SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

सोमवार, 7 जून 2021

साग़र नगर निगम क्षेत्र में तेजी से घटे, कोरोना संक्रमण के एक्टिव केस

साग़र नगर निगम क्षेत्र में तेजी से घटे, कोरोना संक्रमण के एक्टिव केस


सागर।  नगर निगम क्षेत्र के 7 जून के पिछले 10 दिनों में 48 वार्डो में से 24 वार्ड ऐसे है जिनमें एक भी एक्टिव केस नहीं है और ये सभी वार्ड ग्रीन जोन में शामिल हो गये है जबकि 24 वार्ड ऐसे है जो भी येलो जोन में यानि उनमें 10 से कम एक्टिव केष है इस प्रकार 7 जून की स्थिति में नगर निगम के इन 24 वार्डो में कुल 40 एक्टिव केष शेष बचे है।
इन 24 वार्ड जिनमें एक्टिव केष है उनपर गौर करें तो अभी भी तिली वार्ड में 6 बाघराज वार्ड में 4 मधुकरषाह वार्ड में 3 सिविल लाईन में 3 तथा विठ्ठलनगर वार्ड में 2 , रविषंकर 2, गोपालगंज 2 में, षिवाजीनगर वार्ड में 2 तथा तिलकगंज वार्ड 1, शास्त्री वार्ड 1, गौरनगर 1, शनिचरी 1, परकोटा 1, गुरूगोविंदसिंह 1, सुभाषनगर 1, तुलसीनगर 1, संतरविदास 1, मोतीनगर 1, जवाहरगंज 1, नरयावली नाका 1, लक्ष्मीपुरा 1, पंतनगर 1, अम्बेडकर 1, काकागंज 1 में एक-एक एक्टिव केष है।
गौर करें तो षिवाजीनगर वार्ड और तिली, मधुकरषाह एवं तिलकगंज वार्ड ऐसे वार्ड थे जिनमें केषों की संख्या ज्यादा थी और वह कोेरोना के हाट स्पाट बन गये थे।

 लेकिन इन वाार्डो में कलेक्टर श दीपकसिंह के निर्देषानुसार एवं नगर निगम आयुक्त  आर.पी.अहिरवार के मार्गदर्षन में कोरोना नियंत्रण पर प्रभारी कदम उठाते हुये इन वार्डो में संक्रमण रोकने के उपाय किये गये और जो लोग संक्रमित थे उन्हें तत्काल उपचार दिया गया इस कार्य में नगर निगम द्वारा बनाये गये कोविड फीवर क्लीनिक, घर-घर जांच और दवा वितरण, सैंपलिंग एवं कोविड सहायता केन्द्र बनाये जिससे नागरिकों की प्रारंभ में ही जांच हो गई और लक्षण पाये जाने पर उन्हें कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया और उनके निवास के पूरे क्षेत्र में कंटेनमेंट क्षेत्र बनाया गया ताकि बाहर और अंदर आने जाने वालों को रोक दिया गया जिससे संक्रमण आगे नहीं बढ़ गया।
जबकि ग्रीन जोनों के वार्डो पर नजर डाले तो पिछले 10 दिनों की स्थिति में निगम के 24 वार्ड ग्रीन जोन में शामिल हो गये जिनमें केषों की संख्या शून्य है ।जबकि यह वार्ड शहर की घनी आबादी वाले और विशेषकर व्यवसायिक क्षेत्र है लेकिन वह ग्रीन जोन में है इसका मुख्य कारण है कि जनता ने प्रषासन और कोविड नियमों का पालन किया,शासन द्वारा चलाये गये जांच और किल कोरोना अभियान में सहयोगी नहीं बल्कि अन्यों को भी प्रेरित किया और जरा से लक्ष्य होने पर उन्हें छुपाया नहीं बल्कि उनकी जांच कराये और सेंसटेटिव पाये जाने पर ट्रिपल सी. में भर्ती हो गये या सख्त होम कोरंनटाईन रहे जिससे कोरोना संकमण फैलने की चैन टूट गयी। लेकिन भले ही वार्ड ग्रीन में जोन में आ गये है और शेष बचे वार्ड भी जल्दी ही ग्रीन जोन में आ जायेगे। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive