अभियोजन अधिकारियों की साग़र संभाग की एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न

सोमवार, 1 फ़रवरी 2021

महार रेजिमेंट केन्द्र से सैन्य प्रशिक्षण पाकर 94 नव सैनिकों ने ली देश पर मर मिटने की कसम

महार रेजिमेंट केन्द्र से सैन्य प्रशिक्षण पाकर 94 नव सैनिकों ने ली देश पर मर मिटने की कसम 
 
सागर। सागर स्थित महार रेजिमेंट केन्द्र के ऐतिहासिक ' अनुसुईया प्रसाद परेड ग्राउंड में आयोजित भव्य एवम् आकर्षक पासिंग आउट परेड ' के दौरान महार रेजिमेंट का आदर्श वाक्य " यश- सिद्धि " गुंजायमान हो उठा । 34 सप्ताह की कड़ी मेहनत और कठिन सैन्य प्रशिक्षण के उपरांत रिकूट कोर्स कमांक - 142 के 94 युवा सैनिकों ने तिरंगे के समक्ष राष्ट्र सेवा की शपथ ग्रहण की । कर्नल प्रदीप चौबे , डिप्टी कमांडेंट , महार रेजिमेंट केन्द्र ने नव सैनिकों को संबोधित करते हुए , महार रेजिमेंट के गौरवशाली इतिहास और उन वीर सैनिकों की शहादत का उल्लेख किया , जिन्होंने राष्ट्र की सेवा करते हुए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए । नव - सैनिकों को वर्तमान परिस्थितियों और चुनौतियों के विरुद्ध डटे रहकर देश की रक्षा करने के लिए प्रेरित किया तथा केन्द्र में प्रशिक्षणार्थियों को विषम परिस्तिथियों के बावजूद , प्रशिक्षण जारी रखते हुए उच्च कोटि के सैन्य प्रशिक्षण हॉसिल करने पर संतोष व्यक्त किया । डिप्टी कमांडेंट  ने आपसी सौहार्द और टीम भावना पर जोर देते हुए नव सैनिकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सभी नव सैनिक इसका पालन करेंगे । 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट



इस अवसर पर भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्व . अटल बिहारी बाजपेई , भारत रत्न दवारा लिखि गई  कविता के अनमोल पंक्तियों को याद किया :-

 कदम मिला कर चलना होगा
 बाधाएं आती हैं आएं घिरे प्रलय की घोर  घटाएं , 
पाँवों के नीचे अंगारे , सिर पर बरसे यदि ज्वालाएं , 
निज हाथों से हँसते - हँसते 
आग लगाकर जलना होगा । 
कदम मिला कर चलना होगा 


 ---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive