जंय श्री गणेशाय नमः

गुरुवार, 26 अगस्त 2021

फर्जी लोकायुक्त पुलिस अधिकारी बनकर रूपये ऐठने वाला अपराधी पुलिस की गिरफ्त में

फर्जी लोकायुक्त पुलिस अधिकारी बनकर रूपये ऐठने वाला अपराधी पुलिस की गिरफ्त में


टीकमगढ। फर्जी लोकायुक्त आफीसर बनकर रुपये ऐठने वाले एक अपराधी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

पुलिस के मुताबिक फरियादी कृपाराम आदिवासी द्वारा पुलिस अधीक्षक  टीकमगढ़ को अनावेदक रामकुमार विश्वकर्मा द्वारा फर्जी लोकायुक्त पुलिस बनकर आवेदक को फोन कर डरा धमका कर रूपये बसलने संबंधी शिकायती आवेदन पत्र पेश किया । जिसकी जांच की गई जांच पर से अनावेदक के विरूद्ध अपराध क्र0 301/21 धारा 417,419, 420,384,389 ताहि0 66 डी आई टी एक्ट का पंजीवद्ध किया गया।  आरोपी आदतन अपराधी है जो फर्जी लोकायुक्त पुलिस अधिकारी बनकर सरकारी कर्मचारियों एवं आम लोगों से डरा धमका कर रूपये ऐठता है ।आरोपी की पतारसी  एसडीओपी  श्री योगेद्र सिह के मार्गदर्शन में टीम गठित की गई आरोपी के विरूद्ध पर्यापत साक्ष्य अभी तक की विवेचना में प्रापत हुये हैं।  वह मोवाईल पर पुलिस अधिकारी की प्रोफाईल पिक्चर लगाकर रखता है स्वयं को डीएसपी बताकर निचले स्तर के कर्मचारियों को भय में डालकर पैसों की मांग करता है।  जिसके द्वारा जिस लोगों से पैसे मांगे गये है विवेचना में पुलिस को रिकॉर्डिंग मिली है जिसकी जांच की जा रही है । आरोपी अपने शिकार को फोन से वाट्सऐप मैसेज एवं चैटिंग करता है जिसकी जांच की जा रही है। आरोपी के विरूद्ध पूर्व में भी वर्ष 2017 में फर्जी लोकायुक्त पुलिस अधिकारी बनकर ठगी करने का अपराध पंजीवद्ध है जिसमें आरोपी जेल में निरूद्ध रहा था अभी जमानत पर है। आरोपी की दस्तयावी में एसडीओपी जतारा श्री योगेन्द्र सिह भदौरिया ,निरी0 मुकेश शाक्य ,थाना प्रभारी पलेरा निरी0 नसीर फारूखी थाना प्रभारी देहात , उपनिरी0 रवि सिह कुश्वाह , उनि0 शहीद खान , सउनि सतीष त्रिपाठी आर 623 कमल ,आर0 484 धर्मेंद्र एवं अन्य स्टाफ का विशेष योगदान रहा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive