सोमवार, 23 नवंबर 2020

मुख्यमंत्री ने सागर के स्वसहायता समूह की महिलाओं से की चर्चा,सुने बुंदेली दादरे

मुख्यमंत्री  ने सागर के स्वसहायता समूह की महिलाओं से की चर्चा,सुने बुंदेली दादरे

★ मामा ब्यूटी पार्लर संचालिका सुश्री सीता के आत्मविश्वास को मुख्यमंत्री ने सराहा


सागर । 'सशक्त महिलाएँ-आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश' के कथन को साकार करती सागर जिले की महिलाएँ जो आत्मविश्वास से भरी हुई हैं तथा जिनके इरादों में निरंतर आगे बढ़ते चले जाने का जोश है। आज ऐसी ही कुछ महिलाओं ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान से क्रेडिट कैंप कार्यक्रम के तहत बातचीत करने का अवसर पाया। आजीविका मिशन के अंतर्गत संचालित विभिन्न समूहों से जुड़ी महिलाओं ने आज मुख्यमंत्री श्री चौहान से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सिंगल क्लिक के माध्यम से सम्पूर्ण प्रदेश में 150 करोड़ तथा सागर जिले को चार करोड़ 75 लाख रुपये की राशि अंतरित की।
प्रार्थना समूह से जुड़ी ऐसी ही एक बेटी सीता कुर्मी के कार्य तथा आत्मविश्वास की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उससे कहा कि-'बेटी तुम लीडर हो.., तुम औरों को भी सिखाओ और आगे बढ़ाओ..।मामा ब्यूटी पार्लर की संचालिका सीता कुर्मी ने अपने पार्लर का नाम मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के प्रति आभार स्वरूप रखा है। सुश्री सीता ने बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा बेटियों के उत्थान के लिए चलायी गयी विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत कौशल वर्धन सीखा। उन्होंने ब्यूटी पार्लर का 1 महीने का कोर्स किया। कार्य में दक्षता हासिल करने के पश्चात प्रार्थना समूह से जुड़ी उनकी माता के माध्यम से 50, हजार रुपये की राशि का ऋण लिया तथा मामा ब्यूटी पार्लर प्रारंभ किया। आज वे ब्यूटी पार्लर के काम के साथ साथ ब्राइडल लेंहगा, ब्राइडल मेकअप का कार्य तो करती ही हैं साथ ही आजीविका मिशन अंतर्गत बनायी जाने वाली साबुन, सैनिटरी नैपकिन आदि बेचकर भी अपनी आमदनी बढ़ा रही है।उन्होंने ने बताया कि महीने में वे करीब 15, हजार रुपये कमा लेती है। सुश्री सीता ने बताया कि वे इस कार्य में अपने जैसी और बेटियों को भी जोड़ रही हैं तथा उन्हें भी सशक्त बना रही हैं।


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे



ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB



वेबसाईट



बुंदेलखंडी दादरे की मुख्यमंत्री ने की सराहना

आजीविका मिशन के तहत महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम सोमवार को वर्चुअल कान्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित किया गया जिसका सीधा प्रसारण जिले के आमेट ग्राम में महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को दिखाया गया। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं से उनके समूह के बारे में जानकारी प्राप्त की।प्रार्थना स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा सुनाए गए बुंदेलखंडी दादरे की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गदगद होकर समूह की सराहना की। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रार्थना स्वयं सहायता समूह द्वारा दीपावली के शुभ अवसर पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा किये गये कार्यों को लेकर एक दादरा तैयार किया गया था।जिसको मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने वर्चुअल कान्फ्रेंस के माध्यम से सुना।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दादरे की प्रशंसा करते हुए कहा कि सागर वाकई में एक अद्भुत शहर है जिसमें सभी धर्म, समुदाय के लोग निवास करते हुए सामाजिक एकता की मिसाल कायम किए हुए हैं। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री इच्छित गढ़पाले,आजीविका मिशन के परियोजना समन्वयक श्री हरीश दुबे और समूह की महिलाएं मौजूद थी।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह ने सागर की द्रोपदी से 6.39 मिनिट बात की

आजीविका मिशन के तहत महिलाओं को सशक्त बनाने की दिशा में सोमवार को भोपाल से मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा वर्चुअल कांफ्रेंस के माध्यम से प्रदेश के अनेक स्व सहायता समूहों से बात बात कर य समूह के बारे में जानकारी प्राप्त की। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने लक्ष्मी स्व सहायता समूह की अध्यक्ष श्रीमती द्रोपदी से 6 मिनट 39 सेकंड बात कर समूह की विस्तार से जानकारी प्राप्त की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने द्रोपदी से पूछा कि बहन तुम्हारा स्वयं सहायता समूह कौन सा कार्य कर रहा है? श्रीमती द्रोपती ने बताया कि, मेरा स्वयं सहायता समूह दुग्ध उत्पादन के साथ-साथ सब्जी उत्पादन भी कर रहा है।  श्रीमती द्रोपती ने बताया कि लक्ष्मी स्व सहायता समूह के माध्यम से आज समूह की महिलाएं प्रतिमाह रूपये 10000 से अधिक लाभ प्राप्त कर रही हैं और शीघ्र ही यह लाभ प्रति माह रूपये 15000 होने की संभावना है। श्रीमती द्रोपदी ने बताया कि उन्होंने सर्वप्रथम बैंक से 50,000 रूपये लिए थे जिसका उन्होंने समय सीमा में भुगतान कर बैंक से रूपये 10,0000 लिए जिसका उन्होंने 100000 की राशि समय सीमा में बैंक में जमा कर बैंक से 30,0000 का ऋण प्राप्त किया है और समूह के माध्यम से अब हम प्रतिदिन सागर को के लिए दूध मट्ठा एवं दुग्ध उत्पादन के अनेक चीजें बनाने लगे हैं साथ ही सब्जी उत्पादन भी कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि सर बता मैंने रूपये 50000 में पहले एक गाय भैंस प्राप्त ली थी उसके बाद आज की स्थिति में मेरे पास 6 से एवं एक जर्सी गाय है जिसके माध्यम से समूह द्वारा दूध उत्पादन किया जा रहा है। इसी प्रकार सब्जी उत्पादन भी करने के लिए समस्त समूह की महिलाएं पूरे मनोयोग से कार्य कर रही है और आज वे व्यापक स्तर पर सब्जी उत्पादन कर रहे हैं। ज्ञात हो कि आज मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा  मध्य प्रदेश आत्मनिर्भर महिलाएं निर्भर कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश की स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को रूपये 150000000 की राशि के चेक वितरित किए वहीं 15 करोड़ में से चार करोड़ 7500000 रुपए की राशि सागर के स्व सहायता  समूह को प्रदान की गई ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive