SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

सोमवार, 15 मार्च 2021

सरस्वती शिशु मंदिर सदर में मातृ शक्ति सम्मेलन सम्पन्न

सरस्वती शिशु मंदिर सदर में मातृ शक्ति सम्मेलन सम्पन्न 


साग़र।  सरस्वती शिशु मंदिर विधालय सदर में मातृ सम्मेलन कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। इसमे 150 मातृ शक्तियो ने हिस्सा लिया।  इसकी मुख्य अतिथि एवं वक्ता डाॅ. ममता सिंह पूर्व प्राचार्य सरस्वती शिशु मंदिर मोतीनगर सागर और वर्तमान में  हिन्दी विभागाध्यक्ष स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय  सागर रही । 
उन्होंने मातृ शक्ति को वर्तमान परिस्थितियों के आधार पर भैया/बहिनों के सर्वागणीय विकास एवं शैक्षणिक विकास के साथ-साथ राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर चर्चा की एवं कोविड-19 से अवगत कराते हुए वर्तमान परिस्थिति को समझाया। 
 उन्होंने मुहल्ला पाठशाला एवं मोबाइल पर पीडीएफ द्वारा पढ़ाई को जारी रखा। माॅ  भैया/बहिनों प्रथम गुरू होती हैं। माता के संस्कार बालक के लिए मार्ग प्रदर्शित करते हैं। जिससे लव कुश, महाराणा प्रताप, छत्रपति शिवाजी, पृथ्वीराज चैहान जैसे वीर जन्म लेते हैं एवं महारानी लक्ष्मी बाई, अबंती बाई, दुर्गावती, जैसी वीरांगनाएं इस धरती पर जन्म लेती हैं। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

उन्होंने भैया/बहिनों के एकांकीपन को दूर करने के लिए माताओं को प्रेरित किया और कहा कि  अधिक समय माताएं भैया/बहिनों पर ध्यान दें। देश के सर्वागणीय विकास के लिए मातृ शक्ति का सहयोग अति आवश्यक है। 
इस कार्यक्रम में विद्यालय के व्यवस्थापक कपिल कुशवाहा, प्रधानाचार्य श्री राकेश प्रसाद गौतम एवं विद्यालय के वरिष्ठ सदस्य  विक्रम जी मौर्य, श्रीमति ऊषा मौर्य, श्रीमति सुधा मौर्य, श्रीमति मीरा वर्मा आदि वरिष्ठ मातृ शक्तियां उपस्थित थीं। कार्यक्रम के मंच का संचालन सविता दीदी ने किया एवं रोमा साहू पूर्व छात्र ने किया। इस कार्यक्रम में विद्यालय के समस्त स्टाफ उपस्थित थे मातृ शक्तियों में श्रीमति सुनीता दीदी, श्रीमति जागृति, श्रीमति मोना, श्रीमति मनीषा, श्रीमति ज्योति बाई आदि महिला शक्तियां उपस्थित थी। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive