बंसल क्लासेस,सागर +916232102606. +919340574756

OFF TRACK लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
OFF TRACK लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

निस्वार्थ भावना के साथ कांग्रेस सेवादल के सेवा अभियान का 89 वां दिन


निस्वार्थ भावना के साथ कांग्रेस सेवादल के सेवा अभियान का 89 वां दिन

सागर । कोरोना के प्रकोप के चलते आर्थिक मंदी के दौर मे सेवादल परिवार ने 89 दिन से जारी राशन वितरण की श्रृंखला को आगे बढाते हुये आज रामबाग मंदिर प्रागंण मे राजीव नगर वार्ड,वल्लभनगर वार्ड और भगतसिंह वार्ड की 17 मजदूर ,गरीब परिवारों की महिलाओं को राशन वितरण किया ।वितरण के दौरान सोशल डिस्टेसिंग का विशेष ध्यान रखा गया,महिलाओ के हाथो को सैनेटाईजर से साफ कराया गया।

पढ़े : बीना रिफायनरी सहित सागर जिले में  6 नए पॉजिटिव मरीज मिले, संख्या बढ़कर हुई 307 ,कटरा और भीतर बाजार में मिले मरीज

पढ़े : पेट्रोल और डीजल की बेतहाशा मूल्यवृद्धि के खिलाफ कांग्रेस ने साइकिल और पैदल मार्च निकाल कर विरोध प्रदर्शन किया

पढ़े : डीजल-पेट्रोल के बढ़ते दामो को लेकर कांग्रेस ने किया सुरखी विधानसभा क्षेत्र में धरना-प्रदर्शन

 सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे ने कोरोना महामारी से बचने के लिये विशेष सावधानियों से महिलाओं को जागृत किया।राशन मे आटा-दाल-चावल-बिस्किट-दूध आदि वितरित किया गया।राशन वितरण मे सहयोगकर्ता के रूप मे सेवादल अध्यक्ष सिंटू कटारे के अलावा नितिन पचौरी, जयदीप यादव,प्रवीण यादव, अंकुर यादव, ,अजय ठाकुर,अरविंद राजपूत आदि सेवादल परिवार के सदस्य मौजूद थे।

---------------------------- 


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885

-----------------------------
Share:

साक्षर महिला केन्द्र को एसबीआई ने दी चार सिलाई मशीनें और एक पीको मशीन


साक्षर महिला केन्द्र को एसबीआई ने दी चार सिलाई मशीनें और एक पीको मशीन


भोपाल। अपनी सामाजिक सेवा बैंकिंग गतिविधि के तहत भारतीय स्टेट बैंक महिला सशक्तिकरण तथा उनके स्वावलंबन के लिए समय समय पर पहल करता रहा है। इसी तारतम्य में एसवीआई
महिला क्लब ने बैंक के चार इमली आवासीय परिसर में सामाजिक दूरी के आग्रहों का
अनुपालन करते हुए आयोजित एक संक्षिप्त कार्यक्रम में स्याम नगर, अरेरा कॉलोनी स्थित
साक्षार महिला केन्द्र को चार सिलाई मशीनें तथा एक पीको मशीन प्रदान की। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे

ट्वीटर  फॉलो करें
@weYljxbV9kkvq5Z


एसबीआई महिला क्लब की अध्यक्ष श्रीमती वीनस अरोरा ने साक्षर महिला केन्द्र के संचालक सहारा साक्षरता एजुकेशनल एण्ड वेलफयेर सोसायटी के अध्यक्ष  शिवराज कुशवाह को उक्त मशीनप्रदान की। इस अवसर पर अपने उद्बोधन में श्रीमती वीनस अरोरा ने कहा कि
समाज के वंचित और जरूरतमंद लोगों के स्वावलंबन और विकास के लिए एसबीआई हमेशा ही प्रयासरतरहा है तथा एसबीआई महिला क्लब न सिर्फ बैंक के इस प्रयासों में सहयोग करता रहा हैबल्कि क्लब स्वयं भी सामाजिक सेवा की अनेक गतिविधियाँ आयोजित करता रहा है। इस अवसर पर महिला क्लब की सचिव श्रीमती वंदना सक्सेना तथा क्लब की अन्यपदाधिकारी एवं सदस्य भी उपस्थित थीं। यह जानकारी एस. कोण्डल राव
,सहायक महाप्रबंधक जनसपर्क व सामाजिक सेवा बैंकिंग ने दी।

---------------------------- 


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885

-----------------------------


Share:

आंगनवाड़ी ,स्कूल में अंडा वितरण ,अहिंसक समाज को करे विरोध:आचार्य निर्भय सागर

आंगनवाड़ी ,स्कूल में अंडा वितरण ,अहिंसक समाज को करे विरोध:आचार्य निर्भय सागर 

सागर। आहार जीने के लिए है खुद को कब्रिस्तान बनाने के लिए नहीं। मांसाहारी व्यक्ति चलता फिरता कब्रिस्तान है ।आज कुछ हिंसक ताकतें देश के बच्चों ,महिलाओं की रगों में अंडा परोस कर क्रूरता व बर्बरता की ओर धकेलने का दुस्साहस कर रही हैं ,जो बहुत ही गलत है ।अंडा मांसाहार है। स्कूलों ,आगनबाडी आदि में इसके वितरण का अहिंसक समाज  पुरजोर विरोध करें ताकि हमारी बाल पीढ़ी के अंदर हिंसक तत्व प्रवेश ना कर सकें ।
उक्त उद्गार आचार्य श्री निर्भय सागर जी महाराज ने बाहुबली कॉलोनी जैन धर्मशाला सभागार में व्यक्त किए।आचार्य श्री ने कहा मांगना सबसे बड़ी दरिद्रता है ,आज समाज में विवाह शादियों में दहेज मांगने की जो परंपरा बढ़ती जा रही है वह बेहद गलत है समाज के मध्यमवर्गीय परिवार इसमें पिस रहे हैं सोचिये जिसने अपनी बेटी तुम्हें दी है उसने अपना सबकुछ तुम्हे दे दिया है।आप भिखारी नहीं बने बल्कि जो कुछ बिना मांगे मिले सहर्ष स्वीकार करे और इस दहेज़ जैसी कुप्रथा को बढ़ावा नहीं दे।
आचार्य श्री ने बताया धर्म संस्कृति देश परिवार सब महिला नारी स्त्री के ऊपर टिका हुआ है यदि महिला का आचरण श्रेष्ठ होगा तो वह बच्चों को श्रेष्ठ संस्कृति अनुरूप संस्कार दे पाएगी और यदि महिला ही ब्यूटीपार्लर फैशन और नौकरी में व्यस्त हो जाएगी तो परिवार को कौन संभालेगा मात्र धन ही सब कुछ नहीं है नारी का व्यवहार खानपान मधुर वचन और कार्यकुशलता से ही उसके व्यक्तित्व का पता चलता है। श्रेष्ठ नारी वही है जो निम्न बताए गए 6 गुणों को धारण करती है।
(1) कार्य करने में मंत्री के समान (2)वचन बोलने में दासी के समान 
(3)भोजन कराते समय माता के समान 
(4)शयन करते समय देवांगनाके समान 
(5)धर्म के अनुकूल आचरण करने वाली हो
(6)क्षमा मांगने वाली,क्षमा करने वाली हो।
इन 6 गुणों से युक्त नारी कुल को तारने वाली होती है।
Share:

सागर न्यायालय परिसर में सिगरेट पीना मंहगा पडा,दो को अर्थ दंड

सागर न्यायालय परिसर में सिगरेट पीना मंहगा पडा,दो को 
अर्थ दंड
सागर। सागर जिला जिला न्यायाधीश निरीक्षण करने हेतु अन्य न्यायाधीशों के साथ राउंड पर थे। उसी समय अभियुक्तगण नरोत्तमदास पुत्र छोटेलाल चैधरी उम्र 52 वर्ष निवासी तुलसीनगर वार्ड थाना कैंट एवं आकाश चैधरी पुत्र नरोत्तम दास उम्र 21 वर्ष निवासी तुलसीनगर वार्ड केा सिगरेट पीते हुए न्यायालय परिसर में गश्त करते समय पकडा गया।
मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट विवेक कुमार पाठक ने द्वारा संज्ञान लेते हुए आरोपीगण नरोत्तमदास और आकाश चैधरी को सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम की धारा 4 के उल्लघन मे धारा 21 के तहत आरोपी को 100-100 रूपए के अर्थदण्ड से दंडित किया गया। आरोपीगण का प्रथम अपराध था इस कारण न्यायालय ने सजा पर नरम रूख रखते हुए केवल अर्थदण्ड से दंडित किया है।

चोरी की मोटर साइकिल कब्जे में रखने वाले आरोपी को एक वर्ष का कठोर कारावास और 1000 रूपये जुर्माना

सागर।  न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी सागर द्वारा चोरी की मोटर साइकिल कब्जे मे ंरखने वाले आरोपी पर्वत पिता नारायण पटेल उम्र 48 वर्ष निवासी जगदीषपुरा तहसील खुरई को धारा 411 भादवि में एक वर्ष के कठोर कारावास और 1000 रू के जुर्माने से दण्डित किया गया। प्रकरण में म. प्र. शासन की ओर से पैरवी अमित जैन सहा. जिला लोक अभियोजन अधिकारी द्वारा की गयी।
अभियोजन का मामला संक्षेप में इस प्रकार है कि सूचनाकर्ता अनिल कुमार जैन ने आकर यह सूचना दी की दिनांक 11.01.2014 को षाम 8ः30 बजे उसने अपनी मोटर साइकिल अपने घर की बाउण्डरी में रख दी थी सुबह उठने पर मोटर साइकिल नही दिखी थी। मोटर साइकिल को कोई अज्ञात चोर चोरी करके ले गया था। उक्त सूचना के आधार पर थाना मोतीनगर मे अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीबद्ध की गयी। अनुसंधान पूर्ण कर अभियोग पत्र माननीय न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। विचारण के दौरान अभियोजन ने अपना मामला युक्तियुक्त संदेह के परे प्रमाणित किया जिसके आधार पर न्यायालय ने अभियुक्त पर्वत पिता नारायण पटेल उम्र 48 वर्ष निवासी जगदीषपुरा तहसील खुरई को धारा 411 भादवि में दोषी पाते हुए एक वर्ष के कठोर कारावास एवं 1000 रूपये जुर्माने से दंडित किया।
Share:

मूर्तियाभजन की लड़ाई में क्या मिलेगा.. ब्रजेश राजपूत/सुबह सवेरे में ग्राउंड रिपोर्ट


मूर्तियाभजन की लड़ाई में क्या मिलेगा..
ब्रजेश राजपूत/सुबह सवेरे में ग्राउंड रिपोर्ट 
भोपाल के बाहर बैरागढ से जब इंदौर रोड पर जाते हैं तो थोडी दूर पर ही आता है आकाश मेरिज गार्डन। आमतौर पर यहां पर शादियों की धूमधाम होती हैं मगर इन दिनों यहां पर जो हो रहा है उसकी गूंज शादियों के मौके पर बजने वाले जबलपुर के मशहूर श्याम बैंड से भी ज्यादा है और आवाज भोपाल से सात सौ किलोमीटर दूर दिल्ली तक जा रही है। पहेलियां बुझाना छोड कर अब आपको बताता हूं कि यहंा पर कांग्रेस के सेवादल का दस दिन का राप्टीय प्रशिक्षण शिविर चल रहा हैं जिनमें देश के विभिन्न हिससों से करीब साढे तीन सौ कार्यकर्ता आये हैं। आमतौर पर देश भर में पार्टियों के ऐसे शिविर चलते रहते हैं जिनकी कभी कोई खबर नहीं बनती और उस पर शहर के बाहरी इलाके में हो तो मीडिया वाले वहां पर कम ही जाते हैं। मगर प्रदेश में सरकार कांग्रेस की है और कांग्रेस की गतिविधियों पर नजर रखना भोपाल की प्रेस का काम है तो पहले ही दिन हमारे टीवी मीडिया के मित्र पहुंचे और खबरें तलाशनी शुरू कर दी। जहां चाह वहां राह। एक युवा पत्रकार के हाथों वो साहित्य लग गया जो वहां आये कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को बांटा जा रहा था। किताब थी वीर सावरकर कितने वीर सेवादल की तरफ से छापी गयी इस किताब में वीरता के बहाने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी विनायक दामोदर सावरकर की विवादित कमजोरियों को उजागर कर उनको पथभ्रप्ट नेता साबित करने की कोशिश की गयी है। उनकी कार्यप्रणाली उनके कोर्ट में दिये गये बयान तत्कालीन नेताओं से वेचारिक विरोध को किताब में इतिहास के दस्तावेजों के हवाले से सामने लाया गया है। इस किताब में सर्वाधिक आपत्तिजनक टिप्पणी वो थी जिसमें दो विदेशी लेखकों की किताब के हवाले से सावरकर और गोडसे के समलैंगिक संबंधों का आरोप लगाया गया। बस फिर क्या था हमारे युवा पत्रकार को इस किताब के तौर पर बडी खबर मिल गयी और फिर तो शाम होते सेवादल का ये शिविर देश भर की मीडिया की सुर्खियां बन रहा था और मीडिया के इस शिविर में आकर खबर बनाने जो सिलसिला शुरू हुआ तो वो अगले दिन शाम होते होते चलता ही रहा। कांग्रेसी नेता जहां इस शिविर को देश भर में चर्चित होता देख गदगद हो रहे थे तो बीजेपी के वो नेता मन मसोसकर रह जा रहे थे जो ये देख रहे थे कि इस एक साल में कितना कुछ बदल गया। यदि कांग्रेस सरकार यहां पर ना होती तो उस शादी घर में ऐसे शिविर लगने की ना तो इजाजत मिलती और यदि मिलती और फिर ऐसी किताब बंटती तो अब तक तो शिविर के बाहर बडा सा उग्र प्रदर्शन होकर वैसी ही धमकी दी जा चुकी होती जैसी कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर में अधिकारियों को आग लगाने की दी इसके अलावा भोपाल के किसी थाने में एफआईआर हो चुकी होती मगर सरकार जाने से बहुत कुछ बदल जाता है ये बीजेपी वाले समझ गये इसलिये बीजेपी की तरफ से इस किताब का विरोध स्टूडियो डिस्कशन तक ही सीमित होकर रह गया। सावरकर को लेकर इस किताब में कितनी हकीकत ओर कितना फसाना है वो यहंा मुददा नहीं है। मगर ये दुखद है कि पिछले कुछ सालों से आजादी की लडाई में शामिल हमारे प्रतीकों और महापुरूपों के महिमामंडन की जगह अब उनकी छवि खंडन का दौर शुरू हो गया है जिसकी कडी है ये और ऐसी ढेर सारी पुस्तिकाएं जो ऐसे आयोजनों में बेधडक बांटी जाती हैं। पहले गांधी फिर नेहरू फिर आंबेडकर और अब सावरकर इन सारी हस्तियों को जिनको हमने स्कूली पाठयक्रम में आजादी के नायकों के तौर पर पढा और जाना मगर अब जब बडे हुये हैं तो इन सत्तर सालों में इनको नायक के इतर खलनायक बताने का दौर चल पडा है और इसकी शुरूआत हुयी है 2014 के चुनावों से जब बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बने नरेन्द्र मोदी ने देश की हर नाकामी के लिये कांग्रेस के नेताओं और पुरानी सरकारों को कोसना शुरू कर दिया। बस फिर क्या था जब मोदी प्रधानमंत्री बने तो उनकी बातें और विचारों को मजबूती देने के लिये इतिहास के पन्नों से वो सारी मुददे छांटे और तलाशे गये जिनमें विवाद और बहस की गंुजाइश थी। वो सारे बडे नेता जो अब इस दुनिया में अपनी बातों और विचार को बचाने के लिये नहीं हैं उनके लंबे राजनीतिक जीवन के कुछ चुनिंदा विचारों भापणों के अंश को उठा उठाकर कुछ उनके जीवन की तस्वीरों को लेकर सस्ते डाटा के दम पर वाटस अप से जो फैलाना शुरू किया तो बस फिर क्या था हर आदमी इतिहास का जानकार बन गया और सवाल उठाने लग गया। मैं उस दिन हैरान रह गया जब दसवीं में पढने वाले मेरे भांजे ने सवाल किया कि आप ये बताइये कांग्रेस ने सत्तर सालों में क्या कर दिया। मैं हैरान था कि इस किशोर को कैसे समझाउं कि सरकार किसी दल की नहीं देश की होती हैं और ये जो सवाल उठा रहे हो वही पुरानी सरकारों की सबसे बडी देन है कि तुम सवाल उठा पा रहे हो वरना हमारेे साथ आजाद हुये पाकिस्तान में शायर फैज अहमद फैज सरीखे अनेक साहित्यकारों को शायरी करने और सवाल उठाने पर ही जेल में कई सालांे के लिये डाल दिया गया था। तो सवाल उठाने की आजादी देश की सबसे बडी उपलब्धि है विकास के रास्तों पर तो देश चलता ही रहता है चीन और रूस जैसा विकास हमारे देश के लोग नहीं चाहंेगे जहां सडकें और मकान तो खूबसूरत हों मगर हर विचार पर पहरा हो। इसलिये मूर्तिभंजन की इस लडाई में ना तो बीजेपी को कुछ मिला है और ना अब कांग्रेस को कुछ मिलेगा। ये दोनों पार्टियां समझें। किसी ने सही लिखा है जिसको भूलना था वो अब तक याद है यही तो विवाद है।

ब्रजेश राजपूत,एबीपी न्यूज़,भोपाल
Share:

महिलाओं की सुरक्षा के लिए अब पिंक निर्भया मोबाइल,आई जी /एसपी ने दिखाई हरी झंडी

महिलाओं की सुरक्षा के लिए अब पिंक निर्भया मोबाइल,आई जी /एसपी ने दिखाई हरी झंडी
सागर।महिलाओं की सुरक्षा मजबूत बनाने हेतु वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों द्वारा लगातार  प्रयास किया जाता रहा है इसी  तारतम्य में आज सागर में चलने वाली निर्भया मोबाइल को नए रूप में एवं अतिरिक्त महिला पुलिस स्टाफ प्रदाय कर पुलिस महानिरीक्षक सागर जोन सागर सतीश सक्सेना एंव पुलिस अधीक्षक  अमित सांघी द्वारा हरी झंडी दिखाकर पुलिस कंट्रोल रूम से रवाना किया गया ।
ये रहेगी कार्यशैली निर्भया मोबाइल की
 निर्भया मोबाइल लगातार दिन में सुबह 8:00 से रात्रि 9:00 तक फील्ड में रहकर भ्रमण करेगी । इस निर्भया मोबाईल में वाहन चालक भी महिला कर्मचारी को बनाया गया है। भ्रमण के दौरान स्कूल कालेज कोचिंग संस्थान खुलने एवं बंद होने के समय तथा अधिकांश उन स्थानों पर भ्रमण करेगी जहां पर महिलाओं का आवागमन अधिकतम होता है । इस दौरान निर्भया मोबाइल छात्राओं एवं महिलाओं से संपर्क कर उनका फीडबैक लेंगे तथा महिलाओं एवं बालिकाओं की शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जन चौपाल भी आयोजित कराएंगे जिससे उनकी समस्याओ को समझा जा सके एंव दूर किया जा सके । निर्भया मोबाइल में सतत सम्पर्क कन्ट्रोल रूम एंव वरिष्ठ अधिकारियों से बनाये रखने हेतु वायरलैस सेट लगाया गया है इसके अतिरिक्त एक मोबाईल फोन भी इसमे रखा गया है जिससे महिलाओं एंव बालिकाओ को यदि सीधे संपर्क करना हो तो इस नम्बर पर बात कर किसी भी विपरीत परिस्थितियों में  सहायता हेतु बुला सकती है। मोबाईल नंबर 9479997555 पर कोई भी महिला या बच्ची पुलिस सहायता के लिए निर्भया मोबाईल को सम्पर्क कर सकती है। पुलिस अधीक्षक द्वारा बताया गया कि अगले चरण में निर्भया मोबाईल में सीसीटीवी केमरा भी लगाया जाएगा जिससे असामाजिक तत्वों पर नज़र रखी जा सके।
इसके साथ ही शहर में चलने वाली 3 शक्ति मोबाइल में भी महिला स्टाफ बढ़ाकर एंव उनके भ्रमण का क्षेत्र निश्चित कर रवाना किया गया ।
महिलाओं की सुरक्षा हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  राजेश व्यास द्वारा निर्भया एंव शक्ति मोबाइल में लगे स्टाफ को निर्देश दिए एंव विभिन्न तरीके भी बताए  कैसे हमे महिलाओं की सुरक्षा शुनिश्चित करनी है।प्रत्येक शक्ति मोबाइल के पास भी संचार हेतु वायरलैस सेट दिया गया है जिससे वह लगातार कंट्रोल रूम से संपर्क में बनी रहे एंव वरिस्ठ अधिकारियो के निर्देशो क त्वरित पालन कर सके।
Share:

Archive