बुधवार, 19 फ़रवरी 2020

पिछड़ावर्ग अनुसूचित जाति व जनजाति मंच फोरम की केंद्रीय संचालक मंडल घोषित

पिछड़ावर्ग अनुसूचित जाति व जनजाति मंच फोरम की केंद्रीय संचालक मंडल घोषित

सागर ।गैर राजनैतिक संगठन " पिछड़ावर्ग अनुसूचित जाति व जनजाति मंच फोरम की कार्यसमिति ने अपने प्रथम चरण में आज चालीस सदस्यीय " केंद्रीय संचालक मण्डल " की घोषणा की है।
 मंच के संयोजक एडवोकेट बृज बिहारी चौरसिया ने बताया है कि संचालक मंडल में मुख्यालय सागर से तीन सौ एवं सभी दो सौ तीस विधानसभा क्षेत्र से दस-दस संचालकों को शामिल किया जाएगा जो लोकसभा, विधानसभा, ग्रामपंचायत और नगरीय क्षेत्र में वार्ड स्तरीय संगठन गठित कर ओबीसी, एससी व एसटी वर्गों के बीच अपना "वैचारिक-आंदोलन " गतिशील करेगा।
उन्होंने कहा कि मंच अपने पारित प्रस्ताव के परिपालन में इन वर्गों को राष्ट्रहित में राजनैतिक पार्टी कांग्रेस की विचारधारा से जोड़ेगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि मंच पूरी तरह गैर राजनैतिक है व इसके कांग्रेस अथवा किसी भी राजनैतिक पार्टी से कोई सम्बन्ध नहीं है।
कार्यसमिति के द्वारा आज नियुक्त किये गए केंद्रीय संचाल मण्डल में बृज बिहारी चौरसिया, एडवोकेट(प्रभारी ) शिवराजसिंह ठाकुर, सीताराम चौरसिया " लम्बरदार " रमेश कुमार बौद्ध, गोपालसिंह पटेल, इंजीनियर सुरेंद्रसिंह लोधी* *इंजीनियर संदीप कोरी, अब्दुल गनी खत्री, अनूप चौकसे, डॉ हीरालाल कोष्ठी, डॉ छतर सिंह लोधी, एडवोकेट जे पी सोनीएडवोकेट विजय सोनी, एडवोकेट पी सी चौधरी, एडवोकेट परुषोत्तम लाल सेन, संजय चौरसिया सहारा, एडवोकेट एस एल यादव, एडवोकेट महिपाल सिंह, एडवोकेट वी सी साहू, कांट्रेक्टर संजय चौरसिया, मोहनलाल साहू ओमप्रकाश नामदेव, राजेन्द्र कुमार सोनी, कृष्ण कुमार अहिरवार, कुँवर लाल कोष्ठी, एडवोकेट बी के अहिरवार, रविन्द्र यादव, मुकेश कुमार कोरी, श्रीमती कीर्ति चौकसे, श्रीमती अनिता शाक्य, मोतीलाल अहिरवार,अंसार खान, मूलचंद बौद्ध, हरभजन परोसी, एडवोकेट हेमराजसिंह राठौर, नीरज कुशवाहा, डालचंद पटेल, शिव प्रसाद पटेल, रमेश कुमार पटेल और मनु कुशवाहा शामिल है।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive