दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

सोमवार, 18 अक्तूबर 2021

पपीते के पत्तों का रस नहीं कारगर डेंगू में : डॉ पोफली ★ आईएमए का शपथ ग्रहण समारोह

पपीते के पत्तों का रस नहीं कारगर डेंगू में : डॉ पोफली

★ आईएमए का शपथ ग्रहण समारोह
 
सागर। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया कार्यक्रम में सभी नवनिर्वाचित सदस्यों को शपथ दिलाई गई।पूर्व अध्यक्ष डॉ एस एस खन्ना ने सभी सदस्यों को वर्षभर किए सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया एवं कोरोना जैसे विकट समय में आई एम ए द्वारा किए गए कार्य की भूरि भूरि प्रशंसा की।नवनिर्वाचित अध्यक्ष डॉ राजेन्द्र चउदा ने आई एम ए की भविष्य की कार्ययोजना के बारे में बताते हुए कहा कि पीड़ित मानवता की सेवा ही हमारा लक्ष्य है इस के तहत हम सभी सदस्य मिलकर बुंदेलखंड क्षेत्र से बच्चों में कुपोषण को खत्म करने के लिए प्रयासरत रहेंगे एवं उन्हें निःशुल्क चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराएंगे साथ ही जिले के सभी  कुष्ठ रोगियों को आई एम ए गोद लेगी और उनको निःशुल्क चिकित्सा सेवाएं प्रदान करेगी, साथ ही संगठन चिकित्सा शिक्षा एवं जनहित के कार्यों में सलंग रहेगा।

सतत चिकित्सा शिक्षा कार्यक्रम के तहत सेमिनार में नागपुर के कैंसर रोग विशेषज्ञ विशेषज्ञ डॉ अविनाश पोफली ने कैंसर रोग एवं प्लेटलेट्स की कमी से जुड़े रोगों के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी चिकित्सकों को दी साथ ही बताया की डेंगू में होने वाली प्लेटलेट्स की कमी को दूर करने के लिए बाजार में उपलब्ध पपीता से बने उत्पाद कारगर नहीं है एवं प्लेटलेट्स का काउंट 30,000 से कम  होने पर ही प्लेटलेट्स डेंगू मरीज को दी जानी चाहिए एवं  अनावश्यक दवाइयों के प्रयोग से भी बचना चाहिए।

कार्यक्रम की अध्यक्षता  इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ राजेन्द्र चउदा ने की चेयरपर्सन के रूप में डॉ हर्ष मिश्रा एवं डॉ अमर गंगवानी उपस्थित रहे।कार्यक्रम का संचालन क्लीनिकल सचिव डॉ पिंकेश गेहलोत ने किया।कार्यक्रम में डॉ अशोक बमोरिया, डॉ दिवाकर मिश्रा, डॉ एस एम सिरोठिया, डॉ नीना गिडियन, डॉ अमिताभ जैन, डॉ संज्योत माहेश्वरी, डॉ ईशान दुबे, डॉ सुमित रावत, डॉ डी के पिप्पल, डॉ प्रवीण खरे, डॉ अरविंद गोस्वामी आदि सदस्य उपस्थित रहे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive