गुरुवार, 24 मार्च 2022

लाखा बंजारा झील:दोनों झीलों में एक भी नाले से नहीं आएगा गंदा पानी★ 41 से अधिक छोटे- बड़े नालो को किया टैप

 लाखा बंजारा झील:दोनों झीलों में एक भी नाले से नहीं आएगा गंदा पानी
★  41 से अधिक छोटे- बड़े नालो को किया टैप 
सागर। सागर झील में मिलने वाले 41 छोटे- बड़े गंदे नालों के कारण दूषित होता था। सागर स्मार्ट सिटी ने लाखा बंजारा झील कायाकल्प परियोजना के तहत इन सभी नालों को अब टैप कर दिया है। अब इनका गंदा पानी झील में मिलने के बजाय सीधा बाहर निकल जाएगा। लाखा बंजारा झील में चल रहा नाला टैपिंग का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। छोटी झील एवं बड़ी झील में मिलने वाले सभी 41 से अधिक छोटे-बड़े नालों को टैप कर झील से बाहर करने के लिए पाइप लाइन से जोड़ा गया है, जिससे इन नालों के द्वारा बहकर आने वाले गंदे पानी को झील में मिलने रोका जा सके और झील का जल स्वच्छ रखा जा सके। 



झील के किनारे आवश्यकता अनुसार 700 एमएम, 900 एमएम और 1200 एमएम डाया के पाइपों की लाइन बिछाकर इन सभी नालों को टैप कर जोड़ा गया है। इस पाइप लाइन से होकर सारा गंदा पानी ग्रेविटी के माध्यम से बहता हुआ मोंगा बधान से बाहर निकलने लगा है।
बिछाई गई पाइप लाइन की सफाई के लिए निश्चित दूरी पर मैन होल चैम्बर बनाए गए हैं। साथ ही इनलेट चैम्बर भी बनाए गए हैं, जिससे इस पाइप लाइन की साफ-सफाई सुगमता से की जा सकेगी और नालों से बहकर आने वाला गंदा पानी निर्बाध पाइप लाइन से होकर बाहर निकलता रहेगा। झील स्वच्छ रहेगी और निर्मल नीर का उपयोग हम सब कर सकेंगे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense