दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

शनिवार, 30 अक्तूबर 2021

देवरी और केसली में 14 करोड़ रू. की प्रधानमंत्री सड़कों का भूमिपूजन किया केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री पटेल ने


देवरी और केसली में 14 करोड़ रू. की प्रधानमंत्री सड़कों का भूमिपूजन किया केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री पटेल ने 

सागर । केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण, उद्योग एवं जलशक्ति राज्यमंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने शनिवार को सागर जिले के विकासखंड केसली़ और देवरी में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना फेस-3 के अंतर्गत 4 सड़कों का भूमिपूजन और शिलान्यास किया। इन सड़कों के निर्माण पर 14 करोड़ 13 लाख रू़ की लागत आयेगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूव मंत्री श्री हर्ष यादव ने की। श्री पटेल ने इस अवसर पर कहा कि हम आज देष की आजादी की 75वीं सालगिरह मना रहे हैं। अब हमें अधिकारों के स्थान पर कर्तव्यों की बात करें। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की दूरदर्षी सोच के कारण आज भारत का गांव-गांव सड़कों से जुड गया है। पहले कल्पना भी नही कर सकते थे कि गांव गांव पक्की सड़कें पहुंचेगी। राज्य मंत्री ने कहा कि तृतीय चरण में बनने वाली सड़के गुणवत्ता के मामलें में स्टेट हाईवे से कम नही होंगी।
इस अवसर पर श्री गौरव सिरोठिया, पूर्व विधायक श्री भानू राणा, अन्य जनप्रतिनिधि एसडीएम, एसडीओपी, महाप्रबंधक प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना श्री राजेश चौकसे  और बड़ी संख्या में नागरिकगण मौजूद थे।  
उन्होंने केसली विकासखण्ड के ग्राम तेदूडाबर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि आज हम आजादी की 75वीं सालगिरह मना रहे हैं। हमें अपने अधिकारों के स्थान पर कर्तव्यों की बात करनी होगी। हमे अपने संसाधनों की चिंता करनी होगी और देष के प्रति अपने कर्तव्यों का पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि संसाधन चाहे वे सरकार से मिले, समाज से मिले या परिवार से मिले। यदि संसाधनों की चिंता नहीं करेंगे तो संसाधन धीरे-धीरे नष्ट हो जाएंगे। हमे अपनी सार्वजनिक संपत्तियों जैसे सड़कों, भवनों, जल स्त्रोतों आदि सभी को सहेजना होगा। उन्होंने कहा कि सरकार का संकल्प है कि मध्यप्रदेष में 2023 तक घर-घर टोटी से पेयजल पहुंचे। ऐसा देखा गया कि आदमी 15 से 20 रू. की पानी की एक बाटल तो आसानी से खरीद लेता है परन्तु जब महीने भर के पेयजल के शुल्क की बात आती है तो आनाकानी करता है। इस सोच को बदलना होगा।
राज्यमंत्री श्री पटेल ने किसानों से अनुरोध किया कि वे कम पानी वाली फसले लें। इस वर्ष बुन्देलखण्ड में अपेक्षाकृत कम वर्षा हुई है। आत्म निर्भर भारत की चर्चा करते हुये उन्होंने कहा कि जिन चीजों के लिये आप विदेष पर निर्भर करते हैं उनमें संकट आ सकता है। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री की सोच है जब हम आजादी की सालगिरह के 75 सालों के मना रहे हैं तो ऐसे में प्रत्येक गरीब के पास पक्की छत हो। उसके घर में शौचालय हो। उसके घर में नल हो। उसके घर में बिजली हो। गैस कनेक्षन हो। इसके साथ-साथ उसके पास बीमारी के इलाज के लिए 5 लाख रूपये के आयुष्मान कार्ड की सुविधा हो। प्रधानमंत्री के संकल्प से यह पूरा हो रहा है। उन्होंने लोगों का आव्हान किया कि युवाओं और बच्चों को नषे से बचायें।   श्री पटेल ने कहा कि जब खुले में शौच से मुक्ति का अभियान चलाया गया था। तो दुनिया का भारत के बारे में मूल्यांकन कि यदि 2030 तक भी खुले में शौच से मुक्त होता है तो यह बड़ी बात होगी। भारत ने इस लक्ष्य को सबके सहयोग से 11 साल पहले ही प्राप्त कर लिया।कार्यक्रम को पूर्व मंत्री श्री हर्ष यादव ने संबोधित किया। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री ग्राम सड़कों से क्षेत्र के लोगों को सुविधा होगी।
कार्यक्रम में मध्यप्रदेष ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण परियोजना क्रियान्वयन इकाई के महाप्रबंधक श्री चौकसे ने तकनीकी प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत बनने वाली 4 सड़कों में तेदूडाबर से चन्द्रपुरा मार्ग की लम्बाई 9.60 किमी, लागत 4 करोड़ 16 लाख 97 हजार, टड़ा से बसा मार्ग की लम्बाई 8.15 किमी, लागत 3 करोड़ 42 लाख 41 हजार, देवरी से बेलढाना मार्ग की लम्बाई 11.92 किमी, लागत 4 करोड़ 10 लाख 19 हजार और टी-02 से मोकला मार्ग की लम्बाई 5 किमी, लागत 2 करोड़ 43 लाख रूपये है।

 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive