बुधवार, 18 मार्च 2020

दिग्विजय सिंह पहुचे बेंग्लुरू ,बोले राज्यसभा प्रत्याशी हूँ, विधायक मेरे वोटर है,मिलने नही दिया जा रहा, पुलिस ने हिरासत में लिया

दिग्विजय सिंह पहुचे बेंग्लुरू ,बोले राज्यसभा प्रत्याशी हूँ, विधायक मेरे वोटर है,मिलने नही दिया जा रहा,  पुलिस ने हिरासत में लिया
नई दिल्ली। एमपी का सियासी ड्रामा कर्नाटक पहुच गया। पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा प्रत्याशी दिग्विजय सिंह आज तड़के बेंगलुरु के उस होटल में पहुचे जहा सिंधिया समर्थक विधायक ठहरे है । दिग्विजय सिंह का कहना है कि में प्रत्याशी हूँ। अपने विधायक से मिलने आया हूँ। मिलने नही दिया जा रहा है ।  कमलनाथ सरकार के आधादर्जन मंत्रियों के साथ पहुचे दिग्विजय  धरने पर बैठ गए। बाद में पुलिस ने हिरासत में ले लिया।
उन्होंने ट्वीट किया कि  "मैं बेंगलूरू में अपने विधायकों से मिलने आया हूँ।कर्नाटक पुलिस हमें मिलने नहीं दे रही है।मैं गांधीवादी हूँ, निहत्था हूँ। उनकी सुरक्षा के लिए कोई ख़तरा नहीं हूँ। मैं गुप्त रूप से नहीं, खुलेआम मिलने आया हूँ।लेकिन BJP उन्हें तालाबंद रखना चाहती है और लोकतंत्र का अपहरण कर लिया है।"

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह बंगलूरू के रामदा होटल के पास धरने पर बैठ गए हैं। कथित तौर पर पुलिस द्वारा उन्हें होटल के अंदर नहीं जाने देने के बाद से ही वो धरने पर बैठे हुए हैं। पुलिस उन्हें वहां से हटाने की कोशिश कर रही है। इसी होटल में मध्यप्रदेश के कांग्रेस के 21 विधायक ठहरे हुए हैं। पुलिस ने दिग्विजय सिंह को एहतियातन हिरासत में ले लिया गया है।
दिग्वियज सिंह ने कहा कि पुलिस हमें अपने विधायकों से मिलने नहीं दे रही है। मैं मध्यप्रदेश से राज्यसभा का उम्मीदवार हूं, 26 मार्च को मतदान होना है। मेरे विधायकों को यहां रखा गया है, वे मुझसे बात करना चाहते हैं, उनके फोन छीन लिए गए हैं, पुलिस मुझे यह बोलने नहीं दे रही है कि विधायकों के लिए सुरक्षा खतरा है।
पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस से राज्यसभा प्रत्याशी दिग्विजय सिंह आज सुबह अचानक कांग्रेस विधायकों जिसमें मंत्री तरुण भनोत, सज्जन वर्मा, हर्ष यादव,जीतू पटवारी, विधायक कान्तिलाल भूरिया, कुणाल चौधरी के साथ बेंगलूर पहुचें और बंधक बनाये गए कांग्रेस के 16 विधायकों से मिलने जानें लगे तो वहा पुलिस ने तानाशाही करते हुए उनकौ बाहर रखा और जब दिग्विजय सिंह मिलने की बात पर धरना देने पहुचे तो उन्हे गिरफ्तार भी किया। 
परिवार के सदस्य अपने परिजनों से और श्री दिग्विजय सिंह अपने वोटरों से मिलने पहुंचे हैं ।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive