जंय श्री गणेशाय नमः

सोमवार, 9 अगस्त 2021

बाबा साहेब ने देश की संस्कृति को जोड़ने के लिये संविधान बनाया, भाजपा ने संविधान में छेड़छाड़ कर लोकतंत्र की हत्या की: कमलनाथ ★ दलितों पर हो रहे अत्याचार पर शिवराज की चुप्पी क्यों?ः नितिन राउत ★ भाजपा सरकार में दलित वर्ग का भविष्य खतरे में: सुरेन्द्र चौधरी ★ विधानसभा का घेराव कर रहे कांगे्रसजनों पर ,पुलिस ने की बर्बरता ,किया गिरफ्तार


बाबा साहेब ने देश की संस्कृति को जोड़ने के लिये संविधान बनाया, भाजपा ने संविधान में छेड़छाड़ कर लोकतंत्र की हत्या की: कमलनाथ

★ दलितों पर हो रहे अत्याचार पर शिवराज की चुप्पी क्यों?ः नितिन राउत
★ भाजपा सरकार में दलित वर्ग का भविष्य खतरे में: सुरेन्द्र चौधरी


★ विधानसभा का घेराव कर रहे कांगे्रसजनों पर ,पुलिस ने की बर्बरता ,किया गिरफ्तार

भोपाल। विश्व आदिवासी दिवस और भारत छोड़ो आंदोलन दिवस पर प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने प्रदेश कांगे्रस मुख्यालय परिसर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि संविधान को बचाने के लिए 9 अगस्त को बिगुल बजा और 9 अगस्त को ही आजाद हिंद फौज का गठन हुआ।बाबा साहेब ने संविधान केवल देश को नहीं पूरे विश्व को दिया।मै अफ्रीका गया तो वहां के राष्ट्रपति से मिला, उनके यहां भी बाबा साहब की तस्वीर लगी थी। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब ने भारत ही नहीं पूरे विश्व के लिए संविधान बनाया, मैं भी उनके संविधान का सम्मान करता हूं।
उन्होंने कहा कि भारत देश विभिन्नताओं का देश हैं। ऐसी विभिन्नता पूरे विश्व में देखने को नहीं मिलती है ,जहां अनेक धर्म, जाति, वेश भूसा के लोग रहते हैं।बाबा साहब के सामने राजतंत्र को प्रजातंत्र में बदलने की चुनौती थी, अनेकता को एकता में बदलने की चुनौती थी। अजा एवं अजजा को न्याय दिलाने की चुनौती थी, देश की संस्कृति बचाये रखने की चुनौती थी, भारत संस्कृति वाला देश है। बाबा साहब ने देश की संस्कृति सामने रखकर देश का संविधान बनाया। कांगे्रस ने देश की संस्कृति को जोड़ने का काम किया लेकिन आज कांग्रेस ही नहीं देश की संस्कृति पर हमला हुआ है। देश के संविधान को कुचला जा रहा है, उसकी हत्या की जा रही है। मप्र दलितों पर अत्याचार के मामले में नंबर एक पर है, बेरोजगारी में, महिला अपराध में, माफिया, गुडाराज में भी नंबर एक पर है। आज का युवा काम चाहता है, लेकिन आज सरकार के पास युवाओं के लिए कोई योजना नहीं है। आज की युवा पीढ़ी कमीशन, ठेका नहीं चाहती, रोजगार चाहती है, हाथ में काम चाहती है। आज हर वर्ग भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों से असंतुष्ट है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और शिवराजसिंह चैहान अपनी पार्टी के एक भी ऐसा नेता का नाम बता दें जो स्वतंत्रता संग्राम सेनानी रहा हो। जहां सालों से आरएसएस का हेड क्वाटर बना है, उस विधानसभा से भी कांगे्रस का ही विधायक चुनकर आता है। 
श्री नाथ ने कहा कि 15 साल की भाजपा सरकार के भ्रष्टाचार को समाप्त करने के मैंने प्रयास किये, 15 महीने हमारी सरकार रही, साढ़े 11 महीने मुझे काम करने का मौका मिला, मैंने 27 लाख किसानों का कर्ज माफ किया जो विधानसभा में भी इन्होंने स्वीकार भी किया। शिवराज सिंह ने प्रदेश को लाखों करोड़ के कर्ज के बोझ से ,गर्त में धकेलने का काम किया है, वे केवल अपनी कुर्सी बचाने में लगे रहते हैं। मैं शिवराज सिंह चैहान से कहना चाहता हूं कि केवल मुंह चलाने से सरकार नहीं चलती। दो साल और अपना मुँह चला लो, नौजवान ही आपकी जुबान बंद करवाकर आपको हमेशा के लिए घर बैठायेगा। देश की 70 प्रतिशत अर्थव्यवस्था किसानों से चलती है। जब किसान ही परेशान हो तो अर्थव्यवस्था कैसे सुधरेगी?
श्री नाथ ने कहा कि आज प्रदेश के सामने चुनौती है युवाआंे को रोजगार की, दुकानदार को व्यवसाय की और मजदूरों को दो वक्त की रोटी की। रोजगार बनाने के लिए आर्थिक नीतियां बनानी पड़ती हैं। मैंने अपनी सरकार के समय आर्थिक नीतियां बनाना शुरू की थी, लेकिन उनको पचा नहीं और सरकार गिराने की तिकड़बाजी में लग गये और खरीद-फरोख्त कर उसमें सफल हो गये।  
हमारी सरकार के समय कोरोना का एक ही केस था, हमने कोरोना से निपटने के लिए तैयारियां शुरू की लेकिन शिवराजजी ने कोरोना का मजाक बनाया, वे कहते थे कोराना नहीं डरोना है। देश में जब कोरोना था तब ये आक्सीजन और दवाईयों का निर्यात कर रहे थे, आज कोरोना से लाखों मौतें हुई लेकिन सरकार मानने के लिए तैयार नहीं। अस्पतालों में मरीजों को लाखों के बिल लोगों को थमाये गये। मैं पूछता हूं आखिर मैंने कौन सी गलती की थी ,क्या माफिया के खिलाफ मुहिम चलाकर, मिलावट के खिलाफ युद्ध चलाकर ? मैंने प्रदेश में आर्थिक गतिविधिया बढ़ाने की ओर ध्यान दिया। मैं प्रदेश की जनता से कहता हूं कि मुझे विश्वास है आप कांगे्रस का साथ न दें, कमलनाथ का साथ न दें लेकिन सच्चाई का साथ अवश्यक देंगे। प्रदेश की भोली-भाली जनता बहुत समझदार है। आज 9 अगस्त के दिन आप सब संकल्प लें सच्चाई का साथ दंेगे, प्रदेश से इस भ्रष्टाचारी सरकार को उखाड़ फेकेंगे और फिर 2023 में विधानसभा में कांगे्रस का परचम लहरायेगा।
अभा कांगे्रस अनुसूचित जाति विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं महाराष्ट्र शासन के केबिनेट मंत्री नितिन राउत ने कांगे्रसजनों को संबोधित करते हुए कहा कि इस धरा पर आदिवासियों का बहुत महत्व है। जल, जंगल, जमीन बचाने के लिये कई आदिवासियों ने अपने प्रणों को न्यौछावर किये हैं। उन्होंने नेमावर की घटना में मृत दलित परिवार और 2 अप्रैल को शहीद हुये दलितों के प्रति अपनी आदरांजलि अर्पित की।श्री राउत ने कहा कि शिवराजसिंह ने खरीद-फरोख्त कर सरकार तो बना ली, लेकिन लोगों के दिलांे में आज भी कमलनाथ जी ही है। प्रदेश की जनता कमलनाथ जी को फिर एक बार मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहती है। कमलनाथ जी ने दलितों के उपर चल रहे प्रकरणों का खात्मा कराया। उन्होंने कहा कि वह समय गया जब पहले रानी के घर राजा पैदा होते थे अब तो मतदाता ही राजा बनाते हैं। दलितों पर अत्याचार को लेकर शिवराज ने चुप्पी क्यों साध रखी? भारत में एक समय था जब संविधान समिति में 99 प्रतिशत सदस्य कांगे्रस के थे, उसके बावजूद बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर को संविधान बनाने की जिम्मेदारी मिली। 
उन्होंने कहा कि आरएसएस ने कभी तिरंगा स्वीकार नहीं किया और अब तिरंगा यात्रा निकाल रही है। अनुसूचित जाति अत्याचार के खिलाफ कांगे्रस ने सख्त कानून बनाये लेकिन दिल्ली, हाथरस में दलितों के साथ घटित घटनाओं पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चुप रहे? वहीं कांगे्रस ने पदोन्नती, आरक्षण जैसी योजनाएं चलायी लेकिन मामू सरकार ने इसका खात्मा करने की कवायद शुरू कर प्रदेश की जनता के साथ कुठाराघात किया। 
कार्यक्रम के आयोजक प्रदेश कांगे्रस के कार्यकारी अध्यक्ष पूर्व मंत्री सुरेन्द्र चौधरी ने भारत छोड़ो आंदोलन दिवस और विश्व आदिवासी दिवस पर कार्यक्रम में आये सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं का स्वागत और आभार व्यक्त करते हुए प्रदेश की जनविरोधी, दलित विरोधी भाजपा सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि शिवराज सरकार ने बाबा साहेब के संविधान की हत्या कर सरकार बनायी है। शिवराज ने दलितों के साथ कुठाराघात किया है, उनके हकों को कुचलने का काम किया जा रहा है।  
श्री चैधरी ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार की दलित और संविधान विरोधी नीतियों से आज अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग के लोग प्रताड़ित व उपेक्षित हैं। प्रदेश के अनेकों जिलों में संविधान निर्माता बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर और देश के महान नेताओं की प्रतिमाएं तोड़ने का काम भाजपा सरकार में हो रहा है। उन्होंने कहा कि सत्ताधारी लोग लोकतंत्र की हत्या करने पर आमदा है, जिससे अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के लोगों का भविष्य खतरे में है। हमें अपने भविष्य को सुरक्षित करने कांग्रेस पार्टी को ओर अधिक मजबूत करने की आवश्यकता है। 

विधानसभा का किया घेराव

विश्व आदिवासी दिवस और भारत छोड़ो आंदोलन दिवस पर भाजपा सरकार की दलित, संविधान, जनविरोधी नीतियों, दलितों पर बढ़ रहे अत्याचार, अन्याय, उत्पीड़न की घटनाओं को लेकर प्रदेश कांगे्रस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग के तत्वाधान में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम के बाद हजारों की संख्या में मौजूद कांगे्रसजनों ने जैसे ही विधानसभा का घेराव करने के लिए कूच किया तो पुलिस बल ने बर्बरतापूर्ण बलप्रयोग कर उन्हें रेडक्रास के आगे नहीं जाने दिया और प्रदेश कांगे्रस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेन्द्र चैधरी, विधायक जयवर्धनसिंह, कमलेश्वर पटेल, रामलाल मालवीय, सुरेश राजे सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। 
कार्यक्रम में पूर्व मंत्री सुरेश पचौरी , कांतिलाल भूरिया, अरूण यादव, अभा कांगे्रस अजा विभाग के संयोजक प्रभारी मप्र राजकुमार कटारिया, कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत, जीतू पटवारी, पूर्व सांसद रामेश्वर नीखरा, पूर्व मंत्री सज्जनसिंह वर्मा, एनपी प्रजापति, पी.सी. शर्मा, विजयलक्ष्मी साधो, महिला कांगे्रस अध्यक्ष अर्चना जायसवाल, अजजा विभाग के अध्यक्ष अजय शाह, विधायकगण आरिफ समूद, रवि जोशी, कुणाल चैधरी, विपिन बानखेड़े, भोपाल जिला एवं शहर कांगे्रस अध्यक्ष कैलाश मिश्रा एवं अरूण श्रीवास्तव, मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा, भूपेन्द्र गुप्ता, गुरूचरण खरे सहित प्रदेश कांगे्रस के पदाधिकारी, कांगे्रस अजा विभाग के प्रदेश भर से आये कार्यकर्ता, मोर्चा संगठनों के पदाधिकारी एवं बड़ी संख्या मंे कार्यकर्ता उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन प्रदेश कांगे्रस के महामंत्री राजीव सिंह एवं असरफ खान ने लिया। कांगे्रस अजा विभाग के जिला अध्यक्ष महेश नंद मेहर आभार व्यक्त किया।  



0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive