जंय श्री गणेशाय नमः

रविवार, 1 नवंबर 2020

..विधायक बनना था तो इस्तीफा क्यों दिया .इस्तीफा दिया है तो अब विधायक क्यों बनना है.. : लखन घनघोरिया ★आपका एक वोट प्रजातंत्र की चीरहरण होने से बचा सकता है : पारूल


 ..विधायक बनना था तो इस्तीफा क्यों दिया .इस्तीफा दिया है तो अब विधायक क्यों बनना है.. : लखन घनघोरिया


★आपका एक वोट प्रजातंत्र की चीरहरण होने से बचा सकता है : पारूल


सागर। बाबा साहब भीमराव अंबेडकर ने संविधान निर्माण में जो व्यवस्था दी थी कि प्रत्याशी के देहांत उपरांत बाद पुनः चुनाव कर जनता की आवाज को सदन तक पहुंचाया जाये परंतु बाबा साहब ने सपने में भी नहीं सोचा था कि गुलामी से मुक्त हुये भारत में चाल चरित्र और चेहरे की दुहाइ देने वाले राजनैतिक दल सीधे-सीधे चीरहरण कर उसे लज्जित अर्थात् सरकार गिरा देगें। उपरोक्त आशय के विचार व्यक्त करते हुए कांग्रेस प्रत्याशी पारूल साहू ने ग्राम सरखड़ी में कहां कि लोकतंत्र के इस चीरहरण को बचाने, प्रजातंत्र की रक्षा आपका एक अमूल्य वोट कर सकता है।
पारूल साहू ने कहां आपको मतदान के लिए शेष 1 दिन में लोभ, लालच, और भय तीन बातों से बचकर नवम्बर की 3 तारीख को 3 नंबर का पंजा वाला बटन दबाकर लोकतंत्र के इस असमय हुए महाभारत में भगवान श्रीकृष्ण और पांडवो की अर्थात् कांग्रेस को विजय दिलाना है, कौरव सेना को हराना है। पारूल साहू ने ग्राम रमपुरा, अगरा, मूडरा, गोसरा, बेरखेड़ी, गढ़ौली, महुआखेड़ा, घमोनी, सरखड़ी, मे सघन जनसंपर्क किया।
जिला कांग्रेस सागर ग्रामीण प्रवक्ता रवि सोनी ने कहा कि कांग्रेस सरकार बनते ही कमलनाथ जी ने कहा है कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, सहायिकाओं एवं आशा कार्यकर्ताओं को स्थाई कर्मचारी घोषित किया जायेगा उनके मानदेय में बढ़ोतरी की जायेगी तथा कन्यादान योजना बंद नहीं की जायेगी।
म.प्र. कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष कृष्णा सिंह ठाकुर ने कहा कि गोविन्द राजपूत वहीं कहते है जो वो कर  चुके होते है गोविन्द ने बिल्कुल सही कहा है छल कपट से एक ही चुनाव जीता जा सकता है, दूसरा नहीं क्योकि इसके पहले का चुनाव  उन्होंने छल-कपट से ही जीता था।
जिला महिला कांग्रेस अध्यक्षा प्रमिला सिंह ने कहा पं. जवाहर लाल नेहरू एवं सरदार बल्लभ भाई पटेल ने हमे आपको जो सुनियोजित संगठित म.प्र. आज के ही दिन सन् 1956 में सौंपा था कांग्रेस ने उसे शनैः शनैः विकासोन्मुखी और प्रगत बनाया है। संविधान के अनुसार चलाया है परंतु लोकतंत्र के हत्यारों ने म.प्र. को विगत 15 सालों में सरकार बनाकर लूटा और अब फिर लूटने संगठित है इन्हें इस बार कैसे भी सत्ता में आने नहीं देना है कांग्रेस को जिताने के लिए पारूल साहू को विजयी बनाना है।

 ..विधायक बनना था तो इस्तीफा क्यों दिया .इस्तीफा दिया है तो अब विधायक क्यों बनना है.. : लखन घनघोरिया

 पूर्व मंत्री विधायक एवं सुरखी प्रभारी लखन घनघोरिया ने  जैसीनगर में कांग्रेस प्रत्याशी के पझ में मतदाताओं के बीच अपने संबोधन में भाजपा प्रत्याशी पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि विधायक बनना है तो इस्तीफा क्यों दिया और इस्तीफा दिया है तो अब विधायक क्यों बनना चाहते हैं यह मतदाता समझ गया है । सहप्रभारी विधायक संजय शर्मा ने कहा है कि यह उपचुनाव सुरखी की जनता का स्वाभिमान और अस्तित्व तथा स्थिरता का है। पूर्व मंत्री सुरेन्द्र चौधरी ने कहा कि  निर्वाचन आयोग सुरखी विधानसभा क्षेत्र में एक ही चश्मे से देखें निर्वाचन प्रक्रिया उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ दल  के डर से कांग्रेश पार्टी के लोगों से भेदभाव बढ़ता जा रहा है जिससे निर्वाचन की निष्पक्षता पर आंच आई है।
  उपाध्यक्ष पूर्व विधायक अरुणोदय चौबे ने कहा कि धनबल के सहारे भाजपा प्रत्याशी चुनाव जीतने की जुगत में है पर वह  सुर्खी की जनता की ईमानदारी और स्वाभिमानी पर चोट कर   बोट  बेचकर सुर्खी क्षेत्र को कलंकित कर दिया है मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष वीरेंद्र गौर ने कहा कि धोखेबाज ठगी करने वाली भाजपा के झांसे में सुर्खी का मतदाता आने वाला नहीं है इस चुनाव में बूथ स्तर पर भाजपा के षड्यंत्र से निपटने की तैयारी कर ली है उन्होंने अधिकारियों कर्मचारियों से  निष्पक्षता से चुनाव प्रक्रिया में कर्तव्य निष्ठा के साथ अपनी जिम्मेदारी निभाने का आवाहन किया है ।
जिला कांग्रेस ग्रामीण के प्रभारी अध्यक्ष सुरेन्द्र सुहाने ने कहा है कि चुनाव में लगा हमारा कांग्रेस का कार्यकर्ता  निडरता से भाजपा के षड्यंत्र  को विफल करने के लिए निर्भरता से भर जाए और किसी से डरने की आवश्यकता नहीं है हर बूथ स्तर पर कांग्रेश  ने टेक्निकल रूप से तैयारी कर ली है ।  उपाध्यक्ष बुन्देल सिंह बुंदेला ने कहा कि  भाजपा के धोखा और गद्दारी का सबक सिखाने का मन जनता ने बना लिया है और भाजपा को चुनाव में करारी धूल चटाएगा । जैसीनगर में मतदाताओं के बीच अंतिम चरण में ठोल ठमाको के साथ जाकर दस्तक दी है ।  राहतगढ़ एवं जैसीनगरमें  एक दर्जन से अधिक गांव में घर घर जाकर कांग्रेस प्रत्याशी पारूल साहू के पझ में बोट मांगे । इस अवसर पर मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी महासचिव मुकुल पुरोहित .राजकुमार पचौरी. पं. महेश तिवारी .अवधेश तोमर. नीरज मुखारया . गुरमीत सिंह आहुवालिया. अंकुर दुबे .रामा यादव. अनिल सोनी .गोलू भारद्वाज सहित बडी संख्या में कांग्रेस जन शामिल रहे।

 कांग्रेस सरकार आयेगी कर्ज माफी भी होगी और कन्यादान योजना जारी रहेगी 

 सचिव पिछड़ा वर्ग नेता रमाकांत यादव ने ग्राम बरौदा में जनसंपर्क करते हुए कहा कि विधानसभा में 26 लाख किसानां की कर्ज माफी कमलनाथ सरकार द्वारा हुई यह स्वीकार कर चुकी भाजपा सरकार फिर मंचो से झूठ बोलने लगी कि किसानों के साथ धोखा हुआ कर्ज माफ नहीं हुआ यह झूठ क्या आचार सहिता का उल्लंघन नहीं। चुनाव आयोग इस झूठ पर गंभीर क्यों नहीं। रमाकांत यादव ने कहा कि कर्ज माफी के दो चरणों के बाद तीसरे चरण में किसानों के 2 लाख रू तक के कर्ज माफ होगे और भाजपा सरकार में दलालों की चारागाह बन चुकी कन्यादान योजना में वधू के खाते में 51,000 रू कमलनाथ सरकार देगी भाजपाई कहते फिर रहे कि कन्यादान योजना कमलनाथ बंद कर देगे।

प्रदेश उपाध्यक्ष महेन्द्र सिंह कुर्मी ने ग्राम सोठिया में पारूल साहू के पक्ष में जनसंपर्क करते हुए कहा कि सरकार में आते ही कमलनाथ जी ने संपूर्ण म.प्र. के विकास का रोडमैप तैयार करा लिया था उन्होंने वचन पत्र में किए 100 वायदे 100 दिन में पूरे किये और आगे की रूप रेखा पर क्रियावयन करते, कि 22 गद्दारों ने संगठित होकर भाजपा के साथ षडयंत्र रचकर कमलनाथ जी सरकार गिराई। कांग्रेस सरकार की योजनाओं में सुरखी का चहुमुखी विकास होगा यह तय है।
म.प्र. कांग्रेस कमेटी सचिव राकेश सरवैया ने कहा कमलनाथ जी दिखावे की राजनीति नहीं करते वो जनतंत्र एवं धर्म दोनां में सच्ची श्रृध्दा रखते है राममंदिर निर्माण शिलान्यास वाले दिन उन्होंने संपूर्ण कांग्रेसजनों द्वारा पूरे प्रदेश में हनुमान चालीसा के पाठ कराये और 11 किलो चांदी की शिलाये पूजन कर तत्काल अयोध्या रवाना की थी जबकि सुरखी के तथाकथित रामभक्त दिखावटी द्वारा बड़े स्वरूप की हल्की दिखावटी शिलाये पूरी सुरखी विधानसभा में तो दर्शनार्थ घूमी पर अंत में किला कोठी में कैद हो गई। जनसंपर्क में वरिष्ठ कांग्रेस नेता विश्वनाथ चौबे, मलखान सिंह ठाकुर आदि उपस्थित थे।

 कांग्रेस कमेटी महासचिव एवं ए.आई.सी.सी. सदस्य भूपेन्द्र मुहासा, ने पारूल साहू के पक्ष में ग्राम मरदानपुर मुहासा लखनपुर, विचपुरी में घर-घर जाकर लोगां से 3 नंबर को मतदान करने की अपील करते हुए कहा सुरखी विधानसभा में सत्ता पक्ष के प्रत्याशी नोट से वोट पलटने की पूरी कोशिश कर रहे है अब तक लगभग 40 लाख रूपया पुलिस ने नाको से सुरखी क्षेत्र में ले जाते हुए पकड़ा है और ना जाने कितने 40 लाख रूपया और क्षेत्र में बटने को तडफड़ा रहा होगा। बावजूद इसके सुरखी की जनता ने कांग्रेस को वोट देने के लिए मन बना लिया है सुरखी सहित म.प्र. की सभी 28 सीटों पर कांग्रेस ही जीतेगी।

सुरखी का उपचुनाव अधर्म के खिलाफ धर्म और न्याय का धर्मयुद्ध

सुरखी का उपचुनाव अधर्म के खिलाफ धर्म और न्याय का धर्मयुद्ध है। इस धर्मयुद्ध के द्वारा सुरखी की जनता लोकतंत्र में पनप रही असुरी प्रवृत्तियों का नाश कर संविधान और जनमत की रक्षा के लिए आगे आए। जिला कांग्रेस अध्यक्ष रेखा चौधरी ने सुरखी की जनता से आव्हान किया है कि कांग्रेस प्रत्याशी पारुल साहू केसरी को भारी मतों से जिता कर प्रदेश में एक बार फिर कमलनाथ जी के नेतृत्व में कांग्रेस की लोकतांत्रिक सरकार स्थापित करे।  धर्म युद्ध में आसुरी शक्तियों द्वारा अनीति के प्रयोग की तरह ही लोकतंत्र के इस धर्म युद्ध में भी आसुरी शक्तियों की अनीति भी सामने आ रही है। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive