सतर्क रहें..बने सायबर योद्धा

शुक्रवार, 7 जनवरी 2022

कोरोना महामारी से हम सबको मिलकर लड़ना होगा ,ग्राम पंचायत स्तर पर भी रहे कोविड केयर सेंटर जैसी व्यवस्था ★ डॉक्टर, प्रशासनिक अधिकारियों का क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य भी करें सहयोग : सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया ★ आपदा प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न


कोरोना महामारी से हम सबको मिलकर लड़ना होगा ,ग्राम पंचायत स्तर पर भी रहे कोविड केयर सेंटर जैसी व्यवस्था


★ डॉक्टर, प्रशासनिक अधिकारियों का क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य भी करें सहयोग :  सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया

★ आपदा प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न


सागर । कोरोना महामारी एक विश्वव्यापी समस्या है, और इस महामारी से लड़ने के लिए हम सभी को आपसी सहयोग एवं लोगों को जागरूक करना होगा। इसके लिए रोको टोको अभियान का कड़ाई से पालन कराना सुनिश्चित करायें। साथ ही जिले की समस्त ग्राम पंचायत स्तरों पर भी कोविड केयर सेंटर जैसी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। उक्त निर्देश मध्यप्रदेश शासन के सहकारिता, लोक सेवा प्रबंधन एवं सागर जिले के प्रभारी मंत्री श्री अरविंद सिंह भदौरिया ने शुक्रवार को जिले की आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में कलेक्टर सभाकक्ष में दिए।

मंत्री श्री भदौरिया ने इस अवसर पर सागर जिले में 15-18 वर्ष के आयु वर्ग वैक्सीनेशन में मध्य प्रदेश में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर कलेक्टर सहित समस्त अधिकारियों एवं शिक्षा विभाग  की सराहना की। मंत्री श्री भदौरिया ने निर्देश दिए कि जिले में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है जिसके लिए तत्काल प्रभाव से सागर नगर सहित समस्त ग्राम पंचायतों में भी कोविड केयर सेंटर स्थापित करें। जिससे बाहर से आने वाले व्यक्तियों को आइसोलेट किया जाकर उन्हें 1 सप्ताह तक रखा सेंटर में रखा जा सके। उन्होंने समस्त कोविड-19 सेंटर्स में आवश्यक मूलभूत सुविधाएं जैसे दवाइयां, पेयजल, चाय नाश्ता, खाना आदि की उचित व्यवस्था सहित स्वास्थ्य संबंधी अन्य सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मंत्री श्री भदौरिया ने कहा कि कोरोना महामारी विश्वव्यापी है और इससे हम सबको मिलकर लड़ना होगा। इसके लिए डॉक्टर्स, प्रशासनिक अधिकारियों का क्राइसिस मैनेजमेंट समूह के सदस्य भी पूर्ण सहयोग करें। उन्होंने कहा कि, पिछले अनुभवों की तरह ही इस बार भी क्राइसिस मैनेजमेंट समिति की सक्रियता संक्रमण को फैलने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

 मंत्री श्री भदोरिया ने निर्देश दिए कि मध्य प्रदेश सहित सागर जिले में कोई भी बड़ा आयोजन  ना किया जाए एवं भीड़भाड़ वाले कार्यक्रम भी टाले जाएं। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में मकर सक्रांति के मेले भी आयोजित होंगे, जिस पर गाइडलाइन के अनुसार पाबंदी पाबंदी लगाई जाए।

 मंत्री श्री भदौरिया ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान लगातार कोरोना संक्रमण पर नजर बनाए हुए हैं और इसे रोकने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे विश्व में भारत एकमात्र ऐसा देश है जहां 140 करोड़ से अधिक व्यक्तियों का वैक्सिनेशन किया जा चुका है। मंत्री श्री भदौरिया ने निर्देश दिए कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए सोशल मीडिया,  प्रिंट मीडिया एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का उपयोग करें एवं सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरुक करें कि अनावश्यक रूप से घर से ना निकलें, मास्क लगाएं और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें।

 मंत्री श्री अरविंद भदौरिया  ने समस्त निजी चिकित्सालयों के संचालकों से भिवअपील की कि वे प्रशासन का सहयोग करें और आयुष्मान योजना के तहत चिन्हित किए गए चिकित्सालय  योजना का लाभ देते हुए पीड़ित व्यक्तियों का इलाज करें। सभी चिकित्सालय मुख्य द्वार पर चिकित्सालय द्वारा लिए जाने वाली शुल्क का विवरण साफ़ अक्षरों में चस्पा करें।

 इस अवसर पर मंत्री श्री भदौरिया ने सागर में ऑक्सीजन की उपलब्धता की समीक्षा करते हुए कहा कि सागर में बीना आगासोद रिफाइनरी के सभी ऑक्सीजन रिफिलिंग प्लांट शीघ्र ही प्रारंभ होगा जिससे सागर सहित मध्यप्रदेश ऑक्सीजन के क्षेत्र में भी आत्मनिर्भर होगा। उन्होंने सागर नगर सहित संपूर्ण जिले में फीवर क्लीनिकों को पुनः प्रारंभ करने के भी निर्देश दिए। मंत्री श्री भदौरिया ने टेस्टिंग, सेंपलिंग एवं ट्रीटमेंट पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए।

इस अवसर पर सांसद श्री राज बहादुर सिंह ठाकुर, सागर नगर विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, नरयावली विधायक श्री प्रदीप लारिया, श्री गौरव सरोटिया, बंडा विधायक श्री तरवर सिंह लोधी,   श्री शैलेश केशरवानी, डॉ श्रीमती विनोद पंथी, श्री सुधीर यादव, श्री मुकेश जैन ढाना, श्री प्रभु दयाल पटेल, श्री निकेश गुप्ता, डॉक्टर संजीव मखारिया, कलेक्टर श्री दीपक आर्य, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री क्षितिज सिंघल, नगर निगम कमिश्नर श्री आरपी अहिरवार, संयुक्त कलेक्टर श्रीमती सपना त्रिपाठी, अनुविभागीय अधिकारी श्री अमन मिश्रा, सिटी मजिस्ट्रेट श्री शैलेंद्र सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बौद्ध, सिविल सर्जन डॉक्टर ज्योति चौहान सहित आपदा प्रबंधन समूह के सदस्य एवं अन्य अधिकारी मौजूद थे।



बीड़ी अस्पताल कोविड केयर सेंटर का मंत्री श्री भदौरिया ने किया निरीक्षण,
व्यवस्थाओं से हुये सन्तुष्ट

सहकारिता लोक सेवा प्रबंधन एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री अरविंद सिंह भदौरिया ने सागर भ्रमण के दौरान जिला स्तर पर स्थापित कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण किया।

 निरीक्षण के दौरान सांसद श्री राज बहादुर सिंह, विधायक श्री शैलेंद्र जैन, कलेक्टर श्री दीपक आर्य, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी क्षतिज सिंघल, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बौद्ध, सिविल सर्जन डॉक्टर ज्योति चौहान, डॉक्टर देवेंद्र गोस्वामी सहित अधिकारी एवं अन्य डाक्टर मौजूद थे।

बीड़ी अस्पताल में स्थापित कोविड केयर सेंटर  के निरीक्षण के दौरान मंत्री श्री भदौरिया ने केयर सेंटर की सराहना करते हुए निर्देश दिए कि कोविड- केयर सेंटर अच्छी तरीके से तैयार किया गया है। इस में आने वाली कोरोना संक्रमित व्यक्तियों को किसी प्रकार की समस्या न हो इसके लिए उनकी लिए गर्म पानी, चाय, नाश्ता एवं खाने की समुचित व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने मनोरंजन के लिए टेलीविजन  लगाएं एवं प्रतिदिन योग कराने के भी निर्देश दिए।
 मंत्री श्री भदौरिया ने समस्त 100 बिस्तरों पर कम्मल या रजाई भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। मंत्री श्री भदौरिया ने कोविड केयर सेंटर में 24 घंटे एंबुलेंस व्यवस्था करने के निर्देश दिए। साथ ही शिफ्ट वाइज डॉक्टर एवं पैरामेडिकल स्टाफ की ड्यूटी लगाई जाए।
क्रमांक 86/86/2022 फोटो क्रमांक एफ-01 से 03 तक संलग्न है।
 

जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी एवं सामाजिक संगठन आंगनवाड़ी केंद्रों को गोद लें : मंत्री श्री भदौरिया

सागर जिले के जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी, व्यापारी एवं सामाजिक संगठन जिले की एक-एक आंगनवाड़ी केंद्र को गोद लेकर उनको संचालित करने में मदद करें । उक्त विचार सहकारिता लोक सेवा प्रबंधन एवं सागर जिले के प्रभारी मंत्री श्री अरविंद सिंह भदौरिया ने दिए।

  मंत्री श्री भदौरिया ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की महत्वकांक्षी योजना आंगनबाड़ियों केंद्रों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए शासन के साथ-साथ समस्त जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी एवं सामाजिक संगठन अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए एक एक आंगनवाड़ी केंद्र को गोद लें और उनका संचालन सुनिश्चित कराएं। उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी केंद्रों में हमारे देश के भविष्य अध्ययनरत हैं । उन्होंने कहा कि समस्त आंगनवाड़ी केंद्रों में हम सभी की सहभागिता होगी, तो आंगनबाड़ी केंद्र आत्मनिर्भर बनेंगे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense