रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शुक्रवार, 16 अप्रैल 2021

SAGAR : कोरोना कर्फ्यू के बीच निकले 324 नए केस, 25 हुए डिस्चार्ज, एक कि मौत ★ बीएमसी कोविड अस्पताल के गेट पर डीन ने लगवाया ताला, बिना अनुमति कोई मरीज भर्ती नहीं होगा @चैतन्य सोनी

SAGAR : कोरोना कर्फ्यू के बीच निकले 324 नए केस, 25 हुए डिस्चार्ज, एक कि मौत 

★ बीएमसी कोविड अस्पताल के गेट पर डीन ने लगवाया ताला, बिना अनुमति कोई मरीज भर्ती नहीं होगा 


@चैतन्य सोनी

सागर। ( तीनबत्ती न्यूज़ ) । जिले में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। कोरोना कम्युनिटी स्प्रेड लेवल पर पहुँच गया है। आज शुक्रवार को 324  मरीज संक्रमित निकले। एक लोग की मौत हो गई। वही 25 मरीज स्वस्थ्य होकर डिस्चार्ज हुए।  अब तक सबसे जयादा केस शुक्रवार को मिले हैै। बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते कल गुरूवार को प्रशासन ने 21 अप्रैल तक के लिए कोरोना कर्फ्यू लागू कर दिया था। 
बीएमसी के मीडिया प्रभारी डॉ सुमित रावत के अनुसार आज शुक्रवार को 324 नए केस डिक्लेयर किये हैं।  नए केस को मिलाकर अब 7993 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। वहीं अधिकृत रूप से अब तक 165 की मौत हो चुकी है। पिछले कुछ दिनों से ग्रामीण क्षेत्रो में भी कोरोना ने रफ्तार पकड़ी है।  


कोरोना अपडेट:
- आज सामने आए मरीज-324
- अब तक कुल मरीज- 7993
- कोरोना से अधिकृत मौत- 166
- स्वस्थ हुए मरीज- 6591


बीएमसी कोविड अस्पताल के गेट पर डीन ने लगवाया ताला, बिना अनुमति कोई मरीज भर्ती नहीं होगा

★  जिला अस्पताल, बीएमसी और निजी अस्पतालों में हालात भयावह, मरीज भटक रहे, भर्ती नहीं हो पा रहे। 

★ निजी एम्बुलेंस सीधे कोविड में करा रहे थे मरीज भर्ती, डीन ने डलवा दिया ताला। 

 कोरोना आउट ब्रेक से हालात बदत्तर हो गए हैं। सागर में बीएमसी, जिला अस्पताल तो ठीक निजी अस्पतालों में मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा। संक्रमित मरीजों की कतारों से परेशान होकर बीएमसी कोविड अस्पताल के गेट पर डीन के आदेश पर ताला जड़ दिया गया है। गम्भीर मरीज भटक रहे हैं, लेकिन भर्ती नहीं हो पा रहे। 

जिले में अब इलाज और भर्ती तो ठीक है ऑक्सीजन की कमी के चलते मरीज अस्पतालों के भर दम तोड़ते नजर आएं तो कोई बड़ी बात नहीं है। दरअसल बीएमसी, जिला अस्पताल से लेकर छोटे, बड़े प्रायवेट अस्पतालों तक में कोरोना मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा। शुक्रवार को तिली चौराहा स्थित एक निजी अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने के बाद कोरोना मरीज को डिस्चार्ज कर दूसरी जगह ले जाने के लिए बोल दिया। बीएमसी, जिला अस्पताल ने भी भर्ती करने से मना कर दिया। परिजन कोविड मरीज को ऑटो में लिए शाम तक अस्पताल-अस्पताल भटक रहे थे। 
दूसरी तरफ बीएमसी में ऑक्सीजन की कमी को मेनटेन करने व कोविड के  सामान्य मरीजों सहित गंभीर मरीजों को भर्ती करने से इनकार कर दिया जा रहा है। डीन के आदेश के बगैर कोई भी कोविड मरीज भर्ती नहीं हो पा रहा। इधर कोविड अस्पताल के एंट्री गेट पर चेनल पर ताला डाल दिया गया है।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive