दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

मंगलवार, 29 जून 2021

SAGAR: व्यवस्थाओं में खामी, पानी को तरसते लोग, औसतन 10 दिन ही मिल रहा है पेयजल ★ कभी पाईप लाईन सुधार तो कभी बांध स्थल पर मेंटिनेंस के नाम पर नहीं हो रही शहर में पेयजल सप्लाई

SAGAR: व्यवस्थाओं में खामी, पानी को तरसते लोग, औसतन 10 दिन ही मिल रहा है पेयजल

★ कभी पाईप लाईन सुधार तो कभी बांध स्थल पर मेंटिनेंस के नाम पर नहीं हो रही शहर में पेयजल सप्लाई 


सागर : . आषाढ़ माह में भी शहर सहित मकरोनिया और सदर के लोग पेयजल सप्लाई ना होने के चलते पानी के लिए परेशान हैं. लगातार प्रतिमाह करीब 10 दिन ही लोगों को पानी मिल पा रहा है. हर बार निगम प्रशासन इसके लिए लाईनों में आयी खराबी या बांध स्थल पर मेंटिनेंस का रटा रटाया जबाव सुना देता है.
  निगम परिषद की जलप्रदाय शाखा की लचर कार्यप्रणाली का खामियाजा शहर के लोगों को पेयजल संकट के रूप में भुगतना पड़ रहा है. शहर सहित मकरोनिया नपा, सदर आदि क्षेत्रों में पेयजल सप्लाई करने वाले राजघाट बांध में पर्याप्त पानी होने के बावजूद बारिश के सीजन में भी हर तरफ लोग पानी के लिए परेशान हैं. आलम यह है कि शहर के अधिकांश क्षेत्रों ेमें कहीं चार तो कहीं छह दिन बाद पेयजल सप्लाई हो रही है. 
 उपनगरीय क्षेत्र मकरोनिया में तो स्थिति और विकराल है, नपा के वार्ड क्रमांक 2, 4, 6 को छोड़कर बाकी क्षेत्रों में हालत यह है कि पिछले दो माह से कहीं पांच कहीं आठ दिन बाद जल सप्लाई हो पा रही है. बात करें सदर क्षेत्र की तो पहले जहाँ इस इलाके में जलापूर्ति निर्धारित समय और दिन पर की जाती थी लेकिन अब पिछले एक माह से यहाँ जलापूर्ति की स्थिति बिगड़ी है, क्योंकि क्षेत्र के ओवर हैड टैंक और राजघाट से होने वाली आपूर्ति बाधित होने के चलते यहाँ भी कई क्षेत्रों में 3 से 4 दिन बाद नलों से पानी आ रहा है. 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे




ट्वीटर  फॉलो करे



वेबसाईट



उल्लेखनीय है कि निगम द्वारा शहर एवं मकरोनिया क्षेत्र में वैसे भी एक दिन छोड़कर जलापूर्ति की व्यवस्था बना रखी गई है. लेकिन हालत यह है कि कुप्रबंधन के चलते इस माह अभी तक 9 दिन ही पेयजल सप्लाई हो सकी है. यह स्थिति इस माह ही नही बनी बल्कि पिछले करीब दो वर्षों के दौरान लगभग हर माह 10 दिन ही लोगों को पेयजल सप्लाई मिल पा रही है. मामले में जब भी निगम के जिम्मेदार अधिकारी आयुक्त या जलप्रदाय विभाग के इंजीनियरों से पूछा जाता है तो उनका रटा रटाया जबाव होता है कि कहीं या तो पाईप लाईन में खराबी है, वाल्ब सुधारा जा रहा है या बांध स्थल पर मेंटिनेंस का कार्य चल रहा है. हालत यह है कि शहर के अधिकांश क्षेत्रों में पिछले चार से 7 दिन के बीच पेयजल सप्लाई हुई है. 
मामले में जब निगम के जलप्रदाय शाखा के इंजी रामाधार तिवारी से बात की तो उनका कहना था कि पेयजल लाईनों में आयी खराबी को सुधारा गया है और आज शहर के अधिकांश क्षेत्रों में पेयजल सप्लाई कर दी गई है. 

व्यवस्था जल्द सुधरेगी: कमिश्नर मुकेश  शुक्ला 

मामले में जलसप्लाई ना होने से पीडि़त लोगों द्वारा आज निगम प्रशासक एवं संभागीय कमिश्नर मुकेश शुक्ला को भी वस्तु स्थिति से अवगत कराया गया.इस मामले में कमिश्नर श्री शुक्ला का कहना था कि सागर की पेयजल सप्लाई से अवगत कराया गया। पानी की व्यवस्था जल्दी ही सुधरेगी। 


---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive