दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

शनिवार, 13 नवंबर 2021

कासा एवं कैड के संयुक्त तत्वाधान में हेल्थ वर्कर्स को दिया गया प्रशिक्षण

कासा एवं कैड के संयुक्त तत्वाधान में हेल्थ वर्कर्स को दिया गया प्रशिक्षण

सागर ।  कासा एवं कैड संस्था के द्वारा प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें फील्ड में जाकर काम करने वाले लगभग 25 वॉलिंटियर्स हेल्थ वर्कर्स को प्रशिक्षण दिया गया मुख्य अतिथि के रुप में डॉक्टर संजयोत  माहेश्वरी, बीनू राणा जी रोटरी क्लब से जिला अस्पताल से स्टाफ नर्स शालिनी जाटव जी श्रम शक्ति महिला सेवा संस्थान से श्रीमती रेखा राजपूत जी  नेहरू युवा केंद्र से राघवेंद्र जी एवं सामाजिक कार्यकर्ता जय श्री चढ़ार जी उपस्थित थे।
डॉ संजयोत माहेश्वरी ने बताया कि किस तरह तीसरी लहर का प्रभाव बच्चों पर हो सकता है एवं सेकंड लहर में किस तरह से हमने समर्पित कार्य किए हैं और हमें आगे क्या क्या सावधानियां रखनी है इसके बाद शालिनी जी ने थर्मामीटर ऑक्सीमीटर का उपयोग एवं उपयोग करते समय क्या-क्या सावधानियां रखनी है इस बारे में बताया वीनू राणा जी ने आत्मविश्वास के बारे में वॉलिंटियर से चर्चा की एडवोकेट नरेंद्र अहिरवार जी ने भी वॉलिंटियर्स को करुणा काल के संघर्ष और गाइड लाइन के बारे में बताया एवं अमित कछवाहा  ने भी अपना मार्गदर्शन दिया । अंत में श्रीमती रेखा राजपूत ने सभी का आभार व्यक्त किया कार्यक्रम में कपिल ठाकुर उत्तम अहिरवार प्रभा शिवानी यादव एवं बड़ी संख्या में कम्युनिटी हेल्थ वर्कर उपस्थित थे

कोरोना संकट के बाद पुनः जीवंत होंगे नाटक के रंग ★ अन्वेषण का पांच दिवसीय नाट्य समारोह 24 से 28 नवम्बर तक

कोरोना संकट के बाद पुनः जीवंत होंगे नाटक के रंग 
★ अन्वेषण का पांच दिवसीय नाट्य समारोह 24 से 28 नवम्बर तक 

सागर | कोरोना की कष्टप्रद विभीषिका के बाद एक बार पुनः कला जगत पटरी पर लौट चला है | इसी क्रम में अन्वेषण थिएटर ग्रुप का पांच दिवसीय नाट्य समारोह 24 से 28 नवंबर तक स्थानीय रवींद्र भवन में आयोजित किया जाएगा | 
 उक्त नाट्य समारोह में अन्वेषण थिएटर ग्रुप द्वारा अलग-अलग शहरों के नाट्य दलों को आमंत्रित किया गया है | इसमें दर्शकों को हास्य, व्यंग सहित गंभीर रंगों के नाटक देखने का अवसर मिलेगा | नाट्य समारोह में प्रथम दिन 24 नवंबर को भोपाल के नाट्य दल भोपाल थिएटर द्वारा हास्य नाटक ' भाग अवंती भाग ' की प्रस्तुति, दूसरे दिन 25 नवंबर को अन्वेषण थिएटर ग्रुप सागर द्वारा कोरोना वॉरियर्स को समर्पित चिकित्सा जगत में कार्यरत लोगों की संवेदनशीलता को प्रदर्शित करता नाटक ' तुम कितनी खूबसूरत हो ', तीसरे दिन 26 नवंबर को संप्रेषण नाट्य मंच कटनी द्वारा वैचारिक नाटक ' गांधी ने कहा था ', चौथे दिन 27 नवंबर को अभिनव रंगमंडल उज्जैन द्वारा हास्य नाटक ' अरे ! शरीफ लोग ' एवं समारोह के पांचवें और अंतिम दिन 28 नवंबर को समागम रंगमंडल जबलपुर द्वारा नाटक ' अगरबत्ती ' की प्रस्तुति दी जाएगी |
        अन्वेषण के दर्शकों को याद होगा कि इससे पूर्व माह दिसंबर 2018 में भी अन्वेषण के नाट्य समारोह में पांच अलग-अलग रंगों से सजे नाटकों ने दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया था | यह भी उल्लेखनीय है कि इसके बाद के वर्षों में कोरोना संकट के कारण नाट्य समारोह का आयोजन नहीं हो सका था एवं 23 से 27 मार्च 2021 को होने वाला नाट्य समारोह भी तमाम तैयारियों के बाद स्थगित करना पड़ा था | बहरहाल एक बार पुनः जीवन अपनी रफ्तार से चल पड़ा है और अन्वेषण सभी के स्वस्थ जीवन की कामना के साथ ' अन्वेषण नाट्य समारोह 2021 ' का आयोजन करने जा रहा है | इसके तहत 24 से 28 नवंबर तक प्रतिदिन संध्या 7:00 बजे से नाटकों का मंचन होगा | आयोजन के दौरान कोविड-19 के प्रति शासन के दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा | अन्वेषण ने नगर के सभी दर्शकों से समारोह में पधारकर नाटकों का आनंद लेने की अपील की है |

इनरव्हील क्लब सागर का शपथ ग्रहण समारोह

इनरव्हील क्लब सागर का शपथ ग्रहण समारोह

सागर। "शिक्षा, स्वास्थ्य, सेना और पत्रकारिता समाज सेवा के चार महत्वपूर्ण आधार हैं। शिक्षा से शोध तक ज्ञान का विकास, स्वास्थ्य से कार्य क्षमता का विकास, सेना से सुरक्षा और आत्म विश्वास का विकास, पत्रकारिता से जागरूकता का विकास--- सामाजिक विकास के लिए चार महत्वपूर्ण आधार हैं और इनरव्हील क्लब सागर व रोटरी क्लब सागर में शिक्षकों और चिकित्सकों की सहभागिता सराहनीय है।" सागर जिले की संयुक्त कलेक्टर श्रीमती सपना त्रिपाठी ने इनरव्हील क्लब सागर के शपथ ग्रहण एवं अधिष्ठापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में उदबोधन देते हुए यह विचार व्यक्त किये। श्रीमती सपना त्रिपाठी ने नवीन सत्र की अध्यक्षा एनी श्रीमती नेहा राजपूत और उनकी टीम को बधाईयाँ देते हुए कहा कि सेवा कार्यों की में नारी शक्ति सहभागिता की सराहना की।
सत्र 2021-22 की अध्यक्षा एनी श्रीमती नेहा राजपूत ने कहा कि नारी संचेतना, व्यक्तित्व विकास और समाज सेवा के साथ महिला सुरक्षा, महिला सशक्तिकरण, सांस्कृतिक मूल्यों के संपोषण और उद्यमिता/कौशल उन्नयन के लिए इनरव्हील बहनों की भूमिका सदैव सराहनीय है। सब मिल कर एक भारत श्रेष्ठ भारत की दिशा में समर्पित प्रयासों के लिए सदैव तत्पर हैं।
श्रीमती नेहा राजपूत ने नये सत्र के लिए गठित कार्यकारिणी/ बोर्ड का परिचय कराया, जिसमें नेहा राजपूत अध्यक्ष, सरोज चतुर्वेदी सचिव, अर्चना अग्रवाल आई एस ओ, सुनीता सिंह कोषाध्यक्ष, रजनी जैन संपादक, निधि जैन एम ओ सी, सुमन जैन कल्पना जैन  कविता मलैया उपाध्यक्ष, प्रमिला सराफ आराधना ठाकुर  संयुक्त सचिव, रजनी गर्ग अंजना पाठक शिक्षा जागरूकता, सिम्मी मुखारया मोनिका शर्मा रोशी जैन स्वास्थ्य प्रकोष्ठ, रश्मि रितु जैन विधिक जागरूकता, प्रीति मलैया उद्यमिता विकास और रूही जैन को सचेतक के रूप में स्थान दिया गया है । एनी नेहा राजपूत ने संयुक्त कलेक्टर श्री मती सपना त्रिपाठी को इनरव्हील क्लब सागर की मानद सदस्यता से सम्मानित किया। रोटरीअंतर्राष्ट्रीय मंडल 3040 के मंडलाध्यक्ष रो कर्नल मिश्रा ने संयुक्त कलेक्टर श्री मती सपना त्रिपाठी को इनरव्हील क्लब सागर का फ्लेग भेंट करते हुए मानद सदस्यता से सम्मानित किया। 
कार्यक्रम के प्रारंभ में पूर्व अध्यक्ष श्रीमती अर्चना अग्रवाल ने अपने सत्र की रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए सदस्यों को सम्मानित किया। इस अवसर पर रोटरी मंडलाध्यक्ष रो महेन्द्र मिश्रा , श्रीमती शिल्पा मिश्रा,  रोटरी क्लब सागर और रोटरी सामुदायिक समिति सागर के पदाधिकारी व सदस्य सम्मिलित रहे।

मालिकाना हक दिला कर मालिक बनाया जायेगा ग्रामवासियो को मंत्री गोविंद राजपूत


मालिकाना हक दिला कर मालिक बनाया जायेगा ग्रामवासियो को मंत्री गोविंद राजपूत

★ 4 करोड़ से अधिक के विकास  कार्यों  का भूमिपूजन, लोकार्पण


सागर। जनता की बात जनता के सामने पूरी  हल होगी। साथ ही शहर की तर्ज पर ग्रामों में उपलब्ध  पेयजल कराया जायेगा एवं मालिकाना हक दिला कर  समस्त ग्रामवासियों को मालिक बनाया जायेगा । उक्त विचार राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने सुरखी विधानसभा क्षेत्र के समनापुर , गुरिया , मोकलपुर एवं हफसीली ग्रामो में 4 करोड़ रूपये से अधिक के विकास कार्यों के भूमिपूजन एवं लोकार्पण कार्यक्रम में व्यक्त किये।

सुरखी  विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक ग्राम में पेयजल उपलब्ध कराना मेरा संकल्प है कि आने वाले दिनों में संपूर्ण विधानसभा क्षेत्र में प्रत्येक घरों में पाइप लाइन एवं टोंटी के माध्यम से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही ग्राम वासियों की समस्याओं को देखते हुए राजस्व के लंबित प्रकरणों का निराकरण प्रत्येक ग्राम पंचायत में राजस्व शिविर लगाकर निराकृत किए जाएंगे।

 राजस्व परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा संपूर्ण विधानसभा क्षेत्र का प्रत्येक ग्राम में प्रत्येक घर में नल के माध्यम से पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि पेयजल उपलब्ध होने से हमारी माताओं एवं बहनों को तालाब एवं कुआं पर नहीं जाना पड़ेगा।
 
मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि संपूर्ण कार्य ग्राम वासियों एवं अधिकारियों की देखरेख में किए जाएं। जिससे संपूर्ण कार्य में गुणवत्ता रहे उन्होंने कहा कि अच्छे कार्य की जिम्मेदारी ग्राम वासियों की होगी।

 मंत्री श्री राजपूत ने कहा स्वामित्व योजना के माध्यम से समस्त ग्राम वासियों को मालिकाना हक के  प्रमाण पत्र भी प्रदान किए जाएंगे। इसके लिए शीघ्र ही संपूर्ण सुर्खी क्षेत्र का ड्रान के माध्यम से सर्वे किया जाएगा । उन्होंने कहा कि मालिकाना हक मिलने के पश्चात आप बैंक लोन एवं जमानत भी ले सकेंगे ।
उन्होंने कहा कि देखा जाता है कि राजस्व के लंबित प्रकरणों के लिए जिले एवं तहसीलों के चक्कर लगाना पड़ रहे हैं जिसको देखते हुए राजस्व षिविर प्रत्येक ग्राम पंचायतों में ग्राम स्तर पर आयोजित किए जाएंगे और निशुल्क उनके निराकरण किया जाएगा।
 

मंत्री श्री राजपूत ने  सभी ग्राम वासियों से अपील की कि सभी लोग वैक्सीन के दोनों डोज अवश्य लगवाएं जिससे कोरोना संक्रमण से बचने का कवच प्राप्त किया जा सके ।
उन्होंने कहा कि जब तक व्यक्ति के दोनों डोज नहीं लगेंगे जब तक हमारा जीवन सुरक्षित नहीं है वह सुरक्षित रखने के लिए हमें दोनों डोज वैक्सीन के लगवाना ही होंगे ।
मंत्री श्री राजपूत ने ग्रामवासियों को सरसों के बीज के किटों का वितरण भी किया। इस अवसर पर ग्रामवासी ,अधिकारी मौजूद थे 

RTO सुरक्षादस्ता की फोरलेन पर अवैध वसूली का मामला, परिवहन मंत्री ने एक सबइंस्पेक्टर और आरक्षक को हटाया

RTO सुरक्षादस्ता की फोरलेन पर अवैध वसूली का मामला, परिवहन मंत्री ने एक सबइंस्पेक्टर और आरक्षक को हटाया


सागर। RTO उड़नदस्ता द्वारा फोरलेन पर चेकिंग के दौरान अवैध वसूली की शिकायत मिलने पर और वाहन चालकों से मारपीट के मामले को गम्भीरता से लेते हुए परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत ने  सम्भागीय सुरक्षा दस्ता सागर से एक परिवहन निरीक्षक और एक आरक्षक को
हटाने के निःर्देश दिए है। इस आशय के आदेश परिवहन आयुक्त ग्वालियर ने जारी कर दिये।

कल शुक्रवार को सागर के  बहेरिया थाना क्षेत्र में फोरलेन पर गुड़ा गांव के पास चेकिंग के द्वारा जमकर विवाद ट्रक चालकों और उड़नदस्ता के बीच हुआ था। अवैध वसूली को लेकर वाहन चालकों ने 5 घण्टे चक्काजाम किया। करीब 15 किलोमीटर लंबी लाएन लगी रही । मोके ASP सहित पुलिस बल पहुचा और जाम खत्म कराया। परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत के गृहजिले में हुई इस घटना से हड़कम्प मच गया।
इस घटना को मंत्री गोविंद राजपूत ने गभीरता से लिया और सम्भागीय सुरक्षा दस्ता सागर से परिवहन निरीक्षक अनिमेष जैन  और एक आरक्षक शुभम शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटाने के निःर्देश दिये । उधर परिवहन आयुक्त  गवालियर ने इसके आदेश जारी किए।


विधिक साक्षरता एवं जागरूकता कार्यक्रम : मौके पर ही समस्याओं का निराकरण कर 312 हितग्राहियों को दिया गया योजनाओं का लाभ

विधिक साक्षरता एवं जागरूकता कार्यक्रम : मौके पर ही समस्याओं का निराकरण कर 312 हितग्राहियों को दिया गया योजनाओं का लाभ

सागर 13 नवंबर 2021। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली एवं मध्य प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण , जबलपुर के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, सागर द्वारा " आजादी का अमृत महोत्सव एवं विधिक सेवा सप्ताह (8 नवम्बर से 14 नवम्बर तक ) के अंतर्गत 14 नवंबर तक अखिल भारतीय जागरूकता एवं पहुॅच कार्यक्रम अंतर्गत , सागर की तहसीलों एवं दूरस्थ ग्रामों में जागरूकता एवं पहुँच कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है । इसी कड़ी में आमजन की समस्याओं के त्वरित निराकरण हेतु मध्य प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार प्रधान जिला न्यायाधीश / अध्यक्ष श्री डी.एन. मिश्र के मार्गदर्शन में जिला स्तरीय विभिन्न विभागों के समन्वय से 13 नवम्बर को समय दोपहर 12 बजे से ग्राम पंचायत भैंसा तहसील व जिला सागर में वृहद विधिक साक्षरता एवं जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।
कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि विशेष न्यायाधीश श्री व्ही . एस . राजपूत विशिष्ट अतिथि अपर कलेक्टर श्री अखिलेश जैन , सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री विवेक शर्मा , मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीमती किरण तुमराची धुर्वे , मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री आर . एस . मिश्रा , सहायक श्रम आयुक्त श्री भागवत प्रसाद , जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री अनुज कुमार चन्सौरिया , ग्राम पंचायत सरपंच श्रीमती प्रेमरानी , ग्राम वासियों एवं पैरालीगल वालेंटियर्स की उपस्थिति में दीप प्रज्वल्लन करते हुये किया गया ।
कार्यक्रम के आरंभ में श्री अनुज कुमार चन्सौरिया , जिला विधिक सहायता अधिकारी के द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव की पृष्ठभूमि एवं निःशुल्क विधिक सहायता योजना के बारे में कार्यक्रम में उपस्थित ग्राम वासियों को विस्तृत जानकारी दी तत्पश्चात् श्रम विभाग , पंचायत विभाग , महिला एवं बाल विकास विभाग , स्वास्थ्य विभाग , सामाजिक न्याय एवं कल्याण विभाग , पुलिस विभाग एवं अन्य विभागों के अधिकारियों ने शासन द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान की एवं योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए जागरूक किया । इस अवसर पर स्थानीय विधायक श्री प्रदीप लारिया , न्यायाधीशगण , विभिन्न विभागों के अधिकारियों द्वारा लोगों की समस्याओं को सुना गया और बहुत सी समस्याओं का त्वरित निराकरण कर हितग्राहियों को मौके पर ही योजनाओं का लाभ प्रदान किया गया । शिविर में लाड़ली लक्ष्मी योजना के 05 प्रकरणों में विवाह सहायता योजना के 02 प्रकरणों में एवं भवन निर्माण तथा कर्मकार मण्डल के अंतर्गत 01 हितग्राही को नियमानुसार राशि जारी की गई । इसके अतिरिक्त कर्मकार मण्डल योजना के अंतर्गत 86 श्रमिकों के कार्ड , प्रधान मंत्री आवास योजना के अंतर्गत 209 प्रकरण एवं स्वस्थ भारत मिशन योजना के अंतर्गत 05 प्रकरणों में भी स्वीकृति प्रदान कर संबंधित हितग्राहियों को लाभांवित किया गया ।
शिविर आयोजन के पश्चात् सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री विवेक शर्मा , मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री आर.एस. मिश्रा एवं जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री अनुज कुमार चन्सौरिया द्वारा ग्राम पंचायत भैंसा के विभिन्न क्षेत्रों में स्थानीय निवासियों के साथ भ्रमण किया गया . इस दौरान स्थानीय निवासियों के द्वारा रोड , नाली , पेयजल एवं प्रकाश व्यवस्था की समस्याओं के बारे में अवगत कराया गया । जिस पर श्री विवेक शर्मा जी के द्वारा समस्याओं के निराकरण के संबंध में अधिकारियों को आवश्यक दिशा - निर्देश प्रदान किये गए ।                  
 

नरयावली क्षेत्र के निर्माणाधीन कार्यों का निरीक्षण किया विधायक प्रदीप लारिया व कलेक्टर श्री आर्य ने

नरयावली क्षेत्र के निर्माणाधीन कार्यों का निरीक्षण किया  विधायक प्रदीप लारिया व कलेक्टर श्री आर्य ने 

सागर। नरयावली विधायक श्री प्रदीप लारिया ने कलेक्टर श्री दीपक आर्य के साथ नरयावली विधानसभा क्षेत्र में चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया । कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने विधायक श्री प्रदीप लारिया के साथ नरयावली विधानसभा क्षेत्र की मकरोनिया नरसिंहपुर रोड पर बन रहे 30 बिस्तर के सामुदायिक स्वास्थ केंद्र का निरीक्षण किया।
निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री आर्य ने निर्देश दिए कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के संपूर्ण कार्य शीघ्र पूर्ण कर इसको प्रारंभ किया जावे। उन्होंने निर्देश दिए कि अस्पताल परिसर में ही बन रहे डॉक्टर एवं पैरामेडिकल स्टाफ के लिए आवास परिसर में भी समस्त आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जावे ।
उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य परिसर के बाजू में बन रही नगर पालिका मकरोनिया द्वारा व्यवसाय कांप्लेक्स का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कांप्लेक्स में आ रही परेशानियों के निराकरण हेतु शीघ्र ही बैठक आयोजित करने के निर्देश दिए। नरयावली विधानसभा क्षेत्र में उक्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चार करोड़ 42 लाख रुपए की लागत से तैयार की जा रही है।
 राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के श्री महेंद्र जैन एवं विपिन मिश्रा ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कलेक्टर श्री आर्य नरयावली विधानसभा क्षेत्र में रेलवे की गेट नंबर 28, 29 पर बन रहे आरओबी का भी निरीक्षण किया । निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री आर्य ने संपूर्ण पुलों को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने पुल के नीचे आकर्षक पेंटिंग कराने के निर्देश दिए।
 कलेक्टर श्री आर्य ने विधायक श्री लारिया के साथ राजाखेड़ी सब्जी मंडी का भी निरीक्षण किया। विधायक श्री लारिया ने बताया कि यह जिले की सबसे बड़ी मंडी है और इससे प्रत्येक मंगलवार एवं रविवार को मंडी लगने के कारण आवागमन में भारी असुविधा का सामना करना पड़ता है कलेक्टर श्री आर्य ने तत्काल कार्ययोजना तैयार कर कार्य करने के निर्देश दिए ।
कलेक्टर श्री आर्य ने मकरोनिया चौराहे के चारों तरफ राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि दुकानों की मार्किंग कर नोटिस दिए जाएं। दुकानों को चिन्हित कर अतिक्रमण को भी हटाया जाए।
 कलेक्टर श्री आर्य ने मकरोनिया से झांसी रोड पर कचरा प्लांट का भी निरीक्षण किया। उक्त कचरा प्लांट अन्यत्र स्थानांतरित करने की भी निर्देश दिए । कलेक्टर श्री आर्य ने मकरोनिया में स्थित मार्कफेड की गोदाम का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने निर्देश दिए कि  गोदाम को अन्यत्र स्थानांतरित करने के लिए जगह चिह्नित किया जाए ।
विधायक श्री प्रदीप लारिया ने कलेक्टर श्री आर्य को मकरोनिया नगर पालिका के अंतर्गत 1400 प्रधानमंत्री आवास को शीघ्र पूर्ण कराने पर भी चर्चा की ।
कलेक्टर ने तत्काल नगर पालिका सीएमओ श्री ईशांत धाकड़ को निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री आवास के प्रकरणों का शीघ्रता से निराकरण कर आवास को आवंटित किया जाए।
 इस अवसर पर सिटी मजिस्ट्रेट सी एल वर्मा ,नगर पालिका सीएमओ श्री ईशांत धाकड़, नायब तहसीलदार श्रीमती सुश्री सोनम पांडे सहित लोक निर्माण विभाग के अधिकारी मौजूद थे। 

टीकमगढ़ : पॉलीटेक्निक कॉलेज के प्राचार्य निलंबित

टीकमगढ़ :  पॉलीटेक्निक कॉलेज के प्राचार्य निलंबित

सागर । सागर संभाग कमिष्नर श्री मुकेष कुमार शुक्ला ने टीकमगढ़ जिले के शासकीय पॉलीटेक्निक महाविद्यालय के प्राचार्य श्री एमके अग्रवाल को शासकीय कर्तव्य निर्वहन में स्वेच्छाचारिता, लापरवाही व उदासीनता बरतने के आरोप पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। कमिष्नर श्री शुक्ला ने उक्त कार्यवाही मध्यप्रदेष सिविल सेवा नियम के तहत की है।
निलंबन अवधि में श्री अग्रवाल का मुख्यालय कार्यालय संयुक्त संचालक क्षेत्रीय कौषल विकास विभाग सागर संभाग नियत किया गया है। श्री अग्रवाल को निलंबन अवधि में जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी। 

अमृत माटी कलश के लिए भाजपा ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व.अब्दुल गनी जी के निवास से प्राप्त की मिट्टी

अमृत माटी कलश के लिए भाजपा ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व.अब्दुल गनी जी के निवास से प्राप्त की मिट्टी

सागर। आजादी के अमृत महोत्सव अंतर्गत जनजातीय गौरव सम्मेलन में आगामी 15 नवंबर को भोपाल पधार रहे  प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को संपूर्ण मध्य प्रदेश के 75 स्थानों से भारत की स्वाधीनता के लिए सर्वस्व निछावर करने वाले महापुरुषों व स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की पुण्य जन्मभूमि से एकत्र मिट्टी को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान एवं प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु दत्त शर्मा जी अमृत माटी कलश के रूप  प्रधानमंत्री श्री मोदी जी को भेंट करेंगे।
जिसके लिए आज सागर में कार्यक्रम प्रभारी श्री श्याम तिवारी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं ने लाजपत पुरा वार्ड स्थित स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. अब्दुल गनी जी के निवास पर पहुंचकर परिवार जनों से पीतल के कलश में मिट्टी प्राप्त की इस अवसर पर उपस्थित कार्यकर्ताओं ने  स्व.अब्दुल गनी जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें नमन किया साथ ही श्री गनी जी के पुत्र श्री रफीक गनी जी पुत्र वधू श्रीमती नाहिद जी नाती अहमद फराज जी,वहाब जी का शाल श्रीफल भेंटकर सम्मान किया इस दौरान परिवार जनों ने श्री गनी के द्वारा किए गए महान कार्यों के संस्मरण  साझा करते हुऐ भावुकता पूर्वक देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्रमोदी जी मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के प्रति आभार व्यक्त इस अवसर पर जिला महामंत्री श्री वृंदावन अहिरवार जिला उपाध्यक्ष श्री लक्ष्मण से श्री जगन्नाथ गुरैया जिला मीडिया प्रभारी श्रीकांत जैन अल्पसंख्यक मोर्चा जिला अध्यक्ष आबिद पठान अजमेरी राइन जावेद खान जफर कमानी सोहेल खान शिवम ठाकुर अंकित विश्वकर्मा आदित्य नामदेव उपस्थित रहे उक्त जानकारी जिला मीडिया प्रभारी श्रीकांत जैन ने दी।

शुक्रवार, 12 नवंबर 2021

BHU : "युवाओं के लिए प्रसन्नता" विषय पर सेमिनार आयोजित

BHU : "युवाओं के लिए प्रसन्नता" विषय पर सेमिनार आयोजित


वाराणसी। मालवीय मूल्य अनुशीलन केन्द्र काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के तत्वाधान में "युवाओं के लिए प्रसन्नता" विषय पर विशेष व्याख्यान का आयोजन किया गया। मुख्य वक्ता स्काटलैंड की
आधुनिक व्यवहारिक मनोविज्ञान एकेडमी की लॉइफ कोच एवं यूनिसेफ बाल आयोग बाल अधिकार संरक्षण आयोग की परामर्शदाता एवं यू-ट्युब के माध्यम से भारतीय भाषाओं मेंअभिप्रेरणा पर अपने व्याख्यान के लिए जानी जाने वाली डॉ0 स्वाति तिवारी ने  कहा की हौसले से ही सफलता मिलती है। युवाओं के लिए प्रसन्नता के लिए बेहद जरूरी है दूसरे की सेवा करना। मानवीय मूल्यों के प्रति समर्पण से ही युवाओं मे हर्ष का संचार हो सकता है इसके लिए सकारात्मक सोच और प्रसन्न्ता जरूरी है। इस अवसर पर मुख्य अतिथि छात्र अधिष्ठाता प्रो0 एम0के0सिंह ने कहा जब तक आपके अंदर आध्यात्मिकता का पुट नहीं होगा तब तक प्रसन्नता नही आ सकती है तथा लोभ से दूर होने पर ही जीवन मे सफलता मिलती है। अध्यक्षीय उदबोधन देते हुए प्रो0 आशाराम त्रिपाठी ने कहा कि हमें निष्काम भाव से अपना कार्य करना चाहिए ताकि मन प्रसन्न रहे। मंच संचालन डा0 रमेश निर्मेष ने किया धन्यवाद ज्ञापन।  डा0 संजीव सराफ ने किया। इस अवसर पर प्रो0 एस0एन0ज्ञा प्रो0 भास्कर मुकर्जी प्रो0 नीरज खरे डा0 ज्ञानप्रकाश मिश्रा डा0 अमिता डा0 स्वर्ण सुमन डा0 अभिषेक त्रिपाठी डा0 विवेकानंद जैन डा0 रामकुमार दांगी डा0 चक्रपाणि ओझा डा0 धर्मजंग डा0 रमेश लाल अरविन्द कुमार पाल का सहयोग रहा।

14 नवम्बर डायबिटीज डे : IMA लगाएगा शिविर, होगी निःशुल्क जांच : डॉ. राजेन्द्र चउदा


14 नवम्बर डायबिटीज डे :  IMA लगाएगा शिविर, होगी निःशुल्क जांच : डॉ. राजेन्द्र चउदा
★ शिविर में डायबिटीज, ब्लड शुगर, डायबिटीज के कारण डैमेज होने वाले हार्ट, गुर्दे, आंखों के विशेषज्ञ करेंगे मरीजों की जांच

सागर। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन सागर 14 नवम्बर दिन रविवार को वर्ल्ड डॉयबिटीज-डे के अवसर पर नि:शुल्क "विशाल डॉयबिटीज शिविर" का आयोजन करने जा रहा है। यह सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक, रवींद्र भवन में आयोजित होगा। खास बात यह है कि सागर के पहली दफा शिविर लगाकर डायबिटीज के कारण होने वाली गंभीर बीमारियां जिनमें आंखे, हार्ट, गुर्दे, लकवे सहित अन्य बीमारियों की ऑन स्पॉट जांच की जाएगी।
आईएमए सागर के अध्यक्ष डॉ. राजेन्द्र चउदा ने जानकारी देते हुए बताया कि शिविर में केवल  डॉयबिटीज से पीड़ित मरीज़ों को ही देखा जाएगा।

मरीज़ों का रजिस्ट्रेशन रविवार को  सुबह 9 बजे से 12 बजे तक ही होगा। 

डॉ चउदा के अनुसार इस आयोजन में बीमारी से होने वाले ख़तरों की जाँचें होंगी। उन्होंने आगे बताया कि डॉयबिटीज से होने वाले ख़तरे, जिनमें अगर डॉयबिटीज कंन्ट्रोल में नहीं है तो उससे निम्न ख़तरे हो सकते हैं।
1. डॉयबिटीज से शरीर की धमनियाँ प्रभावित होती हैं जिससे ब्लड प्रेशर, हार्ट अटेक, लकवा, गुर्दे की ख़राबी, गेंग्रीन एवं आँखों में अंधापन आदि की सम्भावना बढ़ जाती है ।

2. डॉयबिटीज के मरीज़ों में हार्ट अटैक होने की सम्भावना 5 गुना एवं लकवा होने की सम्भावना दोगुना ज़्यादा होती है।

3. डॉयबिटीज वाले मरीज़ों में हार्ट अटैक होने पर कई बार उसे दर्द कम होता है , एवं अटैक से होने वाले ख़तरे जैसे हार्ट फ़ेल्यर आदि ज़्यादा होते हैं।  सामान्य की तुलना में डॉयबिटीज के मरीज़ों में मृत्यु होने की सम्भावना भी ज़्यादा होती है।

4. डॉयबिटीज अंधा होने के मुख्य कारणों में से एक है जिसे बचाया जा सकता है।  डॉयबिटीज में मोतियाबिंद एवं कांचियाबिंद ज़्यादा होता है एवं आँख का पर्दा भी ख़राब हो जाता है।
5. अगर डॉयबिटीज कंट्रोल में नहीं है तो गुर्दे में ख़राबी हो जाती है, इसे बचाया जा सकता है।
* शिविर में Blood sugar , Glycosylated Hb., आँखों की जाँच, गुर्दे की जाँच, हार्ट की जाँच एवं चिकित्सक द्वारा दवा एवं दिनचर्या सम्बन्धी परामर्श सब कुछ निशुल्क रहेगा।

*ग्लायकोसायलेटेड हीमोग्लोबिन ( HbA1c) : जाँच से पिछले 4 से 6 महिने का डॉयबिटीज का औसत कंन्ट्रोल पता चलता है। बीमारी से जुड़ी सभी भ्रांतियों, मरीज़ की शंकाओं का समाधान करने की कोशिश की जाएगी.। 
डॉ. राजेन्द्र चउदा अध्यक्ष IMA एवं डॉक्टर सर्वेश जैन सचिव IMA  ने निवेदन किया है कि बीमारी से परेशान मरीज़ अपने सभी पुराने पर्चे एवं दवा लेकर उपस्थित हों।

गो सेवा संघ ने मनाई गोपाष्टमी

गो सेवा संघ ने मनाई गोपाष्टमी 

सागर। विधायक शैलेंद्र जैन गोपाष्टमी के पावन पुनीत अवसर पर  गौ सेवा संघ द्वारा आयोजित गोपाष्टमी के कार्यक्रम में कामधेनु आयोग के अध्यक्ष डॉ वल्लभभाई कथीरीया के साथ कार्यक्रम में सम्मिलित हुए और गौ पूजन किया कार्यक्रम को मुख्य अतिथि विधायक शैलेंद्र जैन ने संबोधित करते हुए कहा कि आज गोपाष्टमी पर्व पर हम सभी एकत्रित हुए हैं,हमारा सागर गौ सेवकों से भरा हुआ है जो निरंतर अपने खर्च पर गोवंश की सेवा एवं उनका इलाज करते आ रहे हैं और मै भी ऐसे गो सेवकों की मदद के लिए सदैव तत्पर रहता हू उन्होंने कहा कि गौ सेवकों के आग्रह पर मेरे द्वारा गोवंश के इलाज के लिए दो एंबुलेंस उपलब्ध कराई गई हैं जो शहर में विभिन्न स्थानों पर घायल अवस्था में पडे गोवंश के इलाज के लिए उपलब्ध रहती है एवं गो वंश के इलाज के लिए गो सेवकों को परेशानी का सामना ना करना पड़े।
    उन्होंने कहा कि हमें इस अवसर पर संकल्प लेना होगा कि हम वास्तव में गाय को अपनी माता माने और सिर्फ उसके दूध से बने हुए उत्पादों का उपयोग करें ताकि लोगों में जनजागृति का भाव पैदा हो, इसके अलावा गौ माता के दूध का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय हो इसका प्रयास किया जाना चाहिए आगामी विधानसभा सत्र में मैच के संबंध में मांग रखूंगा इससे पशुपालकों आर्थिक स्तर भी मजबूत होगा और उनमें गोवंश के प्रति आकर्षण बढ़ेगा।
 गौ माता का दूध और अन्य पदार्थ हमारे लिए अमृततुल्य औषधि है इनका गोबर और गोमूत्र से अनेकों पदार्थ बनाए जाते हैं जो अनेकों प्रकार की व्याधियों मिटाने में सहायक सिद्ध होते हैं आज हम रासायनिक खाद का उपयोग करके कैंसर के रोग को बड़ी मात्रा में अपना चुके हैं इसका मुख्य कारण गाय के गोबर से बनी खाद का उपयोग ना करना है उन्होंने कहा कि गौ माता की सेवा को मैंने अपने जीवन में उतारा है वह मेरे दिन की शुरुआत गौ सेवा से शुरू होती है मैंने अपने घर में एक छोटी सी गौशाला बनाई है सबसे पहले गो माता को रोटी खिला कर ही दिन की शुरुआत करता हूं
कार्यक्रम के मुख्य वक्ता कामधेनु आयोग के अध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉक्टर बल्लभ भाई कथीरिया ने संबोधित करते हुए कहा कि आज गोपाष्टमी पर तो हम सभी एकत्रित हैं गौ माता के गुणगान कर रहे हैं परंतु क्या वास्तव में हम गौ माता की सेवा के रूप में कार्य करते हैं आज जब हमारे हिंदू भाई गौ माता के दूध का उपयोग कर उन्हे सड़क पर छोड़ देता है और फिर कसाई उनका कत्ल कर देता है तब हम उस कसाई को कोसते हैं क्या हमारा नैतिक दायित्व नहीं है कि हम गौ माता को सड़क पर ना छोड़ें जिस प्रकार उनकी सेवा जब वह दूध देती हैं करते हैं, हमेशा करते रहे उन्होंने कहा कि देश के 18 राज्यों में गौ हत्या प्रतिबंध कानून बनाया गया है इसे देशभर में लागू करने के लिए 1961 में दो करोड़ लोगों के द्वारा हस्ताक्षर करके राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा गया था और उसके बाद 1969 में एक आंदोलन हुआ लोगों ने गोली खाकर के विरुद्ध आवाज उठाई थी उन्होंने कहा कि हमें जन जागरण के लिए अभियान चलाना होगा और गाय के धार्मिक और वैज्ञानिक दोनों महत्व को लोगों को बताना होगा ताकि लोग गौमाता को सिर्फ दूध दुहने का माध्यम ना समझें उनकी उपयोगिता और धार्मिक महत्व को भी समझे, उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के बनने के बाद उन्होंने इसकी चिंता करते हुए अलग से गोवंश एवं अन्य जीवों की रक्षा के लिए मंत्रालय बनाया है यह मंत्रालय के गठन के बाद हम सभी जीवो की रक्षा के लिए निरंतर प्रयासरत हैं उसमें गौमाता हमारी प्राथमिकता है उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि एक भी गौ माता सड़क पर घूमती ना मिले इसके लिए प्रयास करें।
कार्यक्रम का संचालन गौ सेवा संघ के संगठन मंत्री सोनू श्याम उपाध्याय ने किया आभार राहुल पटेल लंबरदार ने व्यक्त किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रतिभा रामेश्वर चौबे,अखिलेश घोसी,विनय पांडे, फूलचंद पटेल, उभय मिश्रा, बिट्टू पहलवान, राहुल वैद्य, नमन सोनी, भगवानदास लंबरदार,नारायण प्रसाद लंबरदार, संदीप रावत उपस्थित थे ।*गो सेवा संघ द्वारा आयोजित गोपाष्टमी कार्यक्रम में विधायक शैलेंद्र जैन एवं कामधेनु आयोग के अध्यक्ष डॉक्टर बल्लभ भाई कथीरिया  हुए सम्मिलित*

*गौ माता के दूध का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय हो- शैलेंद्र जैन*

*गौमाता के संरक्षण के लिए जनजागृति लाना होगा- डॉ बल्लभ भाई कथिरिया*
सागर। विधायक शैलेंद्र जैन गोपाष्टमी के पावन पुनीत अवसर पर  गौ सेवा संघ द्वारा आयोजित गोपाष्टमी के कार्यक्रम में कामधेनु आयोग के अध्यक्ष डॉ वल्लभभाई कथीरीया के साथ कार्यक्रम में सम्मिलित हुए और गौ पूजन किया कार्यक्रम को मुख्य अतिथि विधायक शैलेंद्र जैन ने संबोधित करते हुए कहा कि आज गोपाष्टमी पर्व पर हम सभी एकत्रित हुए हैं,हमारा सागर गौ सेवकों से भरा हुआ है जो निरंतर अपने खर्च पर गोवंश की सेवा एवं उनका इलाज करते आ रहे हैं और मै भी ऐसे गो सेवकों की मदद के लिए सदैव तत्पर रहता हू उन्होंने कहा कि गौ सेवकों के आग्रह पर मेरे द्वारा गोवंश के इलाज के लिए दो एंबुलेंस उपलब्ध कराई गई हैं जो शहर में विभिन्न स्थानों पर घायल अवस्था में पडे गोवंश के इलाज के लिए उपलब्ध रहती है एवं गो वंश के इलाज के लिए गो सेवकों को परेशानी का सामना ना करना पड़े।
    उन्होंने कहा कि हमें इस अवसर पर संकल्प लेना होगा कि हम वास्तव में गाय को अपनी माता माने और सिर्फ उसके दूध से बने हुए उत्पादों का उपयोग करें ताकि लोगों में जनजागृति का भाव पैदा हो, इसके अलावा गौ माता के दूध का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय हो इसका प्रयास किया जाना चाहिए आगामी विधानसभा सत्र में मैच के संबंध में मांग रखूंगा इससे पशुपालकों आर्थिक स्तर भी मजबूत होगा और उनमें गोवंश के प्रति आकर्षण बढ़ेगा।
 गौ माता का दूध और अन्य पदार्थ हमारे लिए अमृततुल्य औषधि है इनका गोबर और गोमूत्र से अनेकों पदार्थ बनाए जाते हैं जो अनेकों प्रकार की व्याधियों मिटाने में सहायक सिद्ध होते हैं आज हम रासायनिक खाद का उपयोग करके कैंसर के रोग को बड़ी मात्रा में अपना चुके हैं इसका मुख्य कारण गाय के गोबर से बनी खाद का उपयोग ना करना है उन्होंने कहा कि गौ माता की सेवा को मैंने अपने जीवन में उतारा है वह मेरे दिन की शुरुआत गौ सेवा से शुरू होती है मैंने अपने घर में एक छोटी सी गौशाला बनाई है सबसे पहले गो माता को रोटी खिला कर ही दिन की शुरुआत करता हूं
कार्यक्रम के मुख्य वक्ता कामधेनु आयोग के अध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉक्टर बल्लभ भाई कथीरिया ने संबोधित करते हुए कहा कि आज गोपाष्टमी पर तो हम सभी एकत्रित हैं गौ माता के गुणगान कर रहे हैं परंतु क्या वास्तव में हम गौ माता की सेवा के रूप में कार्य करते हैं आज जब हमारे हिंदू भाई गौ माता के दूध का उपयोग कर उन्हे सड़क पर छोड़ देता है और फिर कसाई उनका कत्ल कर देता है तब हम उस कसाई को कोसते हैं क्या हमारा नैतिक दायित्व नहीं है कि हम गौ माता को सड़क पर ना छोड़ें जिस प्रकार उनकी सेवा जब वह दूध देती हैं करते हैं, हमेशा करते रहे उन्होंने कहा कि देश के 18 राज्यों में गौ हत्या प्रतिबंध कानून बनाया गया है इसे देशभर में लागू करने के लिए 1961 में दो करोड़ लोगों के द्वारा हस्ताक्षर करके राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा गया था और उसके बाद 1969 में एक आंदोलन हुआ लोगों ने गोली खाकर के विरुद्ध आवाज उठाई थी उन्होंने कहा कि हमें जन जागरण के लिए अभियान चलाना होगा और गाय के धार्मिक और वैज्ञानिक दोनों महत्व को लोगों को बताना होगा ताकि लोग गौमाता को सिर्फ दूध दुहने का माध्यम ना समझें उनकी उपयोगिता और धार्मिक महत्व को भी समझे, उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के बनने के बाद उन्होंने इसकी चिंता करते हुए अलग से गोवंश एवं अन्य जीवों की रक्षा के लिए मंत्रालय बनाया है यह मंत्रालय के गठन के बाद हम सभी जीवो की रक्षा के लिए निरंतर प्रयासरत हैं उसमें गौमाता हमारी प्राथमिकता है उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि एक भी गौ माता सड़क पर घूमती ना मिले इसके लिए प्रयास करें।
कार्यक्रम का संचालन गौ सेवा संघ के संगठन मंत्री सोनू श्याम उपाध्याय ने किया आभार राहुल पटेल लंबरदार ने व्यक्त किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रतिभा रामेश्वर चौबे,अखिलेश घोसी,विनय पांडे, फूलचंद पटेल, उभय मिश्रा, बिट्टू पहलवान, राहुल वैद्य, नमन सोनी, भगवानदास लंबरदार,नारायण प्रसाद लंबरदार, संदीप रावत उपस्थित थे ।

राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण : 178 शालाओं में सम्पन्न

राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण  : 178 शालाओं में सम्पन्न

सागर : राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण  2021 सागर जिला अन्तर्गत चिन्हित 178 विद्यालयों में कक्षा 3,5,8 एवं 10 के छात्र-छात्राओं ने परीक्षा में भाग लिया जिसमें कक्षा 3 से 997 कक्षा 5 से 1064 कक्षा 8 से 1624 एवं कक्षा 10 से 2081 विद्यार्थियों ने सहभागिता की।
ज्ञातव्य हो कि राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण भारत शासन द्वारा प्रत्येक तीन वर्ष में कराया जाता है। जिसमें कक्षा 3,5,8 एवं 10 के छात्र-छात्रा सम्मिलित होते है। जिसमें राष्ट्रीय स्तर पर सभी विद्यार्थियों के उपलिब्ध स्तर का आंकलन किया जाता है। जिसमें शासकीय/अशासकीय/अनुदान प्राप्त चयनित विद्यालयों में  चयनित विद्यार्थियों का सर्वे किया जाता है।

    वर्ष 2021 में जिला सागर से 178 चयनित विद्यालयों परीक्षा का आयोजन किया गया। परीक्षा केन्द्रों पर 238 आॅब्जर्बर 287 क्षेत्र अन्वेशकों ने परीक्षा केन्द्रों पर उपस्थित रहकर परीक्षा सुचारू रूप से सम्पन्न कराई। जिला शिक्षा अधिकारी अजब सिंह ठाकुर द्वारा विभिन्न परीक्षा केन्द्रों का निरीक्षण किया परीक्षा विधिवत् सम्पन्न होना पाई गई।  


कर्ज लेने से ज्यादा उसे समय पर चुकाना महत्वपूर्ण : मंत्री गोपाल भार्गव

कर्ज लेने से ज्यादा उसे समय पर चुकाना महत्वपूर्ण : मंत्री  गोपाल भार्गव

★ राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति द्वारा 6 करोड़ से अधिक के ऋण का हुआ वितरण

सागर ।राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति  के तत्वाधान में क्रेडिट आउटरीच अभियान के तहत ऋण स्वीकृति एवं वितरण कार्यक्रम का आयोजन शुक्रवार को रहली के रघुनाथ गार्डन से किया गया। कार्यक्रम में सेन्ट्रल बैंक,एसडीएफसी बैंक,ग्रामीण मध्यांचल बैक, युनियन बैंक,सहित सभी बैंको के द्वारा प्रकरणो को स्वीकृत किया गया। साथ ही पहले से स्वीकृत प्रकरणो के लाभ का वितरण किया गया।  
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लोकनिर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने अपने उदबोधन में कहा कि भारत सरकार और प्रदेश सरकार द्वारा हितग्रहियों की सहुलियत के लिए विभिन्न योजनाओ को शुरू किया गया है। उपक्रम की शुरूवात के लिए बैंको के साथ मिलकर ऋण उपलब्ध कराया जाता है। बैंक से ऋण लेना जितना महत्वपूर्ण है उतना ही महत्तपूर्ण उसे चुकाना होता है तभी आपको आगे और लाभ मिलेगा। उन्होंने बताया कि आज करीब 6 करोड़ रुपये से अधिक के लाभ का वितरण हुआ है ।
मंत्री श्री भार्गव ने कहा कि रहली विधानसभा में मेने द्वारा कई प्रकार के प्रकल्पो के माध्यम से लोगो को रोजगार उपलब्ध कराया गया। आज हमारे महिला स्वा सहायता समूहो में महिलाऐं बकरी पालन,मुर्गी पालन, सेनेट्री पेड निर्माण, अगरबत्ती,मोमबत्ती,साबुन,डिस्पोजन निर्माण सहित कई प्रकार के कार्य कर के अपनी आय में बढोत्तरी कर रही है।प्रधानमंत्री श्री मोदी का आत्मनिर्भर भारत का सपना साकार करने के लिए अब बैंको के माध्यम से लोन वितरण किया जा रहा है।
कार्यक्रम को पूर्व जिला सहकारी बैक के पूर्व अध्यक्ष राजेन्द्र जारोलिया, मुख्य प्रबंधक एसबीआई सुनील सक्सेना,एसडीएफसी बैंक से मनीष खुसरो, लीड शाखा प्रबंधक दीपेन्द्र यादव,सुरेंद्र पटैल,एसडीएम जितेन्द्र पटेल, जनपद सीईओ राजेश पटेरिया, सीएमओ ज्योति शिवहरे, लक्ष्मी प्रसाद पटेल,पी सी मिश्रा,पूर्व मंडी सदस्य कमलेश दीक्षित,ईश्वर नायक,एस के चौबे,सहित रहली गढ़ाकोटा,शाहपुर से बड़ी संख्या में हितग्राही बैंक कर्मी उपस्थित थे।  

सुरखी के प्रत्येक गांव में पेयजल उपलब्ध कराना हमारा पहला संकल्प : राजस्व मंत्री श्री राजपूत

सुरखी के प्रत्येक गांव में पेयजल उपलब्ध कराना हमारा पहला संकल्प : राजस्व मंत्री श्री राजपूत

★ 16 करोड़ से अधिक की राशि की भूमि पूजन एवं 70 लाख से अधिक के कार्यों का किया लोकार्पण


सागर । राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत ने कहा कि सुरखी विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक ग्राम में पेयजल उपलब्ध कराना मेरा पहला संकल्प है और आने वाले दिनों में संपूर्ण विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक घरों में पाइप लाइन एवं टोटी के माध्यम से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही ग्राम वासियों की समस्याओं को देखते हुए राजस्व के लंबित प्रकरणों का निराकरण प्रति ग्राम पंचायतों में राजस्व शिविर लगाकर किया जाएगा। श्री गोविंद सिंह राजपूत जेसीनगर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पड़रई,वासा,ताजपुर, टकरई  में 16 करोड़ से अधिक की राशि के विकास कार्यों का भूमि पूजन कर रहे थे।
राजस्व मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि संपूर्ण विधानसभा क्षेत्र उनका परिवार है। उनका परिवार पर यदि कोई परेशानी आती है तो उसके लिए वे सदा लोगों के साथ खड़े हैं ।

उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक ग्राम में प्रत्येक घर में नल के माध्यम से पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा उन्होंने कहा कि पेयजल उपलब्ध होने से हमारी माताओं एवं बहनों को तालाब एवं कुआं पर नहीं जाना पड़ेगा।
 उन्होंने कहा कि जब सब लोग एक होते हैं तो उस परिवार का विकास दुगनी गति से होता है। इसी प्रकार आप सभी एक हो तो संपूर्ण क्षेत्र का विकास भी दोगुनी गति से होगा। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में सड़कों का जाल तैयार कराया जा रहा है, जिससे आवागमन सुगम हो सकेगा । श्री राजपूत ने कहा कि संपूर्ण कार्य ग्राम वासियों एवं अधिकारियों की देखरेख में किए जाएं जिससे संपूर्ण निर्माण कार्य में गुणवत्ता रहे।
श्री राजपूत ने बताया कि स्वामित्व योजना के माध्यम से समस्त ग्राम वासियों को मालिकाना हक के  प्रमाण पत्र भी प्रदान किए जाएंगे। इसके लिए शीघ्र ही संपूर्ण सुरखी क्षेत्र का डोन के माध्यम से सर्वे किया जाएगा ।  
उन्होंने कहा कि देखा जाता है कि राजस्व के लंबित प्रकरणों के लिए जिले केएवं तहसीलों के चक्कर लगाना पड़ रहे हैं जिसको देखते हुए आप प्रत्येक ग्राम पंचायतों में ग्राम स्तर पर षिविर आयोजित किए जाएंगे और निशुल्क उनका निराकरण किया जाएगा।
  मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि सुरखी विधानसभा क्षेत्र में पक्के आवास उपलब्ध भी कराए जाएंगे। जिसके लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है उन्होंने कहा कि अच्छी शिक्षा देने के लिए मध्यप्रदेश शासन द्वारा सीएम राइस स्कूल प्रारंभ किए जा रहे हैं। जैसीनगर में एवं राहतगढ़ में सीएम राइस स्कूल प्रारंभ होंगे।  जिससे संपूर्ण विधानसभा क्षेत्र की छात्राएं गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे।
मंत्री श्री गोविन्द राजपूत ने ग्राम वासियों से अपील की कि सभी लोग वैक्सीन के दोनों डोज अवश्य लगवाएं जिससे कोरोना संक्रमण से बचने का कवच प्राप्त किया जा सके । उन्होंने कहा कि तब तक व्यक्ति के दोनों डोज नहीं लगेंगे जब तक हमारा जीवन सुरक्षित नहीं है। जीवन को सुरक्षित रखने के लिए हमें दोनों डोज वैक्सीन के लगवाना ही होंगे । मंत्री श्री राजपूत ने इस अवसर पर ग्राम वासियों को सरसों के बीज की किट  एवं पंप भी प्रदान किए साथ ही लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत चेक भी प्रदान की गई। इस अवसर पर एडवोकेट श्री अनिल सिंह, श्री बुंदेल सिंह,  श्री धीरज सिंह, साहब सिंह ,श्री बलराम गौतम सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी एवं अधिकारी मौजूद थे।
क्रमांक 118/4449/2021 फोटो क्रमांक सी-01 से 06 तक संलग्न है।

बांदरी में खुलेगा सीएम राईजिंग स्कूल, अस्पताल को 30 बिस्तरीय किया जायेगा : मंत्री भूपेंद्र सिंह

बांदरी में खुलेगा सीएम राईजिंग स्कूल, अस्पताल को 30 बिस्तरीय किया जायेगा : मंत्री भूपेंद्र सिंह 


सागर ।  नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने बांदरी को 4 करोड़ 60 लाख रूपए के विकास कार्यों लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। इनमें एक पार्क निर्माण लागत एक करोड़ रू., खेल मैदान 50 लाख रू. तथा मुक्तिधाम लागत 50 लाख रू. का भूमिपूजन और दो करोड़ 60 लाख रू. की विभिन्न सीमेन्ट कंक्रीट सड़कों के लोकार्पण के कार्य शामिल हैं। इस अवसर पर अन्य जनप्रतिनिधि तथा एसडीएम, नगर पालिका अधिकारी जनपद सीईओ तथा बड़ी नागरिकगण मौजूद थे। बांदरी में नगरीय विकास मंत्री का नागरिकों द्वारा जोरदार अभिनंदन किया गया।
   लोकार्पण एवं भूमिपूजन के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुये मंत्री श्री सिंह ने कहा कि बांदरी के विकास के लिये कोई कसर नही छोड़ेंगे। उन्होंने बताया कि बांदरी में बच्चों के गुणवत्तायुक्त षिक्षा के लिये सीएम राईजिंग स्कूल खोला जायेगा। इससे 15 से 20 किलोमीटर क्षेत्र के बच्चों को गुणवत्तायुक्त षिक्षा मिलेगी। बांदरी अस्पताल को 10 बिस्तर से 30 बिस्तरीय किया जायेगा। यहां पोस्ट माटम की व्यवस्था भी की जायेगी। उन्होंने कहा कि बांदरी कई वर्षों से पिछड़ा रहा है। अब इसके विकास में कोई कमी नही रहने दी जायेगी। बांदरी को तहसील का दर्जा भी दिलाया जायेगा। उन्होंने बताया कि दो सौ से ढाई सौ करोड़ के कार्य बांदरी में स्वीकृत कराये गए हैं। उन्होंने बताया कि बांदरी में तीन हजार से अधिक प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत किये गए हैं।  इन पर 75 करोड़ से अधिक की राषि खर्च होगी। इससे यहां के स्थानीय व्यापारियों ईट भट्टो, मकान में लगने वाली विभिन्न सामग्री विक्रय करने वालों को लाभ और  मकान बनाने से जुड़े लोगों को रोजगार मिलेगा।
  उन्होंने कहा कि बांदरी में विकास कार्यों के लिए कहीं सरकारी जमीन उपलब्ध नहीं थी। फारेस्ट की जमीन हैं। फारेस्ट की जमीन को ट्रांसफर कराना कठिन होता है। फिर भी लगातार कोशिश की और पहले 5 एकड़ फारेस्ट की जमीन को ट्रांसफर कराकर वहां बस स्टेण्ड और आडीटोरियम का निर्माण कराया। फिर महाविद्यालय खुलवाया और उसका भवन बनवाने के लिए पुलिस थाने की 5 एकड़ जमीन ट्रांसफर कराई। दूसरी बार मंत्री बनने के बाद महाविद्यालय भवन निर्माण के लिए साढ़े छह करोड़ रूपए स्वीकृत कराये। उन्होंने बताया कि आगामी गर्मी तक भवन बनकर तैयार हो जायेगा और उसमें सभी विषयों की षिक्षा उपलब्ध होगी।
 उन्होंने बांदरी के नगर पंचायत बन जाने से यहां मिलने वाली पात्रताओं का विस्तृत ब्यौरा देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा मकान बनाने में खुरई पहले नंबर पर और देश में पांचवे नंबर पर है।
     मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बांदरी में सीएम राइजिंग स्कूल खुलवाने की घोषणा करते हुए कहा कि यहां गौशाला का निर्माण भी कराया जाएगा। जीर्णशीर्ण मंदिरों का पुर्नरूद्धार किया जाएगा और सभी समाजों के सामुदायिक भवन बनेंगे। बांदरी के अस्पताल को 30 बेड का बनाया जाएगा। हाट बाजार योजना के तहत चार-पांच सौ पक्की दुकानें बनेंगी। किसी को हटाया नहीं जाएगा।  

कोरोना वैक्सीन दोनां डोज लगवायें
नगरीय विकास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने कार्यक्रम में लोगों से अपील की कि वे कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवायें। दोनों डोज लगवाकर कोरोना से सुरक्षित हो जाये। उन्होंने कहा कि दोनों डोज लगने पर एक तो कोरोना की संभावना ही नही होगी दूसरी अगर हुआ भी तो नुकसान नही होगा। उन्होंने कार्यक्रम में दोनां डोज लगवाने वालों की हाथ उठवाकर जानकारी ली। उन्होंने यह भी कहा कि जिन्होंने अभी तक कोरोना की वैक्सीन की एक भी डोज नही लगवाई है वे पहली डोज लगवायें और जिन्होंने पहली डोज लगवाली है। वे कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज जरूर लगवायें।
                               
 

गौ संवर्धन का विशिष्ट वैश्विक केंद्र बने डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय : केंद्रीय मंत्री परषोतम रुपाला ★ गाय को पालने बनाये हॉस्टल, जैसे विधार्थियो के लिए बनते है,दिया सुझाव



गौ संवर्धन का विशिष्ट वैश्विक केंद्र बने डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय :  केंद्रीय मंत्री परषोतम रुपाला  

★ गाय को पालने बनाये हॉस्टल, जैसे विधार्थियो के लिए बनते है,दिया सुझाव 




सागर. 12 नवंबर. डॉ. हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर में कामधेनु अध्ययन एवं शोध पीठ की स्थापना कार्यक्रम संपन्न हुआ. इस अवसर पर पारम्परिक बुंदेली बाद्ययन्त्रों और लोकाचार से किया अतिथियों का स्वागत किया गया.  मुख्य अतिथि केन्द्रीय कैबिनेट मंत्री, मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय, भारत सरकार श्री परषोत्तम रूपाला ने कहा कि यह गर्व की बात है कि विश्वविद्यालय  में कामधेनु अध्ययन और अनुसंधान केंद्र स्थापित करने के लिए विश्वविद्यालय ने मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के साथ समझौता पत्रक पर हस्ताक्षर किया है. भारतीय गायों की क्षमता अपार है, जरुरत इसे समझने और समझाने की है. दुग्ध उत्पादन, खाद उत्पादन और विभिन्न औषधीय उपयोगों सहित गायों के महत्व को कई पहलुओं को हम बचपन से जानते हैं. दुर्भाग्य से, समय के साथ हम देशी गोवंश का महत्व भूल गए हैं. 
भारतीय परम्परा में समृद्धि की गणना गोधन से ही की जाती थी. यह एक पारंपरिक धन है जो हमें स्वाभाविक ढंग से चतुर्दिक समृद्धि की ओर ले जा सकती है. विश्वविद्यालय को चाहिए कि छात्रों के हॉस्टल की ही तर्ज़ पर गायों के आश्रय के लिए भी एक बड़े केंद्र की स्थापना करे. हमारा मंत्रालय और मैं व्यक्तिगत तौर पर भी इसमें सहयोग करने को तैयार हूँ. 
उन्होंने कहा कि गाय ब्रह्माण्ड का मूल आधार है. जिससे संबंधित सभी उत्पाद मनुष्य के मन, तन और धन को प्रखर कर देते हैं. इसलिए हमारा यह सौभाग्य है कि हमारे जीवन और समाज की सभी अनुष्ठानों में गाय की भूमिका और आशीर्वाद स्वाभाविक रूप से उपलब्ध है. यहाँ से यह संदेश जाना चाहिए कि हम अपने जीवन और कर्म में गौ-स्नेह को नये  रूप में पुनर्स्थापित कर सकें.  
उन्होंने कहा कि गौवंश, गौमूत्र आदि से होने वाली आय पर गौशाला आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बन सकती है. आज का समय ऐसे मॉडल को विकसित और प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है. कोरोना संकट की तमाम मुश्किलों के साथ इसने हमें यह सिखाया है कि स्वस्थ और सुरक्षित रहने के लिए हमें गौमाता की ही शरण में जाना होगा. विश्वविद्यालय इस शरण को एक व्यापक क्रान्ति में बदल सके, ऐसा प्रयत्न इसे करना चाहिए. इसके लिए विश्वविद्यालय कई आयामों और उद्देश्यों के प्रोजेक्ट और वित्त संबंधी प्रस्तावों को मंत्रालय के समक्ष प्रस्तुत करे. मंत्रालय निश्चित रूप से इस योजना में विश्वविद्यालय की मदद करेगा.  



गाय को पालने हॉस्टल का सुझाव

केंद्रीय मंत्री रूपला ने कहा कि जिस तरह विधार्थियो के लिए हॉस्टल बने है। उसी तरह गायों को पालने भी हॉस्टल बनाये। यह नवाचार है। कई लोग गाय पालना चाहते है लेकिन नही पाल पाते। ऐसे लोगो को मौका मिलेगा। उनके लिए हॉस्टल बनाये और आधुनिक सुविधाओं से मुहैया कराए। गो पालक अपनी गाय यहां रखे । उन्होंने कहा कि गुजरात मे इस तरह के कुछ प्रयोगों की शुरुआत हो चुकी है। 



कामधेनु पीठ 'वोकल फॉर लोकल' का मूर्तिमान स्वरुप है : प्रो. नीलिमा गुप्ता
 
कुलपति प्रो, नीलिमा गुप्ता ने स्वागत वक्तव्य देते अतिथि अतिथियों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की और पीठ स्थापित करने में मंत्रालय के सहयोग के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया. उन्होंने कहा कि यह एक गौरवशाली एवं ऐतिहासिक क्षण है जहाँ विश्वविद्यालय अपने अकादमिक सरोकारों के अतिरिक्त सामुदायिक सेवा की अपनी प्रतिबद्धता को संस्थानीकरण करते हुए मूर्त रूप देने जा रहा है. मुझे हर्ष है कि हमारी इस पहल को माननीय केन्द्रीय मंत्री जी के नेतृत्व में उनके सम्पूर्ण विभाग ने तत्परता और प्राथमिकता के साथ स्वीकार किया . 

उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय की यह नवाचारी पहल 'वोकल फॉर लोकल' से अनुप्राणित है. यह एक ऐसा रास्ता है जिससे न केवल विश्वविद्यालय बल्कि समाज और राष्ट्र भी आत्मनिर्भर बनने की आयोजना को वास्तविक अर्थों में की साकार कर सकेगें. 21 वीं सदी की पहली राष्ट्रीय शिक्षा नीति इसके लिए हमें न सिर्फ मार्ग सुझाती है बल्कि संरचना और अवसर भी उपलब्ध कराती है, जहाँ हम इस समुदाय आधारित ज्ञान एवं विज्ञान की ऐतिहासिक समृद्धि को पुनः समझें. यह भी एक सुखद संयोग है कि डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय मध्यप्रदेश का पहला विश्वविद्यालय है और मध्यप्रदेश के पहले 'कामधेनु अध्ययन एवं शोध पीठ' की स्थापना भी इसी विश्वविद्यालय में हो रहा है. यह एक ऐसा मणिकांचन योग है जिसकी अनुगूँज बहुत दूर तक जायेगी. उन्होंने कहा कि गो-संवर्धन के क्षेत्र में मंत्रालय की विभिन्न महत्वाकांक्षी योजनाओं को इस पीठ के माध्यम से हमारा विश्वविद्यालय अपने स्तर पर क्रियान्वित कर एक व्यापक सामुदायिक क्रांति में बदलने के लिए संकल्पित है. इसके लिए हमारे पास आधुनिक तकनीकि और सुविधाओं से युक्त प्रयोगशालाएँ हैं तो वहीं स्थानीय स्तर पर दयोदय गौशाला जैसा श्रेष्ठ उदाहरण मौजूद हैं. उनके अनुभवों से हमें इस दिशा में कुछ ठोस और श्रेष्ठ करने में सहायता मिलेगी. 




विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के पूर्व अध्यक्ष एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. वल्लभभाई कथीरिया ने कहा कि यह एक सुअवसर है कि गौआधारित अर्थव्यवस्था की शुरुआत हो रही है. एक समय में माननीय मालवीय जी ने विश्वविद्यालय में गौशाला स्थापित करने की शुरुआत की थी. आज भी यह काम विश्वविद्यालय के माध्यम से किया जा रहा है. यह एक महान काम है. आज पूरे विश्व में पैराडाइम शिफ्ट हो रहा है. विश्व के फलक पर भारतीय संस्कृति अपना विस्तार कर रही है. यह पर्यावरण फ्रेंडली की दिशा में बढ़ाया गया एक कदम भी है. गौ संवर्धन की दिशा में आज एक नया अध्याय जुड़ रहा है.

कामधेनु पीठ बनेगा देश के लिए प्रतिमान : महामंडलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानन्द गिरी

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे गोपालन एवं पशुधन संवर्धन बोर्ड, मध्य प्रदेश शासन के अध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानन्द गिरी ने कहा कि मध्य प्रदेश सर्वाधिक गौ प्रेमी और गौ सेवकों का प्रदेश है. मध्य प्रदेश गौ संवर्धन आयोग के साथ मिलकर डॉ. हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय में विश्व की सबसे बड़ी गौशाला स्थापित की जा सकती है. कामधेनु पीठ इस अर्थ में एक शुभ कदम है. मैं विश्वास करता हूँ कि यह पीठ देश के एक प्रतिमान बने जहां गौधन संवर्धन के लिए वैज्ञानिक ढंग से अध्ययन-अध्यापन हो सकेगा. आने वाला समय पञ्च गव्य की आर्थिकी का है जिसके द्वारा हमारा समाज आत्मनिर्भर बन सकेगा. मध्य प्रदेश गो संवर्धन आयोग इस हेतु विशाविद्यालय का हर संभव मदद देने का आश्वासन देता है.

कामधेनु शोध पीठ स्थापित होना एक सांस्कृतिक घटना: कुलाधिपति

विश्वविद्यालय के कुलाधिपति प्रो.बलवंतराय शांतीलाल जानी ने कहा कि यह शोध पीठ स्थापित होना एक सांस्कृतिक परिघटना है. यह नए भारत का निदर्शन है कि एक मंत्रालय का पूरा अमला अपने मुखिया के साथ एक विश्वविद्यालय में उपस्थित है. यह राष्ट्रीय शिक्षा नीति का सुफल है कि संस्थाओं के साथ-साथ लोगों के बीच भी इस तरह के नवाचारी विचार पनप रहे हैं जो भारतीयता एवं राष्ट्रप्रेम से ओत-प्रोत है. परम वैभवशाली राष्ट्र निर्माण की राह गौ-माता के प्रति हमारी आस्था से होकर जाती है. हमें ख़ुशी है कि विश्यविद्यालय इस राह का अन्वेषक बन रहा है. 



सागर लोकसभा क्षेत्र के सांसद राजबहादुर सिंह ने कहा कि पीठ स्थापना के लिए आज हुए समझौता हस्ताक्षर के लिए विश्वविद्यालय को बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूँ. उन्होंने भारत सरकार को इस पुनीत कार्य के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि गाय का महत्त्व बढ़ाने के लिए बहुत ही सुयोग्य विश्वविद्यालय का चयन किया गया है. जिस गाय को हम भगवान् का दर्जा देते हैं मुझे विश्वास है उसके लिए यह पीठ बेहतर कार्य कर सकेगी.

सागर विधानसभा क्षेत्र के विधायक शैलेन्द्र जैन ने कहा कि विश्वविद्यालय में कामधेनु पीठ की स्थापना गोवंश के संरक्षण की दिशा में एक क्रांतिकारी अकादमिक पहल है. इससे बुंदेलखंड में पारंपरिक रूप से गोवंश के रूप में विद्यमान ज्ञान को प्रयोगात्मक और सैद्धांतिक स्तर पर सब तक पहुंचाने में सहायता मिलेगी.

इस अवसर पर कार्यक्रम की नोडल अधिकारी प्रो. अर्चना पाण्डेय ने कामधेनु पीठ के उद्देश्यों एवं भविष्य की योजनाओं की प्रस्तुति देते हुए बताया कि यह पीठ सागर सहित आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों और समग्रता में बुंदेलखंड के विकास में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाएगा जिसमें वैज्ञानिक तरीके से पशुपालन और पशुधन संरक्षण के तौर-तरीकों, गौ पालन के प्रति उच्च शिक्षा से जुड़े हुए युवाओं को आकर्षित करने और शिक्षित करने, प्रकृति और प्राकृतिक चीजों के प्रति लोगों को संजीदा बनाने जैसे व्यापक उद्देश्य के साथ कार्य करते हुए पंचगव्य, गोबर, गौमूत्र आदि पर अनुसंधान किया जाएगा.  



 मंत्रालय और विश्वविद्यालय के बीच हुआ एमओयू
इस अवसर पर मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय, भारत सरकार एवं विश्वविद्यालय के बीच एमओयू भी हुआ. कामधेनु पीठ द्वारा संचालित की जाने वाली गतिविधियों के संबंध में मंत्रालय और विश्वविद्यालय की भूमिका को लेकर समझौता पत्रक पर हस्ताक्षर हुए. विश्वविद्यालय की ओर से कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता ने और मंत्रालय प्रतिनिधि संयुक्त सचिव ओ. पी. चौधरी ने समझौता पत्रक पर हस्ताक्षर किये.   

कार्यक्रम का संचालन डॉ. आशुतोष ने किया. कुलसचिव संतोष सोहगौरा ने मंचासीन अतिथियों सहित कार्यक्रम में पधारे लोगों का आभार व्यक्त किया. डॉ राकेश सोनी के नेतृत्व में विद्यार्थियों द्वारा बरेदी नृत्य की प्रस्तुति के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ. कार्यक्रम में सागर के सम्माननीय जनप्रतिनिधि, नागरिक गण, मीडियाकर्मी बंधु और विश्वविद्यालय के सेवानिवृत्त और सेवारत शिक्षक, अधिकारी, कर्मचारी एवं विद्यार्थी उपस्थित थे.         i


महर्षि पतंजलि भवन का हुआ लोकार्पण

विश्वविद्यालय के स्वर्ण जयन्ती सभागार के पीछे स्थित महर्षि पतंजलि भवन का लोकार्पण भी हुआ. इस अवसर पर कामधेनु पीठ स्थापना कार्यक्रम में पधारे गणमान्य अतिथियों की गरिमामयी उपस्थिति में भवन का लोकार्पण कार्यक्रम संपन्न हुआ. इस अवसर पर योग विभाग के विद्यार्थियों ने योग मुद्राओं का प्रदर्शन किया. वर्तमान में इस भवन में प्रबंधन अध्ययन विभाग, योग विभाग और संगीत विभाग संचालित हैं.

गुरुवार, 11 नवंबर 2021

आचार्य 108 श्री विमदसागर जी महाराज को दी विनयांजलि। ★ आचार्य श्री विमदसागर जी महाराज के साथ घटित घटना की सी. बी. आई. जांच की मांग

आचार्य 108  श्री विमदसागर जी महाराज को दी विनयांजलि। 

★ आचार्य श्री विमदसागर जी महाराज के साथ घटित घटना की  सी. बी. आई. जांच की मांग

सागर ।  मकरोनिया जैन मिलन द्वारा आचार्य 108 श्री विमदसागर जी महाराज को विनयांजलि सभा का आयोजन अंकुर कालोनी स्थित स्नेह भवन में किया गया।विनयांजलि सभा की शुरुआत म.प्र. शासन के पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी, जैन मिलन मकरोनिया के अध्यक्ष श्री सुरेश चन्द्र जैन, अंकुर कॉलोनी अध्यक्ष श्री अशोक जैन पटवारी, दीनदयाल नगर कमेटी के अध्यक्ष सुभाष जैन,गुलजारी लाल जैन सुरेन्द्र सुहाने,कमल जैन, संजय जैन आदि के द्वारा विधिवत दीप प्रज्वलित कर आचार्य श्री को श्रद्धांजलि अर्पित कर की गई। विनयांजलि सभा मे पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी ने आचार्य 108 श्री विमदसागर जी महाराज की के सरल, प्रभावी, समाज उद्धारक, प्रेरणादायक जीवन पर प्रकाश डालते हुये कहा कि ऐसे कुशल व्यक्तित्व का असमयक चले जाना समाज और क्षेत्र के लिए बहुत बड़ी क्षति है। विनयांजलि सभा मे श्री दामोदर सेठ, श्रेयांश जैन, अशोक जैन, गुलजारी लाल जैन, संतोष जैन, सुनील जैन, सुभाष जैन, सुरेंद्र सुहाने आदि ने आचार्य श्री को विनयांजलि देते हुये कहा कि आचार्य 108 श्री विमदसागर जी महाराज जिनकी समाधि आकस्मिक समय मे इंदौर में हुई या घटित हुई इस सम्बन्ध में इंदौर जैन समाज मौन है। जो कि जांच का विषय हैं। आचार्य श्री की श्रेष्ठ चर्या थी। एक दिन आहार एक दिन उपवास करते हुई कुल 1100 उपवास हो चुके थे। तो फिर एक  साधु कैसे फांसी लगा सकता हैं। जबकि साईकिल से गिर जाने के बाद आचार्य श्री का एक हांथ ऊपर तक नही उठता था। आचार्य श्री के साथ घटित घटना की जैन समाज मकरोनिया एवं समस्त जैन भाई-बहिन, संस्थाओ आदि ने सी. बी. आई. जांच की मांग की है।विनयांजलि सभा का संचालन जैन मिलन मकरोनिया के अध्यक्ष श्री सुरेश चन्द्र जैन ने किया तथा अंत मे आभार जैन मिलन मकरोनिया के मंत्री श्री सुमत सिंघई ने व्यक्त किया। विनयांजलि सभा में राजेश दुबे, देवेन्द्र कुर्मी, अभिषेक गौर, कमलेश चौधरी, राकेश जैन एम.पी.ई.बी, रविंद बरायठा,के. सी. जैन, राकेश जैन, राकेश जैन छुल्ला,अरुण चंदेरिया, डी. सी. जैन, राजेश कुमार जैन प्राचार्य, मुन्ना विश्वकर्मा, अशरफ खान, राजू डिस्क, राजा बुन्देला, संजय रोहिदास, कमल रैकवार, रोहित वर्मा, गोविन्द राय, निशान्त आठया, निहाल पाण्डेय,दीपक कुर्मी सहित बड़ी संख्या में माताएं,बहने आदि समाजजन शामिल हुए। 

जबलपुर : कांग्रेस विधायक संजय यादव के बेटे ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या की

जबलपुर :  कांग्रेस विधायक संजय यादव के बेटे ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या की

Jabalpur MLA Son Suicide : जबलपुर ।  जबलपुर जिये की बरगी विधानसभा से कांग्रेस विधायक संजय यादव के छोटे बेटे ने हाथीताल स्थित अपने घर पर शाम 4 बजे के करीब खुद को गोली मार ली है, आनन-फानन में घायल विभोर यादव 16 वर्ष को इलाज के लिए निजी अस्पताल लाया गया जहां उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि विभोर ने अपने कमरे में खुद को गोली मार ली है। विभोर ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है।

घटना की सूचना मिलते ही कांग्रेस विधायक संजय यादव सहित पूर्व मंत्री तरुण भनोत और कांग्रेस के कई दिग्गज नेता अस्पताल के बाहर पहुंच गए। इधर अस्पताल के बाहर भारी पुलिस बल भी तैनात किया गया है। घटना की वजह क्या है यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। बताया जा रहा है कि विभोर यादव कांग्रेस विधायक संजय यादव का छोटा बेटा था।
जानकारी के मुताबिक विभोर यादव के सिर पर गोली लगी है। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि विभोर ने यह कदम क्‍यों उठाया। बताया यह भी जा रहा है कि विभोर यादव के कमरे से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है जिसमें लिखा है कि मेरी मां बहुत अच्छी है मेरे पिता बहुत अच्छे हैं। पुलिस ने विभोर यादव के कमरे को लॉक कर जांच शुरू कर दी है।

पूर्व सीएम कमलनाथ ने जताया शोक किया ट्वीट

मेरे करीबी साथी, विधायक श्री संजय यादव के पुत्र विभु यादव के निधन की बेहद दुखद ख़बर प्राप्त हुई है।

परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ।

ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणो में स्थान व पीछे परिजनो को यह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करे।




भू-अभिलेख शुद्धिकरण पखवाड़े की समय सीमा बढ़ाने के निर्देश ★ड्रोन सर्वेक्षण एवं योजनाओं की मैदानी हकीकत जानने संभाग स्तर पर समीक्षा करेंगे मंत्री गोविंद राजपूत

भू-अभिलेख शुद्धिकरण पखवाड़े की समय सीमा बढ़ाने के निर्देश                                                                    ★ड्रोन सर्वेक्षण एवं योजनाओं की मैदानी हकीकत जानने संभाग स्तर पर समीक्षा करेंगे मंत्री गोविंद राजपूत

भोपाल। प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत की पहल एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर राजस्व विभाग द्व्रारा एक नवंबर से प्रारंभ किए गए भू-अभिलेख   शुद्धिकरण पखवाड़े को आगामी 15 दिन तक बढ़ाने के निर्देश  राजस्व मंत्री द्वारा समीक्षा बैठक में दिए गए। दरअसल, प्रदेश की जनता की सुविधा के लिए प्रारंभ किए गए राजस्व विभाग के नवाचार भू-अभिलेख शुद्धिकरण  पखवाड़े में राजस्व से जुड़ी विभिन्न त्रुटियों के सुधार को लेकर जनता में बढ़ती रूचि को ध्यान में रखते हुए राजस्व मंत्री श्री राजपूत ने मंत्रालय में विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान पखवाड़े की अवधि 16 नवंबर से 30 नवंबर तक बढ़ाने के निर्देश अफसरों को दिए। बैठक में प्रमुख सचिव राजस्व मनीष रस्तोगी, प्रमुख राजस्व आयुक्त संजय गोयल, आयुक्त भू अभिलेख ज्ञानेश्वर पाटिल सहित विभाग के अन्य आला अधिकारी मौजूद थे। समीक्षा बैठक के दौरान श्री राजपूत ने यह भी तय किया कि सरकार द्रारा प्रारंभ किए गए मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना तथा भू-अभिलेख शुद्धिकरण पखवाड़े की जमीनी हकीकत जानने के लिए वह संभागवार योजनाओं की समीक्षा करेंगे। राजस्व मंत्री ने तय किया है कि समीक्षा की शुरुआत मालवांचल के इंदौर से की जाएगी। इसके बाद ग्वालियर, जबलपुर, रीवा तथा अन्य संभागों में इन योजनाओं की विस्तृत समीक्षा राजस्व मंत्री श्री राजपूत करेंगे। उन्होंने बताया कि 1 नवंबर से प्रारंभ किए गए भू-अभिलेख शुद्धिकरण पखवाड़े में अब तक  33 लाख 6 हजार 664 अभिलेखों में विभिन्न प्रकार की त्रुटियों को सुधारा गया। उन्होंने कहा कि त्रुटिपूर्ण अभिलेखों के कारण भूमि स्वामियों को शासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा था। इसी को ध्यान में रखते हुए राजस्व मंत्री के निर्देश विभाग द्व्रारा भू-अभिलेख शुद्धिकरण पखवाड़े की शुरुआत की गई।  दरअसल, राजस्व अभिलेखों में क्षेत्रीय शब्दों के उपयोग के कारण नामों में एकरूपता नहीं रहती थी। साथ ही अभिलेख में भूमि स्वामी के प्रचलित नाम और आधार-कार्ड में वास्तविक नाम भिन्नता के कारण नामांतरण एवं बंटवारा प्रकरणों में भी क्षेत्रीय कर्मचारियों को परेशानी आती थी। बैंक से ऋण प्राप्त करने, प्रधानमंत्री किसान एवं फसल बीमा जैसी महत्वपूर्ण योजनाओं का भी भूमिधारक लाभ नहीं ले पा रहे थे। जब इस तरह की परेशानियों से जूझ रही जनता ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को क्षेत्रीय भ्रमण के दौरान अवगत कराया तो मुख्यमंत्री के निर्देश एवं राजस्व मंत्री की पहल पर अभिलेख शुद्धिकरण की शुरुआत की गई।  

योजनाओं में गति लाने राजस्व अफसरों को दिए निर्देश 

विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान भू-अभिलेख शुद्धिकरण पखवाड़ा, ड्रोन सर्वेक्षण तथा मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना के कार्यों में गति लाने के लिए राजस्व मंत्री श्री राजपूत ने अफसरों को सख्त निर्देश दिए। बैठतक में श्री राजपूत ने कहा कि राजस्व विभाग की योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए न्यायालय परिसर, तहसील कार्यालय, जनपद कार्यालय तथा जिला पंचायत कार्यालय व कलेक्ट्रेट परिसर में डिस्पेले बोर्ड / फ्लैक्स लगाए जाएं। उन्होंने विभाग की योजनाओं से जुड़ी छोटी-छोटी फिल्में बनाकर सोशल मीडिया के माध्यस से प्रचार करने के निर्देश अफसरों को दिए। बैठक में राजस्व मंत्री ने इस बात पर प्रसन्नता जताई की आजादी के 70 साल बाद पहली बार मध्यप्रदेश में भूमि का कम्पयूटीराइज्ड रिकॉर्ड बनाया जा रहा है।  उन्होंने बैठक में अफसरों को निर्देश दिए की सभी योजनाओं की लगातार मानीटिरिंग के लिए जिले के कलेक्टरों को निर्देश जारी करें ताकि किसी प्रकार की कोताही ना हो। बैठक में श्री राजपूत ने मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना के तहत सीहोर और सागर जिले को प्राथमिकता में रखने के निर्देश दिए। 

मुख्य सड़कों से हटाया जाएगा अतिक्रमण :

समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने जिले की नगरीय क्षेत्रों से गुजरने वाली मुख्य सड़कों में अतिक्रमण हटाए जाने के निर्देश राजस्व विभाग के अफसरों को दिए।  उन्होंने कहा कि बैजा अतिक्रमण की वजह से सड़कों की चौड़ाई घटती जा रही है। जिसे रोकने विभाग के अफसर सख्त कदम उठाएं। श्री राजपूत ने बताया कि मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना के तहत ग्रामीण आबादी भूमि का सर्वे कर 50 हजार ग्रामों में संपत्तिधारकों को उनका मालिकाना हक दिया जाएगा। 

वाहनों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगाई जाएंगी 

परिवहन विभाग की समीक्षा बैठक में राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने निर्देश दिए हैं कि वाहनों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट और दुर्घटनाओं को रोकने व्हीकल लोकेशन ट्रैकिंग डिवाइस/ पैनिक बटन तथा दुर्घटनाओं को रोकने के लिए व्यवसायिक वाहनों में रेट्रो रिफ्लेक्टिग टेप लगाने की योजना पर चरणबद्ध तरीके से अमल किया जाए। इसके अलावा समीक्षा बैठक में परिवहन मंत्री श्री राजपूत द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 15 नवम्बर को प्रस्तावित भोपाल यात्रा को लेकर भी व्यवस्थाओं को लेकर अफसरों से चर्चा की।

बुधवार, 10 नवंबर 2021

कोविड टीकाकरण : लापरवाही बरतने पर चिकित्सा अधिकारी डॉ. आशीष जैन को नोटिस


कोविड टीकाकरण : लापरवाही बरतने पर चिकित्सा अधिकारी डॉ. आशीष जैन को नोटिस

सागर। कलेक्टर श्री दीपक आर्य के निर्देश पर सीएमएचओ डा. सुरेश बौद्ध ने जिला चिकित्सालय के चिकित्सा अधिकारी पी.जी. कम्यूनिटी मेडीसीन डॉ. आशीष जैन को कोविड-19 टीकाकरण कार्य में लापरवाही बरतने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

सीएमएचओ डॉ सुरेश बौद्ध ने बताया कि  टीकाकरण कार्य के शत प्रतिशत गुणवत्ता पूर्ण एवं टीकाकरण जैसे : अति महत्वपूर्ण संवेदनशील कार्यक्रम हेतु डाक्टर  जैन को शहरी क्षेत्र का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है एवं उक्त कार्य को पूर्ण निष्ठा एवं लगन के साथ कियान्वित किया जाना डाक्टर  जैन का दायित्व है । टीकाकरण महाअभियान के सफल संचालन हेतु कार्यालय में 4 बैठक आयोजित की गयी।  जिसमें डाक्टर  जैन  बिना किसी पूर्व सूचना के अनुपस्थित पाये गये । डाक्टर जैन के उक्त कृत्य से टीकाकरण जैसे अतिमहत्वपूर्ण राष्ट्रीय कार्यक्रमों के प्रति अरुचि , उदासीनता एवं वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा देय निर्देशों की अवहेलना करना सिद्ध होता है । जिला टीकाकरण अधिकारी द्वारा भी 10 नवंबर 2021 को अवगत कराया गया कि प्रातः 10.30 बजे तक डाक्टर  जैन  द्वारा उनके फोन कॉल भी रिसीव नहीं किये गये । डाक्टर  जैन निष्क्रियता के कारण सेंटरों पर वैक्सीन समय पर नहीं पहुंचने से सत्र समय पर प्रारंभ नहीं हो सके जिस कारण कलेक्टर द्वारा भी अत्यन्त नाराजगी एवं अप्रसन्नता व्यक्त की गयी। जिससे विभाग की छवि भी धूमिल हुई । इस प्रकार डाक्टर  जैन का उपरोक्त कृत्य मध्यप्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम -3 के उप नियम ( 1 ) ( 11 ) ( 111 ) के अनुरूप न होकर कदाचरण की श्रेणी में आता है , इस प्रकार आप उक्त नियमों का पालन म और अपने कार्य के प्रति सन्निष्ठ एवं कर्तव्य परायण में रहते हुये अनुशासनात्मक कार्यवाही के भागी बन गये है । अतः डाक्टर  जैन  नोटिस प्राप्ति के 48 घंटे के अंदर अपना प्रतिवाद उत्तर सीएमएचओ के समक्ष उपस्थित होकर प्रस्तुत करें कि क्यों न आपके विरुद्ध मध्यप्रदेश सिविल सेवा ( वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील ) नियम 1966 के अंतगर्त अनुशासानात्मक कार्यवाही हेतु प्रस्ताव वरिष्ठ कार्यालय को भेजा जाये । डाक्टर  जैन  उत्तर समय सीमा मे एवं संतोषजनक न पाये जाने पर डाक्टर  जैन के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही हेतु प्रस्ताव गरिष्ठ कार्यालय को भेज दिया जायेगा। जिसके लिये डाक्टर  जैन  स्वयं उत्तरदायी हांगे ।

SAGAR : अवैध रूप से गांजे की खेती, 118 किलो गांजा जब्त, ★ अमरूद के पेड़ो के बीच लगे थे गांजे के पेड़

SAGAR : अवैध रूप से गांजे की खेती, 118 किलो गांजा जब्त,
★ अमरूद के पेड़ो के बीच लगे थे  गांजे के पेड़





सागर। सागर जिले की थाना बंडा एवं रहली पुलिस ने दो जगहों पर कार्यवाही करके गांजा के पेड़ जब्त किए। यहां से 118 किलो गांजा के पेड़ जब्त किए है। बन्दा में अमरूद के पेड़ों के बीच गांजे के पेड लगे मिले। जिसकी कीमत दो लाख रुपये आंकी गई है। आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। 

अमरूद के साथ लगे थे गाजे के पेड़

पुलिस के अनुसार  बंडा पुलिस को मुखविर की सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम दलपतपुर मौजा में तिसमाला माता के मदिर की पहाड़ी के नीचे बिही के पेडो के पास निरपत लोधी निवासी दलपतपुर के खेत में अधिक मात्रा में मादक पदार्थ गाजा के पौधे लगे है। सूचना की तस्दीक होने पर मुखबिर द्वारा बताये स्थान ग्राम
दलपतपुर मौजा में तिसमाला माता के मदिर की पहाड़ी के नीचे बीही के पेडो के पास खेत में पहुंचकर देखा तो खेत मे मादक पदार्थ गांजा जैसे पौधे (हरे गीले) पौधे करीब 5 फीट लम्बे पाये गये। मादक पदार्थ के पौधों की तौल की गई जो कुल करीबन 103 किलो 750 ग्राम बजन होना पाया गया।  जिन्हे प्लास्टिक की बौरी में पैक कर सीलबंद किया जाकर मौके से जब्त किया। उक्त खेत के स्वामी निर्पत लोधी की तलाश की गई जो नहीं मिला आरोपी निरपत लोधी का कृत्य अपराध धारा 8/20 NDPS ACT का पाये जाने आरोपी निर्पत लोधी के विरुध्द धारा 8/20 NDPS ACT का पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया। उक्त रेड कार्यवाही में- उनि0 पी डी ठाकुर, सउनि राजपाल सिंह, प्रआर0 बृजेश शर्मा, नरेन्द्र
आरक्षक, आशीष, प्रदीप शर्मा, व सानू की सराहनीय भूमिका रही।




बाडे मे अवैध रूप से लगे थे गांजे के पेड
रहली पुलिस को  मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम हिनौती मे पुरानी वन चौकी के पास बाड़े मे रूप सिंह गौड अवैध रूप से अवैध रूप से गांजे के पेड़ लगाये है। सूचना प्राप्त पर तत्काल
उचित कार्यवाही करते हुये मुखबिर द्वारा बताये स्थान पर मय स्टॉफ के अचानक दबिश दी पुलिस देखकर आरोपी रूप सिंह गौड रात्रि मे अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकला। पुलिस द्वारा पुरानी वन चौकी के दोनों भवनों के पास बने बाडा मे देखने पर आजू बाजू मादक
पदार्थ गांजे के छोटे-बड़े काफी पेड लगे पाये गये जिनकी नियमानुसार वीडियो ग्राफी करावाकर सारे पौधे उखडवा कर जप्त किये।   गांजा मय पेड़ों के कुल 14 किलो 940 ग्राम कीमती करीबन 50 हजार रूपये का होना पाया गया।
आरोपी रूपसिंह गौड द्वारा अपने निवास स्थान पुरानी वन चौकी के पास बाडे
मे मादक पदार्थ गाजा के पेड लगाये जाने से आरोपी रुपसिंह गोड का कृत्य एन डी.पी. एस.एक्ट के तहत दंडनीय पाये जाने से अपराध सदर पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। उक्त रेड कार्यवाही में उनि गोपाल चौधरी, आरक्षक सुधर्म, चतुर्भुज, सुनील दुबे, राजाबाबू की सराहनीय योगदान रहा।



भोपाल के अस्पताल में आगजनी की घटना के बाद जिला चिकित्सालय का किया निरीक्षण विधायक शेलेन्द्र जैन ने

भोपाल के अस्पताल में आगजनी की घटना के बाद जिला चिकित्सालय का किया निरीक्षण विधायक शेलेन्द्र जैन ने 

सागर। विधायक शैलेंद्र जैन ने भोपाल के आगजनी की घटना के बाद जिला चिकित्सालय सागर का औचक निरीक्षण किया और बारीकी से सभी एंगल से तैयारियों का जायजा लिया उन्होंने एसएनसीयू वार्ड, पीआईसीयू वार्ड, नवीन आई सी यू वार्ड का निरीक्षण किया। उन्होंने प्राथमिक रूप से प्रथम क्लास  विशेषज्ञ इंजीनियरों द्वारा जिला चिकित्सालय की पूरी इलेक्ट्रिक लाइन का परीक्षण कराने के निर्देश दिए ताकि ऐसी कोई भी संभावना ना रहे इसमें शॉर्ट सर्किट का अंदेशा हो और उसके कारण कहीं भी इलेक्ट्रिक फॉल्ट हो सके, उन्होंने कहा कि हम जिला चिकित्सालय की ड्रेनेज व्यवस्था को सुधारने के लिए स्मार्ट सिटी के माध्यम से उसका कार्य करा रहे हैं जिला चिकित्सालय में लगे एयर कंडीशनर को भी निरंतर चालू रखने के निर्देश दिए और उनका एनुअल मेंटिनेस कांट्रैक्ट तैयार करने के निर्देश दिए उन्होंने कहा कि जिला चिकित्सालय तक कोई भी एयर कंडीशनर बंद मिलता है तो 24 घंटे के अंदर चालू किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारा नवीन आईसीयू और पीआईसीयू भी बनकर तैयार है यह किसी भी सर्व सुविधा युक्त निजी अस्पताल के आईसीयू से कमतर नहीं है इनमें जो भी कमियां हैं पीडब्ल्यूडी विभाग को निर्देशित कर दिया गया उसे जल्द से जल्द पूर्ण किया जाएगा।
इसके पूर्व में उन्होंने जिला चिकित्सालय पहुंचकर सर्वप्रथम कैजुअल्टी वार्ड को अपडेट करने के लिए निर्देषित किया, इसके बाद कोरॉना मरीजों के लिए आरक्षित 19 बिस्तरीय आई सी यू वार्ड एवं नवीन 20 बिस्तरिय आई सी यू वार्ड का भी निरीक्षण किया और भविष्य में कोविड की तैयारियों की समीक्षा की।
उन्होंने अस्पताल के ओपीडी एवं ब्लड बैंक में टेलीफोन सुविधा सुचारू रूप से चालू करने के निर्देश दिए ताकि लोगो को किसी प्रकार की असुविधा न हो। उन्होंने निरीक्षण के दौरान पाया कि अस्पताल की छत से सीमेंट गिर गई है और सरिया बाहर निकल आया है उसका भी मेंटेनेंस करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।
    वार्ड क्रमांक 1 के बाजू में रिक्त पड़े स्थान पर अस्पताल के बेकार पड़े सामान को हटाने के निर्देश देते हुए उस जगह को लोगों को बैठने योग्य बना कर कहां पर बेंच लगाने के निर्देश दिए, वार्डों के बाहर डिस्प्ले बोर्ड लगाने को लेकर भी चर्चा की गई जिसमें मरीजों के नाम लिखे जाए ताकि आने वाले अटेंडर की जानकारी लग सके कि हमारा मरीज किस पलंग पर भर्ती है। इसके अतिरक्त एस एन सी यू वार्ड में पहुंचकर वहां पर एंट्री एग्जिट के द्वार देखे फायर इक्विपमेंट की जानकारी ली।इस दौरान विधायक जैन के साथ सिविल सर्जन डॉ ज्योति चौहान, डॉ डी के गोस्वामी, डॉ योगेन्द्र खटीक, डॉ अभिषेक ठाकुर, डॉ आशीष जैन, उपस्थित रहे।

गौशाला सिलेरा में बाउंड्री बाल का भूमि पूजन संपन्न

गौशाला सिलेरा में बाउंड्री बाल का भूमि पूजन संपन्न 

सागर। गौ सेवा संघ रजिस्टर्ड पब्लिक ट्रस्ट क्रमांक 48 द्वारा संचालित संभाग की सबसे प्राचीन गौशाला सिलेरा की बाउंड्री बाल विधायक निधि से राशि ₹300000 से बनने वाली बाउंड्री बाल का भूमि पूजन कार्यक्रम मैं क्षेत्र के यशस्वी विधायक मान. प्रदीप लारिया के मुख्य आतिथ्य एवं भाजपा नेता एवं  सुधीर यादव, भाजपा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष साहब सिंह यादव, भाजपा सदर मंडल अध्यक्ष सौरभ केशरवानी की उपस्थिति में संपन्न हुआ इस कार्यक्रम की अध्यक्षता गौ सेवा संघ के अध्यक्ष लालचंद घोषी जी ने की इस अवसर पर गौ माता के लिए सुंदर एवं प्रेरणा दाई बुंदेली लोक गीत पं. श्याम सुंदर मिश्रा द्वारा प्रस्तुत किए गए कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मान. प्रदीप लारिया विधायक नरयावली ने भूमिपूजन कार्यक्रम के दौरान अपने उद्बोधन में श्री लारिया जी ने गौशाला के 101 वर्षों से लगातार किये जाने वाले कार्यों की भूरी- भूरी प्रशंशा की, उन्होंने कहा कि गौ माता के संरक्षण एवं संवर्धन का कार्य सतत् रूप से चलने वाली सनातनी प्रक्रिया है। गौमाता के संरक्षण से मानव जाति का संरक्षण स्वयं हो जाता है, भारतीय संस्कृति में वात्सल्यपूर्वक सम्पूर्ण जीव सृस्टि का पोषण करने वाली माला "गौ माता" ही है। उन्होंने जोर देकर 'कहा कि चरना गायों का युगो - युगो से जन्मसिद्ध अधिकार रहा है एवं मानव जाति के साथ-साथ सम्पूर्ण सृष्टि के संरक्षण हेतु गायों को करने की उपयुक्त व्यवस्था व्यवस्था करना हम सभी का दायित्व है। सामाजिक संगठनो एवं सरकारों को इसे अपना आवश्यक कर्तव्य मानते हुये गौमाता के संरक्षण एवं संवर्धन हेतु भागीरथी उपास करना चाहिये । कार्यक्रम में  वरिष्ट भाजपा नेता एवं पूर्व सांसद प्रतिनिधि श्री सुधीर यादव ने कहा कि कृषि एवं गौवंश एक दूसरे के पूरक हैं, एक के बिना दूसरा अधूरा है अतः कृषि के विकास के लिये गौवंश का संरक्षण अति आवश्यक है लालचंद घोषी ने अपने अध्यक्षीय उद्वोदन में ने गौ सेवा संघ के 101 वर्ष के इतिहास पर प्रकाश डालते हुये बताया कि इस संस्था को श्री मन्महात्मा रामचंद्र वीर जी महाराज एवं राष्ट्रीय संत  आचार्य स्वामी श्री धर्मेन्द्र जी महाराज का गौशाला से जुड़ाव एवं मार्गदर्शन मिलता रहा है महात्मा रामचंद्र वीर जी महराज ने गौ रक्षा आंदोलन के दौरान देश की राजधानी दिल्ली में विश्व का सबसे बड़ा अनशन 166 दिन का किया था  वीर जी महराज ने ऐसे 100 अनशन किये एवं इन्ही अनशनों के दौरान 28 बार जेल भी गए राष्टीय स्वयं सेवक संघ के द्वितीय सरसंघ चालक सदाशिव गोलबारकर जी (गुरु जी) ने ऐसे ही एक अनशन (बिहार प्रदेश  में) के दौरान 54 वे दिन उनकी वंदना की थी जो राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की पुस्तक गाय और गुरु जी के नाम से प्रकाशित हुई थी उसमे भी उन्हों ने उल्लेख किया था ।
इस अवसर पर गौ सेवा संघ के सचिन घोषी, राजकुमार यादव, कौशल घोषी, गोलू घोषी, केशब घोषी, शिवांश घोषी, सरपंच अशोक यादव, पूर्व सरपंच पहलाद आठिया, चंद्रभान यादब  जरारा, नीलेश पटेरिया, पार्षद राजाराम रिछारिया, कबि राज करइ, महेश यादव, बाबूलाल यादब, छोटेलाल यादब, तुलसीराम लड़िया, नाथूराम लड़िया, नत्थूराम, परमलाल, गोपाल लड़िया, सत्यनारायण गौड़, दामोदर उस्ताद, धर्मेंद्र यादव, अरविन्द लड़िया, अज्जुदी लड़िया, हुकु लड़िया, पप्पू लड़िया, आशाराम घोषी, गौ सेवक रामप्रकाश यादव, रणछोड़ीलाल सोनी, चंद्रप्रकाश सुनरिया, पार्षद बाबूलाल रोहित, नंदलाल यादव, गंगाराम यादव, तुलसीराम जी, कैलाश सेन, गोविंद अहिरवार, अनिल लडिया, गुमान गौंड, तुलाराम आदि ग्राम वासी उपस्थित थे ।
मंच का सञ्चालन रूपकिशोर अग्रवाल ने किया एवं कार्यक्रम के सफल आयोजन का आभार कोषाध्यक्ष अरविन्द घोषी ने माना ।

कमला नेहरू अस्पताल में हुई घटना से संबंधित सभी तथ्य जनता के सामने आएँ : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ★ डीन सहित तीन अधिकारियों पर हुई कार्रवाई ★ सभी शासकीय और निजी अस्पतालों को फायर और इलेक्ट्रिक सेफ्टी ऑडिट कराना अनिवार्य ★ सभी जिला कलेक्टर अगले 10 दिन में करेंगे समीक्षा

कमला नेहरू अस्पताल में हुई घटना से संबंधित सभी तथ्य जनता के सामने आएँ : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह

★ डीन सहित तीन अधिकारियों पर हुई कार्रवाई

★ सभी शासकीय और निजी अस्पतालों को फायर और इलेक्ट्रिक सेफ्टी ऑडिट कराना अनिवार्य

★ सभी जिला कलेक्टर अगले 10 दिन में करेंगे समीक्षा

भोपाल । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमला नेहरू अस्पताल में घटी घटना आपराधिक लापरवाही है। जिनका दोष है, उन्हें तत्काल हटाकर उन पर कार्रवाई की जाएगी, किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा श्री मोहम्मद सुलेमान को घटना की जाँच का दायित्व सौंपा गया है। गांधी मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. जीतेन्द्र शुक्ल, हमीदिया अस्पताल के अधीक्षक डॉ. लोकेन्द्र दवे और कमला नेहरू अस्पताल के संचालक डॉ. के.के. दुबे को पद से हटाने और सीपीए विद्युत विंग के उप यंत्री श्री अवधेश भदौरिया को निलंबित करने का निर्णय लिया गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि घटना से संबंधित सभी तथ्य जनता के सामने आने चाहिए। सरकार को इसमें कुछ नहीं छुपाना है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान मंत्रालय में मंत्रीगण एवं वरिष्ठ अधिकारियों के साथ भोपाल के कमला नेहरू अस्पताल में हुई दुःखद घटना के संबंध में बैठक को संबोधित कर रहे थे। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, भोपाल के प्रभारी मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान, अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा, आयुक्त भोपाल श्री गुलशन बामरा, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी तथा आयुक्त जनसंपर्क डॉ. सुदाम खाड़े सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

फायर और इलेक्ट्रिक सेफ्टी ऑडिट कराएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि एस.एन.सी.यू. सिक न्यू बॉर्न केयर यूनिट (नवजात शिशु गहन चिकित्सा इकाई) में गंभीर रूप से अस्वस्थ बच्चों को रखा जाता है। भविष्य में इस प्रकार की घटना न हो, इसके लिए प्रदेश में अभियान चलाया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि शासकीय तथा निजी अस्पतालों को बाध्य किया जाए कि वे समय-सीमा में फायर और इलेक्ट्रिक सेफ्टी ऑडिट कराएँ। सभी जिला कलेक्टर अगले 10 दिन में अपने जिलों के सभी शासकीय तथा निजी अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों के फायर और इलेक्ट्रिक सेफ्टी तथा अन्य बचाव एवं सुरक्षा के इंतजाम की समीक्षा करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित किया जाए कि निश्चित समयावधि में आवश्यक रूप से फायर और इलेक्ट्रिक ऑडिट कराते रहें।



मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शासकीय अस्पतालों में डॉक्टर पूर्णत: उपचार पर ध्यान दें, इसलिए प्रबंधन और उपचार की व्यवस्था को पृथक किया जाएगा। अस्पतालों के प्रबंधन और रख-रखाव के लिए पृथक कैडर बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अस्पतालों के सिविल वर्क, विद्युत व्यवस्था, उपकरणों के संधारण आदि के प्रबंधन में एजेंसियों का दोहराव न हो, यह सुनिश्चित किया जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विशेषज्ञों के साथ मिलकर यह निर्धारित किया जाएगा कि किन-किन प्रावधानों को स्वास्थ्य संस्थाओं में लागू किया जाए, जिससे इस प्रकार की घटना की पुनरावृत्ति न हो। कई स्वास्थ्य संस्थाओं में ऑक्सीजन की लाईन डाली गई है। अस्पतालों में हुए इस उन्नयन को दृष्टिगत रखते हुए सेफ्टी के प्रावधानों को सुनिश्चित किया जाएगा। जिन स्वास्थ्य संस्थानों में ऑक्सीजन की व्यवस्था है, वहाँ ऑक्सीजन संचालन को लेकर स्टाफ को विशेष रूप से जागरूक कर प्रशिक्षण दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि चिकित्सा शिक्षा विभाग का स्वयं का सिविल विंग होगा, जो मेडिकल कॉलेज तथा उससे संबंधित अस्पतालों के रख-रखाव का कार्य करेगा। कमला नेहरू अस्पताल में रख-रखाव का कार्य सीपीए के पास था। आज ही यह कार्य सीपीए से वापस लेकर पी.डब्ल्यू.डी. को सौंपा गया है। यह अस्थाई व्यवस्था है। यह व्यवस्था चिकित्सा शिक्षा विभाग के स्वयं के सिविल विंग स्थापित होने तक जारी रहेगी।
मुख्यमंत्री श्री चौहान की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री Vishvas Kailash Sarang ने घटना के संबंध में मीडिया से चर्चा की। गांधी मेडिकल कॉलेज की पीडियाट्रिक डिपार्टमेंट की विभागाध्यक्ष डॉ. श्रीमती ज्योत्सना श्रीवास्तव ने कमला नेहरू अस्पताल के पीडियाट्रिक वार्ड में हुई घटना तथा ट्रीटमेंट की वस्तु-स्थिति पर मीडिया को वक्तव्य दिया

कुलपति ने किया गौशाला का भ्रमण,गोबर से बनी सामग्री को देखा

कुलपति ने किया गौशाला का भ्रमण,गोबर से बनी सामग्री को देखा




सागर. 10 नवंबर । डॉ हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय सागर में कामधेनु अध्ययन एवं शोध पीठ आरंभ की जा रही है. इसके संवर्धन हेतु कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता ने सागर संभाग की सबसे बड़ी व्यवस्थित दयोदय गौशाला का भ्रमण कर वहां की उत्तम कार्यशैली की प्रशंसा की. दयोदय गौशाला के अध्यक्ष वीरेंदर जैन ने बताया की गौशाला में 2 हजार के लगभग गाय एवं बछड़े हैं जिनकी देखरेख के लिए 38 कर्मचारी सेवारत हैं. गायो के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए यहाँ सभी पारंपरिक एवं प्राकृतिक सुविधाएँ  दी जा रही है.



कुलपति प्रो नीलिमा गुप्ता ने विचार संस्था का भ्रमण कर संस्था अध्यक्ष कपिल मलैया द्वारा गोबर से बनी सामग्री का अवलोकन कर उनके सामाजिक कार्य की सराहना की.  इन दोनों संस्थाओ ने भविष्य में विश्वविद्यालय के कामधेनु अध्ययन एवं शोध पीठ को हर संभव सहयोग देने का आश्वासन दिया है. इस अवसर पर समाजसेवी संस्थाओ के परिजनों एवं प्रो. अर्चना पांडेडॉ ललित मोहन ने समन्वय सहयोग प्रदान किया.

 

 

सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र बना पन्ना टाइगर रिजर्व ★ 50 से अधिक बाघ , शावकों की संख्या 20 से 25

सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र बना पन्ना टाइगर रिजर्व
 ★ 50 से अधिक बाघ , शावकों की संख्या 20 से 25 


 पन्ना ।  पन्ना टाइगर रिजर्व में इनदिनों सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। यहाँ करीब करीब अब हर रोज  टाइगर की साइटिंग पर्यटको द्वारा की जा रही है।आज सैलानियों ने टाइगर रिज़र्व में बाघिन पी-151 को देखा कर रोमांचित हो उठे।यह बाघिन अपने दो सबको के साथ मदमस्त चाल के साथ अपने बच्चों के लेकर सड़क पर कर रही थी,जिसे देखकर दोनो तरफ के बाहनों के ब्रेक लग गए और पर्यटकों ने प्रकृति के इस अद्भुत नजारे का जमकर लुफ़्त उठाया।इस नजारे को एक शैलानी ने अपने मोबाइल में वीडियो बना लिया और शोसल मीडिया पर वायरल कर दिया।इस वीडियो को पार्क प्रबंधन को भी शेयर किया गया। पन्ना टाइगर रिज़र्व के फील्ड डायरेक्टर उत्तम कुमार शर्मा ने बताया कि यह बड़ा अच्छा वीडियो सामने आया है जिसमे बाघिन p-151 है जो अपने शावकों के साथ नजर आ रही है। सैलानियों द्वारा इसका बडे ही अच्छे ढंग से वीडियो बनाया गया है।उन्होंने बताया कि दो बाघिन इस क्षेत्र में विचरण कर रही हैं जो अपने बच्चों को साथ लिए हुए हैं जिसे देख कर पर्यटक आनंदित हो रहे है।श्री शर्मा ने बताया कि पन्ना टाइगर रिजर्व में एक साल के ऊपर के 50 बाघ-बाघिन है,जबकि शावकों की संख्या 20 से 25 के बीच मानी जा रही है।

SAGAR : भाजपा प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव के ब्राम्हण विरोधी बयान से नाराजगी ,ब्राहण समाज ने दिया ज्ञापन

SAGAR : भाजपा प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव के ब्राम्हण विरोधी बयान से नाराजगी ,ब्राहण समाज ने दिया ज्ञापन


सागर। सर्व ब्राम्हण समाज सागर के अध्यक्ष  पं. रामअवतार पाण्डे एवं पं. षिवषंकर मिश्रा के नेतृत्व में सर्वब्राम्हण समाज सागर के एक प्रतिनिधि मंडल द्वारा भाजपा प्रदेष प्रभारी श्री पी.मुरलीधर राव के द्वारा ब्राम्हण समाज के विरूध दिए व्यान के विरोध में एक ज्ञापन अपर कलेक्टर श्री अखिलेष जैन सागर को सौंपा। 
 ज्ञापन में बताया कि पी.मुरलीधर राव जैसे राजनेता त्वारित राजनैतिक लाभ के लिए ऐसे अनरगल व्यान देते है ऐसे व्यानों से समाज विषेष के लोगो में भारी आक्रोष व्याप्त है जिससे कानून व्यवस्था विगडने का खतरा रहता है। षासन से अनुरोध है कि ऐसे नेताओं की व्यान वाजी पर अंकूष लगाया जावे। जिससे समाजिक वैमन्यस्ता न फैले तथा इन पर कठोर कार्यवाही होनी चाहिए। 
इस अवसर पर पं. रामअवतार पांण्डे कहा कि हमारा समाज संविधान पर विष्वास रखने वाला सभ्य समाज है ऐसे व्यानों से हम सव आहात है। अतः प्रषासन से आग्रह है कि पी.मुरलीधर राव के विरूध कानूनी कार्यवाही की जावे। श्री विद्याभूषण तिवारी ने कहा की अगर शीघ्र ही श्री पी.मुरलीधर राव के विरूद्व कार्यवाही नहीं हुई तो सर्व ब्राम्हण समाज सागर सड़कों पर उग्र आंदोलन करने को विवष होगा। 
इस अवसर पर श्री रवि उमाहिया अध्यक्ष युवा सर्व ब्राम्हण समाज षहर सागर, श्री राजू बडोनिया, श्री राजेष पारासर आदि ने भी संबोधित किया। ज्ञापन सौपने वालों में मधुर राज पुरोहित, षरद मिश्रा, सुधीर पांण्डे, प्रियंक दुबे, भास्कर चैबे, कस्यप चैबे, गौरव दुबे, दिनकर तिवारी, मणिकांत षर्मा, कमलेष उपाध्याय, भूपेन्द्र पाठक, गोलू पांडे, राजीव गुरू आदि सर्व ब्राम्हण समाज के पदाधिकारीगण उपस्थित थे। 

                                                

Archive