप्र के सभी कालेजो में मूकमाटी का पाठ पढाया जाएगा

आचार्य श्री से मंत्री जीतू पटवारी बोले, मप्र के सभी कालेजो में मूकमाटी का पाठ पढाया जाएगा
इंदौर। इंदौर में विराजमान दिगम्बर जैन समाज के सबसे बड़े संत आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के दर्शन करने मप्र सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी पहुंचे उन्होंने गुरुदेव को श्रीफल समर्पित कर आशीर्वाद लिया।
आचार्य श्री के ज्येष्ठ शिष्य मुनि श्री सम्भव सागर जी महाराज  द्वारा मंत्री पटवारी को आचार्य श्री द्वारा लिखित मूकमाटी पुस्तक की जानकारी दी। और कहा कि इस पुस्तक को यदि सभी विश्व विद्यालय में पाठ्यक्रम में शामिल किया गया तो उससे छात्रों का भविष्य बहुत बेहतर होगा। इसके साथ इस पुस्तक को सभी कालेज की लायब्रेरी में भी अध्ययन के लिए रखा जाए। मंत्री श्री पटवारी ने आचार्य श्री के समक्ष कहा की मै इस मामले में शीघ्र ही अधिकारियों से चर्चा कर के इस पुस्तक को पाठ्यक्रम में शामिल करवाऊँगा। मंत्री पटवारी ने तत्काल से फ़ोन पर अधिकारियों को आदेशित भी किया की मूकमाटी पुस्तक को प्रदेश के सभी कालेज की लायब्रेरी में रखा जाए। प्रदेश सरकार अहिंसा के प्रचार में सतत प्रयासरत हैं
मंत्री पटवारी ने समाजजन को संबोधित करते हुए कहा की मप्र सरकार आचार्य श्री के मुख्य उद्देश्य अहिंसा के प्रचार में प्रयासरत है। महात्मा गांधी जी की तरह ही आचार्य श्री भी पूरे देश में अहिंसा के लिए काम कर रहे है। मेरी वर्षों से एक ही इच्छा थी कि मैं आचार्य श्री के दर्शन करूँ, आज जब मैने उनके दर्शन का लाभ लिया तो ऐसा अनुभव हुआ की अब जाकर मेरा जन्म सफल हो गया है।

पथरिया- करेली नई रेल लाईन की मंजूरी के लिए,पीएम को पत्र लिखा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने

पथरिया- करेली नई रेल लाईन की मंजूरी के लिए,पीएम को पत्र लिखा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने


सागर । पीएम नरेंद्र मोदी के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने पथरिया- करेली नई रेल लाईन की मंजूरी के लिए  पत्र लिखा है।
नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के पत्रानुसार  मेरे विधानसभा निर्वाचन क्षेत्ररहली जिला सागर सहित समुचाबुन्देलखण्ड क्षेत्र रेल मार्गविहीन क्षेत्र है। श्री हरिकांत मिश्रा एडव्होकेट रहली सहितसैकड़ों कार्यकर्ता एवं नागरिकों ने पत्र व्यवहार के माध्यमसे एवं सौजन्य भेट कर अवगत कराया है कि पयरिया सेकरेली वाया गढ़ाकोटा, रहली, देवरी, बरमान होते हये करेलीतक रेलवे मार्ग का सर्वे कराकर नवीन रेल मार्ग बनायेजाने की सर्वदलीय मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने मांग की है।
 उन्होंने लिखा कि बुन्देलखण्ड आजादी के बाद से ही पिछड़ेपन कादश झेल रहा है पूर्व में कांग्रेसी सरकारों के उपेक्षित रवैयेके कारण रेल मार्ग स्वीकृत ना होने से रोजगार के अभावमें बड़ी संख्या में लोग मजदूरी करने पलायन कर रहें है।कृषि समेत मौजूदा संसाधनों का दोहन नहीं हो पा रहा है।देश के अन्य हिस्सों की तुलना में बुन्देलखण्ड क्षेत्र पिछडाहै । बुन्देलखण्ड में ना केवल पर्यटन की अपार संभावनायेंहै बल्कि रोजगार के भी अवसर बनाये जा सकते है इसकेलिए जरूरी है कि बुन्देलखण्ड में अतिमहत्वपूर्ण कार्य रेलवेट्रैक बनाया जाये एवं पथरिया - करेली रेल संचालन कीअनुमित दी जाना अपेक्षित है। इससे दमोह, सागर एवंनरसिंहपुर जिला को रेल आवागमन सुविधा मिलेगी तथाबीना - कटनी रेलवे ट्रैक एवं इटारसी - जबलपुर - कटनीरेलवे ट्रैक आपस में जुड़ जायेगे और उक्त दोनों ट्रैकों केजुड़ जाने से वाया भोपाल होकर इटारसी जाने की दूरी २००कि.मी कम होगी।पूर्व में तत्कालीन रेल मंत्री श्री नीतेश कुमार जीने सागर प्रवास के दौरान पथरिया - करेली रेल मार्ग केसर्वे कार्य की सहर्ष स्वीकृती प्रदान की थी किन्तु आपकोबताते हुएं खेद है कि आज दिनांक तक सर्वे कार्य प्रारंभनहीं हुआ है।अतएव आप से विनम अनुरोध है कि सर्वदलीयमोर्चे की मांग को स्वीकार करते हुएं, पथरिया - करेली रेलमार्ग की स्वीकृती प्रदान कर अनुग्रहीत करे।

पथरिया- करेली नई रेल लाईन की मंजूरी के लिए,पीएम को पत्र लिखा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने

पथरिया- करेली नई रेल लाईन की मंजूरी के लिए,पीएम को पत्र लिखा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने

अनुरोध ज्ञापित है कि मेरे विधानसभा निर्वाचन क्षेत्ररहली जिला सागर सहित समुचाबुन्देलखण्ड क्षेत्र रेल मार्गविहीन क्षेत्र है। श्री हरिकांत मिश्रा एडव्होकेट रहली सहितसैकड़ों कार्यकर्ता एवं नागरिकों ने पत्र व्यवहार के माध्यमसे एवं सौजन्य भेट कर अवगत कराया है कि पयरिया सेकरेली वाया गढ़ाकोटा, रहली, देवरी, बरमान होते हये करेलीतक रेलवे मार्ग का सर्वे कराकर नवीन रेल मार्ग बनायेजाने की सर्वदलीय मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने मांग की है।
बुन्देलखण्ड आजादी के बाद से ही पिछड़ेपन कादश झेल रहा है पूर्व में कांग्रेसी सरकारों के उपेक्षित रवैयेके कारण रेल मार्ग स्वीकृत ना होने से रोजगार के अभावमें बड़ी संख्या में लोग मजदूरी करने पलायन कर रहें है।कृषि समेत मौजूदा संसाधनों का दोहन नहीं हो पा रहा है।
देश के अन्य हिस्सों की तुलना में बुन्देलखण्ड क्षेत्र पिछडाहै । बुन्देलखण्ड में ना केवल पर्यटन की अपार संभावनायेंहै बल्कि रोजगार के भी अवसर बनाये जा सकते है इसकेलिए जरूरी है कि बुन्देलखण्ड में अतिमहत्वपूर्ण कार्य रेलवे
ट्रैक बनाया जाये एवं पथरिया - करेली रेल संचालन कीअनुमित दी जाना अपेक्षित है। इससे दमोह, सागर एवंनरसिंहपुर जिला को रेल आवागमन सुविधा मिलेगी तथाबीना - कटनी रेलवे ट्रैक एवं इटारसी - जबलपुर - कटनी
रेलवे ट्रैक आपस में जुड़ जायेगे और उक्त दोनों ट्रैकों केजुड़ जाने से वाया भोपाल होकर इटारसी जाने की दूरी २००कि.मी कम होगी।
पूर्व में तत्कालीन रेल मंत्री श्री नीतेश कुमार जी
ने सागर प्रवास के दौरान पथरिया - करेली रेल मार्ग केसर्वे कार्य की सहर्ष स्वीकृती प्रदान की थी किन्तु आपकोबताते हुएं खेद है कि आज दिनांक तक सर्वे कार्य प्रारंभनहीं हुआ है।अतएव आप से विनम अनुरोध है कि सर्वदलीयमोर्चे की मांग को स्वीकार करते हुएं, पथरिया - करेली रेलमार्ग की स्वीकृती प्रदान कर अनुग्रहीत करे।



पुलिस लाइन मे शुरू हुआ जन सहयोग से पुस्तकालय

पुलिस लाइन मे शुरू हुआ जन सहयोग से पुस्तकालय
सागर।सागर  पुलिस लाईन में जनसहयोग से पुस्तकालय का शुभारंभ  को सागर रेंज के डीआईजी दीपक वर्मा, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, एडीशनल एसपी राजेश व्यास, एडीशनल एसपी विक्रम सिंह की मौजूदगी में किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एसपी अमित सांघी ने कहा कि पुलिस लाईन में जनसहयोग से पुस्तकालय की शुरूआत की गई है पुस्तकालय खुलने से पुलिस कर्मियों को यहां पर पढऩे के लिये काफी साहित्य उपलब्ध है। श्री सांघी ने कहा कि यदि पुलिस कर्मी पढऩे की आदत डालें तो बहुत हद तक उनका तनाव भी दूर हो सकता है। कार्यक्रम में उपस्थित अन्य वक्ताओं ने पुस्तकालय खोले जाने को अच्छी पहल बताया। कार्यक्रम में  जिले के कई एसडीओपी सहित थानों के प्रभारी और पुलिस स्टाफ मौजूद था। 
सिकरवार को विदाई 
इस दौरान आरई रंजीत सिंह सिकरवार को विदाई दी गई, गौरतलब है कि आरआई श्री सिकरवार का तबादला ग्वालियर हो गया है। कार्यक्रम में मौजूद सभी लोगों ने आरआई श्री सिकरवार की कार्यशैली की प्रशंसा की और उनको विदाई दी।

Archive