दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

गुरुवार, 18 नवंबर 2021

प्रो. गजभिये बनीं पशुओं पर प्रयोग के नियंत्रण और पर्यवेक्षण के प्रयोजनार्थ समिति की सदस्य

 
प्रो. गजभिये बनीं पशुओं पर प्रयोग के नियंत्रण और पर्यवेक्षण के प्रयोजनार्थ समिति की सदस्य 
 
सागर. 18 नवंबर. डॉ. हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर के भैषजिक विज्ञान विभाग की प्रोफेसर अस्मिता गजभिये को मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा पशुओं के प्रति क्रूरता निवारण अधिनियम- 1960  के तहत  पशुओं पर प्रयोग के नियंत्रण और पर्यवेक्षण के प्रयोजनार्थ गठित समिति की सदस्य बनाया गया है. 
प्रो. गजभिये मध्य प्रदेश की पहली महिला हैं, जिन्हें इस समिति में दूसरी बार सदस्य बनाया गया है। यह समिति ऐसे सभी उपाय सुनिश्चित करेगी जिसमें पशुओं पर प्रयोगों के प्रदर्शन से पहले, दौरान या बाद में अनावश्यक दर्द या पीड़ा न हो । ज्ञात हो कि प्रो अस्मिता वर्तमान में कई अन्य राष्ट्रीय समितियों की सदस्य भी हैं. 
प्रो. अस्मिता गजभिये की इस नियुक्ति पर विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता ने हर्ष व्यक्त किया तथा उन्हें बधाई देते हुए कहा कि यह विश्वविद्यालय के लिए यह गौरव की बात है.  विभागाध्यक्ष प्रो. वंदना सोनी तथा विभाग के शिक्षकों प्रो. संजय जैन, प्रो. यू.के. पाटिल, डॉ. धर्मेन्द्र जैन तथा डॉ. एस के काशव सहित विभाग के समस्त कर्मचारियों ने उन्हें बधाई प्रेषित की.  
 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive