दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

गुरुवार, 21 अक्तूबर 2021

कांग्रेस ने जिले में गहराये खाद संकट को लेकर जिला विपणन अधिकारी को जमकर घेरा

कांग्रेस ने जिले में गहराये खाद संकट को लेकर जिला विपणन अधिकारी को जमकर घेरा


सागर । जिले में गहराये डी.ए.पी खाद के संकट तथा दिन दिन भर लाईन में खड़े रहने के बाद भी अन्न दाता किसानों को डी.ए.पी खाद का वितरण न होने की लगातार मिल रही शिकायतों  पर म.प्र. कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री  सुरेन्द्र चौधरी गुरुवार को कांग्रेसजनो के साथ मकरोनिया स्थित म.प्र.राज्य सहकारी विपरण संघ मर्यादित कार्यालय पहुँचे जहां पूर्व मंत्री श्री चौधरी को सानोधा के किसान ब्रजेन्द्र सिंह,नीरज सिंह, परसोरिया के किसान आनन्दी लाल, लुहारी के किसान मंगल दाऊ, लिधौरा हाट के किसान नीलेश अहिरवार, खेजरा के किसान रामराज आदि विभिन्न ग्रामों के किसानों ने बताया कि वह सुबह से डी. ए. पी. खाद लेने लाईन में लगे हैं लेकिन उन्हें डी. ए. पी. खाद नही दी जा रही जिससे  उन्हें आर्थिक एवं मानसिक रूप से प्रताड़ित होना पड़ रहा। जिले में गहराए डी. ए. पी. खाद के संकट और किसानों की समस्याओं को लेकर पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी ने जिला विपरण अधिकारी श्री प्रकाश कुमार परोहा को जमकर घेरते हुए जिले के अन्नदाता किसानों को सरल व  सुलभ तरीके से पर्याप्त मात्रा में डी. ए. पी. खाद का वितरण कराने की पुरजोर माँग उठाई। पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी ने शासन /प्रशासन पर किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि एक ओर जहां जिले में डी. ए. पी खाद पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होने के लाख दावे किए जा रहे हों किन्तु जमीनी हकीकत कुछ और ही हैं। उन्होंने कहा कि अन्नदाता किसानों को  दिन दिन भर लाईन में खड़े रहने के बाद भी डी. ए. पी. खाद न मिल पाने से शासन / प्रशासन के दावों की कलाई खोलकर रख दी हैं। श्री चौधरी ने चेतावनी दी हैं कि जिले के अन्न दाता किसानों को सरल एवं सुलभ तरीके से डी.ए.पी खाद का वितरण कराया जावे अन्यथा कांग्रेस पार्टी विपरण कार्यालय की तालाबंदी करने को वाध्य होगी जिसका सम्पूर्ण उत्तर दायित्व शासन / प्रशासन का होगा। इस दौरान मुख्य रूप से एड. राजेश दुबे, शरद राजा सेन,देवेन्द्र कुर्मी,अभिषेक गौर, अशरफ खान, राजू डिस्क,अमोल सिंह, राजा बुन्देला, संजय रोहिदास, संदीप चोधरी, मोतीलाल पटेल, सुदीप पटेरिया, बलराम साहू, मुल्ले चौधरी, अविनाश खरे, दुर्गेश अहिरवार, बाबू लाल बाबा आदि कांग्रेसजन एवं किसान मोजूद थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive