दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

बुधवार, 30 जून 2021

प्रधानमंत्री आवास योजना की दूसरी किस्त जारी करने निगम अधिकारियों की बैठक ली विधायक शेलेन्द्र जैन ने

 प्रधानमंत्री आवास योजना की दूसरी किस्त जारी करने निगम अधिकारियों की बैठक ली विधायक शेलेन्द्र जैन ने

सागर। विधायक शैलेंद्र जैन ने नगर निगम के अधिकारियों की एक बैठक प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत वीएलसी घटक की दूसरी किस्त जारी करने के संबंध में ली। उल्लेखनीय है कि शासन द्वारा एक लंबे समय के बाद लगभग ₹12 करोड़ 75 लाख रु की राशि नगर निगम को दूसरी किस्त जारी करने के लिए प्राप्त हुई है ।इसके संबंध है विधायक जैन ने निर्देशित करते हुए कहा कि अनेकों लोगों ने पहली किस्त का प्रयोग करते हुए अपने अधूरे मकान डाले हुए हैं उनकी जांच कर उनको अभिलंब दूसरी किस्त प्रदान की जाए उन्होंने बताया कि अनेकों ऐसे लोग हैं जो अपना मकान छोड़करव किराए के मकान में रह रहे हैं क्योंकि एक लंबे समय से उन्हें दूसरी किस्त प्राप्त नहीं हुई है
  उन्होंने कुछ जानकारी दी की 3337 की सूची में से हम उन अधिकारियों को चिन्हित कर रहे हैं जो प्रथम पृष्ठ का पूर्ण उपयोग कर चुके हैं उनकी जियो टैगिंग पूरी हो चुकी उन्हें आगामी एक-दो दिनों में ही दूसरी किस्त जारी करेंगे। आज की यह महत्वपूर्ण बैठक हमने हितग्राहियों के चयन के संबंध में ली है ।उन्होंने बताया कि शासन की इस महत्वाकांक्षी योजना मैं अनेकों शिकायतें भी प्राप्त हुई है इसके संबंध में मैंने भी दो बार संभागायुक्त को अपनी शिकायत दर्ज कराई है और यह मांग की है कि इस महत्वपूर्ण योजना में जिन लोगों द्वारा गड़बड़ी की गई है उनकी निष्पक्ष जांच कर उन पर कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।

 नगर के विद्युत उपभोक्ताओं को हुआ लगभग 18 लाख रुपए का फायदा

सागर विधायक शैलेंद्र जैन लगातार विद्युत उपभोक्ताओं की मिल रही शिकायतों के मद्देनजर 25 जून को विद्युत मंडल कार्यालय पहुंचे और वहां पर उपस्थित लोगों की समस्याएं सुनी और अधिकारियों की उपस्थिति में उनका निराकरण करने हेतु अधिकारियों को 2 दिन का समय दिया था तथा विद्युत उपभोक्ताओं के लिए बिल भरने हेतु 2 दिन की रियायत देने की बात कही थी। विधायक शैलेंद्र जैन ने बताया कि कुछ दिनों से दूरभाष पर लगातार लोगों की शिकायत प्राप्त हो रही थी कि उन्हें विगत 2 माह से औषत बिल दिया जा रहा है और इस बार का बिल एकदम से बढ़कर आ गया है उन्होंने कहा कि 2 माह से औषत बल दिया जा रहा था और तीसरे माह एक साथ रीडिंग की गणना के कारण बिजली का रीडिंग टैरिफ बढ़ गया है जिससे बिल में भी बढ़ोतरी हुई है उन्होंने 2 दिनों के अंदर उपभोक्ताओं की शिकायतों का निराकरण करने के निर्देश अधिकारियों को दिए थे ।
जांच के उपरांत क्या जानकारी सामने आई की विद्युत विभाग की त्रुटि के कारण वक्ताओं को बड़े हुए विद्युत बिल प्रदान किए गए थे जांच के पश्चात अब उपभोक्ताओं को विद्युत बिल में एक बड़ी राहत प्रदान की गई है । विद्युत मंडल के अनुसार पूर्व में उपभोक्ताओं को 308027 यूनिट के विरुद्ध लगभग 3173680/- कि राशि के बिल जारी किए गए थे और सुधार के बाद यही बिल 222666 यूनिट के विरुद्ध 1397190/- मतलब उपभोक्ताओं को 1776490/-की राशि का फायदा होगा और उन्हें नए बिल उपलब्ध कराए जाएंगे और जो उपभोक्ता अपने पुराने बिलों को भर चुके हैं उनकी जांच उपरांत उनके अधिक आए हुए बिल को आगामी बिलों में समायोजित किया जाएगा।
   इसके अतिरिक्त विधायक जैन ने विद्युत मंडल के अधिकारियों को निर्देशित किया ऐसे अनेकों लोग हैं जो जागरूकता के अभाव में अपना बिल सुधार करवाने विद्युत मंडल नहीं पहुंच पाए हैं उनके लिए क्षेत्रवाद बिल सुधार शिविर आयोजित किए जाएं और मौके पर ही अधिकारियों द्वारा बिलों की जांच कर उनमें सुधार कर नए बिल जारी किए जाएं । इस संबंध में आगामी 5 जुलाई से क्षेत्रवार बिल सुधार शिविर लगाए जाएंगे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive