SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

शुक्रवार, 28 मई 2021

बीएमसी की वायरोलॉजी लैब की उपलब्धि, प्रदेश में एक दिन में सबसे अधिक जांच की, एम्स की लैब भी पीछे

 बीएमसी की वायरोलॉजी लैब की उपलब्धि, प्रदेश में एक दिन में सबसे अधिक जांच की, एम्स की लैब भी पीछे

-★ जगह, मशीनरी, संसाधनों व स्टाफ की कमी के बावजूद बेहतर काम कर दिखाया। 

★एक दिन में 3000 सैम्पल से अधिक की जांच की है। 24 घण्टे का कर रही बीएमसी की वायरोलॉजी लैब। 

★ चैतन्य सोनी

सागर। बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब   कोरोनाकाल में प्रदेश की दशकों पुराने और अत्याधुनिक वायरोलॉजी लैब को पीछे छोड़ बेहतर परफार्मेंस कर रही है। एक दिन में अधिकतम 3000 आरटीपीसीआर कोरोना सैम्पल की रिकॉर्ड टेस्टिंग शुक्रवार को की गई हैं। प्रदेश में भोपाल एम्स सहित सरकारी मेडिकल कॉलेज सहित इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, रीवा के पुराने मेडिकल कॉलेजों में भी इतनी जाँच अभी तक नहीं कि गई।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट


जानकारी अनुसार सागर के बीएमसी की वायरोलॉजी लैब बीते साल अप्रैल 2020 में प्रारम्भ हुई थी। तब से लगातार यह प्रदेश में बेहतर काम कर रही है। भोपाल स्थित एम्स की लैब वर्तमान में महज 1100 के आसपास कोरोना के सैम्पल की जांच कर रही है तो इंदौर भोपाल के गांधी मेडिकल कॉलेज और महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब 1200 से 1500 के आसपास सैम्पल की जांच कर पा रही हैं। यही हाल जबलपुर के नेताजी सुभाषचंद्र मेडिकल कॉलेज, ग्वालियर के गजराराजा मेडिकल कॉलेज व रीवा के श्यामशाह मेडिकल कॉलेज की दशकों पुरानी लैब के हैं। कोई भी लैब 2200 से ज्यादा कोरोना सैम्पल की जांच नहीं कर पा रही, इसके विपरीत बीएमसी की लैब 24 घण्टे तीन शिफ्टों में काम कर रही है और शुक्रवार को एक दिन में 3000 से अधिक सागर संभाग के जिलों से आये सुआब सैम्पल की जांच कर रिजल्ट दिए गए हैं। 

सबसे ज्यादा सैम्पल की जांच का रिकॉर्ड है
हमारी वायरोलॉजी लैब में एक दिन में 3 हजार सैम्पल की जांच का रिकॉर्ड बनाया है। प्रदेश में किसी भी लैब से यह सबसे ज्यादा है। लैब 24 घण्टे 3 शिफ्ट में काम कर रही है। 
- डॉ. सुमित रावत, प्रभारी वायरोलॉजी लैब, बीएमसी सागर

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive