रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शुक्रवार, 9 जुलाई 2021

5.31 करोड़ के विकास कार्याें का भूमिपूजन किया मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने

 5.31 करोड़ के विकास कार्याें का भूमिपूजन किया मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने

★ 2.31 करोड़ से होगा वायपास मार्ग पर वृक्षारोपण

खुरई। मध्यप्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने खुरई में 2.31 करोड़ रूपए लागत के वायपास मार्ग वृक्षारोपण, 2 करोड़ रूपए लागत के मुक्तिधाम विकास और एक करोड़ रूपए लागत के भूतेश्वर मंदिर सौन्दर्यीकरण एवं विकास कार्याें का भूमिपूजन किया। अपने संबोधन में मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि हरा भरा और सुंदर खुरई बनाते हुए इसे विकास में मध्यप्रदेश में नंबर एक पर लाने का संकल्प हम सबको मिलकर पूरा करना है।_

     खुरई वायपास मार्ग पर वृक्षारोपण करते हुए इस अभियान की शुरूआत कर मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि उत्तर वन मंडल द्वारा खुरई वायपास मार्ग के दोनों तरफ और बीच में 2.31 करोड़ रूपए खर्च कर 12340 पौधे लगाये जाएंगे। सागर के सीसीएफ अमित दुबे और उत्तर वन मंडल के डीएफओ बेनीप्रसाद द्वारा इस कार्य को त्वरित गति से अभियान शुरू करने के लिए धन्यवाद दिया। 
     मंत्री श्री सिंह ने कहा कि उत्तर वन मंडल में साढ़े आठ लाख पौधे लगाने के लक्ष्य में अकेले खुरई विधानसभा क्षेत्र में 5.30 लाख पौधे लगाये गए। वृक्षों से आक्सीजन मिलती है और भूजल का संग्रहण होता है। जीवन के लिए आक्सीजन कितनी जरूरी है, इसका अहसास कोरोना संक्रमण के दौरान हो चुका है। वायपास मार्ग पर नौ किलोमीटर की लम्बाई में जब वृक्षारोपण होगा तो लोगों को ऐसा लगेगा कि मानो वे सड़क पर नहीं बल्कि बगीचे में जा रहे हों। 
     मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि वन विभाग के अलावा वायपास मार्ग से सटी ग्राम पंचायतें भी वृक्षारोपण करेंगी। उन्होंने यहां वृक्षारोपण के लिए खुरई नगर पालिका को एक करोड़ रूपए देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि कोशिश यही होगी कि इसी बरसात में सारे वृक्ष वायपास मार्ग में लग जायें। खुरई से रजवांस के मार्ग के आसपास भी कहीं वृक्ष नहीं है। अतः इस मार्ग से जुड़ी ग्राम पंचायतें अपने एरिया में वृक्षारोपण जरूर करें। खुरई में जहां भी शासकीय भूमि है, वहां वृक्षारोपण किया जाये। 
     मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि हर क्षेत्र में खुरई नंबर वन पर है। अभी वेक्सीनेशन में भी नंबर वन पर रहे हैं। हमारी कोशिश है कि अगले दो वर्षों में खुरई पूरे प्रदेश में नंबर वन पर हो। इसलिए लगातार विकास कार्य चल रहे हैं। 

मुक्तिधाम और भूतेश्वर मंदिर परिसर में 3 करोड़ के विकास कार्याें का भूमिपूजन

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने खुरई के मुक्तिधाम तथा भूतेश्वर मंदिर परिसर में 3 करोड़ रूपए लागत के सौंदर्यीकरण एवं विकास कार्यों का भूमिपूजन किया। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि 2 करोड़ रूपए लागत से मुक्तिधाम में सौंदर्यीकरण के साथ ही अनेक विकास कार्य होंगे। यहां विद्युत शवदास गृह, विद्युत व्यवस्था, पार्क निर्माण, बैठने के लिए शेड की व्यवस्था की जाएगी। 
     उन्होंने कहा कि खुरई में भगवान भूतेश्वर का मंदिर प्राचीन और ऐतिहासिक है। जिसमें सौन्दर्यीकरण और विकास कार्याें के लिए एक करोड़ रूपए स्वीकृत कराये गए हैं। जिसका कार्य प्रारंभ होकर 6 माह में पूरा कर लिया जाएगा। 
     मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने पिछले सालों में कराये गये विकास कार्याें का सिलसिलेवार ब्यौरा देते हुए कहा कि खुरई विकास के लिए पैसों की कोई कमी नहीं है। उन्होंने 6 करोड़ रूपए लागत से तालाब सौंदर्यीकरण, 7 करोड़ रूपए लागत से पाईप लाईन विस्तार, 8 करोड़ रूपए लागत से नालों का निर्माण, किला मैदान को नया स्वरूप, 13 करोड़ रूपए लागत से सड़कों का निर्माण का उल्लेख करते हुए कहा कि खुरई में तहसीली को नया स्वरूप देने, पशु औषधालय में कमर्शियल काम्पलेक्स बनाने, नेहरू स्कूल को शिफ्ट कर वहां मार्केट बनाने, अम्बेडकर आडीटोरियम का निर्माण करने चंदेल वार्ड में आडीटोरियम बनाने, नगर पालिका का नया भवन बनाने, 2 करोड़ रूपए लागत का हाट बाजार बनाने की योजनाओं को मूर्त रूप दिया जा रहा है।
     खुरई में नये सिरे से विद्युतिकरण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि औद्योगिक विकास के लिए हम जगह देख रहे हैं। जहां कारखाने लगाने के लिए युवाओं को निःशुल्क प्लाट दिये जाएंगे। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि खुरई में लगभग 50 करोड़ रूप्ए मूल्य की लगभग 24 एकड़ शासकीय जमीन अतिक्रमण से मुक्त कराई गई है। इस अवसर पर टैगोर वार्ड का भ्रमण कर वहां सड़क और नाली निर्माण स्वीकृति करने की घोषणा की। मंत्री श्री सिंह ने चार हितग्राहियों को चार-चार लाख रूपए के चैक संबल योजना के तहत प्रदान किए। 

8 भैंसों की मौत पर दी बीस-बीच हजार की धनराशि
     सागर से खुरई जाते समय पिठोरिया के पास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने ग्रामीणों का जमावड़ा देखकर अपना वाहन रूकवाया। ग्रामीणों के करीब पहुंचने पर उन्हें बताया गया कि गत रात्रि में अज्ञात ट्रक की टक्कर से 8 भैंसे मर गई है। अपनी व्यथा सुनाते हुए भैसों के मालिक बिलख उठे। इस पर मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने घोषणा की कि, प्रत्येक भैंस की मौत पर भैंस मालिक को बीस-बीस हजार रूपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। 
---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive