जंय श्री गणेशाय नमः

मंगलवार, 27 अक्तूबर 2020

भाजपा प्रत्याशी साम, दाम, दंड, भेद की नीति अपनाकर चुनाव जीतने के चक्कर में : पारूल साहू #सुरखी_उपचुनाव


भाजपा प्रत्याशी साम, दाम, दंड, भेद की नीति अपनाकर चुनाव जीतने के चक्कर में : पारूल साहू

#सुरखी_उपचुनाव

सागर। सुरखी विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी सत्ता का लाभ लेते हुए प्रशासन पर अपना दबाव कायम रखते साम,दाम, दंड, भेद की अबैध्य नीति अपनाकर अब उपचुनाव जीतने के चक्कर में है। जनता का रूझान देखते हुए अब भाजपा में बौखलाहट तेज हो चुकी है। अब कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं तथा सुरखी की ईमानदार जनता को हर समय सजग रहने की जरूरत है। यह उपचुनाव भविष्य में प्रजातंत्र रहेगा या नहीं रहेगा इस बात को लेकर बेहद महत्वपूर्ण हो गया है। विगतदिनों एक विधायक की फिर खरीदफरोख्त की गई यह क्रम रोकने के लिए कांग्रेस का सत्ता में आना और संवैधानिक सरकार बनाना जरूरी हो गया उपरोक्त विचार ग्राम हिन्नौद, में कांग्रेस प्रत्याशी पारूल साहू केशरी ने व्यक्त करते हुए कहे। पारूल साहू ने हनौता, बम्होरीघाट, सागौनी गांवों में घर-घर जाकर प्रजातंत्र की रक्षा के लिए आगामी 3 नवम्बर को कांग्रेस के पक्ष में मतदान करने का निवेदन किया।
इस अवसर पर प्रदेश महिला कांग्रेस उपाध्यक्ष शारदा खटीक ने कहा कि उमा भारती राम कथा करते करते अब ना जाने कौन-कौन सी कथित रचित कथाये राजनैतिक मंचो से करने लगी है। लंबे वनवास के बाद केन्द्र में 5 वर्ष मंत्री बनकर गंगा जी का एक लोटा जल साफ नहीं कर पाने वाली उमा भारती अब कमलनाथ जी पर वायदा ना निभापाने का आरोप लगा रही है। शारदा खटीक ने सुरखी विधानसभा क्षेत्र की जनता-दनार्दन से आगामी 29 अक्टूबर को बिलहरा में आयोजित होने वाली सभा में ज्यादा संख्या में पहुंचकर कमलनाथ जी की सभा को सफल बनाने का निवेदन किया।


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट


जिला कांग्रेस कमेटी सागर ग्रामीण के प्रवक्ता रवि सोनी ने कहा उमा भारती के वनवास में सहयोगी रहे भाजपा प्रत्याशी आखिर कैसे कांग्रेस पार्टी के समर्पित नेता बनकर रहे होगें। उमा भारती म.प्र. के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को बंटाधार और रिमोट की संज्ञा दे रही है। राजा साहब दिग्विजय सिंह प्रदेश के कर्मठ नेता और प्रजातंत्र के रक्षक है उन्होंने विपरीत परिस्थितियों में इमानदारी से सरकार चलाई है प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में प्रथम राष्ट्रीय सर्वश्रेष्ठ सड़क पुरूस्कार से स्वयं अटलबिहारी वाजपेयी ने उन्हें  सम्मानित किया था। दिग्विजय सिंह को रिमोट बताने वाली उमा भारती को अपने रिमोट का नाम भी बताना चाहिए। उमा भारती ने 7 माह के शासन में म.प्र. के समस्त तीर्थ और देवस्थलों के दर्शन ही किये थें वो वार्षिक योजना भी बनाकर केन्द्रीय योजना आयोग को नही दे पाई थी।
जनसंपर्क में दुष्यंत सिंह बुंदेला, विनोद यादव, अनिल सोनी, प्रभुदयाल मिश्रा, अंकुर दुबे, अशोक भारद्वाज, श्याम तिवारी, तुलसीराम घोषी, प्रणवप्रताप, विक्रम सिंह, अमर सिंह, नेमी चंद, पदम बजाज, गोविन्द चौरसिया, गुलू खारमऊ, परम अहिरवार, रवि लंबरदार, विश्वजीत राजपूत, पवन श्याम तिवारी, आकाश विश्वकर्मा, हरिचरण पटैल, मलखान सिंह, राजेश कुर्मी, शंकर पटैल आदि उपस्थित थे।


 ---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive