सोमवार, 13 जनवरी 2020

पथरिया- करेली नई रेल लाईन की मंजूरी के लिए,पीएम को पत्र लिखा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने

पथरिया- करेली नई रेल लाईन की मंजूरी के लिए,पीएम को पत्र लिखा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने

अनुरोध ज्ञापित है कि मेरे विधानसभा निर्वाचन क्षेत्ररहली जिला सागर सहित समुचाबुन्देलखण्ड क्षेत्र रेल मार्गविहीन क्षेत्र है। श्री हरिकांत मिश्रा एडव्होकेट रहली सहितसैकड़ों कार्यकर्ता एवं नागरिकों ने पत्र व्यवहार के माध्यमसे एवं सौजन्य भेट कर अवगत कराया है कि पयरिया सेकरेली वाया गढ़ाकोटा, रहली, देवरी, बरमान होते हये करेलीतक रेलवे मार्ग का सर्वे कराकर नवीन रेल मार्ग बनायेजाने की सर्वदलीय मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने मांग की है।
बुन्देलखण्ड आजादी के बाद से ही पिछड़ेपन कादश झेल रहा है पूर्व में कांग्रेसी सरकारों के उपेक्षित रवैयेके कारण रेल मार्ग स्वीकृत ना होने से रोजगार के अभावमें बड़ी संख्या में लोग मजदूरी करने पलायन कर रहें है।कृषि समेत मौजूदा संसाधनों का दोहन नहीं हो पा रहा है।
देश के अन्य हिस्सों की तुलना में बुन्देलखण्ड क्षेत्र पिछडाहै । बुन्देलखण्ड में ना केवल पर्यटन की अपार संभावनायेंहै बल्कि रोजगार के भी अवसर बनाये जा सकते है इसकेलिए जरूरी है कि बुन्देलखण्ड में अतिमहत्वपूर्ण कार्य रेलवे
ट्रैक बनाया जाये एवं पथरिया - करेली रेल संचालन कीअनुमित दी जाना अपेक्षित है। इससे दमोह, सागर एवंनरसिंहपुर जिला को रेल आवागमन सुविधा मिलेगी तथाबीना - कटनी रेलवे ट्रैक एवं इटारसी - जबलपुर - कटनी
रेलवे ट्रैक आपस में जुड़ जायेगे और उक्त दोनों ट्रैकों केजुड़ जाने से वाया भोपाल होकर इटारसी जाने की दूरी २००कि.मी कम होगी।
पूर्व में तत्कालीन रेल मंत्री श्री नीतेश कुमार जी
ने सागर प्रवास के दौरान पथरिया - करेली रेल मार्ग केसर्वे कार्य की सहर्ष स्वीकृती प्रदान की थी किन्तु आपकोबताते हुएं खेद है कि आज दिनांक तक सर्वे कार्य प्रारंभनहीं हुआ है।अतएव आप से विनम अनुरोध है कि सर्वदलीयमोर्चे की मांग को स्वीकार करते हुएं, पथरिया - करेली रेलमार्ग की स्वीकृती प्रदान कर अनुग्रहीत करे।



0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive