सतर्क रहें..बने सायबर योद्धा

गुरुवार, 6 जनवरी 2022

SAGAR : वायरोलॉजी लैब का उद्घाटन, अब हो सकेगी 3 हज़ार तक सैंपल की जांच ★ सैंपलिंग के 24 घंटे के भीतर रिपोर्टिंग और सूचना देने के दिए निर्देश

SAGAR : वायरोलॉजी लैब का उद्घाटन,
अब हो सकेगी  3 हज़ार तक सैंपल की जांच
 ★ सैंपलिंग के 24 घंटे के भीतर रिपोर्टिंग और सूचना देने के दिए निर्देश

सागर। देश-प्रदेश में कोरोना के बढ़ते प्रकरणों और शीघ्र सैंपलिंग, टेसिं्टग तथा रिजल्ट के मद्देनजर बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में नवनिर्मित वायरोलॉजी लैब सभी जिले वासियों के लिए सौगात साबित होगी।  वायरोलॉजी लैब के नए उपकरणों के साथ किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए सागर पूरी तरह तैयार है। उक्त विचार विधायक श्री शैलेंद्र जैन ने बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज की नवनिर्मित वायरोलॉजी लैब के उद्घाटन सत्र के दौरान व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि जहां एक ओर विश्व कोरोना की लहर का सामना कर रहा है वहीं दूसरी ओर जिले को आधुनिक उपकरणों एवं आधुनिक तकनीकी से लैस वायरोलॉजी लैब का मिलना सभी जिले वासियों के लिए खुशखबरी है। यह लैब बायोसेफ्टी लेवल - दो के अंतर्गत उच्च मानकों पर कार्य करेगी।  लैब का सेटअप इस प्रकार से तैयार किया गया है कि लैब के भीतर की वायु हेपा फिल्टर के माध्यम से फिल्टर  होकर न्यूट्रल एयर के रूप में बाहरी वातावरण से मिलेगी। इस प्रकार यह बाहरी वातावरण को किसी भी प्रकार से प्रदूषित या संक्रमित नहीं करेगी। इसके साथ ही लैब में छह रियल टाइम पीसीआर और फुली ऑटोमेटेड आरएनए एक्सट्रैक्शन मशीन भी स्थापित की गई है। यह अत्याधुनिक लैब मध्यम से उच्च जोखिम वाले वायरस का पता लगाने में सक्षम है। उन्होंने बताया कि नई वायरोलॉजी इलाके माध्यम से टेसिं्टग क्षमता में भी वृद्धि हुई है। नई मशीनों के माध्यम से अब तीन हजार के करीब टेस्ट कर सकेंगे।

यह भी पढ़े
https://mobile-webview.gmail.com/334094137/-6932743584194874125#m_-4167423125505367458_1

उल्लेखनीय है कि यह लैब 2.5 करोड़ रुपय की लागत से बनाई गई है। जिसमें 1.5 करोड़ रुपए आईसीएमआर ग्रांट के तहत तथा 1 करोड़ रुपए राज्य सरकार द्वारा प्रदाय किए गए हैं। 

उद्घाटन के अवसर पर विधायक श्री शैलेंद्र जैन ने वायरोलॉजी लैब की समस्त व्यवस्थाओं का जायजा लिया और कहा कि वे पूर्णतः आश्वस्त हैं कि वायरोलॉजी लैब के रिसर्च साइंटिस्ट, स्टाफ और टेक्नीशियन पूर्ण मानसिक और शारीरिक दक्षता से कार्य करेंगे।

उन्होंने वायरोलॉजी लैब के समस्त स्टाफ को बधाई देते हुए कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है की मानवता की सेवा में निरंतर कार्यरत रहते हुए किसी भी स्टाफ ने कोविड की प्रथम लहर से लेकर अब तक एक भी अवकाश नहीं लिया। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति की जान बचाने से बड़ा और कोई कार्य नहीं हो सकता। अतः चिकित्सकों और मेडिकल स्टाफ द्वारा किया जा रहा कार्य अमूल्य है। 

इस अवसर पर विधायक श्री शैलेंद्र जैन ने बीएमसी के डीन डॉ आर एस वर्मा, माइक्रोबायोलॉजी विभाग के हेड डॉ अमरदीप राय तथा डॉ सुमित रावत को निर्देश दिए कि जन सामान्य की सुविधा हेतु सैंपलिंग के 24 घंटे के भीतर रिपोर्टिंग तथा सूचना दी जाए। उन्होंने इस बात पर विशेष जोर देते हुए कहा कि रिजल्ट पॉजिटिव आए अथवा नेगेटिव संबंधित व्यक्ति को उसकी जानकारी से अवश्य अवगत कराया जाए। 

उन्होंने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, टोल प्लाजा आदि पर टेसिं्टग अति आवश्यक है। टेस्ट रिजल्ट आने तक बाहर से आये ऐसे व्यक्तियों को आइसोलेशन में रखा जाए, जिससे संक्रमण ना फैले। इसके साथ ही टेलीमेडिसिन तथा टेली काउंसलिंग की भी अत्यधिक महत्वपूर्ण भूमिका है, इन्हें भी शीघ्र क्रियाशील करें।

अधिक दक्षता से कार्य करने होंगे
---- कमिश्नर श्री शुक्ला

बीएमसी की नई वायरोलॉजी लैब के उद्घाटन समारोह में विशिष्ट विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल हुए संभागायुक्त श्री मुकेश कुमार शुक्ला ने कहा कि हमें विपरीत परिस्थितियों में अधिक दक्षता से परिणाम मूलक कार्य करते हुए कोरोना की तीसरी लहर का सामना करना होगा। उन्होंने कहा कि, वायरोलॉजी लैब के माध्यम से मिले नए उपकरणों से दक्षता में और निखार आएगा। उन्होंने कहा कि वायरोलॉजी लैब के माध्यम से रिसर्च, टेसिं्टग एवं कैपेसिटी में वृद्धि हुई है। यह लैब निश्चित रूप से न केवल सागर जिले बल्कि पूरे संभाग के लिए वरदान साबित होगी।

इस अवसर पर श्री शैलेश केशरवानी, श्री रामेश्वर नामदेव, बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ आर एस वर्मा, अधीक्षक श्री पिप्पल, माइक्रोबायोलॉजी डिपार्टमेंट के हेड डॉ अमरदीप राय, डॉ सुमित रावत,  डॉ तल्हा साद, डॉ मनीष जैन, माइक्रोबायोलॉजी विभाग का समस्त स्टाफ उपस्थित था।
क्रमांक 69/69/2022 फोटो यथावत संलग्न है।  

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense