रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शनिवार, 17 अप्रैल 2021

खतरा: सागर में आज सामने आए 172 संक्रमितों में 161 मरीज 15 से 39 साल के हैं ,महज 11 मरीज 50 साल से ऊपर के हैं, ★ पूर्व विधायक सुधा जैन की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव ★ इलेक्ट्रिक शवदाह गृह बंद, स्ट्रेचर की रॉड खराब @चैतन्य सोनी

खतरा: सागर में आज सामने आए 172 संक्रमितों में 161 मरीज 15 से 39 साल के हैं ,महज 11 मरीज 50 साल से ऊपर के हैं,
★ पूर्व विधायक सुधा जैन की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव 

★ इलेक्ट्रिक शवदाह गृह बंद, स्ट्रेचर की रॉड खराब




@चैतन्य सोनी
सागर। ( तीनबत्ती न्यूज़ ) । जिले में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। कोरोना कम्युनिटी स्प्रेड लेवल पर पहुँच गया है। आज शनिवार को 172 मरीज संक्रमित निकले। कोरोना संक्रमण से चार  की मौत हो गई। वही 30 मरीज स्वस्थ्य होकर डिस्चार्ज हुए।।  बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते कल गुरूवार को प्रशासन ने 21 अप्रैल तक के लिए कोरोना कर्फ्यू लागू कर दिया था। 

बीएमसी के मीडिया प्रभारी डॉ सुमित रावत के अनुसार आज शनिवार को 172 नए केस डिक्लेयर किये हैं।  नए केस को मिलाकर अब 7993 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। वहीं अधिकृत रूप से अब तक 166 की मौत हो चुकी है। पिछले कुछ दिनों से ग्रामीण क्षेत्रो में भी कोरोना ने रफ्तार पकड़ी है।  
सागर में आज सामने आए 172 संक्रमितों में 161 मरीज 15 से 39 साल के हैं। महज 11 मरीज 50 साल से ऊपर के हैं। जो एक बड़ा खतरा बन रहा है। पूर्व विधायक सुधा जैन की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। 

कोरोना अपडेट:
सागर कोरोना अब तक
- आज नए केस- 172
----------------------------------
- BMC से -        84
- रैपिड एंटीजन-   11
- जैन एक्सप्लोर-  77
------------------------------
टोटल अब तक
पॉजिटिव- 8227
स्वस्थ हुए- 6465
कुल मौतें- 166
बीते 24 घन्टे में मौत- 
अभी एक्टिव केस- 1942
------------------

इलेक्ट्रिक शवदाह गृह बंद, स्ट्रेचर की रॉड खराब

 कोविड काल में नरयावली नाका मुक्तिधाम में बने विद्युत शवदाहगृह की  मशीन खराब हो गई। शनिवार को यहां कोविड मृतकों के अंतिम संस्कार किए गए। जिसके बाद मशीन के स्ट्रेचर की रॉड खराब हो गई। वह रोलिंग नहीं कर पा रही। उल्लेखनीय है की पूर्व में भी यह मशीन लोड न ले पाने की वजह से खराब हो चुकी है। करोड़ो की लागत से स्थापित विद्युत शवदाहगृह बार-बार तकनीकी कारणों से ठप्प हो जाती है। गौरतलब है कि शनिवार को यहां 8 कोविड गाइडलाइन और करीब 9 नॉन कोविड के तहत अंतिम संस्कार किये गए हैं। 3 को छोड़ बाकी का लकड़ियों से अंतिम संस्कार हुआ है।
नरयावली नाका मुक्तिधाम में कोविड गाइड लाइन से 11 का अंतिम संस्कार, जिनमें 3 मुस्लिम 8 हिन्दू।  9 सामान्य मृतक हैं।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive