SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

मंगलवार, 9 जून 2020

प्रायवेट स्कूल एसोसिएशन सागर की बैठक में स्कूलो के संचालन में आने वाली परेशानियों पर हुई चर्चा

प्रायवेट स्कूल एसोसिएशन सागर की बैठक में स्कूलो के संचालन में आने वाली परेशानियों पर हुई चर्चा

 सागर।  प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन जिला सागर की कोर कमेटी की बैठक टैगोर विद्या निकेतन में आहूत की गई l बैठक में, सागर से प्रदेश का प्रतिनिधित्व करने के लिए, प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन मध्य प्रदेश कोर कमेटी द्वारा, पंडित धर्मेंद्र शर्मा को प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत किए जाने की बधाई सभी उपस्थित सदस्यों ने प्रेषित की l
टैगोर विद्या निकेतन के संचालक  सुरेंद्र दुबे को संभाग अध्यक्ष के पद पर चयनित किए जाने पर सभी ने उनको हार्दिक बधाइयां प्रेषित की तथा करतल ध्वनि से दोनों नवनियुक्त पदाधिकारियों का स्वागत किया l
बैठक में मुख्य विषय वर्तमान में विद्यालय संचालन में आ रही समस्याओं के बारे में चर्चा की गई बैठक में समस्त सदस्यों ने शासन के समक्ष प्रस्ताव रखते हुए सर्वसम्मति से निर्णय लिए की 

पढ़े : सफाई करने वाली कम्पनी "हाईट" के खिलाफ होगी FIR, बीएमसी में कोविड के अलावा अन्य रोगों का भी इलाज अब होगा

1. निजी विद्यालयों की वर्तमान आर्थिक परिस्थितियों को देखते हुए विगत वर्षों की निशुल्क एवं बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम के अंतर्गत अध्ययनरत विद्यार्थियों की सत्र 2016-17, 2017-18, 2018-19 तथा 2019-20 की RTE फीस प्रतिपूर्ति शासन द्वारा अविलंब की जाए l

2. कोरोनावायरस संकट काल में, अभिभावकों की आर्थिक स्थितियों को ध्यान में रखते हुए, निजी विद्यालयों की बैठक में निर्णय लिया गया, कि शासन यदि सरकारी विद्यालयों की तरह ही प्रत्येक निजी विद्यालयों में पढ़ रहे समस्त विद्यार्थियों की लॉक डाउन अवधी की फीस निजी विद्यालयों में जमा कर दें, तो इससे अभिभावकों का बोझ कम हो जाएगा तथा निजी विद्यालयों की आर्थिक समस्या भी दूर हो जाएगी l

पढ़े : सागर: स्वास्थ्य विभाग के तीन अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी

3. निजी विद्यालय संचालकों की कोर कमेटी ने शासन से मांग की है, की कोरोना संक्रमण काल में विद्यालय खुलने की स्थिति में, विद्यार्थियों को संक्रमण से दूर रखने हेतु सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनर इत्यादि की व्यवस्था शासन द्वारा निजी विद्यालयों के लिए की जाए, जिससे निजी विद्यालयों पर अतिरिक्त भार ना पड़े, अन्यथा यह भार परोक्ष रूप से अभिभावकों पर भी पड़ेगा l

4. बच्चों के लिए वर्तमान सत्र में वाहन व्यवस्था हेतु अतिरिक्त व्यय होगा l क्योंकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कुल संख्या से, आधी संख्या के बच्चे, वाहनों में आएंगे तथा वाहन के फेरे भी बढ़ेंगे और पेट्रोल डीजल भी अतिरिक्त खर्च होगा l अतः निजी विद्यालयों ने इस अतिरिक्त होने वाले खर्च मैं भी शासन से सहायता की मांग की है l

5. कोरोनावायरस संक्रमण काल के चलते निजी विद्यालयों की आर्थिक स्थिति बेहद दयनीय हो गई है l पिछले 6 माह से किसी भी प्रकार का शुल्क ना मिलने के कारण, स्कूल के कर्मचारी, शिक्षक तथा संचालक विकट आर्थिक परिस्थितियों से जूझ रहे हैं l अतः सरकार से निवेदन है कि निजी विद्यालयों के लिए शीघ्र ही आर्थिक पैकेज की घोषणा करें l जिससे निजी विद्यालय अपने इस राष्ट्र हित के कार्य में अग्रसर हो सके l

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें
@weYljxbV9kkvq5Z


प्रत्येक बच्चा इस राष्ट्र की धरोहर है अतः उसकी सुरक्षा और उसकी शिक्षा की जिम्मेदारी निश्चित ही सरकार की हैसरकार के शिक्षा के क्षेत्र में भागीदार बने निजी विद्यालय को भी इस संकटकाल में सरकार से सहायता की अपेक्षा है
अतः सरकार को संकट काल में अपना दायित्व निभाते हुए बच्चों अभिभावकों विद्यालय के शिक्षकों कर्मचारियों और संचालकों की सहायता करनी चाहिए l

उपरोक्त प्रस्ताव पारित करते समय बैठक में संभागीय महासचिव  उपेंद्र गुप्ता जिला अध्यक्ष प जुगल किशोर उपाध्याय जिला उपाध्यक्ष  मनोज जैन जिला सचिव श्री नरेश विश्वकर्मा कोषाध्यक्ष सुश्री अल्पना जैन सागर ब्लॉक अध्यक्ष श्री नीरज सिंह ठाकुर सागर ब्लॉक सचिव श्री अजय सिंह ठाकुर कार्यकारिणी सदस्य श्री महेंद्र भाई जी, श्री संदीप श्रीवास्तव, श्री आदित्य उपाध्याय, सुश्री लीला सिंह, सुश्री कामना यादव, आदि उपस्थित थे l

---------------------------- 


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885

-----------------------------

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive