दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

शनिवार, 16 नवंबर 2019

सागर जिले के भाजपा के 34 मंडलों के अध्यक्ष निर्वाचित हुए । जिला निर्वाचन अधिकारी अरविंद भदौरिया ने सूची जारी की।

सागर जिले के भाजपा के 34 मंडलों के अध्यक्ष निर्वाचित हुए । जिला निर्वाचन अधिकारी अरविंद भदौरिया ने सूची जारी की।

सागर के अभियोजन कार्यो को सराहा गृहमन्त्री ने,अभियोजन अधिकारियो ने मुलाकात की

सागर के अभियोजन कार्यो को सराहा गृहमन्त्री ने,अभियोजन अधिकारियो ने मुलाकात की
सागर । प्रदेश के गृहमंत्री  बाला बच्चन के सागर आगमन पर जिला अभियोजन सागर के अधिकारियों ने उप संचालक (अभियोजन) अनिल कटारे के नेतृत्व में मंत्रीजी को पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया। मंत्री श्री बच्चन ने सभी अधिकारियों से परिचय प्राप्त किया। श्री कटारे ने इस अवसर पर मंत्रीजी का ध्यान न्यायालयों की तुलना में अभियोजन अधिकारियों की कम संख्या, बैठक व्यवस्था व अन्य आवश्यकताओं की ओर आकर्षित किया ।इस पर श्री बच्चन ने अभियोजन अधिकारियों के साथ अलग से बैठक कर अधिकारियों की समस्याओं को समझा व जरुरी आवश्यकताओं के बारें में शीघ्र ही आवश्यक दिशा निर्देश जारी करने का आश्वासन दिया। 
      मुलाकात के दौरान मीडियाकर्मीयों द्वारा सागर अभियोजन के कार्यों की प्रदेशभर में तारीफ संबंधी प्रश्न पूछे जाने पर श्री बच्चन ने कहा कि उन्हें भी सागर अभियोजन के अच्छे कार्यों की जानकारी है और वे इस संदर्भ में सागर अभियोजन के वरिष्ठ अधिकारियों से अलग से चर्चा करेंगे।
          इस अवसर पर डीपीओ राजीव रुसीया, अतिरिक्त डीपीओ शिव संजय, अभियोजन पी आर ओ अमित कुमार जैन, अभियोजन मीडिया प्रभारी सौरभ डिम्हा एवं जिले भर के अन्य अभियोजन अधिकारी उपस्थित थे।

पुलिस के पांच हजार आवास बनांने सरकार प्रतिबद्ध : गृहमन्त्री

पुलिस के पांच  हजार आवास  बनांने सरकार प्रतिबद्ध : गृहमन्त्री
सागर। सर्वहारा वर्ग का विकास करना ही सरकार का लक्ष्य है साथ ही पुलिस महकमे की समस्याओं का निराकरण करना सरकार का वचन है उक्त विचार मध्यप्रदेष पुलिस आवास एवं अधोसंरचना विकास निगम, भोपाल द्वारा 4 करोड़ 64 लाख की लागत से नवनिर्मित 40 आवास गृह थाना मकरोनिया परिसर का लोकार्पण समारोह में शनिवार को प्रदेष के गृह, जेल, तकनीकी षिक्षा, कौषल विकास एवं रोजगार, लोकसेवा प्रबंधन विभाग मंत्री बाला  बच्चन ने व्यक्त किए।  इस अवसर पर प्रदेष के राजस्व एवं परिवहन मंत्री  गोविन्द सिंह राजपूत, प्रदेष के कुटीर ग्रामोद्योग, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा विभाग, मंत्री  हर्ष यादव श्रीमती सुषीला रोहित, श्रीमती रेखा चौधरी, बण्डा विधायक  तरवर सिंह लोधी, पूर्वमंत्री सुरेन्द्र चौधरी, मोनी केशरवानी,सुरेंद्र सुहाने कमिष्नर  आनंद कुमार शर्मा, आईजी  सतीष कुमार सक्सेना सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारी एवं हाउसिंग बोर्ड के अधिकारी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा गणमान्य नागरिक मौजूद थे।  
       श्री बच्चन ने उप नगरीय क्षेत्र मकरोनिया थाना परिसर में मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मध्यप्रदेष पुलिस आवास एवं अधोसंरचना विकास निगम, भोपाल द्वारा नवनिर्मित 8 एवं 32 आवास गृहों का लोकार्पण करते हुए कहा कि आने वाले दिनों में पुलिस की जो भी समस्याएं होगी वह पूरी की जाएगी उन्हांेने महिला पुलिस कर्मियों के लिए यह आवास व्यवस्था मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि सरकार आने वाले समय में 5 हजार आवास पुलिस विभाग के लिए बनाने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ की अथक मेहनत और प्रयास से आपका विष्वास प्राप्त किया है।
कार्यक्रम में  नवकरणीय ऊर्ज मंत्री  हर्ष यादव ने कहा कि जब हम सब सोते है तब हमारे पुलिस भाई और बहनें प्रहरी बनकर हमारी रक्षा करते है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने साप्ताहिक अवकाष देकर देष में नये अध्याय की शुरूआत की है।  
कार्यक्रम में प्रदेष के राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत ने कहा कि हमारे पुलिसकर्मी रात-दिन कार्य करते है और दीपावली, होली, ईद जैसे महत्वपूर्ण त्यौहारों पर भी अपने परिवार से दूर रहकर आपकी सुरक्षा में लगे रहते है। उन्होंने कहा कि अयोध्या जैसे मामले में हमारे सागर सहित प्रदेष की पुलिस एवं सभी वर्गाें के लांेगों ने जो शांति का परिचय दिया वह इतिहास के पन्नों पर अंकित होगा। आईजी श्री सतीष कुमार सक्सेना ने स्वागत भाषण एवं प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन प्राध्यापक  पीएल प्रजापति ने किया।

नेताओं /अफसरो के साथ फोटो खिंचवाकर अवैध शराब,जुआ रेत खनन में लगे माफियो के खिलाफ सख्ती से निपटे पुलिस:गृहमंत्री बाला बच्चन

नेताओं /अफसरो के साथ फोटो खिंचवाकर अवैध शराब,जुआ रेत खनन में लगे माफियो के खिलाफ सख्ती से निपटे पुलिस:गृहमंत्री बाला बच्चन
सागर सम्भाग की पुलिस और जेल विभाग की समीक्षा की गृहमंत्री ने
सागर ।प्रदेश के गृह व जेल मन्त्री बाला बच्चन ने आज दोनो महकमो की सागर सम्भाग की समीक्षा की ।गृह व जेल मंत्री  बाला बच्चन ने कहा है कि जेलों में सुरक्षा के लिए आवश्यक सभी जरूरतों को प्रदेश सरकार द्वारा पूरा किया जाएगा। बंदियों को मूलभूत सुविधाएं देने तथा उनके लिए कौशल विकास के विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षण कार्यक्रमों के लगातार बेहतर ढंग से संचालन पर पूरा ध्यान दिया जाएगा।
      जेल मंत्री श्री बच्चन पुलिस कंट्रोल रूम में सागर संभाग के जेल अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में जेल अधीक्षक, उप जेल अधीक्षक आदि अधिकारी मौजूद थे।
जेलों की सुरक्षा इंतजाम बेहतर रखे
      जेल मंत्री श्री बच्चन ने कहा कि उन्हें जेलों में कार्यरत महिला कर्मचारियों की समस्याओं से अवगत कराया गया है। राज्य सरकार शीघ्र ही महिला कर्मियों की दिक्कतों को दूर कर समाधानकारी उपाय लागू करेगी। जेल मंत्री ने कहा जेलों में सुरक्षा इंतजामों को बेहतर रखा जाए। इसके लिए उन्होंने बाउंड्रीवाल, सुरक्षा उपकरणों की उपलब्धता, सीसी टीव्ही कैमरों के संबंध में जानकारी ली ।  जेल मंत्री ने कहा कि जेल में निरूद्ध बंदियों को विभिन्न ट्रेडों में व्यवहारिक प्रशिक्षण कार्यक्रम राज्य सरकार द्वारा संचालित करने के निर्देश दिये गये हैं ।  कौशल विकास कार्यक्रम में बंदियों को किसी व्यवसाय में या उन्हें किसी जॉब में स्थापित कराने तक प्रयास किया जाय ।
जेल मंत्री ने बंदियों को प्रदाय किये जाने वाले भोजन की गुणवत्ता को बेहतर रखने के निर्देश दिये ।  उन्होंने कहा कि इसके लिये राज्य सरकार द्वारा प्रदत्त वजट आबंटन में कमी नहीं होने दी जायेगी ।  सरकार भोजन व्यवस्था को बेहतर बनाने के अन्य उपायों पर विचार कर रही है ।  उन्होंने बंदियों के लिये चिकित्सालयों के संचालन, चिकित्सकों के पदों की पूर्ति, दवा की उपलब्धता तथा एम्बुलेंस की आवश्यकता की जानकारी ली ।  कहा कि आवश्यकतानुसार संभाग के लिए एम्बुलेंस प्रदान की जायेंगी ।  चिकित्सकों के रिक्त पदों की पद पूर्ति की जाएगी ।
 जुआ, सट्टा और अवैध शराब पर सख्ती से  निपटे,रेत के अवैध उत्खनन वाले माफियाओं पर पुलिस का डर और खौफ करें पैदा
        अच्छे, शांत मध्यप्रदेष के लिए जुआ, सट्टा और अवैध शराब पर सख्ती से करें कार्यवाही साथ ही रेत के अवैध उत्खनन करने वाले माफियाओं पर पुलिस का डर और खौफ इतना पैदा करें कि माफिया खदान की तरफ जाने का अपना मन भी न बना सकें उक्त निर्देष प्रदेष के गृह, जेल, तकनीकी षिक्षा, कौषल विकास एवं रोजगार, लोकसेवा प्रबंधन विभाग मंत्री  बाला बच्चन ने शनिवार को पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित पुलिस अधिकारियों की समीक्षा बैठक में संभाग के समस्त पुलिस अधिकारियों को दिए। इस अवसर पर आईजी  सतीष कुमार सक्सेना, दोनों रेंज के डीआईजी, जेएनपी के डीआईजी, एफएसएल के डायरेक्टर सहित संभाग के समस्त जिलों के पुलिस अधीक्षक और सहायक पुलिस अधीक्षक मौजूद थे।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी की दृढ़ इच्छा है कि प्रदेष में पदोन्नति का रास्ता सर्वदलीय बैठक में निकालकर पदोन्नति की जाएं और पदोन्नति होने पर पुलिस विभाग में बल की कमी की भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाए। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि आजकल कई माफिया राजनेता, अधिकारियों के साथ फोटो खिंचवा कर जुआ सट्टा, अवैध शराब बिक्री और अवैध रेत उत्खनन का कार्य कर रहे है। इन पर सख्ती से कार्यवाही करंे। पूरी सरकार आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है। उन्होंने कहा कि अपराधियों और माफियाओं पर पुलिस का डर और खौफ होना चाहिए जिससे वो गलत कार्य न कर सकें। उन्होंने हाईवे पर हो रही प्रतिदिन दुर्घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इसके लिए जागरूकता के साथ-साथ सड़क सुरक्षा समिति बैठक में समिति के सदस्यों को गंभीरता से विचार कर जागरूकता फैलाने के लिए कार्य करने होंगे। प्रदेष में गौवंष मांस पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने हेतु पुलिस के लिए अलग से कानून बनाने की प्रक्रिया केबिनेट में लाई जाएगी जिससे वो राजस्व अमले के साथ अपनी कार्यवाही भी कर सकें। उन्होंने सागर एसपी  अमित सांघी की निगरानी सुधा बदमाषों की माह को प्रथम सोमवार को थानों में उपस्थिति कराने की कार्यवाही की प्रषंसा करते हुए कहा कि इस प्रकार का कार्य संभाग के सभी जिलों में किया जाए।
जेएनपीए के डीआईजी  जीजनार्दन ने अकादमी से संबंधित समस्याओं और विकास पर विस्तार से चर्चा की। एफएसएल के डायरेक्टर श्री हर्ष शर्मा ने डीएनए टेस्ट की जांच मामले की स्थिति एवं  प्रयोगषाला में हास्टल बनाने एवं भवन मरम्मत के साथ कर्मचारियों के लिए आवास हेतु प्रस्ताव रखे।

चैन पुलिंग और चलती ट्रेनमे सेल्फी को रोकने RPF ने चलाया जागरूकता अभियान

चैन पुलिंग  और चलती ट्रेनमे सेल्फी को रोकने RPF ने चलाया जागरूकता अभियान
सागर । ट्रेन में चेन पुलिंग रोकने और चलती ट्रेन में सेल्फी से होने वाले खतरों और नुकसान को लेकर रेलवे पुलिस फ़ोर्स RPF ने अभियान चला है। इसके तहत सागर जिले के बीना रेलवे जंक्शन पर यात्रियों को जागरूक किया गया ।
       एसीपी की रोकथाम हेतु चलाए जा रहे अभियान के तहत बीना स्टेशन पर रैली निकालकर यात्रियों को एसीपी ना करने के लिए जागरूक  करते हुए बताया गया कि एसीपी होने से यात्री गाड़ियों की समय  बाध्यता प्रभावित होती है जिससे रेल  कर्मचारियों को अतिरिक्त काम करना पड़ता है जिससे रेल प्रशासन को राजस्व का नुकसान होता है तथा ट्रेन के लेट होने से ट्रेन में सफर कर रहे यात्री अपने गंतव्य पर देरी से पहुंचते हैं ।जिससे उनके महत्वपूर्ण एवं आवश्यक कार्य समय  नहीं हो पाते जिसका दुष्परिणाम यात्रियों को ही भोगना पड़ता है इसलिए सभी यात्रियों से अनुरोध है कि वह यात्रा के दौरान अनावश्यक चैन ना खींचे किसी भी आपात स्थिति में हेल्पलाइन नंबर 182 का उपयोग करें यदि आप अनाधिकृत चयन खींचते पकड़े जाते हैं तो आपको ₹500 का जुर्माना या 3 माह की कैद या दोनों हो सकते हैं  अनावश्यक चैन ना खींचे ट्रेन  की समय बदलता की गंभीरता को समझें  आप सभी से विनम्र निवेदन है की अपने सगे संबंधियों मित्रों साथियों परिजनों को समझाएं कि वह यात्रा प्रारंभ करने से पहले समय पर स्टेशन पहुंचे और सुख में तरीके से यात्रा करें तथा यात्रा के दौरान अनावश्यक चैन ना खींचे ।इससे  उस ट्रेन में यात्रा कर रहे यात्रियों के  कार्य ही प्रभावित होते हैं अतः आप सभी से पुणे निवेदन है की यात्रा के दौरान अनावश्यक एसीपी ना करें। किसी भी प्रकार की समस्या होने पर इसकी सूचना रेलवे कर्मचारी आरपीएफ जीआरपी को दें या हेल्पलाइन नंबर 182 पर कॉल कर सहायता मांगे

गृहमंत्री के सामने थानेदार को हटाने की मांग , तख्तियां लेकर नारेबाजी करते हुए पहुचे कांग्रेसी

गृहमंत्री के सामने थानेदार को हटाने की मांग , तख्तियां लेकर  नारेबाजी करते हुए पहुचे कांग्रेसी

#इस मौके पर एक और नवकरणीय ऊर्जामंत्री हर्ष यादव भी थेमौजूद
#अनेक नेताओ ने की मुलाकात,दिए सुझाव

सागर । प्रदेश में कमलनाथ सरकार बनने के बाद सागर जिलेमें थानेदार को हटाने  कांग्रेसी  खुलकर नज़र आते है । नई सरकार में यही देखने मिल रहा है । इसका एक नजारा गृह मंत्री बाला बच्चन तक के सामने देखने मिला । गृहमंत्री बाला बच्चन सागर सभाग की कानून ववयथा की समीक्षा करने सागर पहुचे थे।
 गृहमंत्री बाला बच्चन सर्किट हाउस  के परिसर में कांग्रेसजनों से मुलाकात कर रहे थे। उनके साथ प्रदेश के नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हर्ष यादव भी थे।
      इसी दौरान युवक काँग्रेस अध्य्क्ष संजय यादव के नेतृत्व में कई कांग्रेसजन सागर के कोतवाली थाना प्रभारी को हटाने की मांग को लेकर वहां पहुचे। उनके  हाथों में थाना प्रभारी हटाओ के नारे लिखी तख्तियां भी था। इस दौरान थानेदार के खिलाफ नारेबाजी भी करते रहे। फिर एक ज्ञापन भी गृहमन्त्री को इस सम्बंध में दिया। इस प्रदर्शन को लेकर भी कई तरह की चर्चाएं रही।
जिले की कानून व्यवस्था और अन्य मुद्दों को लेकर मिले कांग्रेसी
गृहमन्त्रीऔर तकनीकी शिक्षा मन्त्री बाला बच्चन से मिलने आज भारी संख्या जिले से नेता और जनप्रतिनिधि पहुचे । लोगो ने कानून व्यवस्था के अलावा तकनीकी शिक्षा से जुड़ी समस्याओं के बारे में भी  चर्चा की ।
प्रदेश के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चोधरी ने बताया कि जिले में  पुलिस अकादमी और पुलिस व्यवस्था से जुड़े संस्थानों के विस्तार पर,आईटीआई,पालीटेक्निक कालेज,अभियोजन शाखा,गुप्त एजेंसियों पर बातचीत की । इसके साथ ही संघ और भाजपा के प्रसासन में हस्तक्षेप को लेकर भी चर्चाएं हुई है । पूर्व विधायक अरुणोदय चोबे ने अपने क्षेत्र खुरई के अलावा जिले के मामलों पर सुझाव दिए। कांग्रेसियों ने अपने ऊपर दर्ज राजनीतिक मामलों की वापसी की बात भी रखी। उधर बसपा नेताओ ने दो अप्रैल को दर्ज मामलों के वापसी का ज्ञापन दिया। रहली से पराजित विधानसभा प्रत्याशी कमलेश साहू ने अपने और परिजनों पर झूठे मामले दर्ज किए जाने बात कही। कई नेता शिकवा शिकायते भी करते दिखे।
ये नेता थे मौजूद
शहर अध्यक्ष रेखा चोधरी,श्याम सराफ, त्रिलोकी कटारे,मधु सिलाकारी,जितेंद्र चाक्ला ,पप्पू गुप्ता,सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे,सुरेंद्र सुहाने, पप्पू फुसकेले,रामकुमार  पचौरी,पंकज सिंघई,सुरेंद्र चोबे,कमलेश साहू,महेश तिवारी, संदीप सबलोक,राहुल खरे,महेश जाटव ,चक्रेश सिंघई आदि शामिल है।

व्यापम मामले और हनी ट्रेप के दोषियों को बख्शा नही जाएगा,सागर सभाग में अपराधों में गिरावट :गृहमन्त्री बाल बच्चन

व्यापम मामले और हनी ट्रेप के दोषियों को बख्शा नही जाएगा,सागर सभाग में अपराधों में गिरावट :गृहमन्त्री बाल बच्चन

#सागर में पुलिस अकादमी और अन्य संस्थानोको मजबूत बनाएंगे

सागर । प्रदेश के गृहमन्त्री और तकनीकी शिक्षा मंत्री बाला बच्चन ने कहा है कि व्यापम मामले और हनी ट्रेप कांड की जांच जारी है । इनके दोषियों को बख्शा नही जाएगा। इनको लेकर बैठककर जल्दी ही मीडिया को अवगत कराया जाएगा।
       गृहमन्त्री ने आज सागर झोन कीकानून व्यवस्था की समीक्षा के बाद मीडिया से चर्चा में कहा कि कमलनाथ सरकार ने प्रदेश में पुलिस का बजट बढाया है ।कानून व्यवस्था को लेकर  वचन पत्र में दिए कार्यो को पूरा कराया जा रहा है । सागर सम्भाग में अपराधों में गिरावट आई है । पूरे प्रदेश में झोन स्तर पर पुलिस और जेल विभाग की आठ बिन्दुओ पर समीक्षा की जा रही है । सागर संभाग में थानों ,चौकियों और आवास आदि अधोसरंचना के लिए 136 करोड़ रुपये का बजट मंजूर है । जिसके तहत कार्य कराए जा रहे है।उन्होंने सागर झोन की कानून व्यवस्था पर संतोष जताया।
    उन्होंने कहा कि  समीक्षा में कानून व्यवस्था की स्थिति,लंबित मामलों,महिला और अजा वर्ग के अपराधों, किसान आंदोलन के मामलों और अधोसरंचना आदि की समीक्षा की जा रही है । वही जेल विभाग में कैदियों का अनुपात,संसाधनों,सुरक्षा ,सुधारात्मक कार्यो और सुविधाओं आदि की समीक्ष हो रही है। उन्होंने कहा कि जहां भी कमी देखी जा रही है  वहा पर कसावट लाई जा रही है।पुलिस कर्मियों के साप्ताहिक अवकाश के लिए विभाग प्रतिबद्ध है । प्रदेश में अच्छे कार्य करने वालो को  रोल मॉडल बनाया जा  रहा है । 70 थानों में महिला हेल्प डेस्क बनाने के साथ ही महिला पुलिस बल   थानों में मुहैया कराया जा रहा है।
सागर पुलिस अकादमी/fsl को अधिक सक्षम बनाएंगे
गृहमंत्री बाला बच्चन ने सागर से पुलिस अकादमी और FSL लेब को स्थानांतरित करने के सवाल पर कहा कि सागर की हित में जो भी निर्णय होगा ।उसका ध्यान रखा जाएगा। अभी तक जो भी निर्णय हुए है । वह पुरानी भाजपा सरकार ने किए थे। सागर में  पुलिस अकादमी  और अन्य संस्थानों को अधिक मजबूत बनाया जाएगा। जो पहले हो गया अब नही होगा।
पत्रकारों की सुरक्षा पर कहा कि पत्रकार सरकार के अंग है । उनका पूरा ध्यान रखा जाएगा। पत्रकार सुरक्षा कानून पर सरकार काम कर रही है। इसको लेकर मुख्यमंत्री गंभीर है।

तीन दिवसीय नाट्य उत्सव 18 नवम्बर से

तीन दिवसीय नाट्य उत्सव 18 नवम्बर से
सागर ।तीन दिवसीय नाट्य उत्सव का आयोजन रोहन मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी और दिव्य रंग एकता वेलफेयर फाउंडेशन के सयुंक्त तत्वाधान में किया जा रहा है ।
      इसके आयोजक नगरीय प्रशासन से सेवानिवृत्त ईई  एमएल तिवारी, मुंबई में डायरेक्टर संतोष तिवारी मुंबई से आईं अभिनेत्री और सिंगर सोहनी नियोगी ने आज मीडिया को बताया किउत्सव की तैयारी दिव्य रंग एकता के कलाकारों द्वारा 1 महीने से की जा रही है। इस नाट्य उत्सव में 18 तारीख को 1 घण्टे की भजन संध्या एवं बुड्डा सठिया गया है जो कि अनुभूति थिएटर ग्रुप मुंबई द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा। 19 तारीख को दिव्य रंग एकता वेलफेयर फाउंडेशन के द्वारा नाटक नहा ले रे भाई की प्रस्तुति होगी। 20 तारीख को नव नृत्य नाट्य संस्था द्वारा नाटक परसाई उवाच का मंचन किया जाएगा।
       ये तीन दिवसीय नाट्य उत्सव रोहन तिवारी की स्मृति में आयोजित किया जा रहा है। दिव्य रंग एकता वेलफेयर फाउंडेशन एवं रोहन मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी के सभी सदस्यों ने सागर के अभी दर्शकों से अपील की है कि इस 3 दिवसीय नाट्य उत्सव में पधार कर तीनों नाटकों का आनंद अवश्य लीजिये।इस नाट्य उत्सव में दर्शकों का प्रवेश निःशुल्क होगा।

स्पिक मैके सागर: अंतरराष्ट्रीय कलाकार डॉ अलंकार सिंह द्वारा "गुरवाणी" की प्रस्तुति

स्पिक मैके सागर: अंतरराष्ट्रीय कलाकार डॉ अलंकार सिंह द्वारा "गुरवाणी" की प्रस्तुति

सागर।श्री गुरुनानक जयंती के 550 वे प्रकाश पर्व पर  डॉ सर हरि सिंह गौर विश्वविद्यालय स्वर्ण जयंती हाल में प्रसिद्ध कलाकार डॉ अलंकार सिंह द्वारा  गुरवाणी  की आकर्षक प्रस्तुति दी गई। डॉ सिंह गुरवाणी में डाक्टरेट है। और कई देशों में प्रस्तुति दे चुके है।
 विश्वविद्यालय में डॉ अलंकार सिंह द्वारा "कल तारन गुरु नानक आया,,से शुरुआत की गई " उसके बाद एक से एक प्रस्तुतियां से उनने सबको सम्मोहित कर दिया।
      इस मौके पर डॉ अलंकार सिंका स्वागत विवि के अधिकारियों, स्पिक मैके की संरक्षक मीना पिम्पलापुरे गुरूसिंघ  सभा सागर और स्पिक मैके के अरशद नदीम वीनू राणा,शैलेंद्र ठाकुर,अजय दुबे,संजय सोनी,ब्रजेश दुबे,अमित आठ्या,राहुल पाठक के किया।
    नोबल पब्लिक स्कूल देवरी में भी मनमोहक गुरवाणी की प्रस्तुति दी गयी। उनका स्वागत डायरेक्टर अवनीश देवलिया ने किया।कार्यक्रम संचालन राकेश सोनी,शैलेंद्र ठाकुर के किया

शुक्रवार, 15 नवंबर 2019

म्यूनिसिपल स्कूल मर्जर को लेकर बैठक का बहिष्कार,नगर निगम परिषद की बैठक में जमकर हंगामा साँसद बने निगमाध्यक्ष राजबहादुर के सामने जमीन पर बैठकर विरोध जताया पार्षदों

म्यूनिसिपल स्कूल मर्जर को लेकर बैठक का बहिष्कार,नगर निगम परिषद की बैठक में जमकर हंगामा
#साँसद बने  निगमाध्यक्ष राजबहादुर के सामने  जमीन पर बैठकर विरोध जताया पार्षदों 
#निगम परिषद सम्मेलन को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त किया,कुल्हड़ में चाय ,तांबे के जग और कांच के गिलास 
सागर।नगर निगम परिषद की साधारण सभा के बैठक हंगामेदार रही। यातायात समस्या को देखते हुए ऐतिहासिक म्यूनिसिपल स्कूल के पद्माकर स्कूल में मर्जर को लेकर  भाजपा और कांग्रेस पार्षदों के बीच जमकर बहस हुई। जिसमें परिषद ने सर्वसम्मति से इसे पारित कर दिया तो कांग्रेस पार्षदों ने बैठक का बहिष्कार कर दिया ।सात माह बाद हुई परिषद की इस बैठक में सदस्यों ने एडीबी के सहयोग से 24&7 पेयजल आपूर्ति के लिए डाली जा रही पाईप लाईन कार्य पर असंतुष्टि जताई.
सांसद बनने के बाद निगमाध्यक्ष राजबहादुर सिंह का स्वागत
     निगम परिषद की साधारण सभा की बैठक आज निगम सभाकक्ष में हुई.बैठक में आज विधायक शैलेंद्र जैन  ने पूरे समय अपनी उपस्थिति दर्ज कराई ।बैठक की शुरूवात में सभी सदस्यों ने अध्यक्ष राजबहादुर सिंह को सांसद निर्वाचित होने पर शुभकामनायें दी । उन्होंने पूर्व महापौर कमला बुआ के निधन के चलते इसेमना कर दिया।कई मामलों में महापौर अभय दरे और निगमायुक्त आर पर अहिरवार ने  जवाव  दिये।
      बैठक में सडक़ सुरक्षा समिति में लिए निर्णय के तहत म्यूनिसिपल  स्कूल को पद्माकर स्कूल में मर्ज किए जाने का विषय आने पर कांग्रेस पार्षदों विंनोद सोनी ,किरण मिश्रा,महेश जाटव आदि ने इसका विरोध किया, जिस पर महापौर अभय दरे ने कहा कि कांग्रेस के दोनों जिलाध्यक्षों की मौजूदगी में ही सडक़ सुरक्षा समिति में यह निर्णय हुआ था. करीब 20 मिनिट तक इस मुद्दे पर दोनों ओर से जमकर बहस और शोर शराबा हुआ इस दौरान कई सदस्य अध्यक्ष की आसंदी के सामने भी नारेबाजी करने लगे. अंतत: पार्षदों के बहुमत के चलते परिषद में भाजपा ने यह निर्णय पारित करा लिया. निर्णय पारित होने की घोषणा के साथ ही कांग्रेस पार्षदों ने बैठक का बहिष्कार कर दिया. लंबे समय बाद हुई परिषद की इस बैठक के शुरूवाती दौर में राजघाट बांध की ऊंचाई का विषय आने पर जल संसाधन विभाग से आये एसडीओ अनिरूद्ध आनंद ने इस बारे में विस्तार से जानकारी दी. इस पर चर्चा के दौरान विधायक श्री जैन ने कहा कि कार्य सिचाई विभाग करा रहा है और फंडिग भी उसी की है, इसलिए यह सुनिश्चित कर ले कि परियोजना से सिचाई नहीं होगी. यह केवल शहर के पेयजल की योजना है. जिस पर आयुक्त आरपी अहिरवार एवं श्री आनंद ने आश्वस्त किया कि इस बारे में डीपीआर में ही स्पष्ट निर्देश है.
शीतला माता मंदिर में पाईप लाईन बदलने के बाद ही कंपनी करेगी शहर में आगे कार्य
परिषद की बैठक में एडीबी के सहयोग से 24&7 पेयजल आपूर्ति के लिए निगम क्षेत्र में टाटा कंसलटेंसी द्वारा डाली जा रही पाईप लाईन के विषय पर महापौर अभय दरे, विधायक शैलेंद्र जैन सहित परिषद के सभी सदस्यों ने एजेंसी के द्वारा किए जा रहे कार्य पर जमकर असंतोष जताया. विधायक श्री जैन ने कहा कि शीतला माता मंदिर क्षेत्र में एजेंसी द्वारा पाईप लाईन न डाले जाने के कारण मोतीनगर चौराहे से धर्मश्री की सडक़ का कार्य अधूरा है. जलकार्य समिति सभापति नरेश यादव ने कंपनी ने बिना निगम परिषद और सदस्यों की सहमति के ही कार्य शुरू कर दिया जो नियम विरूद्ध है अगर इसकी परिषद से एनओसी मिली है तो वह धोखे में रखकर जारी की गई है. उन्होंने शास्त्री वार्ड में कंपनी कर्मियों द्वारा कार्य के दौरान नागरिकों से बदसलूकी की बात उठाते हुए कहा कि जिस दिन हम जूूता उठा लेंगे तो कंपनी काम नहीं कर पायेगी. महापौर ने भी कंपनी के मनमर्जी से किए जा रहे कार्य पर असंतोष जताया. इस दौरान कार्य का देखरेख करने वाली अरवन डेवलपमेंट कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर बीके श्रीवास्तव ने इस पर अपने स्पष्टीकरण दिए. अंतत: निर्णय लिया गया कि जब तक एजेंसी शीतला माता मंदिर की पाईप लाईन नहीं बदलती और पूरे कार्य के बारे में परिषद के सामने प्रेजेंटशन नहीं देती तब तक एजेंसी शहर में आगे पाईप लाईन का कार्य नहीं करेगी.
मर्जर पर महापौर बोले कांग्रेस अध्यक्ष हीरा सिंहका प्रस्ताव था
 महापौर इंजी.अभय दरे परिषद को जानकारी दी कि सड़क सुरक्षा समिति की बैठक मंे जिला प्रशासन के साथ सांसद, विधायक, मैं एवं कांग्रेस के जिलाध्यक्ष श्री हीरासिंह राजपूत सहित शहर के गणमान्य नागरिक उपस्थित थे, जिसमें विषय आया था कि कटरा क्षेत्र की ट्रेफिक यातायात व्यवस्था के लिये 10 से 15 हजार वर्गफुट जगह पार्किंग के लिये होना चाहिये। इस संबंध में कांग्रेस जिलाध्यक्ष  हीरासिंह राजपूत ने प्रस्ताव रखा कि पं.मोतीलाल स्कूल के ग्राउण्ड में अस्थायी रूप से पार्किंग बना सकते है।महापौर ने बताया कि हम स्कूल की एक भी ईंट नहीं निकाल रहे है, उसको हम तोड़ेगे भी नहीं स्कूल के छात्र बहुत ही कम है एवं रात में स्कूल प्रागंण में असामाजिक तत्व एकत्रित होते है इसलिये एम.आई.सी.में निर्णय लिया कि पं.मोतीलाल स्कूल को पदमाकर स्कूल में शिफ्ट करके पं.मोतीलाल स्कूल टाऊन हाल के रूप में विकसित करंेग वहाॅ पर सांस्कृतिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिये कार्यक्रम आयोजित किये जायेगे 
मकरोनिया को जलापूर्ति पर भाजपा पार्षद की आपत्ति
        नगर निगम परिषद की साधारण सभा की आज हुई बैठक के दौरान राजघाट बांध की ऊंचाई बढ़ाने का विषय आया तो चर्चा में इस दौरान मकरोनिया नपा क्षेत्र में राजघाट से आपूर्ति को लेकर भाजपा पार्षद एवं जलकार्य सभापति नरेश यादव ने आपत्ति दर्ज कराई ।दरआसल जल संसाधन विभाग के एसडीओ द्वारा इसे लेकर पूरी बात रखी गई थी जिसमें मकरोनिया को आपूर्ति के लिए डुगडुगी पहाड़ी पर एक ओर टैंक बनाया जा रहा है. श्री यादव की आपत्ति पर एसडीओ अनिरूद्ध आनंद ने बताया कि डीपीआर में निर्देश है कि निगम परिषद मकरोनिया नपा को बल्क में जलापूर्ति करेगा इसके लिए जितना पानी निगम मकरोनिया को देगा उसका शुल्क वसूल करेगा और शुल्क तय करने के लिए दोनों निकाय आपस में बैठक कर सकते है.
ये रहे मौजूद पार्षद
कार्यवाही के दौरान श् नरेश यादव, किरण मिश्रा, जिनेश साहू, पंकज सोनी, नीरज जैन गोलू, रष्मि जैन, कल्पना पटैल, याकृति जड़िया, श्वेता यादव, संध्या चक्रेष सिंघई, विनोद सोनी, डेलनसिंह, चेतराम अहिरवार, राजेष केषरवानी, परषौत्तम विश्वकर्मा, पुष्पा पटैल, विनोद तिवारी, सीताराम पचकोड़ी, श्रीमति षारदा कोरी सहित अन्य पार्षदों ने भी चर्चा में भाग लिया।
बैठक में नो पालीथिन, कुल्हड़ में चाय
:नगर निगम परिषद के साधारण सम्मेलन में इस बार मिट्टी के कुल्लड़ में चाय वितरित की गई इसके साथ ही तांबे के जग एवं कांच के गिलास में सभी पार्षदों को पीने के पानी की व्यवस्था निगमायुक्त श्री आर.पी.अहिरवार द्वारा करायी गई। निगमायुक्त ने बताया कि नगर निगम के हमारी नगर सरकार है, और वर्तमान में स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 प्रांरभ है जिसके तहत् सिंगल यूज प्लास्टिक को मुक्त करने एवं शहर को स्वच्छ करने के लिये नगर निगम द्वारा युध्द स्तर पर कार्य किया जा रहा है।

प्रेम व भक्ति के बिना ज्ञान व्यर्थ है:श्री राजेन्द्रदास जी महाराज

प्रेम व भक्ति के बिना ज्ञान व्यर्थ है:श्री राजेन्द्रदास जी महाराज
आयोजन के दूसरे दिन शंकराचार्य सहित अनेक संतो का हुआ आगमन
सागर । श्रीमद् भागवत सप्ताह के दूसरे दिन शुक्रवार को श्री बाला जी मंदिर परिसर में स्वामी राजेन्द्रदास जी महाराज ने प्रेम और भक्ति को ज्ञान से श्रेष्ठ बताया। उन्होंने कहा कि भगवान के अवतार का उद्देश्य ज्ञानियों के हृदय में प्रेम और भक्ति की स्थापना करना है। प्रेम और भक्ति बिना ज्ञान व्यर्थ होता है।
         कथा स्थल पर कोल्हापुर से करपीर पीठाधीश्वर शंकराचार्य सहित देश के कई प्रांतो से अनेक संत पहुंचे। स्वामी जी ने कहा कि सर्व समर्थ भगवान ज्ञानियों को उतनी सुविधापूर्वक प्राप्त नहीं होते, देहवासियों, तपस्वी, कर्मकांडियों और योगियों को भी सुलभ नहीं लेकिन प्रेमी भक्तों को भगवान सदा ही सुलभ होते है। ज्ञानियों के भगवान माखनचोरी नहीं करते किंतु भक्तों के भगवान उखल से भी बंध जाते है। भक्ति साक्षात स्वामिनी है, राधा-सीता है। मुक्तात्मा भी भक्ति पाने लालायित है। भक्त के हृदय में मोक्ष की कामना भी नहीं रहती है। संत एकनाथ का स्मरण करते हुये स्वामी जी ने कहा कि वे कहते थे बिना प्रेम और भक्ति के ज्ञान हमें नहीं चाहिये। ऐसा ज्ञान अभियान उत्पन्न करता है। जैसे विधवा का श्रृंगार व्यर्थ होता है, वैसे ही प्रेम और भक्ति के बिना ज्ञान व्यर्थ है। स्वामी जी ने कहा अनुभवजन्य ज्ञान ही अज्ञान और अविद्या का निवारक होता है। पहाड़ी बाबा की कथा सुनाते हुये उन्होंने बताया कि मृत्यु का सतत स्मरण ही भजन है। कलयुगी मनुष्य चार दोषों से युक्त है। यह दोष जीव का कल्याण नहीं होने देते ये दोष है आलस्य, सुमंदमति, मंद भाग्या और सांसारिक उपद्रव। उन्होंने कहा कि जिस भक्ति में कामना होगी वह दीर्घ कालिक भक्ति नहीं होगी। इसलिये निष्काम भक्ति हो, उसमें मोक्ष की भी कामना नहीं होना चाहिये। इसका आशय यह भी नहीं कि भक्त मुक्त नहीं होता। वास्तविक मुक्ति तो भक्त को ही प्राप्त होती है। कथा के पूर्व शंकराचार्य जी, डाॅ. रामाधार उपाध्याय और रसिया बाबा जी महाराज ने अपने विचार रखे।
भागवत कथा की अध्यक्षता किशोरदास देव जू महाराज ने की ।
ये संत हुए शामिल समागम में
जिनमें प्रमुख रूप से जगत्गुरू शंकराचार्य स्वामी विद्यानृसिंह भारती जी महाराज, स्वामी प्रज्ञानंद जी महाराज जगन्नाथपुरी, श्री महामंडलेश्वर श्री रामप्रवेश दास जी, श्री स्वामी मदनमोहनदास जी, श्री अशोक नारायण दास जी, श्री रसिया बाबा जी, श्री दादा जी धूमि वाले छोटे सरकार, श्री दीन बंधु दास जी, श्री गंगा दास जी, श्री शिवराम दास जी, श्री राघवेन्द्र दास जी, श्री जगन्नाथ दास जी, श्री अर्जुन दास जी, श्री धनंजय दास जी आदि भागवत कथा में उपस्थित रहे।
जनप्रतिनिधियों ने लिया आशीर्वाद
आज भागवत कथा के दूसरे दिन म.प्र. के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव एवं  राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने भागवत कथा मेें पहुंचकर मुख्य यजमान के रूप में आरती की भागवत कथा में बड़ी संख्या में संतो के साथ हजारों की संख्या में धर्मप्रेमी बंधु एवं कमेटी के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

एमपी में16 उप पुलिस अघीक्षक स्तर के अधिकारियों के तबादले

एमपी में16 उप पुलिस अघीक्षक स्तर के अधिकारियों के तबादले

नेचर एण्ड नेचर एग्रीटेक कीटनाशक औषधि फैक्टरी का निरीक्षण, गड़बड़िया मिली,मामला दर्ज

नेचर एण्ड नेचर एग्रीटेक कीटनाशक औषधि फैक्टरी का निरीक्षण, गड़बड़िया मिली,मामला दर्ज
सागर । मध्यप्रदेश शासन के ''शुद्ध के लिये युद्ध'' अभियान अन्तर्गत 14 नबम्वर को उपसंचालक कृषि के निर्देशानुसार जिलास्तरीय गुण नियंत्रण टीम द्वारा नेचर एण्ड नेचर एग्रीटेक ए.के.व्ही.एन. इन्डस्ट्रीज एरिया सिंदगुवॉ स्थित फेक्टरी पर श्री जितेन्द्र सिंह राजपूत सहायक संचालक कृषि (जिला स्तरीय निरीक्षण दल प्रभारी) श्री अनिल राय अनुविभागीय कृषि अधिकारी सागर श्री कुलदीप सिंह ठाकुर नायब तहसीलदार सागर, श्री एस.के.जैन वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी सागर श्री भूपेन्द्र सिंह राजपूत तकनीकी सहायक कार्यालयीन, श्री पी.एन.चतुर्वेदी एवं श्री आर.के.जैन ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी एवं बहेरिया थाने के पुलिसबल के साथ उक्त फर्म पर आकस्मिक निरीक्षण किया।

 जिसमें कीटनाशक औषधि फेक्टरी में मिश्रित उर्वरक 12ः32ः06 का उत्पादन बिना उर्वरक लाइसेंस के कुल 192 बोरी अलग अलग पैकिंग में पायी गयी। प्रथम द्दष्टतया के आधार पर उक्त मिश्रित उर्वरक निर्माण किया जा रहा था। जिसका निरीक्षण दल द्वारा सेम्पल लिया जाकर जॉच हेतु प्रयोगशाला भेजा गया। साथ ही उपलब्ध मिश्रित उर्वरक की जब्ती बनाकर संबंधित को पंचनामा सहित सुपुर्द किया। इसी के साथ फेक्टरी परिसर के हाल में मिश्रित उर्वरक की लगभग 500 खाली बोरी पायी गयी। इसके साथ हाल में ग्रेन्यूल मिश्रित मशीन भी पायी गयी। चूकि प्रथम द्दष्टतया अवैध उर्वरक निर्माण, भण्डारण एवं विक्रय के आधार पर उर्वरक अधिनियम के प्रावधानुसार संबंधित फर्म के प्रोपाइटर श्री असरफ हुसैन के विरूद्व बहेरिया थाना में प्राथमिकी सूचना (एफ.आई.आर.) दर्ज करायी गयी।         

गढाकोटा हायर सेकेंडरी स्कूल की प्राचार्य अरुणा शास्त्री निलंबित,छात्राओं के आंदोलन का मामला

गढाकोटा हायर सेकेंडरी स्कूल की प्राचार्य अरुणा शास्त्री निलंबित,छात्राओं के आंदोलन का मामला
सागर । कमिशनर   आनंद कुमार शर्मा ने श्रीमती अरूणा शास्त्री, प्राचार्य शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गढ़ाकोटा जिला सागर को अपने कर्तव्यीय दायित्व में लापरवाही करने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। प्राचार्य शास्त्री स्कूल की छात्राओं को प्रदर्शन से रोकने में लापर वाह रही थी। स्कूल के एक शिक्षक के खिलाफ छात्रा से  छेड़छाड़ का मामला दर्ज हुआ था। शिक्षक के पक्ष में ये लड़कियां आंदोलन पर थी। इसमे पिछले दिनों पीड़ित छात्रा के पितां ने आत्महत्या कर ली थी।

     अधिकृत जानकारी अनुसार कलेक्टर जिला सागर के प्रस्ताव 30 अक्टूबर से अवगत कराया गया था कि श्रीमती अरूणा शास्त्री, प्राचार्य शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गढ़ाकोटा जिला सागर के विरूद्ध संस्था की छात्राओं द्वारा तहसीलदार गढ़ाकोटा को षिकायत प्रस्तुत की गई थी। 5 अक्टूबर 2019 को संस्था की छात्राओं द्वारा अनुविभागीय अधिकारी रहली को ज्ञापन प्रस्तुत करने हेतु छात्राएं पूर्ण तैयारी में थी जिन्हें स्थानीय प्राचार्य एवं अन्य षिक्षकों के द्वारा रोका गया। उक्त षिकायत की जांच के दौरान पाया गया कि प्राचार्य एवं संस्था के 5 षिक्षक अनुपस्थित थे। जांचकर्ता द्वारा मोबाईल पर संपर्क किए जाने पर प्राचार्य का मोबाईल बंद था। संस्था के शैक्षणिक स्टॉफ एवं अध्ययनरत छात्राओं पर प्राचार्य का नियंत्रण नहीं है। जांच प्रतिवेदन में वर्णित अनुसार लापरवाही के लिए श्रीमती अरूणा शास्त्री, प्राचार्य शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गढ़ाकोटा जिला सागर प्रथमतः दृष्टयता उत्तरदायी है। श्रीमती शास्त्री का यह कृत्य म.प्र. सिविल सेवा आचरण 1965 का उल्लंघन होकर म.प्र. सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण एवं अपील) नियम 1966 के तहत दण्डनीय है।
उक्त लापरवाही के लिए श्रीमती अरूणा शास्त्री प्राचार्य शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गढ़ाकोटा जिला सागर को म.प्र. शासन सामान्य प्रषासन विभाग के ज्ञापन सहपठित म.प्र. सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण एवं अपील) नियम 1966 के नियम 9 के अधीन प्रदत्त अधिकारों का उपयोग करते हुए तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। निलंबन काल में श्रीमती अरूणा शास्त्री का मुख्यालय कार्यालय जिला षिक्षा अधिकारी सागर निर्धारित किया गया है। निलंबन काल में श्रीमती शास्त्री को नियमानुसार जीवन निर्वाह की पात्रता होगी।                             

NCC का 74 वा स्थापना दिवस, शिविर का आयोजन


NCC का 74 वा स्थापना दिवस, शिविर का आयोजन
सागर।  प. दीनदयाल उपाध्याय, शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय सागर में एन.सी.सी. कैडेट्स द्वारा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया ।शिविर के प्रारंभ में कैप्टन ए.सी. जैन ने बतायाकी  24 नवम्बर को एन.सी.सी. का 71 वाॅ स्थापना दिवस है। स्थापना दिवस के अवसर पर समूचे देश में एक सप्ताह तक एन.सी.सी. कैडेट्स के द्वारा विभिन्न सामाजिक सरोकार के कार्य किये जाते है ।उसी के तहत् हम भी रक्तदान शिविर का आयोजन कर रहेे है।          जिला चिकित्सालय से रक्त संचय हेतु उपस्थित दल के प्रभारी डाॅ. राम कुमार ने  कहा कि एक स्वस्थ्य व्यक्ति के शरीर में चार-पाॅच लीटर रक्त होता है। एक बार रक्तदान में मात्र 300 मिली ग्राम रक्त लिया जाता है जिससे व्यक्ति को कोई नुकसान नहीं होता तथा वह रक्त पाॅच से सात दिन में पुनः बन जाता है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि कर्नल आर.डी. सिंह भाट्यिा 11 म.प्र. बटालियन एन.सी.सी. ने बताया कि रक्तदान के क्षेत्र में हम अभी सबसे पीछे है तथा अमेरिका सबसे आगे है। डर, भ्रम, तथा जागरूकता के अभाव में हम अपने परिवार के सदस्यों को भी रक्त देने में हिचकिचाहट महसूस करते है जबकि इसमें कोई डर की बात नहीं होती। रक्त का कोई विकल्प नहीं है। वैज्ञानिक भी अभी रक्त का विकल्प नहीं खोज पाये अतः हमें रक्तदान में सदैव आगे रहना चाहिए। इससे बडा दान कोई नहीं। डाॅ. अमर कुमार जैन रक्तदान को जीवन दान बताया अतिरिक्त संचालक डाॅ. जी. एस. रोहित ने  रक्त को महादान बताते हुये कहा कि हमे भ्रातियों से दूर रहना चाहिए। रक्तदान से बड़ा दान कोई नहीं होता है अतः हमें खुद रक्तदान करना चाहिए तथा दूसरो को रक्तदान करने के लिए प्रेरित करना चाहिए। यह प्रकार का गुप्तदान है हमे पता नहीं होता है कि हमारा दिया गया रक्त किसकी जान को बचायेगा। 
रक्तदान शिविर में 35 एन.सी.सी. कैडेट्स एवं एक सेना के जवान ने रक्तदान किया। इस अवसर पर एन.सी.सी. के लगभग 125 कैडेट्स कर्नल सुनील कौल, प्रशासनिक अधिकरी 11 एम.पी. बटालियन, एन.सी.सी. सूबेदार सुरजीत सिंह, हवलदार सुरेश, डाॅ. संजीव दुबे तथा जिला चिकित्सालय की पूरी टीम उपस्थित थी। 

बीना से गुना के बीच करीब अठारह दिन नहीं चलेंगी यात्री ट्रेनें, निजी वाहन से करनी पड़ेगी यात्रा,16 नवम्बर से

बीना से गुना के बीच करीब अठारह दिन नहीं चलेंगी यात्री ट्रेनें, निजी वाहन से करनी पड़ेगी यात्रा,16 नवम्बर से

बीना-गुना के बीच नहीं चलेंगी 16 ट्रेनें कुछ को किया गया डायवर्ट

@कृष्ण कांत नगाईच
सागर ।  अशोकनगर से पीलीघाट स्टेशन के बीच रेलवे लाइन पर काम चलने के कारण 16 ट्रेनों को बीना से गुना के बीच शनिवार से चार दिसम्बर तक रद्द किया गया है। जिसके कारण बीना से गुना के बीच यात्रा करने वाले यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। जानकारी के अनुसार अशोकनगर, रातीखेड़ा, शाढ़ोरागांव, पीलीघाट के बीच 16 से 30 नवंबर तक प्री-नॉन इंटरलॉकिंग व 1 से दिसम्बर तक रेल लाइन के दोहरीकरण के लिए नॉन इंटरलॉकिंग का कार्य किया जाना है। जिस बजह से कुछ ट्रेनों के लिए निरस्त तो कुछ के लिए आंशिक निरस्त किया गया है। वहीं चार टे्रनों के लिए डायवर्ट करके चलाया जाएगा। ट्रेनों के निरस्त होने के कारण बीना से गुना के बीच यात्री करीब 18 दिन तक ट्रेनों से सफर नहीं कर सकेंगे। 
यह ट्रेनें रहेंगी निरस्त 
बीना से आने व जाने वाली ट्रेनों में सुबह छह बजे चलने वाली ट्रेन नंबर 51607 बीना-गुना पैसेंजर, दोपहर बारह बजे बीना आने वाली ट्रेन नंबर 51608 गुना-बीना पैसेंजर, दोपहर तीन बजे चलने वाली ट्रेन नंबर 51609 बीना-गुना पैसेंजर, रात दस बजे स्टेशन पहुंचने वाली ट्रेन नंबर 51610 गुना-बीना पैसेंजर, सुबह दस बजे चलने वाली ट्रेन नंबर 51612 बीना-कोटा पैसेंजर तीन दिसंबर तक निरस्त रहेंगी, वहीं शाम पांच बजे आने वाली ट्रेन नंबर 51611 कोटा-बीना पैसेंजर चार दिसम्बर तक निरस्त रहेगी। 
यह ट्रेनें चलेंगी ग्वालियर-गुना के बीच
ट्रेन नंबर 12198 ग्वालियर-भोपाल इंटरसिटी एक्सप्रेस व 12197 भोपाल-ग्वालियर इंटरसिटी एक्सप्रेस 3 दिसम्बर तक आंशिक निरस्त रहेगी। यह ट्रेन ग्वालियर से गुना के बीच चलेगी। वहीं दोपहर बारह बजे चलने वाली ट्रेन नंबर 51883 बीना-ग्वालियर पैसेंजर भी ग्वालियर से गुना के बीच चलेगी। ट्रेन नंबर 59342 बीना-नागदा व 59341 नागदा बीना पैसेंजर भी गुना से नागदा के बीच चलेगी। 
इन ट्रेनों को किया डायवर्ट
अहमदाबाद-दरभंगा व अहमदाबाद-वाराणसी से बीच चलने वाली साबरमति एक्सप्रेस के लिए मक्सी, निशातपुरा, बीना, झांसी के रुट से चलाया जाएगा। यह ट्रेन बीना से गुना के बीच तीन दिसम्बर तक निरस्त रहेगी।

गुरुवार, 14 नवंबर 2019

बाल दिवस पर मेले का आयोजन,बच्चों में दिखा जमकर उत्साह,पर्ल पब्लिक स्कूल का आयोजन

बाल दिवस पर मेले का आयोजन,बच्चों में दिखा जमकर उत्साह,पर्ल पब्लिक स्कूल का आयोजन
सागर । पर्ल पब्लिक हायर सेकेंडरी मुकुंद नगर केशवगंज में बाल दिवस पर बाल मेले का आयोजन किया गया lबाल मेले का उद्घाटन विद्यालय की छात्रा हर्षिका सोनी द्वारा रिबन काटकर कराया गयाlकार्यक्रम के मुख्य अतिथि  आरएन शुक्ला संयुक्त संचालक स्कूल शिक्षा विभाग सागर संभाग ने मेले में सम्मिलित होकर बच्चों का उत्साहवर्धन किया l संयुक्त संचालक महोदय का स्वागत विद्यालय के संचालक पंडित धर्मेंद्र शर्मा द्वारा शॉल और श्रीफल भेंट कर किया गया l

      विद्यालय की प्राचार्य श्रीमती सुलभा देउसकर ने पुष्पगुच्छ भेंट कर मुख्य अतिथि का स्वागत किया l कार्यक्रम में उपस्थित विशिष्ट अतिथि प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के मार्गदर्शक  श्री सुरेंद्र दुबे, संभागीय सचिव श्री उपेंद्र गुप्ता जिला अध्यक्ष श्री जुगल किशोर उपाध्याय द्वारा मेले में उपस्थित बच्चों का उत्साहवर्धन किया गया अन्य अतिथियों में प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन की कोषाध्यक्ष सुश्री अल्पना जैन संयुक्त सचिव श्रीमती रेनू भाईजी एवं जिला संगठन मंत्री रामकृष्ण शर्मा जी उपस्थित रहे l

      मेले में बच्चों के मनोरंजन हेतु विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओं ने विभिन्न स्टॉल्स लगाएं जिनमें बच्चों की रुचि को ध्यान में रखते हुए कुछ खेल एवं मनोरंजन तथा खाद्य सामग्री जैसे फुलकी, भेल, पापड़ी चाट , पेटिस, क्रीम रोल, पेस्ट्री, मारवाड़ी कचौड़ी, गुलाब जामुन, सैंडविच, इडली सांभर, सुहाल खस्ता, फ्रूट कस्टर्ड, कटोरी चाट, गोलगप्पे, पकोड़े, ढोकले और आइसक्रीम के स्टाल लगाए गए lबच्चों के मनोरंजन हेतु नृत्य, निशानेबाजी आदि स्टॉल्स भी लगाए गए l

          बच्चों ने आज के दिन भरपूर मनोरंजन किया और शिक्षकों ने भी उनकी रूचि का ध्यान रखते हुए उनका भरपूर सहयोग किया lमेले की व्यवस्था का प्रभार विद्यालय की प्राचार्य श्रीमती सुलभा देउसकर, उप प्राचार्य सुश्री नाज़नीन मेहंदी एवं शिशु विभाग की प्रधानाध्यापिका सुश्री अदिति जैन ने बखूबी संभाला l व्यवस्था में सहयोगी प्रकाश नेमा, सौरभ पाठक, कृष्ण कुमार कटारे, हरगोविंद विश्वकर्मा ने भी अपना दायित्व भली-भांति निभाया lविद्यालय के समस्त शिक्षक शिक्षिकाओं ने इस बाल मेले को सफल बनाने मैं अपना अमूल्य सहयोग प्रदान किया l अंत में सभी का आभार विद्यालय के संचालक पंडित धर्मेंद्र शर्मा द्वारा व्यक्त किया गया

बाल दिवस पर मेले का आयोजन,बच्चों में दिखा जमकर उत्साह,पर्ल पब्लिक स्कूल का आयोजन

बाल दिवस पर मेले का आयोजन,बच्चों में दिखा जमकर उत्साह,पर्ल पब्लिक स्कूल का आयोजन

सागर । पर्ल पब्लिक हायर सेकेंडरी मुकुंद नगर केशवगंज में बाल दिवस पर बाल मेले का आयोजन किया गया lबाल मेले का उद्घाटन विद्यालय की छात्रा हर्षिका सोनी द्वारा रिबन काटकर कराया गयाlकार्यक्रम के मुख्य अतिथि  आरएन शुक्ला संयुक्त संचालक स्कूल शिक्षा विभाग सागर संभाग ने मेले में सम्मिलित होकर बच्चों का उत्साहवर्धन किया l संयुक्त संचालक महोदय का स्वागत विद्यालय के संचालक पंडित धर्मेंद्र शर्मा द्वारा शॉल और श्रीफल भेंट कर किया गया l
      विद्यालय की प्राचार्य श्रीमती सुलभा देउसकर ने पुष्पगुच्छ भेंट कर मुख्य अतिथि का स्वागत किया l कार्यक्रम में उपस्थित विशिष्ट अतिथि प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के मार्गदर्शक  श्री सुरेंद्र दुबे, संभागीय सचिव श्री उपेंद्र गुप्ता जिला अध्यक्ष श्री जुगल किशोर उपाध्याय द्वारा मेले में उपस्थित बच्चों का उत्साहवर्धन किया गया अन्य अतिथियों में प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन की कोषाध्यक्ष सुश्री अल्पना जैन संयुक्त सचिव श्रीमती रेनू भाईजी एवं जिला संगठन मंत्री रामकृष्ण शर्मा जी उपस्थित रहे l
      मेले में बच्चों के मनोरंजन हेतु विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओं ने विभिन्न स्टॉल्स लगाएं जिनमें बच्चों की रुचि को ध्यान में रखते हुए कुछ खेल एवं मनोरंजन तथा खाद्य सामग्री जैसे फुलकी, भेल, पापड़ी चाट , पेटिस, क्रीम रोल, पेस्ट्री, मारवाड़ी कचौड़ी, गुलाब जामुन, सैंडविच, इडली सांभर, सुहाल खस्ता, फ्रूट कस्टर्ड, कटोरी चाट, गोलगप्पे, पकोड़े, ढोकले और आइसक्रीम के स्टाल लगाए गए lबच्चों के मनोरंजन हेतु नृत्य, निशानेबाजी आदि स्टॉल्स भी लगाए गए l
          बच्चों ने आज के दिन भरपूर मनोरंजन किया और शिक्षकों ने भी उनकी रूचि का ध्यान रखते हुए उनका भरपूर सहयोग किया lमेले की व्यवस्था का प्रभार विद्यालय की प्राचार्य श्रीमती सुलभा देउसकर, उप प्राचार्य सुश्री नाज़नीन मेहंदी एवं शिशु विभाग की प्रधानाध्यापिका सुश्री अदिति जैन ने बखूबी संभाला l व्यवस्था में सहयोगी प्रकाश नेमा, सौरभ पाठक, कृष्ण कुमार कटारे, हरगोविंद विश्वकर्मा ने भी अपना दायित्व भली-भांति निभाया lविद्यालय के समस्त शिक्षक शिक्षिकाओं ने इस बाल मेले को सफल बनाने मैं अपना अमूल्य सहयोग प्रदान किया l अंत में सभी का आभार विद्यालय के संचालक पंडित धर्मेंद्र शर्मा द्वारा व्यक्त किया गया l

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सागर में एक दिवसीय पैरालीगल वॉलेंटियर्स प्रशिक्षण

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सागर में एक दिवसीय पैरालीगल वॉलेंटियर्स प्रशिक्षण 
सागर । राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार एवं जिला एवं सत्र न्यायाधीष/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण  के0पी0 सिंह के कुषल मार्गदर्षन में बुधवार को कार्यालय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सागर में एक दिवसीय पैरालीगल वॉलेंटियर्स का प्रषिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसक उद्देष्य राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण तथा म0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा संचालित योजनाओें में पैरालीगल वॉलेंटियर्स का सहयोग प्राप्त करना है।
प्रषिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ जिला एवं सत्र न्यायाधीष/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री के0पी0 सिंह द्वारा दीप प्रज्वलन कर किया गया, इस अवसर पर  नवनीत वालिया, अपर जिला न्यायाधीष, श्रीमती विधि सक्सेना, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सागर, श्रीमती शालू सिरोही चौकसे, प्रधान मजिस्ट्रेट किषोर न्याय बोर्ड सागर, श्री अनुज कुमार चन्सौरिया जिला विधिक सहायता अधिकारी सागर, एवं अन्य विभागों के अधिकारी एवं सागर व विभिन्न तहसीलों से संबं़द्ध पैरालीगल वालेंटियर्स उपस्थित रहे। शुभारंभ कार्यक्रम में उपस्थित पैरालीगल वॉलेंटियर्स को जिला न्यायाधीष श्री के0पी0 सिंह द्वारा संबोधित करते हुये कहा कि पैरालीगल वॉलेंटियर्स की आमजन तक विधिक सेवा का लाभ पहुचाने में अहम योगदान है और इस प्रषिक्षण का उदद्ेष्य पैरालीगल वॉलेंटियर्स को प्रषिक्षित कर विधिक सेवा से संबंधित योजनाओं का लाभ प्रत्येक गरीब, निराश्रित महिलाओं एवं बच्चों तक पहुंचाना है और यह प्रषिक्षण कार्यक्रम का उदद्ेष्य में मील का पत्थर साबित होगा।
कार्यक्रम में सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सागर श्रीमती विधि सक्सेना द्वारा उपस्थित पैरालीगल वॉलेंटियर्स को संबोधित करते हुये कहा कि पैरालीगल वॉलेंटियर्स को न्यायालय तथा आमजन के बीच में एक सेतु के रूप में कार्य करना है और सेतु जितना मजबूत होगा न्यायालय तक आमजन की पहुंच उतनी ही सुलभ होगी और कोई भी व्यक्ति न्याय पाने से वंचित नहीं रहेगा।
प्रषिक्षण कार्यक्रम के प्रथम सत्र में सचिव श्रीमती विधि सक्सेना के द्वारा उपस्थित पैरालीगल वॉलेंटियर्स को निःषुल्क विधिक सहायता एवं सलाह योजना, मध्यस्थता योजना लोक अदालत और विधिक साक्षरता षिविर के बारे में जानकारी दी गई तथा  अनुज कुमार चन्सौरिया जिला विधिक सहायता अधिकारी के द्वारा पैरालीगल वॉलेंटियर्स को उनके उद्देष्य एवं कार्यो के बारे में तो जानकारी दी ही गई साथ ही बेसिक कम्यूनिकेषन,आब्जर्वेषन एवं ड्राफटिंग स्किल के बारे में बताया गया, श्री नवनीत वालिया, अपर जिला न्यायधीष के द्वारा फेमिली लॉ, दत्तक ग्रहण, भरण पोषण, कस्टी एवं गार्जिनषिप तथा संपत्ति विधि के बारे में बताया, श्रीमती शालू सिरोही चौकसे प्रधान मजिस्ट्रेट सागर के द्वारा किषोर न्याय बोर्ड एवं बाल कल्याण समिति के उद्देष्य एवं कार्यो के बारे में तथा जिला संयोजक चाइल्ड लाईन के द्वारा बच्चों के संरक्षण से संबंधित विभिन्न कानूनी पहलूओं के बारे में अवगत कराया गया है।
प्रषिक्षण कार्यक्रम के द्वितीय चरण में श्री सिराज अली व्यवहार न्यायाधीष के द्वारा महिलाओं के अधिकारों से संबंधित विभिन्न अधिकारों के बारे में, श्री विवेक पाठक श्रम न्यायाधीष के द्वारा बाल श्रम प्रतिषेध अधिनियम, बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम एवं पाक्सो अधिनियम के बारे में तथा श्री अभिनव जैन जिला प्रबंधक लोक सेवा गारण्टी, के द्वारा लोक सेवा गारण्टी से संबंधित कानून जैसे जन्म प्रमाण पत्र, मृत्यु प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, विवाह पंजीयन आदि के बारे में सारगर्भित जानकारी दी गई।
कार्यक्रम के अंत में उपस्थित पैरालीगल वॉलेंटियर्स को प्रमाण पत्र वितरित किये गये एवं श्री अनुज कुमार चन्सौरिया जिला विधिक सहायता अधिकारी के द्वारा समस्त न्यायाधीषगण, प्रषिक्षकगण एवं समस्त पैरालीगल वॉलेंटियर्स का आभार प्रदर्षन किया गया एवं पैरालीगल वालेंटियर्स से समाज के अधिक से अधिक व्यक्तियों तक विधिक सेवा का लाभ पहुंचाने की अपील की।       

जुआ पकड़ने में लापरवाह गढाकोटा थाना प्रभारी सहित तीन पुलिस कर्मियों पर गिरी गाज,हुए लाईन अटैच

जुआ पकड़ने में लापरवाह गढाकोटा थाना प्रभारी सहित तीन पुलिस कर्मियों पर गिरी गाज,हुए लाईन अटैच
सागर । सागर जिले में जुआ फड़ को पकड़ने में चूक रहे थाना क्षेत्र के पुलिसकर्मियों पर एसपी की गाज गिर रही है ।गढाकोटा थाना  क्षेत्र में पिछले दिनों एसपी की स्पेशल टीम ने जुआ पकड़ा था । अपने क्षेत्र में जुआ पकड़ने में नाकाम रहे तत्कालीन थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर दशरथ दुबे,एक हवलदार और एक आरक्षक को लाईन अटैच कर दिया गया है । इसके पहले मोतीनगर थाना क्षेत्र में ऐसी ही चूक पर   छह पुलिस कर्मियों को लाईन अटैच कर दिया गया था ।
एसपी स्क्वाड ने एक नवम्बर को  गढाकोटा में जुआ फड़ पर छापा मारा था। इसमे  12 जुआरियों से 52  हजार जब्त किए थे । एसपी अमित सांघी ने इस मामले में लापरवाह थाना प्रभारी दसरथ दुबे,हवलदार झारखंडिया और आरक्षक पार्थ पटेरिया को लाईन अटैच कर दिया है । एसपी के मुताबिक इस तरह की कार्यवाही जारी रहेगी।
          इसके पहलेमोतीनगर थाना क्षेत्र में दो दिन पहले  एसपी की  स्पेशल टीम ने 68 हजार का जुआ पकड़ा था । जिसमे पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने  मोतीनगर थाना के  सम्बंधित बीट प्रभारी SI यतेन्द्र भदौरिया, ASI अजय इक्का,प्रधान आरक्षकरमेश,आरक्षक ,हरिसिंह, पुरुषोत्तम और  कैलाश को जुआ पकड़ने में लापरवाही मानते हुए  लाइन अटैच कर दिया था।

भारत वर्ष पवित्र आर्य संस्कृति की धरती : मलूकपीठाधीश्वर डाॅ. राजेन्द्रदास महाराज

भारत वर्ष पवित्र आर्य संस्कृति की धरती : मलूकपीठाधीश्वर डाॅ. राजेन्द्रदास महाराज

सागर।सागर में 14 नबंवर से 20 नबंवर तक  बालाजी मंदिर परिसर में श्री श्री जगतगुरू, द्वाराचार्य, मलूकपीठाधीश्वर परम श्रद्धेय भागवत सम्राट डाॅ. राजेन्द्रदास जी महाराज के मुखारविंद से श्रीमद् भागवत कथा प्रारंभ के पहले भागवत सम्राट डाॅ. राजेन्द्रदास महाराज ने संत निवास पर सागर में पत्रकारों से चर्चा करते हुये कहा कि भारत वर्ष पवित्र देश आर्य संस्कृति की धरती है जिसमें मानवीय संस्कृति बसती है और देश के सभी स्थानों में देवताओं का वास है भारत माता के हृदय प्रदेश मध्यप्रदेश भावना प्रेम, श्रृद्धा की धरती है और मध्यप्रदेश में सागर की धरा आस्था धार्मिक एवं पुण्य भूमि के साथ ही छोटे वृन्दावन के रूप में जाना जाता है।       सागर के भक्तप्रेमियों द्वारा कई वर्षो से आग्रह किया जा रहा था कि सागर में संत समागम होना चाहिये भगवान की कृपा से आज हम सभी को मंगलमय अवसर सागर में मिला है जिसमें भारतवर्ष के सभी स्थानों से राष्ट्रीय संतो का सागर आगमन हो रहा है। श्रीमद् भागवत कथा एवं संत समागम आयोजन की तैयारियां कमेटी द्वारा बहुत अच्छी की गई है। जिसकी जितनी भी प्रशंसा की जाये कम है सागर में होने जा रहे श्रीमद् भागवत कथा सद्गुरू कृपारस महोत्सव संत समागम में बड़ी संख्या में सभी धर्मप्रेमी बंधु एवं श्रृद्धालु पहुंचकर भागवत कथा का श्रृवणपान कर राष्ट्रीय संतो का आर्शीवाद लेकर पुण लाभ अर्जित करें। राजेन्द्रदास महाराज जी ने कहा कि मनुष्य का युवाकाल स्वर्णकाल के समान होता है जिसको युवाओं को ध्यान में रखकर घर परिवार समाज राष्ट्र संतो की सेवा करनी चाहिये जिससे मनुष्य का जीवन सारगर्भित होता है। इस अवसर पर वृन्दावन से पधारे कार्यक्रम के मार्गदर्शक रसराज जी महाराज, अर्जुनदास जी महाराज, हरिदास जी महाराज उपस्थित रहे।

निगम के नए वार्डो का नामकरण स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के नाम पर करने की मांग की सेवादल काँग्रेस ने


निगम के नए वार्डो का नामकरण  स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के नाम पर करने की मांग की सेवादल काँग्रेस ने
सागर।नगर पालिक निगम सागर में बढ़े हुए आठ  वार्डों के नामकरण सागर के  स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों नाम से किये जाने की मांग को लेकर शहर कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष सिंटू कटारे और कांग्रेसजनों ने निगमायुक्त आर पी अहिरवार को ज्ञापन दिया।
     सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे ने कहा कि हमारीमांग है कि नगर निगम ने जो नए वार्ड  बढ़ाये है । उनके नाम सागर के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के नाम से किये जायें। यह उनके प्रति हमारी श्रद्धांजलि भी होगी।ज्ञापन के अनुसार  सागर नगर पालिक निगम में वार्डों की संख्या 48 वार्ड से 56 वार्ड होने वालीहै। इन बढ़े हुए 08 (आठ) वार्डों के नाम स्वतंत्रता आंदोलन में भाग लेने वाले स्थानीय स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों केनाम से होने चाहिए। यह माँग नगर की जनता सहित सभी की है, सभी कांग्रेसियों एवं सेवादल का संयुक्त रुप से समर्थन है।
अतः आपसे निवेदन है कि हम सभी की माँग पर आप निर्णय कर उचित फैसला लें।
इन स्वतंत्रता संग्राम के सेनानियों के दिए सुझाव
ज्ञापन में स्वन्त्रता संग्राम सेनानी स्व. पं. श्री लक्ष्मीनारायण सिलाकारी, स्व. श्री भवानी सींग ठाकुर, स्व. मास्टर श्री बलदेव प्रसाद ,स्व. डॉ. श्री गोपालकृष्ण गुप्ता (आजाद), मरहूम श्री अब्दुल गनी,स्व. श्री केदारनाथ जी रोहण,स्व. श्री धर्मचन्द्र जैन (मस्त),स्व. श्री भगवान दास सरवैया आदि के नाम सुझाये गए है । 
ये रहे शामिल
ज्ञापन देने वालो में भपेंद्र सिंह मोहासा, प्रदीप गुप्ता,ओमप्रकाश पांडे,अभिलाष जैन चोधरी, जितेंद्र रोहण, द्वारका चोधरी,मुकुल शर्मा, फहीम अंसारी, रानू राजपूत ,संजय सहारा आदि शामिल है।

बेटियों के विवाह में सहयोग सबसे बड़ा पुण्य:परिवहन मंत्री, इज्तिमाई निकाह सम्मेलन में 53 जोड़ो के निकाह


बेटियों के विवाह में सहयोग सबसे बड़ा पुण्य:परिवहन मंत्री,
इज्तिमाई निकाह सम्मेलन में 53 जोड़ो के निकाह
सागर। मुख्य मंत्री कन्यादान योजना के अंतर्गत आल इंडिया जमीयतुल कुरैश समाज के
इज्तिमाई निकाह सम्मेलन में आज 53 जोड़ो के निकाह सम्पन्न हुए। राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द राजपूत  ने कहा कि आज मुझे बिलकुल वैसे ही महसूस हो रहा हाँ जैसे मेरे स्वयं की बच्ची का विवाह है । बच्ची के विवाह में सहयोग से बड़ा कोई दान धर्म नहीं है ।पूर्व कि सरकार में जो बच्चियों के विवाह में सामग्री प्रदान की जाती थी ।उसकी गुणवत्ता भी उचित नहीं होती थी ओर बीच में अनेको लोग उसमें अपना फ़ायदा निकाल लिया करते थे ।इसी लिए काँग्रेस  पार्टी की सरकार ने यह व्यवस्था की है की विवाह की राशि बच्ची के खाते मे सीधा पहुँचे। मध्यप्रदेष की कमलनाथ सरकार द्वारा प्रत्येक जोड़े को 51,000/-रू. की राषि दी गई।  आल इंडिया जमीयतुल कुरैश के प्रदेष अध्यक्ष हनीफ कुरैशी ने कहा कि यह सम्मेलन समाज में नीव के पत्थर का काम करेगा। समाज को कुरूतीयों से बचना चाहिये। और नई दिषा में आना-जाना चाहिये। इसी श्रृखला में यूथ विंग    के राष्ट्रीय अध्यक्ष अलताफ कुरैषी ने कहा कि आज मुझे यहाॅ आकर एक कोमी एकता देखने की मीसाल मिली। सागर की गंगा-जमना तहजीब का जीता जागता उदाहरण आज सागर में हुये निकाह सम्मेलन में देखने को मिला। इस अवसर पर 
शहर मुफ़्ती  अनवर साहब  ने दीनी  निकाह मुकंबील कराकर दुआ कराई।  सम्मेलन कमेटी के अध्यक्ष साबिर कुरैश ने बताया कि 53 जोड़ों के निकाह सम्पन्न किये गये उन्हें भेट स्वरूप जीवन में उपयोग आने वाली सभी वस्तुयें दी गई। 5 हाफीजो द्वारा निकाह सम्पन्न कराये गये।कार्यक्रम में अध्यक्ष रेखा चोधरी,प्रदेश सचिव अमित राम जी दुबे, वरिष्ठ कांग्रेस नेता त्रिलोकी नाथ कटारे, पप्पू गुप्ता, मुकुल पुरोहित, सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे, पप्पू तिवारी, पप्पू फुसकेले, कमलेष बघेल, संदीप सबलोक, लक्ष्मीनारायण सोनकिया, राजाराम सरवैया, भैयन पटेल, जयकुमार सोनी, का भी कमेटी द्वारा सम्मान किया गया। 
कार्यक्रम का संचालन सेवादल के पूर्व अध्यक्ष अतुल कुमार नेमा द्वारा किया गया। आभार ब्लाॅक कांगे्रेस कमेटी के अध्यक्ष फिरर्दोष कुरैषी द्वारा माना गया। इस अवसर पर चैधरी हाजी इस्लाम कुरैषी, चैधरी महबूब कुरैषी, शेख सुबराती कुरैषी, डाॅ. रसीद कुरैशी  सदर, हाजी मु. शरीफ चैधरी, चैधरी पप्पू कुरैशी, फरीद कुरैशी, अभिषेक पाठक, शकर यादव, अमित यादव, बब्बू यादव, सिद्वीक राईन, रहीष भाई, जुनेद अनसारी, षाहवाज कुरैषी, उन्ठल कुरैशी, नाईम हाजी, जुबेर कुैषी, ऐजाज हुसैन राईन, रफीक कासकर, फैसल कुरैषी, षिभम् केषरवानी, नानू, नादीर कुरैषी, इरफान चैधरी, युनिष चैधरी, नदीम चैधरी, सहित समाज के वरिष्ठजन, ललितपुर, झांसी, कोच, उरई, जालोन, षिवपुरी, रतलाम, भोपाल, विदीषा, राहतगढ़, दमोह, सागर षहर के कुरैषी समाज के वरिष्ठ और जनप्रतिनिधि, वर्तमान पार्षद सभी समाज के वरिष्ठजनों ने उपस्थित होकर जोड़ो दुआओ से नवाजा।                         

पहली किन्नर महापौर कमलाबुआ का निधन, निर्दलीय जीती कमला को तत्कालीन मन्त्री गोपाल भार्गव लाये थे भाजपा में

पहली किन्नर महापौर कमलाबुआ का निधन, निर्दलीय जीती कमला को तत्कालीन मन्त्री गोपाल भार्गव लाये थे भाजपा में
सागर। महापौर का चुनाव निर्दलीय जीत कर देश भर में सुर्खियों में आई सागर की किन्नर महापौर कमला बुआ का आज निधन हो गया । सन 2009 में बतौर किन्नर पहली  महापौर बनने वाली कमला बुआ का दिसम्बर 2012 में जाति प्रमाणपत्र फर्जी पाए जाने पर अदालत ने निर्वाचन शून्य घोषित कर दिया था । पिछले कुछ समय सेबीमार कमला बुआ सामाजिक कार्यो में हमेशा सक्रिय रही है ।उन्होंने  किन्नर समुदाय के अधिकारों को लेकर हमेशा लड़ाई लड़ी।लेकिन राजनीतिक सफर हमेशा विवादों में रहा। कमला किन्नर ने भाजपा और कांग्रेस के उम्मीदवारो को रिकार्ड मतों से पराजित किया था। तत्कालीन भाजपा सरकार के मन्त्री गोपाल भार्गव ने उनको भाजपा में शामिल कराया था। 
उनके निधन पर भाजपा और काँग्रेस नेताओं ने शोक जताया है।
फर्जी जाति प्रमाणपत्र ने महापौर के पद से हटाया था कमला बुआ को
     दिसंबर 2009 में हुए नगर निगम चुनाव में सागर महापौर के पद अनुसूचित जाति की महिला वर्ग के लिए आरक्षित किया गया था। चुनाव में किन्नर कमला बुआ निर्दलीय उम्मीदवार थीं। उन्होंने नामांकन पत्र में स्वयं को कोरी अनुसूचित जाति का बताया था ।  लिंग के स्थान पर स्वयं को स्त्री लिखा था। चुनाव में  चाबी चुनाव चिन्ह पर उन्हें लगभग 65 हजार वोट मिले थे । भाजपा उम्मीदवार सुमन अहिरवार  को उन्होंने लगभग 40 हजार मतों के अंतर से हराया था। कांग्रेस की वर्तमान कांग्रेस अध्यक्ष रेखा चौधरी की जमानत जब्त हो गई थी। चुनाव जीतने के बाद कमला बुआ ने मन्त्री गोपाल भार्गव के जरिये  सत्ताधारी भाजपा का दामन थाम लिया था ।
     चुनाव प्रक्रिया को भाजपा उम्मीदवार   सुमन  अहिरवार ने जाति प्रमाणपत्र को लेकर  चुनौती दी थी। उनकी याचिका पर तत्कालीन जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रतिभा रत्‍‌नपारखी ने कमला बुआ के निर्वाचन को शून्य करते हुए सुमन अहिरवार को महापौर नियुक्त करने के आदेश दिए थे ।कमला बुआ ने अदालत में स्वीकारा था कि उनके पास नामांकन दाखिल करते वक्त कोई जाति प्रमाणपत्र नहीं था। वे दो सालों में भी अदालत को स्वयं की जाति को लेकर कोई प्रमाण नहीं दे पाई थी। दूसरा पद महिला के लिए आरक्षित था एवं वे किन्नर थीं। इस आधार पर उनके निर्वाचन को शून्य कर दिया गया। हाईकोर्ट में अपील की थी ।जिस पर हॉइकोर्ट ने जिला अदालत के फैसले को ही बरकरार रखा था। 
अनिता और शिल्पी भी बनी महापौर
अदालती प्रक्रिया में झूलते सागर नगर निगम के महापौर  पद के लिए दो महिला नेत्रियों की किस्मत भी चमकी।  भाजपा ने पार्षद  अनिता अहिरवार को महापौर नॉमिनेट किया । इसके बाद हुए चुनाव में भाजपा की पुष्पा शिल्पी ने काँग्रेस की इंदु चोधरी को पराजित किया था।


राई नृत्य:एक ASI सहित तीनपुलिस कर्मी लाईन अटैच

तीनबत्ती न्यूज़ सागर  । पुलिस अधीक्षक अमित सांघी  ने एक मामले में सानोधा थाना क्षेत्र में लापरवाह बरतने वाले तीन पुलिस कर्मियों को लाईन अटैच कर दिया है ।     पुलिस  सूत्रों के मुताबिक अयोध्या फैसला आने के बाद एक तरफ पूरे देश की पुलिस  के अधिकारी तथा जवान मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी कर रहे है तो वहीं दूसरीतरफ  सागर जिले में सानोधा थाने के पुलिसकर्मी ड्यूटी की जगह थाना अंतर्गत डूंगासरा ग्राम में लगे मेले में बुंदेलखंड में विवादास्पद माने जाने वाले राई नृत्य का लुफ्त उठाते हुए कैमरे में कैद हुए थे । इन  पुलिसकर्मियों में सानोधा थाने  केASI बी आर छारी, हवलदार गोविंद कोहली तथा आरक्षक आर एन शुक्ला ने  डांस देखा और  बल्कि  इन्होंने बेड़नीयो तथा उनके वाद्य यंत्र बजाने वाली कंपनी के सदस्यों को भी पैसे बांटे । पुलिस अधीक्षक ने asp राजेश व्यास से जांच कराई थी। जांच रिपोर्ट आने के  बाद इन पुलिस कर्मियों को लाईन हाजिर कर दिया गया है ।

ग्रामो में लिंगानुपात 650 सुधारने के लिए अभियान चलाया जाएगा

तीनबत्ती सागर  । सागर की बेटी, सागर का अभिमान, के तहत बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यषाला का आयोजन कमिष्नर  आनंद कुमार शर्मा के मुख्य आतिथ्य एवं कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक की अध्यक्षता में रविन्द्र भवन में किया गया। कार्यषाला में बताया गया कि 0 से 6 साल तक के बच्चों में सागर जिले के 116 ग्राम ऐसे है जहां 1000 बालकों पर बालिकाओं की संख्या 650 है। इसी प्रकार 366 ग्राम और शहरी क्षेत्रों के 28 वार्ड ऐसे है जहां 1000 बालकों  पर बालिकाओं की संख्या 800 से भी कम है। सागर जिले में गिरते लिंगानुपात पर चिंता व्यक्त की गई। और कहा गया कि इसे सुधारने के लिए तत्काल कदम उठाए जाने की आवष्यकता है वरना स्थिति बिगड़ जाएगी। कार्यषाला में तय हुआ कि बालिकाओं की भ्रूण हत्या करने या इसमें शामिल होने वालों को अपराधी मानते हुए सख्त कार्यवाही की जाएगी। कार्यषाला में बेटा बेटी के बीच किसी भी प्रकार का भेदभाव न करने और बेटियों को प्रोत्साहित करने का संकल्प भी लिया गया।

कमिष्नर श्री शर्मा ने कार्यषाला में सागर जिले में गिरते लिंगानुपात पर चिंता व्यक्त करते हुए सभी को साथ मिलकर कार्य करने की आवष्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा षिक्षण संस्थाओं, हेल्थ वर्कर, समाजसेवी संस्थाओं, चिकित्सकों को बेटी बचाओ से जोड़ा जाए। संभाग आयुक्त ने कहा कि जब वे इंदौर शहर में एडीएम के रूप में पदस्थ थे तो उन्होंने दोषियांे के विरूद्ध पीएनडीटी एक्ट के तहत कार्यवाही की थी और सोनोग्राफी सेंटर बंद कराया था।  

बेटियां बोझ नही:कलेक्टर

कार्यषाला में कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने कहा कि बेटियां बोझ नहीं है।  बेटियों के जन्म के प्रति नकारात्मक सोच को बदलने की जरूरत है। सागर की बेटी सागर का अभिमान के तहत अधिक से अधिक लोंगों को इससे जोड़ा जाएगा और बेटियों के जन्म के प्रति सकारात्मक सोच विकसित की जाएगी। इसके लिए जिले में क्रॉफ्ट मॉडल (सीआरएएफटी) यानि कंट्रोल एण्ड रेगुलेषन, अवेयरनेस, फोकस एण्ड ट्रेकिंग, को लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा लिंग परीक्षण करने वालों और भू्रण हत्या की हत्या करने वालों को अपराधी मानते हुए उन पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। ऐसे लोगों को जेल भेजा जाएगा। उन्होंने एडिषनल एसपी अमृता सिंह एवं ज्वाइंट कलेक्टर अंजली शाह को मौके पर ही अधिकृत कर अपराधियों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही के निर्देष दिए।

पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी ने कहा कि बालाघाट प्रदेष का ऐसा जिला है जहां लिंगानुपात सबसे अधिक है। वहां के सामाजिक जीवन में महिलाएं महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसे जिले हैं जहां महिलाआंे की सक्रिय भूमिका कम है उन जिलों में लिंगानुपात भी कम है। हमे बालिाकाओं षिक्षा और समाज में बराबरी को मौका देना होगा।

वरिष्ठ समाजसेवी श्रीमती मीनाताई पिंपलापुरे ने कहा कि शक्ति का नाम ही नारी है। हमारे हर एक क्षेत्र में अधिष्ठात्री देवियां लक्ष्मी, सरस्वती और दुर्गा है। इस लिए बेटियों के प्रति भेदभाव नहीं करना चाहिए । उन्होंने सभी माताओं से कहा कि वे अपनी बेटियों में आत्मविष्वास की भावना विकसित करें। उन्हांेने युवाओं को भी इस अभियान से जोड़ने पर बल दिया।

जिला पंचायत सीईओ  सीएस शुक्ला ने कहा कि आम धारणा है कि बेटी के जन्म के लिए माता को जिम्मेदार माना जाता है जबकि इसके लिए पूरी तरह पिता ही जिम्मेदार होता है। बच्चे के लिए एक्स क्रॉमोजोम माता से वाय क्रोमोजोम पिता से ही मिलता है जिसके लिए पिता जिम्मेदार है। नगर निगम कमिष्नर श्री आरपी अहिरवार ने कार्यषाला में बेटा बेटी के बीच किसी भी प्रकार का भेदभाव न करने की शपथ दिलाई।

इंडियन मेडीकल एसोसियषन की अध्यक्ष डा. नीता गिडियन ने रूढि़वादीता के कारण बेटियों के जन्म पर खुषी नहीं मनाई जाती वहीं दूसरी ओर बेटे के जन्म पर खुषियां व्यक्त की जाती है। कई बार महिलाएं ही इसे प्रोत्साहित करती है। समाज मंे इस धारणा को बदलने की जरूरत है। उन्होंने प्रत्येक गर्भवती महिला का पंजीयन करने पर भी बल दिया।

डा. ज्योति चौहान ने कहा कि यदि कोई महिला ठान ले कि उसे अपना गर्भपात नहीं कराना है तो कोई भी ताकत ऐसा नहीं करवा सकती।

गुना से आए इंडियन रेडियोलॉजिकल और इमेजिंग एसोसिएशन के डॉक्टर सीनियर रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर एलके शर्मा द्वारा गुना में संचालित संरक्षित मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य कार्यक्रम एवं आई आर आई के  महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट संरक्षण के बारे में विस्तार से जानकारी दी।  इनसे शिशु मृत्यु दर, जन्म के समय कम वजन, पेरीनेटल मृत्यु को कम करने एवं जन्म के समय लिंगानुपात को सुधारने में बहुत सकारात्मक परिणाम आये है। सरंक्षण प्रोजेक्ट  पेरिनेटल मोर्टालिटी लो बर्थ वेट एवं प्री टर्म बर्थ रोकने का एक महती प्रयास है। इसके अंतर्गत जिला और


संभाग स्तर पर संरक्षण आउटरीच प्रोग्राम के तहत आज सागर में डॉक्टर एल के शर्मा द्वारा प्रेजेंटेशन के माध्यम से जानकारी दी गई ।

इनको किया गया पुरस्कृत

इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाली एडिषनल एसपी अमृता सिंह, डिप्टी कलेक्टर अमृता गर्ग, परियोजना अधिकारी सोनम नामदेव, 40 से ज्यादा बाल विवाह रोकने वाली ज्योति तिवारी एवं 10 और 12 कक्षा टॉप करने वाली बेटियां महिमा नामदेव व प्रज्ञा दुबे को पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर लाड़ली लक्ष्मी योजना हितग्राहियों को प्रमाणपत्र वितरित किए गए। आभार प्रर्दषन सुश्री सोनम नामदेव एवं कार्यक्रम संचाजन साहिबा खान द्वारा किया गया।

जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री भरत सिंह राजपूत द्वारा कार्यक्रम की रूप रेखा प्रस्तुत की। इस अवसर पर पीसीएनडीटी समिति अध्यक्ष डा. एमएल जैन मौजूद थे। इस अवसर पर पीसीएनडीटी समिति अध्यक्ष डा. एमएल जैन, गायनीक एवं षिषु रोग विषेषज्ञ, रेडियोलॉजिस्ट, सोनोग्राफर, समस्त जिला अधिकारी के साथ बड़ी मात्रा में महिला एव बाल विकास का अमला, सामाजिक संस्थाएं, आर्ट ऑफ लिविंग, सुफल फाउडेषन ने भाग लिया।

बुधवार, 13 नवंबर 2019

रेलवे स्टेशन से चलती ट्रेन से निकला इंजन, बीना- झांसी पैसेंजर ट्रेन का मामला


@असफाक खान
सागर । सागर के बीना में रेलवे डिपार्टमेंट के  ऑपरेटिंग एवं c&w की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है।  जिसकी लापरवाही के चलते बीना-झांसी पेसेंजर ट्रेन  का चलती ट्रेन से बीना स्टेशन पर इंजन निकल गया। c&w के रिपेयर करने के बाद ट्रेन को रवाना किया गया। लेकिन 10 किलोमीटर ट्रेन के चलने के बाद आगासोद स्टेशन पर फिर से वोगी छोड़कर करीब 100 मीटर दूर  इंजन निकल गया।
हालांकि किसी भी तरह का कोई हादसा नहीं हुआ है लेकिन सीएण्डडब्ल्यू की लापरवाही से इनकार नहीं किया जा सकता। क्योंकि  ऑपरेटिंग  c&w की नौजूदगी मे ही  ट्रेन की कंप्लिंग को जोड़ता है ।और c&w को एग्जामिनेशन करना पड़ता है ।जिसका परीक्षण सही से नहीं किया गया। हालांकि अधिकारी मामले की जांच की बात कर रहे हैं।

ट्रेन पर चढ़ते समय युवक का फिसला पैर, गिरा पटरियों और प्लेटफार्म के बीच मे, कई डिब्बे गुजर गए पर सुरक्षित निकला युवक

ट्रेन पर चढ़ते समय युवक का फिसला पैर, गिरा पटरियों और प्लेटफार्म के बीच मे, कई डिब्बे गुजर गए पर सुरक्षित निकला युवक

दमोह। चलती ट्रेन में चढ़ना। अक्सर घटनाओं को बढ़ाता है । एमपी के दमोह रेलवे स्टेशन पर एक ऐसी घटना सामने आई। जिसने देखा उसके होश उड़ गए थे। इसे भगवान की कृपा ही समझे किवह  युवक बच गया।  ट्रेन से नीचे पटरियों और  प्लेटफार्म के बीच फंसे युवक का  जिंदा बच जाने का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है।
         दमोह स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर एक कि यह घटना है । यहां स्टेशन की ऊँचाई कम है ।ट्रेन की सीढ़ियों और प्लेटफार्म में अंतर ज्यादा है । इसकी शिकायते भी हुई है ।एक दिन पहले  रात्रि में  जबलपुर -जयपुर  दयोदय एक्सप्रेस ट्रेन में चढ़ते समय एक युवक का पैर फिसल गया। उस समय ट्रेन चल पड़ी थी।  युवक  ट्रेन की पटरी और प्लेटफॉर्म के बीच फंस गया। युवक बिल्कुल जमीन से चिपका रहा। स्टेशन के पास  खड़े लोगो की इसपर नजर पड़ी।उन्होंने ट्रेन में मौजूद लोगों से चेन पुलिंग करने को कहा ।जिसके बाद लोगों ने चेन पुलिंग कर ट्रेन को रुकवाया। वही ट्रेन के रुकते ही उसे   निकाला गया। युवक पूरी तरह से  सुरक्षित बाहर निकल आया. लेकिन युवक शराब के नशे में पाया गया ।दरअसल नशे के कारण युवक ट्रेन में चढ़ने के दौरान गिर गया था. वही पटरी एवं प्लेटफार्म के बीच वह सुरक्षित पड़ा रहास्टेशन पर लोगो ने घटना का वीडियो भी बना लिया ।जमकर  वायरल  भी हो रहा है।

सागरश्री अस्पताल में प्रेस फोटोग्राफर से अभद्रता,सुपरवाईजर पर एफआईआर दर्ज

सागरश्री अस्पताल में प्रेस फोटोग्राफर से अभद्रता,सुपरवाईजर पर एफआईआर दर्ज

सागर ।  अक्सर विवादों में रहने वाली सागरश्री अस्पताल में एक प्रेस फोटोग्राफर से अभद्रता के मामले में  मकरोनिया पुलिस बे सुपरवाइजर पर मामला दर्ज कर लिया है । प्रेस फोटोग्राफर जितेंद्र श्रीवास एक सड़क दुर्घटना की खबर के सिलसिले में अस्पताल गए थे । 
    जानकारी के अनुसार जब सड़क हादसे में घायल हुए एक युवक के परिजन उसे भोपाल रेफरकरने की बात कह रहे थे ।लेकिनडॉक्टरों ने रैफर करने से मना कर दिया।इस बात को लेकर डॉक्टर, स्टाफ औरपरिजनों के बीच विवाद की जानकारी लगने पर वहां प्रेस फोटोग्राफर जितेंद्र श्रीवासपहुंचे तो उन्हें यहां मौजूद सुपरवाइजर
सीमा रजक ने रोक लिया। और स्टाफ ने अभद्रता की । रजवांस केरहने वाले ऋषभ जैन सोमवार रातसड़क हादसे में घायल हुए थे, जिसकेबाद उन्हें इलाज के लिए सागर श्री अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां सेउन्हें रैफर कराने को लेकर परिजनों सेविवाद हुआ था। अस्पताल प्रबंधन परमरीज के परिजनों से मारपीट का आरोपहै। 
सागर श्री अस्पताल विवादों के रहने के कारण हमेशा सुर्खियों में बना रहता है।

मंगलवार, 12 नवंबर 2019

नानक की भक्ति विचारों की वही धारा है , उसे सागर से मिलन को कब तक रोक सकता पाकिस्तान..!


 नानक की भक्ति  विचारों की वही धारा है , उसे सागर से मिलन को कब तक रोक सकता पाकिस्तान..!

@होमेन्द्र देशमुख

"एक कहानी" से बात शुरू करता हूं - 
नानक* एक यायावर संत थे उन्होंने आधे विश्व की यात्रा की होगी । तुलना की बात करें तो बुद्ध ने भी 40 साल यात्रा की लेकिन माना जाता है कि  वो भारत मे बिहार के अलावा वर्तमान उप्र के कुछ हिस्सों तक ही प्रवास कर पाए ।
नानक तो मक्का-मदीना तक हो आए  । प्रवास में  एक रात वो किसी सूफी संत के गांव के बाहर बरगद के नीचे ठहरे ,उस संत ने नानक के स्वागत में दूध से लबालब भरा कटोरा  भिजवाया  । नानक ने उस कटोरे के दूध में पास में रखा एक फूल डाल दिया और वापस उसी सूफी संत को भिजवा दिया । नानक का यह जवाब ...?
क्या उस सूफी संत के प्रति तिरस्कार, अहंकार था या स्नेह और आदर पूर्वक जवाब..? यह मैं आपकोआगे बताऊंगा ...

सिख धर्म के संस्थापक बाबा गुरु नानक देव की 550वीं जयंती पर करतारपुर गलियारा  खोला गया ,जो भारत के पंजाब में डेरा बाबा नानक गुरुद्वारे को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में नारोवाल जिले के करतारपुर स्थित दरबार साहिब से जोड़ता है। यूं तो नानक सब के बन कर रहे । पर , क्यूंकि नानक के अंतिम समय का साक्षी यह भूमि आज पाकिस्तान में है और जब दोनों देशों के बीच तलवारे खिचीं हो तब  वहां के सदर का यह कहना कि - ''आज हम केवल सीमा नहीं खोल रहे हैं बल्कि सिख समुदाय के लिए अपने दिलों को भी खोल रहे हैं।''
इमरान साहब ! बेशक ,  दरवाजा तो आपका है । पर इसे खोलना न खोलना अब आपके हाथ से भी दूर हो चुका था । कब तक अपने दम्भ के दरवाजे में नानक को कैद रख पाते । नानक का संदेश तो विश्व को विचार के सतत प्रवाह का सन्देश देता रहा है ,बिल्कुल उसी रावी के प्रवाह की तरह जो अपने उद्गम से लेकर सागर में समा जाने की यात्रा में दोनो देश की धरती पर समान अधिकार से घुसती-निकलती बहती है । क्या रोक सके तुम उस रावी के धार को सागर से मिल जाने को..! तो फिर कब तक रोक पाते उनके भक्तों को ..? बस एक नदी के दो किनारों का फासला ही तो है ,जिसके बीच नानक की धारा बह रही है । *संघर्ष* से कमजोर हो रहे दरवाजे पर लगे आपके झूठे दम्भ की  कुंडी टूट रही है । तब यह आपका *आत्म-* *समर्पण* से ज्यादा कुछ नही है..!
 जीवन के दो पहलू हैं संघर्ष और समर्पण ।  *मैं* या *अहं* का विस्तार होता है तो संघर्ष बनता है । और जब मैं खत्म होते जाता है तब समर्पण स्वतः दिखाई देने लगता है ।  संघर्ष मतलब मुझे तेरी इच्छा स्वीकार नही ,तेरा अस्तीत्व गौण ,मैं लेकर रहूंगा जो मैं चाहूं । मैं चाहे ये करूं मैं चाहूं वो करूं ,  मेरी मर्जी ! 
जब ऐसी सोच होगी तब आप अपनी मर्जी चलाने के लिए संघर्ष करेंगे ।  नानक की धरती पर रहकर भी परिश्रम के बजाय पाकिस्तान को संघर्ष में यकीन है । परिश्रम से स्वयं के उत्थान के बजाय संघर्ष में ही लगे रहे ।
घर की छत के सतह पर निश्चल भाव से एक गिलास पानी उड़ेल कर देखना , वह जलधारा सदैव ढलान की ओर मंद गति से बढ़ जाता है । 
कहा जाता है पानी अपना रास्ता आप ही बना लेता है । 
 *नानक* की भक्ति  विचारों की वही धारा है , उसे सागर से मिलन को कब तक रोक सकता पाकिस्तान..! 

ये तो  नियति अर्थात प्रकृति की व्यवस्था है ।
 वह धारा आज सैलाब बन गया तब आप मुकाबले के बजाय उससे दूर रहने या समर्पण को पाकिस्तान कोई भी नाम  दे ,फर्क क्या पड़ेगा । 

 " ले चल जहां ले जाना हो मैं तो तेरे साथ रे..."
नानक ने गांव के सूफी मुखिया के भेजे दूध से लबालब भरे उस कटोरे में एक  *फूल* डाल दिया ।
सोचिए ,जिस कटोरे में अब एक और बूंद दूध के लिए जगह नही बचा था उसमें नानक के हाथों डाला फूल कैसे ,बिना दूध गिराए ,जस का तस समा गया !
फूल का अपना कोई भार नही होता । प्रकृति ने फूल को ये सुंदर नियामत बक्शी है ,फूल उसी समर्पण का प्रतीक है । एक फूल को डालकर नानक ने उस सूफी संत को संदेश भिजवा दिया कि मैं तुम्हारे गांव में वही फूल बनकर ठहरा हूं ,मुझे आपसे क्या लेना ,आपका आभार !
मैं तो आपके गांव में इसी फूल की तरह मेहमान ,बिना भार के हूं । आपका बिना एक बूंद लिए मैं इस जग से निकल जाऊंगा । 
वह ,दूध से भरा कटोरा हमारे उसी अहंम यानि *संघर्ष का प्रतीक है और वह फूल हमारे जीवन के उसी समर्पण का ।
पाकिस्तान ने आज अपनी सीमा पर लगे लोहे का द्वार खोला है ।
 *नानक* तो इस पार भी हैं उस पार भी ! पर  जिस दिन तेरा दम्भ का दरवाजा खुलेगा उस *नानक* का तेरी धरती की सीमा में होना सफल हो जाएगा । उस दिन पाकिस्तान का आत्म-समर्पण नही बल्कि *समर्पण* होगा ।
 नानक ने उस दिन दूध से भरे कटोरे में फूल डालकर लौटाने का कारण पूछने पर भी अपने शिष्य को नही बताया । जवाब में बस इतना कहा कि 'वह मुखिया एक सूफी संत हैं ,खुद समझ जाएंगे ! 

हरिद्वार में गंगा स्नान और मक्का में काबा के दर्शन कर आये नानक कहते हैं -

 "तिथै लोअ लोअ आकार ।
 जिव जिव हुकमु तिवै तिव कार ।"

दुनिया ही दुनिया , चेहरे ही चेहरे , उनकी अनेकानेक आकृतियां । इन अलग अलग जीवों को जब भी उस परमेश्वर से 
जिस प्रकार का आदेश मिलता है , उन्हें वैसा हीं करना पड़ता है ।
कराने वाला वह है जो कहीं ऊपर बैठा है ।
 
आज बस इतना ही..!

भाजपा मंडल अध्यक्षो के चुनाव 15 एवं 16 नबंवर को,17 नबंवर को होगी घोषणा

भाजपा मंडल अध्यक्षो के चुनाव 15 एवं 16 नबंवर को,17 नबंवर को होगी घोषणा 
सागर ।भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश आह्वान पर संगठन चुनाव की श्रृंखला में मंडल अध्यक्षों के निर्वाचन पूरे प्रदेशो में एक साथ 15, 16 नबंवर को आयोजित होने जा रहे है। इसी श्रृंखला मंे सागर जिले के समस्त मंडलो में मंडल अध्यक्षों के निर्वाचन की प्रक्रिया पूर्ण होगी। इस संबंध में आज जिला भाजपा के पदाधिकारियों की बैठक धर्मश्री स्थित पार्टी कार्यालय में संपन्न हुयी। बैठक में विचार व्यक्त करते हुये पार्टी के जिला अध्यक्ष प्रभुदयाल पटैल ने बताया कि मंडल स्तर पर बनाये गये निर्वाचन अधिकारी मंडलो में अपने-अपने प्रभार वाले मंडलो में पहुंचकर भाजपा के मंडल अध्यक्षों की निर्वाचन की प्रक्रिया वरिष्ठ नेताओं की सहमति से समन्वय बैठाल कर कराने का कार्य करें।  
      सह निर्वाचन अधिकारी पूर्व जिला अध्यक्ष जाहर सिंह ने बताया कि जिले के समस्त मंडलो में 15 और 16 नबंवर को मंडलो के निर्वाचन अधिकारी पहुंचकर मंडल अध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया पूर्ण कराकर 16 तारीख को जिला निर्वाचन अधिकारी अरविंद भदौरिया जी को निर्वाचन की प्रक्रिया से अवगत करायेंगे। जाहर सिंह ने बताया कि 17 नबंवर को जिले के निर्वाचन अधिकारी अरविंद भदौरिया एक साथ जिले के सभी मंडलों के अध्यक्षो की घोषणा वरिष्ठ नेताओं की सहमति से समन्वय के साथ सर्वस्पर्शी मंडल अध्यक्षो की घोषणा करेंगे।  
बैठक में प्रमुख रूप से अनुराग प्यासी ,लक्ष्मण सिंह, शैलेष केशरवानी,  डाॅ. सुखदेव मिश्रा, प्रदीप राजौरिया, श्याम तिवारी, नवीन भट्ट, रामेश्वर नामदेव, रामकुमार साहू, विवेक मिश्रा, अंकित सनकत सहित बड़ी संख्या में पार्टी पदाधिकारी उपस्थित रहे।

मशहूर राजनेता स्व विठ्ठल भाई पटेल की स्मृति में निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन

मशहूर राजनेता स्व विठ्ठल भाई पटेल की स्मृति में निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन
सागर। श्री गुरुनानक जयंती पर्व के 550 वे प्रकाश पर्व पर   मशहूर राजनेता,गीतकार स्व विठ्ठल भाई पटेल की स्मृति में   भाग्योदय तीर्थ धर्मार्थ न्यास और इंडियन ऑयल कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा भगवानगंज स्थित पंचशील पेट्रोल पंप पर निशुल्क स्वास्थ्य शिविर परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया।मरीजों का इसमे परीक्षण कर दवाएं निशुल्क प्रदान की गई। दिव्यांग उदय जनकल्याण समिति का विशेष सहयोग रहा। 

      परीक्षण शिविर  डॉ वृंदावन कुर्मी  और  कैलाशसाहू और स्टाफ के निर्देशन में आयोजित हुआ। स्वास्थ्य परीक्षण शिविर में शुगर बीपी की जांच की गई। डॉक्टरों के परामर्श उपरांत  मरीजों को निशुल्क दवाएं वितरित की गई।शिविर में भगवानगंजऔर स्टेशन क्षेत्रके लोग लाभान्वित हुए।
  इसमे संजय विठ्ठल भाई पटेल , डॉ जी एस चोबे , डॉ अरुण सराफ,योगेश महाजन एरिया मैनेजर,इंडियन ऑयल कारपोरेशन, नीरज जैन,रोशन खान,राजू बक्शी,विवेक मिश्रा,मनोज ठाकुर, डॉअरुण सराफ,शरद जैन, राजकुमार  पांडे, मॉनी कांत चोबे, गोलू पटेल टेंट, विंनोद पटेल,हितेश पटेल,असफाक मुस्ताक खान ,इरफान,दिलीप अमित दिनेश शेलेन्द्र सहित अनेक गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

बाघ 'किशन' को ट्रैंक्यूलाइज कर पहनाया गया नया वीएचएफ रेडियो कॉलर

बाघ 'किशन' को ट्रैंक्यूलाइज कर पहनाया गया नया वीएचएफ रेडियो कॉलर

#पन्नाा टाइगर रिजर्व व जबलपुर राज्य वन अनुसंधान से आई थी टीमें
#वन मंडल के अफसरो ने पहनाया वीएचएफ

@चैतन्य सोनी (नवदुनिया से)
सागर।नौरादेही अभयारण्य में लगातार दो दिन तक वैज्ञानिकों और वन विभाग की टीमों को छकाने के बाद आखिरकार सोमवार को वनराज किशन (एन-2) मिल ही गया। पन्नाा टाइगर रिजर्व व राज्य वन अनुसंधान जबलपुर से आए विशेषज्ञों और वैज्ञानिकों की टीम ने उसे ट्रैंक्यूलाइज कर सफलता पूर्वक रेडियो कॉलर पहनाया। बाघ की पिछले तीन दिन से नौरादेही के जंगलों की सर्चिंग की जा रही थी। तीसरे दिन सोमवार सुबह बाघ की लोकेशन मिली और विशेषज्ञों की टीम ने बाघ को करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद बेहोश कर रेडियो कॉलर पहनाया है।
       बाघों की सुरक्षा को लेकर राज्य से लेकर केंद्र सरकार तक चिंतित रहती है। सागर के नौरादेही अभयारण्य में मौजूद बाघ-बाघिन की लोकेशन ट्रेस करने के लिए उनके गले में वेरी हाई फ्ररिक्वेंसी रेडियो कॉलर पहनाने का निर्णय लिया गया था। शुक्रवार को पन्नाा टाइगर रिजर्व से बाघ चिकित्सक डॉ. संजीव गुप्ता व उनकी टीम एवं राज्य वन अनुसंधान संस्थान जबलपुर से रेडियो कॉलर पहनाने में एक्सपर्ट डॉ. अंजना राजपूत व उनकी टीम के तीन सदस्य सागर आए थे। नौरादेही वन मंडल अधिकारी नवीन गर्ग, नौरादेही बरमान रेंज के एसडीओ सुशील कुमार प्रजापति सहित मैदानी अमला शनिवार व रविवार से नौरादेही रेंज में बाघ को तलाशने में जुटा हुआ था। टीम लगातार जंगल में वनराज किशन की लोकेशन ट्रेस करने में जुटी रही, लेकिन वह कहीं नजर नहीं आया।
करीब ढाई घंटे चला वीएचएफ कॉलर पहनाने का अभियान
सोमवार को नौरादेही में मैदानी अमले ने डीएफओ नवीन गर्ग को सूचना दी कि बाघ किशन नौरादेही रेंज में ही मौजूद है। उसे देखा गया है। तत्काल विशेषज्ञ व चिकित्सकों की टीम मौके के लिए रवाना हो गई। करीब 10 बजे बाघ नजर आ गया। फिर शुरू हुआ बाघ को बेहोश (ट्रैंक्यूलाइज) करने का अभियान। दो घंटे की मशक्कत के बाद करीब 12 बजे बाघ किशन को बेहोश कर वन्य प्राणी चिकित्सक डॉ. संजीव गुप्ता की टीम ने पास पहुंचकर उसका परीक्षण किया। उनकी अनुमति के बाद डॉ. अंजना गुप्ता की टीम ने बाघ के गले में वीएचएफ रेडियो कॉलर सफलता पूर्वक पहनाया। चिकित्सकों की टीम ने फिर एक बार किशन का स्वास्थ्य परीक्षण कर सबकुछ ठीक होने के बाद उसे बेहोशी की दवा का असर खत्म करने के लिए दवा दी। इसके बाद एक निश्चित दूरी बनाकर टीम बाघ के होश में आने का इंतजार करती रही। करीब आधे घंटे बाद बाघ किशन को होश आया और वह कुछ देर इधर-उधर देखने के बाद खड़ा हुआ और धीरे-धीरे जंगल में चला गया।
साल 2018 में अप्रैल और मई में आए थे बाघ-बाघिन
नौरादेही में बाघ-बाघिन को करीब डेढ़ साल पहले बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व और कान्हा टाइगर रिजर्व से लाकर बसाया गया था। पहले कान्हा टागर रिजर्व से युवा बाघिन राधा और फिर मई में बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व से बाघ किशन को लगाया गया था। बाघिन को एन-1 और बाघ को एन-2 नाम दिया गया था। दोनों की लाइव लोकेशन ट्रेस करने के लिए रेडियो कॉलर पहनाए गए थे। जोरदार बारिश और अन्य कारणों से यह खराब हो गए थे और बीते कई महीनों से दोनों की लोकेशन ट्रेस करने में काफी मशक्कत करना पड़ रही थी। बाघ नौरादेही अभयारण्य के लंबे चौड़े जंगली क्षेत्र में जब-तब गायब हो जाता रहा है। वन विभाग ने उसके गले में नया रेडियो कॉलर पहनाने का निर्णय लिया था।
एन-2 बाघ को वीएचएफ कॉलर पहनाया 
राज्य वन अनुसंधान जबलपुर और पन्नाा टाइगर रिजर्व से विशेषज्ञों और डॉक्टरों की टीम ने नौरादेही रेंज में बाघ को ट्रैंक्युलाइज कर सफलता पूर्वक वीएचएफ रेडियो कॉलर पहना दिया है। बाघ का परीक्षण भी किया गया है। वह बिलकुल स्वस्थ्य है। उस पर हमारा मैदानी अमला नजर बनाए हुए है। बाघिन और शावक भी सुरक्षति हैं। तीन दिन पहले बाघिन की लोकेशन भी ट्रेस हुई है।
- नवीन गर्ग, वन मंडल अधिकारी, नौरादेही अभयारण्य, सागर

पिता ने दो मासूम बच्चियों की हत्या कर,पत्नी को आत्महत्या के लिए किया था मजबूर,पति पर मामला दर्ज

पिता ने दो मासूम बच्चियों की हत्या कर,पत्नी को आत्महत्या के लिए किया था मजबूर,पति पर मामला दर्ज
सागर । सागर के मोती नगर थाना क्षेत्र में पिछले दिनों दर्दनाक घटना में महिला और उसकी दो मासूम बच्चियों की मौत के मामले में पुलिस ने आरोपी मनोज पटेल के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी ने अपनी दो मासूम बच्चियों की गला घोंटकर हत्या की थी और पत्नी को फांसी लगाकर आत्महत्या करने मजबूर किया था।आरोपी ने स्वयं भी आत्महत्या करने की कोशश की थी। 
बम्होरी रेंगुआ ग्राम में 7 नवम्बर को इस हादसे में तीन की मौत हुई थी ।और पति बच गया था।उसकी  आर्थिक स्थिति कमजोर थी। इसमे पत्नी पूनम पटेल और बच्चियां जिया और सोनम की मौत हो गई थी।उसकी दो जुड़वा बेटियां दादी के पास रहने के कारण बच गई थी।
             मोतीनगर थाना प्रभारी संगीता सिंह के अनुसार आरोपी मनोज पटेल पुलिस को गुमराह कर रहा था। आरोपी के खिलाफ धारा 302,306 और309 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है । इस मामले में एक सुसाईड नोट भी मिला था। जिसकी हेडराईटिंग एक्सपर्ट से जांच कराई जा रही है ।

जीपीएफ की राशि दूसरे के खाते में हुई ट्रांसफर , पीड़ित शिक्षक ने बीआरसी कार्यालय में ही दिया धरना

जीपीएफ की राशि दूसरे के खाते में हुई ट्रांसफर , पीड़ित शिक्षक ने बीआरसी कार्यालय में ही दिया धरना
सागर । सागर जिले के बण्डा के एक शिक्षक  जीपीएफ फंड किसी दूसरे के खाते में ट्रांसफर हो गया । शिक्षक पिछले  दो माह से इसे सुधरवाने भटक रहा है । इसकी शिकायत भी शिक्षा विभाग में कर चुका है । लेकिन समस्या हल नही हुई। पीडितशिक्षक जिनेन्द्र जैन बीआरसी कार्यालय के भीतर ही धरना  दिया।
     सागर जिले के बंडा तहसीली स्थित शासकीय विद्यालय के शिक्षक जैनेंद्र जैनका दो साल का फंड किस्से दूसरे के खाते में ट्रांसफर हो गया।  इससे परेशान हो कर वे  एक दिवसीय धरने पर बैठ गए और धरने के स्थान बंडा का बी आर सी कार्यालय था। उसके के अंदर ही बैठ कर अपना विरोध जताया ।शिक्षक जैनेंद्र जैन ने बताया कीमेरा फंड आदि दूसरे के खाते में चला गया। स्कूल में पदस्थ लेखपाल सुनील जैन कई दफा कहने के बाद भी इसे नही सुधारा। पैसे लेकर सुनील जैन काम करते है।इसके बारे मैं कई दफा बंडा बी आर सी ऑफिसमें शिकायत भी  की  गई लेकिन इस ओर किसी का भी घ्यान नही गया। घर की हालात बेकार होती जा रही है इसी कारण मजबूरन वश धरना देने के लिए विवश होना पड़ा।बी आर सी नरेंद्र अठ्या  के अनुसार इस मामले में लेखापाल को पत्र लिखा है । इसई सुधरवाया जा रहा है।

सोमवार, 11 नवंबर 2019

बछिया -बछड़े की शादी रचाई,गांववाले बने बाराती,निभाई परम्पराए

बछिया -बछड़े की शादी रचाई,गांववाले बने बाराती,निभाई परम्पराए
सीहोर । जानवरो की शादियों के कई किस्से मशहूर है । ऐसा ही वाकया बछिया और बछड़े की शादी का है।  सीहोर  जिले के जावर तहसील के गांव करमनखेड़ी में एक बछिया और बछड़े की शादी का अनोखा मामला सामने आया है। जिसमें दुल्हा गाय का बछड़ा तो दुल्हन गाय की बछड़ी थी, जबकि बाराती के रूप में ग्रामीण थे। बैंडबाजों के साथ जब विवाह की बारात निकली तो देखने वाले देखते ही रह गए।।      
        करमनखेड़ी गांव में दो महीने पहले एक गाय का बछड़ा और बछिया बाहर से आ गए थे। यह दोनों ही साथ में रहने लगे। वहीं जहां पर जाते वहां भी साथ में ही रहते थे। दोनों के बीच का प्रेम देखकर ग्रामीण आश्चर्य में पड़ गए। उनके इस प्रेम को देखने के बाद सभी नेमिलकर शादी कराने का निर्णय लिया। ग्रामीणों ने इसके लिए राशि एकत्रित की। वहीं बकायदा गणेश पूजन के बाद दोनों को दुल्हा-दुल्हन बनाया गया। 
        यह प्रकिृया पूरी होने के बाद बछिया और बछड़े का पूरा हिन्दू रीति रिवाज से विवाह कराया गया। खास बात यह है कि शादी कराने के लिए पंडितों को बुलाया था। विवाह के दिन वर पक्ष बछड़े की तरफ से अर्जुनसिंह ठाकुर बैंडबाजे के साथ बारात लेकर वधु पक्ष बछिया के तेजसिंह आचार्य के घर बारात लेकर पहुंचे। यहां बकायदा स्टेज सजाया गया था, जहां एक से बढ़कर एक नृत्य की प्रस्तुति देखने को मिली। उसके बाद वर और वधु अग्रि के समक्ष सात फेरे लेकर एक दूजे के हो गए। अनोखी शादी को जिसने भी देखा वह देखते ही रह गया।

वैज्ञानिक सोच बढ़ाने हेतु वैज्ञानिक मॉडल प्रदर्शनी का आयोजन

वैज्ञानिक सोच बढ़ाने हेतु वैज्ञानिक मॉडल प्रदर्शनी  का आयोजन
सागर । पर्ल पब्लिक हायर सेकेंडरी स्कूल  सागर में आज  विज्ञान प्रदर्शनी  का आयोजन किया गया ।विज्ञान प्रदर्शनी का उद्घाटन  आर. के. वैद्य प्राचार्य शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय, एन. के. श्रीवास्तव जिला विज्ञान प्रभारी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, कनेरादेव, एवं व्याख्याता विवेक नवाथे शासकीय विद्यालय सीहोरा द्वारा किया गया l
         विज्ञान प्रदर्शनी के  प्रारंभ हेतु उपस्थित अतिथियों के साथ पर्ल पब्लिक हायर सेकेंडरी स्कूल के संचालक पंडित धर्मेंद्र शर्मा , प्राचार्या श्रीमति सुलभा देऊस्कर , उप प्राचार्या मिस नाजनीन. द्वारा किया देवी सरस्वती जी की मूर्ति पर माल्यार्पण एवं पूजन किया गया । अतिथियों के स्वागत विद्यालय की विज्ञान शिक्षकों द्वारा माल्यार्पण कर किया गया l
    विद्यालय की छात्राओं ने भी अतिथियों को पुष्प भेंट कर उनका अभिनंदन किया lविज्ञान प्रदर्शनी के  विभिन्न मॉडलों में जहां बच्चों ने घर के वेस्ट मटेरियल से बनाई गई कई सुन्दर कलाकृतियों का प्रदर्शन किया वहीं कई अन्य विद्यार्थियों द्वारा विज्ञान माडल प्रदर्षित किए गए lविद्यार्थियों ने कई चलित मॉडल जैसे हाईड्रोलिक ब्रिज, ब्लूटूथ कार, चन्द्रयान, थीफ इंडीकेटर, स्मार्टसिटी, हाईड्रोलिक जेसीबी, पवन चक्की, सोर्स आफ इलेक्ट्रिक सिटी, प्रोजेक्टर, हाईड्रो इलेक्ट्रिक प्लांट, लेजर लाइट डिटेक्टर, वाटर पंप आदि वेस्ट सामानों से बनाई गई खूबसूरत कलाकृतियों का प्रदर्षन किया। इसके अलावा पर्यावरण को लेकर बनाये गये माडलों ने भी सभी का ध्यान अपनी ओर आर्कषित किया। 
     इस मौके पर मौजूद विद्यालय के संचालक पंडित धर्मेन्द्र शर्मा और प्रधानाचार्य श्रीमति सुलभा देऊस्कर ने बच्चों की प्रतिभा देखते हुए उनका उत्साह वर्धन किया lअतिथियों ने भी वैज्ञानिक पद्धति से बनाए गए विभिन्न मॉडल की प्रशंसा की और विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन किया l

Archive