सागर की पहचान -लाख बंजारा झील

शनिवार, 21 सितंबर 2019

सागर जिले की जनपद पंचायतों में ग्राम सामाजिक एनिमेटर की दोषपूर्ण चयन प्रक्रिया हो निरस्त :पूर्व मंत्री सुरेंद्र चौधरी

सागर जिले की जनपद पंचायतों में ग्राम सामाजिक एनिमेटर की दोषपूर्ण चयन प्रक्रिया हो निरस्त :पूर्व मंत्री सुरेंद्र चौधरी 

सागर।  सागर जिले की जनपद पंचायतों में जिला पंचायत के माध्यम से सम्पन्न कराई गई ग्राम सामाजिक एनिमेटर ( VSA ) के चयन  प्रक्रिया को तत्काल निरस्त कर चयन प्रक्रिया पुनः स्थानीय  नौजवान बेरोजगारों को शामिल कर संपन्न कराये जाने की मांग को लेकर मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री  सुरेंद्र चौधरी की अगुवाई में कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल ने मध्य प्रदेश शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल से भोपाल में मुलाकात कर  ज्ञापन सौंपा।  
      पूर्व मंत्री चौधरी जे अनुसार  सागर जिले सहित मध्य प्रदेश के 23  जिलों में पंचायत सामाजिक एनिमेटर (VSA) की चयन प्रक्रिया में नौजवान बेरोजगारों को वंचित कर आर.एस.एस की शाखाओं में जाने बाले तथा  जन अभियान परिषद, नेहरू युवा केंद्र, ग्रामीण आजीविका मिशन तथा सरकार विरोधी मानसिकता से काम करने वाले लोग चयन प्रक्रिया में शामिल होकर स्थान पाने में सफल हुए हैं। उन्होंने कहा कि  मुख्यमंत्री कमलनाथ की मंशा स्थानीय नौजवान बेरोजगारों को ग्राम में स्वरोजगार उपलब्ध कराने की है बाबजूद इसके प्रशासनिक दोष के कारण बिना विज्ञापन निकाले, बिना रोस्टर का पालन किये, गुप चुप तरीके से अपनो को उपकृत करने ग्रामीण आजीविका मिशन के अमले द्वारा चाहतो को फोन लगाकर चयन प्रक्रिया में शामिल कराकर दोषपूर्ण चयन प्रक्रिया संपन्न कराई गई है ।।                      उन्होंने सागर जिले सहित मध्य प्रदेश के 30 जिलों में संपन्न कराई गई  प्रक्रिया को निरस्त कर  पुनः प्रक्रिया कराने की बात कही जिस पर पंचायत ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने युवा नौजवान बेरोजगारों को न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया। कांग्रेस प्रतिनिधि  मंडल में पूर्व मंत्री  सुरेंद्र चौधरी के साथ युवा कांग्रेस अध्यक्ष अशरफ खान, अनिल कुर्मी, नरेंद्र मेश्राम, राम लाल अहिरवार, कमल चौधरी, डॉक्टर विनीत कुमार, रोहित वर्मा शामिल थे।

मिनरल वाटर प्लांट में चोरी करने वाला प्लांट की कर्मचारी ही निकला, करीब एक लाख रुपये बरामद

मिनरल वाटर प्लांट में चोरी करने वाला प्लांट की कर्मचारी ही निकला, करीब एक लाख रुपये बरामद
सागर । सागर के उपनगर मकरोनिया चौराहा स्थित गौरव फूड्स वेवरेज मिनिरल वाटर प्लाण्ट हुई चोरी का पुलिस ने खुलाशा कर लिया है । इस प्लांट में काम करने वाले कर्मचारी ने अपने साथी के साथ चोरी की घटना को अंजाम दिया था और एक लाख 30 हजार रुपये चुराए थे। पुलिस ने चोरों से करीब  एक लाख  रुपया और चोरी के पेसो से खरीदा मोबाइल फोन  बरामद कर लिया है ।
            अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश व्यास और सीएसपी अमृता दिवाकर ने आज मीडिया को पूरा घटनाक्रम बताया।पुलिस के मुताबिक 15 और16 सितम्बर की  दरम्यानी रात मकरोनिया चौराहा के पास स्थित गौरव फुड़स व वेवरेज मिनिरल वाटर प्लाण्ट में आफिस का ताला तोड़कर आफिस में रखी अलमारी का लाक तोड़कर उसमें रखे एक लाख 30 हजार  नगद एवं सिक्के अज्ञात चोर द्वारा चोरी कर ले गये थे । चोरों ने सीसीटीवी कैमरो के वायर काट दिये थे। इसकी रिपोर्ट मुकेश दक्ष पिता गनेश दक्ष  विजय टाकीज चौराहा ने दर्ज कराई ।
               प्रकरण की विवेचना दौरान घटना स्थल के आस-पास के सीसीटीव्ही फुटेज देखे गये, दो लड़केप्लाट तरफ जाते दिखे एवं वापिस आते समय जिसके हाथ में थैला था ।दोनों लड़कों में से एक की पहचान मुकेश दक्ष द्वारा अपने मिनिरल वाटर प्लांट पर काम करने वाले जरुयाखेड़ा निवासी  अनिकेत रेकवार के रूप में की गई। आरोपी अनिकेत रैकवार के मोबाइल फोन की टावर लोकेशन बिलासपुरजाने वाले ट्रेन रूट पर होना पाई गई।
               इस संबंध में पुलिस अधीक्षक सागर  अमित सांधी जी को अवगत कराया गया ।जिनकेद्वारा अति पुलिस अधीक्षक सागरराजेश व्यास के मार्गदर्शन एवं नगर पलिस अधीक्षक मकरोनिया श्रीमतिअमृता दिवाकर के निर्देशन में एक पुलिस टीम गठित कर तत्काल बिलासपुर रवाना की गई ।जो बिलासपुर पहंचते ही आरोपी अनिकेत रैकवार को मय मसरूका के गिरफ्तार किया गया। जिसने अपने साथी जीवनरैकवार के साथ मिलकर चोरी करना स्वीकार किया। आरोपी अनिकेत से चोरी किया गये रुपये जिसमें 84500रूपये के नगद नोट एवं 9860रू के सिक्के कुल नगदी 94360रू. एवं चोरी के रूपयों से खरीदावीवो कंपनी का 13,990 रुपये  का मोबाइल जब्त किया गया। दूसरे आरोपी जीवन रैकवार नि. भापेल थाना मोतीनगर को भी गिरफ्तार किया गया है ।जिससे बरामदगी की जाना है।
         इस प्रकरण का खुलासा एवं बरामदगी में निरीक्षक उपमा सिंह थाना प्रभारी मकरोनिया,
पी.एस.आई. प्रशांत गुंजाल, सउनि डी.एस.मरावी,आरक्षक सुशील सिंह , लवकुश सुनील चौबे एवं साईबर सेल , सौरभ रैकवार की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

पद्मभूषण स्वामी श्री निरंजनानंद जी सरस्वती 22 से 25 सितम्बर तक सागर में

पद्मभूषण स्वामी श्री निरंजनानंद जी सरस्वती 22 से 25 सितम्बर तक सागर में
सागर । पद्मभूषण और बिहार योग विवि मुंगेर के परमहंस स्वामी श्री निरंजनानंद जी सरस्वती 22 सितम्बर से 25 सितम्बर तक सागर प्रवास पर होंगे। योग के प्रचारप्रसार हेतु समर्पित योग विधालय  मुंगेर को पिछले  दिनों  भारत सरकार ने पांचवे अंतरराष्ट्रीय योग पुरस्कार से सम्मानित किया है। योग निकेतन योग प्रशिक्षण संस्थान सागर में कार्यक्रम होंगे। इसके साथ ही शहर में संस्थानों में कार्यक्रम आयोजित किये गए है ।
 संचालक योगाचार्य विष्णु आर्य ने बताया कि स्वामी श्री सत्यानन्द सरस्वती के परम शिष्य स्वामी निरंजनानंद  बिहार के मुंगेर में योग के क्षेत्र में चल रहे विभिन्न प्रकल्पों का संचालन कर रहे है ।इसी के तहत 22 से 25सितंबर तक  मध्यप्रदेश के प्रवास पर सागर में भी मार्गदर्शन देंगे।उनके कार्यक्रम सागर में विभिन्न स्थानों पर होंगे।
22 सितम्बर को शाम चार बजे कार्यक्रम का शुभारंभ होगा और योग निकेतन योग प्रशिक्षण संस्थान सागर में हुएनिर्माण कार्यो का लोकार्पण विधायक शेलेन्द्र जैन करेंगे ।
 चार दिवसीय इस  कार्यक्रम में  प्रहलाद  पटैल,केन्द्रीय राज्य मंत्री, पर्यटन एवं सांस्कृतिक विभाग,नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, ,गोविन्द सिंह राजपूतपरिवहन एवं राजस्व  ,हर्ष यादव
कुटीर एवं नवकरणीय उर्जा मंत्री,पूर्वगृहमन्त्रीभूपेन्द्र सिंह
सांसदराजबहादुर सिंह,विधायक  शैलेन्द्र जैन,महापौरअभय दरे सर हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो आर पी तिवारी और डॉ. अजय तिवारी कुलाधिपति स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय, सागरअथिति रहेंगे।
कार्यक्रम के संरक्षकडॉ. मीना पिंपलापुरे,डॉ. महेन्द्र प्रताप तिवारी,घनश्याम भिडे ,स्वागत अध्यक्ष डॉ अनिल तिवारी,सेठ नरेश चंद जैन,देवी प्रसाद दुबे और स्वागत मन्त्री कपिल मलैया,सुरेन्द्र सुहाने और अनिल जैन नैनधरा बनाये गए है। सभी ने कार्यक्रम में अधिक से अधिक लोगो से शामिल होने की अपील की है ।
 

शुक्रवार, 20 सितंबर 2019

Transfer : 32 नायब तहसीलदारों के हुए तबादले

32 नायब तहसीलदारों के ट्रांसफर

Transfer & Correction :एमपी में नगरीय प्रशासन विभाग में जारी हुए स्थानांतरण एवम संसोधन के आदेश ।

एमपी में नगरीय प्रशासन विभाग में हुए सौ से ज्यादा  के स्थानांतरण एवम संसोधन के आदेश

किसानों के 50 हजार के बाद अब 2 लाख तक के चालू खाते के ऋण माफ होंगे:मुख्यमंत्री कमल नाथ

किसानों के 50 हजार के बाद अब 2 लाख तक के चालू खाते के ऋण माफ होंगे:मुख्यमंत्री  कमल नाथ 
भोपाल। मुख्यमंत्री व मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है कि देश आज भयानक मंदी के दौर से गुजर रहा है और हमारे देश में होने वाले सभी निवेश बंद हो गये हैं। जीडीपी सबसे निचले स्तर पर है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सब केन्द्र की मोदी सरकार की अनुभवहीनता और गलत आर्थिक नीतियों का परिणाम है। 
श्री नाथ आज मानस भवन में आर्थिक मंदी पर कांग्रेस के सभी जिला अध्यक्ष और पीसीसी डेलीगेट के साथ चर्चा-चिंतन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने नौ माह में हर मोर्चे पर गंभीर चुनौती और खाली खजाने के बीच परिणाम देने वाले काम किए हैं। आप सभी लोग पार्टी की ओर से मैदान में काम करने वाले लोग हैं आप छाती ठोक कर कहें की हमारी सरकार ने जो काम नौ माह में किया वह काम पंद्रह साल की भाजपा सरकार ने नहीं किया। उन्होंने कहा कि हमारी ऐतिहासिक ऋण माफी योजना में अब हम 50 हजार के बाद चालू खाते के 2 लाख तक के ऋण माफ करने जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री श्री नाथ ने नौ माह की सरकार के कामकाज का ब्यौरा देते हुए कहा कि हम सब लोगों के लिए अग्निपरीक्षा का दौर था। आपकी मेहनत पंद्रह साल के संघर्ष का ही नतीजा था कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी। उन्होंने कहा कि भले ही संवैधानिक प्रक्रिया के तहत विधायकों ने मुझे मुख्यमंत्री बनाया लेकिन मेरा यह मानना है कि मुझे मुख्यमंत्री आप लोगों ने बनाया क्योकि जो विधायक जीत कर आया वह आपकी वजह से विजय हुआ है। उन्होने कहा कि 25 सितम्बर को कांग्रेस की सरकार के नौ माह पूरे होंगे। इस दौरान लगभग ढाई माह लोकसभा चुनाव में गुजर गए। हमें सिर्फ छह माह काम करने का मौका मिला। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन छह माह में किसानों की कर्ज माफी, कन्यादान विवाह और निकाह योजना की राशि को दोगुना करना, पेंशन दोगुनी करना, बिजली देने, मक्का और गेहूँ उत्पादन पर बोनस जैंसे महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक फैसले सरकार ने लिए हैं, यह सब उन चुनौतियों के बीच में किया गया, जब हमें विरासत में खाली तिजोरी मिली थी। 
जब हमने फसल ऋण वाले दो लाख रुपये तक की किसानों की कर्जमाफी की प्रक्रिया शुरु की तो कई चुनौतियाँ हमारे सामने आयीं, 50 लाख किसानों के खातों की जांच की गई तो पता चला की 38 लाख किसान ही सामने आए। इन 38 लाख किसानों में से कई किसानों के चार-चार खाते हैं कई किसानों ने फसल ऋण के अलावा अन्य ऋण ले रखे थे। वे कर्जमाफी की हमारी घोषणा के पात्रता में नहीं आ रहे थे। कई किसानों के पास आधारकार्ड नहीं था और अन्य तकनीकी कारणों से वे ऋणमाफी प्रक्रिया में शामिल नहीं हो पाये थे। इन सारी चुनौतियों का सामना करते हुए हमने 20 लाख किसानों का कर्ज माफ किया। यह कोई छोटा काम नहीं था। एक बड़ी चुनौती का काम था और मध्यप्रदेश के इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में किसानों की कर्जमाफी हो रही थी। उन्होंने कहा कि इस पूरी प्रक्रिया के दौरान हर दिन किसानों की कर्जमाफी की प्रक्रिया की वे माॅनिटरिंग करते थे। यह काम सिर्फ तंत्र के भरोसे नहीं छोड़ा था। यही कारण है कि इतने कम समय में इतनी बड़ी संख्या में किसानों के कर्जमाफ हो सके। मुख्यमंत्री ने बताया कि उत्तरप्रदेश और महाराष्ट्र की भाजपा सरकारों ने भी कर्जमाफी की घोषणा की थी लेकिन उत्तरप्रदेश में आज तक यह प्रक्रिया चल रही है और महाराष्ट्र में चुनाव नजदीक आ गये है अभी तक किसानों के कर्जमाफ नहीं हुए। उन्होंने कहा कि आप सभी को यह तथ्य मालूम होना चाहिए ताकि आप, लोगों को असलियत बता सकें।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज हमारा प्रदेश बाढ़ की विभीषिका से जूझ रहा है विंध्य क्षेत्र को छोड़ दिया जाए तो प्रदेश के सभी जिलों में 25 प्रतिशत से अधिक बारिश हुई है। भिंड, मुरैना, मंदसौर, नीमच में भारी नुकसान हुआ है। हमें आने वाले दिनों में 8 हजार करोड़ से अधिक की राशि की आवश्यकता होगी। इस चुनौती का भी हम सामना करेंगे।
मुख्यमंत्री ने बाढ़ पर राजनीति करने पर भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अगर उन्हें पीड़ितों से सच्ची हमदर्दी है तो वे दिल्ली जाएं और अपनी सरकार से सहायता दिलाएं ताकि बाढ़ पीड़ितों को तत्काल राहत दी जा सके। भाजपा की इसमें कोई रुचि नहीं है यह सिर्फ प्रचार-प्रसार की राजनीति करती है और पंद्रह साल इन्होंने यही किया और आज भी इससे उबर नहीं पा रहे है। राहत में हाथ बटाने की बजाय भाजपा बाढ़ पर भी राजनीति कर रही है।
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय महासचिव और मध्यप्रदेश के प्रभारी  दीपक बावरिया ने अपने उद्बोधन में बताया कि कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने तय किया है पूरे देश में आर्थिक मंदी के कारण बेरोजगारी बढ़ रही है, हर क्षेत्र में गिरावट आ रही है, इसके खिलाफ सभी कांग्रेसजनों को अपने-अपने क्षेत्रों में आवाज उठानी है। पार्टी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के 150 वीं जयंती पूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी जी के 75 वीं जयंती को भी मनाने का निर्णय लिया और उनके व्यक्तित्व और कृतित्व को जन-जन तक पहुंचाने का अभियान चलाना तय किया है। 
इस अवसर पर कांगे्रस नेतागण सर्वश्री सुरेश पचैरी, कांतिलाल भूरिया, अजयसिंह, राजमणि पटेल, रामनिवास रावत, रामेश्वर नीखरा, संजय कपूर, सुधांशु त्रिपाठी, राजेन्द्र सिंह, मीनाक्षी नटराजन, सुरेन्द्र चैधरी, नरेन्द्र सलूजा, शोभा ओझा, मांडवी चैहान आदि उपस्थित थे। प्रदेश कांगे्रस के संगठन प्रभारी उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर और महामंत्री राजीव सिंह ने कार्यक्रम का संचालन किया।कार्यक्रम में बड़ी संख्या में मंत्रीगण, कांगे्रस विधायक, प्रदेश कांगे्रस के प्रतिनिधिगण, पूर्व सांसद, पूर्व विधायक, प्रत्याशी 2018, और अन्य जनप्रतिधि शामिल हुये।

सागर जिले की प्राथमिक सहकारी संस्थाओं को कारण बताओ नोटिस



सागर ।सागर जिले की प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्थाओं द्वारा वर्ष 2017-18 के अंकेक्षण हेतु वित्तीय पत्रक प्रस्तुत नहीं किए जाने से ऑडिट कार्य प्रभावित हो रहा है। जिस कारण उप आयुक्त सहकारिता श्री षिवप्रकाष कौषिक द्वारा जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा केसली के अंतर्गत आने वाली प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति मर्यादित केसली, थावरी, मोहली, टढ़ाखास, बम्होरी, देवरीखुर्द एवं पलोह को, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा देवरी अंतर्गत आने वाली प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति मर्यादित रीछई, डोभी, जैतपुर पिपरिया, ज्वापकलमेटा को, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा गौरझामर अंतर्गत आने वाली प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति मर्यादित नाहरमउ, नयानगर को, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा मालथौन अंतर्गत आने वाली प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति मर्यादित रजवांस, सेमरालोधी, बीकोरकला, मालथौन, रोंडा, हिरनछिपा, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा खिमलासा अंतर्गत आने वाली प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति मर्यादित मुंगवाली, बमनौरा, बसारी, पथरिया जगन एवं जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा बांदरी अंतर्गत आने वाली प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति मर्यादित पिठोरिया, पिड़रूआ को मध्यप्रदेष सहकारी सोसायटी अधिनियम 1960 की धारा 56 (3) के अंतर्गत कारण बताओ नोटिस जारी किए गए है। जिसमें वैधानिक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी

अतिवर्षा से फसल खराब।भाजपा का प्रदर्शन। नेता प्रतिपक्ष,पूर्व गृहमन्त्री और विधायक ने दिए धरना,सागर में बेरिकेट्स पटके

अतिवर्षा से फसल खराब।भाजपा का प्रदर्शन। नेता प्रतिपक्ष,पूर्व गृहमन्त्री और विधायक ने दिए धरना,सागर में बेरिकेट्स पटके

सागर। अतिवर्षा से खराब हुई फसलों का सर्वे कराकर किसानों को शीघ्र राहत राशि दिलाने की मांग को लेकर प्रांतीय आव्हान पर भाजपा ने विधानसभा स्तर पर धरना प्रदर्शन किए और जमकर नारेबाजी की । सागर में sdm कार्यालय में बेरिकेट्स पटकते हुए कार्यकर्ता घुसगये । प्रदर्शन करने फसलों को लेकर किसान पहुचे थे । नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने रहली ,पूर्व गृहमन्त्री भूपेंद्र सिंह ने खुरई सांसद राजबहादुर सिंह,विधायक शेलेन्द्र जैन,विधायक प्रदीप लारिया ने सागर और पूर्व  विधायक हरवंश सिंह राठौर के नेतृत्व में प्रदर्शन हुआ।

हे! कमलनाथ रहली क्षेत्र से मुआबजा वितरण शुरू करों,वरर्ना तुमारी सरकार का भी तर्पण कर देगें- गोपाल भार्गव
 रहली में आयोजित धरना पर गोपाल भार्गव ने कहा कि  नईया जब डगमग पईयो गोपाल संभाले रहियो ये केवल एक गाना नही था ये कवि के मन की अभिव्यक्ति थी मन का भाव था मुझे लग रहा है आज पूरे मध्यप्रदेश की नईया डगमग है और इसीलिए आज लंबे समय के बाद मुझे मंच पर आना पडा है।आज राजनिति की बात ही है आज कोई चुनाव नही होना,हर चीज वोट के लिए नही होती हर संघर्ष वोट के लिए नही होता हर संघर्ष चुनाव के लिए नही होता जब जब समय पर विपत्ती होती है तब तब हम जैसे लोगो को सडको पर उतना पडता है, ये हमारी जिम्मेदारी है जब जब समस्या आएगी तब तब गोपाल भार्गव आपके साथ खडा रहेगा। आज धूप भी खिली हुई है जिसके साथ भगवान होता है उसके सामने सरकार को भी झुकना ही पडता है।हमने विपक्ष में राजनिति की है और अभी फिर कर रहे है और अपने अधिकार के लिए कई बार सडको पर उतरे है आज एक बार फिर वही दौर है जब अपने अधिकार के लिए सरकारों को झुकाना पडेगा,चाहे कमलनाथ की सरकार हो या दिग्विजय सिंह की सरकार हो गोपाल भार्गव ने हमेशा जनता की लडाई लडी है।
सरकार ने न तो किसानों को राहत दी ,न ही फसलों का सर्वे कराया :पूर्व गृहमन्त्री भूपेंद्र सिंह
खुरई में  पूर्व गृह मंत्री एवं खुरई विधायक भूपेन्द्र सिंह के नेतृत्व में  मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन के साथ खराब फसलों का गट्ठा भी तहसीलदार को सौंपा।
          इस मौके पर  पूर्व गृहमंत्री सिंह  ने कहा कि अतिवर्षा के कारण फसलों को भारी क्षति पहुॅची है। अनेक लोगों के मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं। अभी तक सरकार के द्वारा न तो किसानों को राहत दी गई है और न ही फसलों का सर्वे कराया है। जिनके मकान गिर गये है, उन पीड़ित परिवारों को सरकार के द्वारा राहत राशि नहीं दी जा रही। उन्होंने कहा कि जो फसलें खराब हुई हैं, उसे लाकर खुरई एसडीएम कार्यालय में तहसीलदार को सौंपी है। जिससे सरकार यह देख सके कि फसलें किस कदर पूरी तरह चौपट हो गई हैं। उड़दा पहले ही खराब हो गये थे, सोयाबीन भी खराब हो गया है, अब किसान के गुजारे के लिए कुछ बचा नहीं और राज्य सरकार कोई मदद कर नहीं रहीं।
सागर मेंsdm कार्यालय का किया घेराव ,पुलिस और कार्यकर्ताओं में झड़प
किसानों की समस्याओं को लेकर भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप लारिया के नेतृत्व में नरयावली क्षेत्र के किसानों ने पीली कोठी के पास धरना दिया । इसके बाद सभी  बाद sdm को ज्ञापन देने पहुचे तो वहां भारी पुलिस बल तैनात था । बेरिकेट्स लगाए गए थे । आक्रोशित किसानों और भाजपाईयो ने बेरिकेट्स को तोड़ते और गिराते हुए कार्यालय पहुच गए । इस दौरान जमकर नारेबाजी आंदोलनकारियों ने की ।
विधायक प्रदीप लारिया ने कहा कि क्षेत्र में सोयाबीन की फसल खराब हो चुकी है ।किसान परेशान है । हमारी मांग है कि सर्वे कराकर भरपूर मुआवजा किसानों को दिया जाए ।आंदोलन में किसान सड़को पर उतरा है । 
              धरना प्रदर्शन के दौरान सागर सांसद .राजबहादुर सिंह सागर.विधायक .शैलेन्द्र जैन  जिलापंचायत उपाध्यक्ष श्रीमती तृप्ति सिंह लक्ष्मण सिंह भाजपा मंडल अध्यक्ष चैनसिंह तुलसीराम पांडे रत्नेश सिंह विक्रम सोनी राजेश सिंह राजपूत श्याम तिवारी सौरभ केशरवानी प्रदीप राजौरिया बलवंत सिंह ठाकुर विवेक सक्सेना नरू ठाकुर हीरालाल खटीक रामप्रसाद विश्वकर्मा किसान मोर्चा अध्यक्ष विजय पटेल ,जगन्नाथ गुरैयाअर्पित पांडे गंगाराम ठेकेदार मिश्रीचंद्र गुप्ता पंकज मुखारया संजय केशरवानी वरिष्ठ किसान अशोक सिंह ढाना रूपसिंह दादा चंद्रभान यादव धनीराम राय राजकुमार सिह दादा कल्याण सिंह पापा राजेन्द्र यादव नंदराम डाबरी धनीराम पटेल बल्देव सिंह लुहारी शरदा दाऊ जसराज सहित बडी संख्या में क्षेत्र भर के किसान भाई सरपंच गंण पार्षद गंण भाजपा कार्यकर्ता शामिल रहे।
बंडा एसडीएम के मुर्दाबाद के नारो से गूंजी पूरी तहसीली
बण्डा में किसानों की समस्याओं को लेकर पूर्व विधायक हरवंश सिंह राठौर के नेतृत्व में के कमलनाथ सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई । पूर्व विधायक राठौर ने कहा कि फसल बर्बाद होने से किसानों की स्थिति खराब होने लगी है ।क्षेत्र में सोयाबीन खराब होने की स्थिति में  है। अन्य फसल बर्बाद हो चुकी है । सरकार को सर्वे कराकर मुआवजा जल्दी  देना चाहिए।
          भाजपा कार्यकर्ताओं ने पूर्व विधायक हरवंशसिंह राठौर के नेतृत्व में किसानों की 21 सूत्रीय मांगों को लेकर महामहिम राज्यपाल के नाम नायब तहसीलदार को हरी फसल लेकर ज्ञापन सौपा। इस मौके पर पूर्व जिला अध्यक्ष जाहर सिंह,वैभव कुकरेले सहित सेकड़ो कार्यकर्ता मौजूद थे।

पितृपक्ष ।कविता



पितृपक्ष ।कविता

पितृ मोक्ष के लिए 
पुरखों  को पानी देना
अपनी जड़ों को सींचना है 
तभी तो 
वंश वृक्ष फलीभूत होता है 
जल का अर्घ्य देने से 
जीवंत रहता जीवन 
हमारी पारंपरिक  सभ्यता 
और संस्कृति की जड़ें भी 
इसलिए गहरी है 
पीढियों की अनवरत बेल
हरी भरी रहेगी तो 
वंशवृक्ष की छाया 
घनीभूत  होगी 
पूर्वज थे इसलिए हम हैं 
स्मृतियों को  बनाए रखना 
हमारे  मनुष्य होने का संकेत है 
श्राद्ध पक्ष में श्रद्धा  से  सभी पुरखों को नमन

(डॉ महेश तिवारी,वरिष्ठ साहित्यकार )

गुरुवार, 19 सितंबर 2019

महात्मा गांधी के 150 एवं राजीव गांधी के 75 वें जन्मदिवस पर होंगे विभिन्न कार्यक्रम



सागर I महात्मा गांधी की जन्म के 150 वर्ष और राजीव गांधी के जन्म के 75 वर्ष के अवसर  पर पीआरएस वेलफेयर सोसाइटी के तत्वावधान में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन  होना तय है । इसी संदर्भ में एक महत्वपूर्ण बैठक सिविल लाइंस आयोजित हुई ।  सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि दिनांक 1 अक्टूबर 19 को रविन्द्र भवन सागर  के सभागार में " गांधी- एक विचारधारा का वैज्ञानिक चिंतन " विषय पर व्याख्यान  होगा जिसमें मुख्य वक्ता श्री भूपेंन्द्र गुप्ता (अध्यक्ष विचार विभाग ) भोपाल  होंगे । तत्पश्चात गांधी पर आधारित प्रश्नोत्तरी आयोजित की जायेगी साथ ही कवि  सम्मेलन एवं लघु फिल्म SORRY BAPU का प्रदर्शन किया जावेगा । कार्यक्रमों की  श्रंखला मे नगर मे स्वच्छता कार्य हेतु लगे हुये कर्मियों का सम्मान इसके बाद  गांधी के रचनात्मक कार्यों की चर्चा अंबेडकर वार्ड में आयोजित की जावेगी ।
इस महत्वपूर्ण बैठक में श्री आशीष ज्योतिषी ,निखिल चौकसे,राहुल चौबे ,नरेंद्र  मिश्रा,राघवेंद्र खरे,पवन केशरवानी,लक्ष्मीकांत गोस्वामी,मुकेश मिश्रा,विपिन  पटेल,राहुल पाठक,अमित आठया,मनोज पवार,लकी दुबे ,अमन जैन उपस्थित रहे ।उक्ताशय की जानकारी संस्थाध्यक्ष प्रदीप पाण्डेय ने दी ।

राज्य स्तरीय अधिमान्यता और पत्रकार संचार कल्याण समिति गठित


नौ संभाग स्तरीय समिति भी गठित
भोपाल । राज्य शासन ने पत्रकारों को अधिमान्यता तथा आर्थिक सहायता देने के लिये राज्य स्तरीय अधिमान्यता और मध्यप्रदेश पत्रकार संचार कल्याण समिति का गठन किया है। राज्य स्तरीय अधिमान्यता समिति में 29 एवं पत्रकार संचार कल्याण समिति 30 सदस्यों का मनोनयन किया गया है। दोनों समितियों में आयुक्त जनसम्पर्क या उनके द्वारा मनोनीत अधिकारी सदस्य सचिव होंगे। शासन ने पत्रकारों की कठिनाइयों के अध्ययन और निराकरण के लिये सुझाव देने तथा पत्रकारिता प्रोत्साहन एवं नवाचार के लिये भी राज्य स्तरीय समितियों का गठन किया है। जिलों में पत्रकारों को अधिमान्यता देने के लिये 9 संभाग में संभाग स्तरीय अधिमान्यता समितियों का भी गठन किया गया है। 
राज्य स्तरीय अधिमान्यता समिति
राज्य स्तरीय अधिमान्यता समिति में पत्रकार  अरूण पटेल अमृत संदेश, शिव अनुराग पटैरिया लोकमत समाचार, मनोहर लिंबोदिया फ्री प्रेस, सुश्री सुचांदना गुप्ता टाइम्स ऑफ इंडिया, ऋषि पाण्डे नवदुनिया, राजीव अग्निहोत्री पीपुल्स समाचार, दिनेश निगम त्यागी हरिभूमि, हरीश दिवेकर पत्रिका, संजय दुबे दैनिक भास्कर, रविन्द्र जैन अग्निबाण, सुदेश तिवारी आचारण, कीर्ति राणा प्रजातंत्र, नीरज श्रीवास्तव दैनिक भास्कर (डिजीटल), अनुराग अमिताभ इंडिया टीवी, जाकिर खान देशबंधु, सुनील शर्मा प्रदेश टुडे, संजय शर्मा दैनिक भास्कर (जबलपुर), गुरेन्द्र अग्निहोत्री दैनिक जागरण, अरविंद तिवारी अध्यक्ष प्रेस क्लब इंदौर, संदीप सिंह एएनआई, तपेन्द्र सौगंधी प्रभात किरण, संदीप भम्मरकर जी-न्यूज, वत्सल श्रीवास्तव आईबीसी 24, अनुराग श्रीवास्तव न्यूज-18, कौशल किशोर चतुर्वेदी स्वराज एक्सप्रेस नेशनल, सरमन नगेले स्वतंत्र पत्रकार, विपिन श्रीवास्तव आर-9 टीवी, कपिल तिवारी ईटीवी भारत, अनिल सिरवैया सच एक्सप्रेस और को शामिल किया गया है।  
पत्रकार संचार कल्याण समिति

मध्यप्रदेश पत्रकार संचार कल्याण समिति में पत्रकार सर्वश्री गणेश साकल्ले डीबी स्टार, सुश्री श्रावणी सरकार द वीक, अनिल श्रीवास्तव भास्कर जबलपुर, गणेश पांडे स्वतंत्र पत्रकार, देवेश कल्याणी प्रदेश टुडे,  महेश दीक्षित 6 पीएम, हरीश फतेहचंदानी हेथवे बीटीवी, नवीन पुरोहित आईएनडी 24, प्रदीप जायसवाल जयहिन्द न्यूज, गौरव शर्मा न्यूज 24, देवदत्त दुबे नया इंडिया, रविन्द्र कैलासिया नवदुनिया, नवनीत शुक्ला दैनिक दोपहर, राजेश ज्वेल अग्निबाण, राजेश राठौर प्रभात किरण, सहरोज अफरीदी स्वतंत्र पत्रकार, ललित उपमन्यु दबंग दुनिया, दीपेश अवस्थी पत्रिका, सुधीर निगम दैनिक भास्कर, प्रवीण शर्मा सच एक्सप्रेस, आशीष दुबे दोपहर मेट्रो, विजय शुक्ल विजय मत, राजेश ठाकुर फ्री प्रेस, अनुराग मालवीय बंसल न्यूज, राजेन्द्र आगल स्वतंत्र पत्रकार, हरप्रीत कौर रीन सहारा समय, सुधीर दण्डोतिया आईबीसी 24, अजय शर्मा जी न्यूज, सौरभ जैन (अंकित) ईएमएस और कुलभूषण सक्सेना इंडिया न्यूज को सदस्य मनोनीत किया गया है। 
पत्रकारों की कठिनाइयों के अध्ययन और निराकरण के लिये समिति
समिति में वरिष्ठ पत्रकार सर्वश्री श्रवण गर्ग स्वतंत्र पत्रकार, विजय तिवारी स्वतंत्र पत्रकार, उमेश त्रिवेदी सुबह सबेरे, अवनीश जैन दैनिक भास्कर, अरूण दीक्षित नवभारत टाईम्स, सोमदत्त शास्त्री स्वतंत्र पत्रकार, ललित शास्त्री स्वतंत्र पत्रकार, विजय दास राष्ट्रीय हिन्दी मेल, जिनेश जैन पत्रिका, सुश्री रूचि विजयवर्गीय पीपुल्स समाचार, आशीष  व्यास नवदुनिया, मृगेन्द्र सिंह दैनिक जागरण, ह्रदयेश  दीक्षित प्रदेश टुडे, प्रमोद भारद्वाज हरिभूमि, प्रवीण दुबे न्यूज-18, शरद द्विवेदी बंसल न्यूज, शिरीष चन्द्र मिश्रा आईबीसी-24, मनीष श्रीवास्तव पीटीआई, प्रशांत जैन यूएनआई, भरत पटेल सांध्य प्रकाश, जगदीश सिहं बैस नया इंडिया, मनोज शर्मा न्यूज-18, बृजेश राजपूत एबीपी न्यूज, अनुराग द्वारी एनडी टी.वी., एस.पी.त्रिपाठी स्वराज एक्सप्रेस, पलाश सुरजन देशबन्धु, सनत जैन ईएमएस, हेमन्त शर्मा प्रजातंत्र, मिलिंद घटवई इंडियन एक्सप्रेस, दिनेश गुप्ता पॉवर गैलरी, गिरीश उपाध्याय सुबह सबेरे, बाबू विश्वमोहन स्वतंत्र पत्रकार, सुनील जैन दैनिक आचरण, राजेश चेलावत अग्निबाण, राजेन्द्र शर्मा टाईम्स ऑफ इंडिया, रिजवान अहमद सिद्दीकी डिजियाना न्यूज, राहुल नरोन्हा इंडिया टुडे, नितेन्द्र शर्मा फ्री प्रेस, श्रीमती दीप्ति चौरासिया न्यूज नेशन, प्रभात सोजतिया प्रभात किरण, शैलेन्द्र तिवारी पत्रिका टीवी और गोपाल जोशी स्वतंत्र पत्रकार को शामिल किया गया है।
पत्रकारिता प्रोत्साहन एवं नवाचार समिति
पत्रकारों को पत्रकारिता में प्रोत्साहन एवं नवाचार के लिये गठित समिति
में सर्वश्री मलय श्रीवास्त्व भास्कर न्यूज चैनल, पंकज पाठक स्वतंत्र पत्रकार, दिनेश जोशी स्वतंत्र पत्रकार, वीरेन्द्र शर्मा सहारा समय, सुश्री जयश्री पिंगले न्यूज 18, आशुतोष शुक्ला टाईम्स ऑफ इंडिया, सुदेश तिवारी डिजियाना, राकेश दीक्षित स्वतंत्र पत्रकार, मनोज सैनी डिजियाना न्यूज, राकेश पाठक स्वतंत्र पत्रकार, कन्हैया लोधी राज एक्सप्रेस, राजेश भाटिया स्वतंत्र पत्रकार, संजय रायजादा स्वतंत्र पत्रकार, गिरिश शर्मा पायोनियर, राजन रायकवार हितवाद, निर्मल सिंह बैस स्वराज एक्सप्रेस, वैभव श्रीधर नवदुनिया, सुनील श्रीवास्तव आईएनडी 24, अरूण तिवारी पत्रिका, विनोद खुजनेरी मालव समाचार, केके सक्सेना क्षितिज किरण, खिलावन चंद्राकर नवभारत, मुनव्वर कौसर दैनिक कौसर, आलोक पण्डया पत्रिका, जितेन्द्र चौरसिया पत्रिका, साजिद खान स्वतंत्र पत्रकार, राजीव सोनी नवदुनिया, गुरशरण सिंह सिटी टुडे ग्वालियर, सतीश एलिया हरिभूमि, अनिल दुबे पीटीआई, देशदीप सक्सेना टाईम्स ऑफ इंडिया, नासिर हुसैन आचरण, संजीव श्रीवास्तव डिजियाना न्यूज, जितेन्द्र व्यास नईदुनिया, हरिनारायण शर्मा दैनिक भास्कर, अभिषेक चेंडके नई दुनिया, नितेश पाल पत्रिका, आनंद शुक्ला दैनिक भास्कर, रामेश्वर धाकड़ अग्निबाण, सचिन नाथ स्वतंत्र पत्रकार, मनीष जैन आईएनएच, महेन्द्र सोनगरा एमपी न्यूज, शरद व्यास बंसल न्यूज, हरिनारायण नवजीवन, संजय सोनी समय जगत, प्रतीक श्रीवास्तव डिजियाना न्यूज, जय श्रीवास्तव भास्कर न्यूज, प्रभु मिश्रा प्रदेश टुडे, मुक्तेश रावत दैनिक जागरण, डॉ. सत्यप्रकाश शर्मा द स्टेटसमेन ग्वालियर, आशीष चौहान दैनिक भास्कर, आशुतोष पुरोहित न्यूज 18, दिनेश शुक्ल एमपी हेडलाईन डॉट कॉम, मुश्ताक हुसैन स्वतंत्र पत्रकार, अनुराग शर्मा दैनिक भास्कर, सुश्री पुष्पा शर्मा सच की परछाई धार, नवीन सिंह आईबीसी 24, शशांक त्रिवेदी स्वतंत्र पत्रकार, राम पंवार ईएमएस, अमित मंडलोई पत्रिका, ब्रजेश पाण्डे स्वतंत्र पत्रकार, दिनेश साहू रोजगार के पल, सुश्री रोमा अग्रवाल दैनिक माय टवीट, राजेश माली दैनिक भास्कर, मजहर जाफरी एएनआई, आलोक शर्मा नई दुनिया, विश्वतारा दुसारे दैनिक भास्कर, हैदर मुर्तुजा स्वतंत्र पत्रकार, नवीन जोशी प्रभात किरण, मनोज चौरसिया पीपुल्स समाचार, पवन वर्मा प्रदेश टुडे और संदीप पौराणिक आईएनएस को सदस्य बनाया गया है। 
संभागीय अधिमान्यता समिति
सागर संभाग - सर्वश्री पृथ्वी सिंह दैनिक भास्कर, सिद्धगोपाल तिवारी सागर सरोज, शशिकांत ढिमोले पत्रिका, मनीष मिश्रा दैनिक भास्कर, धीरज चतुर्वेदी जनसत्ता छतरपुर, विनोद आर्य एबीपी न्यूज, योगेश दत्त तिवारी देशबंधु, राजीव रंजन श्रीवास्तव भास्कर टीकमगढ़, बसंत सेन नवदुनिया और नरेन्द्र बजाज हरिभूमि दमोह। 
उज्जैन संभाग - सर्वश्री क्रांतिकुमार वैद्य एवं नरेश सोनी स्वतंत्र पत्रकार, अनिल सिकरवार दैनिक जागरण देवास, नरेन्द्र जोशी पत्रकार रतलाम, गोपाल वाजपेई पत्रिका, सूरज मिश्रा नवदुनिया, सौरभ सचान देवास लाइव, उमेश जोशी मालवा टुडे नीमच और नासिर बेलिम आईबीसी 24 शामिल हैं। 
भोपाल संभाग - सर्वश्री प्रभात किरण जोशी विदिशा, अनिल गुप्ता दैनिक भास्कर, रघुवर दयाल गोहिया सीहोर, आशीष पाराशर राज एक्सप्रेस, राकेश चतुर्वेदी आईबीसी 24, राजकुमार पाठक दैनिक भास्कर रायसेन, सुश्री भावना शुक्ला पीपुल्स समाचार और विनीत पाठक एफएम न्यूज। 
जबलपुर संभाग - सर्वश्री आशीष शुक्ला यशभारत, विजेन्द्र पाण्डे आईबीसी 24, देवशंकर अवस्थी नईदुनिया, मनीष गुप्ता दैनिक भास्कर, आर.एस. वर्मा देशबंधु छिंदवाड़ा, नरेन्द्र जैसवाल राज एक्सप्रेस, धीरज शाह आज तक, हिमाचल झारिया जबलपुर एक्सप्रेस, रहीम खान बालाघाट और जहीर अंसारी ईएमएस। 
इंदौर संभाग - सर्वश्री प्रदीप जोशी गुड ईवनिंग, संजय त्रिपाठी प्रजातंत्र, सूरज उपाध्याय प्रभात किरण, संजय राठी ईएमएस, संजय बैरागी पत्रिका झाबुआ, मो. अतीक पटेल एएनआई, संजय गुप्ता दैनिक भास्कर और नाज पटेल इंडिया टीवी। 
ग्वालियर संभाग - सर्वश्री नासिर गौरी आईबीसी 24, राजेश शर्मा ईएमएस, रवीन्द्र झारखरिया भास्कर, महेश झा न्यूज मेल, नीरज शुक्ला अशोक नगर, प्रमोद भार्गव शिवपुरी, रवि ठाकुर दतिया, एच. कुरैशी आचरण ग्वालियर, अशोक शर्मा ईटीवी और राजेन्द्र तेलगाँवकर पत्रिका।
रीवा संभाग - सर्वश्री अनिल त्रिपाठी विंध्य भारत, विजय विश्वकर्मा आज तक, नियाज जी देशबंधु, मुकुंद प्रसाद मिश्रा बांधवीय वार्ता, उमेश कुमार दीक्षित कीर्ति क्रांति, रामलखन गुप्ता स्वतंत्र पत्रकार, पदमधर पति त्रिपाठी दैनिक समय, मृदुल पांडे आईबीसी 24, डल्लू सोनी फतवा समाचार अनूपपुर और चंद्रशेखर अग्रवाल दैनिक भारती शहडोल। 
नर्मदापुरम संभाग - सर्वश्री अभिषेक गौर आईबीसी 24, बृजेश चौकसे पत्रिका, नवीन उपाध्याय यूएनआई हरदा, सुरेन्द्र सिंह फ्री प्रेस, संजीव डे राय सुबह सवेरे, जम्मू सिंह उप्पल नगर कथा, अनिल सिंह ठाकुर लोकमत समाचार बैतूल, आशीष दीक्षित नवदुनिया, अनिल मिहानी दैनिक जागरण और कृष्णा राजपूत पत्रिका इटारसी। 
चंबल-मुरैना संभाग - सर्वश्री सत्येन्द्र तोमर आईबीसी 24, अजय दीक्षित अजय भारत, रविन्द्र सिंह सिकरवार श्योपुर एक्सप्रेस, रविन्द्र सिंह कुशवाह पत्रिका, शैलेन्द्र सिंह भदौरिया जी न्यूज, राकेश शर्मा दैनिक आचरण, अब्बास अहमद दैनिक नई दुनिया, अतुल चौहान यूएनआई, जावेद आलम दैनिक भास्कर, हाकिम सिंह नंदा चम्बल सुर्खी मुरैना और दुष्यंत सिंह सिकरवार न्यूज 18 मुरैना संभाग स्तरीय समिति में शामिल किये गये हैं। 

बुन्देलखण्ड में पुरातत्व की धरोहरों को सूचीबद्ध किया जाएगा:केंद्रीय सँस्कृति और पर्यटन राज्य मंत्री प्रह्लाद पटेल



सागर । केंद्रीय सँस्कृति और पर्यटन राज्य मंत्री प्रह्लाद पटेल का कहना है कि बुन्देलखण्ड में पुरातत्व और संस्कृति से जुड़ी धरोहर भरपूर है । विभाग इनको नए सिरे से सूचीबद्ध कर सरक्षण और संवर्धन का काम करेगा । विभाग एमपी में बड़े स्तर पर जबलपुर,सागर और रीवा में महोत्सव का आयोजन करेगा।
       केंद्रीय राज्य  मन्त्री पटेल आज सागर में पार्टी की बैठक लेने आये थे ।उन्होंने मिडीया से चर्चा में कहा कि बुन्देलखण्ड में कला सँस्कृति  और धरोहर की कमी नही है। सागर को केंद्र बिंदु बनाकर संग्राहलय बनेगा। सरकार कई स्तर पर काम कर रही है ।उन्होंने बताया कि इस अंचल के लोकनृत्य और गायन को प्रोत्साहित करने की दिशा में भी काम चल रहा है।

केंद्रीय राज्य मंत्री बनने के बाद पहली दफा आये पटेल का स्वागत
 केन्द्रीय राज्य मंत्री  प्रहलाद पटेल के मंत्री बनने के  आगमन पर पार्टी के कार्यकर्ताओं  ने स्वागत किया। स्वागत करने वालो में  सांसद राजबहादुर सिंह, विधायक शैलेन्द्र जैन,  प्रभुदयाल पटैल, महापौर अभय दरे ,जाहर सिंह, राजेन्द्र सिंह मोकलपुर, सुशील तिवारी, सुधीर यादव, लक्ष्मण सिंह, वैभवराज कुकरेले, प्रदीप राजौरिया, राजेश सैनी, तृप्ति बाबू सिंह, रामेश्वर नामदेव, श्याम तिवारी, नवीन भट्ट, गौरव सिरोठिया, उमेश हरदया, इंदू चैधरी, रामकुुमार साहू, जगन्नाथ गुरैया, विक्रम सोनी, बंटी शर्मा, संदीप जैन, सोनू उपाध्याय, बालकिशन सोनी, धर्मेन्द्र खटीक, याकृति जड़िया, कल्पना पटेल, शारदा कोरी, विनय मिश्रा, श्याम नेमा, राजेश ठाकुर, दीपक दुबे, यश अग्रवाल, रवि ठाकुर, कपिल उपाध्याय, शालीन सिंह, मनीष चैबे, रविन्द्र अवस्थी, कुलदीप खटीक, संतोष रोहित, रीतेश मिश्रा, अनिल जैन नैनधरा, मुकेश हरयानी, सौरभ केशरवानी, चंद्रिका पाराशर, उमेश सिंह, मोंटी रैकवार, रामेश्वर नेमा, भोले सोनी, राकेश लारिया, गोपी पंथी, जुगल प्रजापति, चेतराम अहिरवार, विकास केशरवानी, राजेश पंडित, प्रशांत जैन, मनीष नेमा, रत्नेश सिंह, सोमेश जड़िया, राजकुमार टोटे, सीताराम पचकोड़ी, राजेश सिंह, हीरालाल खटीक, महेन्द्र राय, वैभव यादव शामिल है।

अजूबा : गाय ने दिया सात पैर दो पूंछ वाले बछड़े को जन्म,देखने लगी भीड़

गाय ने दिया सात पैर  दो पूंछ वाले बछड़े को जन्म,देखने लगी भीड़

सागर । सागर जिले में एक गाय ने  विचित्र बछड़े को जन्म दिया है । जिसके सात पैर और दो पूंछ है । इसको देखने गांव वालों की भीड़ लगी है । सागर के ढाना क्षेत्र के हिलग्न ग्राम में राजकुमार ठाकुर की गाय  7 पाँव, 2 पूंछ की बछड़ी को जन्म दिया है । फिलहाल  बछड़ी स्वस्थ्य है । गाँव और आस पास के गांवों के लोगों की भारी भीड़ है ।यह अनोखी बछड़ी  चर्चा का विषय बनी है।.
 .

हनी ट्रैप। तीन महिला सहित पांच लोग गिरफ्तार,एक युवती सागर की

हनी ट्रैप।  तीन महिला सहित पांच लोग गिरफ्तार,एक युवती सागर की 

भोपाल।। मध्यप्रदेश में इंटेलिजेंस पुलिस ने  हाईप्रोफाइल हनीट्रैप के मामले से जुड़ी तीन युवतियों सहित कुछ लोगो को हिरासत में लिया है ।इन महिलाओं द्वारा इंदौर के हाईप्रोफाइल अधिकारी और व्यापारी को हनीट्रैपिंग के जरिए ब्लैकमेल करने की सूचना है। इंदौर ,भोपाल और सागर से इसके तार जुड़े है । यह हाई प्रोफाईल सेक्स रैकेट गिरोह कई नेता,अफसरों और व्यापारियों से करोड़ो रूपये वसूल चुका है और शाही जिंदगी गुजार रहे है ।
       जानकारी के अनुसार इंदौर के चर्चित अफसर और बड़े व्यापारी को हनी ट्रैप में फंसाकर युवतियों ने उनसे संबंध बनाए। वीडियो बनाकर वायरल करने की धमकी देते हुए अवैध काम कराए। बताया जा रहा है कि युवतियां तीन करोड़ रुपए की और मांग कर रही थीं। कुछ महीने पहले एक सीनियर आईएएस को ब्लैकमेल किया गया था । जिसका एक वीडियो भी वायरल हुआ था ।
इस मामले में अफसर ने पलासिया थाने में धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया है। सूत्रों के अनुसार एटीएस टीम ने भोपाल पुलिस के सहयोग से रिवेयरा टाउन और मीनाल रेजीडेंसी स्थित दो घरों में छापामार कार्रवाई कर चार महिलाओं को हिरासत में लिया है। यहां यह एक पूर्व मंत्री के घर मे किराए से रह रही थी। चारों महिलाओं के परिजन भी साथ हैं । उनके सामने उनसे पूछताछ की जा रही है। चारों महिलाओं का हनीट्रैपिंग के हाईप्रोफाइल रैकेट से जुड़ा होना बताया जा रहा है।
पूछताछ में एटीएस को महिलाओं के मोबाइल से आपत्तिजनक फुटेज मिले हैं, जो उनके द्वारा की गई हनीट्रैपिंग की पुष्टि कर रहे हैं। पूछताछ में महिलाओं ने ऐसे किसी मामले में लिप्त होने से साफ इंकार कर रही हैं। देर रात तक महिलाओं से पूछताछ जारी थी।इनके पास से भारी मात्रा में आपत्तिजनक वीडियो और डाटा मिला है ।सूत्रों के मुताबिक एटीएस के पास रकम के ट्रांजेक्शन सहित कई साक्ष्य मौजूद हैं।
सूत्रों के अनुसार नगर निगम में चर्चित इंजीनियर ने पुलिस को बताया था कि उन्हें दो महिलाएं ब्लैकमेल कर रही थीं और वीडियो वायरल करने की धमकियां लगातार दे रही थीं। इस आधार पर पुलिस ने मंगलवार को विजय नगर क्षेत्र से ड्रायवर सहित एक महिला को पकड़ा था। वे कार एमपी-16 सीबी 4441 में सवार थे। यह कार छतरपुर निवासी आरती के नाम पर पंजीकृत है। उन्होंने अपने गिरोह की दूसरी महिलाओं के नाम भी बताए। एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने बताया कि पलासिया थाने में मामला दर्ज है। उन्होंने केवल दो महिलाओं को हिरासत में लेने की पुष्टि की है।
हिरासत में युवतियों में एक सागर की जैन बताई जा रही है ।पिछले दिनों पुलिस महकमे ने सागर में कुछ साल पहले  वायरल हुई वीडियो और सम्पर्को की इस मामले के चलते  नए सिरे छानबीन भी की थी।इस मामले से नेता ,अफसर और कुछ व्यापारी तबकों में  हड़कम्प मचा है ।

बुधवार, 18 सितंबर 2019

आदरांजलि। कविता मंच के धाकड़ कवि-माणिक वर्मा

आदरांजलि। कविता मंच के धाकड़   कवि-माणिक वर्मा

।अशोक मनवानी ।
कल समाचार मिला कि वरिष्ठ गीतकार , कवि सम्मेलनों की जान और शान रहे श्री माणिक वर्मा जी का  अवसान हो गया है। कुछ साल पहले अमेरिका गए थे, धूम मचा दी थी।उसके किस्से उत्साह से सुनाते थे।जो भी उनसे एक बार भी मिला उनसे आजीवन स्नेह पूर्ण  संबंध   रहे। आत्मीय व्यवहार था,वर्मा जी  का। उनके बड़े बेटे नीरज की कुछ बरस पहले लीवर कैंसर से मृत्यु हो गई थी।नीरज मेरा अभिन्न मित्र है।माणिक जी की कविता भारत बंद.. की अक्सर मैं मिमिक्री कर सुनाता तो माणिक जी बहुत प्रसन्न होते थे।25 दिसंबर 1939 को जन्मे माणिक जी की रचना आदमी और बिजली का खंभा काफी चर्चित कविता थी।हर मंच पर सुनाते।उनसेआखिरी भेंट में भोपाल के अशोक गार्डन के उनके घर मिलने गया तब एक  ऑडियो कैसेट भेंट की थी ,साल 2016 की बात है।माणिक जी बोले इसे रखो,अमेरिका वाला कवि सम्मेलन सुनना..फिर बेटे राजकुमार के पास इंदौर चले गए।फोन पर भी बतियाए थे साल भर पहले.तब उनका स्वर तल्ख था।आज के काव्य सृजन पर बात चली तो मंच के गिरते स्तर से दुखी दिखे।फिर चुटकुलेबाजी से उनको खास ऐतराज था ही,जिन सालों में मंच के शहंशाह थे,तब भी इस प्रवृत्ति का विरोध करते थे,ग़ज़ल लेखन में भी उनकी महारत थी।हालांकि मंच पर उनसे सिर्फ हास्य व्यंग्य  सुनाने की ही मांग की जाती थी।सरकार संस्कृति विभाग ने माणिक जी की साहित्य सेवा को देखते हुए उन्हें वर्ष 2012 में प्रतिष्ठित राष्ट्रीय शरद जोशी सम्मान प्रदान किया  था।

       "मांगीलाल और मैंने"शीर्षक से उनकी बहुत चर्चित कविता भी है।जब वर्मा साहब शिक्षा विभाग  से रिटायर हुए तो उनके मन में ये भाव आया कि कवि समाज के लिए कुछ करूं।इसमें गीतकार भी शामिल हों,बाद में सहानुभूति की लहर खिलाड़ियों के लिए भी चली। उन्होंने प्रोविडेंट फंड की राशि से एक सम्मान स्थापित किया।माणिक वर्मा सम्मान।
              ये साल 2002,2003 और 2004 तक चला,पहले मशहूर शहनाई वादक बिस्मिल्लाह खान,फिर संगीतकार नौशाद और आखिरी में हॉकी खिलाड़ी पूर्व कप्तान धनराज पिल्लै। बिस्मिल्लाह खान साहब के बेटे भोपाल आए थे सम्मान ग्रहण करने।नौशाद साहब भी अस्वस्थ थे,उन्हें मुंबई जाकर सम्मान दिया गया।धनराज पिल्लै जरूर भोपाल आकर सम्मान समारोह में शामिल हुए थे।उस साल हॉकी के एक मैच में भारत की हार से मायूस थे पिल्लै और अपमानजनक स्थिति में थे,ऐसे  में उनको सम्मान देने का निर्णय लिया गया।ये माणिक जी की दृष्टि थी।उन्होंने कस्तूरी नामक वार्षिक स्मारिका भी निकाली।ये श्रीमती वर्मा के नाम से थी।बात जुनून कि हो तो माणिक जी का नाम लिया जा सकता है।एक बार  अनूप जलोटा को बुलवा लिया।संस्था में कार्यकर्ता कम थे या बड़े गायकों की रुचि से वाकिफ न थे,कार्यक्रम के बाद सत्कार की वैसी व्यवस्था न थी।तब भोपाल के वरिष्ठ कवि महेंद्र गगन जी को उन्होंने आवश्यक व्यवस्था करने का संकेत किया। माणिक जी मित्रों से वार्तालाप बहुत पसंद करते थे।
 दुनिया के बहुत से व्यसनों से दूर माणिक जी बेटे नीरज के असामयिक निधन से बेहद दुखी हो गए थे। कोई मिलने आया,बिना चाय- नाश्ते के  वापस नहीं आता। रचना  सुनाने का अनुरोध भी टाल जाते थे।उनके उदासी में ही दिन कटते थे।मंच के कार्यक्रम तो छोड़ ही दिए थे।उनके समकालीन भी  सक्रिय नहीं रहे।ऐसे में स्वास्थ्य का बिगड़ना उन्हें हरदा के बाद भोपाल  रहना भी उतना नहीं भाया।अन्य नगरों का प्रवास भी कम होता।खंडवा में बेटे की पोस्टिंग थी,फिर इंदौर में इलाज कराते रहने के बाद वे टूट चुके थे।आखिर काव्य मंच के शिखर पुरुष ने    जीवन त्याग दिया।मध्यप्रदेश का नाम भी उन्होंने अपनी प्रतिभा से रोशन किया।सादर नमन दिवंगत विभूति माणिक जी को।

राईफल शूटर अभिनव देशमुख ने किया नेशनल क्वालीफाई

राईफल शूटर अभिनव देशमुख ने किया नेशनल क्वालीफाई

भोपाल ।राजधानी भोपाल के  राइफल शूटर अभिनव देशमुख ने ऑल इंडिया जीवी मावलंकर ट्राफी के सब जूनियर इवेंट्स में सटीक निशाना साधकर राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई किया है । ऑल इंडिया जीवी मावलंकर प्रतियोगिता गुजरात अहमदाबाद में दिनांक 13 सितंबर से 2019 से चल रही है जिसका समापन 26 सितंबर  2019 को होगा ।
              अभिनव देशमुख ने पिछले माह हुई इंटर स्कूल राइफल शूटिंग कंपटीशन एसजीएफआई में जिला और संभाग में  मेडल अर्जित किया था और अगले सप्ताह भोपाल में राज्यस्तरीय स्कूल शूटिंग टूर्नामेंट में भाग लेंगे । अभिनव , शफीक खान राइफल शूटिंग रेंज में कोच      श्री इदरीस व मो बिलाल के निर्देशन में प्रैक्टिस करते हैं वहीं  पे एंड प्ले के तहत टीटी नगर स्टेडियम में भी प्रैक्टिस करते हैं ।

मंत्री हर्ष यादव निकले सड़को पर ,सफाई व्यवस्थाओं का लिया जायजा

 मंत्री हर्ष यादव निकले सड़को पर ,सफाई व्यवस्थाओं का लिया जायजा
सागर । प्रदेष के कुटीर एवं ग्रामोद्योग, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा विभाग मंत्री  हर्ष यादव नेअपने विधानसभा क्षेत्र  देवरी नगर का भ्रमण राजस्व, पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों के साथ किया।
भ्रमण के दौरान उन्होंने नगर मंे साफ-सफाई की व्यवस्था, सड़क मार्ग की स्थिति का मुआयना किया। बारिष के कारण बस्तियों में जल-भराव की स्थिति को देखते हुए उन्होंने समुचित जल निकासी की व्यवस्था करने के निर्देष मौके पर उपस्थित अधिकारियों को दिए। नगर के ऐसे क्षेत्र जहां पानी भराव से नागरिकांे की समस्याएं हो रही है उन्हें यथाषीघ्र ठीक करने निर्देषित किया। मंत्री श्री यादव ने देवरी नगर में जल निकासी प्रबंधन की जानकारी ली। मुआयने के दौरान मंत्री श्री यादव स्थानीय बस स्टेण्ड के निरीक्षण पर पहुंचे। उन्होंने यातायात व्यवस्था की जानकारी लेते हुए अधिकारियों को बसांे को मुख्य मार्गों से निकालने के बजाय पुराने बायपास से निकालने के लिए रोडमैप एवं विस्तृत कार्ययोजना तैयार करने के निर्देष दिए। इस अवसर पर तहसीलदार  कुलदीप पाराषर,  एके चौरसिया सहित अधिकारीगण उपस्थित थे।

क्रमोन्नति : सागर जिले के शिक्षकों के क्रमोन्नति आदेश जारी

सागर जिले के 12, 24 एवं 30 वर्ष की सेवा करने वाले षिक्षकों के क्रमोन्नति  आदेश जारी  सागर ।सागर जिले में  सहायक शिक्षको के 12 साल पूर्ण करने पर वरिष्ठ 24 साल पूर्ण करने पर क्रमोन्नति एवं 30 साल पूर्ण करने पर तृतीय क्रमोन्नति वेतनमान प्राप्त करने वाले लोकसेवकों की सूची जारी कर दी गई है। डीईओ  महेन्द्र प्रताप तिवारी ने बताया कि 12 साल पूर्ण करने पर वरिष्ठ वेतनमान वाले सहायक षिक्षक 6, षिक्षक 8, 24 साल पूर्ण करने वाले द्वितीय क्रमोन्नति वाले सहायक षिक्षक 122 एवं षिक्षक 22 एवं 30 साल पूर्ण करने पर तृतीय क्रमोन्नति वेतनमान प्राप्त करने वाले सहायक षिक्षक 83 एवं षिक्षक 30 को इसका लाभ प्राप्त होगा। उन्होंने बताया कि उक्त लाभ 273 षिक्षक व सहायक षिक्षकों को प्राप्त होगा।












गरबा नाईट के माध्यम से पॉलिथिन मुक्त सागर की पहल

गरबा नाईट के माध्यम से पॉलिथिन मुक्त सागर की पहल
सागर। ड्रीम्स इवेंटस, दैनिक भास्कर, रामसरोज पैलेस, के संयुक्त तत्वधान में गरबा नाईट 2019 के प्रशिक्षणकार्यशाला में युवाओं ने सुर-ताल के साथ कदम थिरकाते एवं स्वच्छता गीत गाकर पॉलीथिन मुक्त शहर बनाने कासंकल्प लिया।
कार्यक्रम में निगमायुक्त आर.पी. अहिरवार एवं जिला ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष  अखिलेश मोनी केशरवानी अतिथि के तौर पर शामिल हुए।
निगमायुक्त ने द्वारा स्वच्छ भारत मिशन पॉलिथिन मुक्त अभियान में हिस्सा लेने और एक स्वच्छ भारत के निर्माण में ड्रीम्स इवेंटस, दैनिक भास्कर, रामसरोज पैलेस के योगदान देने के लिए किए जाने वाले प्रयत्नों की सराहना
करते हुए कहा आज के दौर में धरती को सबसे बड़ा खतरा इसके बाशिंदों से ही है, और अगर हम समय रहतेनहीं चेते, तो वह दिन दूर नहीं कि इन्सानी सभ्यता तबाही के कगार पर पहुंच जाएगी. स्वच्छ भारत संगठन अपने
गठन के समय से ही समाज के बेहतर निर्माण की दिशा में अग्रसर है।जिला ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष  अखिलेश मोनी केशरवानी ने कहा लोगों में जागरूकता लाना, लोगों को अपने से
जोड़ना और बुनियादी स्तर पर ही शिक्षा और जागरूकता के माध्यम से ऐसा माहौल बनाना हमारा मकसद है,जिससे एक नए भारत और अंततः समूची दुनिया का भला हो सके। पॉलिथीन जहां हमारे पर्यावरण के लिए घातक
हैं, वहीं हमारे स्वास्थ्य पर भी इनका बुरा असर पड़ता है. आलम यह है कि कम पढ़े-लिखे लोगों को तो छोड़िए,आज का पढ़ा-लिखा इनसान भी सब कुछ जानते हुए भी पॉलिथीन की थैलियों के प्रयोग से गुरेज नहीं करता है।
रामसरोज समूह के संचालक शैलेष केशरवानी ने बताया कि पॉलिथीन पेट्रो-केमिकल से बना होता है, जो पर्यावरणसे लेकर हम इन्सान और मवेशियों सभी के लिए बहुत नुकसानदायक है. पॉलिथीन हमारे स्वास्थ्य के लिए भी
बहुत खतरनाक है. पॉलिथीन का प्रयोग सांस और स्किन संबंधी रोगों तथा कैंसर का खतरा बढ़ाता है.
महेशकांत शर्मा ने बताया की पॉलिथीन की थैलियां जहां हमारी मिट्टी की उपजाऊ क्षमता को नष्ट कर इसेजहरीला बना रही हैं, वहीं मिट्टी में इनके दबे रहने के कारण मिट्टी की पानी सोखने की क्षमता भी कम होती जा
रही है, जिससे भूजल के स्तर पर असर पड़ा है।
शैलेष नामदेव ने तर्क देते हुये कहा कि पॉलिथीन की थैलियों की जगह कपड़े या जूट की थैलियां इस्तेमाल मेंलाएं. स्थानीय प्रशासन भी पॉलिथीन के उपयोग पर रोक लगाएं और इसका कड़ाई से पालन करें. पॉलिथीन देने
वालों और लेने वालों दोनों पर जुर्माना किया जाए, जैसा कि कुछ राज्यों में किया भी जा रहा है।
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि डॉ. आलोक चौबे (डिविजनल हेड स्वच्छ भारत मिशन) अतिथि मीना केशरवानी, नीलूकेशरवानी, प्रीति केशरवानी, श्रीकांत त्रिपाठी, उदय गौतम, योगेश नामदेव, गरबा ट्रेनर अनुराग सोनी, भूमि
विश्वकर्मा, क्रू मेम्बर अमित सोनी, राहुल चौबे, रोहित चौबे, सुभाष जैन, श्रेयांश जैन, संदर्भ चौरसिया, रोहित शुक्ला ,अंकित गुप्ता, अर्पित पटेल, शुभम जैन एवं अन्य लोग उपस्थित थे।

मंगलवार, 17 सितंबर 2019

Sit-In : ड्रेजिंग मशीन से तालाब सफाई की मांग को लेकर एक दिवसीय धरना




सागर।. पिछले करीब 1 माह से सागर शहर के सामने एक बड़ा सवाल है कि सागर का तालाब किस विधि से साफ हो I क्या वह ड्राई डिसिल्टिंग पोकलेन ,जेसीबी डंपर इत्यादि के द्वारा हो या फिर ड्रेजिंग मशीनों के द्वारा हो। शहर के ज्यादातर लोगों का मानना है कि इतने  बड़े तालाब की सफाई ड्रैजिंग मशीन के बिना संभव नहीं है । ड्रैजिंग मशीन से तालाब सफाई की मांग को लेकर   सागर तालाब के ही सामने एक दिवसीय शांतिपूर्ण धरना दिया गया।  धरने को सागर के सैकड़ों लोगों ने हस्ताक्षर कर समर्थन दिया। वही सोशल मीडिया पर भी लगातार उन्हें सागर के लोगों का समर्थन मिलता रहा। धरना स्थल पर आए लोगों ने कहा की तालाब  सागर की जन भावनाओं का केंद्र है और स्मार्ट सिटी के लोग  सागर के लोगों को को अंधेरे में रखकर मनमानी कर रहे हैं ।पिछले 20 सालों में शहर ने देखा है कि पोकलेन जेसीबी और डंपर से सागर का तालाब साफ नहीं हुआ वही नई विधि के लिए अधिकारी स्वस्थ चर्चा नहीं करना चाहते । ऐसे में पूरा शहर आंदोलित है और ड्रेजिंग मशीन से सागर तालाब की सफाई की मांग कर रहा है। धरना स्थल पर  नायब तहसीलदार  ने  पहुंचकर  अनशन कर रहे  राघवेंद्र खरे से  ज्ञापन भी लिया । 
             आंदोलन को समर्थन देने वालों में अभिषेक गौतम ,सुनील केशरवानी, अतुल मिश्रा, निखिल चौकसे, जतिन चौकसे, पप्पू तिवारी, संतोष विश्वकर्मा, मोहम्मद तारिक ,अनिल राय ,बृजेंद्र रजक, अशोक रजक, ऋषि रावत, जितेंद्र पुजारी, उमेश चौबे, प्रियंक तिवारी, गौरी शंकर चढ़ार, संतोष शुक्ला, प्रियंक तिवारी, अभिषेक साहू, अरमान खान, मनीष सोनी, पंकज आठया,  अभिषेक यादव, अनिल तिवारी ,दीपक स्वामी, राहुल समेले ,अब्दुल जावेद कुलदीप बाथरी, राजनाथ कटारे, योगेंद्र ठाकुर, रत्नेश मिश्रा ,रमेश मिश्रा ,कार्तिकेय रोहन ,रोहित तिवारी, धनंजय, धर्णेद्र जैन , आशुतोष, मोहसिन खान डॉक्टर कमलदीप बाथरे विश्वनाथ सोनी अखिल राय  बृजेंद्र  रजक संतोष शुक्ला गौरीशंकर चढ़ार सहित बड़ी संख्या में लोगों ने समर्थन दिया वही कुछ  युवाओं ने जल्दी ही बड़े आंदोलन की रूपरेखा भी तैयार की है

"No Abuse Day" : जागरूकता रैली को मिला समर्थन

 "नो एब्यूज डे" । जागरूकता रैली को मिला जमकर समर्थन

सागर । वैचारिक स्वच्छता अभियान के तहत मा बहिन बेटी की गाली देने से रोकने के उद्देश्य से अनेक संगठनों ने एक जागरूकता रैली निकाली इस अभियान को व्यापक समर्थन मिला। सागर के जिला शिक्षा अधिकारी ने भी एक आदेश निकालकर  सभी स्कूलो में इसका जागरूकता सम्बन्धी  सन्देश भेजा।
 सागर में  म्यूनिसिपल स्कूल में वी क्लब सागर गोल्ड वी डिस्टिक्ट 323जी 2 के नेतृत्व में रैली  प्रारंभ हुई। करीब 80 संस्थाओं के पदाधिकारीयों ने पूर्व से ही इस अभियान को खुला समर्थन दिया था। वी क्लब की डॉ वंदना  गुप्ता ने बताया कि राज्यपाल  लालजी टंडन को भी इसी संदर्भ में एक  पत्र भेजा गया। दूसरे  राज्यो बिहार, छत्तीसगढ,महाराश्ट,पं.बंगाल,अंडमान निकोवार,जम्मू,उत्तरप्रदेष,उत्राखंड,तमिलनाडू,एवं केरल में इस मुहिम को तेजी से आगे बढ़ाया है। इस रैली में  वी क्लब की प्रांतीय सचिव नम्रता फुसकेले,मीना केषरवानी,आषा आड़तिया,नंदनी चैधरी, जागृति केषरवानी,संध्या केषरवानी, ज्योती गुप्ता, ववीता केषरवानी,दिगम्बर जैन महिला परिषद की  सकुंतला जैन,दीप्ती चंदेरिया,अलका जैन,उशा वर्मन,आई.एम.ए.अध्यक्ष डाॅ.नीनागिडयन,ब्रम्हाकुमारी,आश्रम से वी.के.छाया,वी.के.लक्ष्मी,सरस्वती षिषु मंदिर से बषंत यादव,ज्ञानी प्रसाद दुबे,सुरेन्द्र दुबे,नरेष केषरवानी, महेषयोगी तिवारी,पतंजली से जयंती सिंह लोधी,मां संतोशी वेलफेयर सोसायटी से अंकित आठिया,वैषाली तिवारी,षिषुरोग विषेशज्ञ संघ डाॅ.मोना केषरवानी,डाॅ.मनीश केषरवानी, एल.आई.सी.से षैलेन्द्र सिंघई, प्रिती भाईजी,स्त्री एवं प्रषुति रोग विषेशज्ञ संघ सचिव डाॅ.स्वाती रेजा, केषरवानी समाज तरूण सभा अध्यक्ष श्री विकाष केषरवानी,बलवंत प्रजापति एम.आर.यूनीयन से महेन्द्र राय,णीतू कोरी, चांदनी सूर्यवंषी आदि शामिल हुई । इस मौके पर नगर शेलेन्द्र जैन, मेयर  अभय दरे,भाजपा जिला अध्यक्ष  प्रभूदयाल पटैल, सुधीर यादव, षैलेष केषरवानी,विक्रम सोनी, नितिन सोनी,के साथ अनेक गणमान्य नागरिकों ने इस जागृति का संकल्प लिया।

Sit-In : बुंदेलखंड अब क्षेत्रीय अन्याय बर्दाश्त नहीं करेगा :रघु ठाकुर


दिल्ली। बुन्देलखण्ड  सर्वदलीय नागरिक संघर्ष मोर्चा द्वारा जंतर मंतर नई दिल्ली पर बुंदेलखंड को न्याय चाहिए,रेल खेत को पानी और शिक्षा चाहिए के नारों के साथ दो दिवसीय धरना प्रारंभ हुआ ।धरने में सैकड़ों की संख्या में समूचे बुंदेलखंड से लोगों ने हिस्सेदारी की जिसमें सागर, टीकमगढ़,दमोह,कटनी,छतरपुर,दतिया, ललितपुर,भिंड,ग्वालियर,चंबल संभाग आदि से लोगों ने गगनभेदी नारों के साथ धरना आरंभ किया ।
       धरने को संबोधित करते हुए सर्वदलीय नागरिक संघर्ष मोर्चा के संरक्षक और समाजवादी चिंतक रघु ठाकुर ने कहा कि आज यहां पहुंचे लोग आक्रोशित हैं और क्षेत्रीय न्याय को लेकर केंद्र की सरकार से अपना अधिकार व हक़ मांगने आए हैं।आज बुंदेलखंड की आबादी के अनुपात में रेल लाइन है के साथ सिंचाई सुविधाएं,शिक्षा और पर्यटन की भागीदारी चाहिए। आज पूरा बुंदेलखंड विकास की दौड़ में पीछे ढकेल दिया गया है,बुंदेलखंड का हर नागरिक आक्रोशित है ।अब यह लड़ाई जमीन पर लड़ी जा रही है और तब तक लड़ी जाती रहेगी जब तक केन्द्रीय सरकार इस असमानता के भेदभाव को मिटा नहीं देती। उन्होंने कहा कि आज क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों की आवाज संसद में दवाई जा रही है,अनसुना किया जा रहा है और बुंदेलखंड की आवाज को दबाने का प्रयास हो रहा है जिसे जनता अब कतई बर्दाश्त नहीं करेगी ।
 समाजवादी चिंतक रघु ठाकुर ने कहा कि हम लगातार 10 वर्ष से अधिक समय से जंतर मंतर पर धरना दे रहे हैं और बुंदेलखंड की लड़ाई को लड़ रहे हैं बुंदेलखंड क्षेत्र में आवागमन एवं विकास की जरूरत के लिए रेल लाइनों के विस्तार हेतु जिनका सर्वेक्षण का कार्य पूरा हो चुका है। सभी रेल लाइनें बिछाई जानी चाहिए साथ ही सरकार ने किसानों की 
जो जमीनें  कारखानों के लिए अधिग्रहण की हैं जिनमें कटनी की डोकरिया बुजुबुजा सरकार को वापस करनी चाहिए। उन्होंने बुंदेलखंड की महान प्रतिभाओं में सागर विश्वविद्यालय के संस्थापक और महान शिक्षाविद डॉ हरिसिंह गौर एवं हाकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद को भारत रत्न देने की मांग की। 
       राज्यसभा के सांसद संजय सिंह ने  "बुंदेलखंड गौरव है, इस देश की धरोहर है"
के नारे के साथ धरने का आगाज किया और कहा कि बुंदेलखंड का आजादी के आंदोलन में महान योगदान रहा है इतनी कुर्बानियों के बदले आज सरकार ने इस अंचल की उपेक्षा की है जो अब बर्दाश्त नहीं होगी उन्होंने बुंदेलखंड के लोगों से कहा कि संसद में मैं आपकी आवाज उठाता रहा हूं और आगे भी उठाता रहूंगा उन्होंने बुंदेलखंड के लोगों से कहा कि आप जाकर बुंदेलखंड सर्वदलीय नागरिक संघर्ष मोर्चा के आंदोलन को फैलाएं,हम सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे और अपना हक हम लेकर रहेंगे उन्होंने कहा रघु भाई का आदेश होगा मेरा पैर बुंदेलखंड में अंगद की तरह खड़ा मिलेगा।    कटनी से आए संघर्षशील साथी बिंदेश्वरी पटेल ने कहा कि आज हमारे जिले का किसान लाचार मजबूर है हमारी भूमि सरकार ने झूठ बोलकर हमसे छीनने का कार्य किया है इसे मय हर्जाने के साथ वापस लेने आए हैं हम अपना अधिकार मांगते नहीं किसी से भीख मांगते के नारे लगाए ।         
          लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष श्यामसुंदर यादव ने कहा कि भिण्ड,बाँदा,महोबा रेल लाइन जो पूर्व से मंजूर है उसका कार्य शीघ्र शुरू हो ललितपुर जनपद से आए किसान नेता राघवेंद्र सिंह ने कहा हम सदैव लड़ते रहे हैं और लड़ते रहेंगे उन्होंने मेजर ध्यानचंद एवं डॉ हरिसिंह गौर को भारत रत्न देने की मांग जंतर मंतर से उठाई। उत्तर प्रदेश मोर्चा के संयोजक श्भूपेंद्र ने कहा कि बुंदेलखंड की जनता में बेचैनी है और जनता का विश्वास सरकार के साथ ही जनप्रतिनिधियों से भी उठ रहा है उन्होंने पर्यटन परिक्रमा पथ बनाने की मांग उठाई । धरने पर बैठे पूर्व विधायक सुनील जैन ने कहा कि बुन्देलखण्ड अंचल की समस्याओं को हल करने संघर्ष जारी रहेगा। 
       धरने की अध्यक्षता आचरण की प्रधान संपादक श्रीमती निधि जैन ने की। कार्यक्रम का संचालन बुंदेलखंड के ह्रदय स्थल सागर से पधारे भाई रामकुमार पचौरी ने किया धरने को शंभू दयाल बघेल निसार कुरैशी अमन खान शिवराज सिंह रामचरण सराठे अविनाश चौबे प्रदीप पटेल दमोह, राम शंकर पुरोहित विनोद तिवारी प्रशांत ठाकुर अतुल तोमर रिजवान खान दिल्ली सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट एसएस नेहरा आदि ने संबोधित किया।

कोविड संक्रमण: कमिश्नर ने बीएमसी के चिकित्सकों की बैठक ली

Archive