SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

शुक्रवार, 29 मई 2020

सागर: दादी बोली बारात लौटी तो आत्महत्या कर लूंगी,बड़ी मुश्किलों में रुकी नाबालिग की शादी

सागर: दादी बोली बारात लौटी तो आत्महत्या कर लूंगी,बड़ी मुश्किलों में रुकी नाबालिग की शादी

सागर। (तीनबत्ती न्यूज)।सागर के जिले के बण्डा क्षेत्र में एक नाबालिग लड़के  की शादी रुकवाने गए दल को भारी परेशानियो का सामना करना पड़ा। लड़का लड़की वाले लड़ने झगड़ने के लिए आमादा हो गए। पुलिस के हस्तक्षेप और समझाईश के बाद शादी रुकी। इस दौरान लड़की की दादी ने आत्महत्या की धमकी तक दे डाली। दादी के अनुसार बारात वापिस हुई तो वह मर जाएगी। 
सागर जिले के बण्डा थाना क्षेत्र के बरेठी में एक नाबालिक बालक की शादी होने जा रही थी । 

पढ़े : सागर में 24 नएकोरोना पॉजिटिव मरीज मिले ,संख्या बढ़कर हुई 165


जिसकी सूचना  विशेष पुलिस इकाई सागर को दी गई ।सूचना मिलते ही  पुलिस अधीक्षक सागर को सूचना देते हुए तुरंत ही टीम थाना बंडा ग्राम बरेठी रवाना हुई।  थाना बंडा का स्टाफ साथ लेकर  दल बाल विवाह स्थल पर पहुंचा जहां पर द्वारचार  चल रहा था । विशेष किशोर ईकाई सागर की प्रभारी ज्योति तिवारी जैसे ही अपने  दल के साथ वहां पहुची  तो बहुत भीड़ इकट्ठी हो गई।  और सभी लोग पूछने लगे कि आप लोग यहां क्यों आए हो तब हम ने लड़के को बुलवाया और पूछा कि उसकी उम्र कितनी है तो कहने लगा कि मैं तो 21 वर्ष का हूं ।तब हमने उससे पूछा कि तुम्हारी जन्म तारीख क्या है 10 5 2000 जन्म तिथि है तब हमने उसे बताया कि अभी तुम्हारी उम्र 20 वर्ष है और  शादी करने की उम्र 21 वर्ष है।  तब सभी लोग कहने लगे कि शादी होगी और से कोई नहीं रोक सकता ।

पढ़े : फॉर हर फाउंडेशन ने महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए दिए सांसद को 10 हजार सैनेटरी पैड , होगा निशुल्क वितरण


 वहां पर करीब  600 लोग थे और ज्यादातर नशे में थे।  इस दौरान  लोग गाली गलौज देकर बात करने लगे । वहां गुंडागर्दी दिखाने लगे।  इसके चलते पुलिस ने बल प्रयोग भी किया।  जब टीम ने  दूल्हे और उसके पिता को अपनी गाड़ी में बैठा लिया तो लड़की पक्ष के लोग लड़ने को आमादा खड़े हो गए । सभी गाड़ी के सामने आकर खड़े हो गए कि अगर दूल्हा यहां से जाएगा तो हमारी लाश पर निकाल कर जाना होगा तब टीम को  पुलिसवाला रूल अपनाना पड़ा ।सभी को वहां से बड़ी मुश्किल से हटाया बा बहुत चिल्ला चोट हुई बहस इतनी ज्यादा बढ़ गई कि गांव पूरा इकठ्ठा हो गया था ।सरपंच को बोला गया कि सभी को आप समझाएं नहीं तो हम सब पर अपराध कायम करवा देंगे ।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें
@weYljxbV9kkvq5Z


दादी बोली आत्महत्या कर लूंगी,बारात लौटी तो

इसी दौरान लड़की की दादी आकर  टीम की ज्योति तिवारी से  बोली कि अगर बारात वापस गई तो मैं आत्महत्या कर लूंगी और आपका नाम लगा दूंगी । तब ज्योति तिवारी ने  उन्हें समझाया कि अगर यह शादी हो गई तो आपके साथ साथ सभी पर अपराध कायम होगा। सभी लोग आकर के बहस बाजी करने लगे तब हमने दूल्हे और उसके पिता को लेकर वहां से आगे जाकर रुके पर सभी लोग हमारे पीछे-पीछे आ रहे थे ।चार-पांच घंटे की मशक्कत के बाद हम बारात वापस कर पाए और यह बाल विवाह रोक पाए ।पूरी कार्यवाही में प्रभारी  ज्योति तिवारी ,साजिद हुसैन, महिला बाल विकास से सुपरवाइजर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता चाइल्डलाइन टीम से वर्षा ठाकुर योगेश राठौर ,बण्डा पुलिस का स्टाफ और बस ड्राइवर शामिल रहा।

---------------------------- 


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885

-----------------------------२

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive