शुक्रवार, 4 फ़रवरी 2022

बीएमसी के समस्त पदों को एमपी ऑनलाइन के माध्यम से भरे जाएं, ★ न्यायालयीन प्रकरणों का निराकरण हेतु शीघ्रता से प्रयास करें : संभागायुक्त

बीएमसी के समस्त पदों को एमपी ऑनलाइन के माध्यम से भरे जाएं,
★ न्यायालयीन प्रकरणों का निराकरण हेतु शीघ्रता से प्रयास करें : संभागायुक्त

★ बीएमसी की 28वीं कार्यकारिणी समिति की बैठक संपन्न

सागर ।बीएमसी के समस्त पदों को एमपीऑनलाइन के माध्यम से भरे जाएं। न्यायालयीन प्रकरणों का निराकरण हेतु प्रयास करें एवं फायर फाईटर, विद्युत, पर्यावरण की एनओसी तत्काल प्राप्त की जाए। उक्त निर्देश संभाग आयुक्त एवं बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के अध्यक्ष श्री मुकेश शुक्ला ने बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज की 28वीं कार्यकारिणी समिति की बैठक में दिये। इस अवसर पर कलेक्टर श्री दीपक आर्य, अधिष्ठाता डॉ आर एस वर्मा ,अधीक्षक डॉ एस के पिप्पल, पीडब्ल्यूडी के एसई श्री आरएल वर्मा, डॉ सर्वेश जैन, डॉ अंजू झा, डॉक्टर आरके जैन, श्री सुरेश चंद्र जैन, डा. प्रवीण्य खरे, डा. श्वेता भटनागर, डा. अंजली द्विवेदी वित्त अधिकारी श्रीमती हेमलता पटेल सहित अन्य चिकित्स मौजूद थे।
कमिष्नर श्री शुक्ला ने निर्देष दिए कि बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज का स्थापना व्यय कम किया जाए और फीस जमा करने न करने वाले विद्यार्थियों की एनओसी भी जारी न की जाए। वित्त  अधिकारी श्रीमती हेमलता पटेल ने बीएमसी का बजट प्रस्तुत करते हुए बताया कि एक अपै्रल 2021 से 31 जनवरी 2022 तक 8 करोड़ 90 लाख 73 हजार 498 रूपये की आय प्राप्त हुई जबकि 9 करोड़ 46 लाख 52 हजार 627 का व्यय किया गया । श्रीमती पटेल ने बताया कि लगभग 55 लाख रूपये का अंतर जो आय-व्यय के बीच में है। उसमें अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं की छात्रवृत्ति न आने के कारण फीस जमा नहीं की गई। श्रीमती पटेल ने बताया कि उक्त संबंध में शासन को पत्र द्वारा सूचित भी किया गया।

  बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज की कार्यकारिणी की बैठक में संभाग आयुक्त एवं अध्यक्ष श्री मुकेश शुक्ला ने कहा कि बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज का स्थापना व्यय अधिक है। इसे कम किया जाए।  

संभागायुक्त श्री शुक्ला ने कहा कि बीएमसी में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को फीस जमा करने हेतु नोटिस जारी किए जाएं एवं फीस जमा न करने बाले विद्यार्थियों की एनओसी भी जारी न की जाए।

संभागायुक्त श्री शुक्ला ने कहा कि हाई कोर्ट में चल रहे केसों के निराकरण  के लिए कार्यवाही की जाए और तीन दिवस में प्रतिवेदन प्रस्तुत करें। कार्यसमिति की बैठक में विगत बैठक के संबंध में भी चर्चा की गई ।

बैठक में निर्णय लिया गया कि बीएमसी के रिक्त पदों के लिए एमपी ऑनलाइन के माध्यम से विज्ञप्ति जारी की जाए और पदों को भरा जाए । बैठक में अनुरक्षण संबंधी कार्रवाई की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि बीएमसी के लिए समस्त क्लीयरेंस सर्टिफिकेट प्राप्त करें।

वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगेंगे

उन्होंने निर्देष दिए कि बायो मेडिकल वेस्ट के लिए लगाई गई गाड़ियों में जीपीएस सिस्टम लगाए जाए। जिसकी मानिटरिंग स्मार्ट सिटी के कमांड कंट्रोल सेंटर देखी जाए ।कलेक्टर के इस प्रस्ताव पर सर्वसम्मति से प्रस्ताव को पास किया गया ।

बैठक में निर्णय लिया गया कि बीएमसी में हाइट्स के माध्यम से जो भी कर्मचारी कार्यरत हैं उनकी शैक्षणिक योग्यता का परीक्षण किया जाए और योग्यता अनुसार ही भर्ती कर कार्य लिया जाए।

बैठक में निर्णय लिया गया कि निर्माण कार्य में सुधार के लिए 50 लाख रुपए की राशि सुरक्षित रखी जावे। साथ ही अन्य आकस्मिक व्यय की राशि 50 लाख  से घटाकर 20 लाख की गई।

हाईकोर्ट के संबंध में विधिक सलाहकार होगा नियुक्त


 समिति ने निर्णय लिया कि बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के न्यायालयीन प्रकरणों का निराकरण के लिए जबलपुर हाईकोर्ट में ही विधिक सलाहकार की नियुक्ति की जाएगी। जिससे समस्त न्यायालयीन प्रकरणों का निराकरण समय सीमा में किया जा सकेगा।

संविदा नियुक्तियों को 30 जून तक रखें बरकरार

 कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए समिति ने संविदा डाक्टरों की नियुक्ति 30 जून तक के लिए बढ़ा दी है। इसमें डाक्टर तल्हाषाद, डा. शालिनी हजेला, डा हिन्देष्वरी राय, डा. अंकित जैन और डा रविन्द्र कुमार चौरसिया शामिल है।

 
'आयुष्मान भारत योजना से प्राप्त राशि के वितरण के संबंध में हुआ निर्णय


 आयुसमान भारत योजना से प्राप्त राशि के संबंध में समिति ने निर्णय लिया कि आयुष्मान भारत योजना से प्राप्त राशि से 60 प्रतिषत राशि महाविद्यालय को दी जाएगी, 15 प्रतिषत राशि चिकित्सकों को 5 प्रतिषत की राशि, लैब टेक्नीशियन एवं पैरामेडिकल स्टाफ को 5 प्रतिषत की दर से ,निश्चितना विशेषज्ञ को दी जाएगी एवं 3.5 प्रतिषत की राशि रेडियोलॉजिस्ट ,बायोकेमिस्ट्स, पैथोलॉजिस्ट एवं माइक्रोबायोलॉजिस्ट को दी जाएगी, इसी प्रकार 2 प्रतिषत की राशि आयुष्मान नोडल अधिकारी को दी जाएगी। इसी प्रकार वार्ड बॉय, क्लास फोर ,आयुष्मान मित्र ,सुपरवाइजर ,नर्सिंग स्टाफ को भी राशि प्रदान की जाएगी ।

जूनियर डॉक्टरों के मेडिक्लेम के संबंध में भी समिति ने चर्चा कर निर्णय लिया गया कि जूनियर डाक्टर के मडिक्लेम एवं स्वषासी में पदस्थ चिकित्सकों का बीमा समूह योजना लागू करने के लिए सीएमई भोपाल के लिए पत्र लिखा जाए एवं मार्गदर्षन प्राप्त किया जाए।

 बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम से लिया जाए किराया बीएमसी की समिति ने निर्णय लिया कि बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज परिसर में लगे बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम से किराया राशि ली जावेसाथ ही बिजली बिल भी लिया जाए।

बैठक में जैव चिकित्सा अपशिष्ट के संग्रहण, परिवहन निष्पादन हेतु जैव चिकित्सा अपशिष्ट उपचार सुविधा अंतर्गत स्थापित संयंत्र को 2013 से 20 वर्ष के लिए वृद्धि की गई।
 


0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense