दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

सोमवार, 22 नवंबर 2021

गौर उत्सव : मैत्री, सहकार और तन्मयता का नैसर्गिक उल्लास हैं खेल प्रतियोगिताएं : प्रो. नीलिमा गुप्ता

गौर उत्सव :   मैत्री, सहकार और तन्मयता का नैसर्गिक उल्लास हैं खेल प्रतियोगिताएं : प्रो. नीलिमा गुप्ता


सागर. डॉ. हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर के संस्थापक महान शिक्षाविद् एवं प्रख्यात विधिवेत्ता, संविधान सभा के सदस्य एवं दानवीर डॉ. सर हरीसिंह गौर के 152वें जन्म दिवस के उपलक्ष्य में दिनांक 21 नवंबर से 26 नवंबर तक आयोजित 'गौर उत्सव' का दूसरा दिन खेल प्रतियोगिताओं के नाम रहा. विश्वविद्यालय के शिक्षक और अधिकारियों के बीच टी-20 क्रिकेट मैच खेला गया. क्रिकेट मैच के उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता ने कहा कि खेल में कोई भी जीते या हारे लेकिन मैत्री भावना बनी रहनी चाहिए. खेल से आत्मीय संबंध बढ़ते हैं. इस मैत्री मैच के माध्यम से आत्मीयता, सामंजस्य, बंधुत्व और प्रेम का संदेश चारों ओर जाए, ऐसी मेरी कामना है. खेल के माध्यम से विश्वविद्यालय के शिक्षक, अधिकारी, कर्मचारी और विद्यार्थी काम और पढ़ाई के दबाव को कम कर सकेंगे और उनका शरीर भी स्वस्थ रहेगा. हम सभी जानते हैं कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क होता है. उनकी ऊर्जा और स्वस्थ मस्तिष्क विश्वविद्यालय के विकास को एक नया आयाम देगा, ऐसा मेरा विश्वास है. 
अधिकारी टीम के कप्तान संतोष सोहगौरा और शिक्षक टीम के कप्तान प्रो. जी एम दुबे ने कुलपति से टीम के खिलाड़ियों का परिचय करवाया. कुलपति ने उन्होंने टॉस उछालकर और बल्लेबाजी करके मैच की शुरुआत की. इस अवसर पर गौर उत्सव के मुख्य समन्वयक प्रो. आर. के त्रिवेदी, प्रो. निवेदिता मैत्रा, प्रो. वंदना सोनी और कई शिक्षक, अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित थे. 



 
शारीरिक शिक्षा विभाग के संचालक प्रो. रत्नेश दास ने जानकारी दी कि शिक्षक बनाम अधिकारी क्रिकेट मैच में टॉस जीतकर अधिकारी-कर्मचारी ने गेंदबाजी करने का फैसला लिया । शिक्षकों की टीम ने बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 121 रन बनाए जिसमे सर्वाधिक डॉ आर पी सिंह ने शानदार 38 रनों की पारी खेली, हिमांशु कुमार ने 18 एवं बुद्ध सिंह 13 रन एवं प्रो रत्नेश दास ने 8 रनों की पारी खेली ।अधिकारी कर्मचारी की ओर से गेंदबाजी करते हुए महेंद्र कुमार बाथम एवं भूपेंद्र पटेल 3-3 विकेट चटकाए. जबाब में अधिकारी कर्मचारी की टीम ने 14 ओवर में मैच समेट दिया और 2 विकेट खोकर 8 विकेट जीत हासिल की. समर्थ दीक्षित ने सर्वाधिक  33 रन, विनय शुक्ला जी ने 28 एवं निखलेश ने 25 एवं श्री संतोष सहगौरा जी ने 16 रनों की नाबाद पारी खेली । मैच के निर्णायक अनवर खान, एवं आकाश लिटोरिया, डॉ सुमन पटेल एवं  ऋषिकेश बर्दिया रहे । 
 


कबड्डी बालक, बालिका वर्ग

इंटर स्कूल कबड्डी बालक वर्ग में फाइनल मैच स्कूल ऑफ एजूकेशन बनाम स्कूल ऑफ सोशल साइंस के मध्य खेला गया जिसमें निर्धारित समय मे दोनों टीमों का स्कोर बराबर रहा. अतिरिक्त समय मे स्कूल ऑफ सोशल साइंस 5 अंक से विजयी रही । बालिका वर्ग में फाइनल मुकाबला स्कूल ऑफ एजूकेशन एवं स्कूल ऑफ बॉयोलोजिकल साइंस के बीच रहा जिसमें 14-03 से स्कूल ऑफ एजूकेशन विजयी रही । मैच के निर्णायक इंद्रपाल सिंह, शैलेन्द्र सिंह, जितेंद्र यादव थे ।
 
टग ऑफ वॉर प्रतियोगिता

विश्व विद्यालय महिला शिक्षक, कर्मचारी बनाम विश्व विद्यालय महिला क्लब के बीच  टग ऑफ वार प्रतियोगिता में महिला शिक्षक एवं कर्मचारी ने जीत अर्जित की । निर्णायक अनवर खान, विनय शुक्ला एवं महेंद्र कुमार रहे ।
 
म्यूजिकल चेयर प्रतियोगिता

डॉ हरीसिंह गौर विश्व विद्यालय की  महिला शिक्षक, कर्मचारी एवं महिला क्लब के बीच म्यूजिकल चैयर प्रतियोगिता का आयोजन हुआ जिसमें अफ़रोज़ बेगम ने प्रथम स्थान प्राप्त किया । दूसरा स्थान श्रीमती अनीत सोनी एवं तीसरा स्थान डॉ किरण महेश्वरी ने प्राप्त किया ।निर्णायक प्रो. चंदा बेन, विनय शुक्ला एवं महेंद्र कुमार रहे 



वॉलीबॉल बालक/ बालिका वर्ग प्रतोयोगिता 
 
वॉलीबाल बालक वर्ग में फायनल मैच स्कूल ऑफ एजूकेशन बनाम स्कूल ऑफ सोशल साइंस के मध्य खेला गया जिसमें स्कूल ऑफ एजूकेशन की टीम 2-1 सेट से विजयी रही । मैच के निर्णायक गीतेश रैकवार, दानिश खान, योगेश कोरी रहे । इस अवसर पर प्रो. निवेदिता मैत्रा, श्री  सतीश कुमार, श्री सुरेंद्र पी गादेवार, आर के पाल, डॉ सुमन पटेल, अनवर खान, डी के तिवारी, हिम्मत सिंह, अनिल ब्रह्मकर, प्रकाश पटेल, जगदीश उपस्थित रहे । कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता ने सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी हैं.



23 नवंबर 2021 को आयोजित कार्यक्रम 
23 नवंबर प्रातः 11.00 बजे स्वर्ण जयन्ती सभागार में 'डॉ. गौर का अवदान: एक विश्लेषण' कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. इस आयोजन में डॉ. हरीसिंह गौर के जीवन पर आधारित वृत्त-चित्र का प्रदर्शन भी होगा. 
दोपहर 03.00 बजे विधि विभाग परिसर स्थित नवनिर्मित 'मूट-कोर्ट' का लोकार्पण मुख्य अतिथि श्री अमरेश्वर प्रताप साही, निदेशक, राष्ट्रीय न्यायिक अकादमी, भोपाल एवं पूर्व मुख्य न्यायाधीश, पटना एवं मद्रास उच्च न्यायालय और कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता की गरिमानायी उपस्थिति में संपन्न होगा. दोपहर 03.30 बजे विश्वविद्यालय के जवाहर लाल नेहरू पुस्तकालय सभागार में मुख्य अतिथि श्री अमरेश्वर प्रताप साही का विशिष्ट व्याख्यान होगा.    
 
 
 
 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive