रविवार, 8 मार्च 2020

कोरोना एवं संक्रमण बीमारियों से बचने के लिए "हम हैं इंसान" टीम ने लगाया जन-जागरूकता कैम्प

कोरोना एवं संक्रमण बीमारियों से बचने के लिए "हम हैं इंसान" टीम ने लगाया जन-जागरूकता कैम्प
सागर। सागर को पिछले 5 माह से सुंदर और स्वच्छ बनाने वाली टीम "हम हैं इंसान" ने आज मुख्य बस स्टैंड पर विशेषज्ञों के साथ मिलकर "नमस्ते सागर" जनजागरूकता कैंप के माध्यम से सागर को स्वस्थ रहने का संदेश दिया।
टीम ने बताया कि सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस को लेकर काफी भ्रांतियां फैलाई जा रही हैं, जिससे शहरवासियों में कोरोना को लेकर भयावह माहौल है, अतः उन्हीं भ्रांतियों को दूर करने यह कैम्प लगाया जा रहा है। कोरोना तथा अन्य वायरस हमेशा गंदगी के कारण फैलते हैं, इसीलिए इनके रोकथाम हेतु स्वच्छता ज़रूरी है, अतः टीम ने सभी शहरवासियों से यह निवेदन भी किया कि अपने आसपास का वातावरण स्वच्छ बनाएं रखें जिससे शहर का हर रहवासी स्वस्थ रहे।
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में डॉक्टर नीना गिडियन, डॉ साधना मिश्रा, डॉ मोनिका जैन, डॉ प्राची,रंजीता राणा, डॉ रूपेश साह, डॉ नीलेन्द्र राजपूत, तबरेज़ दाद (इंचार्ज 108 सर्विस), आर.के.जड़िया, पंकज सोनी शामिल हुए।
इस अवसर पर उपस्थित स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने बताया कि बुखार, शरीर में कंपकंपी, खांसी व श्वास में तकलीफ करोना के प्राथमिक लक्षण हैं। यह वायरस स्पर्श के माध्यम से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक फैलता है। उन्होंने खांसते या छींकते समय पर मुंह और नाक पर रूमाल रखने, बुखार और खांसी के रोगियों से दूरी बनाए रखने, हाथ मिलाने या गले लगने से बचने व संपर्क होने पर हाथों को साबुन से अच्छी तरह साफ करने की हिदायत दी।
108 सर्विस इंचार्ज तबरेज़ दाद ने 108 सर्विस के बारे विस्तृत जानकारी दी। महिला दिवस के शुभावसर पर टीम ने  विशिष्ट अतिथि स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ नीना गिडियन एवं डॉक्टर साधना मिश्रा का स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मान किया। टीम की महिला सदस्यों ने गीत के माध्यम से महिला दिवस की शुभकामनाएं दी।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive