अभियोजन अधिकारियों की साग़र संभाग की एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न

शुक्रवार, 12 फ़रवरी 2021

जलप्रदाय योजना और सीवरेज अंतर्गत किए जा रहे कार्यों में तेजी लाएं : कमिश्नर मुकेश शुक्ला

               
जलप्रदाय योजना और सीवरेज अंतर्गत किए जा रहे कार्यों में तेजी लाएं : कमिश्नर मुकेश  शुक्ला

सागर ।  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा सागर विकास रोडमैप समीक्षा बैठक में दिए गए निर्देशों के अनुपालनार्थ किए जा रहे कार्यों की स्मार्ट सिटी कार्यालय सभाकक्ष में संभागायुक्त श्री मुकेश शुक्ला ने बैठक ली। बैठक में जिला कलेक्टर  दीपक सिंह, निगमायुक्त  आर पी अहिरवार, एसडीएम श्री पवन बारिया, निगमउपायुक्त श्री प्रणय कमल खरे, मकरोनिया सीएमओ, स्मार्ट सिटी सीएफओ के पी श्रीवास्तव, सीएस  रजत गुप्ता सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।
संभागायुक्त मुकेश शुक्ला ने मुख्यमंत्री श्री चौहान के निर्देशानुसार शहर विकास हेतु नगरनिगम, स्मार्ट सिटी, एमपीयूडीसी द्वारा किए जा रहें विकास कार्यों की बिंदुवार समीक्षा करते हुए कहा कि अमृत जलप्रदाय योजना अंतर्गत तेजी से कार्य किया जाये। राजघाट बांध की ऊचाई बढ़ाने की सैद्धांतिक स्वीकृति मिल चुकी है। इस पर साधिकार समिति से अप्रूवल पश्चात कार्य प्रारंभ किया जाये। सीवरेज के कार्य में गति लाए व 31 मार्च तक जोन 3 का कार्य पूर्ण कर इसे चालू करें। पाइपलाइन डालने पश्चात गुणवत्ता पूर्ण सरफेसिंग का कार्य करें। मकरोनिया क्षेत्र में भी सीवर प्रोजेक्ट व जलप्रदाय प्रोजेक्ट अंतर्गत कार्य करने हेतु कंसल्टेंट से बात कर योजना तैयार करें। सोलर एनर्जी प्रोजेक्ट हेतु स्मार्ट सिटी द्वारा भारत सरकार की सोलर एनर्जी स्कीम अंतर्गत राजघाट पर चिन्हित जमीन पर प्रोजेक्ट प्रारंभ करने की योजना तैयार की जाये।
सागर के चारों छोरों को जोड़ते हुए रिंगरोड निर्माण हेतु स्थल निरीक्षण कर संभावनाएं खोजें व जमीनों का सीमांकन कर योजना तैयार करें। साथ ही शहर की ऐसी सरकारी जमीने जिनका उपयोग अन्य प्रोजेक्टों हेतु उपयुक्त होगा उनका भी सीमांकन कर बोर्ड लगाएं। ढाना हवाई पट्टी का पुनर्विकास कर हवाईअड्डा तैयार करना एक महत्वाकांछी प्रोजेक्ट है। इसके लिए स्थल निरीक्षण कर जमीन का सीमांकन कर योजना तैयार करें।

कलेक्टर दीपक सिंह ने कहा की मुख्यमंत्री की मंशानुसार लाखा बंजारा झील सागर का गौरव है इसके पुनर्विकास कार्य को बहुत ही अच्छे से व समयसीमा में पूर्ण किया जाना चाहिए। शहर के प्रत्येक वार्ड में  ओपन जिम, प्ले एरिया, स्मार्ट टायलेट,  रीडिंग लॉन जैसी अन्य सुविधओं से युक्त अत्याधुनिक पार्क तैयार करने हेतु स्थल का चयन करें। इन पार्कों को भी रिवेन्यू मॉडल पर तैयार करें। शहर के शॉपिंग काम्प्लेक्स में साबूलाल मार्केट, बकसीखाना एवं नयाबाजार में से एक का पुनर्विकास शीघ्र प्रारंभ करें। आर्ट एंड कल्चर सेंटर हेतु ऐसा स्पॉट चयनित करें जहाँ शहर के सभी नागरिक आसानी से पहुंच सकें। इसके साथ ही सागर में विश्वविद्यालय निर्माण की योजना तैयार की जाये ताकि यहां के कालेजों को उससे जोड़ कर यहां के छात्रों को सुविधाएं दी जा सकें।
निगमायुक्त आर पी  अहिरवार ने जानकारी देते हुए कहा की स्वच्छ्ता सर्वेक्षण में सागर ओडीएफ प्लस प्लस की श्रेणी में है। गार्वेज फ्री सिटी के रूप में लगातार कार्य किया जा रहा है कचरा प्लांट में सारा कचरा पहुंचा कर प्रोसेस किया जा रहा है। सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के चालू होने के बाद इसके ट्रीटेड वॉटर को पार्क, इंडस्ट्रियल यूज या वॉटर वाडी तैयार कर उपयोग करने की योजना है जिससे हमारा शहर वॉटर प्लस हो कर 5-स्टार की श्रेणी में आ जायेगा। बस स्टैंड हेतु अलग अलग जगहों पर जमीन का चिन्हांकन किया जा रहा है। बीएलसी एवं एएचपी मकानों में पक्के मकानों का निर्माण कराया जा रहा है।
इसके अलावा स्मार्ट सिटी अंतर्गत स्पोर्ट काम्प्लेक्स निर्माण हेतु खेल परिसर मैदान व निगम स्टेडियम की टेंडर प्रक्रिया की जा रही है। स्किल डेवलपमेन्ट एवं रोजगार को बढ़ावा देने हेतु इन्क्यूबेशन सेंटर का निर्माणकार्य शीघ्र ही प्रारंभ किया जायेगा। एलिवेटेड कॉरिडोर, ट्रांसपोर्ट नगर, डेयरी विस्थापन, हैरिटेज साईट कंजर्वेशन, आईटी इनविल्ड फायर फाइटिंग सिस्टम, मल्टीलेयर पार्किंग, स्मार्ट पोल एंड स्ट्रीट लाइट सहित अन्य प्रोजेक्टों पर कार्ययोजना, आरएफपी,  डीपीआर आदि प्रगतिशील है। 

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive