रविवार, 10 जनवरी 2021

मसवासी ग्रंट स्थित एकीकृत ठोस अपशिस्ट प्रबन्धन इकाई और निगम के बड़े प्रोजेक्ट का किया निरीक्षण सागर कमिश्नर ने


मसवासी ग्रंट स्थित एकीकृत ठोस अपशिस्ट प्रबन्धन इकाई और निगम के बड़े प्रोजेक्ट का किया निरीक्षण सागर कमिश्नर ने
 


सागर।  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान की नगर  निगमों के प्रस्तावित भ्रमण के परिपेक्षय  में संभाग आयुक्त एवं नगर निगम प्रशासक मुकेश शुक्ला ने मसवासी ग्रंट स्थित ठोस अपशिष्ट प्रबंधन इकाई का रविवार  को आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के उपरांत उन्होंने आवश्यक दिशा निर्देश भी प्रदान किए । निरीक्षण के दौरान नगर निगम कमिश्नर श्री आरपी अहिरवार, स्मार्ट सिटी के सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत नगर निगम के ईई श्री विजय दुबे,  सहायक यंत्री श्री संजय तिवारी, प्रबंधन इकाई के मैनेजर श्री अमित दुबे सहित अन्य अधिकारी, कर्मचारी मौजूद थे ।
कमिश्नर श्री शुक्ला ने निरीक्षण के दौरान 350 टीपीडी प्रतिदिन क्षमता वाला कचरे से खाद बनाने वाला प्लांट का निर्माण कार्य लगभग  पूर्ण हो चुका है जानकारी प्राप्त की। कमिश्नर श्री शुक्ला ने कम्पोस्ट प्लांट, प्रसासनिक भवन, लैब, कैंटीन, अमबीपसम मेन्टेन्स शेड, एनिमल करकस, ग्रीन बेल्ट एरिया में वृक्षारोपण आदि कार्यों का भी अवलोकन किया। कमिश्नर श्री शुक्ला ने उक्त प्रबंधन इकाई जो लगभग लागत 70,54 करोड की लागत से तैयार की गई है उसका भी जानकारी प्राप्त की प्लांट मसवासी ग्रंट में है जिसका कुल एरिया 35 एकड़ में है।
प्रोजेक्ट मैनेजर अमित दुबे ने कमिश्नर श्री शुक्ला को जानकारी देते हुए बताया कि मसवासी प्लांट में टोटल क्षेत्रफल 36 एकड़ में चार ट्रोमाल साइज 75एमएम के दो और 25एमएम का एक 4एमएम का एक जिसमे दो ओवरहेड ट्रेवलिंग क्रेन जिनकी क्षमता 6.3 की है और एक मृत जानवरों के दाह संस्कार हेतु एनिमल करकस की सुविधा उपलब्ध है और ग्रीनबेल्ट में फलदार एवं फूल के छायादार फलदार वृक्ष से चारो और वृक्षारोपण किया जा रहा है।  
श्री शुक्ला ने किया वृक्षारोपण कमिश्नर श्री शुक्ला ने निरीक्षण के उपरांत मसवासी ग्रैंट स्थित प्लांट में नीम का पौधा लगाकर 1000 पौधे लगाने की शुरुआत भी की । नगर निगम कमिश्नर श्री अहिरवार ने बताया कि उक्त प्रबंधन इकाई में परी क्षेत्र में 1000 फलदार पौधों का रोपण किया भी किया गया है।

बडे़ प्रोजेक्टों का स्थल निरीक्षण कर कार्य प्रगति की जानकारी ली


संभाग आयुक्त एवं नगर निगम प्रशासक  मुकेश शुक्ल ने  मसवासी ग्रंट स्थित  एम.एस.डब्ल्यू.सयंत्र,  सीवरेज प्लांट, विद्युत शवदाह गृह आदि का निरीक्षण किया और चल रहे कार्यो की प्रगति के संबंध में जानकारी लेते हुये आवश्यक निर्देश दिये।तत्पश्चात् उन्होने पथरिया हाट में बन रहे एच.टी.पी.प्लांट का निरीक्षण किया और संबंधित से प्लांट में शहर के सीवरेज लाईनों के माध्यम से जाने वाले गंदे पानी को साफ करने हेतु प्लांट में की गई व्यवस्थाओं की जानकारी ली जिसके संबंध में प्लांट के अधिकारी के बताया कि शहर से आने वाले गंदे पानी को साफ करने के लिये अलग अलग यूनिटे बनायी गई है जिसमें सबसे पहले गंदे पानी को इनलेट चेम्बर में भेजा जायेगा, इनलेट चेम्बर से होते हुये यह पानी सीटेक में जायेगा सीटेक से इसे क्लोरीन कान्टेक टेंक में भेजा जायेगा, क्लोरीन कान्टेक से इसे सी फ्यूल यूनिट में भेज दिया जायेगा। सी फ्यूल बेसिन टेंक से पानी सिलट टेंक में जायेगा,फिर सिलट टेंक से सी रिफयूड में भेजा जायेगा जहाॅ पानी अलग-अलग हो जायेगा और गाडा पदार्थ (केक) के रूप में टेंक में एकत्रित हो जायेगा। इस प्रकार इस प्लांट से निकलने वाला पानी वेक्टीरिया रहित होगा।
 कमिश्नर श्री मुकेश शुक्ला ने इस प्लांट के पश्चात् उन्होने पगारा रोड स्थित सीवरेज प्लांट के पम्प हाउस का भी निरीक्षण किया इस संबंध मंे निगमायुक्त श्री आर.पी.अहिरवार ने बताया कि शहर के घरों से निकलने वाले गंदे पानी को पाईप लाईनों से जोड़ा जायेगा वहाॅ से 3 स्थानों रामाश्रम होटल के पीछे, रेल्वे स्टेशन के सामने, मोतीनगर तिगड्डा के पास तक भेजा जायेगा। वहाॅ से इस गंदे पानी को पगारा रोड स्थित पम्प हाउस में लाया जायेगा। यहाॅ से इस गंदे पानी को एच.टी.पी.प्लांट में भेज दिया जायेगा जहाॅ इसके निष्पादन की प्रक्रिया शुरू हो जायेगी।
तत्पश्चात् उन्होने मोतीनगर रोड स्थित नरयावलीनाका मुक्तिधाम में स्मार्ट सिटी द्वारा लगभग 1 करोड 20 लाख रूपये की लागत से बनाये जा रहे विद्युत शवदाह गृह का भी निरीक्षण कर कार्य प्रगति की जानकारी ली जहाॅ संबंधित ठेकेदार ने बताया कि इस विद्युत शवदाह गृह में विद्युत गुल होेने पर गैस के माध्यम से भी शवदाह करने की व्यवस्था की गई है। इस शवदाह गृह में 30 से 45 मिनिट में शव का दाह हो जायेगा। इसके पश्चात् उन्होने पुराने राज्य परिवहन कार्यालय की भूमि जो स्मार्ट सिटी को दी गई है उसके विकास के संबंध में बनाये गये रोड मेप को भी देखा और आवश्यक निर्देश दिये।
निरीक्षण के दौरान कार्यपालन यंत्री श्री विजय दुबे, श्री पूरनलाल अहिरवार, प्र.कार्यपालनय श्री रमेश चैधरी,उपयंत्री श्री महादेव सोनी, रेमकी के अधिकारी श्री अमित दुबे, सीवरेज के अधिकारी श्री विजय कटम्बार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive