जंय श्री गणेशाय नमः

शुक्रवार, 10 सितंबर 2021

मालथौन और बांदरी महाविद्यालय की जरूरतों को करेंगे पूराःउच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ★ शासकीय महाविद्यालय का हुआ भूमिपूजन

मालथौन और बांदरी महाविद्यालय की जरूरतों को करेंगे पूराःउच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव
★ शासकीय महाविद्यालय का हुआ भूमिपूजन

सागर। उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने बांदरी के शासकीय महाविद्यालय भवन निर्माण का भूमिपूजन किया। मंत्री एवं खुरई विधायक भूपेन्द्र सिंह ने अनुरोध पर उन्होंने बांदरी और मालथौन महाविद्यालय की सभी जरूरतें पूरे करने की घोषणा की। समारोह में सांसद राजबहादुर सिंह और विधायक महेश राय भी उपस्थित थे।

भूमिपूजन समारोह के मुख्य अतिथि उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने संबोधन में कहा कि आज सौभाग्य का दिन है कि बुद्धि के देवता गणपति बप्पा की स्थापना के साथ यहा महाविद्यालय भवन निर्माण का भूमिपूजन हो रहा है। उन्होंने कहा कि मंत्री भूपेन्द्र भैया ने मालथौन और बांदरी महाविद्यालय के लिए जरूरतें बताई हैं, उन्हें पूरा किया जाएगा। मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने नई शिक्षा नीति के लाभ पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने देश में सबसे पहले अपने यहां नई शिक्षा नीति लागू करने की शुरूआत की है। 

उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने कहा कि मंत्री भूपेन्द्र भैया ने बांदरी और मालथौन में महाविद्यालय के रूप में युवा ऊर्जा का मंदिर खोला है। कोई गृहमंत्री महाविद्यालय के लिए पुलिस थाने की जगह दे, यह बहुत कठिन बात है। लेकिन भूपेन्द्र भैया ने बांदरी में यह काम करके दिखाया। क्योंकि उसमें सर्वजन हिताय की मंशा सर्वोपरि थी। गरीब के आंसू पोंछ सके, इस भावना के साथ भूपेन्द्र भैया आपके बीच काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो दिलों में राज करता है, वही सच्च जन नायक है और खुरई विधानसभा क्षेत्र के लिए यह सौभाग्य की बात है कि उन्हें भूपेन्द्र भैया जैसा जनसेवक मिला है। उन्होंने खुरई विधानसभा क्षेत्र में भोज विश्वविद्यालय का सेंटर खोलने की घोषणा की। 




 इसके पूर्व मध्यप्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने संबोधन में कहा कि आज हम सबके लिए खुशी का दिन है कि उच्च शिक्षा मंत्री के रूप में मोहन यादव  ने बांदरी में महाविद्यालय भवन बनाने 6.18 करोड़ रूपए स्वीकृत किए और भूमिपूजन के लिए स्वयं यहां पधारे। उन्होंने कहा कि जब से देश आजाद हुआ है, तब से मालथौन और बांदरी में महाविद्यालय खोलने की मांग उठती रही है। आपने मुझे चुना और मैनें प्राथमिकता से यहां महाविद्यालय स्वीकृत कराये। बांदरी में महाविद्यालय का भवन बनाने के लिए कहीं सरकारी जमीन नहीं थी। तो नये बस स्टेण्ड के एक हिस्से में काॅलेज शुरू कराया। फिर गृहमंत्री रहते पुलिस थाने की जमीन ट्रांसफर कर काॅलेज की बिल्डिंग बनाने की राह आसान की। सवा साल कांग्रेस की सरकार के समय क्षेत्र के सभी विकास कार्य रोक दिये गये थे। फिर भाजपा की सरकार बनी और मोहन यादव जी उच्च शिक्षा मंत्री बने, तो उन्होंने यहां काॅलेज भवन बनाने 6.18 करोड़ रूपए स्वीकृत कर दिये। 

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि बांदरी के विकास हेतु नगर परिषद की जरूरत थी। नगर परिषद बनने का क्या महत्व है, यह गरीब परिवार समझता है। जैसे प्रधानमंत्री योजना के आवासों की वृद्धि हुई है और निर्माण की राशि डेढ़ से ढाई लाख हो गई है। 110 युवाओं को रोजगार मिला है। उन्होंने कहा कि बांदरी के लिए जो भी आवश्यक है, वे सारी व्यवस्थाएं करने का काम कर रहे हैं। बांदरी को अच्छा शहर बनाना ही उनका संकल्प है। 

 मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव से बांदरी महाविद्यालय में वाणिज्य संकाय खोलने, बांदरी और मालथौन महाविद्यालय में स्नातकोत्तर कक्षाएं प्रारंभ करने, जिम्नेजियम हाल, आडीटोरियम, ओपन जिम, खेल मैदान और खेल सामग्री, वाहन स्टेण्ड, वनस्पति उद्यान, मालथौन महाविद्यालय में बाउंड्रीवाल तथा खुरई महाविद्यालय में रसायन विज्ञान, वनस्पति शास्त्र, प्राणी शास्त्र और भौतिक शास्त्र में स्नातकोत्तर कक्षाएं खोलने का अनुरोध किया। जिस पर उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव ने कहा कि यह सभी जरूरतें पूरी की जाएंगी। कार्यक्रम में सांसद राजबहादुर सिंह ने कहा कि, बांदरी के लिए आज गौरव का दिन है। भूपेन्द्र भैया खुरई विधानसभा क्षेत्र को शिक्षा का हब बनाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने जब से खुरई विधानसभा क्षेत्र की बागडोर संभाली है, लगातार क्षेत्र के विकास में लगे हैं। समारोह में बीना विधायक महेश राय ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर क्षेत्र के वरिष्ठ भाजपा नेता, कार्यकर्ता और नागरिकगण उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive