दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

बुधवार, 27 अक्तूबर 2021

SAGAR: पुलिस ने कार से पकड़ी करीब दो लाख रुपये की अवैध देशी शराब

SAGAR: पुलिस ने कार से पकड़ी  करीब दो लाख रुपये की अवैध देशी शराब

सागर। सिविल लाईन पुलिस ने एक कार से बड़ी मात्रा मे अवैध शराब जब्त की है । पुलिस ने 2 आरोपी  को गिरप्तार किया है। इनके पास से करीब दो लाख रु0ये की शराब जब्त की गई है। 
पुलिस के मुताबिक  पुलिस अधीक्षक  के आदेशानुसार अवैध शराब बिक्री व परिवहन करने वालों के विरुद्ध चलाये जा रहे विशेष अभियान के तहत थानासिविल लाइन पुलिस द्वारा अवैध शराब बिक्री हेतु परिवहन करने वालों के विरुद्ध कार्यवाही की गई है।
मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि एक सफेद रंग की कार आरटीओ रोड बायपास की तरफ से पथरिया जाट की
ओर अवैध शराब लेकर आ रही है।सूचना पर रेड कार्यवाही टीम को रवाना किया गया। पथरिया जाट के आगे आरटीओ तिराहा के पास एक सफेद रंग की अर्टिगा कार पुलिस की गाड़ी को देखकर बम्हौरी तिराहा तरफ भागी।  जिसका नंबर MH 03 CB 4915 था।उक्त गाड़ी का पुलिस द्वारा पीछा किया गया, बजरंग बली मंदिर के पास उक्त कार को रोककर चेक किया । जिसमें 35 पेटी देशी मदिरा मशाला शराब प्रत्येक कार्टून में 50-50 पाव, प्रत्येक पाव में180 मिली शराब. कुल 1750 पाव (315 लीटर) शराब कुल कीमती 192500 रुपये की देशी मशाला शराब अवैध रूप से रखी पाई गई।
कार के ड्राईवर से नाम पता पूछा गया
जिसने अपना नाम बबलू उर्फ इकबाल पिता मुन्ना खां उम्र 50 साल नि शनीचरी टोरी सागर, उसके पास बैठे अन्य व्यक्ति ने अपना नाम मकेश पिता गनेश रैकवार उम्र 21 साल नि0 दीनदयाल नगर मकरोनिया का होना बताया। उक्त शराब के संबंध में बिक्री व परिवहन का लाईसेंस पछने पर कोई कागजात / लाईसेंस न होना बताया। दोनो आरोपियो के कब्जे से
कुल 1750 पाव व 315 लीटर शराब व कार क्र MH 03 CB 4915 मौके पर जप्त की गई व दोनो आरोपियो का जुर्म धारा 34(2) आबकारी के तहत दण्डनीय पाये जाने से आरोपियो को गिरफ्तार किया गयाँ। थाना सिविल लाईन में उक्त आरोपियो के विरुद्ध आबकारी एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। अवैध शराब के स्रोत के संबंध में आरोपियो से पूछताछ की जा रही है।
इस कार्यवाई में उनि नेहा सिंह गुर्जर, उनि गंगाराम यादव, सउनि राजपाल सिंह,
प्रआर ब्रजेश शर्मा, आर. आशीष, प्रदीप शर्मा, आर 1011 प्रकाश यादव का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive