सोमवार, 24 जनवरी 2022

महिला बाल विकास परियोजना का कम्प्यूटर आपरेटर 30 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार ★ परियोजना अधिकारी ने आपरेटर के जरिये मांगी रिश्वत, तीन पर मामला दर्ज ★लोकायुक्त पुलिस सागर की कार्यवाई

महिला बाल विकास परियोजना का कम्प्यूटर आपरेटर 30 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार
★ परियोजना अधिकारी ने आपरेटर के जरिये मांगी रिश्वत, तीन पर मामला दर्ज
★लोकायुक्त पुलिस सागर की कार्यवाई


छत्तरपुर।  लोकायुक्त पुलिस सागर ने छत्तरपुर जिले के  महिला बाल विकास परियोजना कार्यालय बड़ा मलहरा के कम्प्यूटर आपरेटर को 30 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा है। परियोजना अधिकारी और एक बाबू ने मिलकर रिश्वत मांगी थी। आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के ट्रांसफर के एवज में रिश्वत ली गई। लोकायुक्त पुलिस  टीम में निरीक्षक बी एम द्विवेदी और मंजूसिंह के नेतृत्व में यह कारवाई हुई। 
निरीक्षक बीएम द्विवेदी के अनुसार आवेदक मुकेश पिता श्यामलाल अहिरवार निवासी ग्राम राजपुरा तह बड़ामलहरा ने लोकायुक्त पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।आज लोकायुक्त पुलिस ने बड़ा मलहरा में कार्यालय में कम्प्यूटर आपरेटर गोलू सेन को 30 हजार की रिश्वत लेते रँगे हाथों पकड़ा।  परियोजना अधिकारी महिला बाल विकास एकता गुप्ता और बाबू
राममिलन रैकवार बाबू  मिलकर रिश्वत मांग रहे थे। 

ट्रांसफर के एवज में मांगी रिश्वत

आवेदक मुकेश की पत्नी संपत देवी  ऑगनवाडी  कार्यकर्ता का स्थानान्तरण ग्राम खेरी से राजपुरा करने एवं नोटिस फाइल करने के एवज में कार्यालय में अधिकारी और कर्मचारियों ने रिश्वत मांगी थी। 
फरियादी मुकेश अहिरवार निवासी रजपुरा ने बताया कि पत्नी संपत देवी अहिरवार आंगनवाडी केंद्र खैरी में कार्यकर्ता के रूप में काम कर रही है। खैरी से ग्राम रजपुरा में तबादला कराने के एवज में महिला एवं बाल विकास अधिकारी एकता गुप्ता ने 1 लाख 25 हजार रुपए की मांग की जा रही है। सोमवार दोपहर मुकेश अहिरवार 30 हजार रुपए लेकर कार्यालय पहुंचा। जैसे ही उसने गोलू को रिश्वत दी, टीम ने दबाेच लिया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense